मॉम सन बीएफ

छवि स्रोत,लंदन किस नदी के किनारे

तस्वीर का शीर्षक ,

नैनीताल सेक्सी: मॉम सन बीएफ, ये ही काम उसने मुझे उल्टा करके भी किया, मेरे कूल्हों को भी वो बहुत देर तक चूमता रहा.

गाड़ी वाला चला दो

कुछ देर के बाद जब दूसरी दफा उन्होंने मेरे शेर को तैयार किया तो मैं 69 में हो कर उनकी सफाचट झांट रहित गुलाबी चिकनी चूत को भी चाट कर उन्हें गरम करता रहा, जिससे उनको बड़ी सुखद अनुभूति हुई. चोदी चोदा दिखाइए चोदी चोदामैं एक चुम्मा ले सकत?मैंने मुस्की मारी तो उसने कसके लिपट कर मेरा चुम्बन ले लिया.

उसका फेस भी कमाल का था ही, जो उसको देखता था, बस सोचता होगा कि ये पट जाए बस, फिर चाहे जान चली जाए तो कोई गम नहीं. ब्लू फिल्म दिखाइए इंग्लिश मेंमेरी भाभी किचन में हों तब मैं पीछे से जाऊँ और उनकी गांड की छेद में जीभ डाल कर चूमता रहूँ.

मेरे प्रिय दोस्तों, मेरा नाम सनी सिंह है, मैं राजस्थान में रहता हूँ.मॉम सन बीएफ: आज मैं अपने साथ हुई इसी पर आधारित एक सच्ची घटना को आपसे शेयर करना चाहता हूँ.

फिर मैं अपने काम में बिजी हो गई और इतना बिजी थी कि मुझे ध्यान से उतर गया कि क्या समय हुआ है.इससे पहले कि काकी कुछ करतीं, मैंने झट से उन्हें अपने मजबूत हाथों से पकड़ लिया.

मियां खलीफा की सेक्स वीडियो - मॉम सन बीएफ

हम मूवी देखने के लिए गए, मूवी देखते हुए मैंने पूनम के कंधे पर हाथ रखा तो पूनम थोड़ा असहज फील करने लगी और उसने मुझसे बोला- आप प्लीज़ अभी हाथ हटा लो, मुझे अच्छा नहीं लग रहा है क्योंकि एक तो हम चोरी छुपे मिल रहे है और…मैं बोला- पूनम कोई बात नहीं यहाँ आपको कोई नहीं जानता है और दूसरी बात ये कि अब आप मेरी वाइफ बनने जा रही हो तो मेरा आप पर हक़ है.कुछ टाइम बाद मुझे होश आया, अब मुझे पिलाई हुई दवाई का असर भी ख़त्म हो चुका था.

मेहनती और काबिल पति की वजह से जल्दी ही अंजलि के पास लाखों का बैंक बैलेंस भी हो गया था. मॉम सन बीएफ उसके दिमाग में पता नहीं क्या सूझा कि वो हल्के से मुस्कुराई और बोली- तुम लोग घबराओ नहीं.

अब मुझे शर्म कम लगती थी, फिर उन्होंने वहीं मेरे साथ सेक्स किया, मुझे चोदा और अपना लंड चुसाया और फिर कमरे में लाकर फिर चोदा.

मॉम सन बीएफ?

अब मैंने पूनम को पलटाया और उसको लिप किस करने लगा और लिप किस करते हुए उसके गले को चूमते हुए उसकी ब्रा के ऊपर से उसके मस्त मम्मों पर मेरा मुँह आ गया. फिर उस लड़के ने मॉम के ब्लाउज को खोल कर मॉम के बोबे बाहर निकाल लिये और एक निप्पल को चूसने लगा, वो बदल बदल कर मेरी मॉम की चूचियां चूस रहा था. तो मैं देखना चाहता हूँ कि क्या वाकयी कमेंट आते हैं या सिर्फ बातें ही हैं, यही सोच कर मैं भी अपनी सेक्स स्टोरी लिख रहा हूं, कमेंट जरूर करना क्योंकि फ़िर आपको एक लेखक और मिल जाएगा.

मेरी बहन सरिता इस तरह उसकी चूत चूसने चाटने से बिल्कुल पागल सी हो गई और ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ करने लगी. फिर मैंने भाभी को अपनी बाँहों में उठाया और बिस्तर पर ले जाकर पटक दिया. घोड़ी के स्टाइल में होने की वजह से दोनों की चूत थोड़ी और टाइट हो गई थी और उनको चोदने वाले लंड जल्दी ही लगभग 7-8 मिनट की चुदाई में ही झड़ गए.

