बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,चूत में सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेल्फी: बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स, मेरा लौड़ा आंटी की चुत में अन्दर बच्चेदानी तक जाने लगा और नफीसा आंटी को इसमें बहुत मज़ा आ रहा था.

सेक्सी आंटी के फोटो

कुछ पल बाद मैं भाभी के बाजू में लेट गया और उन्हें अपनी बांहों में भरकर प्यार करने लगा. ब्लू पिक्चर बीएफ बीएफउसी अवस्था में मैंने धीरे से उनकी चड्डी उतारी और उनके दोनों कूल्हों को चूमने लगा.

झूला घूमता, तो आंटी मेरे ऊपर कुछ ज्यादा ही गिर जातीं और मैं भी उनके ऊपर चढ़ कर अपनी गर्म सांसों से आंटी को मस्त करने लगता. नंगी नंगी पिक्चर दिखाओमैंने दीदी को सीट पर लिटाया, उनकी कमर पर मैक्सी उठा कर दोनों पांव दोनों तरफ की फुटरेस्ट पर रखवा दिए.

वो पूरे जोर से चिल्ला रही थी- आह मजा आ गया आह चोदो भईया … मुझे मस्त कर दो … मेरी गांड को फाड़ दो.बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स: मैंने आवाज लगाई- काशिफ किधर हो तुम … मैं आ गई!ये बोलते हुए मैं घर में अन्दर दाखिल हुई और झट से दरवाजा बंद कर दिया.

मैंने उससे लंड मुँह में लेने को कहा तो उसने थोड़ा इंकार सा किया लेकिन बाद में वो मेरा लंड पकड़ कर हिलाने लगी.फिर शीला दीदी ने अपने पैर थोड़े और फैला दिए और अपनी चुत को दोनों हाथों से पकड़ कर मेरे लंड के सुपारे को अन्दर घुसने लायक चौड़ा कर दिया.

सेक्सी चूत बीएफ वीडियो - बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स

मैंने ताबड़तोड़ दस बारह शॉट मारे और अपने लौड़े की पिचकारियां भाभी की चुत के अन्दर ही मार दीं और उनके ऊपर ही गिर गया.चाची ने मुझे करीब बुलाया और उन्होंने अपने हाथों से मेरे लंड को कंडोम पहना दिया.

जब मैंने खोला तो देखा कि उसमें एक डार्क पर्पल कलर की बेबी डॉल ड्रेस थी. बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स उमैय्या की चूत तो से तो मानो नदियां बह रही थीं और उसके पानी ने मेरे लंड को गीला कर दिया.

मैंने दस मिनट तक भाभी के दोनों मम्मों को चूसा और उनसे लिपट कर प्यार करने लगा.

बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स?

‘पर माधवी …’‘पर-वर कुछ नहीं सुनना मुझे, चलिए अपने लंड को फिर से खड़ा कीजिए और मेरी अधूरी आग को बुझा कर ठंडी कीजिए. मैं उनकी पिंडलियों से होता हुआ उनकी जांघों को चूमता काटता, उनकी जांघों के बीच पहुंच गया. मैं उनके निप्पल को कई बार दांतों से पकड़ कर खींच देता, तो दीदी की मादक आह निकल जाती थी.

वो मना करने लगीं- नहीं, मैं ये नहीं कर सकती और तुम ये कर ही नहीं पाओगे. भाभी के गीले बाल उनके मम्मों पर थे और उनके बूब्स ऐसे तने और उठे हुए लग रहे थे, जैसे कोई संतरे की जोड़ी चिपकी हो. जब मैंने उसका ब्लाउज खोला तो ब्रा में कसे उसके मम्मों को देखकर मैं रुक ही नहीं सका.

मैंने कहा- दर्द तो आज होगा ही!ये कहते हुए मैंने भाभी की नाइटी निकाल दी और उनको बेडरूम में ले गया. दस मिनट बाद जगप्रीत अंकल आए तो मैंने अम्मी के सामने कहा- अंकल मेरी अम्मी आपसे दोस्ती करने को तैयार हैं. अब मैंने पूछा- पहले तुमने कभी सेक्स किया है!वो बोली- नहीं, पर मैंने मास्टरबेट बहुत किया है … और मैंने आपको भी हाथ चलाते देखा है.

