उड़ीसा के सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,चुदाई वाली बीएफ चुदाई बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ चूत लंड की: उड़ीसा के सेक्सी बीएफ, जब स्कार्पियो कुछ दूर निकल गई तो मैं धीरे धीरे फार्महाउस की तरफ बढ़ने लगा.

हिंदी में वीडियो बीएफ पिक्चर

ऐसे ही बातें करते हुए उसने बताया कि अब वो कभी कभी शराब और सिगरेट भी पी लेती है. देसी बीएफ विदेशी बीएफकटी सब्जी और कस्बे के चार लोगों को खाना सप्लाई करने से हमारी आमदनी बढ़ गयी.

वापस बेडरूम में आकर मदन जी ने मेरी गांड में उंगली से अन्दर तक बोरोलीन लगा दी और एक दर्द निवारक दवा दे दी. पंजाबी का सेक्सी वीडियो बीएफइसके बाद हमने पहला सेक्स कैसे किया?दोस्तो,मेरी पिछली कहानी थी:ननद भाभी को एक साथ चोदाअब दिल थाम कर बैठिए … मैं आप सबको एक बहुत ही कामुक और एकदम सच्ची सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ.

पावनी देखने में एकदम गोरी है, उसका शरीर एकदम स्लिम है और तब उसका फिगर 30-28-32 का रहा होगा.उड़ीसा के सेक्सी बीएफ: आपको ये सेक्स कहानी कैसी लगी, आप अपनी किसी भी प्रकार की राय देने के लिए मेल पर संपर्क कर सकते हैं.

एस सेक्स के बाद उसका छेद मेरे लंड की मोटाई जितना चौड़ा हो गया था और उसके चूतड़ टमाटर जैसे लाल हो गए थे.[emailprotected]गे बॉयज सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन की चूत के चक्कर में गांड मरवायी- 2.

राधा बीएफ सेक्सी - उड़ीसा के सेक्सी बीएफ

पिंकी- लल्ला को थोड़ा धीरे ही चलाना, तेज होने पर थोड़ा दर्द हो सकता है और आज लल्ला से पूरे मजे ले ले.मैंने उसके लोअर को और उसकी पैंटी को एक साथ उतार दिया और कहा- मुझे भी तुम्हारी चूत चूसनी है.

इसलिए दूसरों के कारण अपने मन में हीन भावना न पनपने दें।मैंने अन्तर्वासना की कहानियों में भी पढ़ा है कि लोग लिखते हैं कि उनका लिंग 17 सेमी या 7 इंच से भी बड़ा है, मूसल जैसा लंड है उनका परंतु 90% मामलों में यह बात गलत ही लिखी होती है।इससे कहानी पढ़ने वाले के मन में भी एक ही बात आती है कि उसका तो छोटा है. उड़ीसा के सेक्सी बीएफ हम सब लड़कियों की टांगें हवा में उठी थीं और सबकी चुदाई एक लयबद्ध तरीके से हो रही थी.

लंड के सुपारे को तेजी से आगे पीछे करने से अंकुश भी जल्द ही झड़ने को हो गया और जल्द ही वो झड़ भी गया.

उड़ीसा के सेक्सी बीएफ?

अपने भाई की इन सारी हरकतों का प्रत्युत्तर, नेहा बस उसका लंड चूसने से दे रही थी. बीच बीच में मैं अपनी उंगली से उसकी चूत को भी सहलाता और प्यार से दो उंगली उसके अन्दर डाल देता. उसने फिर से पूछा- बताओ न क्या हुआ आपको?तभी मैंने फिर से रोना शुरू कर दिया.

पर अब तक शायद उसका मौसम बन चुका था तो उसने मुझे भींचते हुए कहा- सही क्यों नहीं है, जब आपका ब्वॉयफ्रेंड किसी और के साथ सेक्स कर सकता है, तो आप ये मत सोचो. हमने घमासान चुदाई की लेकिन वक़्त और जगह का लिहाज़ करते हुए टेस्ट मैच और वन डे की जगह टी20 ही खेला. जैसे ही मैं अरुणिमा के मुँह में झड़ा, मुझे लगा कि मेरे पीछे कोई खड़ा है.

