हिंदी बीएफ का फोटो

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ नंगा फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

बहू और ससुर जी की सेक्सी: हिंदी बीएफ का फोटो, अब नताशा भी मेरा साथ देने लगी और नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर चुदाई का मज़ा लेने लगी- ओहह यस … ओह यस फ़क मी हार्ड जय फ़क मी हार्ड लाइक आ व्होर!नताशा पूरे मज़े से चुद रही थी और मैं जोर जोर से उसे चोदे जा रहा था.

बीएफ बड़ी चूत वाली

मुझे समझते देर नहीं लगी कि अंदर अवश्य ही मां और पापा की चुदाई चालू है. सेक्सी सेक्सी पंजाबी बीएफफिर मैंने उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि वो 29 साल का है और ठेकेदारी का काम करता है.

कम्पार्टमेन्ट के दोनों खिड़की पर वृद्धा और वो कालेज का लड़का बैठा था. देवर भाभी सेक्सी बीएफ पिक्चरमगर आपसे इस उम्र में हो पायेगा?मेरा मन तो किया कि अभी बता दूँ कि मैं क्या कर सकता हूँ.

फिर मैंने मैसेज किया कि नहाने के बाद वो अपने रूम में ही रहे और गद्दी बिछाये रखे.हिंदी बीएफ का फोटो: अब बारी मेरी थी तो मैंने उसकी टांगों को बेड ने नीचे लटका कर खुद नीचे खड़े होकर अपना लंड उसकी चूत में डाल धकापेल चुदाई चालू कर दी.

जैसे ही वो भैया कहती तो मेरे लंड में और ज्यादा जोश भर जाता और मैं और तेजी के साथ उसके होंठों को चूसने लगता.आपको मेरी टेलर मास्टर से चुत चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें.

एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ एचडी - हिंदी बीएफ का फोटो

उस दिन 14 फरवरी को सुबह 7 बजे ही सैम का मैसेज आया- दस बजे तैयार रहना.मैं चोरी छिपी तिरछी नज़रों से उसके भरे भरे उछलते थिरकते नितंबों और चुचियों को बड़े प्यार और ललचाई नज़रों से देखता रहता.

और अगर में उन लड़कियों की चुदाई देख लेती तो पहले ही यहाँ से भाग जाती. हिंदी बीएफ का फोटो मैं उसको अपनी बांहों में लेकर करीब पांच मिनट तक चूमता रहा, चाटता रहा.

हमारी जिन्दगी बहुत आराम से चल रही थी क्योंकि मेरे पापा का बिजनेस सही चल रहा था.

हिंदी बीएफ का फोटो?

मैं भी जोश में था … क्योंकि अब मेरा रस कभी भी निकलने वाला था, तो मैं भी तेज धक्के देते हुए उसके होंठों को काट रहा था. मैंने पूछा- कैसा लगा?वो बोली- भैया बहुत मजा आया … अब तो मैं रोज करूंगी. ज़ाहरा की बलखाती कमर 32 इंच की है और गांड 34 इंच की है।मेरा मन उसे पटाने का हुआ, तो मैंने उससे थोड़ी-थोड़ी बात करना शुरू की। पहले फेसबुक पर रिक्वेस्ट भेजी और और कुछ ही पल में मैंने उसका व्हाट्सप्प नंबर ले लिया और फ़िर हमारी बातें होने लगी।एक दिन हमारी यों ही बातें हो रही थी तभी कुछ ऐसा हुआ कि बातों बातों में मैंने उसे उसके स्तनों की फोटो मांगी.

फोन काटने के बाद मैंने नसरीन को देखा और उससे बोली- चल अब अच्छे से तैयार हो जा … अपनी चूत के बाल साफ कर ले और वैक्सिंग कर ले. आंटी ने मेरा लण्ड मुंह में ले लिया और मेरे लंड को मुंह में लेकर लॉलीपोप के जैसे चूसने लगी. फिर बहू ने गेट बंद कर दिया और बेटे को रूम में ले गयी मैं भी अब लेट गया.

