बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं

छवि स्रोत,सेक्सी पिक्चर बीएफ पंजाबी

तस्वीर का शीर्षक ,

छोटी बच्ची की सेक्स मूवी: बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं, मैं उसकी एक चूची को मुँह में लेकर चूसने लगा और जब मुझे लगा कि वो भी अब थोड़ा सहन करने लगी है, तो मैंने फिर से एक तेज धक्का दे मारा और अपना आधा लंड उसकी फुद्दी में पेल दिया.

सेक्सी वीडियो बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी

अंकल ने चुपके से मुझे और गोलियां लाकर दीं, जिसे मैं दो दिन छुप छुप कर लेती रही. बीएफ पिक्चर सेक्सी वीडियो दिखाएंफिर राज हमारे मम्मे दबाएगा, फिर पीठ सहलाएगा, इसके बाद गांड सहलाएगा और आखिर में हम सब राज का लंड चूसेंगे.

इससे हुआ ये कि मैं और माणिक दिन पर दिन जिस्मानी तौर पर एक दूसरे से करीब आते गए. बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियो सेक्सीअंकल मेरे निपल्स को अपने दाँतों से काटते हुए मेरा पूरा स्तन मुँह के अन्दर लेने की कोशिश करने लगे.

”ओह … थैंक यू प्रेम जी!” अपनी तारीफ़ पर वह खिलखिला कर हंसने लगी पर बाद में कुछ संजीदा (सीरियस) होते हुए बोली- पर ऐसी फिगर का क्या फ़ायदा?क्यों … ऐसा क्या हुआ?”मैं तो बनर्जी साहब को बोल-बोल कर तक गई कि किसी ढंग के डॉक्टर से दवाई लें और एक्सरसाइज भी किया करें पर वो मानते ही नहीं.बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं: उन्होंने मुझे शाम को कहा- राहुल चल मार्केट चलते हैं, मुझे कुछ सामान लेना है.

मैंने उसे कहा भी है कि मेरे पास ही सो जाया करे लेकिन उसे अपनी प्राईवेसी में कोई दखल नहीं चाहिये.इतने में मुझे याद आया कि अगले हफ्ते रक्षाबंधन है और मैं यह बहाना बताऊंगा तो मेरी जानू मना नहीं करेगी.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर बीएफ - बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं

जब मेरा छेद उनको दिखने लगा, तब उन्होंने मेरे छेद पर एक गरम हवा मारी और मैं मदहोशी में कहीं खो गया.कई बार रात रात भर पढ़ाई के बहाने से मैं सहेली के पापा से चुदने चली जाती थी.

वंश ने मुझसे बिना बोले … साले कमीने ने मेरी गांड में अपना मूसल जैसे लंड को एक ही झटके में पूरा डाल दिया. बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं मैंने मुंह पर कपड़ा बांधा और भैया के साथ कुछ दूर तक पैदल जाकर आगे हम लोग एक बात करने लगे.

मैंने भी साफ साफ शब्दों में बात करते हुए सर से कह दिया- सर आपको जो कुछ रूपया पैसा जितना भी चाहिए आप मुझे कह सकते हैं.

बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं?

डगशाई पहुँच कर वसुन्धरा मुझे रास्ता बताती गयी और हम लोग एक घुमावदार और सुनसान सी सड़क के सिरे पर स्थित वसुन्धरा के कॉटेज पहुँच गए. मैंने आगे से अपने ब्लाउज को थोड़ा ऊपर किया और बॉस के केबिन में चली गयी. साथ मैं उसके मम्मों को मसलने लगा वो मस्ती में पागलों की तरह चिल्ला रही थी.

मैंने उसकी बात को अनसुना करते हुए फिर से एक चपत लगा दी, जिससे वो छटपटाते हुए मुझे छूटने में लगी थी, लेकिन मैंने उसे मजबूती से पकड़ रखा था. !”आपने यह सब करने के लिए जो आर्टिकल लिखने की बात की थी, वह सब सच था? देखो सच सच बोलना. पूरे कमरे में सिर्फ हम दोनों माँ बेटे या आज ही बने पति पत्नी की कामुक सिसकारियां गूंज रही थीं.

बस चूमते चूमते हम दोनों वहीं सोफ़े पर लुढ़क गए और एक दूसरे के अंगों से खेलने लगे. सुमीना मजे से आआ आउऊ उउहउ उम्म मममउ आआअ आहहा हहाह उफ आआअ हह कर रही थी और पिताजी चोदते समय कह रहे थे- ले लण्ड … पूरा लण्ड ले चूत में … और ले ले … उम्म्ह… अहह… हय… याह… तेरे भोसड़े में उतार दिया. वो बोले- अगर तुम्हारी नौकरी पक्की कर दी जाये तो कैसा रहेगा?मैं बोली- ये तो आपके ऊपर है सर, मैं क्या कह सकती हूँ.

