भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,नंगी भाभी की चुदाई सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

ओपन वीडियो नंगा: भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ, पूरे 24 घंटे का सफर था, हम नीचे और बीच की सीट मिल थी हम तीनों बैठ कर सफर करने लगे, काफी बातें होने लगी, अंकल मजाक करते और हंसाते… मुझे मन ही मन अंकल अच्छे लगाने लगे और बातें होते हुए सफर कटने लगा.

सेक्सी पिक्चर डॉक्टर डॉक्टर

लेकिन उनकी कामुकता परवान चढ़ी थी तो वो मेरी मैक्सी के ऊपर से मेरी चुचियों को दबाने लगे. लड़की सेक्सी करते हुएमंजरी ने उसको एक मीठी झिड़की दी- छी… ऐसे नहीं बोलते, ऐसे कहो कि मेरी चॉकलेट खाओगी क्या?अच्छा जी” पुलकित बोला- और अगर मुझे तुम्हारी चूत चाटनी हो तो?मंजरी ने बनावटी गुस्सा दिखाते हुये कहा- उंह, फिर वही बात, आप बोलो, मुझे कचोड़ी खानी है.

कुछ ही देर में मुझे काफी नशा हो गया था और निहारिका को भी नशा चढ़ गया था. सेक्सी वीडियो सारी वाली देसीलंड को मेरे टॉप से पोंछ कर बोला- आह इतना सुख दिव्या मादरचोद ने कभी रियल में करने में नहीं दिया जितना आज मिल गया है.

मैं उसके ऊपर आ गया, मैंने अपने होंठ उसके निप्पल पर रखे और चूसने लगा.भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ: फिर मैं उसके मुँह के सामने अपना लण्ड ले जा के बोला- पूजा डार्लिंग, इसे चूसो!तो पूजा न नुकर करने लगी पर जैसे ही मैंने उसके होंठों पर अपने लंड का सुपारा छुआया, पता नहीं क्या हुआ पूजा को… वो गप्प से मेरे लण्ड को अपने मुख में लेकर जड़ तक चूसने लगी और अपने हाथ से चूत सहलाने लगी.

मैं वो ड्रेस पहन कर अमित के सामने आ गई तो अमित बड़ी तेजी से उठा और मुझे आगे से ही मेरे गले से लग गया.अब मेरे बेटे का ट्रान्सफर बंगलौर हो गया है, कंपनी की तरफ से फ़्लैट भी मिला है तो बेटा बहू बंगलौर में ही रहते हैं अब.

सुपरहिट देहाती सेक्सी वीडियो - भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ

मैंने धीरे से उनके मम्मों को अपने होंठों में भर लिया और उन्हें चूसने लगा.फिर मैंने उसको जोर से किस किया और छोड़ा ही नहीं तक़रीबन 5 मिनट तक!धीरे धीरे मैं उसकी कमर पर हाथ फेरता रहा और हम दोनों इतना ज़्यादा बहक गए कि बस शायद अब दोनों एक दूसरे में खो जाना चाहते थे.

मैंने सुभाष से चुपके से पूछा कि सुभाषभाभी के साथ सुहागरातकैसी रही?उस पर सुभाष ने हंस कर कहा- एकदम मस्त रही. भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ मैंने आकाश से पूछा कि ऐसे ही चलूँ या घर जाकर कपड़े चेंज कर के आऊं?उस टाइम मैंने जीन्स टी-शर्ट पहनी हुई थी, तो आकाश ने कहा- तुम्हारी मर्ज़ी है, चेंज करना चाहो तो कर लो.

सागर- फिर उनसे तो संतुष्ट होती हो ना तुम?मीना- कहाँ भैया वो दोनों भी सेम उनके जैसे हैं.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ?

भाभी एक दम से झड़ गईं और मैंने उन का नमकीन पानी पी लिया और कुछ रस अपने मुँह में लेकर उन को किस करते हुए उन को भी उनकी चूत के पानी का स्वाद दिया. जब मैंने उसको लंड घुसवाने को बोला तो उसकी बड़ी बहन ने उसे आवाज़ लगा दी. क्योंकि अगर हम नाना के वीर्य से पैदा हुए हैं तो हमारी माँ तो हमारी बहन भी हुई ना.

इसी तरह करीब 20 मिनट तक की धकापेल चुदाई में रेणुका भाभी 2 बार झड़ गईं. किसी मूर्तिकार को खजुराहो या कोणार्क जैसी सजीव सम्भोगरत जीवन्त मूर्तियाँ पत्थर की शिला से उकेरना अच्छा लगता है तो कोई मूर्तिकार भगवान् का कोई रूप अपनी छैनी हथोड़े से गढ़ता है. मेघा के ऊपर जाते ही संजय बोला- ये शाल क्यों ओढ़ा है?लो उतार देती हूँ.

इस बार भी मुझे ऐसा लगा कि मैं पहली बार उसकी चूत में लंड डाल रहा हूँ. यह जानते हुए कि भाभी को भी लंड की जरूरत है मैं कुछ नहीं कर पा रहा था. रज़ाई के अन्दर तेज़ झटका मारता तो चारपाई चूँ चूँ बोल रही थी, इसलिए मैं धीरे धीरे लंड पेल रहा था.

