बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी

छवि स्रोत,हिंदी बीएफ खून निकलने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

बुर चाटने वाला बीएफ: बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी, मामी मेरे पास आईं और मेरा फोन उठा कर उसे अनलॉक करने की कोशिश करने लगीं, जब लॉक नहीं खुला तो मुझे उठाने लगीं.

बीएफ पैसा

मेरा लंड धीरे धीरे खड़ा तो हो रहा था लेकिन मैंने जानबूझ कर उसको अपने नागराज के दर्शन नहीं करवाए. जानवर बीएफ जानवरप्रिया बोली- ये दूध पी लो और थोड़े फ्रेश हो जाओ, फिर देखती हूँ तेरे लंड की ताक़त.

फिर उसने मुझसे पूछा- क्या आपकी कहानी वास्तव में सच्ची है, जो आपने अन्तर्वासना पे लिखी है?मैंने उनको बोला- आपको क्या लगता है?उसने बताया कि सच्ची लगी, तब ही तो सबकी कहानी छोड़ कर आपको मेल किया. 10:00 वाली बीएफभाभी ने कहा- यही सब करोगे या और कुछ भी होगा?मैं उनके ऊपर से उठा और भाभी के कपड़े उतार दिए.

चुचियां जैसे ही बाहर आईं कि मेरी मस्ती और अधिक बढ़ गयी और मैं सोचने लगी कि अंकल जल्दी से मेरी दोनों चूचियों को कस कस कर मींजें.बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी: अब मुझे उन लड़कियों का भी थोड़ा देखना था, जिन की शादी नहीं हुई और वो कैसे काम करती हैं.

तभी अंकित मेरे बूब्स को धीरे धीरे दबाने लगा वो भी टॉप के ऊपर से ही, अंदर ही अंदर मेरे अजीब सी हरकत शुरू हो गई, पर मुझे डर भी लगा कि कहीं कोई जग ना जाए पर मैं पता नहीं क्यों अंकित को मना नहीं कर पायी और उसे यह भी नहीं लगने दिया कि मैं जग रही हूं, मैं सोई ही बनी रही.मेरा लम्बा और मोटा लंड देख कर बोली- मादरचोद ये लंड इतना बड़ा कैसे, अभी तेरी तो उम्र ही छोटी है?तो मैं बोला- तुझ जैसी रांड औरतों को चोदते-चोदते लंबा हो गया है.

इंग्लिश बीएफ पिक्चर मूवी - बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी

एक तो दिल्ली जैसा अनजाना शहर, राजधानी है देश की; जहां कदम कदम पर सी सी टीवी कैमरे लगे हैं.बीच बीच में वो लंड निकाल कर मेरी चूत को चाट कर मुझे चोदे जा रहा था.

वो चौंक कर पीछे मुड़ी, उसकी साँसें थोड़ी तेज हो गई थीं, जिससे उसकी चूचियां ऊपर नीचे हो रही थीं. बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी अब आगे:चाची फुंफकार मारते हुए बोले जा रही थीं- ओह … आह … चोद … चोद मुझे … अपनी छिनाल चाची को चोद मेरे राजा भतीजे … मेरे चूत की आग मिटा मेरे चोदू भतीजे … तेरे लंड ने मेरी चूत की गहराई की आग को और बढ़ा दिया रे … चोद जोर जोर से.

उस जगह की खास बात ये थी कि शाम को 7 बजे के बाद वहां कोई नहीं आता जाता है.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी?

मैंने उन्हें पूछा- अच्छा लग रहा है?उन्होंने कहा- आज से पहले इतना अच्छा कभी नहीं लगा! तुम लाजवाब हो मेरे राजा! काश तुम पहले मिले होते तो मैं अब तक इतना नहीं तड़पती!मैंने कहा- कोई बात नहीं, अब हम मिले हैं तो हर ख्वाहिश पूरी करेंगे!फिर मैं धीरे-धीरे उनकी चूत के पास गया. हम थोड़ी देर रुके और एक दूसरे को किस करने लगे, उसके बाद हमने पानी पिया. किस करने के बहाने मैंने उनकी ही चुत का पानी थोड़ा उनके मुँह में डाल दिया.

फिर से उसने करीब आधा लिंग बाहर खींचा और फिर से दोगुनी ताकत से झटका मार दिया. उसके लिप्स पे लगी हल्की लिपस्टिक मानो मुझसे कह रही थी कि आ जाओ और होंठों के पूरे रस पी लो. इसी दौरान मेरा लंड कड़क होकर भाभी की गांड में घुसने को बेताब होने लगा.

