बीएफ गर्ल फोटो

छवि स्रोत,नंगी लड़की का वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मोठ्या सेक्सी: बीएफ गर्ल फोटो, अब जैसे ही वो मेरे पास आता, मैं अपना हल्का सा लोवर नीचे कर देती, जिससे मेरी पैंटी दिख जाए.

सनी देओल सेक्स वीडियो

मैंने भी रेशमा की टांगें खोलकर एक ही झटके में मेरा लंड अन्दर पेल दिया. एक्स एक्स एक्स वाईहमको मॉर्निंग में घर के लिए वापिस भी निकलना है और तुमको गाड़ी ड्राइव करनी है.

फिर कुछ दिन बाद उसने बताया कि अबकी बार रक्षा बंधन पर मैं एक हफ्ते के लिए अपने मायके दिल्ली आ रही हूँ. बालवीर का वीडियोउसकी मादक आवाजें मेरे जोश को बढ़ा रही थीं और मैं उसकी चूत में उंगली को तेजी के साथ अन्दर बाहर करने लगा.

किरण की गांड का छेद अब बिल्कुल रेशमा के सामने था, तो मैंने दूसरे हाथ से रेशमा का मुँह उस छेद पर दबा दिया.बीएफ गर्ल फोटो: गुदगुदी के कारण सोनी ने हंसते हुए मेरे मुँह को अपनी नाभि से हटा दिया.

कुछ मिनट बाद चाची चिल्लाती हुई बोलीं- जोर से चाट साले … आहफिर अगले ही पल चाची अपनी चूत मेरे मुँह पर दबाती हुई बोलीं- आंह … मैं झड़ रही हूँ.उसके बाद से हमारी बातें तो होती हैं मगर हम कोरोना के चलते मिले नहीं हैं.

अनुपमा की सेक्सी वीडियो - बीएफ गर्ल फोटो

वैसे तो मैं जब भी उससे मिलता था, तो उसके मम्मों को ही घूरता रहता था और उसको भी ये बात पता थी.वो बोला- आज तुम मेरी गांड का मजा लेना चाहोगे?मैंने कहा- अबे, पहले लंड चूस कर मजा दे, बाद में देखूँगा.

कैसे?दोस्तो, मैं मस्ताना माहिर!मैं अपने दोस्तों, पहचान वालों, रिश्तेदारों से उनकी चुदाई की घटनाएँ सुन कर यहाँ कहानियाँ लिखता हूँ. बीएफ गर्ल फोटो मुझे हल्का सा दर्द हुआ लेकिन उनके इस तरीके से दर्द बहुत ज़्यादा मालूम नहीं चला.

देसी चूत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी ननद मेरी खास दोस्त है। हम मिल कर एक दूसरी को लंड दिलवाती हैं.

बीएफ गर्ल फोटो?

और उसे भी शायद ज्यादा मजा आ रहा था क्योंकि वह भी नीचे से गांड उठाकर धक्के दे रही थी. अम्मी की 38 इंच की उठी हुई गांड है, जो चलते हुए इतनी मस्त हिलती है कि बस मन करता है कि अभी के अभी साली की सलवार खोलकर गांड मार दूँ. मेरी बहन मेरे लंड का सारा रस खा गई और उसके बाद भी उसने मेरे लंड को चूसना जारी रखा.

बाकी अन्तर्वासना जैसी मस्त सेक्स कहानी वाली साईट पर आपको चुदाई कहानी तो एक से एक मिल ही जाएंगी. मेरा बस चलता तो मर्द की जगह हमेशा के लिए मैं बीयर की बोतल को अपना आशिक बना लेती।खैर, वो तो सिर्फ पहला दिन था, रात भर सलीम ने मेरी चूत चोदी और रात के 3 बजे वो मेरी चूत में कंडोम के साथ झड़ गया।मैं पहले दिन की चुदाई से उबर नहीं पाई थी कि दूसरा दिन मेरे सामने था. उसने गहरे नशे में सो रही शीरीं की सलवार का नाड़ा खोल दिया और धीरे धीरे सलवार उतार दी.

