सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ फिल्म ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

बनाना केला: सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला, मैं आपको बता दूं दोस्तो … औरत शादी के बाद हमेशा और भी ज्यादा खूबसूरत लगने लगती है.

काली चूत की बीएफ

मैम की आंखें अब तक नम हो चुकी थीं लेकिन मैं वैसे ही धक्के दे रहा था. कुमारी लड़कियों का बीएफतब मेरे कॉलेज की एक जूनियर लड़की मुझे पसंद आ गई थी और वो भी मुझे पसंद करती थी.

फिर मैंने बगल में रखी व्हिस्की की बोतल उठाई और दो बड़े घूंट नीट ही गटक लिए. बीएफ वीडियो स्कूल कीउन्होंने कहा- ओके कब से रहना शुरू करना है?मैंने जवाब देने की जगह सीधे कमरे की चाभी मांग ली क्योंकि कमरा तो मैंने पहले ही देख लिया था.

तभी मैंने शिवानी को ज़ोर से भींच लिया और सारा गर्मागर्म लावा चूत में भर दिया.सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला: मैंने देखा कि एक पेड़ के नीचे हमारे सामने के कुत्ता कुतिया सेक्स कर रहे थे.

मेरी मॉम की हाइट ज्यादा नहीं थी तो वो भिखारी के बाल पकड़ कर उसे नीचे खींच करके किस कर रही थीं.मैंने उससे फिर पूछा- बोल ना देखी है क्या?उसने कहा- नहीं भैया, कभी नहीं देखी.

छोटी लड़की का बीएफ फिल्म - सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला

अबे माँ के लौड़े … तुझे बुर चोदने में शरम नहीं आती? अपनी बहन की बुर चोदी है कभी?हां हां यार … मुझे अपनी बीवी की तरह चोदो.वो कराहती हुई बोली- सूरज, पूरे दो साल के बाद मैं अपने पति के बाद तुमसे ही चुद रही हूँ, तो मुझे अपनी पहली चुदाई याद आ रही है.

फिर हम दोनों ने एक दूसरे को चूमना शुरू कर दिया और हमारे कपड़े प्याज के छिलकों की भांति उतरते चले गए. सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला एक दिन मैं दिन की ड्यूटी पर था तो वह लड़का मेरे लिए खाने के लिए खीर लाया … खीर बड़ी ही स्वादिष्ट थी.

उन्होंने मुझे धक्का देकर अपने नीचे कर लिया और 69 में होकर मेरा लंड चूसने लगीं.

सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला?

मैंने पूछा- वो कैसे?वो बोली- दरअसल मेरे पति से मेरा तलाक हो गया है. मैंने अपने घर का गेट लॉक नहीं किया था; वो मेरे घर में घुसती चली आईं. फिर बोली- आप मुझसे क्यों मिलना चाहेंगे?मैंने कहा- आपसे पढ़ाई के सिलसिले में कुछ जानना हुआ, तो आपके पास आ जाऊंगा.

उसके बाद से मुझे अपनी गांड की खुजली मिटवाने के लिए खुद से आए दिन लंड की जरूरत पड़ने लगी. राजेश जी दीदी के पीछे आ गए और पीछे से दीदी के दोनों मम्मों को पकड़ कर मसलने लगे. एक दिन लॉकडाउन खुला और जैसे ही जून 2020 में आना-जाना शुरू हुआ तो मैं सीधे इंदौर पहुँच गया.

मैंने धीरे धीरे उसका लंड अपने मुँह में ले लिया और उसके पोते सहलाते हुए लंड चूसना चालू कर दिया. मैं और मेरी मॉम ने प्रोग्राम बनाया और मेरी बुआ के घर जाने का तय कर लिया. मैं तो खुशी से पागल हो गया, फिर भी खुद पर कंट्रोल करके मैंने मम्मी से कहा- ठीक है.

भारत में आप कैसे भी हों, उससे फर्क नहीं पड़ता लेकिन रूम का रेंट सही समय पर मिल जाना चाहिए, नहीं तो मकान मालिक या मालकिन आंख दिखाना शुरू कर देते हैं. भाभी सिसकारियां लेने लगीं- आह उई आह ई चोद दो मेरे सनम … अच्छा लग रहा है.

