बीएफ सेक्सी वीडियो नया

छवि स्रोत,ایکس ایکس ایکس ویڈیو

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी सीन बीएफ वीडियो में: बीएफ सेक्सी वीडियो नया, पापा एकदम से घबरा कर पूछने लगे कि क्या हुआ?मम्मी ने सारी बात बताई, तो पापा मुझसे बोले- बेटा अकेली जाकर करा लेना … मुझे अभी आधे घंटे में निकलना है.

चुदाई व्हिडिओ चुदाई

थोड़ी देर बाद मैंने देखा, तो सुरीली अभी भी अपने चुच्चों को पकड़ कर उनके दर्द को कम करने की कोशिश कर रही थी. हिंदी चुदाई दिखाओमैं भी वफादार कुत्ते के तरह अपनी मालकिन की बुर को बड़े मजे और प्यार से चाटने लगा.

उन सब औरतों … और मेरी मम्मी की तरह, सत्यम मेरी ज़िंदगी का सबसे ज़्यादा खास आदमी हो गया था. फिल्म ब्लू फिल्म ब्लू फिल्मऔर मैं भी उसको चूमने लगी।वो बोला- अब दर्द नहीं हो रहा है ना?मैं बोली- जलन हो रही है।वो लंड को डाले हुए ही मेरे ऊपर लेट गया.

धीरे धीरे पीयूष ने अपना हाथ नीचे को लाना शुरू किया और उसके मम्मों के क्लीवेज में टच करने लगा.बीएफ सेक्सी वीडियो नया: तब तक मेरे होठों से होते हुए मेरे गाल और गले को चूमता हुआ मेरे चूचियों के बीच की गहराई तक पहुंचा जिसमें मुंह डालकर सागर बेतहाशा चूमने व चाटने लगा।अब सागर धीरे धीरे मेरी शर्ट का बटन खोलने लगा.

मैंने उसे देखते हुए कहा- तुम भी चिंता मत करो … मैं भी मम्मी को सब बता दूंगा.करीबन ग्यारह बजे उसका पति घर आया और उसने सरिता को देखा कि वह अभी भी सो रही है.

एक्स एक्स वीडियो दीजिए - बीएफ सेक्सी वीडियो नया

आह क्या बताऊं … उस वक़्त वो इतनी सेक्सी लग रही थी कि अगर उसकी मम्मी न होतीं … तो उसको वहीं पटक कर चोद देता.मधु ने आते ही दरवाजा बंद कर दिया … शायद वो भी चुदने के लिए बेकरार थी.

ये बोल कर बसंत ने मेरी चड्डी नीचे खींच दी और मेरी बड़ी बड़ी घुंघराली काली झांटों में छिपी मेरी कोमल चुत उसके सामने नुमाया हो गई. बीएफ सेक्सी वीडियो नया फिर मैंने लंड को चूत से बाहर खींच लिया और मामी ने खुद ही मेरे लंड को मुंह में ले लिया.

फिर उसने कहा- तो इतनी देर क्यों लगा दी … जल्दी से कपड़े उतारो और मेरे ऊपर चढ़ जाओ.

बीएफ सेक्सी वीडियो नया?

मेरा मन तो कर रहा साली को पूरी की पूरी कच्ची खा जाऊं … मैं बस उसे ही देखने लगा. मैंने अपनी बातों को इतनी अच्छी तरीक़े से रखा था कि भाभी का दिल बहल जाए और वो खुलकर ना या हां करने से पहले सोच लें. जिस दिन मुझे अमित से मिलना था, उसके ठीक एक दिन पहले ही मैंने अपनी सब तैयारी कर ली.

उसने इठलाते हुए कहा- तो किसने मना किया है?अब उसने अपनी आंखें बंद कर लीं. गांव जाने की बात को सुनकर मम्मी भी खुश हो गई क्योंकि हम लोग अपने गांव वाले घर काफी अरसे से नहीं गए थे. मैं बिहारी में कहूँ, तो बिल्लो रानी कही, तो जान दे देयी, हाय रे मोर बिहार वाली विपाशा.

