सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में

छवि स्रोत,செக்ஸ்கதை

तस्वीर का शीर्षक ,

श्रद्धा कपूर की बीएफ: सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में, मेरे पास मेरी एक स्कूटी थी तो मैंने उसको दूसरा हेल्मेट लेकर आने को कहा.

सेक्सी फुल एचडी हिंदी में

मैंने बाथरूम में जाकर दरवाजा लॉक कर लिया और अपने आप को आईने में देखते हुए सोचने लगी कि साली तू कितनी बड़ी छिनाल हो गयी है, जो किसी से भी … और कहीं भी चुद लेती है. नितंबों का आकारकाम मिल गया था और अभी काम करते हुए 15-20 दिन ही हुए थे कि मेरे घर वाले फिर से मुझ पर लड़की देखने का दबाव डालने लगे.

विपिन ने ट्यूबवेल वाले कमरे का ताला खोल लिया पर गेट नहीं खुल रहा था. पंजाबी गर्ल्स सेक्सी वीडियोचूचे 32 साइज के, कमर 28 से भी कम और 34 से थोड़ा ऊपर उसकी खतरनाक उठी हुई गांड.

मैंने थोड़ा खुश हुआ लेकिन परेशान भी … क्योंकि साढ़े चार घंटे मुझे ड्राइव करना था और तब तक रात हो जानी थी.सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में: मैं चौंक कर एकदम से बेड से खड़ा हो गया और उन्हें देख कर डरा हुआ सा भूत बन कर खड़ा था.

‘आहह आहहह उह फक मी यस माई सन या या या या …’ के साथ मेरी बुआ की आवाज ‘और तेज चोदो मुझे और चोदो चोदो … आज फाड़ दो मेरी चूत की मां चोद दो.चूंकि हम दोनों एक दूसरे के सामने बैठे थे तो मैं उठ कर उसके बगल में उससे चिपक कर बैठ गया और अपना हाथ उसकी जांघों में रख दिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो कॉलेज वाली - सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में

फिर अर्णव ने पैंटी की इलास्टिक में अपनी उंगलियां फंसाईं और जरा सा खिसका कर मोहिनी की चूत के पास चूम लिया.फिर मैंने हफ्ज़ा 38 इंच के चुचों को पकड़कर उसे अपनी ओर खींचा और उसके होंठों में अपने होंठ मिलाकर उसे चूमने लगा.

फिर जब मुझे आराम हुआ, तब मेरे जीवन का असली संभोग सुख मिलना शुरू हुआ. सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में तभी मैंने टॉप ऊपर करके उसकी ब्रा खोल दी और देखा कि उसके चूचुक काफी बड़े थे और एकदम खड़े हुए थे.

नंगी बहन के साथ फुफेरा भाई कमरे में हो तो क्या होगा? और जब दोनों जवान हों, हमउम्र हों और एक दूसरे को पसंद करते हों.

सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में?

और मौका मिलते ही मैंने पिंकू के मोबाइल में 3-4 भाई और बहन की चुदाई वाली वीडियो डाउनलोड कर दी।पिंकू का मोबाइल बेड पर रखकर मैं टीवी देखने के बहाने बाहर आकर टीवी देखने लगा।और इंतजार करने लगा कि पिंकू कितनी जल्दी वीडियो देखे. रीना खड़ी होकर फिर से पॉल के मुँह पर थूकते हुए अपनी गीली चूत पॉल के मुँह पर तब तक रगड़ने लगी, जब तक उसकी चूत से मूत की धार ना निकल जाए. अंजलि- पहले तो आप मुझे अंजलि जी कहना बंद कीजिए और दूसरी बात ये कि अब इन हालातों की मुझे आदत सी हो गई है.

उसे पता चला तो वो क्या सोचेगी … और तुम उसके ब्वॉयफ्रेंड को कैसे जानती हो?स्नेहा- जान वो अभी कुछ दिन पहले ही उसका दोस्त बना है. थोड़ी देर बाद बुआ उठकर तेल की शीशी ले आई और मेरे लंड पर मालिश करने लगी. गोवा की गर्मी के कारण मैं सिर्फ कच्छे में सो रहा था, बाकी पूरा बदन नंगा देख कर रीना की नज़र मेरे बदन पर घूमने लगी.

