बीएफ कॉलेज की

छवि स्रोत,ब्लू पिक्चर बीएफ नेपाली

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी मुस्लिम: बीएफ कॉलेज की, इसलिए तुम किसी गलतफहमी में ना रहना … और तुम मुझे आप आप कहना बंद करो.

बीएफ पुरानी बीएफ

मैंने भाई की निक्कर की जिप को खोल कर उसका लंड बाहर निकाल लिया और उसको मुंह में लेकर मजे से चूसने लगी. बीएफ सेक्सी वीडियो बुर चोदने वालीजब मैं बेहोश सा हो के बिस्तर पे गिर गया, तो उसने मेरे लंड को खूब भली प्रकार जीभ से चाट चाट के साफ किया और बोली- चल राजे अब तुझे मैं स्वर्ण रस पान कराऊँ … कई घंटों से रोक के रखा है … आजा मेरे राजे … नीचे बैठ जा और अपनी मम्मा की चूत से मुंह लगा ले … आज बहुत गाढ़ा पीने को मिलेगा.

मेम समझ गईं कि मैं अब उनकी गांड मारने वाला हूँ, वो भी गांड उठाने लगीं. काजोल की बीएफ सेक्सी वीडियोउसका ये धक्का बहुत करारा था, तो मेरी चीख निकल गई- हाय्य … फट … गईईई मेरी तो … धीरे मेरे राजा.

सोनिया- रियली? तो ठीक है … नो प्रॉब्लम … डायरेक्टर आपको अपनी काबिलियत दिखाने का बहुत जल्दी मौका देंगे.बीएफ कॉलेज की: मैं डरता था कि कहीं उसको पता न लग जाये कि मैंने एक औरत की चुदाई को इस तरह से कहानी के रूप में सबके सामने परोस दिया.

फिर उसने बालों में लगाने वाले तेल की शीशी उठाई और मेरी गांड और अपने लंड पर तेल लगा दिया.इसी तरह साकेत भैया दीदी को इमोशनली सैट करते जा रहे थे और दीदी भी सैट होती जा रही थी.

कोई नई बीएफ दिखाओ - बीएफ कॉलेज की

अब वो चुदक्कड़ों की तरह बर्ताव करने लगी तो मैंने उसको गोदी में भरा और पटक कर फिर से चोद डाला.मेम मेरे साथ पहले भी कई बार बाइक पर बस स्टॉप तक जाती थीं, तो इस बात से ऑफिस के बाकी के लोगों के मन में कोई अन्य विचार नहीं आते थे.

वो बोले- एक बात बोलूँ अगर तुम बुरा न मानो तो?मैं बोली- क्यों नहीं, आप बोलिये. बीएफ कॉलेज की अब मेरे यानि विरत की मॉम निशा के शब्दों में:मैं कमरे के बाहर खड़ी थी.

मुझसे फ़ोन में यही बात कर रहे थे!”वो बोली- ओके यार … चल मजा ले ही लूंगी मैं भी! वैसे भी मुझे कब से सेक्स नहीं मिला.

बीएफ कॉलेज की?

उन्होंने फोन कट करते हुए कहा- मस्त है यार … शकील अब मैं एकदम टेंशन लैस हो गई हूँ. उनके गोरे गोरे मम्मों पर एकदम गुलाबी निप्पलों की झलक पाते ही मेरा लौड़ा टनटनाने लगा. अब कभी मैं उनकी जीभ को अपने मुँह में लेकर चूस रहा था, कभी मेरी जीभ को चूस रही थीं.

मेरी मां भी अक्सर मेरी नयी भाभी के यहां चली जाती थी और कभी भाभी हमारे घर पर आ जाती थी. वन्दना ने मेरा पेग उठाया और उसमें अपने दोनों चुचे डुबो दिए और उन्हें मेरे मुंह में देने लगी. हम दोनों एक दूसरे से रोज काफी बातचीत करते हैं, कई अलग अलग मुद्दों पर हम दोनों की चर्चा होती रहती है, तो हम दोनों एक दूसरे से काफी घुल-मिल गए हैं.

अब पतियों के कपड़े उतरवा कर हमें चारों के बीच में उत्तेजना की चिंगारी को भड़काना था. उसके बाद उन दोनों ने मुझे बेड पर बिठा दिया और मेरी आंखों पर एक काली पट्टी बांध दी. फिर पीछे की मसाज पूरी होने के बाद प्रिन्स बोला- भाभी जी, सीधे हो जाइए तो सामने की मसाज कर दूं.