मैं लगभग निराश हो गया था, लेकिन अगली शाम को छत पर आते ही देखा कि वो पहले से ही मौजूद थी. हालांकि शाम को इशारों में ही अगले दिन पक्का मिलने का करार भी करवा लिया था. करीब दस मिनट तक सोनू की गांड चोदने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया.

उस वक्त मैं 19 साल की थी, मैं दिखने में भले ही सांवली थी मगर मेरे बदन के कटाव किसी से कम नहीं थे. अब मैंने ध्यान दिया कि मैं किस जन्नत की परी के साथ ये सुख भोग रहा था.

जगह नहीं खाली होने के कारण मैं दीदी जीजाजी के साथ ही रहने लगा।घर में दो कमरे थे और उनमें से एक कमरे में मैं रहने लगा.

मैं किसी राजा की गुलाम की तरह सत्यम के दोनों पैरों के बीच में बैठ कर उसका लौड़ा अपने मुँह में घुसाने लगी.

जेठजी ने अपनी जीभ को मेरे मुँह के अन्दर तक डाल दी जोकि मेरे हलक की गहराई में पहुंच गई. उसने आगे बताया कि सुरीली पहले तो बहुत हैरान हो गयी थी कि जब उसने आपकी और आपकी दीदी की जबरदस्त चुदाई की कहानी पढ़ाई थी. सच में मस्त फीलिंग थी यार … मानो ज़न्नत में हूर की चुदाई कर रहा होऊं.

मैंने बोला- जब मुझे हाथ से ही निकालना होता, तो मैं खुद ही निकाल लेता. मैं अपनी मम्मी की ब्रा सूंघ कर मस्त हो गया था और जोर जोर से अपने लंड को हिला रहा था. साथ में दारू पीने के कारण मेरी और सुहैला की अच्छी दोस्ती हो गयी थी.

उसने लंड निकालने की कोशिश की तो मैं समझ गई कि इसका पानी निकलने को है.

करीबन दोपहर के तीन बजे सरिता भाभी ने डोरबेल बजाई, तो विजय तुरन्त उठ गया. मामी हंस दीं और बोलीं- अच्छा तो तुम मेरी मनोकामना उसी समय समझ गए थे!मैंने कहा- हां जी … और उसी के बाद मैंने आपके लिए वो गिफ्ट खरीदा था. पढ़ने में मैं बहुत अच्छा हूँ तो इसी के चलते मेरी दोस्ती खुशी से जल्दी हो गयी और उसने एक दिन मेरा नंबर मांग लिया.

चाची और उनकी बेटी को मालूम था कि मैं उन दोनों को चोदता हूँ मगर उन दोनों को इससे कोई दिक्कत नहीं थी. कुछ देर बाद मैंने उसको उठाया और उसको बेड पर गिराते हुए उसकी दोनों टांगों को उसके सिर तक ले गया. बाहर मुँह मारने से नाम खराब होगा, तो तुमने जिस तरह उनकी मदद की, मुझे भी तुमसे वही प्यार चाहिए.

फिर बातें होते हुए काफी समय बीत जाने पर मैंने उससे मिलने का प्लान बनाने के लिए कहा.

और हर बार मैंने अपना लंड चुत में खाली किया और मामी की चुत को दो बूंद की जगह चार चम्मच वीर्य पिला दिया. रोज की तरह मैं मम्मी के कमरे में जाकर उनकी ब्रा ले आया और बाथरूम में चला गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो नया लंड चुसवाने के बाद मैं खड़ा हुआ और मैंने आकृति आंटी को दुबारा से उसी डीप-फ्रीजर पर झुका दिया. जाकिरा मेरे लंड को चूसने में लग गयी और नीचे से आरिफा मेरे गोटों को चूसने लगी.

बीएफ सेक्सी वीडियो नया मैं उसके बगल में लेट कर उसको होंठों को चूमने लगी और वो भी मेरे साथ देने लगा. उतने में सुनील भी दीदी को बाथरूम में ले आया और हमने एक बार फिर एक-दूसरे की बहनों को वहां चोदा.

इस वजह से ज़्यादा बार मुझे आकृति उसी वक़्त अपनी चूत चुदवाने के लिए बुला लेती थी.

