सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बनाने का: सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स, उसने मुझे बताया कि मैम आज हमारी दोनों मॉडल नहीं हैं, एक की तबियत ठीक नहीं है और दूसरी पहले से ही बाहर है.

पाकिस्तान की हिंदी सेक्सी वीडियो

मैंने फिर पूछा- तुम अपना वायदा खुद तोड़ रही हो?वह बोली- आज जान भी ले लोगे तो वो भी माफ़, अब जल्दी से अंदर डालो. इंग्लिश में पिक्चर सेक्सीतेरा भाई साला छोटे लंड वाला बिज़ी आदमी है… तुझमें कितना दम है, देखती हूँ.

मैंने कहा- बुरा न मानो तो हम किसी अच्छे रेस्टोरेंट में डोसा खा लेते हैं. मोटी औरत की सेक्सी दिखाओइस मस्त चुदाई की देसी कहानी को शुरू करने से पहले में बता दूँ कि मेरा नाम लॅविश गोयल है और मैं पंजाब का रहने वाला हूँ.

मामा बोले- मैं किसी ना किसी तरह से तुम्हारी आदत और ख्वाहिश को पूरी करता रहूँगा.सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स: मेरी नजर उसकी जांघों पे पड़ी तो वो समझ गई, बोली- क्या देख रहे हो राज?मैं बोला- खूबसूरती को देख रहा हूँ.

कोमल- सच? मैं नहीं कहूँगी, पर अभी हम दोनों स्काइप पर नंगे हैं, तुम क्या कर रहे हो?मैं- मैं अभी जगा हूँ यार, 12 बजे तक तो चुदाई की, फिर थोड़ा रिलेक्स होने के लिए सो गए थे, बस अभी जगा ही हूँ.इस दौरान अनिता छुट्टियों में घर आती मगर गुलशन जी उससे कम ही बात करते थे.

नंगी सेक्सी हिंदी सेक्सी - सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स

सबने बारी-बारी से परिचय दिया, उसके बाद वो औरत बोली- मैं इस फिल्म की प्रोड्यूसर हूँ, मेरा नाम सलोनी है और मेरे साथ मि.मैंने ऋतु से कहा- ऋतु मैं आया…और अपना लण्ड उसकी चूत से निकालकर अपने हाथों में ले लिया.

उसकी बात सुनकर मैंने धक्के लगाना बन्द कर दिया और चुपचाप उसके ऊपर लेटा रहा. सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स इसके बाद मैंने हील पहनी और वॉशरूम का गेट खोल कर कैटवॉक करती हुई रॉबर्ट के पास आ गयी.

अब बचे मॉन्टी और राजीव, उन दोनों ने मेरे दोनों हाथों लंड पकड़ा दिया और आगे पीछे करने को बोला.

सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स?

कविता के मम्मे उसने जोर से दबा कर अपने मुख में ले लिए और अपने एक हाथ से उसकी चूत को मसलने लगी. मेरा सारा लंड उसके मुँह में घुस गया था, और मेरा माल उसके मुँह के अंदर झड़ रहा था. मैंने अपनी लंड की महक रुमाल में ली और फिर बाहर आकर वो रुमाल भाभी को दे दिया.

मुझे लास्ट मोमेंट पे धोखा दे देता था, तो मैंने उससे ब्रेकअप कर लिया। तब से आज तक कोई मिला नहीं जो पसंद आए।उधर सबके सब चोर नज़रों से इन दोनों को देख रहे थे और समझने की कोशिश कर रहे थे कि क्या बातें हो रही हैं।अजय- उफ़ यार, साली बैठी कैसे है. बस अब चोद दो मुझे अच्छे से।उसके बाद भाभी ने अपनी गांड उठाई और मेरे लंड पर उछलना शुरू कर दिया।भाभी- आआहह आआआआह ह्म्म्म्म. पहले तो वो दिन में ही गीता के पास जाते थे मगर अब अनिता आई हुई थी और उसको रात को अकेले छोड़ना ठीक नहीं था.

मेरी शादी हो जाने के बाद भी हम दोनों के बीच पति पत्नी का रिश्ता कायम था. चल बन जा कुतिया अभी तुझे पटा कर चोद देता हूँ।पूजा घुटनों पर होकर कमरे में चलने लगी और संजय उसके पीछे-पीछे घुटनों पे चलने लगा। साथ ही वो पूजा की चुत को सूंघने लगा और थोड़ा जीभ से चाट भी लेता।पूजा- उहूँ हू हूँ. आपको ये प्यार भरी चुदाई स्टोरी कैसी लगी, कृपया अपना अभिप्राय दीजिए.

