बीएफ सेक्सी देसी इंडियन

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ पार्ट

तस्वीर का शीर्षक ,

2012 की सेक्सी: बीएफ सेक्सी देसी इंडियन, मगर पूरे टाइम पे मेरे दोस्त ने कहा कि कल उसका एग्जाम है और वो नहीं जा सकता, तो मैंने उससे बोला कि पहले तूने मुझे क्यों नहीं बताया कि तेरा एग्जाम है?वो बोला- मुझे खुद अभी पता चला.

हिंदी बीएफ चोदने वाली हिंदी बीएफ

मुझे मेरे भाभी के हाथ टेबल पर रख कर उनको आगे को झुका कर उनके पैर फैला कर पीछे से उनकी चूत में लंड घुसा कर चोदना है और चोदते हुए उनके मम्में दबाना है. बीपी बीएफ ब्लू पिक्चरफिर मैंने भाभी को अपनी बाँहों में उठाया और बिस्तर पर ले जाकर पटक दिया.

आखिस अंजना ने अब अपने देवर को कहा- यार राहुल, इतने भी उतावले मत हो… अभी बहुत मौके मिलेंगे हमें ये सब करने के… और तुम्हारी सेक्स लाइफ तो अभी शुरू ही हुई है. लड़की की सील टूटते हुए बीएफदाहिनी तरफ कमर पर एक बहुत पतली पट्टी नीचे आई थी और जहां से पैंटी स्टार्ट होती है, वहीं पर नीचे मिली थी.

मैं मौका देखकर उनके कमरे में चला गया और जाकर भाभी जी के बेड पर बैठ गया.बीएफ सेक्सी देसी इंडियन: कभी कभी तो एक साथ दो दो लड़कों के हाथ मेरी चड्डी में घुसे हुए मेरी चूत को सहलाते मसलते रहते.

उसने अपनी सलवार का नाड़ा खुद ही खोल लिया और सलवार पूरी उतार कर एक तरफ रख दी.अब मैंने वीडियो के अनुसार मीतू को उठा कर अपनी गोद में बिठा लिया और बूब्स को चूसने लग गया.

हिंदी बांग्ला बीएफ वीडियो - बीएफ सेक्सी देसी इंडियन

जैसे ही मेरे लंड ने माल फेंका, इतने में सरिता भी नाइटी पहन कर बाहर आ गई.बस चली तो एक दम से मुझे आवाज़ सुनाई दी, मैंने देखा कि ये वही माल थी, जिस को मैंने देखा था.

तुझे भी लंड चाहिए, तू नहीं लेगी तो इस तरह बिन पानी की मछली की तरह तड़पेगी. बीएफ सेक्सी देसी इंडियन कुछ मिनट बाद ही मौसा मेरी शर्ट के बटन को खोलने लगे और ऊपर के बटन खोल अंदर हाथ डाल कर मेरे चूचों को सहलाने लगे.

तो मैं कहानी के बीच में आप सबसे यही कहना चाहूंगा कि अगर आप भी अपने भाई या बहन को चोदने की सोच रहे हैं तो सोच समझ कर करना या किसी अनुभवी व्यक्ति की सहायता से करें!अब मैं वापिस अपनी कहानी पे आता हूँ कि मैंने क्या किया उसके बाद!मैंने बहुत पढ़ने के बाद पाया कि लड़की की चुदने की वासना जगाना बहुत जरूरी होता है, अब मैं घर जाने की तैयारी में लग गया.

बीएफ सेक्सी देसी इंडियन?

मेरा लंड उनकी गांड के छेद में उनकी साड़ी के ऊपर से लगा हुआ था और जैसे ही उन्होंने पीछे देखा, मुझे देख कर गुस्सा करने लगीं, मगर बोल भी क्या सकती थीं. लेकिन मुझे क्या मिलेगा!अब मेरा मन पता नहीं कैसा होता जा रहा था कि मैं उसी की बातों में खोती चली जा रही थी. वह मेरे घर से 3 किलोमीटर पहले एक कॉलोनी में अपनी एक सहेली के साथ, जो कि उसके साथ ही कंपनी में काम करती है, एक डबल रूम फ्लैट में रहती है.

रीनू मामी भी पूरी पक्की थी, वो ऐसे ही सो रही थी जबकि उनके सामने एक नंगी औरत रंडियों की तरह चुद रही थी. मैंने मस्ती करते हुए कहा- उसको मैंने बाहर भेज दिया क्योंकि तुम्हारे साथ थोड़ा अकेला टाइम चाहिए था. मैंने भी ज्यादा समय न गंवाते हुए अपनी अंडरवियर उतार कर अपना 7″ का लोहे जैसा सख्त लंड भाभी की चूत पर रख दिया.