शान्ति भाभी औरतों की मजलिस से खुद को बचाते हुए मेरे कमरे में आ गईं. मेरी चीख निकलने ही वाली थी कि उसने एक जोर का धक्का मारा और मेरे मुंह पर हाथ रखते हुए मेरे ऊपर लेट गया.

देखते-देखते मैंने पूजा को कमर से ऊपर नंगी कर दिया और पूजा के स्तनों मसलते हुए चूसने लगा.

मैं आपको आज मेरे जीवन की सच्ची घटना को एक गंदी कहानी के माध्यम से बताने जा रहा हूँ.

आंटी बोलीं- यार मज़ा आ गया, तू क्या कड़क मर्द है … बड़ा फौलादी लंड है तेरा. काफ़ी देर तक इसी मुद्रा में महेश ने अपनी बेटी की चूत और गांड से सारा पानी चाटने के बाद अपने दोनों हाथों से ज्योति के चूतड़ों को पकड़ा और अपने मोटे लंड का गर्म गर्म सुपार अपनी बेटी की लार टपकाती चूत पर टिका दिया. मैंने तुम्हें टिकट मेल कर दिया है, तुम ट्रेन में बैठ जाओ, तो फोन कर देना … ओके.

मेरी पत्नी मेरे दोस्त का तना हुआ लंड अपने हाथ में लेकर उसकी बीवी को दिखाने लगी. तभी दीदी ने साकेत भैया का हाथ पकड़ ली और बोली- नहीं … इसको मत खोलिए. रोहन- एक बात बताऊं जान … तुम्हारे होंठों को चूसना और तुम्हारी चुचियों से खेलना … इतना सुकून मिला है मेरे दिल को, मेरे हाथों को, मेरे दिमाग को … लेकिन बस सिर्फ एक बॉडी पार्ट है, मेरा जो बेचैन हो गया है.

मैंने हाथ की उंगलियों को मस्त दिखाने जैसी इशारा करते हुए उनको एक आंख मार दी.

”ज्योति को सबसे ज़्यादा खुशी इस बात की थी कि उसको चोदने में उसके बाप को उसकी मम्मी से भी ज़्यादा मज़ा आ रहा था. वो बोला- आप लेंगी क्या?मैं- क्या दोगे आप?वो लंड पर हाथ फेरते हुए बोला- जो आपकी इच्छा हो. बॉस ने आंखों को बन्द कर लिया था और मेरे मुँह में अपना लंड घुसा कर मजे से चुसवा रहे थे.

पर मैं अपनी ओर से कुछ शो नहीं करना चाहती थी कि मैं भी चुदाई के लिए तैयार हूँ. मैंने भी चूत खोल दी और चूत पर थपकी देते हुए बोली- आ जाओ मेरे शेरों … आज मेरी फुद्दी को तसल्ली करवा दो. इसी बीच उसने मुझे अपनी कुछ सहेलियों से भी मिलवाया और उनकी सेक्स की जरूरतें पूरी करवाईं.

उन्हें लगा कि अब मैं अपना लंड सीधे ही उनकी चुत में पेल कर उनको चोद दूंगा.

फिर उन्होंने अपना कच्छा निकाल दिया और गर्म लंड मेरे हाथ में दे दिया. मैंने अन्दर देखा कि बाथरूम में बाथटब था, मैंने सोचा उसी में इसके साथ कुछ किया जाए.

बीएफ कॉलेज की बस एक मैं थी, जो सलीके से कपड़े पहने अपने जींस टॉप पर भी शरमा रही थी. वो कहने लगी- प्लीज़ जल्दी करो मेरी जान … जल्दी से अपना ये लंड मेरी चुत में डाल दो … वरना मेरी चुत में से फिर छूट हो जाएगी … अब मुझसे सब्र नहीं होता … प्लीज़ जल्दी डाल दो ना.

बीएफ कॉलेज की चुत पर मेरे हाथ से चॉकलेट लगते ही सबा पागलों की तरह कांपने लगी और अपनी टांग से उसने मेरे सर को कब्जे में कर लिया. डॉक्टर ने मेरी पैंट की चेन खोल कर मेरे सोये हुए लंड को बाहर निकाल लिया.

