बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,द एक्सएक्स on hold

तस्वीर का शीर्षक ,

भक्ती सेक्सी: बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ, इसके बाद उसने बड़े पेशेवराना तरीके से दारू की बोतल खोली और गिलास में डालने लगी.

सेक्सी वीडियो गांव की लड़कियों की

विक्की एक भूखे कुत्ते की तरह बैठ कर मेरे ऊपर नीचे हिलते बूब्स को देख रहा था. हिंदी सेक्सी मूवी फिल्म वीडियोमुझे अच्छे से तैयार होना जरूरी था क्योंकि ये खुशी की इज्जत, साख और पसंद का सवाल था.

मैंने उसकी टांगों को फैलाकर भाभी की चूत में लंड पेल दिया और 10 मिनट तक उसकी जोरदार ठुकाई की. राजस्थानी सेक्स कॉमफिर उन्होंने मुझे बैठा कर खुद ही मेरी स्कर्ट और टॉप को निकाल दिया और मेरे बड़े बड़े मम्मों को हाथों से मसलने लगी.

उसी दिन दोपहर बाद साढ़े पांच बजे शर्मिष्ठा और मेरा बेटा अभिनव अस्पताल से घर आ गए.बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ: अरे यार ये कसम वसम मत दिलाया करो, अब बताना भी तो आसान नहीं कैसे बताऊं?” मैंने टालते हुए कहा.

मैंने भाभी के गालों पर और गर्दन के नीचे हाथ फिराया तो भाभी बोली- ओ मेरे राजा, तुमने तो आज मेरी जान ही निकाल देनी है, इतना प्यार से चोदते हो, इतना सुख तो मुझे कभी नहीं मिला.मेरा अण्डरवियर नीचे खिसका कर शांति ने मेरा लण्ड निकाल लिया और सहलाने लगी.

करीना का सेक्सी फोटो - बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ

जोदिल्ली सेक्स चैट वेबसाइटकी एक बहुत ही बोल्ड, शरारती और कामुक वेबकैम मॉडल के साथ हुआ था.रिदम के साथ तीन-चार बार ऊपर नीचे होने के बाद उसने उस डिल्डो पर कूदना शुरू कर दिया.

साथ में व्हिस्की शॉप के पास में एक प्लास्टिक आइटम बेचने की दुकान से दो लीटर की केतली में दो बियर कैन डाल लीं. बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ हमारे सामने ही संजय ने भी गीत को चूतड़ उठाने का इशारा किया और गीत ने जैसे ही अपने चूतड़ उठाये तो संजय ने उसकी पैंटी भी उसके जिस्म से अलग कर दी.

अब आगे पढ़ें बाप बेटी का सेक्स:होटल मूनलाइट पहुंच कर रमेश सीधा रवि के रूम पर पहुंचा.

बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ?

फिर उससे अलग होकर किनारे बैठ गया और रमेश से बोला- गुड मॉर्निंग यार, तू कब से उठा हुआ है?रमेश- बस तभी से जब तू इस रंडी के जिस्म से लिपट कर सोया हुआ था।रवि रिया की गांड को सहलाते हुए बोला- लिपटूं क्यों ना … साली चीज़ ही ऐसी है … क्या माल है ये! मगर देखने से यह किसी ख़ानदानी परिवार की लगती है।रवि की बात पर रमेश मुस्करा दिया. मैं अपने दूसरे हाथ से भाभी जी की चुत में उंगली करने लगा और भाभी जी को मस्त करने लगा. अभी मेरा आधा लंड ही अन्दर गया होगा कि भाभी एकदम कुंवारी लड़की की तरह तड़फ कर बोलीं- उफ्फ कितना बड़ा है तुम्हारा लंड … विनोद का तो इससे जस्ट आधा और पतला सा है … प्लीज़ अभी धीरे धीरे करो.

मैं किसी महिला, आंटी, भाभी या जवान लड़की के साथ सेक्स इच्छाओं को पूरा करना चाहता था और उसके साथ सेक्स का मजा लेना चाहता था. मुझे भाभी की और भी करतूतों का पता था, क्योंकि वो यहीं इंदौर में ही रहती हैं. मेरा लौड़ा भी तन कर कड़क हो चुका था जो मेरी जीन्स में डंडे जैसा दिख रहा था.

वो भी मेरे गालों को चूमते हुए मेरी पीठ को अपने दोनों हाथों से सहला रही थी. उनकी चूचियों का घर्षण मुझे आंदोलित कर गया और भाभी ने भी हग करते समय मेरे कान में पूछा कि आम कैसे लगे?मैंने भी इधर उधर देखा और उनकी चूची को दबाते हुए बोला- आम का स्वाद चूसने पर ही मालूम पड़ेगा. ” उसने दीवार पर लगी घड़ी देखते हुए कहा।क्या हुआ?”प्रेम … अब मुझे जाना होगा …मुझे लगा नताशा अब बाथरूम जाना चाहेगी। मेरा मन तो कर रहा था उसे अपनी गोद में उठाकर बाथरूम में ले जाऊं और उसकी सु-सु से निकलने वाली सीटी का मधुर संगीत सुनूँ। उसकी गुलाबी कलिकाओं से मूत की पतली धार को टकराते हुए देखने का दृश्य तो बहुत ही नयनाभिराम होगा आप सोच सकते हैं।अगर बाथरूम जाना हो तो हो आओ.

