बीएफ सेक्सी लंड बुर

छवि स्रोत,नाक सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

चूत चुदाई वाली फिल्म: बीएफ सेक्सी लंड बुर, फिर जैसे ही उसने मेरे लंड पर हाथ लगाया, तो उसके हाथ में मेरा मोटा लंड आ गया.

स्कूल गर्ल सेक्सी कॉम

फिर मैं उसके एक गाल पर अपने होंठ घुमाते हुए उसके गाल को अपनी जीभ से चाटने लगा. व्हिडिओ सेक्सी हिंदी एचडीवो यह सुनकर बहुत खुश हुई और कहने लगी- मेरा भी बहुत मन था वहां पढ़ाई करने का … मगर कर न सकी.

कभी अंकल जी मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे चोदते तो कभी कभी गोद में लेकर, कभी डॉगी स्टाइल में चोदने लगते. इंडियन पंजाबी सेक्सी ब्लू फिल्मजब मैं उनको पीछे से चोद रहा था, तब उनकी भारी गांड देख कर मैंने उसी वक्त सोच लिया था कि उनकी गांड ज़रूर मारूंगा.

मैं- आज तो पढ़ने की छुट्टी है न … कल बताया था न तुझे!निशा- मम्मी आज बाहर गयी हैं, शाम तक आएंगी.बीएफ सेक्सी लंड बुर: मैंने पर्दे की ओट से देखा कि विराट भी सब कुछ भूल कर अपना 8 इंच का लंड वहीं हिलाने और मसलने लगा था.

मैले कुचैले साधारण से घाघरा चोली में बला की खूबसूरत लग रही थी, अगर वो कहती कि मैं नाज की बड़ी बहन हूँ तो मैं मान लेता.हफ्ते में दो तीन बार सामान ले जाती थी और हर महीने हिसाब चुकता कर देती थी.

पंजाबी फिल्म सेक्सी पंजाबी - बीएफ सेक्सी लंड बुर

अर्शिया की चुत एकदम अमेरिकन लड़की जैसी थी, एकदम गुलाबी गुलाबी!चुत पर उगी हुई बारीक बारीक झांटें चुत की खूबसूरती को बढ़ा रही थीं.मेरा लंड धीरे धीरे कड़क होने लगा था और उसे पैंट में से चुभने लगा था.

कुछ मिनट बाद जब मैं झड़ने को आया तो उन्होंने मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया. बीएफ सेक्सी लंड बुर वो टेबल इस प्रकार से बनी थी कि मैं उसमें आधी झुकी हुई थी और मेरी गान्ड बाहर निकली हुई थी।राज ने अपने लंड पर क्रीम लगाई और मेरी चूत में लन्ड घुसा दिया और धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगे।मुझसे ठीक से नहीं लेटा जा रहा था तो डॉक्टर ने लंड बाहर निकाल लिया और बोला- अंजलि जी, आपको शायद दिक्कत हो रही है.

कुछ देर बाद मैंने लंड गांड से निकाल लिया और सरोज को घोड़ी बना कर गांड चोदना शुरू कर दिया.

बीएफ सेक्सी लंड बुर?

मैंने अपनी स्पीड से नंदिनी को चोदने लगा और उसके मम्मों भी चूसने लगा. मुझे एक तरफ चुम्मी का मजा आ रहा था और दूसरी तरफ उसके मोटे मूसल लंड का स्पर्श अपनी चुत पर बड़ा ही हॉट लग रहा था. मैंने जैसे ही बेडरूम का दरवाजा खोला तो रूम को देखकर मैं दंग रह गई क्योंकि रूम पूरी तरह से फूलों से सजा था.

उसे भी मजा आने लगा और उसके मुंह से ‘आह … आह …’ की मादक आवाज आने लगी. अब उसके दोनों मम्मे एकदम अकड़ गए थे, तो उनका प्यार पाने का समय आ गया था. जैसा कि आप जानते हैं कि मैं अपनी मकान मालकिन की बेटी सुमन और सरोज को अपने लंड का स्वाद चखा चुका हूं.

