बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव

छवि स्रोत,आंटी हिंदी सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी पिक्चर सेक्सी में: बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव, अपने होंठ उसके होंठों पर रखे ओर हाथ चूचों पर रखकर एक जोरदार झटका दे मारा, तो मेरा आधे से ज्यादा लंड चूत में घुस गया और भाभी छटपटाने लगी.

एडल्ट फिल्म ब्लू फिल्म

शॉपिंग करने के बाद हम वापस जाने लगे, लेकिन इस बार हमारे बीच में सामान था, तो मामी का स्पर्श नहीं मिल पाया. एक्स एक्स एक्स बीएफ ओपनएक दिन वो मुझे गली में मिली और बोली- अंकल, अब आंटी और बाबू कब वापस आएंगे?मैंने कहा- अभी तो टाइम लगेगा.

वहां जाने के बाद उन्होंने बताया कि मुझे पता था कि ये होगा, इसलिए जब तुम आए तो मैं बादाम का दूध बना रही थी. इंडियन बीएफ वीडियो कॉमकुछ सेकेंड तक जब मैंने कोई हरकत नहीं की, तब भाभी अपना चेहरा मेरे सामने लाकर मुझे देखने लगीं.

आपमें से जो प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं, उन्हें तो अच्छी तरह पता होता है कि नए नए माहौल में कितना मुश्किल होता है.बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव: रात को वलीमा दावत के बाद अब्बा जान ने बुलाया और कहा- कल रात जो चीखने चिल्लाने की आवाज़ आयी थी, वह हमारी तहज़ीब के मुताबिक ठीक नहीं है, जो भी करो नज़ाकत को देख कर करो.

चूत के दाने को सहलाना स्टार्ट कर दिया मैंने!तो वो मेरे हाथ को नाख़ून मारने लगी.यह देखकर मेरे पति ने मुझे अपनी तरफ खींच लिया और अपने साथ बेड पर लेटा लिया.

नई हिंदी पोर्न - बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव

मुझे असहनीय दर्द होने लगा मगर वह अपना पूरा भार डालता हुआ मेरे ऊपर लेट गया और उसकी छाती मेरी कमर पर आकर सट गई- आई.भाभी आँख मार कर चली गयी।दोस्तो, मैं उस दिन तो एग्जाम के चक्कर में सो गया और दूसरे दिन मॉर्निंग में घर की चाबी रूपा भाभी को देकर एग्जाम देने चला गया।दोपहर में आकर भाभी के घर की घंटी बजाई, पर किसी ने दरवाजा नहीं खोला.

इस बार मैंने कुर्ता ऊपर किया और हाथ अन्दर डाल कर उसके बोबे दबाने लगा. बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव बूब्स एकदम सीधे खड़े थे। मैंने अपना एक हाथ पूनम के गले से अन्दर डाल दिया और एक बूब्स को पकड़ कर ज़ोर से दबाया तो मामी तड़प उठी।मैंने अपना हाथ बाहर निकाला तो मामी बोली- बस और नहीं देखने 34 इन्च के बूब्स?तो मैंने कहा- अभी नहीं।फिर मामी बोली- तुम उस समय मेरे सामने बिल्कुल नंगे खड़े थे, तुम्हारा लन्ड बहुत लम्बा है.

मैंने ये सब मम्मी को बताया, तो मम्मी बोलीं- ठीक है, रह आना … कोई दिक्कत नहीं.

बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव?

अगले दिन शाम को मैं अपनी बुआ के घर पहुंचा, जहाँ सब मेरा ही इंतजार कर रहे थे. खैर झटकों के एक लम्बे सिलसिले के बाद मैंने उससे बोला कि मैं झड़ने वाला हूँ. मैंने ऊपर भी लिखा था कि कहा जाता है कि दो समान विचारों वाले लोग जल्दी घुल मिल जाते हैं.

मैंने कहा- निकाल कर देख ले।पूनम मामी ने लंड को बाहर निकाला तो लंड पूरा तना हुआ था और पूनम लंड को ही देखे जा रही थी। फिर मुझे पापा और मामा की आवाज़ आई। हम बाहर आये तो देखा कि मामा ने दारू पी रखी थी।मुझे देखकर हैरानी हुई कि मामा दारू पीते हैं. मेरा अब मामा के घर जाना बहुत ज्यादा हो गया था और किसी को कोई शक भी नहीं था इसलिए जब भी मौका मिलता हम एक दूसरे को किस कर लेते थे. मैंने मैडम की चुत पर जीभ लगायी, तो मुझे अजीब जैल जैसा कुछ महसूस हुआ.

