चोदा चोदी बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,नए जमाने की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ गोली: चोदा चोदी बीएफ फिल्म, मैं सोच रहा था कि मैं ये स्टेप कैसे कर पाऊंगा, लेकिन फिर सोचा अब हर चीज़ के लिए मना करना भी ठीक नहीं है.

गांव की सेक्सी चोदने वाली

उसका मुंह चूसते चूसते ही मैंने धक्कों की रफ़्तार थोड़ी सी तेज़ की और हाथ बढ़कर मोबाइल में एक गाना लगा दिया. लडकी सेक्सी विडियोमैं थोड़ी देर चिल्लाती रही, तब तक कराहती रही, जब तक मेरी चूत ससुर जी का 9 इंच लंबा लंड लेने लायक नहीं हो गई.

मुझे उसके मुँह से अपने लिए गाली सुनकर मजा आ गया और मैंने उसे चूम लिया. डब्लू डब्लू सेक्सी मेंउन्हें ऐसा लग रहा था कि उनमें सच में दूध भरा हुआ है और वो लोग सच में दूध पी रहे हैं.

थोड़ा खिड़की के बारे में बता देता हूं।उनके रूम की खिड़की ऐसी थी कि अंदर की ओर ग्रिल लगी हुई थी और बाहर की ओर उस खिड़की के पल्ले खुलते थे.चोदा चोदी बीएफ फिल्म: मैं चुदाई करते समय हांफ भी रहा था … साथ ही कोमल की अच्छी तरह से चुदाई कर रहा था.

एक बार जब हनी मायके आई तो मेरी पत्नी की सलाह पर मेरी सास हनी को लेकर डॉक्टर के यहां भी गई और कुछ इलाज भी हुआ.और उसे उसने अपने बिस्तर के पीछे लगी हुई कांच की अलमारी में किताबों के बीच रख दिया.

सेक्सी पिक्चर सेक्सी पिक्चर आदिवासी - चोदा चोदी बीएफ फिल्म

”क्या गारन्टी है कि तुमसे चुदवा कर वो मां बन ही जायेगी?”आज तक जितने डॉक्टरों को दिखाया, फीस दी, किसने गारन्टी ली.जीजू ने मुझे बेड पर लिटा दिया, मेरी ब्रा और पैंटी उतारी और मेरी चूत में उंगली चलाने लगे, जब उनको लगा कि चूत गीली है और चुदने के लिए तैयार है तो जीजू मेरी टांगों के बीच आ गये और मेरी टांगें फैलाकर मेरी चूत को फैला दिया.

ये एक प्यार की चुदाई की कहानी है, जिसमें मैंने एक नयी सील को तोड़ कर एक लड़की को कली से फूल बनाया. चोदा चोदी बीएफ फिल्म अब्बू के जाने के एक साल बाद अब्बू के दोस्त की बेटी शमा से मेरी शादी हो गयी.

तुम बताओ ना?फिर उसने अपनी गांड की तरफ इशारा करते हुए कहा- ये गुस्सा है तुमसे.

चोदा चोदी बीएफ फिल्म?

कमरे में पहले से ही गूंजती हुई चुदाई वाली आवाज़ों में उसकी सीत्कारें भी जुड़ गयी थीं. कुछ देर बाद कोमल भी कमरे में आ गई … क्योंकि उसे पता था कि मैं उसका बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं. दादा जी की मौत के बाद अब्बू ने ग्राउण्ड फ्लोर पर दादा जी वाले बेडरूम में सोना शुरू कर दिया था.

”गुड … पर … अकेली? मेरा … मतलब बनर्जी साहेब नहीं आए साथ में?”नहीं वो 3-4 दिन के लिए कोलकता गए हैं।”ओह … और सुहाना?”वो भी 2 दिन के लिए अपने कजिन के यहाँ चली गई है मैं आजकल अकेली ही बोर हो रही हूँ. वो मदहोश हो चुकी थी।रमेश ने रिया को खड़ी होने के लिए कहा और खुद उठकर बैठ गया। उसने रिया की नाभि को चूमा और उसमें जीभ घुसाकर चाटने लगा। रिया खड़ी खड़ी आहें भर रही थी।वो अपने दोनों हाथ रमेश के कंधों पर रखे हुए थी। उसकी आंखें बंद थीं और भवें कामुकता से तनी हुई थीं। रमेश ने रिया की चूत में उंगली घुसा रखी थी. फोन पर बात खत्म होने के बाद मेरी तरफ मुखातिब हुई- क्या कह रहे थे?मैं कह रहा था कि कई जगह दिखा चुके हो, कोई लाभ नहीं हुआ, एक बार हमें भी दिखा दो.