उस समय वो मुझे कुछ वक्त के लिए मेरी बीवी लगी और मैं उसके साथ बीवी की तरह बात करते हुए उसे चूमने लगामैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और चूसने लगा. उन्होंने ब्लाउज को मम्मों के ऊपर पकड़ कर रखा और मुझसे पीठ खुजाने को बोलीं. वो चूत में खीरा घुसाकर अपने बॉयफ्रेंड से गन्दी गन्दी बातें कर रही थी.

वह भी खुश हो गया कि उसे भी बहुत दिनों के बाद में उसकी जान की चूत गांड चोदने मिल रही थी. उसकी 30 इंच की मादक कमर और 38 इंच की गांड किसी के भी लंड को खड़ा कर सकती थी.

जैसे ही मेरी मादक सिसकारियां निकलने लगीं, वैसे ही उसने मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

स्नेहा ने कुणाल को रोका और कहा- चलो रूम में चलते हैं, हम सब वहीं करेंगे.

मैं तो यहां पूरा प्लान करके बैठी थी कि वह आएगा और मुझे ठोक कर मेरी चुदास पूरी तरह से मिटा देगा. लंड चूत के अन्दर गया तो उसने धकापेल मचा दी और कुछ ही मिनट के अन्दर ही उसके लंड ने पिचकारी मार दी. मैं- चल मादरचोद, अच्छे से साफ कर इस रंडी का भोसड़ा और एक बूंद भी नीचे गिरी तो तेरे सामने तेरी मां को चोदूंगा समझी बहन की लौड़ी!किरण ने भी झट से अपनी जीभ बाहर निकाली और रेशमा की चूत के पास लगे हमारे वीर्य को चाटने लगी, रेशमा ने ख़ुद अपने पैर फ़ैलाते हुए किरण को जगह बना कर दी ताकि वो अच्छे से उसकी चूत और गांड से निकलता वीर्य चाट सके.

फिर हमसे रहा नहीं गया तो हम दोनों के होंठ आपस में भिड़ गए और हम एक दूसरे को चूमने लगे. मेरी बड़ी सुप्त इच्छा थी कि मैं किसी औरत को उसके पति के सामने किसी रंडी की तरह चोदूँ और उसका पति मेरा लौड़ा चूसकर अपनी बीवी की चूत और गांड में मेरा लौड़ा घुसा दे. मैंने उन्हें गाल पर काट लिया और कहा- अब तुम्हें रोज मेरे लंड से चुदना पड़ेगा.

वो भी अपने हाथों से मेरी पीठ को पकड़ कर अपनी तरफ खींच रही थीं और ‘आह … उफ्फ्फ … हाय … उम्म …’ जैसी आवाज निकालती हुई मुझे अपनी तरफ समेट रही थीं.

पहले तो अम्मी ने इन सब चीज़ों को नज़रअंदाज़ किया और खुलकर मुझसे गले लग कर चूम लेतीं. इनकी कहानी मुझे काफी उत्तेजना भरी लगी, इसलिए मैं इसे आपके लिए पेश कर रही हूँ. चलो उसे छोड़ो मां, अंकित को आपने ध्यान से देखा है … क्या गठीला बदन है उसका … और मुझे लगता है उसका लंड भी बहुत बड़ा होगा.

रूमी के घर आने से मैं बहुत खुश था क्योंकि हम दोनों बचपन से अच्छे दोस्त थे. आप सब मेरे साथ इसका आनन्द उठाने के लिए बने रहिए और अपने मेल मुझे जरूर करें. ये बोल कर पापा ने बाम लगाई लेकिन मेरी गांड देख कर पापा का लंड खड़ा हो गया था.

सभी मुझे केवल संभोग की नज़र से देखती हैं क्योंकि सबको मेरी रासलीलाओं के बारे में पता है और सभी से मेरी अच्छी जान पहचान भी है.

पर अच्छा था कि हम व्हाट्सएप पर बात कर रहे थे और सोनी मुझे देख नहीं पा रही थी वरना पक्का वो और नाराज़ हो जाती. जब मैंने और राजीव ने मिलकर सनी से मजे ले लिए तो सनी ने हॉल में ही वहीं राजीव के सामने मुझे सोफे पर झुका कर मेरी ढंग से गांड मारी और पूरा स्पर्म मेरी गांड में डाल दिया.

सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में सचमुच लॉकडाउन के छह महीने के बाद मैं अपना कुछ समय अदिति को दे सकता था. कुछ दिन तक ऐसे ही हम दोनों एक दूसरे के लण्ड मसलने के मजे लेते रहे।फिर एक दिन मैंने उसका लण्ड और गांड देखने की जिद कर ली तो उसने बोला- भैया, पहले आप दिखाओ।मैंने उससे पूछा- अगर मैंने अपना लण्ड दिखाया तो तुम्हें एक बार किस करना पड़ेगा मेरे लण्ड को और उसे चूसना भी होगा.

सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में कुछ देर बाद मेरे दरवाजे पर कुछ हरकत हुई तो मैंने उठ कर देखा कि दरवाजे के बाहर करिश्मा टहल रही थी. चूत गांड चोदते हुए फ़ज़लू मियां गाली-गलौच मार-पीट और जबरदस्ती किया करता था.

उन्हें भी इस बात का कोई ऐतराज भी नहीं था, वे लोग भी झट से इस बात के लिए मान गए थे.

सेक्सी वीडियो जंगल चुदाई

तो मैंने अपनी वासना को मंजिल देने के लिए अन्तर्वासना की साईट खोली और उधर कुछ सेक्स स्टोरी पढ़ने लगा. मगर मैंने जोर दिया, तो उसने मुझे बताया कि मैं तो माँ बनना चाहती हूँ और मेरे पति भी बहुत अच्छे हैं. [emailprotected]लड़के की गांड की कहानी का अगला भाग:बूढ़े अंकल ने मेरी कुंवारी गांड चोदकर खोली- 2.

मैंने कहा- अंकल यह क्या कर रहे हो?तो वो मुस्कुरा कर बोले- बेटा बस देखते जाओ, अभी तुम्हें बहुत कुछ मजा आने वाला है. मैंने उससे कहा- यार, हम अच्छे दोस्त हैं, अपनी दोस्ती को क्यों खराब कर रही हो. तेरी मां को भी चोद दूंगा रंडी साली … मैं तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा … मैं तेरी गांड में अपना लौड़ा घुसा कर इतना चोदूंगा कि तेरी चाल बदल जाएगी छिनाल कुतिया मेरी रंडी कहीं की.

उस समय मैं पूरी सुहागन स्त्री बनी थी वो ऑटो वाला मेरी कमर से हाथ डाल कर मुझे सटा हुआ था.

स्कूल का बाथरूम बहुत गंदा रहता था, तो लड़कियां भी बाथरूम के बाहर पेशाब करती थीं. [emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी थी:मैं अकेली हूँ अंकल, मुझे चोदो. मैं अभी अपने घर के नीचे थी और पार्किंग में बिल्कुल मदहोशी में चूत में उंगली करवा रही थी.

इस बात का खुलासा करते समय मैं सोच रहा था कि मेरी सौतेली मां अदिति मुझसे रूठ जाएगी और हो सकता है मुझे उसकी चूत चुदाई के लिए न मिले. इतना कसा हुआ जिस्म था मेरी मॉम का।मर्द तो मर्द मैं भी मॉम की जवानी और मादकता की दीवानी हो रही थी।अक्सर मैं उसे नहाते हुए या कपड़े बदलते देखती और उसकी कामुकता की कायल होती।जैसा कि मैंने बताया था कि मेरी मॉम कितनी बड़ी ठरकी और चुदक्कड़ औरत है. वे मेरे साथ खुली हुई थी, मैं उन्हें अपनी गर्लफ्रेंड बनने को कहता था.

फिर कुछ दिन बाद उसने बताया कि अबकी बार रक्षा बंधन पर मैं एक हफ्ते के लिए अपने मायके दिल्ली आ रही हूँ. मैंने उससे कहा- अंजलि, अब तुम शर्म त्याग कर मेरे साथ सेक्स करोगी, तभी तुम्हें मजा आएगा.

उसकी बात मुझे भी ठीक लगी तो हमने किसी और लॉज में जाने का पक्का कर लिया. कुछ देर के बाद मैंने एक तेज धक्का मारा, जिससे मेरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया. जॉन ने अपने दूसरे हाथ को मेरी बीवी की पैंटी में हाथ डाल दिया और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

ये कहने बाद उसने मुझसे कहा- अब तुम अपनी चूचियों को जकड़ लो और मैं तुम्हारे मम्मों के बीच में अपना लंड डालूंगा.