बहू के बाहर आते ही मैं टॉयलेट करने गया तो वहां देखा बहू के उतारे हुए कपड़े टंगे हुए थे. मैं बोला- जो भी बात है बताओ?तो उसने मुझसे वादा कराया कि मैं उसकी बात से नाराज नहीं होऊंगा और ना किसी को बताऊंगा।मैंने वादा किया कि मैं किसी से कुछ नहीं कहूंगा और कहा- तुम मुझ पर विश्वास कर सकती हो।तब उसने कहा- मैं तुमसे प्यार करती हूं. हम दोनों चुदाई में इतने मगन थे कि हम लोगों को ये नहीं याद रहा था कि दरवाज़ा खुला रह गया है.

पूरे कमरे में उसकी सिसकारियां गूँज रही थीं- ओह ओहाअ हाह आआहह हा … यूं ही करते रहोऊऊ … आज से मैं बस तुम्हारी रांड हूँ … तुमने मुझे आज अपना बना लिया है … आह आज से पहले इतना मज़ा कभी भी नहीं आया … अज्ज्जुउउ आई लव यू बेबी … फक मीईई हार्डर. भाभी फिर मेरे पास बैठकर बोलीं- ऐसे नहीं … खुल कर बताओ, अब मुझसे क्या शर्माना.

तभी अचानक से उसने कुछ ज्यादा ही ऊपर को गांड उठायी और एकदम से कांपते हुए अजीब सी आवाज निकालते हुए अपने पहले यौवन रस को अपनी बुर के रास्ते मेरे मुँह में निकालने लगी.

उसकी आंखों पर से पट्टी हटा दी और उसके सर को, फर्श पर बने हुए ‘आय लव यू.

मैंने उसके हाथों पर हाथ रख दिए और बोला- किधर है बताओ?उसने मेरा हाथ ले कर अपनी चूत के पास रख दिया।मैं- अच्छा इधर … इसका इलाज़ है मेरे पास. सफलता की ऊंचाइयां छूने के लिए सेजल ने अपने बदन का खूब इस्तेमाल किया. उन्हें देख कर मैं बोली- जी मैं अंजलि … कुकिंग के लिए!वो मुझे तीखी नजरों से देखते हुए बोले- हां हां … आओ अन्दर आ जाओ.

अब उसकी शर्मोहया गायब हो चुकी थी, वो जंगली बिल्ली की तरह बर्ताव कर रही थी. मैं सूरत से बिलोंग करता हूँ लेकिन अपनी इंजिनीयरिंग की पढ़ाई के कारण मैं गोधरा में अपने कॉलेज के पास ही किराये पर कमरा लेकर पढ़ाई पूरी कर रहा हूँ। चूँकि मैं गुजरात का रहने वाला हूं; इसलिए मेरी सेक्स स्टोरी में आपको गुजराती झलक दिखाई देगी. उसका हमारे यहां आना जाना हमारे बचपन से था और वो उम्र में मुझसे दो साल बड़ी भी है.

मौसी कीबेटी की नंगी चूतपर अपनी उंगलियां फेरते हुए अलग ही मजा मिल रहा था.

उसने कुछ नाराजगी दिखाई और खाना नहीं खाने का बोल कर अपने रूम में चली गई. मैंने भाभी की चुत में उंगली डाल दी और उनकी चुत के दाने को सहलाने लगा. वैसे डैडी जी, अगर आप बुरा न मानें तो हम दोनों आगे भी ऐसी ही ओपन बातें कर सकते हैं.

और ये पैसे मैं तुझे इस लिए नहीं दे रहा हूँ कि मुझे तेरे साथ वो सब करना है. अगर वहाँ कोई औरत छोटे कपड़ों में या ड्रिंक करते दिखे तो बुरा मत मानना. उनकी इन हरकतों से मेरी जान निकल रही थी और कुछ ही देर में मैं संभोग की चरम अवस्था पर जा पहुंची.

हेल्प कर!उसने कहा- कैसे?तो मैंने कहा- अब तुझे तेरे हाथ से करना पड़ेगा.

फिर मैंने उसके बालों को छोड़ दिया और उसकी कमर को थाम कर उसके होंठों को जोर से पीना शुरू कर दिया. तभी नवीन जी मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और मेरी टांगें फैला कर मेरी चिकनी चुत चाटने लगे.

हिंदी बीएफ का फोटो जब एक दो मिनट तक कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैंने दोबारा से ट्राई करने की सोची. मेरा लंड एकदम से सिकुड़ गया और कंडोम के बाहर कल्पना का वीर्य लगा हुआ था.