तभी एक दर्जी आ गया, शायद भाभी ने उन्हें अपने ब्लाउज का नाप देने के लिए बुलाया था. मैंने अपना बैग कुर्सी पे रखा और कंडोम निकालने के लिए टेबल पे चढ़ गया.

उसने आपके लिए ये गिफ्ट था लाने को कहा था, वही देने आया हूँ बस!अब आगे तो मुझे सब पता ही था कि बात क्या है क्योंकि सारी प्लानिंग मैंने ही की थी इसलिए मैं भी नार्मल हो कर बात करने लगी- अच्छा ऐसी बात है आओ बैठो, चाय पी लो, फिर जाना.

ये मुझे बाद में पता लगा कि राधे चाचा विधुर थे, उनकी पत्नी चार पांच साल पहले गुजर गई थीं.

जो कि छटी क्लास में पढ़ता था।रूप रानी आंटी बहुत ही सेक्सी थीं, उनका रंग सामान्य गोरा, कद पांच फीट तीन इंच, बदन गदराया हुआ करीब 34-32-36 का होगा. मैंने सूसू किया, उसने अपने दोनों हाथ मेरी सूसू से गीले किए, मेरा लंड हाथ में लेकर खूब हिलाया. खाना खाने और बाकी समय उनके सर मुझसे ज्यादा ही बातें कर रहे थे और किसी ना किसी बहाने से मेरे करीब ही रहते थे.

लेटने के बाद मैंने घुटने तक चादर डाल ली और टॉप को ऊपर करके पेट और कमर खोल दी और ऊपर से हटा कर दोनों हाथों में कर दिया क्योंकि टॉप बड़े गले का था तो दोनों कंधे वैसे भी खुले रहते थे. फिर करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने अन्नू भाभी से पूछा, तो वो बोलीं- चूत में ही झड़ जाओ. आपके साथ तो हमारे ये दिन कैसे हँसते हँसते गुजर गए, पता ही नहीं चला इसलिए प्लीज आप न जाओ और अगर आपका पढ़ाई का या किसी और काम का नुकसान हो रहा हो तो मैं आपको रोकूँगी भी नहीं.

अब भाभी धीरे से अपने एक हाथ से मेरी जीन्स को उतारने लगीं, तो मैंने उनकी थोड़ी मदद कर दी.

मन्दिर आने जाने में 4-5 घंटे लगते थे यानि दोनों तरफ का 10 से 12 घंटा समझो. सिराज के उस धक्के से मैं तो आगे गिरने को हुई मगर आगे दूसरा था, जिसका लंड मेरे गले में अंदर तक घुस गया. तभी आगे एक हाथ मेरी चूची पर रख के सहलाने लगा, उसके चूची सहलाने से मुझे भी मजा आने लगा.

मैंने अपना हाथ उसकी टी-शर्ट और ब्रा के अन्दर डाल कर उसके मम्मों को सहलाया और दबाने लगा. कितना गंदा सीन है… तुम्हें शरम नहीं आती?तो मैंने कहा- इसमें शरम की कौन सी बात है आंटी. अमित- हाँ बोलो सन्नी, क्या काम है… कैसे याद किया मुझे?सन्नी- सर मुझे आपकी हेल्प चाहिए, अगर आप कर सकें तो बड़ी मेहरबानी होगी आपकी!अमित- क्या हेल्प चाहिए… कहीं तुम फिर से अपने दोस्त करण को बास्केटबॉल टीम में लेने की बात तो नहीं करना चाहते… अगर वो बात करनी है तो मैं अभी कॉल कट कर देता हूँ.

अगले दिन वो दिन आ गया, मैं मम्मी पापा को स्टेशन छोड़ कर आ गया, साथ ही आते वक़्त अपनी जीएफ को अपने साथ अपने घर लेता आया.

फिर एक दिन मेरे मम्मी पापा गाँव किसी काम से जाने वाले थे, मेरे मन में लड्डू फूटने लगे. वो मुझे पुचकार रही थी और फिर मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया, मैं भी उसके होंठ चूसने लगा.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ दीदी कई बार अपनी ज़ुबान को मेरे मुँह में घुसा देती और मैं भी दीदी की ज़ुबान को प्यार से चूसने लगता लेकिन जब मैं अपनी ज़ुबान को दीदी के मुँह में डालता तो दीदी पागल कुतिया की तरह मेरी ज़ुबान पर टूट पड़ती थी. मेरे ससुर जी की एक छोटी बहन (शौहर की बुआ) और एक छोटा भाई (चाचा ससुर) हैं.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ अगर आपका प्यार मिला तो जल्द ही दूसरी कहानी भेजूंगा।मेरा मेल आई डी है:-[emailprotected]. मगर भाभी नाचने के बहाने अपने चुचों को जानबूझ कर ज़्यादा उछाल रही थीं और अपनी मोटी भारी गांड हिला रही थीं.