सागर- मेरे लंड का पानी? कब चखा?मीना- जब भाभी की चुत साफ कर रही थी, तब भाभी ने वहाँ अपनी चुत से तुम्हारे लंड का पानी निकाल के मेरे मुँह में चाटने को दिया था. दोस्त कहते थे कि ‘अबे एक जाएगी नहीं तो दूसरी कैसे आएगी, भूल जा उसे!’पर मैं उसको प्यार करता था. मैंने 500 वाली बात किसी से नहीं बताई थी, लेकिन वो रूपये मैंने संभाल कर रखे थे.

मैंने अपना लंड चूत से बाहर खींच लिया और वो सीधी हो कर बिस्तर पर लेट गईं. लेकिन हाँ मैं अक्सर एग्जाम देने जयपुर आती रहती हूँ तो उस टाइम आप मुझसे मिल सकते हो.

मोना सुबह जल्दी उठकर नंगी ही किचन में चाय बनाने जाती और मैं रोज उनकी ओर देखता रहता.

उसने कहा- वाओ अच्छा है!वो बेड पर बैठ गयी, मैं भी उसके बगल में बैठ गया और उसकी चूची को निहारने लगा, आज उसकी चूची कुछ ज़्यादा ही बड़ी लग रही थी… शायद मेरे हॉट होने के कारण।मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसे अपने ऊपर गिराया और उसके लिप्स पे किस करने लगा और उसके मम्मे दबाने लगा.

कभी कभी किसी कुएं के पास के पेड़ पर चढ़ कर पत्तों में छिप कर पानी भरती, कपड़े धोती या नहाती लड़कियों को देखते हुए मूठ मारने का जो लुत्फ़ था मज़ा था उसकी बात ही अलग थी. लेकिन जब मैं वापस आई, मोबाइल देखा तो अमित और नए नंबर से एसएमएस आए हुए थे. वैसे भी इतनी टाइट स्कर्ट थी और इतनी छोटी थी कि शायद उसमें एक दो उंगली भी सही से ना जाएं.

मैं जानती थी कि मम्मी बहुत ज्यादा किसी कॉफ़ी शॉप या रेस्टोरेंट तक ही जाएँगी. मैं हमेशा लेडीज की तलाश में ही रहता हूँ कि एक अच्छी सी आइटम फंस जाए और लाइफ टाइम मेरे लंड के नीचे बनी रहे. पूनम को लेकर मैं हमारे वहां पास ही के एक गार्डन में गया, जिसमें सभी कपल्स घूमने आते थे.

इतना कह कर मैंने शावर चालू कर दिया और उसे अपने पास खींचते हुए साथ में नहाने लगा.

” उसने बेशर्मी से मेरी बात का जवाब दिया।लेकिन अब हम छोटे बच्चे नहीं रहे!” मैंने टोका।तो क्या हुआ?” मेरी बहन ने लापरवाही से जवाब दिया. मैं आप लोगों को बता दूँ कि वो सिर्फ वेस्टर्न ड्रेस ही पहनती थी जीन्स टॉप या जीन्स शर्ट… यही उसकी पसंद थी।उस दिन वो सफ़ेद शर्ट और डेनिम जीन्स पहन कर आई थी. मैंने पूछा- चाचा आपने भी कभी मराई?चाचा- हां आर्मी में मराई थी, जब दूर जंगल में जहां न आदमी, न औरत.

मैं एक कामपिपासु लड़का हूँ, शुरू से मेरी सेक्स में कुछ ज़्यादा ही रूचि है. मुझे लगता था कि वो सिर्फ अपनी कामवासना और चुदाई के शौक के कारण मुझसे चुदती है. मैं बहूरानी के ऊपर झुक गया और उसकी प्यासी चूत का दाना अपनी छोटी छोटी नुकीली झांटों से घिसने लगा.

उधर विकास और पूजा तो एक दूसरे के साथ चिपक कर बारिश और पानी का पूरा फायदा उठा रहे थे.

मैंने उसकी जीन्स और टी-शर्ट उतार दी और उसका पूरा बदन चूमना स्टार्ट कर दिया. आधे घंटे की इस चुदाई में मेरी बीवी नीना ने खूब मस्ती भरी चुदाई करवाई और हम दोनों एक बार फिर से दो महीने वाली याद में खो गए।मेरी बिंदास चुदक्कड़ बीवी की गैर मर्द से चुत चुदाई की यह सेक्स स्टोरी कैसी लगी? मुझे मेल कर के अपने विचार जरूर बताएं। तभी अगली चुदाई की बात लिखूँगा।आपाक दोस्त रितेश शांडिल्य[emailprotected].

मॉम सन बीएफ मैंने कल्पना भी नहीं की थी ऐसी… अब मजा आ रहा था, मौसी मेरे बदन को सहला रही थी. फिर मैं धीरे धीरे उस के रसीले होंठों पर किस करने लगा, इस बाद वो भी साथ देने लगी.