पर मुझे नहीं लगता कि वो दोस्त तुमको कुछ खास ज्यादा तुमको एक्सपीरियंस दे पाएगा. हम दोनों वहीं छत पर एक कोने में बैठ गए और जिस्म के ऊपर पढ़ने वाले ठंडी हवाओं का आनन्द लेने लगे.

मैंने उससे कहा- ये सब तुम क्यों करती हो? और करना ही है तो अपने बॉयफ्रेंड के साथ क्यों नहीं करती?बिन्दू बोली- मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है.

इस बात को समझते हुए नम्रता ने अपनी चूत का मुँह मेरे मुँह पर रख दिया और खुद मेरे लंड के साथ खेलने लगी.

मेरे बेटे वंश के पांच साल के होते ही मेरे पति ने उसे बोर्डिंग में डाल दिया था. मैं मस्ती में डूब के कराहा- आआह आह्हः आह्ह्ह्ह रानी, रानी, मेरी रानी, हाल बिगड़ा हुआ लंड का … कुछ कर जानू इसका इलाज. अब सब सो चुके थे, पर मेरी आंखों में नींद कहां थी … बस गुड़िया को चोदने की तरकीब सोच रहा था.

उन्होंने भी देर ना करते हुए वापिस मेरे लंड को सहलाना शुरू किया और कुछ ही देर में मेरा लंड वापिस तन गया. वो मुँह पर अपना हाथ रख कर मेरे लंड को देखते हुए मेरे पास आकर बोली- ये क्या … प्लीज़ अभी जाने दो. मैंने उसकी चूत के मुंह पर लंड को धीरे से सेट किया और एक धक्का दे दिया.

मैं कविता दुबे … मुझे आप सभी के बहुत सारे संदेश आये, धन्यवाद सभी पाठकों को.

उसकी चूत में से पानी निकलते हुए मेरे लंड को तरावट देते हुए बेड पर टपक रहा था. हैलो, मेरा नाम अजय है और मैं नियमित रूप से अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ. कुकोल्ड सेक्स स्टोरीज इन हिन्दी का पिछला भाग:बीवी की चुदाई गैर मर्द से-3 अमन बोटल से एक पटियाला पेग बना कर किचन में लाये और मुझे देते हुए बोले- लो.

मैं कुछ देर तो टीवी देखता रहा फिर टीवी के साथ-साथ मैने लाईट को भी बन्द कर दिया और धीरे से नीचे मोनी की बगल में जाकर लेट गया।मोनी अपना मुँह दूसरी तरफ करके सो रही थी इसलिये अपना एक हाथ धीरे से मोनी की कमर पर रखकर मैं आज फिर से उसके पीछे चिपक गया। मेरा तरीका वही पुराना था कि नींद बहाने से मैं मोनी के बदन को छूने की कोशिश करूं. मैं जानता था कि रात को छेड़ने के बाद जब उसने कुछ नहीं कहा तो वह लव-लेटर भी आसानी से ले लेगी. गुप्ताइन ने मेरी ओर करवट ली और अपना हाथ मेरे लोअर में डालकर लण्ड सहलाने लगी.

तो मैं लाज शर्म परे रख कर नंगी हो गयी और बेड पर लेट कर अपनी चूत अपने हाथों से खूब अच्छी तरह से पसार दी और अंकल जी को पास आने का इशारा किया.

लंड चूत के अन्दर जाते ही भाभी भी नीचे से झटके मारने लगीं और मैं भी तबियत से उन्हें ठोक और मसल रहा था. व्हाट दा फ़क … मेरा मन कह रहा था कि भाभी पूरी की पूरी नंगी खड़ी है मेरे सामने.

बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं अदिति लगातार ‘उफ़ … उम्म्ह… अहह… हय… याह… उह …’ कर रही थी और बोल रही- अर्पित, बहुत मज़ा आ रहा है … प्लीज और चूसो इन्हें. फिर मेरे दिमाग ने सोचा कि ससुरजी भी हो सकते हैं क्योंकि सासु माँ को गुजरे हुए भी कई साल हो गये.

बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं इस कारण मुझे उम्मीद थी कि जो लड़की कम से कम आठ दस लण्ड खा चुकी हो, ऐसी लड़की को छोड़ना नहीं चाहिए. अब मैं उसकी चूत पर चाकलेट रगड़ कर मजे से चूस-चूस कर खाने लगा। जहां मुझे चूत चटाई में अपार आनंद प्राप्त हो रहा था, वहीं उसे बहुत दर्द हो रहा था.

मैंने उसके होंठों को चूस डाला ताकि आवाज जीजू और हेतल के रूम तक न पहुंच पाये.

