खून खराबा बीएफ

छवि स्रोत,देसी भाभी की जंगल में चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सादा: खून खराबा बीएफ, दोस्तो, कहानी थोड़ा लम्बी है इसलिए कहानी को अगले भाग में लिखूंगा, मैं आशा करता हूँ कि ए सेक्स स्टोरी ऑफ़ लस्ट आप सबको पसंद आएगी.

एचडी स्ट्रीम

अब मैं उसके लंड के लिए तड़प रही थी और सोच रही थी कि विशु से चुदाई कैसे करवाई जाए. ड्रोन दिखाओवो मुझे देखते ही बोली- आज पापा नहीं है, उन्होंने कहा था कि सिंह साहब का बेटा आएगा, तो उसे दूध दे देना.

वो मेरी चूत में जीभ से मेरी चूत के दाने को सहलाती हुई बोलीं- आह बहू … बहुत मजा आ रहा है और जोर जोर से मेरी चूत चाट!मैंने तभी सासू की चूत से जीभ हटा ली और उनके ऊपर से उठ कर अलग हो गई. लड़की नहा रही हैउसके बाद मैं उसे मेट्रो तक ड्रॉप करने गया क्योंकि वो दिल्ली के दूसरे इलाके में रहती थी और वो मुखर्जी नगर में कोचिंग के लिए आती थी.

इतने में रश्मि ने अपना टॉप अपने चूचों तक उठा दिया और बोली- गर्मी है, तो अंकल आप भी अपनी टी-शर्ट उतार दो.खून खराबा बीएफ: मुझे ऐसा लग रहा था कि अगर मैंने नैना को नहीं रोका, तो मेरा लंड इसके मुँह में ही हलाल हो जाएगा.

कुक्कू वासना से मेरी तरफ देखने लगी थी, उसकी चुत में आग लग चुकी थी ऐसा साफ़ नजर आ रहा था.मोनिका ने बोलना शुरू किया- शिव, आज तो तुम बहुत स्पीड में थे, साले तूने मेरी चूत फाड़ दी.

चेहरा गोरा करने का साबुन - खून खराबा बीएफ

इस खेल को और आगे बढ़ाने के लिए मैंने उनके फोन से अपना नंबर कॉल हिस्ट्री से डिलीट कर दिया जिससे उन्हें लगे कि मुझे अभी भी पता नहीं है.मैं जल्दी से तैयार होकर, अपने गेस्ट हाउस से नीचे आया और सामने ही बने आनन्द और नैना के घर की ओर चल दिया.

फिर उसको पता नहीं क्या सूझा, उसने मुझे अपनी ब्रा में से एक छोटी सी गोली निकाल कर मुझे दी. खून खराबा बीएफ इतने में अंकल से मेरी गांड में धक्के देने लगे और मेरे चुचे दबाने लगे.

भाभी भी मेरे सर पर दबाव डालते हुए अपने बूब्स चुसवा रही थीं और बोल रही थीं- बहुत बढ़िया राज … तुम तो बहुत पक्के खिलाड़ी निकले … आंह और चूसो राज!मैंने भाभी की साड़ी की ओर हाथ किया और उनकी साड़ी और पेटीकोट को कमर तक खींच लिया.

खून खराबा बीएफ?

उसने आंख मारी तो मैं उसे किस करने लगा ‘ऊऊम्माह … ऊऊम्माह …’उसने मुझे रोका और बोली- ये गलत है यार!मैंने कहा- कुछ गलत नहीं है साली तेरी जो जरूरत है, वो मेरी भी है. फिर वो दोनों छत पर सोने गईं लेकिन गर्मी के कारण अकुलाहट बहुत हो रही थी. ये गर्लफ्रेंड सिस्टर Xxx कहानी तब की है जब मैं अक्सर 10 या 15 दिन के बाद अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जाता रहता था.

जल्द ही मिलूँगा और बताऊंगा कि भाभी के घोड़ी बनकर चुदने के प्रस्ताव को कैसे इसी उत्साह और जोश के साथ पूरा किया. मैं उससे बात करते हुए उसकी तारीफ करने लगा और वो मेरी हर बात पर हंस कर मुझे जवाब देने लगी. पहले तो उसने मुझे धक्का देकर दूर कर दिया पर मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए और कुछ जबरन किस किया.

