xxnx बीएफ

छवि स्रोत,वरुण सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी कवीता: xxnx बीएफ, सविता भाभी की ब्रा क्या खुली, समझो कामदेव और रति की सुनामी रूपी खेल शुरू हो गया.

रानी वाली सेक्सी पिक्चर

एक खास बात और थी कि जो भी लड़कियाँ अपने टाईम से लेट आ रही थी, उनको तो एन्ट्री मिल जा रही थी, जबकि लड़कों की लेट एन्ट्री बंद थी. मधु सिंह का सेक्सी वीडियो भोजपुरीचाची की चुत तक का सुहाना सफ़र-1अब तक मेरी इस चाची सेक्स स्टोरी आपने पढ़ा था कि मैं अपने दोस्तों के संग मुठ मारना सीख कर किस तरह जवान हुआ.

मैंने इसी तरह उनके चूतड़ों पर लगातार 8-10 बार मारा जिससे उनके चूतड़ों पूरी तरह लाल हो गए।उसके बाद भी वे मुझे छोड़ने को बिल्कुल तैयार नहीं थी।फिर मेरे मन में आया कि जब शुरू हो ही गया है तो एक नए एंजॉयमेंट के साथ इसे पूरा करें।मैंने उन्हें पूछा- सफीना जी, आपके घर में शहद है क्या?तो उन्होंने बोला- शहद और चॉकलेट … तुम्हें जो भी चाहिए, ले सकते हो. सेक्सी बीपी ब्लू फिल्मेंसुबह तक वो फ्लॉरा को बहन मानता था मगर अब उसी को चोदने का सोचने लगा.

कुछ पल बाद उन्होंने मुझसे कहा- क्या हम अब शुरू कर सकते हैं?मैंने ‘हाँ’ बोला तो वो तौलिया लेने के लिए कमरे में चली गईं.xxnx बीएफ: मेरे होंठ चूसते हुए वो मेरे मम्मे मसल रहा था, चूतड़ों को दबा रहा था.

एक दिन लवली के घर पर कोई नहीं था। सारे लोग किसी रिलेटिव के शादी में गए हुए थे और एग्जाम नजदीक थे, लवली नहीं गई थी। इस दौरान मैं उसके घर पर पढ़ने जाता ही था।उस दिन पढ़ते-पढ़ते काफी रात हो गई थी.मैंने उसे लिटाया और उसकी चिकनी टांगों को पकड़ कर उसकी कामुक चूत में अपनी जुबान घुसेड़ दी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में नए - xxnx बीएफ

मेरी कहानी में मैं केवल चुदाई की बातें नहीं करता, चुदाई का माहौल कैसे बना, उसकी बात करता हूँ, वही अपनी चूत और लंड का पानी निकलेगा.उसने कहा- बता यार, मैं भी सुनूं कि गांडू को कौन प्यार दे रहा है और कैसे दे रहा है.

अब मनोज बैठ कर झटके लगाने लगा और हम दोनों ने सुलेखा को अपनी बाजुओं में कस कर अच्छी तरह से सैंडविच बना लिया. xxnx बीएफ दाईं तरफ मैं, बाईं तरफ स्वान अपने लंड सफ़ेद गुड़िया के होठों से लगा कर खड़े हो गए, जबकि एंड्रयू ने उसको अपनी छाती पर लिटा कर नीचे से उसकी नर्म गुलाबी चूत को चोदना शुरू कर दिया.

मैं भी उसके ही बगल में खड़ा हो गया और मौका पाकर मैंने अपना हाथ रेलिंग के उस हिस्से पर रख दिया जहाँ पर उसका लंड टच हो रहा था.

xxnx बीएफ?

जीजाजी ने बच्चे की मालिश के लिए रखी तेल की कटोरी से दीदी की गांड के छेद पर तेल डाला और फिर अपना लंड गांड की मुहाने पर रखकर ज़ोर लगाने लगे. साली मेरे रस की भूखी!और मेरे लंड ने अपना रस उबाल कर बाहर उड़ेलना शुरू कर दिया. पण्डित जी ने मेरे स्तन के अग्र भाग को मुंह में ले लिया और चूसने लगे.

सभी की तरह मैं भी आशुतोष से गले मिला, कमेन्ट उनके भी आये- गजब का लंड है तुम्हारा, लड़कियों के साथ संभल कर करना, कहीं फट ही नहीं जाये उनकी!इतना कहने के साथ ही हँसने लगे. मैं उनके हर झटके पर ‘आआह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उफ्फ आराम से आःह्ह्ह’ बोल रही थी. अब दो मिनट के इंतजार की जगह पाँच, सात, दस, पंद्रह तो बीस-बीस मिनट का इंतजार होने लगा.