मेरा पहला आशिक दिल्ली से काफी दूर, उत्तर प्रदेश के शहर में 6 घंटे दूर रहता था. मोहिनी को थोड़ा दर्द हुआ क्योंकि वो बहुत सालों से चुदी नहीं थी, सिर्फ उंगली ही करती थी. दुनिया में तुझसे बड़ी रंडी कोई हो ही नहीं सकती और अगर होगी भी तो भी तू उसका मुकाबला करके उसको हरा देगी.

मैं गीता के ऊपर झुककर उसके स्तन सहलाने लगा था और नीता मेरे पीछे बैठकर मेरी अंडगोटियां सहला रही थी. मैं मन मसोस कर घर वापस आया और बाथरूम में जाकर वीडियो देख आकर मुठ मारी और आकर सो गया.

करीब आधा घंटा बाद समीर भैया अपने कमरे में आए तो मुझे नंगी देख कर चौंक गए.

वो मम्मी की पूरी गांड नंगी करके दोनों चूतड़ों को सहलाते हुए मसल रहे थे.

वो भी अपने घर से इसी भवन में रहने आ गया था जबकि उसका घर इसी गांव में था. हम दोनों ही एक दूसरे के साथ सेक्स करना चाहते थे पर सोनी प्रेग्नेंट होने की वजह से डर रही थी या फिर शायद उसे अभी तक मुझ पर भरोसा नहीं हुआ था. मैं यह बिल्कुल नहीं बोल रही कि मैंने उनके साथ सेक्स एंजॉय नहीं किया था.

मैंने कहा- ठीक है मगर अब फिर से कब आओगी?वो कहने लगी- जब तक मथुरा में हूँ, रोज़ आऊंगी. क्या मस्त स्लिम बॉडी थी रसिका भाभी की और उस पर से सफाचट चूत, जो काफी कसी हुई थी, एकदम लाजवाब लग रही थी. मैंने तो पहले उसके कमर को पकड़ लिया और अपनी दोनों टांगों से उसकी टांगों को दबाने लगा.

बस फिर क्या था … उनके मुँह से इतना सुनते ही मैंने उन्हें अपनी बांहों में भर लिया और उन्हें किस करना शुरू कर दिया.

’ ऐसा सोचकर राजेश घर से निकले और बाहर खड़ी अपनी गाड़ी में बैठ गए।गाड़ी स्टार्ट कर के जैसे ही हेड लाइट जलाई, रोशनी सीधी सामने वाली कार के शीशे पर पड़ी।अंदर एक लड़का और लड़की एक दूसरे के होंठों को चूसने में लगे थे. धीरे धीरे सोनी का भी दर्द गायब हो गया और वो अब कामुक सिसकारियां लेने लगी. आखिरी बूंद तक मैंने वैसे ही मेरे लंड का सुपारा उसकी बच्चेदानी में घुसाए रखा.

अपना पूरा लंड अन्दर डाले मैं कभी उसके होंठ चूसता और कभी उसके चूचे चूसता ताकि लंड अन्दर अपनी जगह बना ले और चुदाई के खेल में हम दोनों को पूरा मजा आए. रूमी- भाई, मैंने पहले कभी सेक्स नहीं किया है … तो प्लीज़ आराम से करना. मैंने नाजिया को बताया कि कैसे रात में मैंने गलती से उसकी सास को चोद दिया था।फिर वो हंसने लगी और उसने बताया कि उसे पता है वो रात में एक बार आई थी तब मैं चुदाई कर रहा था।उसने अपनी ‌‌‌‌‌सास का नाम जुबेदा बताया.

मगर मुझे क्या पता था कि मेरे लंड का नसीब जागने वाला है और मुझे एक साथ दो चुत का मजा मुझे मिलने वाला है.

इस हॉट गर्ल फक़ मी कहानी के अगले भाग में मैं आपको अपनी खौलती बुर की चुदाई के खेल एक एक करके सुनाती जाऊंगी. पहले जो मेरे मुँह से दर्द निकल रहा था, अब वह कामुक सिसकारियां में बदल गया था.