अब मेरी उनकी मेरी हमेशा बातचीत होती रहती थी और हंसी मजाक भी चलता रहता था. बाद में मेरी गर्लफ्रेंड ने अपनी छोटी बहन अर्शी को भी बता दिया कि मेरी सैटिंग समीर से चल रही है और वो मुझसे मिलने आता है. मैंने कहा- यहां पर मेरे और तुम्हारे सिवा और तो कोई है नहीं, मेरा फर्ज बनता है कि मैं तुमको कोई परेशानी ना होने दूँ.

दो-तीन बार कोशिश करने पर भी जब लंड चुत में नहीं घुस पाया तो उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चुत पर सैट करके मुझे इशारा किया. यह कहानी भाई बहन के सेक्सी गेम की है जो दोनों ने अपने पड़ोसी जोड़े के साथ मिलकर खेला.

मेरा लन्ड फच फ़च की आवाज़ के साथ तेज़ी से अन्दर बाहर हो रहा था।अब तो वो भी अपनी जीभ मेरी जीभ के साथ लड़ाने लग गई थी.

जैसे ही वो थोड़ी सी भटकी, मैंने झटके से अपनापूरा लंड उसकी चूत मेंउतार दिया.

घर आकर मैंने फ्लैट की चाभी मीना को दी और उसका सामान मैं खुद उठा लिया. अब चूंकि मेरा घर भी बन रहा था, तो वो लड़के घर देखने के बहाने आते और बैठे रहते थे. मैं नहा कर ऊपर गई तो देखा कि विशु मोबाइल में पोर्न देख रहा था और दबी आवाज में ‘रिंकी दीदी … आंह रिंकी …’ बोल बोलकर अपने लंड को सहला रहा था.

मैं- आअहह ओह चोद दो बाबा जी चोद दो उस्ताद जी … आंह अपनी रांड को एक साथ दोनों छेदों में मजा दे दो … आहहफिर उस्ताद जी ने बाबा जी से कहा- अब मैं इसकी गांड में लंड दूंगा. मैंने बाहर हॉल में आधा घंटा टीवी देखा और अपने बेडरूम में जाकर मोबाइल में गेम खेलने लगा. मामी- अच्छा भानजे जी, आओ बैठो अंदर!उनके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान थी.

मैं- अच्छा राहुल सुनो, मेरे दोनों स्तन दूध भर जाने के कारण भारी हो गए हैं.

उसे जैसे ही ख्याल आया कि उसने पैंटी नहीं पहनी है, वो झट से अपनी चूत को छुपाने लगी. मेरे टांग बुआ के चूतड़ों के ऊपर होने के कारण मेरा लंड बुआ की गांड की दरार में पूरी तरह फिट हो गया था. मम्मी- आह नरेश 6 साल से मैं इस सुख के लिए तरस रही थी और रात भर करवटें बदलती रहती थी.

फिर मामा की आवाज आई- मैं तेरे मुँह में कुल्फी डाल रहा हूँ, इसे चूस लेना चूसने से जो निकलेगा, उसे प्रसाद समझ कर पी जाना. कुछ दूसरी लड़कियों पर भी कोशिश की लेकिन बात चूत और लंड के मिलन तक नहीं पहुंची. मैंने ब्रा के ऊपर से ही उनको धीमे धीमे सहलाया, बहुत ही मजेदार अनुभव था.

अब उसकी नंगी जांघ मुझे दिख रही थी पर उसकी चूत उसके शर्ट से ढकी हुई थी.

मेरे भी दोस्त कहते थे कि यार अंकित कभी अपनी बीवी को गैर मर्द से चुदवा कर देख, कितना मज़ा आता है. मैंने कहा- कुक्कू शर्म मत करो … यहां मेरे और तुम्हारे सिवा और कोई नहीं है.

खून खराबा बीएफ मैंने मम्मी की जांघों के ऊपर हाथ फेरना शुरू किया और धीरे धीरे मैंने उनकी चूत पर हाथ फेर दिया. मैं भी ऊपर नीचे धीरे-धीरे हो रहा था और लंड उसके मुँह में चलने से उसे दर्द हो रहा था.

खून खराबा बीएफ इधर पापा चुदाई की स्पीड बढ़ाने लगे और दीदी मजे से मादक सिसकारियां लेने लगीं- आह ई उह आह उइ उइ मम्मी से फट गई आह पापा मजा आ रहा है प्लीज़ चोदो उह!अब पापा इतनी जोर से पेल रहे थे कि बेड से चूं चूं की आवाज जोर से आने लगी थी, बेड हिल कर दीवार से लड़ रहा था जिससे टक ठक की आवाज आ रही थी. मैंने अपने लंड को अन्दर धकेला पर चूत इतनी टाइट थी कि लंड मानो फंस सा गया था.