वो मुझसे लिपट गईं और मुझे चूमने लगींभाभी की साँसों की ख़ूशबू ने मुझे पागल कर दिया… और मैं पूरी तन्मयता से भाभी को चोदने लगा. भुजायें शर्ट को तंग कर रही थी साथ ही काफी मोटी भी थी जिन्हें चाटने और चूमने का मन कर रहा था. माँ के पतले गुलाबी होंठों को चूसते हुए मैंने अपनी जीभ उनके मुँह में घुसा दी और उनकी चूचियों को कस कर दबाने लगा.

मालूम है ना कि किसी लंड से कोरी चूत तक नहीं फटती, फिर आपकी तो बच्चे तक जन्म चुकी है. मैंने इसका फायदा उठाते हुए उनका नंबर ले लिया और भाभी से फोन पर बातें स्टार्ट हो गईं.

इधर सविता को नंगी देख मेरा मन करने लगा था पर मैं मेघा की चुदाई भी देखना चाहता था तो मैंने बस सविता को होठों पर चूसा और चूत पर किस किया और जाने लगा.

वो दोनों तो पूजा का नशीला शरीर देखकर बिफर ही गए… उन्होंने ऐसी ‘ब्लैक ब्यूटी’ नहीं देखी थी.

मौसी अब बहुत बूढ़ी हो चुकी है, मगर अब भी कभी कभी मेरा लंड चूस लेती है. मैंने और रिया ने एक दूसरी की तरफ देखा और दोनों एक दूसरी को देख कर मुस्कुरा उठी. उसकी चूत से रस टपक रहा था, दो-तीन बूंदें तो आस-पास लगी हुई थी और एक बूंद तो ऐसा लग रहा था अब बाहर गिरी कि तब बाहर गिरी.

बस फिर क्या था… वो समय आ चुका था, जिसका मुझे बहुत दिनों से इंतजार था. इसके बाद क्या हुआ?’‘इसके करीब 10 मिनट के बाद तुम्हारा पूरा पानी मेरी गांड में निकल गया. पानी लीजिये पापा जी, मैं चाय बना के लाती हूं!” वो बोली और किचन में चली गई.

भाभी ने बताया कि वो एक गरीब घर से थी, उसका पति नामर्द है, उसने सिर्फ घर के काम के लिए शादी की, अब तक एक बार भी उसके पति ने उसे नहीं चोदा है.

फिर मैंने थोड़ा लेफ्ट टर्न लिया और बाकी की बची हुई पिचकारी अपनी बहन के चेहरे पर खाली कर दी. वो खुद भी पीछे की तरफ चूतड़ों को हिला-हिला कर चुदाई में साथ दे रही थी।मैंने उसको गोद में उठा लिया और खड़ा होकर अपना लंड उसकी चुत में डाल दिया। वो मुझसे लिपटी हुई थी. मैं अपने हाथों से उनकी कमर को नीचे दबाकर उन्हें रोकने लगी मगर वो नहीं रुके.

ऊपर मस्त धूप थी, भाभी सुखाये हुए कपड़े लेने लगी तो मैंने पीछे से उसे पकड़ लिया. मैं उसे एंगेज्मेंट के दिन से ही अच्छा लगने लगा था क्योंकि हमारे ग्रुप में मैं अकेला कुंवारा था तो सबकी खिंचाई और मस्ती भी ज़्यादा कर रहा था. मैंने उससे उसकी शादी के बारे में पूछा तो उसने बताया कि उसका पति गवर्नमेंट सर्विस में है, घर वालों को रिश्ता पसंद था तो वो भी राज़ी हो गई.

मुझसे कई बार अपनी चूत चुदवाने के बाद भी वो मेरे साथ बिल्कुल नार्मल बिहेव कर रही थी जैसे कि हम दोनों के बीच कुछ ऐसा वैसा हुआ ही न हो या वो मुझसे चुदवाने के पहले किया करती थी.

और अचानक से सबीना शांत हो गई, उसने ढेर सारा चूत रस जमीला के मुँह में छोड़ दिया जो बीयर के साथ मिलकर जमीला के पेट में चला गया. सविता भाभी की ब्रा क्या खुली, समझो कामदेव और रति की सुनामी रूपी खेल शुरू हो गया.

xxnx बीएफ ओह्ह्ह ये लो मेरा लंड अपनी चूत में ये लो फिर से लो, ले लो मेरी रानी, मेरी जान उईई आह. कामवाली की मंझली बहू-1लेखक: अभिनव गुप्तासंपादक एवम् प्रेषक: सिद्धार्थ वर्मारात में कामवाली की युवा बहू के साथ सेक्स के बाद हम दोनों सो गए थे.

xxnx बीएफ वो अपनी आँखें फाड़े मेरे लंड को देख रही थी, उसका होंठ थोड़े से खुले हुए थे, चूचे तन कर खड़े हो गए थे, लगता था वो अपनी सुध बुध खो चुकी है. अब तो हमारी यही रूटीन बन गई, शाम को डिनर बाहर करते, घूम फिर कर रात को आते और कभी वो मेरे कमरे में और कभी मैं उसके कमरे में.