लीला की सेक्सी वीडियो

इसलिए अब मैं भी जल्दी करने में मूड में आ गया और तुरंत अपना पैंट और चड्डी नीचे करके लंड बाहर निकाल लिया. वो वहां मुझे छोड़ने आया … और फिर मैंने तुषार को एक किस किया और एक्टिवा लेकर घर जाने को निकल गयी. पहले पहल तो नम्रता अपनी चूत को मेरे कूल्हे पर चलाती रही, फिर थाप देने लगी.

शाम को चांदनी भाभी मेरे घर आईं और मेरी मम्मी से बोलीं- आंटी आप आज विपुल को मेरे घर सोने के लिए भेज देजिये ना … मेरी सास एक दिन के लिए गांव गई हुई हैं, वो कल शाम तक आ जाएंगी. मैं- अच्छा चलो, अब जल्दी से बता दो फिर क्या हुआ?नम्रता- फिर मेरी चूत तो वैसे ही गीली हो चुकी थी, लेकिन राजेश अब भी मेरी गीली चूत पर ही जीभ चला रहे थे और फिर चटखारे लेते हुए मेरे निकलते हुए रस की तारीफ कर रहे थे. ये बात 2 महीने पहले की है जब मैं अपनी इंजीनियरिंग के सेकण्ड ईयर में था.

मैंने दीपिका के लेटे लेटे गिलास उसके मुँह से लगाया तो उसने सारा एक ही बार में खाली कर दिया और बोली- चोदो जोर जोर से … फाड़ दो मेरी चूत को.

मैंने कहा भी था कि थोड़ी देर का दर्द है, थोड़ा औऱ दर्द होगा, फिर कभी नहीं होगा अभी मजा आने लगेगा. ”अच्छा? पर आप दोनों को देखकर ऐसा लगता ही नहीं। आप दोनो तो ऐसे लगते हो जैसे शादी को 2-3 साल ही हुए हैं. उसके होंठों में रह-रह कर थिरकन सी हो रही थी और अपने होंठ को न थिरकने देने के लिए जूझती वसुन्धरा की ठुड्डी की सतह रह-रह कर गड्डे से बन-बिगड़ रहे थे.

फिर नम्रता मेरे गालों को दबाते हुए बोली- मेरी जान अब तुम्हें आगे की कहानी सुनने के लिए कल का इंतजार करना पड़ेगा. मुझ पर अपनी नजर गड़ाते हुए बोली- पागल है तू? जो मैगजीन में लड़कियों को नंगी देख रहा है और बुर-चूत की कहानी पढ़कर मुठ मार रहा है? जबकि तेरे ऊपर तो कितनी ही लड़कियां पागल हैं. तुझे वो दर्द सहन करना पड़ेगा, वो भी सिर्फ आज ही बस … कल से तो तुझे बिल्कुल भी दर्द नहीं होगा, सिर्फ मजा ही मजा आएगा.

वो तड़पने लगी, बोली- आराम से करो!मगर मैंने उसकी ना सुन कर एक और धक्का मार दिया और पूरा लण्ड उसकी चूत में डाल दिया और बिना रुके उसे चोदने लगा. मैंने उसकी गांड पर लंड को रगड़ना शुरू किया तो उसने मुझे पकड़ कर आगे की तरफ खींचने की कोशिश की.

दो-तीन बार पोजीशन बदलने के बाद मैंने जूली को नीचे उतारा और उससे बोला- अगर तुम चाहो तो मैं तुम्हारी चूत के बाहर अपना पानी निकाल सकता हूँ और अगर तुम चाहो तो मेरी मलाई को अपने मुंह में ले सकती हो!मेरी बात सुनने के बाद उसने मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया. डॉक्टर ने लण्ड को रूमाल से साफ़ किया और फिर पकड़ कर ऊपर नीचे और घूमा कर मुयायना किया और बोली- आमिर, चुदाई के दौरान अंदर की कुछ नसें दब गयी हैं जिससे लण्ड अब बैठ नहीं रहा है. खुशी वैभव को बहुत ज्यादा चाहती थी इसलिए उसने उसके साथ सारी हदें शादी के पहले ही लांघ डालीं.

गांव में लोग शौच इत्यादि के लिए लोटा लेकर बाहर खुले में जाया करते हैं.

समय खराब ना करते हुए मैंने उसके ब्लाउज और ब्रा को भी तुरंत निकाल दिया, लेकिन पेटीकोट नहीं निकाला. मैंने लाल रंग का लांचा खरीदा और रेड ब्रा पेंटी और सुहागरात के लिये रेड गाउन लिया. फिर मैं और शलाका एक-दूसरे के साथ चिपक कर सोने लगे लेकिन हम दोनों की आंखों में नींद कहां थी!मैंने शलाका के कान में कहा- कुतिया बन कर कब चुदोगी मुझसे?शलाका बोली- घर चल कर चाहे कुतिया बनाना या घोड़ी बनाकर चोदना मगर यहाँ तो बस धीरे-धीरे ही मजा लो.

