घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो दीजिए ब्लू पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी यूट्यूब सेक्सी: घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी, माया के शरीर में करंट सा दौड़ गया और उसके मुँह से एक आअह्ह्ह निकल गई.

चोदा चोदी बंगाली

मैंने लिखा- ओके … अब बताइए कि भाभी मुझसे कैसे चुदना चाहेंगी?आदमी ने लिखा कि पहले तुमको पूरा नंगा होकर अपना लंड और शरीर दिखाना होगा. انڈین سیکس ویڈیوزफिर धीरे धीरे नीचे आकर मेरे लोवर ओर पेंटी को नीचे खिसका दिया और मेरी चूत में अपना मुंह लगा दिया.

काजल ने काले रंग का टॉप पहना हुआ था और उसकी 36c साइज की चूचियां एकदम से उभर कर सुरेश को ललचा रही थीं. एक्स चाहिएमैंने अपनी सास की बात मान ली, व्रत रख लिया, पूरा दिन भूखी-प्यासी रही और शाम को मैं सज संवर कर तैयार हुई.

मैंने अपनी सास की बात मान ली, व्रत रख लिया, पूरा दिन भूखी-प्यासी रही और शाम को मैं सज संवर कर तैयार हुई.घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी: अब हम भाई बहन अपने परिवार के साथ अपनी कार में बैठे और जंगल कैंप की तरफ निकल पड़े.

कुछ पल उसने मुँह बनाया और फिर लंड को जीभ से चाटना शुरू किया तो काफी देर तक तक चाटती रही.मैंने अपने पति के अलावा कभी भी किसी के साथ कोई रिश्ता नहीं रखा था, सोचा था कि प्यार करने वाला पति होगा, परिवार होगा.

चुदाई video.com - घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी

लेकिन हम आखिर हैं तो भाई बहन, इसलिए मैंने अपने आप पे कंट्रोल कर लिया.तभी मेरे दोनों बूब्स जोर जोर से दो अंकल दबाने लगे और मेरे बूब्स को ब्रा से आजाद करके फिर और जम कर दबाने लगे और पेट चाटते हुए मेरी नाभि को चूम कर चाटने लगे.

एक लड़की ने वो पट्टा मेरे गले बाँध दिया और तीनों सोफे पे आराम से बैठ गईं. घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी चाचाजी ने मेरे मम्मों के निप्पलों को मुँह में लेकर चूसना काटना शुरू कर दिया.

झड़ते झड़ते भी वो उस्मान का लंड चूसे जा रही थी और अमित उसे चोदे जा रहा था.

घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी?

मैं तो चली जाऊँगी इस बेटीचोद का ख्याल रखना, बड़ा मस्त चुदाई करता है. पहली बार में दूसरी ओर फिसल गया, मौसी से रहा नहीं जा रहा था सो उन्होंने फिर से मेरे लंड को चुत के द्वार पर रखा और खुद ही चुत की फांकों को खोल कर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चुत में हल्के से अन्दर कर लिया और फिर अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों चूतड़ों के गोले पकड़ कर अपनी ओर खींचा. मैंने चाचाजी की तरफ देखकर मना करना चाहा, पर मैं कुछ कहती उससे पहले चाचाजी ने मेरे होंठों को अपने होंठों में भर के लिपलॉक कर लिया और चूसने लगे.

हम तीनों ने एक दूसरे के होंठों को चूम कर फ्रेश होने बाथरूम में नंगे समा गए. और जब जानवर चुदाई करता है तब चूत, गांड, मुँह और मम्मों का तो भोसड़ा बनता ही है और मुझे भी वैसा ही चाहिए. अगले दिन जब मैं वहां पहुँचा तो मेरी आँखें सिर्फ़ अनुराधा को ही तलाश रही थीं.

मेरी चुत ने उसके लंड को इतनी बुरी तरह से जकड़ रखा था कि वो चाह कर भी तेजी के साथ धक्के नहीं लगा पा रहा था. रिजवाना मेरे सामने ही बैठी थी और मैंने अपना पैर उसके पैर से लगा दिया. उस दिन मैं मैं पहली बार उसके साथ अकेले लगभग दो घंटे उसके घर रहा और बड़ी मुश्किल से अपने लंड पर कंट्रोल किए रहा.

मेरे पास कई पाठकों की मेल आई जिसमें उन्होंने अपने लुट जाने की बात बताई… तो ज़रा संभलकर रहिए और पढ़ते रहिए आपकी पसंदीदा साईट अंतर्वासना सेक्स स्टोरीज़…इस कहानी पर अपने कमेंट्स देना न भूलें…मैं अंश बजाज. गुलशन जी ने खाना गर्म किया और दोनों ने मिलकर खूब मज़े से खाना खाया.