”ये क्या यार मेरी जांघों को क्यों सहला रहे हो?”अच्छा नहीं लग रहा क्या?”ऐसा तो नहीं कहा मैंने.

इंग्लिश पिक्चर नंगा सेक्सी

हम दोनों भाई बहन ने एक होटल का कमरा लेने का तय किया ताकि निहारिका अपने को ठीक ठाक करके सज संवर के इंटरव्यू के लिए जा सके. शाम का समय था, अंधेरा घिर आया था, जो थोड़े से थे भी, वे घूमने या कहीं गए थे।मैं अपने रूम में था, हॉस्टल में लेट्रिन कम्बाइन ही होती है, मैं लेट्रिन करके लौट रहा था, केवल अंडरवीयर बनियान में था, सोकर उठा था, हाथ में पानी भरी बाल्टी थी, मग था, गले में तौलिया डली थी, साबुन लिए था कि बरांडे में ही एक लड़का मेरी ही उम्र का दिखा. चूत के दाने पर मेरी जीभ लगते ही बहूरानी के मुंह से एक आनन्ददायक सिसकारी निकल गयी और वो बर्थ पर अधलेटी सी हो गयी और अपनी पीठ पीछे टिका ली, फिर उसने अपनी टाँगें मेरी गर्दन में लिपटा कर मेरा मुंह अपनी चूत पर दबा दिया और मेरे बाल सहलाने लगी.

अमित- वाउ यार, तुम सच में ग्रेट हो लव यू तो तुम घर किस दिन जाओगी, जब मैं उसे पार्टी में बुलाऊं?मैं- आज मंगलवार है. तभी मेरी सास बोली- झड़ गई साली?मैं बोली- हाँ मेरी जान!रिया का लंड मेरी सास चूसे जा रही थी कि तभी रिया ने मेरी सास का सर पकड़ा और मेरी सास के मुँह में अपना पूरा लंड पेल दिया, जोर से चिल्लाई- आहहह यूयय उफफफ मैं झड़ गई!और रिया के लंड का सारा पानी मेरी सास पी गई. पैकिंग के समय उसमें स्टीकर नहीं हटाया था और जब रेट देखा तो मैं हैरान हो गई क्योंकि वो ड्रेस 8999 की थी.

दीदी ने अपने हाथ की फिंगर्स को मेरे बालों में बड़े प्यार से सहलाना शुरू कर दिया था.

तो उसने पूछा- ये कैसे हुआ?मैंने बताया कि ये तुम्हारी चुत से निकले हुए खून से हुआ है. अपनी फ्रेंड दिव्या के ब्वॉयफ्रेंड ने मुझे गले लगने के एवज में महंगी ड्रेस गिफ्ट में देना तय की. तभी मैं अपना एक हाथ उनकी छाती के पास ले गया और दूध दबाकर देखा तो वाकयी उनके दूध औरतों जैसे थे.

मैंने पूछा- जानेमन कहां डालूँ?उसने चिल्ला कर कहा- चूतिये अभी से माँ बनाना है क्या?ये सुनते ही मैंने लंड निकाला और ज़ोर से हिलाने लगा. हम दोनों को बहुत मजा आ रहा था, हमरे मुख से पुच पुच की सी आवाजें निकाल रही थी. मैंने पूछा- इसका मतलब क्या है?पापा ने कहा कि हमें चेक करना होगा कि तुम्हारी ग्रोथ ठीक हो रही है या नहीं! इसके लिए तुम्हारे सारे मेजर्मेंट्स लिए जायेंगे.

मैं अपना हाथ पकड़े पकड़े नीचे ले जाने लगी तो अवी ने कहा कि जितनी ताकत है उतनी ताकत से दबाते हुए ले जाओ. मेरा पति तो ओरल सेक्स जैसा कुछ भी नहीं करता है, बस चढ़ता है और पानी गिरा कर उतर जाता है.

मैंने कहा- तुमने देखा नहीं तुम्हारा पति इसकी चूची और जांघों को ऐसे देख रहा था, जैसे चोद ही देगा तो ये छोटी कैसे हुई? वैसे भी 18 पार कर चुकी है. मैं राज दिल्ली से हूँ। मैं एक कंप्यूटर इंजिनियर हूँ, और यहाँ जॉब करता हूँ। यह नोन वेज स्टोरी मेरे जीवन की एक महत्वपूर्ण घटना है जिसे मैं आज आप सबके साथ शेयर करना चाहता हूँ। मैं पहली बार अपनी कहानी पेश कर रहा हूँ। आप मेरे किरदार और उनकी परिस्थिति को समझ सकें, उसके लिए बीच बीच में आस पास की चीज़ों का अंदाज़ा लगवाने की कोशिश मैं करूँगा।यह कहानी सेक्स से लेकर जीवन का भी ज्ञान करती है. मुझसे चला नहीं जा रहा था, उसने मुझे मेरे सारे कपड़े उठा कर दिए और मैं बाथरूम में गई.

