चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,ಗೋವಾ ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋಸ್

तस्वीर का शीर्षक ,

दर्द वाला बीएफ: चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी, मैं नीचे से उसका लंड अपनी चूत की फांकों में फिट करवा रही थी और वो मेरी एक चूची को अपने होंठों में दबा कर चूस रहा था.

सेक्सी बीएफ ऑनलाइन वीडियो

इतने में सनी का रिप्लाई आया … जिसमें वो पूरी तरह मेरे जाल में फंस चुका था. बीपी पिक्चर सेक्सी ब्लू पिक्चरमैं दर्द के मारे कराहती रही लेकिन वो नहीं रुका और मेरी चूत को खोलता रहा अपने मोटे और लम्बे लंड से.

उसने कहा- चलिए कोई बात नहीं, आज तो बिजी नहीं हैं न आप?मैंने धीरे से कहा- बिजी हूं. हिंदी बीएफ फुल एचडी वीडियो बीएफमुझे मेरी असली मां का तो याद नहीं क्योंकि मैं उस वक्त बहुत ही ज्यादा छोटा था.

जिया मेम- मानव, मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड या बीवी नहीं हूं, इसलिये तुम जरा ध्यान से अपना लंड अंदर डालना और सब कुछ आराम से करना.चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी: पांच मिनट बाद मैंने भाभी को कुतिया बनाया, फिर पीछे से लंड लगा कर भाभी को चोदने लगा- आह मेरी कुतिया … रांड साली … ये ले लंड खा.

मैंने धीरे से ब्लाउज उतार कर साईड में रख दिया और तौलिये से स्तनों को ढक कर लेट गई.’जिगर बोला- क्या धीमे? तेरी गांड फाड़ दूँगा मादरचोद … ले और तेज ले कुतिया.

पाकिस्तानी लड़की को चोदा - चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी

कुछ देर में प्रीति दुबारा गर्म हो गयी और बोली- चलो बेड पर चलते हैं.मन में कहते हुए मैं आगे बढ़ गयी।लेकिन अब तो वो रोज ही मेरे पास मंडराने लगा। सहपाठी था … इसलिये मैं भी नहीं बोलती थी.

फिर निगार आंटी से बात हुई, तो उन्होंने मुझे अपनी फैमिली के बारे में बताया. चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी अफ्रीकन ने उसके होंठों की तरफ अपने होंठ बढ़ाए, तो उजमा उसे भी किस करने लगी.

अंकल- मजा आ रहा है?मैं- हां बहुत।अंकल- और करूं?मैं- हां करो ना अंकल … करो प्लीज।अंकल- अब जोर से करूं?मैं- हां, जोर से कर दो.

चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी?

मेरी ब्रदर एंड सिस्टर सेक्स स्टोरी के पिछले भागलॉकडाउन में फिर से दीदी को चोदा- 1में मैंने आपको बताया था कि मेरी दीदी शादी के बाद पहली बार घर आयी थी. उसने ब्लू टॉप और ब्लैक जीन्स पहनी था। वो उस ड्रेस में बहुत हॉट लग रही थी। हमारा होटल पहाड़गंज में था और दिल्ली वालों को तो पता ही है कि वहाँ सिर्फ होटल ही होटल हैं।पहाड़गंज नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के बिल्कुल पास है। फिर हम होटल की तरफ चल पड़े। हमने होटल में जाकर चेक इन किया. मतलब इस ड्रेस में मेरी बीवी की चूत और मम्मों के दीदार फिलहाल कुछ देर के लिए बंद थे.

ये सुनकर मैंने उसकी निक्कर को अपने हाथों से निकाला, तो देखा कि उसने चूत को ढकने के लिए पैंटी भी काले रंग की ही पहनी थी. फिर फिल्म के फाइनेंसर ने फिल्म में पैसा लगाने से मना कर दिया और प्रोड्यूसर ने मुझे उनके साथ भी सोने के लिये कहा. मैं चेन बंद करने लगा लेकिन चाची ने मेरे हाथ को पकड़ लिया और मुझे चेन नहीं बंद करने दी.