हिंदी बीएफ का फोटो पहले तो मुझे बहुत बुरा लगा, पर थोड़ी देर बाद उसके कोमल अहसास से मेरा लंड तन गया. मेरे चाचा और चाची ऊपर वाले फ्लोर पर हैं जबकि हम लोग नीचे वाले फ्लोर पर रहते हैं.

मैंने भी झट से लोअर टी-शर्ट उतार दी और चड्डी में खड़ा लंड सहलाने लगा.

सिताराम पिक्चर

हमारी मम्मी को मरे हुए तीन साल हो चुके थे और पापा रिटायर्ड हो चुके थे. कमरे में आते ही मुझसे लिपट गई और बोली- हनी कोचिंग गई है, तब तक हम मजा कर सकते हैं. काफी देर मेरे पिछवाड़े से खेलने के बाद उसने मुझे सीधा किया, मेरे दोनों पैरों को हवा में ऊंचा करते हुए मेरे ही हाथ में थमा दिया और कहा- इन्हें ऐसी ही चौड़ा करके पकड़ो.

मैंने कभी उससे ऐसी बात नहीं की थी, वो मेरे संग काफी कुछ बातें करने लगी. वो कपड़े बहुत ज़्यादा फिटिंग के थे, जिसमें से मेरे बूब्स काफ़ी ज्यादा दिख रहे थे. थोड़ी देर बाद मधुलिका तीनों बच्चों को लेकर पार्क में चली गई।और यहीं से शुरू होती है गोसानी परिवार की कहानी.

मैंने उससे कहा- अब रहा नहीं जाता प्लीज!वह कहने लगी- अरे रुको, अभी इतनी भी क्या जल्दी है? जब 5 साल और इंतजार किया है तो और 5 मिनट इंतजार नहीं कर सकते क्या?मैंने कमरे की लाइट बंद कर दी और सिर्फ मोबाइल के टॉर्च को जलाकर टेबल पर उल्टा रख दिया जिससे कि हल्की हल्की रोशनी रहे.

उसने मुझे नीचे से ही घूर कर देखा, फिर उसको पूरा मुँह में लेकर चूसने लगी … मेरा पहली बार कोई चूस रहा था तो मैं सातवें आसमान में था. इसी पोजीशन में चिन्ना ने करोना को पीछे की तरफ ले जा कर अपनी बाहों में लिए-लिए बेड पर लिटा दिया. फिर मैंने जैसे ही अपनी जुबान से उसकी चूत के दाने को सहलाया, वो तो बस ‘उईईई आह आह आह ससीईई.

उसने उठाया और कहा- बोलो … कैसा रहा कल का दिन … मजा आया? बताओ तुमने आज फिर से क्यों कॉल किया?मैंने उससे कहा- मुझे फिर से तुमसे मिलना है. मैंने लंड की ओर इशारा करते हुए कहा- इसको अपनी बुर में लेना चाहोगी?वो बोली- ये तो बहुत बड़ा है. इस बार उसने एक बार तो ना किया, फिर बोली- ठीक है, अपना नंबर मुझे दे दो।हमारी फोन पर बात होने लगी.

कहीं जाना होता था तो आंटी साड़ी पहनती थीं वरना घर में पेटीकोट-ब्लाउज या गाउन में रहती थीं. मैं यह जानता था कि किले का फाटक बहुत मज़बूत है, उससे ध्वस्त कर किले में प्रवेश करना आसान नहीं है.

जब मुझे लगा कि वो थोड़ा सा मस्त हो रहा है … तो मैंने अपना 7 इंच का लंड निकाल कर उसके हाथ में दे दिया. आप तो जानते ही हो दोस्तो, सामने जब जवान लड़की सो रही हो तो कंट्रोल करना कितना मुश्किल हो जाता है. मैंने भाभी से कहा- भाभी, क्या आप अपनी चूत पर मेरे लंड के नाम की मुहर लगवाने के लिए तैयार हो?भाभी ने नशीली आँखों से मुझे देखा और कहा- हां मेरे राजा, मैं तो कब से चुदने के लिए तैयार हूँ.

फिर उसकी दोनों रोटियां ली और उन्हें पजामे में घुसाकर लंड पर रगड़ दिया और अपने माल से उसकी रोटियां चिपड़ दीं.