उनका बड़ा लंड देख कर मेरी नीयत भी खराब हो गई, मैं बहुत खुश हो गई कि अब ये लंड मुझे चोदेगा. मैंने प्रिया को सीधा किया और उसको गुलाबी कोमल रसीले होंठों को चूमने और चूसने लगा. मैंने जरा पर्दा हटाया तो देखा कि वो दोनों आगे बैठे थे, उसमें लड़की भी ऊपर से नंगी थी और वो लड़का एक हाथ से उसका स्तन दबाते हुए मजा ले रहा था.

थोड़ी देर बाद हम दोनों ऑफिस से कुछ दूर किसी होटल में बैठे हुए थे, तब उसका फोन बजा. इन्हीं बातों से उत्तेजित होकर वो मुझे ऐसे किस करने लगा, जैसे एक हीरो अपनी हीरोइन को किस करता है.

उसकी बातों से पता चला कि वो वन विभाग का ही अधिकारी है और इस शहर का नहीं है.

वह अपने चूतड़ उठा उठा कर मेरे लंड पर पटक रही थी और पूरा मजा ले रही थी चूत चुदाई का!उसकी चोदन क्रिया देख कर मेरे मुंह से सिसकारी फूट पड़ी, कसम से इतना मजा मुझे चुदाई में कभी नहीं आया था जितना मजा मुझे नेहा मुझे ड़े रही थी.

तभी रशीद बोला- पायल जी, पूरे शहर में पानी भर गया है, शहर की बिजली भी चली गयी है, अब आप घर कैसी जाओगी?मैं बोला- पायल डोंट वरी … कुछ प्रॉब्लेम हो, तो यहीं रुक जा. अशोक ने अपने हाथ से मयूरी की चूत को सहलाया और वो उसकी गुलाबी चूत को देखकर एकदम उस पर मोहित हो गया. चाची ने चाचा के लंड को पकड़ कर चूत के छेद पर टिकाया और अपनी भारी भरकम गांड का भार लंड पर छोड़ दिया.

खाना खाने के बाद हमने एक बार और चुदाई की और तब वो बोली- बहुत मजा आया, इतना मजा मुझे मेरे पति के साथ भी नहीं आया।फिर हम लोग साथ में नहाने गए, उसने मेरे शरीर पे साबुन लगाया और नहलाने लगी. मैं भी उसके होंठों का मजा लेते हुए वैसे ही धीरे धीरे धक्के‌ लगाता रहा, जिससे कुछ ही देर में प्रिया अपना सारा दर्द भूल कर उन मादक पलों का आनन्द लेने लगी. अंदर एक आंटी और बैठी थी, उनकी उम्र लगभग 38 साल होगी ये आंटी (स्मिता) पहले वाली से बहुत मस्त लग रही थी, मस्त गोरी फिगर लगभग 38-36-40 का होगा.

मैं भाई का लंड सहला रही थी, उधर आयेशा ने मेरी शॉर्ट्स के बटन खोलकर मेरी चूत में उंगली करनी शुरू कर दी जिस वजह से मेरी वासना बढ़ने लगी.

मैं नंगी बेड पर अपनी बिना चुदी फ़ुद्दी लेकर रो रही थी पर कोई चोदने नहीं आया!फिर मैं अपनी बिना चुदी कुँवारी चूत लिए वापस कॉलेज आ गई. और मेरे उठे हुए मोटे मोटे चूतड़ मेरी गांड को बड़ा ही सेक्सी लुक देते हैं. कहानी पढ़ते समय मैं अपने मन में एक छवि बना कर उस कहानी के नायक को अपने ऊपर महसूस करके अपनी चुत की आग को शांत कर लेती हूं.

मैंने समझ लिया था की जीजाजी के ज्यादा न चोद पाने के कारण इसकी चुदास शांत नहीं हो पाती है और इसीलिए ये फेसबुक पर चैट करके अपनी ठरक शांत करने की कोशिश करती है. अचानक उसमें एक नंगी मैगज़ीन भी निकल आई, मैंने कहा- ये क्या है? तुम्हारे पास कहाँ से आई?वह चुप रही. इसके बाद मैंने मामी जी को छत पर उनके दोनों हाथों को सामने बाउंड्री के ऊपर रख कर घोड़ी बनाया और बोला कि अब थोड़ा झुक जाओ.

फिर मैंने जूही को नीचे उतारकर लिटा दिया और उसके पैर ऊपर करके उसकी चुत चाटने लगा.