मॉम सन बीएफ मैंने पूनम को देखा तो पूनम का भीगा हुआ बदन मुझे मदहोश कर रहा था क्योंकि भीगने से उसकी साड़ी उसके बदन से ऐसे चिपक गई थी, जैसे लड़का लड़की सेक्स के टाइम चिपके हुए होते हैं. और मेरी तरफ मुँह करके बोली- कब तक जरूरत रहेगी लंड की?मैं बोली- सारी उम्र.

खाने के बाद फेरे के समय मैं मॉम के साथ ही बैठी थीं मगर वो लड़का कहीं नजर नहीं आ रहा था.

मोटी चूत की सेक्सी पिक्चर

फिर क्या था दोस्तो, मैंने उनके एक एक करके सारे कपड़े उतार दिए और मम्मों को मुँह में ले कर चूसने लगा. अब उसको भी बहुत मजा आ रहा था थोड़ी देर में मेरा भी डिसचार्ज होने वाला था तो उसने कहा- बाहर नहीं निकलना. हाथ कंगन को आरसी क्या और पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या… मैंने उनका इरादा और इशारा दोनों को समझा और तुरंत उनकी ब्रा के हुक को खोल कर दोनों रसीले आमों को बाहर निकाल कर उन पर ऐसे टूटा जैसे कि बरसों बाद चूसने वाले आम मिले हों.

मैं करीब 11 बजे मुरादाबाद पहुँच गया और मैंने रास्ते में ही शालिनी को फ़ोन कर दिया कि मैं आ रहा हूँ मेरी रानी. मैं अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूं कि मैंने अपनी मामी को चोदा और उनको चोद कर अपनी सेक्स की प्यास बुझाई. इसी वजह से जैसे जैसे पुलकित मंजरी की चूत चाटता जा रहा था, मंजरी की तड़प बढ़ती जा रही थी.

जैसे ही मैंने उनकी सलवार में साइड से हाथ घुसाना चाहा, तभी उन्होंने हाथ को रोकते हुए हाथ हटाया और रज़ाई से उठ कर चली गईं.

दीदी ने भी अपनी टाँगों की मेरी कमर से हटा लिया और मुझे उठने दिया, मेरा आगे का जिस्म अब हवा में उठ गया था और लिप्स दीदी के लिप्स से आज़ाद हो गये थे।लेकिन दीदी को ये अच्छा नहीं लगा तो दीदी ने अपने दोनों हाथों को कुहनी से मोड़ कर बेड से लगा लिया और खुद के सर को और शोल्डर को ऊपर कर लिया जिस से दीदी के लिप्स फिर से मेरे लिप्स के करीब आ गये थे. मैंने टॉयलेट में जाकर अपने लंड को हिला कर बोला- बेटे, आज तुमको पंजाबी चूत दिलाता हूँ. कुछ दिनों के बाद जब उसको पता चला कि वो प्रेग्नेंट है तो उसने मुझे कॉल करके थैंक्स कहा और कहने लगी कि तुम मेरी ज़िंदगी में भगवान के रूप में आये हो, मेरी ज़िंदगी में एक ही कमी थी जो आपने पूरी कर दी लेकिन में आपसे फिर कभी बात नहीं कर पाऊँगी… सॉरी बाय बाय.

हम दोनों इतने मदहोश हो चुके थे कि रिश्ते नाते शर्म हया सब कुछ भूल कर उस पल का आनन्द ले रहे थे. थोड़ी देर तक उसकी पूरी चूत चाटने के बाद मैं खड़ा हुआ और मैंने उसको लंड चाटने को कहा लेकिन उसने मना कर दिया. माया अमित से लगभग लिपटते हुए बोली- अमित प्लीज वो फाइल मुझे दे दो, बदले में तुमको क्या चाहिए मैं दे दूंगी.

उन लोगों ने अलग अलग अपने मोबाइल वीडियो रिकॉर्डिंग चालू करके रखे और मेरे बिस्तर पर आ गए, मेरे टॉप को जैसे ही ऊपर किया तो देखा कि मैंने ब्रा नहीं पहनी थी. ”पापाजी, वही तो मैं चाहती हूं कि मैं थक जाऊं आपके साथ इन छत्तीस घंटों में और आप अच्छे से थका देना मुझे जिससे मेरे बदन की पोर पोर दुखने लगे, मेरे अंग अंग में मीठा मीठा दर्द होने लगे!” बहूरानी जी बेहद मीठी आवाज में बोली.

अंजलि बेड पर अपनी जाँघें फैलाए पड़ी थी, उसने टॉप पहना हुआ था मगर लोअर उतारा हुआ था, पंत्य्य नीचे सरकी हुई थी और अपनी चूत में एक डिल्डो अंदर बाहर कर रही थी. अब उसके विशाल चूतड़ मेरे मुँह के पास थे और चुत बिल्कुल मेरे मुँह में सामने. मैंने उसे ज़ोर से पकड़ा और दूसरा धक्का लगाया, लंड उसकी बुर में जा चुका था और वो जैसे बेहोश सी हो गयी और मुझे अपने से दूर धकेलने लगी.

