अरे बीएफ भेजिए

छवि स्रोत,बोली बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

करीना कपूर सेक्स विडियो: अरे बीएफ भेजिए, उस दिन हम दोनों ने एक बार ही चुदाई का मजा लिया और रात में बुआ ने मस्त पार्टी की.

बीएफ बीएफ पिक्चर एचडी

मैंने कहा- जैसा आपका हुक्म भाभी, पर आपके बच्चे?भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- वो तुम चिंता मत करो. वीडियो सेक्सी बीएफ ब्लूउसी मजे और दर्द से ऋतु का मुँह खुल गया- आह … मर गई सी ई ईई शैतान कहीं का … एक ही बार मैं पूरा घुस गया ये लौड़ा … उफ्फ कितना दर्द देता है मस्ती भरा डंडा है … आंह.

मैंने अपने गर्म होंठ ज्योति के होंठों से लगा दिए और उसे एकदम कसके अपनी बांहों में भर लिया. बीएफ वीडियो बीएफ इंग्लिशमैंने घर पहुंचकर पापा से कहा कि लड़के की गांड मारना तो ठीक रहा मगर अब चुत का बंदोबस्त भी कीजिए.

मैंने रोज़ 4 से 5 बार उसकी चुदाई की।उसके बाद सुमन अपने मां के घर चली गई अपने बच्चों के पास!वापस आने के बाद सुमन के साथ मैं फ़िर से रहने चला गया, इस बार मैंने गांड मारी.अरे बीएफ भेजिए: फिर मैंने उससे गीता के बारे में एक सवाल पूछा मगर नीता उसका जवाब ना दे सकी.

वो समझ गए कि मैं झड़ गई हूँलेकिन वो रुके ही नहीं, ताबड़तोड़ लंड पेलते रहे.भाभी और मैं हम दोनों ही इतनी तेज हांफ रहे थे कि पूरे कमरे में हमारी हांफने की आवाजें आ रही थीं.

बीएफ फिल्म के चित्र - अरे बीएफ भेजिए

मैं- आपकी साइज़, एज!नव्या- मेरी उम्र 28 साल है और साइज़ 32-30-34 का है … आपकी?मैंने उसे अपने बारे में बताया.अब मैंने आंटी की टांग उठा कर उसकी कमर पकड़ ली और धीरे से दबाव दे दिया.

अपनी पिछली सेक्स कहानीऑफिस मेट को प्रेग्नेंट कियामें मैंने आप सभी से कहा था कि दूसरी सेक्स कहानी बहुत ही जल्दी लाऊंगा. अरे बीएफ भेजिए चैकअप के बाद उन्होंने बताया कि मैं जो सिरदर्द की दवाई खा रहा था, उसी की वजह से मेरे हॉर्मोन बदल रहे थे और मैं एक लड़की शीमेल बन रहा था.

” कहकर मासी नहाने चली गई।मैं अपना काम करके हाल में जाकर टीवी देखने लगा।अचानक मासी के चिल्लाने की आवाज आई.

अरे बीएफ भेजिए?

चूत और गांड खोल कर चुदवाती है … जॉन अब मैं इसकी चूत लूँगा … आ जा पोज़िशन चेंज करते हैं. चैकअप के बाद उन्होंने बताया कि मैं जो सिरदर्द की दवाई खा रहा था, उसी की वजह से मेरे हॉर्मोन बदल रहे थे और मैं एक लड़की शीमेल बन रहा था. तब दीदी ने कहा- तुम बहुत शैतानी कर रहे हो, तुम्हें यह नहीं करना चाहिए था!दीदी ने यह कहा तो मैं नकली गुस्सा दिखाते हुए वहां से जाने लगा और बोला- ठीक है मैं चला जा रहा हूं अगर आपको इतना बुरा लग रहा है तो!जैसे ही मैं उनके ऊपर से उठा … दीदी ने एकदम से उठकर मेरा हाथ पकड़ लिया ताकि वे मुझे जाने से रोक सकें.

हमने खेल शुरू किया तो मैंने पहले जानबूझ कर टॉवर गिरा दिया और तुरंत ही अपनी टी-शर्ट खोल कर चाची को पकड़ा दी ताकि चाची गेम खेलती रहें. दोनों के लंड लगभग एक से ही लम्बे थे लेकिन भैया का लंड कुछ ज्यादा मोटा था. मैंने अपना लंड भाभी की चुत पर लगाया और अन्दर पेलने ही वाला था कि तभी मुझे कंडोम की याद आ गयी.