मैंने उनके मम्मों पर हाथ फेरा और मजाक करते हुए कहा- मम्मी जी आपके दूध तो बड़े सख्त हैं.

बीएफ फिल्म बीएफ हिंदी

फिर भाभी ने मुझसे कहा- भैया, बड़े आम ढीले रहते हैं … आप बड़े के चक्कर में पिलपिले आम न ले आना. मैंने कहा- अच्छा लेस्बियन करवाना है आपको!वो बोलीं- हां तेरे ससुर ने बहुत पहले मुझे एक ब्लू फिल्म दिखाई थी. तभी दीप्ति ने आगे बढ़ कर अपनी अलमारी को खोला और उसमें से कंडोम का एक पैकेट निकाल कर मुझे दे दिया.

दीदी चिल्लाने के लिए मेरे मुँह से अलग होने लगी लेकिन मैंने उसको छोड़ा नहीं. उन्होंने पहले मुझे गौर से देखा, फिर एक प्यारी सी स्माइल देकर थैंक्यू कहा. कुछ ही क्षण बाद मैं स्खलित हो गया और दीप्ति के ऊपर से हटकर कंडोम को निकाल कर डस्टबिन में फेंक दिया.

देखते ही वह चिहुँक कर बोली- बाप रे … ऐसा भी लंड किसी आदमी का होता है?मेरा 8 इंच का लंड जो काफी मोटा भी है सोया हुआ था।मैं बोला- कोई नहीं … तुम इसे ले लोगी परन्तु मैं जल्दी झड़ता नहीं हूँ। यह सबसे बड़ी दिक्कत है। मैं कई औरतों से मिल चुका हूँ.

मैंने झट से उनकी कमर में हाथ डालकर मैक्सी कमर तक कर दी तेल डालकर अच्छे से कमर की मालिश करने लगा. कहानी के पहले भागमेरी बुआ के दीवाने गाँव के लड़केमें अब तक आपने पढ़ा कि मेरी गर्लफ्रेंड मुझसे नाराज थी और वो मेरे हैंड-फ्री फोन पर मुझे खरी खोटी सुना रही थी. सामने वाली लड़की ने झुककर अपने साथ बैठे आदमी को बताया कि हमारी टेबल पर क्या चल रहा है.

पजामे के साथ उन्होंने अपनी पैंटी भी उतार दी और मेरे मुँह पर मूतने लगीं. दोस्तो, आपने मेरी पहली सेक्स कहानीचचेरी बहन को चोदा बस के स्लीपर बॉक्स मेंपसंद की. फिर जब मैंने उसकी चूत में उंगली घुसानी चाही तो उसे दर्द और जलन हुई.

डॉक्टर बहुत देर तक मेरी पत्नी की चूत को उंगली से ऐसे चैक करता रहा, जैसे कि वो चुत चोद रहा हो. मैंने अपने अधरों से उसकी चुत को चूम लिया और अपनी जीभ उसमें घुसा दी.

कुछ देर बाद उन्होंने अपने पैर घुटनों से मोड़ लिए जिससे मुझे भाभी के चूचे दिखने बंद हो गए. दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि पार्टनर स्वैप सेक्स इन ओपन से आपके लंड चुत एकदम गर्मा गए होंगे. तीन लोगों की चुदाई का सीन देखते हुए रमेश से भी नहीं रहा गया और वो मीरा के नीचे आ गया.

तो मैंने अपनी बहन की सील कैसे तोड़ी?दोस्तो, मेरा नाम अमन है आज मैं आपको अपनी छोटी बहन रिशू की चुदाई की कहानी बताऊंगा!रिशू मेरे चाचा की बेटी है, मुझसे 1 साल ही छोटी है.

अपने कमेंट्स के जरिये मुझे बताएं, आप मेरी ई-मेल आईडी पर भी मैसेज कर सकते हैं. मैं उनसे बात करते समय कई बार कोशिश की कि मैं अपने दिल की बात उनसे कह दूँ पर मेरी हिम्मत ही नहीं होती थी. आधा लण्ड चूत में गया और उनकी तेज चीख निकल गई- आआआ!मैं उनके ऊपर लद गया, उनके लब चूमने लगा और धीरे धीरे लण्ड को अन्दर करता गया.