कहीं न कहीं मन में ऐसा लग रहा था कि ये सब एक सपना है और अब भी हमारे पास कुछ वक्त है. उसको उलटी करते समय बस इतना होश था कि वो मुझसे कह सकी- प्लीज़ बिट्टू मुझे संभालो. कुछ पल तक चुत में उंगली चलाने के बाद मैंने अपनी पूरी जीभ लंबी करते हुए बाहर निकाली और मैडम की चुत पर फेर दी.

कोई भी लड़की मैं बहुत जल्दी ही पटा लेता हूं लेकिन मुझे भरी हुई उम्रदराज आंटी, मम्मी टाइप की औरतें पसंद हैं. मेरा सोया हुआ लंड दूसरी लड़की के हाथों का स्पर्श पाकर होश और जोश में आ गया.

ये बात आप खुद सोचिये कि एक खुले ब्लाउज में से कोई रांड किस्म की औरत अपने दूध किसी मर्द के चेहरे के करीब लाकर दिखाएगी तो उस मर्द का लंड खड़ा क्यों नहीं होगा.

मैंने एक सिगरेट सुलगाई और मुंतजिर की भरी हुई मादक चुचियों का अहसास करने लगा.

जब मैंने उसके माथे पर चुम्बन दिया तो उसकी आंखों में खुशी के आंसू साफ नजर आ रहे थे. झड़ जाने के बाद जेबा मुझसे रुकने को बोलीं लेकिन मैं उन्हें अनसुना करके चोदता रहा. और एक दिन उसे प्रवेश परीक्षा में सफलता मिल गई और इसके बाद चंडीगढ़ के एक कॉलेज में रिसर्च में सिलेक्शन हो गयी.

मैंने अपनी मौसी की गांड मार ली थी और अब तो मौसी के सभी छेद रमा हो गए थे. मुझे इस हरकत की प्रतिक्रिया यह मिली कि उसका हाथ मेरी साड़ी और पेटीकोट के ऊपर से दोनों जांघों के बीच गरमायी और भभकती योनि पर आ गया. मैंने मॉम से कहा- एक नया सॉन्ग आया है, सुनना चाहोगी? मूड फ्रेश हो जाएगा.

उस घर में केवल सुनीता रहती थी तो मेरी जीएफ इस तरह से आवाज सुनकर चौंक गई और दरवाजा खुला देखकर अन्दर आ गयी.

मैं वही तुम्हारी चिकनी चुत के मस्त मजे लूंगा जान!मैं- अच्छा अच्छा तुरंत दिमाग लगा लिए मेरे राजा डॉक्टर साहब. मैंने पीछे से अलीज़ा की चूत में लंड पेला और उसकी चूचियां पकड़ कर चुत का बाज़ा बजाता रहा. साहिल ने अपने कपड़े उतारे और नंगे होकर रंगोली को अपनी बांहों में ले लिया और उसकी ब्रा की स्ट्रिप खोल दी; फिर उसके होंठों को स्मूच किया.

निशा के शब्दों में:पिछले साल एक बार रात को जब मैं पेशाब करने के लिए जगी, तो मम्मी के रूम के पास से गुजरते हुए मुझे कुछ आवाज सुनाई दी. बचपन से ही पढ़ाकू रही हूँ और साथ ही साथ अपनी निजी जिंदगी में भी अब तक मैंने भरपूर मज़े लिए हैं. फिर मेरे मुँह के तरफ अपना मुँह करके लंड में अपनी गांड रखकर बैठ गई और मेरा खड़ा लंड सरकता हुआ उसकी गांड के अन्दर चला गया.

इनका लंड दुबारा से खड़ा भी हो पाएगा?ये कहकर अंजू मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर देखने लगी.

कार्तिकेय ने मुझे उसी पल अपनी बांहों में भर लिया और हम दोनों अपनी चुदाई की आग बुझाने के लिए एक दूसरे पर एकदम से झपट पड़े. उसे देखते ही मेरा तो लंड खड़ा हो गया और बर्दाश्त करना मुश्किल हो गया.