खैर बुआजी का व्यवहार और पापा व मम्मी की सूझ-बूझ से दीदी की सगाई विनय भैया के साथ कर दी गई। अब विनय भैया विनय जीजू बन गये थे. बात करते करते मैंने इंदु से कहा- आज का वादा तो याद है ना?उसने कहा- जीजा जी, सब याद है, मैं रात को फोन करूँगी, जैसे ही आस पास सूना हो जायेगा, आप आ जाना. मैंने झट से अपना सात इंची का लंड अंडरवियर से निकाला और उसके मुँह की तरफ करके हिलाया, उसने अपनी जीभ बाहर निकाली और लंड चाटने का अश्लील इशारा करते हुए दूध दबाने लगी.

चाची सुबह सुबह उठ गईं और रोज़ की तरह स्कूल के लिए तैयार होने के लिए बाथरूम में चली गईं. आपका अपना हैरी बावेजामुझे आप[emailprotected]पर अपने ईमेल कर सकते हैं.

उसकी दोनों बड़ी लड़कियां कहीं बड़ी कोठियों में घर का काम करती थीं औऱ वहीं पर कोठी के सर्वेंट क्वाटर में रहती थीं.

मैंने उसे को पूछा कि क्या हुआ?पर वो शर्माए और मुझे कुछ बताये ना!मेरे बहुत पूछने पर वो शर्मा कर बोली- मम्मी, वो कुछ करते नहीं हैं.

ये तो किसी का पैर है, ये जानकर मैंने उसे हटाने का असफल प्रयास किया. आशीष अब बिस्तर में चढ़ गया और बोला- अब मैं तेरे एक-एक कपड़े उतारता हूं. मैं वहीं बेड पर पड़ी हुई सोच रही थी कि मेरी फुद्दी का आज उद्घाटन हो गया है.

मैं लंड को दीदी की सहेली की चूत में अन्दर बाहर अन्दर बाहर करने लगा. मामी ने अपने दांतों से होंठों को दबा दिया, आंखें बन्द कर दीं और मेरी पीठ पर नाखून रगड़ने लगीं. सर!” मैंने उन्हें टोक दिया।हम्म?” वो अब भी मेरे पास खड़े हुए लगातार पिंकी की ओर ही देख रहे थे.

उसकी ये बात सुन कर मैं दंग रह गया और झट से उसे खींच कर गले से लगा लिया.

सात इंच से ज़्यादा ही होगा … शायद साढ़े सात भी हो … मोटा भी बहुत है … आह मज़ा आ गया तेरे लंड को देख कर!मैडम ने लंड पर हौले हौले से हाथ फेरना शुरू कर दिया. मैंने रिप्लाई में पूछा- तुम्हारा लैपटॉप का काम हो गया या और करना बाकी है?उसने बताया कि लैपटॉप का काम तो हो गया लेकिन उसे एक कॉन्सेप्ट समझ नहीं आ रहा है. फिर एक दिन वो रात को मेसेज पर मुझसे बोली- मुझे वीडियो कॉल पर तुमसे बात करनी है.

मैंने भाभी को बेड पर लिटाया और उनके दोनों घुटनों को मोड़कर उनकी चूत को देखा. मेरे मुँह से आहें और कराहें निकली जा रही थीं- उम्म … आह्ह्ह उम्म्म … ऊऊहह … आआहह उफ्फ … आई लव यू वंश … मेरा प्यारा बेटा … मेरा बेबी म्म्मुआहह. उसके बाद हमने कमरे में आकर वोदका के पैग बनाए और वापस बाथरूम में आ गए.

मुझे उस दिन पता नहीं क्यों सुखबीर ने ढेर सारे संदेश भेजे और मैंने भी खुशी से उत्तर दिए.

न जाने कैसे खुद बा खुद ही मेरा मुंह थोड़ा सा खुल गया और पलक झपकते ही मैडम की जीभ मेरे मुंह में चली गयी. वो फिर भी लगातार उसे चूसे जा रही थी और आखरी बूंद तक अपनी जीभ से चाट कर वैसे ही लंड को मुँह में लेकर ही मेरी कमर में हाथ डाल कर बैठी रही.

बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव फिर मैंने बहन को अपनी गोद में उठा लिया, अपनी बांहों में उठाकर मैं उसको बाथरूम में ले गया और उसको कमोड पर बैठाया. शायद वह देख रहा था कि मैं पूरे नशे में हूँ। मैं भी आधे होश में था तो हवस जागना शुरू हो गई थी.

बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव उसके बाद जब भी टाइम मिलता, हम दोनों मैं और आशीष डेली फोन में हर दिन तीन चार घंटे कभी-कभी छह-सात घंटे तक आपस में बात करने लगे. वैसे सच कहूँ तो मुझे भी बाहर इतनी गर्मी में जाने का मन नहीं हो रहा था.

आशीष अपना मुँह ऊपर करके बोला- आह साली लगता है, तू तो बहुत बड़ी छिनाल बनेगी … ऐसा तो सिर्फ रंडियां ही करती हैं, जैसा तू कर रही है.

सेक्सी वीडियो है क्या

उसके बाद भाभी ने वहीं बोल दिया- क्यों देवर जी, तुम्हारा पेट बहुत खराब होता है?मैं कुछ नहीं बोला, बस स्माइल ही करके रह गया. इतना बोल वो दूसरे रूम में चली गईं और मैं मन ही मन में आगे की प्लानिंग करते हुए सोचने लगा कि आज ऐसा क्या और कैसे करूँ कि ये भी मेरी फिक्स क्लाइंट बन जाए और वैसे भी ऐसी कड़क माल सबको तो नहीं मिलती न चोदने के लिए. मेरे बारे में आपको बता दूँ कि मैं अभी 22 साल का हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच की है.

मैं मामी को देखकर कहने लगा- मामी, आप कैसे रहोगी गीले कपड़ों में?तो मामी फिर मुस्कराने लगीं. शाम को पापा ने मुझे कहा कि तेरी भाभी को उनके किसी रिश्तेदार के यहां जाना है … तो गाड़ी में ले जा और वापस भी ले आना. रास्ते भर में कोमल मुझसे चिपक कर अपने बोबों को मेरी पीठ पर सहला रही थी.

रात तो वो फिर मेरे कमरे में आया और मुझे उसने बॉलीवुड की लगभग सभी हिरोईनों ही नंगी पिक्चर्स दिखाई.

सीमा का दर्द कम नहीं हो रहा था और मैंने इसी बीच एक और झटका उसकी चूत में दे दिया. अपने माल का तो खैर जो स्वाद था वो था ही लेकिन मुझे तो मैडम की उंगली के स्वाद ने पागल कर दिया था. मैंने जल्दी से हाथ हटाया, तो उसने बोला- क्या हुआ?मैंने सोते हुए नाटक किया और नींद में बोला कि मेरा हाथ आपके नीचे हो गया था.

शीनम- करीम तुम्हारा लंड तो कितना बड़ा है … आह … ये तो मेरी चूत में रगड़ने लगा है. हम दोनों ही एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं और हमारी सेक्स लाइफ भी बहुत ही अच्छी है. वो नीचे मेरा लंड मुँह में लेकर मजे से अन्दर बाहर कर रही थी, हल्के हल्के काट रही थी.

इसका कारण यह था कि वह अपनी मम्मी को पापा का लंड चूसते हुए देख चुकी थी. आरती तो नहीं घबरा रही थी मगर प्रसंग का खड़ा लंड एकदम से ढीला होकर मूंगफली की तरह से हो गया.

दूसरे कमरे में अंदर चुदाई का मदहोश कर देने वाला नजारा साफ-साफ दिखाई दे रहा था. जब सलोनी से बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने मुझसे गुहार लगानी शुरू कर दी. लंड को सहलाते हुए ही मैंने अपना एक कदम आगे बढ़ाया और मैं उनके जिस्म के बिल्कुल करीब आ गया.

पानी से बाहर आकर हमने यहां-वहां देखा और अपने लिए कोई सुरक्षित सी जगह देखने लगे.

जब मैंने अंदर की तरफ दोबारा देखा तो विनय ने अपना लंड कुसुम दीदी के मुंह में डाल रखा था. फिर मैंने उसकी पेंटी को उसकी टांगों से बिल्कुल ही अलग कर दिया और उसकी नंगी चूत पर अपने होंठ रख दिये. तभी मेरा हाथ आहना के स्तन पे आ गया और मैं उसके स्तन उसके ब्लाउज के ऊपर से ही दबाने लग गया.

मैंने उतनी देर रुकना मुनासिब नहीं समझा और अजय को फ़ोन कर घर जाने का कारण बताकर जाने की इजाजत मांगी. उसका फिगर ऐसा है कि जो भी उसे देख ले, वह उसे चोदने के ख्वाब देखने लगे.

