सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,जबरदस्ती वाली बीएफ जबरदस्ती वाली बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती सेक्सी औरत: सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर, शायद अपने पति को कॉल कर रही थी, फ़ोन पर बात करने के बाद बोली- ये तो आउट ऑफ़ इंडिया गए हुए हैं.

स्कूल का लड़की का बीएफ वीडियो

लगभग पच्चीस मिनट की जोरदार चुदाई के बाद हम दोनों साथ में झड़ गए और बहुत देर तक एक दूसरे से लिपटे हुए लेटे रहे. साउथ की हीरोइन का सेक्सी बीएफइसलिए मैंने भी अब उसका साथ दिया और अपने सारे कपड़े उतारकर बिल्कुल नंगा हो गया.

उम्म्ह… अहह… हय… याह…तब महेश बोला- कुछ नहीं होगा, दो मिनट सब्र रख ले. बीएफ सेक्सी वीडियो खून निकलने वालीउफ्फ … आह्ह … अह्ह … आअह्ह … ओह्ह्ह … उफ्फ … नो-नो-नो … प्लीज… डोंट टच (छूओ मत) … अह्ह्ह आआह …” सलोनी की सिसकारी निकल गई.

आपने अब तक की कहानी में पढ़ा था कि मेरी सहेली प्रीति के अपनी बहन के घर चले जाने के बाद से उसके पति सुखबीर ने मेरे जिस्म के ढके हुए हिस्सों को कामुकता से देखने के प्रयास तेज कर दिए थे.सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर: मैं उस पर एकदम से सवार हो गया और उसकी चूचियों को मसलते हुए जोर शोर से चोदने लगा.

तुमने मुझे देखा, फिर तुम हंस पड़ीं … तुम्हें मेरी बात मजाक लगी, किन्तु मैं और सिर्फ मैं जानता था कि मैं किस दुविधा में फंसा हूँ.मैं तीसरी मंजिल पर जिस कमरे में रहता था उस कमरे की खिड़की और बालकॉनी से सामने वाला घर दिखाई देता था.

हिंदी बीएफ वीडियो फ्री - सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर

धीरे धीरे अन्दर घुसाते हुए आधी उंगली, फिर धीरे धीरे पूरी उंगली सोनल की चूत के अन्दर पेल दी.हालांकि हम लोग अगले 3-4 मिनट में ही मेन रोड से अपने खेत के कच्चे रस्ते पर मुड़ जाने वाले थे और रात का अंधेरा भी था.

मेरे पास अपनी वासना को शांत करने के विकल्प बहुत हैं, पर समय और स्थान का अभाव था. सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर एक दो बार तो मेरा लंड उसकी गांड के ऊपर से इधर-उधर हुआ, जिसे देखकर वंदना कह रही थी कि मैंने बोला था ना.

मेरे पति अपना आधा लंड ही मेरी गांड में अन्दर बाहर करके मेरी गांड चोदने लगे.

सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर?

उसने मेरी पैंट को खोल दिया और मैंने झट से अपनी पैंट को अपनी टांगों से नीचे खींचते हुए बिल्कुल अलग कर दिया. फिर मैंने प्रमिला को किस करना चालू किया और एकता के कंधे को हाथ से दबा के नीचे बैठने का इशारा किया. इन्हीं मादक आवाजों के साथ नेहा की सिसकारियां भी कमरे में गूंजने लगी थीं.

फिर मैंने पूछा- क्या काम है?उसने तेज़ आवाज़ में कहा- तुम मेरे साथ दोपहर में क्या कर रहे थे?मैंने धीमी आवाज़ में जवाब दिया- क्या … क्या … कर रहा था मैं?उसने कहा- मेरी चूत के साथ क्यों खेल रहे थे?उसके मुंह से यह बात सुनकर तो मेरे होश ही उड़ गए। मैं चुपचाप वहीं पर खड़ा रहा। उसने फिर हँसना चालू किया और मैं उसे देखता रह गया. तभी मेरी चूत को थोड़ा ज्यादा सा खोल कर उसने अपनी जीभ मेरी चूत में डाल दिया और मेरी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा. मैं समझ गया कि कौशल्या के पति का लिंग इतना छोटा होगा कि वो सील भी नहीं तोड़ पाया होगा.

