एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,मद्रासी सेक्सी फिल्में

तस्वीर का शीर्षक ,

पेला पेली सेक्सी: एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ, मैंने कहा- राहुल … और तुम्हारा?उसने कहा- नितिन!मैं- तुम्हें पहले कभी देखा नहीं यहां?नितिन- हाँ, मैं अपनी मौसी के यहाँ रहने के लिए आया हूँ.

தமிழ் xvideos

उसकी ‘आहह … उम्म्म्म … आहह … उम्म्म्म …’ की आवाज़ मेरी कामुकता की आग में जैसे पेट्रोल लगा रही थी. जर्मन भाषा कैसे सीखेंमैंने चूत के आस पास उगे हुए बड़े बालों को कैंची से छोटे किए, फिर उनको साफ़ करके वहां एक हार्ड वैक्स लगाना शुरू कर दिया.

मैंने कहा- राहुल … और तुम्हारा?उसने कहा- नितिन!मैं- तुम्हें पहले कभी देखा नहीं यहां?नितिन- हाँ, मैं अपनी मौसी के यहाँ रहने के लिए आया हूँ. राजस्थानी सेक्सी पिक्चर सेक्सीमैं पेशाब करने लगा तो उसने सर से लेकर पांव तक अपने शरीर पर मेरी पेशाब का पानी लिया और बाकी का पेशाब पी लिया.

मुझे देख कर वो जोर से मुझ पर चिल्लाई- घूर घूर कर क्या देख रहे हो?उसके चिल्लाने से मैं होश में आते हुए बोला- अरे, मैं तो बस शिराज से मिलने आया था, आप उसकी बहन हो?अब तक अंधेरे से मैं उजाले में आ गया था और उस जवान लौंडिया ने मुझे देख लिया था.एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ: ऐसी मीठी चुसाई के बाद मुझे बाथरूम में लिटा कर मेरी चुदाई शुरू कर दी.

तभी उसके लंड से वीर्य का फव्वारा निकला, जो मेरे मुँह से गले में चला गया और कुछ माल मेरे मम्मों पर गिरा दिया.इसके बाद वो दोनों मेरे अगल बगल आ गए और एक बाबा मेरे होंठों को चूसने लगा जबकि दूसरा वाला मेरे बदन को चाटता हुआ मुझे नंगी करता जा रहा था.

सेक्सी फिल्म चाहिए वीडियो - एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ

तब दीदी ने कहा- आधे घण्टे से जब तुम मेरी चूचियों को दबा रहे थे … तब ये ख्याल नहीं आया?मैं चुप था.हम दोनों थक कर ऐसे ही लेटे थे कि नीरजा की आवाज आई- मम्मी मामा आप दोनों ये क्या कर रहे हो?हम दोनों घबरा गए.

उन्होंने मेरे पजामे को निकाल दिया और बोलीं- मुझे तुम्हरा लंड चूसना है. एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ जीजा से तो ग्याबन हुई नहीं थी मगर शायद मेरे लौड़े ने काम लगा दिया था.

सोनाली ने मेरी गांड की दरार में अपनी उंगलियां फिराकर कहा- हर्षद, क्या तुम मेरी सूनी गोद भर दोगे? मुझे तुम्हारे जैसा गोरा और हैंडसम बच्चा चाहिए.

एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ?

उस दिन के बाद से कई बार स्कूल में भी मैं और आयेशा सेक्स कर चुके हैं. पूरी तसल्ली करने के बाद मैंने धीरे से वाशरूम का दरवाजा खोला और दबे पांव अन्दर जाने लगा. जब मैंने धक्का देकर सुपारा अन्दर किया तो वह मुँह तो बना रहा था पर उसने आवाज नहीं निकाली; चुपचाप लंड ले लिया.

उसके होंठ थोड़े मोटे, जिस पर सुर्ख लाल रंग की लिपिस्टिक उसे बहुत ही ज्यादा हॉट बना रही थी. उस अनजान लड़के के का नाम तो मुझे पता नहीं था पर वो साला पूरी ताकत से शिराज की गांड मारे जा रहा था. मैं दरवाजे के बाहर खड़ा था और अन्दर झांक कर देखने की कोशिश करने लगा.