पम्मी के मोटे होंठ, नुकीले स्तन, उभरी हुई गांड अपने आप में कयामत थी. उसकी आवाज निकल रही थी- आह जान आज मुझे वह खुशी दे दो … जिसके लिए मैं इतने बरसों से तरस रही थी … मैं प्यासी हूँ … मेरी प्यास बुझा दो.

अनीता ने कहा- अच्छा वो तो रेशमा थी!मैंने कहा- नहीं, वो तो काव्या थी!अनीता ने तुरंत कहा- तुमने कैसा जाना?मैंने कहा- पहली बात तो उसकी हाइट कम है और धंधे में पहला दिन है … तो संकोच और हया का स्वाद भी उसके चुंबन में था.

ऐसे भी ज्यादा अमीर घरों में सेक्स संबंध कौन किससे रखता है, इसका तो अता-पता भी नहीं रहता।मेरी सहमति पाकर खुशी और भी ज्यादा खुश हो गई, उसने ‘आई लव यू’ संदीप! तुम बहुत अच्छे हो, टिकट बनने के बाद मिलती हूँ, अभी कुछ दिन व्यस्त रहूंगी.

जब मैंने अंतर्वासना पर अपनी पहली कहानी लिखी थी तो मुझे बहुत सारे ईमेल आए थे. रमेश ने ऐसे ही चूसते हुए रिया को अपनी गोद में उठा लिया और रिया भी दोनों पैरों को रमेश की कमर पर कसते हुए उसके ऊपर बंदरिया के जैसे लटक गयी. यह कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी मेरी रीयल स्टोरी है जो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में है.

तभी मीता बोली- क्यों अंकल मज़ा आया ना?मैं- हां मेरी जान!ये कह कर मैंने उसके होंठों को चूम लिया. साली जी के पांव जब नीचे की तरफ आते तो मेरे लंड का सुपारा भी फोरस्किन से बाहर निकल झांकने लगता. उस मकान में मेरे मकान मालिक और उनकी पत्नी और दो बेटियां भी थीं, जिनमें से एक की शादी हो गयी थी और वो चंडीगढ़ में जॉब करती थी.

पता नहीं, इस खेल में कब वो नाख़ून से मेरी चमड़ी पर रेखाएं खींचने लगी.

इस बात पर वो दोनों मुस्कराने लगीं और खाना बनाते हुए चुदाई की बातें करने लगीं. क्या मेरी बात समझ में आई तुम्हें?शमा ने हां में सर हिलाया, तो शाही सर ने अपने बटुए से 500 का एक नोट निकाला और बड़ी बेतकल्लुफ़ी से शमा के ब्लाउज़ में फंसा दिया. उसके बाद बहुत से पाठकों ने आग्रह किया, तो मैं उसके आगे की फ्रेंड वाइफ सेक्स स्टोरी जो कि एकदम सत्य घटना पर आधारित है.

’मैंने भी सूखा लंड बाहर से सूखी और अन्दर से गीली चूत में उतार दिया. नेहा ने अपने एक हाथ से वक्ष का भूगोल संभाल लिया और दूसरे हाथ से मेरे बालों को सहलाने लगी. उसके बाद सोहा आई … मेरी आंखों पर पट्टी बंधी थी, फिर भी मैं सबको पहचान पा रहा था.

हर तरफ सजावट और खाने-पीने की तैयारियों के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था मजबूत की जा रही थी.

भाभी मुझे गाड़ी धीरे चलाने को बोल रही थीं और मैं कन्फ्यूज था कि पता नहीं इनके मन में क्या चल रहा है. बाथरूम में नेहा की नग्न अवस्था में मौजूदगी और बाथटब पर उसका साथ होना ही मेरे लिए रोमांचक अहसास था, पर मैंने अपने बेकाबू मन को संभाले रखा और नेहा के अगले उपक्रम की प्रतीक्षा करने लगा.

बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ पर दरवाजे से पहले ही रूक गई और वापस आकर कहा- सर एक और बात है!मैंने कहा- हाँ हाँ कहो?नेहा ने कहा- सर कुछ लोगों को समय-समय पर बिन मांगे सुविधा लेना अच्छा लगता है. मैंने नेहा से कहा- नेहा, तुम सच में हेरोइनों से भी बढ़कर सुंदर हो, मैं तुम्हें पाने के लिए बेचैन था परंतु तुम मुझे घास ही नहीं डाल रही थी.

बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ मैंने गहरी सांसें लेना शुरू किया और अपने लंड को छेड़ना बंद कर दिया. मेरी ब्रा मेरी चुचियों से एक झटके से सरक कर नीचे आ गयी और मेरे 32 इंच के बड़े बड़े मोटे चुचे उनके सामने उछल पड़े.

यहां तक कि उसहैदराबादी वेबकैम मॉडल वानीके साथ एक दो बार चैट करने के बाद मैं अपनी वाइफ के साथ भी अच्छा सेक्स करने लगा हूं.

कार्टून वाले बीएफ

भाभी- प्लीज़ शशि कहो मुझे!मैं- शशि, मैं एक बात पूछ सकता हूँ?भाभी- हां, अब तुम कुछ भी पूछ सकते हो और अपने मन की कुछ भी बता सकते हो. ये लोग यहां रात में अकेले कैसे रहेंगे?इस पर भैया बोले- इसी लिए मैंने तुमको यहां बुलाया है. फिर हमने जमकर सेक्स चैट किया।तब कुसुम ने विदा लेने से पहले कहा- कभी मैं भी तुम्हें मिलने बुलाऊंगी तो आओगे ना??मैंने हाँ कहा.

दोनों मेरे लंड से चुदकर इतनी अधिक खुश थीं कि मुझे 20000 रुपये देने लगीं. मैं बेड पर बैठा और स्वरा जमीन पर बैठ कर चाय पीने लगी तो मैंने जिद करके उसे बेड पर बिठा लिया. साली जी ने अपनी दीदी के सारे जेवर … माथे का टीका, झुमके, हार, चूड़ियां, अंगूठियां, करधनी, पायल सब कुछ पहिन लिया था और वो अपनी दीदी से भी कई गुना खूबसूरत लग रही थी.

नेहा के मम्में गीत के मम्मों से थोड़ा बड़े हैं और मैंने गीत की एक चूची को अपने होंठों में ले लिया और उसे चूसता हुआ उसके ऊपर अपनी जीभ घुमाने लगा.

मैं रण्डी हूँ तुम्हारी।हम दोनों अब क्लाइमेक्स पर पहुँचने ही वाले थे. यदि साइज़ का जिक्र करूं तो उसके निप्पल तकरीबन पौन इंच से कुछ ज्यादा ही लंबे हो गए थे. हरामजादे, तुम पहले से ही गर्म हो रखे हो! क्या मालकिन की चूचियों को देखकर ऐसा हुआ है?” कहते हुए मैंने उसके लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही ऐेसे पकड़ लिया जैसे गाड़ी का गियर हो।वो चुपचाप मेरी ओर देख रहा था.

मेरे मोबाइल की बैटरी बिल्कुल समाप्त हो गयी थी जिस कारण मैंने अपना मोबाइल कमरे में ही चार्जिंग पर लगा दिया था।मैं तुरन्त मोबाइल लेने ऊपर गया और कमरे का दरवाजा खटखटाया. जिया- हम्म … सच में राज बहुत लक्की है … वर्ना उसे आप जैसी शादीशुदा औरत के साथ मजा करने को थोड़ा मिलता. नेहा भी तुरंत बोली- कोई बात नहीं, उससे ज्यादा हम इन्हें तड़पा देंगी.

अगर तुम दोनों को मेरी चूत और गांड चुदाई आगे भी करनी है तो रत्न से ही बात करनी होगी. वो भी मेरा पूरा साथ देने लगी।किस करने में वो पूरी माहिर थी।मैं अपना एक हाथ उसके पीछे ले गया और पैंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा। वो भी ऊपर से ही मेरे लंड को सहला रही थी।अब मैंने उसका ड्रेस उतार दिया और वो सिर्फ ब्रा पेंटी में आ गयी।उसका गोरा बदन और ऊपर से गुलाबी रंग की ब्रा और पेंटी पूरा कहर ढा रही थी।उसने भी मेरे कपड़े उतार दिये और मैं सिर्फ चड्डी में आ गया।मैं उसका गोरा बदन को देख ही रहा था.

अभी मुझे चूत के भीतर झांकने का अवसर नहीं मिला था, तो मुझे सिर्फ दरार देखकर ही संतोष करना पड़ा. दोस्तो, कैसा रही लॉकडाउन में चरम सुख की प्राप्ति की होम सेक्स स्टोरी?अपने विचार मुझे लिखियेगा[emailprotected]पर. तो मालिकन ने मुझे उसका ध्यान रखने को बोला और दो बजे वो सब चले गये।अब मैंने मालकिन की दी हुए एकदम सेक्सी सी नाईटी पहन लिया.