जब भी बड़ा नम्बर आता, मैं सबसे पीछे वाली गोटी चल देता, जिससे आगे वाली गोटियां लंबी उछाल नहीं कर पाईं. सच में दोस्तो, उसको देखने के बाद मेरे मन में उसके प्रति बस गंदे से गंदे ख्याल ही आ रहे थे. मैंने कार चालू की, खुला सुनसान सड़क थी तो मैं साइड पर धीरे धीरे कार चलाने लगा.

शायद वो भी अपनी बेटी की चुदाई देख कर बहुत ही ज़्यादा गर्म हो चुकी थीं इसलिए उनकी गीली चूत में सट से लंड घुस गया. मगर मैं कुछ कर नहीं सकता था क्योंकि एक तो मेरी इतनी ज्यादा उम्र और दूसरा ये रिश्ता.

बीच बीच में जब विकास का हाथ नेहा की चुची पर आ जाता तो वह नीचे झुककर नेहा के मम्मे को मुँह में दबा कर खींच देता और नेहा की आह निकलती, तो वो उसके होंठों पर किस करने लगता.

फिर तीसरे दिन सुबह मेरे दोस्त नितिन का फोन आया, जिसने कविता को मेरे घर पर रखने में मदद की थी और वो मुझसे कविता के बारे में पूछने लगा.

मैंने अपना एक हाथ उसके सिर के पीछे रख उसे थामा हुआ था और दूसरा हाथ उसके टॉप के भीतर उसके स्तन को सहलाने लगा. उन्होंने मुझे तो कुछ नहीं कहा मगर किशोर से कहने लगे कि हमें भी चोदने के लिए चूत चाहिए. नेहा ने झट से उसके तने हुए लंड को अपने मुँह में भर लिया और मस्ती से चूसने लगी.

ये देखकर मुझे भी अचंभा हुआ कि एक घरेलू औरत, आज रंडी से भी अच्छी तरह चुदवाने को तैयार थी. एक ने उसकी गांड पर चमाट मारते हुए पूछा- मजा आ रहा है, तू बस ये बता!पुलिस सेक्स का मजा लेती हुई वो हंस दी और बोली- हां. अब मिशनरी पोजीशन में एक बार फिर मैंने उसकी बुर में अपनी गन डाल दी और और दनादन फायरिंग शुरू कर दी.

हम दोनों नंगे, बन्द कमरा, किसी के आने की कोई संभावना नहीं, एक जवान बेचैन लंड और एक वासना की आग धधकती जवान और खूबसूरत चूत.

इसीलिए अब मैंने अपना लंड संजना की गांड से निकाला और उसकी चूत में डाल दिया. आसिफा एक जवान लौंडिया थी और उसकी जवानी पर किसी का भी दिल आ सकता था. पिछले भागभाभी की चूत चुदाई वाइब्रेटर के संगमें अब तक आपने पढ़ा था कि भाभी ने अपनी गांड में वाइब्रेटर लेकर मुझसे चुदवाया था.

मैंने कभी नापा तो नहीं था पर उस वक्त भाभी के हाथ में नहीं आ रहा था. प्रिया मुस्कुराती हुई बोली- कैसा?मैं- मुझे तुम्हारे साथ आयल सेक्स करना है. एक दो बार मैंने लंड को चूत के बाहर दीवारों पर रगड़ा और हल्का सा अन्दर डाला.

मैं चौंक कर बोला- भाभी, आप लोग एक दूसरे से ये सब भी शेयर करती हो?भाभी हंस कर बोलीं- अरे हमने बहुत कुछ शेयर किया हुआ है, ये तो कुछ भी नहीं है.

जैसे ही मैं उनके फ्लैट में अन्दर आया, उन्होंने जल्दी से फ्लैट का दरवाजा बंद किया और मुझे जोर से किस करने लगीं. मैं चूत चुसाई का मजा ले ही रही थी कि उसी समय अचानक से वो मेरी चूत से हट गया.

उड़ीसा के सेक्सी बीएफ मैंने कहा- तो क्या वापस करना है?भाभी हंस कर बोली- नहीं, अगले महीने काम में आ जाएंगे. एक बार मैंने उसे अपनी निगाहों से मेरी गोरी उभरी हुई मस्त गोलाइयों को ताड़ते हुए पकड़ लिया.

उड़ीसा के सेक्सी बीएफ वो कुछ ध्यान करती हुई बोली- मेरे पर्स में थी … मगर पर्स तो ऑफिस में छूट गया है. एक बार फिर से उन्होंने आंखें बंद करके चुम्बन के लिए सहमति प्रदान की.

