15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,हिंदुस्तानी चूत

तस्वीर का शीर्षक ,

टीना कैफ सेक्सी वीडियो: 15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ, दूसरी तरफ मेरा लौड़ा उनकी चूत की दीवारों को कुचलते हुए उनकी तलहटी तक पहुँच जाता था.

हिंदी बीएफ भोजपुरी बीएफ सेक्सी

मैंने उसे नींद से जगाने के लिए माफ़ी मांगी और पूछा कि कोई मच्छर भगाने वाली चीज़ है तो उसने बोला की ऐसा तो कुछ उसके पास नहीं था. बीएफ फिल्म देहाती बीएफजय ने राहुल को डांट लगाई- इतने बढ़िया माल की तूने अभी गांड देखी तक नहीं? चूतिया है यार तू भी!ये कहते हुए जय ने अचानक से मेरी पैंट खोलने की बजाय उसको खींच कर निकालने की कोशिश करने लगा जिससे पैंट का हुक टूट गया और मुझे थोड़ा गुस्सा आया.

मैं आप सभी से एक बार फिर कह रहा हूँ, यह कहानी मात्र एक कल्पना है, इसका वास्तविकता से कुछ लेना देना नहीं है. ससुर बहू की चूत चुदाईफ्लॉरा ने थोड़ी ना-नुकुर की, फिर वो जॉन की मीठी बातों में आ गई और कपड़े निकाल कर बैठ गई.

जब कई दिन ऐसा करते हुए हो गए तो एक दिन मैंने भाभी से बात करने की ठान ली और पार्क में जिधर भाभी जॉगिंग कर रही थीं, मैं उधर उनके करीब को चला गया.15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ: इसके बाद मैंने हील पहनी और वॉशरूम का गेट खोल कर कैटवॉक करती हुई रॉबर्ट के पास आ गयी.

कविता के मम्मे उसने जोर से दबा कर अपने मुख में ले लिए और अपने एक हाथ से उसकी चूत को मसलने लगी.एक बार मैंने उससे मिलने के लिए कहा और हम एक पिज़्ज़ा सेंटर पर मिले.

पत्नी की चुदाई वीडियो - 15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ

छह बजते ही पापा और फूफा काम पर चले गए और मैं मम्मी से टट्टी करने की कह कर बाथरूम में चला गया.जहाँ हमारी बेंच में 20-25 लोग बैठे थे, वहीं लड़कियों की बेंच में 7-8 लोग ही बचे थे.

फ्लॉरा ने आँखें खोलीं और अपने सामने जॉन के खड़े लंड को देख कर वो सन्न हो गई. 15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ रमेश ने भी काफी दिनों से चुदाई का मजा नहीं लिया था और 18 साल की सरिता को इस अवस्था में पाकर उसे चोदने का मन बना रहा था.

अभी तो आप अखबार पढ़ो आराम से!” बहूरानी बोली और न्यूज़ पेपर लाकर मुझे दे दिया.

15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ?

लखनऊ कैंट के पास रहता हूँ और यहीं एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूँ। मैं सन 2012 में इंजीनियरिंग पूरी करने के बाद से लखनऊ में ही रह रहा हूँ।मुझे शुरूआत में ऑटो या बस से जॉब पर जाना पड़ता था, जो कि मेरे रूम से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर है। सुबह के टाइम तो बस ये ऑटो मिलने में कोई दिक्कत नहीं होती है. अब शहज़ाद ने अपना एक हाथ मेरी कमीज़ उठा कर अंदर डाल दिया और मैंने भी उसकी सहूलियत के लिए अपना एक बूब ब्रा से बाहर निकाल कर उसके हाथ में दे दिया. उसके होंठ चूसते चूसते मैं उसको लेकर पीछे को लेट गया और हम एक दूसरे से कुछ ऐसे लिपटे हुए थे जैसे साँपों का कोई जोड़ा.

‘सविता भाभी आप परेशान न हों, आपके पास इतना जबरदस्त हुस्न है, आप अशोक को जरूर खुश कर दोगी. फिर हम दोनों एक साथ अपना पानी छोड़ने वाले थे तो मैंने उससे पूछा- अन्दर ही छोड़ दूँ?उसके कुछ कहने से पहले ही सारा का सारा माल उसकी चूत में ही निकल गया और मैं उसके ऊपर ही लेट गया. उसके लंड ने जैसे सरिता की बुर की चमड़ी को पूरा छील दिया, उसे बहुत दर्द हो रहा था और वो अभी भी आह ओह ओहाआ आआअ अह्ह्ह्हह्ह कर के रो रही थी.

मैं सोई रहती हूँ। वो आकर खाना खाते ही सो जाते हैं। मुझे तो बहुत ही सेक्स करने का मन रहता है लेकिन मेरे लिए उनके पास टाइम ही नहीं रहता है।मैं- ओह. उनकी चूत के फोटो आज भी मेरे कंप्यूटर में कहीं पासवर्ड से सुरक्षित हैं और कभी कभी देख लेता हूँ इन्हें. दोस्तो, यह कहानी थी मेरी और निशा जी की जो अन्तर्वासना प्लेटफ़ॉर्म के जरिये मुझसे मिली थी.

