सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,ಇಂಡಿಯಾ ಸೆಕ್ಸ್ ಬಿಎಫ್

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स वाले गाना: सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ, कुछ पल बाद उसने अपने दोनों हाथों से मेरे सर को अपनी चूत पर दबा लिया और तब तक दबाए रखा, जब पानी नहीं छूट गया.

बीएफ पिक्चर हिंदी मूवीस

ये एक सत्य घटना पर आधारित कहानी है, जिसके पात्रों के नाम गोपनीयता की वजह से बदल दिए गए हैं. बीएफ फिल्म भाभी कीमेरे भी मन में उन्हें चोदने के लिए कई मर्तबा ख्याल आया करते थे और मैं भाभी को याद करके मुठ मार लेता था.

उसके बाद 31 दिसम्बर 2019 सेलेब्रेट करने चले गए।फिर दूसरे दिन हमने मोहक की ब्लू फिल्म वाली फंतासी को पूरा किया. सनी सेक्सी फोटोकाफी थकान हो गई थी तो हम दोनों नंगे ही बेड पर पड़े रहे और एक दूसरे को देख रहे थे.

जब तुम्हारा सेक्स करने का मन करे, तब तुम पहल करके मेरा मूड बनाओगी।3.सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ: वैसे तो मेरे पास में थीं लेकिन उनके पति कहीं नहीं जाते थे उस वजह से मैं भाभी को नहीं चोद पाया.

मछलियां देने गया तो बरामदे में सिर्फ शैली मामी भाजी काट रही थीं, चेतना नहीं थी.पोर्न आंटी लंड चूसती हुई बोलने लगीं- अब इसे अन्दर डाल भी दो … मेरी प्यास बुझा दो.

पोर्न आंटी - सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ

वैसे तो रोज ही वो मास्टर आगे वाले कमरे में भाभी के बेटे को पढ़ाने जाता था.भाभी बोलीं- आइला … इतना बड़ा लंड … जितना उस दिन देखा था, ये तो आज उससे बड़ा दिख रहा है.

माँ को बहुत दर्द होने लगा, वो चिल्लाने को कोशिश करने लगी पर उनके मुँह में उनकी चड्डी होने के कारण उनकी आवाज नहीं निकल रही थी. सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ अब दीवाली भी आ गयी थी, मैंने सोचा कि आज भी मैं जुआ खेलता हूँ और जो भी पैसे मैंने अभी तक जीते हैं वो सब मैं माँ को दीवाली के तोहफे के रूप में दे दूँगा.

मैंने उसकी गांड से लन्ड निकाला, उसे घुटनों के बल बिठा कर लन्ड उसके मुँह में दे दिया.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ?

मैं सोच रहा था कि कहीं वो 50 साल की कोई औरत न निकले, नहीं तो बिना मन के ही उसके साथ चुदाई करनी पड़ेगी और एक सप्ताह उसके साथ रहना पड़ेगा, वो अलग. मैं बोला- हां यार जस्सी, मुझे भी ऐसा करने की इच्छा थी, जो तूने पूरी कर दी. बातों बातों में उसने ये भी बता दिया कि जब से स्कूल में थे, तब से उसका दिल मेरे ऊपर आ चुका था.

फिर मैंने उसे नीचे लिटा दिया, उसकी टांगें फैला दीं और उसके बीच अपना मुँह घुसेड़ दिया, तो लंड सीधे मेरे मुँह में घुस गया. चाचा मम्मी की चूत को चोद रहे थे, चाची अपनी चूत को मम्मी के मुँह के ऊपर रखकर रगड़ रही थीं और सिसकारियां ले रही थीं. वैसे भी तेरा रीडिंग वेकेशन चल रहा है न, तो मैंने सोचा इसको तुझसे मिलवा दूँ.

कुछ देर ऐसे ही करने बाद पापा सीधा हो गए और मम्मी की कमर नीचे तकिया लगा कर उनकी टांगें चौड़ी करके कंधे पर रख लीं. फिर मैंने उसकी गांड को हाथों से खोला बाहर की तरफ और अपना मुँह उसकी गांड की दरार में घुसा दिया. तभी बलदेव तेज़ झटके देने लगा और दूसरे को ऊपर से हटा कर उसने मुझे सीधी नीचे लिटा दिया.