फिर मैंने धीरे धीरे धक्के लगाने चालू किए और फिर एक जोर के धक्का दिया, जिससे मेरा पूरा लंड उसके अन्दर चला गया.

मैंने उनसे कहा कि आप अगर अपने दिल की बात शेयर करेंगी, तो आपको हल्का महसूस होगा. अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज डॉट काम पर मेरी पहली कहानीमेरी पहली बार गांड चुदाईप्रकाशित होने पर मुझे काफी सारे प्रोत्साहित करने वाले ईमेल मिले। मुझे अपने विचार भेजने के लिए मैं उन सभी पाठकों का धन्यवाद करता हूँ. इधर मेरा लंड भी लोहे ही रॉड की तरह हो गया था, मैंने अपने लंड में इतना तनाव पहली बार देखा था.

फिर वही हुआ, मैं जब कोचिंग जा रही थी, तो अमित और उसका एक दोस्त आया. तभी सामने वाले अंकल ने चूत में डाल दिया, और एक अंकल ने मेरे मुंह में दाल कर मेरा मुख चोदन करने लगे!अन तीन तीन लोग मुझे चोदने लगे.

उसे देख कर मैं बहुत उत्तेजित हो गया और मैंने पैंट में से अपना लंड निकाल कर हिलाना शुरू कर दिया. लड़कों के लिए वहीं पास में एक हॉस्टल था लेकिन मैं बाहर ही एक कमरा लेकर रहता और अपनी पढ़ाई किया करता था. ”बेंच पर साथ बैठा कोई न कोई लड़का मेरे स्कर्ट के नीचे से मेरी चड्डी में हाथ डालकर मेरी चूत को सहलाता रहता.

राजस्थानी बिहारी सेक्सी

जो जवान लड़का था, उसने मेरे तौलिये के नीचे से हाथ डाल दिया और मेरी चूत में अपने हाथ लगाया देखा कि उंगली में थोड़ा खून लगा है.

महेश- क्यों देख ली हिम्मत या तुम्हें और कुछ भी दिखाऊं?मैं- इसमें क्या था… कुछ ऐसा कर के दोखाओ ना कि जिसमें लगे कि हां हिम्मत वाला काम है. वो ज़रा सा लंड बाहर निकालते और धक्का मार के पहले से ज़्यादा लंड घुसा देते. अब तो उसकी सिस्कारियों का कोई पारावार ही नहीं था, वो लगातार सिहर रही थी, अपने बदन को, चूतड़ों को बेचैनी से हिलाए जा रही थी.

इन दो जोड़ों में एक भाई-बहन थे और दूसरा देवर-भाभी लंड चूत के खेल में लगे थे. मैंने सागर को कहा- सागर अब तुमको अपने हाथ से अपनी प्यारी बहन की नाइटी और ब्रा निकालनी है. हनी सिंह की सेक्सी फिल्मफिर मैंने अब उसे अपनी जीभ से चाटना शुरू किया, मैं अपनी जुबान निकाल कर उसे चोद रहा था, इससे वो अपनी कमर उठा उठा कर चुदवाने लगी और कहने लगी- बस अब नहीं रुका जाता, अब प्लीज चोद दो मुझे!मैं खड़ा हुआ, मैंने उसे इशारे से कहा- तुम मेरी अंडरवीयर उतारो!तो उसने झट से मेरी अंडरवीयर उतार दी और मेरा 6 इंच का लंड बाहर निकल आया जिसे उसने झट से पकड़ लिया और कहने लगी- आज मैंने पहली बार लंड देखा है.

धीरे धीरे भाभी की चुत में लंड के अन्दर बाहर करने का खेल चालू हुआ और फिर भाभी ने अपनी गांड उठा उठा कर झटके मारने शुरू किये और उनके मुझे से निकल रही वासना से भारी बातों ने मुझे और जोश दिला दिया. मैंने कहा- पूनम हमारी शादी तो होनी ही है लेकिन दिल में जो आग अभी लगी हुई है उसे कैसे बुझाएं?इतना कहते ही मैं पूनम को लिप किस करने लगा और पूनम के कूल्हों को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा.

मैं पहले से ही चुदी हुई थी, पर यकीन मानो मेरा कभी कोई आशिक़ या बॉयफ्रेंड नहीं था. मेरे गाँव में एक राम सहाय यादव नाम के एक पड़ोसी थे जिनको मैं प्यार से ताऊजी कहता था. मैं भी धीरे धीरे उंगली अन्दर बाहर करने लगा और वो धीरे धीरे आपे से बाहर होने लगी.

मेरे ही शहर से मेरा एक पुराना दोस्त था रोशन, जो मेरा क्लास फैलो रहा है. मेरे सामने वाला तो कब का मेरे मुँह में झड़ कर बाजू में बैठा था मगर सिराज मुझे कस कर चोदे जा रहा था. मेरी मामी की डेथ हो गई थी कार एक्सीडेंट में… तब से पापा ने ही मेरी देखभाल की, वही मेरे सब कुछ हैं.

मैं सिर्फ पिंक पैंटी में थी जो सिर्फ मेरी चूत को ही छिपा पा रही थी.