फिर मैंने कहा- भाभी, वहाँ से आपको तकलीफ़ हो रही है आप मेरे पास मतलब मेरे बाजू में बैठ जाइए. सुमन भाभी जब थोड़ा नार्मल हुईं, तो मुझे किस करने लगीं और कहने लगीं- यार सैम, मेरी शादी के बाद आज पहली बार किसी ने मेरी चूत चाटी और पहली बार मेरे इतना पानी छूटा.

मैं फटाफट सोनू की मम्मी के साथ सोनू के पापा को लेकर एंबुलेंस में बैठ गया.

मैंने जैसे ही उसके लंड को टच किया, वह थोड़ा पीछे हटा और मुझे देखा और नशे में थोड़ा मुस्कुराया.

मुझे उस पर भरोसा नहीं था इसलिए अपने हाथ से मैंने उसका मुँह दबाकर रखा और एक झटके में ही अपने लंड को उसकी चुत के अन्दर डाल दिया. दोस्तो, उस रात आप बड़ा बोल रहे थे ना ऐसी नींद किसी की नहीं होती कि कोई लंड को ऐसे चूसे, मसले और आँख ना खुले. अब आगे पढ़ें वर्जिन चुत की कहानी:दोस्तो, उम्मीद है कि इस ग्रुप सेक्स में आपको मज़ा आया होगा.

फिर मैं चला आगे…उसके घर के जैसे ही पास पहुँचा, 4 कुत्ते भागते हुए चले आ रहे थे मेरे पास, मैं फिर खड़ा हो गया, वो चारों मेरे चारों तरफ़ खड़े हो गये, मेरी फट तो रही थी और वो अपने घर के बाहर खड़ी देख रही थी. मैं ये सब पैसों के लिए करता हूँ, सभी की गोपनीयता बनाए रखता हूँ, सो कोई भी मुझसे असंतुष्ट नहीं रहती है. वो अब खुद ही मेरे मुँह पे अपनी चूत रगड़ रही थी और सिसकारियाँ ले रही थी.

कोई ऐसी सजावट इत्यादि नहीं दिखी जो वहाँ रहने वालों की रसिकता का परिचय देती.

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि टीन गर्ल टीना ने मॉंटी को उसकी इस बात को लेकर बहुत झाड़ा कि वो सोने का नाटक करते हुए उसकी लूली पर दवा लगवाते वक्त मजा ले रहा था. उसके मिल्की वाइट, टोंड जाँघें, जिनके नीचे उसके पैरों पर एक भी बाल नहीं था. इसी बीच बात करते हुए उसने मेरे लिए चाय भी बना ली, मैंने फिर से उससे पूछा- मुझे क्यों बुलाया?तो उसने बताया कि उसने रात को मुझसे कुछ ज़्यादा ही बाते शेयर कर ली थी और वो चाहती थी कि मैं ये सब किसी और को ना बताऊँ और रात की सारी बातें मोबाइल से डिलीट कर दूँ.

सोफे पर पटक कर उसने मेरी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और फिर से अपना लंड मेरी गांड में पेल दिया. बाकी वो खुद संभाल लेगा।टीना ने फ्लॉरा को सब अच्छे से समझा दिया कि बाकी सबको वो पहले ही दूसरे कमरे में ले जाएगी और उसके बाद वो संजू के साथ खुलकर मज़ा ले सकती है।संजय के बड़े लंड का सोच कर ही फ्लॉरा की चुत पानी-पानी हो गई थी। वो टीना से कुछ कहना चाहती थी।मगर टीना ने संजय को आवाज़ दे दी- अब खाने के लिए कितना वेट करवाओगे? भूख लगने लगी है!संजय- सब रेडी है जान. फिर तुझे असली मज़ा आएगा।सुमन तो खुद यही चाहती थी, बस टीना के कहने की देर थी। उसने झट सेलंड को मुँह में भर लियाऔर मज़े से चूसने लगी।मॉंटी नींद में था.

जिनके साथ लड़कियाँ नहीं थी वो ललचाई नजर से और लड़कियों को देख रहे थे.

अब उसने ऊपर की ओर उभर चुकी गांड के छेद को निशाना बनाया और अपने चिकने, गीले लंड को अन्दर घुसा दिया. सच बताऊँ तो उस समय मन कर रहा था कि सुमित को पकड़ कर अभी दो झापड़ लगाऊँ पर मैंने ऐसा नहीं किया, मैं देखता रहा और वो दोनो एक दूसरे को किस करते रहे.

15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ मैंने एक और धक्का दे दिया और पूरा लंड उसकी गांड में ठोक दिया, जिसके कारण आरती की गांड फट गई और खून निकलने लगा. जो भी मेरे मन में रहता है मुझे बेचैन किये रहता है उसे मैं अभी पा लेना चाहती हूँ, भोग लेना चाहती हूँ… बस जैसे मैं चाहूँ, जैसे कहूँ आप बस वैसे ही चोदना मुझे.

