गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,मधु हीरोइन सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

गांव के हिंदी बीएफ: गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ, मैंने अपना मुंह उसके गांड के छेद पर लगा दिया और जीभ से उसकी गांड का छेद चाटने लगी.

షకీలా బ్లూ ఫిలిం

मुझे उसके लिए बहुत बुरा लग रहा था मगर अरुणिमा को तो जैसे कोई फर्क ही नहीं पड़ा था. बांगला सेक्सी व्हिडिओ सेक्सी व्हिडिओमुझे अपनी चूत में एक मजबूत सरिया सा लंड चाहिए था जो मेरी चूत की लंबी चुदाई कर सके और मुझे पूर्ण संतुष्ट कर सके.

आंह फाड़ मेरी इस भूखी बुर को … चोद चोद कर मुझे ठंडी कर दो मेरे भाई … आंह मैं बहुत तड़फी हूं इस चुदाई के लिए. सेक्सी पिक्चर नयाउस रात जब मेरी पढ़ाई खत्म हो गई तो मैंने कहा- अब आप जाओ मेरी पढ़ाई हो गई है, मैं सोने जा रहा हूँ.

हम तीनों ने इसके बाद बहुत सारी मस्ती की और अब वो दोनों अपने अपने घर चले गए.गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ: मुझे जब भी मन करता, मैं हरियाणा से दिल्ली चला जाता हूँ और वहां एजेंट की मदद से मुझे कई कॉलेज गर्ल और शादीशुदा औरतें आसानी से चोदने मिल जाती थीं.

मैंने देखा तो कविता बिस्तर पर नहीं थी और मैं अकेला नंगा लेटा हुआ था.लंड को चाटने के बाद फहीमा मेरी गोद में ही बैठ गयी और मैं उसके होंठों को चूमने लगा.

अभी की सेक्सी - गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ

उस रात हैरी ने मुझे 4 बार लंबे लंबे शॉट के साथ जम कर चोदा जिसमें मैंने भी उसका साथ दिया.मुझसे रहा नहीं गया और मैंने अपने मोबाइल में वो सब कैद करना शुरू कर दिया.

मैंने चूत चाटते समय उसकी फांकों को फैला कर देखा तो उसकी चूत की झिल्ली अभी भी साबुत थी. गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ चूंकि विमल भैया घर पर नहीं रहते थे तो अक्सर भाभी के साथ में ही बाजार जाया करता था.

तीस सेकंड बाद ही अमित ने अपना पानी मेरे मुँह में निकाल दिया, तब कहीं जाकर उस भैन के लंड ने मेरे मुँह छोड़ा.

गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ?

अपने उसी शौक के चलते मैंने उसकी गांड में अन्दर तक जीभ डाली और पूरा अन्दर तक चाट कर उसकी गांड का स्वाद लेने लगा. आपने कभी सोचा कि हमारी भाभी अपनी फ़ीगर इतनी अच्छी कैसे रखती है?क्या सविता को जिम की भी जरूरत है?शायद नहीं … पर भाभी जिम जाती है!अपना जिस्म फिट रखने के लिए भाभी को एक्सरसाइज की नहीं बल्कि सेक्सरसाइज की जरूरत है. वो अपनी गोटी बहुत संभाल कर चला रही थी और मैं गोटी को आगे नहीं जाने दे रहा था.

दूसरा, मैं इन बातों से अनभिज्ञ था, तो जब चाची ने होंठ अलग किए तो मुझे घिन आयी कि मेरा मुँह जूठा हो गया है. पूरा लंड अंदर ले लेने के बाद वो अपने बालों को हाथों से पकड़ के सिसकारियां लेते हुए धीरे धीरे धक्के लगाने लगी. अरुणिमा उनसे कुछ बात करके शायद मना कर रही थी, पर वो सुन ही नहीं रहे थे.