उसके गहने चूड़ियां सब धीरे-धीरे निकाल दिए और ये सब करते वक्त वो उसके मम्मों को भी दबा रहे थे.

वे मुझे ऐसे देख रहे थे कि जैसे उन्हें पता ही ना हो मैं यहाँ क्यों हूँ.

तो दोस्तो सेक्स स्टोरी को शुरू करने से पहले आपको बता दूँ कि वैसे तो कॉलेज के बाद एक और भी घटना हुई थी. अब येबेटी की सहेली पापा के साथ अकेली… क्या होगा यहाँ? चुदाई होगी भी या नहीं… अगर होगी तो कैसी होगी? ये आप लोग अगले पार्ट में खुद देख लेना. रात को पिंकी और रेखा ने मिलकर खाना बनाया और हम लोगों ने नंगे ही मस्ती करते हुए खाना खाया.

तभी अंकल बोले- आरती, तुम बीच वाली सीट में लेट जाओ, बस पांच मिनट में जो करें करने देना, उसके बाद फिर अगर तुम कहोगी तो बिल्कुल छोड़ देंगे।मैंने हां में सर हिलाया तभी अंकल लोग मेरे सारे कपड़े एक एक करके उतारने लगे. वो साथ वाले कमरे में जाकर दो मिनट में लोअर पहनकर वापस हुक्के वाले कमरे में आ गया. इस कहानी का पिछला भाग :उसका पति उसकी चुत चोदन में नाकाबिल था-1आपने अब तक चुत चुदाई की कहानी में जाना था कि मुझसे एकदम अनजान एक मस्त माल शीला मेरे घर आकर मुझसे जबरदस्त और खुल कर चुदी.

मैंने जींस के ऊपर से ही जोर जोर से उसके लंड को चाटना शुरू कर दिया और अपना चेहरा उसके लंड पर रगड़ने लगा.

मंजूर है!मेरी बेटी बोली- ठीक है पापा आज आप जो कहोगे, वह मैं करूँगी. इसी के साथ वो भी एक दम से अकड़ उठी और हम दोनों का स्खलन एक दूसरे को तृप्त करने लगा. लेकिन उसने लंड चूसना नहीं छोड़ा, पहले तो उसने पानी गटक लिया और तब भी लंड को जोरों से चूसती रही.

तब तक मैं पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी इधर अंशुल ने मुझे भी उन लड़कियों के साथ एकदम से नंगी देखा तो उसने सबसे पहले अपनी शर्ट उतारी और फिर उसने अपनी पैन्ट उतारी. कमरे का दरवाजा लॉक देख कर वो हॉल क्रास करके अपनी माँ के बेडरूम की तरफ़ गई. भाभी दर्द के मारे तड़पने सी लगी थीं लेकिन मैंने उन के होंठ अपने होंठों से सटा रखे थे ताकि उन की आवाज़ बाहर ना आए.

फिर काजल, सुरेश के ऊपर चढ़ गई, उसके पेट पर बैठ कर उसको हेड मसाज देने लग गई.

सामने से आती हुई गाड़ी की रोशनी में चाचाजी अपनी हवसी नजरों से मुझे घूर रहे थे. मैं भी उनके पीछे चला गया और उनके पीछे जाकर उनको हग कर लिया और फिर एक वाशरूम में अन्दर खींच कर उनको किस कर दिया.

घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी फिर वो उठी और मेरे सड़के को कमोड में थूक दिया और फ्लश करके हम लोग कमरे में आ गए. जोशना- बहनचोद… साले मेरी फ़ट गई भोसड़ी के, थोड़ा रुक जा मादरचोद…पर मुझसे रुका नहीं गया.

घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी मैंने कहा- तू कौन सी सुधरी हुई है?उसने कहा- क्या मतलब?मैंने कहा- तू भी तो छुपकर मेरे लैपटॉप में मूवी देखती है. मैं फिल्म देखने लगी, मैंने स्टार्टिंग से पूरा वीडियो देखा, मुझे मेरी चूत में अन्दर तक एकदम से जलने जैसा लगा, मेरा पूरा शरीर कांपने लगा.

मैं बताना चाहूँगी कुछ पाठकों ने मेरी कहानी को बहुत गहराई से अध्ययन किया और बहुत ही अच्छी तरह से अपनी विचार व्यक्त किया, बहुत बहुत धन्यवाद,मैं नये पाठकों से निवेदन करूँगी कि जो मेरी कहानी पहली बार पढ़ रहे हैं, वे कृपया मेरी पहले की कहानियाँ भी ज़रूर पढ़ें, तो ही आप इस कहानी की संपूर्ण आनन्द ले पाएंगे.

