बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,सनी देओल संदेश

तस्वीर का शीर्षक ,

वीराबली सेक्सी: बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ, अब माधुरी मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी, उसके पैरों में पायल की खनखनाहट भरी आवाज साफ़ साफ़ समझ रही थी.

रिहाना पोर्न वीडियो

आप लोग कहानियां पढ़कर मुझे बहुत मेल करते हैं, मेरी कहानियों में क्या कमी है और क्या अच्छाई है, वो सब बताते हैं. सेक्स वीडियो पेजअब मैंने उसे पूरे इत्मीनान से नंगा कर दिया और उसकी चूत को चाटने लगा.

तापोश- सोनी रवि, मुझे और नीना को यहां आना अच्छा लगा, तुम लोगों को कोई असुविधा तो नहीं हुई?सोनी और मैं एक साथ बोले- हमें तुम लोगों का साथ बहुत अच्छा लगा. सेक्सी चुदाई चोदा चोदीमैंने कहा- इस मुस्कान का क्या मतलब समझूँ?वो मुझे चूमती हुई बोली- मेरी शादी जरूर हुई थी मगर सुहागरात नहीं हुई थी.

कोमल के मुँह से ‘आह … आह्ह … ओह्ह …’ की कामुक सिसकारियों की आवाज़ें निकलने लगीं.बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ: फिर मैंने थोड़ा साहस दिखाते हुए और मुस्कुराते हुए जवाब दिया- थोड़ी? अरे आंटी आप तो बहुत सुन्दर हो.

अब अमित का लंड आयेशा की चूत में था और आयेशा की गांड ऊपर उठी हुई थी.थोड़ी देर बाद मॉम की फिर से आवाज घबराई हुई आई- आदर्श जल्दी से आ … बाथरूम में बिच्छू निकल आया है.

यौतुंबे डाउनलोड - बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ

कुकोल्ड वाइफ की चुदाई का मौक़ा मुझे मिल रहा था तो मुझे क्या आपत्ति होती.वो हल्की-हल्की सिसकारियां ले रही थी और मैं भी धीमे-धीमे अपनी गति को आगे बढ़ाता जा रहा था.

मैंने मॉम को अपने से बिल्कुल चिपका रखा था और अपनी एक टांग अपनी मॉम की जांघ पर रख रखी थी. बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ उन घटनाओं से मुझे लगा कि चाची की चूत अभी गर्म होगी, इसी वक्त उन्हें थोड़ी हिम्मत करके चाची को पीछे से आवाज़ लगाई.

उसकी चीखें निकल रही थी लेकिन मैं उसको किस कर रहा था जिसकी वजह से उसकी आवाज बाहर ना सुनाई दे जाए।पहले तो मैंने उसकी दोनों टांगों को हवा में कर दिया जिससे कि मेरा पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में जा पा रहा था.

बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ?

मैंने उससे कहा- अब तेरी पैंट क्यों गीली होने लगी है?वो भी अपनी हाफ पैंट उतारती हुई नंगी होने लगी. मैंने नीना का सर सहलाकर पुचकाकर कर कहा- गांड ढीली छोड़ो, विश्वास करो उंगली से भी मजा आएगा. उसके रस छोड़ने के एक मिनट के अन्दर अन्दर मैंने भी उसकी चूत में अपना सारा वीर्य छोड़ दिया.

आंटी भी बार बार मुझसे लंड चूत में डालने की कह रही थीं, पर मुझे उनको अभी और तड़पाना था. मैंने माधुरी को आगे झुकने का इशारा किया क्योंकि मैं अब उसकी चूचियां मुँह में भर कर उसका रसपान करना चाहता था. वो मुझे सीधा समझती थी पर मैं तो बस मौके की तलाश में रहता था कि कब मैं इसे चोदूँ.

अब आगे :फिर मैंने कहा- सब लड़के अब अपने अपने कपड़े उतार आकर नंगे हो जाओ. मैं अपनी दोनों उंगलियां मॉम के मुँह में डालकर उन्हें उन्हीं की चूत का पानी चटवाने लगा. मैंने उस समय जब आंटी के बड़े-बड़े चूचों और उनकी गोल मटोल हिलती हुई गांड को देखा, तभी से मैंने ठान लिया था कि कैसे भी करके इस आंटी को पटाकर चोदना है।कुछ दिनों के बाद उन आंटी और मेरी मम्मी की दोस्ती हो गई थी अच्छे से! वे मिलनसार हैं और आंटी का आना जाना लगा रहता था और हमारा आना जाना भी वहां लगा रहा.