अन्दर मैंने अपना स्कर्ट सम्हालते हुए चड्डी पैरों पर खींची और ज़ोर से छुल्ला दिया. फिर कुणाल ने अपने बैग से केला और संतरा निकाल कर दो दो संतरे सबके हाथ में दे दिए.

मैं अब उन्हें ज़ोर से चूस रहा था और उसके मुख से अब सिसकारियों की आवाज़ आ रही थी- आअहह उह्ह ह्ह हाँ… और ज़ोर से चूसो, खा जाओ… अह्ह ह्ह्ह मेरी जान… आईई ईईईई… खा जाओ, और ज़ोर चूसो, दबा कर पी जाओ मेरे दोनों बूब्स को… अह्ह आईई. मैंने जोर से धक्का मारा तो अमित दूर होकर खड़ा हो गया और मुझे फटी निगाहों से ऐसे देखने लगा कि कोहिनूर हीरा देख लिया हो. मैंने सागर से कहा- सागर जाओ और हमारे लिए ठंडा पानी और नमकीन ख़त्म हो गया है, वो किचन में से लेकर आओ.

लंड उसकी गांड में अन्दर गया तो उसने दांत भींच लिए, आंखें बंद कर लीं. फिर धीरे धीरे उसको मजा आने लगा तो अपने चूतड़ों को उठा उठा कर हिलने लगी. परन्तु इस पर नियन्त्रण के कारण यह लोगों की सोच के केंद्र में आ गया है। जैसे इंसान को भूख लगती है, वैसे ही सेक्स की जरूरत महसूस होती है.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ चाचा मुझे बोले- तुझे चुदते हुए देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा है आरती, लग रहा है कि क्या कर डालूं!तीनों लंड से जम के हो रही चुदाई और उन सब की गन्दी गन्दी बातें और गालियां सुन कर मैं फुल एक्साइटेड होने लगी और मेरा पूरा दर्द खत्म हो गया, अब मुझे बहुत मजा आने लगा. मैंने कहा- उस दिन मैंने देखा कि तुम और मैं मेरे घर में अकेले हैं और हमारे बीच वो सब हो गया.

नंगी सेक्सी सनी लियोन

अब मैंने उसके नंगे पेट को किस करते हुए उसकी बिना बालों वाली एकदम गुलाबी चुत पर किस किया. मेरे ससुर जी का लंड एकदम काला और मोटा था। इतना बड़ा लंड देख कर मेरी चूत में भी आग लग गयी।मम्मी ने उनके लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगी। मम्मी के मुख से पुच पुच की आवाज आ रही थी. मेरे भैया ने कहा- सर वो एग्जाम देकर 25 दिनों के लिए घर आई है, यहाँ कैसे बुला लूँ?उनके सर ने कहा- ये लो रूपये और उसका यहाँ तक टिकट करवा दो और उससे कहो कि वो यहाँ आ जाए, तुमको उसकी याद आ रही है और बंगलौर भी घूम लेगी.

” बड़बड़ाते हुए माया बाहर निकली और सीधे अपने केबिन में घुस गई, जहां अमित नहीं था. फिर रिया मेरी सास की चूत चाटने लगी और कुछ देर चूत चाटने के बाद रिया ने अपना लंड मेरी सास की चूत के छेद रखा और जोरदार झटका मारते हुये पूरा लंड सास की चूत में घुसा दिया. मला सेक्सी फिल्ममेरी इच्छा है कि मुझे एक ऐसी ब्लू फिल्म मिल जाये जो सिर्फ देवर भाभी की हो.

जब मेरे एग्जाम खत्म हुए तो मैंने फिर से भाभी के बारे में सोचना चालू किया.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर मेरी यह पहली गन्दी कहानी है, उम्मीद करता हूँ आपको मेरी कहानी पसंद आएगी. रमेश को जैसे ही काजल की तरफ से हरा सिग्नल मिला, उसने अपना लंड फिर से बहन की चूत पर सैट किया और एक झटका दे दिया.

जब मैं सो रहा था तो उसने तब तक नहा के फ़्रेश होके शरबत भी बना लिया था. मैंने अपना लंड चूत से बाहर खींच लिया और वो सीधी हो कर बिस्तर पर लेट गईं. पश्चिमी समाज में ऐसा होता है लेकिन हमारे समाज में इसको अच्छा नहीं मानते.

थोड़ी देर बाद उस लड़के ने जो मेरी मॉम के बदन पर अश्लील तरीके से हाथ फेर रहा था, मेरी मॉम के कान में कुछ कहा और वो दोनों स्टेज से नीचे उतर आए और खाने के स्टाल की तरफ कोने में चले गए.

सागर- क्यों मेरे जीजू का बड़ा नहीं है क्या?मीना- उनका नाम भी मत लो भैया. मैं बस की सीट पट बैठा सो गया था और जो कुछ मैंने ऊपर लिखा, वो एक सपना था. एक दिन रविवार को एक्स्ट्रा क्लास थी क्योंकि कभी बाहर से लेक्चरर आते थे.