कुछ पल बाद संजना मेरे लंड पर कूदने लगी और मैं संजना के थिरकते मम्मों को मसलने लगा.

चूत चुदाई बीएफ दिखाओ

चोदो मुझे जोर जोर से चोदो … आंह फाड़ दो मेरी चूत को … आज से मैं आपकी रानी रंडी सब … जो मजा चुदाई में है … वह किसी में भी नहीं … आह!वे बड़बड़ाती रहीं और उनकी टांगें अकड़ने लगीं. उनकी ये अदा देख कर मुझे समझ ही नहीं आया कि मेरे लंड के लिए इतनी बौराई हुई थीं. हॉट जवान सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी वासना के चलते पड़ोस के जवान लड़के को अपने जाल में फंसाया.

फिर उसने मेरी चूत पर लंड को फेरना शुरू किया, मैंने सिसकारियां भरना शुरू कर दीं. वो उठ कर कंडोम लाईं और मेरा लंड चाट कर खड़ा कर दिया, फिर उस पर कंडोम लगा दिया. अब वहां की क्या परिस्थिति है, इस बात का अवलोकन और अनुमान लगाने के लिए मैंने ड्राइवर से पूछताछ करने का निर्णय लिया.

आंटी- आंह विकी मेरे राजा … आज मेरी प्यासी चूत की चुदाई कर दो … आंह जोर-जोर से मेरी चुदाई करो.

वो बोली- अब आगे भी बढ़ जाओ राज … अपनी इस मीनू को ठंडी कर दो!मैं उठा और मीनू के पेट पर चढ़ गया. दूसरी ओर सिमरन मेरे लौड़े को पूरा मुँह में ले रही थी, जो उसके गले तक जाता हुआ लग रहा था. अब मैं झड़ने वाला था तो उसकी गांड को सीधा करके उसके सिर को पकड़ा और जल्दी जल्दी लंड अन्दर बाहर करके पानी छोड़ने को हो गया.

इस आसन में लंड ज्यादा टाईट चल रहा था, तो वो खुल कर आवाजें कर रही थी- आह आह ईई अम्मी बचाओ!मैं अपने हाथ आगे बढ़ा कर उसके दूध पकड़ कर शॉट मार रहा था. पर विजय बोला कि उसे हनीमून का डेस्टिनेशन फाइनल करना है तो वो उसे लैपटाप में कुछ फ़ोटोज़ दिखाएगा और कुछ शादी की प्लानिंग भी डिस्कस करनी है. वो भी एक बार में कभी सन्तुष्ट नहीं होते हैं, उन्हें कम से कम दो बार तो पक्के में लेना होता है और मूड बना तो तीन बार भी चोद लेते है.

एक बार बीच में रिंकी बीमार हो गई तो उसकी मम्मी ने यानि मेरी काकड़ी ने मुझसे बोला- तू चला जा और उसको गाड़ी में बिठा देना. उसके बाद वो मुझे बेड की तरफ ला रही थी, तभी मेरा खड़ा हुआ लौड़ा उसकी कमर को बार बार टच कर रहा था.

मैंने मन ही मन सोचा कि आज इन्हें कर लेने दो, कल इनकी अच्छी तरह से माँ चोदूंगी. भाभी ने तुरंत चिल्ला कर अपनी चूची को मेरे मुँह से निकाल लिया और उसे देखने लगी. इसके बाद हमने पहला सेक्स कैसे किया?दोस्तो,मेरी पिछली कहानी थी:ननद भाभी को एक साथ चोदाअब दिल थाम कर बैठिए … मैं आप सबको एक बहुत ही कामुक और एकदम सच्ची सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ.

दोस्तो, कैसे लगी मेरी और सेकंड वाइफ सेक्स की कहानी? मुझे अपनी राय बताएं.

मैंने बोला- पैसे नहीं … कुछ और दो!उसने पूछा- कुछ और क्या?मैंने कहा- तेरी गांड भी मारूंगा. दूसरे दिन रात की 9 बजे की बस से जाना था, जो हमको 6 बजे सुबह उज्जैन पहुंचा देगी. मैं अब उसके सिर से चैक करने लगा था क्योंकि लेप्रोसी में नर्व देखनी पड़ती है और सेंसेशन देखने पड़ते हैं.