मेरे भाई को बीच-बीच में व्हिस्की भी पिलाई जा रही थी और उसकी गांड भी चोदी जा रही थी. मेरी बेटी बोली- इतना पैसा कहीं चोरी तो नहीं किया ना?वो लड़का बोला- भोसड़ी वाली साली छिनाल मैं तुझे चोर लगता हूँ … मादरचोद मेरा डैड डीएसपी है और मेरी मॉम आईएएस अधिकारी है. करीब 15 मिनट तक ऐसे ही एक दूसरे के ऊपर पड़े रहने के बाद मेरा लौड़ा फिर से तन गया था.

पर आज मेरी पकड़ इतनी मजबूती थी कि वो चाह कर भी मुझसे अलग नहीं हो पा रही थीं. उन्हें देख कर लग रहा था, जैसे जेठ जी ने जाने से पहले उन्हें जमकर चोदा था.

भाभी बोलीं- राजा देखो तुम्हारी रानी कैसे बह रही है, अब देर मत करो जान जल्दी से अपनी रानी का बाजा बजा दो.

मेरे भाई ने हम दोनों देवरानी जेठानी की चुत चोदी और मेरे पति और जेठ जी ने हम तीनों की गांड मारी.

जब वो जा रही थी तो मैंने मौका सही जाना और उसको रोकते हुए कहा- एक मिनट रुको, मुझे तुमसे कुछ बात करनी है. चाची ने मुझे कई बार चूमा और मैंने भी बदले में उन्हें कई बार चूमा। चाची की चुदाई के बाद हम दोनों बहुत खुश थे. इसके बाद मैंने बाइक को अपने हॉस्टल में खड़ी कर दी और दोस्तों से कहा कि आज मैं दीदी के यहां गोविंदनगर जा रहा हूँ.

दोस्तों के साथ काफी वक्त बिताने के बाद मैं रात को वापस घर आकर खाना खाया और थोड़ी देर टीवी देखकर रूम में आ गया. अब वो लगातार धार चलाने लगा और कहने लगा कि जैसे नल से पानी पीया जाता है वैसे ही पी जा वरना नहीं तो बेड खराब हो जायेगा. वैसे भी मैं घर में भाभी से सही से बात नहीं कर सकता था … क्योंकि सब होते हैं.

मेरे कहने पर मेरी सास ने उन लड़कों को नीचे बुला कर डांटा और मकान खाली करने की बात कहने लगी.

उस एक नज़र के बाद वो मुझे दिखाई नहीं दी … तो मेरी हालत बिल्कुल मजनू जैसी हो गई. मैंने पूछा- तुम मेरे लिये नहीं लाई?वो बोली- क्यूं, तुम एक प्लेट मेरा झूठा नहीं खा सकते क्या? वैसे भी खाने के बाद मुझे बर्तन कम साफ करने पड़ेंगे इसलिए एक ही निकाला मैंने।फिर पहला निवाला मैंने ही खाया. मैंने अब आंटी की मैक्सी उतार कर उन्हें बेड पर गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया.

इसके बाद मैंने बाइक को अपने हॉस्टल में खड़ी कर दी और दोस्तों से कहा कि आज मैं दीदी के यहां गोविंदनगर जा रहा हूँ. मैंने मस्ती में आकर अपनी उंगली थूक में गीली की और उसकी गांड में सरका दी. मैंने लंड को बाहर निकाल लिया और अपने होंठों से मां की चूत पर हमला बोल दिया.

फिर उसके बूब्स को दांतों से हल्के हल्के काटने लगा और वो गर्म होने लगी.

जेठानी जी ने वैसलीन की शीशी दीपक जी को दे दी और बोलीं- ननदोई जी चोद डालो इसे और अपनी साली को आज रंडी बना दो. उसने आगे कहा- अरे तुम तो फालतू में शर्मा रही हो, लाओ मैं खुद ही देख लेता हूं.

चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी आपको मेरी कामवाली बाई सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. उसके होंठों पर हल्की सी मुस्कान तैर रही थी जैसे वो मेरी बेबसी का मजाक उड़ा रही हो.

चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी सुबह सुबह चूत को लंड की खुराख मिल गई, तो चूत चुदवा कर शिखा आंटी भी खुश हो गईं. मगर जो लड़की दरवाजा खोलने आई उसने लाल रंग की साड़ी, ब्लाउज पहना था और अपने होंठों पर गहरी लिपस्टिक लगाई हुई थी जिससे वो बहुत सेक्सी लग रही थी.