बॉलीवुड की सेक्सी

अब हम दोनों को जब भी मौका मिलता, तो खेत में या पेड़ के पीछे, या झाड़ी की आड़ में हम दोनों किसिंग कर लेते. अब यह ऐसा महसूस हो रहा था कि एक लंड मेरी चूत में है … और दो लंड मेरी गांड में घुसे हैं. वायरस का काफी जोरदार प्रकोप चल रहा था, इसलिए एक महीने के लिए मुझे कंपनी ने अपना ऑफिस का गेस्ट हाउस दे दिया था.

वीडियो में लड़की का जब हस्बैंड बाहर जाता है, तब लड़का आकर लड़की को चोदता है. बीवी मेरा लंड तना हुआ देखकर हॉट हो गई और वो तौलिया के ऊपर से ही मेरा लंड सहलाने लगी. मुझको जब भी समय मिलता था, तभी मैं सुरीली के चुच्चों को दबाने और चूसने के काम में लग जाता था.

जब मेरा एडमिशन हो गया तो राज़ ने मुझे गर्ल्स हॉस्टल के एक रूम में शिफ्ट कर दिया क्योंकि हम लोग एक ही रूम में नहीं रह सकते थे.

माल शब्द सुनते ही मैं चौंक गया औऱ सोचने लगा कि साली जितनी सीधी और शरीफ बनकर चुद रही थी, उतनी शरीफ है नहीं. जिस समय इसकी चुत को चीर कर लंड अन्दर घुसेगा, तब इसे अहसास होगा कि लौड़ा किसे कहते हैं. उसकी चूत में से इतना पानी निकला कि वो उसकी जांघों पर टपकने लगा और वो पलंग पर गिर गयी.

हां दोस्तो, मौसी के बूब्स इतने मस्त थे कि उनको देखकर ही लंड खड़ा हो जाता था।मौसी के बारे में सोचकर मैं कई बार मुठ भी मार चुका था। कई बार मैं बहाने से मौसी की गांड को भी टच कर चुका था. कुछ ही देर में उसने मेरी शर्ट का बटन पूरा खोलकर मेरी ब्रा के ऊपर से चूचियों को दबाना शुरू किया. इसी तरह वो अब हर झटके का फायदा ले रहा था और मेरी चूचियों से खेल रहा था.

अगले दिन पीयूष ने शीना की पैंटी पर खुजली की दवाई लगा दी, जिससे शीना की बुर में बार बार खुजली हो रही थी. आधे घंटे के बाद सत्यम मुझे बिस्तर पर ले गया और मुझे सीधा लिटा कर मेरे ऊपर चढ़ गया और सवारी करने लगा.

तो वो बोलने लगी- क्या बात है … तू ऐसे क्यों देख रहा है मुझे!मैं- यार तू बहुत सेक्सी माल लग रही है और ऐसे माल को चोदने का मन कर रहा है. तभी मैंने एक जोर से झटका दिया और इस बार मेरा पूरा साढ़े सात इंच का लंड चूत में चला गया. मामी ने झट से मेरे होंठों पर अपनी हथेली रख दी और बोलीं- शुभ शुभ बोला करो.

पर उन दोनों ने कहा कि एक बार हम तीनों बाथरूम में साथ में नहा लेते हैं, फिर चले जाएंगे.

लेकिन जैसा भी था एक स्थाई लंड मिल गया था, तो कैसे भी करके उससे चुदाई कर लिया करती थी. मैं प्लान बनाने लगी कि मैं अपने जेठजी को इतना प्यार दूंगी कि वो जेठानी की तरफ देखेंगे भी नहीं. मैंने सोचा कि थोड़े दिन में शायद सब ठीक हो जाएगा, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ.

दो मिनट तक सहलाने के बाद चाची से रुका न गया और वो मेरे लंड पर झुक कर उसको किस करने लगी. उसके बाद मैंने उसे चित लिटाया, तो वो किसी पारंगत रंडी के जैसे अपनी चुत खोलकर लेट गई और उसने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा कर मुझे इशारा किया.

भाभी कहने लगी थीं- आह अम्मू और जोर से चोदो … आह मेरी चूत फाड़ दो … तुम्हारा लंड बहुत मस्त है … मैं इसकी दीवानी हो गई हूँ. यह देख कर वर्षा भाभी की गीली और गुलाबी चूत ने मुझे और भी पागल कर दिया. 30 बजे मैसेज आया … क्योंकि मैं ऑनलाइन था तो मैं झट से रिप्लाई दे दिया.

