एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ का वीडियो चाहिए

तस्वीर का शीर्षक ,

देशी सेक्सी व्हिडिओस: एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो, उसके बाद मैंने उसकी चूत में जीभ डाली और उसके दाने को चूसने काटने लगा.

बीएफ मशीन

मैं आगे चल रहा था और वो दोनों मेरे पीछे पीछे … हम तीनों एक होटल के पास आ पहुंचे. बीएफ एक्स एक्स एक्स फिल्मजैसे ही उनकी टाँगें बेड से टकराईं तो मैंने उन्हें आंख से इशारा किया और थोड़ा सा और पीछे को धक्का मार कर बेड पर बैठा दिया.

कुछ देर बाद उनको मजा आने लगा तो मैंने और जोर से धक्का मारा और अब मेरा पूरा लंड भाभी की चूत के अन्दर बच्चेदानी तक जा रहा था. बीएफ फुल फोटोफिर मैंने सोचा कि देर नहीं करनी चाहिए इसलिए मैंने झट से अपनी निक्कर उतार कर अपना लंड दिखा दिया.

वो चुदासी सी हो गई थी और बोलने लगी- प्लीज रेनिश मुझको चोद डालो … मैं कब से तड़प रही हूँ तुम्हारे लंड के लिए … प्लीज रेनिश फ़क मी!मुझे भी चुदाई का भूत सवार था, तो मैंने भी देरी न करते हुए उसके दोनों पैरों को फैला दिया और उसकी कमसिन बुर पर लंड सैट करने लगा.एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो: फिर अपनी ब्रा भी उतार दी और बोली- अब अच्छे से करो और इसका सारा दूध पी लो.

उसने कुछ नहीं कहा तो मेरा जोश बढ़ा गया और मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके साथ प्रगाढ़ चुम्बन करने लगा.चाची नीचे से गांड उछालते हुए बोलने लगीं- चोद जोर जोर से मैं अब झड़ने वाली हूँ.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स - एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो

पता नहीं उसके यह कहने के बाद अचानक मेरी चूत में क्या हुआ कि मैं बिल्कुल चिल्लाने पर मजबूर हो गई.मैं- हम्म्म…वो उस कमरे के बाहर खाना लेने चली गयी और मैं पीछे से उनको जाते हुए देखने लगा, क्या चाल थी उनकी … दोनों कूल्हे ऐसे मटका मटका कर चल रही थी जैसे मुझे न्योता दे रही हो.

ब्रा हटते ही मैडम के अड़तीस इन्च के दूध मेरी आँखों के सामने फुदकने लगे थे. एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो मैंने मानसी को बिस्तर पर लिटा कर उसकी चूत में लंड घुसा कर धक्के लगाना शुरु कर दिया.

जब एक ताजा जवान शक्ति से भरपूर लंड उसके यौवन दवार को खोलता हुआ मज़ेदार घर्षण करता हुआ उसके अन्दर की औरत को जगा रहा था.

एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो?

पूजा के हाथ में गरम पानी और तौलिया था और चेहरे पर एक अनोखी मुस्कान थी. मैंने कहा- जीजू अगर दीदी आ गई तो क्या होगा?जीजू बोले- वो कितनी देर पहले गई है?मैंने कहा- उनको एक घंटा हो गया है. जब क्लास चलती तो सोनल पहले बहुत डीसेंट रहती … मतलब अच्छी तरह ड्रेस, ओढ़नी वगैरह!हमारी पढ़ाई के बीच में बहुत बातें होती रहती थीं.

मैंने कहा- चाय चढ़ा दो, नहाने जा रही हूं,मैं नहाते वक्त अपनी फुद्दी पर हाथ फेर बोली- मेरी लाडो … आज तेरी प्यास बुझने वाली है. मैं अपनी फैमिली के साथ रहता था मेरी फैमिली में मेरे पापा-मम्मी और मेरे ताऊ जी रहते थे. एक बार उसने तिरछी नजर से मुझे देखा मगर हाथ थोड़ा तिरछा करके मेरी कोहनी को उसकी छाती पर छूने दी। मैं खुश हो गया। मुर्गी तो लाईन पर है!मैंने अब हाथ उसकी पीठ पर रख दिया और उसकी पीठ सहलाने लगा.