फिर जब हम शांत हुए तो मैंने पूछा कि मिलने के लिए कब आना है?उसने मिलने से मना कर दिया.

सेक्सी stories

मैं- आपने पहली बार सेक्स कब किया था?नताशा- अविनाश से शादी करने के बाद. आखिरी बार जब मैंने उसकी चूत मारी तो मैंने उसकी चूत में ही अपना वीर्य निकाला. 2 मिनट वो बेचैन सी होकर बैठी रही और फिर उठकर जाते हुए बोली- मैं बाद में आ जाऊंगी.

इतना कह कर उसने एक झटके से अपना काम कर दिया और एक मोटी, डंडे जैसी चीज़ मेरी गांड के छेद को खोलती हुई अंदर जा घुसी. एक ने आगे आकर रानी को अपनी बांहों में भरा और बोला- तू बता … तुझे मजा आया कि नहीं?रानी उसके सीने से चिपक गई और धीरे से बोली- बहुत मजा आया. शेखर पर चिल्लाते हुए सास बोली- भोसड़ी के चोद दे मुझे अब, मेरी जान निकालेगा क्या मादरचोद? इतनी देर से तड़पा रहा है, जल्दी फाड़ मेरी चूत को, और नहीं रुक सकती मैं अब।शेखर भी जोश में आ गया.

वैसे में ज्यादा हैंडसम तो नहीं हूँ किंतु कुल मिलाकर अच्छा दिखता हूँ.

उसके बाद कुछ देर का आराम और फिर से मुझे ताकत देने वाला द्रव्य पिलाया गया. तो जेठानी जी बोलीं- बोल बहनचोद गुलामी करेगा इस लंड की?समीर बोला- हां बिल्कुल करूंगा, मैं तो अब से दीपक जी का ही गुलाम हूँ. उस दिन के बाद से भाभी मुझसे ऐसे बात करने लगी जैसे मैं ही उसका पति हूं.

उसने आधा घंटे तक गांड बजाई और उसके बाद अपना पानी मेरी बेटी की गांड में छोड़ दिया. अब मेरी बीवी ने धीरे धीरे अपनी आंखों को खोला और मुझे देख कर मुस्कुराई. नेहा सिसकारियां ले रही थी- आह … आह … आह … आह … करते हुए मेरे बालों को सहला रही थी.

मैं- फिर!ऐश्वर्या- कुछ मिनट रोमांस के बाद हम दोनों एकदम नग्न हो गए और फिर अविनाश ने मुझे बेड पर पटक दिया. अगर मैं अपने बारे में बात करूं तो मेरी शादी के समय मैं काफी स्लिम थी.

तुम तो मेरी परमानेंट रखैल इतनी गदराई और गोरी बदन वाली तुम्हारी जैसी रखैल कौन छोड़ेगा, जो मेरा और मेरे दोस्तों की जरूरत को पूरा करती है. ये कहकर भाभी ने अपने फोन से एक नम्बर डायल किया और मेरा फोन वाइब्रेट होने लगा. मैंने उनको अन्दर आने का इशारा किया और वो अपनी गांड को जुम्बिश देते हुए मेरे पीछे चलने लगीं.

फिर मैंने उसको बांहों में पकड़ लिया और उसकी चूचियों को हाथ में पकड़ कर सो गया.

शुरुआत आंटी ने की और अपने पिंक डिल्डो से मेरी गांड मारना स्टार्ट की. मैं हामी भर दी और ननदोई के लंड से चुदने की बात सुनकर अपनी चुचियों को मसलने लगी. एक औरत ने पांच सौ का नोट देखा, तो उसकी बांछें खिल उठीं और वो दुआएं देने लगी- जुग जुग जियो जवांई जी … हमेशा हंसते खेलते रहो, तुम्हारा परिवार खुश बना रहे.

पारुल को मैं बहुत अच्छी तरह से जानता था कि वो लड़की नई और कुँवारी थी. रोहन तेजी से मेरी चूत में उंगली करने लगा और मैं रोहन को बेतहाशा चूमने चूसने लगी.

अब मेरी चूचियां भी काफी भर गई थीं और मुझे लंड चूसने में भी काफी मजा आने लगा था. फिर मैंने पूछा कि अब क्या बोलती हो?उन्होंने धीरे से कहा- चोद दे मुझे … मेरी चुत की आग बुझा दे. अब मेरा एक हाथ मेरी छोटी बहन की बुर को सहला रहा था और दूसरा हाथ उसकी चूचियों को मसल रहा था.