मुझे आज कंडोम तो नहीं मिले थे पर मैंने रात को अपनी वाइफ को बिना कंडोम से ही बहुत हचक कर चोदा.

इसके बाद मैंने सावी भाभी की ब्रा को थोड़ा सा साइड में करके उनके एक बोबे के निप्पल को मुँह में भर लिया और दबा कर चूसने काटने लगा.

उसके गुलाबी निप्पल बिल्कुल तन चुके थे और यही हाल मेरे लन्ड का भी था. आह हचक कर चोदो मेरी जान … आह राजा आपका लौड़ा तो मुझे भा गया कसम से!मेरा लौड़ा इस समय बार बार भाभी की बच्चेदानी तक जाकर टकरा रहा था. मैंने सोचा कि इससे पूछना चाहिए कि इन सबसे कबसे चुदाई करा रही है?मगर सामने से मैंने पूछा- सेक्स की शुरुआत किसने की … और पहली बार कितनी उम्र में तेरी पहली चुदाई हुई!वो चुप रही तो मैंने फिर से कहा कि मैं तो जब कॉलेज में आया था … तब सेक्स किया था, तुम्हारी शुरुआत कब हुई थी!वह बोली- ये लंबी कहानी है, बाद में बात करेंगे.

मैंने उसकी टांगों को ऊपर की तरफ उठाते हुए फैला दीं और अपना मुँह सलईका की बुर पर रख दिया. अब वह अपने पहले ऑर्गेज्म का मजा ले चुकी थी और थोड़ी थोड़ी आंखें खोलकर मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी. उसने कहा- तुम्हारे अब्बू बहुत किस्मत वाले हैं कि उनको इतनी खूबबसूरत औरत मिली है.

जिस दिन विवेक ने मुझे ये सब सामान दिया था, उसी रात को उसने मुझसे इन सब कपड़ों में एक मादक लौंडिया बनकर चुदवाने के लिए कहा था.

फिर माधवी ने चाट-चाट कर भिड़े का लंड और टट्टे भी साफ कर दिए और उठ खड़ी हो गई. वो धीरे-धीरे अपने पैर को हिला रही थीं, जिसकी वजह से मेरा पैर भी हिल रहा था. भिखारी- तो क्या मैं तुम्हारा पति हूँ!मॉम- नहीं तुम मेरे दोस्त हो, पर ये सब बातें बाहर किसी को नहीं बताना, नहीं तो लोग तुझे मारेंगे.

क्या मैं तुम्हारे बदन को छू लूं?मैं हंस कर बोला- भाभी आप ये क्या बोल रही हो … मैं बिगड़ गया तो आपको मुसीबत हो जाएगी. आपको मेरी ये हिंदी चुदाई वाली कहानी कैसी लगी, मेल और कमेंट्स से जरूर बताएं. मेरे मुँह से ‘यस … कम ऑन बेबी … आह …’ की आवाजें निकल रही थीं और वो भी पूरी ताकत से गांड को पीछे धकेल कर लंड ले रही थी.

मगर मैं जानता था कि आज अगर नहीं हुआ, तो ये फिर कभी नहीं चोदने देगी.

उसके धक्के हर पल तेज़ हो रहे थे जिसका मतलब था कि वो झड़ने के करीब थी. मैंने आंटी के गाउन को उनकी जांघों तक उठा दिया और पैरों को चूमने लगा, जांघों को मसलने और चूमने लगा.

सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला पूरी चूत पर अपनी जीभ को हल्के से फेर कर मैंने भाभी को मजबूर कर दिया. लेकिन इंतजार करते करते 2 से 3 बज गए लेकिन शिवानी स्कूल से नहीं आ पाई.

सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला ये नंगी सेक्सी लड़की की Xxx कहानी उस वक्त की है, जब मेरी बहन 24 साल की थी. हम दोनों बस एक दूसरे के सामने देखते रहते थे और कोई भी एक दूसरे से कुछ कहने की हिम्मत नहीं करता था.