वो कुछ कहती, इससे पहले ही मैं वापस बोल पड़ा- अञ्जलि जी, मैं आपके साथ शॉवर लेना चाहता हूँ. रेशमा के ऊपर से अब मैं थोड़ा खड़ा हो गया और घुटनों के बल बैठ कर उसकी चूत का भोसड़ा बनाना चालू रखा. मैंने धीरे धीरे करके पूरा गिलास उसकी चूत में खाली कर दिया और चूत चाट कर साफ़ कर दी.

मैंने एक झटका लगाया तो मेरे लंड का टोपा सुमैत्री की गांड में चला गया. सबकी चोदने की स्टाइल भी अलग अलग थी, इसलिए सबसे चुदवाने में खूब मज़ा आया.

कुछ ही देर बाद भाभी बोलीं- लाला, एक बार अपने लंड का गाढ़ा माल मेरी चूत में टपका दो ताकि मैं तुम्हारे बीज से मां बन जाऊं.

पेशे से मैं एक कॉल बॉय हूँ, मैं कॉलेज गर्ल, हाउस वाइफ, भाभियों और आंटियों के जिस्म की प्यास बुझाने का काम करता हूँ.

Xxx चूत की कहानी मेरे पति के भतीजे से मेरी चूत की चुदाई की है, मेरी वासना की पूर्ति की है. मैं उसके चूचों को कसके दबाने लगा और एक को दबाते हुए दूसरी चूची को चाटने लगा और उसका निप्पल मुँह में लेकर दूध पीने लगा. मैंने थोड़ा और आगे बढ़ते हुए उससे कहा- वैसे पसंद तो तुम भी हो, चाहो तो बिना किसी को पता चले हम दोनों कुछ कर सकते हैं.

अनीशा बोली- अपनी बीवी की मारी है कभी?मैंने कहा- मेरी बीवी मुझे गांड नहीं मारने देती. उनके पति बोले- बताओ दीपक, सबका ऐसा ही रहता है या इससे ज्यादा होता है?भाभी बोलीं- मैं कैसे मान लूं कि सबका ऐसा ही रहता है. पूरे दस मिनट तक दीदी की गोरी गोरी चिकनी गांड पहली बार चुदाई कर तृप्त होकर थोड़ी देर में सुमंत उनसे अलग हो गया.

भाभी चीख पड़ीं क्योंकि आजतक उनके पति ने उनकी गांड में लंड नहीं घुसाया था.

लड़के की गांड में अपना मस्त लम्बा मोटा सख्त लंड बेरहमी से पेले हुए था और गांड फाड़ू झटके दे रहा था. मैं भी उसके सामने घुटनों पर होकर बैठ गया और उसके गाउन को निकाल दिया. मेरे मन में उसकी चुदाई देखने की इच्छा थी। तो मैंने बहन की चुदाई की प्लानिंग की। मैंने उसे कैसे चुदवाया?दोस्तो, मेरा नाम रोहित है। मैं उदयपुर, राजस्थान का रहने वाला हूं।यह कहानी मेरी बहन की चुदाई की है कि कैसे उसके हॉस्टल वार्डन ने उसकी चूत मारी।कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपनी बहन के बारे में बता देता हूं।उसका नाम मानसी है और वो 19 साल की है।मेरी बहन बहुत सेक्सी है.

सरीना भाभी आनंद का लण्ड चाटने लगी और आनंद मेरी बीवी रेखा की बुर चाटने लगा. हुआ कुछ यूं कि मेरे बड़े भैया की शादी 2016 में हुई, तो मुझे उनकी साली अंजलि बड़ी पसंद आ गई थी. ये रिच हॉट गर्ल Xxx स्टोरी संजना के साथ मेरी पहली चुदाई की कहानी थी.

इसके बाद सुमैत्री ने अपनी गांड को पूरी तरह से मेरे लंड के हवाले कर दिया और मजा लेने लगी.

वो मेरे हाथ को उठा कर अपने पेट पर ले आई, तो मैं उसके पेट पर उंगलियां घुमाने लगा. पर्वी- हर दिन कैसे सुनाएंगे, हम तो महीने में एक बार रिचार्ज करवाने आते हैं.

एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ मैं चाची की जांघों को देखने लगा तो चाची ने बड़ी अदा से अपनी जांघ खुजला कर मुझे गर्म करना शुरू कर दिया. पांच मिनट बाद चाची बोलीं- अब तो तूने मेरी गांड मार ली, अब तो बाहर निकाल दे मुझको!लेकिन मेरा अभी और मन था चाची की गांड मारने का.

एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ मैंने उससे कहा- ओके मेरी जान, लंड खड़ा होने में दस मिनट लगेंगे फिर तुम्हारी इस कामना को भी पूरा कर दूंगा. थोड़ी देर बाद वो उठकर कपड़े पहनने की कोशिश करने लगी लेकिन मेरा लंड एक बार फिर तैयार होने लगा था.

डॉक्टर ने उन्हें कामोत्तेजना बढ़ाने वाली और देर तक लंड खड़ा रखने वाली दवाएं लेने से मना किया हुआ था.

सेक्सी तस्वीर दिखाइए

वो साला जानवरों की तरह मुझ पर टूट पड़ा, मेरे होंठ चूसते हुए मेरी कुर्ती को उतार फैंका. मैंने धीरे से अपना मुँह उसकी प्यासी चूत के मुँह में लगा दिया तो भाभी मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी. धीरे धीरे मेरा लंड भी अकड़ने लगा और लंड ने वीर्य की पिचकारी छोड़ दी.

फिर अगल बगल देख कर उसे घर के अन्दर आने का कह कर दरवाज़ा लॉक कर दिया. ‘आआहह उहह वीरू जी …’ जैसे कामुक सीत्कार रेशमा के मुँह से बाहर आने लगे. वो बोली- तुम कितने दिन में मेरी ब्रा की साइज़ बढ़ा दोगे?मैंने उससे कहा- अगर अगले एक महीने में मैंने तुम्हारी चूचियां नहीं लटका दीं, तो मैं तुम्हें अपनी शक्ल नहीं दिखाऊंगा.

जल्द ही वो मुझे देख कर मुस्कुरा देते और उन्हें देखकर मेरे चेहरे पर भी हल्की मुस्कुराहट आ जाती.

शायद आंटी ने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी जिस वजह से उनके हिलते हुए चूचे और कड़क निप्पल मुझे कामोत्तेजित कर रहे थे. उसके बाद उसने कहा- मुझे लगता है कि तुम्हारा ये कुछ ज्यादा ही मस्ती कर रहा है. मैं कुछ हरियाणवी भाषा का प्रयोग करूंगा, आपकी समझने में कुछ दिक्कत जरूर हो सकती है लेकिन मुझे उम्मीद है कि आपको सब समझ में आ जाएगा.

फिर वो मेरे लंड के ऊपर बैठ गई और लंड चुत में लेकर जोर जोर से ऊपर नीचे होने लगी. प्रिय पाठको, इस साइट से सिर्फ सेक्स कहानी पढ़ कर मज़ा लेना ही नहीं अपितु यहां आप सभी अपने विचार, मन की सोच, सेक्स से मज़े लेने के तरीके आदि भी साझा कर सकते हैं. मुझे इस नई बिल्डिंग में रहते हुए दो महीने हो चुके थे और सब कुछ सामान्य चल रहा था.

अपने दूध वाले को मैंने फोन किया और उससे बोली- हैलो, आप कहां पर हो जी?मैंने फोन स्पीकर पर डाला हुआ था. धीरे धीरे नीचे सरकते हुए मैंने उसकी दोनों चूचियां बारी-बारी से चूसनी चालू कर दीं.

उस दिन के बाद से कई बार स्कूल में भी मैं और आयेशा सेक्स कर चुके हैं. अगले दिन मैं भी पूरी तरह तैयार होकर और पेशेवर बैंकर की तरह पहुंच गया. नीचे उस चूत चोदने वाले बाबा ने मेरे बालों को खींचते हुए मेरा मुँह अपने मुँह में घुसा लिया और मेरी आवाज दबाते हुए मुझे चूमने लगा.

मैं एक बार झड़ चुका था तो अगले दस मिनट तक मैं उसके मुँह को ही चोदता रहा.

उसने आगे बताया कि उसकी बीवी मर गयी है, वो यहीं किराये के मकान में रहता है. मैंने भी दूसरी चूत की जुगाड़ देखते हुए तेज झटका मारा और शनाया से कहा- तुम सुमन से बात करो, मैं श्रुति से बात करता हूँ. भाभी ने कुछ दवा का इंतजाम किया और मुझे दवा लाकर देते हुए कहा- तुम्हें किसी भी चीज की जरूरत हो तो मुझसे कह देना.