मैं बहुत उत्तेजित था तो मैंने क्या किया?अब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि सोनिया मुझे मिलने के लिए एक रेस्तरां में आने वाली थी.

बीएफ दिखाएं इंग्लिश

संजय की गोलियां भी एकदम फूली हुई थीं, गुच्छेदार झांटे और फूली हुई गोलियों के साथ तो लंड का आकर्षण गजब ढाने लगा. जब भी मैं छुट्टियों में अपने गांव जाता था तो मेरी बुआ मेरे सामने अपनी साड़ी को जांघों तक उठा कर बैठ जाती थी. वो बोलीं- सच्ची में अभी तक कोरा है रे तू … तो इस मोटे गुलाबी लंड को मैं अपनी चुत के रस से भिगो के सवारी करूंगी … खूब रगडूंगी और फिर चूस चूस कर इसका माल अपने मुँह में ले लूंगी.

दीदी ने अपनी कमर को ऊपर किया और साकेत भैया ने तकिया को दीदी के पेट के नीचे रख दिया. वो एकदम से हुए हमले से दर्द के मारे चिल्लाने लगीं, तो उनके ससुर ने अपना लंड उनके खुले हुए मुँह में डाल दिया. पर मैंने मना कर दिया क्योंकि मैं और कोई लफड़े में पड़ना नहीं चाहती थी.

पिंकी बोली- अच्छा सीमा, चल एक काम कर … तू राजीव को जरा इधर भेज दे, तू बाहर घूम आ.

भाभी ने मुझे बताया कि उनको इतना मजा आ रहा था कि वह तो फिर से राहुल के मुंह में ही झड़ गई लेकिन राहुल झड़ने का नाम नहीं ले रहा था. सुबह एक एक करके सब लोग अकेले अकेले सुईट के लॉन में मिलेंगे … न कोई किसी से पूछेगा कि उसके साथ रात को कौन था … और न ही कोई अपने लाइफ पार्टनर से कभी पूछेगा ताकि जो पर्दा है वो बना रहे … और अगर सब कुछ अच्छा होता है तो कल रात कि प्लानिंग कल लंच में तय करेंगे. हमारे चेहरे एक दूसरे के करीब आए और अगले ही पल मेरे होंठ उसके होंठों पर थे.

ऐसा एक भी दिन नहीं जाता, जब वो मेरे मादक मम्मों को मसलता चूसता ना हो. एकाएक मेरी बीवी ने रोहित को ठेल कर बिस्तर पर गिरा दिया और अपनी चूत उसके मुँह के ऊपर सटाकर खुद रोहित के लंड और आंड को चूसने लगी. चाहे फेसबुक हो गया मेल सब जगह लड़के ही फेक आईडी बना कर बैठे रहते हैं.

” नीलम ने अपने ससुर को देखते ही सोफ़े से उठकर उनके गले से लगते हुए कहा।बेटी इसमें शुक्रिया की क्या बात है, यह तो मेरा फ़र्ज़ था. आज सोचा कि क्यों न अपनी सेक्स कहानी भी अन्तर्वासना के पटल आप सभी के साथ साझा की जाए.

मैं तेजी से उसकी चूत में उसकी उंगली करने लगा तो वो मस्ती में पागल होने लगी. ये सुनकर मैं सीधा हुआ और उसे चित लिटा कर उसके पैरों के बीच मिशनरी पोजीशन में आ गया. मैं ये कहते हुए उसके पास गया और उसके गाल को मसल कर और कूल्हों को सहला कर कहा- कल इसी जगह इसी वक़्त फीता कटवाने आ जाना.

जिससे उसका लंड भी गर्मी महसूस करने लगा और पैंट के ऊपर से दिखने लगा.

इसी के चलते हम दोनों को जब भी ऑफिस के काम से जब भी खाली समय मिलता है, तो हम ऑफिस की कैंटीन में कॉफ़ी पीने के लिए चले जाते हैं और एक दूसरे से खुल कर हंसी मजाक और बातचीत करते रहते हैं. सारिका ने यशिमा से कान में धीरे से कहा- जा यशिमा सुहागरात की तैयारी कर … अपने रूम में जा … मैं थोड़ी देर में इसे भेजती हूँ. मैंने उसकी ब्रा को खोल दिया और धीरे धीरे निप्पल चूसने के साथ साथ उसे किस करते करते उसके पेट पर पहुंच गया.