सेक्सी जबरदस्ती फोटोगुस्से में अंजलि कुछ बड़बड़ाती जा रही थी और इसी वजह से कमरे की कुण्डी भी नहीं लगाईं थी. 5 इंच का हो गया है।मैं भाई के लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी तो उसका लंड धीरे धीरे अपने आकर में आने लगा।5 मिनट में भाई का लंड मेरी चूत में था, 15 मिनट तक अलग तरीके से मेरी चूत बजा कर अपना पूरा ताज़ा माल मेरे मुँह में डाल मुझे पिला दिया और कपड़े पहन कर अपने रूम में चला गया।मैं भी अपने कपड़े पहन कर बाथरूम चली गयी और वहां बैठ कर शर्र शर्र मूतने लगी.

भाभी देवर की सेक्सी वीडियो हॉट

मेरा लंड अभी भी उसकी चुत में था और झड़ने के वजह से धीरे धीरे ढीला होने लगा. इधर सिराज ने मेरे चहरे पे चुम्बनों की झड़ी लगा दी, इतनी कि उसके थूक से मेरा पूरा चेहरा गीला हो गया. मैंने बहूरानी के नंगे जिस्म पर कम्बल ओढ़ा दिया; तभी उसकी नींद खुल गयी और उसे अपनी नग्नता का अहसास होते ही उसने कम्बल को अपने कन्धों के ऊपर तक ओढ़ लिया और मुस्कुरा के मेरी तरफ देखा.

फिर वह थोड़ा ऊपर नीचे होने लगा और मेरी चुचियों को और तेज़ी से दबाने लगा. मेरी हिंदी सेक्स कहानी पढ़ कर देखें कि कैसे मेरी बहन की चुदाई हुई, उसने अपनी चुत चुदाई का कैसे मजा लिया. मेरे लंड का सुपारा काफ़ी मोटा है सो उसको पूरा अन्दर लेने में थोड़ी दिक्कत हो रही थी.

ओके डियर फ्रेंड!अवी- आप मुझसे एक बार बात कर लीजिये बस (हाँ बताओ क्या बात है)अमित- खाना खा चुकी हो और मुझे तुमसे मिलना था, किस समय आ जाऊं (हां खा चुकी हूँ और मुझसे क्यों मिलना है. हम दोनों की जीभें आपस में फाइट करने लगीं, हमारी स्मूच 15 मिनट तक चली. साथ ही मैंने दीदी की गांड को अपने हाथों से कस के पकड़ हुआ था और दीदी की चूत को अपने लिप्स पर दबाया हुआ था, मेरा हाथ दीदी की गांड के छेद के पास था, मैं मेरी एक फिंगर दीदी की गांड के होल पर चलाने लगा था और दीदी की गांड का छेद भी मस्ती में अपने आप थोड़ा खुल और बंद होने लगा था.

तो मैंने उस दूसरे बन्दे को लंड से ही पकड़ कर करीब खींचा और उसे अपने मुँह में ले लिया। तब तक सिराज घूम कर मेरे पीछे आया. मैं- अच्छा इतनी बेचैनी? वैसे उसे इसके बदले में कुछ दोगे कि ऐसे ही कर लोगे?अमित- मैं एक किस का एक हज़ार दूंगा और लिप किस के 5000 दे सकता हूँ पर वो लेगी कहां?मुझे कॉलेज की फीस 10000 जमा करनी थी और मैं घर से बस 4000 लाई थी.

जल्दी ही बहूरानी अच्छे से मस्ता गयीं और अपनी चूत उठा उठा के मेरे मुंह में देने लगीं.

वो जब अंदर आई तो मैंने उसको अंदर कुर्सी पर बैठाया और पानी पूछा तो बोली- अभी तो ए. सेक्सी वीडियो नया 2021 कासेक्सी लगोगी और इस पर ये शाल ओढ़ कर जाओ, उसके सामने शाल हटाओगी तो उसे झटका लगेगा. सेक्सी वीडियो अच्छी साड़ी वालीवो सारा माल बिना लंड को मुँह में से निकाले ही पी गई और मेरे लंड को चाट कर साफ कर दिया. मैं दस मिनट तक उनकी चूत को चाटता रहा, तब जाकर उन्होंने अपना कामरस छोड़ दिया, जिसे मैंने बड़े ही चाव से पी गया.

मैं क्या तेरा दुश्मन हूं? दोस्त हूं, टांगें चौंड़ी कर मस्ती से लेटा रह, पहली बार नहीं है, मराई है न?और उन्होंने अपना महा भयंकर लंड मेरी कोमल चिकनी गुलाबी गांड पर टिका दिया, फिर मेरे चूतड़ मसलने लगे, फिर एकदम धक्का दिया, सुपारा अंदर था.