तभी जगत अंकल ने अपने नीचे वाले हाथ से मेरी पैंटी की इलास्टिक को खींचने लगे. तुम चिल्लाते हुए मेरे लंड को अपने गांड में लेने लगीं- आह … इस्स … मर गयी रे … मेरी माँ, गांड में लंड दुखता है … आह … बापरे … धीरे धीरे डाल ना साले हरामी … तेरी माँ की चुत!बस मुझे यही चाहिए था, तुम पूर्ण रूप से समर्पित हो जाओ … यही मेरी इच्छा थी. इतने में उसने कहा कि आज तो चाहे कुछ भी हो जाए … मैं मेरी अनु रानी को तेरे सामने ही मजा दे कर रहूँगा.

तभी पीछे से मेरे बालों को पकड़ के कसके रमीज चोदने लगा था और गाली मुझे देने लगा था. लेकिन उसके बाद मेरी आशा के अनुरूप तुमने अपनी गांड उचकाना शुरू कर दिया था.

वे उंगली में वैसलीन लेकर लंड के बाहर रहने वाले में हिस्से में लगाते जा रहे थे.

फिर मैं भाभी को ड्राइंगरूम में ले गया और सोफे पर खड़ी करके उसकी चुदाई की.

मेरी बातें सुनकर उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, वह दौड़ कर मेरे पास आए और मुझे किस कर लिया. उसमें मम्मे चूसने से लेके गांड मारने तक की हर एक स्टाइल मेरी चुत को गीला कर रही थी. फिर मुझे खींच कर बांहों में कस मेरे होंठ चूमने लगे और धीरे-धीरे मेरी कमीज उतार दी।उफ्फ … तनु …मुझे लाल ब्रा में देख वो पागल हो गए.

चाची ने बगल की दराज से एक क्रीम का ट्यूब निकाला और मुझे देकर बोलीं- ले ये क्रीम लगा ले. इससे मेरा लंड उसकी मुनिया की संकरी दीवारों को घिसते हुए अन्दर बाहर होने लगा. मगर मैं तुम्हें नाम देती हूँ ‘नागमणि’ तुम्हारा नाग साधारण नाग नहीं है, यह मणि वाला नाग है.

मैं अपनी सहेलियों की खुशहाल सेक्स लाइफ को देख कर जलने लग जाती थी क्योंकि उनकी चुदाई बहुत अच्छी चल रही थी और वो अपनी लाइफ में बहुत खुश थी.

ऐसे में प्रशांत ने नीना की चूचियों पर अपना फिराते हुए अपने ऊपर लेकर बेड में समेट लिया और ब्रा का हुक खोल दिया. रात में खाना खाने सब एक ही जगह जमा हो गये और एक दूसरे की बनाई हुई चीजें टेस्ट कर रहे थे. मेरे गले लगाने और उनकी पीठ को सहलाने पर भाभी ने मुझे कुछ नहीं कहा तो मैं अपना हाथ उनकी पूरी पीठ पर फेरने लगा.

मैं बोली- नहीं मम्मी … मैं वहीं चल कर खा लेती … पर अभी यहां मेरा मन नहीं है, तुम होकर आ जाओ. वो हर एक दिन छोड़ कर आता और मेरी बीवी को रगड़ रगड़ के चोद कर चला जाता. मैंने कहा- अगर दोनों मर्जी से कर रहे हैं तो किसी को क्या पता चलेगा.

पहले तो मैंने इग्नोर किया … फिर मैं और रॉकी बिलासपुर की तरफ वापस आ गए.

उसके बाद राहुल ने कई बार मेरी चूत और गांड की चुदाई की लेकिन जो मज़ा मुझे पहले दिन आया था वह मज़ा आज तक दोबारा नहीं मिला. उसके जोर से जकड़ लेने से मेरे ब्लाउज में से मेरी आधी चूचियां बाहर आ गयी थीं.

सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर मुझे रूपा को ज्यादा तड़पाना ठीक नहीं लगा, उसकी चूत पर से अपना मुँह हटा लिया और सीधा होकर घुटनों के बल बैठ गया. मैँ एक गठीले बदन का मालिक हूँ। इसके पीछे का राज़ भी आपको बता देता हूँ। मैं नियमित रूप से जिम जाता हूँ। मैं एम.

सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर उसका मुँह दादाजी की तरफ था, उनकी आंखों में देखते हुए उसने एक हाथ से उनके लंड को अपनी चुत की दरार पर रखा और उनके लंड पर बैठ गई. मुझे तुम लोग अच्छे लगते हो, तो मैं बिल्कुल आपके घर आऊंगा … तुम्हें कोई परेशानी है … तो बताओ?मैंने तुरंत डरते हुए कहा- ठीक है.

मैं चाय पीने लगा तो अनिल ने कहा- अगर तुझे सब पता चल गया है, तो ठीक है … अब तो तुम्हें पता ही है कि मैं तेरी बहन को तेरे सामने ही चोदूँगा.

प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी बीएफ फिल्म

मेरी चूत से पानी निकल रहा था और मेरा देवर मेरी चूत की पानी चूसने लगा. मैं समझ गया था कि मुझे जो कुछ मिल रहा है वह औरतों की ईर्ष्या की वजह से मिल रहा है. अब मामा ने अपने दोनों हाथ बोरियों पर टिका दिए और अपने शरीर का पूरा वजन अपने हाथों पर ही देते हुए अपने कूल्हों को बोरी से ऊपर उठा लिया.

मैंने धीरे से उसकी चूत पे किस किया और फिर मेरे होंठ उसकी चूत की साइड पे चलने लगे. वो दोनों हॉल में बैठ गए और मैंने और नेहा ने सब बर्तन साफ किये और रसोई का काम निपटाया. उसी वक्त मॉम उठ कर बाहर आईं और देखा कि घर में मैं और नेहा नहीं हैं.

उस वक्त मेरे दिमाग़ में आया कि आज ट्रेन के अंधेरे में इसकी चुदाई का मौका बन सकता है.

वो फिर बोली- जाओ पहले राहुल को छोड़ आओ, फिर सुरभि के जाने के बाद ब्रेकफास्ट पे बात करेंगे. फिर मैंने उनका एक दूध को अपने मुँह से चूसना शुरू किया जिसकी वजह से वो जोश में आकर बहुत खुश हो गई और मेरा साथ देने लगी. अपने लंड के लिए दो मस्त छेद देख कर मेरे मुँह से ‘अरे बाप रे बाप …’ निकल गया.

उसके मुँह से लंड शब्द सुनते ही मैंने तुरंत अपना लंड मैडम के हाथ में पकड़ा दिया और उसको अपनी बांहों में भर लिया. उसके बाद हमारे बीच चुम्बन का सिलसिला आम हो गया था। जब भी हम फ्री होते, हमें एकांत मिलता हमारे होंठ आपस में जुड़ जाते।कहानी का अगला भाग:मेरी रानी की कहानी-2. यह वाकयी बेहद जरूरी था, क्योंकि एक बार फिर से मेरी नीना रानी मुख-मैथुन का सुख देकर अपने किराएदार प्रशांत के लौड़े का एहसान उतारना चाह रही थी और उसने किया भी.

अब वंदना बहुत गर्म हो गई थी और वो मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चुत में दबाने लगी. उसके मोटे लंड ने मेरे अंदर की प्यास को अच्छी तरह शांत कर दिया था इसलिए उससे जुड़ाव हो गया था.

मैं कमरे के बाहर दबे पांव गया और कान लगा कर सुना कि आवाज़ कहां से आ रही है. तभी अचानक नंगा नामित पीछे को मुड़ गया और मॉम उसका लम्बा लंड देखते रह गईं. मैंने अपनी बहन से कहा- मीनाक्षी, जाके देखो … सब सो रहे हैं ना … देख कर वापस आ जाओ.

अब जगत अंकल मेरी पैंटी को धीरे-धीरे नीचे उतारने लगे और पैंटी मेरे पैरों के नीचे आ गई तो झुक कर मेरे पैरों से पैंटी खींचकर उसे फोल्ड करके अंकल ने अपनी पैंट की जेब में डाल लिया और बोले- वन्द्या, तेरी पैंटी मेरे पास है.

उसने भी मुँह खोल कर लंड अपने मुँह में ले लिया और लॉलीपाप की तरह लंड चूसने लगी. मैं- चाचा से भी ज्यादा?चाची- हाँ रे … तुम्हारा चाचा इतना देर तक नहीं चोद पाता है. वे बोलीं- जाओ हम तुमसे अब कभी नहीं चुदवाऊंगी … कोई ऐसे भी अपनी खाला को चोदता है.

