लाइव सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,गांव की लड़की का सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो आउटडोर: लाइव सेक्सी बीएफ, देर न करते हुए मैंने तुरंत उनके ऊपर आकर अपना लंड उनकी चुत में सैट किया और एक ही बार में अन्दर डाल दिया.

बीएफ चले वाली

मैंने उनके होंठों को फिर से मेरे होंठों के बीच में ले लिया और जोरों से किस करने लगा. बीएफ एचडी एचडी वीडियोमैं उसके विरोध में चिल्लाती कि उसने अपने होंठों से मेरे मुँह को बंद कर दिया.

शायद वो अपनी चुत में उंगली करती थी इसलिए उसे मेरी उंगली से कोई दिक्कत नहीं हुई, बल्कि उसे मजा आने लगा. सेक्सी बीएफ चाहिए इंग्लिशमैंने भी उसको अपनी बांहों में भर लिया और एक एक करके उसके सभी अंग सहलाना शुरू कर दिए.

उसने मेरी चूत में धक्के दे कर पूरा लंड जड़ तक घुसा दिया तो मुझे तकलीफ होने लगी और मैं कराहने लगी.लाइव सेक्सी बीएफ: हम दोनों सेक्स के लिए तड़पने लगे तो मैंने गर्लफ्रेंड की चूत चुदाई कर दी.

मगर मामी को देख कर मैंने जल्दी से अंडरवियर पहन लिया और तौलिया लपेट लिया.ये मेरी और मेरी छोटी बहन पूर्वी की कहानी है कि कैसे मैंने अपनी छोटी बहन को चोदा और साथ ही उसे भी उतना ही मज़ा आया जितना मुझे आया था.

सिंगापुर बीएफ - लाइव सेक्सी बीएफ

नई शर्त के अनुसार उन्हें पूरी तरह निर्वस्त्र हो जाना था, यह बात उन्हें बेचैन कर रही थी और हॉल में मंगल भी मौजूद था.भाभी ने मुझे देखा और कुछ न कहते हुए वे उठकर पेशाब करने के लिए बगल में चली गईं.

जिस कुवारी लड़की के बारे में मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूं उसका नाम सुनीता है. लाइव सेक्सी बीएफ मैंने उससे कहा- ऐसा क्या है मोनिषा आंटी में … जो तू उसे चोदना चाहता है?उसने कहा- भाई इस टाइम मोनिषा को देखा है तूने … कितनी हॉट और सेक्सी हो रही हैं.

अजीब सा टेस्ट था, लेकिन मैं नहीं रुका, मैं उसकी चूत के दाने को चाटता चूसता रहा.

लाइव सेक्सी बीएफ?

मम्मी ने उससे पूछा- क्या हुआ?तो पता चला कि उन्हें लेने के लिए उसका भाई आने वाला था, मगर किसी वजह से वो आ नहीं पाया. फिर आंखों में इशारे हुए और हम दोनों सेक्स करते करते अपनी चरम सीमा पर पहुँच गए. मेरे ये कपड़े इतने अधिक चुस्त और छोटे होते हैं, जिनसे मेरी चूचियों और उठी हुई गांड का आकार बिल्कुल साफ़ दिखाई देता है.

मौसी ने मुझे देखते हुए कहा- देखा … जो बोला था, वही किया न … अब रास्ते का कुत्ता भी तेरी बीवी को बिना चोदे छोड़ेगा नहीं. आंटी ने जैसे ही मेरा 8 इंच लंबा और काला मोटा लंड देखा, वो एकदम से घबरा गईं और पीछे हट गईं. मॉम ने उसके मुँह से ये सुना तो हंसने लगीं और उसके साथ एक रंडी की तरह सेक्स करने में सहयोग करने लगीं.

करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना सारा वीर्य उसकी बुर में ही निकाल दिया।सारा वीर्य उसकी बुर में भर कर मैं उसके ऊपर निढाल होकर लेट गया. फिर भाभी ने पूछा- कितनी गर्लफ्रेंड बना रखी हैं तुमने कॉलेज में?मैंने कहा- एक ही थी भाभी, उससे भी ब्रेक-अप हो गया है. निर्मला का जैसे मैंने पहले भी बताया था कि इस उम्र में भी वो बहुत सक्रिय और कामुक महिला थी.