मैं एक नींद सोकर पेशाब करने बाथरूम गया, तो देखा कि अभी एक बजे थे और वो लड़का अब तक जगा ही हुआ था. मैं बोला- ओके … मैं कल तक बताता हूं क्योंकि मुझे देखना पड़ेगा कि कॉलेज का कोई काम ना हो.

वो अभी भी बड़बड़ा रही थी- स्लट, व्हेर इज माय स्लट?चल सो जा … तू बहुत नशे में है. तब शायद मैंने उन पर इतना ध्यान नहीं दिया लेकिन जब मेरे हस्बैंड ने कहा कि ऑफिस में भी अक्सर मेरे बारे में पूछते रहते हैं तब मैंने उन पर ध्यान देना शुरू किया. मैंने उसको वैसे ही मुट्ठी में भींच लिया और वापस से भाभी के कपड़ों के अंदर डालने के लिए गया.

हिंदी बीएफ वीडियो जंगली

मेरे मुँह से ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह …’ की आवाज़ निकलना शुरू हो गयी थी.

जब वो थोड़ी सहज हो गई, तो हिली-डुली और मेरे लंड को वापस अपनी गांड में अन्दर लेने लगी. लाइन तो बहुत लड़कियों ने मारी थी मुझ पर लेकिन एक हॉट लड़की खुद ही चुदने के लिए बेताब थी आज. मैंने सारा पानी उसकी चूत में छोड़ दिया और वो मुझे फिर होंठों पर किस करने लगी.

अब मुझे समझ में आ गया था कि इसको आगे से चुदाई करवाने की बजाय पीछे से गांड को चुदवाना पसंद है. जेठजी के कमरे का दरवाजा हल्का सा खुला होने की वजह से मेरी आवाज जेठजी तक तक पहुंच ही रही होगी पर फिर भी जेठजी कोई जवाब नहीं दे रहे थे. बांगला बीएफ सेक्सी व्हिडिओतो दोस्तो, कैसी रही मेरी गंदी कहानी, मुझे जरूर बताएं, अगली स्टोरी में मैं आपको बताउंगी कि कैसे मेरे भाई ने मुझे विक्की के साथ गांड मरवाते हुए देख लिया था.

घटना जो मेरे साथ हुई उसको मैंने अपने पाठकों को रीयल हिंदी सेक्स स्टोरी के रूप में बताने का सोचा. वो बोली- देखते ही रहोगे या अंदर भी आओगे?जैसे ही उसने मेरे अंदर आने के बाद दरवाजा बंद किया मैंने उसको गोदी में उठा लिया और सीधा उसको बेड रूम में ले गया.

एक दूसरे के बदन को कपड़े से पोंछ दिया और फिर कपड़े पहने और कार में बैठ गये. मेरी आग अब बढ़ती जा रही थी तो मैंने उसे मेरिउइ कुंवारी बुर लन्ड डालने को बोला तो उसने धीरे धीरे में बुर में लन्ड डालना शुरू कर दिया. भाभी ने उसे मनाने के लिए और उसे कंफर्टेबल फील कराने के लिए मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया.

तब से वह समीर से नफरत करने लगी है जिस का कुछ फ़ायदा मैं उठा रहा हूं. अचानक एक मिनट बाद परी मैम ने मेरा लंड पकड़ लिया और कहने लगीं- मुझे मेरी चूत की भी मसाज करवानी है. क्या कहती हो?दीदी- मैंने तो उनसे बोला था कि जो भी बोलना हो, आप लैटर में लिख कर बोल दीजियेगा.

अब बॉस ने मुझे अपने पास बिठा लिया और मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे पैग बनाने को बोला.

आप लोग तो जानते ही हैं कि अभी गीत मुझे अपनी पिछली जिंदगी के बारे में बता रही थी, तो मैं संदीप नाम सुनकर चौंक पड़ा. तो फिर मैं नाश्ता लगा देती हूं।”मैंने सायरा को गोद में उठाया और अपने रूम में लाकर पलंग पर लिटाते हुए कहा- नाश्ता कहां भागा जा रहा है, बस मेरी प्यारी गुड़िया एक बार मुझे प्यार कर ले तो नाश्ता भी जमकर खा लूंगा.