मैं बोली- तू टेंशन मत ले, आज तेरे पापा को मैं इतना खुश करूंगी कि वो तेरी तरफ नहीं देखेंगे. एक-दो बार उन्होंने पास आने के लिए बोला भी, पर मुझे उनको तरसाने में मजा आ रहा था.

मैं उनके लण्ड को पूरी तन्मयता के साथ चाटने चूसने लगी, अंकल जी चुपचाप बुत बने खड़े रहे. अब रायपुर में थोड़ी बहुत जगह है, वो उसे भी बेचकर खाने के चक्कर में हैं। उसका (मोनी का पति) क्या है, वो तो जहाँ काम करता है वहीं पड़ा रहता है। उसे तो बस शराब से मतलब है, उसको अपने घर या मोनी से थोड़े ही मतलब है. मैंने उसकी गांड पर लंड को रगड़ना शुरू किया तो उसने मुझे पकड़ कर आगे की तरफ खींचने की कोशिश की.

नंगी सेक्सी वीडियो फोटो

मैं- जब उसने पहली बार तुम्हारी चूची छुई थी, तो तुमको कैसा लगा था?मीता- बहुत अजीब सा लगा था … पर अच्छा भी लगा था.

सर अब सहन नहीं हो रहा … बुझा दो मेरी चुत की आग, अपने लंड के पानी से!”यस नीतू … तुम्हें चोद चोद कर तुम्हारी चुत की आग शांत कर दूंगा. फिर अपने दोनों हाथ ऊपर करके एक लंबी सांस ली और मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा दीं. मैं- मैं अपनी जीभ से तेरी चुत को सहला रहा हूँ और तेरी क्लिट को छेड़ रहा हूँ.

वो मेरे होंठों को किस करने के बाद मेरे पीठ को सहलाने लगा और उसके बाद वो मेरे गांड को मसलने लगा. जब उसके दिल में तुम्हारे लिए जगह बन जाए, तब शादी के लिए उसकी सहमति लेना उचित रहेगा. हिंदी बीएफ चोदने वाली हिंदी बीएफउस पर लड़कियों की नंगी तस्वीरों वाली छोटी मैगजीन भी साथ में देखने को मिल जाती थी।बस एक दिन ऐसा ही हो गया.

फिर कुछ पांच छह धक्के मारे तो सारा झड़ गयी और मैंने लण्ड बाहर निकाल कर घोड़ी बनी हुई दिलिया की चूत में डाल दिया. हमम्म्म … आआहह …थोड़ी देर बाद मैंने उसे धक्का देकर सीट पर लिटा दिया … और धीरे धीरे करके मैंने अपने कपड़े उतारना शुरू कर दिए.

रितेश मीरा की चूचियों को चूसने लगा और मीरा भी अपने हाथों से रितेश के लंड को मसलने लगी. अंदर जाते ही उसने मुझसे पूछा- क्या पिओगे?मैंने कहा- आज तो दूध पीने का मन कर रहा है. मेरी बात का यकीन नहीं हो तो मर्द खुद की प्रेमिका और बीवी में दोनों में कौन ज्यादा मज़ा देती है, इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं.

जब मैंने उसकी चूत से लंड को बाहर निकाला तो उसकी चूत से खून और वीर्य दोनों साथ में बाहर आ रहे थे. अब मैं अपनी गर्मागर्म देसी हिन्दी सेक्स कहानीमैं और मेरी प्यासी चाचीका दूसरा भाग पेश करने जा रहा हूँ. उधर एक दिन मेरी बात मानसी से हुई जिसकी आईडी हमेशा मानसी (25) के नाम से होती थी.

वंश पूरा लंड घुसेड़ कर बोला- आह साली आज खा जाऊंगा मैं तुझे … आआह्ह …मैं गांड उठा कर लंड लीलते हुए बोली- खा जा मेरे राजा … आआह्ह … बेबी आई लव यू … चोद मादरचोद … जोर जोर से चोद मुझे!इससे वंश को बहुत मज़ा आ रहा था.

फिर अपना तना हुआ लौड़ा उसके छेद पर लगाया और उसके चूतड़ों को अपनी तरफ खींचते हुए अपना लंड उसकी गांड में घुसा दिया. मैंने दर्द से बिलबिलाते हुए कहा- जानू बहुत दर्द हो रहा है … बाहर निकाल लो प्लीज़.

