बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी

छवि स्रोत,फुल सेक्सी यूट्यूब

तस्वीर का शीर्षक ,

बागी सेक्सी वीडियो: बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी, जब तक उनका बेटा स्कूल से घर नहीं आया हम दोनों चुत चुदाई का खेल खेलते रहे.

हिंदी सेक्सी पिक्चर फिल्म दिखाओ

छाया ने उससे बात की और उसे बताया कि ऐसा ऐसा है, तो क्या मैं तुम्हारे यहां 15 दिन तक रह सकती हूँ या तुम चाहो तो मेरे यहां पर रह लो. सेक्सी हिंदी में देखने वालाऔर अनुभवी होने के नाते मुझे पता था कि इस नई उम्र के लड़कों में काम-शक्ति बढ़ने लग जाती है।मैंने कहा- आगे से नहीं करना.

मैंने धक्कों की स्पीड बढ़ानी शुरू कर दी तो उनके मुँह से आवाज़ निकलने लगी- आह… आआअह… ज़ोर से… चोद दो… उम्म्मक… आआह…करीब 10-15 धक्कों के बाद में रुक गया और अब मैंने बेड पर चित्त लेटते हुए भाभी को अपने लंड पर बिठा लिया. देसी नंगी सेक्सी चुदाईमोना- ये क्या कर रहे हो आप? अभी तो मेरी लेग की कुछ एक्सरसाइज बाकी है.

कुछ दिन ऐसा ही चलता रहा और कुछ लोगों को मेरी सोसाइटी में पता चल गया था कि मैंने और रोहण ने शादी कर ली है.बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी: जैसे-तैसे खुद को संभाला मैंने… दुनियावी तौर पर प्रिया पर मेरा किसी किस्म का कोई हक़ ही नहीं बनता था और सब से बड़ी बात यह थी कि मुझे अपना परिवार, अपनी बीवी जान से ज्यादा प्यारे थे.

मैं भी भाभी के बगल से जाकर रज़ाई में घुस गया और उनकी जाँघों को और मम्मों को दबाने लगा.मैंने उसको लिटा कर अपना लंड उसकी चूत पर रखा और जोर का धक्का लगा दिया.

ट्यूशन टीचर का सेक्सी वीडियो - बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी

मुझे अपनी बहू की कैमल टो बहुत सेक्सी लगी तो मैंने अपना स्मार्ट फोन निकाल कर उसकी पैंटी की एक फोटो खींच ली.एक प्रशंसक, जिनका नाम विनोद है, उन्होंने मुझे मेल किया और कहा कि उन्हें मेरी कहानी काफी पसंद आई और वो उसी विषय में मुझसे फ़ोन पर बात करना चाहते हैं.

जैसे जैसे मेरे हाथ उनकी चूत को स्पर्श करते, उनकी मादक चीख निकल जाती. बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी शादी के दो दिन के फंक्शन में हमारी मुलाकात की शुरूआत बहुत ही ख़राब हुई, जो भड़काऊ और झगड़ने जैसी थी.

ये मिनी स्कर्ट की तरह थी लेकिन इसमें पेट खुला या पीठ का कुछ भी खुला नहीं था.

बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी?

मैंने कहा- भैया, इसकी में तो पूरी लौकी भी घुस जाती है तो हमारा बैंगन क्या चीज़ है. चाची मेरे लिए चाय बना लाईं और कहने लगीं- बेटा जूता उतार कर आराम से बैठ जा मैं जरा कपड़े धो कर अभी आई. अवी- सच में तुम मुझे कुछ देना चाहती हो?मैं- हाँ बताओ तो!अवी- पहले वादा करो जो मागूंगा वो तुम दोगी.

यह सेक्स स्टोरी आपको कैसी लग रही है, मुझे मेल करके बतायें![emailprotected]कहानी का अगला भाग :दुल्हन बन कर भाभी ने सुहागरात मनाई-2. मैंने कहा- इस वक्त?उन्होंने कहा- देखो बंटी राजा, हम गाड़ी गाड़ी खेलते हैं. किशोर उसके चूतड़ चाटने लगा और जीभ उसके छोटी सी गांड की रिंग में ऐसे फेर कर जीभ दबाता कि वर्षा उसके मुँह को आह्ह्ह.

हम दोनों के मुँह से बड़ी ही मस्त मस्त आवाजें निकल रही थीं- आआह… आअह… इसस्स्स… यस यस्स…पूरे कमरे में हमारी चुदाई की मधुर आवाजें गूँज रही थीं- फच फच. वे मुस्कुराईं और कहने लगीं- आप सब देख चुकी हैं तो आपसे क्या छुपाना, वैसे भी किसी को मैं अपना राजदार बनाना चाह रही थी. दीपक भैया ने रीना के नीचे कटि प्रदेश पर आक्रमण कर दिया और मैं पहले से ही उसके चुचों, होंठों की चुसाई करता रहा.