बीएफ गर्ल फोटो फिर इसके बाद हल्की सी बारिश चालू हो गयी तो मैं एक बड़ा सा पेड़ देखकर रुक गया और अपनी जैकेट पहन ली. उसने कहा- क्यों?मैंने कहा- क्योंकि अगर तेरी मॉम ने फिर से आवाज दे दी तो तुम और मैं प्यासे रह जाएंगे और हमारा मजा किरकिरा हो जाएगा.

बीएफ गर्ल फोटो मां का शरीर अब थोड़ा गर्म होना शुरू हो गया था लेकिन मेरा बहुत बुरा हाल था. अपनी अम्मी के बारे में इस तरह की सोच कोई मादरचोद ही रख सकता है, जो कि मैं तभी बन गया था, जब अम्मी को दूर के मामा के आगे घोड़ी बनते देखा था.

मैंने देखा कि लोहा गर्म है, तो मैंने धीरे से उसकी चूत की फांकों को चाटना शुरू किया.

बच्चों की डॉल

पॉल अब भी किसी सड़कछाप लावारिस कुत्ते की तरह झुका हुआ था और जो रबर का लंड पॉल की गांड में घुसा था, वही लंड अब पॉल मज़े से चूस रहा था. कैसे चोद पाया मैं उसे!नमस्कार दोस्तो, मेरी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत है. और मैंने लवर टी-शर्ट उतार दिया, मैं अंडरवियर में था।फिर मैं ब्रा के ऊपर से चूचियों को दबाने लगा.

अभी अंकित ये नहीं जानता था कि मैं अंकित और वंदना के बारे में सब कुछ जान चुका हूँ. रास्ते में मैंने एक दुकान से केक सजाने वाली सफेद क्रीम की बड़ी ट्यूब खरीद ली और थोड़ी ही देर घर आ पहुंचा. कैसे?दोस्तो, मैं मस्ताना माहिर!मैं अपने दोस्तों, पहचान वालों, रिश्तेदारों से उनकी चुदाई की घटनाएँ सुन कर यहाँ कहानियाँ लिखता हूँ.

मैंने पूछा कि क्या हम मिल पाएंगे?उसने बोला- हां मिलने का मन तो तुमसे मेरा भी है, देखती हूँ.

मैं अपने आप पर बहुत ज्यादा शर्मिंदा हो रही थी कि मैंने इन हवस के पुजारियों को इतनी ज्यादा छूट क्यों दे दी और मैं इतना ज्यादा मजा लेकर इन तीनों से क्यों चुदवा रही हूं. तभी अंकित ने अपने लंड को सुपारे तक बुर से बाहर निकाला और एक करारे झटके के साथ अपने पूरे लंड को एकदम से बुर के अन्दर पेल दिया. आज रात को मैं पापा के साथ चुदवा कर मम्मी को भी अपने खेल में शामिल करवाना चाह रही थी.

उसके गोरे गोरे गुब्बारे मुझे ललचा कर पुकार रहे थे कि आओ और आकर हमको मसल दो. भैया ने अपना लंड मेरी गांड की दरार में घुसा दिया और अपना हाथ मेरे पेट पर रख दिया. चुदाई की आग से रीना का बदन बहुत ज़्यादा गर्म हो रहा था और लंड की मार से खुश होकर उसकी फुद्दी धीरे धीरे रोने लगी थी.

वो उसी तरह घोड़ी बनती है और मेरे लौड़े को मजा देती है या लंड की सवारी करती है. फिर कुछ दिनों में दीवाली आने वाली थी तो पिताजी ने पुताई करने के लिए हमारे खेत में काम करने वाली हफ्ज़ा को बुलाया था.

मैंने भी अब उन तीनों का फायदा लेने का सोचा, जिससे मैं अपने अन्दर की वो आग मिटा सकूं, जो मेरा ब्वॉयफ्रेंड इतनी दूर रहने के बाद सॉल्व नहीं कर सकता था. बारिश के बंद होते तक मैंने रीमा की गांड में अपना लंड घुसाए रखा था और उस हरकत में रीमा को भी बहुत मज़ा आ रहा था. एक हाथ से मैंने उसका चूचा पकड़ लिया और दूसरे हाथ की उंगलियों से जोर जोर से उसकी चूत चोदने लगा.