मैं भी उससे चुदने के लिए रेडी थी, बस कौन पहल करे, इसका इंतजार हो रहा था. उस वक्त मुझे ऑफिस के लिए देरी हो रही थी, तो मैंने तुरन्त आंटी के हाथ से रूपए लिए और उनको बाय बोल कर ऑफिस के लिए निकल गया. मैं पूरी जान लगाकर उन्हें चोदने लगा और वो मेरे ऊपर चढ़ कर मेरा पूरा लंड अपनी चूत में लेने लगीं.

शरीर के अंदरूनी भाग दाग देखने की बात से मेरे अन्दर तो मानो खुशी की लहर आ गई. पिछली कहानीमेरा छठा पति बड़े लंड वाला निकलामें अब तक आपने पढ़ा था कि मुझे अपना छठा पति चौधरी मामा के रूप में मिल गया था.

अगली चुदाई कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे वोमेरे बच्चे की मांबनी.

उसने मेरे चेहरे पर मोबाइल कर दिया, एक दो पल बाद उसने फिर से झटका दिया.

मैंने आंटी को चित लिटाया और अपना लंड पैंट से निकाल कर सीधे चूत में डाल दिया. दूसरा फ्लैट मलिक ने इस वजह से खाली रख छोड़ा था कि कभी उनके मेहमान आएं तो उनके लिए रहेगा. अब हमारे रिलेशन को जैसे जैसे समय बीत रहा था, हम दोनों का प्यार भी बढ़ता जा रहा था.

मैंने संजना की कमर को पकड़ा और अपने लंड को संजना की गांड में डालने लगा. फिर बाद में मैंने पूछा कि आपने अपनी मां से क्या कहा?एक बार तो भाभी ने नहीं बताया. मैं वैसे ही लेटा रहा तो भाभी बोलीं- अरे पिंकी आज मुझे पूरा तरसाओगी क्या?पिंकी भाभी- अरे ऐसे कैसे तुझे छोड़ दूंगी, अभी तो खेल शुरू हुआ है.

ज्योति अक्सर मेरे साथ फ़ोन सेक्स करती और बहुत डर्टी चुदाई की बातें करती.

चाची बोलीं- तुम एक दिन में इतना कैसे होशियार हो गए!मैं तारीफ़ सुनकर खुश हो गया कि मैं एक चूत की मालकिन को सुख दे पाने में कामयाब हो रहा हूँ. मैं कुछ कर भी नहीं सकता था, तो बस रात होने का इंतजार किया और सो गया. खैर उस समय मुझे कल से ज्यादा उस समय जो मेरी चूत से पानी निकल रहा था उसकी चिंता हो रही थी.

उसने कहा- किधर चोट लगी है, लाओ मैं तुम्हारी मालिश कर देती हूँ, उससे तुम्हें आराम आ जाएगा. मैं तब बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाला छात्र था और मेरी उम्र उस वक्त 19 साल के 2-3 महीने कम थी. थोड़ी देर बाद मेरा दर्द मजे में बदल गया और मैं मजे से उसके बिग लंड से चुदने लगी.

मम्मी ने सेक्सी लुक में स्माइल देकर अपना पल्लू ठीक करते हुए पापा को और ज्यादा छेड़ने लगीं.

वो सारे के सारे डिल्डो पर ऐसे झपटे, जैसे उन्हें कोई लड़की पसंद करने को कहा गया हो. पर अब तक शायद उसका मौसम बन चुका था तो उसने मुझे भींचते हुए कहा- सही क्यों नहीं है, जब आपका ब्वॉयफ्रेंड किसी और के साथ सेक्स कर सकता है, तो आप ये मत सोचो.

गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ उस पर वो बोली- मैं अब पहले वाली जगह नहीं रहती हूँ, तुम्हारे लिए दूर पड़ेगा. मेरी फ्री वाइफ सेक्स कहानी पर आप किसी भी प्रकार की राय देने के लिए स्वतंत्र हैं और मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.

गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ वो बेचारा दर्द से बिलबिलाता हुआ बोला- सॉरी मेरी जान अब तुझे रंडी नहीं कहूँगा … अब तो छोड़ दे वर्ना चुदाई किस लंड से करवाएगी. वो गांव का इलाका था इसलिए उधर ये सब इतना आसान नहीं था जितना हम दोनों समझ रहे थे.