मुझे भी अच्छा लगता है कि इतना हट्टा-कट्टा आदमी मेरी अम्मी का बॉयफ्रेंड है.

गुजराती लड़कियों की सेक्सी चुदाई

क्या मैं जब चाहूं आपको चोद सकता हूं?तो आंटी ने कहा- तन्मय तुम जब चाहो मुझे चोद सकते हो. पेलो चोदो मुझे … और कसके चोद चोद मेरी चुत का भोसड़ा बना दो … आह मेरी जान आज तो मजा आ गया. मुझे ये सोच सोच कर ही बेहद सनसनी हो रही थी कि चुत फाड़ने का पहला मैडल मेरे लंड से हासिल कर लिया था.

फिर मैंने उससे कहा- देख अगर तू बुरा ना माने, तो एक बात बोलूं?उसने कहा- हां बोलो न भैया. दूसरे दिन जब वह स्कूल के लिए पैदल पैदल निकला, तो कुछ दूरी पर वही आवारा अपने कुछ बदमाश साथियों के साथ उसका इंतजार कर रहा था. शायद भाबी को सेक्स की संतुष्टि नहीं मिलती थी, जिस वजह से वो लंड की तलाश में रहती थीं.

और उसकी टांगें ऐसे ही खुली हुई थी और उसकी चूत से कुछ पानी अभी भी बह रहा था.

विकी की नजरें मेरी मॉम के बूब्स पर टिकी हुई थीं क्योंकि मॉम के ब्लाउज में उनके बूब्स बहुत सेक्सी लग रहे थे. उसके ऊपर नीचे होते चुचे किसी स्प्रिंग की तरह दबाए जाने के इंतजार में दिख रहे थे. हुआ यूं कि मैं कान में इअरफोन लगा कर गाना सुनते हुए शहर से वापस अपने गांव लौट रहा था.

मौसी ने झुक कर अपने मम्मे दिखाए और बोलीं- क्यों कोई पसंद नहीं आई या किसी एक के साथ बंध कर नहीं रहना चाहता?मैं समझ गया कि मौसी की चुत कसमसा रही है. मगर मुझे उसकी भावना को समझना जरूरी था कि क्या वो मुझसे शादी करना चाहती है अथवा नहीं. शिवानी अचानक से चीख पड़ी- आश्चह ओह अहह ओह … प्लीज बाहर निकालो यार, बहुत दर्द हो रहा है.

इंडियन देसी सेक्स गर्ल कहानी एक कुंवारी लड़की की है जो गाँव की रहने वाली है. कुछ देर तक लगातार लंड चूत के अन्दर बाहर हुआ तो अब कोमल की चूत पानी छोड़ने लगी थी.

कल वाली उसी सुनसान सड़क पर आने के बाद मैंने दीदी को अपने लंड की तरफ इशारा करते हुए कहा- आ जाओ पूर्णिमा दीदी. मगर उनके साथ वो किस हद तक जुड़ा हुआ है, ये अभी मैं पक्की तौर से नहीं कह सकता हूँ. उनके बूब्स बहुत बड़े बड़े हैं और उनके चुस्त कपड़ों में ऐसे दिखते हैं, जैसे बाहर आने को तड़प रहे हों.

मैं फोन काटकर नीचे आया, अपनी बाइक निकली और उनके घर के सामने लगा दी।उन्होंने भाभी को बाय बोला और हम चलने के लिए तैयार हो गए।भाभी दरवाजे में खड़ी बाय कर रही थी।उस दिन भाभी ने ब्लू कलर की साड़ी पहनी थी.

मेरे मन में भी थोड़ी सी उम्मीद जागने लगी कि यार ये तो खुलने लगी है, तो अब मैं क्यों शर्माऊं. मामी मेरा सारा माल पी गईं और बोलीं- सनी, अब मेरी चूत का पानी भी निकाल दो. अब वो मस्ती से गांड उठाती हुई चुत में लंड ले रही थी- आह आह मजा गया बॉस … क्या मस्त लंड है तुम्हारा … आह और जोर से चोदो मेरे सरताज … आह.