मैं नहाया और एक बैग में ब्रा पैंटी डाल कर एक नार्मल लड़के की तरह उसके रूम में गया. वो लगातार अपनी गांड को हिला कर मेरे हाथ को उसकी मंजिल तक पहुंचाने की कोशिश कर रही थी.

हर किसी की नज़रें बस उनके भरे हुए रसीले चूचों और उठी हुई गांड पर ऐसे लगी रहती हैं कि जैसे ही उनको मौका मिलेगा, वो मेरी खाला को वहीं चोद देंगे.

मैं उनके फौलादी बाजुओं में थी और वो मुझे लेकर बेडरूम की तरफ चल दिए.

[emailprotected]कोल्ड वाइफ नो सेक्स कहानी का अगला भाग:देसी कामवाली की चूत चुदाई का मजा- 2. भाभी ज़रा बहुत विरोध तो कर रही थी लेकिन अगले क्षण मैं नंगा ही नीचे उतरा और भाभी की टांगों को फैला कर चूत चूसने लगा. लग जा काम पर!अब मेरे सामने दिक्कत ये थी कि बात करूं तो कैसे करूं?उतने में खबर आई कि शाम को हार्दिक की गर्लफ्रेंड की बड़ी दीदी की शादी थी.

एक चालीस साल की अधेड़ उम्र की औरत से ऐसा कुछ सुनकर मेरा लंड फटने को होने लगा. थक जाने पर कोमल की टागें हवा में उठ गईं और वो लंड से अपनी चटनी बनवाने का सुख लेने लगी. निखिल ने मुझे बांहों में भर लिया और मेरी नंगी पीठ पर हाथ से सहलाने लगा.

मुझे माधुरी की 36 साइज की मलाई की तरह कोमल और दूध सी सफ़ेद चूचियां मस्त दिखने लगी थीं.

कोमल के गोल गोल रसदार आम, जिनको पाने की हरसरत पहली नजर से थी, वो मुझे काफी देर से आमंत्रित कर रहे थे कि आओ और चूस लो हमको, पी जाओ सारा रस. उन घटनाओं से मुझे लगा कि चाची की चूत अभी गर्म होगी, इसी वक्त उन्हें थोड़ी हिम्मत करके चाची को पीछे से आवाज़ लगाई. अचानक ही उसका पानी छूट गया और उसने अपने गरमागरम वीर्य की ना जाने कितनी पिचकारियां मेरे गले के अंदर उतार दीं.

फचाक फचाक फचाक करके ना जाने कितनी पिचकारियां जीजू के लंड ने मेरी चूत में मारीं और फिर निढाल होकर मेरे ऊपर ही गिर पड़े. मैं समझ गई कि इसने मेरी बातें सुन ली हैं मगर मैं कुछ नहीं बोली और उसे खाना देकर कमरे में चली गई. पढ़ाई के दौरान हम दोनों कॉलेज की लौंडियों को अपने कमरे पर लाकर चुदाई का मजा लेते रहते थे.

आंटी ने मुझसे पूछा कि आज बात क्यों नहीं कर रहे हो?मैंने बताया कि आज थोड़ी तबियत खराब है, सर्दी लग रही है.

मतलब दो चुत दो गांड एक साथ थी मेरे पास!मैंने कभी सोचा ही नहीं था कि दो लड़कियों को एक साथ चोदूंगा. मैंने उसकी बुर की फांकों को फैलाया और चूत के छेद में अपना 6 इंच के लंड का मोटा सुपारा लगा दिया.

बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ फिर मैं लाल रंग की ब्रा पैंटी निकालकर पहनने लगी और अपने होने वाले पति के बारे में उनकी दुल्हन बनने के ख्वाब में सोच सोचकर रोमांचित होने लगी. इस X भाभी की हिंदी कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि माधुरी भाभी को मैंने किस तरह से सैट किया और उसकी चुदाई किस तरह से कर पाया.

बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ मैं साक्षी की चूत में अपना पूरा हाथ डालने लगा, साथ ही साथ चूची को जोर से दबा दबा कर मसल रहा था. बहुत सोचने के बाद हमने ये फैसला किया कि आज तो इन्हें छोड़ देते हैं मगर कल सब मेरे घर पर चुदाई का प्रोग्राम रखेंगे … और वहां इनके गांड की माँ चोदेंगे.

बस कुछ एक मिनट में ही मेरे लंड का लावा छूटा और साथ ही साथ माधुरी का बदन भी अकड़ने लगा.

छोटी लडकी की बीएफ

जाते वक़्त मैंने उसका ब्लाउज पीछे से देखा तो वो पीछे जालीदार ब्लाउज और उसमें उसकी ब्रा की डोरी दिखी, तो मेरा तो मुँह खुला का खुला रह गया. उसी मिट्टी से अदीबा फिसल कर उसमें गिर गयी और उसके पैर में मोच आ गयी. दोनों ने मेरी बॉडी को चाटा, दोनों ने मेरे निप्पल्स पर इतना काटा कि वो लाल हो गए.

मैं- अगर आपको कोई प्रॉब्लम नहीं हो तो मैं आपकी परेशानी बॉस को कॉल पर बता देता हूं, वो मुझे दवाई और इलाज बता देंगे, फिर मैं आपको दवाई दे दूंगा. तभी आपा भी कमरे में आ गई और मेरी हालत देख कर हंसने लगीं और जीजू को बोलीं- अरे तुमने तो बेचारी की चूत का आज ही भोसड़ा बना दिया, अब बेचारी का खसम कैसे मजे लेगा?मैं रोते रोते बोली- देखो ना आप, मेरी चूत फाड़ कर रख दी, कैसे बुरे तरीके से खून बह रहा है. और अब तो तू मेरी गांड को ऐसे मार कर, चूस कर, सूंघ कर मेरी कामाग्नि और भड़का रहा है.

उसने जोर देते हुए कहा- तू बता, कुछ नहीं होता … नहीं होती मैं गुस्सा.

उधर मेरा 4 इंच मोटा लंड खड़ा हो रहा था और वो भी पैंट में अटक सा रहा था. कुछ देर उसकी चूत की चुसाई करने के बाद मुझे लगा कि अब सही मौका आ गया है. आपा बोली- आज रात को मैं तेरे बिस्तर पर सो जाऊंगी और तू मेरे कमरे में चली जाना, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा.

पूरी दीवाली की छुट्टी में नीना किसी रात तापोश के साथ, किसी रात सोनी के साथ, किसी रात मेरे साथ संभोग करती और वहीं सो जाती. उनके लंड से अजीब सी महक आ रही थी, मुझे लंड मुँह में लेने में जरा घिन सी आ रही थी. जब चाचा चाची मूवी देखने चले गए तो मैं उसके पास आ गया और उससे उसकी पुरानी बातें करने लगा.

मैंने थोड़ा सोचा और उस औरत से ऑडियो रिकॉर्डिंग क्लिप सेंड करने को कहा. फिर डर भी लगा कि कहीं ऑफिस जाकर उसने मेरी शिकायत किसी से की तो मेरा काम उठ जाएगा.

तभी आंटी ने एकदम से मुझे उनके‌ दूध देखते हुए देखा और उन्होंने ये भी देखा कि बिना‌ ब्रा के उनके निप्पल ऊपर से ही दिख रहे हैं. मैं वासना के भंवर में थी पर नारी सुलभ लज्जा का प्रदर्शन करते हुए मैंने उसका हाथ पकड़ लिया।मगर अगले ही पल उसके होंठ मेरी गर्दन पर आ लगे. अब जलालुद्दीन आलिम ने कहा- अब सबर नहीं होता, आखरी इलाज भी आज ही कर देता हूँ.

छोटू मेरे मुंह के पास आया और अपना लंड मेरे मुंह में उतारने की कोशिश करने लगा.