उसे देखते ही किसी बुड्डे का भी लंड खड़ा हो जाएगा, वो इतनी अधिक कामुक दिखती है. मैं नीचे लेट गया और सोनू को अपने ऊपर चढ़ा लिया और उसे बोला कि मेरे लंड को अपनी चूत में घुसा कर मेरे ऊपर लेट जाए.

मैंने भी अपनी चूत को खोल सा दिया, ताकि मुझे भी जीजा जी की उंगली का मजा अपनी चूत में मिल सके. मैं गुजरात का रहने वाला हूँ और कंप्यूटर इंजीनियर के पद पर काम करता हूँ. चाची ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेने लगी थी, जोश में आकर मेरा सर अपनी चूत में पूरा अंदर देना चाहती थी.

थ्री एक्स बीएफ देसी

वो बोली- वो घन्टी मेमसाब के फोन की थी कि वो 15 मिनट में पहुँच जाएंगी.

फिर लड़कियां वहां से चली गयीं।राहुल मुझसे बातें करने लगा, राहुल ने पूछा- भाभी आपको कुछ चाहिए तो नहीं? कोल्ड ड्रिंक वगैरह?मैंने मना कर दिया।फिर थोड़ी देर बाद हम लोग ऊपर छत पर चले गए. तब भी नामित मेरी नहीं सुन रहा था उसने वहीं सोफे पर मुझे लिटाया और मेरी चूत में अपनी जीभ घुसेड़ दी. फिर कुछ देर मुझसे चाची बोली- अब तू जा सो जा!मैंने कहा- आपके फिगर जैसा फिगर मैंने अब तक कभी नहीं देखा!और मैंने उसी समय हिम्मत करके उनका हाथ पकड़ लिया.

उस बुड्ढे ने जैसे ही मुझे देखा तो बोला- रमीज तू कैसे इतनी तारीफ कर रहा था कि वो लड़की नहीं कयामत है. मैं ट्रेन में चढ़ा आर सीधा अपनी बर्थ पर जाकर व्यवस्थित होते ही दस मिनट में ही थम्पसअप को पी लिया और तुरंत सो गया. इंग्लिश सेक्सी बीएफ इंडियनमैंने कहा- खाला इसकी फ़िक्र न करें, आप सबसे सुन्दर, गोरी और मेरे से बड़ी होने के बावजूद मस्त माल हो.

तो हमने सोचा कि इनको थोड़ी देर यही रहने दो और बाकी लोग फ्रेश होकर खाने का ऑर्डर दे दो. पर अगले ही पल मुझे लगा कि फिर मुझमें और सन्नी में फर्क ही क्या रह जाएगा.

मैं प्रिया के बारे में सोच ही रहा था कि तभी नेहा ने अपनी चुत को मेरे पूरे चेहरे पर जोरों से दबाकर रगड़ दिया. इस बात को लेकर मालिनी ने मुझे फ़ोन किया और मुझसे सुझाव लेने लगी कि उसे क्या करना चाहिए. मगर चुदाई की शुरुआत करने से पहले नीना रानी लंड से खेलने के मूड में थी.

उसने एक लम्बी सांस लेते हुए मेरे हाथों को पकड़ लिया और उसी अवस्था में बैठी रही. अपने पति यानि तेरे चाचा के अलावा किसी और से सेक्स नहीं किया है, ना कभी ऐसा सोचा था. मैं नहीं चाहता था कि सुलेखा भाभी अपने कपड़ों को ठीक करें, इसलिए मैंने उनका‌ हाथ पकड़कर फिर से अपनी तरफ खींच लिया.

पर तेरी चूत बहुत टाइट है तूने कैसे इतनी बड़ी रंडी हो कर भी चूत को टाइट बनाए रखी है.

मगर जैसे मैंने उनके होंठों को चूमा, भाभी ने झट से अपनी आंखें खोल लीं और दोनों हाथों से मेरी गर्दन को पकड़कर मेरे होंठों को अपने मुँह में भर लिया. जब मैं दवाई वापिस रखने के लिए उठा तो लोअर में उभार साफ़ दिखाई देने लगा था जिसे दोनों भाभियों ने साफ देख लिया था.