उलटे तुमने बोला कि यह दर्द तो कुछ देर का है, तो फिर जन्म भर का मजा आना है. उसने बहुत ही नूडल स्ट्रिप वाली टाईट समीज पहनी हुई थी, इसमें मेरी जान बहुत ही क्यूट लग रही थी.

मामा के जाने पर मामी और हम बैठ कर खूब बातें करने लगे और फिर मामी खाना बनाने के लिए चली गईं.

‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’थोड़ी देर चुत चाटने के बाद वो मेरी क्लीन शेव्ड चूत को पूरा मुँह में भर के चूसने लगा.

थोड़ी देर मैं उन्होंने रेजर लाकर मेरी प्यारी सी मुनिया का मुंडन कर दिया. मैंने माला की आँखें डाल कर उसकी ओर देखते ही मैं समझ गया कि उसका दर्द कम हो गया था और वह संसर्ग के लिए तैयार थी. मेरी एक कहानी पढ़कर मुझे मुंबई के एक 18 साल के लड़के का मैसेज आया उसने मुझे फेसबुक पर अपना दोस्त बनाया और मुझसे बात करने लगा.

अब उसका बदन 32-24-36 का हो चुका था और अब वो और भी सेक्सी लगने लगी थी. ‘मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं आपको क्या जवाब दूँ और कैसे ये सब करूँ, माँ मुझे आपके साथ ये सब करने में बहुत झिझक हो रही है. और सोच रहा था कि कैसे इस माल का बुर चोदन कैसे करूं? ये सब सोचते हुए मेरे लंड ने उठना शुरू किया.

सेक्स ही करना है तो यहाँ लड़कों की लाइन लग जाएगी। वैसे भी सब लड़के चुत और गांड के दीवाने रहते हैं.

सुमन भाभी ने कहा- सैम प्लीज अब बर्दाश्त नहीं होता, प्लीज अपना लंड मेरी चुत के अन्दर डाल दो. भाभी ने बाथरूम के दरवाजे पर कपड़े और तौलिया रखा, और तभी मैं अपना प्लान अमल में लाया, मैंने पाँव फिसलने की एक्टिंग की और दरवाजे पर अपनी आधी बॉडी को धकेल दिया. चलो चूसना कैंसल, ये बताओ आगे से करना पसंद है या पीछे से या सिर्फ़ करने से मतलब है.

सुमन ने कुछ बोला नहीं और गांड को थोड़ा और पीछे कर दिया और आटा गूँथने लगी, जैसे वो हिलती, उसकी गांड ऊपर-नीचे होती, जिससे लंड की अच्छी- ख़ासी घिसाई होने लगी. ऐसा क्या करोगे तुम?अतुल- जाने दो नहीं तो बुरा मान जाओगी और वैसे भी बीवी के सामने साली को छेड़ना अच्छी बात नहीं है. अब तक की इस हिंदी सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि संजय ने पूजा की चुदाई के बाद उसको चलने में दिक्कत को लेकर समझा दिया था कि कह देना कि स्कूल में गिर गई थी.

?‘हाँ बस एक मिनट में।’मैं नहा कर बाथरूम से निकला तो टॅावेल लपेटे था.

मेरा मन इसी में लगा रहेगा, पर मेरी शर्मीली आदत की वजह से मैंने उससे कुछ भी बात न की, पूरा एक दिन हो गया, बस ऐसे ही एक दो लफ्ज हम दोनों बोले होंगे, पर मैं नजर बचा बचा कर उसे किसी न किसी बहाने से देख रहा था पर उसको पता नहीं चलने दे रहा था. फिर मैंने उसे सीट के ऊपर झुकने को कहा और वह सीट पर हाथ रख कर झुक गई, मैं उसके पीछे आकर खड़ा हो गया और जैसे सुहागरात को पति अपनी बीवी का घूंघट उठाता है उस तरह उसके पीछे बैठ उसकी साड़ी धीरे धीरे ऊपर करने लगा, उसकी गोरी गुदाज जांघ देखकर तो शायद किसी के भी होश उड़ जाते दोस्तो…धीरे धीरे मैंने उसकी साड़ी उसकी गांड के ऊपर उठा दी.

सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स बस दोस्तो यही मेरा मकसद था आपको बताना कि कभी रिश्तों को गंदा मत करना. अब गरदन से होते हुए उसके स्तनों तक पहुँच चुका था और बड़ी ही मस्ती से चूम रहा था.

सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स उसने मुझे कहा कि तुम मेरा कमरा किराये पर ले लो और कुछ ऐसा करो जिससे लड़की का उसके बॉय फ्रेंड से पीछा छूटे. मैं मुस्कुराई और उसका पैग उठा कर नशीली आंखों से उसे देखते हुए सिगरेट पीने लगी.

मज़ा लेने में तेरा क्या जाता है?सुमन- मगर जोश में उन्होंने आँख खोल दीं या फिर मेरी चुत में लंड घुसा दिया तो?टीना- मैं किस लिए हूँ ऐसा कुछ नहीं होगा.

मराठी पिक्चर सेक्सी बीएफ

बस थोड़ा सा पीछे का हिस्सा फिर से देख लो ताकि आप लोगों का मजा बराबर बना रहे. मैंने हाथ बढ़ा कर उनकी पेटीकोट ऊपर उठा दिया और उनकी जाँघों को फैला कर उनके बीच आ गया. उसके बाद उनके चेहरे की मुस्कान एक अलग ही खुशी उसके दर्शा रही थी।फिर उन्होंने मुझे जूस दिया और खाना खिलाया.

मैं रोज रात को सोने से पहले निखिल की हरकतों को याद करके नीलम की चुदाई का प्रारंभ करता था. 3 इंच का है।दोस्तो, इस कहानी में मैं कोई भी असत्य बात नहीं लिखूंगा, सिर्फ़ जगह और पात्र का नाम बदल दिए हैं, उम्मीद है कि यह मेरी पहली भाभी सेक्स स्टोरी है लेकिन मेरा पहला सेक्स नहीं… आपको अच्छी लगेगी। औरत रब की एक खूबसूरत क्रियेशन है, उससे समझना मुश्किल जरूर है, पर नामुमकिन नहीं है।ये स्टोरी एक भाभी की है. मगर साथ ही अपनी चुत पर जो मज़े का अहसास मिल रहा था, उससे वो बहुत ज़्यादा उत्तेजित हो गई.

उसने तकम कर कहा- एक मारूंगी, मैं तुम्हारी सिस्टर हूँ, भाई-बहन में ऐसा थोड़ी ना होता है.

उनको चुदाई की इतनी जरूरत हो रही थी कि वे उस पल को याद करते समय अपनी चुत में उंगली करने लगी थीं. तभी मैंने अपना मुख उनकी चूत पर रख दिया और उनकी चूत को चाटने लगा, अपनी जीभ उनकी चूत में डाल कर जीभ से चुदाई जैसा रोमांच उन्हें देने लगा. ’तिवारी की यह बात सुन अनीता थोड़ा हचमचा सी गयी लेकिन फिर अपने आपको सामान्य करते हुए बोली- आज रात को तो नहीं तिवारी जी, हाँ लेकिन यह वादा करती हूँ आपसे कि कल जब आप आएंगे मेरे घर तो में आपको वो सब बताऊँगी जो हम दोनों इस रात को साथ साथ करेंगी.

सुमन- हाँ पापा, मैं कोशिश करूंगी कि आपको कभी सूखा ना रहना पड़े लेकिन माँ के आने के बाद हम कैसे करेंगे?पापा- जैसे अभी कर रहे हैं. उस ने मेरा हाथ पकड़ा और बोली- तू खाना नहीं खाएगा तो मैं भी नहीं खाऊंगी. योनि से तरल स्राव होने लगा, जिससे लिंग आराम से अन्दर बाहर हो रहा था.

अब मैंने अपना लंड हॉट भाभी की चूत पे लगा कर धक्का दिया, आधे से ज्यादा लंड अंदर चला गया और भाभी एकदम तड़प उठी इतना मोटा लंड चूत के अंदर जाते ही!उधर भैया भाभी के मुँह में ही लंड को अंदर बाहर करते झड़ गए. कुछ देर बाद में मुझे क्लाइंट ने होटल का नाम और रूम नंबर मैसेज कर दिया.

तभी थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि पूजा को टी वी देखते देखते नींद आने लगी है, वो अपनी आंखें धीरे धीरे बंद कर रही थी. कुछ देर बाद निशा ने मेरे बताये हुए होटल में मेरे कमरे पर नॉक किया, मेरे दिल की धड़कनें बहुत तेज हो गई, ऐसा पहली बार होने जा रहा था कि मैं किसी लड़की से इस साईट के जरिये ऐसे मिलने वाला था. फ्लॉरा ने जॉन को हटाने की बहुत कोशिश की, मगर जॉन अपने काम में लगा रहा और थोड़ी ही देर में फ्लॉरा भी उत्तेजित हो गई.