जब वो ये बोलीं, तब मैंने उन्हें बांहों में भर लिया और उनकी गांड मसलने लगा. मेरे मुँह से मदमस्त कामुकता भरी आवाज निकल रही थी ‘उफ्फ्फ आह आह आह चोदो सर और जोर से बहुत प्यासी हूँ मैं अहह उफ्फ चोदो सर अपनी छात्रा को और तेज और तेज …’मेरी मादक सिसकारियों ने एक अलग ही समा बांध रखा था. रीना सबके सामने मेरा हाथ हाथों में पकड़ कर ऐसे चल रही थी, जैसे कि मैं ही उसका पति हूँ, पॉल तो बेचारा हमारे पीछे पीछे किसी गुलाम की तरह चल रहा था.

हम दोनों ने डिनर किया और डिनर के साथ करिश्मा ने अपने बैग से एक रेड वाइन की बॉटल निकाली. भाभी- फिर क्यों हर रिश्ते को मना कर रहे हो?मैं- सच कहूं भाभी? आप किसी से कहोगी तो नहीं ना?मैं थोड़ा गंभीर होते हुए बोला.

वो बोली- क्या इरादा है?मैंने कहा- मेरा इरादा तो बहुत कुछ करने का है. उसके बाद आज तक मैंने इतनी सारी रातें कैसी गुजारी हैं, तुम्हें कैसे बताऊं?मैंने कहा- देखो अदिति, लॉकडाउन की वजह मैं और पिताजी छह महीने घर से ही काम कर रहे थे. मुझे सेक्स के वक्त पोजीशन बदल बदल कर सेक्स करना अच्छा लगता हैमैंने भाभी से कहा- भाभी, अब आप मेरे लंड के ऊपर चढ़ जाओ.

वीडियो में सेक्सी डाउनलोड

उस पर हल्का हल्का साबुन लगा था, तो मैंने पहले अपने हाथों से उसके लंड को साफ़ किया.

दूसरी बार मिस्टर इन्द्रेश का बेटा ईशान जब शराब के नशे में अपनी लाइफ बर्बाद कर रहा था, तब मेरे पापा ने ही उसे गाइड करके उसे अपनी तरह एक सफल बिजनेसमैन बना दिया था. जब सूर्य उदय हो गया, तब वो बोली- मेरी दो बेटियां के लिए तुमसे अच्छा कोई मर्द नहीं मिल सकता. मैंने चुप्पी को तोड़ते हुए बातचीत का सिलसिला शुरू किया- अंजलि जी, आपको इतने वर्षों के बाद मिलने पर मुझे बहुत खुशी महसूस हो रही है.

इतना कह कर चाची ने मेरे पैर छुए और बोलीं- मैं तुम्हारी गुलाम बनने के लिए तैयार हूँ. मैंने वही सब सोच कर अपने आपको इस बात के लिए पूरी तरह से रेडी किया कि मैं आज किसी भी हाल में अपने तीनों छेदों को अच्छे से ठुकवा कर ही रहूंगी. चुड़ैल का सेक्सी वीडियोइससे भाभी को बेहद सनसनी हो रही थी और वो इस्स अह आंह चूसो राजा … आंह.

मैंने कहा- सुहानी खाना खा लो, फिर जो मेरे से लेना है … ले लेना और जो मुझे देना है, वो मैं तुमको दे दूँगा. ऐसे ही 2 महीने हो चुकने के बाद हम लोगों की उन लोगों से आप अच्छी तरह से बातें भी होने लगी थीं.

मैं भी जोश में आ गया और जोर जोर से धक्के मारकर गीता की चुदाई करने लगा. मैंने वहां से खिसकने का सोचा लेकिन जैसे ही मैं खिसक रहा था, हफ्ज़ा ने मुझे पकड़ लिया. इस समय मैं उसके साथ फोन सेक्स करती हुई चूत में मोटा सा खीरा डालने का मूड बनाई हुई थी.

हमारे बीच एक जोरदार फ्रेंच किस का आगाज़ हुआ जिसमें हम दोनों एक दूसरे के होंठों को मानो खाने से लगे थे. क्या करूं, पूरे एक साल से कुछ लिया नहीं था तो मेरी चूत कंट्रोल नहीं कर पा रही थी. मेरा मन तो उसकी आज ही चुदाई करने का था, पर कुछ जुगाड़ नहीं बन रहा था.

