इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर

छवि स्रोत,देसी गे सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ एक्सएक्ससी: इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर, मैं फड़फड़ाने लगी मगर उनका बदन मेरे ऊपर था।थोड़ी देर बाद वो लंड निकालकर बोले- शबनम कैसा लगा अपनी गांड का स्वाद?मैं लंड को चाटते हुए बोली- जेठ जी, मजा आ गया.

साडी वाली ऑंटी कि सेक्सी व्हिडिओ

अब कोई मेरी गर्दन पर किस करने लगा, तो कोई मेरे कानों के लटकन को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. एक्स एक्स वीडियो सेक्सी बीपीमेरी बड़ी दीदी गर्भ से थीं, बाद में उन्होंने को एक बेटी ने जन्म दिया था.

मीरा किसी अनुभवी चुदक्कड़ रंडी की तरह रीमा की जवान चुत चूसने और चाटने लगी. वीडियो सेक्सी ब्लू मूवीक्या बताऊं वो एक हसीन बला थी, पर पता नहीं क्यों मैं ही उसको तड़फा रहा था.

मैंने उसे उठने को बोला और खड़े होकर उसको टेबल पर उल्टा करके पैंटी के नीचे से लौड़े को चूत में ठोक दिया.इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर: मैंने तकरीबन 20 मिनट उसके पूरे शरीर की मालिश की, उसे बहुत आराम मिला.

तो मैंने भी देर ना करते हुए, गाड़ी को पूनम बुआ के घर की तरफ घुमा दिया और उनके घर पहुंच गया.सुम्मी अपने आपको अकेलेपन से दूर रखने के लिए रोज रोज नए बहाने ढूंढती थी.

सेक्सी स्टेटस वीडियो डाउनलोड - इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर

शहजाद- तो?सबा- तो ये कि आप मेरे साथ भी सेक्स करो वरना मैं अब्बू को सब बता दूंगी.मैंने उसे देख कर अपना होंठ काट लिया और उसका हाथ पकड़ कर बोली- तो आज मार दो न मेरी.

इस तरह दोस्त की दो बहनें मुझे अपनी सील तोड़ चुदाई का मजा दे चुकी थीं. इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर वो अपनी एक गोटी मेरे पीछे ले आया और बोला- आपको भी फिर से मरवानी है, चाहे आगे से मरवाओ … चाहे पीछे से!मैं बोली- यार तुम तसल्ली से मार लेना, मगर अभी रुको तो!मैं थोड़ा आगे बढ़ी.

चाची की आवाज़ ज्यादा ना निकले इसलिए उन्होंने अपने हाथ को अपने मुँह पर लगा लिया था.

इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर?

करीब आधे घण्टे बाद उसने एक जोर की आह भरी और मेरी चुत में ही झड़ गया. जब खाना बन गया तो उसने मुझे पुकारा- साहिल जी, खाना लग गया है, आकर खा लीजिए. जैसे ही मैं मुठ मारने लगा तो चाची बोली- अरे केदार, तू फिर से चालू हो गया?मैं खुद को संभालते हुए बोला- अरे चाची आप गयी नहीं?तब मैं पैंट की जिप बंद करते हुए बोला- हां चलो चाची.

लोलिशा कॉलेज गयी थी और उसका भाई आशीष कहीं निकला हुआ था।मैंने मृणालिनी से बात करनी शुरू की. उन्होंने फट से मुझे नंगा कर दिया और मेरे लंड को किसी पोर्न स्टार की तरह चूसने ओर सिसकने लगीं. मैं बोली- ठीक है भाई … तू चोद।अब मैं दोबारा नीचे आ गयी और भाई मेरे ऊपर.

कुछ देर बाद मैंने महसूस किया कि अंकल का लंड मेरी चुत पर गड़ने लगा था. मैंने उनकी आंखों में देखा तो भाभी ने कहा- पहले दूध तो पी ले मेरी सहेली का …. लैब के बीच में एक ही दरवाजा था, जो आने-जाने के लिए था और दोनों तरफ बहुत सारी खिड़कियां थीं.

मैंने अपने हाथ से उनका लंड निकाला और अपनी चूत पर रखकर बोली- प्लीज मामा जल्दी डालो … अहमद ने मुझे प्यासी छोड़ दिया. जिस दिन सुबह सुबह मैं बरखा को हास्पिटल लेकर गया, चित्रा हमारे साथ थी जबकि बहार घर पर रूकी थी.