इसलिए आप सभी से गुजारिश है कि मेरी सेक्स कहानी का मजा लीजिए और आपको कहानी कैसे लगी, ये कमेंट्स जरूर करें.

जैसे ही मैं अपने रूम में लौटी, मेरी दोनों सहेलियां रोमा और गीतांजलि दोनों ही घबरा गईं. मोहिनी ने अपनी जीभ अर्णव के मुँह में डाल दी और वो मोहिनी की जीभ चूसने लगा. लॉकडाउन की वजह से मैं अपने दोस्त विलास के बेटे के नामकरण विधि पर भी नहीं जा सका था.

मैंने उनको धन्यवाद कहा तो प्रतिउत्तर में उन्होंने एक दिलकश मुस्कान दे दी. फिर मैं उसकी जांघों पर बैठ गया और उसकी पीठ पर अपने हाथों का मूवमेंट शुरू किया.

आह! कितना मजा आया था मुझे दोस्तो … सच में मैं आज अपनी जिंदगी के असली मजे ले रहा था. इसी तरह 15 मिनट तक उसकी गांड मारने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया और उसके ऊपर ही ढेर हो गया. अचानक हुई इस बात की वजह से मैं चिल्ला पड़ी और मुझे बहुत ही ज्यादा तकलीफ सहन करनी पड़ी.

राजस्थानी रिंगटोन

बिना कपड़ों के सुहानी इतनी प्यारी लग रही थी कि जैसे बटर नान … वाह मज़ा आ रहा था.

यह सब देखकर मेरे भी चेहरे पर एक मुस्कान सी आ गई और मैं थोड़ी सी शर्मा कर अपने रूम की तरफ भागी. मैं चिल्ला चिल्ला कर खीरा पूरा अपने अन्दर लेने लगी और अपनी चूचियों को खुद से दबाने लगी. मम्मी ने अपने हाथों से इन्द्रेश अंकल के लंड को सहला कर फिर से खड़ा कर दिया.

मैंने उन दोनों को शांत कराया और कहा- देखो मैं आज तुम दोनों को कुछ दिखाता हूँ. मैं तेज गति से धक्के मारने लगा तो दो मिनट में ही हम दोनों झड़ने लगे थे. सेक्स कैसे करे की प्रेग्नेंट होऐसा नहीं था कि मुझे लौड़ा नहीं चाहिए था … मेरी फुद्दी पूरी तरह से गीली हो चुकी थी.

मैंने सोच कर बताया कि मैं कभी भी एक स्त्री से संतुष्ट नहीं होता हूँ. अब मुझे वहां बैठने का अफसोस होने लगा कि ये अब मुझसे कुछ बात करेगा, कुछ पूछेगा.

मैंने फिर से अपनी मां को बहुत मना किया लेकिन वो बिल्कुल भी मानने को तैयार नहीं थीं. मैं- हां कुणाल मजे करो, मैंने भी तो तुम्हारी शालिनी के मजे लिए हैं. एक हाथ मेरी गांड पर रखकर सहला रही थी, तो दूसरे हाथ से अंडगोटियां सहला रही थी.

आज वो पहली बार किसी औरत से काम सहवास कर रही थी, पर दारू का घूँट पेट में जाते ही उसने भी अपनी जीभ बाहर निकाली और किरण की चूत पर हमला बोल दिया. चलो उसे छोड़ो मां, अंकित को आपने ध्यान से देखा है … क्या गठीला बदन है उसका … और मुझे लगता है उसका लंड भी बहुत बड़ा होगा. उस रात हम दोनों दोस्तों ने वंदना की दो दो बार चुदाई की और अंकित मेरी बहन को चोदकर अपने घर चला गया.

मैंने उसकी बातों को अनसुना करके उसे कस लिया और लंबे लंबे धक्के देना शुरू कर दिए.

उसके साथ दारू पीने का प्रोग्राम बन गया था, अब उसकी चुदाई होनी बाकी थी. मुझे भी ऐसे जंगली चुदाई अच्छी लगती है, तो मैं भी उनका साथ देने लगी.