फिर उसने सिसकारियां लेते हुए मेरी कमर में अपने नाखूनों से नोंचना शुरू कर दिया. आह्ह … प्रकाश … चोद मुझे … आहह्ह चोद दे मेरी चूत को आईई … आह्हह …प्रकाश ने अपने होंठों को मेरे होंठों पर कस लिया और फिर तेजी के साथ मेरी चूत को चोदने लगा.

वो अपनी छत से मुझसे बात करता था और मैं अपनी छत से उससे बात करती थी.

अब उसकी उत्तेजना में भी वृद्धि दिख रही थी और कमर भी तेज चलने लगी थी.

उसने मेरी गांड के छेद रख कर लंड का सुपारा रख कर एक जोरदार झटका से मारा. मैंने अब भी कुछ नहीं किया, तो चाची ने नीचे से गांड हिलाई और कहा- अब चोद बे … ऐसे ही डाले पड़ा रहेगा क्या?मैं धीरे धीरे से चूत में धक्के देने लगा. मामी ने बिना कहे ही मेरे लंड को मुंह में भर लिया और मस्ती से मेरे मोटे लौड़े को चूसने लगी.

एक बार वो हमारे घर आया और माँ से बोला- भाभी जी, हमें भी आधा लीटर दूध दे दिया करो, हम भी अपनी चाय बना कर पी लिया करेंगे. जब मैं होश में आयी, तब देखा कि सुनील फर्श पर लेटा था और मेरी चूत ने उसका मुँह पूरी तरह से ढंक दिया था. मुझे अपने काम पर पहली बार गर्व हुआ और उस दिन के बाद पिछले तीन साल में अलग अलग कोखों से मेरे पांच बच्चे हुए.

उन दोनों को देख कर मैं कंफ्यूज था कि कैसे पहचानूं कि संध्या कौन है … क्योंकि पूजा को ये बात नहीं पता थी कि आज उसकी बहन भी चुदने वाली है.

मैं भी उनके जिस्म की गर्मी में आंखें सेंकने के लिए हाजिर हो जाता था. वो अभी भी दीवार से लगी हुई थी, तो मैं भी पीछे से जाकर उससे चिपक कर उसकी गर्दन और कंधे पर किस करने लगा. बस दो मिनट बाद जो उसे चरमसुख मिला, उसका जिस्म सूखे कागज जैसा काँपने लगा, उसकी आवाज़ उसके गले में ही घुट गयी और आंखों से आंसू बह निकले.

मैं घर वापस आया और घर मैंने अपनी बीवी को बताया कि मुझे सिंगापुर जाना पड़ रहा है तो मेरी बीवी को बहुत बुरा लगा. फिर जब चाची से रहा न गया तो उसने पीछे हाथ लाकर मेरे लंड को पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी. इसलिए मैंने कह दिया था कि पहले मैं किसी काम से जाऊंगा और उसके बाद कॉलेज आऊंगा.

मेरी बीवी के चूचों को दबाते हुए उसने अपने शरीर का भार सामने पड़ी मेरी नंगी बीवी के बदन पर डालते हुए उसकी योनि में मेरे दोस्त ने अपने लंड को प्रवेश करा दिया.

वो होटल ज्यादा अच्छा तो नहीं था मगर इस तरह के कामों के लिए बहुत उपयुक्त था. अजीब सा टेस्ट था, लेकिन मैं नहीं रुका, मैं उसकी चूत के दाने को चाटता चूसता रहा.

लाइव सेक्सी बीएफ फिर वो बोला- अरे पहचाना नहीं मुझे? मैं मिहिर हूँ, मिहिर वर्मा … तुम्हारे साथ स्कूल में पढ़ता था. मैंने उसकी बात को अनसुना कर दिया क्योंकि मुझे अभी उसको और गर्म करना था.