शायद इसी लिए हम आप हज़ार बार चूत चोदने के बाद फिर से लंड हाथ में हिलाते उसके सामने मुँह बाए पहुंच जाते हैं. उससे मेरे सास ससुर की इज्जत भी बच गई और रसिका की जवानी की आग भी बुझने लगी थी.

आयेशा मुझे रोकती रह गयी मगर मैंने डिलडो उसकी चूत में अन्दर बाहर करना जारी रखा. मैं समझ गया और लंड चूत से खींच कर एकदम से उठा और ऊपर आकर उनके मुँह में अपना लंड डाल दिया. अब मैंने रसिका से कहा- चली गई तेरी बहना … चल मेरी धन्नो आज जन्नत घूम ले मेरी साली जान … लंड का मजा ले ले.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स फिल्म

उस पर चौधरी जी पहले तो घबरा गए, फिर अचानक ये उनके दिमाग में एक बात आ गई और उन्होंने मुस्कुराकर कहा- मेरी बीवी सजनी, संजय की बहन ही है इसीलिए तो उस जैसी दिखती है.

समय बीतता गया और मैंने इस जहर के घूंट को पी लिया कि चाची मेरा पैसा खा गई. मैंने इठलाते हुए कहा- फिर क्या करोगे? अपने लंड को किसी और तरह से चिकना करोगे क्या?उसने मेरी बात को शायद समझ लिया था. मैंने पूछा- ऐसा क्यों?वो बोली- आपकी जो नर्स शादी करके गई थी, उसने आपकी मर्दाना ताकत के बारे में बताया था.

तुम्हें अच्छा तो लगा न!’प्रिया ने मुस्कुराते हुए चाय का कप उठाया और किचन की तरफ़ चल दी. मैंने सोचा उनके नज़दीक जाने के लिए उनके बच्चों से दोस्ती कर लेता हूँ तो शायद नजदीकी बढ़ाने में सुविधा रहेगी. बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो वीडियो बीएफउसने मेरा कहने का भाव समझा और स्वीकारते हुए खुद को बैठाया, फिर ठीक किया.

अब मैंने अपने लंड में भी बहुत सारा शैम्पू लगा लिया और संजना की गांड में दुबारा से शैम्पू भर दिया. मैंने भी उस मोटी गदराई हुई भाभी की जवानी को भोगने का मन पक्का कर लिया और उनकी बुर में लंड घुसाने लगा.

अभी चुदाई चल ही रही थी कि एक नौकर आया और अरुणिमा से बोला- मैडम, आपको बाहर बुला रहे हैं. निकलते टाइम उसने कहा- बहुत तारीफ सुनी है उस छिनाल की, एक बार मुझे भी मौका दिलवा दो. ‘आह ह ह … बस कर … ओह्ह … मुझे दर्द हो रहा है … आह न कर … आह …’उसके हाथ मेरे लंड को पकड़े हुए थे और उसने अपने होंठ मेरी गर्दन में गाड़े हुए थे, जिससे आवाज ज्यादा न हो.

अब आगे यंग गर्ल पिंक एस सेक्स कहानी:सुबह 4 बजे हम दोनों ही सोए और सुबह 11 बजे तक सोते रहे. पैंटी उतरते ही मैं कुछ कहने को हुई मगर उस वक्त उसने मेरा मुँह अपने होंठों में दबाया हुआ था तो मैं कुछ कह ही न सकी. उन दोनों ने अपनी अपनी चूत का पानी छोड़ दिया और उन दोनों ने चूत का रस चाट लिया.

संजना की चूत मेरा लंड लेने लगी थी पर उसकी चूत में कसावट अभी भी बहुत थी.

सच में वो इस वक्त हद से ज्यादा कामुक लग रही थी और मुझे उसे चोदने का दिल करने लगा था. फिर धीरे धीरे सब नॉर्मल हो गया और मैंने उससे हल्के हल्के से मजाक करना शुरू किए.

मेरी नंगी बीवी ने मेरे लंड को पैंट के ऊपर से पकड़ा और खींचते हुए एक कुर्सी तक ले गई. ये सुनकर अमित का जोश और ज्यादा बढ़ जाता, तो वो मुझे और ज्यादा जोर से चोदने लगता. वो थोड़ी सी झल्लाई, फिर रुआंसी सी होकर मुझसे बोली- अब क्या करूं?मैंने उसकी तरफ देखा, वो मुझे ही देख रही थी क्योंकि वो जानती थी कि उसने पिछला टास्क भी नहीं किया था.