किरण का मुँह एक हाथ से पकड़ पर मैंने रेशमा की चूत पर दबा दिया और उसने भी चुदती हुई चूत का दाना मुँह में लेकर चूसना चालू कर दिया. भाभी के मुँह से जोर से निकला- आआहह … मर गई … आंह धीरे राजा … फट गई. फिर मुझे लगा वह कोई अच्छी सी किताब की बात कर रहे होंगे लेकिन उनका हाथ से मेरे हाथ को सहलाना मुझे कुछ अजीब सा अहसास देने लगा था.

उसने पैर को सीढ़ी पर ऐसे फैलाया हुआ था कि उसकी चूत की झांटें भी हल्की हल्की दिखने लगी थीं. मोहिनी ने अपना हाथ पीछे ले जाकर अपनी ब्रा के हुक खोले तो उसके बूब्स उछल कर बाहर आ गए. ‘और चोद … आहहह मेरे राजा … फाड़ दे अपनी इस रंडी रूपा की चूत … राज चोदो मुझे तेज तेज झटके मार आहहह आहहह …’मैंने भी लंड को तेजी से अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया.

बीएफ गर्ल फोटो शुरू में मैंने हल्का सा विरोध किया, पर धीरे धीरे उसने मेरे दोनों हाथ नीचे कर ही दिए. मैं कुछ करना नहीं चाहती थी क्योंकि मेरा ब्वॉयफ्रेंड बहुत जल्दी मेरी चूत की खुजली मिटाने के लिए आने वाला था.

हिंदी चोदा चोदी चोदा चोदी

इसलिए लच्छो ने कई बार मुझसे कहा कि मेरा और जगह पर भी काम लगवा दीजिए, जिससे मैं कुछ ज्यादा पैसे कमा सकूं. अब ऊपर से भाभी मेरे लंड पर कूद रही थीं और मैं नीचे से झटके मार रहा था. पॉल और उसकी बीवी रीना एक दूसरे की जीभ मुँह में लेते हुए मेरे वीर्य को ऐसे चटखारे मार मार कर खा रहे थे, जैसे मेरे लौड़े की मलाई उनका पसंदीदा खाना हो.

ये सुनकर रेखा की मां कहने लगी- हां अंकित, तुम्हारे ये घोड़े जैसे लंड का स्वाद मुझे भी लेना है. मेरे घर में मुझे पिटवाने का बंदोबस्त भी कर दिया … और तो और, मेरे और साहिल में बनती भी नहीं है. सेक्सी देखने वाला ऐपथोड़ी देर में उसके धक्कों की स्पीड इतनी बढ़ गई कि लौड़ा पूरा बाहर आकर एक झटके में पूरा घुसने लगा था.

मैं जो डेयरी मिल्क उसके लिए लाया था, उसको खोल कर थोड़ा अपने लंड पर लगाया और बोला- अब तो लोगी ना, तुम्हें तो डेयरी मिल्क भी बहुत पसंद है.

उसने भी मुझसे पूछा- तुमने अभी तक शादी क्यों नहीं की?मैंने उसको बताया- यार पहले मैं कुछ सही से कमाने तो लगूँ. एक दो बार तो लंड फिसल गया, पर तीसरी बार में लंड का गुलाबी सुपारा उसकी बुर में घुस गया.

जब नंदा ने मुझे फ्रेश देखा तो वो बोली- कम से कम एक राउंड और हो जाए. मैंने लंड निकालते हुए कहा- अरे मेरी जान … लौड़े की सवारी का मजा नहीं लिया क्या कभी?भाभी बोलीं- अब क्या क्या बताऊं?ये कह कर वो मेरे लौड़े के ऊपर आ गईं और लंड चूत में सैट करके उसपर बैठ गईं. वो मुझे देखने लगा और बोला- तुम तो बहुत ही बड़ी रंडी लगती हो, कितने लंड डलवा चुकी हो इस चूत में?मैं बोली- पता नहीं भाई कितने लोगों से चुदवा चुकी हूँ.

मैं रसिका भाभी की सुराहीदार गर्दन को चूम रहा था और मेरे हाथ उसके नर्म मुलायम पेट के साथ खेल रहे थे.