कुछ ही देर में भाभी की चुत एकदम गीली हो गयी और उनकी आवाजें तेज हो गईं. यंग हॉट गर्ल Xxx कहानी मेरी गर्लफ्रेंड की सहेली की छोटी बहन की चुदाई की है. वो बाथरूम में से जब तक आईं, तब तक उनकी लड़की ने मेरी तरफ देखा और बोली- बड़े मादरचोद हो.

कुछ ही दिनों में भाभी और मेरी बहुत अच्छी बनने लगी थी क्योंकि मैं खुले विचारों वाला बंदा हूं. सुबह मामी ने मुझे 11 बजे जगाया और बोलीं- तुम नहा लो और नाश्ता कर लो.

मेरा लंड सरसराते हुए चुत की दरार में जगह बनाता हुआ आधे से ज्यादा अन्दर चला गया.

मैं चूत को होंठों से पकड़कर खींच खींच कर चूसने लगा था जिससे मामी का हाल बुरा हो गया था.

पिंकू को बहुत मजा आ रहा था।उसने मेरे लंबे लंड को जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया।अभी दोपहर की लगभग 12:30 बजे दे और हम दोनों भाई बहन जीवन का असली आनंद उठाने में व्यस्त थे।तभी मम्मी का फोन आया, मम्मी ने बताया कि वो लोग आज नहीं आ पायेंगे. लगे भी क्यों न … मेरी नई-नई शादी हुई थी, साल भर भी नहीं हुआ था और करन को भी आये चार महीने हो चुके थे।मेरी चूत कब तक उंगली से मानती?और बाहर का लंड किसका लेती?इसलिये मैं मन मार कर रह जाती. वो बोला- रंडी बाल खुले रहने दे … इनको पकड़ कर ही मैं तेरी गांड मारूंगा.

फिर कुछ दिन बाद बुआ मुझसे बोलीं- मुझे कुछ दिन के लिए काम से बाहर जाना है, तो घर का और अपनी बहन का ख्याल रखना. फिर मैंने हल्का सा धक्का दिया और लंड का सुपारा चूत में घुस गया जिससे पिंकू की जोर से चीख निकल गई. हम दोनों एक साथ झड़ गए।उसके बाद मैंने उसके चेहरे पर संतुष्टि का भाव देखा था।वह अपनी आँखें बंद किए हुए थी।मैं उसके ऊपर झुका और उसके गाल पर किस करते हुए कहा- कैसा लगा?वह अपनी आंखें बहुत ही प्यार से खोलते हुए मुझे उम्मीद की नजरों से देखते हुए बोली- मैं बहुत खुश हूँ.

मेरा मन व्यथित हो गया और भारी मन से मैंने किसी तरह 14 दिन का कोरंटाइन का पीरियड पूरा किया.

मीना की चीख तो मेरे से भी तेज निकल रही थी- आह आशु सच में मेरी चुत की आग बुझ रही है … आह मुझे अफ़सोस है कि मैंने तुमसे पहले क्यों नहीं चुदवा लिया. तब मामी बोली- आज पहली बार गर्म सेक्स किचन में करके सच में मजा आ गया. मैं फिर से एक बार एक साथ तेजी में आया और कुछ ही पलों में डिस्चार्ज हो गया.

कुछ पल की चुत चुसाई का मजा लेने के बाद मैंने अपनी नशीली आंखों से उसे देखा, तो वो भी चुदासी दिख रही थी. मैंने कहा- फिर आप क्या करती हो?वो बोली- अभी तक तो हाथ से ही खुद को ठंडा कर लेती थी, फिर खीरा मूली की मदद लेने लगी. मेरी तो जैसे सांसें थम गयी, मुझे बहुत ज़ोर से दुःख रहा था, मैंने अपने दोनों पैर से भैया को कस कर पकड़ लिया।भाई ने दोनों हाथों से मेरे दोनों हाथों मेरे सर के ऊपर पकड़ कर मुझे किस करना शुरू कर दिया.

उसने कहा- ये किधर डाल रहे हो?मैंने कहा- इधर तुमको पहले से भी ज्यादा मज़ा आएगा.

तभी अचानक मैंने महसूस किया कि उसने अपना लंड मेरी चुत पर लगाने की बजाए मेरी गांड के छेद पर लगा दिया और हल्का सा जोर लगा रहा था. इससे मंजू का हमारे साथ खेलने आना लगभग बंद ही था, जिसके कारण मैं बेचैन रहने लगा.