वो सिसकारने लगी- आह्ह … विशाल … ओह्ह … विशाल … आह्ह … स्स्स … जोर से … आह्ह … यस … आई लव यू … आह्ह।उसकी ये सिसकारियां सुनकर मैं उसके निप्पलों को काटने लगा था और वो अधिक ज्यादा कामुक होती जा रही थी.

मेरे घर एक बार मेरे ननदोई जी आये तो हम दोनों की वासना ने हमें आपस में सेक्स करने के लिए उकसा दिया.

मैं धक्का लगाने ही वाला था कि पूनम बुआ की चेतना शायद लौट आई, उन्होंने एक बार फिर अपनी बड़ी सी आंखों से मुझे घूर कर देखा और अपनी टांगों को बंद करने का असफल प्रयास किया. मगर जैसे जैसे धक्के लगते गए, उसकी बुर फैलती गई और उसने कसमसाना बंद कर दिया. मेरे भारी भरकम उरोज आधे दिख रहे थे।मैंने ऐसा नाटक किया कि सच में ज्यादा चोट लगी हो.

मेरी मां रज्जी मेरा नाम लेते हुए मीठी सिसकारियां लेने लगीं- आंह विशूऊ आआह चोद दे … हम्मम ईईईई … जोर से पेल दे. दीदी ने पूछा- मजा आया?मैंने कहा- दीदी, मैं तो आपको सनी लियोनी समझ कर चोद रहा था, सच में आप बहुत मस्त माल हो. बस मुझे ये लग रहा था कि अभी खिड़की से कूद कर अन्दर चला जाऊं और अपना लंड दीदी के मम्मों के बीच रख कर लंड का माल दीदी को पिला दूं.

जीवन में सम्बन्ध ऐसे ही बनते हैं, उस दिन अगर आप पुलिस बुलाने की जिद पर अड़ जाते तो हमारे लिए मुसीबत हो जाती.

मेरी मम्मी की उम्र भी उस वक्त ख़ास ज्यादा नहीं थी, कम उम्र में शादी हो जाने के कारण वो सिर्फ 36 साल की ही थीं और उनका फिगर भी बहुत मेंटेन था. सर ने अपनी रबड़ी चाची की चुत में छोड़ दी और बोले- वाह शबनम क्या बात है … बड़ी मस्त चुत है मादरचोद … मजा आ गया. उत्सव के दो दिन हो गए और मेरे सास ससुर को अपनी बेटी के यहां जाना पड़ा.

उस दिन रात को मैंने रीना के नाम की दो बार मुठ मारी और रात को मेरी और रीना की मैसेज पर बहुत सारी बातें हुईं. मैंने कहा- चैक करने दो न!वो चुप हो गई तो मैंने उसके टॉप को उतार दिया और उसकी ब्रा में कैद चूचियों को देख कर एकदम से बौरा गया. वो लंड हिला कर बड़े प्यार से बोली- अच्छा अब बता … कैसे चोदेगा?मैंने कहा- गुलाम हूँ जैसे तुम कहो!उसने कहा- जा सामने फ्रिज में से आइस क्रीम ले आ.

वो बोली- बस … विशाल … अब मुझे अपना बना लो … मेरे अंदर डाल कर मुझे पूरी कर दो.

मैं नीचे आते हुए उसके पेट को चूमने लगा और नाभि में अपनी जीभ डाल दी. ये बुआ सेक्स स्टोरी सन 2007 का है, उस समय मेरा आना-जाना पूनम बुआ के घर थोड़ा बढ़ गया था.

इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर मुझे फीडबैक दें। आपके मैसेज का मैं इंतजार करूंगा।मेरा ईमेल आईडी मैंने नीचे दिया हुआ है। कहानी पर कमेंट करना न भूलें।[emailprotected]. हमारे पड़ोस में एक चाची रहती थीं जिनकी उम्र करीब 40 साल की रही होगी, जब पापा नहीं रहते … तो वो अक्सर घर आ जाया करती थीं.

इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर दस मिनट तक गांड चाटने के बाद मैंने भाभी जी को सीधा करके जैसे ही चुत पर जीभ लगाई, डर्टी भाभी मेरा सर अपनी चुत में घुसेड़ने लगीं. मैंने उसे करीब 20 मिनट तक हचक कर चोदा, इसके बाद उसे घोड़ी बनाकर चोदने लगा.