15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ लेकिन मैंने उसको प्यार से डांट लगाते हुए चुप करवा दिया और पीठ के बल लेटा दिया, फिर उसकी कमर की मालिश करने लगा. समझ गई ना?नीतू- ठीक है दीदी दबा दूँगी… मगर मेरी माँ कहती है आदमी की लुल्ली की बात नहीं करना चाहिए.

मैंने अपने कमरे में एक वेब कैम लगाया और अपने सिस्टम से कनेक्ट किया.

ಕನ್ನಡ ಫುಲ್ ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ

रमेश का लंड काफी गर्म था और उसको हाथ लगाते ही सरिता की बुर के अंदर खुजली होने लगी. ’‘अच्छा अगर दुबारा मेरा मन किया तो क्या मैं दुबारा आ सकता हूँ?’‘मैं खुद ही बुला लूँगी और जब तुम्हारा मन हो मुझे कॉल कर देना. मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने अपना मुँह यश के सीने पे दे मारा और उसके निप्पल मुँह में लेकर मैं उसे अपने दांतों से कुरेदने लगी.

पापा- यार कैसे मान जाऊं और कौन है तेरी फ्रेंड जो मुझसे ऐसे ही चुदवा लेगी?सुमन- वो सब मेरी टेंशन है. मोना- अच्छा मैं यहाँ तुम्हारी जान बचाने के चक्कर में लगी हूँ और तुम्हें मजे की पड़ी हुई है?गोपाल- अरे प्लीज़ यार ग़लत मत समझो. फिर उसने लंड टच करना शुरू किया तो मैंने भी गांड को पीछे करके उसे इशारा दिया.

ये तो टीना की बातें और पिछले दिनों की कुछ गंदी हरकतें थीं, जो उसमें इतनी हिम्मत आ गई.

मैंने बहुत जोरदार चुदाई की, भाभी भी गांड उछाल कर मेरा साथ दे रही थीं. जब सुमन को इस बात का अहसास हुआ उसकी तो जान ही निकल गई कि अचानक ये क्या हो गया?साथियो, आप मुझे मेरी गर्म कहानी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें. सुमन ने एक पतली टी-शर्ट और पजामा पहन लिया था, उसका मन अब कुछ और करने का था.

फ्लॉरा- क्या 4 घंटे लगातार आप चुदाई करोगे हा हा हा इतना पावर है आप में?गुलशन- मेरी रानी ये तो बहुत कम टाइम है. स्टेशन पर पहुंच कर मैंने उसे कॉल किया तो वे तो मुझसे पहले ही स्टेशन पर मेरा इंतजार कर रही थी।गाड़ी कुछ घंटे लेट थी जैसा अक्सर होता है. अब सुमन के नंगे चूचे उनके सामने थे और सुमन आँखें बंद किए बस दर्द का नाटक कर रही थी.

मेरी बारी आई तो मैंने लता जी का गाना ‘आपकी नज़रों ने समझा प्यार के काबिल मुझे’ सुनाया फिर तो जैसे महफ़िल रुक ही गई और हर और से किसी न किसी गाने की फरमाइश आने लगी और मैंने पांच और गाने सुनाये. सपना बोली- जल्दी करो ना!तो मैंने कहा- तू पहले मेरे लंड को गीला करो.

थोड़ी देर में मेघा का कॉल आया, मैं काटने के बहाने उसका कॉल ऑन करके उसको हमारी चुदाई सुनवाने लगा. यह नजारा देख मेरा तो दिमाग हिल गया, मुझसे अब रुकना कठिन गया… मैं सीधाउसकी चूत पर अपना मुंह लगा दियाऔर उसके चूत रस को जोर जोर से चूसने लगा और मेरी जबान अपनी चूत पर पाकर वह भी मचल उठी और हाथ पीछे लाकर मेरे सर को अपनी गांड में और घुसाने लगी. वो थोड़ा सोच कर बोली- कोई दिक्कत तो नहीं होगी?मैंने कहा- अगर मैं तुम्हारा नाम मंजीत भी लिख दूँ, तो हिंदुस्तान में कितनी मंजीत हैं, किसी को क्या पता, चंडीगढ़ की जगह, दिल्ली, मुंबई कुछ भी लिख दूँ, किसी को क्या पता!वो बोली- आप ऐसा करो, पहले आप आज हम सब ने जो किया है, उसकी कहानी लिख कर छपवाओ, जब वो कहानी मैं अन्तर्वासना पर पढ़ लूँगी, तो फिर आपको अपनी कहानी बताऊँगी.

लड़के वाले ग्वालियर के हैं, अतः यहीं मैरिज हाउस से शादी कर रहे हैं।मैं- क्या उसी लड़के से तय हो गई?भाई साहब- नहीं इतनी देर आजकल कोई कहां रुकता है.