पर भाभी की चुत बहुत टाइट थी ऐसा लग रहा था जैसे उसकी चूत की सील अभी तक बंद हो. किशोरियों या टीन गर्ल्स जैसी कमनीयता या आभा, ग्लो, दीप्ति या नूर कुछ भी कह लो; उसके जिस्म के अंग अंग से छलक रहा था.

वो नहा कर आई थी, उसके बाल गीले थे और रेड कलर की ब्रा ओर पेंटी में मेरे सामने आकर खड़ी हो गई.

पर मेरी फट रही थी तो मैंने फिर से उसे अपने से दूर किया और जाने लगा.

उसने कंडोम नहीं चढ़ाया था, वो पूरी तरफ से जलने लगा और एक जोर की चीख मार कर पूजा से दूर हट गया. एक दिन सुबह जब मैं बरामदे में कपड़े धो रही थी, तो मुझे महसूस हुआ कि कोई ऊपर के कमरे की बाल्कनी में है, जो संजय के कमरे की थी. जहां तक महिलाओं का सवाल है, बच्चे हो जाने के बाद जिम्मेदारियों की वजह से उनका धीरे धीरे सेक्स से लगाव कम हो जाता है.

भैया ने बहुत जमकर चुदाई कर डाली क्या?”यह सुन कर वो जोर से रोने लगी. मानवी भाभी शरमा रही थी, उसने जल्दी से तौलिया उठाया और बाथरूम में वापिस चली गई. मैंने कहा- ओह ललिता तुम काफ़ी गरम हो जान… ऊहह ऊहह…फिर वो खड़ी हुईं, मैंने उनके सारे कपड़े उतार के उनको दरी पर लेटा दिया और उनके होंठों को चूस कर, मम्मों को चूस कर, दबा कर उनकी चुत के पास आ गया.

तो फिर मैंने अपने आपको संभाला और बाहर आ गया।उसने ऑमलेट और परांठे बनाए और बेडरूम में लेकर आ गई.

जोया केवल ब्रा में ही रह गई थी, इससे उसकी मदमस्त चूचियां भी ब्रा फाड़ कर बाहर आने के लिए मचल रही थीं. तभी मुझे याद आया कि मेरा फोन ऊपर है, सो मैंने सोचा कि जाकर ले आती हूँ. हमें इस स्थिति में देख कर उसका मुँह खुला रह गया क्योंकि मेरा लंड मोना की चूत में था और मैं उसके दोनों हाथ पीछे से पकड़े हुए था.

मैंने भी थोड़ा संभलते हुए रुकना ठीक समझा और उसके होंठों पर आराम से किस करने लगा. इसके बाद मैंने दीदी के चूचों पर हाथ रखा और उनकी चूचियों को दबाने लगा. तलाक का केस सालों चलता रहा, इसी बीच इस गम से माधुरी के पिता बीमार रहने लगे.

दोस्तो, आपको मैं बता दूँ कि मेरी चूत के होंठ भी मेरे होंठों की तरह मोटे हैं भग्नासा फूला हुआ है और चूत किसी डबल रोटी की तरह फूली हुई है.

मुझे पटा था कि कविता कहाँ सोयी हुई है, मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और किस करने लगा. चूंकि हमने कभी एक दूसरे को देखा नहीं था तो मैंने उनको फ़ोन पर बताया कि मैं स्टेशन के बाहर गाड़ी पार्किंग मैं उनका इन्तजार करूंगा.

बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी पहले की बात और थी… लेकिन अब प्रिया दो साल बड़े शहर में रह कर, बड़े शहर की आज़ादी के रंग ढंग देख कर वापिस गयी थी तो… उस का ऐसी बंदिशों से ऊबना स्वाभाविक ही था. सुमित थोड़ा माया के पास खिसका और अपनी गर्म सांसें माया के पेट पे छोड़ने लगा.

बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी उन्होंने अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चुत पर लगाया और बैठ गईं. मीना जी वही बाम की शीशी अपने हाथों में घुमा रही थीं, पर जब मैंने बगल पर अपनी उंगलियाँ सटाईं तो वो बेचैनी में जल्दी जल्दी शीशी को अपने हाथों से घुमाने लगीं.

अब उसने मेरी बीवी का एक स्तन अपने मुँह में भरा और निप्पल चूसने लगा.