बीएफ सेक्सी लंड बुर मेरे प्रोमोशन के ख़ुशी में उन्होंने मेरे लिए अपने घर पर एक छोटी सी पार्टी भी रखी थी जहां उन्होंने बस मुझे न्यौता दिया था. इतने में मेरी पत्नी का फोन आया कि मैं रूपा भाभी के साथ उनके मायके जा रही हूँ.

बीएफ सेक्सी लंड बुर जेठ जी के बारे में पड़ोस की औरतों से सुनकर मुझे ये लगता था कि उनका चक्कर मेरे जेठ जी के साथ चलता है. अब वो भी मादक आवाजों में मस्ती फैलाने लगी थी- आह राज और तेज़ तेज़ चोदो … आहह आह ओहहह और तेज़!मैं उसकी गांड पर थपकी देने लगा.

उसने एक स्माइली भेज कर लिखा- क्या अलग सा लग रहा है?मैंने लिखा- शायद जो बेचैनी तुम्हें हो रही है … उसी तरह से मुझे भी कुछ हो रही है.

नई-नई बीएफ हिंदी

उसने मम्मों को हाथ से दबा कर टाइट कर दिया और लंड आगे पीछे करवाने लगी. मैंने अपनी गति को थोड़ा कम किया और धीरे-धीरे फिर से उनकी चूत में अपना लंड डालना शुरू किया. उन्होंने मुझे पीछे को घुमाया और घोड़ी बनाकर मुझे करीबन 15 मिनट और चोदा.

कुछ देर बाद उसकी गांड की चाल धीमी हो गई थी तो मैंने नीचे से झटके मारने शुरू कर दिए. मैं तड़फ उठी थी और चीखने ही वाली थी कि नरेंद्र ने अपने होंठों का ढक्कन मेरे होंठों पर कस दिया. मैंने मेज़ पर रखा तेल उठा लिया और हाथ पर लगा कर उसकी चुत में मलने लगा.

रविवार की शाम मुझे उनके यहां जाना था, तो मैं शाम से ही तैयारी में लग गयी थी.

और उन्होंने एक फ्लैट की व्यवस्था कर दी है … तू अगर चाहे तो कल इंदौर के लिए जा सकता है. उसके बाद हम सभी ने नाश्ता किया और चाय पीने के पूरे समय तक मैं आंटी को देख कर सोचता रहा कि काश एक बार आंटी की चुत को चोदने को मिल जाए. गांड में चिकनाहट हुई तो मैंने अपने लौड़े को तेजी से अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया.

दोस्तो, उस रात को मैं सो नहीं सका था और मेरे दिमाग में अशी और गमन ही आने लगे थे. मैं समझ गया कि भाभी ने सबकी नजरों में ये दिखा दिया था कि वो घर पर नहीं हैं और कहीं बाहर गई हैं. क्योंकि एक तो उम्र में मुझसे बहुत छोटी थी और दूसरी बात यह कि क्या इसके साथ हमबिस्तर होना सही होगा या नहीं.

उसने लंड हाथ में पकड़ लिया और आगे पीछे करके सुपारे को चमड़ी से आजाद कर दिया. दोस्त ने श्रुति को घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चुत में लंड पेल कर जोर जोर से चुत चोदने लगा.

अंकल का लंड फकाफक अन्दर बाहर हो रहा था और मां मस्ती से मुँह में लंड ले रही थीं. अब इससे अच्छा शगुन क्या होगा, जब आंख खुलते ही दो सुंदर चुचे मुँह के सामने हों. दीदी ने भी अपनी गांड उठा कर पेटीकोट को निकल जाने में मदद की … अगले कुछ पलों में पेटीकोट की बंदिश को हटा दिया.

मैंने उससे लंड चूसने का इशारा किया तो वो तो जैसे लंड चूसने के लिए मरी जा रही थी.