मैंने दस मिनट तक चोदने के बाद उसकी चुत में ही पानी निकाल कर सो गया.

ब्लू फिल्म दीजिए तो

पर मेरा हटने को बिल्कुल भी मन नहीं कर रहा था क्योंकि मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. पर मैंने उनके मुँह में चड्डी डाल रखी थी … तो उनकी चीख जोर से नहीं निकल पा रही थी. मैं- अरे ये तो अभी से तैयार है!तभी वह आगे को झुका और उसने अपना चेहरा मेरे सीने में छिपा लिया.

अब आगे सेक्सी लड़की की चुदाई:मेरे दोस्त रमेश ने एक हाथ नीचे किया और दीदी की चुत पर रख कर चुत को सहला दिया. कुछ देर बाद उसकी चुत में भी पानी आने लगा और वो भी चुदने का मजा लेने लगी. मैं बोला- तेरी बुर मेरा ये नाग जैसा लौड़ा सह लेगी!वो मेरे बाल खींच कर बोली- मैं मर भी जाऊं … तो भी मुझे तू इतनी बार ही चोदना.

ऐसे ही कुछ देर खेलने के बाद बहूरानी ने लंड निकाल कर अपनी पैंटी से पौंछ दिया और फिर पूरी पैंटी अपनी चूत में घुसा ली और चूत को अन्दर से भी सुखा लिया.

वो दोनों जल्दी जल्दी में दरवाज़ा बन्द करना शायद भूल गए थे और बाहर के बल्ब की अच्छी रोशनी इस कमरे में आ रही थी, जिससे अन्दर का पूरा नज़ारा मुझे बाहर से साफ दिख रहा था. मैंने पूछा- चुप क्यों हो … क्या कहना है बोलो न!वो कहने लगी- साहिल जी मैं एक बात कहना चाहती थी. कभी मैं पापा का लंड पकड़ कर दबा देता, तो कभी मम्मी की चुत में उंगली डालकर अपने पापा के जैसे मुँह से चुत चूस लेता था.

भाभी- आरुष मैंने तुम्हें कपड़े पहनने को तो नहीं बोला था!मैं- वो तो वापस निकल जाएंगे भाभी. उसके सहलाने से मेरा लण्ड कड़क होने लगा तो जीनिया बेड पर बैठ गई और मेरा लण्ड अपने मुंह में लेकर मेरे चूतड़ों को अपनी बांहों के घेरे में लेकर अपनी ओर खींचा तो पूरा लण्ड उसके मुंह में चला गया. कुछ देर बाद भाभी उठकर वॉशरूम जाने लगीं और मुझसे बोलीं- कमरे में चलो … इधर नहीं.

मैं- ठीक है आने दो … साली का दूध निचोड़ कर पिऊंगाभाभी हंसने लगीं और बोलीं- अरे मेरे देवर … आप तो बड़े चुदक्कड़ हो. लेकिन वो झड़ते टाइम इतनी जोर से चिल्लाई थीं कि आस पास के फ्लैटों में भी उनकी आवाज पहुंच गयी होगी- आह यस्स … आई एम कमिंग … ओह्ह ओह्ह आह उऊऊ हम्म्म्म!करीब पांच मिनट तक भाभीजी रुक रुक कर झड़ती रहीं.

ऐसा बोल कर मैंने नगमा की चूत में हाथ डाल दिया और मुझे उंगली लगाते ही उसकी चूत एकदम सी गर्म महसूस हुई. बुर पर जीभ फेरने से बहार गनगना गई और बोली- अब देर न करो, मेरी बुर तुम्हारा लण्ड माँग रही है. पूनम बुआ मुझे पहले ही बता चुकी थीं कि बृज उनको अपना लंड चुसाता है और उनके मुँह में अपना पानी भी डालता है.

मैं उन्हें सब बता दिया कि डैड अब मॉम के सिर्फ पति भर हैं वो उन्हें सेक्स में संतुष्ट नहीं कर सकते हैं और घर में दादा दादी जी भी हैं.

इसके बाद उसने लंड चुत में पेल दिया और लगभग आधे घंटे में मुझे बहुत फटाफट … लेकिन बढ़िया से चोद दिया. उसके पानी की गर्मी से मेरा भी पानी निकल गया और मैं उसके अन्दर ही झड़ गया. कुछ पल बाद चाची बोली- तू मुठ क्यों मार रहा था?मैं- अरे चाची, आपकी जांच चूसते हुए आपकी मस्त चीज दिख गयी थी तो मेरा खड़ा हो गया था.