वो मादक स्वर में सीत्कारने लगी- आह अह हुं हुं इस्स ओह आह हर्षद बहुत मजा आ रहा है आंह आज पहली बार किसी ने मेरी चूत को चूमा है. मैंने रेशमा का गला पकड़ते हुए उससे कहा- आअह साली रंडी रेशमा मेरी रांड, क्या मस्त फुद्दी है तेरी, आज के बाद ऐसे ही तू मेरे लौड़े के नीचे लेटना, फिर देख कैसे मजे से चोदूंगा तुझे मेरी जान.

छठे दिन उन्होंने मेरे घर वालों को बताया- मेरे पति की रिपोर्ट अब नेगटिव आ गई है.

मैंने भी उनके मम्मे देख कर कहा- हां चाची, मुझे भी इसी तरह के खेल खेलना पसंद हैं.

वे भी क्या दिन थे, जब मैं एक चिकना दुबला पतला गोरा माशूक लौंडा था और स्कूल में पढ़ता था. इसके अलावा भी उसने मुझे कुछ प्राइवेट फ़ोटो भी दिखाए जिसमें नैना और उसके ससुर पूरी तरह से नंगे थे और एक दूसरे को चूम रहे थे. वो, मैं और हमारे कुछ कॉमन फ्रेंड्स, पंजाबी बाग़ में एक क्लब में गए.

काफी अंधेरा था मगर इन्वर्टर की लाईट से कम वाट का एक बल्ब जल रहा था. ये क्यों?मैंने कहा- तुम्हारी दीदी को भी हुआ था, उस दिन उसकी सील तोड़ी थी आज तुम्हारी तोड़ दूंगा।मुग्धा के चेहरे पर नाराजगी साफ दिख रही थी. कुछ समय तक वो शांत रही, फिर वो भी गर्म होने लगी और वो भी मेरा साथ देने लगी.

मैंने अपने दोनों हाथ उसके पीठ पर ले जाकर पीठ से उसकी गांड तक उसे सहलाते हुए उसके होंठ, गोरे गाल, उसकी सुराही जैसी गर्दन पर अपने चुम्बन की झड़ी लगा दी थी.

देविका ने एक बड़े गलेवाला टाईट ब्लाउज पहना हुआ था, जिसमें से उसके आधे से ज्यादा दिखने वाले गोरे स्तन मुझे मदहोश कर रहे थे. फकीर ने आप सबसे पहले मेरी चुन्नी का पल्ला हटा दिया और वह कुर्ती के ऊपर से ही मेरे मम्मों को ऐसे मसलने लगा मानो वो मेरे दूध खा जाना चाहता था. जब माँ घर आई तो मेरे दादा ओर दादी जी ने उनसे पूछा कि मुखिया ने क्या बोला.

रोज योग आसन आदि करता था, दौड़ता था, हल्की कसरत करता था और बचे समय में घूमता रहता था. आखिरी के पांच सात धक्के मैंने ऐसे लगाए कि बर्थ भी खड़खड़ाने लगी और ‘आअहह रेशमा आआ रंडी …’ चिल्लाते हुए मैंने लंड को जितना हो सकता था, उतना अन्दर घुसा कर रखा. दो दिन बाद जब अनीशा का मैनेजर आया तो मेरे सेक्रटरी ने उन्हें कहा- सर आपका ऑफिस विजिट करेंगे और आपके सारे कागजात खुद चैक करेंगे.

वह हंसा और बोला- भाई साब कोई बात नहीं, यह दादा तो लौंडे बाज है, गांव के सब जानते हैं.