हरियाणवी जूती

मगर दोस्तो, मामी ने एक बार मेरा लंड लेकर फिर मुझे ज्यादा भाव देना बंद कर दिया था.

तो मेरे प्यारे पाठकों, आपको मेरी यह इंडियन लड़की सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी राय जरूर भेजें. पड़ोसन आंटी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी पड़ोसन को एक लड़के के साथ सेक्स करते देखा. उन्होंने कहा- सच में … क्या-क्या पी सकते हो?मैंने कहा- मैं सब कुछ पी सकता हूं.

मैंने अभी तक भाभी की चूत नहीं देखी थी, बस उंगली और होंठों से ही छू कर देखा था. मेरी मां ने बताया कि जब वो कमसिन थीं, तभी उनके सीने में बड़े उभार आ गए थे. भाई बहन की बीएफ सेक्सी पिक्चरआह्ह चोदो दादाजी।तभी विजय बोला- रण्डी तो तू है आशा साली, अब ज़िन्दगी भर तू हमारी रखैल बन कर रहेगी.

9 फीट है। मेरा शरीर पूरी तरह से हृष्ट-पुष्ट है।मेरे लंड का तो मुझे फीते वाला नाप पता नहीं मगर आज तक जिनके साथ भी सेक्स किया है, सबको पूरी तरह से संतुष्ट किया है. तभी भाई ने मुझे आंख मारी और बोला- सब ठीक है न! बड़ी दीदी किधर हैं?मैंने कहा- अरे तुझे तो बड़ी दीदी की बड़ी याद आ रही है.

मेरी ओर सेक्सी अंदाज में देखते हुए वो बोली- अब पूरी रात ऐसे ही नंगे रहने का इरादा है क्या? अपने कपड़े तो पहन लो. तभी भाभी ने चुटकी बजाई- ओ हैलो … क्या हुआ राजा … अन्दर तो आओ पहले या गेट पर ही … ह्हम्म!मैं हंस दिया और अन्दर आ गया. जब मैंने उसे छोड़ने की बात की तो उसको बहुत दुख हुआ और वो मेरे सामने बहुत रोई.

मैंने भी अगले 5 से 10 शॉट बहुत ही अन्दर तक ठोकर लगा कर उसकी चूत में अपना पूरा लोड खाली कर दिया. फिर मैंने उसकी भारी भारी जांघों को थोड़ी फैलाया और उसकी चूत में लंड को पेल दिया. जवान मर्द उर्फ जवांई बाबू उर्फ सुंदर एक तरफ रखे पैकेटों के पास आ गया.

आगे बढ़ने से पहले मैं फिर से एक बार आप सबको अपने बारे में और मेरी कहानी में शामिल पात्रों से परिचय करा देती हूं.

सिकाई करके उसने मुझे उलटा किया और मेरी जांघें फैला कर मेरी चूत में अपना लंड घुसा दिया. मैं बोला कि आज से रात में रीता को … और दिन में मम्मी तुम्हारी चुत चुदाई होगी.

मैंने उसका मुँह घुमाया और उसके गोरे गोरे चूतड़ों पर 7 -8 बार ऐसी हथेलियां मारीं कि साली के मोटे मोटे चूतड़ लाल टमाटर हो गये. उन्होंने खुद कहा था कि अगर ये डील फाइनल हो गयी तो जो मैं मांगूंगा वो मुझे वही दे देंगे. …ऐश्वर्या- अविनाश की मॉम की अब उम्र हो चुकी थी और डैड (ससुर) को सेक्स की जरूरत थी, जो मॉम (सासू मां) पूरी नहीं कर सकती थीं … इसलिए मैंने डैड को सेक्स का सुख दिया.

उसने कहा- इस किट से शेविंग करना चाहिए, चलिए मैं आपको एक डैमो दिखाता हूं. उसने मुंह से जोर से सिसकारी निकल गयी- आह्ह … क्या कर रहे हो?मैंने भी हवस में कहा- क्या हुआ मेरी जान … प्यार कर रहा हूं तुम्हें!वो बोली- मैं पागल हो जाऊंगी आशू … कुछ करो यार प्लीज।मैंने कहा- बस थोड़ा सा सब्र और करो मेरी जान, मैं तुम्हारी सारी ख्वाहिशें पूरी कर दूंगा आज. सनी ने अब अल्पना की टांगें खोलीं और उसकी चुत की फांकों पर लंड घिसना शुरू कर दिया.

चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी इससे वह और उत्तेजित हो गई और बोलने लगी- अब तुम मेरे अन्दर जल्दी से लंड डाल दो. बस में मैं अक्सर मजे की तलाश में होती हूँ, तो मैं आज लैगी के नीचे पैंटी पहन कर नहीं आई थी.

सेक्सी वीडियो भोजपुरी आवाज में

कुछ देर ऐसे ही रहने के बाद मैंने अपना लंड मम्मी के मुँह में डाल दिया. फिर मामू ने मेरी गांड के ऊपर अपना लंड पेंट के ऊपर से रगड़ना चालू कर दिया. फिर उसने मेरे सिर के पीछ हाथ ले जाकर मेरे बालों को सहलाना शुरू कर दिया और हम दोनों के होंठ आपस में मिल गये.

वो बोला- और कुछ? और क्या … तेरा जिस्म?मैं चौंक गयी और धीरे से बोली- हां।वो बोला- ठीक है लेकिन एक बार ही नहीं, जब मन करेगा तब आऊंगा मैं तेरे पास, सोच ले!सोचकर मैं बोली- ठीक है. फिर मेरे पति ने मुझे व्हिस्की का ग्लास दिया और बोले- लो डार्लिंग पी जाओ. সানি লিওনের চোদাচুদি ভিডিওएक सुबह उसका फोन आया कि आज मेरे परिवार के सभी लोग गाँव में किसी की डेथ होने के कारण गांव जा रहे हैं तो क्या तुम आज मेरे घर आ सकते हो?जवाब में तो मैं सिर्फ उसको ओके ही कह पाया.

फिर भाभी से रहा नहीं गया और वो मेरा हाथ लंड से हटा कर खुद अपने हाथ से लंड चूत में डालने लगीं.

उनकी आवाज सुनकर समीर और रवि उधर जाकर दीपक जी के सर के पास खड़े हो गए. मैंने अपने पंजों में फंसी जींस को अपने तन से अलग कर दिया और अल्पना के मुँह पर अपनी चुत लगा दी.

मुझे तो फिर भी फ़रज़ाना ने बचा लिया, लेकिन जेठानी जी की बहुत हालत खराब हुई थी. फिर मैंने उसकी पैंटी को उतार दिया। उसकी चूत एकदम गीली हो चुकी थी। मैंने उसकी गीली चूत को सूंघा जिसमें से बहुत ही मदहोश कर देने वाली खुशबू आ रही थी. मजे की वजह से उसने मेरी 2 या 3 कॉल नहीं उठाई लेकिन मैं लगातार कॉल करता ही रहा.

मेरा लंड भी बोल रहा था कि पहले एक बार भाभी को जल्दी से चोद दूं, पर मन बोला कि बेटा रुक जा … पहले भाभी की चूत रानी को तो तैयार कर दूं.

अब अंकल ने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और एक हाथ से लंड को चूत पर रगड़ने लगे। तेल लगने के कारण लंड चूत पर काफी फिसल रहा था जिससे मुझे अलग ही तरह का मजा मिल रहा था।दोस्तो, जब उनका लंड मेरी चूत पर लग रहा था तो तब मुझे समझ में आ रहा था कि मेरी सहेलियां, जिन्होंने कोई न कोई लड़का पटा कर रखा हुआ था, वो अपनी चुदाई की कहानियां इतनी मस्त होकर क्यों सुनाया करती थीं. [emailprotected]हाउसवाइफ सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मैं हिरोइन बन गयी- 2. मैं पीछे से आंटी की गांड सूंघने लगा, फिर मैंने अपनी जीभ से आंटी की गांड का छेद चाटा.

फिल्म ब्लू फिल्म सेक्सीअब वो तीनों मुझे बेड पर ले गईं और 5 मिनट में मेरी हालत भी मेरी जेठानी जी जैसी हो गयी. आह्ह दोस्तो, क्या सेक्सी चूत थी मौसी की! एकदम टाइट रखी हुई थी संभाल कर। सांवला रंग और हल्के झांट जो 3-4 दिन पहले ही काटे गये थे.