शिष्टाचार भेंट और औपचारिक बातचीत के दौरान मैंने यहां आने का कारण बताया कि मैं अपने फुफेरी बहन के लिए आपके बेटे का रिश्ता मांगने आया हूँ. अदिति सीत्कार के साथ बड़बड़ाने लगी- आह उफ्फ ऊंई ऊंई हम स् स् स्ह स्ह हाय रे हर्षद एक ही बार में पूरा डाल दिया क्या?मैंने अदिति के हिलती हुई चूचियां अपने दोनों हाथों से सहलाकर कहा- अदिति अभी और दो इंच बाहर है.

उसे उठा कर मैंने इस तरह ऊंचा रखते हुए इस तरह घुमाया कि उसकी दोनों टांगें मेरी कमर में लिपट गईं. बीच में ही वो मेरे जांघों पर हाथ रख देती थी, तो कभी मेरे लंड पर रख देती थी. उसके जाने से पहले मैंने उसका फ़ोन ले लिया और उसमें जो हम दोनों के पिक्स थे, वो मैंने गूगल पर सेव करके उसके फ़ोन की गैलरी से हटा दिए.

सेक्सी विडियो विलेज

फिर आखिर वो दिन आ ही गया, जब मैंने उस नेक्स्ट डोर गर्ल की चूत देख ही ली.

मैंने कहा- वो प्लास्टिक का लंड किधर है?उसने बताया, तो मैंने उस प्लास्टिक के लंड पर क्रीम लगाकर सानू की गांड ढीली की. मेरी पिछली कहानीपुराने लौंडेबाज से मुलाक़ात हुई तो गांड मराईमें मैं आपको बता चुका था कि मैं एक शहर में जॉब कर रहा था. जब मैंने कुछ नहीं कहा तो वो बोली- साफ कहूं … तुम सुन सकोगे?मैंने कहा- हां कहो.

उसने अपनी दुल्हन वाली पोशाक दुबारा से पहन ली और बोला- इस बार तुम मेरे पूरे कपड़े मत उतारना. टी-शर्ट खोलने के बाद मैं उसकी गर्दन के पास किस कर रहा था, कभी लिपकिस कर रहा था, कभी उसके होंठों को उंगली से मसल रहा था. 10 साल की लड़की का सेक्स वीडियोफिर मैंने आगे से उसको देखा, तेज चलती सांसों से उसके ऊपर नीचे होती 34 साइज़ की सुडौल और भरी भरी चूचियां … और उन पर बादामी गोल घेरे पर डार्क बदामी निप्पल.

मैं जानता था कि वो ज्यादा से ज्यादा आधा पौन घंटा तक ही साथ दे पाएगी. मैं- तभी आप उनको मटका कर चलती थीं न!वो- नहीं, ऐसी बात नहीं … खुद ही वो हिलते हिलते पता नहीं कैसे इतने बड़े हो गए!मुझको लगा कि लोहा गर्म है.

मैंने पहले बाथरूम में जाकर अपना लंड और जांघें धोईं ताकि पसीने के बदबू न रहे. उधर सब कुछ साफ नजर नहीं आ रहा था लेकिन उनके जिस्म की चमक बता रही थी कि उन्होंने कुछ नहीं पहना है. दोस्तो, आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीप्राइवेट सेक्रेटरी की रसीली चूत का मजामें पढ़ा था कि मैंने अपनी पड़ोसन रेशमा को अपने ऑफिस में काम पर रख लिया था और उसे मुंबई लाते समय ट्रेन के कूपे में ही पटक पटक कर चोदा था.

उसकी लाल लिपस्टिक, गाल और चेहरा एकदम गोरा देख कर मेरे पैंट के अन्दर छिपा हुआ शैतान जाग चुका था. मां बोली- आप ये क्या कर रहे हैं?पापा को मां के आने का पता ही नहीं चला. वैसे तो मेरे पास में थीं लेकिन उनके पति कहीं नहीं जाते थे उस वजह से मैं भाभी को नहीं चोद पाया.

इतना सुनकर सविता बोली- मैं जल्दी से खाना बनाती हूं, आप खाना यहीं खाइए.