मैंने फिर से दो ज़ोर के झटकों में ही उमैय्या की फुद्दी में पूरा लंड उतार दिया. भाभी अपनी गांड मेरे लंड की तरफ करके मेरे मुँह पर बैठी थी और उसकी पीठ के पीछे हमारे लंड महोदय कुछ इस कदर तन्नाए हुए खड़े थे कि कुतुबमीनार भी शर्मा जाए.

सुनील रंडी की गांड मारने की भी कल्पना करता था।अब सुनील सेक्स के समय बोलता था- हमारी शादी हो गई है, कंडोम की क्या ज़रूरत?मैं यौन रोगों से डरता था. [emailprotected]न्यूड भाभी सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी को लंड की जरूरत थी- 2. मैं अपनी अम्मी शाजिया के लिए अपने मकान मालिक जगप्रीत के लंड को सैट कर रहा था.

नंगी राजस्थानी सेक्सी पिक्चर

दीदी ने भी हां बोला और थोड़ी देर में हम दोनों मार्किट के लिए निकल गए.

फिर मैंने उसे एक से एक सेक्सी मॉडल्स की कामुक फ़ोटो दिखाई जिन्हें वो बड़े ध्यान से देख रही थी. अम्मी ने हम दोनों को मिलवाया और वो हम दोनों को कमरे में छोड़ कर चली गईं. इससे मेरी जिन्दगी बदल गयी।नमस्ते दोस्तो, मेरा नाम निकिता है। मैं 24 साल की हूं।मेरी 3 साल पहले ही शादी हुई है।यह कहानी सुनें.

मोनिका ने मेरी पैंट की जिप खोली और घुटने बल बैठ कर मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया. मैंने बनकर पूछा- किस चीज का मजा?वो बोली- जो रात को आप मेरे साथ कर रहे थे. दुनिया के सबसे खतरनाक बीएफफिर आंटी ने अपनी नजरें नीचे कर लीं, पर में अभी भी उनको ही देख रहा था.

हमारे पास पैसे की कोई कमी नहीं है, पर मुझे अकेलापन बहुत महसूस होता था. मैं- हैलो!वो- आप क्या कर रहे हो?मैं- कुछ नहीं, क्यों क्या हुआ?वो- मेरा कुछ मन कर रहा है.

उसकी चुत एकदम ऐसी थी मानो सिली हुई हो … लंड पेलते ही मुझे अहसास हो गया था कि मैं ही इसकी चुत को फाड़ने वाला ओपनर बनने जा रहा हूँ. ’यह कहते हुए माधवी ने जो कुर्ता नीचे फर्श पर फैंका था, वो उठाकर पहनने की कोशिश करने लगी. मैं सारे दिन लखनऊ जाने की तैयारी करता रहा और पूरा रेडी होकर रात की ट्रेन पकड़ कर 3 बजे सुबह लखनऊ पहुंच गया.

यह इंडियन सेक्सी गर्ल की चुदाई कहानी मेरी लाइफ में सेक्स की शुरूआत की है. अब मुझसे और नहीं रुका जा रहा!आंटी ने कहा- ठीक है, मैं तुम्हें शाम तक बताती हूं।मैंने आंटी की गांड को दबाया और फिर राहुल के कमरे में उसे जगाने चला गया।मैं बेसब्री से शाम होने का इंतजार करने लगा।शाम को मैं आंटी के पास गया और उनसे पूछा- आंटी, आपने कुछ सोचा?तो आंटी ने बोला- रात को जब सब सो जाएंगे, राहुल और मानसी दोनों सो जाएंगे तो तुम छत से मेरे कमरे में आ जाना. तभी वो लड़की ‘अम्म्म मम्म … आआ आआ आह उई ईईईई उई मां उई मां उई मां …’ कहती हुई अपनी चूत से नमकीन पानी निकालने लगी और टांगों को कसने लगी.

दीदी और मैं थोड़े खुले विचार के हैं, इसलिए दीदी बिना किसी हिचकिचाहट के आ गईं और मेरी गोद में बैठ गईं.