मैंने लुंगी इसलिए उतारी कि कहीं तुम्हारी मालिश करते समय इसमें तेल न लग जाये. नेताजी आपका इन्तजार कर रहे हैं।करोना धड़कते दिल के साथ डाइनिंग एरिया में आ गई. शरीर से मेरा बेटा विशाल वैसे दुबला पतला है लेकिन उसकी हाइट 6 फिट 2 इंच है.

आकांक्षा फिर से तड़प उठी- आआईई ईईईई उफ़्फ़ मर गई उईई अह मां मर गयी … कुणाल बहुत दर्द हो रहा है … ओह्ह ईईई मां निकाल लो बाहर प्लीज. अनिल ने कहा- वैसे तुम्हारा फिगर भी लाजवाब है, शॉर्ट्स और टॉप में मस्त लगती हो.

मुझे बहुत मजा आया उस पल में, जब मैं पहली बार किसी की चूत में लंड को अंदर डाल रहा था. जब आंटी से रुका नहीं गया तो इसके बाद आंटी ने मुझे रोका और पलट कर घोड़ी बनते हुए बोलीं- अब पीछे से आकर मेरी चूत में लंड को डालो और पूरा घुसेड़ दो. सैम मेरे गले से लेकर मेरी चूत तक चूमते हुए गया और फिर मेरी गीली पैंटी नीचे करके मेरी चूत पर फूल से गुदगुदी करने लगा.

सेक्सी वीडियो लुगाइयों की

मैंने सारिका की टांगें अपने कंधों से उतारकर उसे घोड़ी बना दिया और अपने लण्ड पर कॉण्डोम चढ़ाकर उसकी चूत में डाल दिया.

लगभग 20 मिनट में तीनों ने लगभग एक साथ पिचकारी छोडी़ और उठ कर कपडे़ पहनने लगे. अगले दिन वो पति-पत्नी की चुदाई के बारे में मुझे बताया करता था कि कैसे उसने अपनी बीवी की चूत मारी. उसके बाद मैंने उसको उल्टा कर दिया और उसकी पीठ से लेकर उसकी जांघों तक किस करने लगा.

मेरे दोस्त ने अपनी उंगली भी मां की चूत के अंदर घुसा रकही थी और वो मेरी माँ की चूत भी चाट रहा था. 45 मिनट तक घमासान चोदाई चलने के बाद रचना ने फिर से अपना पूरा शरीर टाइट कर लिया और अपनी चूत से गर्म पानी छोड़ने लगी. हिंदी भाषा में बीएफ चाहिएमैं उसके पेट पर अपने हाथ फेरते हुए सोच रहा था कि जब बहन से बहन मजे ले सकती है, तो भाई को भी शक्ति प्रदर्शन का हक़ है.

उन्होंने मुझे बताया- मेरे हस्बैंड बाहर रहते हैं विदेश में … वे कभी कभी-कभार ही आते हैं. लेकिन इनके बावजूद बलविंदर साहब के हाथ में सेजल के बूब्स नहीं आ रहे थे बलविंदर साहब को इतना मजा आ रहा था कि उन्होंने अपने दोनों हाथों को सेजल के बूब्स पर मसलना चालू किया.

दरवाजा खुलते ही सामने जो नजारा मैंने देखा उसको देख कर तो कोई भी पागल हो जाये. जैसे ही उसकी गांड ने शरमाना छोड़ा, मैंने एक उंगली उसकी गांड में डाल दी. फिर अपनी दीदी के घर आकर उसे फ़ोन पर बात कर पूछा- आज का दिन कैसा बीता? आपको कैसा लगा?तो उसने बताया- विकी, आज बहुत दिन के बाद ऐसा परम सुख मिला है.

वो बोला- चुप साली छिनाल … रंडी है तू साली!उसके मुँह से दारू की बहुत तेज महक आ रही थी. अगले दो पलों में ही मैंने देखा कि मेरा पूरा लंड उसकी चूत में कहीं खो गया था … और वो आंख बंद करके अपने होंठ अपने दांतों से दबा रही थी. जो मैंने अपनी पहली कहानी लिखी तो मुझे बहुत सारे ईमेल आए। वहां मुझे एक व्यक्ति जिनकी उम्र 40 साल के आसपास रही होगी उनका ईमेल आया वह बहुत ही मैच्योर व्यक्ति थे। उनकी बातों से ही उनका अच्छापन, भलमानसत साफ झलक रहा था.