कुछ देर तक तो मैं ऐसे ही प्रिया के ऊपर लेटा रहा मगर फिर प्रिया बोल उठी- चलो अब उठो … बहुत हो गया हां … मम्मी भी आने वाली होंगी!प्रिया ने प्यार से मेरे गालों को चूमते हुए कहा. ठीक है…”फिर मैंने पूछा- मसाज करवाओगी क्या?वो बोली- वो क्या?मैंने उसको बताया कि कुछ नहीं. वे बोले कि वन्द्या अब तीन महीने तक तुम्हें कोई प्रॉब्लम नहीं होगी, चाहे तुम कितना भी कुछ करो … चिंता करने की जरूरत नहीं है.

मानसी की तो हालत बहुत बुरी हो चुकी थी, लग रहा था कि उसमें जान ही नहीं है. हो तो सबकुछ वैसे ही रहा था जैसे वो कई दिनों से चाहते थे पर अचानक से होने से सब के सब अवाक् रहे गए.

मैंने पूछा- क्या हुआ?तो बोली- न जाने कितने सालों बाद आज जिन्दा होने का अहसास हुआ है.

फिर एक दिन सबा ने गाड़ी में बैठते ही मुझे एक टिफिन बॉक्स मुझे दिया और कहा- यह आपके लिए है.

मेरी बीवी के मस्त मम्मों को नंगा देख कर वो अंग्रेज लड़का एकदम पगला गया. नेहा की चीख निकल गयी- अअआअ…नेहा ने कहा- तुम बहुत ताकत से क्यों चोद रहे हो?नेहा समझ रही थी कि मैं ही उसको चोद रहा हूँ क्योंकि उसकी आँखों में पट्टी बंधी थी. मैंने अब‌ अपनी‌ गर्दन हिलाकर उनको इस बात का अहसास करवाया, जिससे सुलेखा भाभी ने एक बार तो मेरे सिर को‌ तो छोड़ दिया मगर अगले ही पल उन्होंने मेरे सिर के बालों‌ को‌ पकड़कर मुझे फिर से अपने ऊपर खींच लिया.

ये कहकर मैं अपने कमरे में आ गया और लगभग आधे घंटे बाद रेवती भी कोई बहाना बना कर मेरे कमरे में आ गई. वो मुझसे बोला कि थोड़ा उठकर कुतिया जैसी बन जा वन्द्या … तुझे डॉगी स्टाइल में चोदता हूं. अब तक हिना भाभी जान चुकी थीं कि क्या खेल चल रहा है, पर उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा.

मुझे अजीब सा कुछ महसूस होने लगा, मेरी कमजोर नस पर उन्होंने हाथ रख दिया.

आगे बढ़ते हुए जैसे ही मैं उसकी बुर के पास आया, तो मैंने पहले उसकी बुर पर पेंटी के ऊपर से ही हाथ फेरा. मैंने फिर कोशिश की उठने की मगर उसने मेरे को दबा लिया और चिल्ला चिल्ला कर उछलने लगी. मैंने फिर से उसके होठों को चूसना शुरू कर दिया क्योंकि उसकी सिसकारियों की आवाज़ से आस-पास सोए हुए मेहमानों के उठ जाने का डर था, इसलिए मैंने उसके होठों का रस पीते हुए उसको चुप करवा दिया.

मुझे मालूम है कि आप यही जानना चाहते हो कि मेरी बहन मुझसे चुदी या नहीं. फिर उसने मेरे लंड पे कॅडबरी लगाई … और थोड़ी गांड पे भी लगाई और जोर जोर चूसने लगी. मैं प्रिया से कुछ कहता, तब तक प्रिया भी सुलेखा भाभी के पीछे पीछे ही उस कमरे से बाहर निकल गयी.

लेकिन फिर भी वो मेरे लंड को अपने मुँह में भरे हुए आखिरी बूंद तक उसका पानी निचोड़ती रही.

मैं सोचने लगी तारा और मुनीर शायद शुरू से ही पूरी तैयारी के साथ आये थे कि मुझे इस विशालकाय सांड के साथ संभोग करवाना है. आशा करता हूं कि यह मेरी आपबीती सुनकर आप लोगों को उतना ही आनन्द महसूस होगा, जितना कि मेरे मन में विचार मात्र से हो जाता है.

एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो क्यूँ?विक्रम- पा… पा… वो… आपको पता है?शीतल- क्या?शीतल इस बात से अनजान थी और उसके लिए ये बात एकदम नयी थी. मैं तो भाभी की चूचियों को पूरी ही नंगी करके उनके रस को पीना चाह रहा था, इसलिए मैं अब उनके ब्लाउज के हुक खोलने लगा.

एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो उसने इस बात का कोई एतराज़ नहीं किया, तो मुझे लगा कि आज काम बन जाएगा. फिर ध्यान आया कि कभी कभी समाचारों में भी देखने पढ़ने को मिलता है कि रिश्तों की मर्यादा तार तार हो गयी.

मगर फिर से किसी ने मुझे जोरों से हिला दिया … अबकी बार मैं उठकर बैठ गया और देखा तो सही में मेरे सामने प्रिया ही खड़ी हुई थी.

𝓹𝓸𝓻𝓷 𝓿𝓲𝓭𝓮𝓸

वो बोले- शादी की डेट बता?मैं बोली कि इसी महीने की अभी 24 तारीख को शादी है. तारा मेरी जाँघों के बीच से अलग हुई, तो माइक नीचे बैठ गया और उसने भी मेरी योनि का स्वाद चखना शुरू कर दिया. ’ निकल गई। मेरा आधा लण्ड शगुन की चूत में समा चुका था। तो मुझे साफ पता लग गया कि मेरी बहन पहले भी अपनी चूत चुदवा चुकी है.

वो बोली- हप्प … हमारे प्यार की बातें भी उसको बता दोगे आप?मैंने कहा- नहीं रे. पर आज ईश्वर ने ये मौका दिया है… चलो… दोनों भाई पक्का बहनचोद बन जाते हैं… और उसकी चूत के चीथड़े उड़ाते हैं. पढ़ाई के बाद मुझे शहर में ही नौकरी मिल गयी और मैंने काल सेंटर ज्वाइन कर लिया था.

मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था।5-6 मिनट चूसा-चूसी का खेल चला उसके बाद मम्मी ने अपनी चूत से बैंगन को निकाल लिया और पूछा कि मेरी चूत मारना चाहता है क्या?मैंने कहा- फिर मैं इतनी देर से आपके साथ क्या लूडो खेलने के लिए खड़ा था?मम्मी ने कहा- ठीक है, मगर उससे पहले मैं तेरी गांड में बैंगन डालूंगी.

जैसे ही शाम को काम खत्म हुआ, तो मैं तो दिल्ली आने वाली बस में बैठ गया और बॉस अपने काम से बाहर चले गए. उसने अपने होंठों का ताला रजत से जबरदस्ती खुलवाया और धप्प से सोफे पर बैठ गयी. मानसी ने भी अच्छे से ओढ़नी से ढक ली ताकि उसकी माँ को उसके चेहरे के कामुक भाव दिखाई न दें.

एकदम चिकनी चमेली चूत थी और इस वक्त तो उसकी चुत पूरी की पूरी पानी हो रखी थी. बियर अपना काम कर रही थी और मैं उसको मस्त होकर काफी देर तक चोदता रहा. उसने कान चूसते हुए गर्दन हिला कर हां कहा और नशीली आंखें ले कर अपनी गर्दन आगे कर दी.

उसकी सांसें तेज होने लगीं, मैंने अपना एक हाथ उसके सीने पर रख दिया और कुरते के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. उसका लंड उसके अंडरवियर के बीच में सोया हुआ था और मैं उसको सहला रही थी.

विक्रम की बात सुन लेने के बाद ख़ुशी से अपने दोनों भाइयों का लंड अपने एक-एक हाथ में भरते हुए मयूरी बोली- हाँ मेरे भाइयो… मुझे पता था… तुम दोनों मेरी जवानी की प्यास को ऐसे तड़पने के लिए नहीं छोड़ोगे… मुझे पता था कि तुम मेरी राखी का कर्ज जरूर उतारोगे. इससे पहले आगे चलूं, मैं आपको भाभी और उनकी सहेलियों के बारे में बता देता हूँ. मैंने अपनी बहन को खूब सुनाया और बोला- अगर मेरी बातों में कोई भी कनफ्यूजन था, तो मुझसे बात करती ना, मॉम से क्यों कहा.

एक कुर्ता पजामा में थे, उन्होंने अपना नाम सुनील सिंह बताया और जो सफारी सूट में थे, उन्होंने अपना नाम महेश गुप्ता बताया.

सविता बोली- हां नीरू हां … मुझे मजा आ रहा है, जीजू मुझे मज़ा दो!अब मैं सविता की चूत चाट रहा था और नीरू उसके बूब्स को अपने मुंह में लेकर चूस रही थी. मैंने कहा- अभी तू नादाँ है और ये सब तेरे जानने की चीज़ नहीं है, जब तू बड़ी हो जाएगी, तब पता चल जाएगा. और अब तो वो अक्सर मुझे कह देती है- बहुत दिन हो गए यार … किसी गैर मर्द से नहीं चुदवाया, चलो न वहीं घूमने चलते हैं, शायद उस हवेली में फिर से वही मज़े करने को मिल जाएँ।[emailprotected].