बीएफ वीडियो हिंदी मूवीस

बोल है कि नहीं?शाकिर- भाई साहब यह बात तो आप मेरे से बेहतर जानते हैं. फिर दो तीन दिन बाद अमित ने कॉल किया- कहाँ हो मिनी तुम्हें अपना काम याद है ना?मैं- हाँ याद है बताओ कब और कहां उनके पापा से मिलना है?अमित- हाँ वही बताने के लिए कॉल किया है. इस तरह सेचाची के संग चुदाई की शुरूआत हुई, इसके बाद तो चाची की मालिश और चुदाई का काम रोज का हो गया था.

दोस्तो, मैं यहाँ एक सलाह देना चाहूँगा कि सुरक्षा के लिए, यौन रोगों से बचने के लिए, अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कॉंडम का इस्तेमाल ज़रूर करें. मैंने अपनी पसंद का वो टॉप लेकर चल दी, तो अवी ने अपनी पसंद की ड्रेस भी दे दी और कहा- चलो देखो पहन कर देखो, सही होती है या नहीं. ”गोलू रोशनी के सर के पास जाकर उसके दोनों हाथों को ऊपर खींचकर एक वी शेप बना दिया.

मैंने सोचा कल इसे मेरी वजह से डांट पड़ी है तो क्यों ना आज इसे बाहर कुछ अच्छा सा खिला कर खुश कर दिया जाए.

वे मुस्कुराईं और कहने लगीं- आप सब देख चुकी हैं तो आपसे क्या छुपाना, वैसे भी किसी को मैं अपना राजदार बनाना चाह रही थी. मैं तो बहुत देर से जोया को चोदना चाह रहा था, इसलिए कुछ देर आराम करने के बाद मैंने राहुल से जोया को बेड के किनारे सिर करके चोदने को कहा. फिर काफी देर तक मैं उसकी चूत को ऐसे ही चाटता रहा कभी धीरे से तो कभी तेज तेज!जब उसको बहुत ज्यादा मजा आने लगा तो वो मेरा मुँह अपनी चूत में दबाने लगी मुझे सांस आनी बंद सी ही गयी थी।मैं उसकी चूत चाटने के साथ साथ उसके दूध को भी दबाये जा रहा था.

अब मैंने चाची की टांगें उठा कर अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड चाची की चूत पे सैट करके हल्का सा धक्का लगाया ही था कि चाची की चीख निकली- उई अम्मी. मैं आप सभी को उनके बारे में बता दूँ कि उनका नाम ज़ायरा (बदला हुआ) था. थोड़ी देर वहाँ पर मालिश करने के बाद चाची ने कहा कि थोड़ा और ऊपर लगाओ, वहाँ ज्यादा हो रहा है.

मैं- ठीक है मैं पूरी तैयार हो कर जाऊँगी लेकिन अपना नाम शालू क्यों बताउंगी?अमित- अरे जो रूपये आए हैं वो केवल शालू को ही मिलेंगे, वो मेरी असिस्टेंट है ना. वो मुझे बोलने लगीं- प्लीज़ अनिकेत अन्दर डाल दो… मैं 4 सालों से प्यासी हूँ.

एक दिन वो अपने भाई के सामने, जो कि मेरा दोस्त है, मुझसे पूछने लगी- मिठाई कैसी थी?तो मैंने बोला- बहुत मीठी. चाची की दर्द और आनन्द भरी सीत्कार निकली- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मर गई! फाड़ दी रे तूने अपनी चाची की चूत! मार दिया अपनी चाची को!मैंने चाची से पूछा- अरे चाची, आप तो ऐसे चिल्ला रही हो जैसे पहली बार चुद रही हो?चाची बोली- आठ महीने हो गए तेरी चाची को चाचा से चुदे! इतने दिनों से बंद पड़ी चूत टाइट हो जाती है. उसकी टी-शर्ट में से उसकी खूबसूरत जवानी उभर कर आने लगी जिसे देख कर मेरा लौड़ा एक बार फिर अपनी ऊँचाइयों पर सर उठाने लगा था। मधु मिनी शॉर्ट्स में बहुत कामुक लग रही थी।तभी मधु ने मुझसे कहा- वाटर राइड पर चलें?मैं कहा- ओके.

मैंने और जोर से शॉट लगाया तो आधा लंड मामी की चूत को फाड़ता हुआ चला गया.

जब और सुबह जब मैं उठी तो मेरी हालत खराब हो रही थी, इस चुदाई के कारण मैं दोपहर तक दिक्कत में रही. वो धीरे धीरे कर रही थी… मेरे लम्बे और मोटे लंड के माप को भाम्प कर वो… शायद वो घबरा गयी… उसके हाथ कांपने लगे. सुबह उठा तो रात का सीन आँखों के सामने आ गया और लंड फिर से खड़ा हो गया.