हालांकि इस तरह से चुत चूसने में थोड़ी परेशानी हो रही थी पर इसके बावजूद मैं उसकी चूत को चाटे जा रहा था. अब उसने मेरी चूत पर कच्छी के ऊपर से ही बिल्कुल चूत की फांकों पर उंगली से बिल्कुल धीमे धीमे ए लिखा. उस वक़्त रात के दो बज रहे थे और नींद तो किसी भोसड़ी वाले की आंखों में थी ही नहीं.

उड़ीसा के सेक्सी बीएफ मेरी यंग सिस्टर दर्द से कसमसा रही थी लेकिन शायद उसे लंड के मजे के सामने वो दर्द कम लग रहा होगा इसलिए वो बस लगी रही. मैंने उससे कहा- चलो ठीक है तुम नहीं बता रही हो, तो मैं तुम्हारे पापा से ही पूछ लेता हूँ कि ये सब क्या हो रहा है.

कैटरीना कैफ की बीएफ मूवी

वो मेरी मंशा भांपते ही मुझे धकेल कर मेरे ऊपर चढ़ गईं और खिलखिलाती हुई बोलीं- मैं कहां भागी जा रही हूं. चुदाई के साथ ही साथ आनन्द के मारे वो बड़बड़ाने भी लगी- आह उह … चोदो और जम कर चोदो नीत … आंह आज पूरा फाड़ कर रख दो … मेरी बुर का भोसड़ा बना दो. आंटी ने मेरे पूरे बदन को देखा और बोली- देवर जी ने तो पूरा नौंच डाला है … तुझे दर्द तो नहीं हो रहा?मैं- दर्द तो हो रहा है आंटी, पर मज़ा उससे कई गुना ज्यादा आया.

अपनी कहानी को आगे बढ़ाते हुए उसका आगे का भाग भेज रहा हूं, आशा है यह हॉट मामी सेक्स कहानी आपको पसंद आएगी. यह सोचकर आश्चर्य भी हो रहा था कि यह वही लड़की है जिसने कभी लंड चूसने को साफ इंकार कर दिया था और आज कैसे मज़े लेकर लंड चूस रही है. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ देसी बीएफएक दो बार उसने खड़े होकर अपने मम्मे मेरे बदन से रगड़े भी, जिससे मेरा लंड अकड़ने लगा.

अपने उसी शौक के चलते मैंने उसकी गांड में अन्दर तक जीभ डाली और पूरा अन्दर तक चाट कर उसकी गांड का स्वाद लेने लगा.

मैंने कहा- ओके, तुम एक काम करना … कुछ दिन मेरे घर आकर मेरी क्लास अटेंड करना. कुछ देर बाद मैंने उसके चेहरे को अपनी तरफ खींच कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

ड्राइवर की इस हरकत पर वो बहुत गुस्सा हुए और मुझे दस मिनट रुकने को बोले. देसी चाची की सेक्स लाइफ मेरे उम्रदराज चचाजान से निकाह से बर्बाद हो गयी. धीरे धीरे मेरा लंड खड़ा हो गया और उन्होंने मेरी पैंट की फूली हुई पहाड़ी को देख लिया.

आंटी ने मेरे पूरे बदन को देखा और बोली- देवर जी ने तो पूरा नौंच डाला है … तुझे दर्द तो नहीं हो रहा?मैं- दर्द तो हो रहा है आंटी, पर मज़ा उससे कई गुना ज्यादा आया.

हम दोनों इतने गर्म हो गए थे कि हम दोनों में से कोई पीछे हटने को तैयार नहीं था. उसके पैर मुश्किल से फ्लोर को छू रहे थे और उसके दोनों टखनों को बांस की डेढ़ फ़ीट के बल्ली के दोनों कोनों पर बांधा गया था. टाइमिंग भी बताईं, लेकिन सारी ट्रेन्स एकदम पैक थींमैं- ट्रेन तो हैं मॉम लेकिन सब पैक हैं.

संगम बीएफमेरे हाथ उसकी ब्रा के ऊपर से उसके मम्मों को दबा रहे थे और उसके पीछे से रोहित भी उसे सहला रहा था. यदि आपको मेरी यह गर्लफ्रेंड फक़ स्टोरी आपको कैसी लगी? आप मुझे बताएं.