मैंने कुछ और टुनयाया तो बाद में भाभी मान गईं और बोलीं- पहली बार में उस दिन बहुत दर्द हुआ था. फिर गांड के चिकनी होते ही मैंने उसे घोड़ी बनाया और अपना पैर कमोड पर रख कर अपना लंड उसकी गांड में रख कर दबा दिया. उसके मुँह से आवाजें निकल रही थीं- प्लीज़ अमित सक इट ओह उउउफ्फ़ अमित कम ऑन.

फिर उसने ग्लास में पड़ी रेडवाईन को स्तनों पर डाल दिया, वो नीचे जाती हुई उसके पेटीकोट के अन्दर चली गई. अगले दिन मैं उसे पढ़ाने के लए नहीं जा पा रहा था क्यूँकि मुझे अपने किए पर अफ़सोस हो रहा था पर तभी उसका मेसेज आ गया कि आज पढ़ाने नहीं आना है क्या?साथ में ये भी मेसेज आया कि आज नहीं देखना क्या अपनी बहन के मम्मों को?मुझे अब ग्रीन सिग्नल मिल चुका था.

कुछ देर बाद भाभी का दर्द मजा में बदलने लगा और वो नीचे से अपनी कमर ऊपर नीचे करने लगीं और मुझसे धक्कों की स्पीड बढ़ाने को कहा.

कुछ देर बाद मेरा दर्द कम हुआ और मजा आना शुरू हुआ, तो मैं नीचे से गांड उचकाने लगी.

हमारे घर में एक बहुत ही खूबसूरत काम वाली बाई आती थी जिसका नाम सुल्ताना( बदला हुआ नाम ) था. तभी कुछ देर के बाद मेरा वीर्य भाभी के मुँह में ही निकल गया और उसने वहीं पर उल्टी कर दी. मुझे मॉम की चूत के ऊपर कुछ गीला गीला और गर्म लग रहा था, शायद वो गर्म हो रही थीं.

मैंने लंड निकाल लिया और उसकी चुन्नी से उसकी चूत और अपने लंड को साफ कर दिया. पति ने चोदना छोड़ दिया तो अपनी वासना की पूर्ति के लिए और धन अर्जन के लिए मैंने अपने तन का सौदा करने का फैसला किया. अब मुझे शर्म कम लगती थी, फिर उन्होंने वहीं मेरे साथ सेक्स किया, मुझे चोदा और अपना लंड चुसाया और फिर कमरे में लाकर फिर चोदा.

शायद पूनम को मजा आने लगा और वो आँखें बंद कर ‘आअहह आअहह इसस्स्स्स्शह.

मैं पिंकी की छोटी-छोटी चूचियों को उसकी साँसों के साथ ऊपर नीचे होते देखकर भूल गया कि वो मेरी भांजी है और अभी छोटी है. और अब इस तरह का कोई भी काम हो तो सीधे उसी से कहा करो बस थोड़ा घुमा कर कह दिया करो. बहूरानी की चूत से जैसे रस का झरना बह रहा था, मैंने लंड को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया.

फिर उसके मुँह में मेरी एक चूची का निप्पल पिल गया कि तभी अवी ने दाब दिया, तो मैं हल्का सा चीख पड़ी. मैं उधर से आ जाऊँगी लेकिन अगर देर होने लगी तो तुम्हें कॉल कर दूंगी ओके. जब मेरे एग्जाम खत्म हुए तो मैंने फिर से भाभी के बारे में सोचना चालू किया.

दोस्तो, मेरी सेक्स स्टोरी अच्छी लगी या बुरी, रिप्लाई कर दो मेरी इमेल आई डी पर![emailprotected].

मैंने उसकी कमर पकड़ी और जोरदार धक्का लगाते हुए अपना लंड उसकी गांड की जड़ में पहुंचा दिया. आकांक्षा के नर्म और सुन्दर होंठ इतने कमाल के थे कि मुझे तो मीठे ही लग रहे थे, मैंने उसके रसीले मीठे होंठों को बहुत देर तक चूमा और उसने भी मेरे होठों को चूमा, मेरी जीभ को अपने मुंह में ले कर चूसा.

बीएफ सेक्सी देसी इंडियन मैं तुम्हारे पापा की उम्र का हूँ?”बेबी दिखती हूँ लेकिन मैं तो बेब हूँ… मस्त बेब… अंकल, आपसे पहले ले चुकी हूँ कई दोस्तों का. अदिति बेटा, अपने पैर खोल दे और ऊपर कर ले!” मैंने धक्के लगाने का प्रयास करते हुए कहा.

