इंडियन बीएफ चोदने वाला

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्में दिखाइए हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाब डे सट्टा: इंडियन बीएफ चोदने वाला, उन्होंने मेरी तरफ देखा भी नहीं … बस सीधे ही पूछा- कुछ पियोगे?मैंने कहा- हां.

सेक्सी फिल्म वीडियो में बताओ

निशा का अब तक रोम रोम खड़ा हो चुका था, जो उसकी तेज चलती हुई सांसों से पता चल रहा था. सेक्स वीडियो हिंदीओये सोनिये! अब तो ये सोढ़ी तुझे रोज़ पेलने वाला है … आहूं … आहूं … आहूं …”रोशन की गांड में लंड डाले हुए ही अपने दोनों हाथ हवा में उठाए हुए सोढ़ी भांगड़ा करने लगा.

अब दीदी बोलीं- तुम्हें जो करना है, जल्दी करो … नहीं तो कोई आ जाएगा. सेक्सी फिल्म चलने वालीकाफी देर बाद जब मेरा लण्ड थोड़ा शिथिल हुआ तो मैंने बाहर निकाला तो पता चला कि हमने इतनी पहलवानी कर दी कि कॉण्डोम फट गया था.

तभी वो मेरे पास आ गईं और बोलीं- क्या आपने कभी ट्रेन के बाथरूम में चुदाई की है?मैं बोला- नहीं … जब हमारे पास अच्छी जगह है, तो वहां क्यों?वो बोलीं- मुझे एडवेंचर सेक्स करना है, अगर आपको करना हो तो बोलो.इंडियन बीएफ चोदने वाला: आंटी- आह और जोर से मसलो मेरे चूचों को … पी लो … खा जाओ इन्हें …इस समय आंटी चुदासी होकर अंटशंट बोले जा रही थीं.

उसकी चुत एकदम बड़ी और सुर्ख लाल दिख रही थी, लेकिन कोई खून नहीं आया था.मेरा लम्बे मोटे लंड को देखते ही वो उछल पड़ी और बोली- मैंने जिंदगी में कभी इतना बड़ा लंड नहीं देखा.

লোকাল বফঁ - इंडियन बीएफ चोदने वाला

मैंने फोन अपने दाएं हाथ में पकड़ा और अपना बायां हाथ नीचे घुसाकर उसकी जांघ पर टिका दिया.इंडियन ओरल Xxx कहानी मेरे दोस्त की बहन के साथ मुखमैथुन का मजा लेने की है.

यह मेरी बेटी है निशा … इसकी इंग्लिश बहुत वीक है, तो मैं चाहती हूँ कि आप थोड़ा बहुत इसको पढ़ा दिया करें. इंडियन बीएफ चोदने वाला वो मुझे हमारी क्लास के ऊपर वाले माले पर ले गया जो हमेशा बंद रहता था.

कोमल ‘हाई मां ईस्स आह उई ओह्ह …’ करती हुई लंड को आगे पीछे करने लगी.

इंडियन बीएफ चोदने वाला?

हाथ से अहसास हुआ कि मेरी मौसेरी बहन की चुत काफी मुलायम और चिकनी है. अशफाक़ की अम्मी ने दरवाजा खोला, वो हाथ में टॉवल लिये हुए थीं, शायद नहाने जा रही थीं. जब मैं एक हफ्ते बाद लौटा तो देखा कि श्रेया और रघु दोनों थोड़े बदले बदले लग रहे थे.

मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था कि अब क्या करूं!राजीव- रश्मि, मैं दरवाजे पर हूँ, प्लीज आओ. मैं उतने लंड के साथ ही रुक गया और शिवानी के स्थिर होने की प्रतीक्षा करने लगा. मुझे एक बार को तो उसके लंड से अजीब सी महक आई, फिर ना चाहते हुए भी मैं उसका लंड चूसने लगी थी.

दोस्त मुझे देख कर बोला- भाबी वाकयी बहुत अच्छा मेकअप करती हैं यार … घरवाले फंक्शन पर भाभी को ही भेज देना. कुछ देर बाद उसकी गांड की चाल धीमी हो गई थी तो मैंने नीचे से झटके मारने शुरू कर दिए. फिर मैं उसके एक गाल पर अपने होंठ घुमाते हुए उसके गाल को अपनी जीभ से चाटने लगा.