अंकल की उंगली से मेरी चुत की खुजली कुछ कम होने लगी तो मेरी कमर अपने आप हिलने लगी. अंकल ने मेरे पैर खोलने की कोशिश की पर खोल नहीं सके, पता नहीं मेरे अन्दर कौन सी ताकत आ गयी थी. मैंने उसकी चूची जोर से मसली, तो उसका मुँह खुल गया, तभी मैंने अपना लंड अपनी बहन के मुँह में ठूंस दिया.

मैंने दिन में अपने बॉयफ्रेंड को कॉल करके बता दिया कि मैं अभी घर पर अकेली हूँ. मैंने उसकी गांड पर थूक उड़ेला, जीभ अन्दर तक चलाने के बाद गांड की ऊंचाई तक खड़ा होकर लंड को उसकी गांड के अन्दर पेल दिया और धक्के मारने लगा. मैं भी थोड़ा इठलाते हुए बोला- जान तुमने अपनी चूत को झांटों के बीच छुपाकर रखा है, कहां से देखूँ?नम्रता- ओह सॉरी यार, मैं तो भूल गयी थी, मैंने जिस दिन से मेरे तुम्हारे आज के दिन के मिलन के बारे में सुना, उस दिन से मैं अपनी झांटें बढ़ाने लगी, जिससे मेरी जान मेरी झांट की शेव करके मेरी चूत को चिकनी कर दे और फिर उस चूत को प्यार करे.

बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं मैं यह देख कर रुक गया और शीना की गांड मारने की मेरी स्पीड कम हो गई. मैंने इस कॉम्पीलिमेन्टरी कमेन्ट के लिए नम्रता को शुक्रिया बोला, लेकिन मैं भी जानता था कि नम्रता मेरे जिस्म का रस तो निचोड़ ही चुकी है.

नागालैंड की सेक्सी ब्लू फिल्म

वो झट से डॉगी स्टाइल में आ गई और अपना चेहरा बाथरूम की फर्श पर ही झुका कर रख कर पोजीशन में आ गई. एक बार फिर हम लोग नंगे ही छत पर हो लिए, देखा तो आस-पास के लोग नीचे जाने लगे. दीदी बोली- मैं एक बात कहूं, तुम बुरा तो नहीं मानोगी ना!मैं बोली- अरे बोलो न … मैं भला बुरा क्यों मानूंगी.

धीरे-धीरे उसकी तरफ मेरा आकर्षण बढ़ने लगा और मैं उसको पसंद करने लगा. मेरे कपड़ों की फिटिंग काफी टाइट थी जिसमें से मेरे शरीर का हर एक अंग उभर कर आ रहा था. बीएफ के मतलब क्या होता हैवसुन्धरा ने धीरे से मेरा हाथ अपने दोनों हाथों में लिया और बोली- मैंने अपने सारे अधिकार, सारे इख़्तियार, खुद मैं … मेरी जिंदगी और मेरी जिंदगी से बावस्ता सारे फ़ैसले और उन फैसलों के सारे नतीज़े … मैंने बहुत साल पहले आप के नाम कर दिये थे, बस! आपको बताया ही नहीं था.

अब आगे:सर के मुँह से मेरे पति की रजामंदी से मुझे चोदने की बात सुनते ही मेरे पैरों तले जमीन खिसक गई- सर क्या बात कर रहे हो? वो क्यों ऐसा करेंगे?तुम तो समझदार हो … उसे अपने प्रमोशन के लिए मुझसे रिकमेंडेशन चाहिए … मैंने रिकमेंडेशन दे दिया, तो उसे प्रमोशन मिल जाएगा.

उसने झीनी सी नाइटी पहन रखी थी, जिसमें से उसका मादक बदन कयामत बरपा रहा था. मैंने लहँगे का नाड़ा थोड़ा ढीला किया और अपने दाएं हाथ में नाड़े के दोनों छोर पकड़ कर अपना बायां हाथ बायीं ओर से वसुन्धरा के पीछे लेजा कर चुनरी को एक हल्का सा झटका दिया लेकिन चुनरी जस की तस! जरूर जड़ाऊ काम के सितारे-मोती, लहँगे के अंदर कहीं न कहीं फंस रहे थे.

बीच-बीच में तो ये मेरे लटके हुए मम्मों को भी मसलने से नहीं चूक रहे थे. फिर मैंने अदिति किए बाल साइड में किये और उसकी गर्दन के पीछे चूमने लगा. फिर जब उसने कोई हरकत नहीं की, तो मैंने अपने लंड को फिर से गर्म किया.

कैसे हो दोस्तो? सभी चूतधारी और लंडधारियों को मेरे खड़े हुए लंड का प्रणाम!मैं अंतर्वासना पर कहानियाँ पिछले चार साल से पढ़ रहा हूँ.