अन्तर्वासना के सभी प्रेम पुजारियों को आशिक राहुल की तरफ से एक बार फिर से नमस्कार!प्यारे दोस्तो, मेरी पिछली सेक्सी कहानीतड़पते यौवन को भाई का प्यार मिलामें मैंने बताया था कि कैसे एक रईस परिवार की शादीशुदा कामुक नारी ने अपने एक चचेरे भाई के साथ अपनी काम वासना को संतुष्ट किया था. तुझे ये सब करने को मिलना था क्या आखरी बार? अब तू जा और दोबारा कभी मत मिलना मेरे से. संजय- अच्छा सुन वो लड़का अब चिड़चिड़ा हो गया है… उसके पास भी मत जाना.

शाम हुई तो मैं बाहर जा के मार्केट का चक्कर लगा कर साढ़े आठ के करीब लौट आया. मैं अन्तर्वासना पर रेगुलर हिन्दी चुदाई की कहानी पढ़ता हूँ और पोस्ट भी करता हूँ.

फिर थोड़ी देर बाद मैं उठा और रजनी के कमरे के सामने जो वाशरूम बना हुआ था, वहाँ पेशाब करने के लिए गया. फिर मैं चला आगे…उसके घर के जैसे ही पास पहुँचा, 4 कुत्ते भागते हुए चले आ रहे थे मेरे पास, मैं फिर खड़ा हो गया, वो चारों मेरे चारों तरफ़ खड़े हो गये, मेरी फट तो रही थी और वो अपने घर के बाहर खड़ी देख रही थी. गुलशन जी ने हाथ हटा लिया मगर वो वैसे ही खड़े रहे और लंड को गांड पर दबाते रहे और जैसे सुमन का मन था कि पापा डायरेक्ट मम्मों को छुएँ.

सीता का सेक्सी वीडियो

‘हाँ जान… बिल्कुल ऐसा ही चाहती हूँ मैं… तुम अपनी छड़ी से मेरे एस्स को थोड़ा सा कुरेद दो जिससे बाद में जब एंड्रयू और स्वान उसे चोदेंगे तो मुझे दर्द न हो!!! आ-आ-आ-आ… जल्दी से डाल दो अपना मेरी चुदक्कड़ गांड में!’ पल भर के लिए दोनों लंडों को चूसना बंद करके मेरी तरफ देखते हुए मेरी पतिव्रता बीवी ने आर्तनाद किया.

लड़की को ऐसे ही खुले दिमाग़ की होना चाहिए ताकि बात करने का मज़ा आए।मोना- अच्छा जी ये बात है. फिर मैंने चाची को लिटा दिया और खुद उनके ऊपर लेट गया और किस करने लगा. मैंने अपने मुरझाये हुए लंड को निचोड़ कर आगे किया और उसके सिरे पर बड़ी सी वीर्य की बूंद चमकने लगी तो मैंने दोनों से कहा- अब इसका क्या होगा?ऋतु- पूजा तुम चाट लो इसे!पूजा घबराते हुए बोली- मैं… नहीं मैं कैसे!?!मैं- जल्दी करो… नहीं तो मैं जा रहा हूँ.

इतने में उसने मुझे और राइस लेने के लिए आग्रह किया, पर मैंने मना कर दिया. मैंने कई बार अपनी मौसी से भी पूछा- मौसी अगर तुम्हारे दिल में भी को इच्छा हो, किसी और मर्द से सेक्स करने की तो बेहिचक मुझे बताना, मैं पूरी कोशिश करूंगा कि वो मर्द तुम्हारी बाहों में हो. सैक्सी विडियो नगा गुजरातउसने जल्दी से लंड बाहर निकाला तो पूरा लंड खून से सना हुआ था, शायद फ्लॉरा की सील टूटने से जो खून निकला था वही लंड पर लग गया होगा, मगर जॉन ने जब लंड को साफ किया तो उसमें से भी थोड़ा सा खून निकल रहा था यानि फ्लॉरा की बुर के खून के साथ उसका भी खून शामिल था.

टीना- यार तेरी बातें सुनकर ये तो पता लग गया कि तेरे पापा सीधे इंसान हैं, वो बाहर किसी रंडी के पास तो जाएँगे नहीं. दस मिनट तक चोदता ही रहा। उसकी आँखें बंद थीं और उसकी ज़ुबान से सिर्फ़- विजय चोद दो.

वो सिहर सी गई, उसे बहुत पेन हो रहा था, उसको लेकिन मज़ा भी आ रहा था. वो बदल बदल कर चोदते रहे और ऐसी ज़बरदस्त चुदाई के आगे फ्लॉरा फिर ढेर हो गई. पहली बार मेरा वीर्यपात हुआ, पहली बार मैंने देखा कि लंड से पेशाब नहीं और भी कुछ निकलता है.

मैंने उसे लिटा दिया और अपना लंड उसकी चुत पर टिका कर चुत में डालने लगा. ”हम देख रहे थे कि कमरे में मनोज मेघा को पीछे से हग कर के उसके गर्दन पर और गालों पर किस कर रहा था. मैं अपना परिचय एक बार फिर से दे देती हूँ ताकि नए पाठकों को भी पढ़ने में मजा आए.