यदि भैया के नामर्द होने के कारण भाभी कहीं बाहर मुँह मारतीं, तो हो सकता था कि घर की बदनामी होती और बात काफी आगे तक बढ़ सकती थी. उसने आने में असमर्थता जता दी लेकिन ये बता दिया कि हॉल के बगल की खिड़की को हल्का सा धक्का देने से वो खुल जाएगी और तुम अन्दर चली जाना.

दोस्तो, आपने मेरी पिछली कहानीतारक मेहता का उल्टा चश्मा का चुदक्कड़ परिवारपढ़ी और पसंद की. मेरी ग्रुप सेक्स कहानी के पिछले भागदो स्कूल टीचर और बहन से ग्रुप सेक्समें आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने रेखा की गांड मारी. सेक्स विद मामी की इस कहानी में पढ़ें कि मैंने गलती से मामी को नंगी नहाते देख लिया। उनके गदराये बदन ने मेरा लंड गर्म कर दिया.

अब दीदी मद्धिम स्वर में बोलने लगीं- वीरा आज जो हुआ, वो किसी से नहीं कहना. कुछ देर बाद वो दोनों फिर से चुदाई के मूड में आ गए और मेरे दोनों छेद फिर से एक बार सर्विस देने लगे. उनकी इस तरह की वासना भरी आवाज सुनकर मेरे इरादे भी कुछ कामुक हो गए थे.

सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला मैंने उन सबके कमेंट्स को अनसुना कर दिया और हाथ धोकर अपनी चेयर पर आकर बैठ गया. जैसे ही मेघा ने मेरा तौलिया हटाया, मैंने भी मेघा की पीठ की तरफ हाथ करके उसके ब्लाउज के हुक खोल दिए.

सेक्सी चलते हुए दिखाओ

वो पूरा लंड मुंह में गले तक निगल रही थी और साथ में मेरी गोटियों को भी चूम चूस कर रही थी. मेरी अम्मी बोलीं- इससे मेरा क्या फायदा होगा?नवीन बोला- तू जो बोले वो होगा. रुखसाना की उम्र करीब 50 साल थी, उसकी तबियत ठीक नहीं रहती थी इसलिए कभी कभी मैं रुखसाना के घर जाकर उसकी मदद कर देती थी.

मेरा लौड़ा आंटी की चुत में अन्दर बच्चेदानी तक जाने लगा और नफीसा आंटी को इसमें बहुत मज़ा आ रहा था. मुझे अपनी जिम्मेदारियों में से एक जिम्मेदारी यह भी दी गयी थी कि रात को ग्यारह बजे के बाद सारे कैम्पस, छत और बेसमेंट में एक चक्कर लगा कर देखना है कि सब ठीक है कि नहीं. बीएफ बीएफ बीएफ सेक्स सेक्सउसके होंठ अपने अन्दर के रस को मेरे मुँह में उड़ेलने के लिए बेताब थे.

बस चल पड़ी थी … एक घंटे बीत जाने के बाद भी कोई नहीं आया तो मैं थोड़ी मायूस हो गयी.

वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाती हुई लंड से चुद रही थी- उहह आआ आहह आ यस!आज मुझे ऐसा लग रहा था कि वह मेरी जमकर चुदाई कर रही है. अपने साथ एक छोटे बैग में एक चादर ले लिया जिसका फायदा मैं सेक्स कहानी में आगे बताउंगी.

मैंने पूछा- तुम्हें मजा आया?कोमल शर्मा कर बोली- हां बहुत मजा आया … इतना मजा तो चूत में उंगली करने पर भी कभी नहीं आया था. भैया काफी खुश थे, वो पापा बनने वाले थे, पर उन्हें ये कहां मालूम था कि असल में ये बच्चा भी मेरा था. मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया, उसकी चूत का स्वाद बहुत ही मस्त था.

जब वो मेरे लंड से खेलने में खो गई, तो मैं धीरे धीरे उसके कपड़े उतारने लगा.

कुछ देर बाद मैंने उसकी चुत में उंगली करना शुरू कर दी और धकापेल चुदाई शुरू हो गई. मेरी मंज़िल मेरे सामने थी जो कि पूरी रस से भरपूर थी और रह रह कर रस छोड़ रही थी. मैंने उनकी गांड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और वो लंड को मस्ती से चूस रही थीं.