हाय क्या बताऊं क्या नज़ारा था … केले के तने जैसी चिकनी जांघों के बीच छोटी सी दरार नजर आई. दोस्तो, मेरा नाम निकिता है। मैं एक शादीशुदा औरत हूं।यह गैंग बैंग सेक्स कहानी मेरी ही ग्रुप चुदाई की है.

यह कहकर मैंने भाभी के गर्दन पर अपने होंठ रख दिए और हल्के हल्के से चूमने लगा. हॉट भाभी देवर Xxx चुदाई कहानी मेरे चचेरे भाई की बीवी के साथ जोरदार की है. वो बोली- अगर मैं बहक गई तो क्या होगा?मैंने कहा- कुछ नहीं होगा … यहां कौन आ रहा है.

बीएफ सेक्सी एचडी में हिंदी में

तभी मोनिका ने बोलना शुरू किया- दीदी जो हुआ वो सब याद नहीं करते हैं, वैसे भी अब तो आपकी शादी होने वाली है.

तुम्हें देखकर तो बूढ़ों का भी लन्ड खड़ा हो जाये और वो तुम्हें चोदने को मचल जायें।ज्योति ने मेरी आँखों में देखते हुए कहा- सच बोल रहे हो भइया, क्या मैं इतनी खूबसूरत लग रही हूँ?मैंने कहा- सच में दो लन्ड का पानी पीकर तुम और रसीली हो गयी हो. उसके बाद …दोस्तो, मेरा नाम आमिर है और मैं 25 साल का हूँ और मैं दिल्ली से हूँ. कोमल दीदी भी अब मजा लेने लगीं और अपने दोनों हाथ मेरे सर पर रख दिए, जैसे वो चूत में चाटने को बोल रही हों.

जितना कल रात तुमने मुझे तड़पाया था उतना तो मानव ने फर्स्ट नाईट को भी नहीं तड़पाया था. फिर जैसे ही मैं उनकी चूत पर अपनी जीभ को लगाया, भाभी ने चूत ढकते हुए मुझे मना कर दिया- ये नहीं करो. बाथरूम में मां की चुदाईमैंने इशारा किया तो लूसी मेरा लंड मुट्ठी में लेकर सड़का मारने लगी और मैं झड़ गया.

मैं बाबा जी की चुदाई को याद करके चूत रगड़ने लगी और कुछ देर बाद झड़ कर सो गई. मैडम मेरी चुदाई से बहुत खुश हुईं और दोबारा चुदवाने का वादा करके चली गईं.

एक दिन मेम का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा- मुझको कुछ पैसों की ज़रूरत है, क्या कुछ हो सकता है?मैंने कहा- मेरे पास तो नहीं है. अब आगे रियल भाभी फक स्टोरी:दोस्तो, मैं इधर आपको बता देना चाहता हूँ कि मेरी स्वाति भाभी घर में हमेशा गाउन ही पहनती हैं. मैं वहीं उनको किस करने लगा, लिपकिस शुरू कर दिया तो उनने मुझे हटाया और कहा- अभी रूको, अभी तो सारी रात बाकी है.

अनिल ने मेरी मॉम से बोला- चल भैन की लौड़ी साली बुरचोदी … अपनी गांड चौड़ी करके मेरे लंड पर बैठ जा. चूंकि पढ़ाई के चलते अब ऑनलाइन क्लास चलने लगी थी, तो उसके पापा ने उसे भी एक स्मार्टफोन दिला दिया था. पता नहीं ये उस वोड्का का असर था, कम रोशनी का, म्यूज़िक का … या फिर उसका … पर मेरी आँखें बंद हो चली थी और मैं पूरी तरह से उस माहौल में खो चुकी थी.

भैया अपनी नाइट ड्यूटी से आकर सोए हुए थे तो भाभी ने ही मेरा स्वागत किया.

मैं बाइक से उसके घर पहुंच गया और खेत के रास्ते से मॉम भी पहुंच गईं. वो सिसकारियां भरने लगीं- आहह हह मेरे राजा … और तेज़ तेज़ … आहह … आहह … चोद चोद चोद मुझे … मार ले मेरी … आहह.