तब मुखिया जी बोले- अभी कहाँ कपड़े पहन रही है चन्दा!माँ- जी, मैं कुछ समझी नहीं?तो मुखिया जी ने अपने मोबाइल से एक कॉल किया और बोले- मेरा काम हो गया है. मोर के प्रिंट वाले ब्लाउज में कसे हुए, गहरी क्लीवेज बनाये दो मस्त सुडौल और कड़क चूचे.

हम दोनों 4 बजे चुदाई से फारिग हुए, तो मैं बाथरूम में जाकर फ्रेश हो गया. नीता अपने हाथों से चूत को सहलाने लगी थी तो उसकी उंगलियों में को खून लग गया. वो बोली- अब आप चाहे इस उंगली को दबा कर भी देखें, ये 5-6 घंटे तक दर्द नहीं देगी.

चाचा मुझसे बार बार माफी मांगते रहे- मेरे से गलती हो गई, मैं समझा रूप है. मैं उसके पास गया और उससे बोला- दीदी किस!वो बोली- ठीक है लेकिन सिर्फ एक बार … और एक शर्त पर कि तू किसी को बोलेगा नहीं. मौसी गर्म हो गयी थी, उसकी मांसल मुलायम गर्म हुई जांघें, मेरी जांघों से रगड़ रही थीं.

एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ वो पहले तो इंग्लिश में बड़बड़ा रही थी मगर अब वो किसी देसी रंडी की तरह गालियां देने लग गई थी- आंह मादरचोद चोद दे मुझे … आह आह आजा साले कुत्ते … बना ले मुझे अपनी रंडी … आह. अपनी टी-शर्ट के अन्दर वो ब्रा नहीं पहनती थी जिससे उसके मम्मे बड़े मस्त उछलते थे.

ಹೀರೋಯಿನ್ ಫೋಟೋ

इसका मतलब राखी झूठ बोल रही थी कि वो घर ही है और अभी घर से बाहर कहीं निकला हुआ है. मैं उसके बारे में आपको हर एक बात बताऊंगा मगर उसका असली नाम और वो कहां रहती हैं, इसकी जानकारी मैं नहीं दे सकता. मोनिका बोली- तुम दोनों हम दोनों को यहीं हॉल में पेलोगे या बेडरूम में?दूध वाला बोला- मेरी जान बेडरूम में चलो.

आपको तो बता दिया, पर ये खुजली हो भी तो ऐसी जगह रही है, जिसे मैं न ज्यादा किसी को बता सकती हूं और न दिखा सकती हूं … अब मैं क्या करूं?मैं- रुकिए मैं आपको एक क्रीम देता हूं आप लगा लो, ठीक हो जाएगा. वो अपने चरम आनन्द महसूस कर रही थी … अपनी गुदाज़ जांघों के बीच उसने मेरे सर को जकड़ लिया और चूतड़ उठा कर चीख कर झड़ने लगी. सेक्सी विडियो राजस्थानआज तुमने मेरी मार कर तबियत मस्त कर दी, सच में क्या रगड़ी है, लाल कर दी.

नहाते समय एक बार फिर से लंड चूत चैतन्य हो गए और मैंने फिर से उसकी ताबड़तोड़ चुदाई करना शुरू कर दी.

लगभग 10 मिनट ऐसे ही चुदाई करने के बाद मुखिया जी ने अपने लन्ड को माँ की चूत से बाहर निकाला. शिराज भी किसी लड़की की तरह झुक कर ‘आह्ह अह …’ करते हुए अपनी गांड मरवा रहा था.

जिस पर मैं बोली- नहीं, मैं शाकाहारी हूँ और मैंने आज तक मांस नहीं खाया है और न ही मेरे घर बना या आया है. मम्मी, छोटा भाई और पापा नानी घर चले गए और हम दोनों भाई-बहन घर पर ही रह गए।गर्मी का मौसम था तो हम दोनों भाई-बहन एक ही पलंग पर एक कूलर चला कर सो गए. उन्होंने बताया कि मेरा पति मुझ पर बहुत शक करता था और रात में शराब पीकर मुझे मारता पीटता भी था.

कुछ देर बाद ससुर जी मेरे ब्लाउज के बटन खोलने लगे, लेकिन मेरे दूध के कसाव के कारण बटन खुल नहीं रहा था.