एक्स एक्स बीएफ दिखाएं हिंदी मेंमेरी बहन अपनी गांड उठा कर धीरज से बोल रही थी- आह चोद … जम कर चोद साले … मजा आ रहा है. मैं थोड़ी देर के लिए रुक गया, तो वो बोलीं- क्या हुआ … तू रुक क्यों गया … कर ना.

काजल अग्रवाल के सेक्सी मूवी

भाभी के 40 साईज़ के बूब्स हवा में उछल रहे थे और भाभी मादक आवाज़ कर रही थीं. इस सबसे भी भाभी नहीं जागीं, तो मैंने पूरी हिम्मत करके उनके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया. कुछ देर बाद उसने मेरे होंठों से निप्पल खींचा तो मैंने उसकी तरफ देख कर नाख़ुशी जाहिर की.

प्रीति मेरी मनोदशा समझ गयी और बोली- ये सब आपका किया धरा है जिसकी वजह से अभी मैं दूसरी बार डिस्चार्ज हुई हूँ. मेरे मन में बस यही चल रहा था कि मोनिका सेक्स में और चुदाई की दूसरी आर्ट्स में एक्सपर्ट है या नहीं. अब मैंने रूपाली आंटी को गर्म किया और घोड़ी बना कर लंड पर तेल लगा लिया.

मैं- यार, मुझे तो लगता है ये मसाज़ ऐसे ही होती है, कुछ फर्क तो पड़ता नहीं होगा. हम दोनों ऐसे ही बिना कपड़ों के नंगे बदन एक दूसरे से चिपक कर लेट गए. यह तो मेरा हक भी है कि मुझे जन्म देने वाले मम्मी पापा को नंगा देखूं.

फिर हमारा 3 दिन बाद हनीमून टूर था इसलिए मैंने रुटीन सेक्स नहीं किया क्योंकि घर में चहल पहल भी थी और मैं थोड़ा अच्छा फील नहीं कर रहा था. जैसे ही मैंने भाबी के घर की घंटी बजाई तो उन्होंने तुरंत ही दरवाजा खोल दिया … मानो वो मेरा ही इंतजार कर रही थीं.

प्रीति मेरे बालों को सहलाती हुई बोली- दीदी कितनी किस्मत वाली है जिसे आप जैसा सेक्स करने में माहिर पति मिला.

मैं मामी के बारे में बहुत गंदा गंदा सोचता हूँ तो वही मुझे सपने में भी दिखता है. बीएफ दिखाइए चलते हुएहम दोनों ही कामातुर हो चुके थे और चुदाई की जरूरत महसूस करने लगे थे. बीएफ फिल्में दिखाएं हिंदी मेंमैं पैंटी को चाटने लगा और फिर पैंटी में ही मुट्ठी मार कर उसको टांग दिया. मैंने नफीसा आंटी की दोनों टांगों को उठाकर मोड़ दिया और उनके ऊपर चढ़ कर लंड घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके पर झटके लगाने लगा.

फिर मैंने पूछा- मौसी आप अकेले ही आयी हैं … पारुल पारुल और ध्रुव क्यों नहीं आए हैं?पारुल और ध्रुव मौसी के लड़के और लड़की के नाम हैं.

उस शॉप के मालिक की पत्नी भी कभी कभी उसकी शॉप पर उसकी हेल्प करने के लिए आ जाती थी. फिर कुछ शहद मैंने उसकी चूत पर लगा दिया औरचुत को चाटा, तो उसे भी बहुत मजा आया. मैंने कहा- ओके … पर क्या मैं आपकी चुत चाट लूं!उन्होंने कहा- छी:!मैंने कहा- काहे की छी: चाची … एक बार चटवा कर तो देखो.

मैंने कहा- कोई बात नहीं प्रीति, आज मैं तुम्हारी सारी प्यास बुझा दूंगा, बस तुम मेरा साथ देती रहना!तो वो मुझे मुंह चिढ़ाकर बोली- हुम्म … साथ देती रहना … बड़े आये!ये बोलकर वो रजाई से निकली और जाने लगी. वो मेरी पीठ से अपनी चूचियां सटा सटा कर खुद भी उत्तेजित होती थीं और मुझे भी करती थीं. मैं लंड हिलाते हुए बोला- मॉम, कोई फायदा नहीं … मैंने सब देख लिया है.