मेरी सहमति के बाद भैया ने मुझे एक तगड़ा स्मूच दिया और मुझे चित लिटा कर मेरी चूत के नीचे तकिया लगा दिया.

रेशमा की मानसिक दशा समझते हुए मैंने दारू का गिलास उठाया और उसकी तरफ चला गया. दूसरे आदमी से भी कंट्रोल ना हुआ और उसने भी अपना लौड़ा मेरे मुँह में पेल दिया.

वो ‘यस माई सन … फकिंग हार्ड … या या गुड गुड फक मी …’ करके अपनी गांड आगे पीछे करके चुदवा रही थी. तभी रीना ने अपना नकली लंड पॉल की गांड से निकाला और पॉल के मुँह की तरफ आकर उसने इशारा किया. अपने कमरे में जाकर मैंने दो पैग जमा कर लंच किया और टांग पसार कर सो गया.

पॉल के मुँह पर अपनी गांड दबाते हुए मैं कराह उठा- आआह मादरचोद दल्ले, चाट मेरी गांड भोसड़ी के … तेरी मां का भोसड़ा … कुत्ते पूरी जीभ घुसा ना मेरे गांड में … साले हिजड़े. मैं कुर्सी से उतर कर नीचे जमीन पर बैठ गया और उसकी चूत की फांकों को सहलाते हुए फिर से उंगली को अन्दर डाल दिया. मैं समझ गया कि आज हॉट इंडियन गर्ल सेक्स के लिए तैयार है, बस मैं किसी भूखे भेड़िये की तरह उस पर टूट पड़ा.

सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में पॉल की तरफ देख कर मैं भी उसे कोसने लगा, पर पॉल को इस बात का जरा भी बुरा नहीं लगा. मैंने कहा- क्यों सही नहीं है? इतनी खूबसूरत है, मुझे तो अच्छी लगती है.

सेक्सी सरदार की

अपने दोनों हाथों से मैंने उसके दोनों चूचे थाम लिए और चूचे दबाते हुए मैं उसकी नाभि को किस करने लगा. उसका भरा हुआ बदन दबाकर जो मजा मिला दोस्तो, वो शब्दों में कहना नामुमकिन है. गदरीली मांसल देह और मोटी मोटी जांघें, तीखे नैन नक्श किसी को भी एक नजर में वश में कर ले.

रात में भैया ने बाहर से खाना मंगवाया, उन्होंने दारू पी और मुझे भी दो पैग पिला दिए. बाथरूम में आए, चाची ने शॉवर चालू कर दिया और नीचे बैठ कर मेरा तना हुआ लंड मुँह में लेकर चूसने लगीं. जानवर के सेक्सी वीडियोये देखते ही ऑन्टी के हाथ से रिमोट छूट कर जमीन पर गिर गया और वो अपने चेहरे पर दोनों हाथ रख कर चिल्लाईं- हाय दइया … तुम ये सब देख रहे थे? मैं तो तुम्हें बहुत सीधा सादा समझती थी.

मैंने अपने लंड पर भी क्रीम लगाकर लंड लबालब कर दिया और 69 पोजीशन लेकर अपनी जीभ अदिति की चूत में डाल दी.

हालांकि ऐसा भी नहीं था कि मम्मी बिल्कुल खुली हुई हों और किसी का भी लंड ले लें, वो बिल्कुल घरेलू महिला थीं लेकिन उनका चुदाई का मन बहुत होता था, तो चुदने के टाइम पर खुल कर चुदती थीं. गीता ने हम दोनों को चाय के कप देकर खुद एक कप लेकर मुझसे सटकर बैठ गयी.

इस घटना के बाद मैंने रेखा को जब चाहा, जहां चाहा, खूब चोदा और हफ्ज़ा को भी चोदा. मैं तो यहां पूरा प्लान करके बैठी थी कि वह आएगा और मुझे ठोक कर मेरी चुदास पूरी तरह से मिटा देगा. फिर बारिश के बंद होते तक मैंने रीमा की गांड में अपना लंड घुसाए ही रखा था और रीमा को भी इससे बहुत मज़ा आ रहा था.

जैसे ही उसका हुक खुला, उसकी ब्रा नीचे गिर गई और मैं उसके तने हुए मम्मों को देख कर पागल सा हो गया.