मैंने उससे कहा- प्लीज तुम जो बोलोगी, मैं वो करूंगा … बस तुम नाराज मत होना और हमारी दोस्ती मत तोड़ देना. कभी कभी आंटी मुझसे पूछती भी थीं कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड तो नहीं है, इसी लिए ध्यान लगा कर पढ़ाई नहीं करते हो, बस हमेशा शरारत ही करते रहते हो. कुछ पल बाद मैंने अपनी एक उंगली उसके ब्लाउज के हुक के बीच में डाली और दरार को महसूस किया.

हमारे ग्रुप के लड़के सब लड़कियों को जबरदस्त तरीके से रंग लगा रहे थे और मौका देखकर वो लड़कियों के बूब्स चूतड़ सब दबा रहे थे. चाची एकदम से चिल्ला पड़ीं- आआहह हहहमम धीरे धीरे डाल प्लीज़ … नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

वो अपने हाथों से मेरे बालों को पकड़कर मुझे ऊपर खींच रही थी- आह … ओह ओह मम्मी … इस्स … आह … बस करो … अब चोद दो बर्दाश्त नहीं हो रहा है. मेरे ऑफिस के सामने एक लेडीज बुटीक और उसी में लेडीज कॉस्मेटिक की शॉप थी. वो गर्म हो गई थी और मादक आवाजें निकालने लगी थीं- ओ … आहहह!फिर उन्होंने मुझसे कहा- ऐसा मजा मुझे पहले कभी नहीं आया.

इंडियन बीएफ ऑंटी

मैंने जल्दी जल्दी उसका ब्लॉउज खोला और उसकी एक चूची को मुँह में ले लिया.

मैंने सोचा कि काश एक बार के लिए उसकी चूत का रस पीने मिल जाता, तो कितना मजा आता. फ़ोन करने के बहाने से या धूप सेंकने के लिए आ जाता और ऐसे उसको ही देखा करता था. उसके बड़े-बड़े चूचे यार … इतने बड़े चूचे तो मैंने अपनी जिंदगी में किसी के नहीं देखे होंगे.

उसके जिन सुंदर मम्मों की मैंने बहुत दिनों से कल्पना की थी, वे अब पूरी शान से मेरे सामने थे, निप्पल खड़े थे. मेरी छोटी चाची मुझसे सात साल बड़ी हैं यानि कि अभी मेरी उम्र 25 है और उनकी 32 साल है. योनि चूसनाउसके तने हुए बड़े बड़े बूब्स, छोटी सी चूत देख कर मैं पागल हो रहा था.

जैसे ही मैंने चड्डी उतारी तो शेखर का बड़ा सा लंड मेरे मुंह से टकरा गया. एक हाथ से मैं उसकी चूची को दबा रहा था और दूसरे हाथ की उंगलियां साक्षी की चूत में अन्दर बाहर हो रही थीं.

फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और कोमल बगीचा में जाकर मीनू की मदद करने लगी. फिर सलीम ने मुझे नीचे उतारा और सोफे पर मुझे घोड़ी बनाकर मेरे पीछे से मेरे ऊपर चढ़ गए. मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से बंद किया और चूत में जोर जोर से धक्के लगाने लगा.

वो हॉल में आई अपना फोन लेने के लिए … और तभी अचानक उनका तौलिया उनके बदन से फिसलकर गिर गया।ये सब देख कर मैं हैरान हो गया … मेरे तो होश ही उड़ गए।वो दृश्य देखने लायक था. मुझे डर भी लग रहा था और बहुत मज़ा भी आ रहा था क्योंकि चाची के बूब्स बहुत बड़े और सॉफ्ट थे. मैं उसके पैरों के पास आ गया और मैंने कोमल की एक टांग को उठाकर अपने नंगे बदन पर रख लिया.

अब जलालुद्दीन आलिम ने मेरे गालों को चाटना शुरू किया और चाटते चाटते मेरे नीम्बू तक आ गए.

इस बार जैसे ही उसने चूत को लंड पर टिकाया और नीचे को बैठने की कोशिश की. हमारे बीच जुबान से बात होना बंद हो गई, अब दिल से दिल की बात हो रही थी.