जब तुमको दिखाने के लिए, मैं दूसरे लड़कों के साथ फ़्लर्ट करती थी और तुमको जलाती हुई देखती थी.

और मैंने उसी मैडम से पूछा- मैडम, यहाँ सिमरन कौन है?वो मैडम बोली- मेरा ही नाम सिमरन है, क्यों क्या हुआ?मैंने कहा- कि मेरी एक क्लाइंट गीतांजलि का आपके लिये फोन है, वो आपसे बात करना चाहती है. मैंने शिवानी भाभी को उठाया और टेबल पर लेटा कर उनकी पेंटी एक तरफ सरका कर चूत चाटने लगा. मॉम उस नंबर पर फोन कर रही थीं, उसको मैंने स्विच ऑफ किया हुआ था और प्रेग्नेन्सी टेस्टर लेकर सीधे मॉम के रूम में आ गया.

मेरी हिंदी सेक्सी कहानिया के पिछले भाग में आपने अकीरा उर्फ़ सिमरन और शालिनी उर्फ़ दीपिका के मिशन की कहानी पढ़ी, शालिनी की पहली चुदाई के बारे में पढ़ा. वहां जाकर पता चला कि ताई जी घर पर नहीं हैं और मेरी बहन घर पर अकेली है.

मंजरी ने अपनी जांघें भींच ली, शायद उसे बहुत मज़ा आया, या गुदगुदी हुई. आह…कुछ टाइम में मैं झर गया और उसने पी लिया शायद उसे टेस्ट अच्छा लगा होगा।हम ऐसे ही नंगे लेट गए बेड पर और कुछ टाइम बाद उसने मेरा लंड सहलाना शुरू कर दिया, मेरा लंड भी खड़ा हो गया, मैंने उसे किस किया और लंड को उसकी प्यारी सी चूत पे रगड़ने लगा. कुणाल धीरे से गुनगुनाते हुए बोला- ठंडी में भी गर्मी का एहसास हो रहा है.

चाचा भतीजा की सेक्सी वीडियो

जब सर ने देखा कि मेरी कामुकता भी अपनी चरम पर है तो उन्होंने अपने लंड को मेरी चूत के द्वार पर टिका कर एक झटका दिया तो सारा लंड एक बार में मेरी चूत में चला गया, मेरे मुंह से जोर की अहहह हहह निकली.

एक दिन जब मैं अपने दोस्त के ऑफिस की बिल्डिंग में घुसा तो वो बाहर जाती हुई नज़र आई, उसकी आँखें भरी हुई थीं और वो लगातार आँसू पोंछती हुई जा रही थी. ब्रा का क्या करोगे?”क्योंकि अभी तेरी ब्रा सूँघ कर ही काम चला लूँगा बाद में तेरे आमों को चूस कर रस पियूंगा. मैं अपने होंठ उसके होंठ पर रख कर चूसने लगा और दोनों हाथों से उसके दूध दबाने लगा.

इसके बाद हमने फ़ोन करके रेस्टोरेंट से खाना मंगवाया और उस रात मैंने शीतल को 5 बार और उसकी डिमांड के पोज में चोदा. ’कुछ देर की चुदाई के बाद उसने मुझे बेड पर अपने नीचे ले लिया और खुद ऊपर आकर मुझे चोदने लगी. सेक्सी लड़की का व्हाट्सएप नंबरकुछ देर के किस के बाद उन्होंने मेरे भी कपड़े उतार दिए और मुझे नंगा कर दिया.

मैं भाभी के ऊपर बैठ गया और अपना लंड उनकी दोनों चूचियों की क्लीवेज में फँसा कर दोनों मम्मों को जोर से पकड़ कर लंड को आगे पीछे करने लगा. मैं आपको बता दूँ महेश और उसके सभी दोस्तो ने एक फ्लैट रेंट पर लिया हुआ था, जिसमें 2 कमरे, हॉल और किचन थे बाथरूम अटॅच्ड थे.

मैंने ऐसे ही पूछा कि मुझे कहाँ सोना है?भाभी बोलीं- आपको मेरे साथ ही सोना है और वो भी इसी रजाई में. उसकी उम्र कोई 25-26 साल थी, वो थोड़ी सांवली थी पर दिखने में एकदम कमाल का माल थी. मैंने पूछा- इसका मतलब क्या है?पापा ने कहा कि हमें चेक करना होगा कि तुम्हारी ग्रोथ ठीक हो रही है या नहीं! इसके लिए तुम्हारे सारे मेजर्मेंट्स लिए जायेंगे.