मुझे जरूर बताएं और जो लोग मुझसे बात करना चाहते हैं, वो मुझे ईमेल करें.

फैंसी स्कर्ट

डार्लिंग तेरा भाई विकास पूरा जवान हो गया है और तुम लोग एक ही रूम में सोते भी हो. भाभी ने मुझे अपनी सारा राज बताया:पिंकी का बच्चा जब लगभग 2 महीने का रहा होगा तब पिंकी के बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ था और डॉक्टर ने बच्चे को कुछ दिन दूध पीने के लिए मना किया था क्योंकि दवा खाने से उसको दूध नुकसान कर सकता था. दीपक का वजनी जिस्म और वजनी लौड़े के नीचे दबी हुई मैं कसमसा रही थी।उन्होंने फिर वही अंदर बाहर का खेल शुरू कर दिया, वो पूरा लंड बाहर निकालते और फिर जड़ तक अन्दर घुसा देते।लंड के अंदर घुसते के साथ जब मैं चिल्लाती तो वो मेरे मुंह पर हाथ रख देता।काफी देर तक ऐसे ही चलता रहा, दीपक झड़ने को नहीं हो रहा था.

मॉम ने चाय पीने चलने के लिए कहा मगर मैंने कहा- मैं आधा सामान रख आता हूँ और कमरा भी देख लेता हूँ. हम दोनों के होंठ पहली बार एक दूसरे जुड़ गए थे, एक असीम आनन्द की प्राप्ति होने लगी थी. फिर जैसे ही मैंने उसकी चूत पर जीभ लगाई, एकदम से उसके मूत की धार मेरे मुंह में आ गयी.

जब ये लोग आकर कपड़े पहनने लगे तो मेरी जान में जान आई की इनका और चोदने का मूड नहीं.

सुलेमान ने मुझे अपने लंड की तरफ घूरते देखा तो उसने कहा- जान क्या हुआ है तुम्हें? प्लीज़ आओ और मेरे पास बैठो, मेरी बगल में बैठो. मैं शुरुआत में अजीब सा महसूस कर रही थी पर बाद में मैं बहकने लगी और उसका साथ देने लगी. अगले तीन घंटे में चार बार मैंने घर जाकर झांका और अरुणिमा को लगातार चुदवाते हुए पाया.

उन्होंने कहा- अरे यार, इसे काट खाएगा क्या, तुझे पीने के लिए दिया था और तू काट रहा है. खैर इतने में रिया ने कहा- बहनचोद, ये तीनों रंडियां तो हार्डकोर का मज़ा लेंगी और मेरी चूत ऐसी शांत रहेगी. मैंने विस्मय से आंटी को देखा और कहा- अरे वाह आंटी … आपने तो घाट घाट का पानी पिया है.

भाभी मेरी गोद में बैठी रहीं और मैं उन्हें खाना खिलाते हुए उनके साथ मस्ती करने लगा. सोनल में मम्मे एकदम कोमल थे; मुझे उसके दूध सहलाने में बहुत मज़ा आ रहा था.

आप सब तो जानते ही हो कि रात का टाइम इंसान को फिसलने पर मजबूर कर देता है. उसकी चूत हल्की गीली हो गयी थी और उस सेक्सी लड़की का रस मेरी उंगली में भी थोड़ा लग गया था. दोस्तो, मैं राजू एक बार फिर से अपनी मकान मालकिन भाभी और उनकी सहेली पिंकी भाभी की चूत चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैं जोर जोर से उसके दोनों दूध को मसल रहा था और अब उसे थोड़ी तकलीफ भी हो रही थी.

मेरे आगे वो बैठी थी और उसे टॉप के नीचे से उसकी पैंटी में गांड साफ झलक रही थी. उसने नेहा के माथे पर किस किया, फिर उसके होंठों पर प्यारा सा किस कर दिया. थोड़ी समय बाद मैंने रोमा को सहारा देकर उठाया और उसके रूम में उसको लिटा दिया.