बीएफ सेक्सी देसी इंडियन अंकल ने अपनी शहद जैसी मीठी जीभ मेरे मुँह में दे दी, मैं उनकी प्यारी जीभ को पागलों की तरह चूसने लगा. हम दोनों की चुदाई की वासना इतनी अधिक बढ़ चुकी थी कि जब कभी बच्चे थोड़ी देर के लिए खेलने जाते, मैं उतने ही वक्त में मामी को चोद लेता.

पिंकी को लेकर लड़की ने अपने बगल में बैठाया और पूछा- क्या क्या किया इन्होंने तुम्हारे साथ?पिंकी बोली- कुछ नहीं.

सेक्सी चुदाई छोटी लड़की की

चूंकि मैं थोड़ा शर्मीला किस्म का भी हूँ इसलिए मैं जब भी उनसे बात करता, मेरे चेहरे पर हँसी सी आने लगती. भैया ने कहा- जाया कर और ये जो आई ब्रो हैं इनको तो सैट करवा लिया करो. मैं- हाथ से तो मैं भी अपना लंड ठण्डा कर सकता हूँ तो फिर आप की क्या जरूरत.

ये कहकर उन्होंने अपने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और अपना पेटीकोट उतार दिया. फिर उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और पागलों की तरह चूसने लगे. इसी तरह दूसरे दिन शनिवार था और आज ही दिव्या को घर भी जाना था, तो वो हम कॉलेज गए, इसके बाद वो घर चली गई.

पर कैसे वो कुछ करने को तैयार होगी और लेगी कैसे?मैं- वो मैं कर दूंगी और कैसे देना है ये भी मैं बता दूंगी.

(मुठ मारने के कारण मेरा लंड टेढ़ा हो गया है)मैंने भी कहा- होने दो भाभी. तभी पीछे से माँ ने आवाज़ लगाई कि वो मार्किट जा रही हैं और घर पर कोई नहीं है, तो घर का ध्यान रखना और इतना बोल कर वो चली गईं. दोनों लड़कियाँ एक रोल प्ले कर रही है, स्वाति ऑफिस में बॉस और उसकी सेक्रेट्री बनी है निकिता…बॉस स्वाति अपनी सेक्रेटरी निकिता को मासिक हिसाब किताब की फाईल लेकर आने के लिए कहती है.

मैं- उसमें बेकार क्या हो जाएगी?अमित- और क्या उस जवानी का क्या फायदा, जिसमें एन्जॉय न किया जाए. आज तूने ऐसा घिनौना काम किया, मुझे अभी भी यकीन नहीं होता, ऐसा सोचने से भी शर्म आती, बेशरम कहीं की. मैंने फुसफुसा कर पूछा- कैसा लगा?वो बोली- अच्छा लगा मामा!मैं उस टाइम में उसे नहीं चोद सकता था क्योंकि उसकी चुत बहुत टाइट थी, मेरे लंड को बर्दाश्त नहीं कर पाती इसलिए मैंने सोचा उसे घर पर तसल्ली से चोदूंगा.

वो तो साली पहले से ही नंगी थी, उसने बस तौलिया हटाया और मुझसे कहा कि तू भी अपने कपड़े उतार जल्दी. वो तेल लेकर आ गई और मैंने उसे उल्टा लिटा कर उसकी गांड को चाटने लगा.

मैंने कहा- भाभी मैं आपको आपकी शादी के टाइम से चोदने की सोच रहा था, पर आज मौका मिला. इसके बाद उसने मेरी चुदाई शुरू की और करीब आधे घंटे तक वो मुझे चोदता रहा. मुझे कुछ ज्यादा नशा चढ़ चुका था और नशे में मैंने सरिता से कहा- सरिता तू बड़ी सेक्सी है.

मैंने पिघला हुआ बर्फ का टुकड़ा उठाया और भाभी के पेट और नाभि पर फिराने लगा.

मेरे लंड का सुपारा वो अपने मुख में पूरा अंदर तक ले गई थी और उसे लोलीपोप की तरह चूस रही थी. कहीं बिजी तो नहीं है, अगर बिजी न हो तो तुझे शॉपिंग करनी है, वहां छोड़ दे. मैं- साली रंडी भाभी पहले ही बता देती तो अब तक तो मैं तेरी चुत का भोसड़ा बना चुका होता.