मैंने नाज को लिटा लिया, उसकी चूत में लण्ड पेल दिया और मुमताज की चूत चाटने लगा. मैंने कहा- आप एक बार इसे आजमा कर देखो … सारा गम गलत न हो जाए तो कहना.

मतलब एक ट्रेन में वो एक अनजान व्यक्ति के साथ सफर कर रही हो और उसके सामने ही वह इस तरीके से कैसे हस्तमैथुन कर सकती है.

मैं इन सबका मज़े लेते हुए उसके नाजुक गर्दन पर हल्के हल्के किस कर रहा था और अपने दोनों हाथों से उसके पीठ से लेकर गांड तक सहला रहा था.

मैंने उन्हें बिना कुछ कहे उनके सीने पर अपना हाथ रखा और दूसरे हाथ से उनका चेहरा अपनी ओर लेकर उन्हें वैसे ही चूमने लगी. रोहन- आह मेरी जया रानी … तेरी चूचियां इतनी कोमल हैं कि मन कर रहा है इन्हें कच्चा ही खा जाऊं. मैंने उसके साथ बातचीत जारी करते हुए उसकी चाहत के बारे में पूछा- आप मेरे साथ क्या क्या करना चाहती हैं!वो बोली- बस आप यूं समझिए कि उस लड़की की जगह मैं अपने आपको देखना चाहती हूँ.

इस बीच जुम्मन की आँख शाहगंज में किसी औरत से लड़ गई और उसने गांव आना जाना व परिवार की देखभाल करना कम कर दिया. मैं आपको बता चुका हूँ कि मैं पहले एक टूरिस्ट गाइड था, पर बाद में मैंने एक छोटा सा बिजनेस शुरू किया था. मैं उनकी बात को मजाक में लेने लगा- क्यों मजाक कर रही हो मुंतजिर मैडम?उन्होंने मुझसे बोला- आपको मजाक लग रहा है!मैं चुप होकर उनकी तरफ देखने लगा.

तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी यह Xxx ब्रदर एंड सिस्टर कहानी … आप लोग कमेंट करके मुझे जरूर बताइएगा और मुझे मेल भी कीजिएगा.

मैंने स्वाति से कहा- सुन स्वाति मैं जॉब के लिए इंटरव्यू देने जा रहा हूँ. उसको मैंने लिटाया और एक उंगली उसकी चूत में घुसायी और एक हाथ उसके बूब्स पर रखा. मैंने झट से उनको होंठों पर जीभ फिराते हुए यम्मी वाला इमोजी भेज दिया और लिख दिया कि काश आप मेरी वाइफ या गर्लफ्रेंड होतीं, तो आपको अभी चाट कर खा जाता.

अगली बार मैं स्लीपिंग सिस्टर सेक्स कहानी को आगे लिखूंगा कि सेक्स हुआ तो कैसे हुआ. वैसे मुझे नवीन का लंड से कोई फर्क़ नहीं पड़ने वाला था … क्योंकि मैं सक्सेना का लंड भी अपनी चूत में सहन करने लगी थी. वो अपनी प्लानिंग के अनुसार दिल्ली आ गए और उन्होंने एक होटल में रूम बुक कर लिया.

मैं भी जवान लड़का था ऐसे किसी औरत का पहली बार मेरे से संपर्क होने से मेरा लंड खड़ा हो गया और उनके पिछवाड़े को छूने लगा.

मेरे मना करने पर वो जाने लगी और जैसे ही वो मुड़ी … तो उसकी चुनरी उसके पैरों में फंस गई और वो घूम कर मेरे ऊपर गिर गयी. लंड चुत में लेते ही वो हल्की सी आवाज में चीख उठीं- हाय जालिम धीरे चोद न!मैं बोला- हां जैसे पहली बार लंड ले रही हो अपनी चूत में.