एक मिनट में ही वो बहुत गर्म हो गयी और उसने मेरे लंड को पकड़ कर जोर से दबा दिया और फ़िर झुक कर उसे चूसने लगी. मैं घबरा कर बोला- मैंने कब?वो बोली- उसी दिन … तू मेरी पूरी बॉडी को देख रहा था … तू आंखों से ही मेरा ब*त्कार कर रहा था. मैं तो जैसे अब पागल ही हो गया था क्योंकि नीचे से तो सुलेखा भाभी की गर्म गर्म चुत मेरे लंड की मालिश कर रही थी और ऊपर से भी उनकी बड़ी बड़ी और भरी हुई चूचियां मेरे सीने को गुदगुदाने लगी थीं.

कुछ देर इस पोजीशन में चोदने के बाद मैंने भाभी को अपने ऊपर ले लिया और उनको उत्तेजित करते हुए गाली देकर बोला कि आपकी मोटी गांड आज बजा कर रख दूंगा कुतिया छिनाल. पुनीत की बात सुनकर गैब्रियल ने मैक को अपनी भाषा में कुछ बोला, दोनों का लंड मेरी चूत और गांड को बिल्कुल तपा रहे थे. मेरी गांड वैसलीन से बहुत ही चिकनी हो गई थी और अब गांड का छेद भी लंड की मोटाई के मुताबिक़ खुल गया था.

सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर पियू से मेरी बात फोन पर होती रहती है, पर अब कब मिलना होगा किसको पता. अब तक मैंने आप को अपनी उम्र नहीं बतायी, मेरी उम्र अभी 22 साल है और काफी लड़कियों के साथ में मैंने सेक्स किया हुआ है.

जबरदस्ती चोदने वाली बीएफ

उसके बाद मेरा देवर मेरे ऊपर आ गया और अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोदने लगा. क्योंकि इससे पहले भी लड़कियां और जवान औरतें मुझे देख कर मोहित हो जाती थीं. करीब 10 मिनट एक-दूसरे को चाटने के बाद मेरी बहन मेरा लौड़ा चूत में लेने को तैयार थी, मैंने मालिनी को लिटाया और उसकी गांड के नीचे एक तकिया रख दिया.

फिर वह आह … आह … करते हुए अपनी गांड को ऊपर उठाकर मेरे लंड से चुदने लगी और चुदाई के मजे लेने लगी. वो तो मैंने धीरे धीरे उस आदमी को मौसी के मन से निकाला है और बड़ी मुश्किल से तैयार किया है इस सबके लिए!”मौसी ने दुबारा शादी क्यों नहीं की?”पहले तो मौसी उसका इंतज़ार करती रही और अब वो करना नहीं चाहती … कहती है कि उम्र हो गई … अब क्या करना शादी करके. सेक्सी देखना सेक्सी बीएफभाबी अभी भी मुझे देख रही थी, लेकिन उसके चेहरे के भावों को मैं पढ़ नहीं पा रहा था.

चाची- तुम्हारा चाचा ऐसे कभी नहीं चोद पाता है … जैसे तुम चोद रहे हो.

अपने आफिस से, मैं बाहर निकला देखा तो भैया और भाबी दोनों साथ में खड़े थे. मैंने धीरे से उसे बेड पे लिटाया, उसने झट से अपनी करवट बदल ली और दूसरी तरफ घूम कर लेट गयी.

इसलिए उसने खुद ही अपनी जांघों को फैलाकर अपनी चुत को मेरे लिए परोस दिया था. राहुल का लंड मेरी जांघों पर नीचे अलग से मुझे टच होता हुआ महसूस होने लगा था. चोद दे इसको!इतना सुनते ही मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ गई और मैं उसकी उंगलियों को चूसते हुए उसकी जांघों को चाटते हुए उसकी चूत तक पहुँच गया था.

उसको देख कर कोई कह ही नहीं सकता था कि यह साली 3 बच्चे पैदा कर चुकी है.

और अब मैं स्वर्ग में था … आँख बंद करके … उसी हिसाब से मैंने उसकी चूची की निप्पल भी मसल दी. तो मैं बोला- आप कल रात में क्यों रो रही थीं? कोई प्राब्लम हो गई थी क्या भाभी जी?भाभी जी बोलीं- नहीं आशिक. वो मेरे सर को अपनी चुची पर दबाने लगी और बोली- हां बिल्कुल ऐसे ही और जोर से!मैंने भी उसकी बात रखते हुए जोर जोर से चूची चूसना शुरू कर दिया और पूरे जोर से दूसरी चुची को दबा रहा था जैसे उसे उखाड़ ही लूँगा.