मैंने पूछा- क्या घर से बाहर जाना होता है?वो बोली- कभी कभार ही हो पाता है, वो भी दस पंद्रह मिनट के लिए. तो उन्होंने मुझसे मेरे हालचाल पूछना चालू कर दिए ताकि मेरा ध्यान भटक जाए.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ मैंने अपने हाथ की सबसे बड़ी उंगली अञ्जलि की चूत में घुसा दी और अन्दर बाहर करते हुए अंगूठे से उसकी चूत का दाना सहलाता रहा और चूत चाटता रहा. उसने बंद आंखों से ही अपने कपड़े ठीक किए और मुझसे कहा- विक्की तुम जाओ यहां से, अभी के अभी … प्लीज जाओ.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ मैं डॉगी पोज़ में थी तो अचानक मोहक ने पीछे से मेरी प्यारी सी चूत पे एक जोर का झटका मारा और अपना गर्म गर्म लंड मेरी चूत में घुसा दिया. वो अपनी जीभ बाहर निकालने लगी और मैं उसकी जीभ को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा.

कई बार के धक्के मारने के बाद वो मस्त हो गई और मजे से लंड का स्वाद लेने लगी.

बीएफ वीडियो सेक्स हिंदी में

नीता रोने लगी थी, छटपटाने लगी थी और जोर से चिल्लाते हुए बड़बड़ाने लगी- आह मम्मी रे मर गई … ओह ऊंई ऊंई मर गयी मेरी फट गई … आंह निकाल लो लंड … मेरी चूत फट गई हर्षद … आह तेरे मोटे लंड ने मेरी चूत फाड़ दी. शबाना जान बूझकर अब वीरू को गर्म करने लगी।घर में उसके और वीरू के अलावा कोई नहीं था।वीरू के जवान बदन से अपने जिस्म की भूख मिटाने को वो मरी जा रही थी. वे मुझे नहाते देख कर पहले तो बड़ी देर देखते रहे, फिर बोले- बॉडी तो बढ़िया बनाई है, पर नंगे क्यों नहा रहे हो?मैंने कहा- अब कपड़े नहीं थे, तो नहाने लगा.

वो हाथ से दिलासा देती हुई धीमी आवाज में कहने लगी- अभी सो जाओ, बाजू में मम्मी सो रही हैं. रुचिका जोर से चीख पड़ी- हाय मम्मी … मर गई … आंह फट गई मेरी … हाय मम्मी बचाओ. कमरे में चाची ने मुझे देख कर कहा- क्या तुम्हें ताश खेलना आता है?मैंने कहा- हां चाची.

मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूँ और लगातार सारी कहानी पढ़ता हूँ.

भाभी की सेक्सी फिगर 34-30-36 की और एकदम गोरी … कड़क चूचियां और बाहर निकली हुई गोल मटोल गांड, यही सब याद आ रहा था. व्यस्तता के दौरान भी मैं अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ने का वक़्त अक्सर निकाल ही लेता था. इन दो बार की चुदाई से अंजलि कीचूत लंडबड़े आराम से और मस्ती से लेने लगी थी.

उसे मेरे दोस्त का लंड मिल नहीं रहा था और पापा के लंड से उसकी चूत की आग भड़क उठी थी. प्रियांशु मेरी चूत चूसने लगा और संतोष अपने कपड़े उतारकर मेरे मुँह के पास लंड ले आया. उसने मेरे आधे खड़े लंड को पकड़ा और मेरी छाती को चूमने लगी- तुम मुझे छोड़ कर मुम्बई चले जाओगे, तो मैं अकेली कैसे रहूँगी?मैं- तुम भी चलो मेरे साथ.

न्यूड इंडियन वाइफ हॉट स्टोरी हम तीन दोस्तों की आपस में बीवियां बदल कर सेक्स करने की है. घोड़ी बनी अर्चना बिलबिला उठीं लेकिन उनके अन्दर प्रतिरोध की शक्ति नहीं रह गई थी.

मैंने उससे कहा- तुम डरो मत … मैं तेल लगा कर लंड घुसाऊंगा, तुझे ज़्यादा दर्द नहीं होगा. जैसे जैसे चूत को सहला रहा था, वो और जोर से मेरे होंठों को चूमने लगती थी. फिर मेरा मायूस चेहरा देखकर मेरे पास आकर बोलीं- बोलो जाऊं?मैंने कहा- मैं कौन होता हूं रोकने वाला?ललिता भाभी हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा जी.