नदी में नहाते हुए सेक्सी वीडियो

हमारी सांसें किसिंग की वजह से बहुत फूल चुकी थीं और अब मामला अपनी चरम सीमा पर पहुंचने को था. उन्होंने साड़ी उतारकर दरवाज़ा खोल दिया और मुस्कुराती हुई आंख मारके पेटीकोट और ब्लाउज में सामने खड़ी हो गईं. उमैय्या के हाथ मेरे बालों पर थे और वो पूरे जोश में मुझे किस कर रही थी.

उसने पहले दरवाजे की ओर देखा, फिर मुझसे अपना हाथ छुड़वा कर बोली- दो तीन बार अपने बीएफ के साथ किया है.

कुछ मिनट बाद मैंने उसे नीचे लेटाया और उसकी टांगें फैला कर लंड उसकी चूत पर सैट कर दिया.

मैंने बिस्तर पर बैठ कर धीरे से सावी भाभी का घूंघट उठाया तो मैं उन्हें देखता ही रह गया. वो मद्धिम आवाज में कहने लगीं- आह्ह आह मर गई … तूने तो मेरी चुत आज फाड़ ही दी. बीएफ सेक्सी गंदी वीडियोमैं आंटी को चोदने के बाद हमारी चुदाई की बात भी कर लूंगा और फिर हम दोनों मिलकर आंटी के सामने सेक्स करेंगे।रात में सबके सो जाने के बाद मैंने दीदी को जगाया और बोला- दीदी, मैं आंटी के घर जा रहा हूं.

मैं उन्हें नशीली निगाहों से देखता, तो भाभी भी मुझे देख कर हंस दिया करती थीं. फिर मैंने धीरे धीरे उसके शरीर की तारीफ करते हुए उसके 36 के बूब्स से बनी सुंदर घाटी की तारीफ करने लगा. ऐसे हम एक दूसरे से कामुक छेड़खानी करते हुए कब स्टूडियो पहुँच गए, पता ही नहीं चला.

शमा ने मेरी आंखों में झांकते हुए कहा- हां, मुझे तो किस करनी बहुत अच्छी तरह से आती है लेकिन कभी की नहीं. दस मिनट बाद मैंने सासू मां की चुत से लंड निकाला और उनको घोड़ी बना दिया.

मैंने पूछा- और ऑफिस?वो बोली कि मैंने ऑफिस से भी दो दिन की छुट्टी ले रखी है.

देर रात को अचानक से मेरी नींद खुली और मैंने देखा कि भाभी अपने मुँह से ‘अम्म्म आआहह …’ जैसी मादक आवाजें निकाल रही थीं और अपने मम्मों और चूत को सहला रही थीं. दोस्तो, जब आपका सेक्स का फर्स्ट टाइम होता है और बिना किसी पॉवर वाली दवा के, आप चुदाई करते हैं तो हद से हद 8-10 मिनट ही टिक पाते हैं. वो कामुक आवाज में बोलीं- आह समीर और तेज़ और तेज़ अपनी नफीसा को और चोदो आह मजा आ रहा है.

हिंदी हीरोइन का बीएफ वीडियो इससे पहले की माधवी भिड़े के लहंगे का नाड़ा खोलती, भिड़े ने उसे रोका और उसे इस्तरी की ओर इशारा करते हुए दिखाया कि इस्तरी बंद कर देने दे. बिलाल ने कहा- घर तक जाने से तो अच्छा है कि यहीं किसी होटल में रूम बुक कर लेते हैं.

अब आगे सेक्सी मॉम Xxx कहानी:थोड़ी देर बाद सोने के लिए मॉम और विकी फिर से ऊपर जाने लगे. कुछ ही धक्कों के बाद वो अपनी पूरी गांड उठा कर समूचा लंड अपनी चूत में लेने लगी. मैं उनके होंठों पर, गर्दन पर खूब चुम्मा लेता रहा … नीचे से वो कमर हिला हिला कर लंड का स्वाद ले रही थीं.