इंडियन बीएफ चोदने वाला नमस्कार दोस्तो,मैं आपका अपना दोस्त अभी कुमार अपनी पहली सेक्स स्टोरी लेकर आपके सामने हाजिर हुआ हूं. मैं फ़ोन काट कर उनके पास गया और उन्हें उठाने लगा पर वो उठ नहीं पा रही थीं.

इंडियन बीएफ चोदने वाला मुझे नींद नहीं आ रही थी, मेरे दिमाग़ में सिर्फ लाल साड़ी में स्नेहा की मादक छवि ही घूम रही थी. श्रुति ने लंड पर इतना ज्यादा थूका कि वो पीछे से उसकी गांड में पेल सके.

उसने मेरी पीठ पर हाथ फेरते हुए मेरे कान में कहा- चलो कपड़े उतारते हैं.

इंडियन सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म

मैंने कहा- ब्रा नहीं पहनी है?वो बोली- नहीं, इस समय नाइटी में मुझे अपने बूब्स खुले रखना ही पसंद हैं. उसे देखते हुए मैंने अपनी पतलून की चैन नीचे सरका दी और अपना लंड निकाल कर पीहू के सामने कर दिया. मगर मैंने अभी भी मिलने की अपेक्षा उससे कुछ दिन तक बात करना ज्यादा सही समझा.

अब बाइक की स्पीड में आ रही हवा के झौंकों से भीगे हुए बदन पर सनसनी आने लगी. आज मैं भी कहीं न कहीं अपनी बीवी की चुदाई की आदत देख कर रोमांचित था. इनका लंड दुबारा से खड़ा भी हो पाएगा?ये कहकर अंजू मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर देखने लगी.

मैं अभी चड्डी में था मगर मेरा लिंग गुफा में घुसने के लिए लोहे के डंडे की तरह खड़ा था.

चूंकि हम दोनों का पानी एक एक बार झड़ चुका था … तो मैं जल्दी निकलने वाला नहीं था. मैं उस महिला का असली नाम यहां पर नहीं लेना चाहता हूं … पर मैं नाम बदल देता हूं. मैंने मेरा एक हाथ उस चादर में डाला और अर्शिया की चुत के पास ले गया.

मैंने भी जवाब देते हुए अपने हाथों को उसके पैंट में डाल दिया और उसकी सुडौल गांड के गोलों को दबाने लगा. तभी अनन्या की मदभरी आवाजें आने लगीं और मैं फिर से कामवाली बाई से लेस्बियन को लेकर सवाल करने लगा. सिस्टर Xxx सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी बहन की चुदाई की वीडियो देखी तो मैं भी उसे चोदना चाहता था.

नन्दिनी आगे बढ़ी और बोली- अरे क्या हुआ पहचाना नहीं क्या … हाय … मैं नन्दिनी!मैंने झट से उसे हाय कहा और हम गले लगे. उसकी एक टांग को अपने हाथ में पकड़ा और चुत में लंड घुसा कर तेज़ तेज़ चोदने लगा.

लेकिन उसने होटल में मिलने के लिए यह कह कर मना कर दिया कि शादी के बाद चुदाई करेंगे. मैंने कहा- क्या मतलब!वो लंड को अन्दर लेते हुए बोली- मेरी बड़ी दीदी शुरू से चुदक्कड़ है. अगर ये बात मेरे घरवालों को पता चल गयी कि मैं अपनी ही पड़ोस की लड़की को ऊपर छत पर नंगी नहाते हुए देखता हूं तो पता नहीं कितनी मार पड़ेगी और फिर पड़ोस में बदनामी होगी वो अलग।अब मैंने ऊपर नहीं जाने का फैसला किया.

मुझे दवा लगा देने दो, फिर आप जैसा कहोगी वही होगा।मैंने कहा- ठीक है.

मेरा लंड पैन्ट से बाहर आने के लिए फनफना रहा था और शीना को मेरा लंड उसकी गीली चूत में लेने की चुदास सवार थी. आशीष मुझे सहारा देने के लिए आगे आया और उसने मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे पकड़ लिया. आंटी ने पैंटी नहीं पहनी थी, मैंने उनकी चूत पर हाथ रखा तो समझ गया कि आंटी ने भी आज ही अपनी चूत शेव की है.