तब मैंने उससे पूछा- क्या दिक्कत है?उसने कहा- वो मुझको छोड़ता ही नहीं है, तुमको टाइम कैसे दूँ. मैंने अपनी पैंट की जेब से कॉन्डम का एक पैकेट निकाला और उसमें से एक कॉन्डम निकाल कर अपने तने हुए लौड़े को पहनाना शुरू कर दिया. फिर बोला- आज नहीं, कल एक और पिक्चर दिखला कर फिर इसको मिलवा दूँगा इसके यार से … तब तक और गर्म हो जाएगी और अपने यार से मिलते हुए रोएगी कम और खुश ज़्यादा होगी.

काले लोगों की सेक्सी मूवी

आपमें से जो प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं, उन्हें तो अच्छी तरह पता होता है कि नए नए माहौल में कितना मुश्किल होता है.

मैंने दीपक से चौंकते हुए पूछा- यह तुम क्या कह रहे हो? तुमने अपनी भाभी को चोदा है?हां यार … मैं सच कह रहा हूं!” दीपक बोला. मैंने अपनी उंगली अन्दर बाहर करनी शुरू की, फिर दूसरी उंगली भी भाभी की चूत में डाल दी, जिससे उसका शरीर अकड़ने लगा और वो छटपटाने लगी. मैं- वो आपका दोस्त भूरिया?रमेश- मालिक वो तो कभी कभी आता है, जब उसे कुछ काम हो.

उनका फिगर भी हेमा भाभी की ही तरह था, परन्तु उनका रंग थोड़ा ज्यादा गोरा था. मैं यह सब देख कर डर गई मगर जीजा जी ने मेरे बालों में हाथ फिराना शुरू कर दिया. गुजराती ऑंटी सेक्स व्हिडीओऐसा करने से उसकी चूत बाहर को आ गई तो मैंने भी वक्त बर्बाद न करते हुए लंड को चूत पर घुमाना चालू कर दिया.

सुबह तक उसकी हालत इतनी खराब हो गई थी कि वो सही से चल नहीं पा रही थी. फिर जब वह मेरे ऊपर से उठी तो मैंने उसको अपनी गोद में उठाया और उसके बेडरूम में ले जाकर उसके बेड पर पटक दिया.

हम वो मुँह तक लेके गए, तभी उसने हम दोनों के हाथ पकड़े और कहा- प्रमिला, तू अपने हाथ का गिलास का दूध प्रकाश को पिला. जब वो बाहर आईं, तो उन्होंने एक सैक्सी सा नाइट सूट पहना हुआ था, जिसका गला काफी गहरा था. [emailprotected]अगली बार फिर नयी कहानी के साथ मिलने का वादा करता हूं, पायल और मेरी कहानी भी पढ़ना चाहते होंगे, तो भी जरूर बताइयेगा.

कुछ देर तक मैं भाभी के गालों, होठों, और भाभी की नशीली आंखों को चूमता रहा, जिससे भाभी पूरी तरह से संतुष्ट हो गई. नाश्ता करने के बाद पापा और मामा किसी काम से बाहर चले गए और बोल गए कि वो शाम तक ही आएंगे, घर में केवल हम तीनों ही रह गए थे. मैंने उसे देखते ही अपनी बाँहों में भर लिया और दोनों रोमांटिक पोज़ में थोड़ा डांस करने लगे.

क्योंकि मैं तो लगभग पहले ही ढीली होने के कगार पर थी इसलिए एक दो धक्कों से ही पानी छोड़ गई.

इतना सुनते ही मामा ने कहा कि मान गया बंध्या कि तू बहुत सेक्सी लड़की है … बहुत चुदक्कड़ है. करीब आधे घंटे बाद गोली असर दिखाने लगी, दिल की धड़कन तेज हो गयी और मैं बहुत गर्म और उत्तेजित महसूस करने लगा.

मेरी चुत के अन्दर उसकी जीभ की अन्दर बाहर होने की स्पीड अचानक बढ़ने लगी और मैं तेज धार से झड़ने लगी. डॉली अपने कपड़े चेंज करने में लगी थी और हम चुदाई में इसी स्टाइल में पिले पड़े थे. लेकिन जिस जगह के बारे में उसने बताया वह वहां से काफी दूर थी तो मैंने उससे पूछ लिया कि क्या वह वहाँ तक ऐसे ही चल कर जाएगी.