वो मेरे कंधे पकड़कर जोर जोर से धक्के मारने लगा और आहें भरता हुआ बोला- आह. उसने मुझे बाद में बताया कि जीजू से सेक्स करने में फायदा है कि चूत को लंड भी मिल जाएगा और घर की बात घर में ही रह जाएगी.

माइक ने अपना हल्का वजन तारा के ऊपर रख दिया और दोनों हाथों के बल झुक तारा की टांगों के बीच योनि के और करीब हो गया. नमस्कार दोस्तो, सबसे पहले अन्तर्वासना को धन्यवाद मेरी कहानीहोली में पिचकारी… दे मारीको प्रकाशित करने के लिए. मैं अगली कहानी में आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी साली नीरू और अपनी पत्नी की गांड मारी और नीरू ने कैसे गांव की ही एक युवा लड़की को मुझसे चुदवाया.

वीडियो सेक्सी 2020 का

अब मैं नंगा हो चुका था और मेरा 7 इंच का लंड पूरा तन तना कर खड़ा हुआ था.

मंजरी भाभी ने जल्दी से वही गाउन पहना, रसोई में चली गई और मेरे लिए टीवी पर फिल्म लगा गईं. मैं उसकी एक चुच्ची को अपने मुँह में ले कर चूसने लगा और दूसरी को दबाने लगा. फिर क्या था, मेरा लंड अब खड़ा होने लगा और मैंने भी उसे किस करना शुरू कर दिया उसे गोद में उठाया और बिस्तर पर लिटा दिया अब शायद वो सब कुछ भूलकर बस आज चुदना चाहती थी.

रेवती के आगोश में उसके सुकून भरे साथ में ना जाने कब मुझे नींद आ गई, पता ही नहीं चला. मैं मम्मी के कमरे से आई, तो मेरे दिमाग में वहीं मम्मी वाला पूरा सीन चल रहा था. बीएफ ब्लू सेक्स मूवीकुछ दिन तो ठीक से कट गए, पर कहते हैं ना कि शहर की हवा लगने में देर नहीं लगती.

मैं जब तक मस्ती की आखिरी सांस लेती कि माइक के मुँह से आवाज निकली- हहहह हहहह. जब कुछ देर के बाद मेरा दर्द थोड़ा सा कम हुआ तो मैंने उसे 3-4 धक्का मारे तो वो ‘आह आह … हम्म … हम्म आह …’ करते हुए बोली- बहुत दर्द हो रहा है … लेकिन उससे कहीं ज्यादा मजा आ रहा है.

जीजू बोले- स्वीटहार्ट सो रही हो क्या?मैं चुप रही, तो जीजू एकदम से बेड पर आ कूदे और कंबल के ऊपर से मुझे दबोच लिया. इस सत्य घटना को पढ़कर मुझे मेल जरूर कीजिए, अभी इस सिस्टर सेक्स स्टोरी में आगे बहुत सारे सच आपके सामने रखूँगा. समय बीतता गया मेरी पढ़ाई पूरी हो गयी और मुझे घर के पास ही जॉब मिल गई, जिसके कारण मैं घर पर रहने लगा.

मैंने उससे पूछा- बेबी तुम तो बहुत अच्छा लंड चूसती हो … कहां से सीखा है?वो बोली- हां मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड से लंड चूसना सीखा है. !! कैसा लगा पिंकी से बातें करके?मैं मुस्कुरा दिया, मैंने कहा- अभी बातें शुरू कहाँ हुई है। अभी तो बस इशारे हुए है। बातें तो करेंगे गर तुम करने दोगी तो?रानी बोली- मैंने कब मना किया?मैंने कहा- तुमने अभी तक पप्पू को किस भी नहीं किया है. पूरे 20 मिनट चुदाई के बाद भाभी की चुत में अपना पानी निकाल कर उनको किस करने लगा और एक फुक्क की आवाज के साथ अपना लंड उनकी चुत से बाहर निकाला और भाभी के बगल में सो गया.

बस एक बार करके देखती हूँ, ऐसा मैंने सोचा और आँखों को खुला छोड़ दिया.

उसने मेरे निप्पल चूसे और काटे, उसकी रंडीपने की अदाओं से मैं जन्नत में पहुंच गया था. जब किसी का लंड झड़ जाता तो थोड़ी देर में वो अपना लंड खड़ा कर के फिर से चुदाई करने लगता.