मैंने पूरा लंड उसके मुँह मैं घुसा देना चाहा, पर वो उसके गले से टकरा जाता और वो घबरा कर लंड बाहर निकाल देती. तो पाया कि सुबह जब मैं सोकर उठता हूँ, तो मेरा लंड मुझे झड़ा हुआ मिलता है. वो अंकल का पूरा लंड अपनी चुत में अन्दर तक लेने की कोशिश कर रही थीं.

उस वक़्त आंटी घर पर अकेली थीं, तो मैं उनको बोल कर उनके घर की छत पर आ गयी, जो मेरे घर की छत से एकदम मिली थी. उन्होंने कहा- चलो ठीक है, मैं तुम्हें फोन करके बताऊंगा कि कब आना है.

उसकी चुत के गर्म पानी ने मुझे भी पिघलने पर मजबूर कर दिया और एक दो मिनट के बाद मैं भी झड़ने वाला हो गया था. उसके गाल चाटते हुए मैं उसके गालों को अपने मुँह में भरकर चूसने लगा जिससे आरू की उत्तेजना और बढ़ने लगी, उसकी पकड़ मेरे लिए और तेज हो गयी. आज काफी दिन बाद मेरी मस्त चुदाई होने वाली थी और मेरी चुत फड़ाफड़ा रही थी.

सेक्सी फिल्म बीएफ हिंदी में बीएफ

लेकिन मेरा मन उनका मोटा लंड देख कर मचल उठा था और मान ही नहीं रहा था.

अब डॉक्टर ने अपना लंड मेरी चुत में सैट कर दिया और मेरे दोनों पैरों को अपने कंधे में रखकर लंड चूत में पेलने की तैयारी कर ली. उन तीन लड़कियों में से एक लड़की आजकल उसी शहर में पढ़ रही थी जहां मैं पढ़ाई कर रहा था. नीचे लाल फूलों वाली पैंटी में अलीज़ा की बिना वालों वाली चूत गजब की फूली हुई लग रही थी.

मैंने बोला- ठीक है, ये सब मैं श्रेया के घर वालों को बता दूंगा कि वो काम करने के साथ साथ तुम्हारे साथ चुदवाती है. चुत से लंड को जैसे ही बाहर निकाला, तो वो चूत के खून से और पानी से सना हुआ था. सेक्सी वीडियो 17 साल की लड़कीवो मेरी तरफ कुछ वासना से देखने लगीं तो अचानक से मैं उठा और पता नहीं मुझे क्या सूझा, मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ रख और किस करना शुरू कर दिया.

और जब रहा न गया तो मैंने धीरे से उसकी चुत में अपनी एक उंगली डाल दी. कुछ देर बाद मैंने उसकी बहन को भी घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चुत चोदने लगा.

कोमल को मैंने पीठ के बल लेटा दिया और पहले उसके होंठों को चूमने लगा. मैंने अपने प्यासे होंठों को जैसे ही उसकी चड्डी पर चुत वाली जगह रखा था … तो मेरे नथुनों में उसकी कुंवारी जवानी की सनसनाती हुई एक तीखी गंध नाक में घुसी. वहां पहले हम दोनों ने सिगरेट पी और साली साहिबा मेरे लंड के आगे अपनी गांड लगा कर खड़ी हो गई.

मुझे ऐसा लग रहा था जैसे आज चुदाई नहीं … सिर्फ चुसाई ही होने वाली है. नींद में ही अर्शिया ने अपने पेटीकोट को थोड़ा नीचे किया और करवट बदल कर सो गई. दोस्तो, मैं निर्वाण शाह एक बार फिर से अपने और कोमल के बीच की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूं.

मैंने उसका मुंह पकड़ कर अपनी स्पीड को बनाये रखा और 15-16 झटकों के बाद अपना पानी उसकी चूत में छोड़ दिया.