शायद यह खुशबू उनको बहुत अच्छी लग रही थी इसलिए वो बिना रुके मेरी पेशाब से भरी चूत को चाट चाट कर साफ़ किये जा रहे थे और कह रहे थे- तुम्हारी पेशाब की खुशबू तो मदहोश कर डालती है, जी करता है अपने मुंह में तुमसे पेशाब करवाऊं. एक तो अपना मुँह उनके मुँह में घुसा दिया और अपने दोनों हाथों से उनकी गांड को अपने लौड़े पर दबा दिया. मुझे कॉल आया और उन्हीं सर की मैडम ने अपना परिचय देते हुए कहा- अभी घर का काम बचा हुआ है.

मैं आपको बयां नहीं कर सकता कि उसकी चूत की वो खुशबू मुझे किस कदर मदहोश कर रही थी।उसकी चूत को सहलाते हुए मैं उसकी चूत के आस पास चूमने लगा. कुछ दिन बाद जब मुझे नहीं रहा गया तो मैंने सोचा कि अब चाची से बोल देना चाहिए. कमरे में आकर सोनी बोला- मैं बहुत जल्दी झड़ गया, मैं बहुत जोश में आ गया था.

बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ थोड़ी देर बाद नीना शांत हुई और बोली- देखो रवि, मैंने इतना बड़ा लंड गांड में ले लिया. मैं भी तुनकते हुए बोली- यह क्या जीजू, कितना मजा आ रहा था लंड चूसने में.

हिंदी चोदा चोदी बीएफ

फ्रेंड्स मेरी चुदाई कहानी आपको कैसी लगी?अगर लंड से पानी निकल गया और चूत में उंगली चल चुकी हो तो मैं समझूंगी कि मेरी कहानी ठीक है. पहले उन्होंने मेरे मुंह के पास मुंह लाकर मेरा मुंह सूंघा, फिर मेरे होठों पर जीभ फेरने लगे. वो हल्की-हल्की सिसकारियां ले रही थी और मैं भी धीमे-धीमे अपनी गति को आगे बढ़ाता जा रहा था.

मगर उसके कारण मुझे घर से काम करने की सुविधा अभी भी मिली हुई थी, तो मैं अभी घर से ही काम कर रहा था और इसी कारण शादी में शामिल नहीं हो सकता था. मैं उनके पीछे से जाकर उनके साइड में खड़ा हो गया और उनसे बातें करने लगा. गंदी गंदी बातेंरात को करीब दो बजे तक मैं पढ़ता रहा और पूरी तैयारी करने के बाद सोने की तैयारी कर रहा था.

फिर मैंने धीरे धीरे झटके लगाने शुरु किये और उसके दूध चूसता रहा जिससे उसे मजा आने लगा।वो बोली- पूरा लंड अंदर डाल दो!मैंने वैसा ही किया.

मेरे घुटनों पर काफी सारा तेल लगा हुआ था, जिससे उसका हाथ बार बार फिसल कर मेरी जांघों तक आ जाता, जिसे कविता जल्दी से हटा लेती. यह सोचकर मैंने अपनी बहन को चार सेक्स कहानी भेज दीं, जिसमें तीन बहन भाई की चुदाई वाली कहानी थीं.

थोड़ी बाद जब कोमल शांत हो गई तो मैं कोमल आंखों से निकलते हुए आंसुओं को अपने होंठों से चूसने लगा. यह मेरी पहली Xxx वर्जिन मेड सेक्स कहानी है, इसमें इसके पात्रों के नाम बदले हुए हैं बाकी सब सच है. ’मुझे तो कुछ समझ नहीं आता था लेकिन इन सहेलियों की बातें सुन सुन कर डर भी लगता था कि जाने निकाह के बाद मेरे साथ क्या क्या होगा.

आंटी- हैलो जी, मैं आशिमा बोल रही हूं बरेली से, जो आपके पास दवाई लेने आई थी … याद है न आपको?मैं अपनी खुशी दबाता हुआ बोला- जी हां याद है.

पहले तो उसने यह बात सुनकर नखरा किया कि आपको मैं इतना बढ़िया इंसान समझती थी, आप इतने बुरे निकले. दोनों ने मेरी बॉडी को चाटा, दोनों ने मेरे निप्पल्स पर इतना काटा कि वो लाल हो गए. मैंने आवेश में आकर ब्रा के ऊपर से ब्रा की नोक को अपने दांतों से चबाया.