पर रात वाली बात बार बार याद आ रही थी, तो मैंने अपनी सहेली मानसी को वो बात बोली और पूछा- वो क्या कर रहे थे रात में?वो बोली- सब जानती है तू … फिर भी ऐसा नाटक क्यूं कर रही है निशा?मैं बोली- अरे मुझे नहीं पता कुछ भी, तू बता ना?मानसी बोली- उसे चुदाई कहते है पगली! और वैसा सब करते हैं, तेरे मम्मी पापा, मेरे मम्मी पापा सब लोग करते हैं. अगले दिन रविवार था और सोमवार को मुझे वापस दिल्ली आना था तो मेरे पास उसको पेलने के लिए सिर्फ एक दिन था.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी डोसा इडली वगैरह साउथ इंडियन फ़ूड खाने की मेरी पसंदीदा जगह तो वैसे इंडियन कॉफ़ी हाउस है; क्योंकि वहां जैसा स्वाद कहीं और मिलता ही नहीं है. ये बात अबकी बार होली की है और हमारे यहाँ होली के 7-8 दिन पहले ही माहौल बनना शुरू हो जाता है.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी फिर उसकी पिंडलियां भी चूम चाट डालीं और पांव की उंगलियां भी अपने मुंह में भर कर चुभलाने लगा, तलवे भी चाटने लगा. वो कभी मेरे लंड के सुपारे को अपनी जीभ से चटाती और उसके कोमल होंठों से जब मेरे लंड को चूसती, तो मैं तो स्वर्ग की सैर कर रहा था.

भाभी ने लंड की तरफ लालसा से देखा तो मैंने अपने लंड को हाथ में पकड़ कर कहा- लो भाभी चूसो न लंड को.

भोजपुरी की सेक्सी मूवी

मैं दाएं मुड़ा और एक गेट खोलकर खुले वातावरण में आ गया, लेकिन ये तो पार्किंग थी, जिसका बाहर निकलने का रास्ता बाहर से बंद था. इधर राजीव अंकल भी अपना लंड मेरी गांड में अन्दर बाहर जोर से करने लगे. फिर मैंने उसको मेरी फ़ेवरिट पोज़िशन में आने को कहा, वो समझ गई और तुरंत डॉगी स्टाइल में आ गई.

आज बहुत बातें कर रहा है?मैं- कुछ नहीं, आप जैसी जानदार और शानदार आंटी से तो बातें करना मेरा सौभाग्य है. मैं उन्हें चोद-चोद कर शान्त माहौल में उनकी सिसकारियों और करुण क्रंदन का निर्दयता पूर्वक आनन्द ले रहा था. की आवाज निकालने लगी।मैं दीदी की चुत को बहुत प्यार से चूस रहा था जैसे आइसक्रीम हो…दीदी आहें भरे जा रही थी और मैं उनकी चुत चूसे जा रहा था- आह अह आह और पीहू और चूसो.

रेशमा बार-बार विनती करने लगी, मैं हल्का सा डालता, फिर बाहर खींच लेता.

चाची और जोर जोर से हिलने लगीं, चाची अपनी गांड पटक पटक कर चाचा को चोद रही थीं. चाचा बोले- वन्द्या, मैं तेरी मम्मी को बहुत चोदता हूं, ये बात मुहल्ले और गांव में सबको पता है कि तेरी मम्मी मेरी रखैल की तरह है. मैं उसकी नीले रंग की प्रिंटेड पैंटी के ऊपर से उसकी योनि को सहलाने लगा.

मुझे ऐसा लग रहा था कि जिंदगी में इससे ज्यादा मजेदार बात और कोई हो ही नहीं सकती. इससे कुछ ही देर में मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और वो खुद अपनी चुत को मेरे लंड पर रखकर बैठ गई. मैंने पंडित से पूछा था, उसने कहा कि जल्दी से जल्दी भी करोगे तो एक महीने बाद की तारीख निकलती है.

फिर उसके लाल होंठों को जिन्हें मैं रोज चूमने और काट खाने के सपने देख रहा था, उन्हें धीरे धीरे चूमने लगा. उसने बताया कि ग्रुप स्टडी के 2 घंटे पहले ही इसी कमरे में वो फिर से चुदी थी अपने भाई से.

मस्त लग रही है तेरे बदन पर!” मैंने पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत मसलते हुए कहा. मयूरी तुरंत ही पलट गयी और अब शीतल के सामने जो नज़ारा था, वो उसको बहुत ही ज्यादा उत्तेजित कर रहा था. थोड़ी देर बाद मम्मे पूरे टाइट हो गए और चाची के मुँह से चुदासी कराह निकलने लगी.

उसकी चुत पर हल्के-हल्के घुंघराले बाल ऐसे थे, जैसे उन पर कभी ब्लेड नहीं लगाया गया.