सेक्सी वीडियो नया सॉन्ग

मंजू की कुर्ती का गला कुछ ज़्यादा ही खुला हुआ था, जिसमें से उसके बूब काफ़ी बाहर को निकलते हुए दिख रहे थे.

रात को मूवी देखते समय सारा ने कमल के लंड से छेड़छाड़ की और उसको चूसा. वो मेरी गांड में धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगे मगर मैं दर्द में तड़प रही थी. साले कॉलेज के लौंडे थे भैन के लौड़े … फुच्छ फुच्छ करके निकल गए … मेरी चुत की झांट भी टेड़ी नहीं कर पाए.

दस मिनट की जोरदार चुदाई के बाद रमेश का वीर्य अंजलि की चुत में भर गया था. स्नेहा ने भी जाते समय उसके लिए अपनी पैंटी और ब्रा रखी है ताकि वो पहने तो मुझे स्नेहा का अहसास हो. हिंदी मेंxxxदोस्तो, मेरी फंतासी के पहले शिकार के रूप में मेरे भाई का दोस्त मिला था.

मैंने मजाक में ही उससे चुचियां दिखाने के लिए बोला, जो कि मुझे लगता था कि संभव नहीं होगा. मैं सन्न रह गई, मेरे मुँह से जोर की चीख निकल गई और आंखों में अंधेरा छा गया.

मैं- सबके पास मेरी फ़ोटो कैसे हैं?वो- अरे वो आपके भाई के मोबाइल में आपकी बहुत सारी नन्गी अधनंगी फोटो हैं. कमल वीकेंड पर पूरा दम लगाकर दो बार चुदाई करता मगर अगले दिन 10 बजे से पहले सोकर नहीं उठता था. मैंने उनकी रस भरी रसीली चूत को काफी अच्छे से चाटा और आंटी खुद भी मेरे सिर को बालों से पकड़ कर उसमें चुत घुसाए हुए कामुक सिसकारियों के साथ मुझसे अपनी चूत चटवा रही थीं.

उसने पहले तो धीमे से अन्दर घुसाया, फिर जैसे ही उसका सुपारा मेरी गांड के छले में फिट हुआ, उसने एक जोर का झटका लगा दिया. प्रिया कहने लगी- अमन … बस अब ऊपर आओ … और अन्दर डाल दो।मैं भी तैयार था. उसे मालूम था कि शायद ही कोई मर्द अपनी बीवी को ऐसे सुख नहीं देता है.

उसके मुंह से लगातार आह्ह … अअअ … आहाआ … आआआ … निकलना जारी था और आंसुओं का बहना जारी था।मैंने अपना हाथ उसके मुंह पर से हटा लिया और हाथ भी छोड़ दिया.

मैं उसको लगातार किस करते करते उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से जोर जोर से दबा रहा था. इस बार मैं शाम की तरह चुदाई नहीं चाहती थी कि जेठ जी अपना लंड चुत में डाल कर पड़े रहें और झड़ जाएं.

एक हाथ से मैंने उसके एक बोबे को दबाया और दूसरे हाथ से उसके ब्लाउज के हुक खोलने लगा. उनके ये बोलते ही मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी, तो आंटी मुझसे एकदम से चिपक कर बैठ गई ओर बोलीं- थोड़ा संभाल कर आहिस्ता से चलाओ. ऐसा लग रहा था जैसे मैं हसीनाओं के शहर में आ गया हूं और एक के बाद एक चूत मुझसे चुदवाने के लिए आ रही है.

एक दिन फिर वो कहने लगी कि जैसे सिर की मसाज की थी वैसे ही मेरी पीठ की मसाज भी कर दे।दीदी ने मुझे रूम में बुला लिया और बेड पर लेटकर अपना टॉप निकाल दिया. मैंने बहुत आराम से उनको चोदना चालू किया और काफी देर तक उनको चोदता रहा. मैंने लंड निकाला और उससे पूछा- मेरा लंड कैसा है?यास्मीन बोली- बहुत मस्त और बड़ा है … मुझे तेरा बड़ा लंड पसंद आ गया है.