देहाती इंडियन बीएफ सेक्सीमुझे खुद को उम्मीद है कि अन्तर्वासना पर मेरी लेस्बियन कहानी को पढ़ कर कोई न कोई पाठिका जरूर मुझे मौका देगी. लगता है कि अपने साथ तुम्हें ले जाऊं और तुम्हारे बदन से लिपटा ही रहूं.

सेक्सी बीएफ पिक्चर में

एकता ने अपने मुँह में से लंड निकाल के हवा में झूलती प्रमिला की तरफ आगे बढ़ा दिया. मैंने रूपा की तरफ बुरा सा मुँह करके देखते हुए- जाओ उसे अन्दर ले आओ. मैंने लंड को मुँह से बाहर निकालने की कोशिश की, लेकिन उनके मज़बूत हाथ के दबाव के आगे मेरी एक ना चली और मैं घबराकर तड़पने लगा.

फिर मैंने अपना 8 इंच लम्बा लंड उसके मुँह में जड़ तक ठूंस दिया और उसके मुँह में ही झड़ गया. तभी पीछे से जो मियां अंकल थे, उन्होंने भी मेरे कूल्हों को फैलाकर अपना लंड मेरी गांड में डाल कर अन्दर तक पेल दिया. उसने अपनी मॉम की चुदाई के बारे में मुझे बताया कि वो अपनी मॉम को चोद चुका है.

अपने मोटे लंड से मैं किसी भी लेडी को पूरी तरह से संतुष्ट कर सकता हूँ. मेरा मन किया कि इसे अभी गले लगा लूँ, लेकिन मैंने खुद पर कंट्रोल किया और नूपुर से बोला- घर चलें?वह मेरा हाथ पकड़ कर अपने साथ ले गयी. उसके मुँह से हल्की आह निकल रही थी, तो मैंने अपना रुमाल उठाके उसके मुँह में जबरदस्ती ठूंस दिया.

मैं सोचने लगा कि देखो तो साले अनिल को क्या मस्त सुन्दर सी चूत चोदने को मिली है. उसको मैं काली, छोटी, टाइट स्कर्ट और व्हाइट शर्ट में सुबह कहीं जाते हुए अक्सर देखता था और वह मुझे बहुत सेक्सी लगती थी, उसकी शर्ट में से उसके दोनों चूचे इतने टाइट दिखाई देते थे कि शर्ट के सामने के बटन टूटने को रहते थे.

मैंने पैन्ट की चेन खोलकर अपना लंड निकालकर उसके हाथों में दे दिया।वो मेरे लंड से खेलने लगी.

लेकिन कुछ ही दिनों में मैंने महसूस किया कि उसका व्यवहार बदलता जा रहा था. बीएफ सेक्सी साथमगर वह तो मेरे लंड को ऐसे चूसने में लगी हुई थी जैसे कुछ सुनाई न दे रहा हो उसे. एक्स एक्स एक्स बीएफ चुदाई सेक्सीवह मेरे लिए पानी का गिलास लेकर आई, मैंने पानी पिया और कुछ पानी बच गया, तो गिलास मैंने उसे दे दिया. कुछ ही देर में एक बॉटल दूध और निकालने के बाद मैंने देखा कि उसको आराम मिल रहा है और उसके चेहरे पर हल्की हल्की सुकून की मुस्कान लग रही थी.

अब वो चिल्ला रही थी- निकाल दे, रहम कर, मत मार, गांड बहुत दुख रही है.

मेरी पिछली कहानी के बाद आप में से बहुत से लोगों ने मुझे मेल किये थे. नेहा बेड से उतरने वाली थी कि मैंने उसको बेड पर खींच लिया और सुबह से ही उसे चोदना शुरू कर दिया. फिर करीब 15 मिनट बाद ट्रेन रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई और मैं स्टेशन पर उतर गया.

इनके बहुत कहने पर … और वैसे एक बात बताऊं तुम्हें वन्द्या सच में तुम में बहुत आकर्षण है, मैंने बहुत सारी लड़कियों और औरतों को अपने पास बुलाया, कुछ तो पैसों की जरूरत के कारण आई और कुछ मुझसे करवाने आईं. मैं- आह … अमित!मेरे मुंह से कामुक आवाज़ निकली और उस आवाज़ के साथ मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया. तो मैंने उसे मैसेज करके थोड़ा डांट दिया और अब वो फ़ोन भी नहीं उठा रहा है.