तो बुआ ने भी नमस्ते की और पूछा- और अनिल कैसे हो?तब मुझे पता चला कि उसका नाम अनिल है.

मुझे उसमें से बाहर का नजारा देखना अच्छा लगता है, तो मैंने विंडो खोल दी थी. पेल दो अपना मूसल और लगा दो मुहर मेरी चुत पर … और बना ले मुझे अपनी रखैल … बना ले मुझे अपनी रंडी.

जैसे तुम अब चुदी हो तुम फिर वैसे नहीं चुदवाती।इसलिए वह मेरी चूत में अपना लंड आगे पीछे करने लगे और आराम आराम से मेरे सारे जिस्म को चाटने लगे. हालांकि मैं मोहन की इस हरकत से एकदम से शॉक थी, पर न जाने क्यों मैंने उससे कुछ बोला नहीं. कहानी का पिछला भाग:शहर की चुदक्कड़ बहू-6इस बार बहू ने मेरा मुँह पकड़ के मुझे एक किस कर दिया.

हमारा हौसला बढ़ाने के लिए आप हमें मेल जरूर करें, आपके मेल का इंतजार रहेगा. मैं नीचे लेट गया और वो ऊपर आकर जोर जोर से गांड उछाल उछाल कर मज़े लेने लगी. फिर मैंने अपना लंड उसके हाथ में दे दिया और उसके दूध चूसना चालू कर दिए.

हिंदी बीएफ का फोटो मेरे ये कहने पर पता नहीं क्यों, इस बार वो थोड़ा सा शर्मा गयी और उसने हाथ पीछे कर लिया. करोना, जो अब पतवार चिन्ना के हाथ में छोड़ चुकी थी, उसकी बात को मानते हुए उसके लण्ड की सवारी करते हुए आगे की और झुक कर चिन्ना के माथे पर तेल लगाने लगी और बार बार झुकने की वजह से चिन्ना और करोना का शरीर का अगला हिस्सा आपस में रगड़ा खाने लगा.

अमेरिका सेक्सी वीडियो फुल

अनिल कपूर व श्री देवी की फिल्म मिस्टर इंडिया दो दिन पहले ही रिलीज हुई थी, दो टिकट लिये और हॉल में जा बैठे. सी के लिए है वहां का रास्ता बेटे के रूम से भी है और मेरे भी, वहां से देखने की कोशिश करने लगा. मैं रचना भाभी को पेलना तो बहुत पहले से चाहता था लेकिन मुझे लगता था ये औरत ऐसी नहीं है मजाक तो कर लेती है गंदा लेकिन मेरे बिस्तर में नहीं आ सकती.

बाकी तुम ज़ब बोलोगी, जो बोलोगी सब करूंगा।वो बोली- मैं भी शादी से परेशान हूँ. रिश्तों में चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी, कृपया कमेंट्स करके जरूर बताएं. सेक्सी रेप बीएफवो बोली- लगता है आप भी अपनी बहू को चोदना चाहते हो? बाबूजी आपका लंड तो बहू के नाम से खड़ा हो जाता है.

उसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया पर किसी तरह मैंने खुद को संभाला और उसे बाइक पर लेकर मार्केट चला गया.

मैंने फिर से गर्म करने के लिए उसके होंठों और मम्मों पर किस करना स्टार्ट किया, जिससे वो मुझे अपने ऊपर खींचने लगी. मैं बैंक कर्मचारी हूं तो मैं शाम को पाँच बजे अपने कमरे पर आ जाता हूं.

उस रात जब आपका लंड खड़ा हो गया था, तो मुझे पता नहीं क्या हो गया … और मैंने अगली रात न चाहते हुए भी आपका लंड पकड़ लिया. वो गुस्सा तो नहीं हुई लेकिन वो हम दोनों के इस रिश्ते को दोस्ती से ज्यादा नहीं समझती थी. विशाल के पैदा होने के कुछ महीने के बाद ही मेरे पति की मृत्यु हो गयी थी हार्ट अटैक के कारण.

उसको अच्छे से मसाज करने के बाद मैंने उसके दूध जैसे सफेद बदन से चॉकलेट साफ़ करना शुरू किया, तो इससे वो और तड़पने लगी.