जैसे ही भाभी ने मेरा कच्छा उतारा, मेरा लंड भाभी के सामने खड़ा होकर सलामी देने लगा.

कभी मुझे लंड पेलते देखते, कभी उसे गांड का बार बार चूतड़ उचकाते ढीले करते देखते. फिर भी अपने घर जाते जाते महंत को छोड़कर, सुमंत और मुझसे आज़ सुबह भी एक राउंड चुदाई करवा गई थीं. मैं भी उसके सामने घुटनों पर होकर बैठ गया और उसके गाउन को निकाल दिया.

दोस्तो, आपने देखा होगा कि औरत की उम्र बढ़ने के साथ उसकी इच्छाएं धीरे धीरे ख़त्म होने लगती हैं, चाहे वो सेक्स की हों या फैशन करने की हों. मैं दूसरी मंजिल के बाद अपनी छत पर सोया हुआ था और बाजू में नीचे बनी हुई छत पर पड़ोस में रहने वाले भैया और भाभी सोए हुए थे.

मेरी पिछली सेक्स कहानीअस्पताल में मिली लंड की प्यासी भाभीकी आप लोगों ने बहुत सराहना की, इसके लिए आपका दिल से आभार और धन्यवाद. मैं भी 20 दिन का भूखा था, तो सुनीता के ऊपर टूट पड़ा और उसके दोनों मम्मों को बारी-बारी से पिया. मजिस्ट्रेट साहब ने कहा कि बालिग होने के कारण अब वो लड़की, लड़के साथ रह सकती थी.

ब्लू पिक्चर सेक्सी ब्लू पिक्चर सेक्स

फिर जब मैं आयशा की कमर में बाम लगाने लगा तो उसकी नर्म और मुलायम कमर का स्पर्श होने पर मेरा लंड खड़ा होने लगा.

मैंने आज भी टेबलेट ली थी क्योंकि ये अबकी बार की हमारी आखरी चुदाई थी; मैं आज उसे बहुत मजे देना चाहता था. कुछ देर बाद वो बिस्तर से उतर कर मेरे सामने बैठ गई और उसने मेरी चड्डी खींच कर उतार दी. मैंने उसे ऐसे ही दस मिनट तक चोदा और उसके मुँह में लंड डालकर उसे नीचे बैठा दिया.

फिर थोड़ी देर बाद भाभी नीचे चली गईं और जाते जाते बोल गईं कि मेरी जमीन पर अपना हल चला कर बीज वो कर दिखाओ, तो जाने. मुझे समझ में आ गया कि अगर इस गांडू की बहन को लौड़े के नीचे लाना है तो यही मेरी मदद भी करेगा. बीएफ ओपन पंजाबीकुछ देर बातें करने के बाद मैंने कहा- तो चलो अब जो करने आए हैं, वो करते हैं.

मगर जोर लगाने के कारण मैं टेबल से गिरने लगा तो आयशा मुझको गिरने से बचाने के लिए आगे आई. मेरे सामने वो पूरी तरह से नंगी हो गई थी और उसकी आंखें अपने आप शर्म से बंद हो गई थीं.

पर्वी ने आज भी रिचार्ज करवाया और जाने लगी,तो मैंने कहा- इतनी क्या जल्दी है बाईसा? हाल चाल तो बताकर जाइए. वो कभी पूरा लंड मुँह में लेने की कोशिश करतीं, तो कभी तेजी से ऊपर नीचे करके मुँह से लंड चोदने लगतीं. मैंने कहा- ये कैसे हो सकता है नीता? और वो भी मेरे साथ तुम्हारे होते हुए?नीता बोली- हां हर्षद.

भाभी मुझे चूमती हुई बोलीं- अब बात न करो … पहले अपना लंड अन्दर डालो. हाथ में मुझे कुछ पानी सा लगा तो मैंने धीरे से अपनी एक आंख को थोड़ा सा खोला. भाभी ने मेरे अन्दर आग देखी तो उन्होंने कहा- क्या कपड़ों के ऊपर से ही मुझे चोद दोगे?मैंने भी झट से अपने कपड़े उतार दिए और उन्हें बिस्तर पर लिटा कर किस करने के लिए उनके ऊपर चढ़ गया.