डॉक्टर अच्छी थी, उसने नेहा की तकलीफ समझी और मदद के लिए तैयार हो गई।लेकिन डॉक्टर ने बातों बातों में नेहा के घर का पता और फोन नम्बर पूछ लिया. अब मैं पहले धीरे धीरे चुदाई कर रहा था, जिससे उनको दर्द भी कम हो और मजा भी आता रहे.

एक दोपहर को हम और दीदी पास पास सो रहे थे, अचानक दीदी ज़ोर ज़ोर से ‘म्म्म्मो. मैं वापस से उसके ऊपर आया और अपने लंड को वापस से एक झटके में ही पूरा अन्दरपेल दिया. मैंने अभी तक किसी भी लड़की को चोदा नहीं है, ना ही किस किया थादीक्षा अभी पेपरों की तैयारी कर रही है.

बीएफ बनाने की विधि

इसी लिए तो आपसे ये टिकट करवाई है, अगर वो होते तो…इतना कह कर वो अटक गईं.

हम दोनों एक ही वाटर राइड पर सवार हो गए। आगे मधु बैठी थी और मैं उसके पीछे उसकी कमर को पकड़ कर बैठा था. मैं मदभरी सिस्कारियां लेती हुई अपना चेहरा इधर उधर घुमा रही थी और संजय मेरी गरदन को अपनी लार से भिगोता हुआ लगातार चूम रहा था. ऐसा नहीं कि यह परिवार शुरू से इस हालत में था, यह खाता पीता परिवार था, मंजरी के नाना की हरियाणा के एक गाँव में जमीन थी और वे गाँव के जाने माने वैद्य थे तो अच्छी खासी आय हो जाती थी.

अब आगे:उधर सामने से सुरेश अंकल ने पैरों के अंगूठे से चूमना शुरू किया और फिर मेरे अंगूठे को चूसने लगे, थोड़ा ऊपर मेरे दोनों पैरों को चाटते हुए ऊपर तरफ आने लगे. आगे मेरी एक दुखभरी चुदाई की कहानी है, वो मैं आपको बताना चाहता हूँ कि कैसे मेरी प्यारी रोशनी मेरी भाभी बन गई. सेक्सी पिक्चर चला सेक्सीमैंने चाची को डॉगी स्टाइल में होने को कहा, तो वो झट से गांड उठा कर कुतिया बन गईं.

” कहते हुए माया ने अंकित का लंड अपनी चुत पर सैट किया और धीरे धीरे नीचे होने लगी. बॉस- नेहा रंडी मेरे लंड का पानी निकलने वाला है, तेरी गांड को भर देगा.

फिर मैं बाथरूम में गयी और अपनी हॉट चूत में खीरा डालने लगी और वासनामयी आवाजें निकालने लगी- आह आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह!फिर थोड़ी देर अपनी चूत को खीरे से चोदने के बाद मेरी गर्म चूत ने पानी छोड़ दिया और फिर मैं भी रूम में आकर सो गयी. तो मैं गाण्ड हिलाने लगी। यश मेरा इशारा समझ गया और झटके मारने लगा। मुझे अलग ही नशा सा छा रहा था और मैं यश से लिपटती जा रही थी। परन्तु मेरे भाग्य में चुदने का पूरा सुख नहीं लिखा था।”क्यों अब क्या हुआ?”थोड़ी देर बाद मुझे अपनी चूत में कुछ गिरता हुआ महसूस हुआ और यश मेरे ऊपर हाँफते हुए लेट गया। मैं नीचे से गाण्ड उचकाती रही. जब ज्वाइनिंग लेटर लेने पहुँचा तो वहाँ पे बैठी ख़ूबसूरत महिला के दर्शन हुए.

स्टेशन छोड़ने के पहले भी उसने मेरी बुर को एक बार हचक कर चोद दिया था. मैंने कहा- मैं तुम्हारे स्तन देख सकता हूँ?ना कहोगे तो नहीं देखोगे क्या?” उसने पलट सवाल किया. सैम- तो शालू तुम्हें अगले 20 दिन तक मेरी गर्लफ्रेंड बनके रहना है बस और ऐसे करते मुझे अच्छा तो नहीं लग रहा है.

मैंने कहा- आप नहीं जानती दीदी उस दिन के बाद मैं आपको हमेशा याद करता रहता हूँ और कभी कभी तो मुठ भी मारना पड़ता है.

चाची ने गेट खोला उन्होंने एक मैक्सी पहन रखी थी और शायद वो इस वक्त कपड़े धो रही थीं जिससे उनकी मैक्सी हल्की सी गीली थी. फिर लंड को उसके चूत के छेद पे रखा, मेरा लंड एकदम डण्डे की तरह टाईट था.