ये सब सुन कर भी मैं चुपचाप वैसे ही बगल में बैठी हुई लंड को एक हाथ से पकड़े हुए थी और कुछ पल बाद कुछ सोचने के बाद सुपारे के ऊपर वाली चमड़ी को अपने हाथ से हल्का सा पीछे की ओर खींच कर सरकाना चाहा. हमें कुछ नहीं करवाना है आपसे न कुछ दिखाना है आपको, बस!” कम्मो अभी भी जिद पर अड़ी थी. पायल के बदन पे एक भी पॉइंट ऐसा नहीं था, जहां हमने किस या बाईट ना किया हो.

वह खतरनाक शाम, जिसे मैं भूल जाना चाहती हूँ, लेकिन भूल नहीं पाती हूँ. अरे तो क्या हो गया, तू मेरी प्यारी प्यारी छोटी नन्ही मुन्नी सी गुड़िया है न.

प्रिया की ब्रा निकलते ही उसके चुचे ब्रा की कैद से आज़ाद हो गए और हवा में फुदकने लगे. मुझे देख कर बदमाशी वाली मुस्कान से बोली- क्यों राजू यहां क्या कर रहा है? किसी लड़की पर तो लाइन नहीं मार रहा न?मैंने हंस कर उसके ब्लाउज में तनी हुई चूचियों और साड़ी में नंगी कमर देखते हुए कहा- अरे भाभी हमारी ऐसी किस्मत कहां. मेरी मम्मी ने मुझे बोला- ओ … आज अपनी भाभी के पास सोने चले जाना।मैंने झूठ मूठ मना किया पर मेरे मन में तो लड्डू फूट रहे थे, मैंने बुरा मुँह बना के बोल दिया- ओके … चला जाऊंगा।रात को मां ने कोई ख़ास खाना नहीं बनाया हुआ था, मूंग चावल बनाए थे जो मुझे पसंद नहीं तो मैं बिना खाए पूजा के घर चला गया.

सेक्सी पिक्चर वीडियो घचाघच

उतने में मेरे दोस्त ने मुझसे पूछा- क्या हुआ?तो मैंने उसे बताया- मुझे वो अच्छी लगी, पर वो मुझे ज्यादा नहीं देख रही है.

फिर मैं उसके बूब्स दबाने लगा और कुछ देर बाद मेरा हाथ उसकी पावरोटी जैसी फूली हुई चूत तक पहुंच गया. तो है तो यह आपके साले की ही बीवी…लेकिन मैं रीना दीदी के साथ…मैं- देखो श्लोक, मैं मानता हूं कि हमारी सभ्यता और संस्कृति इसके विपरीत है किंतु तुम विदेश में जाकर पढ़ाई करके आए हो। भारत में भी अब ऐसा कल्चर है जहां पर लोग अपने मनोरंजन के लिए अपनी बीवियां बदल कर चुदाई करते हैं। हम ऐसा मजबूरी में कर रहे हैं। अदला बदली का खेल कौन सा सही है लेकिन लोग यह कर रहे हैं. फिर मैंने उसको मेरी फ़ेवरिट पोज़िशन में आने को कहा, वो समझ गई और तुरंत डॉगी स्टाइल में आ गई.

अब जब दस साल से पति बाहर हैं, कभी कभार आते हैं तो तो मेरी सेक्स की इच्छा अधूरी ही है और वैसे भी मेरे पति को सेक्स में ज्यादा इंटरेस्ट नहीं है, मुझे अभी सिर्फ़ साल में 2-3 बार ही सेक्स का सुख मिल पाता है, जिससे मैं बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हूँ. जैसे ही वो स्खलित हुईं, मैंने अपना लंड तैयार किया और उनकी रस छोड़ती हुई योनि में लगभग तीन इंच तक घुसा दिया, जिससे वो एकदम फड़फड़ा उठीं, वो कराहते हुए बोलीं- अबे भोसड़ी के,मादरचोद. सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ फुल एचडी मेंमैंने सोचा बातें करने के लिए तो और भी बहुत लोग हैं, लेकिन चोदने के लिए तो ये ही सही माल है और सही वक्त है, तो बातें छोड़ प्यारे.

मैंने झट से अपना हाथ उसके मुँह पर रख दिया और पूरी ताक़त के साथ के और ज़ोर का झटका दे दिया. मैं उसको तुरंत बिस्तर पर ले आया और उसके साथ किस्सम-किस्सी चालू कर दी.

तब मैं वापिस लौटा और उनके बेडरूम में आ गया, वहां वो अकेली बैठीं कुछ सोच रहीं थीं. ऐसा करने से संभोग के दौरान जो सनसनी रहती है, वो कभी कभी धीमी हो जाती है और वैसी सनसनी फिर से पैदा करने के लिए दोबारा मेहनत करनी पड़ती है. तभी अन्दर से उसकी माँ की आवाज़ आयी कि अब तक टॉयलेट में क्या कर रही है.