मैं चाहता था कि वो ऐसा न करे लेकिन उसके लन्ड चूसने से मिलने वाले मज़े ने मुझे ऐसा न करने से रोक दिया. मैंने उसकी लोअर की इलास्टिक में हाथ डाल कर उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को छूकर देखा तो उसकी चूत का स्पर्श पाते ही मैंने चूचियों का मोह छोड़ दिया. इसी बीच उन्होंने मेरी मैक्सी को ऊपर करके मेरी पैंटी को खींच दिया और मेरी गांड को नंगी करके दबाने लगे.

ज्यों ज्यों पिंकी अपने चरम पर पहुँच रही थी, वो अपनी रफ्तार बढ़ाए जा रही थी. मेरा सारा परिवार वहां चला गया और मैं पढ़ाई का बहाना बना कर घर पर ही रुक गया। मैंने सपना को भी पहले ही बता दिया था तो मेरे घर वालों के जाते ही वो भी मेरे घर आ गयी। मैंने अच्छी तरह से घर के खिड़की दरवाजे बंद किये और उसे लेकर अपने कमरे में आ गया। कमरे में आते ही मैंने उसे बांहों में भर लिया औऱ बेतहाशा चूमने लगा.

दूसरा पार्ट तो अभी बाकी है … वो भी तो पूरा करना है कि नहीं करना है!मैं- दूसरा पार्ट?भैया- हां दूसरा पार्ट … अभी तू एक काम कर … वो दारू की बोतल और गिलास उठा ला … और वो रिमोट भी लेकर आ जा.

श्यामली पगला गयी और गाली बकने लगी और बोली- जल्दी कर गांडू, अब और बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

अगर तुम मेरी जान की हर एक चीज भी टेस्ट करोगी, तो वह सब भी टेस्टी है. उसने अपनी टाँगों से अरविन्द की कमर पर घेरा बना कर उसकी गर्दन में बाहें डाल लीं. मुझसे रहा ना गया और मैं भाभी के दोनों पैरों के बीच में आकर भाभी की चूत को चाटने लगा.

फिर हम दोनों कमरे में बिस्तर पर आ गये।हीना ने कहा- आप मेंहदी का ख्याल रखिए सर. फिर मेरी मदद से पैन्ट बाहर निकल गया।फिर हीना ने मेरी ब्रीफ की इलास्टिक कमर के दोनों ओर से पकड़ी और नीचे खींचने लगी. अब मेम रानी आगे को झुक कर घुटनों और कुहनियों पर टिकी हुई थी और उसका मुंह गुड्डी रानी की चूत पर था.

बस दो पल और फिर तुम्हारे जीवन का नया सुनहरा अध्याय शुरू होने वाला है.

इसके लिए मैं कोई पैसा नहीं लेता हूं क्योंकि यह मेरा शौक है और मुझे ये सब करना पसंद है. भाभी से बोला- अपनी गांड दबाकर बंद रखो और खड़ी हो जाओ।भाभी खड़ी हो गई. कई जगहों पर अंग्रेजी के शब्दों का इस्तेमाल भी हुआ है जो कि कहानी की वास्तविकता को बनाये रखने के लिए जरूरी था.

ये नाइटी ऐसी थीं कि इनमें सिर्फ मेरी चुत तक के हिस्से को ही छुपाया जा सकता था. मगर तभी ज्ञान ने 69 की पोजीशन ले ली और उनका मुंह मेरी चूत पर जा लगा. सच कहूँ … तो मुझे लंड से ज़्यादा उसका सुपारा होता है, उसे चाटना मुझे बहुत पसंद आता है.

मैंने झांक कर आगे देखा तो पाया कि जिस जगह मुझे जाना था, उससे आधा किलोमीटर पर एक बैरियर है.

मैंने उसकी आवाज को अनसुना कर तेज तेज धक्के लगाना चालू रखा! सीमांशी जोर जोर से आगे पीछे हो रही थी वो जोर जोर से अपनी गर्दन भी हिला रही थी. शिवानी भाभी को भी लंड चूसना पसंद नहीं है इसलिए मैंने उनको फोर्स नहीं किया.

चोदा चोदी बीएफ फिल्म मैंने अपने अपने ऑफिस के दोस्त को फोन लगाकर बोल दिया- भाई मेरी आज तबीयत खराब है, मैं नहीं आ पाऊंगा. दीप्ति ने मेरे कुर्ते के बटन खोले और मैंने हाथ ऊपर कर दिये तो उसने मेरे कुर्ते को निकाल दिया.