अब की बार कहानी के लिए कुछ ज्यादा ही इंतजार करवाया आपको तो आप सबकी तहे दिल से माफ़ी मांगती हूँ. वह भी अपने जिस्म की आग को आंशिक रूप से ठंडा करने के लिए पोर्न देखती पढ़ती हैं.

उषा काकी का घर आखिरी घर और सुनसान जगह पर था इसलिए उसका पति को तसल्ली हुई कि मैं यहाँ हूँ. मैंने फटाफट से अपना मुँह उसके एक चूचे पर रख दिया और उसे चूसने लगा, उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगी, वो अपना हाथ मेरे सर पर रख कर मेरे सर को ज़ोर से अपने बूब्स पर दबाने लगी. तभी वो भी मेरे सामने टेबल पर चढ़ गईं और बिल्कुल मेरे सामने ही उनके चूचे आ गए.

तीन बेटी एक दमान

आकांक्षा ने मेरे लंड को अपने मुंह में रखा और हाथ से पकड़ कर जैसे मंजन कर रही हो, ऐसे दाँतों पर रगड़ने लगी, फिर उसने मेरे लंड की लम्बाई पर अपने मुंह को ऐसे लगा लिया जैसे बांसुरी बजा रही हो और ऐसे ही अपना मुंह मेरे लंड पर रगड़ने लगी.

फिर मैं अपना हाथभाभी की पैंटीके अन्दर डाल कर अपनी उंगलियां उनकी चूत के अन्दर डाल कर उसे सहलाने लगा. मेरी बात सुनते सुनते ही एड्रिआना खड़ी हो गई थी और उसकी आँखों से आंसू बहने लगे. थोड़ी देर बाद उनका लड़का पीछे जाकर दोस्तो में दारू पीने लगा और वहीं मस्त हो गया.

दिमाग में बस दो तीन प्रश्न घूम रहे थे जैसे- आखिर मुझमें ऐसा क्या है? और मैं इतनी अच्छी क्या सच में हूँ कि लड़कों की नींद गायब कर सकती हूँ? अगर इतनी अच्छी हूँ तो मैं क्या करूँ और अमित क्यों चाहता है मुझे गले से लगना? उसे आखिर मुझसे केवल गले लग कर क्या मिल जाएगा?ये सब सोचते सोचते मैं कब सो गई, पता नहीं चला और जब मेरी आँख खुली तो सुबह के 9 बज रहे थे. ‘चाचा गाड़ी जा रही है!’चाचा ने कहा- गाड़ी अभी नहीं जाएगी, थोड़ी देर और लेट बस. राजस्थानी में सेक्सी बीएफवो ड्रेस मेरे ही नीचे थी और अवी मुझ पर उसी तरह पैर रख कर और हाथ रख कर लेटा था.

ऊपर पिंक कलर की एकदम फिट टी-शर्ट पहनी थी, अन्दर शायद ब्रा भी नहीं पहनी थी क्योंकि मैं उसके कड़क निप्पलों को देख सकता था. उसकी चूचियों को देख कर लग रहा था कि उसने अन्दर ब्रा नहीं पहनी हुई है.

मैंने अमित को एसएमएस किया- और अब मिनी की कभी याद नहीं आती है क्या?अमित- आती बहुत है पर अब उसका भी तो बॉयफ्रेंड है. स्कूल टाइम में क्लास में भी मैं 10-10 लड़कियां एक टाइम पर फंसा कर रखता था, पर वो मजा नहीं आता था, जो एक खेली खाई औरत को चोदने से आता था. अगर उसने कुछ भला बुरा बोला होगा तो दिल पे मत लेना और उसको बहुत ही नम्रता से पेश आना.

तभी बाहर से शटर बजा और आवाज आई- शिवानी बेटा, कहां हो?वो उनके ससुर की आवाज थी. जब मैं सो रहा था तो उसने तब तक नहा के फ़्रेश होके शरबत भी बना लिया था. अभी वो लड़का हमारे ही मकान बनाने का काम करता है, मैंने उसे पटा लिया है.

मैं कभी कभी दिन में जब मौका लगता था, कोई घर में नहीं होता था, तब किसी न किसी बहाने से वासना के वशीभूत मॉम को टच कर लेता था लेकिन उसमें सेक्स जैसा कुछ नहीं था, सब नॉर्मल ही चल रहा था.