उस समय करीब रात के 12 बज चुके थे, रास्ते में मैंने उससे कहा कि उसे उसके रूम पर छोड़ देता हूं तो उसने मना कर दिया और बोलने लगी कि इतनी रात को घर का गेट कोई नहीं खोलेगा तो अब वो सुबह ही जा सकती हैं।अब मेरे पास भी कोई जगह नहीं थी उसे ले जाने के लिए तो मैंने उसे रात किसी होटल में गुजरने के लिए बोला और वो फट से मान गयी. राज अंकल बोले- यार रिश्तेदारी में आती है, कहीं कुछ गड़बड़ ना हो जाए, किसी को पता चल गया तो बहुत बदनामी होगी. मेरी योनि तो खुद इतनी गीली हो चुकी थी कि माइक और मुनीर के संभोग के दौरान ही मुझे लगा कि मैं स्वयं झड़ जाऊंगी.

मैंने उसकी पैंटी को उतारना शुरू किया तो उसने भी सहयोग करते हुए अपने कूल्हे ऊपर की ओर उठा दिए.

मुझे लड़कों में भी रुचि है, ये मुझे दसवीं क्लास में ही पता चल गया था. फिर दिन में मुझे चाचा अपने साथ अपने घर पर ले गए और बोले कि रात को वापिस चली जाना.

कई बार तो अंकित का लंड मेरी चूत में छू जाता तो मैं बिल्कुल चहक उठती. तुम बस मेरी चुदाई करो, अनु की चूत का नशा उतार दो अपने दिमाग से!”दीदी, आप तो चली जाओगी ना. साथ ही साथ में मैं चुत के दाने को भी अंगूठे से दबा रहा था और बीच बीच में जीभ निकाल कर दाना चूस रहा था.

अभी तक आपने इस कहानी में पढ़ा कि बहू ने अपनी विधवा सास की कामुकता को समझा और उसकी मदद करने की कोशिश की. मैंने उसे कंधों से पकड़कर उठाया और उसके कंधों को सहलाते हुए अपने हाथ उसकी पीठ की ओर ले गया और धीरे धीरे सहलाने लगा. फिर वो बोली- जीजू फिर कब मिलोगे?मैंने बोला- तुम फिर कब आओगी? शाम को फिर आओ ना …!वो हंस के बोली- आई विल ट्राय बट जीजू … तुम अकेले ही रहना, मैं सिर्फ आप के लिए आऊंगी.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी तो वो बोली कि उसके पति का किसी दूसरी लड़की के साथ चक्कर चल रहा है‚ वो उसके पास ही ज्यादा रहते हैं. उनसे चुदाई कर चुकी सब औरतें कहती हैं कि वो दोनों इंसान नहीं, जानवर हैं.

jio न्यू सेक्सी वीडियो

उसने सफेद रंग का सूट पहन रखा था, इसमें वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी, उसे देख कर ऐसा लग रहा था, जैसे स्वर्ग से कोई अप्सरा उतर कर आ गई हो. तो वह बोली- मुझे पता है और मैं सब सहन कर लूँगी, पूरा अन्दर तक डाल दो. उसने फोन पर जो कहा वो लिख सकती हूँ, पर उस तरफ से क्या कहा गया वो तो मुझे सुनाई ही पड़ा.

बस फिर क्या था, मैंने अपना लंड जूही की चुत पर रखा और एक शॉट मारा और लंड चुत के अंदर चला गया।मैं जूही के होठों को अपने होठों के बीच लेकर चूसने लगा और चूचियाँ पकड़ करके जोर जोर से शॉट मारके जूही की चिकनी चुत चोदने लगा. मुझे ये तो पता लग गया था कि यहां पर लड़कियां अपनी चूत के बल पर ही नौकरी को निभा रही हैं वरना काम करने में तो इन सबकी माँ चुदती है. बीएफ पिक्चर चोदी चोदा चोदी चोदाफिर जब हम आफिस में मिले तो वो बिल्कुल नार्मल थी और जैसे वो रोज मुझसे बाते करती थी वैसे ही बात कर रही थी।उस दिन के बाद हम 4 बार और उसी होटल में गए और उसी रात की तरह हमने बियर पी और पूरी रात चुदाई के मजे लिए।लेकिन अब वो वापस अपने गांव जा चुकी हैं शायद उसकी शादी होने वाली है, मुझे नहीं लगता कि अब हम दोबारा मिल पाएंगे।दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी थी.

वह पहले से ही कम कपड़ों में थी, सिर्फ जींस और टॉप में … अंदर ब्रा और पेंटी कुछ नहीं पहनी हुई थी.