अरे बीएफ भेजिए आप कल्पना कीजिए कि लंड के ऊपर उछलती कमसिन लौंडिया जिसके भरे पूरे चूचे हों, उस वक्त वो कैसी लग रही होगी. जैसे तैसे मैं सुबह 11 बजे अपने घर पहुंची और नहा धो कर खाना खाकर सो गई.

अरे बीएफ भेजिए मुझे बड़ी उम्र की औरतें पसंद आती हैं तो चाची मेरे दिल में बस गई थीं. दूसरी तरफ सपना का पति प्रदीप, प्रिया को खा जाने वाली नजरों से देखे जा रहा था.

और मैं जैसा कहूंगी वैसा करोगे।मैंने आंटी से कहा- जी हां, आप जैसा कहोगे, मैं वैसा ही करूंगा और किसी को इस बारे में नहीं बताऊंगा।आंटी ने मेरे लंड को पकड़ा और हल्के – हल्के अपने हाथों से सहलाना शुरू किया.

वीडियो सेक्सी माल

उन्होंने एक हाथ से मेरे चूतड़ पकड़ कर मुझे उठाया और अपने लंड को मेरी गांड की छेद पर सैट कर दिया. वो धीमे स्वर में सिसकारियां लेने लगी- आआ अहह भाई धीमे करो … आआहह!वो मेरे होंठों को काटने लगी और बोली- भाई ये क्या कर दिया तूने … मुझे तो एकदम तारे दिखा दिए … श भाई अब चोद दे मुझे … आह मजा आ रहा है. मेरा ये पैतरा काम कर गया और वो बोलीं- अच्छा बताओ, अपने हाथ से बस उंगली लगा के बताओ.

मामा ने पीछे से मामी की चूत पर लंड सैट करके एक धक्का मारा, उनका पूरा लंड एक बार में ही मामी की चूत में घुस गया. मैं अभी कुछ कहने ही वाला था कि वो मुझसे दबी आवाज में बोली- एक और जगह पर लगा दोगे?तब मुझे लगा कि आज ये मुझसे इतना काम क्यों करवा रही है. वो …पापा बोले- अबे कुछ नहीं है … हम दोनों के बीच में कोई पर्दा नहीं है.

मीना ने मुझे सपने से जगाते हुए कहा- धारा … चलो अब खरीददारी करने चलते हैं.

लेकिन मनोज बोला- मादरचोदी साली … चुप रह कुतिया … मैं तेरी चूत में ही बीज छोड़ूँगा. चचा ने फिर से नारियल तेल लिया और अपने लंड पर उसे अच्छी तरह से लगा लिया. जवान मामी की चुत चुदाई का मजा लिया मैंने जब मैं मामा के घर रहने गया था.

थोड़ी देर बाद खुद ही ससुर जी मेरे पास आये, एक बिल्कुल झीनी सी गाउन की तरफ इशारा करके बोले- अञ्जलि बहू, उस गाउन को देखो!इशारा करके ससुर जी शॉप के बाहर आ गये. उधर का माहौल बता रहा था कि अब शायद शिल्पा दीदी की चुदाई की बारी आ गई थी. उसने झटके से पिलो खींच लिया तो मेरा लंड लोवर में से साफ़ दिख रहा था.

मेरी सेक्सी हिन्दी कहानियाँ सबको पसंद आती है तो मैं नई कहानी जीजू के जोरदार लंड की लेकर आयी हूँ. फिर मेरी मम्मी कुछ दिनों के लिए नाना नानी के घर चली गईं और पापा रोज अपनी ड्यूटी में चले जाते थे.

मुझे अपनी हालत कुछ ठीक नहीं लग रही थी तो भाभी ने मुझे एक टेबलेट दी, मैं सो गया. मोहित बोला- राजसी, अपनी असली खूबसूरती दिखाओगी?उसका इशारा मेरी दोनों टांगों के बीच की दरार से था. मनोज बोला- क्यों तेरे ब्वॉयफ्रेंड ने तेरी गांड नहीं मारी!मैं बोली- नहीं, उसने पीछे से नहीं ली है.

मैंने गाउन देखा, वो इतनी ट्रांसपेरेन्ट थी, कि मेरा जिस्म सामने वाले के सामने नंगा ही दिखता।मैंने उसको पैक कराया और घर आ गयी।मैं जानबूझ कर उस गाउन को पहनकर ससुर जी के सामने नहीं गयी।दो-तीन दिन तक वो बेचारे कुछ नहीं बोले.