चोदा चोदी बीएफ फिल्म सुनीता माँ- आह चूस लो … चाट लो आज अपनी माँ के दूध निचोड़ लो मेरी जान … अपनी माँ के प्यासे जिस्म की आग बुझा दो बेटा. मैं- पहले एक गर्लफ्रेंड थी, जिसके साथ चूत चुदाई का मौका मिलते-मिलते रह गया था.

हे नाथ अब तुम्हीं रक्षा करना मेरी!” साली जी बोलीं और उठ कर बैठ गयीं फिर मेरे लंड को अपनी मेहंदी रची मुट्ठी में पकड़ कर सात आठ बार मुठिया कर छोड़ दिया और फिर से लेट गयीं.

नंगी बीपी

घुटनों के बल खड़ी नीरा ने अपनी चूत के लबों को फैलाया और मेरे लण्ड के सुपारे पर बैठ गई. दोनों खलासियों ने मेरे दोनों हाथों को खींच कर अलग किया, मैंने ताकत लगाई, तो एक बोला- पैसे पूरे दे रहे हैं, मजा भी पूरा लेंगे. इधर मेरे स्ट्रोक्स बार-बार बढ़ते ही जा रहे थे और उधर संजना और शीना दोनों कामुक सिसकारियां लेने में मशगूल थीं.

इतना बोल कर जेठजी ने मेरी नाइटी के ऊपर का बटन खोल कर नाइटी को कंधे से सरका दिया और मेरे कंधे को भी चूमने लगे. कोमल- आहह राज, प्लीज स्लो स्लो … उहह उम्मह ओहह राज धीमे साले … दर्द हो रहा है. मेरे हाथ तो अभी भी जेठजी के चेहरे पर ही थे, पर जेठजी के हाथ मेरे पिछवाड़े का अच्छे से माप ले रहा था.

पाठकगण! विश्वास कीजिये! जब कहने की शिद्दत बहुत ज़्यादा हो, तब शब्द गौण हो जाते हैं.

सुनीता- समीर बाइक थोड़ा फास्ट चलाओ नहीं, पानी का कोई भरोसा नहीं है, कहीं फिर से तेज हो गई, तो हम दोनों पूरे भीग जाएंगे. मैंने कहा- दीदी, मैं भी एक शादीशुदा आदमी हूँ, तो मैं आपको समझ सकता हूँ. उसने मेरा कोट मुझे पकड़ाया और मेरा हाथ पकड़कर मुझे खाने की स्टॉल की तरफ ले जाने लगी.

यह भाव-भरा समर्पण, प्यार था … केवल प्यार! पर देर-सवेर इस में वासना का समावेश तो हो के रहना था. मैंने देखा कि पलंग के दूसरी तरफ जीजा जी ने तो अपनी बहन आलिया को नंगी भी करना भी शुरू कर दिया था. तो उसने मुझे सीधा लिटा लिया और फिर से मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया।हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे.

जैसा कि हमारी बीवियों को नहीं पता कि हम सब यहां है तो हम उन्हें बड़ा सरप्राइज देने वाले हैं। वो अपने अपने पतियों का इंतजार कर रही होंगी. इस बीच मेरी बहन ने चादर उठा कर अपने शरीर पर डाल ली थी और वो अपने यौवन को छुपाने की नाकाम कोशिश कर रही थीं.

मैंने दोनों निप्प्लों को अंगूठे और उंगली के बीच में जकड के बड़े ज़ोर से उमेठा. इसके बाद अमरीका में साली से चुदाई के बाद बहू ने ससुर को कैसे चोदा, इसका मजा लीजिए. मैं रीना के होंठों का रसपान कर रहा था और रीना के सहलाने से मेरा लण्ड कोबरा नाग की तरह फुफकारने लगा था.

ऐसा ही मेरे साथ भी हुआ और हम दोनों आपस में और ज़्यादा बात करने लगे।धीरे धीरे बातें सेक्स को लेकर भी होने लगी। मैं भी कभी कभी उसको अंतर्वासना की कहानी उसको भेज देता था। जिसको पढ़ने के बाद वो मुझको अब अजीब नज़रों से देखने लगी थी।वासना की आग दोनों तरफ लगी थी पर दोनों यही सोच रहे थे की पहले बोले कौन।एक दिन उसका सब्र का बाँध टूट गया और आमना बोली- प्रखर, मैं तुमको पसंद करती हूँ.

हालांकि मुझे डर लग रहा था, पर कुछ तो वाइन के कारण और कुछ सामने टीवी पर चल रही गे ब्लू-फिल्म के चलते मेरा मूड बनने लगा था. उसको दर्द हो रहा था इसलिए वो लंड को वापस बाहर निकालने के लिए कहने लगी. जेठजी का तो पता नहीं, पर मुझे लंड चूसने में और चूत चटवाने दोनों में बहुत मज़ा आता है.