लाइव सेक्सी बीएफ आज से पहले मैंने बहुत सी लड़कियों की चुत व गांड मारी है, पर मेरी चाची जैसे चुदक्कड़ औरत कोई भी नहीं मिली. उनकी सास ने बोला- हां देख लो … बेचारी सुबह से अकेले ही परेशान हो रही है.

भाभी ने अपनी साड़ी और पेटीकोट को थोड़ा सा नीचे सरका दिया और जगह बता कर बोली- यहीं पर लगा दो.

कृपया सेक्सी व्हिडिओ

मैंने कहा- अब तो मैंने देख भी लिए है … इसलिए समय ख़राब मत करो … आंटी के आने से पहले कर सब दर्द दूर कर देता हूँ. मैं भी पहली बार के संभोग से काफी थक गई थी और अगर दूसरी बार किया, तो और अधिक थकान होगी. माँ ने बिना कुछ कहे ही अपना बदन मुझसे खुल कर रगड़वाना चालू कर दिया था.

दूसरी तरफ राजशेखर मेरी योनि पर अपने जुबान से खिलवाड़ किए जा रहा था और मैं अपने बस से बाहर होती जा रही थी. ये सुनकर मॉम बोलीं- मतलब अब तुम मुझे पैसों के लिए चुदवाओगे?मैंने कहा- नहीं … किसी से कोई काम निकलवाना होगा, तो उससे चुदवाऊंगा. अपने लंड के टोपे को मेरी चूत में घुसा कर वो मेरे होंठों को पीने लगा तो मुझे आराम मिला.

‘हाय कैसे हो? बड़े दिनों बाद दिखाई दिए हो … कहां थे?’मैंने उसका रिप्लाई किया कि तुम्हारे तो एग्जाम हो गए … तुम तो फ्री हो गई हो.

तुम्हारा पहली बार था ना इसलिए।आंटी पूर्ण संतुष्ट तो नहीं हुई थी पर वो खुश थी।थोड़ी देर हम एक दूसरे की बांहों में लेटे रहे. उसने मेरे तने हुए लंड की तरफ उंगली कर दी और फिर से अपनी उंगली को पीछे करके गर्दन नीचे कर दी. हालांकि इस वक्त हम दोनों घर में अकेले थे, तो किसी बात का कोई डर नहीं था.

वो साथ में मना भी कर रही थी लेकिन मुझे पता था कि वो दिखावटी विरोध कर रही है. मैं हिंदी बेस्ट सेक्स स्टोरी अन्तर्वासना की कहानियां काफी समय से पढ़ रहा हूं और मैंने इसकी कहानियां ख़ासकर चाची की चुत की चुदाई कहानी पढ़ना आज से करीब 8 या 10 साल पहले शुरू किया था. फिर कल्लू ने अपना अंडरवियर उतार दिया और उसके अंडरवियर उतारते ही माँ उसके काले और विकराल लंड को सहलाने लगीं.

फिर मैंने झट से उनको लेटा दिया और उनके ऊपर आकर फिर से चुत में लंड सैट करके जोर से धक्के देना शुरू कर दिया. मेरे ऐसा करने पर एक बार तो मैडम ने मुझे घूर कर देखा मगर फिर हल्का सा मुस्कराई.

ऐसे ही जब कोई कसके गांड रगड़ देता है, या जब गांड मारने वाला कहता है कि मेरे दोस्त से भी मराना पड़ेगी. अब मैं शिवानी के जिस्म पर चढ़कर अपने लण्ड को उसकी प्यासी चुत में डालने लगा। लेकिन मेरा लण्ड अंदर घुस नहीं रहा था. मैंने बिना कोई हिचकिचाहट के उसका लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगा.

यह कहानी वैसे तो वास्तविक है लेकिन इस कहानी में मनोरंजन के लिए मैंने थोड़ा सा मसाला भी डाल दिया है ताकि आपको कहानी पढ़ने में मजा आये.