बीएफ सेक्सी वीडियो नया अब मैं अपनी बहन की गांड चाटने लगा और इसमें मेरी बहन को भी मजा आने लगा था. मेरी हिंदी भाभी सेक्स कहानी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेल करना न भूलें.

होळी फोटो

हग इस स्टाइल से किया कि उसके मम्मों का दबाव लकी की छाती को मिल जाए. मगर उनकी हंसी देख कर मैं समझ गया कि अब भाभी मेरी मम्मी से कुछ नहीं कहेंगी. इस बार मैंने उसको ज़्यादा कठोरता के साथ पीछे किया और उसपर गुस्सा करने लगा.

इस बात से मुझे शक हुआ कि साला ऐसा क्या हुआ कि ये इतना सेक्स कर रही है. इस बीच मैंने पूजा की ब्रा के साथ साथ उसकी पैंटी की फोटो भी ले ली, पर उसकी ब्रा बाथरूम में ले जाने का ख्याल नहीं आया. वीडियो में ब्लू फिल्म दिखाइएवो बोली- कोई बात नहीं … अब तो पता चल गया ना!मैं बोला- अब तुमको कहीं बाहर जाने की भी जरूरत नहीं है.

वो जैसे ही बैग के लिए आगे बढ़ीं, मैंने उनको पीछे से पकड़ लिया और उनकी गर्दन पर चुंबन करने लगा.

अचानक मेरा ध्यान उसकी हरकतों पर गया, तो मैंने देखा कि उसका एक हाथ उसके पजामे के अन्दर था और वो मस्ती में चूर होकर अपनी चूत को रगड़े जा रही थी. कुछ देर तक हम एक दूसरे को चूसते चाटते रहे मगर फिर उसने चूत हटा ली और टांगें फैलाकर मेरे सामने चूत खोलकर लेट गयी.

बस किसी से पूछ कर वो अपना कोर्स पूरा कर लिया करे! और मुझे कोई दिक्कत नहीं।अब सागर ने फ़ोन रखा और बोला- अब ठीक?मैंने हां में सिर हिलाया।सागर का एक छोटा सा केबिन था जो बिल्कुल किनारे था कमरे के … उधर कोई नहीं आता था. मैंने लंड से ही उसके गाल पर लगे पूरे वीर्य को मल दिया, तो वो मजे से आंख बंद करके मेरे लंड से अपने गाल पर मेरे लंड का वीर्य मलवाने लगी थी. उसने भी हाथ के इशारे से मुठ मारने जैसी हरकत करते हुए बताने लगा कि मुठ मारने गया था.

सब कुछ रेडी हो जाने के बाद वो खुद दुल्हन बनकर बेड पर रोहन के आने का इंतजार करने लगी.

मैंने वैसे ही अपना लौड़ा भाभी की चूत पर रखा और एक जोर के झटके के साथ पूरा अन्दर पेल दिया. आशा करता हूं आपको पसंद आएगी।चलिए अब समय ना बर्बाद करते हुए सीधे इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी पर आते हैं।बात कुछ वक्त पहले की है जब कोरोना के कारण शुरू शुरू में लॉकडाउन हुआ था. मैं रोज़ रात को अश्लील पिक्चर और अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ कर अपनी चूत में उंगली करके अपने आपको दिलासा दे रही थी.

ब्लू सेक्सी फुल वीडियोइसी बीच अंकल अंजाने में या जानबूझ कर मेरी गांड में एकदम घुस से गए थे. शादी के दिन मैं बहुत उदास था और सोचता रहता था कि पता नहीं मेरी बीवी मुझसे हर रोज चुदाई करेगी या नहीं … या जैसे दूसरे पति पत्नी रहते हैं, वो भी वैसी ही रहेगी.