शादी से पहले मैंने ये बात शरद को बता दी थी और उसे भी मेरे अतीत से कोई लेना-देना नहीं था. तो मैंने उन्हें टहोका- हां फिर!भाभी- फिर वो सब होने लगा जो आज तक चल रहा था.

सिस्टर Xxx सेक्स कहानी के पहले भागमेरी सेक्सी बहन मेरे दोस्तों से चुदती थीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी बहन के लैपटॉप में उसकी चुदाई की फिल्म देख रहा था. मैं तो डर ही गया और कमरे में जाकर जल्दी से मैंने उन्हें मैसेज किया कि मैं 5:30 बजे तक आपके घर आ जाऊंगा. वो मेरे फूले हुए लंड की तरफ देखती हुई बोलीं- अमित, तुम तो बड़े मेहनती बालक हो.

सेक्सी story in marathi

बुर में लंड घुसा तो वो छटपटा उठी और चिल्लाने के लिए मेरे मुंह से अपना मुँह हटाने की कोशिश करने लगी.

मैंने उससे लंड चूसने का इशारा किया तो वो तो जैसे लंड चूसने के लिए मरी जा रही थी. मैडम ने एक कदम आगे बढ़ते हुए पूछा- हर रोज खा सकोगे?मैंने कहा- आजमा कर देखो, फिर कुछ कहना. कभी वो मुझे अपने घर में बुला लेती है … कभी वो खुद मेरे रूम में आ जाती है.

क्योंकि चुत बहुत गीली हो चुकी थी तो लंड सरसराता हुआ अन्दर तक घुसता चला गया. मैं किसी औरत के साथ पहली बार कर रहा था इसलिए मैं उनके मुंह के अंदर ही डिस्चार्ज हो गया. पंजाबी सेक्सी भेजोपूरे कमरे में थप थप थप थप की आवाज आने लगी थी।रात भर में तीसरी बार चुदाई हो रही थी।गपागप गपागप अंदर बाहर अंदर बाहर लंड हो रहा था।एक बार समारा ने पानी छोड़ दिया.

सेक्सी हॉट भाभी अपने मुँह में पूरा कामरस निगल गईं और मेरा लंड अपने मुँह से चाट कर साफ कर दिया. वो इसलिए क्योंकि यदि उसने मुझे मेरे मुँह पर कुछ सुना दिया तो मेरी बची-खुची इज्जत भी मिटटी में मिल जाने का खतरा था.

बुर में लंड घुसा तो वो छटपटा उठी और चिल्लाने के लिए मेरे मुंह से अपना मुँह हटाने की कोशिश करने लगी. मैं उसे बहुत पसंद करता था और उसके साथ सोना चाहता था और उसे चोदना चाहता था. रेखा आंटी हवा में अपनी टांगें उठाए हुए मेरे लंड की रगड़ का मजा लेते हुए बोले जा रही थीं- आह माँ के लौड़े योगी … बहुत मजा आ रहा है … चोद दे आह चुत की खुजली मिटा दे आह … बड़ा मस्त चोदता है.

थोड़ी देर में मेरे लंड से पिचकारी निकली और बाथरूम के फर्श पर गिर गयी. उसने आते ही गौरी को फिर पकड़ लिया और उसका लहंगा उठा कर उसकी चूत को चूम लिया।गौरी भी गर्म थी, उसने कहा- पहले चाय पी लो, फिर साथ साथ नहायेंगे।पर राजू नहीं माना, जबरदस्ती गौरी के कपड़े उतार दिये और खुद भी नंगा हो गया।गौरी बोली- चाय ठंडी हो जाएगी. अब हमेशा ही आशीष हम तीनों बहनों की लेता और उसने हम तीनों बहनों को चोद चोद कर पूरी रांड बना दिया.

फिर उसने कैसे मेरी सीलबंद चूत फाड़ी? आप मजा लें कुंवारी चूत का!हैलो फ्रेंड्स, मैं मानसी रावत अपनी BF GF सेक्स कहानी के पिछले भागक्लास का नया लड़का मुझे भा गयामें आपको अपने ब्वॉयफ्रेंड के संग अपनी बहनों की चुदाई की कहानी में लिख रही थी कि मैं अपने आशिक आशीष के साथ खुलने लगी थी.

