एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,चोदा चोदी सेक्सी इंग्लिश

तस्वीर का शीर्षक ,

चीनी का सेक्सी वीडियो: एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म, मैं हमेशा उसकी मासूमियत का दीवाना रहा, जो उसके फेस पर दिखती है और आज भी मैं उसकी उसी मासूमियत का दीवाना हूँ.

ससुर ने बहु को चोदा सेक्सी वीडियो हिंदी

वो मचल रही थी, सिसकार रही थी ‘आह सी सी आह…’ और अपने एक हाथ से मेरा सर अपनी बुर पे दबा रही थी. देहाती सेक्सी वीडियो मां बेटामैं भी बार बार बहानों से मॉम की बॉडी को टच कर रहा था और मेरे साथ वो वाला कज़िन भी था, जिस पर रात में मॉम को शक़ था.

मैंने 500 वाली बात किसी से नहीं बताई थी, लेकिन वो रूपये मैंने संभाल कर रखे थे. सेक्सी इंडियन वीडियो दिखाइएमेरे अब्बू जो मुझ पर पैनी नज़र रखे हुए थे, वे मुझे देखते ही समझ गए कि मैं अंदर से पूरी नंगी हूँ.

अन्दर मैंने अपना स्कर्ट सम्हालते हुए चड्डी पैरों पर खींची और ज़ोर से छुल्ला दिया.एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म: पहले थोड़ा अपने बारे में बता दूँ कि मैं एक स्मार्ट लड़का हूँ और मेरा नेचर शुरू से ही फ्लर्ट करने वाले जैसा रहा है, पर मुझे लड़कियों से ज्यादा मैरिड लेडीज में ही इंटरेस्ट है.

उधर मेघा ने संजय को पार्क में बुलाया और उससे मिलने गई उसने टाइट टॉप और स्कर्ट पहना था.उसके बाद जब मैंने भाभी को चोदने की बात की तो भाभी ने मेरी शिकायत करने की धमकी दी.

फिल्म सेक्सी पिक्चर वीडियो में - एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म

वो इतने प्यार से मेरा लंड चूस रही थीं मानो मुझसे ज़्यादा उन्हें मुझसे प्यार हो गया है.मैं जोश में चूत चुसाई करने लगा, तभी उसकी चुत से बहुत सारा पानी निकल गया जो मैं सारा पी गया.

मैं बैठ गया और अपना लंड उसकी चूत पर सैट किया और एक दमदार शॉट लगा दिया. एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म पुलकित बोला- मैंने कहा सुनती हो! अपने पति का लंड चूसोगी क्या?और वो हंसा.

मैं हर साल गर्मियों की छुट्टी में अपने मामा के घर घूमने जाता था, उस बार तो बात नहीं बनी, फिर दीवाली आई, खुशबू मामा के साथ भाई दूज पर हमारे घर आई.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म?

स्टीव ने मेरी जांघ से हाथ सहलाते हुए चड्डी में डालकर मेरी गर्म छोटी सी चूत को सहलाना चाहा. मैंने मीना को बोला- ग्लास ख़त्म होने तक चाहो तो तुम सागर के पास बैठ कर पिला सकती हो. भाभी की फिर से एक जोरदार चीख निकल गई और भाभी की दर्द के कारण दोनों आँखें ही बाहर को आ गई थीं.

वो भी मुझे देख क़र मुँह घुमा लेती और दूसरे लड़कों के संग बात करती और सबके साथ घूमती. मेरा लंड उसकी गांड में फँस गया और वो मेरी तरफ देख देख कर रोने लगीं कि मैं कब उन्हें छोड़ूँगा. इतने में मेरी नज़र कांच पर पड़ी तो हम दोनों ने देखा कि ऑफिस का चपरासी अंदर के तरफ आ रहा था तो मैंने सोनी को फिर से बैठा दिया और मैं भी अपनी जगह बैठ गया.

ये देख कर मुझसे रहा नहीं गया; मैंने धीरे से अपने हाथों से उनके चेहरे से आंसू पोंछने लगा. पता नहीं उसे इन सबका कितना शौक है!खैर अब मैं कहानी पर आता हू!वो ज्यादातर सलवार सूट ऐसा पहनती है जिसमें उसके हर अंग का उभार साफ साफ दिखाई दें! देखने में मेरी बहन किसी रंडी से कम नहीं लगती है. फिर एक दिन मेरे क्लास का सबसे अमीर और दिखने में भी अच्छे लड़के ने मुझसे दोस्ती करने को कहा.