हाँ दोस्तो, मैं आपको यह बात बताना भूल ही गया कि मैं उस समय पट्टे के कपड़े का सिला हुआ नाड़े वाला अंडरवियर पहनता था लेकिन आज की तारीख मैं कैसा भी कोई अंडरवियर नहीं पहनता हूँ. वो दस सेकंड तक कुछ नहीं बोली, सिर्फ आँखें बंद करके बैठी रही और मजा लेती रही. हम मेरे फ्लैट पर पहुंचे तो सरिता ने देखा की फ्लैट पर ताला लगा है, तो उसने पूछा कि भाभी और बच्चे किधर हैं?तो मैंने बताया कि वो तो अपने नाना नानी के घर गए हैं.

मैंने कॉल काटा और टाइम देखा तो एक बज चुका था और एड्रिआना अभी भी सो रही थी.

मैंने रोहण से कहा- बेटा, मुझे ब्रा पहना दो।रोहण ने कहा- ओ के माँ!रोहण मुझे मेरी ब्रा पहनने लगा और मुझे ब्रा पहना ली रोहण मेरे बूब्स को ब्रा के अंदर करने की कोशिश कर रहा था पर वो नहीं रहे थे क्योंकि मैंने 30 साइज की ब्रा पहनी थी और ब्रा मेरे बूब्स को संभाल नहीं पा रही थी. जब हम आमने सामने हुए तो हमने हाथ मिलाया और फिर हम पार्क में चले गए.

मुझे लगा कि इनको लंड का मजा भी दिलवा दूं तो कमरे में एक लंड जैसा चिकना डंडा था, तो दोनों की चूत के बाच में रख दिया. अदिति बेटा, अपने पैर खोल दे और ऊपर कर ले!” मैंने धक्के लगाने का प्रयास करते हुए कहा. अभी तक इस कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैं तनु की मम्मी से सेक्स की बात कर रहा था.

मैं अन्दर गया तो उस ने मुझे काउच (सोफे) पर बैठने के लिए कहा और मेरे लिए किचन से जूस ले आई. मैं भी किचन में आ गया, तो उसने बेलन को चुत के ऊपर लगाते हुए बोला- बहुत खुजली हो रही है, कुछ करो ना. मगर मेरे मन में लड्डू फूट रहे थे कि आज पूरा चुदाई का मजा लूंगी!उसने अपने लंड को बीच में रखा और मैंने घबराहट, उत्तेजना और जोश के मारे गहरी सांस ली, उसने एक हल्का सा धक्का मार दिया, लंड का ज़रा सा हिस्सा मेरी चूत के अंदर चला गया.

मॉम सन बीएफ मैं ड्रेस बदल कर और सिंपल टॉप और लोअर पहन कर लेट गई और वही सब सोचते सोचते सो गई. वैसे तो मैं शादी शुदा हूँ, पर फिर भी इधर उधर माल देख कर अपनी प्यास बुझा लेता था.

तेरे को सेक्सी वीडियो

तब मैंने उसे बताया कि मैं स्खलित होने वाला हूँ तो उसने बोला- मेरे अन्दर ही गिरा दो, आई वांट टू फील ईट. मेरे मोबाइल में कुछ ब्लू फ़िल्म पड़ी थीं, उन्होंने वो भी देख लीं और मुझसे बोलीं- विशाल तुम ये सब देखते हो?मैंने पूछा- क्या भाभी?वे बोलीं- ब्लू फ़िल्म?मैं हड़बड़ा गया, मैंने सोचा अब क्या बोलूँ और बोला- हां भाभी कभी कभी. दीदी भी तेज़ी से अपनी कमर को नीचे की ओर करने लगी और दोनों मिल कर स्पीड को तेज करने लगे.

फिर उसने मेरे गाल पर किस किया और बोली- तू सोते हुए बहुत क्यूट लग रहा था. मैंने बाथरूम में हाथ धोते समय अपनी शर्ट भिगा ली और भीगी शर्ट के साथ ही बाहर आ गया. सेक्सी जूतेमैं आगे बढ़ा और मैंने भाभी को बांहों में भर लिया, मैं उन के शरीर को चूमने लगा.

कुणाल- आंटी केला अच्छा है?आंटी- अभी ख़ाकर तो देखा नहीं कैसा बताऊं?कुणाल- तो ख़ाकर बताइए ना.

उसने आपके लिए ये गिफ्ट था लाने को कहा था, वही देने आया हूँ बस!अब आगे तो मुझे सब पता ही था कि बात क्या है क्योंकि सारी प्लानिंग मैंने ही की थी इसलिए मैं भी नार्मल हो कर बात करने लगी- अच्छा ऐसी बात है आओ बैठो, चाय पी लो, फिर जाना. इस सेक्स स्टोरी में अभी तक आपने पढ़ा कि ठरकी ससुर दिनेश ने कामुकता की मारी बहू आरुषि की चूत चोद दी.

फिर मैं उसके हाथ पकड़ कर उसको किस करने लगा और एक ज़ोर का शॉट दे मारा, मेरा आधा लंड उसकी चुत को फाड़ते हुए अन्दर चला गया. और भाभी ने मेरे साथ, मैंने भाभी के साथ चुत और गांड की चुदाई करके सुहागरात मनाई. इसलिए सबसे बढ़िया बात ये कि जो करना चाहो, बिंदास करो, कुछ पाप नहीं होता.