काफी देर तक जब मैं कुछ नहीं बोली, तब मम्मी जी ने ही बात करना शुरू किया- कल्पना बेटा, मैं जानती हूं कि तू अभी तक कुछ भी डिसाइड नहीं कर पायी है, क्योंकि तू क्या सही है क्या गलत इसमें कंफ्यूज है. नमस्कार दोस्तो, अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज़ डॉट कॉम पर यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है। अगर कोई ग़लती हो तो माफ कर दीजियेगा।सबसे पहले दोस्तो, मैं अपना परिचय देना चाहूँगा। मेरा नाम राहुल है, मैं रांची में रहता हूँ और एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूँ, यह कहानी तीन महीने पुरानी है। जब मैं जॉब की तलाश में था और घर पर ही रहता था। मैं घर पर बैठे-बैठे बोर हो रहा था. वे मेरे लंड को जड़ से पकड़ के नीचे से ऊपर अपनी जुबान से चाटने लगीं और उस पर थूक के हाथ से ऊपर नीचे करने लगीं.

बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव अगले दो दिन शनिवार रविवार को सब फ्री थे, मणि ने संजय से कहा- आज रात को डिस्को चलेंगे. मैं और मेरा भाई जो मुझसे डेढ़ साल बड़ा है, हम दोनों एक ही कॉलेज में पढ़ाई करते हैं, हम दोनों के लिए पापा ने कॉलेज जाने के लिए एक स्कूटी दे रखी है, कॉलेज में मेरी बहुत सारी सहेलियां हैं जो काफी स्मार्ट और खूबसूरत हैं और मैं भी कम नहीं हूँ, मैं दिखने में गोरी, चिट्टी, अपने उम्र से काफी बड़ी लगती हूं.

सेक्सी कहानी हिंदी आवाज में

मेरा लंड भी अपनी पूरी अंगड़ाई पर था और मेरी रोज़ की मालिश की वजह से अब और भी लम्बा मोटा हो गया था. वह कहने लगी- राज! ऐसे तो बहुत मज़ा आ रहा है, तुमने यह सब कहां सीखा? प्रोफेसर साहब ने तो कभी कुछ किया ही नहीं. उन्होंने मुझे इतनी तेज़ गले से लगाया कि मैं खुद को उनसे छुड़ा ही नहीं पाया.

कुछ ही देर की कोशिशों के बाद लंड सैट हो गया और दर्द भी काफूर सा होने लगा था. उसके बाद शिखा ने मेरे अंडरवियर को भी खींच दिया और मेरा लंड उछल कर बाहर आ खड़ा हुआ. अमेरिकन बीएफ सेक्स वीडियोउस टाइम पर दोस्तो … उसने ऐसे सिसकारी भरी कि क्या बताऊं और मेरे बांहों में एकदम सिमट सी गयी.

आप बताओ न, क्या विषय है आर्टिकल का?उनके चेहरे पर बोलूँ कि नहीं बोलूँ, कुछ ऐसे भाव थे.

जैसे ही मैं अपनी जीभ भाभी की चूत पर लगाकर चाटने लगा तो 2 से 3 मिनट में ही भाभी की चूत से अमृत रूपी रस की धार चलने लगी. चाची ने मुझे देखा और पूछने लगीं- क्या बात है … आज सुबह सुबह यहाँ कैसे?मैंने भी जवाब दिया- वो चाची … बस जॉगिंग पर जा रहा था कि पैर में दर्द सा होने लगा.

इस दौरान में उसके मोटे मोटे चूतड़ों पे हाथ फेरता रहा, जिससे वो आहिस्ता आहिस्ता फिर से मस्त होने लगी और उसने उठ कर फिर से मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया, जो अब तक खड़ा हो चुका था. मैंने झट भाई का लंड मुंह में ले लिया क्योंकि मेरी बुर में आग लगी हुई थी तो मुझे कुछ बुरा नहीं लगा, मैं तो बस अपने भाई की बात मान रही थी. मैंने कहा- तुमने ही तो बोला था कि कितना भी चिल्लाने पर अपने लंड को बाहर नहीं निकालना.

एक दिन मेरे ऑफिस में मेरा एक फ्रेंड, जो कि उसकी गर्लफ्रेंड के साथ में घूमने जाने का प्रोग्राम बना रहा था, उसने मुझसे भी जिद की कि मैं भी अपनी गर्लफ्रेंड को साथ लेकर चलूं.