मैंने एक ही गोली खाकर 12 बजे से बाथरूम में नहाते समय से दोपहर के 3 बजे तक साली को चोदा. जैसे ही मेरे हसबैंड बाहर गए, हैरी ने रूम लॉक कर दिया और मेरे पास आकर बैठ गया.

ये सुनकर अमित का जोश और ज्यादा बढ़ जाता, तो वो मुझे और ज्यादा जोर से चोदने लगता. मुझे अन्दर आए दस मिनट हुए थे और वो आदमी शायद दस मिनट पहले अन्दर आया था. हम दोनों उस वक्त एक दूसरे का पूरा सहयोग कर रहे थे और दोनों ही एक दूसरे को पूरा मजा दे रहे थे.

जापानी तेल के फायदे प्राइस

मैं- अच्छा मुझे दिखाने के लिए?कविता- ऐसा नहीं है, मेरे पास नहीं थे और जो थे वो पुराने होकर फट गए थे.

मैंने उससे पूछा, तो उसने बताया कि उस दिन उसके मामू का लड़के उसे चोद ही नहीं पाया था. मैं ये सब सोच ही रहा था कि चाची एक इंच अन्दर लेने के बाद लंड से चूत को ऊपर ले जाने लगीं. यदि मेरी इस जवान सेक्स से भरी आत्मकथा आपको अच्छी लगी हो, तो जरूर मेल करें.

उस सेक्स सीन चलते चलते ब्लू फिल्म का क्लिप आ गया, जिसमें एक साउथ फिल्म की हीरोइन थी और नीग्रो लड़का था. तुम मेरे ख्वाबों में रोज आती हो और मैं अकेले में भी अपने आप को नहीं संभाल पाता हूँ. ஷகிலா ஆன்ட்டி செக்ஸ்मैं उसको ले आया लेकिन उसकी तबियत खराब थी, तो कुछ बात ज्यादा नहीं हुई.

नेहा के पैर का घुटना विकास के खड़े लंड से स्पर्श हुआ तो उसने एक पल के लिए अपनी आंखें नीचे कर लीं. चाची ने फोन पर चाचा को एक किस देकर फोन काट दिया और अब वो मेरे पास आ गईं.

वह अपने पति को छोड़ चुकी हैं क्योंकि उनका पति उनको शराब पीकर मारता पीटता था और गलियां देता था. मैं अब ज्योति के कानों को किस करने लगा और चूसने लगा, जिससे ज्योति गर्म होती जा रही थी. कई बार मैंने उसकी चूचियां वीडियो कॉल करके देखी थीं और अकेले में उसकी चूचियों को चूसा भी था.

चार से उसने अपनी गोटी आगे बढ़ाई, मेरी एक गोटी आगे की महफ़ूज़ जगह पर पहले से ही थी, तो वो आगे जाने में हिचक रही थी क्योंकि बाकी गोटियां उसकी मेरे बिछाये हुए जाल में थीं. कुछ लोगों के ईमेल आते हैं, वो पूछते हैं कि कहानी रियल है या काल्पनिक. उस पर काले लंबे बाल, जो उसकी थिरकती हुई गांड तक आते थे, उसकी जवानी की शोभा और बढ़ाते थे.

कुछ देर बाद मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और उनके ऊपर आकर चूत में लंड रगड़ने लगा.

बताते हैं औरत हो या लड़की पीरियड बंद होने के तुरंत बाद सेक्स का मन ज्यादा चलता है. घर जा और मेन गेट खोल कर रखना, नहीं तो बाहर गाड़ी रोकना पड़ेगा और किसी आते जाते वाले ने देख लिया तो तेरे लिए ही मुसीबत हो जाएगी.