आंखें अब भी नीचे थीं और एक अजीब सा भाव उनके चेहरे पर उभर आया था, जैसे कि उनकी चोरी पकड़ी गई हो. उसने अपनी एक उंगली अपनी माँ के चूत में डाली… जिससे उसकी हवस की आग तो थोड़ी और हवा लगे और वो भड़के. क्योंकि मुझे मालूम था कि अगर एक चूची चुसवा कर वो पागल हो जाती है, तो एक साथ दोनों मम्मे चुसवा कर वो तो आनन्द विभोर हो जाएगी.

करीब आधे घंटे इतना गैब्रियल ने मेरी चूत को चूसा और चाटा और मैंने मैक और पुनीत के लंड को चूसा और चाटा कि हम चारों मदहोश और पागल हो चुके थे. ये सब इतनी जल्दी जल्दी हुआ कि मुझे कुछ सोचने और समझने का मौका ही नहीं मिल पाया. मेरी चूत तो बहुत गीली थी, तो उसमें तो एक ही झटके में हिमांशु का लंड घुस गया.

एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो ’एक बार तो मुझे अटपटा सा लगा, पर मैंने इस वक्त रेवती को चोदना ज्यादा ठीक समझा. आपने मेरी एक पुरानी कहानीगांव वाली विधवा भाभी की चुदाईमें मेरे और रेखा भाभी के बारे में पढ़ा ही होगा.

తమిళ్ బ్లూ ఫిలిం వీడియో

देन फ़क इट हार्ड! वैरी हार्ड!! आइ वांट टू बी फक्ड इन माय आस बाय बोथ ऑफ़ यू!!! ओओओ. दोनों अपने मजे में मस्त हो, मेरी आग कौन बुझाएगा?मेरी पत्नी अब नीरू की चूत में लग रहे धक्कों को उसके चूतड़ों की खाई फैलाकर मेरे लंड को अंदर बाहर जाते देख रही थी और कह रही थी- वाह क्या मस्त चूत है … एक भी बाल नहीं है. वे मुझे लेकर अन्दर वाले कमरे में आ गए, उसमें एक डबल बेड लगा हुआ था.

अब मैं रेवती की चूत में अपना पूरा लंड उतार चुका था और रेवती की चूत को चोदने लगा. इधर मेरी कमर से मुझे उठाकर गैब्रियल मेरी चूत को पकड़ कर अपनी जीभ से चाटने लगा और हल्के हल्के से उंगली भी डालने लगा. देसी बीएफ बीएफ बीएफमुझे लगा कि वो अपने अन्दर बोल रही थी कि काश वो दूसरे मदों का लंड भी छू सकती, पर वो जरा सा हूँ कहकर खामोश हो गई.

उसका नाम मीनल था, वो हमारी बायोलॉजी टीचर के साथ ही वो ही हमारी क्लास टीचर भी थी.

उसके बाद रात के दस बज गए तो मैंने उससे बोला कि हम कोई होटल में चलते हैं, वहां पर बैठ कर बात करेंगे. हमारी सांसें इतनी तेज चलने लगीं, जैसे कोई प्रतियोगिता में प्रथम आने की होड़ लगी हो.

आप मुझे मेल कर के बतायें कि कैसी लगी आप सब को मेरी कहानी! अगली बार फिर से हाजिर होऊँगा अपनी अगली कहानी के साथ।[emailprotected]. मैंने सविता की चूत में अपने लंड की स्पीड और तेज कर दी और मेरा भी होने वाला था, मैं और सविता दोनों एक साथ झड़ गए और मैंने अपना सारा माल सविता की चूत में डाल दिया. इतना सुनते ही वे दोनों जोश में आ गए और बोले- यह बहुत बड़ी आइटम है … इसको हम दोनों के लंड से कोई फर्क नहीं पड़ेगा … तू डाल हिमांशु.

मेरा लन्ड शनैः शनैः कठोर होने लगा था और एक अजीब सा आनन्द हम दोनों की नसों में सनसनाता हुआ सा गुजरने लगा था.

ताकि मेरे जिस्म का एक एक अंग जोश से भर जाए और मैं आपको पूरा मज़ा दे सकूं. देखो किस तरह से तुम्हारा सीना धड़क रहा है, तेरे दूध ऊपर नीचे हो रहे हैं. बार-बार जैसे ही मैं लंड को इसकी चूत के मुहाने पर लगाकर अंदर डालने का प्रयास करता हूं तो यह उछल पड़ती है.