मैं कुछ समझी नहीं दीदी?टीना- अच्छा ये बता उसका लंड चूसने में मज़ा आया था ना तुझे?सुमन- हाँ दीदी बहुत मज़ा आया था.

मैं दूर से ही उसे निहार रहा था… 22 साल का मर्द, गोरा रंग, गले में कोई काला धागा था जो गोरे गले में खूबसूरत लग रहा था. मेरे पास आकर उसने मेरे हाथ में एक गोल्डन नोज रिंग पकड़ाई और कहा- चल इसे अपने नाक में पहन. उसका बायाँ बाजू मेरे कंधे के ऊपर से मेरी पीठ पर था तथा उसने उससे मुझे जकड़ा हुआ था और उसका दायाँ बाजू हम दोनों के बीच में था तथा उसका वह हाथ मेरे लिंग पर रखा हुआ था.

लेकिन मेरा तौलिया निकल गया तो तेरी जाँघों के टच से मेरा लंड खड़ा हो गया. मैं अब उनके सम्पर्क में नहीं हूँ पर उनके साथ बिताए वो चुदाई वाले पल बहुत मजेदार थे.

नीलम दो अलग समय पर दो अलग शख्स की बेड पार्टनर बन कर दोनों को खुश रखती थी. प्रिय अन्तर्वासना पाठको, मेरा नाम मनोज है, मैं आगरा का रहने वाला हूँ. दोनों का फुव्वारा साथ में छूटा मगर इस बार सुमन जोश में थी तो मॉंटी का सारा रस वो गटक गई और अपनी चुत का रस अपने हाथ पे लेकर वहीं ज़मीन पे निढाल होकर बैठ गई.

बीएफ एचडी हिंदी भाषा

सुमन- दीदी क्या होगा, अब पापा किसी और के साथ बिल्कुल नहीं करेंगे वरना इतने साल वो ऐसे तड़पते नहीं.

मैं जानती हूँ कि इतनी जल्दी कहानी खत्म होने से मेरे फ्रेंड दुखी होंगे मगर दोस्तो कहानी तो एक ना एक दिन एंड होनी ही थी. फिर उनकी जांघें फैलाई और थोड़ा झुक कर खड़े खड़े अपना दनदनाता मूसल मम्मी की चूत में पेल दिया. शीघ्र ही आपको अपनी अगली कथा प्रेषित करुँगी जिसमे पण्डित जी ने मेरे गुदामैथुन किया था.

अब बचे दो लड़के, उस दोनों ने मेरे दोनों हाथों लंड पकड़ा दिया और आगे पीछे करने को बोला. थोड़ा भाभी को किस किया, फिर शुरू हो गया, इससे होता यह है कि आपका झड़ने का टाइम थोड़ा बढ़ जाता है। चुत को लगातार नहीं पेल कर. हिंदी डॉक्टर सेक्सीमैंने देखा कि अगल बगल कोई नहीं है तो भाभी को मैंने अचानक से पीछे से पकड़ लिया.

वो इसने अन्दर कुछ नहीं पहना हुआ है, मेरा हाथ इसके व्ववो उससे टच हुआ. अब उन्होंने मुझे नीचे लिटाया और एक एक करके मेरे सारे कपड़े निकाल दिए.

आज ये तुम्हारा ही है।भाभी- हाँ कमीने दे मुझे चुत का होल को बड़ा कर दे मेरा, चोद और चोद आआहह. संजय- प्लीज़ एक मिनट सूसू रोक ले और सुन, पहली बार लंड जब चुत में जाता है तो अन्दर से लाल रस निकलता है. दो घंटे के सफर के बाद हम सब चंडीगढ़ नहीं, बल्कि पंचकुला गए, वहाँ पे हमारा एक और दोस्त था, जिसे हमने सारी ज़िम्मेवारी सौंपी थी.

मैं भी सबीना की बड़ी बड़ी चुचियों को दबाते हुए कभी उसकी गांड पर थपकी मारते हुए चोदने लगा, सबीना अब जमीला की चूत चूसने लगी. इधर मनीष ने अपने हाथों से मेरे उभरे हुए मम्मों का कचूमर निकालना शुरू किया. एक टांग शोल्डर पे रख के फिर डालो अंदर तो लगता है कि टांग की तरफ चला गया है, अंदर हड्डी में लग रहा होता है जाकर ना…वो भी अपना मजा देता है.

उसके बाद भाभी रसोई में गईं और वहां से वो फ्रिज से डेरीमिल्क सिल्क लेकर आ गईं.