सुनील ने एक झटके में अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया और धुआंधार चुदाई करने लगे. तो आप भी अपने बल्ले का इस्तेमाल करके खूब रन बनाइये।लिंग का साइज को लेकर मर्द बहुत चिंतित होते हैं. दोस्तो, इस बार होली पर मैं अपने गैंग सेक्स में चुदाई का भरपूर मजा ले रही थी.

आसिफा की अम्मी की दोनों टांगें हवा में हो गई थीं और उनकी अपनी चूत की रगड़ाई में मजा आने लगा था. उसने स्तन उसकी हर हरकत पर हिल रहे थे, जिससे मेरा लंड उफान मार रहा था लेकिन मेरे पालथी मारकर बैठने से वो ऊपर नहीं उठ सकता था. फिर एक दिन हिम्मत करके साड़ी को हाथ से सरका के ऊपर करना चाहा पर कुछ हलचल हो गई तो उनकी नींद टूट सी गयी.

गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ संजना ने कहा- अगर आप मुझे अपनी दूसरी बीवी बना सकते हैं तो बना लीजिए. और उसकी आंखों में देखती हुई बोली कि हां बचपन से हम दोनों एक दूसरे के लिए सब कुछ करना चाहते हैं.

हिंदी अंग्रेजी सेक्सी

मैं अपने रूम में अन्दर आ गई और कुछ देर बाद मैंने कमरे में ही रोना शुरू कर दिया. तब मैंने अपने आने का पूछा तो बोले- तू क्या करेगा आकर, मेरा लंड हाथ में पकड़ कर उसकी चूत में डालेगा क्या? तू घर पर ही रह, मैं शाम को उसको पहुंचवा दूंगा. मामी को अपनीचूत के अन्दर गर्म मालमहसूस हुआ तो वो भी लम्बी लम्बी सांसें लेती हुई वीर्य को चूत में जज्ब करने लगीं.

मैंने उसे और जोर से बांहों में भर लिया और धीरे से कहा- हां मैं तुझे पसंद करता हूँ. उसका एक बॉयफ्रेंड भी था जो बहुत लंबा तगड़ा था और वो भी बहुत बदतमीज था. मेरे मुंह में लॉलीपॉपफिर मैंने अपने पैंट और चड्डी को नीचे किया, तो वो आंखें फाड़ कर देखने लगा.

वो कराहती हुई बोली कि आंह मर गई … रुको … आंह इतना बड़ा लंड मैंने कभी नहीं लिया.

भाभी- अरे, जब चोदेगा तब इसकी जकड़न की भी तारीफ करेगा, अभी तो बस देखी है. बाकी लोगो की भी गांड फट गई थी और जो आदमी अरुणिमा की गांड मार रहा था उसने तुरंत अरुणिमा को छोड़ दिया.

एक आदमी उसकी चूत चोद रहा था, दूसरा आदमी उसके दोनों हाथों को पकड़ कर दबा कर रखा था और उसके निप्पल्स और मम्मों से मज़े ले रहा था. मुझे अपनी जुगाड़ फहीमा की चुदाई शुरू करे हुए अभी थोड़ा समय ही बीता था कि मुझे ऑफिस के काम से शिमला जाना पड़ गया था. ‘उम्माह उम्माह …’कुछ पल तो अम्मी ने बाबा का साथ नहीं दिया मगर फिर वो शायद गर्म होने लगीं और बाबा के साथ चूमाचाटी करने लगीं.

लेकिन मुझे एक बात अभी तक समझ में नहीं आई है कि पूरी जिंदगी भाभी ने दो मर्दों के बीच में निकाल दिया था.

कविता भी बेहद गर्म लड़की थी हालांकि मेरे और कविता की उम्र में बहुत फासला था और वो मेरी बेटी की उम्र की लड़की थी लेकिन बिस्तर पर कविता इतनी ज्यादा गर्म थी कि हम दोनों एक दूसरे को पूरी तरह से संतुष्ट कर देते थे. सुनीता बोली- तुम तो इससे छोटे दीखते हो? सच सच बताओ?अब हमने सच बताया. तब वो दोनों एक साथ बोले- कितना लेती है?तब अम्मी बोलीं- मेरे से करोगे 8000 फुल नाइट और एक और है, वो लड़की है 26 साल की.