मैंने बुआ को एक तरफ बुलाया और उनसे कहा- मैं इसका काम एक शर्त पर दूंगा … मुझे इसकी चूत चाहिए. ‘मम्मम… मुउउह … ओह रेखा … आह … तुम कितनी अच्छी हो मेरी जान … उंह … उंहन … हाय मेरी गुल बदन … ओह्ह्ह … तुम्हारे नमकीन होंठ … पुच … पुच …’चाचा की ये आवाज और शब्द आज भी मेरे कानों में गूंजते हैं, ‘हाय मेरी गुल बदन … ओह्ह्ह … तुम्हारे नमकीन होंठ … पुच … पुच …’ मैं आज भी उन शब्दों को याद करके एकदम से उत्तेजित हो जाता हूँ. छोटा लड़का अशोक व्यापारी का काम काज संभालता था क्योंकि बड़ा लड़का विलायत में रह कर भोसड़ हो गया था.

मैं स्माइल करके बोला- झेल लोगी?दीप्ति हंस कर बोली- अब कोई रास्ता भी तो नहीं है. वहां मेरी साली मेरे लिए दूध ले आयी जिसे पीकर मैं और वो … थोड़ा बतियाए और कुछ देर बाद मैं सो गया. जब मेरी बहन घर आई तो उसने इस वाकिये को अपनी डायरी में लिखा, जो आज मेरे हाथ लग गई और मैंने आपको उसकी ग्रुप सेक्स की कहानी को आपके सामने पेश कर दिया.

खून खराबा बीएफ तुम उधर ही रहते हो न!मैं- हां मैं मुखर्जी नगर में ही उसी दुकान के पास रहता हूँ. वह डरने लगी और बोली- अंकल, आपने मेरे हाथ बांध क्यों दिए!मैं बोला- चिंता मत करो बेबी … थोड़ा कष्ट तो तुम्हें सहना ही पड़ेगा.

बीएफ वीडियो वीडियो हिंदी में

इस पर वो अपनी गांड उठाती हुई चिल्लाने लगीं- आंह हां बेटा चोद दे … आंह जोर से चोद दे … और तेज और तेज … आंह आज मेरी चूत फाड़ दे मेरे बेटे … तेरी अम्मी न जाने कितने सालों से प्यासी है. मैं उसे सवाल समझा रही थी तो मैंने देखा कि उसका ध्यान मेरे बूब्स की ओर था. मेरा नाम राजीव है, मैं झूठ नहीं बोलूंगा लेकिन ये मेरा असली नाम नहीं है.

उसकी टांगें खुल गई थीं जिससे रमेश को उसकी गोरी चूत की दरार दिखाई देने लगी थी. मैंने उसके मुँह पर अपना मुँह रखा और पूरे प्रेशर से लंड को उसकी चूत में दबा दिया. भोजपुरी में नंगा डांसफिर कल्पेश ने अपना पैग उठा कर एक सांस में खत्म किया और उठ कर उसके पास आ गया.

अपनी छोटी बहन पर थोड़ा तो रहम खाओ मेरी जान!अब तक उसकी उंगलियों को चूसने के बाद उसकी पिंडलियों को चाटते हुए उसकी जांघों की तरफ अपनी जीभ फिराते हुए मैं उसकी बुर के पास आ गया.

मैं बोला- वो घर पर अकेली कैसे रहती होगी?अंजलि बोली- मेरे घर काम वाली बाई के पास रहती है. मैंने बोला- मुझे जीजा क्यों बोल रही हो!वो बोलने लगी- मैं आपकी भाभी के बड़े पापा की लड़की हूँ.

सौम्या भी थक तो गयी थी पर कैमरे के सामने सच में किसी अप्सरा से कम नहीं दिख रही थी।अब हम लोगों को इंडोर फोटोज भी लेने थे पर तीस पेंतीस फोटो के लगभग हम पहले ही आउटडोर में ले चुके थे. थोड़ी देर बाद सब प्रोग्राम में बिजी हो गए थे मगर हम दोनों एक दूसरे को ही देख कर स्माइल कर रहे थे. रात को मैंने मोबाइल की टॉर्च जला कर रख दी थी लेकिन उसका उजाला कम था.