ऊपर से उनकी चूत में खम्भे सा गहराई तक गड़ा मेरा घोड़े जैसा लंड उनकी हालत पतली किए हुए था. अगले ही पल चाची जोर से एक लम्बी सिसकारी भरते हुए मुझे जोर से अपने बाहुपाश में कस लिया और अपने बदन को ऐंठने लगीं.

पर गलती से उसका सर मयूरी के तौलिये से टकराया जिसकी गांठ पहले से ही मयूरी ने कमजोर कर रखी थी और वो लगभग खुलने ही वाली थी. वो मेरी नाजुक चूत को जोर जोर से अपनी उँगलियों से चोद रहा था और मेरी चूत पानी छोड़ रही थी जिसको मेरा भाई चाटने लगा. वो गुस्सा हो गए और मेरा हाथ पकड़कर बोले- तुमसे प्यार करता हूं निशा, तुम करती हो या नहीं?मैंने कहा- आप मेरे भैया हो!वो बोले- मैं तुम्हें चाहता हूँ.

मैं चोरी छुपे इधर उधर नजरें तो घुमाता रहता था, पर मेरी हिम्मत नहीं होती थी.

बहुत भूखी हूं मैं!” उसने मेरी ओर कनखियों से देखते हुए हंस कर जवाब दिया और अपना सिर सामने वाली सीट से टिका दिया. मैं अपने आप अपनी कमर को उछालने लगी और मनोहर का लंड पूरा का पूरा मुँह में अन्दर-बाहर करने लगी. फिर उसको एक विचार आया, उसने एक पिन जो अलमारी में रखी थी, को निकलकर नीचे फेंक दिया और उस पर अपना पैर रख दिया.

बीएफ वीडियो जानवर वालीमैं अपनी जीभ से उसके निप्पल पर घुमाने और अपने हाथ से उसकी चूत को सहलाने लगा. तो कभी बाईं तरफ अपना चेहरा रगड़ता और कानों के पास मस्ती भरे शब्द फुसफुसाता आह.

मराठी सेक्सी व्हिडीओ थ्री एक्स

फिर उन्होंने एक दिन मुझे कहा कि एक्सट्रा क्लासेस के लिए मैं उनके घर पर आकर पढ़ सकता हूँ. इस दिनों मैं अनु से फोन पे बात करता था और उसे समझाता था कि अभी समय ठीक नहीं आया है, हमें थोड़ा और सावधान रहना होगा. माइक जैसे ही पीछे हट के उठा और तकिये के सहारे लेटा, मुनीर उठते हुए ही तारा को होंठों को चूमते हुए बोली- मजा गया, माइक कमाल का मर्द है.

इससे मेरे मुँह से अजीब सी सिसकारियां निकल रही थीं ‘आह्ह ऊईई ईईई … ओऊह्ह आह्ह ऊईईई … ऐसे ही मसलो …’मुझे बहुत मजा आ रहा था. उसके शरीर पर पानी की बूंदें अब भी झलक रही थी और उसके शरीर को और मादक बना रही थी. एक दिन वो कपड़ा धो रही थीं, मैं उनके पास जाकर बैठ और उनके हिलते हुए बड़े बड़े मम्मों को देखते हुए उनसे बातें करने लगा.

मैं वो थैलियाँ अन्दर ले कर आया और पूछा- इतनी बारिश में आने की क्या जरूरत थी, सोहेल को भेज देती. ये देखते ही मेरी आँख मारे खुशी के चमक उठीं, मेरे दिल धड़कन तेज हो गईं. कुछ मिनट बाद उसका दर्द पूरी तरह खत्म हो गया और वो मस्ती में आ गई तो वो मेरे ऊपर आ गयी और चूत को लंड पर पटकने लगी.

उसने तुरंत हां कर दिया, लेकिन मैं तो उसे चोदने के सपने पहले से ही देखता था. मैं उसके गर्दन के चारों तरफ किस कर रहा था, पागलों की तरह उसके चुचे दबा रहा था.

हमें सुबह के 6 बज गए थे और फिर 10 बजे हमे चेकआउट करना था तो हमने थोड़ी देर सोना ही ठीक समझा और 10 बजे चेकआउट करके हम वहाँ से निकल गए.

उसके बूब्स मस्त लग रहे थे, एकदम कड़क मीडियम साइज के, न ही बड़े औऱ न ही छोटे …मैं तो उसको देखता ही रह गया. गांव वाला देसी बीएफफिर मैंने उसके पेट पर चुम्बन किया और जीभ फेरने लगा, कभी चूमता तो कभी जीभ फेरता और वो मदहोश हो जाती. अंग्रेजी बीएफ अंग्रेजी बीएफ वीडियोजिसके लिए मुझे बहुत सारे मेल भी मिले कुछ तारीफ़ वाले तो कुछ ऐसे ही सामान्य… आप सभी पाठकों का दिल से धन्यवाद. बहुत अलग तरह का मजा आ रहा है, बस चोरी से चुपके चुपके कैसे भी मुझे ऐसा ही आप तीनों रोज ऐसे ही मुझे जमकर चोदना, चूमना और चाटना.