बीएफ मैचिंग वीडियो

उसके सख्त लंड का टोपा मेरी गांड में मेरी पेंटी सहित घुस ही गया होता, जो मैं आगे को ना खिसकी होती. ) को देखता रहा।वे दोनों पूरी तरह से नींद में थे। भैया रात को सोते वक्त तम्बाकू का पान खा कर गहरी नींद में सोते थे। वैसे भी वे दिन भर की भाग दौड़ में थक जाते थे. दूसरी रात को मैंने सागर को कहा- सागर ऐसा करने से फ्लैट हमको मिल जाएगा और एक खूबसूरत बदन तुमको चोदने में मिल जाएगा.

दोस्तो, मेरा नाम किरण है(किरण लड़कों का नाम भी होता है), मैं पुणे महाराष्ट्र का रहने वाला कॉलब्वॉय हूँ, मैं दिखने में स्मार्ट हूँ, कद काठी भी ठीक ठाक है. अंजलि ने कहा कि आज ‘जी सा आ गया…’ दोस्तो हरियाणवी में ‘जी सा आ गया. मैंने फोन लिया, अलका बोली- माया कल एक नया लड़का है दिनेश बुलाकर लाएगा, मजा आएगा.

फिर मुझे शक लगने लगा कि शायद मेरा दोस्त जुनैद अच्छे से चोद नहीं पाता है.

मैं उसकी चुचियों को चूसने लगा और भाभी मेरा लंड पकड़ के बार बार अपनी तरफ़ खींच रही थी. ऐसे ही एक जोड़े को देख कर जब रूपिका ने महेश को देखा तो वो भी उसी को देख रहा था, दोनों की आँखें मिली और दोनों ही थोड़ा झेंप गए यह सोच कर कि सामने वाले ने हमारी सोच को पढ़ लिया होगा।दोनों एक कोने में बैठ गए। दोनों के ही दिल जोरों से धड़क रहे थे. मैं उसको धक्के मारता जा रहा था, वो कामुक सिसकारियां ले रही थी अया सस्स फ़फ्फ़ मी.

किसी अनजान या यहाँ तक कि किसी जानकार को भी अनजान बनाते हुए अपने, अपनी साथी के नंगे बदन को, या बदन की नग्नता से भरपूर झलक दिखने का अहसास… यह अहसास सच में बहुत ही उत्तेजक होता है. अच्छा सुनो वो होती है न… उसे… … …” बहूरानी ने मुझे घिसी पिटी ढीली ढाली चूत को फिर से कुंवारी चूत की तरह टाइट कर लेने का उपाय बताया. उसको इतना तड़पाऊंगा कि वो खुद कहेगी कि पापा मुझे आपका लंड चाहिए, तब मैं उसे चोदूँगा.

आज तक दर्जनों कुंवारी कन्याओं की बुर खोल चुका हूँ, पर ऐसा दुबारा कभी महसूस नहीं हुआ और मैंने भी चरम सुख भोगते हुए बहन की बुर में अपना लावा छोड़ दिया, जिसकी अनुभूति से अर्चना भी खिलखिला कर हंसने लगी, साथ में मामी भी हंसने लगीं. एक दिन मैं और जीजू एक-दूसरे से मजाक कर रहे थे और उस दिन जीजू ने मुझसे बोला- पिंकी तुम बहुत सेक्सी हो.

ये लो अदिति बेटा!” मैंने कहा और लंड को धकेल दिया उसकी चूत में… लंड उसकी चूत में फंसता हुआ कोई दो तीन अंगुल तक घुस के ठहर सा गया. उसकी तुलना आप मैं हूँ ना” मूवी की अभिनेत्री सुष्मिता सेन के टीचर वाले रोल से कर सकते हैं. बस करो पापा अब… नीचे वाली की भी कुछ खबर लो!” बहूरानी अपनी चूत पर हाथ फेरती हुई बोली.

थोड़ी देर के बाद मैं वंदिता सब लोगों के बिस्तर लगाने लगी और सब लोग सोने की तैयारी करने लगे.

चूंकि मैं बिस्तर पर बैठा था और वो ज़मीन पर खड़ी थीं, तो उनकी चूचियां मेरे मुँह के पास थीं. मैं उनकी चुत में जोर-जोर से किस करने लगा और वो मेरे लंड को चूमने लगीं. अब की बार उसने मुझे बेड पर नीचे लिटा लिया और खुद मेरे लंड पर चढ़ कर उस पर उछलने लगी.