जोया ने कहा- नहीं, अब बहुत हुआ … मैं तुम्हारा लंड नहीं चूसूंगी … मुझे जाने दो. ”मामला गम्भीर है लेकिन इसमेँ मैं क्या मदद कर सकता हूँ?”मेरी भाभी से बात हुई है और भाभी चाहती हैं कि जया को तुम्हारे साथ मिलने का मौका दिया जाये, शायद कुछ बात बन जाये.

जल्दी से ससुराल भेज दे।फिर मैंने हौसला कर लिया और चुपचाप इस शादी के लिए हाँ कर दी।एक दिन मौसी आई और मुझे अकेली साइड में ले गई. आपको मेरी ये हॉट चुत की मस्त चुदाई कहानी कैसी लगी … मुझे मेल और कमेंट्स करके जरूर बताइएगा. हम दोनों रोज सुबह अंधेरे में किसी कोने में कभी चूमाचाटी करते … तो कभी मैं उसके बूब्स दबाता, चुत को सहला देता या कभी वह मेरा लंड चूस देती.

देहाती वीडियो चुदाई

इतना कहते ही सागर ने एक झटके के साथ आधा लंड मेरी चूत में उतार दिया।लंड घुसते ही मैं एकदम से चिल्ला उठीं। ऐसा लग रहा था कि किसी ने मेरी चूत चीर डाली हो!मैं- आई मर गई … आह निकाल लो इसे.

अगले दिन राजेश और गोविन्द ने हम दोनों के लिए दुल्हन का लिबास लिया और हमें ब्यूटी पार्लर में सजने संवरने के लिए छोड़ गए. अपने इस काम के लिए उन्होंने एक लड़की, जिसका नाम लता था, उसको मार्केटिंग के लिए भी रख लिया. जब दोपहर को मैं वापस आयी तो दरवाज़ा खुला था और रुबिका और शहज़ाद दोनों नंगे लेटे थे.

फर्स्ट टाइम सेक्स में तो दर्द होता ही है तो ममता किसी हलाल होती बकरी की तरह चिल्लाने लगी- आआह मर गई मैं भैया …अभय ने उसी समय उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए, जिससे बाकी की आवाज ममता के मुँह में ही दब कर रह गई. फिर रमेश ने बड़ी स्टाइल से दीदी की नंगी चुत की एक दो फोटो ले लिए कुछ पोज उसने दीदी से खुद की चुत में उंगली करवाते हुए और दूध मसलवाते हुए ले लिए उसने मेरी दीदी की रंडी की तरह फोटो ले ली थीं. गुजराती गर्ल सेक्सी वीडियोदोस्तो, मैं आपको अपनी एक सच्ची देसी लड़का लड़की चोदा चोदी कहानी सुना रहा हूँ.

वो अपनी एक गोटी मेरे पीछे ले आया और बोला- आपको भी फिर से मरवानी है, चाहे आगे से मरवाओ … चाहे पीछे से!मैं बोली- यार तुम तसल्ली से मार लेना, मगर अभी रुको तो!मैं थोड़ा आगे बढ़ी. मीरा ये सब खेल बगल में लेटे हुए देख रही थी और रीमा के बूब्स दबा रही थी.

कुछ ही देर में शन्नो भी गर्म हो चुकी थी और वो भी मुझे चूमने लगी थी. नीचे मेरी चूत की मस्त चुसाई चल रही थी जिससे मेरी दोनों टागें विपरीत दिशा में फैली हुई हवा में थीं. बंगालिन भाभी के बाद अब तो सोसाइटी की बहुत सारी भाभियां मुझे दूध पिलाने के लिए बुलाती हैं … और मैं भी भाभी का दूध पीकर उन्हें चोद देता हूँ.

फिर मैंने गांड से लंड निकाला और उसकी चुत में लंड पेल कर चुत चोदने लगा. अब मेरी बारी आ गई थी लेकिन भाभी ने मुझे काटने से और सेक्स करने से मना कर दिया. पर बहूरानी जितना उसके लिए संभव हो सकता था उतना वो अपनी तरफ से निभा ही रही थी; कभी नाश्ता दे जातीं, कभी कॉफ़ी दे जाती.

मैंने भी उसकी व्याकुलता को समझते हुए अपने दांत भींच कर लंड को जरा सा बाहर की ओर निकाला फिर पूरे दम से बहू की चूत में पेल दिया और उसे पूरे दम से चोदने लगा.