इसीलिए तुम मुझे पसंद हो … क्योंकि तुम मुझे और मेरी फीलिंग्स की इज्जत करते हो … उन्हें समझते हो.

पढ़ कर मजा लें कि उस इंडियन सेक्सी भाभी की चुदाई का मौका मुझे कैसे मिला?माफ़ करना साथियो, मेरा लंड औरों की तरह 8 या 9 इंच का नहीं है. मैंने उसकी तरफ सवालिया निगाहों से देखा, तो बोली- सब्र रखो, आज लंड को खा ही जाऊंगी. इतना बोल कर प्रिंसीपल सर ने मेरे कंधे पर दबा कर हाथ फेरा और बोले- अब तुम मेरे पास कल से इसी टाइम आ जाना.

इस कारण मुझे अपने आप से नफरत सी हो गई है और अब मेरा शादी करने का मन नहीं करता है. कुछ ही देर में भाभी उठी और चौड़ी टांगें करते हुए अपने कमरे के बाथरूम में चली गई.

भाभी जोर जोर से आवाज करने लगीं- आहहह जान … कितना मस्त चूसते हो … आह और जोर से चूसो मेरी जान … उम्मम और जोर से. ”क्या मतलब?”वो मेरी कजिन की बेटी का जन्मदिन है सन्डे को तो मेरा आना मुश्किल लग रहा है. मैंने भी कम्बल के अंदर ही कपड़े पहने और फिर उसने अपनी बेटी को दूध पिलाया और हम लोग बारी बारी से वाशरूम जा कर रेडी हुए.

हिंदी बीएफ सेक्स वीडियो फिल्म

मेरा हाथ उस जवान लड़की की चूत पर जा लगा और मेरे अंदर वासना का सैलाब आ गया.

मैंने आह भरते हुए सिसकारी निकाली, तो वो मेरी चूत में उंगली करने लगा. मैंने उसके बालों को उसके चेहरे पर बिखरा दिया और उंगली से उसके होंठों को छूकर कहा- ये तो जैसे गुलाब हैं. मैं तुमसे प्यार ही इसलिए करती हूँ कि तुम अपनी बीवी को बेइंतहा चाहते हो.

कुछ ही पल के बाद जब वो अपनी गांड में डिल्डो को पूरी गहराई से ले रही थी तो एकदम से उसकी चूत से पानी की बौछार सी निकल पड़ी. इस पर वो जोर सा हंस पड़ीं और बोलीं- अरे ये तो मैं समझ ही गई थी कि कोई बाबा नहीं होगा. राजस्थानी ज्वेलरीये पहली बार था जब मैंने आंटी की सेक्सी हॉट बॉडी के बारे में सोचकर लाइव सेक्स चैट सेशन में मुठ मारी थी.

मैं अब बेड पर लेट गया और उससे बोला- रीना मुझे अपना चुतामृत (चुत का पानी) पिलाओ. वह अपने पैरों को एक के ऊपर एक करके बैठी हुई थी और उसने नीचे एक ग्रे रंग का वेलबॉटम पजामा पहना हुआ था.

मेरे हाथ उसकी चुत और मम्मों को सहलाते, दबाते … उन पर चपत लगाने में लगे थे. तो भतीजी की गुलाबी चूत तो मेरे दिमाग में घर कर गई।इतने में लवी नहा कर बाहर आ गई।उसने सिर्फ एक टी शर्ट और कैप्री पहन रखी थी।मेरी भतीजी बाथरूम से निकल कर शीशे के सामने खड़ी होकर अपने बालों से पानी झाड़ने लगी. उसने अपनी गांड को कैमरे के सामने कर लिया और उसको ऊपर नीचे करते हुए हिलाने लगी.

उन्होंने शमा को एक कुर्सी पर बैठाया और बोले- देखो हम यहां सब मज़े करने आए हैं … और शाहीन हमारी बहुत अच्छी दोस्त है. रेणु आंटी ने बिस्तर पर कलाबाजी करने के खेल में मुझे बहुत कुछ सिखा दिया था. नैना- हैलो कहां खो गए?मैं खुद को थोड़ा संभालते हुए बोला- हां नैना जी बोलिए.

मैं रोजाना के सेक्स और अनिद्रा से पहले ही थका हुआ था, सो बिस्तर पर जाते ही ऐसी नींद पड़ी कि दूसरे दिन सुबह दस बजे ही नींद खुली.

मैं उस चबूतरे के सिरे पर बैठ गया और टाँगें चौड़ी करके सीढ़ियों पर फैला ली. मैंने सुमीना को वहीं सोफे पर गिरा लिया और उसकी मैक्सी उठा कर उसकी चूचियों को पीने लगा.

मैंने मदहोशी में अपनी उंगलियों को नेहा के बालों में फंसा लिया और उसे खींचते सहलाते हुए नेहा का भी सपोर्ट करने का प्रयत्न करने लगा. कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ रही है इसलिए काम भी ज्यादा हो गया है. मैंने दोनों दूध बारी बारी से खूब चूमे और ब्रा के ऊपर से ही उसके दोनों चूचुकों को मुँह में भर के हल्के से काटा.