यह आइडिया सबको पसंद आ गया और सब ऐसे ही लेट गई और सबने अपनी-अपनी चूत को खोल लिया. मैंने उससे कहा- साली हिल मत … अभी तो कुछ नहीं है मैं साबुन लगा रहा हूँ … बाद में रेजर चलाऊंगा, यदि उस वक्त ज्यादा गांड हिलाई, तो चुत का ऑपरेशन हो जाएगा. आज उसकी साइज़ 40-30-43 की बन गई थी, जबकि पहले वो 26-24-26 की एक मरियल सी खटारा थी.

उसकी चूत काफी चिकनी हो चुकी थी क्योंकि काफी देर से उसकी चूत से कामरस निकल रहा था जिसका स्वाद मुझे बहुत पसंद था. मेरी चाची सेक्स की प्यासी रहती है हर समय … रिश्तों में सेक्स की इस कहानी में पढ़ें कि कैसे चाची को मैंने चोदा और चाची की चूत की प्यास बुझायी और उसके बाद …दोस्तो कैसे हो, मेरा नाम राहुल है मेरे लंड बहुत बड़ा है, ये पूरे 8 इंच का एक मोटा खीरा जैसा है.

उसने कहा- आप मुझे कोई दवा ला दो … मैं आपसे तेल मालिश नहीं करवा सकती. उनकी साड़ी की सिलवटें खोल दीं और अब मामी केवल ब्लाउज और पैटीकोट में ही रह गई थी. अपने हाथों से ही अपनी चुची को दबाती और चूसती हूँ … और अपनी बुर को अपनी उंगलियों से खूब रगड़ती हूँ … फिर उसमे मूली डाल कर उसका पानी भी निकालती हूँ.

साड़ी वाली सेक्सी भाभी वीडियो

मंगल ने उठकर एकता को एक गुड़िया के जैसे उठा लिया और अपने कंधे पर पटक कर बेडरूम की तरफ चला गया.

उसके गोरे गोरे स्तनों के ऊपर वो छोटे से काले निप्पल क्या मस्त लग रहे थे. मेरी भाभी की चुदाई की एक गंदी कहानी पहले आ चुकी है, जिसका शीर्षकछत पर देवर भाभी सेक्स स्टोरीथा. उसके चूसने की स्पीड इतनी तेज थी कि मैंने कब माल उसके मुँह में छोड़ दिया, मुझे पता ही नहीं चला.

कई बार मेरी नजर मेरे बेटे पर जाती थी लेकिन मैं कुछ कर नहीं पाती थी. चूंकि मुझे भी नशा हो गया था, तो मैंने उस पंजाबी लड़की को किस कर दिया. बीएफ सेक्स बीएफ बीएफ सेक्सजब बुआ नहाने जाती थीं, तो मैं बाथरूम के छेद से चुपके से उन्हें नहाते हुए देखता रहता था.

अब तक की इस ग्रुप सेक्स स्टोरी के पिछले भागखेल वही भूमिका नयी-10में आपने पढ़ा कि रमा और रवि से उनकी उत्तेजना सहन नहीं हुई और उन दोनों ने किरदारों की भूमिका पेश किए बिना ही एक बड़ा ही जबरदस्त सम्भोग किया. मैंने पूछा- अरे रेनू क्या हुआ?उसने बताया कि यार एक मोटा चूहा मेरे ऊपर कूद गया … तो मैं भागी और दरवाजे से मेरे पैर में चोट लग गयी.

खुद उन्होंने अपने हाथों से मुझे पानी दिया पीने के लिए। फिर उन्होंने गुस्से से चिल्लाना शुरू कर दिया कि ये सब कुछ यहाँ नहीं चलेगा और यह आखरी बार है जब मैं आप को छोड़ दे रही हूँ। किंतु ध्यान रहे कि अबकी बार अगर कुछ उल्टा सीधा किया तो यहाँ आप कोई काम नहीं कर पाएँगे।मेरी आँखों में आँसू आ गए और मैं कुछ सोच समझ नहीं पा रहा था। मेरी हालात बहुत खराब हो गई. उसके बाद मैंने और वंदना मैम ने मेरी विद्यालय की पढ़ाई पूरा होने तक चुदाई की. अब मैडम को भी मेरे नंगे बदन से सट कर कुछ कुछ होने लगा था और फिर धीरे से उनके हाथ मेरे तने हुए लौड़े पर जा लगे तो उन्होंने एकदम से हाथ हटा लिया.