चूत को चोदते हुए बताओफिर मैंने उनकी गांड से लंड निकाला और चीते की फुर्ती से उनकी चूत में लंड घुसा दिया. वो अगले दिन से अपने कमरे में ही रहने लगी और उसने मुझसे सेक्स के लिए मना कर दिया.

बीएफ सेक्सी पंजाबी सेक्सी

मैं नानी की बात सुन कर बहुत ही ज़्यादा खुश हो गया और सोचा कि शायद अब मुझे मेरी खाला को चोदने का मौका भी मिल सकता है. मेरी उससे बातचीत होती रहती थी; मैं उसकी पटाने की कोशिश में लगा रहता था. तो अजय ने दरवाजा खोल कर सीधा मुझे अंदर खींच लिया और मुझसे लिपट गया।वो बोला- ओ मनीष, बहुत मन था तुमसे मिलने का! मुझे तुम्हें बांहों में लेकर मज़ा आ रहा है।मैंने भी अजय को टाइट पकड़ा और बोला- हाँ अजय, तड़प तो मैं भी रहा हूँ। आज मैं बस तुम्हारा हूं, तुम मेरे साथ जो चाहो करो, मैं मना नही करूँगा।अजय मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगा.

मैंने उसके एक निप्पल को इतना जोर से काटा कि वह ‘आह मर गई काट कर खाएगा क्या. उनके बूब्स बाहर आ गए थे और मैंने उनकी एक चूची को चूसना शुरू कर दिया. तो राहुल, सुमित और शुभम सामने खड़े थे और उनके हाथों में कोल्ड ड्रिंक्स के गिलास थे.

मेरी मीना भी बहुत ही प्यार से इस रस में डूबी हुई बस आआह्ह ओह कर रही थी. उनके हर धक्के के साथ मेरा सारा बदन हिल जाता और मेरे मम्मे तो इतना तेज हिलते मानो निकल कर गिर ही जाएंगे. ‘अच्छा, लगा ले फिर एक गेम की शर्त, अभी पता चल जाएगा!’उसने चुनौती भरे स्वर में कहा, तो मैंने भी अपनी तैयारी करते हुए कहा- ठीक है चल फिर आ जा.

मुझे चाची पर थोड़ी दया आ गई और मैंने धीरे धीरे करके लंड के टोपे को गांड में डालने की कोशिश की. कभी मैं उसकी एक चूची को चूसता … तो कभी दूसरी चूची को!और धीरे से मैंने उसके निप्पल पर काट लिया … जिससे उसकी आह निकल गई.

कोई बिजली वाला आपके जान पहचान का है क्या?मैंने हां कहा और फोन करके अपने एक परिचित को बुला कर आंटी का काम करवा दिया.

फिर सीधा मैं शाम को ऑफिस में रिपोर्टिंग करने जैसे ऑफिस के बाहर अपनी बाइक से उतरा. सेक्सी वीडियो फोटो भेजोये सोचते ही मेरे लंड महाराज अब नेकर फाड़ कर कुछ और फाड़ने को बेताब हो रहे थे. माधुरी दीक्षित के सेक्सी वीडियोमैं उनकी छाती पर बैठ गई तो वो बोले- छाती पर नहीं बल्कि लण्ड पर बैठना है. तभी खाला बोली- सिर्फ़ देखोगे ही, या इनसे खेलोगे भी!यह सुनते ही मैं उनकी चूचियों पर टूट पड़ा और पूरे जोर से उन्हें मसल रहा था, साथ ही खाला की गर्दन पर किस कर रहा था.

मेरी चूत से पानी छूट जाने के कारण चुदाई में फचाक फचाक की आवाजें आने लगी थीं और जीजू का लंड और भी आसानी से अंदर बाहर हो रहा था.

मेरे नथुनों में मेरी सबसे पसंदीदा छेद की महक मुझे उत्तेजित कर रही थी. उसकी आवाजें कुछ ज्यादा तेज होने लगी थीं और लंड को पूरा अन्दर पेलने आ समय आ गया था. वो भी मेरा साथ देने लगीं और हम दोनों एक-दूसरे को पागलों की तरह चूमने लगे.