अम्मम… चाआआआटो… चाआआअटो… मेरी चूत!ऋतु की आवाज सुनकर पूजा ने नोट किया कि ऋतु तो बेड पर लेटी अपनी चूत चुसवा रही है फिर भी उसकी चूत कोई चाट रहा है और उसके भाई का लंड तो उसके मुंह में है.

इंग्लिश में चोदी चोदा

आह आह चुदक्कड़ साली… आह आज तेरी गांड तक चुद जाएगी!मैं झटकों पे झटके लगाता हुआ अपना लंड उसकी चूत की गहराई तक उतारता चला गया. मैंने शारीरिक तौर पर भले नीलम के साथ कुछ नहीं किया था लेकिन मानसिक रूप से मैं हरदम उसकी चूत चुदाई करता रहता था. टीना इशारा देगी तब।इधर टीना ने अपना पासा फेंका कि फ्लॉरा उसमें फँस जाए।टीना- एक बात कहूँ.

वो दोनों तो पूजा का नशीला शरीर देखकर बिफर ही गए… उन्होंने ऐसी ‘ब्लैक ब्यूटी’ नहीं देखी थी. उसने मुझे अपने बाहुपाश में पूरी ताकत से जकड़ लिया साथ में अपनी टाँगें मेरी कमर में लपेट के किसी आक्टोपस की तरह मुझे अपनी गिरफ्त में ले लिया. ’चूचे चूसते-चूसते मैं उसके निप्पल काट भी लेता था और दूसरे हाथ से मसल भी देता था.

तू बस मेरी बातों को मानती रहना और हाँ, सबसे पहले तू अपनी मॉम से सुलह कर ले और उनसे प्यार जता.

और ये क्या मरने की रट लगा रखी है?फ्लॉरा- मेरे स्कूल की एक लड़की को ऐसे रिएक्शन हो गया था और वो मर गई थी. मोना- नीतू सच में तूने कमाल कर दिया मगर ये कमाल तुझे कल दिखाना होगा. उसकी सॉफ्ट गांड मेरे लंड को टच करने लगी तो मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

बस रोज बच्चों से सम्बंधित बातें और कभी कभी तो हफ़्तों तक भाभी से कोई बात ही नहीं हो पाती थी. ‘उसे धोखा नहीं कहते हैं बिटिया, उसे अपने पति की तरफ निष्ठा कहते हैं, तुमको पता है, हम भी कभी पंडित रामफल के साथ सो जाया करते थे. मैंने उसे नींद से जगाने के लिए माफ़ी मांगी और पूछा कि कोई मच्छर भगाने वाली चीज़ है तो उसने बोला की ऐसा तो कुछ उसके पास नहीं था.

उसने एक झटके में अपने और कविता के कपड़े उतार दिए और दोनों हंसती हुई शावर के नीचे खड़ी हो गयीं. पीटर ने मेरे मम्मे पकड़े और फिर एक करारा झटका मारा। मेरी तो सांस ही अटक गई.

मुझसे रहा नहीं गया मैंने रफ्तार और बढ़ाई, वह भी तड़प रही थी, मैंने कहा- मैं झड़ने वाला हूं. मुझे मालूम था कि अगर एक बार नीचे से निकल गई तो फिर दुबारा हाथ नहीं आएगी, मैंने उसको जोर से पकड़े रखा और उसके सयंत होने तक धक्के न लगाने का निर्णय ले लिया. उसकी सिसकारियों की आवाज़ बढ़ती जा रही थी और साथ में उसके बदन का ताप भी.

एलोपैथिक दवा का साइड इफेक्ट होता है, पर इसे कभी-कभी संयमित तरीके से लिया जा सकता है, टैबलेट सेक्स से एक घंटे पहले खा लेना चाहिए.

काफी देर तक चाची की चूचियों से खेलने के बाद मेरा दिमाग अब उनकी चूत की तरफ गया. मैंने अपना एक हाथ सुलेखा की गांड के नीचे ले जा कर, अपनी एक ऊँगली नीचे से पहले उसकी चूत में डाली और फिर जब वो अपने टांगों को सिकोड़ने लगी और बहुत तेज तेज सिसकारने लगी तो मैंने अपनी ऊँगली वहां से निकाल कर उसकी गांड में डाल दी जिस से वो बहुत तड़पने लगी. मैंने दिल ही दिल मैं कहा- छोड़ मत दे मादरचोद, चोद दे!जब वो मेरे कार तक आया तो मैंने उसे थैंक्स कहा.

यह कैसे हुआ?आइए बताता हूं आपको उसके सच की कहानीशुरुआत के दिनों में उससे मेरी काफी बात हुई तो धीरे-धीरे उसने खुलते हुए बताया कि उसकी माँ बहुत ही अय्याश किस्म की औरत है, उसका अफेयर तो नहीं है किसी से लेकिन बहुत से मर्द को वह घुमाती है. चंगेज़ का चिकना, नंगे टोपे वाला मोटा लंड फचाफच की आवाज के साथ अन्दर-बाहर होने लगा, तभी रुस्लान ने भी पीछे से आकर अपना और भी मोटा लंड मेरी पत्नी की रस भरी गांड में ठूंस दिया.