मैंने फिर से अपने होंठ मॉम के स्तनों से लगा दिए और उनका दूध पीने लगा. हम दोनों धक्कों के साथ एक दूसरे के होंठों को चूसते, जुबान को चूसते, एक दूसरे के मुँह से निकलती लार को पीते. जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने फिर से लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया.

उसकी ये रसभरी मुसम्मियां उसके भरे हुए जिस्म पर चार चांद लगा देती थीं.

भाभी कराहते हुए बोली- तुम्हारा लंड तो मेरे पति से भी बड़ा है और मोटा भी है. मैंने तौलिया लपेट कर अपनी कैपरी उतार दी और फिर से मॉम की मालिश करने आ गया.

तभी मेरी उम्मीद से आगे वो एकदम से झुकी और उसने अपने मुँह में मेरा लंड भर लिया. मैंने उससे कहा- अब आगे क्या?मेरी गर्लफ्रेंड सेक्स की प्यासी थी तो हंस कर बोली- आज पूरी रात तुम्हारी है … जो तुम चाहो वो करो. इस अवस्था में प्यार का इजहार करना तो केवल एक ही ओर इशारा कर रहा था और वो इशारा शरीर की भूख की तरफ का था.

अपने बेटे के लंड को चूसने में मुझे इतना मजा आ रहा था जितना कभी पति के लंड को चूसने में भी नहीं आया. दीदी के मम्मों को मुँह से कस-कस कर दबाने से दीदी की मस्त चीखों को सब सुन रहे थे. हम दोनों तेजी से हांफ रहे थे मगर एक दूसरे पर पकड़ अभी भी पूरे जोर से थी.

लाइव सेक्सी बीएफ उस दिन से सुनील को याद करते हुए ही मैं अपनी चूत को सहलाती और उंगली से उसे शांत करने लगी थी. फिर कुछ मिनट के बाद साड़ी के अन्दर हाथ डाला, तो देखा कि मॉम ने पेंटी नहीं पहनी थी.

सनी लियोन का सेक्सी हिंदी में

कुछ देर बाद बुआ उठ कर बाथरूम में जाने लगीं, तो बुआ ने देखा बिस्तर की सफ़ेद चादर लाल हो गई थी. उर्वशी की नजर की उत्सुकता मिहिर की शर्ट के खुलते हुए हर बटन के साथ बढ़ती जा रही थी. अब देखूंगी कि कितनी बार फोन करोगे मेरे पास!मैं बोला- जब तक आप करने दोगी, तब तक करता रहूंगा.

हम दोनों बातें कर ही रहे थे कि तभी जोर से बिजली कड़की और मैडम मेरे गीले बदन से चिपक गयी. अगर किसी को मेरी मदद की जरूरत होती थी तो मैं कभी मना भी नहीं करता था. बीएफ बिहारी भाषा मेंअब क्या करता … एक तो मैं चूतिया और दूसरा मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी.

मैंने सोचा पहले कजरी का मजा ले लूँ, फिर इन के छेद में लंड पेलने की कोशिश करूंगा.

कुछ ही वक़्त में कॉलेज की भी छुट्टी हो गयी तो मुझे अपनी क्लास समाप्त करनी पड़ी. एक दिन ऐसे ही जब हम दोनों दोस्त साथ में बैठ कर ड्रिंक कर रहे थे तो उसने मुझसे अपने दिल की एक बात बताई.

उस वक्त मेरी पढ़ाई पूरी करने के लिए मैं पहली बार घर से बाहर गया था. जब बस की लाइट बन्द हो गयी, तो मैंने अपना सर मॉम के कंधे पर रख दिया. मैं उसी कमरे में आइना के सामने तैयार होने का नाटक करता और पीछे से आइने में उसे सलवार पहनते हुए देखता.

यह मुझे तब पता चला जब उनके कॉलेज में सूना वो अपने कॉलेज के प्रिंसिपल से चुदवाती है.