जब से मैंने होश संभाला है … मतलब कि जब से लंड ठीक से खड़ा होना शुरू हुआ है, मैं उनको ही देखते आया हूं. उसके इस बर्ताव पर मुझे बहुत गुस्सा आया … लेकिन ये पहली बार नहीं था. ऐसा कहते हुए वो अब जोर जोर से अपना लौड़ा मेरी चूत में घुसा घुसा कर धक्के मारने लगा.

वो तो भला हो टीवी का … जिसकी आवाज़ से यहाँ से आने वाली पच पच की आवाज़ दब गयी थी।अब मैंने पूरे जोश में अपने लंड से चूत रगड़ना चालू कर दिया और उसी जोश में उनके पेट पर रखा हाथ सीधे उनके बूब्स पर रख कर दबा दिया. मैंने फिर से चार पांच झटके दिए और अपना लंड थोड़ा बाहर निकाल कर जोर का धक्का लगा कर एक ही बार में पूरा लंड गांड की जड़ में पेल दिया. जाने के समय मैंने और परमीत ने मनु के यहां अपनी साइकिल छोड़ी थी … और ऑटो से वहां गए थे, इसलिए मुझे अपनी साइकिल के लिए मनु के यहां जाना था.

बीएफ कॉलेज की मेरे लंड की आग को ठंडा करने में साथ ही वो अपनी भी गर्मी शांत कर रही थी. कुछ देर सोचने के बाद वो तैयार हुई और गाउन पहने हुए मसाज के लिए लेट गई.

हिंदी बीएफ कव्वाली

चाची के दो छोटे छोटे बच्चे भी थे, पर चाची तो ऐसे लगती थीं कि अभी कॉलेज में पढ़ती हों और अभी उनकी शादी भी न हुई हो. मेरे कपड़े गंदे हो जाते।अब मेरे पास इसके आगे कहने के लिए कुछ नहीं था. वो तो भला हो कि रास्ते में उसके मम्में सिर्फ दबे, टॉप उतरी नहीं! वर्ना उनके लंड तो रास्ते में ही खाली होने को तैयार थे.

जैसे ही उसके लंड का सुपारे ने गांड के फूल को फाड़ा, मेरी तो समझो जान ही निकल गयी. मेरे यार की ताकत के सामने मेरी छोटी-छोटी कोशिशें नाकाम होती जा रही थीं. किन्नरों की सेक्सी बीएफ फिल्मकुछ देर बाद वो मुझसे बोली कि ज़रा ऐसे हो जाओ, मुझे भी मूवी देखनी है.

मुझे देखते ही उनके बॉस की नजर सीधे मेरी जांघों पर गई लेकिन हम खाना खाने लगे.

बीच बीच में मैं उसको कमर से खींच कर अपने लंड का दबाव उसकी चुत पर भी डाल रहा था. मैं कपड़े पहन कर चाची के साथ ही सोफे पर उनकी जांघों से जांघें चिपका कर बैठ गया.

तभी नेहा ने फिर आगे बोला- विराट तो है ऊपर … उसी से चूत शांत कर ले न. मेरी इस हरकत पर मेरी पत्नी मुझे गुस्से से मारने के लिए पानी में ही मेरी तरफ दौड़ी. मेरे हाथ उसकी कमर पर घूम रहे थे और उसके जिस्म में सेक्स की जो गर्मी भर चुकी थी वो उसकी चूत से भांप बन कर मुझे साफ-साफ बाहर आती हुई महसूस हो रही थी.

मुझे मालूम था कि चाची जी शाम को फिर से खाना बनाने के लिए आने वाली थीं.

रीमा की इन कामुक सीत्कारों से मेरी तो आंखें जैसे फटी की फटी रह गई थीं. करीब पिछले 20 मिनट से जेठजी मुझे अलग अलग आसनों में चोद रहे थे और आगे पता नहीं कितनी देर तक और चोदेंगे. मैंने नीरू की चूत पर लन्ड सेट किया और एक जोरदार झटके से अंदर पेल दिया.

बीएफ देखनी है हिंदी मेंलंड को लॉलीपोप की तरह चूसते हुए बोली- म्मम् … आआ … 15 मिनट में गेट पर पहुंच जा. जैसा कि मेरी पहली सेक्स कहानीकॉलेज टीचर को दिखाया जवानी का जलवासे आप सबको पता है कि मैंने अपने सर से कैसे अपनी चूत की सील खुलवा कर चुदाई का मजा लिया था.