मेरा नाम अजय है, मैं राजस्थान के अलवर का रहने वाला हूँ लेकिन अभी नोयडा में रह कर प्राईवेट जॉब कर रहा हूं. रास्ते में गीतांजलि ने बताया कि मैंने ही उसे कहा था कि एक बार वो तुम्हारा खड़ा लंड देख ले, उसके बाद वो तुमसे चुदे या नहीं, वो उसकी मर्जी है अगर उसे तुम्हारा लंड पसंद तो वो तुमसे चुद भी जायेगी.

हाथ कंगन को आरसी क्या और पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या… मैंने उनका इरादा और इशारा दोनों को समझा और तुरंत उनकी ब्रा के हुक को खोल कर दोनों रसीले आमों को बाहर निकाल कर उन पर ऐसे टूटा जैसे कि बरसों बाद चूसने वाले आम मिले हों. वो माया का जूनियर था और माया को शायद मीटिंग के लिए याद दिलाने आया था. कहा, तभी गीतांजलि ने मेरे पजामे में से मेरा लंड निकाल लिया और सिमरन से पकड़ कर चेक करने को कहा.

लंड चुत में जाते ही मुझे तो जन्नत का अहसास हुआ क्योंकि ये मेरा फर्स्ट टाइम था. पर ड्रेस अच्छी थी और मुझे पसंद भी थी क्योंकि मुझे इस तरह के कपड़े पसंद थे, जिसमें जिस्म दिखे. मैंने उससे कहा- आज तुम बहुत ही खूबसूरत लग रही हो!और फ्रेंड्स, आप जानते ही हैं कि लेडीज की कमज़ोरी उनकी ब्यूटी की तारीफ होती है.

बीएफ सेक्सी देसी इंडियन हम तीनों में से एक शांत हो चुका था। थोड़ा ही सही मगर दिल का सुकून मिल गया जो रात काटने के लिए काफी था।अगली सुबह हम घर आ गये. मैंने हाथ से उसका मुँह बंद किया और कान में कहा- शोर मत करो, जो होना था हो गया.

जानवरों की सेक्सी पिक्चर भेजो

अनुष्का बोली- तू ऊपर बैठ और बता क्या देखना है, आज मैं तुझे सब दिखा दूँगी. मैंने वैलंटाइन वाले दिन उसको कान पर फ़ोन लगा कर कहा- आई लव यू, इफ यू लव मी. मेरे लंड का सुपारा वो अपने मुख में पूरा अंदर तक ले गई थी और उसे लोलीपोप की तरह चूस रही थी.

उन दिनों गर्मियों का मौसम था, ज्यादातर घर वाले छत पर सोना पसंद करते हैं और मैं भी. उसने मेरे खड़े लंड पर चुम्मी की, फिर लंड का सुपारे को चूमा और लंड के छेद में जीभ घुसा दी. सनी लियोन बीएफ सेक्सी मूवीवो दाने पर मेरी जीभ की रगड़ से पागल होने लगी और मेरे बाल पकड़ कर चूत पर दबाने लगी.

मैंने उसकी पेंटी को भी घुटनों से नीचे तक सरका दिया और मुँह से उसके मम्मों को चूसने लगा.

तो मैं भी अपने कपड़े पहन कर घर जाने के लिए कह कर भाभी का एक लंबा चुम्बन लेकर अपने घर आ गया. ठोक दे पूरा का पूरा लंड अपनी मधु की चूत में!पूरा कमरा हम दोनों की जाँघों के टकराने की आवाज़ से गूँज रहा था.

अब मेरी रातें कटनी बंद हो गईं, हर वक़्त लंड मॉम की यादों में खड़ा रहता. उस ने इस का भी कोई विरोध नहीं किया, अब वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. उसने लाल रंग का टॉप पहना हुआ था और नीचे जीन्स थी, वो बहुत ही हॉट लग रही थी.

मुझे पता था कि कभी भी उसने ऐसा नहीं करवाया है तो बहुत समझदारी दिखा रहा था.

कुछ देर बाद मामी ने लंड को मुँह में ले लिया और वे पूरी तरह से कामुक होकर लंड चूस रही थीं. चचा जान जी ने पहले मेरी चूत के आस पास हल्के से चुम्बन किये और फिर अपनी गर्म जीभ मेरी चुत पे रख दी. दोस्तो, मुझे इसमें बहुत मज़ा आ रहा है और वो अब सिसकारियाँ ले रही थी- आहहहा उम्म्महाअ उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्म्म आह्ह प्लीज आईईइ थोड़ा और ज़ोर से चूसो.