घर का दरवाज़ा बाहर से बंद था और मेरी बीवी पड़ोस के फ्लैट में गई थी. मुझे बड़े प्यार सेचाचा ने चोदाथा पहली बार… दर्द तो बहुत हुआ था लेकिन मजा भी आया था. चलो चूसना कैंसल, ये बताओ आगे से करना पसंद है या पीछे से या सिर्फ़ करने से मतलब है.

मुठ कैसे मारे

अपने लंड मेरी चुत के अन्दर पेल दो।मैंने कहा- ठीक है।फिर भाभी मेरी जाँघ के ऊपर बैठ गईं और मेरे लंड पर कन्डोम लगा कर अपनी चुत के अन्दर लेने लगीं। पहले धीरे-धीरे नीचे को हुईं और मेरा लंड उनकी चुत में अन्दर घुसता चला गया। लंड जैसे ही घुसा.

मेरी आँखों के सामने मेरा पसंदीदा चित्र उभर आया था… मेरी प्राणप्यारी बीवी एक हाथ से मेरा लंड सहला रही थी तो अपने दूसरे हाथ में एंड्रयू का मोटा लंड थामे उसे अपने मुंह में अन्दर-बाहर करते हुए चूस रही थी. हमें जब तक फ्रेशर नहीं मिल जाता था क्लास के लड़कियों से बात करना भी मना था. मेरी बड़ी चाची दिखने में एकदम गोरी हैं, उनका फिगर साइज़ 34-28-34 का है.

टीना- अरे अब जाने दे, तू जब उठ गया था तो कुछ बोला क्यों नहीं, बस इसी लिए मुझे गुस्सा आया और सुमन जो कर रही थी, मैंने ही तो इसे कहा था ताकि तुझे आराम मिले. उसके रंग-ढंग को देख कर कोई भी बता सकता था कि वो बहुत ही चुदने वाली लड़की है. साहू सेक्सी वीडियोअब मैंने ध्यान से उसकी बॉडी की तरफ देखा, उसके हाथ काफी मजबूत थे और उसने अपने दोनों हाथों को अपनी जिप के पास नीचे ले जाकर एक दूसरे हाथ में उंगलियाँ फंसाकर रखा हुआ था जिससे उसकी जिप वाला भाग उसके हाथों के नीचे दबा हुआ था.

सैर करते वक्त उसकी बड़ी गांड और मस्त चूचियाँ सबका ध्यान अपनी और आकर्षित करती थी. मैंने लड़की के मुंह से अपना लंड निकालते हुए उसे स्वान का लंड चूसता छोड़ दिया और दोबारा अपना लंड उसके होठों के बीच जगह बनाकर अन्दर ठूंस दिया.

मैं- अकेले बोर नहीं होती आप?भाभी- हाँ लेकिन क्या कर सकते हैं, मुझे ज्यादा फ्रेंड बनाना भी पसंद नहीं हैं न. उन्होंने मेरे सीने के हर हिस्से को चूमा और जब वो शुरू हुईं, तो पूरा सीना समझो चाट ही लिया. शायद नेहा को पहले दिन देखा लंबा लौड़ा दिखाई दे रहा हो।इस तरह हम रोज बात करने लगे, पर एक बात नोटिस किया की वो कई बार मेरे लौड़े की तरफ ही देखती रहती।मैंने एक दिन उसे लौड़े को देखते हुए देखा तो कहा- देखना है?तो वो अचानक से सकपका गई, उसकी चोरी जो पकड़ी गई थी, नेहा मेरी तरफ देखती और बोली- क्या?मैंने कहा- जो तुम बार बार देख रही हो.

अब हम दोनों ही अपनी पार्टनर की चूचियों को तेजी से मसलने लगे, जिससे वो और भी मस्त होकर अमरीकन लंड को अपने अन्दर लेने लगी और स्वान संग हमारे लंड चूसते-2 उसने दांतों से हल्का-2 काटते हुए, स्वान के लंड को ऊपर को उठा दिया और लटकते हुए अण्डों को अपनी गुलाबी जीभ से चाटने लगी. अब वह मेरे लंड पर झूल रही थी और मैं उसे दीवार से सटा कर चोद रहा था. दो मिनट तक मामा ऐसे ही धीरे-धीरे लंड को अन्दर-बाहर करते रहे और मेरे होंठ को चूसते रहे.

भाई के लंड पर मेरा वीर्य लगा होने की वजह से लंड को अन्दर जाने पर उसे तो कोई प्रॉब्लम नहीं हुई मगर मेरी गांड फट गई.

अब सासू माँ ने जमाई के लंड को हाथों से पकड़ कर और अन्दर तक जाने से रोका मगर जमाई बाबू ने सासू माँ के हाथों को अपने लंड पर से हटा कर उनके मुँह में एक जोर का धक्का दे दिया. रूबी ने मजाक में कहा- यदि राज का लंड तुमने ले लिया तो चूत इतनी खुल जायेगी कि डिलिवरी के टाइम कोई प्रॉब्लम नहीं होगी.