कैसे हो कुणाल?कुणाल ने घर के अन्दर दाखिल होते हुए ही आंटी के होंठों पर गहरा चुम्मा ले लिया और उसने गाना गाया- आपने बुलाया और हम चले आए…आंटी बोलीं- अभी अभी तुम्हें ही याद कर रही थी मैं!उनकी बड़ी लड़की कौमुदी आ गई और बोली- मम्मी, तुमने अड्रेस दिया लेकिन फोन नंबर क्यों नहीं लिया था. उधर बहूरानी भी वासना के ज्वार में बहने लगीं और अपनी कमर उठा उठा के लंड लीलने लगीं. अब मैं निर्मला की चूत में हाथ फिराने लगा, चूत की दरार को एक उंगली से सहलाने लगा.

वो भी तनिक लजा कर बोली- मैं भी तुमको पसन्द करती हूँ पर कभी कह नहीं पाई. वह चाहता है कि मैं उसकी स्टोरी पोस्ट करूं ताकि उसकी भोली भाली दिखने वाली बेवफा बीवी की गैंगबैंग चुदाई से आप सब अवगत हों और सचेत रहें. अब मैंने ज़्यादा देर नहीं की क्योंकि मुझे टाइम की अहमियत मालूम थी और मैं कोई रिस्क भी नहीं लेना चाहता था.

बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी करीब दो मिनट के लिप स्मूच के बाद संजय के होंठ मेरे गालों को चूमते हुए मेरी गरदन पे जा पहुँचे. जब और सुबह जब मैं उठी तो मेरी हालत खराब हो रही थी, इस चुदाई के कारण मैं दोपहर तक दिक्कत में रही.

छोटे बच्चे का सेक्सी बीएफ

तकरीबन जब दस बार मेरी उंगलियाँ उनके मम्मों को छुईं, तब मीना जी ने खामोशी को तोड़ते हुए कहा- बंटी, डरो नहीं और मुझसे शरमाओ भी मत, मालिश ठीक से करो और फिर तुम किसी को बताने वाले तो हो नहीं. जैसे ही मेरा मुँह उसकी चुत के ऊपर आया, उसकी चुत की खुशबू से मैं और ज्यादा पागल हो गया, मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और उसकी चुत पर अपना मुँह रख दिया. कुछ देर में मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और उसके बाद मैंने उसे जमीन पर लेटा दिया और उसकी टाँगें खोल दी और देखा तो उसकी चुत एक रंडी जैसी नहीं थी.

ये सुमित के मुँह से सुनते ही माया के होश उड़ गए सुमित तुम भी?”माया बस इतना ही बोल पाई. बाँए हाथ से मेरी खुली पीठ पर बांई तरफ कंधे के पास रखा और मुझे अपनी तरफ खींच कर अपने सीने से लगा लिया. ब्लू फिल्म सेक्सी फुल एचडी हिंदी मेंएक दिन मैं यूं ही बैठ कर टीवी देख रहा था, मेरा छोटा भाई दूसरे रूम में बैठ कर वीडियो गेम खेल रहा था.

वो तो सिर्फ बेड पर बैठी थी… गाउन के क्लिप खुल गए… मैंने उसका गाउन उतार फेक दिया… वो सिर्फ पेटीकोट और निकर पर ही थी.

तुम्हें किसी ने रोका है क्या? और मुझे गांव के अन्दर से होकर ले चलना ताकि मैं सभी लोगों से मिल सकूँ. प्रिय दोस्तो, मेरा एक गे दोस्त था शाकिर, गोरा माशूक था, पर बहुत चालाक एकदम कमीना था.

मैं फटाफट नहा धोकर अपनी बाइक से मार्केट चला गया और पायल भाभी के लिए एक डायमंड रिंग खरीदी और एक बड़ी सी यम्मी चॉकलॅट खरीदी. दूसरे दिन सुबह शहजाद ने मुझसे ऊपर के दोनों कमरे ठीक करने को कहा और ऑफिस चले गए. मैं हैरान था मगर ताज्जुब की बात ये है कि 4 साल की वासना आज इस सिवान में कैसे भड़क उठी? मरता क्या न करता? कई धक्के मारने के बाद मेरे लंड में चोटें आ गई थीं, मगर वासना अभी भी अतृप्त थी.

उसके गीले चमकते हुए गोल गुलाबी नितम्बों का जोड़ा मेरे सामने था जिनके बीच बसी चूत का छेद किसी अंधेरी गुफा के प्रवेश द्वार की तरह लग रहा था.

तभी माँ उठ गयी और कमरे का लाइट ऑफ़ करके नाइट बल्ब जला दिया और मेरे पास आकर बोली- उठ कर बैठ तू!तो मैं डर गया और कुछ नहीं बोला तो उन्होंने कस के डाँटा. अब मुझसे रुका नहीं गया तो मैं अपनी जीभ निकाल कर उसकी चूत के बाह्य विशाल लबों को चाटने लगा. जब मैंने मोना की चूत से सिर हटाया तो उस समय मोना जोया को किस कर रही थी और एक दूसरे की जीभ मुँह में लेकर चूस रही थी.