ये सब मैं जानता था क्योंकि मोनिका को मैं अब अपनी इज्जत समझने लगा था और उसके बारे में उसके भाइयों से सब जानने लगा.

मेरा लंड खड़ा था लेकिन अब शायद मॉम लंड को और ज्यादा चूत में नहीं झेल सकती थीं, उन्होंने आगे से बेड से उठते हुए लंड को चुत से निकालने की कोशिश की. एक दिन मैंने देख भाभी मुझे देख कर मुस्कुरा रही थीं, पर उन्होंने मुझसे बात नहीं की. उसका नाम कोमल है, उसकी उम्र करीब 22 साल थी और रंग एकदम दूध की तरह गोरा था.

मुसलमानों की ब्लू फिल्ममुझे मेरे भाभी के होंठों पर दिन रात चुम्बन करना है, भाभी के भरे हुए होंठ मेरे होंठों में लेकर चूसना है. तुम नहीं जानती अक्सर टाइम्स ऑफ़ इंडिया में इसके बारे में आता रहता है.

मोठी गांड वाली सेक्सी

मुझे लग ही गया कि वह अब चुदना चाहती है पर मैंने मेरा लंड अंदर नहीं डाला, उससे बोला- आई लव यू! पर तुमने मुझसे कुछ छुपाया है. मैंने उससे बोला- अगर तुम अपने घर पर हमारी शादी की बात कर लो तो मैं अपने घर बात कर लूँगा. अगले दिन ननद ननदोई जी चले गए, ननद जाते समय बोली- भाभी, अगर इनको काम में देर हो जाएगी तो ये आपके यहाँ रात को रुक जाया करेंगे.

अकीरा ने अपने प्यार का इज़हार तब भी किया था और विक्रांत को भी वो अच्छी लगती थी. मैं मेम के मम्मों को बहुत ही प्यार से चूसे जा रहा था और सुष्मिता मेम मज़े लिए जा रही थीं. उसके दिमाग में पता नहीं क्या सूझा कि वो हल्के से मुस्कुराई और बोली- तुम लोग घबराओ नहीं.

बाकी सब लड़के मुझसे एक या दो साल बड़े ही थे, दिखने में सभी स्मार्ट एंड हैंडसम थे. मैंने अपना हाथ उसकी टी-शर्ट और ब्रा के अन्दर डाल कर उसके मम्मों को सहलाया और दबाने लगा. अब उसने सोफे पर लेट कर मुझे चूत में लंड डालने का इशारा किया और कहा- आराम से डालना… बहुत बड़ा है!मैं उसकी टांगों के बीच में आ गया और चूत को मस्त डॉगी स्टाइल से चाटा, जिससे वो मस्ती में आ कर कराहने लगी और चुदासी सी बोली- और मत तड़पाओ यार… जल्दी से डाल दो.

फिर मैंने बरमुडा पहना और बाहर आ गया, उसके बाद तो मैंने उसे पूरे दिन अपनी गोद में उठा उठा कर चूमा और बूब्ज दबाये और चूसे पर उसने चूत को टच नहीं करने दिया. रात को मेघा के घर गया, उसके कमरे में जाकर और साथ में उसकी रजाई में घुस गया.

मैं भाभी से सॉरी सॉरी बोलने लगा, पर भाभी ने मेरी एक न सुनी और मुझे अपने कमरे से निकाल कर दरवाजा बंद कर लिया.

बेडरूम में जाकर मैंने सागर को कह दिया था कि तुम सेक्स के लिए ज़रा भी पहल नहीं करना, तुम्हारी दीदी को ही पहल करने देना. छोटी बहू हिंदी मेंवैसे मेरा भाई कई बार रात में सोते वक्त कामुक आवाजों में सीत्कार सी करता था, शायद वो नींद में कुछ चुदाई के सपने देखता होगा. राजस्थानी देसी स्टेटसएक लड़के ने तो हद ही कर दी, डांस करते करते वो मेरी मॉम की पूरी बॉडी पर हाथ फेर रहा था और साथ में मॉम की गांड भी दबा रहा था लेकिन मेरी मॉम ने कोई ऐतराज नहीं किया, वो उन लफंगे लड़कों को कुछ नहीं बोल रही थीं. उस पूरे घर में बस हम दोनों ही अकेले थे और मेरा शायद सालों का सपना अब पूरा होने वाला था.

चूत एकदम लिसलिसी हो चुकी थी इसलिए लंड बड़ी तेजी सटासट अन्दर बाहर हो रहा था.