इसके बाद जब भी हम कभी मामा के घर जाते या मामा लोग मेरे घर आते, तो मैं और मेरी मामी खूब मस्ती करते. उसी पल सुमन की चुत का लावा बह गया वो कमर को हिला हिला कर झड़ने लगी और गुलशन जी सारा रस चाट गए. मैंने उसे फिर बेड पर कमर के बल लिटाया और उसकी टांगों को अपने कन्धों पर रख कर चोदने लगा.

करीब 5 मिनट ऊपर नीचे-होने के बाद मेरा लंड गीली चुत की वजह से स्लिप करके बाहर निकल गया।मैं- भाभी आप लेट जाओ. चाची ने खाना तो सुबह ही बना दिया था तो वो टीवी देखने लगीं और मैं भी उनके पास ही बैठ गया. माँ भी थोड़ा उठ कर बैठ गई अपने ब्लाउज को पूरी तरह से उतार दिया, तभी माँ ने मेरे सिर को अपने हाथों से पकड़ कर मेरे मुँह को अपनी चूचियों पर दबा दिया.

xxnx बीएफ अन्तर्वासना पर मेरी यह पहली सेक्स स्टोरी है। यह कहानी 4 साल पहले शुरू हुई थी, तब मैं एग्जाम की तैयारी कर रहा था. उसने बताया कि वो एक मैरिड औरत है और उनके पति आउट ऑफ़ इंडिया जॉब करते हैं और वो इधर एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करती है.

सेक्सी वीडियो हिंदी में चोदी चोदा

अब हम उस मुकाम पर आ चुके थे, जहाँ से परम आनन्द की सीढ़ियाँ शुरू हो जाती हैं. उसने पूजा और अपनी चूत की तरफ इशारा करके दोनों को अपनी चोइस लेने को कहा. दोस्तों, आप मुझे मेरी इसजवानी की कहानीपर कमेंट्स मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें.

सोनू ने बताया कि कल उसका बहुत दिल किया तो उसने अपनी उंगली से आग शांत करने की कोशिश की परन्तु मजा नहीं आया. एक- खुले आसमान के नीचे चुदनादो- रंडी बनना!कसम से… मजा आ रहा था!मेरी चुत चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके ज़रूर बताइएगा. देसी देहाती सेक्सी वीडियो एचडीवैसे तो मैं सुबह 5-6 बजे उठ जाता हूँ लेकिन शादी में थकान होने के कारण मां ने सोचा होगा कि आज इसको आराम करने दिया जाए… क्योंकि मां तो आखिर मां ही होती है ना… वो अच्छी तरह जानती है कि उसके बच्चे को कब किस चीज़ की कहाँ पर क्या ज़रूरत है.

राजीव ने मेरी तरफ देखा, जैसे कह रहा हो ‘आना है या नहीं?’मैंने एक पल सोचा और कहा- मंजूर है!राजीव के चहरे पे एक लम्बी मुस्कुराहट छा गयी.

मैं भी खुश हूँ, फिर मैंने काजल भाभी की सहेलियों के साथ भी चुदाई की. जैसे ही मैंने रानी की टाँगें ऊपर कीं, उसने भी तुरंत अपनी चूत अपने हाथों से खोल दी.

खुद को ठीक ठाक करने के लिए हम वाश-रूम पहुंची ही थी तो देखा कि वही लड़का वहाँ खड़े होकर हमारी तरफ देख रहा था. मैं बोली- मुझे ज़ोर की सू सू आ रही है, कभी भी सू सू निकल सकती है, आपकी मुँह में चली जाएगी. थोड़ी देर में मेरी डोरबेल बजी, मैंने डोर खोला तो देखा कि वही भाभी थीं.

दोस्तो, आपके भेजे गए मेल से मुझे पता लग रहा है कि आप सभी को मेरी स्टोरी बहुत पसंद आ रही है.

तुझ पर गुस्सा जो किया था। ये सब तेरे लिए किया सरप्राइज है बेटा हा हा हा हा तू उल्लू बन गई।हेमा की बात सुनकर सुमन के तो पैरों तले ज़मीन ही निकल गई, उसको यकीन ही नहीं हुआ कि इतने मॉर्डन ड्रेस वो पहनेगी और भी इतने सारे।सुमन- सीसी क्या सच माँ. वो अपनी आँखें फाड़े मेरे लंड को देख रही थी, उसका होंठ थोड़े से खुले हुए थे, चूचे तन कर खड़े हो गए थे, लगता था वो अपनी सुध बुध खो चुकी है. मामा बोले- मैं कोई शहर छोड़ कर नहीं ना जा रहा हूँ, हर रोज तो मुझे 1 घंटा पढ़ाने के लिए आना ही है.