फोटो सेक्सी फिल्म वीडियोउन्होंने मुझे देखते हुए कहा- क्यों जनाब, आजकल पढ़ाई पे बहुत ध्यान दे रहे हो क्या बात है? वैसे लगता है तुम अपनी चाची को तो भूल ही गए, न तो मेरा फोन उठाते हो और न ही मिलने के लिए घर पे आते हो, मुझसे नाराज हो क्या?मैंने कहा- नहीं चाची, ऐसी कोई बात नहीं है. मैंने शावर बंद किया और चाची को दीवार से सटा दिया, मैं घुटनों के बल बैठ गया और अपना मुँह चाची की दोनों जाँघों के बीच घुसा दिया.

बीएफ पिक्चर चुदाई चुदाई चुदाई

यह कह कर आनन्द चला गया और रोज़ सुबह 7 से 9 बजे का आने का टाइम फिक्स हुआ. भैया ने रोशनी को उसके नाजुक पुट्ठों से उठा कर उनकी जाँघों पर रखा और करीब सौ झटके मार कर उसकी चूत में ढेर सारी मलाई की छूट कर दी. आज पहली बार मेरे शौहर के अलावा किसी और का लंड मेरी चुत की सैर करने जा रहा था.

चूत में स्पर्म होने की वजह से उसका लंड आसानी से फच की आवाज से चूत में घुस गया. मैं भी दीदी की पीठ पर हाथ को बड़े प्यार से अपनी उंगलियाँ खोल कर सहला रहा था. मैं पुणे में रहता हूँ और अभी सेकेंड ईयर में हूँ, उसी के साथ मसाज पार्लर में भी जॉब किया था, ताकि पढ़ाई के लिए थोड़े पैसे मिल जाएं.

ममता जी अब बिल्कुल नंगी मेरे नीचे लेटी हुई थी और मैं उनके मखमली बदन के स्पर्श का मजा ले रहा था. कुछ ही झटकों में उसके लंड की वीर्य की पिचकारी मेरी गांड के अन्दर ही छूट गई, गर्म गर्म वीर्य का अहसास मुझे बहुत अच्छा लगा. वो कॉलेज में हमेशा मेरे आगे ही बैठती थी, लेकिन उससे बात करने की मेरी कभी हिम्मत ही नहीं हुई.

चिंटू और परीक्षित तो उनका वीर्य निकलते ही रानी के साथ लिपट कर सो रहे थे, रवि भी फर्श पर बेसुध होकर सो रहा था तो मैं भी रवि के सा फर्श पर हो सो गई।[emailprotected]. क्या बोलेगी तू कि तूने पिंकी की चूत जला दी?”रोशनी भी अब रोकर सॉरी बोलने लगी.

मेरे दोनों हाथों ने प्रिया की पीठ को कस के जकड़ा हुआ था और प्रिया के सुपुष्ट उरोज़ मेरी छाती में धंसे हुए थे और मैं प्रिया के मुंह पर, आँखों पर, माथे पर, गालों पर, होंठों पर प्यार की मोहरें लगाता ही जा रहा था और प्रतिक्रिया स्वरूप प्रिया के मुंह से कभी आहें कराहें और कभी लम्बी लम्बी सीत्कारें निकल रही थी.

माया ने अंकित का लंड अपने मुँह से बाहर निकाला और अंकित के टट्टों को अपने मुँह में भर लिया. अल्लो सेक्सी ब्लूशाम को मैं वापस घर आया तब देखा कि भाभी ने ड्रेस बदल कर साड़ी पहन ली. कैटरीना की सेक्सी वीडियो दिखाइएवो एक बाजारू रांड की तरह गरम हो गई थी, उसने मुझे अपनी चुत की मलाई चूसने को कहा. मैं एक बार में ही अपना सुपारा डालना चाहता था और ये जानता था कि इससे इसे बहुत दर्द होगा.

बातचीत जान पहचान के बाद मुझे पता चला कि भैया की फैमिली एक महीने बाद आने वाली है.

मैंने अब उसे चित लेटाया और अपना लंड उसकी चुत पर रख कर उससे बोला- यार प्रिया, थोड़ा दर्द होगा तुम्हें… तो सह लेना. कुछ देर धक्के देने के बाद ही जोया के मुँह से हाँफने की आवाजें आने लगीं. अब मीना जी ने खामोशी तोड़ते हुए कहा- अच्छा कर लेते हो, देखो सरदर्द बिल्कुल चला गया और 3 घंटा बैठे बैठे शरीर भी अकड़ गया था, अब आराम मिल रहा है.