सेक्सी वीडियो भोजपुरी आवाजवे मेरे लंड पर भी हाथ फेरने लगीं और बोलने लगीं- मैं तुम्हारी दीवानी हूं विक्की. फिर उसे, उसकी अम्मी ने भी बताया था कि मैंने उसकी अम्मी के साथ सेक्स किया है और उसकी अम्मी संतुष्ट हैं.

सेक्सी वीडियो हिंदी में ओपन

मेरा एक हाथ ज्योति का बायाँ मम्मा सहला रहा था, उसका दूसरा मम्मा रोहित का हाथ सहला रहा था. मंजू और रोहित शादी के बाद मुझे व मेरे पति को लगातार अपने घर बुलंदशहर बुलाते रहे थे. तीनों के पास मोबाइल नंबर थे और मेरी सबसे बात होती ही रहती थी क्योंकि पैसे की लड़ाई तो काकड़ी से थी.

मगर फिर भी मैं और ज्यादा चुदना चाहती थी तो मैंने आयेशा को नीचे लेटा दिया और खुद उसके लंड मतलब डिलडो पर बैठ गयी और उछलने लगी. इस मसले से मेरी अन्तर्वासना जग ज़ाहिर हो गई थी और उसी वजह से मेरे बड़े नाना की पोती रंजीता मुझसे चुदाने को आ गई थी. सच में क्या बूब्स थे उसके!मेरा लंड जब कंट्रोल से बाहर हुआ तो मैं मीनू की फुद्दी चाटने लगा.

आपको ये सेक्स कहानी कैसी लगी, आप अपनी किसी भी प्रकार की राय देने के लिए मेल पर संपर्क कर सकते हैं. मैं उसके मम्मे पकड़ के निचोड़ने लगा और उसके साथ चुदाई के मज़े लेने लगा. चाची मुझे नीचे करके मेरी कमर पर बैठ गईं और अपना ब्लाउज निकाला, फिर ब्रा उतार दी.

ज़रा ज़रा टच मी … टच मी … टच मी … ज़रा ज़रा किस मी … किस मी … किस मी” मैं गा रही थी. अब तक आंखों आंखों में क्रोध से, याचना से, निमंत्रण से, समर्पण तक का सफर तय हो गया.

मैं धीरे से उसके कमरे में चला गया और बेड के एक बगल में बैठ कर बात सुनने लगा.

मैंने चुदाई नहीं रोकी और साली के पैर ऊपर करके चूत में लंड पेल दिया. रेखा हीरोइन का सेक्सभैया की गर्म सांसें मुझे भी मदहोश करने लगी थीं और मैं भी उसके चौड़े सीने से अपने दूध रगड़ कर मजा लेती रही. पहलवानों की सेक्सी वीडियोइस कारण वो सिर्फ अपना पानी निकाल कर झड़ जाता और फहीमा को वो कभी भी तसल्लीबख्श चुदाई का मजा नहीं दे पाया था. आज मैं रोहित और ज्योति को असल में पहली बार मिलने वाला था तो दिल में धड़कन भी थोड़ा बढ़ रही थी कि वो असल में कैसे होंगे.

मेरी अम्मी और बहन उन दोनों की क्या मस्त मालिश कर रही थीं, ऐसा लग रहा था कि जैसे दोनों पक्की रंडी हों.

एक दिन मैं जब हम लोगों की दुकान पर गयी तो बाजू के दुकानदार ने कहा- चौधरी, आपकी बीवी तो बिल्कुल संजय के समान दिखती है. विनी भी सब ठीक करके मेरे पास आ गई और मेरे पास बैठ कर मुझसे चिपक करके किस करती हुई बोली- थैंक्यू भाई. वो जिस तरह से मेरे लौड़े को चूस रहा था, उससे मुझे लग रहा था कि कोई कमसिन लड़की मेरे लंड को चूस रही है.