माधुरी दिक्षित का बीएफ पिक्चर

उसने बाथरूम के की-होल से अन्दर झाँका तो अन्दर का दृश्य देख कर उसकी आँखें फटी रह गयी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:मौसी ने अपनी भानजी की चुदाई करायी-2. मेरे हिसाब से वो लंड मेरी चुदाई के लिए एकदम परफेक्ट था क्योंकि मुझे पता था कि वो मेरी चूत की बदनतोड़ चुदाई करेगा.

वो दोनों आपस में एक दूसरे के होंठों को चूसने में लगे हुए थे और लड़के ने उस लड़की की लैगिंग में हाथ डाला हुआ था. मैंने कहा- ये दूसरी शादी क्यों नहीं कर लेती?तो सारिका ने कहा- यशिमा को शादी के तो बहुत से ऑफर हैं, पर वो अभी शादी करना नहीं चाहती है, आज इसे अकेले रहते 5 साल हो गए हैं. मैंने फिर उसे घोड़ी बनाते हुए एक हाथ से उसके बालों को पकड़ लिया और दूसरे हाथ से उसकी कमर को रोकते हुए धीरे से लन्ड डालने लगा.

मैं- उम्म्ह… अहह… हय… याह…हिना- मादरचोद मज़े कर रहा है?वो मुझे ज़ोर से थप्पड़ मारने लगीं. संजय ने हमें अपनी गाड़ी में छोड़ने की बात कही, इस पर संदीप ने चाभी मांग ली और हमें छोड़ने आ गया. अब ज्योति कुतिया बनी हुई थी और सगा बाप पीछे कुत्ते की तरह अपनी बेटी के चूतड़ों के बीच मुँह दिए हुए उसकी चूत चाट रहा था.

आपको कितनी बार बताया है कि टीवी देखो, बाहर घूमने जाओ, कुछ नहीं, तो किटी पार्टी में जाया करो … लेकिन आपको तो बस किताबें, अख़बार और बिज़नेस के अलावा कुछ सूझे तब ना!”यह थी मेरी बेटी रिया, जो कद-काठी में मुझसे थोड़ी सी लम्बी थी. तब तक ससुर तेल की बोतल लेकर आ गए और मैंने ढेर सारा तेल अपने मोटे लंड पर लगा लिया.

एक दिन उसने मुझे पार्टी के लिए बुलाया- मेरे पास पार्टी के लिए दो टिकट्स हैं, तू चलेगा?मैं- लेकिन मैं अभी तक पार्टी में गया नहीं हूँ.

पहले बॉस मेरे साथ डांस कर रहे थे, उन्होंने मुझे कस के अपनी बांहों में लपेट कर मेरे कान में कहा- यार, तेरी बहन तो कसम से पटाका है. बीएफ सेक्सी वीडियो जानवर कीइससे पहले कि मैं कुछ कहता बुआ ने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूचियों पर रखवा दिया. ससुर बहू की सेक्सी फिल्म बीएफइसलिए जब मैं आई तो उनके चेहरे पर निश्चिंतता के भाव भी झलकने लगे थे. उसकी चूत को चाटने के पहले मैंने बगल की टेबल पर रखी बियर की कैन का ढक्कन खोला और उससे पूछा- चलेगी?उसने ना में सर हिलाया, तो मैंने गट गट करके एक ही सांस में पूरी कैन खाली कर दी.

संदीप ने हमें छोड़ कर जाते वक्त कहा- हम फिर मिलेंगे!मुझे ये बात समझ नहीं आई कि उसने ये बात तो हम दोनों से ही कही और सामान्य तरीके से ही कही, पर मेरा दिल इस छोटी सी बात के हजारों मायने क्यों निकालने लगा.

सोनिया- हाय आ जाओ ना … फिर मुझे बहुत शर्म आ रही है इस तरह नंगी लेटी हूं. जैसे-जैसे दिन बीत रहे थे अब वो मेरे साथ खुल कर बात करने में शर्म महसूस नहीं कर रही थी. वो बोली- बस करो दीदी, अब मुझे भी जीजू का लन्ड चूसने दो!नीरू बोली- आ जा मेरी प्यारी बहना, तू भी चूस ले!मेरा लन्ड नीरू के थूक से सना हुआ था जिसे वन्दना झट से मुंह में लेकर चूसने लगी.