ब्लू फिल्म दिखाएं हिंदी में बीएफतो मैंने उस दूसरे बन्दे को लंड से ही पकड़ कर करीब खींचा और उसे अपने मुँह में ले लिया। तब तक सिराज घूम कर मेरे पीछे आया. मैं मेरी मम्मी और काजल एक ही कमरे में सोते थे, हम डबल बेड पर सोते थे और मेरे और काजल के बीच में मम्मी सोती थी लेकिन अभी तक मेरी और काजल की कोई बात नहीं हुई थी.

இந்தியன் ப்ளூ ஃபிலிம் வீடியோ

उसने मेरे हाथ में हाथ दे कर डांस करना चालू किया और मैं भी बेझिझक उसके हाथ और कंधे पे एक हाथ रख कर नाचने लगा. फिर मेरी सास ने मेरे मुँह में अपना मुँह दे दिया और हम दोनों ने रिया का रस पी लिया. थोड़ी थकी लग रही हो क्या ज्यादा काम किया क्या?”ही ही ही,,, तुम भी न सविता.

उसने कहा- ठीक है, लेकिन पहले ये बताओ कि सवेरे तुमने क्या किया और भाग क्यों गए?मैंने बोला- सॉरी अब नहीं करूँगा. जब मैंने रानी को पूरी नंगी कर दिया तो मैंने अपने पजामे और टी शर्ट को भी उतार दिया. तभी गीतांजलि बोल पड़ी- मुझे यहाँ किस लिये बुलाया है?तो सिमरन बोली- रुक जा, पहले इनको फ्री कर दूँ, उसके बाद तुझसे बात करुँगी ओ.

वो मेरी बात मान कर चुप ही रही और इस तरह से मैंने भाभी की चुदाई करके अपनी होली शानदार तरीके से मनाई. दोस्तो, ये थी मेरी चुदाई की पोर्न कहानी, आपको कैसी लगी, प्लीज़ मेल कीजिएगा. मेरे इमेल आईडी पे मेल करके मुझे जरूर बताएं! पाठकों के सन्देश से ही लेखक का मनोबल बढ़ता है और नई कहानी लिखने के लिए प्रेरित होता है.

अब एक होंठों पर किस होना बाकी था, लेकिन वो अभी ही 5 किस ज्यादा कर चुका था. इसके बाद ओमार और काला चश्मा लगाया मोलेट काफी देर तक बातें करते रहे और अंत में मेरी पत्नी ओमार की नाव से सावधानी पूर्वक मोलेट की नाव में शिफ्ट हो गई और मोलेट संग वो दोनों ओमार की नाव से दूसरी दिशा में चल दिए.

मुझे उसको चोदने का मन हो रहा था लेकिन आज ऐसा कुछ हो नहीं पा रहा था.

शादी घर के पास में थी, तो घर के ज़्यादा लोग वहां शादी में जाकर बिज़ी हो गए थे. बीएफ बीएफ देसीअब मैं आपको वो बात बताता हूँ जिस हादसे ने मेरी लाइफ पूरी ही बदल दी. बीएफ एचडी में बीएफ वीडियोमैं- अच्छा अच्छा बोलो क्या करना होगा?महेश- अभी नहीं… छुट्टी के बाद ओके. सही बात तो ये थी कि हम दोनों ने ही एक दूसरे की मारी थी, एक दूसरे से मराई थी, मास्टरों से मरवाई थी और बड़े लौंडो से कई बार मरवा चुके थे.

वो मुझसे हाथ छुड़वा कर अपने रूम में चली गईं और मैं उसके पीछे चला गया.

मुझे मेरे भाभी के मुख में मेरी जीभ डालनी है और उनके मुंह के अन्दर सब जगह मेरी जीभ फेरनी है. मैं पीछे से जाकर अपना मुँह सीधा ही उसके योनि पर रख दिया और चूमने लगा. वो भी साली मुझसे नहीं, मेरे कजन से सैट हो गई जो कि गांव में रहता था.

मैंने अपने पापा के साथ सेक्स किया, पापा से चुदवाया, पापा ने मुझे चोदा, पापा का लंड चूत में लिया मैंने! पापा से चुदवा कर चूत की प्यास बुझवाई. मैंने पिघला हुआ बर्फ का टुकड़ा उठाया और भाभी के पेट और नाभि पर फिराने लगा. उसने लाल रंग का टॉप पहना हुआ था और नीचे जीन्स थी, वो बहुत ही हॉट लग रही थी.