आज रात सिर्फ वह उसका भाई घर पर रहने वाले थे।फिर मेरे दिमाग में एक आईडिया आया मैंने अपनी कंपनी के सुपरवाइजर को बोल कर उसके भाई को नाइट ड्यूटी में शिफ्ट करवा दिया. एक दो मिनट तक मैंने आंटी की चूत में लंड को अंदर बाहर किया और आंटी ने मेरा साथ दिया. अब आगे:मैं उसके गले को किस करने लगा, उसके दोनों चुचों को ब्लाउज के ऊपर पकड़ कर जोर से दबाने लगा.

जानवर वाला बीएफ दिखाइएरचना भाभी ने कहा- मेरे भी पसंदीदा हैं, पहले मैं भी दही भल्ले ही खाऊंगी. मैंने कहा- क्यों नहीं बहू! सच कहूँ तो मैं गाँव में इससे भी ज्यादा ओपन बातें करता हूँ.

क्राइम सेक्स वीडियो

और जैसे ही मैं आगे बढ़ा तो उसने मुझे रोक दिया।मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- घर में कोई भी कभी भी आ जाता है. निधि भी मेरे चूतड़ों को पकड़ कर अपनी तरफ खींचने लगी और मेरा पूरा लन्ड उसकी चूत में समा गया।अब मैं निधि की चूत को धीरे धीरे धक्के लगा कर चोदने लगा. मैंने सोचा कि अब तो किया भी न होता, तब भी मरता … क्योंकि वो मुझे फर्जी में पिलवा देती थी.

यह अहसास उसे भी होने लगा था, लंड की गर्मी पाते ही रीना होश में आ गयी. पांच मिनट तक मैंने जोर जोर से उसकी चूत की चुदाई अपनी जीभ से की और वो फिर से मेरे मुंह को अपनी चूत में जैसे घुसा देना चाहती थी. आज जाकर अपनी मन की करने का मौका मिला है अब जो भी करना है जल्दी करो।”मेरा भी यही हाल है जानू! जब से तुम्हें देखा है मेरा भी बुरा हाल है.

बच्चे की डिलीवरी में मेरी बीवी की मौत के बाद मेरी 19 साल की जवान बहन ने मेरे बेटे को संभाला. मैं अपने रूम में नंगा बैठा हुआ था और भाभी मेरी गोद में सिर रख कर लेटी हुई थी. माया बोली- अब तो अपना लंड मेरी चूत में डाल दो … मुझसे सहन नहीं होता.

मेरी तो किस्मत जैसे मुझ पर मेहरबान थी … जो मैं उससे बोलना चाहता था, वो उसने ही कह दिया. उसके कहते ही मैंने अपने लंड को एक झटके के साथ उसकी गीली चिकनी चूत में अंदर घुसा दिया.

मगर जैसे ही मैंने उसे देखा, तो सारा गुस्सा ऐसे गायब हो गया था … मानो मैंने खुद ही कोई गलती कर दी हो.

रूम में भाभी उस आदमी की गोदी में चढ़ी हुई थी और वो आदमी भाभी के बूब्स मसल रहा था. फुल सेक्सी बीएफ पिक्चरदीदी से किये गए वायदे के अनुसार मुझे पढ़ाई में मन लगाना था और एग्जाम में अच्छे नम्बर लाने थे. बीएफ छत्तीसगढ़ काआज मैं भी अपनी बहन की चूत गांड एक साथ मार मार कर खूब मज़े ले रहा था. कोमल भी मेरी तरफ देख कर रंडी के जैसे मुस्कुराने लगी।मैंने वो प्लास्टिक जो नीचे बिछाई थी, उसको हटा दिया और उसकी बुर को बराबर साफ कर दिया।कोमल बोली- चाचू जान बहुत मजा आया।मैंने कहा- अब ऐसा मजा तुझे मैं रोज चोद कर दूँगा।मैं थोड़ी देर मैं फिर से अपने दोस्त की बेटी की चूत चुदाई के लिए तैयार हो गया.

अगले दिन सुबह मेरा कॉलेज था और कॉलेज की ड्रेस नीला शर्ट और सफ़ेद सलवार पहन कर सिटी की लोकल बस पकड़ कर कॉलेज पहुँच गयी.