भाभी कुछ बोलतीं या समझतीं, इससे पहले मैंने भाभी को कमर के बल उठाकर बेड पर गिरा दिया और मैं भी भाभी के ऊपर आ गया.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गर्लफ्रेंड की कोरी चूत में लंड से हस्ताक्षर- 2. मेरे घर में सभी बुआओं की शादी हो गयी थी … बस मेरी छोटी बुआ ही बची थीं, जिनकी शादी भी 2-3 साल में होने वाली थी. मेरी ममेरी दीदी की शादी दिल्ली में हुई थी। उसका नाम नेहा है। उसकी उम्र 35 के आस पास है।उसके मोटे हिलते दूध और चौड़ी गान्ड विद्या बालन की याद दिलाते हैं।उसका पति उनसे उम्र में कुछ बड़ा है।लेकिन यह हॉट दीदी Xxx कहानी मेरी सगी दीदी की चूत चुदाई की उसके जीजू से है.

एक्सएक्सएक्स पिकमेरी मॉम ने ही सुमन को बेड पर लिटा दिया और सुमन डार्लिंग के होंठों को चूसने लगीं. फिर हम सब तैयार होकर नाश्ता करके तय प्रोग्राम के अनुसार अक्षरधाम मन्दिर देखने के लिए तैयार हो गए.

बीएफ फिल्म की कहानी

वो बोली- मैं भी अन्दर आ जाऊं क्या?मैंने सोचा आ गई तो पकड़ कर यहीं उसकी चूत बजा दूंगा, पर मैं कुछ बोला नहीं. साथ ही मैं अपने दांतों से भी उसके गुलाबी निप्पलों को धीरे धीरे कुतर देता, तो वो चिहुंक जाती. यह सुनते ही मेरा दिल खुश हो गया और मैंने फिर से उसके कपड़े उतार कर उसे नंगी कर दिया.

अभी भी मैं नंगा होकर अपना लंड तकिया में रख कर घिस ही रहा हूँ, इस कारण मुझे अपनी बात बताने में और भी ज्यादा मजा आ रहा है. मेरी गर्लफ्रेंड की उम्र 21 साल की थी और उसकी छोटी बहन की उम्र 19 साल की थी. तो मैंने पूछा- रात को तुझे मजा आया?वह खुश होकर बोली- मुझे क्ल रात बहुत मजा आया।मैं समझ गया कि अब ये कुंवारी लड़की अपनी बुर चुदाई के लिए तैयार है।पर उस टाइम लॉकडॉउन लगा हुआ था तो कहीं बाहर भी नहीं जा सकते थे।मैंने कहा- अगर तुम्हें मजा आया तो क्यों ना हम दोनों कहीं बाहर मिलें?तो उसने हां कर दिया.

मम्मी- अह्ह …चाचा झटके मारते हुए मम्मी की चुत चोदते रहे और पट पट की आवाज आती रही. मैं उनकी इन बातों को सुन कर उनकी चूचियों को और ज्यादा जोर से काटने लगा था, जिससे भाभी की एकदम से सिसकारियां निकली जा रही थीं,मैं अब धीरे धीरे उनके पेट पर किस करने लगा और साथ ही साथ दूध भी दबा रहा था. अब भाभी बिस्तर से उठ कर मेरे होंठों में चुम्बन लेकर कहने लगीं- बस भी करो ना यार … बहुत हो गया.

फिर तुम उसके साथ यहां पर मजे कर लेना और थोड़ा बहुत मजे तपिश को भी करने देना।तपिश और निधि ने कहा- हां ये ठीक है।यश ने भी हां में सिर हिला दिया।हम थोड़ी देर ऐसे ही बातें करते रहे।तभी तपिश बोला- अरे मैं एक बात बताना भूल गया अंजलि, मेरी रिचर्ड से बात हुई थी और वो तुम्हें अस्थाई रूप से तीन महीनों के लिये रिक्रूट करने को राजी हो गया है. कुछ देर बाद अब्दुल ने कंडोम का पैकेट मॉम को दिया और उनसे कहा- चल छतरी पहना दे.

रात का खाना खाने के बाद करीब 10 बजे मैं चाय लेकर फिर नीता के कमरे में गई.

सुहानी दीदी आंखें बंद करके ‘श्ह इस्ह हम्म अम्म आह इश …’ की आवाजें निकाल रही थी. s से मुस्लिम लड़कों के नाम उर्दू मेंहालांकि मैं गे सेक्स में टॉप हूँ, पर हूँ तो गे ही न … इसीलिए मुझे भी लौंडे और उनके जवान लंड बड़े पसंद आते हैं. पति पत्नी धोखा शायरीजब उसने देखा मैं खूब गर्म हो चुकी हूँ, तब उसने कंडोम लगाकर अपना लंड मेरी चूत पर सैट किया. मैं- पर तू तो रांड लग रही है साली भोसड़ी की!वो- कब का चुदने का मन कर रहा था, कोई चोदने ही नहीं आया.