मैंने उन्हें बताया कि मैं आपके घर आया था, तो उधर का हाल ठीक नहीं था, इसलिए मैं वापस आ गया था. शिवानी नई नवेली खिलाड़ी होने के कारण बस मेरा साथ ही दे पा रही थी लेकिन मैं उसके होंठों को अच्छी तरह से चूसकर मेरी कई दिनों की प्यास बुझा रहा था.

राजेश जी दीदी के पीछे आ गए और पीछे से दीदी के दोनों मम्मों को पकड़ कर मसलने लगे.

मैं समझ गया कि जब दीदी इतना कर रही हैं, तो पीछे रहने से मेरी मर्दानगी पर दाग लग जाएगा.

उसके झड़ते ही मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसकी बुर में ही अपना सारा टैंक खाली कर दिया. उसके पापा केन्द्रीय सरकार की सेवा में हैं तो उनका स्थानान्तरण होता रहता है. मालिश करते करते जब मैं मोहिनी की चूत की तरफ आया तो चूत को ध्यान से देखने लगा।मैंने चूत पहली बार देखी थी; चूत पर बाल नहीं थे।मैंने मोहनी से पूछा- मैंने वीडियो में देखा है कि लड़कियां चूत में बड़े लंड आसानी से ले लेती हैं.

उसकी तो मानो गांड ही फटी जा रही थी … आह आह आह की आवाज पूरे कमरे में गूंज रही थी. मैं भी उसकी गांड को छोड़ कर आगे आ गया और उसकी लिसलिसी चूत में अपना लंड डाल कर ताबड़तोड़ पेलना शुरू कर दिया. मैं भी उसकी चूचियों को खूब मसलता और चूसता रहा … शायद इसी से उसको जोश मिल रहा था.

एक बोला- क्या हुआ समीर, आज सूरज कहां से निकल आया?उसकी बात पर मेरे साथी जोर जोर से हंसने लगे.

भगवान के आशीर्वाद से हमने समय से पहले ही उस ऑर्डर को पूरा भी कर लिया. ‘कोई बात नहीं बाबा, आप आई को ही तो चोद रहे हैं न, किसी ओर को तो नहीं. मैं- क्यों नहीं करवाना चाहती? क्या तुम्हें जरूरत महसूस नहीं होती?शिवानी- मैं ऐसी वैसी लड़की नहीं हूं.

उस समय तक मेरी एक भी गर्लफ्रेंड नहीं थी, मगर इस वजह से मुझे कोई दिक्कत नहीं थी. रात को भाभी ने मुझसे कहा- तुम आज मेरे साथ ही बेड पर सो जाओ, कहां ज़मीन पर लेटोगे. मैं ढूंढने लगा तो देखा कि एक कोने में उसने मेरी अम्मी के सुर्ख लाल होंठ अपनी मोटी मोटी मूछों से दबा रखे हैं.

[emailprotected]हॉट वाइफ सेक्स कहानी का अगला भाग:गोकुल धाम सोसाइटी में चुदक्कड़ परिवार- 2.

उसकी बुर बिल्कुल साफ और चिकनी दिख रही थी और शायद स्वाति बहुत ज्यादा गर्म थी इस वजह से उसकी बुर से लगातार पानी निकल रहा था. जो फरीना कुछ देर पहले मुझसे अपना बदन छुपा रही थी, वो अब मेरे सामने एकदम नंगी थी.

बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स उस टाइम तुम घर पर अकेली रहोगी और तुम दोनों को मजे लेने का पूरा मौका मिल जाएगा. अपनी अन्तर्वासना के लिए मैंने क्या किया?दोस्तो, मैं अंशु ठाकुर … अन्तर्वासना को पढ़ने वाली सभी भाभियों, आंटियों व पाठकों को मेरा नमस्कार.

बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स मैं जबलपुर का रहने वाला एक मिडल क्लास फैमिली का लड़का हूँ और मेरा नाम राजेश उर्फ़ राज है. अपनी साड़ी ठीक करके मम्मी जल्दी जल्दी चलती हुई सुलभ शौचालय में पहुंची, तो देखा कि वहां की सारी लाइट्स बंद थीं.