लण्ड पूरा अन्दर तक ठेल दिया। मेरी आँखों में पानी आ गया। मैं रोने लगी. दोनों ने नए दम से मुझे ठोकना चालू किया। दो ही मिनट में मेरी सारी हड्डियाँ चूं बोल गयी. मैंने भी बेख़ौफ़ होकर एक हाथ उनके मम्मों पर रख दिया और जोर से दबाने लगा.

ट्रिपल सेक्सी बीएफ ट्रिपल सेक्सी बीएफ

उसकी चूत अभी तक पानी छोड़ रही थी, जिससे पूरे कमरे में पच पच की आवाज गूँज रही थी. पापा जी, अब बताओ, आप कुछ कहने वाले थे मुझे देख कर?” बहूरानी सामने वाली कुर्सी पर बैठती हुई बोली. मैं- मतलब तू मुझे माफ़ नहीं करने वाली है? ठीक है तो अगर तू आज यहां से मुझे माफ़ किए बिना चली गई तो मैं तेरी कसम खा के बोलता हूँ कि आज मैं अपनी जान दे दूँगा.

ये तो अच्छा हुआ कि मैंने उसके हाथों को बाँध कर रखा था…मेरा लंबा मोटा लंड पूरा अंदर घुसेड़ दिया था मैंने!फिर मैंने कहा- पहली बार में दर्द होता ही है… सह लो थोड़ा सा…उसी की निक्कर उसके मुँह में डाली और धीरे धीरे शॉट लगाना चालू कर दिया.

पता नहीं सोनी सच मैं ज़्यादा अच्छी लग रही थी या फिर मेरे सर पे उसका भूत चढ़ा हुआ था.

अचानक प्रिया ने मेरे सर के पीछे के बाल अपने बाएं हाथ में कस कर जकड़ लिए और दाएं हाथ से अपना वक्ष पकड़ कर निप्पल बिलकुल मेरे होंठों पर रख दिया. इतना कहकर मैंने उनके दोनों मम्मों को पकड़ते हुए फिर से अपनी जीभ को उनकी नाभि में फिराना शुरू कर दिया. सेक्सी वीडियो चूत मारी माराउस वजह से मेरी पीठ उस नंगी जमीं से रगड़ खाकर छिल गयी मगर जिस तरीके से वो मुझे चोद रहा था इस तरह का छीलना मेरे लिए मायने नहीं रखता था.

मैंने उसे कोई क्रीम लाने को कहा और उसे उसकी गांड पर अच्छी तरीके से क्रीम को मला और उसे अच्छे तरीके से सहलाया. ये मिनी स्कर्ट की तरह थी लेकिन इसमें पेट खुला या पीठ का कुछ भी खुला नहीं था. रात को मुझे उन लोगों ने एक रूम दिया, जिसमें मैं रुक गया लेकिन बुआ और ताई रात को नहीं दिख रही थीं.

मैंने कहा- मैं तुम्हारे स्तन देख सकता हूँ?ना कहोगे तो नहीं देखोगे क्या?” उसने पलट सवाल किया. तो एक दिन जब मुझे ठीक लगा मैंने सानिया से पूछ ही लिया- मैंने उस दिन ट्रेन में जो भी किया तुम्हारे साथ… तो तुम्हें वो बुरा लगा था क्या?मेरे इस मेसेज से फिर 2 दिन तक सानिया का कोई जवाब नहीं आया।फिर तीसरे उसका मेसेज आया- गुड मॉर्निंग!तो मैंने फिर वही बात पूछ ली.

मैंभाभी की गांड चुदाई, उनकी 36 इंच की उठी हुई गांड को चोदने की तैयारी करने लगा.

कह रहा है पेट में कुछ दर्द सा है और बुखार जैसा लग रहा है, तो मैंने भी उसे छुट्टी के लिए कह दी और कहा है कि दवाई ले लेना. इस तरह मुझे भी उन्हें चोदने में बड़ा मजा आ रहा था क्योंकि यह मेरा फेवरेट आसन है. कन्धे पर तेल लगाने की वजह से मेरे हाथ उनके चूचे जो आधे से ज्यादा खुले थे, उनपे टच हो रहे थे और नीचे मेरा लंड उनकी चूत में घुसने को बेकरार था.

तुम सेक्सी फोटो मैंने अपना संयम खो दिया और उन्हें अपने सीने से लगा कर किस करने लगा. फिर मेरा लंड सीधा उनकी बच्चेदानी में जा कर झड़ गया और मैं उनको अपने जिस्म से सटा कर किस करने लगा.