उसने एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया था और उसे आगे-पीछे करती जा रही थी. मैंने मोबाइल एक पोर्न मूवी चालू की, जिसमें एक लड़का दो औरतों को बारी बारी से चोद रहा था. बस कहानी बहुत ज़्यादा लम्बी ना हो जाए, इसी वजह से कुछ जगह बातों को संक्षिप्त करके लिखा गया है.

डॉग सेक्स हिंदीविपिन मुझे देख कर एक बार मुस्कुराया और बस मुझे जोर से धकेल कर दीवार से सटा दिया. उसने एक हाथ से अपनी पैंटी चूत पर रख ली और उसको ढक ली; दूसरे हाथ से उसने अपने चुचे ढांप लिए.

हिंदी सेक्सी रोमांटिक कहानी

राजीव एक हाथ से मेरी नंगी जांघ सहलाने लगा और पूरे रास्ते वो मेरी चूत में उंगली करता रहा. मैंने कहा- अगर तुम बुरा न मानो तो मैं तुम्हारी बैक मसाज कर देता हूँ, आज वैसे भी संडे है और कोई काम भी नहीं है. मैं ज़ोर-ज़ोर से आवाज़ कर रही थी और साथ में मुझे चुदते हुए मज़ा भी आ रहा था.

इस बार जब मैं अपनी कमर को उठाया तो वो नीचे से अपनी कमर ऊपर की ओर करने लगीं. इस बार उसने मुझे कुतिया बना कर मेरी गांड पर थूका और अपना लौड़ा मेरी गांड में पेल दिया. कई बार काम की वजह से हम शहर से बाहर भी घूमने जाते, वहां पर रेशमा बिल्कुल मुझसे सटकर ऐसे चलती, जैसे कि मैं ही उसका शौहर हूँ.

मैं रूम की खिड़की की तरफ से हटकर आंगन की तरफ आ गया और मैंने वहीं अपने लंड का माल टपका दिया. शिल्पा ने मुझे अपने बॉयफ्रेंड और मैंने उसे सोनी के बारे में बता दिया था. वो मेरी लंड कभी पूरा गले तक ले लेती तो कभी सिर्फ सुपारा चूसने लगती.

मैं उसे और तड़पाना चाहता था, इसलिए मैंने सोनी को पलट दिया और उसके ऊपर आ गया. क्योंकि जीजा जी तो काम से बाहर रहते थे और वो हफ्ते में सिर्फ एक बार ही संडे को घर आते थे और दीदी की चुदाई करते थे.

मैं किसी से कुछ नहीं बोलूंगी, आप जल्दी से मार लो मेरी गांड, नहीं तो मम्मी आ जाएगी.

उनकी नजरों से ऐसे लग रहा था कि यह मुझे आज तीनों मिलकर कच्चा चबा जाने वाले हैं और मेरा आज मेरा गैंग बैंग तो होना पक्का ही है. हिंदी मूवी फुल सेक्सपापा मम्मी और इन्द्रेश अंकल, रूचिका आंटी मेरे कमरे से लगे हुए एक बड़े से हॉल में टीवी देख रहे थे और गप्पें मार रहे थे. सेक्सी पिक्चर देखने कीबुआ ‘आहह … आहहह चोद अपनी रंडी बुआ को … फाड़ दे मेरी गांड … राज और चोदो अपनी बुआ को …आहहह …’ करती हुई अपनी गांड आगे पीछे करके मस्ती से चुदाई का मज़ा ले रही थी. मैं अपनी सीट पर लेट गया और पर्दा लगा कर फोन पर कहानियां पढ़ने लगा।थोड़ी देर बाद एक खूबसूरत भाभी और उसके साथ एक बुजुर्ग महिला मेरी सामने वाली सीट में आकर बैठ गई।भाभी किसी परदे वाले परिवार से थी।उन दोनों के पास एक ऊपर की और एक नीचे की सीट थी.

मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और एक हाथ उनकी उभरी हुई गांड पर रख कर हल्का सा दबा दिया.

पहले तो मैं समझ नहीं पाया, पर जैसे ही पॉल मेरे पीछे आया, मैं समझ गया कि रीना ने पॉल को मेरी गांड चाटने का आदेश दिया है. मोहिनी भी अर्णव से ख़ासा इम्प्रेस थी और चोर निगाहों से उसे देख रही थी. जल्द ही मैंने उसकी साड़ी को अलग कर दिया और फिर उसके ब्लाउज और पेटीकोट को भी निकाल दिया.