मोहन लाल- मतलब तुम भी अपने बाप से चुदती थीं?मयूरी- जी पापा… और अपने भाइयों से भी. मुझे अपने आगोश में लेते हुए रिया ने कहा- पागल हो गयी है तू निक्की। इस तरफ रात को हम दोनों टेरेस पे अल्फ नंगी खड़ी है कोई देखेगा तो क्या कहेगा?मैंने कहा- जिसे देखना है वो देखे। मुझे तो तुम अपना काम करने दो!इतना कह कर मैंने अपनी एक उंगली रिया के चुत में सरका दी. उन्होंने कहा- भावेश राजा, अब जब तक यहां हो, रोज अपनी मामी की चुदाई के लिए आ जाना.

फिर बॉस ने रास्ते में खाना पैक करवाया और फिर मुझे अपने फ्लैट में छोड़ा और कहा कि खा पी कर आराम कर लो, मैं शाम तक आता हूँ. करीब बीस मिनट तक मैंने सरिता की चुत की चुदाई अपने अनुभव के आधार पर रुक रुक कर की और अंत में अपना लंड का रस उसके मम्मों पर निकाल दिया. फिर मैंने उनकी बनियान के अन्दर हाथ डाल कर उनके दूध दबाना चालू कर दिए.

5 साल के सेक्सी वीडियो

मैं भी अपनी छत पर खड़ा था, वो ऊपर आई, उन्होंने मेरी तरफ देखा और लेट गयी. पड़ोस की सीमा भाभी (नाम बदल दिया है) एक मस्त रापचिक माल हैं, गठा हुआ बदन, मस्त 5 फीट 4 इंच की हाइट, उनके 36डी के बड़े बड़े चुचे. मेरा एक हाथ उसकी कमर में था और दूसरा उसकी चूचियों से खेल रहा था, मैं धक्के लगाए जा रहा था और अब उसकी चूचियों को चूसने लगा, मैं उसके निप्पल को अपने दांतों से हल्के से काट रहा था, वो सिसकार उठी.

फिर मैंने उससे बोला- पहले तो तेरी चुत मारने की सोची थी लेकिन पहले गांड मार दी.

मैं धीरे से बेडरूम में अन्दर आ गईअब सागर ने मीना को सीधा लेटा कर चोदना शुरू कर दिया.

वो मुझे बांहों में भरकर रोने लगी और कहने लगी- दीदी अब ये लंड में कहां से लाऊं?मैं उसकी तरफ देखने लगी. उन्होंने मेरे गाल काट लिए, ओंठ चूस चूस कर लाल कर दिए, मेरे चूचियां तो नहीं थी पर उन्होंने उसकी जगह मेरे चूतड़ ऐसे मसले कि कई बार बुरी तरह मसल डाले और लंड पेलते समय मुझे ऐसे जकड़ते कि लगता सीने की हड्डियां न चरमरा जाएं. सेक्सी पिक्चर हिंदी का वीडियोउनका मूड अच्छा होता तो धीरे से हग कर लेता, गुस्सा होतीं तो नहीं करता.

वहाँ पहुंच कर बीवी ने फ़ोन पर बताया कि माँ ठीक हैं, मैं कल शाम तक आ जाऊँगी. मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी मेरा लंड अपने दोनों मम्मों के बीच में लेकर दोनों मम्में मेरे लंड पर दबायें. आंटी का एक लड़का और बेटी कुणाल की ऊपर वाली सीट पे सोया और दूसरी बेटी सामने वाली ऊपर बर्थ पर सो गई.

मुझे पता था कि कुँवारी गांड फाड़ना कुँवारी चुत फाड़ने से ज़्यादा मुश्किल है. थोड़ी देर में वो अपनी गांड हिलाने लगी तो मैंने भी धक्के मारना चालू किए.

तभी रवि ने एक और धक्का लगाया और अपना पूरा लंड मेरी चुत में डाल दिया.

एक एक करके ऊपर हाथ से यही करता रहा और नीचे अपने लंड को पकड़ कर उसने मेरी स्कर्ट में घुसा दिया. मम्मी जाते ही मैंने मीतू को बाहों में उठाकर उसी बेड पे लिटा दिया जहां पहले लिटाया था और हम शुरू हो गए, इस बार मैंने देर न करते हुए अपनी बहन को नंगी कर दिया और उस की चूत के दर्शन किये, उस की चुत पे छोटे छोटे गोरे बाल थे, ऐसा लग रहा था कि कभी किसी ने इसको छुआ भी न हो, बिल्कुल सील बंद. अभी सोच ही रही थी कि अंकल ने मेरे को वापस कार की सीट पे लिटाया, मेरी पतली पतली टांगें अपने कंधों पे रख के फिर से लंड मेरी गांड में उतार दिया.

मराठी सेक्सी पिक्चर भेजें भाभी ने भी अपने देवर का पूरा साथ दिया लेकिन सिर्फ दो तीन मिनट तक…अब अंजना ने घड़ी देखी तो शाम के 6 बज रहे थे. कहा और शाम के 7 बजे तक अपनी उस दिन की क्लाइंट्स को सर्विस दी फिर करीब 06:30 पर मैं अपनी बाइक लेकर सिमरन के घर के लिये निकल लिया.