इंग्लिश बीएफ जानवर वाली

मैं बोली- नहीं मम्मी … मैं वहीं चल कर खा लेती … पर अभी यहां मेरा मन नहीं है, तुम होकर आ जाओ. तभी उसने अपना हाथ पीछे से मेरी चूत पर रखकर कहा- तुम कल की दादाजी की हरकत की वजह से नाराज हो क्या?मैं एक पल के लिए तो चौंक गई कि सोनल ये सब कह रही है मतलब उसकी रजामंदी से ही दादाजी वो सब कर रहे थे. मैंने वंदना की कमर में हाथ डालकर वंदना की ब्रा को खोल दिया और उसके बाद वंदना की एक चूची को चूसने लगा.

उसकी घर में भी थोड़ा ज्यादा चलती थी और वो दिखने में भी थोड़ा मजबूत था.

तभी वो बोली- पता है मुझे … मैंने ही पापा को बोला था तुम्हें मेरे साथ भेजने के लिए!मैं तो जवाब सुनकर हैरान रह गया.

फिर उन्होंने मुझसे कहा- पागल, परेशान न हो, तेरा हथियार तो तगड़ा है पर तेरा पहली वार था तो इसलिए जल्दी निकल गया. मैंने कई बार कोशिश भी की कि उसको अपना लंड चुसा दूँ लेकिन वह हमेशा मुझसे यह कहकर मना कर देती थी कि उसको लंड मुंह में लेना पसंद नहीं है. सेक्सी इंग्लिश में सेक्सी बीएफअपनी चुत व नितम्बों को अच्छे से साफ‌ करने‌ के‌ बाद भाभी ने‌ पेंटी को‌ तो वापस बिस्तर पर पटक दिया और उठकर अपने‌ कपड़ों को सही करने लगीं.

मेरी खुली गांड में उसका लंड पूरा एक ही झटके में घुस गया, क्योंकि दो लंड के रस के कारण बहुत चिकनी गांड हो चुकी थी. कुछ देर बाद अजय मेरे मुंह में ही झड़ गये और मैं उनका सारा रस पी गयी. एक उंगली से मैं प्रमिला की चुत के दाने को भी सहला रहा था, जिससे प्रमिला भी सिसकारियों के साथ मुँह से ‘ऊऊ ह्ह्ह आआअह्हह …’ की आवाजें निकाल रही थी.

मैं चुपचाप अपना काम करके वहां से चलने लगा तो उसने मुझसे पूछ लिया कि मेरा चार्ज कितना हुआ. मैं भी नेहा की तरफ देखकर हंस दिया मगर दोबारा से उसके होंठों चूमने की बजाए इस बार मैंने उसकी एक चूची को दबोच लिया.

जब जी करे, फ़ोन करिये कुछ हेल्प चाहिए भी तो आप बता सकती हो, मेरा भी मन लगा रहेगा.

उधर मेरी बहन 12वीं पास करके कॉलेज में आई, लेकिन फेल होने के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी. पहले उसने दो उंगलियों से मेरी चूत को चोदा और फिर पांच मिनट के बाद जब मेरी चूत का दर्द कुछ हल्का पड़ता दिखाई दिया तो उसने मेरी फूली हुई चूत में अपनी तीन उंगलियां डाल दीं. फिर उसने पास में ही पड़ी हुई क्रीम की बोतल उठाई और काफी सारी क्रीम अपने लंड और मेरी चूत पर लगा दी और अपने लंड को मेरी चूत पर सेट कर लिया.

शिल्पा शेट्टी बीएफ सेक्सी जब मैं ऑफिस में होता तो भी वह किसी ना किसी बहाने से मेरे घर आ जाता था और अनु से काफी मजाक करता था. मेरे घर में जब कोई नहीं रहता था, तो मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ होटल में जाकर चुदवा पाती थी.

अनु की चूत ने भी करण के लंड को अपने अन्दर सैट कर लिया था, जिससे उसका दर्द खत्म होने लगा. मैंने उससे पूछा कि वो क्यों बाहर आ गयी?तो वो बोली- मैंने तुमको बताया था ना कि रमेश का ड्रिंक पे कोई कंट्रोल नहीं है, आज भी कहाँ है किसके साथ है इसका कोई ध्यान ही नहीं, सारे लोग एक लिमिट में ड्रिंक करके उठ गये… पर ये है कि कंट्रोल नहीं करते. मुझे लगा कि शायद वह बाथरूम में गयी होगी, तो मैं फिर से सोने का प्रयास करने लगी.