मतलब आज मेरे मोटे और लम्बे लंड से मामी की चुत से हल्का सा खून भी निकल आया था. ’उसके चूतड़ों को पकड़ कर मैं लंड को पिस्टन की भांति चूत में अन्दर बाहर करने लगा. अपनी सेक्स लाइफ को भरपूर बनाने के लिए मैंने इंटरनेट का सहारा लेने की सोची.

बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ मैंने उससे कहा- क्या तुम मुझे अपना दूध नहीं पिलाओगी?पम्मी अपनी ब्रा का हुक खोलते हुए कहने लगी- राकेश मेरे बूब्स तो कब से तरस रहे थे, लेकिन इनको प्यार करने वाला, प्यार से चूसने वाला आज तक कोई नहीं मिला. मगर जब तुम्हारी बातें सुनी तो मैंने बहुत सोचा। तुम भी मुझे बहुत पसंद हो लेकिन इस नजर से तुम्हें आज ही देखा। मैं तुमसे दोस्ती करने को तैयार हूं लेकिन ये बात हम दोनों के बीच में ही रहनी चाहिए। दोस्ती अपनी जगह है लेकिन इज्जत अपनी जगह। अगर किसी को पता चल गया ना तो हम दोनों को घर वाले जान से मार देंगे।मैंने उसका हाथ सहलाते हुए कहा- तो तुम्हारी तरफ से भी अब हां है ना। पता चलने की बात की चिंता न करो.

बॉडी मसाज बीएफ

उस मोमबत्ती को मामी ने अपने हाथ से धीरे धीरे अन्दर डाला और कुछ ही पलों में मामी ने धीरे धीरे वो पूरी मोमबत्ती अपनी गांड मैं ले ली. हम नीचे चले गए और खाना खाकर मैं ऊपर आ गया और अगले दिन की चुदाई के लिए खुद को और अपने लौड़े को रेस्ट देने के लिए कमरा बंद करके सो गया. मतलब मेरा वीर्य फ्रेंची में ही सोते समय निकल गया, मुझे पता ही नहीं चला.

मैंने जल्दी जल्दी से उसके कपड़े उतारने शुरू कर दिये और उसको एक मिनट के अंदर ब्रा और पैंटी में कर दिया. सरोज की चूत का क्लिटोरियस तेजी से रगड़े जाने से लाल हो कर एकदम छोटे अंगूर जैसा हो गया था, चूत बराबर पानी छोड़े जा रही थी. इंग्लिश सेक्सी 2020मुझे मर्दों वाले टॉयलेट को इस्तेमाल करने के लिए जोर डालते थे और वहां पर मेरी वीडियो बनाते थे.

राजेश ने शीला से अपने पास ही सोने को कहा तो शीला बोली- नहीं, आप भी नहीं सो पाओगे.

फिर मैंने एक हाथ से उसके चूचों को आज़ाद किया और चूचों को सहलाने लगा। उसके निप्पलों को बारी बारी मसलने लगा और दूसरे हाथ से बालों को सहलाते हुए लगातार उसके होंठों को अपने होंठों में जकड़ने की कोशिश करने लगा. आज अचानक कह रही हो तो सोचना तो पड़ेगा ना!खुशी ने फिर कहा- मैं शादी की तैयारियों में व्यस्त हो चुकी हूँ.

भाभी की गांड के ऊपर से होता हुआ वीर्य और उनकी चूत का रस बेड पर गिरने लगा. मैने एक बुके भी ले लिया।मैं सब कुछ लेकर तय समय पर होटल पहुँच गया।मेरी धड़कनें तेज़ हो रही थी और सब्र भी नहीं हो रहा था।मैंने उसके रूम के पास पहुँच कर उसे मैसेज किया. एक मेरे गाल को चूम रहा था और दूसरा मेरी गर्दन और मेरे लिप्स को अपने मुंह में लेकर चूसने की कोशिश कर रहा था। मैं उन दोनों के बीच में जैसे छटपटा रही थी।आज एक भारतीय नारी एक कमरे में दो मर्दों के बीच में मजा करने वाली थी। इस तरह की इच्छाएं हर किसी के मन में होती हैं.

इस साल मेले के दौरान मेरी विधवा हो चुकी सलहज शान्ति के बारे में आपको बता दूं कि उसकी उम्र 50 या उससे एक-दो साल ऊपर है.

ये कहते हुए उसने मेरे लंड के सुपारे को लॉलीपॉप की तरह चूसना शुरू किया. इस ज्यादा मत छेड़ो, पति ने खुद धंधे पर बिठा दिया होगा और जमकर दलाली खाई होगी. थोड़ी ही देर में हम दोनों वहां पहुंच गए, जहां वो लड़के कार लेकर खड़े थे.