उस पर भाभी ने क्या कहा, वो सब मैं आपको सेक्स कहानी के अगले भाग में लिख कर बताऊंगा. मैंने पूछा- कब तक आओगी?उसने मेरी बात का उत्तर देने की जगह कहा- मुझे भूख लगी है.

मतलब?मैंने कहा- अरे यार तुम मेरे फोन पर घंटी नहीं कर सकते थे, जो हाथ पर नम्बर लिख रहे हो!वो सर खुजाते हुए बोला- सॉरी यार … मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा है कि मैं कैसे क्या करूं. उसी समय मैंने अपना लंड कोमल के हाथों में दे दिया और उसके निप्पलों को चूसते मरोड़ते हुए उंगलियों से उसकी चूत से खेलने लगा; चुत के दाने को छेड़ने लगा. अबकी बार उसको और ज्यादा दर्द हुआ और वो चिल्लाई- आराम से कर कुत्ते … दर्द हो रहा है.

दस मिनट से कम समय में हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे गुत्थम गुत्था थे. सेक्सी औरत चुदाई कहानी मेरे पड़ोस में रहने वाली बुर्के वाली हसीन औरत की है. मेरी चुत इतनी गीली थी कि उसके एक ही धक्के में लंड आसानी से फिसलते हुए मेरी चुत में समा गया.

इंडियन बीएफ चोदने वाला धीरे धीरे हम दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे, साथ में मूवी देखने जाने लगे और घूमने-फिरने के साथ-साथ हर तरह की बातें भी होने लगीं. और उसका फिगर तो मानो कोई बेली डांसर हो!वो हमेशा जीन्स पहन कर आती थी जिससे उसका पिछवाड़ा साफ साफ दिखता था.

देहाती सेक्सी बुर चोदने वाला

वो मेरे पास आई और मेरे गले में हाथ डाल कर बोली- अब उठाओ मुझे गोदी में. उन्होंने भी अपनी गांड से पैंटी नीचे सरकाई और मेरा सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और अपनी चूत को मेरे होंठों पर रगड़ने लगीं. अब मैं भी जोश में आ चुका था, तो मैं जोर जोर से लंड को अन्दर बाहर करने लगा.

जल्दी में उस औरत ने वाशरूम का दरवाजा ठीक से बंद नहीं किया तो थोड़ा अंदर का दिख रहा था. हॉट सेक्सी गर्ल बेडरूम में हो तो एक जवान लड़का क्या करेगा? लेकिन वो लड़की शराब के नशे में मेरे होटल रूम में थी. जंगली जानवर सेक्स वीडियोउसके तप्त होंठ मेरे होंठों के करीब थे और गर्म लंड मेरी चुत में रगड़ मार रहा था.

चूत में लंड अन्दर बाहर हो रहा था साथ ही तेज तेज झटके लग रहे थे, जिससे उसके चुचे भी उछल रहे थे.

दोस्तो, रेशमा भाभी की लंड लंड करती देसी चूत चुदाई का मजा मैंने लिया. मैं एकदम से सिहर उठी और अगले ही पल उसने मुझे जीभ से चोदना चालू कर दिया.

जो तूफान इतनी देर से चल रहा था … अब वह पानी निकलने के साथ खत्म हो गया. उनकी चूचियों को हिलता देखना और गांड को मटकता देखना मुझे बहुत पसंद था. मैंने व्हिस्की में बियर मिलाकर दो पैग तैयार किये और हम दोनों चियर्स के साथ शुरू हो गए.

उसने फोटो लेने की बात कही तो डायरेक्टर ने मेरी बीवी की कमर में हाथ डाला और उसके साथ कुछ सेल्फ़ी फ़ोटो निकालने लगा.