जब किसी लड़की की सेक्स की भूख उसकी चुत में होती है ना कि उसके चूतड़ों के बीच बने छेद में. अगले दिन मैंने उसको रिश्तेदार के यहां ड्रॉप कर दिया और उसकी नौकरी लगवाने में मदद की. इस बीच आंटी मुझसे काफी खुल गई थीं और मैं भी उनसे जब तब उनके हुस्न को दिखाने के लिए कहता रहता था.

उसने भी अपने एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया और हम दोनों एक-दूसरे का ऐसे ही मजा देने लगे. इस दौरान प्रीति झड़ चुकी थी लेकिन मुझ पर इस बात का कोई असर नहीं हुआ, मैं उसी स्पीड से उसकी चूत में लन्ड पेलता रहा.

मामी लंड चूसने में इतनी एक्सपर्ट थीं कि मुझे लग रहा था मैं ऐसे ही ना झड़ जाऊं. सबको लगता था कि मैं अभी बच्चा हूँ, पर ये बच्चा कितना गुल खिला रहा था, ये किसी को नहीं पता था. जब तक सन्नी ने मेरी गांड में अपने लंड को पेल नहीं लिया, तब तक जीजू ने मुझे नहीं छोड़ा.

सेक्सी वीडियो जंगल में चोदने वाली

अब मैंने अपना पजामा नीचे किया और अपना लंड दीदी की गांड पर लगा दिया.

प्लीज दीदी, मुझे वहां पर भी किस कर लेने दो ना! मेरा सपना है कि मैं एक बार उसे देखूं और किस कर सकूं!यह सुनकर दीदी हंसने लगी. लगभग 10-15 धक्कों के बाद जुबैदा की चुत ने पानी का फव्वारा छोड़ दिया … पर मेरा तो अभी हुआ नहीं था. फिर मम्मी ने अपनी पैंटी पहनी, ब्रा पहनी और अपने मम्मों को दादा जी के मुँह पर रख कर मम्मों को हिलाने लगीं.

उनके गीले बाल जब उनके गालों पर आ रहे थे, तब वो और ज्यादा खूबसूरत दिख रही थीं. मैं भी उनकी तरफ देखकर मुस्कुरा दिया और उनको दिखा कर लंड हिलाने लगा. बीएफ पंजाबी सेक्सी बीएफभाभी की मस्ती भरी चीखें पूरे कमरे में गूंज रही थीं और मैं भी भाभी को ऐसे चोद रहा था कि शायद फिर से चोदने को ना मिले.

मुझे इतना उत्तेजित देख कर मीना ने मेरे करीब आकर मेरे ब्लाउज़ के बटन खोल दिए. मैंने अभी तक इतनी महंगी बस में सफर नहीं किया था, इसलिए काफी उत्साहित था.

मेरी आप लोगों से गुजारिश है कि हैंगआउट पर या इंस्टाग्राम पर मैसेज किया करें. अन्तर्वासना की सेक्स कहानी और पोर्न फिल्म देखकर मुझे सेक्स करने के बारे में काफी ज्ञान हासिल हो चुका था. पर अब्बू का लंड तो शताब्दी ट्रेन की स्पीड में दौड़ रहा था, स्टेशन से पहले गाड़ी कहां रुकने वाली थी.

राहुल ने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और मैंने पीछे से उसकी मोटी गांड पर थूक लगा दिया. दर्द भरा सेक्स कहानी मेरी बीवी की चुदाई की है जो होटल में उसके पुराने दोस्त ने की. मीना ने जोर से सिसकारी ली- आअहह … अहह उफ्फ!मैंने एक हाथ से अपनी ज़िप खोल कर लंड बाहर निकाला और उसका हाथ पकड़ कर लंड पर रख दिया.

दूसरे राउंड में भी मैंने भाभी की चुदाई में रुक रुक 45 मिनट तक लंड चुत गांड में बारी बारी से रगड़ा.

हमें जयपुर से जोधपुर जाना था और ये प्रोग्राम अचानक से बना था तो ट्रेन में बर्थ नहीं मिली. वो चुप हो गईं तो मैंने मैंने उनसे रोने का कारण फिर से पूछा तो भाभी उठीं और उन्होंने मुझे कस कर गले से लगा लिया.

मौसी की चुत को देख कर लग रहा था कि उन्होंने एकाध दिन पहले ही शेविंग की थी. यह देख दूसरा लड़का भी सामने आ गया तो मैं उठकर बैठ गई और उसका लंड भी बाहर निकाल लिया. एक बार उसके हज़्बेंड को इन दोनों का पता लग गया और ऑब्जेक्ट करना तो दूर, उस लंड के फकीर ने वीर के साथ मिलकर सीमा की ज़ोरदार थ्रीसम कर डाली.