अविनाश- आलिया के होंठों को किस करने पर ऐसा लगता है कि मानो मैं किसी अप्सरा को किस कर रहा हूं. मेरे दोनों हाथों में अपना हाथ थमाये होठों पर किंचित सी मुस्कराहट लिए वसुंधरा हल्की नींद में सच में कोई अप्सरा लग रही थी.

इन सब के दौरान दोनों बहुत उत्तेजना में आ चुके थे। रिया करीब 15 मिनट तक रमेश जैसे बताता गया वैसे पोज़ देती रही। फिर रिया को ये बर्दाश्त के बाहर होने लगा।रिया ने रमेश से कहा- प्लीज अब ना तड़पाओ, देखो चूत से कितना पानी चू रहा है. वह बोलीं- मैं तुझे अच्छा लड़का समझती थी … और तू ऐसा कर रहा था मादरचोद, हवसी साले भड़वे. मैंने उसे फोन किया तो उसने बताया- तुम बस स्टाप पर मेरा इन्तजार करो; मैं बस अभी आ रही हूं।मैं उसका इन्तजार करने लगा और 10 मिनट बाद ही वो आ गई.

सेक्सी वीडियो चुदाई वाली हिंदी में

”गुड … पर … अकेली? मेरा … मतलब बनर्जी साहेब नहीं आए साथ में?”नहीं वो 3-4 दिन के लिए कोलकता गए हैं।”ओह … और सुहाना?”वो भी 2 दिन के लिए अपने कजिन के यहाँ चली गई है मैं आजकल अकेली ही बोर हो रही हूँ.

मेरी चुत चुदाई मेरे जीजू के मोटे लंड से किस तरह से होगी, क्या जीजू का लंड मेरी चुत को ठंडा कर सकेगा. मुस्कान ने भी मेरी किस में मेरा साथ दिया और मेरी जीभ पर जीभ रख कर एक और डीप किस की. फिर वो फ़ाइल दिखाने को बोला तो मैं जैसे ही उसकी तरफ झुकी, उसने पीछे से मेरी गांड पर हाथ मारा और मेरी गांड दबाने लगा.

उससे जो प्रीकम निकल रहा था उसने मेरे अंडरवियर को भिगोने के बाद मेरे पजामे पर भी अपनी छाप छोड़नी शुरू कर दी थी. ”मना कर देती तो चुदती कैसे?”खैर, अब तुम आराम से मजे ले लेकर चुदवाओ. भारतीय हीरोइन सेक्सी वीडियोइसके बाद अमरीका में साली से चुदाई के बाद बहू ने ससुर को कैसे चोदा, इसका मजा लीजिए.

चित्रा- सुनो अविनाश, मेरे पास एक आइडिया है, जिससे हम हमारी फैंटेसी पूरी कर सकते हैं. जल्दी से जल्दी मौसी बनने की चाहत में वो अपनी बहन मुझसे चुदवाने को तैयार हो गई थी.

उसका सीना मेरे मम्मों को दबा रहा था … आआअहह … मैं पहली बार अपनी सहेली के ब्वॉयफ्रेंड रुमित के साथ नंगी चिपकी हुई थी. चूंकि वह मेरे साथ ही पढ़ रही थी इसलिए हम दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे. मैंने किस करना शुरू कर दिया और अपनी जीभ को भाभी के पेट और चूत के आस पास घुमाने लगा.

यार रुस्तम, मुझे ना चुदाई में रोल प्ले करके बहुत मज़ा आता है … मैं तो तुझे बिना बताये रोल प्ले कर रही थी मालकिन और ग़ुलाम का … मैं तुझको परखना चाहती थी. मैं दारू के नशे और कामवर्धक दवाई के असर की वजह से बड़ी तेजी से नताशा की चुदाई कर रहा था. छोटी सी हल्की पिंक सी चुत मेरे सामने किसी मासूम कली के जैसे लुपलुप कर रही थी.

मैं दो सेक्सी औरतों के बीच नंगा था, दोनों की ठुकाई करने वाला था और वह दोनों मेरा मेरी गुलाम बनकर साथ दे रही थीं.

तो वो प्यार से बोली- चली जा यार … तेरी भी आग ठंडी कर देगा वो लोड़ू!मुझे हंसी आ गयी और मैं उठकर जाने लगी. चाची मुझे गले लगाकर बोलीं- हमारे बीच आज जो भी हुआ है, उसके बारे के किसी को भी बताना मत.