अब वो मेरे सर में हाथ फिरा रही थी और मैं उसकी कभी दायीं और कभी बायीं चूची चूस रहा था. रोहण के अंडरवियर में मुझे कितना बड़ा लंड मोटा सा सामने ही दिखाई दिया तो मैं सहम गई- ओ मां… आज मैं नहीं बचूँगी! ये तो मुझे चोद के ही छोड़ेगा!मैं यही सोच रही थी कि रोहण मुझे अपनी बांहों में लेकर किस करने लगा, मेरे मम्मों सहलाने लगा. अब मुझे टेढ़ा लिटा कर पीछे की तरफ राजेंद्र अंकल मेरे पीठ से चिपक गये, उनका नंगा मर्द का सीना मेरी पीठ में चिपक गया और उनका लंड मेरी गांड में चुभने लगा.

आंटी ने बेटियों की तरफ़ इशारा करके कहा- अच्छा ये मेरे लिए और उनके लिए नहीं?कुणाल- क्यों नहीं आप चाहें तो उनके लिए भी है. काफी रात हो गई तो मैंने पूछा- सोना नहीं है आज?तो उसने बताया कि वो ट्रेन में है, लखनऊ जा रही है. तब मैंने सोचा कि क्यों ना इसको गर्म किया जाये तो मैंने बहुत हिम्मत करके हल्के से अपनी उंगलियों से उसके कान के जस्ट पीछे सहलाया, इससे वो और रिलेक्स हो कर पीछे सीट पर सहारा लगा कर मेरी उंगलियों पर अपने सिर का बल दे कर बैठ गयी.

मराठी चालू सेक्सी

उस शांत इलाके में हमें बहुत अच्छा लगा क्योंकि बहुत कम लोग थे, बिल्कुल शांति थी वहां पर. उसके पेलने के अंदाज से जाहिर हो रहा था कि वह चुदाई में माहिर बन्दा है. गांड के दो छल्ले होते हैं, एक जो बाहर हमको दिखता है और दूसरा उससे क़रीबन आधे इंच अन्दर होता है, जिसको आपका सुपाड़ा पार कर जाए, बस आपका काम हो गया.

फिर कहा- ठीक है…मुझे पता था कि अब वो पूरी तरह मेरे जाल में फंस गई है.

जैसे मैंने अपनी जान को बांहों में लिया था और उस ड्रेस में उसे हनीमून पर ले जाने वाला अहसास हो रहा था.

”हां संजू तुमने तो बूब्स पर काट काट के निशान बना दिए… नाख़ून मार दिए आआआह. तब उसी लड़के ने मेरी हेल्प की, उसने मुझे नोट्स दिए और कॉलेज में मुझे पढ़ाया. सेक्सी यूट्यूब वीडियोमेरे बारे में जो दोस्त नहीं जानते हैं उनको दो चार लाइन में ही बता दूं.

उसने मुझे टेबल पर बैठाया और अंडरवियर उतार कर मेरा लंड दोनों हाथों में भर लिया. यह हिंदी एडल्ट स्टोरी मेरी जिन्दगी से संबंधित है मैंने अपनी जिन्दगी में न जाने कितनी ही बार चुदाई की मगर किस्मत की मार से मेरी मुहब्बत अधूरी रह गई. मैं सिमरन से चिपक गया और उसके गाल, कान के पीछे किस करते हुए उसके बूब्स पर आ गया.

लेकिन तभी उस्मान बोला- सर, हम कैसे मान ले ये वही ब्रा है जो मैडम आज पहन कर आई हैं?ये सुनते ही माया हंसने लगी. उसके दूसरे दिन कि बात है कि मैंने एक लड़के को टीवी सही करने के लिए घर बुलाया तो उसने आने से मना कर दिया.

मैं उनके घर आता जाता रहता और मेरे मम्मी और पापा की भैया भाभी से अच्छी बनती थी.

उसका पिंक कलर का 1 सेंटीमीटर का निप्पल खड़ा हुआ निप्पल देख कर तो मैं पागल हो गया और मुँह में लेकर उसे चूसने लगा. लेकिन मेरे जोर देने पर उन्होंने अपने बच्चे को गोद में उठाया और अपने ब्लाउज़ को खोल कर एक मम्मे से अपने बच्चे को दूध पिलाने लगीं और दूसरा मुझे दिखा दिया, जिसे देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. वे लोग दिल्ली में रहते हैं लड़की भी वहीँ की है तो शादी में किसी न किसी को दिल्ली तो जाना ही था.

पूजा घर का कलर कैसा होना चाहिए थोड़ी देर बाद अमित चला गया और अब मैं मन ही मन खुश होकर हंसने लगी कि देखो कितना पागल लड़का है कि मेरा तो कुछ नहीं गया, पर मैं केवल गले लगने से इतनी अच्छी अच्छी दो ड्रेस पा गई. फिर मैंने उससे पूछा- पढ़ाई कैसे चल रही है और दिल्ली में रहकर कोई बॉयफ्रेंड बनाया या नहीं?ये सुनकर वो मायूस हो गई और उसकी आँखों में आँसू आ गए.