ஆண்டி sex

” बोल कर पार्टी में कभी किसी दोस्त के घर में बुलाना और फिर कभी मेरी लेग्गिंग तो कभी सलवार तो कभी स्कर्ट के नीचे से चड्डी निकाल कर मुझे बारी बारी से चोदना. इसलिए मैंने सोचा जो अंजू ने किया था या उस लड़के ने जो मेरे पैरों के बीच में करके वाइट चिपचिपा निकाला था, वही होता होगा. मैं घर के मंदिर में भगवान की पूजा करके वापिस आती हूँ, फिर इस चुदाई के कार्यक्रम में मैं भी तुम्हें ज्वाइन करती हूँ.

मुझे क्या चाहिए था, मैंने कैमरा ऐसा अड्जस्ट किया ताकि हमारी चुदाई की अच्छी वीडियो आ सके.

इतना कहते हुए अमित ने कपड़े पहन लिए और फिर एक बार मेरे लिप्स पर किस किया और मेरे मुँह में एक उंगली डाल कर उसे मेरे होंठों के अन्दर करके पोंछ दिया.

फिर मैं उसके चहरे को पकड़ कर उसके गर्म और नर्म होंठों पर अपने होंठ रख दिए. इतने में कंडक्टर आया और उसने कहा कि पीछे सीट खाली होने वाली है, वहां बैठ जाना. 18 साल लड़की का सेक्सी बीएफपर फिर सोचा कि कोई तो ऐसा बंदा मिलेगा जो मुझे समझे, उसे ही मैं अपनी पसंद नापसंद बताऊँगी.

तभी भाई एकदम से हल्का सा हिला तो मैं वहीं हाथ रोक कर दम साधे लेटी रही. मैं उसी तरह लेटी रही, अमित मेरे पास आया और मुझे करवट के बल लेटने के लिए थोड़ा सा धक्का दिया. भैया घर से तीस किलोमीटर दूर एक कम्पनी के ऑफिस में जॉब करते हैं हैं तो वे सुबह सुबह ही घर से निकल कर बस लेते हैं.

इस बारे में मैंने अपने बेटे से बात की तो उसने मना कर दिया कि उसे छुट्टी नहीं मिल रही. उसने मुझे गालों पर किस किया और फिर मैंने उसको बांहों में लेक़र उसके होंठों पर किस किया.

फिर क्या मुमताज़ ने मेरा लंड अपने मुँह में पिस्ता कुल्फी की तरह ले लिया और ऐसे चूस रही थी कि मानो छोटे बच्चे के हाथ में लॉलीपॉप हो.

बोलो?”उसने बताया- मेरा पहले एक बॉयफ्रेंड था जिसने मुझे धोखा दिया था इसलिए मैंने तुमको मना क़र दिया था और फिर तुमसे बात बंद क़र दी क्योंकि मैं दुबारा धोखा नहीं खाना चाहती थी. फिर वह बोली- मुझे सब कुछ करने का मन हो रहा है पर मैंने यह सब कभी नहीं किया तो मुझे डर भी लग रहा है. उसने एक दिन लिफ्ट देने के लिए न्यूज़ पेपर में अपनी हैंड राइटिंग से थैंक्स लिखा.

बीएफ सेक्सी बिहार के अब तक आपने मेरी चुदाई की पोर्न कहानी के पिछले भागअंकल ने मेरी चूत और गांड मारी जम केमें पढ़ा था कि मैं अंकल से चुदवा कर बीस हजार रूपए कमा लाई थी और अपनीचुदाई की कमाईको पा कर बहुत खुश हो रही थी. तो फिर ये बाकी कपड़े भी उतार दे ना, इन्हें ही क्यों पहन रखा है?”हाय भाई… तुम कहो तो मैं इन्हें भी उतार दूँ।” हंसती हुई वो बोली और झाड़ियों के पीछे पेशाब करने के लिये बैठ गयी।जब वो वापस आयी तो मैंने उसे स्लिपिंग बॅग देते हुये कहा- यार स्वीटी, हमारे पास एक ही स्लीपिंग बैग है, हमें बारी बारी सोना और जागना पड़ेगा।तुम सो जाओ, मैं थोड़ी देर जागती हूँ.

’ननदोई जी ने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे गोरे गोरे मम्मों को अपने मुँह में लेकर चूसने लगे. मेरी और इरफान की कोर्ट मैरिज करवाने में सबसे बड़ा सपोर्ट भी चचा जान का ही था इसलिए मैं उनको काफी मानती थी. मैंने देर न करते हुए उनकी शर्ट को ऊपर किया और उनका एक दूध अपने मुँह में ले लिया.