मैं उसके पीछे अपने घुटनों पर हो गया और पहले उसकी गांड को हाथों से सहलाते हुए अपने होंठों से चूमने लगा.

उसने अपना मुँह दुपट्टे से बांधा हुआ था इसलिए वो मुझे नजर नहीं आई थी. लगभग 2:30 बजे वो मेरी बात मान कर उठी और उसने मुझे इशारा कर दिया कि छत पर आ जाओ.

अब जो मैं बोला, वो करता जा वरना तेरे घर की इज्जत कचरे के डब्बे में मिलेगी तुझे बहनचोद. दूध वाला मेरे पास आया और बोला- बता मेरी जान, नया लंड कैसा था?मैं बोली- जी बहुत बढ़िया है. उसकी कुंवारी बुर एकदम कसी हुई थी और मेरा मोटा लंड उसकीसीलपैक बुरमें नहीं जा पा रहा था.

इतने खुले शब्दों को सुनकर मेरे तो तोते उड़ गए कि भाभी तो सब जानती हैं. वह कभी मेरे पैरों को छूता, फिर धीरे-धीरे हाथ बढ़ाकर मेरी कमर पर ले आता. कुछ देर ऐसे ही करने बाद पापा सीधा हो गए और मम्मी की कमर नीचे तकिया लगा कर उनकी टांगें चौड़ी करके कंधे पर रख लीं.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ दोस्तो, नंगी लड़की सेक्स फोरप्ले कहानी के अगले भाग में चुदाई की दास्तान लिखूँगा. वो टब के पास आकर झुक गयी और अपने दोनों हाथों से मेरे सीने, कमर पर सहलाने लगी.

गांव की छोरियों की

जब मैं झोपड़ी के पास पहुँचा तो सुना कि झोपड़ी से कुछ आवाजें आ रही थी ‘अअ अह अआअ अह हम्म्म् ईषष ईईईआआ!’तो मैंने झोपड़ी में झाँक कर देखा तो माँ और मुखिया जी दोनों बिलकुल नंगे थे. थोड़ा आराम करने के बाद सीमा उठी और मेरे ऊपर आकर लेट गई और मुझसे कहने लगी- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ, तुम मेरा बहुत ख्याल रखते हो. थोड़ी ही देर में मौसी ने अपनी गांड मेरे लंड से चिपका दी और लंड के साथ छेड़छाड़ करने लगी.

एक दिन मैं खूब नशे में थी और लड़कों लड़कियों के साथ ग्रुप डांस कर रही थी. मेरी पिछली सेक्स कहानीअस्पताल में मिली लंड की प्यासी भाभीकी आप लोगों ने बहुत सराहना की, इसके लिए आपका दिल से आभार और धन्यवाद. बीएफ सनी लियोन वीडियोकिसी तरह हम दोनों ने खाना खत्म किया और मैं उसे समझाते हुए सोफे पर आ गया.

उसके होंठ कभी मेरे नीचे के होंठ को, कभी ऊपर के होंठ को हल्के दबाव के साथ चूस रहे थे.

अब उन दोनों ने मिलकर मुझे बाजू में किया और मोनिका को बीच में लेकर किस करने लगे और उसकी गांड पर थप्पड़ मारने लगे. ये सीधी उसके पेट में गयी क्योंकि उसने मेरा लंड मुँह से बाहर निकाला ही नहीं था.

जबकि पलंग पर जवान बहन अर्चना की झील सी गहरी काली आंखों में तैरते लाल डोरे वासना का आमंत्रण दे रहे थे. तभी वह अचानक उंगली मेरे लंड पर लगाने को हाथ बढ़ा चुका था, मेरे मुड़ने से उसकी उंगली की क्रीम मेरे चूतड़ पर लग गई. मैंने धीरे धीरे करके पूरा गिलास उसकी चूत में खाली कर दिया और चूत चाट कर साफ़ कर दी.