जबरदस्त चुदाई की कहानी में पढ़ें कि पड़ोस के लड़के की हसीं बीवी कैसे मेरे से सेट हो गयी. मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसकी गर्दन को चूसने लगा, साथ ही मैं अपने एक हाथ से उसकी चूचियों को भी मसल रहा था.

मेरे प्यारे पाठको, आपको यह सेक्सी औरत चुदाई कहानी कैसी लग रही है? मेल और कमेंट्स में बताएं. मैंने न चाहते हुए भी अरविन्द जी को अपने आपको सौंप दिया था क्योंकि वो मुझे बहुत अच्छे इंसान लगे थे. सरोज को मजा आने लगा था और उसने धीरे धीरे अपनी जीभ सुमन की चुत में चलाना शुरू कर दी.

मेरे लौड़े में हल्का हल्का दर्द हो रहा था मैंने तेल से मालिश की और गोली खा ली. सरिता भाभी ने फिर अपना अगला दांव फेंका और विजय से कहा कि जरा ऊपर से चीनी का डिब्बा उतार दो. लंड लेते ही शुरू में तो आंटी एकदम से चिहुंक उठीं और बोलीं- आह मादरचोद … आराम से डाल भोसड़ी वाले … तेरा लंड मेरे पति के लंड से काफी बड़ा है.

बीएफ सेक्सी लंड बुर कुछ पल बाद मैंने उसे उठा कर बेड पर लुढ़का दिया और उसे पागलों की तरह चूमने लगा; उसके मम्मों को दबाने लगा. अगले दिन जब मैं सुबह उठा तो मेरी छोटी बहन मेरे कमरे में ही खड़ी थी.

ताकि सेक्सी बीएफ

हम लोगों ने थोड़ा बहुत खाया और थोड़ा और ड्रिंक किया, तब तक कोमल बहुत ज्यादा ड्रिंक कर चुकी थी और अब धीरे धीरे बहक रही थी. मेरी पिछली कहानी थी:जुआ के अड्डे से पोर्न ऐक्ट्रेस बन गईदोस्तो, आज मैं एक बार फिर से एक नयी बॉस सेक्रेटरी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. कुछ देर आराम करने के बाद सुशी जी को देख मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

जब मैं कमरे से बाहर निकला तो देखा बैठक में रंगोली झुककर झाड़ू लगा रही थी. मैंने तुरंत होटल के रेस्तरां में फोन किया और उससे खाने के लिए ऑर्डर किया. चोदा चोदी सेक्सी फिल्में‘संजना … और तुम्हारा?’इस प्रश्न का जवाब उसके ऊपरी हाथ से पहले निचले हाथ ने दिया.

मैं सपनों में खोई हुई थी और अब्बू का लण्ड अपने जिस्म में समाने के लिए तैयार थी.

दीदी अपने दोनों हाथों से मम्मों को मसलते हुए बेचैन हो चली थीं- अहह उसस … उई ई ई ई … उम्मम!दीदी की कामुक आवाजों से पूरा कमरा गूंज रहा था, अपनी चूत चुसाई से दीदी सातवें आसमान में पहुंच चुकी थीं. उसकी चुत के गर्म पानी ने मुझे भी पिघलने पर मजबूर कर दिया और एक दो मिनट के बाद मैं भी झड़ने वाला हो गया था.

कुछ देर एक उंगली से ही चुत को ढीला करने के बाद मैं अपनी दो उंगलियों से उसे चोदने लगा और उसकी चूत को चाटने लगा. मुझे सेक्स करने का बहुत मन करता है लेकिन मेरे पति मेरे साथ सेक्स तो करते हैं लेकिन मुझे पूरी तरह से मजा नहीं दे पाते है. उसने खुद को समेटा और बैग को अपनी कमर से नीचे की तरफ आगे लंड को ढकते हुए लटका लिया.

वो सोढ़ी के सीने पर अपना सर रखकर कभी सोढ़ी की छाती की घुंडियों से खेलने लगती तो कभी उसकी छाती के बालों से खेल रही थी.