बीएफ सेकंड ईयर का रिजल्टआज मैं आपको अपने जीवन की सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ, जो मेरी माँ और मेरी बड़ी बहन की सास और मेरे बीच हुए सेक्स की है. इसके बाद क्या हुआ उसके लिए इस सेक्स कहानी के अगले पार्ट को पढ़ें और मुझे मेल करें.

கேரளா செஸ் வீடியோ

अब मैं मन ही मन बोल रहा था कि बस जल्दी से मॉम के लेक्चर खत्म हो जाएं और मैं बहन को खरी खोटी सुनाऊं. रिचा ने एक बार बताया था कि जब चूत पहली बार फटती है, तो बहुत दर्द होता है. जैसे ही वो पलटीं, मैंने फिर से दोनों उंगलियां अन्दर डाल दीं और थोड़ा सा ऊपर होकर उनके स्तनों को चूसना शुरू कर दिया.

मैंने कहा- तो बोला क्यों नहीं … पहले मैं तुम्हारी इच्छा पूरी करता, फिर खाने पीने का काम करते. केक को पूरी तरह से मयूरी के सारे कामांगों पर लगवाने के बाद अब अशोक आगे बोला- तो आज मयूरी का जन्मदिन बिना केक काटे ही मनाया जायेगा. मुझे पता ही नहीं चला कि मुझे उससे कब प्यार हो गया पर वो मुझे पसंद तो करती थी, लेकिन प्यार नहीं.

तुम दोनों उधर ही रहना और बेटी को कोई दवा वगैरह की जरूरत हो, तो ला देना. अब पीछे हिमांशु ने मेरे कूल्हों को फैला कर मेरी गांड में थूक लगाया और गांड में थोड़ी उंगली डाल कर अपना लंड फिट करके अन्दर जैसे ही डाला. तभी वो चीख उठीं- आहह … शशि बेटा धीरे डाल!आंटी की चीख सुनकर मैं और भी पागल हो गया.

थोड़ी देर ऐसे ही चुदाई के बाद पूजा फिर से झड़ने की कगार पर पहुँच गयी. फिर सबका घर जाने का टाइम हो गया, पर हम अभी भी एक दूसरे को चूम रहे थे और कह रहे थे कि ये दिन ज़िन्दगी का सबसे खूबसूरत दिन साबित हुआ.

जैसे ही शाम को काम खत्म हुआ, तो मैं तो दिल्ली आने वाली बस में बैठ गया और बॉस अपने काम से बाहर चले गए.

पर मैंने उसे दोबारा मिलने के लिए और यह रिश्ता बनाये रखने के लिए मना ही लिया।इसके बाद हम कई बार मिले! वो कहानी फिर कभी।यह कहानी कैसी लगी, मेरी ईमेल पे बतायें![emailprotected]. इंग्लिश में बीएफ ब्लू पिक्चरअब एक ने बोलना शुरू किया और बोली- मेरे बाद में मेरी बात को दोहराना. सेक्सी बीएफ गांड मारने वालीउसके बाद वो जबरन मुझसे अपनी चूत छुड़ा कर मेरी चेस्ट पर काटने लगी और मेरे निप्पल चूसने लगी. मयूरी भाभी को मैंने ऊपर उठा कर किस किया और उनके गले को चूमते हुए चाटने लगा, जिससे वो और गर्म हो गईं और उन्होंने खुद ही अपने कपड़े उतार फेंके.

मैं बारी बारी से उसके दोनों मम्मों को चूसता और निप्पल काट लेता था, जिससे वो चिहुँक जाती थी और मुझे किस करने लगती थी.

बिस्तर पर दोनों नंगे एक दूसरे से गुत्थम गुत्था थे, दोनों एक दूसरे को चूम और चाट रहे थे. कविता की नजर मुझ पर 2 सेकेंड बाद जब पड़ी, तो वो जल्दी से लड़के को हटा कर शर्ट को नीचे करने लगी. यह देख कर मन विचलित सा होने लगा था और धड़कनों का धड़कना तेज होने लगा.

चाची ने अपने दोनों पैर ऊपर करके फैला दिए और चाचा ने चाची के दोनों पैरों के बीच में आकर अपना लंड चाची की चूत के छेद पर जैसे ही लगाया, चाची जोश के मारे हिनहिना उठीं. मैं कुछ समझ नहीं पा रही थी, पर फिर भी मैंने नीचे स्कर्ट पहन ली और ऊपर एक वी नेक की टी-शर्ट पहन ली. उसका पेट थोड़ा भारी था इसलिए मुझे पैंट का बटन खोलने में परेशानी हो रही थी.