वो हंसने लगी और बोली कि मैंने पढ़ा था तुमने फ़रियाल के यहां भी जाते ही खाना खाया था. वो मुझे चूमने चाटने लगीं, जगह जगह मुझे काटने और नाख़ून से नौंचने सी लगीं. मगर वो कहने लगी- मैं ऐसी हूँ इसीलिए तो लड़कों ने मुझ पर कभी ध्यान ही नहीं दिया.

मेकअप गेम डाउनलोडकुछ देर बाद रूमी बाथरूम में जाने को उठी, तो उसने देखा कि चादर खून से सन गया है और उसकीचूत सूज गईहै. फिर एक दिन मैं उनकी चुदाई देखते वक़्त महसूस करने लगा था कि पापा अब कम देर तक चोदते थे.

शिल्पा डाउनलोड

ये याद आते ही मेरी मम्मी को चोदने की इच्छा होने लगती थी और मम्मी को देख कर लंड खड़ा हो जाता था. मैं मानेसर पहुंच गया और कुछ फल और खाने का सामान लेकर सीधा बुआ के रूम में पहुंच गया. मैं समझ गया कि इसकी चूत गीली हो गई है … मतलब ये भी सेक्स के लिए सोच रही है.

मैंने ब्रा इसीलिए नहीं पहनी थी क्योंकि मेरे साइज़ की इतनी छोटी ब्रा मुझे पहनना अच्छा नहीं लगता था. मैं ऐसे ही गांड में लंड पेलूँगा साली रंडी की औलाद … कुतिया भैन की लौड़ी मेरी रखैल. जब कभी सब लोग साथ बैठे हों और लाइट चली जाती थी, तो अंधेरे में हम दोनों किस करने लगते थे और एक दूसरे को छूते थे.

[emailprotected]इससे आगे की कहानी:हनीमून पर होटल में बीवी की गांड फाड़ी. मैंने चार पांच तेज पिचकारियां दीदी की चूत में मार दीं और उनके ऊपर ही ढह गया. बिस्तर लगाने के बाद चाची ने टीवी चालू किया तो मैं जो सेक्स वीडियो देख रहा था … वो चालू हो गया.

हम दोनों का बैलेंस नहीं बन पाया और हम दोनों उन समेटी हुई दरियों पर ही गिर गए. मैंने पूछा- क्या हुआ भाई ऐसे क्या देख रहे हो?इस पर उसने कुछ नहीं बोला और अगले ही पल मेरी बुर पर अपना मुँह रख दिया.

बल्कि भाभी ने मेरे पूरे लंड पर अपना सर रख लिया और मेरे लंड की गर्मी महसूस करने लगीं.

भैया फिर भी नहीं माने और उन्होंने थोड़ा नीचे झुककर मेरी पैंटी को भी उतार दिया. लक्ष्मी सेक्समूवी में जैसे ही बोल्ड सीन आते, तो नेहा सेक्सी स्माइल से मेरी तरफ देखने लगती थी. छठी मैया के गीततभी पिंकू ने मुझे देखते हुए पकड़ लिया और मुस्कुराती हुई बोली- क्या हुआ भैया?मैं बोला- कुछ नहीं ऐसे ही!पिंकू समझ चुकी थी कि भैया क्या देख रहे हैं।अगले दिन सुबह जैसे ही मैं सोकर उठा. शालिनी कामुक सिसकारियां ले रही थी- आह ऊऊऊऊऊ आह आह!उसने मेरे बाल पकड़ लिए और कुछ देर के बाद मैंने उसकी चूत में लंड डाल कर उसे चोदने लगा.

दोस्तो, मैं राज शर्मा आज पुन: रिश्तों में चुदाई पर आधारित सेक्स कहानी लेकर आया हूं.

उन्होंने ब्लाउज को मम्मों के ऊपर पकड़ कर रखा और मुझसे पीठ खुजाने को बोलीं. अब सोनी ने मेरा सर कसकर अपनी योनि पर जोर से दबा दिया जिससे मुझे सांस लेने में दिक्कत होने लगी. उसे पता चल गया था कि मैं अब तैयार हूं और वो मौका गंवाना नहीं चाहता था.