जैसे ही ऋतु को अपने दोनों चूचियों पर एक साथ हमले का अहसास हुआ, वो मजे से कराह उठी और उसका मुँह खुल गया. [emailprotected]इंडियन हॉट आंटी सेक्स कहानी का अगला भाग:दोस्त की मम्मी ने चूत चुदाई करनी सिखाई- 2. पर जैसे ही बिस्तर पर मैं उसके ऊपर आया तो वो मुझे धक्का देकर बाहर आ गई।फिर सलीम बोला- राज मेरे भाई, आज मेरा जन्मदिन है.

अरे बीएफ भेजिए मैंने आंटी से पूछा- अब यह बड़ा हो गया है तो क्या यह ठीक है?आंटी ने बताया- अब यह लगभग 7 इंच का लग रहा है. मेरी दीदी अक्सर अपने बालों को खुला ही रखती हैं क्योंकि उनके बाल बहुत ज्यादा सिल्की हैं जो देखने में काफी अच्छे लगते हैं.

हिंदी सेक्सी चुदाई करते हुए वीडियो

मेरी पिछली कहानीब्यूटीशियन भाभी की प्यासी चूत की चुदाईपर बहुत से मेल आते रहे हैं, पर मैं टाइम पर न दे पाने की वजह से मेल बहुत कम चैक कर पाता हूँ और ये एक बड़ा कारण है कि मैं सभी का रिप्लाई नहीं दे पाता हूँ. उसने पानी से कुल्ला किया और मेरे बगल में आकर लेट गई और अपनी बातें सुनाने लगी. मैं भी अपने घर में ये बात कहकर निकला कि मेरे दोस्त की शादी है, मैं दो तीन दिन बाद आऊंगा.

मंजू- आह आंह ओ उफ्फ्फ्फ सीई धीरे धीरे … आंह मत चूसो … उह उह दर्द करता है धीरे करो!मेरे द्वारा मंजू की चूची को चूसना निरंतर चालू था. मैं अन्तर्वासना साइट का एक बड़ा प्रशंसक हूं, इसलिए मैंने सोचा कि अपनी आंखें देखी सेक्स कहानी को भी इस वेबसाइट पर डाला जाए ताकि मेरी तरह अन्य लोग भी मजे ले सकें. बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो दिखाएंमामी- आउच आहम्म मम्म और तेज दबाओ … ओह्ह ओह्ह आह्म्म आह्म्म अहम ओह!मैं मम्मों के दोनों निप्पलों को बारी बारी से अपने होंठों में लेकर जोर से खींच खींच कर चूस रहा थाकुछ ही देर में मामी के दूध लाल हो गए थे; उन पर मेरे काटने के जगह जगह निशान पड़ गए थे.

अब मोनाली मुझे बार बार बोलती थी- मुझे रंडी बना दो … मेरी चुत में किसी ग्राहक कर लंड डलवा दो.

घर का कोई जुगाड़ बन ही नहीं पा रहा था, तो हम दोनों का ऐसे ही चलता रहा. आंटी जी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि पड़ोस की एक सेक्सी आंटी के पति मोटे थे.

मैंने उसको मैसेज किया कि अब बस करो जानू मुझे सोना है, नींद आ रही है. मामी की गांड में आधा लौड़ा ‘फॅक … फॅक … फॅक …’ की आवाज़ से अन्दर-बाहर होने लगा. फिर भी तेरा बहुत बड़ा है और मैंने देखा था कि मेरा छेद तो छोटा सा है.

वो कुछ नहीं बोली तो मैं उसके पीछे खड़ा हो गया और अपनी पैंट के ऊपर से ही फूले लंड से उसकी गांड पर एक धक्का लगा दिया.

फिर मैं रोते हुए ज्योति को धीरे धीरे सांत्वना देने लगा और किसी तरह से ज्योति को शांत किया. ना चाहते हुए भी मैं उसे देख कर अपने ब्वॉयफ्रेंड के लंड से कंपेयर करने लगी. वो थोड़ा हिल-डुल रही थी … उसने मेरी तरफ करवट ली और अपना एक पैर मेरे पैर पर रख दिया.

5:00 वाली बीएफफिर शैंकी ने मेरी चुत में अपना थूक लगाया और लंड को पीछे से ही चूत पर रखकर अन्दर पेल दिया. एक साल पूरा हो, इससे पहले ही लॉकडाउन शुरू हो गया, जिसकी वजह से वह घर वापिस आ गई.