फिल्म दिखा दे सेक्सी

दीपक से रुका नहीं गया, उसने उठकर मानसी को अपनी बांहों में जकड़ लिया और बोला- तुम चिंता मत करो, मैं सब सम्हाल लूंगा। दो दिन की बात है और तुम पहले जैसी बन जाओगी।यह बोलकर उसने मानसी की चूचियाँ मसलना शुरु कर दी. यह सब देख कर मुझे और जोश चढ़ रहा था और मैं धक्के पे धक्के लगाए जा रहा था. जैसे ही मेरे हाथ उनकी मांसल जांघों पर से होते हुए थोड़ा सा नीचे की तरफ बढ़े, मेरे हाथ में उनकी साड़ी का छोर आ गया और मेरे हाथ उनकी नंगी चिकनी पिंडलियों पर घूमने लगे.

उसने अपने बारे में मुझे सब कुछ बताया, वो मैं इसमें बयान नहीं कर सकता.

खाना खाते हुए कभी कभी मैं रेवती के पैर को अपने पैर से छू देता तो रेवती मुस्कुरा जाती.

उसने मेरी योनि द्वार फिर से टटोला और छेद मिलते ही उसने अपने लिंग को टिका कर धकेला. उसने इतनी देर तक मेरा बहुत ख्याल रखा, पर अंत में उसने पीड़ा की हद पार कर दी. मोटी गांड वाली बीएफ वीडियोतभी मुझ से किसी ने कहा- असली चुदाई का मजा तो अब आएगा साली … ले इस नए मूसल का स्वाद चख.

मैं रेवती की तरफ देखे जा रहा था और रेवती ने गाड़ी स्टार्ट करके आगे बढ़ा दी जैसे कुछ हुआ ही नहीं हो. उनकी लिपस्टिक उनके होंठों पर इतने अंधेरे में भी चमक रही थी और बार बार उनके होंठ मुझे पुकार रहे थे. क्योंकि सेक्स करने के बाद उसने मुझसे बात नहीं की थी … और मैं भी तुरंत फ्रेश होकर बिना बाय बोले ही घर आ गया था.

मैंने स्टीव से मम्मों को चूसने को कहा और खुद भी एक चूची को चूसने लग गया. धर्मेन्द्र- गुड … अब मैं चलूं?मैं- जी, मगर मुझे यहाँ से दस किलोमीटर जाना है, अगर गाड़ी फिर बंद हो गयी तो?धर्मेन्द्र- वैसे तो बंद नहीं होगी अब आपकी गाड़ी, आप किस तरफ जा रही हैं?मैंने अपने घर की उल्टी दिशा के बारे में बता दिया.

मैं उसकी चिकनी चूत और चूचों को सहलाता गया और चूत में धक्के मारता गया और वो भी मजे लेती रही!फिर मैंने उसको अपनी बांहों में लेकर दूसरी तरफ मुँह करके से एक करवट से लिटाया.

नीचे चौड़े होते हुए कूल्हे दोनों जाँघों के जोड़ पर स्वर्ग का दरवाज़ा. अब जो सब्जेक्ट छेड़ दिया है… उसके बाद नींद कहां आयेगी। अब तो खुद ही दिल कर रहा है और बातें करने का।”उन लड़कों में से किसी ने शादी करने में दिलचस्पी न दिखाई?”तीनों दूसरे धर्म से थे. चूत के अन्दर की गर्मी जब मुझे लंड पर महसूस होने लगी, उसकी फीलिंग को शब्दों से बयान नहीं कर सकता.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई यह बात काफी देर तक बात करने के बात खुली थी क्योंकि बोलने वाला काफी देर तक रहस्य भारी बातें करता रहा था और तब जाकर उसने भेद खोला था कि वो दीमा कोरेन्कोव बोल रहा था जो कभी मेरी पत्नी के साथ एक ही क्लास में पढ़ता था. मैंने हां में सिर हिलाया, तो दोनों करीब आ गए और मेरी स्कर्ट को ऊपर करने लगे.

मुझे लंड चूसने में बहुत मज़ा आ रहा है, प्लीज़ थोड़ी देर और रूको ना?मैं तब पूजा से बोला- अरे मेरी चुदासी रानी, मान जाओ. इसलिए मैंने अपने दोनों हाथों से उसके हाथों पकड़ कर उसकी जांघों पर से हटा दिया और वो अब फिर से नहींई. पर मैं एक ही सेकंड में संभल गया और उसका हाथ हटाकर बोला- मैडम, ये आप क्या कर रही हो?मीनल मैडम- ओए चूतिये.