तब मैंने देखा कि एक लड़के ने अपना लंड एक लड़की की चूत में घुसेड़ दिया है.

इसलिए वह चाहती थी कि उसका पति एक बार उसके सामने किसी की बुर चोद ले. इसके बाद मैंने अपने भाई से उसके टीचर का नंबर लिया और रोहण से उसके टीचर के बारे में पूछा. जब मैंने आंख खोली तो मौसी को देखकर कहा- मौसी, आप अभी जाग रही हो?मेरी मौसी बोलीं- अबे साले, तू भी तो कब से जाग रहा है.

मद्रासी फिल्म ब्लूमैंने विलास की गांड को दोनों हाथों से पकड़ कर अपने लंड पर दबाव बनाए रखा था. सेक्स कहानी के इन पात्रों के विषय में आप मेरी पूर्व की सेक्स कहानी जरूर पढ़ें.

गर्भवती बीएफ

मैंने कहा- क्या हुआ, तुम मुझसे गुस्सा क्यों हो?उसने कहा- यह कैसे कह रहे हो कि मैं गुस्सा हूं?मैं चुप रहा. मैंने उसे विदा कहा और मैं भी दरवाज़ा बंद करके बाथरूम में खुद को साफ करने चली गयी. वो ये देख कर गुस्से में बोली- ये क्या तरीका है किसी बीमार आदमी के साथ व्यवहार करने का?उसने पानी टेबल पर रख दिया.

पर अब शायद मेरी आकांक्षा पूरी होने वाली थी, मुझे चूत का आनन्द मिलने वाला था. राज देखने चला गया और आकर बोला- मामी, संतरा केला सेब और चीकू बेच रहा है. उन दोनों के लंड का जो पानी हम दोनों के मम्मों पर लगा था, उसे चाट कर साफ कर दिया.

अब आगे राजस्थानी सेक्स कहानी का मजा लें:वाइन पीने के बाद हम दोनों पलंग पर ही बैठे हुए थे. हम दोनों बड़ी बेताबी से एक-दूसरे को चूमने लगे और जमाने भर की सुधबुध खोकर संभोग में लीन हो गए. मैंने मुस्कुराकर कहा- पंप तो अच्छा है … लेकिन तुम्हें चलाना नहीं आता सोनाली.

कुछ दिन बाद अमित ने ऑफिस आना शुरू कर दिया मगर अब वो थोड़ा तनाव में रहने लगा था. कमरे को खोल के जैसे ही हम दोनों अन्दर गए, मैंने रेशमा को फिर से अपने गले से लगा लिया और उसको लेकर बेड पर लेट गया.

अब मैं उसके सामने पेटिकोट और एक खुले ब्लाउज और खुली ब्रा के साथ उसके सामने लेटी थी.

मैंने उसका टॉप और ब्रॉ को उतार दिया और उसके अनछुए मम्मों पर टूट पड़ा. हिंदी में बीएफ पिक्चर दिखाओदो महीने से भाई का लंड ले रही थी लेकिन भाई अब मुझे कम, मां को ज़्यादा चोद रहा था. लड़की की नंगी चुदाई वीडियोउसे गोद में उठा कर ही मैं बाथरूम में गया और वापस आया क्योंकि उससे चला ही नहीं जा रहा था. अब वह मेरे दोनों पैरों के बीच में खड़ा था और उसका लौड़ा मेरी गांड को घूर रहा था.

सुमैत्री ने मेरे होंठों को चूमा और बड़ी बेताबी से मेरे लंड को सहलाने लगी.

झांटों के बाल साफ़ होने के बाद इतनी सुन्दर चिकनी चूत दिखने लगी थी कि वह खुद उस पर हाथ फेर कर बार बार शीशे से देख रही थीं और मुस्कुरा रही थीं. तो वो बोली- मैंने आपको बताया था न कि मेरे घर में कोई नहीं है और आज आप मेरे घर में रुक जाना. अगर प्यार करना है, तो केवल यही ऊपर ऊपर वाला प्यार कर लो, नहीं तो रहने दो.