बीएफ 2000 की

अब मेरा निकलने वाला था तो मैं वैसे ही बड़बड़ाने लगा और भाभी के चूतड़ पकड़कर लेजी से लंड आगे पीछे करने लगा. मैं उससे दो साल बाद मिला तो वो काफी बदल गयी थी, उसका रिश्ता तय हो चुका था. जैसे ही मैं खड़ा हुआ कच्छे में लंड उफान मारता हुआ ऐसे खड़ा हुआ था, जैसे अभी सब कुछ फाड़कर निकल जाएगा.

बेल्ट का टुकड़ा लगी बेंत लेकर, विक्रम रस्सी से मुझे खींचते हुए सबके सामने ले आए. मैंने भी तुरंत उनके एक निप्पल को पीना शुरू कर दिया और अपने हाथों से उनके पेट और पीठ को सहलाने लगा. उसका यह रिप्लाई देख कर मैं भी थोड़ा खुल गया और हम अब सेक्स की भी बातें करने लगे थे.

मैं- हसीन चूत की हसीना … देख मेरे होंठ तेरी चूत को चुम्बन कर रहे हैं … देख मैं अपनी जीभ डाल रहा हूँ तेरी फुद्दी में … अब मेरी जीभ तेरी चूत में है … और अपनी चूत का रस निकाल मेरी जीभ पर … साली … चुदवा ले आज अपने यार से … ले हुस्न की मलिका और चूत की रानी. थोड़ी देर बाद मौसी ने मेरा लंड पकड़ लिया और मेरे कान में कहा- अब दिखा मादरचोद कितना दम है तेरे लौड़े में!मैं मौसी के मुँह से गाली सुनकर पहले तो डर गया मगर जिस अंदाज में मौसी मेरे लंड को सहला रही थीं, उससे मुझे समझ आ गया कि मौसी को भी लंड चाहिए. अब अनुष्का का बीएफ घुटनों पर बैठ गया और मेरी चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगा.

पर शायद उसको सच में ज्यादा दर्द हो रहा था, उसकी आंखों से पानी निकल आया था. कम्पनी में मैनपावर कम होने से हमें 15-16 घंटे काम करना पड़ता और मीटिंग अलग से.

ज्योति- वाओ मेरे राजा … मेरी जवानी के सरताज … आज फुल डर्टी कर के चोद ले साले!मैं- हाँ मेरी रानी … ये देख हसीना … तेरी गांड तक नंगी होने लगी है अब … देख तेरी पैंटी उतार रहा हूँ तेरे चूतड़ों से!ज्योति- हाँ ले उतार यार … कर दे मुझे अल्फ नंगी आज … चूस ले अपनी जान की जवानी … ले … आह्ह.

कुछ दिन के इन्तजार के बाद एक दिन हम दोनों को मिलने का मौका मिल ही गया. भाभी बीएफ व्हिडिओचोदो मुझे जोर जोर से चोदो … आंह फाड़ दो मेरी चूत को … आज से मैं आपकी रानी रंडी सब … जो मजा चुदाई में है … वह किसी में भी नहीं … आह!वे बड़बड़ाती रहीं और उनकी टांगें अकड़ने लगीं. बीएफ वीडियो हिंदी में देखने वालाएक दो बार मैंने उसके पेट पर भी हाथ रखा, कभी वो फ़ोन उठाने के लिए नीचे झुकती, तो मैं अपना हाथ उसके पेट पर रख देता था. साथ में मेरे भी!फ्रेंड्स, मैं रॉकी आपको अपनी गर्लफ्रेंड के साथ लूडो के खेल के साथ साथ चुदाई के खेल की तरफ बढ़ाता हुआ किस तरह से ले जा रहा था, ये सुना रहा था.

मैं उसके लंड से निकलने वाले वीर्य की गर्माहट को अन्दर तक महसूस कर रही थी.

मैंने स्पीड बढ़ा दी और कहा- जल्दी बता … किधर निकालूं बहन चोदी साली चुदक्कड़. वो 19 साल की कमसिन लड़की थी। चालीस साल के चचा चाची को मज ना दे पाया. वो दोनों एक ही क्लास में थे और दोनों हमेशा एक दूसरे के साथ ही अपना समय व्यतीत करते थे.