सेक्सी वीडियो 2001 का एचडीअस्पताल में लंड की खोज-1अस्पताल में लंड की खोज-2आपने मेरी इंडियन गे सेक्स स्टोरीज में पढ़ा कि मैं लंड चूसने का शौकीन हूँ लेकिन मुझे जो जवान मिला वो सिर्फ मेरी गांड मारना चाह रहा है. स्वाति जैसी लंबी, गोरी एंव सुंदर है, वैसे ही चन्दन भी गोरा, चौड़े सीना वाला, छरहरा शरीर का गोरा लड़का है और वह भी एक बैंक में कार्य करता है.

एक्स एक्स इंग्लिश पिक्चर वीडियो

मेरी ही मौजूदगी में निखिल नीलम को अपने गले लगाता था, उसके गालों को चूमता था, उसको कपड़े पहनने भी मदद करता था. फिर मैंने सुलेखा की पीठ पे जीभ से मसाज़ की, जिससे सुलेखा को और मज़ा आने लगा. मैंने उसकी ब्रा को भी निकाल दिया और उसकी चूचियों को हाथों में भर कर बारी बारी पीने लगा, साथ में उसके गालों और होंठों को चूसता रहा.

‘और बताइए का चल रहा है आज कल?’ चुटकी लेते हुए अंगूरी ने भरभूती से पूछा. खाना ठंडा हो रहा है।टीना ने फ्लॉरा को संजय के पास बिठाया और सब खाने का मज़ा लेने लगे। वहीं फ्लॉरा बार-बार संजय को देख कर मुस्कुरा देती। ये सब देख कर संजय का लंड तनाव खाने लगा।सब हँसी-मजाक करते हुए खाना खा रहे थे। बीच-बीच में टीना थोड़ी सेक्सी बातें भी कर रही थी. अब तक जो लड़के चुपचाप लड़कियों का लाइव शो देख रहे थे, अब ये सब उनके बर्दाश्त के बाहर हो चुका था और अपने तने हुए लंड लेकर उन्होंने जो लड़की मिली उसे दबोच लिया।इस तरह से एक बार फिर से चोदा-चोदी दौर शुरू हुआ.

साथ में उसके मम्मों को भी दबाने लगा।मोना- ये तुम क्या कर रहे हो सुधीर. मैंने उसको कहा- ये सब गलत है मानसी और फिर तू मुझसे प्यार भी तो नहीं करती. मैं रुका हुआ हूँ।वे सब चले गए, भाई साहब रुके रहे। मुझे ड्यूटी पर छोड़ने वाले डाक्टर साहब आ गए.

हो सकता है कि वो अभी आ जाएं।यह सुनकर दूध वाले की गांड फट गई और वो जल्दी से अपने कपड़े ठीक करके चला गया, जाते समय उसने मुझे अपने नम्बर पर कॉल करने का कह दिया।दूसरे दिन मैंने उसे फोन कर दिया और 11 बजे तक आने को कह दिया। मैंने उससे कहा कि आने से पहले एक मिस कॉल जरूर दे देना, यदि पति नहीं हुए तो मैं तुम्हें कॉल करूँगी. सुमन अब गुलशन जी के ठीक सामने खड़ी थी मगर उसने एक ग़लती कर दी उसे जल्दी वहां से निकल जाना चाहिए था क्योंकि चुत की जगह पे हल्का सा गीलापन था और गुलशन जी की नज़र सीधी वहीं चली गई.

फिर उसने मुझे नीचे लिटा दिया और वो मेरे ऊपर आकर मेरे लंड को चूत में लेकर उछल उछल कर चुदवाने लगी.

खैर, वीजा वगैरा की कारवाई करके हम दोनों सहेलियां थाईलैंड जाने के लिए तैयार हुई. जवान चाची की सेक्सी वीडियोअब मनीष ने नीचे लेट कर मेरी चूत में अपना लंड सरकाया और यश ने पीछे से बिना कोई वार्निंग ‘आअह्ह मेरी रांड… आआह्ह्ह… ले’ कह कर एक ही झटके में जड़ तक लंड अंदर कर दिया. मारवाड़ी सेक्सी लंड वाली‘मेरे राजा सुनो, धक्के लगाना बन्द करो और चुपचाप पड़े रहो चूत में लंड फंसाए, आप हिलना नहीं बिल्कुल. उसके सामने वाली बर्थ पर एक ताजा ताजा जवान हुई छोरी थी जो किसी मोटी किताब के पन्ने पलट रही थी और एक नोटबुक में कुछ लिखती भी जा रही थी साथ में बार बार अपना मोबाइल भी चेक करती जाती, शायद उसका कल कोई एग्जाम था जिसकी तैयारी में थी.

इस बार जैसे ही मेरे लंड का सुपारा चूत के छेद में फंसा मैंने नीचे से कमर को थोड़ा झटका दिया, जिससे सुपारा चूत में घुस गया.