अचानक से नवीन के ऐसा करने से जोया चिहुंक गई और वो नवीन से दूर हो गई. ”किसी को आपके घर भेज दूँ? आपका हमारे घर आना वर्जित है क्या? हा हा हा…”नहीं, ऐसी बात नहीं है.

मुझे भी कुतिया की चूत चाटने दे।सुन्दर ने अपना मोटा लंड मेरे मुख में पेल दिया और मैं भी चूसने लगी. वो थोड़ा सा लंड मुँह के अन्दर लेती और बाहर निकाल कर उसके सुपारे को जीभ से चाट लेती. शन्नो भी मेरे लंड को चूसने लगी और उसने 5 मिनट चूस कर मेरे लंड का पानी निकाल दिया.

मेरे हाथ से मम्मी की चूचियां दब रही थीं तो मम्मी के मुँह से मादक सिसकारियां निकल रही थींवो अपना चेहरा नीचे किए हुए थीं और वासना से गर्म होती जा रही थीं. दोस्तो, लॉकडाउन के बाद ज़िंदगी की गाड़ी वापस पटरी पर आ ही रही थी कि एक बार फिर से कोरोना ने इस गाड़ी पर ब्रेक लगाने शुरू कर दिये हैं. कुछ मिनट किस करने के बाद उसने मेरा शॉर्ट निकालकर मुझे नंगा कर दिया.

इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर अपने दोनों हाथों को मेरी गांड के ऊपर रख कर उसे नीचे की तरफ दबाते हुए अपनी गांड ऊपर की तरफ उठाने लगीं. मैंने मां की दोनों टांगों को थोड़ा और खोल दिया, जिसके कारण उनकी चूत पूरी तरह खुल गई थी.

इंडिया क्सक्सक्स वीडियो

मैंने अपने हाथों से उसका मुँह अपनी तरफ़ किया और बोली- अभी से ये मज़ा लेना शुरू कर दिया. मैंने अपना लंड हाथ में लिया और लौड़े का सुपारा गांड के छेद में सैट कर दिया. वो कुछ नहीं बोलीं लेकिन घूमने चलने के नाम से उनके आंसू टपकना बंद हो गए थे.

जिंदगी में इंसान तो बहुत मिल जाते हैं मगर अच्छे इंसान बहुत कम मिलते हैं. मैं भी हल्के हल्के से अपनी बीच वाली उंगली को मालिश के बहाने उसके छेद में डाल निकाल रहा था. मराठी ग्रुप सेक्सी व्हिडिओउसके बाद मैंने दोनों बच्चों को सुला दिया और एक गहरे गले का लाल रंग का नाईट गाउन पहन लिया जो मेरे घुटनों तक आता था.

मैंने उसे धक्के लगाने शुरू किए, उसे दर्द भी काफी हो रहा था … पर वो दिखा नहीं रही थी.

आपको मेरी सेक्स विद क्यूट गर्लफ्रेंड की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें. मैंने देखा तो उससे चलना तो दूर, वो मुश्किल से खड़ी भी नहीं हो पा रही थी.

ये वही शबनम चाची हैं जिन्हें मैंने अपने टीचर से चुदाई कराते देखा था, फिरचाची की चूत और गांडमैंने भी मारी थी. लंड थोड़ा बाहर करके एकदम से पूरा अन्दर करता तो मिहिका ‘आआहह … सीसीई …’ की सिसकारी भर लेती. चाची की आंखों से आंसुओं की धार निकल गई और वो बोलीं- आहहह … बापरे सर आपने तो गांड फाड़ दी.

उसके मुँह पर हाथ का ढक्कन लगा था, तो आवाज तो नहीं निकल पा रही थी लेकिन उसकी आंखों से आंसू आने लगे, वो रो रही थी और तड़प रही थी.

मां के दूध उनके ब्लाउज से आधे बाहर को झलक रहे थे, उनकी पूरी पीठ नंगी थी और ट्रांसपेरेंट साड़ी से उनकी कमर और नाभि भी साफ दिख रही थी. हम दोनों ने खाना खाया, उसके बाद मां ने बर्तन साफ़ किए और मेरे पास आकर बैठ गईं. कोई भी सामाजिक फंक्शन, चाहे आस पड़ोस में हो या कहीं दूर रिश्तेदारी में, वो सब जगह ख़ुशी ख़ुशी निभाते हुए बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेती है.