पूछो बेटा?”अभी आप मुझसे दूर ड्राइंग रूम में क्यों सोये थे?”अदिति बेटा, मैं सुबह से ही देख रहा था कि तुम मेरी नज़रों से बच रही थी, आंख झुका के बात कर रहीं थीं तो मुझे लगा कि हमारे बीच बन गए सेक्स के रिश्ते का तुम्हें पछतावा है और तुम अब वो सम्बन्ध फिर से नहीं बनाना चाहतीं, इसीलिए मैं अलग सो गया था. इसलिए मैंने सुबह मोच आने का बहाना बना दिया और लंगड़ा कर चल रही हूँ ताकि आपके मोटे लंड को गांड में ले सकूं और अगर उसकी वजह से मुझे दर्द भी हुआ तो किसी को शक भी नहीं जाएगा कि मैं ऐसे क्यों चल रही हूँ.

सुमन- आह पापा आह… चाटो… मैं गई उफ़फ्फ़ चूसो आह… ज़ोर से करो… मेरी चुत पापा आह… चाट लो. मैं देख रहा था कि अब मम्मी रबर की गुड़िया की तरह उनके इशारों पर कर रही थीं, जैसे वो चाह कर रहे थे. टीना- यार यहाँ कोई शादी नहीं हो रही और ये बरखा कोई दुल्हन नहीं है जो घूँघट में शर्माती हुई आएगी.

नंगा नाच हिंदी में

कुछ देर बाद अचानक मुझे लगा कि आंटी का बदन अकड़ रहा है और फिर लगा जैसे आंटी ने जैसे बिस्तर पे पेशाब कर दी हो, मेरा पूरा लंड रेनू आंटी की पेशाब से भीग गया.

हर लड़की की तरह मेरी भी एक ख्वाहिश है कि मैं जिसको भी प्यार करूँ, अपनी पूरी ईमानदारी से करूँ. मेरे बहुत कहने पर उसने अपने लिए कुछ सामान खरीदा, उसने मुझको भी कुछ कपड़े दिलाए. मैंने कहा- मौसी मैं अपना पूरा लंड उसकी चूत में नहीं डालूँगा, बस थोड़ा सा डालूंगा और चूचियों की चुसाई का मजा लेकर काम चला लूँगा.

प्रिय पाठको, यह कहानी अन्तर्वासना की सबसे पुरानी कहानियों में से एक है. मैंने अब विनीता को पेट के बल लिटाया और उसकी गर्दन से लेकर उसकी गांड तक चुम्बनों की बौछार कर दी. बिहार का बफ वीडियोलड़का चूचियों को अपने जीभ से सहला रहा था कभी हल्के दांत से काट लेता और हर बार लड़की चिहुँक जाती थी.

उसने दो स्माल पैग बनाए और हम लोग आराम से मूवी देखते हुए ड्रिंक करने लगे. इस तरह की चुसाई में उसकी जितनी भी लार निकलती, मैं उसे अमृत समझ कर पीता चला गया.

मैं आज आपको मेरी एक घटना बताने जा रहा हूँ जो सिर्फ मुझे और शीतल को ही पता है. मैं बाथरूम में कपड़े लेकर नहीं गयी थी इसलिए मुझे नहाने के बाद नंगी ही बाहर आना पडा. कुछ देर बाद जब पानी से वह पूरा भीग चुकी, तब मैंने उसकी छोटी छोटी चुचियों को चूसना चालू कर दिया.

मैं मम्मी से बोली- मम्मी, तुम आराम करो, मैं तुम्हारे लिये कुछ खाने को लाती हूँ. उसकी दोनों छातियाँ को मैंने अपने हाथों मे पकड़ कर मसलनी शुरू कर दिया. जाते ही मैंने दोनों को किस किया, अपनी बेटी रेखा को कहा कि कपड़े उतार कर आए.

मामी धीरे से बोलीं- सभी एक दूसरे का यौवन रस पी जाना, जिसे पीने के लिए देवता को भी मनुष्य अवतार लेना पड़ता है.

जब हम दोनों के लंड, चुत की गरमी शांत हुई तो मैं उठकर सीधे अपने रूम में चला गया. ”मैं अपने पापा के साथ जो चाहे करूँ तुम्हें क्यों खुजली हो रही है? तू भी ले ले मजे.