भतीजे का जन्मदिन

उसके बाद हम कहां कहां मिले और हमने कैसे कैसे चुदाई का मजा लिया वो मैं आपको फिर अगली कहानियों में बताऊंगा. मैंने अपनी जींस और शर्ट को निकाला और उसके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया. इससे आंटी एकदम से गरमा गईं और उन्होंने मेरे बालों को बहुत जोर से पकड़ लिया.

तभी भाई ने मुझे आंख मारी और बोला- सब ठीक है न! बड़ी दीदी किधर हैं?मैंने कहा- अरे तुझे तो बड़ी दीदी की बड़ी याद आ रही है. आखिर में हार कर कुछ देर बाद मैंने उसका कॉल उठाया और धीरे से हैलो बोला. मेरी बेटी का फिगर 34 – 30 – 36 का है और वो बहुत ही ज्यादा सेक्सी दिखती है.

जब तू अपने मोटे कड़क लंड से उसकी चूत को चुदाई का सुख देगा तो वो तेरी गुलाम हो जायेगी, जैसे कि मैं हो गयी हूं. अब मैं अपनी सास की चुदाई कहानी सुनाने से पहले आपको बता दूं कि मेरे घर में मेरी सास, ननद और हम पति-पत्नी ही हैं. जैसे ही मैं बाथरूम से निकली वैसे ही दरवाज़े पर कोई आ गया। हमने जल्दी से सब कुछ ठीक किया और मैं अपना सारा सामान लेकर किचन में चली गई.

मामी की गांड पर भी सरसों के पत्ते चिपके हुए थे और उसकी गांड अब सुगंधित हो चुकी थी. लंड घुसते ही ऐश्वर्या के मुँह से तेज आवाज़ निकल गई और ससुर अपनी बहू को चोदने लगे.

रत्ना- सुंदर तुमने बताया नहीं, तुमको आज मोना की याद नहीं आ रही क्या?सुंदर- हां, ये हमारी पहली ही होली थी शादी के बाद पर उसे बाहर जाना पड़ा.

थोड़ी देर बाद शमशेर ने मेरी बेटी को बेड पर लेटा दिया और उसकी चूत चाटना शुरू कर दिया. हिंदी में बीएफ चालूउसके बाद उसके पेट को चूमते हुए नाभि से होकर उसकी चूत की ओर बढ़ा उसकी पैंटी को आहिस्ता से उतार दिया और चूत को नग्न कर दिया. नेपाली बीएफ सेक्सी व्हिडिओकुछ देर बाद आंटी रूम में आईं और उन्होंने मुझे कॉल करने का इशारा किया. ससुर का मोटा लंड बहू ने अपनी चुत में लिया, तो वो एक बार को सिहर गई … मगर कुछ ही पलों बाद ससुर बहू में चुदाई का खेल शुरू हो गया.

इन सब बातों से मेरे लंड का तनाव बढ़ता ही जा रहा था और मुझे अब हर हाल में दीदी की चुत में अपना लंड पेलना ही था.

अब एक ही बेड पर हम दोनों देवरानी जेठानी अपने देवर और ननदोई से चुद रही थीं. मेरे एग्जाम की वजह से मेरा फेसबुक अकाउंट भी मैं बन्द करने वाला हूं. कपड़े पहनाते हुए उसका लंड एक बार फिर से तन गया और उसने वहीं पटक कर मुझे एक बार फिर से चोद दिया.

मैंने कुछ बोलने के लिए मुँह खोला, तो फ़रज़ाना ने अपना हाथ मेरे मुँह में डाल दिया. मैं नीचे से हाथ डाल कर उसकी चूचियों को मसलने लगा जाता और ऊपर से अपनी किताबें रख कर मेरे हाथ को आड़ दे देती थी. अगले दिन मुझे ठीक टाईम पर तैयार करवाया और ऑफिस का पता देकर टैक्सी करवा दी.

जयपुर में लड़कियां कहां मिलती है

थोड़े देर बाद मैं उठा और बैठकर उसकी आँखों में देखा तो वो शर्मा गयी. ये वाली महिला पहली वाली से कुछ कम सुंदर और सांवली सी थी और घाघरा चोली में खड़ी थी. धीरे-धीरे उसने अपना पूरा लंड मेरे अंदर उतार दिया और मैं उस पर अच्छी तरह टिक कर बैठ गई। कसम से दोस्तो, चूत में उसका लंड फंसवाकर मदहोशी सी छा रही थी.