उसके बाद मैं (रतन) और मोहिनी सोने की तैयारी करने लगे। हमारे तीन पैग खत्म हो गए थे। हमने खाना खाया और सो गए।दोस्तो, आपको ये फर्स्ट टाइम लेस्बियन लव स्टोरी कैसी लगी बताना जरूर!नीचे दिए गए ईमेल आईडी पर अपने मैसेज भेजें।[emailprotected]फर्स्ट टाइम लेस्बियन लव स्टोरी का अगला भाग:एक अनोखी शादी- 3.

सेक्सी चुदाई चुदाई चूत

मैं कम्बल ओढ़ कर दीवार का सहारा लेकर बैठा था और वो मेरे पास मुझसे चिपक कर मेरे साथ कम्बल में बैठी थी. चूंकि आजकल फूफा जी घर पर नहीं थे तो मेरी फुफेरी बहन और मैं नीचे बुआ के साथ सोने वाले थे. अब मैंने उसका लोअर निकाला और उसके पैरों के तलवों को चाटते हुए धीरे धीरे उसकी चूत की तरफ बढ़ गया.

वो मेरे फोन में देखती हुई बोली- फिर फोन में क्या कर रहे हो … व्हाट्सैप चला रहे हो?मैंने बोला- मैं व्हाट्सैप नहीं चलाता … हम दोनों बस कॉल करते हैं. थोड़ी डेर बाद मैडम का इतना बड़ा मैसेज आया, जिसमें वो मुझे अपना हाल बता रही थीं और मुझे प्रपोज कर रही थीं. मेरी अम्मी को पता नहीं चला, वो उस समय बाथरूम में थीं और नहा रही थीं.

नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा लेकर आया हूं अपनी एक और आंट सेक्स कहानी … अपनी आपबीती!मेरी पिछली कहानी थी:अकेली नयी नवेली भाभी की चुदाईएक बार मैं दिल्ली से रात की ट्रेन से जा रहा था।मेरे साथ मेरा एक दोस्त था.

वो बुआ के साथ कम कम कर रही थी और पूरे घर में घूम कर अपनी गांड मटकाती हुई विकी को दिखा रही थीं. पर मैंने रुक कर उसके मम्मों को चूसना शुरू किया और उसका दर्द कम कर दिया. कहानी के पिछले भागबीवी की वासना जगाकर चुदाईमें आपने पढ़ा कि दो दोस्त आपस में योजना बनाकर एक दूसरे की बीवी को पटाने की कोशिश कर रहे थे.

मैंने कहा- जब लंड चूत देख कर खड़ा हो जाए … तब लड़का छोटा नहीं होता बल्कि बाप बन सकता है. मैंने भी आराम से लंड को चूत में डालना चालू कर दिया और धीरे धीरे करके अपना पूरा मोटा लंड सासू मां की चूत में जड़ तक पेल दिया. आंटी मुझसे लिपट गईं और बोलीं- राज तुम मुझे ऐसे ही चोदोगे, मेरी प्यास बुझाओगे!मैंने कहा- ठीक है, लेकिन सलीम को पता नहीं चलना चाहिए.

वो गली से अन्दर आया और अन्दर पुरुषों वाली तरफ घुसते हुए अन्दर चला गया. एक दिन सुबह सुबह मैं सावी भाभी से पहले रास्ते में जाकर खड़ा हो गया.

साथियो … देसी गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको फरीना की चुत चुदाई की दास्तान लिखूंगा … और एक ऐसा सच भी सामने रखूँगा, जो फरीना की जिन्दगी का सच था. मैंने लेटी हुई भाभी के मम्मों के बीच में लंड फंसाया और मम्मों की चुदाई करते हुए उनके मुँह में लंड देने लगा. एक दिन लॉकडाउन खुला और जैसे ही जून 2020 में आना-जाना शुरू हुआ तो मैं सीधे इंदौर पहुँच गया.

मैंने उसके होंठों को फिर से चूमना शुरू किया और दांतों से होंठों पर काट भी दिया.