मैं उनकी पिंडलियों पर तेल लगा रहा था, जिससे मेरी मॉम को बड़ा अच्छा लग रहा था. उससे कहा गया कि आज से 3 महीने के लिए शरीफजादियों वाले कपड़े पहनना भूल जा. मैंने उसको वहीं सोफ़े पर लेटा दिया और उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया.

की बीएफ पिक्चरउसकी कसी हुई छोटी सी ब्रा में उसके फंसे हुए मम्मे मुझे मदहोश कर रहे थे. वंदना मैम को जब काफी देर हो गई थी … मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मैम को ऐसा क्या हो गया है.

ब्लैक सेक्सी वीडियो चाहिए

उसके बाद मैंने करीब जाकर बहन की पेंटी को सूंघा, तो एक मनमोहन खुशबू आ रही थी. वे एक डेढ़ घंटे पहले ही अनिल की मार चुके थे अतः थके हुए थे, जल्दी ही हांफने लगे. आंटी बोलीं- बाप रे … इतना बड़ा … यह तो मैं कभी नहीं घुसवा पाऊंगी … मैं तो बस इसको चूस ही सकती हूं, ये चूत में नहीं घुसवा पाऊंगी … मैंने इतना बड़ा अभी तक कभी नहीं लिया.

इस बार चुदाई करते हुए संजय ने बताया कि उसकी पत्नी अपने मायके गयी है. वो हंसी और उसने मुझे पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं. मगर मेरे प्यारे दोस्तो, यह कहानी मेरी नहीं है बल्कि मेरे एक चाहने वाले की है.

वो सब मैं आपके साथ साझा करूंगा, पर आज के लिए इतना ही … फिर हाजिर होऊंगा. हमारे घर से थोड़ी दूर पर मेट्रो ट्रेन से जाने की सुविधा है, इसलिए हम लोग मेट्रो ट्रेन से तुरंत मेन शहर में पहुँच जाते हैं. अब मैं जन्मजात नंगा था। मैंने भाभी को सीधा लिटाया और खुद उनके पैरों के पास आ गया।मैंने भाभी के पैरों के तलवे चाटने शुरु किये.

मैं भी जमकर चोद रहा था और कमरा तरह तरह की सिसकारियों से धीरे धीरे गुंजायमान था. उस महिला का ध्यान मेरे तने हुए लंड पर न पड़े इसके लिए मैंने धीरे से अपने लिंग महाराज को हाथ से एडजस्ट भी किया मगर सामने वाली की नजर भी तेज थी.

वो सिसकारियां ले रही थीं।अब मैं धीरे धीरे नीचे सरकते हुए उनकी चूत पे आ गया, भाभी की चूत एकदम चिकनी थी.

अब तो मुझे भी अच्छा लगने लगा था और मेरे पास एक दिन का समय भी था, सो मैंने हां बोल दिया और रात को आने को कहा. बीएफ सेक्सी वाली लड़कीउसके रसीले होंठों को चूसने लगा तो वो पीछे हटने लगी लेकिन मैंने उसको अपनी तरफ खींच लिया. कश्मीर बीएफएक लड़की को कैसे खुश करना, कैसे उसकी चूत की प्यास को बुझाना है; ये मुझे बड़े अच्छे से पता है. जिस प्रकार वो अपनी मदमस्त सुडौल थुलथुल चूतड़ों को हिला रही थी, उससे तो अंदाज लगाया जा सकता है कि राजशेखर शायद ही खुद को ज्यादा देर रोक सकता था.

हम दोनों का ये पहली बार बहन को चोद रहा था, इसलिए मैंने उससे कहा- तुम अपने नीचे तकिया रख लो.

घर आते वक्त मेडिकल स्टोर से कुछ दवाईयां, तीन चार कंडोम के पैकट ले लिए और घर आ गया. उसका घर मेरी जगह से अब दो घंटे की दूरी पर था, तो अब हमारा मिलना हो जाता था. मैंने गुस्से में कहा- यार, ये कैसी पढ़ाई है?वंदना ने हंस कर कहा- ये कामसूत्र है.