एकदम लाल लंड देख कर मीनू मुस्कुराने लगी और अपनी ननद से बोली- खुल गई तेरी चूत की मोरी!कोमल भी हंसने लगी. मैं इतने दिन तक जलालुद्दीन के साथ रहते रहते यह भूल ही गई थी कि एक दिन मुझे लौट कर भी जाना होगा. मैंने पूछा- क्यों ऐसा मजा, चाचा जी के साथ नहीं आता है क्या?चाची ने मुझसे कहा- अब तू जवान हो गया है और बहुत बड़ा हो गया है.

सेक्सी एसएस बीएफ

कभी-कभी कोई एक-दो गाड़ियां निकलती हुई दिख जाती थीं, पर बाद में सड़क फिर सुनसान हो जाती और रात का सन्नाटा पसर जाता. मैं हर बार माधुरी को देख कर सोचता था कि काश मुझे भी इस भरी हुई कमसिन जवानी का रस चखने मिले, तो ज़िन्दगी बन जाए. माधुरी का शोला बदन और उसकी ऐसी कातिल अदा थी कि देख कर तो किसी बुड्ढे में भी जवानी छा जाए.

उसने शादी से पहले के बाकी कार्यक्रमों में भी अपना लुक बहुत कातिलाना बनाया था.

मैं- शश्श … इतने अंधेरे में कोई कुछ नहीं देख पाएगा, तुम बस एंजॉय करो.

उसने बापू से पूछा- क्यों और दूसरी क्या मजा नहीं देती हैं?बापू- तेरे अलावा बस चौधरन ही मजा देती है … बाकी की तो सब साली लंडखोर हैं. लंड को चूत में ही रख मैं उसके पर गिर गया और उसे किस करता हुआ उसके बगल में लेट गया. मौसी की लड़की की चुदाईइस तरह की पैंटी मैंने कभी नहीं पहनी थी फिर भी मैंने उस ब्रा पैंटी को पहनी.

उसकी आंखों में देखा और चेहरा हाथ में भरते हुए उसके होंठों पर फिर एक किस कर दी. मुझे मालूम था कि हमारे पास समय कम है इसलिए मैंने उसके होंठों को किस करते हुए ही उसके मम्मों को दबाना चालू कर दिया. मैंने कहा- हां वो तो तुम हो ही, लेकिन ये मेरी इच्छा है कि तुम्हारी किसी सहेली को भी चोदूं.

मगर अबकी बार उसने मुझे दबोच लिया और बिना रुके लंड को आगे पीछे चलाने लगा. लेकिन शेखर ने मेरी बात नहीं सुनी और एक जोर का झटका देकर अपना सारा लंड मेरी चूत में पेल दिया.

फिर एक दिन सुबह सुबह उसका मैसेज आया कि बेबी आज मेरे परिवार वाले बाहर जा रहे हैं.

तो मैं जल्दी से किचन की तरफ चली गई और पानी पीकर अपने रूम में आकर अपनी चूत में उंगली अंदर बाहर करने लगी।मेरी आंखों के सामने बार बार पापा का फौलादी लंड आ रहा था. मैंने पूछा- मजा तो आया न!खाला बोलीं- साले, फाड़ कर रख दी है और पूछ रहे हो कि मजा आया?मैं हंस दिया. अब मैंने उसकी गांड में लंड लगाया और उसकी पीठ के ऊपर हाथों से सहलाते हुए जोर से झटका मारा.

मल्हार फोटो मंजू हांफती हुई बोली- बुआ जब यह वियाग्रा खा लेता है तो रात भर चुदाई करता है. मगर क्या वो अपनी सेक्स की आग बुझाने के लिए ऐसा करती है या पैसों के लिए ऐसा करती है.

अपनी सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई का मजा मैंने लिया होटल में! चाची चूत मरवाने के चक्कर में मेरे साथ गयी थी पर मैंने चाची की गांड भी मार ली. कुछ देर बाद वापस बिस्तर पर लाकर चाची को घोड़ी बनाया और गांड में लंड डालकर चोदने लगा. फिर मैं मॉम को सरका कर बेड के कोने तक ले आया और खुद ज़मीन पर खड़ा होकर उनकी एक टांग अपने कंधे पर रख कर उनकी चूत चोदने लगा.