मैं जैसे तैसे करके मीनू को रूम में लाया वो सर्दी से थर-थर कांप रही थी. उधर उसकी रोहित से चुदाई भी हो गई थी और इधर मेरे लंड ने भी असल में रस छोड़ दिया था।फोन उधर से रोहित ने संभाल लिया, वो कह रहा था- यार रवि, कुछ करो, हम रियल में भी मिलें … एक बार अगर हो पाए!काफी देर हम ऐसे ही बातें करते रहे. फ्री चूत चुदाई की कहानी में बाइक टैक्सी ड्राईवर को बारिश में एक लड़की सवारी मिली.

भोजपुरी विवाह फिल्म

दो चार धक्के लगाने के बाद उसने बोला- कमाल की टाइट चूत है रंडी की, मज़ा ही आ गया. उस ड्राइवर के बगल में एक दूसरा आदमी बैठा था और अरुणिमा की गांड की तरफ एक और आदमी था, जो उसकी गांड मार रहा था. वह उदास होकर बोली- अभी तो मुझे चुदाई का मजा आना शुरू हुआ था और तुम मेरे बदन को प्यासा छोड़कर जा रहे हो.

एक लड़की के स्पर्श से मेरा लंड खड़ा हो चुका था … लेकिन हमने तय किया था कि अभी सेक्स नहीं करेंगे.

मैं डर गया कि उससे और भी ज्यादा अन्दर करेंगी और मेरी चमड़ी फट जाएगी.

दरअसल मोहल्ले के कुछ लड़कों से चाची के अवैध संबंध बन गए थे और वक़्त के साथ, चाची मेरे साथ अपमानजनक व्यवहार करने लगी थीं क्योंकि मैं उनके ऊपर आश्रित होकर पढ़ाई कर रहा था. सुनील ने मेरे पांव अपने कंधे पर रखे और मेरी गांड में अपना लंड डाल दिया. बंगलुरु सेक्सीअन्दर आते ही रिया ने मेरे चूतड़ पर थप्पड़ मारा और बोली- साली, अभी भी किसी से चुद रही थी क्या?मैंने उससे हंस कर कहा- यार कहां कोई लंड मिल रहा है?वो दोनों मेरे कमरे में जाने लगीं.

मेरी ये Xxx अंकल चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, आप अपनी राय नीचे कमेंट में जरूर दीजिए और मुझे मेल भी कीजिए. अब हमारे बीच एक अंजान मगर जानबूझ कर सेक्स करने जैसी स्थिति बनती चली जा रही थी. किचन में अरुणिमा अकेली नहीं थी, जो लोग शराब पी रहे थे, उनमें से एक नजर बचा कर या विश्वेश्वर जी की मर्जी से अन्दर था.

मैंने उससे कहा- अभी मैं और मेरी पत्नी नीचे रेस्टोरेंट में जाएंगे, तब तक तुम रूम को हनीमून कपल के लिए सजवा देना. लेकिन हम दोनों काफी थकी हुई थीं, तो हमने ज्यादा कुछ नहीं किया और जाकर सो गईं.

मगर झांटों के बीच चूत की मस्त झांकी मेरे लंड की हालत खराब कर रही थी.

अब भाभी से सेक्स में ज्यादा बनता नहीं है, लेकिन मैं उनकी चूत में लंड पेले बिना नहीं रहता हूँ. मैं समझ गया कि मॉम ने कंडोम उठा लिया है क्योंकि वो मुझे वॉशरूम में कहीं नहीं मिला. [emailprotected]लेस्बियन्ज़ लव कहानी का अगला भाग:भतीजी के घर में घमासान- 2.

सेक्सी चुदाई एचडी वीडियो हिंदी अभी कमरे का दरवाजा भी नहीं लगा पाया था कि अलफिया ने मुझे कस कर गले से लगा लिया. उनकी चूत भी मेरे लंड पे झटके देने लगी और भाभी का सारा माल निकल गया.