अब्बू की तमाम कोशिशों के बावजूद जब अब्बू का लण्ड मेरी बुर में नहीं गया तो अब्बू बोले- देख तेरी अम्मी के बैग में कोई तेल, क्रीम है क्या?मैंने अम्मी का बैग खोला और क्रीम की शीशी निकालकर अब्बू को दी. जब तैयार होकर बिस्तर पर आया तो मैम का मैसेज आया हुआ था जिसे देख कर मैं मस्त हो गया. मैंने एक सिगरेट सुलगाई और मुंतजिर की भरी हुई मादक चुचियों का अहसास करने लगा.

गुजराती सेक्सी हॉट वीडियोनिशा की नजर जैसे ही मेरे पजामे के ऊपर पड़ी और उसने देखा कि मैं लौड़े को सहला रहा हूँ तो वह बिना पलकें झपकाए मेरे हाथ को देखती रही. कुछ देर के बाद मैंने उसके मुँह से लंड निकाला और उसे बेड पर सीधी लिटा दिया और उसके ऊपर झुक कर चुत चाटने लगा.

ক্সনক্সক্স দাদা

दीदी बोलीं- क्या हुआ मेरे विक्की बाबू को?तब विक्की बोला- कुछ नहीं भाभी. मैं हंसने लगा क्योंकि मेरा इरादा तो कुछ और ही था, मैंने कहा- अभी थोड़ा और मजा ले लो मौसी. कुछ देर बाद उसने अपने कपड़े पहने और तैयार होकर बोली- राज मैं जाऊं … अब रात की तैयारी भी करनी सै.

तो पाया कि सुबह जब मैं सोकर उठता हूँ, तो मेरा लंड मुझे झड़ा हुआ मिलता है. हमने भी ऐसा मान लिया था कि अब तक नहीं हुई, तो शायद आगे भी उनका तबादला कहीं और नहीं होगा. जब ज़्यादा चुदने का मन होता, तो आशीष मुझे होटल में ले जाकर मेरी घंटों तक लेता.

कुछ पल तक चुत में उंगली चलाने के बाद मैंने अपनी पूरी जीभ लंबी करते हुए बाहर निकाली और मैडम की चुत पर फेर दी. जेबा- आप करते क्या हैं … और क्या आप इंदौर से हो?मैंने उन्हें कहा- नहीं मैं एक बिजनेसमैन हूं. मैंने उन दोनों लड़कियों की ओर देखा तो उन्होंने एक साथ स्माइल करते हुए हाय कहा.

मैंने वापस शॉवर चालू कर दिया और अच्छी तरह से नहाकर हम दोनों बाहर आ गए. अंकल जी मुझे अपनी गोद में ले गए और उन्होंने भी मेरे सामने पेशाब की.

कुछ पल बाद मैंने उसके पास जाकर बोबों पर किस भी किया और निप्पल को भी बहुत मजे से चूसा.

वो घुटनों के बल बैठ गई और लंड को अपने मुँह में लेकर मजे से चूसने लगी. छोटे बच्चों का झूला दिखाओमैं जब दीदी के पास पहुंचा, तो दीदी ने मेरे लिए नाश्ते पानी का इंतजाम किया और कुछ ही देर बाद उन्होंने मेरे साथ मार्केट चलने की बात कही. सेक्सी गर्ल सेक्सी व्हिडीओमैंने उससे पूछा- तुम इतनी रात को क्यों आई हो?वो बोली- राज मेरी गांड और चूत में खुजली हो रही थी. मैंने उसके दूध मसल कर कहा- हां जल्दी ही तेरी चुत को भी बुलंद दरवाजा बना दूँगा.

मुझे ऐसे बिना हरकत किए देख, उन्होंने मेरी ओर देखा और कहा- माफ करना रश्मि, मुझे लगा इसमें तुम्हारी हामी है.

मेरी चचेरी बहन की गांड एकदम कसी हुई है और उसके चूतड़ भी एकदम टाईट हैं मतलब चलते समय उसके चूतड़ों को देख कर ऐसा नहीं लगता था कि अभी इसकी मशीन चल चुकी हो. मेरी पिछली कहानी थी:जुआ के अड्डे से पोर्न ऐक्ट्रेस बन गईदोस्तो, आज मैं एक बार फिर से एक नयी बॉस सेक्रेटरी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. जैसे ही मैं अन्दर घुसा, आंटी ने झट से घर के दरवाजे बंद किए और हम एक दूसरे को बांहों में भर कर किस करने लगे.