ब्लू पिक्चर इंग्लिश में सेक्सी

वो बोली- कर दे अब … अंदर कर दे इसको … बहुत आग लगी है … आह्ह … जल्दी से चोद दे हमराज … मेरी चूत में प्यास लगी है। मेरी चूत को चोद दे।फिर मैंने लंड को चाची की चूत पर सेट किया और उसकी नर्म गर्म चूत में अपना लौड़ा पेल दिया. इस हालत में ही उसके पैर मेरे पैरों पर आ चुके थे और मेरे हाथ उसकी कमर को कसके दबाने लगे थे. वाइफ स्वैप सेक्स कहानी दो सहेलियों और उनके पतियों की अदला बदली करके चुदाई करने की है.

अब सत्यम ने मेरा पल्लू नीचे कर दिया और मेरी दोनों चुचियों के बीच में ब्लाउज के ऊपर से ही मुँह डालकर चूमने लगा. मैंने अपना लंड खोला और उससे कहा- वो तो आज अन्दर जाएगा ही बेबी … मगर पहले इसे थोड़ा प्यार तो करो. अब मैं भी बस यही प्रार्थना कर रही थी कि इस तरफ भी कोई और आ जाए तो ये लड़का बिल्कुल मेरे पास आ जाएगा.

उन्होंने इतने मन से बोला था कि मैं मना नहीं कर सका और जाकर सोफे पर बैठ गया. मैंने खुद को बगुला की तरह एक टांग पर खड़ा कर रखा था कि कभी तो मछली फंसेगी. मेरे ईमेल पर अपनी राय अवश्य दें।मेरी ई-मेल आई डी है[emailprotected].

भाभी से फोन पर बातचीत शुरू हुई तो उन्होंने मुझसे मजाक करना शुरू कर दिया. मैंने उसका ब्लाउज और ब्रा अलग किये तो उसके पके आम मेरे हाथ में आ गये और मैं चूसने लगा.

अब लकी नीचे लेटा तो सारा उसके ऊपर बैठी और अपने हाथ से उसका लंड अपनी चूत में अंदर कर लिया.

मैं अनुराधा की ब्रा के कप सूंघने लगा, जिसमें से मुझे उसके बदन की कामुक ख़ुशबू आ रही थी. ब्लू फिल्म सेक्सी भाभीफिर जांघों से और ऊपर ले जाकर अपने हाथ की हथेली को मेरी पैंटी पर रख दिया. सेक्स वीडियो जंगल में मंगलकुछ मिनट तक वो मेरी चूत में उंगली करता रहा और फिर बोला- चल अब लेट जा. उनको मैंने पूरी नंगी करके ठोका और वो भी दोनों चुदकर मेरी दीवानी हो गयीं.

फिर उन्होंने मुझे वो सारी जानकारी दी कि वहां जाकर कैसे, कहां और क्या करना है।मैंने उनकी सारी बातें ध्यान से सुनीं.

शायद यही कारण था कि कॉलेज के शुरुआती साल में ही मेरी सभी सहेलियों के कोई न कोई दोस्त बन चुके थे और वो अपने दोस्तों से चुदाई का सुख ले रही थीं. वो बड़बड़ाने लगा- आह साली कितनी मस्त चुत है तेरी … तेरी तस्वीरें और वीडियो डिलीट करना भारी पड़ेगा मुझे. उसको मैंने पूछा- रात के बारह बजे कैसे आओगे तुम?वो बोला- अरे दीदी, उसका जुगाड़ है मेरे पास … जब सब सो जाएंगे तो मैं अपने कमरे की खिड़की से बाहर आ जाता हूं और रात भर के लिए फ्री.

वो मेरे खड़े लंड को देख कर खुश हो गई और बोली- हम्म … लग तो मजबूत रहा है. कोमल अब काम वासना की आग में बुरी तरह सुलग रही थी तो उसने कोई प्रतिरोध नहीं किया. मैं ये बोलते हुए भाभी के मम्मों की ओर देखने लगा और तय किये हुए दाम मैं उनको देने लगा.

सोनम किन्नर

मगर कोई आगे आकर बोल नहीं रहा था।बस ऐसे ही चल रहा था।फिर एक दिन मैं कॉलेज से वापस लौट रही थी और उसी बस स्टॉप पर उतरी।मेरी नजर आकाश की दुकान की तरफ गई. उस अद्भुत नजारे को छूने के लिए रोहन के हाथ अपने आप बढ़ गए और उसने अपना एक हाथ मॉम के एक चूतड़ पर रख दिया. उसने अपनी टांगें पूरी तरह से चौड़ा दी थीं और चुत ने नमकीन पानी छोड़ दिया था.