मैंने उसकी बहुत देर तक अपनी जीभ से चुदाई की और फिर कुछ देर बाद हम दोनों ने 69 में आकर दोनों की प्यास बुझाई. मैं भी गर्म होकर बोलने लगा- ओह, ओह मेरी जान, तुम कितनी सुन्दर हो, आह तुमसे मिलकर.

अब आगे:मैं नीचे फर्श पर ही बैठ गया और मैंने बहूरानी के दोनों पैर उठा कर अपने कन्धों पर रख लिये और उसकी कमर में दोनों हाथ डाल कर उसे अपनी ओर खींच लिया जिससे उसकी चूत मेरे मुंह के ठीक सामने आ गयी… बिल्कुल करीब; उसकी एकदम सफाचट चिकनी क्लीन शेव्ड चूत मेरे सामने थी.

ऐसा महसूस करते ही मैं सुनील से बोली- आह सुनील डार्लिंग मेरा निकलने वाला है.

मैंने तुरंत मेरे मोबाइल से उसका एक फोटो ले लिया, मैंने पूनम को उल्टा किया और उसके कूल्हों को मसल मसल कर चूमने लगा और पूनम को सीधा कर मैंने उसकी टांगें चौड़ी कीं और उसकी गुलाबी चुत पर मेरा हथियार रख कर चुत में धकेलने की कोशिश करने लगा. अंजलि दीदी ने अपने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत के छेद पर सेट किया. सागर- मेरे लंड का पानी? कब चखा?मीना- जब भाभी की चुत साफ कर रही थी, तब भाभी ने वहाँ अपनी चुत से तुम्हारे लंड का पानी निकाल के मेरे मुँह में चाटने को दिया था.

तब मैंने लंड को थोड़ा थूक लगाया और फिर से मॉम की जाँघों के बीच अपने फुल टाइट लौड़े से जो धक्का मारा. जब मैं बेडरूम की तरफ मुड़ा तो देखा कि भाभी कपड़े पहन रही थीं, वो अपनी ब्रा पहनने की कोशिश कर रही थीं. वो चिल्ला रही थी और बोल रही थी- बस भाई, निकाल लो, बहुत तेज दर्द हो रहा है.

मुझे मेरी भाभी के मुख में लंड देकर उनका मुख चोदन ऐसे करना है कि जैसे मैं उनकी भरी हुई चूत चोद रहा हूँ.

हमने खाना खाया और मैं मम्मी के साथ टीवी देखने लगे गया!फिर मीतू ने कमरे से पुकारा- भाई मैथ्स पढ़ा दो. भैया वहां से निकल ही रहे थे, वो बोले- बच्चे, अब तुम्हें अपनी भाभी का ख्याल रखना है, मैं 10 दिन में आ जाऊंगा. लेकिन जैसे ही पोर्च में पहुंचा मैंने सोचा पहले सिगरेट सुलगा लेता हूँ.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने सोने का नाटक करते हुए एक हाथ उनके पेट पे रख दिया और जब उन्होंने कुछ विरोध नहीं किया तो मेरी हिम्मत और बढ़ गई. इससे उसके लंड में से कुछ लाल रंग का हिस्सा बाहर खुल कर आ गया था और कुछ बड़ा भी हो गया था. रमेश ने काजल की तरफ देखा और पूछा- काजल, तू तैयार है?काजल- भैया, अब मत तड़पाओ प्लीज.

मैंने कहा- ठीक है मैं इसकी चूची की झलक तुम्हारे पति को दिखाऊँगा तो देखना, उसका लंड कैसे खड़ा हो जाएगा.

जब वो रोटी बना रही थी, तो मैं उस के पीछे चला गया वो हाईट में मुझसे छोटी है तो मैं ऊपर से ही उस के ब्लाउज के बीच की गहराई को देखने लगा. (मैं, मेरा हमारा आदि शब्दों का प्रयोग)आप किसी और की घटना बता रहे हैं तो वह, उसका, उनका आदि शब्दों का प्रयोग करके कहानी लिखनी चाहिए.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म आआअह… संजू… आआआह… बस रुक जाओ… आह…”मैं फिर भी नहीं रुका और उनके दाने पर जीभ फिराता ही रहा. मैंने उसके चुचों को दोनों हाथों में पकड़ा और उसकी रसभरी चुचियों को दबाने लगा, चूसने लगा.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म रमेश के लिए ये चुदाई पहली नहीं थी, पर वो अपनी बहन की चूत को चोदते हुए सेक्स का एक अलग ही अनुभव कर रहा था. यह सेक्सी कहानी तब की है जब एक कंपनी में बात करने गया था, वहाँ की एच आर से मिल कर कुछ बातें करनी थी.