तो … हालात का यही तकाज़ा था कि मैं और वसुंधरा दिल की बातें अपने-अपने दिलों में ही रख कर एक-दूसरे से दूर-दूर ही रहें. बेबी रानी उसके पीछे सेट हो गई, अपने पंजे पीछे से ही गुड्डी रानी के चूचों पर जमा दिए और बड़ी उत्तेजित आवाज़ में बोली- ले कमीनी तू इसका लौड़ा चूस, मैं तेरी जीभ से गांड मारती हूँ. जैसे ही मैं उसकी सीट के पास पहुँची तो मैं वहां का नज़ारा देखकर चौंक गयी.

हनी की चूत में उंगली चलाते हुए मैंने अपने होंठ हनी के होंठों पर रख दिये. मैंने धरमपुर के मशहूर रेस्तराँ ‘हवेली’ पर रुक कर एक कप कॉफ़ी पी और दो जनों के लिए कुछ इवनिंग स्नैक्स और फिर किसी अंतर-प्रेरणा से प्रेरित हो कर मैंने दो जनों के लिए ख़ाना पैक करवा लिया. ”मैं चाहती हूँ हम दोनों साथ नहायें और फिर मैं किचन में नंगी होकर ही तुम्हारे लिए नाश्ता और खाना बनाऊँ और तुम भी उस समय बिना कोई कपड़ा पहने मेरे पास ही खड़े रहो.

चोदा चोदी बीएफ फिल्म दीपिका ने अपने हाथ मेरी तरफ बढ़ाये और बोली- पसंद हैं?मैं- बहुत पसंद हैं. और खुद नीरा भी मदमस्त हो रंडियों की तरह बड़बड़ा रही थी!मैंने लन्ड नीरा की चूत से बाहर निकाल दिया और साफ करने लगा.

आदिवासी सेक्सी ब्लू फिल्म

एक दिन की बात है कि मैं दोपहर में कपड़े फैलाने के लिए छत पर गया हुआ था. दस पांच दिन में कभी मेरे पास आता भी है तो नशे में होने के कारण कुछ कर भी नहीं पाता है. और फिर मैंने पैंटी को दांतों में लेकर उसकी टांगों से निकाल दिया।अब सीमा पूरी तरह अल्फ नंगी मेरे सामने थी.

मैंने थोड़ा लंड बाहर निकाल कर फिर से एक और जोरदार झटका मारा और पूरा लंड उनकी चुत में समा गया. अब आप एक बार असल जोड़ों के बारे में जान लीजिए जो इस प्रकार हैं-राजवीर संग रीनारणविजय संग प्रियाश्लोक संग सीमाविक्रम संग वीनानील संग रकुलये सब के सब मालदीव में एक साथ इकट्ठा होने जा रहे थे. सेक्सी डोरेमोनउसने अपनी उँगलियाँ मेरे लोअर के इलास्टिक में डाली और लोअर नीचे करने लगी.

मैं बोली- मेरी जैसी या ये चाहता है कि मैं ही बन जाऊं?पहले तो वो शांत हो गया और बस मुझे देखने लगा.

तो इसलिए इन लम्हों की सारी रुमानियत मैं शिद्दत से अपने अंदर उतार रहा था. रमेश ने कभी करवट लेते हुए उसकी फोटो निकाली तो कभी पेट के बल लेटा कर उसकी नंगी गांड को कैमरे में कैद किया.

मैं जब दुकान से आता तो कई बार दोनों को एक ही रूम से निकलते हुए देख चुका था. तभी दीदी का फोन जीजा जी के फोन पर आया और वो हमें वहां टेबल पर पड़ीं पट्टियों को आंख पर बांधने को बोलीं. एक दिन भाभी की पिलाई होती थी और अगले दिन मेरी।और एक दिन तो मेरी पिलाई हो रही थी और भाभी आ धमकी और लाइट जला दी.

मेरा नाम सुजाता है, मैं एक आदिवासी परिवार से हूं, इसलिए न तो गोरी चिट्टी हूं, न ही चेहरा बहुत सुन्दर है.

एक साथ सेक्स करने में मज़ा आएगा, अगर आपको ठीक लगे तो बताओ?प्रियंका बोली- दिल तो करता है ऐसा करने को, बस कोई प्रॉब्लम न हो कल को कोई?मैंने कहा- इस बात की मेरी गारंटी रही. मुझे उसके मुँह से अपने लिए गाली सुनकर मजा आ गया और मैंने उसे चूम लिया. मैंने बिना कोई प्रतिवाद किए उनके हाथ से तौलिया ले ली और सर पौंछने लगा.

xxx.iii वीडियो सेक्सी वीडियो एचडीउसकी गांड में लंड लगाए हुए ही मैंने उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके ब्लाउज में से पैसे निकाल लिये और उसके उरोजों को हाथों से जोर से दबोचकर बोला- और दम देखना है या अहसास हो गया कि मेरे अंदर कितना दम है?अब मैं उत्तेजित हो चुका था और अपने जलते हुए होंठों को मैंने बसंती की सुराही जैसी गर्दन पर रख दिया. आकाश- क्या? तो वो तुम लड़के हो, जिससे जिया प्यार करती थी?जीजा जी- तुम उसे जानते हो?आकाश- हां.