थोड़ी देर बाद जब मैं सीढ़ियों के पास खड़ी हुई तो फिर से आया, वो बोला- प्लीज अपना नाम बता दो, नहीं तो मैं खाना नहीं खाऊंगा. जब मैंने लंड को ऊपर नीचे किया तो ऐसा लग रहा था जैसे सोनू की चूत का छल्ला मेरे लंड के साथ चिपक कर बाहर आ रहा था. इस कहानी पर अपनी राय देने के लिए आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करें या फिर नीचे दी गई मेल आई-डी मेल करें.

मां बेटे की हिंदी बीएफजब वो पेशाब करने या हगने जाती थी, तब किसी न किसी तरह उसको देखने का प्रयास करता रहता. क्या आप मेरे से बात करोगे ताकि मैं अपनी सील तुड़वाने सम्बन्धी जानकारी प्राप्त कर सकूं।इस प्रकार मेल पर हमारी बात शुरू हो गयी.

रोमांटिक सेक्सी विडियो हिंदी में

वो मेरा हाथ पकड़ कर बेडरूम में ले गई और मेरी शर्ट उतारकर मुझे छाती पर किस करने लगी. जैसा कि हमलोग खेत के पास ही थे, इसलिए आवाज़ से नानाजी की नींद खुल गयी. मीना कुछ समझ पाती, उससे पहले ही मैंने मीना के बाल पकड़ कर उसे बेड के किनारे पर खींचते हुए उसके मुँह के सामने लंड रख दिया.

फिर उन्होंने मेरे हाथ को पकड़ कर और ऊपर सरकाया, तो मेरे हाथ उनकी मोटी जांघों पर पड़े. चूत पर हाथ के स्पर्श से मामी जी की आंख खुल गई और उन्होंने मेरी तरफ देखा. मैंने बाथरूम में भी शॉवर के नीचे दीदी, जो अब मेरी बीवी है उसको घोड़ी बना कर चोदा.

मैंने जल्दी से कंडोम का पैकेट फाड़ कर एक कंडोम निकाला और अपने लंड पर पहन लिया. लगभग दस मिनट बाद मैंने भी उसके मुँह में अपने लंड का सारा पानी निकाल दिया और वो मेरे लंड का सारा पानी पी गयी. रात के करीब साढ़े ग्यारह बज चुके होंगे, सुनसान पगडंडी रास्ता, गर्मी की रातों की लम्बी हवाएं, चाँद की हल्की रोशनी में पैरों की स्पष्ट आवाज़ आ रही थी.

और जब उसका पानी टूटा, जैसे वो अकड़ गई, मेरे होंठ को काट कर खा गई, मैंने भी उसके होंठ अपने होंठों से पकड़े थे, तो बस वो ऊँ…. मेरी गे सेक्स कहानी के दूसरे भागएक लड़के को देखा तो ऐसा लगा-2में आपने पढ़ा कि मैं एक जाट लड़के के कमरे में था और उसका लंड चूस कर अपनी इच्छा पूर्ति कर चुका था.

हम आगे बढ़ते, उसके पहले ही मेरी निगाह आस पास गयी, तो देखा सामने 4-5 मजदूर जैसे लोग खड़े थे.

मैं भी उसकी गोद में बैठ कर उसके लंड को अपनी चूत के छेद पर सैट कर रही थी. कॉलेज की लड़की की सील तोड़ीफिर जब मैं 21 साल का हुआ, तो आर्थिक तंगी के कारण एक कम्पनी में जॉब पर चला गया. सारी लड़कियों की सेक्सीमेरा नाम दिलदार सिंह है, मैं दिल्ली में किराए के मकान में रहता हूँ. अब मैंने सोचा कि इसे कुछ ऐसा बताऊं कि दोनों पति पत्नी के संबंध अच्छे हो जाएं.

उसकी चूचियों को हाथ से मसला और उसकी दोनों टांगों को थोड़ा चौड़ा करके अपने लंड को हाथ से पकड़ कर उसकी चूत के छेद पर लगाया.

उस दिन तो मैं वहां से आ गया मगर बार-बार नवीन की याद मुझे सताने लगी. दीपक- तुम कुछ भी कहो विचित्र, लेकिन सच तो यह है कि मेरी भाभी का कोई जवाब नहीं … वह लाजवाब है. कुछ देर बाद मैंने भाभी को बोला- अब आप नीचे हो जाओ, जिससे दोनों को स्खलन की संतुष्टि हो जाए.