अजु भाई फ्री फायरवो उसकी चूचियों पर अपनी जीभ फिराता और कभी कभी उसके मम्मों को अपने होंठों में लेकर चूसता और कभी उसके गोल गोल मम्मों पर जीभ घुमा देता. दुनिया में हर इंसान पैसा कमाना चाहता है, चाहे कैसे भी हो, बस पैसा आए.

हिंदी बीएफ लड़की की चुदाई

रुचि भाभी- मैं देख रही हूं कि मेरे बेटे का लंड कड़ा हो जा रहा है अपनी मां को इस हालत में देख कर। तुम मेरी गांड को भी सहला और छेड़ सकते हो. मामी ने मेरे लंड को सहलाते हुए बोला- ये दम तो नहीं तोड़ेगा ना?वे भी हंसने लगीं. मेरी कहानी के पिछले भागकनाडा से आई देसी चूतमें आपको मैंने बताया था कि मेरी एक पुरानी दोस्त गीत कुछ दिन पहले कनाडा से लौटी थी.

वो इतनी जोशीली इतनी गर्म हो गई थी कि मैं पागल हो गया। मैंने उसके दोनों दूध दबा कर लाल कर दिये और उसकी चीख मेरे मुंह में ही घुट गई. मैं बोला- अच्छा … और मुझसे कुछ कहा कि नहीं?मैं बाइक स्टार्ट करके बोला, तो मां पीछे बैठकर बोलीं- उन्होंने कहा कि हर्षद को बोलो कि अपनी मां और घर का दो दिन ख्याल रखे. रुमित की ऐसी बातें सुनकर मैं रोमांटिक हो उठी … और मैंने रुमित को सामने से गले लगा लिया.

एयरपोर्ट पर जब निशा अन्दर जाने के मुझे बाई और अपना ख्याल रखने के लिए बोल रही थी, तो उसने बोला था- रमित नैना का ख्याल रखना. फिर भार्गव और तुषार दोनों नीचे उतरे … और रुमित नीचे उतरकर बस मुझे देख रहा था. इस तरह हमने कुछ देर तक उन दोनों की चूतें चूसीं और फिर उनको एक लाइन में लिटा दिया.

लंड तो मिला …मैं आपकी कोमल आपके सामने अपनी एक और सेक्सी जवानी की कहानी लेकर हाज़िर हूँ।मेरी पिछली कहानीकुवारी जवान बुर की चुदाई की लालसाको आप सब ने इतना पसंद किया; उसके लिए दिल से धन्यवाद।आप लोगों के बहुत से मेल मुझे प्राप्त हुए. संजय ने भी उसके मम्मों पर अपनी जीभ की स्पीड बड़ा दी थी और गीत अपनी चूत से एक के बाद एक धार मेरे मुंह में छोड़ती जा रही थी.

उसके उदर पर बच्चा जनने का हल्का निशान उसके मातृत्व सुख का सुबूत दे रहा था … लेकिन उसने सचमुच अपने शरीर को ऐसे ढाल रखा था कि कोई नवयौवना भी उसके समक्ष फीकी लगे.

ऐसा पहली बार था जब किसी ने मुझे इस क्रिया में हाँफने पर मजबूर कर दिया था. सेक्स फिल्में हिंदी मेंमैंने भी अपने द्वारा फैलाई गयी गंदगी को वहां से साफ किया और फिर शांत होने की कोशिश करने लगा. जोधपुर मारवाड़ी सेक्समैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसकी कमर के नीचे तकिया लगा के उसके पैर मोड़ के अच्छे से ऊपर उठा दिए. बेबी रानी ने कहा- मैं नहीं मानती … पिस इज़ पिस … तू कैसे बता सकता कौनसा अमृत किसने निकाला … हम दोनों की चूचियों का साइज अलग अलग है इसलिए चूची तो तू कुत्ते तू हाथ से फील करके बता देगा.

मैं घबरा कर बोला- फिर अब क्या करूं भाभी … कोई बाबा तो है नहीं वहां?भाभी बोलीं- हम लोग बाइक में है, परासिया के पास जाकर बाइक रोक देना.

भाभी एकदम उठी और मुझसे बोली- चलो मेरी तो किस्मत ही ऐसी है, पर तुम्हारा तो हो ही गया. अपने बारे में भी कुछ दोहरा देता हूँ, मैं रमित हूँ, मेरी हाइट 6 फुट है. मैं उसके बालों को सहलाते हुए जोर जोर से सिसकारियां लेने लगा। थोड़ी देर चुसवाने के बाद मैंने उसके मुँह से लण्ड को बाहर निकाल कर उसे अपने नीचे लिटा लिया और उसके गालों को चूमते हुए उसके दोनों स्तनों को बारी बारी से खूब अच्छे से चूसा.