मुझे टेंशन हो गया कि अगर गालों पे निशान हो गए तो मैं अपनी बीवी को क्या जवाब दूँगा. तुम बच्चों के रूम में अपना सामान शिफ्ट कर लेना, वो दोनों ट्रिप पर गए हैं. काफी रात हो चुकी थी मैंने उन्हें फ़िर से लम्बा चुम्बन किया और वहाँ से चला आया.

पिक्चर सेक्सी पिक्चर भेजो

उसे किस करना आता नहीं था तो मैं जैसे जैसे करता, वो भी वैसा ही करती. इस पर भाभी बोलीं- ओके ओके शेखर तुम ऊपर वाले रूम में जाओ, मैं अभी आती हूँ. फिर मैं उसका सर पकड़ कर लंड के पास लाया और लंड उसके मुँह में दे दिया.

लंड दीदी के गले की दीवार से टकराने लगा था जिस वजह से दीदी को 1-2 बार हल्की खाँसी भी आ गई थी और दीदी ने लंड को मुँह से बाहर निकाल दिया था लेकिन मेरी मस्ती कम नहीं होने दी थी. माशूकी हमेशा नहीं रहती, मैं जब माशूक था, अपनी गांड पर बडे बड़े लंड झेले।वे बातें करते जा रहे थे और लंड पेले थे.

अन्तर्वासना सेक्सी स्टोरीज के मेरे प्यारे पाठको, मेरा नाम अश्विनी है, मैं 23 साल का हूँ.

” बोल कर पार्टी में कभी किसी दोस्त के घर में बुलाना और फिर कभी मेरी लेग्गिंग तो कभी सलवार तो कभी स्कर्ट के नीचे से चड्डी निकाल कर मुझे बारी बारी से चोदना. मैं उसके लंड को बहुत जोर से दबा कर नीचे ले जाने लगी, तो ऊपर की खाल हटने लगी. लेकिन मॉम डैड ने पैसे के दम पर मामला सुलटा लिया और मैं अच्छे नम्बरों से पास हो गई थी.

फिर वो चुप होकर बेड पर पैर खोल कर लेट गई, उन्हें शायद दर्द हो रहा था क्योंकि मेरा लंड बड़ा है. लगभग 15 मिनट बाद मैंने उसके दूध दबाए और एक हाथ से उसकी चूत मसलने लगा. दीदी- हो गई तेरे मन को शांति, कर ली अपनी मनमानी तूने, चल अब जल्दी से मेरी वीडियो डेलीट कर और दफ़ा हो जा यहाँ से!मैं- अरे दीदी, इतनी भी क्या जल्दी है, अभी तो एक बार ही हुआ है.

सच में माया मुझे तुम सब कुछ देने को तैयार हो?”अमित के बात करने के तरीके से माया को सब समझ आ गया कि ये चोदने के चक्कर में है लेकिन इस वक्त उसे वो फाइल चाहिए थी जो कि कंपनी के लिए बहुत महत्वपूर्ण थी.

मॉम सन बीएफ: थोड़ी देर के बाद मेरा लंड पकड़ कर धीरे धीरे अपनी चुत के अन्दर घुसाने लगी. उसने अपनी मॉम की दराज से एक सीडी निकाली और टीवी ऑन करके हम दोनों सेक्स वीडियो देखने लगे.

मैं अपने होंठ उसके होंठ पर रख कर चूसने लगा और दोनों हाथों से उसके दूध दबाने लगा. मेरी मॉम ने भी उस लड़के की पैन्ट की जिप खोल कर उस का लंड बाहर निकाल लिया और उससे खेलने लगीं, उसे आगे पीछे सहला कर जैसे मुठ सी मारने लगी. वो मुझे देखती तो ऐसा दिखावा करती कि सब नॉर्मल है, मैं भी क्यों उसे पूछती कि तुम्हें क्या हो रहा है, वो खुद बताएगी, मैं नहीं पूछूंगी.

फिर वो एक हाथ पीछे ले गया, मुझे घुमा दिया तो मैंने देखा कि वो एक हाथ से अपनी अंडरवियर निकाल रहा था.

वो भी चाहती है कि हमारे प्यार की स्टोरी सब लोग जाने और इसमें ज्यादा फायदा हम अपना ही मान रहे हैं, ताकि जब भी मन हो, हम अपने बीते पलों को याद कर सकें. वो तो साली पहले से ही नंगी थी, उसने बस तौलिया हटाया और मुझसे कहा कि तू भी अपने कपड़े उतार जल्दी. उसकी चुत इतनी गीली हो चुकी थी कि बिना मेहनत के लंड सीधा उसकी बच्चेदानी से जा टकराया और उसके मुँह से आह निकल गई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने अब अपने लंड की पूरे छह इंच लम्बाई का और उसकी चुत की पूरी गहराई का इस्तमाल करना चालू कर दिया.