वो पास आई और झट से उसने टॉप निकाल दिया और ब्रा खोल के चुची मेरे मुँह के सामने करके बोली- लो ताजा दूध पी लो. उसमें जो टेस्ट होता है तुझे कैसे बताऊं मैं?फ्लॉरा- आपकी बात मेरे समझ के बाहर है भाई.

उनके बड़े चूचे साफ दिख रहे थे और उन पर काले निपल्स एकदम उठे हुए थे. मैंने उसकी गांड को मसलना स्टार्ट किया और उससे कहा- जरा पैरों को फैला. इसी लिए उनसे नॉर्मल हो जा, फिर वो ध्यान नहीं देंगी और तू अपना काम करती रहना.

फिर उसने लंड टच करना शुरू किया तो मैंने भी गांड को पीछे करके उसे इशारा दिया. फिर मैंने पैरों की तरफ से उनकी साड़ी को खींच कर कमर तक चढ़ा दिया और हिम्मत करके अपना हाथ उनकी टांगों पर रखा. यहाँ का हर कमरा काफी सुरक्षित भी था क्योंकि यहाँ पर कोई आता जाता नहीं था.

सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स पहले तो उतना कुछ नहीं था लेकिन उसमें इतने बदलाव की वजह से मैं हैरान था. मेरा मन थोड़ा टूट गया लेकिन मैंने अपने मन में कहा ‘चलो कोई नहीं, चूत तो मारनी ही है, एक बार यह मेरी रंडी बन गई फिर तो जब चाहे जब नंगी कर दूंगा.

हिंदी बीएफ चुदाई मूवी

मैं अपने हाथों से उनकी कमर को नीचे दबाकर उन्हें रोकने लगी मगर वो नहीं रुके. उधर टीना और बरखा भी समझ गई थीं कि अब लोहा गर्म है तो हथौड़ा मार देना चाहिए. इन्हीं सब घटनाओं को लेकर सविता की सहेलियां चर्चा कर रही थीं कि जब सावी की शादी हो जाएगी तो साथी लड़कों के लंड खड़े होने ही बंद हो जाएंगे.

मेरी बहूरानी लिपस्टिक कभी नहीं लगाती, ये मुझे पता था, उसके होठों का प्राकृतिक रंग ही इतना मनभावन है कि कोई लिपस्टिक उसका मुकाबला कर ही नहीं सकती. तो उसने कहा कि तुम बहुत शैतानी कर रहे थे, तुमने एकदम से मेरा गाउन पूरा खोल दिया और मैं तुम्हारे सामने एकदम नंगी लेटी थी. हिंदी आवाज मे सेक्सीवो मुझे उठा कर बाहर ले गया और मुझे रंडी की तरह एक सोफे पर पटक दिया.

चंदन ने देखा कि पहला चूचुक काफ़ी देर तक चूसने के कारण काफ़ी फूल गया था.

चाची गुस्से में बोलीं- पागल हो गया है क्या तू… कुछ समझ नहीं आता तुझे. सुमन- तो क्या पापा मेरे जिस्म को टच करके बेचैन हो गए थे, तभी आज उनके मन में इतनी वासना आ रही थी.

उसने चूस-चूस कर मेरे लंड को खड़ा कर दिया और बोलीं- अब और ना तड़पाओ. मगर क्या करती जो था वही था।टीना- तब तो तू आज बहुत ज़्यादा एंजाय करेगी यार. मेरी तो भाई ने और दोस्तों ने घर पड़ोस और स्कूल में कई बार मारी है, मेरे होम टाउन में लौंडेबाजी बहुत होती है। जो चाचा मेरे साथ लेटे थे, वे भी लौंडेबाजी में पकड़े गए थे, सब चलता है गनीमत है भतीजे को छोड़ दिया। पर आपके साथ गलत हुआ, बदले में आप मेरी मार लो तो मैं समझूंगा आपने माफ किया।मैंने कहा- यार रहने दे मैंने माफ किया.

तभी एकदम से मेरी नज़र दरवाज़े की तरफ गई, मैंने रानी की एक झलक देखी.

उसके बाद रॉबर्ट सोफे पर सीधा बैठ गया और मुझे भी अपने साथ अपनी गोद में बैठा लिया. जब 18 उम्र की कमसिन लड़की बांहों में हो तो ऐसा मौका कोई नहीं छोड़ना चाहता है. क्या बताऊँ दोस्तो, उसे इस हाल में देख कर मेरा तो मन हुआ कि तुरंत ही लिटा कर चोद दूँ, लेकिन उस चोदना इतना आसान नहीं था.