नेपाली सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो

एक दिन मैं यहाँ के एक मेट्रो स्टेशन के बाहर खड़ी थी कि अचानक मेरे पास एक कार आकर रुकी और उसका गेट खुला. धीरे धीरे मैंने मामी की पेंटी भी उतार दी और उनको लिटा कर जीभ से उनकी चूत को चाटने लगा. इसके बाद उसने मेरी स्कर्ट को ऊपर किया और मेरी ब्लैक पेंटी के ऊपर से ही मेरी चुत को चाटने लगा.

मुझे मेरी भाभी की पैंटी पर मेरा वीर्य गिराना है, और वो पेंटी मेरी भाभी हाथ में लेकर पूरा वीर्य चाट जायें!41. मैंने भाभी को हर जगह चूमा और रेणुका भाभी ने मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसा, फिर मेरे लंड को अपने दोनों मम्मों के बीच में लेकर लंड को चुदाई जैसा मजा दिया.

मेरी सास चिल्लाई- आहहहह हहह ओहहह हहह! ना…नो… निशा फट गई मेरी चूत!मैं उठी, अपनी चूत सास के मुँह पर रख दी और मेरी सास चूत को चाटने लगी, मेरी सासू माँ मेरी चूत को खाये जा रही थी, उधर रिया सास की चूत को फाड़े जा रही थी.

फिर हमने ऊबर ली हुई थी, कुछ ही देर में कैब एक सुनसान सड़क के बाद फॉर्म हाउस में जाकर रुकी. आखिस अंजना ने अब अपने देवर को कहा- यार राहुल, इतने भी उतावले मत हो… अभी बहुत मौके मिलेंगे हमें ये सब करने के… और तुम्हारी सेक्स लाइफ तो अभी शुरू ही हुई है. वैसे ही बच्चे को एक तरफ लगे झूला में लिटाया और मेरे सर के बाल पकड़ कर मेरे मुँह को जोर से अपनी चुत पर दबाने लगी.

इस कहानी के पिछले भाग में अब तक आपने पढ़ा कि आंटी यानि तनु की मम्मी ने अपनी आपबीती कहानी मुझे सुनाई और बताया कि कैसे उनके साथ जब वो गर्भ से थी, गलत काम हुआ, उस गलत काम से हुई मानसिक पीड़ा का असर उनके गर्भ में पल रही छोटी के दिमाग पर भी जरूर हुआ होगा. आनन्द के मारे मेरे तो होश उड़ चुके थे, अंजलि दीदी को चोदने का जो सपना मैं कुछ देर पहले ख्यालों में देख रहा था, वो अब साकार जो होने को था!अंजलि मेरे लंड के चुस्से लगाती रही और मैंने दीदी की गोरी चूत को चाट कर लाल कर दिया था. मेरा भाई रात में सोते वक्त बेल्ट नहीं पहनता और जीन्स के बटन खोल कर सोता है.

मैंने उसकी कमर पकड़ी और जोरदार धक्का लगाते हुए अपना लंड उसकी गांड की जड़ में पहुंचा दिया.

बीएफ सेक्सी देसी इंडियन: तभी उस लड़के ने अपनी पत्नी को गोद में बैठा लिया और उसके होंठ चूसने लगा. बहुत ही रसीले चूचे थे उसके जैसे पके हुए कलमी आम हों!वह कामवासना से बहुत ही ज्यादा पागल होती जा रही थी और मैं तो उससे भी ज्यादा पागल हो गया था.

मगर आज इन कपड़ों में तुम बहुत मस्त लग रही हो, तो सोचा आज अपने दिल की बात कर ही लेता हूँ. इसी बीच उन्होंने मेरे हाथ अपने चूचों पर रख दिए और अपने खुद के हाथ से मेरा लौड़ा टटोलने लगीं. मेरी आँखें मज़े से बंद हो गई थीं, तभी अचानक उसने झटके से गेट खोल दिया, मैं उसके सामने लंड हाथ में पकड़े खड़ा था और वो सिर्फ़ तौलिया में मेरे सामने थी.

बातों ही बातों में उसने मुझे बताया कि उसने शायद काफी टाइम से सेक्स नहीं किया क्योंकि उसकी बेटी अब खुद जवान है और काम के बोझ में वो खुद को टाइम नहीं दे पाती.

उसकी मखमली गांड मारते समय मैं हाथ से उसकी गांड पर चमाट मार रहा था, दर्द की वजह से वो कराह रही थी. कॉलेज के पुराने टूटे क्लासों के पीछे वहां अन्दर का नज़ारा ही कुछ और था. उस दिन अमित के जाने के बाद मेरे मन में लालच आ गया था, इसलिए मैं अमित से अपने मोबाइल से बात करती रहती थी.