उसने भी आंखें खोलीं और दांत पीसती हुई बोली- अब जो होगा सो देखा जाएगा … आप मुझे चोद दो अंकल.

माया- तुम निकिता को घर छोड़ आओ … और पैसे लेते आना, चाची को देने है. मैं और मोनिका बाइक पर चल रहे थे और मैं कोमल दीदी की शादी से पहले वाली बात याद कर रहा था. उसकी उम्र 19-20 साल की थी और उसका फिगर 30-28-32 का था जो कि उस उम्र की लड़कियों के नजरिए से ठीक ठाक था.

इन्हें बाहर तक छोड़ कर आता हूं, तब तक तुम कॉन्फ्रेंस रूम में वेट करो।मैं वहाँ जाकर अंकल का इंतजार करने लगी।10 मिनट बाद वो अंकल आए और आते ही अपना लौड़ा दिखाने लगे।उनका लौड़ा काफी सख्त हो चुका था।वे बोले- देखो इसे क्या हो गया है. मगर मैं जानती थी कि एक दिन मेरे पति ने मेरी हर ख्वाहिश पूरी कर देनी है; तो मैं भी अपने पति का पूरा साथ देती, उनके प्रति पूरी वफादारी से उनकी बीवी होने का हर फ़र्ज़ निभा रही थी. भाभी की आंखों में बेहद चुदास दिख रही थी और उनका पल्लू एक तरफ ढलका हुआ था.

बीएफ मोटे लंड वाली

सूट सलवार में मेरी पतली कमर, मोटी गांड और पकने को रेडी मस्त बूब्स थे. रात में हुई चुदाई से उसकी चूत खुली थी तो मेरा लंड चूत में आसानी से जरा सा घुस गया. मैंने धीरे से उसकी चूत की फांकों को अलग किया और अपना जीभ उसकी चूत में रख दिया.

फिर अपना मुँह खोलकर अपने होंठ मेरे लंड के सुपारे पर रख दिए और धीरे धीरे उसको चाटने लगी.

तभी अनन्या का मैसेज आया कि टॉयलेट में मैंने तुम्हारे लिए एक गिफ्ट छोड़ा है.

फिर नीरज ने मुझे सीधा लेटाकर एक झटके में मेरी चूत में लंड उतार दिया. बहुत गिड़गिड़ाने के बाद मैडम मान गईं और मुझे वार्निंग देकर चली गईं. हॉट भोजपुरी गानामैं पलंग से नीचे उतर कर घुटनों पर खड़ा हो गया और भाभी को खींच कर पलंग के किनारे कर लिया.

ये पुसी लिक हॉट स्टोरी करीब दस साल पुरानी है और आज भी याद करके बहुत अजीब सा लगता है. वो गुस्से से बोली- हां अब क्यों आओगे … तुमको तो मोटी लड़कियां पसंद हैं और जिनके पिछवाड़े बड़े बड़े हों, तुम तो उन्हीं की तरफ जाना पसंद करते होगे. बॉस ने लिखा- यदि क्लाइंट बिना कंडोम के कहेगा तो मना मत करना … तेरा मन मैं भर दूंगा.

मैं रात होने का इंतजार करने लगा और शाम को 8 बजे मैं निकिता के घर आ गया. वो बहुत तेज तेज सिसकारियां ले रही थीं और चाचा मम्मी से संभोग करते हुए उनके गाल, माथा, गला, होंठ यहां तक कि उनकी जीभ को भी चाट चूस रहे थे.

मैं 25 साल का एक अच्छी कद काठी का लड़का हूँ, मेरी शक्ल भी बड़ी क्यूट सी है.

फिर पंडिज जी ने चाचा से कहा- बेटा, तुमने ये शादी करके उसे एक नई जिंदगी दी है और एक नेक काम किया है. कुछ देर लंड बुर चूसने के बाद मैं सीधा हो गया और उसकी बुर को देखकर फिर से अपना मुँह उसकी बुर पर रख दिया. अगले दिन सुबह उठ कर मैं रोहन के साथ ऐसे ही छोटे मोटे कामों में लगा रहा.