বাংলা সেক্স ছবি

पिछली सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कियात्रा में सलहज की चूत चुदाईकिस तरह हुई थी. गिन्नी के चूतड़ों के नीचे तकिया रखकर मैंने गिन्नी की चूत ऊंची कर दी. मैं- मैं रंडी नहीं हूँ, पर आज से आपकी रंडी हूँ … मुझे आपके लंड से बच्चा चाहिए … मैं किसी और से भी चुद सकती थी, पर वो इस खानदान का नहीं होता.

सुपारे को धीरे से खोल के नंगा कर दिया, टट्टे पकड़ लिए और ज़ोर से सांस लेते हुए लंड की गंध को सूंघा. उधर मैंने मैंने रानी की निकर को ढीला किया और एक ही झटके में खींच कर उतार डाला, फिर एक तरफ को फेंक दिया. इस गांडू की चुदाई कहानी के अगले भाग में आपको मेरी गांड मारने का रस मिलेगा.

जो लोग लिखते हैं कि गांड मराने में दर्द होता है, मुझे वे सब इस समय झूठे लग रहे थे. मैंने चाची से कहा- अब बस जानू आपकी चुत धुल गई … जल्दी से घोड़ी बन जाओ … मैं पीछे से लंड पेल देता हूँ. बेबी रानी बोली- राजे यह पिंकी है … मैं उसको चुदाई का आँखों देखा हाल दिखा रही थी … बहनचोद गर्म होकर चूत का दाना रगड़ रही है … चुदाई के बाद तेरी बात करवाऊंगी.

चाची बोलीं कि क्यों … क्या तुझे भी साड़ी बांधनी है?मैं हंसने लगा और बोला- नहीं किसी और की बांधनी है. तभी सुनीता आंटी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझसे कहने लगीं- ऐसे कैसे जा सकते हो समीर … तुम पूरे भीग चुके हो, चलो घर में चाय पीकर जाना.

घुटनों के बल खड़ी नीरा ने अपनी चूत के लबों को फैलाया और मेरे लण्ड के सुपारे पर बैठ गई.

इसे पाने के लिए या तो मैं बाहर जाती … और कोई देख लेता तो बड़ा खराब लगता. सभी हीरोइन की सेक्सी मूवीकुछ देर बाद वो भी आ गए थे और फिर रात को डिनर हम लोगों ने साथ में लिया. सेक्सी देसी चाची की चुदाईमेरे लिंग की पिचकारी चली और मैं शांत हो गया।कुछ देर ऐसे ही पड़ा रहने के बाद भाभी बोली- कुछ आराम मिला?मैं बोला- हां भाभी, अब दर्द लगभग खत्म हो गया है।अब मुझे भी लगने लगा था कि भाभी मेरे साथ संभोग करना चाहती हैं। पर मेरी अभी इतनी हिम्मत नहीं थी कि मैं संभोग कर सकूं।मेरा काम होने के बाद मैंने लोवर पहना और अपने रूम के लिए निकलने लगा. ” कहकर नताशा रसोई में चली गई।चलते समय जिस प्रकार उसके नितम्ब हिचकोले खा रहे थे आप सोच सकते हैं कि उसकी गांड मारने की मेरी कितनी प्रबल इच्छा होने लगी थी।बाथरूम सेक्स कहानी में मजा आ रहा है ना आपको?[emailprotected]बाथरूम सेक्स कहानी जारी रहेगी.

मैंने पूछा- आप अकेले ही आये हो क्या?उसने कहा- नहीं, मेरा भाई भी साथ में है.

मेरा मन तो उनका लंड चूसने का हो रहा था, मगर वो गांव की औरत उधर थी, तो इज्जत का फालूदा बन जाता इसलिए मैं मन मसोस कर वहां से चुपचाप चली आई. जीजा साली xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं अपने जीजू से चुदाने के लिए उन्हें मौक़ा दे रही थी. कविता भाभी लाल रंग की ब्रा पहने हुए हैं। जिसमें उनके दोनों बड़े बड़े स्तन छिपे हुए हैं। स्तन उनके इतने बड़े कि मेरे दोनों हाथों में ना आए।नीचे आते ही उनकी नाभि जो अंदर को दबी हुई हैं 1 इंच तो गहरी होगी ही.