एक बार में तीन से चार लोग जमा हो जाते थे और हर बार मुझे मेरी वाइफ हॉट सेक्स की कीमत मिलने लगी. नेहा बस यही बोलती जा रही थी- आह विकास, तूने अपनी बहन को मजा देने में इतनी देर क्यों कर दी. आपको मैंने पिछली सेक्स कहानीमेरी बीवी की ताबड़तोड़ चुदाईमें बताया था कि पुलिस अधिकारी गुरबचन जी अपने दो साथियों के साथ मेरी बीवी को चोदने मेरे घर आ गए थे.

नेपाली सेक्सी एचडी

ये सुनते ही उसने बाजू में पड़ा अपना पर्स उठाया और एक दो हजार का नोट मेरे मुँह में फंसा कर बोली- ये ले अपना नेग!मैंने सोचा कि आज मौका अच्छा है. इस न्यूड मॉम सेक्स कहानी को शुरू करने से पहले मैं आप सबसे एक बार और अपनी मम्मी का परिचय करा देता हूँ. एकदम से भाभी अपनी चूत की पकड़ तेज करने लगीं, मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और लंड जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करने लगा.

मैं- सॉरी भाभी, पिंकी भाभी जो कर रही हैं, उसमें मुझे बहुत मजा आ रहा था, तो गलती से दांत लग गया. गांड के पास पहुंचकर मैं कभी उसकी गांड, कभी उसके दोनों चूतड़ों को पकड़ कर दबाता.

मैं- क्यों नहीं जान, अब तो तू ही मेरी हर जरूरत पूरी करेगी और तेरी जवानी की गर्मी मैं ही मिटाऊंगा.

विकास अपनी चुदाई की रफ्तार को बरकरार रखे हुए था और नेहा थकान के बावजूद भी चुदाई का भरपूर आनन्द उठा रही थी. मंजू मेरे लैपटॉप में पहले से चल रही ब्लू-फिल्म देख रही थी जो मैं चलती हुई छोड़ दी थी. यह सुनकर मोहित ने मेरे बूब्स दबाने शुरू कर दिया और बोला- हां मेरी जान, लगता है तेरी चूत में ज्यादा आग है, तो आज तेरी चूत की आग शांत करता हूँ.

हम दोनों का चुदाई से शरीर टूट चुका था और हमारा उठने का मन नहीं कर रहा था. मैंने कहा- इसीलिए मैंने जब आपकी चूत में अपना लंड डाला था तो आपको दर्द नहीं हुआ था. मेरे पहुंचते ही उसने अपना लंड बाहर निकाला और पैंट ऊपर चढ़ा कर चलते बना.

दोस्तो, ये न्यूली मैरिड सेक्स कहानी आपको कैसी लगी?आप मुझे मेल जरूर कीजिए.

गांव की सेक्सी हिंदी बीएफ: दोस्तो, मैं दीपक कुमार अपनी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. रोहित बोल रहे थे- रवि डीयर, ये बैठी है मेरी पत्नी ज्योति … और आज की रात यह आपके हवाले है.

हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर लेट गए और दोनों की सांसे तेजी से चलने लगीं. आप भी जानते हैं कि किशोरवय एक ऐसी उम्र होती है, जहां से भटकाव शुरू होता है. मतलब जैसे कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को कौन से शॉट लगाता हूं और कौन से शॉट में क्या पोजीशन रहती है?अब जब हम लोग खुलने लगे तो कभी-कभी हम दोनों व्हाट्सएप पर रोल-प्ले भी कर लिया करते थे.

मुझको लगा था कि वो नशे में है मगर वो मस्त नजरों से मुझे देख रही थी.

उसी रात को मैंने महसूस किया कि मेरे बिस्तर पर कोई मुझसे चिपक कर सोया हुआ है. दोस्तो, यह एक बिलकुल सच्ची कहानी है, बस प्राइवेसी के लिए लड़की का नाम और जगह का नाम बदला है. साथ ही मैंने अपना मोबाइल मयंक के हाथ में देकर कहा कि मेरी चुदाई की एक एक पल की शूटिंग करो.