लेकिन यह सब एकदम से हो गया तो मैं थोड़ा घबरा गई और मुझे लगा कि कहीं मैं इस सबसे जग में तमाशा ना बन जाऊं. बीस धक्के के बाद गीता बोली- आह … और जोर जोर से चोदो हर्षद, जल्दी करो नहीं तो नीता आ जाएगी. तो दोनों ने अमन को भी विश किया।असद बोला- अरे यार शन्नो, तुम तो लाजवाब हो गयी हो। एकदम मस्त जवान हो गई हो तुम.

सेक्सी एचडी प्लेयर

ऐसे ही दिन गुजरते गए और वहां रहते रहते हमारा लगभग एक साल पूरा होने को आया था. इस बार वो थोड़ा ही चिल्लाई और अपने होंठों को भींचकर अपने दर्द को सहन करने लगी. मौसी उस वक़्त कानपुर गयी हुई थीं और मैं और भाभी घर पर अकेले रह गए थे.

कुछ देर बाद मैंने उससे पूछा कि क्या हम दोनों डांस करें?वो बोली- हां क्यों नहीं.

उसने बताया कि वह उसके शौहर से बात कर रही थी।फिर हम वहीं पर बैठ गए और बातें करने लगे.

उनकी चूत से बहुत सारा पानी निकलने लगा और पापा ने आंटी की चूत में मुँह अड़ा दिया और वे रूचिका आंटी की चूत का सारा पानी पी गए. अब तो तू मुझे रोज चोदेगा ना!भाई ने कहा- हां दीदी रोज तेरी चुदाई करूंगा. टार्जन सेक्सीबुआ की चूत मेरे लंड को कसने लगी थी और झटकों के साथ चूत ने पानी छोड़ दिया था.

तब मुझे पता चला कि वे तीन लड़के राकेश, अमित और सुरेश मेरे दरवाजे के बाहर खड़े हैं और सुरेश अपने मोबाइल से मेरा वीडियो बना रहा है. जब रीना ने उससे इस बात को लेकर पूछा तो पॉल ने भी खुलकर कह दिया कि अब उसका झुकाव ज़्यादा लड़कों की तरफ है. वो मेरे सर को पकड़ कर चूत की तरफ धकेलने लगी और एकदम से बहुत सारा पानी मेरे मुँह में छोड़ दिया.

मैं बोला- यह खजाना आज से तेरा है जो चाहे कर!इतना सुनते ही पिंकू मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी. [emailprotected]मेरी देसी चूत का पानी कहानी का अगला भाग:जवान लड़की की प्यासी चूत और तीन लंड- 5.

थोड़ी देर बाद बुआ उठकर तेल की शीशी ले आई और मेरे लंड पर मालिश करने लगी.

जैसे ही वो चीखने को हुई, मैंने तुरंत ही उसके होंठों को अपने होंठों की गिरफ्त में ले लिया. अदिति जोर जोर से सीत्कारने लगी- ओह हर्षद हम स् स् स्ह स्ह ऊं उफ्फ कितने दिनों बाद मेरी चूत को तुम्हारी जीभ का स्पर्श हुआ है हर्षद. फिर मैंने उसकी बगल से हाथ डालकर उसको स्ट्रेच किया जिससे उसकी चूचियां मरे हाथ को टच होने लगी थीं.

सेक्सी गर्ल वीडियो फिल्म उसके बाद हमने खुद को साफ किया और लॉज से ही मंगा कर कुछ नाश्ता किया. मैं बोला- बुआ कुछ बोलेंगी तो नहीं?वो बोली- नहीं, मैं उनसे बात कर लूंगी.

पहले तो बुर की महक और स्वाद थोड़ा अजीब सा लगा, पर जल्दी ही वो महक और स्वाद मेरा पसंदीदा बन गया. रास्ते में कार चलाते समय मैंने वो कागज देखा तो उसमें सेनेटरी पैड लिखा था जिसे लड़कियां मासिकधर्म के समय इस्तेमाल करती हैं. थोड़ी देर बाद मैंने उसके पीठ के पीछे अपना हाथ ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल कर ब्रा को भी निकाल दिया.