दिव्या भारती का सेक्सी वीडियोतभी मालिक की पत्नी कार से निकल कर आई, पूरी बात सुनी और पंप मैनेजर से कहा- साहब की बाइक में तेल कम डाला गया है या ज्यादा, भूल जाओ. वो थोड़ा सा लंड मुँह के अन्दर लेती और बाहर निकाल कर उसके सुपारे को जीभ से चाट लेती.

इंडियन हिंदी पोर्न

जब कुछ सालों बाद रुबिका की शादी उसके अब्बू की मर्जी से किसी दूसरे शहर में किसी और से हो गयी तो वो अपनी ससुराल चली गई. कुछ सेक्स कहानियां तो इतनी मजेदार होती हैं कि उन्हें पढ़कर लड़कों के हाथ अपने लंड तक और लड़कियों के हाथ अपनी चूत तक पहुंच जाते हैं. मेरे भारी भरकम उरोज आधे दिख रहे थे।मैंने ऐसा नाटक किया कि सच में ज्यादा चोट लगी हो.

फिर लौड़े के टोपे को खोल कर उसके अन्दर जो पेशाब की गंध और कुछ सफ़ेद सा पदार्थ लग जाता है, उससे भी लड़कियों को बुरा सा लगता है. इस नाइटी में भाभी बड़ी मस्त माल लग रही थीं, उनके मम्मों के उभार साफ़ नुमाया हो रहे थे; गांड चुत से उनकी नाइटी चिपक कर भाभी के हर अंग को साफ़ झलका रही थी. पूनम बुआ मुझे पहले ही बता चुकी थीं कि बृज उनको अपना लंड चुसाता है और उनके मुँह में अपना पानी भी डालता है.

वो इस बार तेज स्वर में बोले- सुन मेरी रंडी … चल अपना मंगलसूत्र निकाल कर रख दे. वो मेरे पास एकदम करीब आकर बैठ गईं और मेरा हाथ पकड़ कर बोलीं- कल रात के बारे में सोच रहे हो न!मैंने हां में सर हिलाया और कहा- सॉरी मौसी … वो मुझसे गलती हो गई थी. ” मैंने कहा और आगे हाथ लेजाकर बहू को मम्में दबोच लिए और उन्हें चोदने लगा.

अफ़रोज़ के लंड के साथ खेलने से मैं बहुत उत्तेजित हो गई थी और अपनी प्यास बुझाने के लिए मैंने अपनी बीच वाली उंगली चुत की जड़ तक डाल ली. ये एक प्यार का रिश्ता था … जिसे हम दोनों ने मन ही मन स्वीकार लिया था.

मुझे लगा कि मेरा आपके घर आना सुधीर साहब को अच्छा लगेगा या नहीं?”क्यों? सुधीर को इसमें क्या आपत्ति हो सकती है? वैसे सुबह 9 बजे सुधीर दोनों बेटियों बरखा और बहार को लेकर निकल जाते हैं, उनको स्कूल ड्राप करके दस बजे तक शोरूम पहुंच जाते हैं.

मैंने उसे देख कर अपने लौड़े से हाथ हटा लिया और उससे पूछा- क्या हुआ नीतू?वो बोली- मुझे कुछ कहना है. ಸೆಕ್ಸ್ ಪಿಲ್ಮ್मैं टहलते हुए सोच रहा था कि भाभी बड़ी दिलकश माल दिख रही हैं, इनसे बात कैसे करूं. सट्टा किंग फरीदाबाद दिखाओबाथरूम में भाभी की चुत चोदते समय न जाने कैसे उनका पैर फिसल गया और वो गिर गईं. बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है, तुम अरिश्का को चोदकर प्रेगनेन्ट कर दो.

वो भी प्यार की सिसकारियां लेने लगी- आह आह उई ऊह हां हां ओह आआ!इसी के साथ ही अपनी चूत की फांक के ऊपर उंगली से दाने को रगड़ने लगी.

की दूरी पर ही था।काम काफी तेजी से हो रहा था और समय भी बीतता जा रहा था।दो महीने बाद एक दिन मैं मृणालिनी के घर अचानक से पहुंच गया।तब उसके घर पर कोई नहीं था. हम सभी कॉलेज में एक साथ पढ़ने वाले दोस्त थे और दो महीनों में ही अच्छे दोस्त बन गए थे. उसने इशारा किया तो एक लड़का आकर मेरी नाईटी के सामने के बटन खोलने लगा.