कुछ दिन तक तो बड़ी बेचैनी हुई मगर क्या करती … कोई ऐसा मिल ही नहीं रहा था, जिससे मैं अपनी चुत की खुजली मिटवा लूं.

फिर मैंने अपने लंड पर खूब तेल लगाया और उसकी बुर को फैला कर उसकी वर्जिन बुर पर अपने लंड का सुपारा टिका दिया.

चूंकि एक अनजान लड़की मुझे अपने घर में रात रोकने के नजरिये से रोके हुए थी, तो मेरे मन में उसके पार्टी वासना भरती जा रही थी. एक बात और ध्यान रखना कि जिया तुम्हारी मेम भी है और मेरी बीवी भी है. मराठी पॉर्न सेक्स व्हिडिओमेरा दिल भी उसकी चूत में लंड डालने का कर गया तो मैं भी उसे मना नहीं कर पाया और उसे चूमने लगा.

मैं जब उनकी बातों को पास जाकर सुनने की कोशिश करता तो सोनी मना कर देती थी. मैंने ब्रा की पट्टियों को सूट के बाहर ही रखा ताकि ब्रा की वो पट्टियां दूर से ही दिखाई पड़ जायें कि नीचे से मैंने कौन सी ब्रा पहनी हुई है. आज बिस्तर पर मम्मी की चुत में मेरा पूरा लंड चला गया था, इसलिए वो दर्द से चिल्लाने लगीं कि निकाल ले … मुझे बहुत दर्द हो रहा है.

दोस्तो उसके बाद मैंने अगली रात को फिर से दिव्या की दो बार चुदाई की. मैं जेठानी जी के रूम में गयी और उन्हें सब बताते हुए कहा कि अब ये हो गया है क्या करें?तो जेठानी जी बोलीं- अच्छा राज आ गया है अपने पापा को लेकर! उसे मैंने ही बुलाया है … और दीपक जी की फैमिली को भी … अब तुम एक काम करो … पूरे हॉल में गद्दे बिछा दो, बाकी में देख लूंगीमैंने पूरे हॉल में गद्दे बिछा दिए.

मैंने कहा- अरे चाची, ये क्या किया?चाची ने कहा- अरे मेरे से सहन ही नहीं हुआ और मेरी पेशाब निकल गयी.

एक दूसरी की चुत चूसने के लिए हम दोनों 69 में हो गए और मैं अल्पना की छोटी सी बुर को चूसने लगी. ऑटो से पिपराईच पहुंच कर मैंने मेडिकल स्टोर से दो पैकेट कंडोम लिए … और गांव जाने वाली ऑटो में बैठ गया. उसने घर चलने के लिए कहा, तो मैं भी बेहिचक उसके साथ उसके घर पर आ गया.

भोजपुरी रंडी बीएफ बीच बीच में रूकता और मेरे स्तनों के निचले हिस्से पर काट लेता, मेरे निप्पल को काट लेता या मेरे होंठों पर दांत गड़ा देता. मैं पहली बार आज सेक्स का मजा लेने के लिए जा रहा था और वह भी इतनी हॉट सेक्सी औरत के साथ.

मैंने उसे अपनी बांहों में कस लिया और उसके होंठों के पास अपने होंठ ले जाकर उसके होंठों से चिपका दिया. रत्ना- सुंदर आओ … लो ये ठंडाई पियो … जो चम्पा ने खास तुम्हारे लिए बनाई है. जिया मेम- देख मानव, हम दोनों जानते हैं कि आगे क्या होने वाला है, इसलिए संकोच करने की कोई जरूरत नहीं है.

বুলু ফিল্ম

लोकेश अब चुपचाप चला गया। फिर कुछ देर बाद मैं भी वहाँ से अपनी सहेली के घर चली गई और रात को भी वहीं रुकी। उस दिन के बाद लोकेश कभी मेरे रास्ते में नहीं आया और ना ही मुझसे नज़र मिलाई।दोस्तो, ये थी मेरी एक और स्टोरी जो मेरे साथ उस वक्त हुई थी जब मुझे लड़कों की ओर बहुत ज्यादा आकर्षण था. ऐसे ही कुछ हफ्ते बीत गए और एक दिन मैंने हिम्मत करके उससे बात करने की सोची. हम दोनों को समझ आ रहा था कि जवानी चुदने चोदने के लिए मचल रही है … मगर दोनों में से कोई भी आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे.