इससे उसकी गांड का छेद बिल्कुल खुल गया था और लंड गपागप गपागप अन्दर बाहर होने लगा था. इसलिए मैं खिड़की से मम्मी को बोलने के लिए कि अंकल पापा से मिलने के लिए आपके रूम में आ रहे हैं, उनको मना कर दीजिए. श्रुति ने लंड पर इतना ज्यादा थूका कि वो पीछे से उसकी गांड में पेल सके.

बेहतरीन सेक्स

उस समय मेरे दफ्तर में ही एक दूसरी लड़की से मेरा अफेयर चल रहा था, उसका नाम सलमा था. मैंने चुत में से लंड को बाहर निकाल लिया और मालती से कहा- सुबह होने वाली है. एक दिन की बात है, मैं मैडम के कमरे में उनसे पढ़ रहा था और हमारी बातें भी चल रही थीं.

जुनैद भाई की इस हरकत से मैं घबरा गया था लेकिन अब भी मेरे मन में कहीं न कहीं उनका साथ पसंद आ रहा था.

रितिका- पागल हो गए हो क्या … ये कैसे बोल रहे हो!मैं कहा- हां रितिका, मैं तेरी जवानी देख कर पागल ही हो गया हूँ.

मैं जीभ निकाल कर चुत चाटने लगा और अपनी दो उंगलियों को धीरे से चुत के अन्दर डाल दीं. मैंने पूछा- मेरा कैसा लगा?उसने कहा- बहुत अच्छा … लेकिन कितना अच्छा तो जब मालूम चलेगा जब तुम मुझे दुबारा में ढंग से पेलोगे. कष्टा साड़ीअंकल भी घर पर ही थे तो हम सभी ने साथ में नाश्ता किया और अंकल अपने घर को चले गए.

क्या आप बात करेंगे?उनके शौहर से कहा- नहीं तुम ही बोल दो न … मुझे निकलना है. उसने एकदम से पलट कर मुझे देखा तो उसने पाया कि उसकी चुत की चुदाई हो रही है. मैं उनके सामने ब्रा में आ गयी थी और उसके बाद जेठजी ने मेरा पेटीकोट भी निकाल दिया.

हम दोनों की सेटिंग कैसे हुई?नमस्कार मित्रो, आपका एक बार फिर से स्वागत है. अब निशा मेरे सीने पर आ गयी और उसने बहुत ही कामुक तरीके से मेरे निप्पल को सहलाना शुरू कर दिया और मेरे एक निप्पल को अपने मुँह में ले लिया.

मैंने पूछा- अरे क्या हुआ … अचानक से रो क्यों रही हो?तो सुशी जी बोलीं- जो नहीं देखना था या कभी नहीं देखा था … वो सब आज देख लिया.

दोस्तो, जब मैंने अपने हनीमून में अपनी दुल्हन समीक्षा को पूरा दम लगा के चोदा था तो कमरा आवाजों से गूंजता रहा था. वो मुझे अचानक से रूम में आया देख कर चौंक गईं और बोलीं- अरे योगी तू कब आया … बैठ. उसने मौके पर चौका मारते हुए कहा- ठीक है, यदि तुम मुझे इतना ही चाहते हो … तो मुझे तो बताओ कि तुम अभी मेरे साथ क्या क्या कर सकते हो!मैंने कहा- सिर्फ बता नहीं सकता हूँ … करके भी दिखा सकता हूँ.

हिंदी सेक्सी वीडियो मारवाड़ी राजस्थानी रोशन अपने गोगी पुत्तर के बड़े लंड को उसकी चड्डी के ऊपर से ही अपनी आंखों से मापने की कोशिश करने लगी. मैंने उसके होंठों को अपने होठों से चिपका लिया और उसे चोदने लगा।अब मेरे लौड़े ने रफ्तार बढ़ा दी। मैं गपागप गपागप चोदने लगा। अब गीला लंड चूत में आराम से जाने लगा था।जल्दी ही खुशबू की चूत ने मेरे लौड़े से दोस्ती कर ली थी।अब मैं तेजी से लंड को अंदर-बाहर करने लगा.