फिर मुझे भी हंसी आयी और मैंने कहा- साली एक नंबर की चुदक्कड़ है तू!उसके बाद हम दोनों 5 बार मिले और 2 बार उसके साथ चुदाई कार्यक्रम भी हुआ. अब आगे फ्री वाइफ सेक्स कहानी:वो आदमी पूरी ताकत से अरुणिमा के मम्मों को भी मसल दे रहा था. मैंने सोचा कि ठोक दूँ, पर फिर ये याद आ गया कि इसका रंडीपना अभी से ही शुरू हो जाएगा और फिर वो दोनों फोटोग्राफर इसको चोदने तो वाले ही हैं.

जानेमन बीएफ

आप सभी उन मर्दों को मेरा नमस्ते, जो इधर अपने लंड को शांत करने आए हैं … और जो लड़कियां चूत में उंगली करने आई हैं, उनको मेरा प्यार. वो बार बार मुझसे बात करने की कोशिश करती रही मगर मैं सीमित बात करके चुप हो जाता रहा. मैं अपने लंड को माँ की चुत पर फिर से सैट करने लगा और मॉम ‘थोड़ा रुक तो …’ कह कर नाटक करती हुई हिलने लगीं.

मैं उसको ले आया लेकिन उसकी तबियत खराब थी, तो कुछ बात ज्यादा नहीं हुई.

अपना एक हाथ उसके कंधे पर रखते हुए उसे अपनी ओर खींचा और उसके गालों पर चूमते हुए बोला- तुम तैयार हो न?प्रिया ने भी मुस्कुराते हुए अपना सर हां में हिला दियामैंने उसे उठाया और अपनी जांघों पर बैठा लिया.

उसका यह रिप्लाई देख कर मैं भी थोड़ा खुल गया और हम अब सेक्स की भी बातें करने लगे थे. मैं घर पर ही स्त्री के भेष में रहती, मेरे चूचे पतियों ने चूस चूसकर, दबाकर, मालिश करके और बड़े कर दिए थे. गर्ल और डॉग की बीएफरात की देर तक चुदाई और फिर सुबह अप्रत्याशित रूप से लंड को चूत द्वारा ऐसे रौंदने पर मुझे थोड़ा अजीब सा लगा और मेरी आंख खुल गयी.

फहीमा मेरे लौड़े का पूरा का पूरा पानी पी गयी और जब तक लंड बिल्कुल मुरझा नहीं गया, उसने लंड को अपने मुँह से बाहर नहीं निकाला. संयोग से उस वक्त जिस्म मूवी चल रही थी, उसमें किसिंग सीन देखकर मैं और मंजू एकटक फिल्म देखने लगीं. मैं भी औरों की तरह सामान्य लड़का था, चाची को सम्मान की नज़र से देखता था.

मैं- हसीन चूत की हसीना … देख मेरे होंठ तेरी चूत को चुम्बन कर रहे हैं … देख मैं अपनी जीभ डाल रहा हूँ तेरी फुद्दी में … अब मेरी जीभ तेरी चूत में है … और अपनी चूत का रस निकाल मेरी जीभ पर … साली … चुदवा ले आज अपने यार से … ले हुस्न की मलिका और चूत की रानी. वो मेरे लिए महीने में वो अपनी चूत से काफी कमा रही थी, तो थोड़ा बहुत कहीं मुँह मार लेती होगी, इस बात से मुझे कोई एतराज नहीं था.

फिर मैं भाभी को लेकर बिस्तर पर आ गया और बुआ वहीं रूक कर खाना बनाने लगीं.

ड्राइवर की इस हरकत पर वो बहुत गुस्सा हुए और मुझे दस मिनट रुकने को बोले. लंड का सुपारा चूत पर महसूस करते ही वो आंह करती हुई बोली- साले, जल्दी से अन्दर पेल दे … भैनचोद अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है. वो मुझे डांटने लगी थीं मगर न तो उन्होंने अपनी सलवार सही करने की कोशिश की थी और न ही मेरा लंड चुत से हटाने की कोशिश की थी.

हीरोइन की सेक्सी बीएफ एचडी हालांकि मैंने पूरा डिल्डो चूत में नहीं डाला था मगर नेहा की आंखें बाहर आने को तैयार दिख रही थीं. वो मेरी चूत पर लंड रगड़ने लगा, जिससे मैं जल बिन मछली की तरह तड़पने लगी.