अभी तेरी चूत तो यूं ही टाइट रहेगी सालों साल तक और किसी कुंवारी लड़की की कमसिन चूत की तरह मज़ा देती रहेगी मुझे. थोड़ी देर सोचने के बाद उसने धीरे से बोला- काजल…रमेश की आवाज़ सुनते ही सुरेश और काजल भौंचक्के से रह गए. मैंने चाचाजी की तरफ देखकर मना करना चाहा, पर मैं कुछ कहती उससे पहले चाचाजी ने मेरे होंठों को अपने होंठों में भर के लिपलॉक कर लिया और चूसने लगे.

मैंने भैया का लंड पकड़ा और मुंह में भर लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. उस वक्त मेरी उम्र 31 साल थी।दोस्तो! मेरी पिछली कहानीपड़ोसन भाभी को फ्री स्पर्म डोनेट कियामें आपने पढ़ा कि मेरी पड़ोसन वैशाली को मैंने सीधा स्पर्म डोनेट किया. उसके बाद संजय सीधा लेट गया और बरखा को लंड पर बैठने को कहा ताकि पीछे से साहिल अपना लंड उसकी गांड में घुसा सके.

घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी जब भी जीजू को मौका मिलता है, वो मुझे किस करते हैं और मेरी चूची को दबाते हैं. दरवाज़ा बंद करके बिना लॉक किये वो टावल निकाल कर पप्पू के दिये हुए कपड़े पहनने लगी.

भोजपुरी देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो

हम वापस गोपाल के पास जाते हैं, आज वहां भी बहुत कुछ मसालेदार होने वाला है. अमित ने आगे बढ़ के माया के एक बोबे को मुँह में भर लिया और माया की चुत की गर्मी के आगे टिक ना सका. मैं जल्दी से उठकर बाथरूम चली गयी क्योंकि मुझे ज़ोर से सू सू आ चुकी थी, सू सू करने के लिए मैं नीचे बैठ गयी और ज़ोर लगाने लगी, सू सू के साथ मेरी गांड से बैंगन भी निकल गयी, जब मैंनेगांड में उंगलीडाली तो महसूस हुआ कि गांड का छेद पूरी तरह से गोलाई में खुल चुका था, अब मामा जी का लंड आसानी से जा सकता था.

फिर जब मैं उसके घर से निकला तो वापस उसने मेरे आँख पर पट्टी बांधी और मुझे लेकर चल दी. मेरी चूत अन्दर तक कोयले की तरह जलने लगी है, अब तो हे भगवान माफ़ करना. बीएफ हिंदी पिक्चर दिखाइएथोड़ी देर बाद मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर रख दिया और पजामी के ऊपर से ही उसकी चूत सहलाने लगा.

मैं आंटी के ऊपर आकर दोनों हाथों से उनके मम्मे मसलते हुए मम्मे चूसने लगा.

पप्पू को देखते हुए उसने कहा- हम्म छोड़ो उसे, जहाँ जितना करना है उतना ही करना. उसने फिर से 2 धक्के लगाए और अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चुत में घुसा दिया.

साथ ही आज वो अपने अंकल के बारे में बताने वाली है, जिन्होंने टीना की चुत की सील तोड़ी थी. यह मुझे अच्छा नहीं लगा क्योंकि मेरा पति कैसा भी था, मैंने उसके लिए ही व्रत किया था. पहले तो मौसी ने मेरे खड़े लंड को निहारा और बोलीं- तुम जानना चाहते हो ना कि ये सख्त क्यों हो जाता है?मैंने तुरंत हाँ कहा, तो मौसी ने मुझे अपने पास खींचा और मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगीं.

दीदी बेडशीट को ज़ोर से पकड़े थी… जीजाजी पेले जा रहे थे… दीदी अपनी कमर उचकाते हुए चुदवा रही थी.

फिर ससुर जी ने मम्मी की चुत पर अपनी जीभ रख दी और वे जीभ को मम्मी की चुत में अन्दर-बाहर कर रहे थे. वो बोला- यो ए लेना था नै तन्नै… ले इब साले… पूरा चूस!(यही लेना था ना तुझे. मैं तो यही चाहता भी था कि चाची अपनी मर्जी से मुझसे चुदवाएं क्योंकि ऐसे चोरी-छुपे नींद में मैं हमेशा तो उन्हें नहीं चोद सकता था और मम्मी के आने बाद तो ये बिल्कुल बंद हो जाता क्योंकि चाची फिर अपने घर में सोने लगतीं.

बहन भाई का बीएफ हिंदी मेंउसके बाद उन्होंने मुझे अपने साथ चलने को कहा, मैं उनकी गाड़ी में जा कर बैठ गई. तभी किसी ने मेरी भी चुत सहलाई। मैंने चौंक कर देखा तो दो लड़कियां मेरे भी अगल बगल में आ गयी थी.