पूजा के होंठ काफी गर्म थे और उसकी जीभ मेरे मुंह के अन्दर जाकर मेरी जीभ को चाटने लगी.

ऋतु की चमकती त्वचा के सामने वैसे तो पूजा कुछ भी नहीं थी पर हर किसी का अपना स्वाद है. मुझे भी गुस्सा चढ़ गया, मैं बोला- लौड़े के, अगर यहाँ रखी है तो किसलिये? मैं तो देखूँगा, तुझे नहीं देखना है तो तू दूसरी तरफ मुंडी घुमा ले!उसके बाद मैं वो किताब देखने लगा, जिसके ऊपर कवर में कुछ था और अन्दर नंगी और अर्ध-नंगी लड़कियों के फोटो की भरमार थी.

और बस फिर क्या था बस चुदाई शुरू हो गई।साथियो, औरत की पूरी स्पीड से चुदाई करो ताकि उसको शिकायत का कोई मौका ही ना मिले।भाभी- अयाया अम्म्म ओह प्रिन्स और जोर से और जोर से करो. पहले दिन जब वो घर में आई थी तो तब से ही उसकी नजर मेरी पैंट की जिप पर रहती थी. नीलम भी इस मामले में पीछे नहीं रहती थी, वह निखिल के पेन्ट की जिप खोलकर मुंह में उसका लोड़ा लेकर चूसती थी, अपनी छाती पर रगड़ती थी.

चुत की रानियों और लंड के राजाओं को मेरा लंड उठा कर नमस्कार।दोस्तो, मैं अन्तर्वासना. मुझे ज्यादा इन्तजार नहीं करना पड़ा, करीब पंद्रह मिनट में ही वो धीरे से मेरे कमरे का दरवाजा खोल कर अन्दर आ गई और मुझे अपना लंड हिलाते हुए देखकर चहक कर बोली- वाह. चंदन अपनी सास की रसीली जीभ से अपने मुँह को ऐसे चुसवा रहा था, जैसे चन्दन के मुँह में कोई रसीला फल हो.

15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ लेकिन गेम भी कब तक खेलो यार!मैंने कहा- सही है यार तुम्हारी बात भी!मैं बस इसी उधेड़बुन में था कि अब इस ताजे लंड को कैसे मैं कहीं अकेले में ले जाऊँ और इसके मोटे ताजे जंगली लंड का मजा लूं. हम एक दूसरे को किस कर रहे थे, बदन से बदन रगड़ रहे थे।मैंने उसको बोला- लंड चूसो!‘आ जाओ!’मैं कुर्सी पर बैठ गया, वो मेरे सामने आई और लंड चूसने लग गयी.

ब्लूटूथ फिल्म सेक्सी फिल्म

वो चिल्लाने लगी तो मैंने उसके नर्म नर्म होंठों पे अपने होंठ लगा दिए. फिर पीछे मुड़कर देखा तो उसकी पैन्ट आगे से गीली हो गई थी और वो बहुत घबरा गया था. खाना खा कर सब यहाँ वहाँ बैठ गए, हर कोई मंजीत के बदन और उसके गुप्तांगों को छू कर सहला कर अपनी अपनी ठर्क मिटा रहे थे.

अब हम दोनों जंगली हो चले थे सब्र किसी में भी नहीं था… मैं उसकी साड़ी उतारने लगा तो उसने मना कर दिया, उसने कहा- कोई आ भी सकता है, साड़ी नहीं खोलूंगी. मैंने जैसे ही उसके लंड को टच किया, वह थोड़ा पीछे हटा और मुझे देखा और नशे में थोड़ा मुस्कुराया. सेक्सी फिल्म दिखाओ ब्लू फिल्मउन्होंने आज रात को अशोक के लंड में आग लगाने का पूरा प्रोग्राम बना लिया था.

फिर रात को 2 बजे मैं भी सोने लगा तो मुझे चाची दिखीं, उनकी नाईटी ऊपर की ओर उठी हुई थी.

कैसे भूल जाऊं मैं?गोपाल ने मोना को अपने से लिपटा लिया और प्यार से माफी माँगी तो वो पिघल गई. थोड़ी देर बाद वो उठा, मेरे कपड़े ठीक किए और मेरे चेहरे के पास खड़ा हो गया.

टीना और बरखा यही दिखाने की कोशिश कर रही थीं जैसे उनको कुछ पता नहीं, मगर अतुल की इस हालत का मज़ा वो भी ले रही थीं. सुमन ने पेट पर खुजली के बहाने टी-शर्ट को ऊपर कर दिया और थोड़ी देर खुजा कर वो शांत हो गई. अब तक इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि बरखा और अतुल के घर आ जाने से फ्लॉरा और टीना ने उनको भी ग्रुप सेक्स के लिए अपने जाल में फंसाने की कोशिश शुरू कर दी थी.