[emailprotected]मॉम सन हॉट सेक्स स्टोरी का अगला भाग:विधवा देहाती मां की चूत चुदाई- 3. ये लोग तो तीनों लंड एक ही छेद में डालने के चक्कर में थे, लेकिन तीन के खड़े होने की जगह ही नहीं थी, सो लंड घुसा ही नहीं. मैं खुद उसके नाम से कई बार लंड हिला चुका था, पर मैं शब्बो को उसकी मर्जी से ही चोदना चाहता था.

भाभी का बुर

मैंने पूछा- मुस्कुरा क्यों रही हो!वो बोली- मैंने लंड की लंबाई और मोटाई नाप ली और मुझे आज जन्नत की सैर होगी. खुले लंबे बाल दाएं कंधे से सामने आते हुए उनके एक मम्मे को ढक रहे थे. मैंने भी उसकी बात मान ली और अपनी तौलिया बाँध कर अपने कमरे में चला गया.

मैंने उससे उसके बॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, तो वो बोली- मैं तो अपने बॉयफ्रेंड चेंज करती रहती हूँ.

अदिति ने भी झड़ते हुए मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और उसकी चूत मेरे लंड को दबा दबा कर सिकुड़ने लगी और वीर्य की एक एक बूंद दुहने लगी.

मालती भी अब आहह आहह आहह करके मस्ती में लन्ड लेने लगी थी।अब मैंने उसकी दोनों टांगों को मोड़ दिया और उसके ऊपर आ गया और चोदने लगा. मैंने मोबाइल उसे दिया, तो वो बोली- देख ली ड्रेस!मैं बोली- हां बहुत पसंद आई, पर स्टॉक में नहीं है. भारतीय सेक्सी व्हिडीओकोई है क्या दूसरा नम्बर?उसने बड़ी नशीली नज़र से देखा जिससे मेरा बदन सिहर उठा।मैं बोली- ऐसे क्या देखते हो?वो बोला- लगता है भाभी आप हमारे भाई की दीवानी हो गई हो। हम भी उसके ही भाई हैं.

देसी लड़की की सेक्सी कहानी मेरे मकानमालिक की बेटी के साथ मेरी दोस्ती और सेक्स की है. उसके 32 साइज के तने हुए चुचे मुझे ब्रा के ऊपर से ही बहुत अच्छे लग रहे थे. वे तीनों लड़के तो मुझे ही घूरे जा रहे थे क्योंकि मैं उनके लिए एकदम नया माल थी.

जैसे ही अंकल का लंड चुत में फिर से लूंगी, मैं अपनी चुदाई की कहानी का अगला भाग आपके लिए लिखूंगी. देख लिया आपका प्यार … लो कर लो अपनी मनमानी और मार ही डालो मुझे!” बहूरानी पूरी मस्ती में मेरे धक्कों से ताल में ताल मिलाती हुई कुंवारी चुदने की गजब की एक्टिंग कर रहीं थीं.

कुछ देर बाद मैं झड़ने को आ गया और मैंने मां से कहा- रज्जी, मैं अन्दर झड़ रहा हूँ.

स्टूडेंट एंड टीचर सेक्स कहानी में पढ़ें कि सेक्स कि प्यासी एक कुंवारी लड़की ने अपने ट्यूशन टीचर को सेक्सी हरकतें करने की चूत दे दी. यामिना ने अपनी पैंटी उठाई और उससे अपनी चूत और टाँगें साफ की, गीली पैंटी को मेरी दराज में डाला और चुपके से बाहर निकल गई. मैंने तकिए को सीने से कसकर भींचा और जांघों के बीच दूसरा तकिया दबा आंखें बंद कर लीं.

ಕನ್ನಡ ಸೆಕ್ಸ್ videos उसके मुंह से फिर से आहहह ओहह इसस ह्म्म्म ऊ ऊ ओहह ह्म्म्म की आवाज़ें आनी शुरू हो गयी. चुदाई के बाद शहजाद ने उन दोनों से कहा- मैं सबीना के बिना नहीं रह सकता हूँ.

उनकी चुत के ऊपर कुछ बाल एक त्रिभुज के आकार में उगे थे और वो भी छोटे छोटे ट्रिम किए हुए थे. तभी उन दोनों लड़कियों ने भी बोला- देखो प्लीज़ हमारी ये वीडियो तुम डिलीट कर दो. मुझे याद आया कि बृज फूफा, लता के साथ दो दिन को मार्केटिंग के लिए शहर से बाहर जाने वाले थे.