वो मजे से सीत्कारें भरने लगीं- आह दक्ष, पूरा पेलो आह मजा आ रहा है … और चोदो अन्दर तक लंड पेलो … मेरी बच्चेदानी में छेद कर दो … आह फाड़ दे मेरी चुत को … आज से ये तेरी गुलाम है जान. चूंकि अभी बच्चा हुआ था तो इतनी जल्दी भाभी की चुत चुदाई करना सम्भव नहीं था. मैं शिवानी की मस्त चूचियों को और चूसना चाहता था लेकिन मेरा लंड अब जवाब देने लग गया था.

तो मैंने उसे कहा- प्रीति, ये तो गलत बात है … तुम अपनी दीदी को तो गले लगा कर नमस्ते की और मुझे दूर से ही नमस्ते बुला रही हो? भई मेरे कौन से कांटे लगे हैं जो तुम्हें चुभ जाएंगे?यह सुनकर सब हसने लगे. मामा को शाम को निकलना था तो वो मुझसे बोले- सनी तुम मुझे स्टेशन तक छोड़ दो.

मैंने खाना खाया और राहुल के घर चला गया।जब मैंने राहुल के घर की घंटी बजाई तो आंटी ने दरवाजा खोला. फिर मॉम ने अलमारी के नीचे वाला ड्रॉवर पूरा बाहर निकाला और ड्रॉवर के पीछे के हिस्से में अन्दर हाथ डाल दिया. दीदी नीचे जाते वक़्त बोलीं- एक बार पूरा करके जाओ, मुझे प्यासी ना छोड़ो … बहुत आग लगी है.

सेक्सी के वीडियो आ जाए

मुझे तो लगा था कि प्लान फेल हो गया है, लेकिन मेरा प्लान काम कर रहा था.

इसके बाद जब भिड़े अपने सोये हुए लंड को फिर से जगाने की कोशिश कर रहा था, तब माधवी ने कहा- एक काम कीजिए … आप रहने ही दीजिये, सब मुझे ही करना पड़ेगा. मेरी चड्डी पूरी वीर्य से सन गई थी और लोअर भी ऊपर की तरफ थोड़ा गीला हो गया था. गांड के ऊपर चिपकी उनकी काली पैंटी में छिपी चुत किसी पावरोटी जैसी लग रही थी.

ये सब बातें मुझे बाद में मालूम चलीं, जब भाभी मेरे लौड़े के नीचे आई थीं. मैं ढूंढने लगा तो देखा कि एक कोने में उसने मेरी अम्मी के सुर्ख लाल होंठ अपनी मोटी मोटी मूछों से दबा रखे हैं. बीएफ हिंदी फिल्म सेक्सीमैंने पहले मेज पर दरी को फोल्ड करके बिछाया, फिर प्रीति के पास जा कर उसका टॉप निकाल दिया.

इससे मैं भी थक कर चूर हो रहा था … सो मुझे अपना पानी निकालने में ज्यादा भलाई लगी. इस समय दोनों तरफ से बराबर झटके लग रहे थे और दोनों एक-दूसरे को चोद रहे थे.

आंटी ने कहा- जरा धीरे करना ऋषि … मेरी चुत बहुत दिन से चुदी नहीं है. मॉम अपने दोनों छेदों में एक साथ दो लंड लिए हुई थीं और अब वो लौड़े के ऊपर अपनी कमर को हिलाती हुई ऊपर नीचे होने लगीं. दीदी ने एक दिन मुझे फोन किया- बाबू, आज बच्चों की पेरेंट्स टीचर मीटिंग है, तुम मुझे स्कूल ले चलो.

वो छटपटाती हुई अपने दोनों हाथों की मुट्ठियों से चादर को खींचती हुई चूत चटवाती रही. मुझे शैंकी की बांहों में बड़ा मादक लग रहा था, तब भी अन्दर ही अन्दर एक डर भी लग रहा था. दीदी चूत की रगड़ाई करती हुई एक बार झड़ चुकी थीं और हाथ से चूत की पंखुड़ियों को सहला रही थीं.

मैंने हिम्मत करके सोने का नाटक करते हुए उसके पैर पर अपना पैर रख दिया.

हमने खाना खत्म किया तो उन्होंने मेरे हाथ से प्लेट लेकर साइड में रखी और किस करने लगीं. और फिर जब मैंने आपका लन्ड चूसा तो मुझे इतना मजा आया कि मैं बता नहीं सकती!मैं- वेरी गुड इस तरह खुल कर बोला करो, देखना फिर तुम्हें चुदने में कितना मजा आएगा.