मैंने लंड को बाहर पूरा खींचा और एक ही बार में घुसा दिया, इस तरह चार बार किया.

कुछ देर बाद जैसे ही मैंने उसके चूचे को पकड़ा, दीदी तुरंत उठ गई मैं डर गया. जीभ का स्पर्श चूत में पाते ही रानी के मुंह से कामुक कराह निकली- आह, प्यारे अंकल… आज पहली बार किसी मर्द की जीभ ने मेरी चूत को छुआ है. दो रूम बुक थे, हम एक रूम में पहुंचे, पहले बीयर की बोतलें खुली, चिकन, चबेना, रायता, सलाद सब आ गया.

बीएफ अंग्रेजी वीडियोफिर मैंने अपनी टांगें पूरी चौड़ी कर दी, शहज़ाद मेरी टांगों के बीच में आया और लंड को मेरी चूत पर लगा कर धक्का लगा दिया. इन कपड़ों में वो बहुत सेक्सी लग रही थी, बिना ब्रा के उसके चूचे उस नाइटी से साफ दिख रहे थे.

सपना चौधरी की सेक्स वीडियो

लेकिन गेम भी कब तक खेलो यार!मैंने कहा- सही है यार तुम्हारी बात भी!मैं बस इसी उधेड़बुन में था कि अब इस ताजे लंड को कैसे मैं कहीं अकेले में ले जाऊँ और इसके मोटे ताजे जंगली लंड का मजा लूं. पण्डित जी ने कमर उठा कर नीचे से एक थाप मारा, तो थोड़ा सा लिंग मेरी योनि में और घुस गया. फ्लॉरा बेड से टेक लगाकर लेट गई और जॉन हल्के हाथों से उसके मम्मों की मालिश करने लगा.

मगर जब अपने पापा का लंड उसने सीधे चुत पे महसूस किया तो उसकी जान निकल गई. एक दिन मैं कमरे में अकेला बैठा था अचानक से मेरे फोन की बेल बजी और एक भाभी मुझसे मिलने के लिए बोली. उसकी चुत की मांसपेसियां सिकुड़ने लगीं और उसका पानी लावा बनकर फूट पड़ा.

प्राची भाभी जब मेरा स्वागत कर रही थीं और जब मेरा नम्बर मांग रही थीं, तब मैंने गौर किया था कि उनकी हाइट मेरे कानों तक रही होगी. चाची की चुत उसके पानी से गीली हो गई थी, मेरे लंड पर तेल लगा था, लंड में चिकनापन बहुत बढ़ गया था. अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि संजय ने पूजा की कमसिन चुत में काफी अन्दर तक लंड पेल दिया था और अन्दर-बाहर करने लगा था.

मैं उनका इशारा समझ गई और उनको बैठा कर उनके खड़े लंड को प्यार करने लगी. लेकिन चाची की ऐसी बातें सुन कर मुझे अजीब सी फीलिंग होने लगी, मैंने चाची से कहा- मुझे किस करना नहीं आता.

तभी देवेन्द्र अंकल की लड़की जिसका नाम पूजा था, हम लोगों के लिए चाय लेकर आई, और हम को देखकर खुश हुई, उसने हल्का सा मुस्कुरा कर नमस्ते किया.

तो अचानक उसके हाथ से उसका मोबाइल स्लिप कर गया। वो साड़ी में थी, तो नीचे झुकी और उसी समय मुझे उसकी साड़ी के ऊपर से मम्मों के बीच वाली लाइन दिख गई। मैं भी कमीना कुत्ता वैसे ही उसकी चूचियों की घाटी को देखता रहा।वो जब उठी तो उसकी नज़रें मुझसे मिलीं और उसने भी मुझे एक नशीले अंदाज में देखा, साथ ही साथ गुस्से में मुँह भी बनाया।उसके बाद वो भाभी मेरे सामने आईं और मैं जहाँ खड़ा था. नर्स और मरीज का सेक्समुझे पता था कि मेरा बेटा बहुत भोला है इसलिए वो इधर-उधर की बात ज्यादा नहीं जानता है. bp વિડિયોजब 18 उम्र की कमसिन लड़की बांहों में हो तो ऐसा मौका कोई नहीं छोड़ना चाहता है. डैड ने वोलंटरी रिटायरमेंट ले लिया था और कंस्ट्रक्शन का बिजनेस स्टार्ट कर लिया था.

अब मैंने मोर्चा संभाल लिया, पण्डित जी चित लेट गए और मैं धीरे धीरे ऊपर नीचे करते हुए सम्भोग का मजा लेने लगी.

गुलशन- नहीं नहीं, इसमें कुछ मज़ा नहीं आएगा थोड़ी सी गुदगुदी की और खेल खत्म. मैं तब तक नहीं हटा, जब तक मेरा माल नहीं गिरा, और जब गिरा तो मैंने उसका सर अपने पूरे ज़ोर से खींच कर अपने पेट से लगा लिया. और वे अपने घर की ओर गाड़ी लेकर चल दी।थोड़ी देर बाद गाड़ी एक घर के सामने रुकी.