वो इतना चिकना था कि किसी बेलगाम सांड की तरह वो मेरी चूत की गहराई में फ़िसलते हुए घुस गया. आह आह ओह्ह ओह्ह बेबी और मार जोर से लंड अन्दर तक घुसा मेरी जान … आह यस यस यस बेबी ओह्ह याह स्वीटू योगू … अहह यस ओह्ह ओह्ह योगगु … जोर जोर से. अब मैंने उसकी टांगों को ऊपर उठा कर अपने कंधों पर रख लिया और उसकी बुर का छेद मेरे लंड के ठीक सामने आ गया.

हिंदी में सुहागरात की सेक्सीअचानक से मेरी गांड पर कुछ मोटा सा गर्म सा महसूस हो रहा था क्योंकि मैं उनकी गोद मैं था. काफी देर तक चोदने बाद सक्सेना का लंड झड़ने पर आ गया और उसने मेरी चूत में ही अपना पानी छोड़ दिया.

जबरदस्ती बीएफ वीडियो हिंदी

अपना एक पैर कमोड पर रखकर आंटी ने अपनी चूत खोल दी और मुझे अपनी ओर खींचकर मेरे लण्ड का सुपारा अपनी चूत पर रगड़ने लगीं. मैम ने मुझसे कहा- जब तक बारिश नहीं रुक जाती, तुम मेरे घर पर ही रुक जाओ. मतलब उसने लंड का स्वाद ले लिया है या अपने किसी ब्वॉयफ्रेंड से दूध दबवा लिए हैं.

लगभग 5 मिनट तक मैं उन्हें किस करता रहा और उनकी चूचियों को दबाता रहा. मैंने कहा- ये तुम्हारी नशीले आंखें, इनको देखते ही मैं इनमें डूब जाता हूँ. पिछली सेक्स कहानीदेसी माल की आगे पीछे चुदाईमें मैं सरोज को चोद रहा था.

मैं फ़ोन काट कर उनके पास गया और उन्हें उठाने लगा पर वो उठ नहीं पा रही थीं. कुछ देर के बाद जेठ जी ने चुदाई का तरीका बदल दिया, वे मुझे पीछे से चोदने लगे. लेकिन अब मैं कहां रुकने वाला था … मैंने एक और जोर का झटका दे दिया और मेरा पूरा लंड उसकी चुत में घुस गया था.

मेरे पापा ने मुझसे कहा- तुम उनके घर लखनऊ चली जाओ, वहां उनके लिए खाना पीना और देखभाल कर लेना. पर इस बार मैंने उन्हें रोक दिया- सर आपको पता है ना, हम क्या करने जा रहे हैं.

इस सबसे उनकी साड़ी का पल्लू सामने से हट चुका था, ब्लाउज में ऊपर नीचे होती हुई उनकी चुचियां ही थीं.

उसके स्तन बिल्कुल पत्थर की तरह कठोर थे लेकिन रुई जैसे मुलायम भी थे. मुस्कान बेबी का सेक्सी वीडियोअपनी बहन की जवानी से मुझे उत्तेजना के साथ डर भी लग रहा था कि कहीं कोई बवाल न हो जाए. एचडी सेक्सी वीडियो देखने के लिएधीरे से मैंने उसकी चुत में अपनी जीभ लगा दी … लेकिन उसकी चुत काफी टाइट थी और मेरी जुबान अन्दर न जा सकी. चूंकि वो शादीशुदा थीं, पर पति से दूर रहने और महीनों सेक्स ना करने से उनकी चूत कसी हुई थी.

मैंने उससे कहा- अशी आई लव यू … मैं तुम्हें अब भी पहले जितना ही प्यार करता हूँ.

उसके बाद भी हमें कई बार मौका मिला, मैंने हॉट ऑफिस गर्ल अलीज़ा के साथमेरी हवसको शांत किया. मैं आंटी के दोनों पिंक निप्पलों को बारी बारी से एक प्यासे प्रेमी की तरह चूसने लगा. मैंने सोचा कि ये मैंने क्या कर दिया, अब स्वाति मेरे बारे में क्या सोचेगी.