बहू अगर हम दोनों एक दूसरे की खुशी बन जाएं, तो घर की बात घर में रहेगी. अब वो अपनी सगी बहन की रसभरी चूत की पहली बार चुदाई करने के लिए तैयार था. उसकी एक चूची मुँह में लेकर चूसने लगा और एक हाथ से दूसरी चूची को रगड़ रहा था.

हाथी का पिक्चरमैंने चूत की दरार पर लंड रगड़ना जारी रखा और अपने हाथ उसकी दोनों चूचियों पर गोल घूमकर चूचियों को मरोड़ता और दबाता रहा. शॉवर के नीचे लिटा कर मैंने पानी में एक बार फिर से रूचि की चुदाई कर डाली.

घोड्याचा सेक्सी व्हिडिओ

अब जब भी वो घर आती … और मामी नानी के पास बैठती, तो मैं भी वहीं आ जाता और उसे देखता रहता. कुछ सेकंड रुकने के बाद फिर से जोर से झटका मारा और लंड को अन्दर पेल दिया. पापा ने सीधा चूत पर लंड टिकाया और जोर से धक्के देकर लंड अन्दर डाल दिया.

मेरे हाथ उसकी कमर और पीठ पर इतने बलपूर्वक चिपके थे कि वो चाहती, तो भी मुझसे अपने आपको छुड़ा नहीं पाती. नीता ने भी दोनों हाथों से अपनी चूत की फांकों को तान कर रखा था लेकिन सुपारा अन्दर नहीं घुस रहा था. उसका साढ़े सात इंच लंबा और मोटा लंड मेरी चूत की धज्जियां उड़ाने लगा था.

यह सोचकर मैंने सावधानी से दरवाजा खोलकर इधर उधर देखा और जल्दी से भागने की कोशिश की कि जल्दी से अपने बेडरूम में पहुंच जाऊं. ‘हुं … हूं … हूं … हां … हां …’जोर जोर से सांस चलने की आवाजें आ रही थीं. उनकी इस तरह की बातों से मेरा मुरझाया हुआ लंड चुत में फिर फड़कने लगा.

अब अदिति ने भी एक पैर बाजू में फैलाकर मुझे चूत सहलाने को जगह दे दी. फिर कुछ देर बाद विलास आ गया था और हम दोनों सरिता भाभी के बुलाने पर खाना खाने आ गए थे.

नीता बोली- हर्षद देखो न … अभी तुम्हारा मूसल कितना फिट बैठा है, बिल्कुल हिल तक नहीं रहा है.

तकरीबन सात बजे शैली मामी के पति अमरचंद ने पूछा- कुछ लेंगे क्या?तभी मेरी तंद्रा भंग हुई. दिसावर सट्टा किंग गली दिसावरये मॉम डैड सेक्स की कहानी कुछ साल पहले की उस समय की है, जब हम सभी एक छोटे से घर में रहते थे. हिंदी फुल सेक्समेरी सेक्स कहानी के पिछले भागहर लड़की को चोदने की चाहमें अपने पढ़ा था कि मैं बाथरूम में नंगा नहा रहा था और उर्वशी की रूम पार्टनर अञ्जलि फ्लैट में आ गई और पूरी नंगी होकर बाथरूम में घुसने लगी. जब वो तुम दोनों को गले लगा रहा था, तब उसका लंड तन गया था और मैंने उसके खड़े होते लंड को देख लिया था.

मम्मी कह रही थीं- आंह मजा आ गया यार … ये सब कहां से सीखते हो … अब उतारो मुझे.

मैंने पूछा- कैसा लग रहा है?वो बोलीं- बहुत महीनों बाद ऐसा मजा आया है. मेरी नजर बार बार भाभी के चूचों पर ही जा रही थी जो ऊपर से ही अन्दर तक साफ नजर आ रहे थे. जब आंटी ने मुझसे कुछ नहीं कहा, तो मैंने भी उनको हिम्मत करके देखना जारी रखा.

बस वो आनन्द के बारे में बता रही थीं कि आनन्द रोज ऐसे ही ड्रिंक करके बिना खाए सो जाता है. उनके घर का दरवाजा बंद था जबकि मैंने कुछ देर पहले उस मास्टर को भाभी के घर में पढ़ाने जाते हुए देखा था. मुझे पता चल गया कि हॉट सीन का उस पर भी असर हो रहा है और वो उत्तेजना महसूस कर रही है.