इंडियन बीएफ वीडियो वीडियो

मेरा नाम राज है और मेरी पत्नी का नाम वंदना है।मैं 40 साल का हूं और वह 36 साल की है।हम दिल्ली में रहते हैं।यह वाइफ चीटिंग सेक्स कहानी मेरी अपनी पत्नी की है. चाची की मादक सिसकारियां बढ़ने लगीं और वो ‘उईई ऊईईई आह आह …’ करने लगीं. बापू ने कहा- हंस क्यों रही है?काकी ने कहा- तेरी लुगाई छन्नो ने मुझे बताया था कि बहू को पीस कर रख देता है तेरा लौंडा.

मुझे लण्ड से आती खुशबू बहुत अच्छा लगी और में भी उसपर अपनी जीभ फेरने लगी. तीसरी बारलंड का पानीनिकला, तो उसने कहा- मेरे भाई थोड़ी देर में आते ही होंगे.

कहानी के तीसरे भागबुटीक वाली सेक्सी भाभी ने बुलायामें अब तक आपने पढ़ा था कि माधुरी भाभी ने मुझे अपनी नई दुकान में बुलाया और कुछ देर बात करने के बाद उसने अन्दर से ही दुकान की शटर गिरा दी और मुझसे मस्ती करते हुए अपने दूध पीने की बात कहने लगी.

बीवी ने भी हां में सर हिलाते हुए गिलास लिया और बोली- हां जी, गर्मी ने तो सारा दिमाग गर्म कर रखा है. रात को भी मेरी आंखों के सामने सेक्सी माधुरी का साड़ी वाला चेहरा सामने आया और मैं अपने बिस्तर पर लेटे लेटे ही अपने लंड को मसलने लगा. जब भी वह मुझे भोजन के साथ भोजन परोसने के लिए झुकती थी, वह मुझे अपने मदमस्त स्तनों का एक दृश्य भी परोस दे रही थी.

जब 1200 रूपए मिले तो मैंने सारा पैसा दारू पीकर और खाना वगैरह खाकर दोस्तों में उड़ा दिया था. तब चाचा जी ने अपने छोटे बच्चे के लिए एक नौकरानी लगा रखी थी जो सारे दिन घर पर रहा करती थी. न केवल मर्द को बल्कि औरत को भी उसकी चूची दबाते और मसलते, या उसकी गांड पर थप्पड़ मारते समय, उसके निप्पलों को मुँह में लेकर खींचते या काटते समय औरत को भी मजा आने लगता है.

गुलाब की नाज़ुक पंखुड़ियों जैसे उनके होंठ मेरे होंठों से मिले हुए थे और मैं एक भौंरे की तरह उनका रसपान कर रहा था.

बीएफ सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ: तापोश- आज शनिवार है, क्या आज रात दारू पीने के बाद नीना की सामूहिक चुदाई की इच्छा पूरी की जाए?सभी राजी हो गए. मैंने ब्लूफिल में लंड चाटना देखा था, तो मुझे लंड मुँह में लेने की बेताबी थी.

मैंने तेल की शीशी उठाई और साक्षी की गांड के छेद पर तेल लगा कर हल्के हाथ से मसाज देने लगा. अब मैं उसकी गर्दन पर अपनी जीभ घुमा रहा था, उसके बाद उसके अंडरआर्म में जीभ डाल कर चाट रहा था. वो डर कर बोली- आप करना क्या चाहते हैं?मैंने कहा- रुको, अभी मजा आएगा.

मेरी जबरदस्त चुदाई के बाद मैं बुरी तरह पस्त हो चुकी थी और मुझमें उठकर कपड़े पहनने की हिम्मत भी नहीं बची थी.

और अब दीदी भी उसका पूरा साथ दे रही थी।फिर कुछ देर के बाद वो दोनों शांत हो गये तो मुझे यह पता चल गया कि अब मेरी बहन की चूत में रवि का वीर्य जा चुका था. कुछ देर बाद मेरी हवस जाग उठी और मैं उसके पैर में मूव लगाते हुए कुछ अलग तरह से सहलाने लगा था. मैंने भी अपनी बीवी को घर के काम करने के लिए एक नौकरानी रखने के लिए राजी कर लिया.