तरुण सेक्सी व्हिडिओ

चाची को भी शक था कि मैं उन्हें छुप छुप कर देखता हूं, लेकिन मैं कभी पकड़ में नहीं आया. उन्होंने अपनी कमर थोड़ी सी उठा ली, जिससे मुझे झटके लगाने में आसानी हो गयी. कुछ देर बाद दादा जी ने अपने लंड को मम्मी के मुँह में डाल दिया और उनका मुँह चोदने लगे.

मैं इस मजे को अगले भाग में आगे लिखूंगा, तब तक आप मुझे मेल करना न भूलें. फिर भाई मेरी जांघों को सहलाने लगे और बोले- स्कर्ट भी छोटी लग रही या ठीक है?भैया का लंड अब एकदम तन गया था और मेरे गांड से रगड़ रहा था. अभिषेक बोला- चलो मैं तुम्हें पास से दिखाता हूं, तुम्हें और मजा आएगा.

मैं ऑफिस पहुंचा और अपना बैग खोला, तो मैंने देखा कि मैं अपनी फाइल तो घर पर ही भूल गया हूं. मुँह में लंड लोगी!प्रिया- भाई अब रहने दे … मुझे दर्द होने लगा है, मैंने आज तक किसी को किस भी नहीं किया था. हुआ यूँ कि मेरी कजिन ने मुझे उकसाया और वो मेरी गर्लफ्रेंड बन कर मेरे लौड़े से चुद गई.

नफीसा भी बहुत खुश थी क्योंकि आज उसका ही बेटा उसे चोद रहा था।अब मैंने उसके मुंह के पास आ कर अपना लन्ड होंठों पर रख दिया वो गपागप गपागप चूसने लगी और सलीम उसे रंडी के जैसे बिना रूके गपागप गपागप चोद रहा था।मैं समझ गया था कि बहुत दिनों बाद या पहली बार इसे चूत मिली है।अब सलीम ने कहा- अम्मी घोड़ी बन जाओ!नफीसा घोड़ी बन गई और सलीम ने चोदना शुरू कर दिया. नीता पूरी तरह मेरे बदन से चिपक गई थी और उसने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए.

लेकिन जल्दबाजी नहीं करनी थी।मैं बोला- पिंकू, खाना वाना जल्दी बना ले.

अब तक हमारे कपड़े भी सूख गए थे, तो सबने अपने अपने कपड़े पहने और घर चले आए. नेपालन की बीएफ सेक्सीउसने अपने दोनों पैर मेरी कमर से लगा दिए और पीछे की ओर कर दिए, ताकि मैं कहीं दूर न जा पाऊं. बीएफ हिंदी में एचडी वालीये बात सही निकली और मामी ने मेरे बालों को सहलाते हुए आंखें बंद करके एन्जॉय करना शुरू कर दिया. ये सीन देखकर मैं भी बेकाबू होने लगा तो मैंने भी अपने कपड़े उतार डाले और सिर्फ चड्डी पहने हुए कमरे में घुस गया.

उसने मुझे लंड चूसने को बोला, मैंने भावावेश में आकर उसका लंड पकड़ लिया और मुँह में ले लिया.

पर एक वादा करो राज … तुम मेरे अलावा किसी को नहीं देखोगे, भले शादी के बाद अपनी बीवी से कर लेना, पर अभी मुझे ही अपनी बीवी समझो. हमें जयपुर से जोधपुर जाना था और ये प्रोग्राम अचानक से बना था तो ट्रेन में बर्थ नहीं मिली. कोई उनसे पूछे कि सत्तर के दशक से नब्बे के दशक तक किसी लड़की को पटाना कितना मुश्किल काम था.

अबकी बार मैं एक हाथ दीदी के बूब्स पर रखकर उनको मसलने लग गया जिससे दीदी का मजा कई गुना बढ़ गया और दीदी जोर से मुझे स्मूच करने लग गई. जब दीदी अपने बाल पीछे करती हैं जब वे बाल उनकी गांड पर आते हैं जिसकी वजह से गांड और ज्यादा फूली फूली लगती है. मैंने भाभी से पूछा कि आपको प्रॉब्लम नही हो, तो मैं क्या ऐसे सो सकता हूँ!भाभी हल्के से मुस्कुरा कर बोलीं- हां सो जाओ.