मैंने कई बार उसे सहवास के लिए मनाने की कोशिश भी की, पर हर बार सोनी साफ साफ मना कर देती. वो मेरी बात समझ तो गई थी मगर तब भी वो बोली- ऐसा कुछ नहीं है यार … तुझे गलत समझ आया होगा. मैं गीता के ऊपर झुककर उसके स्तन सहलाने लगा था और नीता मेरे पीछे बैठकर मेरी अंडगोटियां सहला रही थी.

कार के अंदर

शिल्पा ने मुझे अपने बॉयफ्रेंड और मैंने उसे सोनी के बारे में बता दिया था. इस बार मैंने जानबूझकर ब्रेक मारे और वो फिर से मेरे पास खिसक कर आ गयी. वो बोलने लगी- सुबह हो गई है, लखनऊ आने वाला है … अब उठ जाओ।हम दोनों चादर के अन्दर नंगे लेटे हुए थे.

मम्मी का कद साढ़े पांच फीट है और उनका फिगर 34-30-38 का है जो कि बड़ा ही सेक्सी फिगर है.

उस समय नई नई जवानी चढ़ी थी तो हम दोनों लेस्बियन सेक्स करके मजे करते थे क्योंकि हमारे पास लंड तो था नहीं.

लेकिन लड़कियों की कुछ ऐसी जरूरतें भी होती हैं, जिसे वो किसी से बता नहीं सकती. अभी तक आपने जो पढ़ा, वो थी मेरी इमोशनल कहानी कि कैसे मैं कुछ नहीं कर पाया. हिंदीxxxbfईशा को इस हालत में देख कर हम दोनों ने एक दूसरे की तरफ देखा और आंखें मिलते ही हम समझ गए कि ईशा ने हम किस करते हुए देखा और अपना काबू खोकर अपनी चूत में उंगली करने लगी.

आप चाहे मुझे अब छिनाल कहें, या रण्डी, पर मेरे जिस्म की इच्छाएं, एक बार चुदने से खत्म होने वाली नहीं थी. मैंने इस बार उसकी तारीफ नहीं की, बस उसके साथ खड़ा होकर बस का इंतजार करने लगा. दूसरे दिन सुबह मुझे जगाने के लिए फिर रजनी ही आई और आज मैंने उनींदा बनकर उसे जानबूझकर अपने ऊपर खींच लिया और प्यार करने लगा.

थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि मम्मी बिल्कुल किनारे के तरफ सरक कर करवट बदल कर लेट गईं और सोने लगीं. मैं रेशमा को ऐसे ही में बीच बीच में तोहफे दे दिया करता, तो वो खुश हो जाती और ये जरूर बताती कि मैं कितना अच्छा हूँ और सलमान कितना बुरा.

टैक्सी ड्राईवर लड़का- चाचा, आपका बहुत बड़ा है, फिर आप बुरी तरह रगड़ देते हो.

मैंने कहा- ताकत तो बहुत है, पर तुम मेरे लंड को इतने प्यार से देख रही हो ना … तो उसको अब शर्म आ रही है. मैं सोनी को गर्म तो करना चाहता था … पर उतना नहीं कि वो स्खलित हो जाए. अब आगे हॉट विडो हिंदी ब्लू स्टोरी:फिर अर्णव ने दो कॉफ़ी का आर्डर दे दिया और मोहिनी से बातें करने लगा.

पंजाबी वीडियो डाउनलोड पहले तो बुर की महक और स्वाद थोड़ा अजीब सा लगा, पर जल्दी ही वो महक और स्वाद मेरा पसंदीदा बन गया. करिश्मा ने मुझे गुड मॉर्निंग विश करते हुए किस किया और पूछा- नींद कैसी आई?मैंने जवाब दिया कि ऐसा लगा कि मैं जन्नत में हूँ और एक हूर मेरे साथ है.

उसके बाद हम दोनों ने प्यार भरी बातें की और एक दूसरे को शुभरात्रि कह कर सो गए. अभी वो कुछ कह पाता, मैंने तुरंत आगे हाथ बढ़ा कर उसका लंड पकड़ा और अपने मुँह में ले लिया. उस पर भी सेक्स हावी हो चुका था और मेरे बीच में छोड़ने से मुझे तो बुरा लग ही रहा था, पर उसको भी अन्दर से काफी खीज आ रही थी.