लेकिन नितिन ने मेरी चुत चाट कर दूसरी बार चुदाई के लिए राजी कर लिया और फिर हमने कार में ही दुबारा चुदाई की. दोस्तो, कहानी के पिछले भाग में मैंने आपको बताया था कि तनवी मैम की चुदाई करने के बाद मैं रात में फिर से उसकी चूत मारने के लिए उसके घर गया था. बहू बोली- डैडी जी, आप अपने रूम में चलो, मैं आपका सरप्राइज लेकर आती हूँ.

क्योंकि अगर मैं तुम्हें पहले ही मजा दिला देता तो तुम मुझे मजा नहीं दिलवाती. मुझे देखकर तो लड़का भागने लगा तो मैंने उसे पकड़ लिया और 2 थप्पड़ लगाये. चूंकि मेरे बच्चे तो बाहर पढ़ते थे, तो पति के साथ ही जाने का विचार बना.

साउथ फिल्म हीरोइन का सेक्सी वीडियो

मैं बहुत खुश हुआ और कल्पना से कहा- लेकिन ऐसा कैसे?कल्पना ने कहा- मैं जिस चॉल में रहती हूँ, वहां मेरे पड़ोस में मेरी एक सहेली है. उसने मेरी गांड को दबाया और मुझे अपने में समेटने की कोशिश की और हम दोनों के बदन आपस में एक दूसरे के साथ जैसे चिपक से गये. बस यहाँ ऑफिस में छुट्टी नहीं मिलती है जल्दी!फिर शाम की चाय के बाद सब खाना खाके रूम में चले गए.

हमने बालकनी की सीट ली जिससे हमें आस पास के लोगों से ज्यादा परेशानी न हो।गर्लफ्रैंड के साथ फ़िल्म देखने कौन जाता है … मस्ती करने जाते हैं सब।फ़िल्म शुरू हो गयी थी.

रिटायरमेंट के समय मिले करीब साठ लाख रूपये खर्च करके मैंने अपनी बेटी अंजू की शादी बड़े धूमधाम से की.

मैं भी थोड़ा हिचक रहा था क्योंकि किसी महिला के साथ मेरी यह पहली मुलाकात थी. मेरा लंड अब बहुत दर्द कर रहा था क्योंकि वो बहुत देर से खड़ा था … पत्थर बन गया था. पाकिस्तानी चुदाई बीएफउसने अपना हाथ नीचे ले जाकर मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चूत के मुँह पर सैट कर दिया.

किसी लड़की का आपकी बांहों में समा जाना एक बहुत ही सुखद अहसास होता है. अब आगे:मैंने उसे खाली गिलास के लिए मना कर दिया और वो पूरा नीट दारू से भरा गिलास अपने होंठों से लगा लिया. मैंने हैरानी से कहा- शोना ये सब किसलिए?निशा- बेबी तुमने वादा किया है.

करोना चिन्ना के इस बमपिलाट मोटे लण्ड से अत्यंत प्रभावित होकर अपने हाथों में लण्ड को पकड़ कर उसका अचरज भरी निगाहों से इस एक आँख वाले सांप का बिल्कुल नजदीक से मुआयना कर रही थी. मैंने मम्मी को बांहों में भरकर चूमते हुए कहा- रेनू, मेरी जान, मेरे बच्चे की मम्मी, आई लव यू.

कोई 20 मिनट की जोरदार चुदाई के बाद मामी झड़ चुकी थीं … और मैं भी झड़ने वाला था.

बहू और मैं एक दूसरे के सामने खड़े थे मगर पता नहीं क्यों मैं हिम्मत नहीं कर पा रहा था. बीच-बीच में वो लंड को निकालने के लिए इशारा करती लेकिन मेरे सिर पर जैसे हवस का भूत सवार था. तो वो और ज्यादा बेचैन हो गई और बोली- क्यों तड़पा रहे हो? अब चोद भी दो मुझे।मैंने थोड़ा सा थूक अपने लंड पर लगाया और अपना लंड उसकी चुत में पेल दिया।लंड अभी आधा ही अंदर गया था कि वो दर्द से चिल्लाने को हुई.

छोटी लड़की बीएफ वीडियो तुम्हारे जैसा शरीर चोदने को मिले, तो मैं गांड में लंड डाल कर चुदाई शुरू कर दूंगा. कभी वो मेरे लंड को मुंह में ले रही थी और कभी अपने पति के लंड को चूस रही थी.