गांव की सेक्सी वीडियो बीपी

माया ने अपने दूध सहलाते हुए अपना मुँह खोल दिया और उस्मान का लंड अपने गले तक जाता हुआ महसूस करने लगी. मैं चिल्लाई और बेड से उतर कर भागने की कोशिश की, पर उस आदमी ने मुझे पकड़ लिया. उसकी कुंवारी रोयेंदार बुर की महक से अब मेरा भय जाता रहा और मैं पूरी तन्मयता से उसकी छोटी सी बुर चाटने लगा.

मुझे पता था कि जीजू मुझे चोदना चाहते हैं क्योंकि मैं जब भी बाथरूम में नहाती थी और बाथरूम से बाहर आती थी, तो जीजू बाथरूम में जाकर मेरी ब्रा और पेंटी में मुठ मारते थे और मैं ये बात जानती थी. तभी दो अंकल ने नंगे हो कर मेरे सामने अपना अपना लंड कर दिया, मैंने बिना झिझके उनके लंड पकड़ लिए और बोली- कमीनो, इसी से मुझे चोदोगे? तुम्हारे लौड़े बहुत मस्त हैं, आज तुम्हारी रंडी बन जाती हूं. लगभग 10-12 पिचकारियां लगी और मैं उस की चूत में लंड डाल कर उस से चिपक कर खड़ा हो गया, लंड अब भी धीरे धीरे वीर्य छोड़ रहा था.

उसके बाद ब्रा को हटाया और बुरी तरह मेरे मम्मों को चूसते हुए पूरे लाल कर दिए. वो टावल बाँध कर, कपड़े उठा कर ज़रा शर्माते हुए बोली- उफ्फ, इस टावल को भी अभी गिरना था क्या? पर अब ठीक है… क्या करें? ये कपड़े तो पहनने ही पड़ेंगे… नहीं तो टावल बार-बार खुलेगा. वो मुझे रूम में बिठा कर दूध ले कर आई, तो मैंने कहा- आज मैं दूसरा दूध पीने आया हूँ.

फिर मैं धीरे धीरे अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा और अब भाभी पूरा चुदाई का मजा ले रही थी. मैं रूम में गया, तो आंटी ने मुझसे कहा- मयूर, ये ब्रा का हुक लगा दे.

पूजा ने लंड को अच्छे से चूस कर चिकना किया, उसके बाद वो गांड फैला कर घोड़ी बन गई- लो मामू आपकी पूजा की गांड हाजिर है… घुसा दो अपना लंड और कर दो इसका भी मुहूर्त अपने लंबे लंड से.

’मैंने भाभी का पेटीकोट भी निकाल दिया अब वो मेरून ब्रा और ब्लैक पेंटी में थीं. वीडियो में हिंदी सेक्सी बीएफयह कहते हुए मैं उस बाहुबली जवान मर्द से लिपट गया और एक धक्का देते हुए उसे दीवार से टिका दिया. हिंदी बीएफ फिल्म चलने वालीमैं अब भी उससे लिपटा हुआ ही था और उसने भी मुझे अपनी मज़बूत भुजाओं में दबोच रखा था. तभी अचानक रहमत ने एक ही झटके में माँ की चूत में पूरा लंड पेल दिया, लंड अंदर जाते ही दर्द के मारे माँ का मुँह खुला का खुला रह गया.

मैं बाथरूम में गया तो मॉम की 38 इंच की चूचियां मेरे सामने थीं, मगर मॉम ने सलवार पहन रखी थी.

एक दिन मैंने अंजलि को फोन किया और बोला कि मुझे तुमसे मिलना है और कुछ बात करनी है. दोस्तो, ये मेरी रियल सेक्स स्टोरी थी, आपको कैसी लगी, मुझे कमेंट्स करके जरूर बताएं!अभि. आंटी ने मुझे बताया- अरे डर मत… वो साली तो खुद ही अपने नौकर से चुदती है क्योंकि उसका पति हमेशा बाहर ही रहता है.

मेरे रुक जाने से बहूरानी ने मुझे प्रश्नवाचक दृष्टि से देखा जैसे आंखों ही आंखों में पूछ रही हो कि रुक क्यों गए. अंधेरे कमरे में नंगे फर्श पर चूत मारने का वो मेरा पहला अनुभव था; मेरे घुटने और कोहनी फर्श पर रगड़ने से दर्द करने लगे थे लेकिन चुदाई में भरपूर मज़ा भी आ रहा था. दोस्तो, मेरी इस देसी हॉट सेक्स स्टोरी पर आप अपने विचार भेज सकते हैं.