हॉट सेक्स स्टोरी इन हिंदी का पिछला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-3मैंने लगभग उसका 15 मिनट इंतज़ार किया. लंड चूसने की उसकी झिझक पूरी तरह समाप्त हो चुकी थी और अब वे इस अंदाज से मेरी आंखों में देखती हुईं लंड चूस रही थी जैसे कि उसके लिए इससे ज्यादा मनभावन कोई दूसरा काम संसार में हो ही न!जीजू जल्दी कर लो फिर अस्पताल चलना है दीदी को लिवाने!” निष्ठा रानी बोली और उसने ब्लाउज के हुक्स खोल दिए. दोस्तो, मैं फिर से एक बार आपके सामने इंडियन भाभीस चुदाई कहानी लेकर हाजिर हूँ.

बाप बेटी की हिंदी बीएफ

चाचा का जांघिया तम्बू की तरह तन गया तो चाचा हमारे चूतड़ों को मलने लगे. चाचा ने अपना लण्ड हमारे मुंह से निकाला और हमारी टांगों के बीच आकर हमारा जांघिया नीचे खींचा, हमने अपनी आँखें बंद कर लीं. ”मैंने तुरंत कहा- जो हुक्म मेमसाब … कहिये इस दास के लिए क्या आर्डर है?पिंकी खुश हो गयी- मतलब तू सब शर्तें मानता है न?मैंने कहा- जी हाँ मेमसाब.

हाय राज मेरी चूत … से पानी … निकल गया!और कुछ झटकों के बाद भाभी की चूत ने फिर पानी छोड़ दिया.

रवीना सीधे उसके ऊपर लेट गयी और दोनों एक दूसरे को बेतहाशा चूमने लगे.

सच कहूं तो दोस्तो, एक बार तो मन किया कि प्रीति को वहीं पटक कर चोद दूं लेकिन मैं अपनी भावनाओं पर कंट्रोल किये हुए था. मैं और मां और आगे जाकर, ड्रायवर के पीछे जो पार्टीशन होता है, वहां खड़े हो गए. एक्सएक्सएमअब आगे की Xxx कहानी भाभी की चूत की:प्रीति को देखकर मुझे लग रहा था कि आज कुछ जरूर ही होने वाला है.

जैसे ही नेहा शांत हुई तो मैंने उसको छोड़ा और मैं भी वाशरूम में चला गया. करीब बीस मिनट की कड़ी चुदाई के बाद मेरा लंड झड़ने को होने लगा, तो मैंने रफ्तार तेज कर दी और जोर जोर से उसके चुचे भींचते हुए और निप्पलों को मींजते हुए उसकी चुत में तेज धार के साथ झड़ने लगा. सच कहूं तो उस समय मुझे अपने लंड पर बहुत गुस्सा आ रहा था कि इसे कोई तमीज तो है ही नहीं; बस आसपास किसी चूत की उपस्थिति का आभास भर हुआ और ये महाशय तन गये खुश हो के!अगर निष्ठा की नज़र उस उभार पर पड़ गयी तो वो क्या सोचेगी मेरे बारे में?यह सोच कर मैंने अपना ध्यान कहीं और लगाने की बहुत कोशिश की कि मैं उत्तेजना फील न करूं.

मेरी चूत बिल्कुल गीली हो चुकी थी जिससे मेरी सलवार का चूत के ऊपर का हिस्सा भी गीला हो गया था. थोड़ी ही देर में मेरा लंड फिर खड़ा हो गया। उसने मुझे नीचे पटक लिया और मेरे लंड को बुर पर सेट करते हुए गांड को नीचे दबा दिया.

इस पर वो बोली- हाँ यार, सच में … कल मैं बहुत चीखी, क्या करती, कंट्रोल ही नहीं हो रहा था.

अब जब उसके हाथ मेरी पीठ और पेट को छू रहे थे लंड ने उछल कूद भी शुरू कर दी थी. फिर उसने एक हल्का धक्का दिया और उसके उस हल्के से धक्के से ही मैं निढाल होकर बिस्तर पर गिर गया।उसने मेरी जांघों में फंसे मेरे कच्छे को मेरी टांगों से निकाल कर मेरे शरीर से ही अलग कर दिया और अपना जिस्म भी नंगा कर लिया. कुछ देर रुको, नहा धो के तैयार होती हूं फिर जैसे आप चाहो वैसे कर लेना!” निष्ठा बोली और बिस्तर छोड़ के निकल ली.

देहाती लड़कियों की सेक्स सरोज कहने लगी- राज बस तुम्हारी चाहत ने यह सब करवा दिया, मैं तो तुम्हारी कायल हो गई हूँ, अब तुम आराम से यहां रहो और हम आराम से जब मर्जी अपना काम कर लिया करेंगे. मैं तुरंत समझ गया कि वो भी तेज बिजली कड़कने से डर गयी है और अंधेरा होने के कारण घबरा रही है.