थोड़ी ही देर में जेठजी के हाथ पेट से सीधा मेरे चूचों पर आ गए और वो मेरे चूचों को कपड़ों के ऊपर से ही अपनी मुट्ठी में भर कर दबाने और मसलने लगे. ये बोल कर मैंने अपनी एक उंगली उसकी पैंटी के साइड से उसकी चूत में पेल दी. मैंने भाभी के सामने गुलाब का फूल आगे कर दिया और आंखें खोलने के लिए कहा.

सेक्स करने का वीडियो दिखाओ

मुझे चाची की चुत लेने में इतना मजा आता है कि अब मैं मौका मिलते ही गांव चला जाया करता हूँ और चाची की चुत चोद कर आ जाता हूँ. बाथरूम की दीवार पर तुम्हारे लण्ड की परछाई देखकर मेरी चूत ने कहा ‘चुदवा ले इससे, इस बेचारे का भी भला हो जायेगा और तू तो जन्नत के मजे लेगी ही. अमनप्रीत- हां मेरे कुत्ते, मैं चाहता हूं कि तू अपनी बीवी की ब्रा और पैंटी पहन कर मेरी सेवा करे.

और फिर हम दोनों दरवाजे पर खड़े होकर रोहित का इंतजार करने लगे।कुछ ही पल में रोहित का ऑटो घर के दरवाजे पर आकर रुका.

पजामा पहना हुआ था इसलिए लंड के तनाव का आभास नहीं हो पा रहा होगा उसको.

जैसे कि दो बहनें अपने भाई से चुदेंगी, एक बीवी अपने पति के सामने दूसरे मर्द से चुदेगी, तो दूसरी बहन अपने भाई के सामने किसी और मर्द से चुदेगी. मैंने उसे एक हल्का सा मुक्का मारा और कहा- कुतिया तुझे बड़ी हंसी आ रही है. गांव की लड़कियों का सेक्सी वीडियो दिखाओवो थोड़ा दूर खड़ा हो गया और मैं किसी ट्रक के आने का इन्तजार करने लगी.

रीना- हा हा हा! मेरे ख्याल से यहाँ हम पांचों राजवीर का लन्ड ले चुकी हैं।वीना- हां रीना भाभी, वो बेस्ट है।प्रिया- सचमुच।रीना- प्रिया, रात में तुम किसके साथ थी?प्रिया- वेल … रात में विक्रम मेरे साथ था। पता नहीं क्यों सब मुझे इलियाना इलियाना बोल बोल कर मेरी गांड मारने पर तुले रहते हैं। वो बोला कि दोस्त की बीवी को चोदने का मजा ही कुछ और है. बीवियां पूछ रही थीं कि क्या चल रहा है, यहां पर होना क्या है? इसका पुरुषों ने अपनी अपनी सूझबूझ से जवाब दिया. काफी देर तक मालिश करने के बाद में मुझसे रहा नहीं गया- भाभी, मेरे अंदर कुछ हो रहा है। ऐसा लग रहा है कि मेरे लिंग में से कुछ निकल रहा है.

मैंने उससे कहा- हिला ले भाई, कोई दिक्कत नहीं। चल घर भी ले जाना अब इसको. सामने से मैं अपने होठों से पैंटी में कैद गर्लफ्रेंड की कुंवारी बुर को चूम रहा था.

अपने पास बुला कर अमनप्रीत मुझसे बोला- मेरा लंड तू ही अपने हाथ से इसकी चूत में डालेगा.

मैंने मस्ती में आकाश से कहा- जीजा जी, मैं आपकी बीवी को ले जा रहा हूँ … आप मेरी बहन का अच्छे से ख्याल रखना. मैंने किस करना शुरू कर दिया और अपनी जीभ को भाभी के पेट और चूत के आस पास घुमाने लगा. मैंने चुपचाप आँखें बंद कर लीं लेकिन चाचा मेरी खुली आँखें देख चुके थे.

व्व्व सेक्सी वीडियोस कॉम मुझे ज़रा सा भी अंदाजा नहीं था कि वे लड़कियां इतनी हरामी हो सकती हैं. उसके पति रोहिताश ने जिसकी आँखों के आगे उसकी कामुक इच्छा पूर्ति हो रही थी.

वो उछल कर बैठ गई और बोली- हाईला दीदी … तब तो ट्रक के सारे खलासियों ने और ड्राईवर ने तेरी चुत का तो भुर्ता बना दिया होगा. क्या लाजवाब शरीर था, मक्खन जैसा!मैंने उसके पैरों से उसे चूमना चालू किया और मस्ती में चूर होता हुआ धीरे धीरे उसकी रेशमी टांगों को चाटता हुआ उसकी चूत तक जा पहुंचा. आसमान पर पूर्ण रूप से बादलों की सत्ता क़ायम हो चुकी थी और सूर्य भगवान् कब के बादलों की मोटी तय में जा छुपे थे.