त्रिशाकर का mms

ये बोल कर उन्होंने अपनी कुर्ती खोली और अपनी टाइट सिल्क ब्रा को निकाल फैंका. वो भी सभी के साथ मेरी इस स्थिति को भांप गई थी और मेरी बेचैनी को महसूस करते हुए मजे ले रही थी. स्टेप मॉम Xxx कहानी में पढ़ें कि सर्दियों में बारिश में भीग कर माँ का बदन ठंडा पड़ने लगा.

कमरे में कपड़े बदलते हुए वो बोली- चन्दन, अगर एक बात कहूँ, तो बुरा मत मानना. उसकी कमसिन बुर पर छोटे छोटे भूरे बाल, एकदम किसी पोर्नऐक्ट्रेस की बुर पर ट्रिम की हुई झांटों के जैसे लग रहे थे.

इधर मेरी जीभ ने हरकत शुरू की ही थी कि सोनी के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं जो मेरा जोश और बढ़ा रही थीं.

राकेश ने एक हाथ को मेरी कमर पर लगाया और अपने औजार को मुझ पर दबाने लगा. आधी नींद में मुझे लगा कि रागिनी ही मुझे उठा रही है, इसलिए मैंने रजनी को अपने ऊपर खींच लिया और बड़े प्यार से चूमते हुए कहा- रागी थोड़ा और सोने दो ना, प्लीज!रजनी इस स्थिति में एकदम बौखला गई थी. मैं उस वक्त भले नशे में था लेकिन इतना होश में था कि मैं क्या कर रहा हूँ, इसका अच्छे से पता था.

पॉल मेरा लंड चूसने के बाद गांड चाटने लगा था और रीना अपने पति की गांड मारने के लिए नकली लंड और कमर पट्टा आदि लेकर आ गई थी. उसने कहा- अरे बेटा, इतने दिनों बाद मिले हो, तेरा स्थान यहां नहीं है. मैं पापा को पकड़ कर बाथरूम से बाहर आ रही थी कि पापा की टॉवल निकल गई और पापा मेरे सामने नंगे हो गए.

कुछ देर बाद साली लंड सटक गई और अब वो भी कमर उठा उठाकर मेरा साथ देने लगी.

बीएफ गर्ल फोटो: लड़के का नाम पॉल था और लड़की का नाम रीना, दोनों पिछले चार साल से शादीशुदा थे और केरल के एक बड़े शहर के निवासी थे. मेरा लंड पूरा लाल हो चुका था, मैं बोला- पिंकू आज तुझे जिंदगी का मजा मिलने वाला है बस 1 मिनट रुक!इतना कहकर मैं जल्दी से तेल की शीशी ले आया और थोड़ा सा तेल उसकी चूत और अपने लंड पर लगा दिया।मैंने उससे पूछा- तूने इससे पहले किसी से चुदवाया है?तो उसने मना कर दिया.

अब जैसे ही वो मेरे पास आता, मैं अपना हल्का सा लोवर नीचे कर देती, जिससे मेरी पैंटी दिख जाए. पर फिर भी अगर आप में से कुछ लोग मेरी कहानी पहली बार पढ़ रहे हैं, तो आपके लिए एक बार फिर से अपना परिचय दे देती हूँ. नीता एक हाथ से मेरी अंडगोटियां सहला रही थी और दूसरे हाथ से लंड आगे पीछे करने लगी थी.

कपल बैड पोर्न डर्टी स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक जोड़े ने मेरे साथ गोवा में गन्दा सेक्स किया.

मौसी- क्यों बार बार कॉल कर रहे हो?इस बार वो गुस्से में नहीं लग रही थीं. उसकी आंखों से आंसू बहते हुए बता रहे थे कि उसको कितना दर्द हो रहा है. करिश्मा ने कहा- क्योंकि कल शनिवार है और बैंक और कोर्ट दोनों बंद हैं, तो हम दोनों शिमला चल रहे हैं.