हम दोनों पास ही खड़े थे और मैं देख पा रहा था कि वह कितनी ज्यादा खूबसूरत है. उसने जब टॉप पहन कर अपनी गोरी नंगी बांहें ऊपर कीं तो टॉप के अंदर नीचे से उसकी ब्रा झाँक गयी. उसके कंधे पकड़कर मैं आह करती हुई बस उसके लंड से झड़ना चाहते थी।वे मुझसे ऐसे चिपके हुए थे जैसे मानो मुझे कभी छोड़ेंगे ही नहीं।फिर अचानक मैंने महसूस किया कि और भी हाथ मेरे बदन पर चल रहे हैं.

बीएफ सेक्सी चूत वाली

पर मनोज हँसते हुए बोला- कोई बात नहीं, मैं दीपा को जनता हूँ, वो अभी नार्मल मिलेगी. फिर मैंने लंड को चुत के छेद पर रख दिया और एक ही झटके में लंड अन्दर पेल दिया. उसकी कमीज़ से बाहर झांकते उनके बड़े बड़े मम्मों के क्लीवेज को चूम लेता.

दिल्ली तक के छोटे एक रात के सफर में, उन दोनों ने सर्दी की मेरी उस रात को रंगीन बना दिया था.

उसने मुझे टाइटली पकड़ लिया और अपने लंड को मेरी गांड पर रख कर धक्का मार दिया.

श्वेता दीदी- अरे … तुम बात करो … मैं यहीं पास में ही हूं ना … कोई दिक्कत नहीं होगी. ये बात आज से 4 साल पहले की है उस समय मैं 12वीं में था और ताजा ताजा जवान हो रहा था. बीएफ वीडियो गाना डीजे सॉन्ग 2021 केउसके लंड से मेरी चूत में जलन होने लगी क्योंकि वो बहुत तेजी के साथ धक्के लगा रहा था.

मैं खुश था कि आज इस अप्सरा को हम दोनों मिल कर चोद चोद कर अधमरा कर देंगे. तुम्हें एक विडियो दिखाती हूँ, इंडियन है, नाम है ‘सैटरडे क्लब’ यहाँ दोस्तों का एक ग्रुप है और वो हमारी तरह हर सैटरडे को किसी होटल के स्वीट में इकट्ठे होते हैं. मैंने उंगली वापस बाहर निकाली और उनकी चुत के पानी से गीली करके वापस गांड में डाल दी.

इसी तरह कोई पच्चीस मिनट की धमाकेदार चुदाई के बाद मेरी बहन ने अपना पानी छोड़ दिया और निढाल होने लगीं. वैसे तू आज संडे को कहीं जा रही है क्या?रिया बहुत बुरा मुँह बना कर बोली- हे माँ … मैंने आपको बताया था ना जॉली के बारे में, उसी से मिलने जा रही हूँ.

अब मैंने उसका एक टांग अपने कंधे पैर रखा और एक टांग नीचे ही रहने दिया.

अब वो धीरे धीरे अपनी गांड को आगे पीछे करके मेरे लंड को अपनी चुत में चलाने लगी थी. अगले दिन दोपहर में घर पर कोई नहीं था, हम दोनों ने फिर से वही फिल्म देखना शुरु कर दी. अब उनकी हिम्मत और बढ़ गयी और अब वो मुझे जब देखते, तो जानबूझ कर अपने पैंट को सहलाते और ऐसा शो करते कि उन्होंने मुझे देखा ही नहीं है.

मीना बीएफ वीडियो दो मिनट तक मुठ मरवाने के बाद उन्होंने मेरी पैंटी को खींच कर अलग कर दिया और फिर मेरे ऊपर टूट पड़े. अब हम आगे बढ़ते हैं:मैं अपनी आपबीती आपको बताती हूँ कि उन सबके जाने के बाद मेरे साथ क्या हुआ.

मेरे हाथ और मेरी बांहें उसके खूबसूरत और भरे हुए जिस्म को महसूस कर रहे थे. फिर साकेत भैया ने दीदी को गोद में उठा कर पलंग पर पेट के बल लिटा दिया और दीदी जो चादर लपेटी थी, उसको निकाल दिया. अन्दर उसने कुछ नहीं पहना था, उसके बड़े बड़े दूध तन कर मेरे सामने आ गए.