और भाभी नंगी ही अपनी भारी गांड को मटकाती हुई बाथरूम चली गई और पेशाब करने के बाद चूत को साफ करके बाहर आ गई. हमारी चूत पर हाथ फेर कर चाचा ने अपना लण्ड सम्भाला, लण्ड को हिलाकर खाल को आगे पीछे करके टाइट किया और हमारी चूत के मुंह पर रख दिया. तभी सरोज ने ड्राइंग रूम का दरवाजा गैलरी की तरफ से बंद किया और मेरे साथ दीवान पर बैठ गई.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ फिल्म

मेरी ओर इशारा करके वे जावेद से बोले- जावेद, इनका मेरे ऊपर बड़ा अहसान है. उसका बदन इस प्रकार सहलाने से मिलते आनंद की प्रतिक्रिया देने लगा था. मैंने उसके गालों को चूमते हुए उसके सुर्ख लाल होठों को अपने होठों में दबा लिया.

तो आएशा ने कहा- सुबह जो सबसे पहले जगे, वो सबको जगा दे।चार घंटे बाद तकरीबन दो बजे रंजु नंगी बाथरूम जाने के लिए उठी. मैं उसको अपनी गीली हो चुकी चूत की खुशबू देना चाह रही थी ताकि वो और ज्यादा तड़प जाये.

थोड़ी देर में दोनों खाने के लिए नीचे आ जाना।मेरा कमरा पहली मंजिल पर था। मैंने उसे चलने का इशारा किया तो वो मेरे पीछे-पीछे आने लगी। रूम में पहुंचने पर मैंने उसे बैठने को बोला.

कुछ देर बाद मां नहाकर बाहर आ गईं और मुझे आवाज देकर बोलीं- हर्षद अब तू जा और जल्दी से नहा के आ जा. मैंने कहा- चलो करते हैं?नेहा- बस 5 मिनट!उसने टोप ओर स्कर्ट पहनी हुई थी. लेकिब उसने मुझे कोई भाव नहीं दिया तो मैंने उसकी जवान बेटी गुरजीत पर नजर गड़ाई और वो मेरे लंड का ग्रास बन गयी थी.

जिससे मेरा आधा शरीर पानी के अन्दर चला गया और मेरा आधा शरीर पानी के बाहर ही रह गया. मैंने उसकी चूचियों को ध्यान से देखा और फिर उसको घुमाकर उसकी ब्रा के हुक को खोल दिया. मैं बोला- अगर शराब पीने के बाद कुछ ऊंच नीच हो गयी तो?वो बोली- हो जाने दो … अगर आप परफेक्ट निकले, तो मैं आपको हमारे लेडीज ग्रुप से मिलवा दूंगी.

मैं समझ तो गयी थी कि उसके मन में क्या चल रहा है … पर मैं कुछ नहीं बोली.

बंगाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ: वैभव- तो क्या इसका पति नामर्द था?इस बारे सुरेश से पहले अनीता बोल पड़ी- तुमको मेरे से मजे लेना है या शादी बनानी है?इतनी पूछताछ तो रेड में पकड़ने पर पुलिस भी नहीं करती. दोस्तों उस दिन के बाद हमें जब भी मौका मिलता, मैं और मेरी मामी दोनों एक दूसरे को बहुत सारा सुख देते और मज़े करते.

करीबन 5 मिनट तक उदय सर ने मेरे होंठों को इतनी ज़ोर से चूसा कि मेरे होंठों से हल्का सा खून निकल गया. जब ईशिता ने ये कहा, तो उसकी बात पर हम सब हंस पड़े … और रुमित ने भी कार चला दी. अब राजेश को लगा कि वो निकलने वाला है तो उसने लंड बाहर निकालने की कोशिश की.

मैंने सरोज से कहा- यह तो आपने कमाल कर दिया, बहुत ही पक्का अरेंजमेंट किया है.

मैं बोला- पिंकी, तुम कहो क्या कहना चाहती हो … सुन रहा हूँ ध्यानपूर्वक … मेरी गारंटी है कि तुम्हारी सब ज़रूरतें पूरी कर दूंगा … मुझे खुद पर पूरा विश्वास है. अब मैं उसके होंठों को चूसते हुए और उसकी कमर को सहलाते हुए उसकी चूत में लम्बे लम्बे झटके लगा रहा था।थोड़ी देर ऐसे ही करने के बाद मैंने उसे पोजीशन बदलने के लिए कहा. रिया ने अपने बाप का लंड हैरत से देखा और बोली- इतना बड़ा और मोटा? और वो भी इस उम्र में? मानना पड़ेगा सेठ।रमेश- देख ले रांड, आज इसी से फाडूंगा तेरी गांड।रवि भी अपने कपड़े खोलने लगा.