कुछ देर में मेरे भी सब्र का बांध टूट गया और मैंने आकृति आंटी के बालों को पकड़ कर उसके होंठों से अपने होंठों को लगा दिए और खूब चूसा, आकृति आंटी के दोनों दूध निचोड़ कर चूसे.

मेरे किसी दूसरी लड़की की ब्रा मांगने पर मनीष ने हंस कर कहा- अबे यार समीर … ब्रा तो ब्रा होती है, चाहे वो मेरी बहन कि हो या मम्मी की हो … या तेरी मम्मी की हो.

इसलिए तौलिया हटाते ही मुझे दीदी की चूत नंगी मिली।मेरा मुंह एकदम से सूख गया. मैंने हंसते हुए पूछा- कैसा लगा मेरा गाढ़ा वीर्य!वो शर्मा गई और बोली- कुछ नहीं भाई … तुम चुप रहो. इंडियन सेक्सी ओपन बीपीइस तरह का साथ देने वाली लड़की मिल जाये तो चुदाई में हर तरह का मजा मिल जाता है.

जब मैं उसके ऊपर से उठा तब देखा कि लंड और चूत के पानी से रूपाली की पैंटी भीग गई थी. मैं धकापेल चुदाई में लग गया और उसके साथ लगभग 20 मिनट तक ताबड़तोड़ चुदाई का खेल किया. जेठजी ने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी और मैं भी उत्साह पूर्वक जेठजी की जीभ का रसपान करने लगी.

शीना ने भी मुस्कुरा कर एक थोंग पैंटी उठाई और पूछा- अच्छा ठीक है, कलर बताओ कौन सी ले लूं?पीयूष ने उंगली रखते हुए एक लाल रंग कि पैंटी लेने के लिए कह दिया. फिर मैंने पूरी ताकत लगा दी और एकदम से मेरा वीर्य निकल कर बाहर आने लगा तो मैं जाकिरा के ऊपर लेट गया और मैंने उसकी चूत में धक्के लगाते हुए अपना माल उसकी चूत में खाली कर दिया.

मैंने भी सोचा कि शायद अभी फोटो मांगना जल्दबाजी है, इसलिए मैं चुप रहा और हम दोनों में बातें होती रहीं.

गांव जाने की बात को सुनकर मम्मी भी खुश हो गई क्योंकि हम लोग अपने गांव वाले घर काफी अरसे से नहीं गए थे. थोड़ी देर बाद शीना अपना एक हाथ पीछे करके पीयूष के लौड़े को, जिसको वो चूहा समझ रही थी … हटाने लगी, तो उसका हाथ सीधा अपने भाई के लौड़े से टकरा गया. मैं बोला- कहां है मेरा गिफ्ट?वो बोलीं- सच्ची में तू अभी तक सिंगल है और न ही तेरी कोई गर्लफ्रेंड है.

चोदने वाली वीडियो हिंदी उसको अभी भी बहुत दर्द हो रहा था, पर कुछ देर तक ऐसा करते हुए उसका दर्द मज़े में बदलने लगा. भाभी के होंठों पर, गाल पर, आंखों पर, पूरे चहेरे पर, बालों पर, कान पर, गले पर, उनके रसीले मम्मों पर, उनके हाथों पर, उंगली पर किस करके उनको चाटने लगा.

जेठजी उठे और मेरी दोनों टांगों को अपने दोनों बलिष्ठ हाथों से पकड़ कर फैला दिया और अपने लंड को मेरी चूत के ऊपर टटोलते हुए चुभाने लगे. दस मिनट के बाद रमेश ने अंजलि की गांड में से लंड निकाल लिया और मंजू को बोला- अब मैं तुम्हारी गांड मारना चाहता हूँ. अभी तो तुमने कहा था कि मैं तुम्हारा लंड मुँह में ले सकती हूं, फिर चूत में लेने से क्या हो गया.