भाभी ने मस्त होते हुए कहा- आह … मेरे कुत्ते को कुतिया की गांड बहुत अच्छी लग रही है … आह क्या मस्त चाटता है. वो ऐेसे कहते हुए मस्ती में मेरे लंड से स्लैब पर झुकी हुई चुदती रही. उसके बाद एक दिन मैंने उनसे उसकी गांड को चोदने को कहा- मोनिषा आंटी, आज तो मैं आपकी गांड चोदना चाहता हूं.

सेक्सी वीडियो गाना सुपरहिट

दो मिनट में भाभी भी छत पर आ गईं और बोलीं- तू ये सब ठीक नहीं कर रहा है, तूने बस एक बार का बोला था, ऐसे रोज रोज नहीं चलेगा. मैंने उनसे पूछा- किस किस से कौन कौन सी प्रॉब्लम्स हल नहीं हो रही हैं?पहले दो लड़कियों ने उनकी प्रॉब्लम्स पूछ लीं. बुआ हंस दीं और बोलीं- ज़्यादा नहीं लेंगे … कहीं नशा वशा हो गया, तो दिक्कत हो जाएगी.

अनिल से मामाजी ने कहा- जल्दी औंधा हो जा, नखरे नहीं।मामा जी के कहने से अनिल औंधा लेट गया.

जब मैं अपने दोनों हाथों को कस देता, तो मेरा मुँह भाभी के सीने में दब जाता और भाभी भी मेरा सिर पकड़ कर अपने सीने में दबाने लगती.

दीदी के बूबू मैंने कई बार चूसे, जब वो हाथ से अपनी फुद्दी मसलती, तो मुझे बूबू चूसने को कहती और मेरी लुल्ली को पकड़ कर बहुत खींचती. गालों से टपकती बूंदें उसके गले से होते हुए ब्लाउज के अन्दर जा रही थीं. एचडी सेक्सी वीडियो बीएफ वीडियोहम दोनों कमरे के अन्दर गए और जाते ही मैंने अन्दर से गेट बंद कर लिया.

आस पास के कई लड़के उसे लाइन मारते थे, पर वह किसी को भाव नहीं देती थी. मैंने कहा- भाभी अगर आप बुरा न मानो, तो मैं आपकी समस्या को दूर कर सकता हूँ. मैंने थोड़ा थूक लगाया, लेकिन माँ की गांड मेरे लंड को एन्ट्री ही नहीं दे रही थी.

मुझे उसका पता नहीं, पर मैंने अपनी आंखें बंद कर रखी थीं और जैसे जैसे ठंडी हुई, ढीली होती चली गई. उस समय टीवी में वो लड़का उस औरत को बेड पर लेटा कर उसकी बुर में अपना लंड डाल कर ज़ोर ज़ोर से चोद रहा था.

मैंने भाभी से बोला- भाभी मुझे आपके साथ सुहागरात ऐसे मनानी है, जैसे एक पति और पत्नी शादी के बाद मनाते हैं.

एक दिन ऐसे ही जब हम दोनों दोस्त साथ में बैठ कर ड्रिंक कर रहे थे तो उसने मुझसे अपने दिल की एक बात बताई. जैसे ही खिड़की खोल कर वो पीछे की तरफ मुड़ी तो मिहिर पीछे खड़ा था और उर्वशी के उरोज मिहिर की छाती से टकरा गये. मैंने जल्दी से उसमें से कुछ फोटो और मैसेज अपने फोन में फॉरवर्ड कर दिए.

नीलू बीएफ जिसकी प्यास बुझाने के लिए मामी ने फिर क्या किया वो मैं मामी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में बताऊंगा. मैंने उससे पूछा- क्या सचमुच … मैं इतना सुन्दर हूँ कि कोई लड़की मुझसे पट सकती है?रीता- और क्या … लड़कियां पटना तो छोड़ो … बल्कि तुम्हारे पास आ आकर खुद से चुदाने को मचलेंगी.