मैं झूठ मूठ का दुखी चेहरा करके बोला- मामी जी जवान हैं, अगर उनकी मामा जी जैसे बड़े उम्र के व्यक्ति से शादी ना होती, तो शायद मुझे ये सब करने की जरूरत ना पड़ती. जैसे ही मैंने उसकी जांघियां खींच कर नीचे किया, उसका लिंग तनतनाता हुआ किसी पेड़ की डाल की भांति कड़क होकर ऊपर नीचे झूलने लगा. ’उनकी चिल्लपौं सुनकर मैं एक मिनट के लिए रुक गया और उनके ऊपर झुक के उनके होंठों को चूसने लगा.

ई-मेल सेक्सी लड़की

उसने बोला- प्लीज़ इसे बंद करो, इसको देखने से अच्छा है कि हम खुद ये करते हैं. उनकी चड्डी, बोले तो पेंटी पर उनकी चूत का उभार दिख रहा था। मैंने देर ना करते हुए उनकी पेंटी के ऊपर से ही उनकी चूत पर अपना मुंह रख दिया और उनकी चूत के रस से भीगी हुई पेंटी को चूसने लगा. मैं मुंबई में अपने घर में जहां रहता हूँ, वहां हम लोग सात साल पहले रहने आए थे.

फिर मैंने उसके चूचों को पकड़ा और तेज-तेज उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करने लगा.

मामी अपनी गांड के छेद को छूते हुए कहने लगीं- गांड का छेद कितना बड़ा हो गया है.

उसके बाद मैंने उसके मुंह से हाथ हटा लिया तो देखा कि वह मुस्कराते हुए अपनी चुदाई करवा रही थी. मैं वासना से भर कर मादक सिस्कारियां लेने लगी और मेरी भी चूत चुदासी हो गयी थी. सनी लियोन एक्स वीडियोसमैंने कहा- क्यों?वो बोली- बस 5-10 मिनट के लिए मिलना है, तो ठीक है आज मिल लो और अगर अच्छे से मिलना है, तो कल माँ और भाई किसी रिश्तेदार की शादी में जाएंगे, तब मिल लेना.

उन्होंने उसी वक़्त मुझे अपनी बांहों में ले लिया और मुझे किस करने लगीं. उसे लगा, सचमुच आज उसे ऐसी चुदक्कड़ लैंड लेडी मिली है, जिसके घर में ही नहीं, बल्कि शानदार चूत में भी रहने की जगह हासिल हो गई. तभी मणि ने अपना लंड कोमल के मुँह में डाल दिया और वो कोमल का मुखचोदन करने लगा.

मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया, समझ में ही नहीं आ रहा था कि क्या करूँ … इसलिए मैंने मम्मी जी को कहा- मम्मी जी, मुझे थोड़ा और टाइम दे दीजिए सोचने के लिए … कल मैं आपको अपना फाइनल डिसिजन बताती हूँ. वहां भी सब सिर्फ सेक्स के लिए बात करते हैं, लेकिन तुमने मुझे अच्छे से बात की, मेरा ध्यान रखा.

वो मुझे होंठों से लेकर गालों और गले में चूमते हुए मेरे दोनों मांसल स्तनों को मसलने लगा.

मैं अपने हाथों को अपनी छाती में फोल्ड किए हुए आराम से नीचे गद्दे पर दीवार से कमर लगाकर बैठ गया. उसने वो सब पहने तो इसी सबके लिए थे क्योंकि हम दोनों पहले से ही यही सब सोच कर सेक्स करने आए थे. मैंने कहा- तू कहां चला गया था यार?उसने कहा- कम्पनी से फोन आ गया था.

देसी लड़कियों के नंबर जब मैं सुबह कोचिंग गयी थी, तो रास्ते में कुछ लड़के मुझ पर कमेंट मार रहे थे, तो मैं डर गयी थी. उसने मुझसे फिर पूछा कि क्या स्त्री पुरुष इस उम्र में भी संभोग के आनन्द लेते हैं?मैंने उससे कहा- जो अपनी इच्छा से जीवन का आनन्द लेना चाहते हैं, वो किसी भी तरह से जीवन का आनन्द उठाते हैं.

उसके लंड के घर्षण से मेरी गांड में इतना आनंद आ रहा था कि गद्दे पर रगड़ लगते-लगते मेरे लंड ने नीचे पिचकारी मार दी और मैं उससे पहले ही झड़ गया. कुछ ही देर में सीमा की चूत से पानी झड़ने लगा जिसको मैं अपनी जीभ से चाटने लगा. कुछ दिन बाद मेरी मम्मी ने कुछ कपड़े सरोज भाभी को देने के लिए कहा, तो मैं कपड़े ले कर उनके यहां गया.