अम्मी को पहले पहल तो शराब कड़वी लगी, फिर नवीन ने कहा- दर्द की दवाई समझ कर पी ले. वो हंसने लगी और बोली- अपनी गर्लफ्रेंड को सरेआम रुसवा करोगे क्या?इस तरह से हम दोनों बातें करते रहे. वो दोनों इसी तरह की बातें करते हुए मेरी अम्मी और बहन की चुदाई कर रहे थे.

झड़ने के साथ ही मैंने उसे बेड पर ले लिया था और हम दोनों एक साथ निढाल पड़ गए. वो- एक दिन स्कूल जाते समय मुझे यह आवारा आदमी मिला और इसने मुझे धीरे धीरे अपनी बातों के झांसे में ले लिया था. ये सब क्यों और कैसे हुआ … उसी सच्ची गांड की कहानी को आज आप लोगों के सामने पेश कर रहा हूँ.

बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स दूसरे हाथ को उसकी टी-शर्ट के नीचे से अन्दर डालकर उसकी कमर पर हाथ चलाने लगा. अभी लंड 4 या 5 इंच ही गया तभी उसने नीचे जाना बंद कर दिया और धीरे धीरे ऊपर नीचे होने लगी.

मेरे पापा सेक्सी वीडियो

आंटी भी सेक्स का मजा ले रही थी और सिसकारियां लेती जा रही थी।इसी तरह रातभर पोजीशन बदल बदल कर हमने कई बार चुदाई की और सुबह तक मैं आंटी को चोदता रहा।सुबह 5:00 बजे मैंने दीदी को फोन किया और उनको दरवाजा खोलने को बोला. भाभी ने हल्के गुस्से से मुझे देखा और बोलीं- यार, मुझे इसके कारण से दर्द होने लगता है. अब वो मेरे नीचे थे और मैं उनके ऊपर!इस बार वो मेरी चूत के साथ-साथ गांड पर भी जीभ चला रहे थे और साथ ही अपनी उंगली उसके अन्दर डाल रहे थे।एक बार फिर वे पलटे और फिर मेरी टांगों के बीच आकर लंड को चूत पर रगड़ने लगे.

अब भाभी की दुकान के सामने मैं अकेला ग्राहक खड़ा था लेकिन मुझे उसकी दुकान में रखे सामानों में कोई दिलचस्पी नहीं थी. भाभी भी गर्म होकर मुझे अपने दोनों दूध बारी बारी से पिलाने लगीं- आह चूस लो दक्ष … मेरी इन चूचियों को पूरा खा लो. सेक्सी ब्लू दिखाएं हिंदी मेंआज मैंने आंटी की चूत को जिस तरह चाटा था, मैंने दीदी की चूत को भी उसी तरह चाटना शुरू कर दिया.

उन्होंने कहा- पसंद तो मैं भी करती हूँ, लेकिन आपसे बड़ी हूँ इसलिए कुछ कह न सकी.

मुझे अपनी आंटी की चुदाई का मौका अभी नहीं मिल सका था मगर उनकी बुर में लंड पेलते ही आपको आंटी के संग वाली सेक्स कहानी जरूर लिखूंगा. अम्मी दर्द से कराह गईं- अह्ह उम्मम जगप्रीतह … प्लीज मुझे छोड़ दो मेरी गांड मत मारो प्लीज!शायद पापा ने कभी अम्मी की गांड नहीं मारी थी … मगर जगप्रीत कैसे छोड़ सकता था.

अब मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं इससे कंडोम कैसे मांगूं!मनीषा- हां जी बोलिए … क्या चाहिए आपको?मैं- वो, अच्छा वैसे आपके पति कहां हैं, वो दिख नहीं रहे हैं?मनीषा- वो किसी फ़ार्मा कंपनी की मीटिंग में गए हैं … करीब 3 घंटे बाद ही आ पाएंगे. दोस्तो, हॉट हिंदी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में अपने दोस्त बिलाल की अम्मी जुवैरिया की चुत चुदाई विस्तार से लिखूंगा. फिर मैंने बिना समय गंवाए उनके रसीले होंठों को किस करना शुरू कर दिया.