प्रिया संग इतनी जोर जोर की चुदाई से चल रही थी कि हम दोनों ही पसीने से पूरे नहा लिए थे.

पहले उन्होंने मुझे चड्डी पहनाई फिर ब्रा, फिर ब्लाउज और लास्ट में साड़ी पहना दी. मैंने उससे कुछ नहीं पूछा और सीधे पिंकी से बोली कि खाना तो ठीक बनाती हो ना?उस कामवाली पिंकी ने कहा- जी आप खुद ही देख लीजिएगा, जब कुछ देर बाद बनाऊंगी. क्रिकेट और फुटबॉल खेलने के कारण मेरी एथलीट बॉडी थी, गेहुंआ रंग, पूरे 6 फीट लंबा कद और शक्ल से कमीनापन साफ़ दिखता था.

जो होगा देखा जाएगा लेकिन ऐसा गलत काम में आप हमें सम्मिलित नहीं कर सकती. बीच बीच में रेशमा मुझसे फोन पर बात कर लेती थी, कभी कभी फोन सेक्स भी हो जाया करता था. हम दोनों लोग एक अन्दर सेक्स करने का मन बना गया था, लेकिन कोई भी शुरुआत नहीं कर रहा था.

छोटी लड़की का सेक्सी दिखाइए

मेरे तो जैसे होश ही उड़ गए … दिन भर सोचते हुए रात मैंने उन्हें मिलने से मना कर दिया. मैं उसी हालत में एना के फ्लैट के अन्दर चला गया और जैसे ही दरवाज़ा बंद हुआ उसने मेरे लौड़े को चूसना और हाथ से लंड की चमड़ी को आगे पीछे करना शुरू कर दिया. अब तक की सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि मेरी गांड में राजीव अंकल का लंड घुस चुका था और मुझे मजा आने लगा था.

मैंने कहा कि मामी आप चेंज कर लीजिए, मैं बाहर से खाना ले कर आता हूं.

सुनील ने अपना ग्लास पायल के होंठों से लगा के पिला दिया … पायल एकदम से उठ गयी और थूकने लगी, बोली- ये क्या पिला दिया, इसमें कतरा सा क्या मिलाया है?सुनील हंसने लगा, मैंने देखा था सुनील ने मुठ मार के अपना वीर्य दारू में मिक्स करके पायल को पिला दिया था.

उनको हमने अपने घर पर बुलाया और कहा कि आप लड़की को देख लीजिए फिर बात पक्की करेंगे. मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर रगड़ना चालू कर दिया, तो एना आह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्म्म आह्ह्ह. देसी बीएफ देसी वीडियोमैंने भी धीरे से बोल दिया- इतने सालों से थे तो खा ही रही हो उनके साथ.

ऐसा लग रहा जैसे खुदा ने खुद तुम्हें बनाया है और फिर वो साँचा तोड़ दिया होगा क्योंकि तुम बहुत ही खूबसूरत हो. मैंने अपनी सहलियों से सुन रखा था कि सुहागरात में उनके पति भी उनसे कुछ भी करने से पहले थोड़ा झिझक रहे थे. मैं मुन्ना का लंड मुँह से थोड़ा निकाल कर बोली- वाह समाली … तू बहुत मस्त गांड चोदता है साले.

मैं उठा और झट से अंडरवियर और पैंट पहन कर स्वाति के होंठों को प्यार से किस किया. अब मैं अपने एक हाथ को उसके मम्मों पर धीरे-धीरे ला रहा था और पॉइंट पर लाते ही मैं उसके मम्मों को दबाने लगा.

अब तो आलम ये है कि रास्ते पर जितनी लड़कियों या औरतों को चलती हैं, उन सबमें मुझे चूत की चुदाई ही नजर आती है.

वो हमेशा मुझसे चिपक कर बैठते थे और अपना हाथ मेरी पीठ पर रख कर सहलाते रहते थे. फिर उसने मुझसे बेड पर लिटा दिया और मेरी पजामे का नाड़ा खोलने लगा खोलते खोलते उसने नाड़ा उलटे टाइट कर दिया. रात हुई तो तारा का भी संदेश आया कि चलो पिछली बार की तरह फिर से कुछ किया जाए.

बीएफ वीडियो काली मैं और अधिक उतावला हो गया था और जोर जोर से लंड को चूत में ठेलने लगा था. तरुण भैय्या ने मिताली दीदी को छोड़कर उस रंडी लड़की के साथ शादी कर ली.