मैंने उसके कपड़े और अपने कपड़े उठा लिए और बोला- चलो, मेरे कमरे में चलते हैं. कुछ मिनट बाद जितेन्द्र ने मेरी मां की चूत में अपने लंड का पानी गिरा दिया और थककर मां के ऊपर ही ढेर हो गया.

हालांकि मेरे पापा ने मुझसे कहा भी कि कल चली जाना, पर पता नहीं क्यों, मैं उसी दिन जाने की जिद कर रही थी.

मैंने कहा- ये सब (कैमरे) किस लिए?योगेश जी बोले- पद्मा जी, सिर्फ अपनी यादों के लिए, हमारे पास दो चार दिन ये सामग्री रहेगी, फिर हम इन दृष्यों नष्ट कर देंगे. वो अक्टूबर का महीना था, हमारे घर मेरी दूर की मौसी की लड़की की शादी का कार्ड आया था. शमशेर बोला- आंह … साली क्या मस्त लौड़ा चूस रही है … मैं अब तक बहुत सी रंडियों के पास गया, तेरी जैसी रांड अब तक नहीं मिली.

अपनी गांड में उंगलियां महसूस करते ही स्नेहा ज़ोर से चीखी- उई मां … मर गई … आआह … आऐईईई … निकाल हरामी. इससे आंटी एकदम से गरमा गईं और उन्होंने मेरे बालों को बहुत जोर से पकड़ लिया. शिखा आंटी के मुँह से निकल रहा थ कि अहा … मर गई … आंह साले धीरे चोद … मादरचोद … आह मजा आ रहा है.

न्यू सेक्स कहानी हिंदी में पढ़ें कि पड़ोस की लड़की की चुदाई से वो प्रेग्नेंट हो गयी.

चुदाई चुदाई बीएफ सेक्सी: जिया मेम के गुलाबी होंठों पर किस करते हुए मैं एक अलग ही दुनिया में पहुंच गया था. कभी वो मेरे मुंह में जीभ डालती और कभी मैं उसके मुंह में, इस तरह से हमें किस करते हुए 10-12 मिनट बीत गये.

मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि इस दुनिया में हजारों अश्विन हैं. उसके होंठों को अपने होंठों में जकड़े हुए उस लौंडिया की जीभ को चूसे जा रहा था. मनीष सुरेश से कह रहा था कि रूपाली बड़ी मस्त माल है। वो मेरे फिगर का दीवाना है पिछले कई दिन से मेरा नाम लेकर वो रोज रात को सरका मारता है।खुद सुरेश भी मेरा नाम लेकर सरका मारता है।तभी सुरेश मनीष से बोला- चल मान ले कि रूपाली तेरे से चुदने के लिये तैयार हो जाती है तो तू उसके साथ क्या करेगा?अबे करूँगा क्या … रूपाली ऐसी कली के महक को अपने जिस्म से समा लूंगा.

करीब दो मिनट बाद ही पारुल और साधना उसी कमरे से म्यूजिक सिस्टम और पिलो लेने आई जिस कमरे में मैं बंद था.

अब आगे की फंतासी पोर्न स्टोरी:हम दोनों मस्त होकर एक दूसरे को किस कर रहे थे और मैं साथ में ऐश्वर्या की मस्त उठी हुई गांड को भी सहला रहा था. इससे व्यवहार से आंटी बहुत खुश हुईं और बोलीं- जो इज्जत तुमने आज मुझे दी है. मेरी बीवी ने बताया कि तकरीबन डेढ़ महीना हो गया उनको प्यार करते हुए।मेरे पूछने पर फिर मेरी बीवी ने शुरूआत से बताया। वो बोली- जैसा कि आप जानते ही हो कि आपके हरी भैया कितने रोमांटिक हैं और ऐसे मर्द हैं जिन्होंने अपनी साली, नौकरानी समेत न जाने कितनी औरतों और लड़कियों की चूत को अपने लंड से चोदा हुआ है.