हिंदी वीडियो बीएफ ब्लू

अब दीपा मुंह से उसका लंड चूस रही थी और सुनील नीचे उसकी चूत चूस रहा था. अब हमें यह डर भी नहीं था कि आस पास के सेक्सी कपल भी हमारी नग्न मस्ती को देख रहे थे और देखते हुए मजे ले रहे थे. आदी- तो क्या हुआ आज?मैं- आज मैंने चुदवा लिया … मुझे कुमार से चुद कर बहुत मज़ा आया … यार इतने दिन बाद चुद कर मेरी तो खुजली एकदम से मिट गई.

चाची अब उठीं और मुझे किस करके बोलीं- संजय, मैं तेरे लंड के लिए बहुत दिनों से प्यासी हूँ. जब मैं अंदर आया तो देखा कि उषा की चूत से सारा वीर्य टपकते हुए गिरा था.

अब बॉस और विनय ने लंड घुसाए ही मुझे बाथरूम में ले गए और फिर गप की आवाज के साथ दोनों का लंड बाहर निकला.

उसने टोपे पर शहद लगाया और मेरे मुंह को खोल कर पूरा लौड़ा मेरे गले तक ठूंस दिया. वो अपनी चूत को अपने हाथ से मसलने लगी और अपनी उंगलियों से अपनी चूत के दाने को रगड़ने लगी. इतना कह कर आंटी ट्रे उठाने लगीं और उन्होंने उसके ऊपर से कपड़ा हटा दिया.

अब वो मेरी टांगों के बीच में आ गया और अपने लंड का सुपारा मेरी चूत पर रगड़ने लगा. संजू रोहित की आंखों में झांक कर मुस्कुराते हुए बोली- वाकयी में बहुत एक्सपर्ट हो गए हो. थोड़ी देर में जैसे ही मेरा निकलने को हुआ, तो वो मेरे ऊपर लेट गयी और मेरे होंठों चूसते हुए चूतड़ हिलाने लगी.

मैंने कहा- मुझे मालूम होता कि तेरी चुत अब तलैया बन गई है तो साली तेरी तरफ थूकता भी नहीं.

बीएफ कॉलेज की: मैं- ह्म्म … अच्छा चलिए खाना खा लीजिए, आपकी वजह से काफी देर हो चुकी है. कुछ देर में ही उसके लंड से सुनामी की धार निकली और तब जाकर वो शांत हुआ।उसने सीधे उठकर पैंट ठीक की और बाइक के पास जाकर खड़ा हो गया.

तभी पूजा की सिसकारियाँ तेज से तेज हो गयी और कुछ ही पलों में में पूजा मेरे कड़क लन्ड पर निढाल हो गयी!अमित अभी भी पूजा की चूत को चाट रहा था. अमन- रोहित, क्या तूने कभी गे सेक्स देखा है?मैं- हां देखा तो है … क्यों?अमन- बस यार ऐसे ही पूछ रहा था … क्या करते होंगे वो लोग?मैं- सेक्स करते हैं … और क्या करते होंगे, गांड मारते हैं … और क्या?अमन- यार मुझे भी देखना है … तेरे पास तो मुझे भी दिखा ना. अत: मेरी इसी कोशिश के चलते मैंने कई सारे लेख लिखे हैं जिनके माध्यम से मैंने आप लोगों को सेक्स ज्ञान बांटने के साथ ही मजा देने का भी भरसक प्रयत्न किया है.

दोस्तो, अगर सब कुछ प्लान के हिसाब से चला, तो जरूर मेरे और यौवन से भरपूर शरीर की मालकिन शिखा मामी के बीच चुदाई हो जाएगी और मैं इसकी सजीव सेक्सी कहानी अवश्य लिखूंगा कि मेरे कानपुर जाने पर क्या क्या हुआ.

मैं पागल हो गयी हूं भाई की तड़प में … शायद उसकी कमी और सेक्स के लिए मेरी तड़प ने मुझे ऐसा सोचने पर मजबूर किया है. वो एकदम से हुए हमले से दर्द के मारे चिल्लाने लगीं, तो उनके ससुर ने अपना लंड उनके खुले हुए मुँह में डाल दिया. उसके बाद से भी जब भी उसका पति टूर पर जाता है या मेरी बीवी कभी मायके या कहीं और जाती है, तो हम दोनों अपना मिलन कर ही लेते हैं.