वो जल्दी से मेरे ऊपर आ गए और उन्होंने सीधे मेरे होंठों पर होंठ रख दिए. मैंने बारी बारी उसके दोनों होंठों को चूसा और साथ ही उसकी जीभ भी चूसने लगा. उस दिन रविवार था और मैं मस्त होकर सो रहा था, क्योंकि आज ऑफिस की छुट्टी थी.

सेक्स के लिए

फिर मेरी बीवी ने डायरेक्टर से दो मिनट बातें की और उसके गाल पर चुम्मी लेकर वापस आ गयी. इस ब्लाउज में से उसके लगभग साठ प्रतिशत दूध दिख रहे थे, सिर्फ़ निप्पल दिखना बाकी रह गए थे. आपको बता दूँ दोस्तो, हर एक कामुक औरत को एक अच्छे लंड को चूसना सबसे ज्यादा पसंद होता है … और मैं भी कुछ अलग नहीं थी.

मैंने एक जोरदार झटका मारा जिससे मेरा 7 इंच का लौड़ा मॉम की चूत में पूरा समा गया. हमारे होंठ एक बार फिर एक दूसरे से जुड़ गए और इस बार मैंने अपनी जीभ को उसके मुंह में डाल दिया.

उसने अपने लंड पर कोई जैली लगा ली और लंड का सुपारा चुत में अन्दर पेल दिया.

वो घबरा गईं और बोलीं- तुझे बिल्कुल डर नहीं लग रहा है?मैंने कहा- नहीं, जब मां साथ हैं यहां पर … तो डर किस बात का. मुझे किस करते करते कब उसने मेरी शर्ट उतार दी और मैंने उसकी … ये पता ही नहीं चला. सुमन की बहन सरोज अपनी गांड आगे पीछे करने लगी और खुद चुदाई करवाने लगी.

तो मैंने जवाब में मना कर दिया क्योंकि मैं तो उसके प्यार का भूखा था. आशीष मुझे सहारा देने के लिए आगे आया और उसने मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे पकड़ लिया. चूंकि दोनों केले जैसी जांघें चिपकी थीं तो मुझे इससे ज्यादा कुछ दिख नहीं रहा था.

मैंने सुमन की बहन सरोज को उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी सलवार उतार दी.

इंडियन बीएफ चोदने वाला: जब मैं कम उम्र का था, तब से इसकी सेक्स कहानी पढ़ रहा हूं और काफ़ी लड़कियों और औरतों के साथऑनलाइन सेक्स चैटभी किया है. मेरे पड़ोस में मेरी एक प्यारी सी लड़की रहती है, जिससे मैं बचपन से प्यार करता आ रहा हूँ … लेकिन उसे अपना प्यार जताने की मेरी कभी हिम्मत नहीं हुई.

जब वो करीब आई, तब मैंने एक पैर से उसकी साड़ी को थोड़ा ऊपर करके अपना दूसरा पैर अन्दर कर दिया और उसके नंगे पैरों को सहलाने लगा. मैंने अपने लंड पर हाथ फेरते हुए पीहू को इशारा किया, तो उसने भी मुस्कान बिखेरते हुए जवाबी इशारा कर दिया. मैं वही तुम्हारी चिकनी चुत के मस्त मजे लूंगा जान!मैं- अच्छा अच्छा तुरंत दिमाग लगा लिए मेरे राजा डॉक्टर साहब.

उन्होंने फिर से अपनी गांड हिलाई और ताकत से पूरा लंड अन्दर पेल दिया.

मैंने सरोज से बोला कि अपना वादा याद है ना!वो बोली- जाटनी की जुबाण है … आज की रात तू मेरी अम्मा की तीसरी बेटी को भी चोदेगा. वो घर से बाहर गया और उसने देखा कि ऊपर वाले कमरे की एक विंडो बाहर खुलती है. मुझे वक़्त का भी अंदाज़ा नहीं कि कितनी देर तक मैं वैसे ही राजीव से चुदती रही.