चोदा चोदी बिहारी सेक्सी

फिर चाचा जी ने ही मेरे पापा को फोन करके कह दिया कि मैं एक हफ्ते के लिए यहीं रुकूँगा. पर अब मैं कर भी क्या सकती थी, अब तो मैं इन दरिंदों के हाथ में पड़ चुकी थी. झड़ने का मजा लेते हुए रेशमा का बदन थरथर कांप रहा था, आंखें बंद करके रेशमा बेहोशी की हालत में जाने लगी थी.

मैं नियमित रूप से उन बूढ़े अंकल के पास जाकर नई आई अश्लील पुस्तकें खरीदा करता था. कई दिनों तक सोचने के बाद मेरे दिमाग में एक आईडिया आया जो मेरे लिए थोड़ा अजीब और रिस्की तो था पर उसके सिवा मेरे पास और कोई विकल्प भी नहीं था.

किरण को जोर जोर से थप्पड़ मारते हुए रेशमा ने उसका मुँह अपनी चूत पर दबाया और उसका मुँह अपनी चूत पर रगड़ने लगी.

मैं अपनी इच्छा के विरुद्ध सोचने लगी थी कि मैं आज किसी भी हाल में चाहे जो हो जाए, यहां से चुद कर ही अपने कमरे में जाऊं. उसने मुझसे सॉरी कहा और बोला- मुझको लगा कि संगीता है, इसलिए मैंने आपको मारा था. उसने अन्दर लाल सफेद रंग की सुंदर सी ब्रा पहनी थी जिस पर नीले रंग के फूल बने हुए थे.

अली और मैं एक ही कंपनी में काम करते थे और हम दोनों ने कंपनी भी एक साथ ज्वाइन की थी जिस कारण हमारी ट्रेनिंग भी एक साथ हुई थी. रात का एक बज गया था और मुझे नींद नहीं आ रही थी जबकि मुझे सुबह जल्दी उठना क्योंकि मुझे टाइम पर ऑफिस भी जाना होता है. मैं- हां सिमी, बस ऐसे ही!करीब 5-7 मिनट की जबरदस्त लंड चुसाई के बाद जब मुझे लगा कि मैं झड़ जाऊंगा तो मैंने अपना लंड उसके मुँह के निकाल लिया था.

फिर उसकी ब्रा को खोलने के लिए हाथ पीछे ले गया लेकिन उससे पहले ही शैली के हाथ वहां पहुंच चुके थे और वो अपनी ब्रा के हुक खोल चुकी थी.

सेक्सी बीएफ हिंदी फिल्में: वो मेरे सीने को देखते हुए बोला- कितनी फंसाई अब तक?मैंने कहा- अरे मुझे क्या जरूरत है किसी को फंसाने की, वो खुद ब खुद फंस जाती हैं. नीता मेरी तरफ देखकर बोली- हर्षद, तुम बार बार मुझे ऐसे क्यों देख रहे हो?मैंने कहा- तुम आगे से पूरी तरह से भीग गयी हो नीता.

कुछ ही पलों में रेशमा की गांड ने पाटिल जी के लौड़े को अपना घर बना लिया और फिर से सलमान हिजड़े की बीवी दो पराये मर्दों से चुदने लगी. दोस्तो, बारिश का मौसम … खुला रास्ता … तेज रफ्तार से चलती बाइक और पीछे अंजान जवान लौंडिया लंड सहलाती हुई चूचियां पीठ से रगड़ रही हो, तो क्या मुकाम हासिल होगा, ये आप अंदाजा लगा सकते हैं. तभी अंकित ने अपने लंड को सुपारे तक बुर से बाहर निकाला और एक करारे झटके के साथ अपने पूरे लंड को एकदम से बुर के अन्दर पेल दिया.

पूरी तरफ से किरण को झाड़ने के बाद मैंने वहीं लौड़ा निकाला और उसके मुँह के पास आ गया.

तब मैंने उसकी गांड को सहलाना और दबाना शुरू कर दिया और उसके छेद में धीरे से एक उंगली डाल दी. रीना ने भी अपनी गति बढ़ाते हुए उस आठ इंच के काले नकली लौड़े को पूरा का पूरा पॉल की गांड में उतार दिया. दोस्तो, आपको मेरे मम्मी पापा और अंकल आंटी की ग्रुप सेक्स वाली चुदाई की कहानी पसंद आई होगी.