ગુજરાતી શેકસી વિડીયો મોકલો

एक रात जब मेरी आँख खुली तो भाभी रात को मेरी तरफ आकर भैया के ऊपर दूसरी टांग डाल कर सो रही थी। उनका एक पट नीचे मेरी तरफ था और गाण्ड आधी उघड़ी हुई थी। उस रात भाभी ने एक बहुत ही छोटा सा नाईट गाउन पहना था। उस गाउन के आगे के बटन खुले थे जिससे उनके मम्मे भी आधे बाहर निकले हुए थे. तभी शानू की गर्लफ्रेंड रिया ने कहा- वो मेरे साथ जा सकती है, अगर प्राब्लम ना हो तो!तभी श्रुति ने भी तपाक से ‘हाँ’ में जवाब दिया. तो वो मुझे मैसेज या कॉल करती थी और मैं अपने लौड़े से उसकी खुजली को बुझा देता था।दोस्तो, कैसी लगी मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी.

दोस्तो! मैं कलकत्ता में भैया के घर तीन महीने रहा और सैकड़ों बार भाभी को तरह तरह से चोदा। कभी बाथरूम में इकट्ठे नहाते हुए तो कभी किचन में ही पीछे से खड़ी खड़ी के डाल देता था। भैया आते रहते थे और एक आध हफ्ता रुक कर जाते रहते थे। मेरे कोलकत्ता से जाने के बाद पता चला कि भाभी ने एक बच्चे को जन्म दिया है और वे माँ बन गई हैं.

अब मनोज का लंड नेहा की चूत में घुस चुका था और इधर मैं नेहा की गांड मार रहा था.

मम्मी मुझे पार्टी में जाना है लेट हो जाऊँगी रात को?”किसकी पार्टी? अचानक. उसका फनफनाता लंड जिसमें वीर्य की गंध आ रही थी मेरी नाक से जा टकराया. एक्स एक्स एक्स बीपी एक्स एक्सशादी में हम लोगों की ज़्यादा बातें नहीं हो पाईं लेकिन हम लोगों की नजरों ने बहुत कुछ बातें की, जिसका फायदा मुझे उस वक़्त मिला जब मैं अपनी बुआजी के घर गया.

मेरी उम्र 31 साल है और मैं एक मल्टिनेशनल कम्पनी में अच्छे पद पर हूँ. हम वहीं बैठ कर बातें करने लगे, उसने बताया कि उसका पति सेल्स मैनेजर है और अक्सर आउट ऑफ़ टाउन ही होता है. आपने मेरी पहली रियल सेक्स स्टोरीसोशल मीडिया पर पंजाबी चुत मिलीके दोनों पार्ट को बहुत पसंद किया, उसके लिए धन्यवाद.

दीदी ने बोला- सागर एक तो तेरा लंड ही इतना बड़ा है कि मेरी चुत में अभी दर्द हो रहा है और तू मेरी गांड में भी घुसाना चाहता है. मेरी ट्रू सेक्स स्टोरी पर अपने विचार मुझे अवश्य मेल करें![emailprotected].

अब मैंने जैसे ही अपना लौड़ा सोनिया की गांड में डाला तो सोनिया तो गांड उचका उचका कर अपनी गांड मराने लगी जैसे उसे जन्नत का मजा आ रहा हो.

अतुल- मैंने कब मना किया, पहले चुत का मज़ा लूँगा और फिर बारी-बारी से तीनों की गांड भी मारूँगा. मैं- तो अब क्या इरादा है?आयशा- अब तो चलना चाहिए, नहीं तो देर हो जाएगी. मैंने भाभी के होंठों पे एक किस किया और अपने पूरे लंड को उनके भोसड़े के अन्दर जड़ तक डाल दिया.

अंग्रेजी बीएफ सेक्सी फिल्म मेरी चूत में बार बार तेज खुजली सी मचती और वो आपके लंड की आस लगाये पानी छोड़ने लगती, थोड़ी देर मैंने अपनी उंगली भी चलाई इसमें पर अच्छा नहीं लगा. उस ने मुझ से पूछा- क्यों? मुझ में ऐसी क्या खास बात है?मैंने कहा- तुम बहुत सेक्सी और सुंदर लड़की हो.