मैं भी अपने एक हाथ से सारा की चूत में उंगली काने लगा और दूसरे हाथ से दिलिया की चूत में उंगली करने लगा. कुछ देर बाद लड़की ने अपनी पैंटी भी एक झटके में निकाल दी और बैड पर चौड़ी टांगें करके लेट गई. अब दो मूसल जैसे लंड उसकी गांड और चूत में घुसे हुए थे।उसकी आहें अब चीख में बदल चुकी थी.

सेक्सी बीएफ वीडियो इंग्लिश पिक्चरमीता- मतलब!मैं- कुछ नहीं … तुम बताओ, पढ़ाई कैसी चल रही है?मीता- ठीक बिल्कुल अच्छी. उसको चूत में अजीब सा अहसास होने लगा। कुछ देर तक दोनों सूसू करते रहे। कितना आनंद आ रहा था। जब दोनों सूसू कर चुके तो एक-दूसरे को देख कर हँसने लगे।रिया- हा हा हा डैड, आपकी सूसू कितनी गर्म थी.

हिंदी में सेक्सी वीडियो भाभी की चुदाई

दूसरा यह कि एक औरत जो खुलकर मस्त होकर सेक्स अपने प्रेमी से करती है. उफ्फ्फ्फ … अपनी चूत पर एक मर्दाना हाथ पाते ही मैं तो समझो, मर ही गयी. एक दिन वो मशीन में बैठ कर शोल्डर की एक्सरसाइज कर रही थीं और मैं लगातार उनको घूर रहा था.

अब वो धीरे धीरे मेरे लंड पर कूद रही थीं- आह … राहुल … इसस्स्स … यस … उहह … मजा आ गया … तेरा लंड बड़ा कड़क और मोटा है … मेरी चूत की खुजली मिटा दे मेरी जान. बेशक दोनों लाल हो गयी थीं … दुःख भी रही थीं … पर जो सुख मिला था, वो बहुत बड़ी बात थी. इसी दौरान मेरी कद काठी में एकदम से बदलाव हुआ और मैं एक पूरा गबरू मर्द दिखने लगा.

इधर जीजू मेरे पर लाइन मार रहे थे और उधर मेरे पति ना जाने दीदी के साथ क्या कर रहे थे. मुझे उसके मुलायम-मुलायम मम्मे दबाने में बहुत मजा आ रहा था और उसको मेरे लंड के खोल को खींचने में. बिटिया रानी, सुबह घूमना तो बहुत अच्छा होता है सेहत के लिए, मैं तो कहती हूं तू रोज जाया कर!” मम्मी खुश होकर बोलीं.

जब लड़की लंड की राइडिंग करती है, तो को लंड उसकी चुत के अन्दर तक जाता है, जिसका अहसास का मज़ा ही अलग आता है. राजेश मेरी चूतड़ों को दबाते गए और फिर फैला कर अपनी जीभ मेरी गांड में चलाते हुए चूत तक ले गए.

मैं उस पर मुठ मारने वाले को रंगे हाथ पकड़ना चाहती थी कि कौन है, जो ऐसा कर रहा है.

शायद इस तरीके से रेखा को ज्यादा आनन्द नहीं आया, तो वो खुद ही सीधी होकर बैठ गयी और फिर अपनी कमर को गोल-गोल घुमाने लगी. बीएफ सेक्सी हिंदी में दिखाओमैंने कपड़े पहनने के बाद भाभी को गोद में उठाया और उसको गाड़ी में बैठा दिया. फुल एचडी वीडियो में बीएफफिर उसकी चूत की मांसपेशियां सिकुड़ सिकुड़ कर मेरे लंड से वीर्य की एक एक बूँद निचोड़ने लगीं. उसने भी अपने दूसरे हाथ का पाना नीचे गिरा दिया और मेरे हिप्स पर अपने दोनों हाथ ले आया और जोर जोर से घुमाने लगा, उसकी उंगलियां मेरी गांड की दरार में, कभी-कभी मेरी गांड के छेद को छेड़ रही थी.

कैसा पति है मेरा! आज हमारी सुहागरात है और इधर-उधर की बात कर रहा है.

मेरी चुत का बुरा हाल हो गया था, पर हम दोनों कामवासना के वश में खो चुके थे. मैं जानती हूं कि काफी दिन से मेरी कोई सेक्स कहानी नहीं आई है जिस वजह से आप सभी के लंड तने हुए हैं. सतीश से चुद रही मुस्कान भी सिसकारियाँ निकाल रही थी।तभी मैंने देखा मोनू और प्रियंका ने कुछ बात की और दोनों बैड से नीचे उतर कर मुस्कान के पास चले गये। प्रियंका ने सतीश से घोड़ी बन कर चुद रही मुस्कान की गांड को हाथों से खोला और उसे ध्यान से देखने लगी।मैंने और सीमा ने उसे ऐसा करते देख लिया.