करीब 5 मिनट के बाद जब मैं झड़ने जैसा हुआ, तो मैंने उसके मुँह से लंड निकाला और उसको नीचे करके उसके ऊपर आ गया. काजल भाभी की वजह से मैंने सेक्स की दुनिया में कदम रखा और उसी की वजह से मैं आज एक कॉल बॉय हूँ. पहले ये बता तू जगा कब था और तुझे कैसे पता लगा कि उस रात ये बिना कपड़ों के थी?मॉंटी- दीदी मैं तो आराम से सो रहा था मगर अचानक मेरी लूली में दर्द हुआ तो मेरी आँख खुल गई.

ब्लू सेक्सी नंगी सेक्सी

फिर धीरे-धीरे मैंने चाची के ब्लाउज के सारे बटन खोल दिए और उनकी चूचियों को आजाद कर दिया और बारी-बारी से दोनों चूचियों को मसलने लगा. कितने प्यार से लंड चूसती है मेरी बहूरानी और कितने समर्पित भाव से अपनी चूत मुझे देती है, जैसेकोई अनुष्ठान, कोई यज्ञ हो. उसने मुझसे कहा- अंजलि, एक काम करो तुम मुझे यह वाला सैट पहन कर दिखाओ.

अब सुमन ने ऐसी हरकत कर दी, जिससे गुलशन जी के अन्दर का बाप छुप गया और एक उत्तेजित मर्द बाहर आ गया.

उन्होंने मुझे मना कर दिया और बोलने लगे कि मैं तुम्हें वहां नहीं भेज सकता.

हमने सभी ने साथ ही खाना खाया, मैंने मनोज की पसंद का खाना बनाया था- खीर, आलू की मटर की सब्जी, रायता और काजू कतली ये बाहर से ले आये थे. एक दिन जॉय के बड़े भाई का फ़ोन आया कि उसका बेटा जॉन इंडिया आ रहा है, तो बस जॉय और ममता खुश थे कि पहली बार उनके घर जॉन आ रहा है. एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो हॉटये कहते हुए भाभी खड़ी हो गईं और उन्होंने अपना नीचे वाला नाइट सूट उतार दिया.

वैसे आज उसने मुझे कम मज़ा नहीं दिया था, जिस तरह से ये उसका पहली बार था. कुछ मिनट बाद मैं झड़ने को आया तो मैं बोला- मेरा होने वाला है, कहाँ निकालूँ?वो बोली- मुझे तुम्हारा रस पीना है. मैं फिर से पिछली बार की तरह तीव्र उत्तेजना महसूस करने लगी, फिर से मेरे शरीर में सुरसुरी उठने लगी, साँसें तेज हो गयीं, स्तनों और निप्पलों में सख्ती बढ़ गयी, योनि और गुदा दोनों के सुराख फिर से कस गए.

उसके बाद भी जब वो अपने घर चली गई तब भी जब मेरा दिल करता, या उसका दिल करता तो मुझे फोन करती, हम जैसे भी करके अपना जुगाड़ बना ही लेते!चुदाई का यह सिलसिला तीन साल तक चलता रहा. जब पेशाब आया तो उसकी धार बहुत दूर जा कर गिरी, जिससे वह मन ही मन मुस्कराई.

आआआ स्सस्सस्स सआआअ अच्छा लग रहा है मेरी चूत चाटो न प्लीज!” मेघा ने उसकी पजामे में हाथ डाल कर लंड पकड़ के सहलाना शुरू कर दिया और उसे नंगा कर के लंड सहलाने लगी.

भाभी चिल्लाईं- सुअर की औलाद… भोसड़ी के मेरे मुँह में गिरा ना…मैं माल गिरा कर वापस आया और उनकी साड़ी उतार कर उनको पूरा नंगी कर दिया. रिया ने अपना वाला पेंडंट निकाला और बड़े प्यार से उसे मेरी के गले में पहनाते हुए कहा- ये अब ज्यादा सुन्दर लगेगा!मेरी ने उसे लेने से काफी मना किया मगर रिया नहीं मानी।आंखों में ख़ुशी के आंसू लेकर मेरी रुखसत हो गयी. मैं दूर खड़ा उसको देख कर आहें भर रहा था, मेरा लंड खड़ा हो चुका था और बस अब उस वार्ड बॉय से लिपट जाना चाहता था.

बीएफ चोदा चोदी इंग्लिश पिक्चर फेरों के वक़्त कुछेक ऐसी रस्में आती हैं जिससे हमें बहुत हँसी आ रही थी. मैंने उसकी टांगों को अपने कन्धों पर रख कर लंड पर दबाव दिया, लंड चूत के छेद में घुसता चला गया.