और पूरा लंड पेलने के बाद मैं भाभी की चुत में हल्के-हल्के झटके मारने लगा. तो मैंने उनको पूछा- क्या मैं आपकी हेल्प कर सकता हूँ?उसने मुझे कहा- मुझे बहुत दूर जाना है. कुछ देर बाद निशा ने मेरे बताये हुए होटल में मेरे कमरे पर नॉक किया, मेरे दिल की धड़कनें बहुत तेज हो गई, ऐसा पहली बार होने जा रहा था कि मैं किसी लड़की से इस साईट के जरिये ऐसे मिलने वाला था.

उसने मुझे फिर से देख लिया मगर आज भी उसने कुछ नहीं कहा और वो अपना काम दिखा कर चली गई. तभी तेज हवा के कारण अधखुली खिड़की का पल्ला धाड़ से खुला और बंद हो गया. अपनीसफाचट चिकनी चूतदेखकर बहूरानी ने प्रसन्नता से चूत पर हाथ फिराया और खुश हो गई और अपनी झांटें अखबार में समेट कर डस्टबिन में डाल दीं और नहाने चली गई.

मार्केट सेक्स

दोस्तो आपने मेरी भाई बहन चुदाई स्टोरी में अब तक जाना कि मेरी चचेरी बहन अनुराधा मेरे साथ पूरा मजा लेते हुए ओरल सेक्स करने लगी थी. ’तिवारी जी के इस सवाल पे अनीता हंस पड़ी और तिवारी जी को एक किस कर लिया, अभी वो हटी ही थी तिवारी से पीछे कि तभी विभूति घर में हाज़िर हो गया, अनीता ने बड़ी ही मुश्किल से वो काँच से बना डिलडो अपने गाऊन में छिपाया और अपने आपको ठीक किया. मानसी मुझे पागलों की तरह चूम रही थी और अब वो कभी ना लौटने वाली गाड़ी में सवार हो चुकी थी.

वहाँ हमारी कंपनी के दो लोग दीपक और शशांक थे जिनके साथ मुझे नीमच और आस पास के मार्किट को देखना था.

उस दिन मेरी बहनें स्कूल चली गईं और मैं सर दर्द का बहाना बना कर स्कूल नहीं गया.

सुमन बहुत देर तक अपने आपसे बातें करती रही, फिर कब उसकी आँख लगी, उसको पता भी नहीं चला. इन दोनों में जब सेक्स की बातचीत होने लगी तो सविता भाभी ने अपने जीवन की रंगीनियों की परत खोलनी शुरू कर दी. marathi सेक्सी व्हिडिओउसने बताया कि उसे एंग़जमेंट के दिन से मेरा स्वभाव अच्छा लगा और वो मुझे चाहने लगी है, मेरे लिए कुछ भी कर सकती है रात की बातों ने उसकी सेक्स की भावनाओं को जगा दिया है.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से दबा लिया और लंड डाल कर रुक गया. ऋतु ने उसे फिर भी नहीं छोड़ा और पूजा के उठते हुए चूतड़ों के साथ वो भी उठ गई और रसपान जारी रखा. कुछ ही देर में उसका शरीर अकड़ने लगा औरउसकी चूत ने पानी छोड़ दिया… मैंने उसका सारा पानी पीकर साफ कर दिया.

थोड़ी देर तक हल्की हल्की किस के बाद उसने मेरा लेफ्ट चूचा पूरा का पूरा अपने मुँह में ले लिया और चूस लिया. वहाँ पहुँचते ही भैया भाभी बहुत खुश हुए और दोनों ने मेरी बहुत अच्छी खातिर की.

नीतू ने पहले तो नानुकुर की, मगर बाद में वो नंगी हो गई और मोना तो पहले ही पूरे कपड़े निकाल चुकी थी.

लेकिन मुझे बहुत मज़ा आ रहा है मेरे राजा…” दीदी अपनी चूत उचकाती हुई बोली- थोड़ी देर और… बस मैं झड़ने वाली हूँ!और जीजाजी से चिपक कर झड़ने लगी. मैं आपकी नाइटी खोलता हूँ।भाभी भी मान गईं और उन्होंने मेरी शर्ट को खोल दिया और साथ ही साथ मेरे पैंट और चड्डी को भी उतार दिया।उसके बाद मैंने नाइटी खोली।ओह माय गॉड. रात को जब भैया चले गये तो मैं भाभी के पास गया और उनसे बातें करने लगा.

कुछ भी सेक्सी पिक्चर मैंने फिर पूछा- आप अभी घर आ सकते हो?तो मामा का रिप्लाइ आया- क्यों?मैंने मैसेज किया- नीचे बहुत गुदगुदी हो रही है. उन्होंने मेरी तरफ देखा और बोली- सॉरी राज, मैं बहुत थक गई थी, इसलिए नींद में पता ही नहीं चला, आपको बुरा लगा होगा.