मैं तो अभी भी उन्हें लालसा भरी नज़रों से देख रहा था कि उनका तो काम मैंने कर दिया, अब वो मेरा भी करें. मैंने दोनों अप्सराओं को खींच कर अपनी तरफ करवट से कर लिया और आनंद पूर्वक आँखें मूँद के दोनों रानियों के गर्म गर्म शरीर का लुत्फ़ उठाता हुआ मीठी सी नींद में खो गया. लंड को जब मैं बुर में अंदर बाहर करने लगा तो वो थोड़ा और अंदर जाने लगा.

हिंदी सेक्सी वीडियो हिंदी फुल एचडी

उन्होंने मुझे पानी का जग पकड़ाया, तो मैंने पानी लेते टाइम उनके हाथ पर अपना हाथ फिराया. सच में दोस्तो … जो मजा चूत चटाई में है वो किसी और चीज में नहीं।बीच-बीच में मैं उसकी चूत चटाई को छोड़ कर उसके चूत के दानों को हाथ से सहला रहा था और कभी कभी तो अपनी अंगुलियों को अन्दर बाहर कर रहा था. लेकिन अब मैं क्या करूँ? कैसे शांत करूं इसको?जीजा ने मेरी बात का कोई जवाब न दिया.

दोस्तो, कुछ देर बाद एक बार फिर से उसने मेरा लंड चूसना शुरू किया और जब मेरा लंड दोबारा चुदाई के लिए तैयार हो गया तो वो मुझसे बोली- पापा, इस बार धक्के थोड़ा ज़ोर से मारना.

उसके बाद फिर धीरे-धीरे लिंग चुसवाना और योनि चाटते हुए उसका रस पीना मेरे लिए आम बात हो गयी।तो मेरे प्यारे दोस्तो, ये थी मेरे पहले संभोग की कहानी.

किसी बड़े आंवले सरीखा सुपारा मेरी छोटी सी गांड में घुसा, तो मैं चीख उठा. उसने मेरी चूत पर अपना लंड रगड़ने के बाद मेरी जांघों को खोल दिया और मेरी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया जिससे मेरी चूत खुल गयी. योगा बीएफ सेक्सीउसने मेरे कपड़े उतारे और मेरे लंड को देख कर अपने होंठों को दबा के कातिल स्माइल दी.

अब भैया ने मेरा लंड हिलाना चालू किया और भैया का बाज़ से चिड़िया बनता लंड मेरी गांड से ढीला होकर धीरे धीरे निकलने लगा. ” सुहाना तो बस मुस्कुराती ही रही।शायद वो मुंह में रखी च्युइंगम चबा रही थी। एक मीठी सी महक मेरे स्नायु तंत्र को जैसे शीतल सी करती चली गई। सुहाना सोफे पर बैठ गई और हाल में इधर उधर देखने लगी।चलो ठीक है … आज का नाश्ता तो हम दोनों साथ ही करते हैं।”सर. उस दिन उस खिड़की पर पर्दा नहीं लगा था और अंदर लाइट जलने की वजह से सब कुछ साफ दिखाई दे रहा था.

भाभी एकदम से कामुक सिस्कारियां लेने लगीं और ‘आह्ह्ह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… अह्ह …’ करते हुए उस आदमी का सर अपनी चूत पे दबाने लगीं. मूवी खत्म होने से थोड़ी देर पहले मैंने अपने आपको ठीक किया और हम घर निकल गए.

नमस्कार दोस्तो! मेरा नाम अंशु है और मैं रीवा, मध्य प्रदेश के एक नजदीकी कस्बे से हूं। मेरी उम्र 25 साल और हाइट 5 फीट 6 इंच है। मेरे लिंग का साइज लगभग सामान्य है.

उंगली करते हुए पति देव बोले- नम्रता वहां पर दूसरों को अपनी बीवी के साथ एन्जॉय करते देख कर मुझे तुम्हारी याद बहुत आ रही थी. मैंने कहा- देख लो भाभी, कभी कोई बात न हो जाये?भाभी- बस मुझे रोहित नहीं चाहिए. मैंने अपना काम चालू रखा। अब मैं धीरे-धीरे अपने लंड को आगे-पीछे करने लगा और धक्के की स्पीड भी धीरे-धीरे बढ़ाने लगा।एक जैसी पोजिशन में धक्के मारते-मारते मैं थकने लगा तो मैं चित लेट गया और जूली को अपने ऊपर कर लिया और फिर उसकी चूत में लंड डालकर नीचे से अपनी कमर उठा-उठाकर उसको चोदने लगा।जूली भी अब समझ चुकी थी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ हिंदी में मरे पति के बॉस लंड चूत के अन्दर ना डालते हुए अपने लंड को मेरी चुत के ऊपर घिसने लगे. मैंने एक गिलास में पेग बना कर दिया, बोला- एक बार में इसे खाली कर दो.