कुत्ता घोड़ा वाला सेक्सी वीडियोउन्होंने मेरा पेंट उतार कर मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया और धीरे से अपने मुँह को मेरे लंड के सुपारे पर लगाने लगीं. मैंने दिल ही दिल मैं कहा- छोड़ मत दे मादरचोद, चोद दे!जब वो मेरे कार तक आया तो मैंने उसे थैंक्स कहा.

जवान लड़की की बीएफ

सभी लगभग 25 से 30 मिनट आराम से निकाल लेते हैं।टीना की बात सुन कर फ्लॉरा की आँखों में चमक आ गई. मैंने घर लॉक किया और अनुराधा को बांहों में उठा कर सीधा बेडरूम में ले आया. आप पता बता दें, मैं वहीं आता हूँ।भाई साहब- नहीं, अभी चलें। मैं कार लाया हूँ।मैं- मैं सुकांत के साथ आता हूँ, डाक्टर साहब आ ही रहे होंगे रास्ते में हैं।भाई साहब सुकांत की ओर चेहरा घुमा कर- अपने पास दो गाड़ी हैं। एक में तुम सब लोग पहुंचो।फिर मेरी ओर मुड़ कर बोले- इन सबको अपना मेकअप करना है.

मैं अन्तर्वासना पर रेगुलर हिन्दी चुदाई की कहानी पढ़ता हूँ और पोस्ट भी करता हूँ. उसने भले निखिल से शादी की थी, लेकिन मैं उसका स्टेन्ड बाय बन गया था. नहीं तो फिर देख ले, ऐसे एक ना एक दिन उनका गुस्सा बढ़ता जाएगा और कुछ भी हो सकता है.

मैंने भी उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए उनके साथ मुफ्त सेक्स कर उनको पूरी तरह संतुष्ट किया. ‘ऐसे क्या देख रहे हो अंकल?’‘तुम्हारा निश्छल सौन्दर्य निहार रहा हूँ रानी. फ्लॉरा- चलो टीना, शुरू हो जाओ और बताओ इसको कि कैसे तुमने लंड लिया था.

मुझे भी इसमें कुछ खास बुराई नहीं लगी और वैसे भी मैं उनसे अपने आप को आकर्षित महसूस कर रही थी तो मैंने हाँ बोल दिया. लेकिन मैं ऐसी कामुक कुत्सित इच्छाओं को बलपूर्वक मन में ही दबा देता था.

रमेश- मजा आ रहा है ना?गोरी गोरी चुची दबाने से उसकी घुंडी तन गयी थी.

जॉन की बात सुनकर फ्लॉरा ने टी-शर्ट थोड़ी नीचे की और अपने गले से नीचे निशान दिखाया, वो एकदम लाल था. हिंदी सेक्सी देहाती बीपीनीलम मुझे अपने हाथों से अपना दूध पिलाती थी, मेरा घी खाती थी, अपने हाथों से छाती पर भी मलती थी. सेक्सी गम भरीभाभी बोली- आपका अहसान कैसे चुकाउंगी?मैंने भाभी को शोख़ नजरों से देखकर कहा- जब मर्जी चुका देना. मुझे यह पता था कि मुझे जो भी करना है, जल्दी करना पड़ेगा क्योंकि मेरा बेटा हॉस्टल में रहता था.

उसने लंड सहलाते हुए मुझे इशारा किया, तो मैं बिकनी उठा कर वॉशरूम में जाने लगी.

मेरी बात सुनकर उसे यकीन हो गया कि मैंने सच में उसे नींद की गोली दी थी और वह खुलकर मेरा साथ देने लगी. वैसे तो मुझे यकीन सा था कि वो खूब चुदी हुई होगी फिर भी मैंने उसकी चुत के नीचे अपना कच्छा रख दिया ताकि अगर कोई खून आदि निकले तो बिस्तर पर न गिरे. पर पूजा को सीरियल अच्छा लग रहा था इसलिए उसने बोला- थोड़ी देर रुको, लास्ट तक देख लें, फिर चल देंगे.

उसका लंड इतना मस्त था कि मैं सारी रात उसके नीचे चुदने के लिये तैयार था. शाम 7 बजे हम दोनों निकले, लेकिन मैंने देखा कि आज दीदी ने साड़ी पहनी हुई थी, वो गजब का माल लग रही थीं. लेकिन उसने मना कर दिया, तो मैं उसे मनाते हुए बोला- तो ठीक है, मैं जा रहा हूँ, तुम मुझे प्यार नहीं करती, बाय.