”फिर हम वहां से निकल गए, अन्दर गए तो देखा बेड के आस पास कमरे में सफ़ेद रिफ्लेक्टर और कैमरे लगाए जा चुके थे. जब मैंने जोर से बहन की चुची मसली तो वो कहने लगी- भाई धीरे से मसलो… दर्द होता है मुझे. मैंने ज़ोर से दो झटके लगाए और अपना सारा माल उसके मुँह में ही निकाल दिया.

1212 सेक्सी वीडियो

वो वैसे भी बहुत गुस्से वाली हैं, बस इस वजह से कभी अधिक हिम्मत नहीं होती थी. आअह्ह आआह आह आअह और वो पी गयी।हम ऐसे ही लेटे रहे कुछ देर! जब वो उठने लगी तो उससे चला ही नहीं जा रहा था। कुछ टाइम बाद मैंने उसे उठाया और कपड़े पहनाये. मैं उस के पास जा कर धीरे धीरे किस करने लगा, बहुत मुश्किल से उस ने मुझे टॉप उतारने दिया और मैंने उसकी ब्रा भी उतारी और उस के दूध चूसना शुरू कर दिए.

दोनों ड्रेस मुझे बहुत अच्छी लगीं और पसंद भी आईं, पर इन किसी भी ड्रेस में ब्रा नहीं पहनी जा सकती थी. यही वो पल था जब मैं सोच रही थी कि बिना कुछ गंवाए, केवल गले लग कर, बातें करके बहुत कुछ पाया जा सकता है.

व मुझे देख कर बोली- अब बताओ क्या करना है?मैं बोला- मैं दो तीन घंटे तुम्हें प्यार करना चाहता हूँ.

बहुत अच्छा लग रहा था, पर मैंने बनावटी ढंग से भाभी को डांटा कि जबरदस्ती मेरा मूड मत बनाओ।भाभी के गाड़ी से उतरते ही एक कातिल मुस्कान के साथ मैं अपनी दुकान पर वापस आ गया।कहानी जारी रहेगी. चाची मेरे लंड के नीचेपढ़ी, मुझे आपके मेल से पता लगा कि आपको मेरी कहानी पसंद आई है. मैं कुछ देर तक उसी स्थिति में उसके ऊपर पड़ा रहा और उसके होंठ चूसता रहा.

मैं अपने हाथों से उनके निप्पलों और जीभ से उसकी चूत को घायल कर रहा था. मगर इस बार जब मैंने अपने होंठों को ममता के होंठों के करीब किया तो ममता जी ने अपना चेहरा नहीं घुमाया और मेरे होंठ उनके नर्म रसीले होंठों को हल्का सा छू गये जिससे उनमें हल्का कंपन सा होने लगा. दोस्तो, ये जींस टॉप जो अमित लाया था उसमें घुटने तक की जींस थी, जैसे कैप्री होती है और टॉप में पीछे और ऊपर तो सब ठीक था, लेकिन मेरी चूची के नीचे से और कमर तक पूरा खुला था.

एक पीस माला को बहुत पसंद आया, लेकिन वह शॉपिंग करने के मूड में नहीं थी.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ: तो मुझसे देखा नहीं गया और उसे चुप कराया और उसका सिर अपने कंधे पर रख लिया, उसे हौसला दिया।तो वो कहने लगी- आप कभी मेरा एड्रेस इत्यादि नहीं मांगोगे और मेरे बोलने के बाद कभी मुझसे मिलने की कोशिश नहीं करोगे. फिर मैं उसे बोला- यार, चिंता मत करो तुम… कुछ नहीं होगा तुम्हें… बहुत मजा आएगा!तो उसने मेरा सर पकड़ कर अपने चूचों पर रख दिया और अजीब सी आवाज में बोली- चूसो इनको… सारा रस निकाल दो आज इनका!फिर क्या था मैं तो जंगली शेर की तरह उसके चूचों पर टूट पड़ा और जोर जोर से उन्हें चूसने लगा.

भाभी- अच्छा तो मैं अपने मुँह से चूस कर तुम्हारा लंड ठण्डा कर दूँगी. थोड़ी देर में उसने अपने शरीर को टाइट कर लिया और योनि को भींच लिया, उसने अपना गर्म पानी छोड़ दिया, वो चरम सीमा पर पहुँच कर झड गयी थी. वो इतने प्यार से मेरा लंड चूस रही थीं मानो मुझसे ज़्यादा उन्हें मुझसे प्यार हो गया है.

फिर क्या था दोस्तो, मैंने अपना लंड निकाला और चूत के ऊपर लंड को रख कर अन्दर धकेलने लगा.

आपमें से कोई कुछ रिप्लाई या मेरी नोन वेज कहानी पर फीडबैक देना चाहता हो तो मुझे मेल कीजिएगा. अब कोमल लंड को तेज़ी से मस्त चूस रही थी और उसे अपनी मुँह के अन्दर बाहर कर रही थी, जैसे उसे भी अब चूसने में मजा आ रहा था. क्योंकि आप सभी जानते हो कि जो लड़के होते हैं, नॉर्मली नींद में उनका लंड ढीला ही रहता है.