मराठी सेक्सी कथा व्हिडिओ

कोई गैर मर्द मेरे सामने मेरी बीवी के चूतड़ देख रहा था, वो दृश्य मुझे काम वासना से बहुत ही ज्यादा उत्तेजित कर रहा था. मॉम घोड़ी बन कर उसका लंड चूसने लगी थीं और उस भिखारी की आंखें बंद थीं. कंपनी में कर्मचारियों की छटनी हो रही है और नौकरी पर खतरा आ गया है।ये सुनकर मुझे भी धक्का लगा।अब हम दोनों ने सुनील के लिए नौकरी ढूंढ़नी शुरू की।सुनील को हमारे शहर में नौकरी नहीं मिली.

मैं उसके ऊपर चढ़ा था और उसकी बुर में लंड डाले हुए उसके चूचे चूस रहा था. मैंने भी मस्त होकर उसका सिर पकड़ लिया और कुछ ही देर में उसका मुँह मेरे वीर्य से भर दिया.

मैम- समीर साहब … अगर आपकी नींद पूरी हो गई हो … तो क्लास शुरू करें?मैं हड़बड़ाते हुए उठा और मैम से पूछ कर मुंह धोकर आ गया.

जगप्रीत ने अपना हाथ अम्मी की चूचियों पर रख कर उनके मम्मों को जोर से दबा दिया. मुझसे भी रहा नहीं गया और उनकी पीठ सहलाते हुए उन्हें शांत कराने लगा. अम्मी दर्द से कराह गईं- अह्ह उम्मम जगप्रीतह … प्लीज मुझे छोड़ दो मेरी गांड मत मारो प्लीज!शायद पापा ने कभी अम्मी की गांड नहीं मारी थी … मगर जगप्रीत कैसे छोड़ सकता था.

मेरा दूध निकलते समय मोहिनी बोली- रतन तुम्हारे थन (स्तन) बहुत छोटे हैं, स्वाति होती तो और मज़ा आ जाता. थोड़ी ही देर में स्वाति जोर जोर से चिल्लाने लगी और मेरा सिर अपनी बुर में दबाने लगी और फिर से झड़ गई. इधर मेरा लंड शिवानी की चूत के मुंह पर खड़ा हुआ अन्दर घुसने का इंतजार कर रहा था.

मॉम विकी तरफ अपनी गांड करके खड़ी हो गईं, उसी समय विकी ने अपना एक हाथ मॉम की लैगीज के अन्दर डाल कर मॉम की गांड को मसला और उनकी चूत को मुट्ठी से दबा कर भींच दिया.

सेक्सी बीएफ जबरदस्त वाला: हम दोनों एक-दूसरे को पागलों की तरह चूसने लगे।जल्दी ही आंटी ने लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. मैं उस वक्त बहुत जोश में था, मुझे उनके मुलायम होंटों को चूमना अच्छा लग रहा था.

जब मैं छोटी थी, तब मैंने आपको अंकल की बेटी की शादी में देखा था, तब से मैं आपकी दीवानी थी. मुझे इस कमसिन कली के होंठों को भींचने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था. उस लड़के ने उस आवारा से कहा कि नहीं … मैंने तुमको ये सब करने के लिए नहीं बुलाया था.

इसका कारण उसने ये बताया कि उमैय्या का घर कुछ दूर था तो इन दोनों का मिलना थोड़ा मुश्किल हो जाता था.

तभी उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और कहा- मैं तेरी अम्मी का अकेलापन दूर कर दूंगा, अगर तुम चाहो तो. आंटी भी सेक्स का मजा ले रही थी और सिसकारियां लेती जा रही थी।इसी तरह रातभर पोजीशन बदल बदल कर हमने कई बार चुदाई की और सुबह तक मैं आंटी को चोदता रहा।सुबह 5:00 बजे मैंने दीदी को फोन किया और उनको दरवाजा खोलने को बोला. हैलो फ्रेंड्स, मैं विजय उर्फ़ वीरा एक बार पुन: अपनी बहन की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.