સેક્સ કોમ

मैं भी उसके हर धक्के को खूब एन्जॉय कर रही थी और मस्ती के सागर में डूबकर गोते लगा रही थी. फिर उसने मेरे साथ क्या किया?मेरी पिछली कहानी थी:दोस्त के पापा के साथ हिंदी गे सेक्स स्टोरीअब मैं आपके सामने अपनी एक और घटना लेकर आया हूं. वो बार बार अपनी कमर उठा कर लंड चुत में लेने की कोशिश करतीं और मैं लंड हटा लेता.

मगर मेरी जान, पहले मेरी चूत की आग की कहानी कैसी लगी, एक मेल तो लिख दो. ”अगर किसी का दिल तुम पर आ जाये तो?”तो देखना पड़ेगा कि सामने वाला कौन है?”अगर सामने वाला मैं हूँ तो?”हूँ, सोचना पड़ेगा, एक तो तुम जेन्टलमैन हो, फिर तुमने डिनर कराया है और आज तो दारू भी पिलाई है.

फ्री मॉम सेक्स कहानी के पिछले भागमेरी गंवार माँ को चुदाई का चस्का लग गयामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी मां को ब्लू-फिल्म दिखा कर गर्म कर रहा था.

मेरे पूछने पर वो कुछ नहीं बोली और दूसरे छोर पर जाकर फिर से रोने लगी. मेरे फ्रेंड्स ग्रुप में लड़के-लड़कियां सभी दारू पीते थे लेकिन मैंने कभी ट्राय नहीं किया था. मैंने झुक कर कृति का दाहिना हाथ जकड़ लिया और अपने होंठों से उसके होंठ लगा दिए.

इसका मतलब साफ़ था कि उसके हौसले बुलंद हो चुके थे और उसे यक़ीन था कि अब मैं उसकी बात का बुरा नहीं मनूंगी. तभी शहज़ाद भी नहा कर निकल आया और मेरे पीछे आकर मेरी तौलिया के ऊपर से मेरी चुचियों को दबाने लगा. तभी आंटी का फिर से फ़ोन आया- क्या बताया डॉक्टर ने?उर्वशी ने कहा- एक दिन का बेड रेस्ट का बोला है.

टीटीई इस कमरे के बाहर वाले लाउंज में पड़े सोफे पर बैठा था और वो माल भुनभुनाती हुई बाथरूम में घुस गई थी.

इंग्लिश में बीएफ सेक्सी पिक्चर: सेक्स में मैं काफी अच्छा हूँ और आज तक सभी भाभियों और लड़कियों को संतुष्ट करके ही माना हूँ. थोड़ी देर बाद चाची की सिसकारी गूंजने लगीं- आहह ओह इस्स आह प्लीज़ नहीं करो आईईई आहह ओह.

मैंने पूछा- कभी उंगली भी नहीं करती थीं क्या?इस पर उन्होंने ने हंस कर कह दिया- जब उंगली कर रही थी, तभी तो तुम अन्दर आए थे. तारीख 25 दिसम्बर समय शाम के 7 बजे मैं अपने दोस्त विशाल के साथ एक पार्टी में जा रहा था. मम्मी की ‘आह उन्ह …’ निकलने लगी, तो चाची ने अपना हाथ मम्मी की साड़ी के अन्दर घुसेड़ दिया और चुत को मसल दिया.

तब मुझे काजल की याद आयी जिसे मैंने अपने रूम में चोदा था, फिर उसके रूम में जाकर भी चोदा था.

मेरा नाम शिबू (बदला हुआ नाम) मैं जयपुर से हूँ।लगभग 6 महीने पहले मेरी फेसबुक पर एक 45 साल की महिला से दोस्ती हुई जिसका नाम नियाशा (बदला हुआ नाम)नियाशा है तो जयपुर से … पर मुम्बई में रहती है। नियाशा का फिगर 34-32-38 है और मस्त गोरी चिट्टी पटाखा माल है. उन तमाम मेल में से ज्यादातर लोगों ने एक ही सवाल पूछा था कि मुझको गर्भवती किसने किया और आपके बेटे का असली पापा कौन है. मैं ऊपर से नीचे पूरा मुंह चला रहा था और अंकल की सिसकारियां तेज होने लगी थीं.