वह तुरंत मुझे नीचे गिरा कर, मेरे ऊपर किसी घुड़सवार की तरह मेरी सवारी करने लगी. कुछ ही देर में हमारा खाना भी हो गया और मां सभी बर्तन लेकर किचन में अपना काम करने लगीं. रानी का मुंह उसके मुख रस से लबालब था, लौड़ा अंदर बाहर होता तो सड़प … सड़प … सड़प की आवाज़ें निकलती.

इंद्रावती सेक्सी वीडियो

अचानक दरवाजे पे आवाज हुई, मैं बोली- जी सर?बाहर बॉस थे, वो बोले- अंदर एक फाइल है, वो चाहिए. हाय मर जाऊंगा … आआह्ह आआह्ह!रानी ने मेरे होंठ चूसते हुए फुसफुसाते हुए कहा- राजे, माँ के लौड़े … अभी देती हूँ तेरे संड मुसण्ड को इनाम … तूने अमृत पीकर अपनी रानी को बहुत खुश किया … अब से तू अपनी बाली रानी का गुलाम पिल्ला बन के रहेगा. कुछ देर और उसने रिया की गांड चोदी और फिर कटोरी रिया के हाथ से ले ली.

उनका मेरे अंगों को छेड़ने से चुत पर से मेरा कंट्रोल छूट रहा था, मुझे तो डर रहा कि कहीं सुसु पैंटी में ही ना निकल जाये. मेरे हाथ पकड़ने पर उसका कोई विरोध नहीं हुआ लेकिन वो शर्मा कर बोली- चलो पागल जी अब रहने दो … वरना कोई देख लेगा.

जब हम लोग अपने कमरे में जाने के लिए खुशी से विदा ले रहे थे तो मैंने उसकी आंखों में नमी देखी.

मैंने जाते समय अपने हाथों को उनकी गांड पे ऐसे टच किया … जैसे कि मुझे पता ही नहीं हो कि वो उनकी गांड है. नम्रता मेरे बालों को सहलाते हुए हम्म-हम्म करते हुए मेरे जोश को बढ़ा रही थी. इस उम्र में कुछ लड़कियां बहक जाती हैं तो कुछ अपना टाइम ठीक ठाक निकाल लेती हैं.

मैंने अपने गीले लंड को बाहर निकाल लिया और भाभी की गांड पर थूक लगाने लगा. लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी, बार बार मुझे अपने ससुर जी का बड़ा लण्ड ही दिखायी दे रहा था. उसके बाद मम्मी ने भी टेंशन रखनी बंद कर दी क्योंकि मेरी कोई शिकायत ही नहीं आई.

उस लड़की ने घुटनों से ऊपर तक की एक छोटी सी स्कर्ट और उसके ऊपर टॉप पहन रखा था.

बीएफ ब्लू फिल्में दिखाएं: अब मेरा मन बेकाबू हो चुका था, मैं पलंग से नीचे उतरकर उसके पास पहुंचा और उसके कूल्हे को कसकस कर मसलने लगा. मैं समझ गया कि वो इसको न करने के लिये मुझे पहले से ही चेतावनी देना चाहती है, पर मेरे दिमाग भी यह बात नहीं आयी.

मैंने धीरे धीरे अपना लंड बाहर निकाला और हल्के हल्के धक्के लगाते हुए अपनी कमर चलाता रहा. जब मेरे एग्जाम खत्म हुए, तब फिर से मेरी यौन कुंठा ने मेरे लंड पर दस्तक दी. फिर उसे चुदाई का मजा आने लगा तो …अब आगे की सेक्सी साली की जवानी की चुदाई स्टोरी:बस हो गया न यार … दर्द तो पहली बार होता ही है साली डार्लिंग!” मैंने उनके आंसू अपने होंठों से चूम लिए और फिर उनके पैर जो मैंने अपनी कोहनियों से लॉक कर रखे थे उन्हें रिलीज कर दिया.

जब मैंने अच्छे से उसकी चूत चूस ली, तो मेरे सिर को अपने हाथों में लेकर बोली- मेरी जान गिलास वाला दूध भी इसी तरह पीओगे कि गिलास से ही पीओगे?मैं- मजा तो तुम्हारी चूत के ऊपर गिरते हुए दूध को पीने में है.

डॉली के जाने के बाद मुझे लगा कि गुप्ताइन को सेट करना पड़ेगा लेकिन कैसे? यही उधेड़बुन थी. एक दूसरे को चूमते चूमते हम अन्दर सोफ़े तक पहुंचे, तो पता चला कि हम दोनों के ऊपर एक धागा भी नहीं बचा था. मैं- पक्का न … मुकर तो नहीं जाओगी न?नम्रता- न मेरी जान … जो तुम कहोगे, वो मैं करूँगी.