आदिवासी लोक सेक्सी वीडियो

मैंने सोनाली की चूत के आजू बाजू फैला हुआ चुतरस अपनी जुबान से चाटकर पूरा पी लिया. दीवार से मुँह चिपका होने के कारण उसकी चीखें बाहर नहीं निकल पा रही थीं. मेरे बाद रुचिका और नंदा बाथरूम में गईं, तब तक मैं बाहर लॉबी में आ गया.

अब वो मजा लेने लगी थी और मेरे लंड की हर एक चोट जब बच्चेदानी तक असर करती, तो मादक आवाजें निकालने लगी थी.

आपको भी स्वीटी मैडम की खूबसूरत फिगर को जान लेना चाहिए ताकि आप भी अपना लंड हिला कर सेक्स कहानी का मजा ले सकें.

अपनी जीभ से बदन पर शॉवर के पानी में छाती चाटती हुई नीचे होती गई और घुटनों के बल बैठने के बाद लंड को अपने गाल पर रगड़ती हुई भीगने लगी. उसने बोला- ये शायद फ़्रेश ड्रेसिंग खोली है मैंने?मैं बोला- जी बिल्कुल सही बोला आपने. हिन्दी सेक्स विडीओउसकी उभरी हुई गांड मुझे मदमस्त कर रही थी जिसे मैं ट्रेन के कूपे में चोद नहीं पाया था.

चुदाई के झटकों से हिलते दीदी की बड़ी बड़ी चूचियों को सुमंत अपने हाथों से संभाल कर बारी बारी से चूस और मसल रहा था. नीता बोली- हर्षद जल्दी से अपना लंड डाल दो मेरी चूत में … नहीं तो कोई आ जाएगा, तो दिक्कत हो जाएगी. मैं कभी कान, कभी होंठ कभी जीभ कभी चुचे, नाभि, चूत, गांड सब चूसने और चाटने लगा.

उसके अन्दर की लाल रंग की ब्रा साफ साफ दिख रही थी क्योंकि उसने सफेद रंग की पतली सी टी-शर्ट पहनी हुई थी. वो गांड हिला हिला कर लंड चूत में ले रही थी और मैं भी उसकी ताल में ताल मिला कर उसे ताबड़तोड़ चोद रहा था.

उसने ढेर सारा तेल अपनी गांड के छेद पर लगाया और मेरे लंड की भी उसी तेल से मालिश कर दी.

मैंने शॉवर चालू किया और अञ्जलि को अपनी तरफ खींच कर उसके होंठों को अपने होंठों में दबोच कर चूसने लगा. अब मैं मैडम की चूत के अन्दर उंगली डाल कर चूत के दाने को अपनी दो उंगलियों से रगड़ने और मींजने लगा. उसके ससुराल चले जाने के बाद से अभी कुछ दिन पहले ही मेरी और उसकी मुलाकात हुई क्योंकि देश में लॉकडाउन के कारण 2 साल वो अपने मायके नहीं आई थी.

सेक्सी हीरोइन सेक्सी वीडियो फिर मैंने उसे दीवार से सटा दिया और उसका चेहरा दीवार से चिपका कर हार्ड सेक्स शुरू कर दिया. गुलाबी टॉप, ब्लू जीन्स, सफेद डॉक्टर कोट पहने हुए, उम्र लगभग 22 से 24 के बीच की थी और मुझे उसकी हाइट 5 फुट 6 इंच से ऊपर लगी.

उसने बिना किसी शर्म के मेरे सीने को चूमते हुए नीचे हाथ बढ़ाकर मेरे लंड को थाम लिया और सहलाने लगी. अब जब उसकी वासना बढ़ने लगी तो उसने मेरे बालों को पकड़ कर मेरे सिर को अपने लंड पर दबाना शुरू कर दिया और अपना पूरा सांड जैसा लम्बा लौड़ा मेरे मुँह में ठूंस दिया. वह Xxx देसी भाभी बार बार अपनी चूत को शीशे में देखतीं और उस पर हाथ फेर रही थीं.