सेक्सी बीएफ वीडियो रोमांटिक

फिर मैंने ही पहल करनी जरूरी समझी मैंने बोला- सबीना, एक बात बोलूँ?तो आंटी बोली- आंटी से सीधा सबीना पर आ गया. आपके वर्षों पुराने बॉटम फ्रेंड को कोई और आपके सामने एक बंद रूम में लेकर जा रहा हो, तो सोचो मन की क्या हालत होगी. ”मुझे लग रहा था कि नेहा भाभी खूब खुश है और मस्ती में कुछ बदमाशी सोच रही है.

फिर सुमन उठी और मेरे चिपक गई, बोली- भाभी, आज मुझे बहुत मजा आया … इतने दिन से मैं खुद से करती थी तो मजा नहीं आता था।सुमन मुझे फिर से चुम्बन करने लगी. उसमें से एक काला आदमी उठा और मेरी बहन के मम्मों पर जोर से झापड़ मारते हुए उसकी चूचियों को दबा दिया.

यह सुन कर मैंने सोचा कि कोई बात नहीं, किसी तरह 3 महीने तक मैं कन्ट्रोल कर ही लूँगी.

इससे मेरा लंड उसकी मुनिया की संकरी दीवारों को घिसते हुए अन्दर बाहर होने लगा. आंटी बोलीं- गुड … मुझे ऐसे लड़के बहुत पसंद हैं … तुम बुरा न मानो तो तुम्हारे लिए एक काम है, तुम करना चाहो तो कहूँ?मैंने तुरंत हां कर दिया- काम तो बताओ आप?तो आंटी बोलीं- क्या तुम मेरे बच्चों को ट्यूशन दे दोगे?मैं बोला- हां क्यों नहीं. उनके मुँह से ‘आहह … एम्म … ओह … आआअ … डालो ना अन्दर …’ जैसी आवाजें निकल रही थीं.

आह्ह् … फ्रेंची में उनका उभरा हुआ लंड देख मेरे बदन में आग लग गई। उनके सीने पर घने बाल थे. मुझे मालूम था कि मेरी बहन की पहली चुदाई घर के नौकर ने की थी, जो 40 साल का था. मैंने विंडो ग्लास खोल दिया तो जगत अंकल बहाने से बोलते हुए मेरे कान में धीरे से बोले- ये दादा साहब तुम्हें बहुत पसंद करते हैं.

तुम एकदम अलर्ट हो गईं और तुमने कहा- गाली तो मत दो यार!लेकिन तुम्हारी बातों से मुझे कोई फर्क पड़ने वाला नहीं था.

सेक्स पिक्चर बीएफ पिक्चर: जब तक उसको मेरी चूत में पूरी तरह से फँसा ना दिया, वो नकली लंड को मेरी चूत में पेलती रही. दादाजी ने अपना हाथ सोनल की पीठ से सीने पर ले गए और उसके कड़क स्तन को जोर से मसल दिया.

ब्लाउज के नाम पर ब्रा टाइप के कपड़े से भाभी की आधी से अधिक पीठ दिख थी. मेरे प्यारे दोस्तो, मैं प्रेम नील नागपुर से एक बार फिर आप सबका शुक्रिया करना चाहता हूँ मेरी सभी कहानियों को प्यार देने के लिए. थोड़ी देर बाद मैंने देखा तो औरत बेबी को छोड़ बाथरूम गयी, फिर कुछ 10 मिनट बाद आई लेकिन परेशान थी.

तुम्हारे साथ यौवन का खेल खेलना तो मेरे बाँए हाथ का खेल था … किन्तु क्या ये उचित होगा, इस बात से मैं अनभिज्ञ था.

‌ अब तक प्रिया ने अपनी ब्रा को उतारकर अपने दोनों सफेद कबूतरों को आजाद कर लिया था और उनकी तीखी चोंच को मेरे सीने में चुभोने लगी थी. मैं पायल की चूत चाटे जा रहा था और नीरू और मेरी पत्नी ने उसके दोनों उरोजों को अपने अपने मुंह में ले चाटना चूसना शुरू कर दिया. मैंने उसे जोर से गले लगाया और कहा- मैं तुम्हारी जिंदगी में रंग भर दूंगा.