इंग्लिश सेक्सी वीडियो मोटी औरत

मेरी हाइट लगभग 5 फुट 7 इंच है। मुझे सुन्दर लड़कियाँ और भाभियां बहुत पसंद है मेरे लंड का साइज 6 इंच लंबा व 3 इंच मोटा है. वैसे तो मेरी एक कहानी यहाँ बहुत पहले भी प्रकाशित हो चुकी है उसका नामफुफेरी भाभी की चुदाईहै. मेरी सेक्स स्टोरी के पहले भागशौहर के लंड के बाद चूत की नई शुरूआत-1में आपने अब तक पढ़ा कि शौहर से सम्बन्ध खत्म होने के बाद मेरे ऑफिस में मेरे साथ काम करने वाले स्टीव से मेरी हसरतों ने कुछ खेलना शुरू कर दिया था.

सर ने अपने होंठों पर जीभ फिराई और पिंकी की ओर देख कर धीरे से बोले- इसको तो भेज दिया होता. माला को पिछले एक महीने से लंड की खुराख नहीं मिली थी, तो वो वैसे ही चुदवाने को मचल रही थी.

मैंने प्रोफेसर साहब को बताया कि मैं कुंवारा ही हूं और स्टूडेंट हूँ, आपको किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी.

उसने मेरी तरफ घूम कर मेरे होंठों को अपने होंठों में ले लिया और चूसने लगी. चुदाई का मजा लेने के बाद उसने अपनी चूत को अपने घाघरे से पौंछ लिया और मुस्कुराते हुए मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चाट चाट कर साफ़ कर दिया. फिर उसने मेरा अंडरवियर धीरे-धीरे नीचे खींच दिया और मेरा लंड तनकर उसके सामने आ खड़ा हुआ.

उसने ये नजारा देखा तो तो मस्त होकर रोड पर ही पैन्ट नीचे करके मूतने लग गई. सारा की चीख इतनी बुलंद थी कि एक बार को तो मैं भी डर गया कि कोई पूछने ही न आ जाए … लेकिन तब भी मुझे सारा आपा की सील तोड़ने में बहुत मज़ा आया. मिसेज पाटिल की चुत, जो पहले से ही गर्म थी, एकदम से बूंद बूंद कर चमकता हुआ पानी छोड़ने लगी.

उसने थकी हुई आवाज में हांफते हुए कहा- आज तक मैंने ऐसी चुदाई नहीं करवाई यार … मैं तो आपकी चुदाई की दीवानी हो गई.

बीएफ लाइव न्यूज़ लाइव: वापस आते समय मैंने देखा कि मेरे भाई के कमरे में लाइट चालू थी तो मै यह देखने के लिए करण के रूम में चली गयी कि वो क्या कर रहा है।जब मैं कमरे में गई तो दरवाजा खुला ही था। मैंने कमरे में झाँक कर देखा तो करण को नंगा बिस्तर पर देख कर चौंक गई. मैंने धीरे से अपनी गति तेज कर दी और पूरा कमरा हम दोनों की कामुक सिसकारियों से भर गया.

दोस्तो, मैं आपका रवि खन्ना फिर से अपनी सच्ची कहानी इश्क़ विश्क प्यार व्यार और लंबा इंतजार का अगला पार्ट लेकर हाजिर हूँ. मेरा तो जी कर रहा था कि अभी मामी के कपड़े फाड़ कर चूत में लंड पेल दूं. धीरे-धीरे मैंने एक हाथ उसकी पैंटी के ऊपर लगाकर देखा तो वह पूरी गीली हो चुकी थी.

मेरे धक्कों के साथ ही उसके मुंह से फिर से कामुक आवाजें निकलना शुरू हो गई.

दही पीने के बाद मैं मामी की तरफ देखने लगा और सोचने लगा कि ये मुझे किस नहीं करेंगी क्या?मामी मेरी तरफ देख कर अपनी भौं को ऊपर करके इशारा किया- अब क्या?मैं मुस्कराते हुए कहने लगा- मुझे किस नहीं मिलेगी क्या?मामी ने उसी समय मुझे किस कर दिया- अरे मेरे बाबू को भी किस्सी चाहिए. उनके वक्ष पर हाथ रखते ही मैंने किस करना बंद कर दिया और अपना चेहरा ठीक उनके चेहरे के सामने करके रुक गया. कुछ समय के बाद उनकी बीवी मतलब मेरी मामी पैसों और जायदाद की लालच में अपने पिता के घर चली गयी और रवि मामा लगभग 25 साल की उम्र में ही अकेले रह गए.