खेतों की चुदाई

ऐसे ही दो दिन चला और उसके बाद तीसरे दिन सोनू जब मेरा लंड चूस रहा था और मैंने उसके सर को अपने लौड़े पर दबा दिया था. कुछ देर बाद शेखर भी उठ गया और नित्य क्रिया से फारिग होकर वो तैयार हुआ और बाहर ब्रेकफास्ट के लिए डाइनिंग टेबल पर आ गया. रोहन ने कैब में बैठ कर अपनी मॉम से कहा कि मॉम मैंने आपके लिए एक लैटर लिखा है, वो मेरे रूम में टेबल पर रखा है.

इसलिए मुझे मामी की बातों का बुरा नहीं लगा और मुझे उनके साथ सहानुभूति हुई. मैं रात को तुम्हारी सारी पैकिंग कर दूंगी और शाम को तुम अपने पापा से परमिशन भी ले लेना.

वो वापस मुड़ने को हुआ ही था कि कुसुम की आवाज ने उसे रोक लिया- रोहन मैं यहीं हूं.

आज भी वो हॉट लेडी मेरे साथ सेक्स करती है और बोलती है कि जय तुम्हारा लौड़ा बहुत मस्त है. आह क्या बताऊं … उस वक़्त वो इतनी सेक्सी लग रही थी कि अगर उसकी मम्मी न होतीं … तो उसको वहीं पटक कर चोद देता. मेरी चुत पर ठंडा ठंडा जूस गिर रहा था जो मेरी चुत की आग से ठंडे से गर्म में तब्दील होकर नीचे उसके मुँह में जा रहा था.

नीचे झुकते हुए चूत के ऊपर से उसके हाथ को मैं अपने होंठों से चूसने लगा. इंडियन सेक्सी भाभी चुदाई कहानी के पिछले भागपड़ोसन भाभी को चुदाई के लिए तैयार कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि भाभी मेरे साथ सुहागरात मनाने के लिए दुल्हन का लिबास पहनने बाथरूम में चली गई थीं. तो उन्होंने पूछा- क्या हुआ ऐसे क्या देख रहे हो?मैं- सोचा नहीं था कि मैं आपको कभी ऐसे भी देखूंगा.

वो मेरे लौड़े के झटकों से एक बार फिर से काँप उठी मगर इस बार जल्दी ही उसे राहत मिल गई थी और अब वो मजे से सीत्कार भरने लगी थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो नया: उधर कुसुम भी कुछ पल बाद संयत हुई और बाहर आकर उसने देखा कि रोहन बाहर नहीं है. फिर मैंने उसका टॉप ऊपर कर दिया और प्रिया की ब्रा के ऊपर से उसके चूचे चूसने लगा।फिर मैंने ब्रा भी ऊपर कर दी और उसके निप्पलों पर टूट पड़ा.

अगले ही पल कुसुम के पहाड़ जैसे चूचे उसके बेटे रोहन के हाथों द्वारा मसले जा रहे थे. अब मेरी बहन मादक सिसकारियां लेते हुए बोली- अहा अहा पंकज आह मजा आ रहा है … आह चोदो मुझे … और तेज चोदो आआह अपनी पूजा जानू की चूत फाड़ दो. उस परसेक्स का नशाछा चुका था; वो बार बार बोल रही थी- प्लीज नील कुछ करो … नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

उन सब औरतों … और मेरी मम्मी की तरह, सत्यम मेरी ज़िंदगी का सबसे ज़्यादा खास आदमी हो गया था.

मैंने कहा- शर्त लगा कर खेल खेलोगी?वो बोली- मतलब!मैंने कहा- लूडो में एक गोटी मारने पर एक बात माननी पड़ेगी … तुम्हें भी और मुझे भी. अब मेरे लौड़े पर भी अकड़ बढ़ गई और झटके के साथ ही वीर्य निकाल गया और रजनी की चूत में भर गया और उसके ऊपर लेट गया।पता नहीं चला कब दोनों को नींद आ गई।सुबह 5 बजे नींद खुली तो बस ढाबे में खड़ी थी।उसने बताया कि 40 मिनट रूकती है फिर सीधा अजमेर!वो मैक्सी पहनने लगी मैंने पकड़ लिया और मैक्सी रख दी. हम दोनों की सेटिंग तो आसानी से हो गयी पर चूत देने में वो नखरे कर रही थी.