एक्स एक्स वीडियो बांग्ला

लेकिन इन सबके बीच एक शख्स और था जो मुझे बहुत प्यार करता था।वे थे मेरे देवर!मेरे देवर जी मुझसे बहुत प्यार करते थे मेरी छोटी छोटी बातों का ख्याल रखते थे. जब तक वे चूचियां चूसते, तो दूसरा हाथ कभी दूसरी चूची से … तो कभी नाभि से खेलने में लग जाता. तभी जीजू ने मुझे लिटाया और बोले- इतनी जल्दी कैसे चोद दूं साली साहिबा.

तभी बरसात की तेज फुहार फिर से बेडरूम की खिडकियों से आ टकराई और बादलों की तेज गड़गड़ाहट के साथ बिजली कौंध उठी. मैं तो अपनी बीवी की चुदाई में उसको खुश नहीं कर पा रहा था मगर कोई बाहर का आदमी तो उसको खुश कर ही देगा.

शुरूआत में तो हम दोनों की काफी लड़ाई होती थी मगर यह लड़ाई धीरे धीरे चुदाई में कब बदल गई मुझे कुछ पता नहीं चला.

जब जेठजी का लंड पूरी तरह से मेरी चूत में घुसा, तब मुझे अहसास हुआ कि जेठजी का लौड़ा मेरे पति से बड़ा है. अक्सर उन्हें दब्बू किस्म का पति पसंद होता है जो केवल उसकी हाँ में हाँ मिलाये और हर समय उसकी आगे पीछे घूमता ही रहे, जैसा वह बोले बस करता जाए।ऐसी औरतों का घर गृहस्थी में कम ही मन लगता है. मैंने चाय की ट्रे टेबल रखते हुए कहा- आप तो भूल ही गये थे शायद मुझे?वो बोले- नहीं मैडम, रिपोर्ट आने का इंतजार कर रहा था.

पास में रखे टॉवल से मेरी चूत और अपना लण्ड पौंछकर जीजू मेरे बगल में लेट गये और मेरी चूचियां चूसने लगे. कुर्सी पर बैठी एक हाथ से एक चूचा निचोड़ रही थी, तो दूसरे हाथ की उंगली से भगनासा ज़ोर ज़ोर से रगड़ते हुए हाय हाय हाय चिल्ला रही थी. मेरे जीजा ने उसकी चूत में जीभ दे दी और उसकी चूत को मस्ती में चाटने लगे.

30 मिनट तक भाभी की चूत को चोदा और फिर मैंने उनकी चूत के अंदर ही पानी निकाल दिया.

चोदा चोदी बीएफ फिल्म: मैंने रूम सजाया था, केक लाई थी और वाइन और व्हिस्की की बोतल भी रखी थी. एक के बाद एक झटके और हर झटके के साथ वीर्य की धार निकल रही थी जो मेरे नितम्बों की दरार से बहते हुए मेरी चूत पर आ रही थी और वहाँ से नीचे गिर रही थी.

बहनचोद पीछे से चोदते हुए मेम रानी के मस्त सुन्दर रेशमी से नितम्ब देख देख कर मेरी हवस भी जंगल की आग जैसे भड़क गयी थी. दीपिका ने अचानक लन्ड को बाहर निकाला और बोली- पता है राज, मेरे हस्बैंड के लाख कहने पर भी मैंने आज तक उनका मुँह में नहीं लिया है, मुझे अच्छा ही नहीं लगता. पर मैंने ऊपर बनियान और शर्ट पहन रखी थी, जिसे मेंहदी के कारण नहीं निकाला गया।अब हीना ने बिस्तर के नीचे ही अपनी कमर से लहंगा उतार दिया.

प्रिया- जी क्या हाल हैं … आज मुझसे क्या क्या काम पड़ गया?मैंने कहा- बैठ तो जा महारानी.

और यह बोलते हुए उसने अपने लण्ड को जाँघों में ही आगे पीछे करना शुरू कर दिया।रोहित बड़ी ही सादगी से मेरी जाँघों को चोद रहा था औऱ मेरी चूत से खेल रहा था. रिया को समझ में नहीं आया कि उसका बाप इतना जालिम कैसे हो सकता है? वह दर्द को बर्दाश्त करने लगी. भाभी के जिन मम्मों को मैं इतने दिनों से देख रहा था, अब वे भाभी के वे मदमस्त मम्मे मेरे हाथ में आ गए थे.