सेक्सी मकान मलकिन

मैंने सना से पाकिस्तान के बारे मैं बहुत कुछ जाना और हिंदुस्तान के बारे में भी बताया. जैसे तैसे सितम्बर में वाइफ मायके गयी, तब तक चीजें थोड़ा सही हो चुकी थीं. नीता कसमसाने लगी- आह ओह हर्षद अब नहीं रहा जाता मुझसे … जल्दी से कुछ करो ना!ये कहते हुए नीता मेरे लंड को जोर जोर से आगे पीछे करने लगी.

फिर भी एक नई जगह नई चूत की सम्भावना लिए अपनी खटारा यामाहा लिए, पता ढूँढता पहुंच गया. इन्हीं कुछ सेकेण्ड्स में वीरू का सारा माल कमोड में गिर गया और उसने फिर से खिड़की से बाहर देखा।शब्बो ने अपना सीना ढक लिया था।ये देख कर वीरू का मन उदास हो गया और वो नहाने चला गया।इस घटना के बाद शबाना ने अब वीरू के मन की बात समझ ली।अब वो जानबूझकर वीरू के सामने अपने चूचे दिखाने का प्रयास करती.

पिताजी की गांव में थोड़ी सी ही जमीन थी जहाँ पर मेरी माँ खेती करती जिससे हमारा घर चलता था।माँ के बारे में मैं आपको बता देता हूँ.

मैंने देर ना करते हुए उसके पैंट को खोल दिया और उसके काले मोटे लौड़े को बाहर निकाल लिया. भाभी बोलीं- चूत तो बाद में फाड़ना, पहले मेरी चूत की आग ही शांत कर दो तो बहुत है. फिर भाभी मेरे पास आईं और मेरे गाल में प्यार से हाथ लगा कर बोलीं- शैतान … चलो कोई बात नहीं.

ये तीनों बंगाली बीवियां हैं और ये गरम सेक्स कहानी भी कोलकाता की ही है. तुम्हारा पति तुम्हारी गांड मारेगा भी या नहीं!मेरे कुछ देर समझाने के बाद वो बैक डोर सेक्स के लिए राजी हो गई. वो मेरी मुँह से चुदाई शब्द सुनकर मेरी तरफ देखने लगी और फिर हंस कर अपने होंठ काटने लगी.

मैं बोला- किस टाइम आऊं?मिहिका बोली- बारा बजे के करीब आ जाना … लेकिन मैं फोन करूंगी, तब आना.

एचडी सेक्सी बीएफ बीएफ: ‘आअह साली रंडी क्या मस्त भोसड़ा है तेरा कुतिया, आज से तेरे चूत का असली मालिक हूँ मैं रंडी, उस चूतिये को चोदने दिया तो मां चोद दूंगा तेरी …’ये सब बोलते हुए मैंने उसके कान को हल्के से काट दिया. मैंने सारा पानी उसके मुँह में निकाल दिया, वो भी किसी रांड की तरह मेरे लंड का सारा रस पी गयी.

नीता रोने लगी थी, छटपटाने लगी थी और जोर से चिल्लाते हुए बड़बड़ाने लगी- आह मम्मी रे मर गई … ओह ऊंई ऊंई मर गयी मेरी फट गई … आंह निकाल लो लंड … मेरी चूत फट गई हर्षद … आह तेरे मोटे लंड ने मेरी चूत फाड़ दी. मैं उसकी चूचियां रगड़ने लगा तो नीता अपनी गांड उठाकर मेरे लंड पर अपनी चूत रगड़ती हुई बोली- अब नहीं रहा जाता हर्षद … तुम जल्दी से अपना मोटा लंड मेरी चूत में डाल दो. मैंने फायदा उठाते हुए उसके होंठों पर होंठ रख दिए और किस करना शुरू कर दिया.

उसका एक हाथ मेरी गर्दन में था, दूसरे हाथ से वो मेरे लन्ड को अपनी गांड के छेद में डाल रहा था.

अगर आप हमें थोड़ा समय दे दो तो आपके सारे पैसे हम चुका देंगे।मुखिया जी- देख चंदा, मुझे अपने पैसे आज ही चाहियें. आपने उस दिन बड़ा मस्त डायलॉग बोला था … वो क्या कहा था … एक बार फिर से कहिए ना?मैं- अरे जाने दो यार … उस दिन जोश में कह गया. इस बार भी मैं करीब 30 मिनट तक लगा रहा और उसकी गांड में ही रस छोड़ दिया.