हिंदी सेक्सी वीडियो2021

मैंने फिर से दलाल को फोन किया और उससे पूछा कि मोनाली से रोज कितने आदमी चुदाई करेंगे?वह बोला कि कम से कम 5-7 लंड उसकी चुत में घुसेंगे. तभी मैं उनके रूम में आयी और बोली- मां कौन 6 चढ़ गए थे और आपको क्या मिला?तब मां बोली- कुछ नहीं. दोस्तो, एक अनोखी शादी के तीसरे भागगांडू की बीवी ने डिल्डो से गांड मारीमें आपने पढ़ा कि रतन और मोहिनी ने कैसे यौन आनंद लिया।वो दोनों रोज नए नए खेल खेलते और इसी बीच उनको ध्यान आया कि स्वाति होती तो और भी मजा आता।अब आगे सुहागरात का सेक्स:मोहिनी की यौन सहेली स्वाति की शादी हुई.

साफिया को अब दर्द होने लगा था पर फिर भी इतना दर्द के बावजूद भी अपने मामू के लंड के पानी का अहसास करना चाहती थी.

पहले मेरी चूचियां इसलिए टाईट थीं क्योंकि उन दिनों मेरे अन्दर काफ़ी आग लगी रहती थी और मेरे कुछ आशिक़ थे जो मेरी चूचियों को खूब दबाकर चूसकर मुझे चोदते थे.

मैंने अपने चूतड़ दोनों तकियों पर आराम से रखे हुए थे और मोहित भी कम्फ़र्टेबल पोजीशन में था. चचा ने ढेर सारा थूक मेरी गांड में डाला, जो सीधे मेरी खुली गांड में अन्दर तक चला गया. बीएफ पिक्चर का गानातीन दिन तक हम लोग गेस्ट हाउस में रहे और नंगे नंगे ही रहे।न किसी लड़की ने कोई कपड़ा पहना और न किसी लड़के ने कोई कपड़ा!चलते चलते सबने यह तय किया कि हर महीने इसी तरह की सामूहिक चुदाई पार्टी हुआ करेगी।चुदाई पार्टी की हिंदी स्टोरी में मजा तो आपको जरूर आया होगा.

जैसा कि मैंने आपको बताया कि मंजू मेरे से बड़ी और समझदार ज्यादा थी, उसको सेक्स का बहुत कुछ पता था. उस दिन मेरा मन काम में जरा भी नहीं लगा और न आफिस में किसी और से बात करने में मन लगा. काफी देर तक लंड मसलने के बाद मैंने एक हाथ से उसका हाथ रोका और अपना निक्कर निकाल कर अपना लंड उसे दोबारा पकड़ा दिया जिसे वो दोबारा मसलने लगी.

कुछ देर बाद जब भाभी ठीक हुईं तो बोलीं- ये चुदाई मैं जिंदगी भर याद रखूंगी … सच में आज मुझे चुदाई में मजा आ गया. तो कमेन्ट करना और अपने दोस्तों से शेयर करना।मिलता हूँ अगली कहानी में … तब तक आप मुझे मेल करके बतायें कि कैसी लगी आपको कज़िन सिस्टर Xxx चुदाई कहानी।मेरा ईमेल एड्रेस है[emailprotected].

मैंने उससे कहा- डार्लिंग, अब तुम दोनों मालूम है कि मेरे लंड का स्वाद कैसा है.

राजेश ने मुझे देखा और वो मेरे पास आकर बोला- ठीक हो न!मैं बोला- गदहे का लंड लेने के बाद कौन ठीक रहेगा. दीदी ने कहा- ऐसा क्यों कह रहे हो? मैं भी तुमसे उतना ही प्यार करती हूं जितना तुम मुझसे करते हो! तभी तो तुम्हें वह सब कुछ करने दिया जो सिर्फ मेरा पति मेरे साथ कर सकता है या फिर मेरा बॉयफ्रेंड! और आज तुम ही मेरे पति हो और तुम ही मेरे बॉयफ्रेंड हो! ऐसा क्यों कह रहे हो कि मैं तुमसे प्यार नहीं करती, मैं अपने प्यार को साबित करने के लिए कुछ भी करूंगी. इसी बीच उन्होंने एक तेज़ धक्का मारा, उनका आधे से ज्यादा लंड गांड में अन्दर धंस चुका था.

बीएफ सेक्सी इन लेकिन प्रीति ने मना किया और बोली- मेरी गांड मारनी हो तो मार लो, चूत नहीं दूंगी. सुहागरात का सेक्स करने में मोहिनी को दर्द हुआ मगर वह मुस्कराकर दर्द सह गई।मैंने थोड़ी देर धीरे धीरे चोदा, फिर गति बढ़ा दी.