एक दिन हुआ यूं कि सुबह 9 बजे मैं सुनीता के घर में उसकी चुदाई कर रहा था. एकदम गहरी नाभि … जिसमें शहद डाल कर चूसने से पूरी जन्नत यहीं मिल जाए. ये मेरा आकलन है … हो सकता है कि मैं गलत होऊं … पर कमोवेश ये ही स्थिति है.

आलिया भट्ट बीएफ सेक्सी

मैंने उसकी चूचियों को खूब चूसा और फिर उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही रगड़ने लगा. सेक्स कहानी व्यक्त करने के लिए ऐसे शब्दों का चयन करना ही पड़ता है, जिन्हें चयन किए बिना दृष्य और भावनाओं को व्यक्त नहीं किया जा सकता है. तो मैंने कहा- ऐसे ही रगड़ती रहोगी या दिखाओगी कुछ?भाभी बोली- मुझे शर्म आती है, आप खुद देख लो.

वह दवाई लेकर पोर्नोग्राफी शूट करते हैं और हमें लगता है कि उनके स्टैमिना ज्यादा है.

मैंने एक हाथ शीना भाभी के टाप में अन्दर डालकर चूचियों को जोर जोर से दबाना शुरू किया.

सविता आंटी ने मेरे करीब आकर मेरे कान में धीरे से कहा- मुझे भी मेहनतकश लड़के पसंद हैं. कुछ पल तक चुत में उंगली चलाने के बाद मैंने अपनी पूरी जीभ लंबी करते हुए बाहर निकाली और मैडम की चुत पर फेर दी. विदेशी एचडी सेक्सीश्रुति बोली- उसको तो यही करना चाहिए … मेरी मस्त चुत का पहरेदार है वो … और तू मेरा कस्टमर.

बहुत सारे दोस्त मुझसे उस लड़की (कहानी की नायिका) की तस्वीर तथा नंबर मांगने लगे. अब जब भी जीजा जी के बाहर चले जाने से दीदी अकेली हो जाती हैं, तो वो मुझे बुला लेती हैं. दोस्तो, इस सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी ही सगी छोटी बहन स्वाति को चोदा … और चोदा ही नहीं, मैंने उसकीसीलपैक चूत फाड़ दी.

आज भाई का लंड कुछ ज्यादा ही चमक रहा था मानो वो किसी नई नवेली दुल्हन की चुत फाड़ने के इंतजार में तन कर खड़ा हो. सुमन की बहन सरोज अपनी गांड आगे पीछे करने लगी और खुद चुदाई करवाने लगी.

तुमको अगर ऐतराज न हो तो हम दोनों एक दूसरे के काम आ सकते हैं, एक दूसरे की जरूरतें पूरी कर सकते हैं.

मेरी हलचल और आवाज से किसी का कोई रेस्पोंस नहीं आया तो मुझे समझ आ गया कि सब सो गए हैं. उसके बाहर सिक्युरिटी गार्ड थे, उन्होंने मुझसे पूछा- किससे मिलना है?तब मैं बोली- जी मैं इंटरव्यू देने आयी हूँ. उन्होंने आंख दबा कर कहा- अच्छा ये तो बता दो कि खाते कैसे हो?मैंने उनसे कहा- ठीक है, मैं आज शाम को जब आपके पास ट्यूशन के लिए आऊंगा, तब बता दूँगा.

बुआ की चुदाई की सेक्सी वीडियो वो कहने लगी- सौरभ छोड़ो … अभी नहीं … थोड़ी देर बाद!पर मैं रुकने वालों में से नहीं था. हम दोनों इस पूरे हफ्ते में कितनी बार चुदाई कर सकते हैं और कैसे करेंगे.