हम दोनों एक दूसरे की जीभ को चूस रहे थे, होंठों को चाट रहे थे और एक दूसरे का थूक भी चाट रहे थे. उसे दर्द हुआ और उछल कर उसने लंड बाहर निकाल दिया।मैंने दोबारा कोशिश की और इस बार लंड चूत पर सटा कर उसके ऊपर लेट कर अपना पूरा भार भी उसके नागे बदन पर दाल दिया गया ताकि वो उछल ना पाये. जब वो घर जाने लगा तो मेरे पास आया और बोला- जो हुआ सो भूल जाना और अपनी स्टडी पर ध्यान देना.

गुंडों की बीएफ

वो जब भी खाना बनातीं तो मैं उनके पास जाकर खड़ा हो जाया करता और उनकी मदद करता रहता. वो भी मेरी छाती मसल रही थी और मेरी पीठ पर अपने नाख़ून भी चुभो रही थी, जिसका आनन्द ही कुछ अलग था. शर्म के मारे भाभी एक हाथ से अपना चेहरा और एक हाथ से अपने उभारों को ढकने की नाकाम कोशिश करने लगीं.

मेरा 7 इंच लम्बा 5 इंच मोटा लंड बिल्कुल तन चुका था और पेंट तंबू बन चुका था. मैं- ठीक है थोड़ी देर बाद आऊँगी लेकिन मैं 15 मिनट से ज्यादा नहीं रुकूँगी उतनी देर में ही मालिश करनी होगी.

पर मैं नहीं माना और बार बार उसके साथ छिप कर उसके साथ चूमा चाटी और कुछ मर्दन का मजा ले रहा था.

जिसके साथ तुम्हारा चक्कर है… उसका!”नहीं यार, तुमसे छुटकारा पाने के लिए मैंने ऐसे ही झूठ कहा था. मेरी इच्छा अधूरी रह गई।पर मैं समझ सकता था कि सबके सेक्स करने का तरीका अलग अलग होता है इसलिए मैंने ज्यादा जोर नहीं दिया। हाँ. दोनों पति पत्नी रोपड़ के रहने वाले थे और दोनों काम की तलाश में चंडीगढ़ आए थे.

बेहद उत्तेजक दृश्य लग रहा था ऊपर से बहूरानी की सोने की पायलें और बिछिया… इन सबका कलर कम्बिनेशन लाजवाब था. यही सोच कर मैंने कहा- ठीक है ये भी कर दूंगी और कुछ?अवी- नहीं मेरी जान यही मेरा सबसे बड़ा गिफ्ट है. यह सुन कर रमेश, सुरेश और काजल को मयूरी पर बड़ा ही गर्व महसूस हुआ और उन्होंने राहत की साँस ली.

उसने मुझसे कहा- मैम आपको पूरी बॉडी मसाज करवानी है?मैंने कहा- हाँ!तो उसने कहा- आपको आपकी ब्रा पैंटी उतारनी पड़ेगी!मुझे शर्म आ रही थी।फिर मैंने कहा- ओके!और फिर मैं उल्टी लेट गयी और मैंने उसे कहा- मेरी ब्रा का हुक खोल दो।तो उसने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और फिर मेरी ब्रा उतार कर फेंक दी.

बीएफ सेक्सी नंगी हिंदी: मैं ऐसे ही नीचे बैठे और उसके बूब्स को दबाने लगा। फिर मैंने उसे लिटा दया और बोला- मैं तुम्हारी चूत को टेस्ट करना चाहता हूँ. फूफा ने अपने लंड को मम्मी की चूत पर टिकाया और एक धक्के में अन्दर कर दिया.

फिर वो मेरे पास आ गई घबराते घबराते… उसने मेरी अंडरवीयर पकड़ी और खींच ली. और जैसे ही उधर शालिनी ने अपनी पूरी की पूरी जीभ अकीरा की चूत में घुसाई… ठीक उसी वक्त चंडीगढ़ में ईशा विक्रान्त के बाथरूम में दाखिल हुई और अंदर का नज़ारा देखते ही वो स्तब्ध रह गयी, उसकी आँखें हैरानी से फटी की फटी रह गयी, कुछ देर दोनों में से कोई न बोल पाया. कुछ देर बाद मैंने सोचा कि चाची के रूम में झाँक कर देख लेता हूँ कि चाची सो गई होंगी तो अपनी लीड ले आऊंगा.

अचानक चाची को फिर से छिपकली दिखाई दे गई और चाची चिल्लाते हुए मुझसे लिपट गईं.

इधर मुझे चूत चाटने में बड़ी दिक्कत हो रही थी क्योंकि सुकुमारी भौजी की झांटें मेरे लंड की लम्बाई से थोड़ी ही छोटी होंगी. मुझे उसके मोटे लंड से दर्द हो रहा था, गांड जलने लगी थी, पर चुपचाप लेटा रहा. हम एक ही सोसाइटी में रहते थे तो ये हमारे लिए ज़्यादा मुश्किल नहीं था.