भाभी की उम्र 38 साल जरूर थी लेकिन वो बहुत ही जवान और सेक्सी भाभी थीं. मौसी मेरे खड़े हुए लंड को जोर जोर से हिलाने लगीं और जब मेरा लंड पूरे जोश में आ गया, तो भला मैं कैसे रुक सकता था. उस दिन जीजा समय पर आ गया और आते ही उसने आरजू के साथ ताबड़तोड़ किसिंग चालू कर दी.

बीएफ चुदाई हॉट

इतनी जल्दी में हो, क्या कहीं जाना हैं?मैंने कहा- मौसी, आपकी गांड को देखकर मेरा लंड मेरे बस में नहीं है. अदिति की कमर पकड़कर मैंने जोरदार धक्के मारे और हम दोनों साथ में झड़ गए. अपना एकदम से फनफनाता लंड पहले ही रस बहाकर चिकनी और चिपचिपी हो चुकी चुत के मुहाने पर रगड़ने लगा.

मेरे ऐसा करने से सीमा सिहर सी उठी और मेरे सर को अपनी जांघों के बीच दबाने लगी.

वो जल्दी से एक और भटूरा बना कर चिल्लायी- दो और बना लूँ ना!मैंने कहा- नहीं नहीं, मेरा हो गया.

घर पर सब बहुत परेशान हो गए थे कि अब इतने सारे पैसे कहाँ से लायेंगे. मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं अपनी मौसी के साथ में ही रहने लगूँ और जब मेरा मन करे, तब उनकी चूत में अपना लंड डालकर अपने मन को तृप्त करता रहूँ. सेक्सी पिक्चर नंगी दिखाइएजबकि पलंग पर जवान बहन अर्चना की झील सी गहरी काली आंखों में तैरते लाल डोरे वासना का आमंत्रण दे रहे थे.

इतनी सुंदर औरत को पैसे देकर चुदने की क्या जरूरत है, इसे तो कोई भी अपनी जान बनाकर रख सकता है. वहां श्रेया के जोर देने की वजह से उसके मम्मी पापा भी मान गए और हम दोनों की शादी हो गयी. अब वो अपनी गांड नीचे से उठा कर लंड को अन्दर बाहर करने की कोशिश करती हुई बोली- हर्षद, तुमने मुझे दो बार झड़ने पर मजबूर किया, लेकिन अब अपने लंड का अमृत मेरी चूत को पिलाकर जल्दी से उसकी बरसों की प्यास बुझा दो.

उसने मुझे बोला था कि उसे लंड का पानी चखना है। उसने एक एक बूँद चाट के साफ़ भी की. Xxx गे एनल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने भरी गर्मी में रात को सुनसान पड़े मकान में एक अनजान शौकीन गांडू लड़के की गांड मारी.

कुछ देर बाद हम दोनों 69 में हो गए और एक दूसरे के लंड चूत को चूसने चाटने में लग गए.

घर के काम समेट कर अर्चना दीदी ममेरे भाई बहनों की रातभर चोदम चोद की रिकॉर्डिंग को एडिट कर रही थीं. दोस्तो, अभी तो शुरूआत हुई थी लेकिन मैं समझ चुका था कि सविता काफी गर्म औरत थी और उसे कई दिनों से किसी मर्द का साथ नहीं मिला था. शर्मा जी और उनकी बीवी अभी अभी ऑफिस के लिए निकल चुके थे, शायद शब्बो चाची भी अपना काम करने आ चुकी थी।दर्द भरा बदन लेकर वीरू सोफे पर जा गिरा.

गुजराती सैक्सी विडीयो किसी भी रंडी किस्म की लौंडिया के लिए ये सबसे बड़ा सुख होता है कि उसके मन की हो गई. दोस्तो, अभी Xxx मामी चुदाई कहानी में इतना ही … अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगी कि मोनिका और मैंने राज के सामने अपनी गांड दो हट्टे कट्टे मर्दों को घर बुला कर किस तरह से मरवाई और चूत में भी लंड का मजा लिया.