लंड इस तरह से तो घुस नहीं सकता था इसलिए मैं ऐसे ही उसे काफ़ी देर रगड़ता रहा. दीदी उछल उछल कर मेरा मुंह चोद रही थीं- आह … उह उह उह उह आह हम्म उई ईई इई ईई … चूसो वीर चूसो और अह … वीरू आह. मुझे नींद नहीं आई, तो मैंने टॉयलेट में जाकर मुंतज़िर के नाम की मुठ मार कर लंड ढीला कर लिया.

छत्तीसगढ़ी में बीएफ फिल्म

उसे देख कर मैं यकीन के साथ कह सकता हूँ कि अर्शिया के निप्पल भी रसीले होंगे और चुत भी गोरी होगी. अक्सर ऐसा कहा जाता है कि जब समय बहुत अच्छा चल रहा हो तो वह आने वाले कठिन समय का ही एक हिस्सा होता है. मैं एक छोटे से शहर में रहता हूँ … इसलिए मैं अपनी और अधिक जानकारी नहीं दे सकता हूँ.

चूतड़ के नीचे तकिया रखा हो और मजबूत लण्ड ठोकर मारे तो औरत की आँखों से आँसू आना लाजमी है. चुत में उंगली के साथ ही उसकी मीठी कराह निकल गई- आहह धीरे …मैं उसके पेट को चूमते हुए उसकी चूत पर आ गया.

जैसे उन्होंने पहले मेरा मुँह चोदा था, अब वैसे ही मेरे लंड चुदने की बारी थी.

मुझे कोई भी बस एक बार देख भर ले, तो उसका लंड उसी समय खड़ा हो जाता था. उफ्फ … क्या गोरापन था अन्दर … पर उसके टिट्स मुझे अच्छे से दिख नहीं पा रहे थे. कॉलेज रोमांस की कहानी में पढ़ें कि मुझे अपनी टीचर पसंद आ गयी और मैं उसे पटाने लगा.

मेरी रण्डी माँ की सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सेक्सी माँ को अपने पापा के दोस्त के बड़े लंड से रंडी की तरह अपनी चूत चुदाई करवाते देखा. खिड़की पर जाली लगी है, जो रोशनी वाली साइड से दिखती है … लेकिन अंधरे वाली साइड से नहीं. वो मादक स्वर में बोली- रियांश अब सहा नहीं जाता, प्लीज प्लीज लंड चुत में डाल दो.

मुझे खुद पर विश्वास ही नहीं हो रहा था कि जिन मैडम के मम्मों के नाम की मैं मुठ मारा करता था, आज उनकी चुत मेरी जीभ से चट रही है.

बीएफ सेक्सी लंड बुर: चूंकि मैं बहुत गहरी नींद में सोता हूँ तो मुझे होश ही नहीं रहता है कि किस ने मेरे साथ क्या किया. वैसे मैं आपको बता दूं कि मेरा कद 5 फिट 7 इंच लंबा है और मुझे मेरी हाइट बहुत अच्छी लगती है.

ये सुनकर रंगोली ने मुझे हग कर लिया और उसकी टी-शर्ट के अन्दर तने हुए बूब्स मेरी छाती पर सट गए. मुझको कुछ अजीब सा लगा, परन्तु मैं था तो एक कमसिन ही, जिसने अभी अभी जवानी में कदम रखा था. मैंने फिर से पूछा कि क्या हुआ मौसी?तो वो बोलीं- कुछ नहीं शरीर में थोड़ा सा दर्द है और सिर में भी.

उन्होंने फिर से अपनी गांड हिलाई और ताकत से पूरा लंड अन्दर पेल दिया.

फिर रेखा आंटी को मामी जी की जगह लिया और मामी जी को रेखा आंटी की जगह में करके मजा लेना शुरू कर दिया. देसी लड़की Xxx कहानी में पढ़ें कि जिस लड़की का मैंने बड़ी होने का सालों इन्तजार किया, वो अब मेरा लंड खाने को तैयार थी. फिर एक स्माइल देकर मुझे आंख मारकर आगे बढ़ी और मुझसे हाथ मिला कर बोली- डन.