दीदी की बुर से काफी सारा पानी निकला जिसे मैं सारा का सारा चाट चाट कर पी गया. जिनको मॉम एंड सन चुदाई कहानी से परहेज है, वो प्लीज़ अपनी शराफत का टोकरा उठा कर किसी दूसरी कहानी का मजा लें. मुझसे और रहा नहीं गया, मैंने तुरंत उसकी तरफ़ करवट बदल कर उसके लंड को पकड़ लिया.

सेक्सी व्हिडीओ रँडी

अब आगे हॉट सेक्सी गर्ल सेक्स स्टोरी:तो मैं बोला- मैंने तुम्हें अभी तक इसीलिए ही नहीं चोदा. मीना- आह काटो मत यार … आउच ई आराम से चूसो … आह ऐसे ही करो आ आशु आंह बस करते रहो. जो दीदी ने सुन ली और पूछने लगी- यह तुमने क्या किया, पजामा क्यों नीचे कर दिया मेरा?मैंने कहा- दीदी, पजामा भी तो बचाना है और यह नीचे रहेगा तो फिर कमर पर अच्छे से मालिश हो पाएगी.

ऋतु की चूत बुरी तरह से फट गई थी और उसमें से हल्का सा खून बाहर आने लगा था. मैंने थोड़ा झुक कर उसकी चूचियों को मसला और एक को मुँह में भरकर जोर से चूसने लगा.

आप मुझे मेल करें ताकि मैं आपको अपने जीवन की यौन अनुभूतियां और भी सलीके से लिख सकूँ.

अब वो धीरे धीरे अपनी कमर चला रही थीं- आह्म्म आह आह आह चोदो बाबु चोदो … आज जोर लगा दो पूरा … सारी प्यास मिटा दो इस चूत की ऊउम्म आहम्म मम्म ओह आह्हम्म ओह आहमैं उन्हें कसकर हग करके नीचे से हल्के हल्के धक्के लगाने लगा. ऋतु ने तिरछी नजरों से सनी के लंड को देखते हुए उसे इशारा किया तो सनी ने आगे बढ़कर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा. दीदी ने पूछा- तुम क्यों माफी मांग रहे हो?मैंने कहा- मैंने आपके दुदू देख लिये … इसके लिए मुझे माफ कर दीजिए.

जलगांव जाने वाली बस रात 12 बजे चली और सुबह 8 बजे के करीब मैं जलगांव आ पहुंचा. भाभी ने ब्लैक कलर की साड़ी पहनी हुई थी, जिसमें वो बहुत सेक्सी लग रही थीं. पहले धक्के में भाभी की दोबारा चीख निकल गई और वो मुझे गालियां देने लगीं.

अब वो बोला- चल साली रंडी कुतिया बन जा!मैंने पहले उसके लंड को कंडोम पहनाया और खड़ी होकर अपने बाल बांधने लगी.

अरे बीएफ भेजिए: वो कुछ तक समझ पाता कि मैंने उसका लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगा. मैंने उन पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया और दूसरे ही झटके में पूरा लौड़ा उनकी चूत में डाल दिया.

मेरा लंड उसके चूतड़ों को टच करते ही खड़ा हो गया था जोकि उसको भी चुभ रहा था. सेक्स के ऊपर भाभी से खुल कर चर्चा होने जब शुरू हुई थी तभी भाभी ने दबी जुबान में अपने पति से चुदाई में असंतुष्ट होने की बात कही थी. बुआ ने जैसे ही अपनी चूत को मेरे खड़े लंड पर रखा, लंड सट्ट से अंदर घुस गया.

मैंने मीना से पूछा- अन्दर कब डलवाओगी?मीना बोली- मन तो मेरा आज का ही है … देखते हैं.

मैंने आव देखा न ताव … पहले उन्हें बिस्तर पर लिटा कर उनकी टांगों को खोल दिया. मैं बोला- दीदी, मैं मालिश कर दूंगा तो शायद आपको आराम मिल जाए!ठीक है पेन रिलीफ जेल ले आओ और मालिश कर दो!”मैंने मन में सोचा कि अगर जेल से मालिश की तो मालिश 5 मिनट में ही खत्म हो जाएगी. कुछ देर बाद मैंने अपने जीभ उसकी नाभि में डाली तो उसके मुंह से आह हहह … उई इशह … ओह … उफ! इस तरह की सिसकारियां निकलने लगी.