भाभी ने मुझे जाने को बोला, पर मैं एक राउंड और चाहता था लेकिन उन्होंने मना कर दिया. यह कहकर उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी, उसके चूतड़ों के मेरी जांघों से टकराने के कारण छपछप की आवाज आने लगी. यह सब मैं उससे इंग्लिश में पूछ रही थी ताकि उस कामवाली को बुरा न लगे.

गुजराती सेक्सी वीडियो देखें

मैंने उसके मुँह में अपनी जीभ डाल दी और आधे अन्दर गए, लंड से आगे पीछे करने लगा. अन्त में कम्मो झिझकते हुए मान गयी और उसने डार्क ब्राउन कलर का फोन सेलेक्ट कर लिया. मैंने बोला- क्या है वो अच्छी खबर?प्रिया बोली- भाई के किसी फ्रेंड की शादी है और उसी दिन हमारे गली में भी शादी है.

बारिश की वजह से मेरा शर्ट गीला हो गया था तो बॉडी से चिपक गया था और वो और ज्यादा मजे से हाथ से सहला रही थी और मेरे गालों को चूम रही थी. मैंने तो आज तक सिर्फ औरतों को चोदा है, वो भी पैंतीस चालीस साल की चुदी चुदाई भोसड़े वाली.

मैं उससे टिक गई तभी वो समझ गया कि लौंडिया राजी हो गई है और इसी के साथ उसका एक हाथ मेरे सूट के अन्दर चला गया.

अभी मैंने सीधी ही हुई थी कि आगे वाले ने मुझे घुमा दिया और अब मेरी रसभरी चूत उसके लंड के आगे आ गई. चाचा- इस उम्र में भी तेरी चूत इतनी कसी हुई है कि एक बार में घुसता ही नहीं है. फिर ज्योति ने फाटक से लिंग को मुह में भर लिया और जोर जोर से चूसने लगी वो … जैसे पोर्न फिल्मों में लड़कियां चूसती हैं.

लेकिन फिर भी कुछ बातें ऐसी हैं जो मैं प्रीति से शेयर नहीं कर पा रही थी. इससे मेरी चुत में और पेट में दर्द हो रहा था तो मैंने अपने पति से विनती की कि वो अपने वीर्य की धार मेरी चुत में छोड़कर छह दिन से सूखी पड़ी चुत को भिगो दें. अगले दिन में दिन भर उसके कॉल की राह देख रहा था, पर उसका कॉल नहीं आया.

मैंने पूछा- कौन है वो खुश नसीब जिसे तुम चाहते हो?वो बोला- छोड़ो … अब बताना भी ठीक नहीं होगा.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी: सूट पहने हुए कम्मो का आलिंगन करने में मज़ा नहीं आ रहा था सो मैंने अपनी टाई निकाल दी और कोट भी उतार डाला. थोड़ी देर ऐसे ही मयूरी के टॉप के ऊपर से ही उसकी चूचियों को मसनले के बाद अशोक उसकी टॉप को थोड़ा ऊपर कर दिया पर उसको निकाला नहीं!चूँकि मयूरी ने बिल्कुल ढीला-ढाला टॉप पहना हुआ था वो भी बिना ब्रा के तो इस हिसाब से उसके टॉप को निकलने की कोई जरूरत भी नहीं थी, थोड़ा सा ऊपर करते ही वो पूरी तरह दिख भी रहा था और पकड़ा भी जा सकता था, लगभग उसके उतार देने जैसी ही बात थी.

मैंने हैरानी से उसको देखते हुए पूछा- फिर?पिंकी बोली- फिर मैंने एक दिन सुना कि वो किसी लड़के को बुला कर लाया और मुझे दिखा कर बोला, आओ उधर बैठ कर बात करते हैं. शादी के बाद जब रात हो गई, तो वो मेरे पास आकर बोला- सुधा रानी, मैं तुम पर बहुत मरता हूँ. इसलिये मेरा सुपारा उसकी चूत के छोटे से दरवाज़े को भेदकर अन्दर घुस गया.

मुझे उसके लंड का स्पर्श मेरी चूत के अन्दर तक महसूस हो रहा था जो मुझे मजा दे रहा था.

मैंने सरिता से कहा- मम्मी तो शाम को आएगी और मुझे सिलाई करनी नहीं आती है. कुछ देर चूसने के बाद सबीना मेरे मुंह में झड़ गई, फिर भी मैं उसकी चूत को चूसता रहा. मेरे एक हाथ को लेकर अपनी पीठ पर रखा और दूसरे को डीके की पीठ पर रखा.