तभी मैंने फटाफट शिवानी के सलवार के नाड़े को खोलकर उसकी पैंटी में हाथ डालकर चूत में उंगली घुसा दी.

फिर मनीषा ने मेरे लंड पर कंडोम लगाना शुरू किया और देखते ही देखते पूरा कंडोम मेरे 8. दीदी ने 12वीं के बाद 2 साल कुछ नहीं किया, फिर दो साल के बाद दीदी ने D. मैंने उसको उसके घर छोड़ दिया और घूमने जाने का प्रोग्राम कैंसल करके हम दोनों ने मूवी देखने का प्लान बनाया.

भोजपुरी बफ हिंदी मेंइधर मैंने अपनी दो उंगलियां गांड में डाल कर अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया था. मुझे इतना मज़ा आ रहा था कि मैं बच्चों की तरह उनके दोनों निप्पलों को बारी बारी से चूस रहा था.

सेक्सी बहू की सेक्सी वीडियो

दूसरे दिन मैंने अम्मी को प्रोत्साहित किया- आप अपनी तरफ ध्यान ही नहीं देतीं. अब तो शीला दीदी ने भी अपनी शर्म को उतार कर फैंक दी थी और वो मेरा साथ खुल कर देने लगी थीं. अबकी बार मैंने उनकी चूत को थोड़ी देर के लिए चाटा और जब वो गर्म होने लगीं तो मैंने अपने लौड़े पर थोड़ा सा थूक लगा लिया.

उनके बूब्स बहुत बड़े बड़े हैं और उनके चुस्त कपड़ों में ऐसे दिखते हैं, जैसे बाहर आने को तड़प रहे हों. आज जब तक मैं तुम्हारी गांड नहीं मार लूंगा, तब तक मुझे चैन नहीं मिलेगा. मैम जैसे ही थोड़ा इत्मीनान से हुईं ये सोच कर कि अब धक्के थोड़ा रुक कर लगेंगे, उन्होंने अन्दर से चूत थोड़ी ढीली करनी शुरू कर दी.

नफीसा आंटी की चूत में लंड अन्दर तक जाने लगा और वो मस्ती से लंड पर उछल उछल कर गांड पटकने लगीं. उसने अपने गालों पर हाथ रखा और आंखें फैलाते हुए कहा- हायल्ला … इतना बड़ा और मोटा!मैंने लंड हिलाया और उससे पूछा- पहले वाला कितना बड़ा था?उसने बताया कि इससे काफी छोटा था. वो बोली- मुझे नहीं पता, मुझे लंड चुत में लेना है, नहीं तो मैं इस तड़प से पागल हो जाऊंगी.

‘अरे सोनू तुम कब उठी?’भिड़े के लंड पर बैठे-बैठे ही अपना मुँह फेरकर माधवी ने सोनू से पूछा, उस वक़्त भी भिड़े का लंड माधवी की चूत में ही था. थोड़ी देर बाद उसने अम्मी से बोला- ज़ेबा, मुझे तुम्हारी गांड भी मारनी है.

माल साफ़ करने के बाद उसने अपना अंडरवियर नीचे उतारा और गोटी मेरे मुँह में भरने लगा.

ये कहते हुए राजेश जी तीन गिलास भर दिए, पर दीदी ने वाइन पीने से मना कर दिया. सनी लियोन की बीएफ फुल सेक्सीतभी उस लौंडे ने अपना रुख बदल दिया और मुस्कुराते हुए कहा- अब तुम क्या बताओगे … वो तो भाग चुका है और इधर तुम्हारे और मेरे अलावा कोई दूसरा भी नहीं है. बीएफ हिंदी ओपनमैं- बोलो शिवानी तुमने क्या सोचा?शिवानी ने कुछ नहीं कहा, वो बिल्कुल चुप रही. इससे मुझे भी मजा आने लगा और रेखा की आवाजें भी तेजी से निकलने लगी थीं.

मेरी देसी भाभी सेक्स कहानी में एक भाभी और मेरे बीच की चुदाई की रसभरी घटना का जिक्र किया गया है.