इस बार मैं लंड डाला और अपने हाथों से खिड़की की रॉड को पकड़ कर खूब ताकत के साथ लंड चूत में पेल दिया. तब ममा ने मुझे कहा- बेटी, अब तेरी बारी है इस लंड से चुदने की, मैंने तेरे लिए तेरे भाई का लंड तैयार कर दिया है. जब कपड़े धोकर उनको वो दूसरी बाल्टी में डालने के लिए मुड़ जाती तो उसकी 44 इंच की फूली हुई गांड वीरू को साफ साफ दिख जाती थी.

बीएफ वीडियो खुला

सोनम की चूत पर पापा की उगलियों की रगड़ उसे और अधिक मदहोश कर रही थीं. ऐसा करने पर लग रहा था मानो उसे जन्नत की हूर से खेलने की अनुभूति हो रही थी. मैं एक हाथ उसकी गोटियों को मसलता हुआ और दूसरे हाथ से उसकी छाती की घुंडी को मींज कर उसे मजा देने लगा.

वो बिस्तर देख कर बोली- क्या रात को मेरे पीछे से किया था?मैंने उससे कहा- तुमने ही कहा था कि आज सभी तरह से करके बता देना. अदिति सीधे घुटनों के बल बैठ गयी और आहिस्ता से मेरा लंड अपनी चूत से बाहर निकाला.

मैंने रेखा से कहा- क्या अब मैं जा सकता हूँ रेखा?तो रेखा बोली- ऐसे कैसे जाओगे.

मैं राज से बोली- आजा मेरे राज, आज जो करना है, खुलकर कर लो, बहुत दिनों से मुझे भी लंड नहीं मिला है. मैंने बिना देर किए अपने अंडे उसके मुँह में डाल दिए और अपने लंड से उसके माथे पर मारने लगा. चेतना से पता चला कि शैली भाभी ने अपनी बहन को फोन पर रीना के साथ रिश्ते तय होने की सूचना दे दी है.

इस पर वो बोलीं- अरे वाह … ऐसे में तो बहुत मजा आ रहा है … और जोर जोर से चोदो. अगले दिन से मिहिका मुझसे खुल कर बात करने लगी थी और ‘बेटा … या आरे …’ कहकर नहीं बोल रही थी. मैं ऑफिस से आकर ज्यादा थक जाता था, तो पता नहीं, कब मेरी नींद लग जाती थी.

उससे बात करने पर मुझे पता चला कि वो इस समय अकेली रहती है और किसी काम की तलाश में है.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफ: काफी देर बाद वो बोला- मैं पानी कहां निकालूँ?मैं बोली- चूत में ही आ जाओ. मुझे आनन्द आने लगा तो मैंने भी उसके सर में उंगलियां घुमानी शुरू कर दीं.

मैंने ऑफिस का सामान रखा और लड़के से कहा- मैं जरा घूमने जा रहा हूं … आज सब्जी रखी है न! वरना ले आना. शायद बहुत समय से उसने सेक्स नहीं किया था और उसे इस बात का अहसास नहीं था कि मैं आज ही उसकी चुत में हाथ लगा दूंगा. मेरा एक हाथ अब भी उसके छाती पर था, रेशमा को गिरने से बचाने के लिए मैंने अपना हाथ, जो उसके फुद्दी पर था उसे भी उसके सीने पर ले आया और धीरे से बर्थ पर सुलाते हुए पूरे जोर जोर से चोदने लगा.

तभी उनमें से एक आगे बढ़ा और मेरी गांड पर हाथ फेरते हुए बोला- मैडम थोड़ा रुको ना!उसने मेरा हाथ अपने लंड पर रख दिया.

दुबई सेक्स का मजा मुझे दिलवाया मेरे एक फोटोग्राफर दोस्त ने अपनी एक सेक्सी मॉडल के साथ. मैं अपनी पूरी रफ्तार से ललिता भाभी को चोदने लगा और लंड अन्दर बाहर करने लगा. मैं जब जवान हुई तो मुझे नाईट क्लब में जाना अच्छा लगने लगा और मैं कभी रात रात भर क्लब में डांस करती थी और एन्जॉय करती थी.