एक्स एक्स एक्स बीएफ फिल्म बीएफ

मैं स्वीटी से उसकी स्टडीज के बारे में बातें करने लगा, परंतु मेरा सारा ध्यान उसकी उभरी हुई चूत, टीशर्ट फाड़कर बाहर दिखाई देते मम्मे व उसके गोरे गोरे मांसल पटों को देखने में था. कॉम की इस रंगीन चित्रकथा का पहला सीन देखेंगे तो आप कामुक हो उठेंगे. ‘मम्मी, आज इनको पालक छोले की सब्जी खानी है जैसी आप बनाती हो, आप मुझे गाइड करो कैसे बनाना है’; ‘मम्मी आम का अचार डालना है आज, आप बता दो कैसे क्या क्या करते हैं’ इत्यादि इत्यादि.

छ: बजे हम मूवी हाल पहुँच गए, इंग्लिश मूवी थी, हाल में कोई खास रश नहीं था.

तो मैं बोली- प्लीज गांड नहीं!सुरेश बोला- चुप चाप रह, हम जो करते है.

कई तरह से अपनी सासू माँ को चोदने के बाद जमाई ने संगीता को वापस बिस्तर पर लिटा कर सासू माँ की चूत में अपना रस डाल दिया. उन्होंने अपनी एक ऊँगली से मेरी गुदा के सूराख को सहलाया, मुझे गुदगुदी से हंसी आ गयी. नूह सेक्सी गुथरी और मैं यह पतामैं उनकी चूत को चूसते चूसते इस तरह हो गया कि 69 पोजीशन में आ गया अब उनका जादू शुरू हो गया।उन्होंने मेरे लंड को पहले सहलाया, उसके बाद उस पर पता नहीं कुछ लगाया, शायद शहद ही होगा.

सुबह उठने पर मुझे एक बात का पता और लगाना था कि आखिर वो मुझे क्या खिला देता था, जिससे मुझे कुछ होश नहीं रहता था. उधर स्वान ने मेरी नन्ही सी बीवी के चूतड़ों पे दो-तीन चपत लगा दी जिससे वो और उत्तेजित हो उठी और हम दोनों के लंडों को और अन्दर तक अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. मैं बुद्धू बनकर उसके उरोज को मसलने और उसका दूध पीने के लिये बेताब हो जाता था.

मैंने फिर से उनको सॉरी कहा तो इस बार उन्होंने एक स्माइल दी तो मैंने भी स्माइल किया और खाने की टेबल की तरफ चला गया. फिर उसने धीरे से सुमन के कान में कहा कि संजय चुत की चुसाई बहुत मस्त करता है.

वो बेड की ओर बढ़ी तो रीना ने चिल्ला कर उसे बेड पर चढ़ने रोक दिया, वो बोली- कमीनी तुझे नहीं मालूम कि हमारे बेड पर कपड़े पहन कर आने की मनाही है.

दोस्तो, इतनी प्यार से चूसने वाली मैंने आज तक नहीं देखी थी, उसकी जुबान और होंठ मेरे लंड पर ऐसे पर चल रहे थे मानो क्रीम फिसल रही हो. मेरी इस हरक़त से उसकी बुर से पानी निकलने लगा, जो मेरे हाथ में मुझे महसूस हो रहा था. तब मैंने थोड़ा ऊँचा होकर संसर्ग शुरू किया और अपने लिंग के मुंड को उसकी योनि के अंदर ही रखते हुए बाकी का हिस्सा बाहर निकाल कर फिर अंदर धकेलने लगा.

सेक्सी पिक्चर भेजो सेक्सी पिक्चर सेक्सी बातों बातों में मेरी ने कहा- आप को मालूम है, रिसोर्ट ने रूल के मुताबिक आपका आधा बिल आपके बैंक खाते में लौटा दिया है और आपके लिए मेरे पास कुछ गिफ्ट भी भेजा है. वो आंगन में अपने बच्चे के कपड़े सुखा रही थीं, तो बैठ कर झुकी हुई थीं.

जब मैं उसकी गोद में बैठी थी, तो उसका लंड एकदम खड़ा हो चुका था और मुझे चुभ रहा था. पर उसकी कभी हिम्मत ही न हो सकी कि वो सविता भाभी की जवानी की रसधार में डुबकी लगा सके. फिर चन्दन साहस करके अपनी सास के पास चला गया और सास के बगल में लेट गया.