पैसों की चिन्ता नहीं करो, पर मैं चाहता हूँ कि तुम उसकी ऐसी मसाज करना कि उसे जीवन भर याद रहे. अब मैम कुछ भी पढ़ातीं, तो मुझसे समझने को कहतीं या किसी को नोट्स चाहिए होते तो मेरे से लेने को कह देतीं. कुछ पल बाद फिर ऐसे ही मैंने उसके दूसरे बूब को भी मुँह में लेकर चूसा.

मेरी अम्मी और बहन सिसकार रही थीं ‘ऊऊऊ … उम्महा … ऊऊऊऊऊ …’चारों इस समय दो जोड़े बना कर किसिंग पर किसिंग किए जा रहे थे. कभी कभी भाभी की निगाहें मुझसे मिल जातीं तो वो मुझे अनदेखा करके निकल जातीं. फिर भी मूत की बूंदें टपक रही थीं, मेरे होंठ पर दो चार बूंदें गिरीं, जिसे मैं जल्दी से चाट गया.

सेक्सी वीडियो सुनाइए

वो हंसती हुई बोलीं- मैं तो तुम्हारे लौड़े की गुलाम हूं … बेगम हूं तुम्हारी … तुम जैसे चाहो वैसे चोदो. जीजा जी बेड पर भाभी को कुतिया बनाकर पेलने लगे और उनकी गांड पर तमाचे मारने लगे जिससे भाभी की गांड लाल हो गयी. यह एक्स हॉट गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी तब की है जब मैं भोपाल में काम करता था और हॉस्टल में रहता था.

ये सुनते वो खुश हो गईं और जवाब आया कि पहले पता होता होता तो इतनी औपचारिक बातें ना करती.

न्यूड भाभी सेक्स कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपको अपने बारे में बता देता हूँ.

वो मेरी जांघ पर हाथ चलाने लगा और धीरे से बोला- आप वास्तव में ऐसा करवाना चाहती हैं?मैंने कहा- कैसा?वो फिर से सकपका गया मगर इस बार उसने कुछ साहस दिखाया और अपनी उंगली को मेरी पैंटी के किनारे से रगड़ते हुए कहा. मैंने भी कहा- जब मैं तुम्हारा पति बन जाऊंगा … तो मुझे कुछ तोहफा मिलना चाहिए. સેક્સી સેક્સ વીડિયોआपके मेल मिलने के बाद अगली बार मैं आपको बताऊंगा कि मैंने कैसे सावी भाभी की गांड मारी.

मैं उसको अपनी बांहों में भर कर होंठों को चूमने चूसने लगा, जीभ से जीभ लड़ने लगी. तभी वो उठी और बोली- मैं बियर के साथ खाने के लिए चिप्स का पैकेट निकाल कर लाती हूँ. कुछ देर बाद प्रीति भी वहां आ गयी और मेरे ससुर से बोली- मामा जी, क्या मैं ही कर दूं फिश फ्राई?तो मैं बोला- हाँ प्रीति, आज तुम्हारे ही हाथ की फिश फ्राई खाते हैं.

मुझे सामने पाते ही भाभी कसके लिपट गईं, मेरे गले लग गईं, मुझे चूमने लगीं. उसकी प्यासी आंखों में लंड के लिए प्यार दिख रहा था तो मैंने लंड से कंडोम उतार कर अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया.

मैंने भी अपनी जीभ से उसका सारा पानी चाट चाट कर साफ कर दिया और उसकी बुर थोड़ी देर और चाटता रहा.

तभी मेरे लौड़े ने अपनी रफ़्तार एकदम से बढ़ा दी और झटके के साथ ही पानी छोड़ दिया. मैंने बाद में भाभी से इस बारे में पूछा था कि ये सब मां ने कैसे सैट किया था कि उन्होंने आपको चोदने के लिए मुझे फिट कर दिया. कुछ पल बाद मैंने फिर से एक एक छोटा सा टुकड़ा उसको खिलाते खिलाते नीचे गिरा दिया.

हिंदी में ब्लू ब्लू फिल्म रोहित ने मेरी गान्ड के छेद पर कुछ लगाया, शायद कुछ जैली थी।अब उसने गांड के सुराख पर उंगली डाल दी. वो थोड़ा सा इठलायी और मुस्कुराती हुई चिप्स का पैकेट खोल कर वापिस सोफ़े की तरफ़ बढ़ने लगी.