मुझे देख कर अरुणिमा ने नज़र झुका ली और ड्राइवर मुझे देख कर मुस्कुरा दिया. वो जल्दी से मुझे लेटा कर मेरे ऊपर लेट गयी और 69 की पोजीशन बना कर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. मॉम की चूत इतनी गीली हो रखी थी कि एक ही बार में मेरा तीन इंच अन्दर चला गया.

हिंदी बीएफ के

दोस्तो, मैं राजू आपको अपनी पिछली सेक्स कहानी से आगे की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ. मैंने सोचा कि वो अपने घर चली गई होगी और मैं भी शादी के कार्य में व्यस्त हो गया. उसे अपनी सहेलियों की बातें याद आने लगीं और वो अकेले में अपनी बुर रगड़ने लगी.

मैंने उसको उठाया और हम दोनों बाथरूम मैं जाकर नहाए, फिर बेड पर आ गए. फिर मुझे भी हंसी आयी और मैंने कहा- साली एक नंबर की चुदक्कड़ है तू!उसके बाद हम दोनों 5 बार मिले और 2 बार उसके साथ चुदाई कार्यक्रम भी हुआ.

आपको बता दूं कि पिछली बार जब मैं अपनी बहन विनी की चुदाई कर रहा था तो अपने हिसाब से पोज सैट करके उसे चोद रहा था.

उस ड्राइवर के बगल में एक दूसरा आदमी बैठा था और अरुणिमा की गांड की तरफ एक और आदमी था, जो उसकी गांड मार रहा था. अब एक दो नहीं सारे हाथ मेरे चूचे रंगने लगे, दबाने लगे।मैं हरे पीले नीले गुलाबी और लाल रंग से पूरी तरह रंग चुकी थी।उधर रोशनी के साथ भी यही सब हो रहा था, उसे भी लड़कों के एक गुट घेरे खड़ा था और वो सबके बीच मजे ले रही थी।तभी कुछ नई लड़कियां तैयार होकर बगीचे में आई, सबने मुझे छोड़ उनका रुख किया. उसने मुझे आप कहना बंद कर दिया और मेरी जवानी पर टूट पड़ा- आह … क्या मस्त मलाई हो यार तुम … तुम्हें तो खा जाने का दिल करता है.

आंटी (सागर की मां)- ये सामान तुझे शहर में हमारे रिश्तेदार को अभी पहुंचाना है और हां देर हो जाएगी, तो तुम रात को वापस मत आना. सेक्सी लड़की की जवानी की कहानी में पढ़ें कि किस तरह मैंने अपनी रूममेट को लूडो के खेल में शर्त लगाकर उसके कपड़े उतरवाने शुरू किये. उस समय मैं बिना कपड़ों के शॉवर का मजा ले रही थी, बाथरूम का दरवाजा बंद नहीं था.

वो बोली- मतलब … दिक्कत कैसी हो जाएगी?मैंने कहा- पक्का वाला जोड़ तो एक घंटा तक रह सकता है, फिर तो अलग अलग होना ही पड़ेगा.

उड़ीसा के सेक्सी बीएफ: चाची ने हंस कर कहा- हां रवि, मेरे भाई के घर में शादी है न … तो आज साड़ी पहन कर देख रही थी कि कौन कौन सी साड़ी ले जाना ठीक रहेगा. उन्होंने मुझे किस करते हुए कहा- हां मेरे राजा … अब तुम बातों में वक्त को जाया मत करो और मुझे आप आप कह कर मत बुलाओ.

देसी गर्लफ्रेंड फक़ स्टोरी मेरी पुरानी प्रेकिका की दूसरी बार चुदाई की है. उसके पीछे आकर जैसे ही मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाला तो एक बार में ही पूरा लंड उसकी चूत में उतर गया. उस दिन मैंने फेसबुक पर फौजिया को तलाशा और उसकी फ्रेंड लिस्ट में अपनी इस नाजनीन की नशीली आंखों वाली छमिया को खोजने लगा.

एक एक करते हुए मैंने उनके सारे कपड़े निकाल दिए और वो अब केवल चड्डी में थे.

पतियों ने आपस में तय कर लिया था कि किस रात कौन सा पति मेरे साथ रात बिताएगा. एक हाथ से उसका टॉप ऊपर उठाया और कंधे तक उठा कर उसके स्तन फिर से नंगे कर दिए. मैंने अभी तक आप लोगो को प्रिया के बारे में बताया था कि कैसे वो मेरे घर पर कुछ दिनों के लिए रुकी.