मैं लण्ड को पूरा चूत में ठोक कर उसके ऊपर पसर गया और सोनू को अपनी बाहों में जकड़ लिया. मैंने सबीना की चूत चाटने लगा और जमीला से बोला जमीला डार्लिंग, सबीना की चूत तुम चाटो, मैं इसकी गांड चोदता हूँ. घर की काम वाली बाई, पड़ोस की शर्मा आंटी, वर्मा आंटी की बेटी, कोयल आंटी की बहन, गुप्ता जी की काम वाली, आस पड़ोस में ही मैंने अपनी 10 से ज़्यादा औरतों को चोद दिया था.

ब्लू फिल्म सेक्सी ओपन

मैंने मामा जी के लिए अपनी चुत की झांटें भी साफ़ कर ली थीं ताकि उनको चिकनी चुत का सरप्राइज दे सकूँ. सुबह वो उठी तो पापा जी का लंड अकड़ा हुआ था, जिसे देख कर सुमन के मुँह में पानी आ गया. मैं वहां से झट से निकला अपनी बाइक पर और उनके बताए एड्रेस पर पहुँच गया। उधर जाकर डोरबेल पुश किया.

मैंने कहा- वैशाली, जिंदगी का मजा लेना हो तो अपनी पैन्टी खुद निकालो और फिर मेरा लंड पैंट से बाहर निकालो. थोड़ी देर में उसे भी मज़ा आने लगा, वो कहने लगी- चोदो मेरी जान, मेरी चूत फाड़ दो.

सारा दिन वहाँ वक्त बिताने के बाद शाम को डिनर के टाइम पर ही वापस आया.

बस मैंने लंड को उसकी चुत के होल पर सैट किया, थोड़ा वहाँ लंड से चुत की फांकों को रगड़ा. ’‘अच्छा अगर दुबारा मेरा मन किया तो क्या मैं दुबारा आ सकता हूँ?’‘मैं खुद ही बुला लूँगी और जब तुम्हारा मन हो मुझे कॉल कर देना. नहीं तो सूसू के दाग कपड़ों पर लग जाएंगे।पूजा- ठीक है मामू ये टी-शर्ट भी देखो गीली हो गई अब मॉम गुस्सा करेगी।संजय- तू एक काम कर ये टी-शर्ट भी उतार कर मुझे दे दे.

नीचे काले रंग की इलास्टिक वाली कैपरी और ऊपर लाल रंग का चिपका हुआ स्लीवलेस टॉप पहन रखा था. उम्मीद है मेरी ये कहानी भी आप सभी को बाकी कहनियाँ की तरह पसंद आएगी. गुलशन- अच्छा तो ये बात है? कोई बात नहीं अबकी बार उसका भी इंतजाम कर दूँगा.

सन्नी और विकास बारी-बारी से देख रहे थे कि कैसे वो दोनों नंगी होने के बाद फ्रेंच किस कर रही हैं, एक दूसरी के चूचे दबा रहीं हैं.

xxnx बीएफ: तो मित्रो मैंने जाने के लिए तत्काल में अपना आरक्षण सुबह ही करा लिया था. इतना कहने के साथ ही वोमेरे लंड को अपने मुंह में लेकर चूसने लगी, मैं धीरे-धीरे झड़ने लगा और वो मेरा माल को पीने लगी फिर अपने मुंह को पौंछते हुए बोली- यार तेरा लंड अभी भी तना हुआ है, जब कुंवारी लड़की की बुर चोदेगा तो उस लड़की की तू गांड फाड़ने के साथ-साथ उसकी जान भी निकाल लेगा.

यह बात गर्मी के दिनों की है, जब मेरे शौहर काम के सिलसिले में आउट ऑफ कंट्री गए हुए थे, उस समय बच्चों के छुट्टियां चल रही थीं, इसलिए घर में मैं, मेरा लगभग जवान हो चुका बेटा और उससे छोटी बेटी घर में अकेले थे. अब उसने इंटरेस्ट लेते हुए पूछा- तेरी कोई गर्लफ्रेंड भी है क्या?मैंने कहा- मुझे लड़कों में इंटरेस्ट है और यहाँ सोनीपत में मौसी के लड़के की शादी में मुझे एक लड़के से प्यार हो गया और उसने मेरी गांड भी मार ली. उसे मज़ा आने लगा और वो जोर-जोर से सिसकारियां लेने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’अब तो जैसे वो इस दुनिया से दूर चली गई हो.

सुमन भाभी इस चुत चुदाई से बहुत खुश हुईं और भाभी ने कहा- सैम पहली बार मैंने इतना पानी निकलते देखा.

जमीला मस्ताना को जोर जोर से चूसने लगी और काफी देर से शांत मस्ताना ने अपनी मलाई फेंकनी शुरू की जो कुछ तो बीयर के साथ जमीला के मुँह में गई कुछ पिचकारी उसकी चुचियों पर गिरी जो बीयर के साथ बह कर जमीला की चूत से होते हुए सबीना के मुंह से पेट में चली गई. फिर मैंने उनकी नाभि में किस किया, तो भाभी और तेज सिसकारियाँ लेने लगीं- प्रिन्स आआहह. तो वो बोली- यह अब के लिए कह रहे हो या सुबह के लिए?हम दोनों मुस्कुरा दिए.