जब ज्योति का हाथ मेरे लंड से स्पर्श हुआ, तो मुझे बहुत ही मजा आया और मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और मेरे मुँह से ‘आआहह …’ की आवाज निकल गयी. अंडरवियर न होने की वजह से लंड देवता सीधा उसके मुँह से टकराये … उसने बिना देर किए अपने हाथों में पकड़ा और बड़े प्यार से उसे देखने लगी।मैंने पूछा- क्या हुआ … पसन्द नहीं आया?मेरी बहन बोली- पहली बार देखा है तो आँखें रुक गयीं अपने आप … कैसे जाता होगा अंदर, ये सोच रही हूँ. मुझे अपनी चूत में उसका लंड किसी गर्म की हुई लोहे की रॉड की तरह लग रहा था.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी मूवी सेक्स

मैं भी उसके होंठों को चूम कर बेड से उतर गया और उसके टांगों की तरफ आकर खड़ा हो गया. वर्षा ने मुझे पानी लाकर दिया और थोड़ी देर हम घर के हॉल में बैठे रहे. मुझे हैरत होने लगी कि इसका ये पहली बार था, इसने बिना किसी हिचक के लंड भी चूसा और माल भी खा गई.

मैंने सोचा के बाकी घर के तो सब बिज़ी हैं, क्यों न अपना थोड़ा सा प्रोग्राम फिट किया जाए. उस चूतिए को कौन बताता कि तेरी गर्लफ्रेंड के चक्कर में महेंद्र के खुद के सॉफ्टवेयर उड़ गए हैं.

प्यासी जवानी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने दोस्त की 21 साल की सेक्सी बहन की कुंवारी बुर चोद कर उसकी सील तोड़ी.

जहां राजशेखर को बदलाव की इच्छा थी, वहीं निर्मला संतुष्टि की अपेक्षा रखती थी. मेरी चाची दिखने में भले ही साधारण थी लेकिन उसके अंदर सेक्स की आग बहुत थी. गांव में घर में शादी भी थी, इसलिए मुझे इस कारण कुछ दिन रुकना भी था.

मैंने पीछे से कहा- हां मैं हूँ न!दोनों लड़कियां एकदम से चौंकी, पीछे मुड़ीं … उनके लहंगे नीचे गिरे और उनकी गोरी नंगी टांगें छुप गईं. पहली बार मुझे झड़ने में 20 मिनट लगते हैं, दूसरी बार के समय का कोई तय नहीं रहता है. आंटी ने मुझसे कहा- आयोडेक्स लगा दो … मेरे हाथों में बहुत दर्द हो रहा है.

अब आगे:चुत चुसाई के बाद भाभी ने मुझे गले से लगा लिया और मेरे होंठों को चूमने लगी.

लाइव सेक्सी बीएफ: फिर मेरे चूतड़ सहलाने लगे और मेरे अंडरवियर की इलास्टिक से खेलने लगे. जब से मैंने अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ना शुरू किया था तब से ही मैं इस पर रोज कहानियां पढ़ने का आदी हो गया था.

अब मैं धक्के लगा रहा था, साथ ही सौम्या को कभी किस, तो कभी उसके मम्मों को चूसता. राजशेखर- हां सारिका, और ये बात सिर्फ हम तीनों में रहेगी, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. उसकी चूत को अपनी उंगली से चोदना शुरू किया तो वो अपने चूचों को मसलने लगी.

उसके मुँह से ये बातें सुनकर मैं बनावटी गुस्से में बोला- तुम कह क्या रहे हो?मेरे गुस्से को देखकर वो बोला- सुरेश तुम्हारी मॉम को आज भी शहर में जाकर चोदता है और अपने दोस्तों से भी चुदवाता है.

उसका सांवला चेहरा था, पर वो बहुत ही सेक्सी और चमकीली जिस्म की मालकिन थी. मैंने पूछा- मैं नीचे भी कर दूँ?इस पर वो जो बोली, उस पर मुझे यक़ीन ही नहीं हुआ. उन्होंने सभी लड़कियों और लड़कों को बुलाया और कहा- आज कुछ नई एक्सरसाइज करेंगे.