जैसे जैसे वो मेरा लंड मुँह में अन्दर ले जाती, उसकी जीभ की गर्माहट मुझे अपने लंड पर महसूस होती. आपको मेरी यह गे सेक्स स्टोरी कैसा लगा मुझे जरूर बताइयेगा और अगर मैं आप की कोई सेवा कर संकू तो मुझे याद कर लेना क्योंकि आपका ये लिक्विड आप की सेवा में हमेशा तत्पर है. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:क्सक्सक्स फिल्म दिखा कर साली को मनाया चुदाई के लिये-2.

मोटी औरत की बीएफ पिक्चर

काजल, क्या तुमने कभी इसके पहले सेक्स किया है या किसी से चूत को चटवाया है?काजल- नहीं भैया. उधर मैंने अपने लंड से झांटें साफ़ कीं और लंड पर क्रीम आदि लगा कर उसे चमकाया और लंड को लेकर अपने मन में बुदबुदाया कि कुछ दिन और रुक जा भोसड़ी के … बस जल्दी ही तुझे तेरी चुत मिल जाएगी. ’ इस तरह की आवाजें निकालती और कहती- बहनचोद आज चोद दे अपनी इस नाज़ुक सी छोटी बहन को.

वो हाथ का सहारा ले कर बैठी और मैंने मिट्टी से सना लंड चूचियों के बीच में लगा कर उसके मम्मे जोर से दबाए और पेलने लगा. मैं धीरे से बेडरूम के दरवाजे के नीचे के छोटे से छेद की तरफ देखती जा रही थी.

अचानक उसने मेरा सर धकेल कर कहा- जानू, आज मैं कुछ अलग कुछ भद्दा सुनना चाहती हूँ.

प्रेशर से पानी चूत में भर गया और उंगली से साफ की, फिर नलका पर लगी सब मलाई बाहर निकाल दी. भाभी ने नीचे मेरे लंड को हाथ में लेकर अपने मुँह में ले लिया और मस्त रंडी की तरह से चूसने लगी. मैंने हिम्मत करके एक बार फिर से अपना पैर उसके साथ टच किया, इस बार भी उसने कुछ नहीं बोला.

फिर हाथ से भैया के आंड को छुए, भैया को दर्द हुआ तो भैया ने अचानक आँखें खोल दीं और मुझे देखा तो मेरे हाथ मेरी पेन्ट में थे. करीब दस मिनट की भयंकर चुदाई के बाद दीदी दहाड़ मार मार कर झड़ने लगी और उसने मामी के एक चुचे को इतनी जोर से भींचा कि दीदी की दहाड़ के साथ मामी की भी चीख निकल गई. आपको लड़की की पसंद का ख्याल रखना होता है और इस सब में मैं बहुत माहिर हूँ.

मैंने कहा- आप दोनों कह रही थीं कि चुत होती है, ये क्या काम करती है?माँ ने मुझे लिटा दिया और मेरे लंड को चूसने लगीं.

घोड़ा वाला सेक्सी बीएफ एचडी: लगभग 15 मिनट तक ये वहशी मेरे मज़े लेते रहे और मैं दर्द से तड़पती रही. आपको मेरी पिछली कहानीभोला भाई और चुदक्कड़ बहनयाद होगी जिसमें मैं बहुत चुदक्कड़ किस्म की रंडी जैसी हो गई थी और चुदाई का चस्का लग जाने के कारण एक बार पापा ने मुझे बहुत मारा था तथा मेरा घर से बाहर निकलना बंद करवा दिया था.

इरफान अभी भी पूरी तरह बेहोश नहीं हुए थे, हमने उन्हें बेड पर उल्टा ही लेटा दिया. मेरी उम्र इस समय साढ़े अठारह साल है, मेरे परिवार में मम्मी पापा, भैया भाभी और मैं हूँ, मेरे पापा एक बिजनेस मैन हैं और मेरी मम्मी एक आई. सामने वाले एक कमरे का दरवाज़ा ढला हुआ था और एक का पूरा खुला हुआ था.

इधर मेरा लंड उसकी चूत का आभास पा कर और भी तन गया और उसकी जाँघों से टकराने लगा.

टॉवल लेने के साथ मोना ने नीतू को काम भी बता दिया कि वो बाहर झाड़ू लगा दे. तो रियल में कैसा होगा।मैंने तुरंत बोल दिया- लो तो आज आपको दिखाए देता हूँ. हालांकि लड़के के लंड से खून नहीं निकलता है … मगर उसकी दर्द भरी आहें या चेहरे पर झलकता दर्द किसी भी पारखी महिला को समझ आ जाएगा कि जिस लड़के का लंड उसने अपनी चुत में लिया है, वो लंड कुंवारा है और उसका तागा टूटने से ही उसे दर्द हो रहा है.