हिंदी सेक्सी वीडियो 2021 की

वो कुछ कहे, उससे पहले मैंने उसे अपनी तरफ खींचकर बांहों में भर लिया. जैसे कि मैंने उसकी बात सुनी ही नहीं और मैंने प्रिया से पूछा- तत तुम … तो गांव चली गयी थीं ना?तुम्हें किसने कह दिया कि मैं गांव चली गयी?” प्रिया ने अब हंसते हुए कहा. उसने मुझे कपड़ा निकाल कर दिया तो फिर मैंने पहले न्यूज पेपर बिछा दिया और उसके ऊपर स्टाल डाल दिया और सबा को बैठा दिया.

लखनऊ बस स्टैंड के पास ही दो तीन दिन बाद वह मुझे फिर से दिखी, तो मैंने उसे इशारा करके अपनी बस में, जिसमें मैं बैठा था. गज़ब का माल मेरे हाथ लगा था।वो भी अपनी चूत चुदाई का पूरा मजा ले रही थी … कामवासना से भरपूर आवाजें निकाल रही थी … अपने चूतड़ पीछे धकेल धकेल कर चोदन में सहयोग कर रही थी.

उसने मेरी चूत में उंगलियां डाल डाल कर चूत को खोला और थोड़ी देर बाद उठी और बोली- मैं आती हूँ.

इससे मैं समाली अंकल को जकड़ कर लिपट गई और उनके होंठों को चूसने लगी. किरण जी कहने लगीं- हाँ मेरी चुद्दो … आजा चढ़ जा मेरे ऊपर …मम्मी ने किरण जी की दोनों टागें चौड़ी करके उनकी चूत को अपने मुँह में भर लिया और कसके चूसने लगीं. मैंने भी अब सोचा कि शायद वो मेरा वहम था, इसलिए कुछ देर बाहर की बातें सुनने के बाद मैं वापस अपने बिस्तर पर आकर लेट गया.

भाभी कुछ सामान लेने के लिए झुकीं और मैंने अपना हाथ ले जाकर उनकी सलवार पर रखा कर हल्का सा दबाते हुए चूतड़ मसल दिया. बहुत सारी लड़कियां चोद चुका हूं तो मुझे अपने ऊपर काफी कॉन्फिडेंस है. पहली बार में तो मेरा लंड फिसल गया, मगर दूसरी बार में लंड का सुपारा ही अन्दर जा सका.

मैंने एक हाथ उसके पजामे में डाल दिया और उसकी बुर पे हाथ से सहलाने लगा था.

एचडी बीएफ वीडियो एचडी बीएफ वीडियो: मैंने भी पूछा कि किस हद तक?वो बोली- ये बिस्तर में मिलने के बाद तय होगा. आपने मेरी पिछली कहानियाँगांव की रिश्ते की साली को चोदागांव वाली साली की सहेली को चोदाके दो दो भागों को पढ़ा, मुझे काफी मेल मिले.

मैं चुप रहा और उसे अपने से चिपटाए हुए उसके धक धक करते करते दिल की धड़कन महसूस करता रहा. अब उसने मुझे घुमाकर गांड से फिर ऊपर आने लगा और दोनों हाथ से फिर मेरे चूचे दबाने लगा. मेरी सारी सहेलियों के भी कई ब्वॉयफ्रेंड थे, इसलिए मैंने भी दो ब्वॉयफ्रेंड बना लिए.

थोड़ी देर बाद वो बोली- अब और नहीं रहा जाता मुझसे … चोद कर तू मुझे औरत बना दे।मैंने भी देर नहीं की और उससे कहा- यार कोई क्रीम या तेल ले आ! चिकनाई लगा कर करेंगे तो आसानी से अंदर चला जाएगा.

मैंने कहा- लगता है आज आपकी महिला पार्टी है, आप लोग मज़े कीजिए, मैं चलता हूँ. सुलेखा भाभी ने फिर कहा- आज रहने ही दे … आज तू प्रेस ही मत कर … कल जब ऑफिस में बिना प्रेस के कपड़े पहन कर जाएंगे ना … तब पता चलेगा. बाद में जब हमें अकेले में टाइम मिला तो उसने पूछा- मुझे क्या हुआ था?मैंने बताया उसे कि तू मजे लेते हुए झड़ गई थी.