मैंने उसको फेसबुक पर मैसेज करने की सोची लेकिन उसका फेसबुक अकाउंट भी बंद हो गया था. वो बोली- मैं कैसे पेलूं … लंड तो आपके पास है?तब मैंने कहा- बेटू मैं लेटता हूँ, तू मेरे ऊपर बैठ कर ऊपर नीचे आगे पीछे करके अपनी बुर लंड पर रगड़ कर मजा ले. मैं आपकी पूसी को सक् करूंगा आपकी ऐस को लिक् करूंगा और आपको बिल्कुल खा जाऊंगा.

कलर्स मराठी लाईव्ह

जब भी कभी भैया घर पर नहीं होते, तो मैं भाभी का सैयां बनकर उनकी जमकर चूत चुदाई करता था. मैंने सोचा कि ये ठीक इंतजाम है, सोने से पहले सबसे बैठ कर बात कर लूंगा. वो मुझे बताती हैं कि उनके पति का लंड छोटा है, उनके लंड से चुदने में उनको मजा नहीं आता है.

पंकज ने उसी समय मुझसे पूछा- कब जाएगा?मैं थोड़ा डर रहा था, तो उसने फोन पर उस रंडी से कहा- अभी बताता हूँ. निशा ने आंख दबाते हुए चुटकी ली- सपने में सिर्फ देख रहे थे या कुछ कर भी रहे थे.

मैं ज्यादा विश्वास के साथ तो नहीं कह सकता था लेकिन वो शायद मेरी ओर से पहल चाह रही थी.

उसने जाते वक़्त कहा- मैं तुम्हें बाद में जरूर फ़ोन करूंगी … तुम बताना. इसे आप कोई साधारण सेक्स कहानी समझकर मत पढ़ना, क्योंकि मैं जो कुछ भी लिखने जा रहा हूं, वो पूरी तरह से सत्य घटना है. जब तक उसके नाम से रात में अंडवियर को अपने वीर्य से गीला न कर लेता था मुझे चैन नहीं मिल पाता था.

इस बार मेरी बहुत से लौड़ों, शायद एक दर्जन से भी ज्यादा, से चुदाई हुई थी. इस बार मेरी पढ़ाई पूरी हो चुकी थी इसलिए मैं गांव में काफी दिनों के लिए रुकने वाला था. कुछ ही देर की झन्नाटेदार चुदाई के बाद चिन्ना ने महसूस किया कि करोना की चूत अब पूरी तरह लण्ड की आदी हो गई है तो चिन्ना ने करोना के मुँह पर से अपना हाथ हटा लिया.

मैं भी अपने हाथों से कभी उसकी पीठ या कभी उसके चूतड़ों को सहला रहा था.

हिंदी बीएफ का फोटो: क्या रचना भाभी भी जवानी की आग मेरे लौड़े से बुझाना चाहती है?एक दिन मैंने भैया को देखा चड्डी में छत पर टहल रहे थे. मुझे ऐसा लगता था कि वो भी मुझे चाहती थी लेकिन वो खुल कर अपने प्यार को सामने नहीं लाना चाह रही थी इसलिए दोस्ती का बहाना बना देती थी.

ये 8 साल पहले की बात है, जब हम दिल्ली में अपने नए घर में शिफ्ट हुए थे. फिर धीरे-धीरे उसने अपना मुंह मेरे लंड के ऊपर लगाया और लंड को अपने मुंह में ले लिया. मैंने अब 69 अवस्था में होकर उसके मुँह में अपना लंड घुसा दिया और खुद उसकी चूत पर अपना चेहरा झुका दिया.

आज की इस सच्ची सेक्स कहानी को पढ़ कर आप सभी के लंड से पानी निकल जाएगा और औरतों की चूत गीली हो जाएगी.

अपने घर में तो मैं ही एकलौती कुंवारी चूत थी जिसको तुम चोद ही चुके हो. मैंने उसको मैसेज किया कि मैं दो हफ्ते तक घर में अकेला ही हूं, यदि वो आने के लिए राजी हो तो हम मिल लेते हैं. मेरे शौहर ने टैक्सी ड्राईवर की तरफ देखा तो मैं चुपचाप टैक्सी में बैठ गई.