नंगी बीएफ सेक्स

मैंने उनका हाथ अपने कंधे पर रखा और उनके कमर को पकड़ कर उन्हें बेडरूम तक ले जाकर बिस्तर पर लिटा दिया. वो जाग गईं और उन्होंने मुझे देख कर मुस्कुराते हुए बड़े आराम से अपने मम्मों को और ठीक से पकड़वा लिया. मुझे उम्मीद है कि मेरी इस कहानी को लड़कियां और भाभियाँ जरूर पसंद करेंगे… और दोस्तों का क्या है वो तो चुत के नाम पर वैसे ही चोदने के लिए लंड खड़ा कर लेते हैं.

सुमन की बात दोनों ने मान ली और तय ये हुआ कि सबसे पहले टीना अपनी चुत की चुदाई की कहानी बताएगी, उसके बाद फ्लॉरा. फिर ऋतु ने कहा- क्या तुम्हें लगता है कि तुम्हारी कोई सहेली भी अपनी चूत चुसवाना चाहती है?पूजा- तुम्हारा मतलब क्या है?ऋतु ने सब डिटेल में बताया- मेरा मतलब कि अगर तुम अपनी सहेलियों को भी यहाँ ले आओ जो ये सब मजे लेना चाहती हैं तो मेरा भाई और उसके दोस्त ये सब कर सकते हैं और अगर तुम चाहो तो हम उनसे चार्ज भी कर सकते हैं फिर और भी मजा आएगा.

जब उसका कोई ऐतराज नहीं हुआ तो मैं उसके गाल पर, गले पर किस करने लगा.

उस दिन मैंने ख़ुशी के कारण खाना ना खाया, और ना सही से सो पाया मैं मन ही मन मुस्कुराता रहा, रात भर उसी के बारे में सोचता रहा और उसके बारे में सोचते हुए रात में 3 बार मुट्ठ मारी. तभी मुझे किसी ने बाल पकड़ कर सोफे पे अधलेटी किया और आगे से मेरी चुत में अपना हलब्बी लंड डाल कर आगे पीछे करना शुरू किया।तभी और एक मेरे पैरों के बीच लेट गया और अपने लंड के लिए वो जगह देखने लगा. सविता को प्रेम के बारे में मालूम था कि वो ख़ास उनकी शादी के लिए विदेश से भारत आया है.

मैंने मामा को मैसेज किया और पूछा- कहाँ हो आप?तो मामा ने रिप्लाइ मैसेज किया- क्लास मैं हूँ. जबदस्त चुदाई के बाद आखिरकार मैंने अपने वीर्य से उसकी चूत को सराबोर कर दिया. मैं और रॉबर्ट रूम के लिविंग एरिया में सोफे पर बैठ गए और डील की बातें करने लगे.

‘कमाल का चूतिया आदमी है? ऐसे आदमी को तो गोली मार देनी चाहिए!’ मैंने मन ही मन सोचा लेकिन कहा कुछ नहीं और रानी की चूत चाटता रहा.

सेक्स व्हिडिओ बीएफ सेक्स: मेरी क्लास की बाकी लड़कियां पार्टियों, डिस्को में जाया करती थीं, पर मुझे कभी भी मन नहीं किया. मेरा सारा लंड उसके मुँह में घुस गया था, और मेरा माल उसके मुँह के अंदर झड़ रहा था.

मगर तू क्यों जागी हुई है? तुझे नींद नहीं आ रही क्या?सुमन- कब से सोने की कोशिश कर रही हूँ. ममता ने एक के बाद एक सवाल पूछने शुरू कर दिए- भाभी, कहाँ हैं बच्चे कितने हैं वगैरह वगैरह. अब आगे:मैंने देखा कि मेरे और रिया के लिए सभी लड़कों की नजर में तारीफ और चुत चुदाई की हवस दोनों पैदा हो चुकी थी.

एक दिन की बात है, उनके पड़ोस में रहने वाली स्वाति की एक सहेली की शादी होने वाली थी और उसे रात भर उसके साथ रहने के लिए बार-बार बोल रही थी.

आज बहुत दिनों बाद तेरी चुत मारने का मौका मिला है, इसे तो आराम से मारूँगा और तू है कि जल्दी कर रही है. यह सुनकर वो लड़का कामुक सिसकारियाँ लेता हुआ मेरे निप्पल को मसलने लगा, कभी मेरे होठों को अपनी पैंट में खड़े लंड पर फिरा देता और कभी लंड मेरे हाथ से रगड़वाने लगता. ‘बस आप पूछिए मत तिवारी जी, वो पल कितने रंगीन थे, मानो जैसे मैं मेरी पुरानी ज़िन्दगी में लौट गई थी.