उसका लंड मुझसे बड़ा और मोटा भी है, वो तो जब दीदी की लेता है … तो दीदी चीख़ निकल जाती है. अक्सर स्कूल से लौटने के बाद शाम को मेरा उनके घर आना जाना हो गया था. उन्होंने मुझसे कहा- कितना काम करेगा … तू थक गया होगा ऋषि!मैंने भी कहा- हां मौसी थक तो गया हूँ … पर ज्यादा नहीं.

सेक्सी लड़की ने

वो मेरी बीवी की चुत गांड में एक साथ दोनों उंगलियों को अन्दर बाहर अन्दर बाहर करने लगा. अब परसों क्या क्या हुआ था और अंकल ने उस दिन मम्मी की हालत कैसी की, वो सब मैं सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगा. वैसे तो मैं पूरे होश में था, पर मैंने सोचा क्यों ना कुछ ट्राई किया जाए.

मैं रात के मैसेज पढ़ कर समझ गया था कि राजेश जी भी दीदी को पसंद करने लगे हैं. मैंने सासू मां की गांड को पकड़ा और 5-6 जोरदार धक्के मार कर लंड का सारा माल सासू मां की चूत में गिरा दिया.

फिर मेरी उनसे फेसबुक पर बात हुई, तो उन्होंने मुझसे कहा- ऐड तो नहीं कर सकती … लेकिन हम दोनों मैसेंजर पर बात कर सकते हैं.

वो मेरी तरफ बेबसी से देखने लगी थी क्योंकि अब वो शिथिल हो गई थी और लंड चूसने के स्थान पर उसे हाथ से पकड़े हुई थी. फिर मैंने भी स्वाति को देखते देखते लंड तेजी से हिलाना शुरू कर दिया और करीब 5 मिनट में मैं भी झड़ गया. मौसी बोलीं- अब पांचवीं कब निपटाएगा?मैंने भी उनकी आंखों में आंखें डालकर कहा- जब आप बोलो.

उनके मुँह से थूक बाहर टपकने लगा था पर मुझे उन पर जरा भी रहम नहीं आया. मैंने उससे कहा- क्या है बे … बच्चे को क्यों परेशान कर रहा है?मेरी चौड़ी छाती, गठीला बदन और हाईट देखकर वो सब वहीं ठिठक गए थे. मूवी का एक सीन है, जिसमें भूमि की मां उसको बोलती है कि अली बाबा गुफा तक पहुंचे या नहीं!यहां उसका मतलब था कि अली बाबा (आयुष्मान का लंड), गुफा (भूमि की चुत) तक पहुंचा या नहीं.

मुझे जगा हुआ पाकर राखी मैडम ने लंड को और जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया.

बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स: दोस्तो, याद रखना लड़कियां कोई लॉजिक नहीं देखतीं, उनको लड़कों की कब कौन सी बात पसंद आ जाए, कोई नहीं बता सकता. मैं फोन उठा कर कुछ बोलने ही वाला था कि उधर से आवाज आई कि तुम दूसरे टेस्ट में भी पास हो गए.

मैंने अब एक जोर का धक्का मारा और अपना पूरा लंड एक बार में ही उनकी चुत में उतार दिया. उनकी कमर पतली है और कसी हुई साड़ी बांधने से उनकी गांड बहुत ही टाइट और सेक्सी दिखती है. अब बताओ क्या करते हो आप?फिर वे बड़ी बेबाकी से बोले- मुट्ठ मारता हूँ और क्या? सड़का मारता हूँ अपने लण्ड का।मैंने कहा- आज से आप सड़का नहीं मरोगे? आज से मैं मारूंगी आपके लण्ड का सड़का.

वो आज ऐसी मादक आवाजें निकाल रही थी … जैसे चुदाई के समय कोई पोर्नस्टार भी नहीं निकालती होगी.

मैडम ‘आहहा आह …’ की आवाज करते हुए लंड चुत में घुसवाने का आनन्द ले रही थीं. वो खुद पर कंट्रोल करके धीरे धीरे मूत रहा था ताकि मैं पूरा मूत पीता जाऊं. मैंने उससे पूछा कि यार पूरी सेक्स कहानी सुनाओ न!मेरी दीदी ने आगे की सेक्स कहानी को विस्तार से बताना शुरू कर दिया.