நீலப்படம் भाभी को मैंने ठीक से बिस्तर में लेटा दिया और खुद उनकी दोनों टांगों के बीच में आ गया. मैं और मेरी गर्लफ्रेंड फौजिया, हम दोनों एक दूसरे से बहुत मोहब्बत करते थे.

मैंने अपने सब कपड़े उतार दिए और भाभी से भी कहा कि आप भी अपने कपड़े उतार दीजिए. अब बोल रही है दम लगा कर चोद … ले बहन की लौड़ी लंड ले कमीनी … आंह तेरी मां को चोदूँ साली रंडी की जनी. कॉलेज गर्ल की न्यू चूत का मजा मैंने लिया अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई करके.

बीएफ सेक्सी ससुर बहू

पर अब मैं दोबारा शादी करने का नहीं सोच सकती हूँ क्योंकि ना तो मेरी उम्र रह गई है और बच्चे भी बड़े हो गए हैं. कुक्कू वासना से मेरी तरफ देखने लगी थी, उसकी चुत में आग लग चुकी थी ऐसा साफ़ नजर आ रहा था. इतना कहकर वो बाहर चली गई और मैं अपने कपड़े लेकर गेस्ट रूम में चला गया.

उसने शायद मेरा नंबर सेव कर लिया था, उसकी व्हाट्सप्प प्रोफाइल पिक्चर मैं देख पा रहा था. फिर मैंने अपनी उंगली को अपनी सासू मां की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू कर दी.

उसका जिस्म एकदम गोरा रंग और मखमल जैसा मुलायम, मेरी तो लाटरी ही लग गयी थी.

एक झटके से मैंने उसकी पैंटी को उतार दिया और झुक कर उसकी चूत की महक लेने लगा. लगभग 3 बजे किसी ने गेट बजाया, तो मैं डर गया और सोचने लगा कि अब कौन आ गया. मुझे समझते देर न लगी कि आज मेरी बीवी के साथ धमाकेदार स्पेशल खेल होगा.

ऐसे ही कुछ दिन मैं रात का खाना खाने के बाद टहलने निकलता और अकेले घूमने लगता. मैं भी बीच-बीच में पूछता जा रहा था कि दीदी मजा आ रहा है?दीदी हां बोल कर सर हिला देती और मैं उसके बदन की मालिश करने में लगा रहता. वो इतनी गर्म हो गयी थी कि उसने मेरे सिर का पकड़ लिया और जोर जोर से ऊपर नीचे हो रही थी.

मैंने उससे पूछा- तुम्हारे इतने सेक्सी फिगर का क्या राज है?वो हंस दी.

खून खराबा बीएफ: उसने अब हाथ अंदर डाल दिया और दूध दबाने लगा।इस बीच उसने कंप्यूटर पर ब्लू फिल्म लगा दी. तो मम्मी ने शर्माते हुए कहा- मुझे भी आप …मम्मी के इतना कहते ही, चाचा ने मम्मी पर लगभग झपटते हुए अपने होंठ मम्मी के नीचे वाले होंठ पर लगा दिए और बुरी तरह से चूसने लगे.

अब आगे कपल स्वैपिंग स्टोरी:मैं अपनी बीवी अनिता को थामस के साथ चुदाई करते हुए देख कर बड़ा खुश हो रहा था. ये गरम ड्राईवर सेक्स कहानी मुझे मेरे एक दोस्त अशोक ने बताई है जो दिल्ली से ही है. पर उस भोसड़ी वाले को कौन बताए कि उसके प्यार के मीठे दर्द के चक्कर में मेरे मम्मों की चटनी बन रही थी.

पर तुमने कभी नोटिस ही नहीं किया।मैंने कहा- अच्छा जी, ऐसी बात है क्या!उस दिन सिर्फ हमारी नॉर्मल बातें हुई।उसने बताया- कॉल मैं खुद करूंगी, तुम मत करना.

मैंने दरवाजा खोला तो सामने दुकान का नौकर राजेश खड़ा था जो 23 साल का था. दीदी गांड उठाती हुई बोलीं- शर्म कीजिए पापा, आप अपनी बेटी को ऐसे चोद रहे हैं, जैसे किसी बाजारू रंडी से अपने पैसे वसूल रहे हों. उनका हुस्न एक मादक कुंवारी लड़की के जैसे ऐसा लग रहा था, जैसे भगवान ने बहुत ही फुर्सत से बनाया हो.