मुझे पता था कि मेरा बेटा बहुत भोला है इसलिए वो इधर-उधर की बात ज्यादा नहीं जानता है. रमेश का लंड धीमे धीमे बढ़ रहा था और थोड़ी देर में तो उसकी लम्बाई 8 इंच से भी ज्यादा बढ़ चुकी थी. ऋतु गपागप लंड चूस रही थी, मैं समझ गया कि अगर ज्यादा देर इसने चूसा तो मेरा माल झड़ जाएगा जो मैं नहीं चाहता था.

हिंदी में सेक्सी दे वीडियो

थोड़ी देर में उसे भी मज़ा आने लगा, वो कहने लगी- चोदो मेरी जान, मेरी चूत फाड़ दो. ‘क्यों रानी, तेरा पति नहीं चाटता तेरी इस प्यारी चूत को?’‘उसका तो नाम मत लो मेरे सामने. मैं साफ कर देता हूँ।पूजा बेचारी इतना डर गई थी, उसको कुछ समझ ही नहीं आ रहा था। उसने साइड होकर अपनी पेंटी उतार कर संजय को दे दी।संजय- तू जा बाथरूम में.

उसकी नशीली आँखें… पतले लब… लम्बी गर्दन… उठी हुई चूचियाँ… पतली बल खाती नाजुक कमर… पतली लम्बी टांगें!वह कयामत की हसीना लग रही थी… मैं उस पर भूखे पशु की भांति टूट पड़ा, कभी उसके रस भरे लबों को चूसता, कभी उसके गले को… तो कभी उसकी चूचियाँ मसलता, तो कभी उसकी योनि को सहलाता. वह अपना सर नीचे पटक रही थी, मेरी जबान उसके निप्पल्स पर जब चलती तो उसका रोम-रोम खड़ा हो जा रहा है.

लेकिन ना तो मेरा मन किसी काम में ही लग रहा था, न ही खाने-पीने में… मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि मेरे साथ चल क्या रहा है, मुझे क्या चाहिए… और मैं किसके पास जाऊँ ताकि मेरा मन थोड़ा शांत हो जाए.

उसी दौरान मेरे घर पर बहुत बड़ा हादसा हुआ, जिससे मैं पूरी तरह टूट गया था. गुलशन- अरे बाहर क्यों? हम दोनों साथ मिलकर बनाते हैं ना, बात भी होती रहेगी और परांठे भी बन जाएँगे. मैंने भी आव देखा ना ताव, उसके सूट को पूरा उतार दिया और अब मेरे हाथ उसके दोनों चूचों को मसल रहे थे.

अब तक इस हिंदी अन्तर्वासना स्टोरी में आपने पढ़ा कि सुमन आज एक सेक्सी और मॉडर्न ड्रेस पहन कर कॉलेज जाने के निकली तो टीना उसे देख कर एकदम से चौंक उठी. ये देख कर मेरा बेटा और जोश में आने लगा और फिर मैंने मेरे बेटे से कहा कि आज बस इतना ही करते हैं, बाकी कल करेंगे. मैं बता नहीं सकती, मुझे कितनी खुशी हुई है।गुलशन- बस मेरी बेटी ऐसे ही खुश रहा कर.

मुझे भी उसकी चुदाई करनी थी, तो मैंने चुत के अन्दर एक धक्का लगा दिया.

15 साल लड़की की सेक्सी बीएफ: लेकिन मुझे भी यही पसंद है कि लड़की चिल्लाये, उसकी चीखें निकल जायें दर्द में भी और मजे में भी!मैंने ऋतु को कमर से कस लिया और उसकी टांगों को अपनी टांगों से लपेट लिया. फच फच की आवाज़ से गूँज रहा था।इस धकापेल चुदाई से हम दोनों ही पसीने से भीग गए थे। वो भी मेरी बॉडी के पसीन से लथपथ हो गई थी। मैंने उसको अपने ऊपर लिटा कर चोदना स्टार्ट किया.

मेरे फेसबुक प्रोफाइल पे भी कहानियाँ अपडेट होती रहती हैं, बाकी ईमेल का तो मैं रिप्लाई देता ही हूँ. वो बोली- मैंने एक साथ 10-10 मर्द झेले हैं, 2-4 से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. शायद इसी वजह से नीलम पहली नजर में ही निखिल की प्रेम दीवानी हो गई थी.

उसने जल्दी से लंड बाहर निकाला तो पूरा लंड खून से सना हुआ था, शायद फ्लॉरा की सील टूटने से जो खून निकला था वही लंड पर लग गया होगा, मगर जॉन ने जब लंड को साफ किया तो उसमें से भी थोड़ा सा खून निकल रहा था यानि फ्लॉरा की बुर के खून के साथ उसका भी खून शामिल था.

इस बार जब चाची ने कुछ नहीं कहा तो मुझे लगा कि शायद चाची सो गई हैं, मैंने धीरे से अपनी एक आंख खोली तो देखा चाची जाग रही थीं. मेच्योर औरत और जवान लड़कों की क्लिप्स… मैं समझ गया कि जीजाजी के मन में क्या है. लंड का सिर्फ़ आगे का भाग ही बुर के अन्दर गया था और उसकी बुर से खून भी निकलने लगा था.