अब शिशिर सलमा की चुचियों को मुँह में लेकर चूसते हुए तेजी से चुदाई कर रहा था.

भाभी की चुदाई हिंदी बीएफ सेक्सी

दरवाज़ा खोला तो आकांक्षा खड़ी थी, मैंने अपने आप को संभाला और उसे अन्दर बुला लिया. हईए म्म्मररर गईईई… ररीए ससन्नईई आहह उउऊहह…” दीदी का जिस्म तड़प उठा और दीदी की आँखों में हल्के आँसू आ गये लेकिन दीदी ने मुझे रोका नहीं और मैंने भी लंड को फिर से वापिस बाहर किया और तेज़ी से जोरदार धक्का मारा तो लंड पूरा का पूरा चूत की जड़ तक चला गया और दीदी बस ज़ोर से चिल्ला उठी. मैंने झट से लंड को भाभी की चूत से खींचा और उन्हें सीधा करके उनके मुँह में लंड लगा दिया.

भाभी ने भी अपने देवर का पूरा साथ दिया लेकिन सिर्फ दो तीन मिनट तक…अब अंजना ने घड़ी देखी तो शाम के 6 बज रहे थे. फिर बहन को बोर्डिंग स्कूल के हॉस्टल में डाला और हम दोनों सूरत के इस घर में रहने लगे. अमित- हां ठीक है पर नहीं कहूँगा, तब तो पूरा करोगी ना?मैं- हां तब पूरा कर दूंगी.

घोड़ी के स्टाइल में होने की वजह से दोनों की चूत थोड़ी और टाइट हो गई थी और उनको चोदने वाले लंड जल्दी ही लगभग 7-8 मिनट की चुदाई में ही झड़ गए.

फिर अमित एक उंगली से उस माल को मेरी बीवी की गांड में भरने की कोशिश करने लगा, मेरी बीवी की गांड में उंगली करने लगा. रिया होठों को चूमते हुये बोली- बड़ी गरम हो मेरी जान! इतने दिन से कहाँ थी?मेरी सास बोली- तेरा इन्तजार कर रही थी साली, आज मिली है चूस ले इनको!तभी मैंने अपनी सास की साड़ी खोल दी, फिर पेटीकोट का नाड़ा खोला और पेटीकोट नीचे खींच लिया, फिर ब्लाऊज को भी उतार दिया. मैंने उसे गर्दन हिला कर और आँखों से इशारा करके बताया कि मुझे बहुत मजा आया.

मैं सुबह 7 बजे दिल्ली पहुँच गई, उस दिन कॉलेज था तो दिव्या कमरे पर आ चुकी थी. अमित- ठीक है मैं सो जाऊंगा पर एक बात बता दो कि सन्डे का पक्का ना?मैं- हां तुम ऐसे ही करना, मैं कुछ बात करूँ तब तक. वो गुरुवार का दिन था जब मैंने ये बातें कि थी और मैंने सन्डे को वादा किया था कि गिफ्ट लाकर देना.

लेकिन फिर मुझे एहसास हुआ कि मैं अभी बहुत छोटी मासूम सी हूँ जिस कारण सीनियर लड़कों का मुझे चोदने के अलावा किसी बात में कोई इंटरेस्ट नहीं है. उसने ऐसा ही किया तो मैंने उसको अपने लंड पर बिठाया और ज़ोर ज़ोर से झूला झुलाते हुए चोदने लगा.

मैंने अपनी लाल चड्डी से पहले अपनी गांड से बहता हुआ उसका वीर्य साफ़ किया और कपड़े ठीक करके वहाँ से निकल गई. मेरे लंड से रस की फुहारें मेरी इकलौतीबहूरानी की चूतमें समाने लगी और वो भी मुझसे पूरी ताकत सी लिपट गयी. मैंने फिर पूछा- निकाल लूं?वह बोला- अब कर लो, कितनी देर लगेगी?बहुत देर हो गई, गांड जलन कर रही है, मैंने दो तीन धक्के दिए, अंदर बाहर… अंदर बाहर… धच्च फच्च… धच्च फच्च.

अगर तुझे टाईम है तो प्लीज़ मुझे सात बजे रेलवे स्टेशन छोड़ने आएगा क्या?मैंने उसको ‘हां’ बोल दिया और वहां से घर के लिए निकलने वाला ही था कि रश्मि बोली- ललित को पैसे के बारे में मत बताना प्लीज़!मैंने ‘हां’ बोला और मैं अपने फ्लैट में फ्रेश होने आ गया.

तो रवि ने कहा- अच्छा तो विवेक के साथ ग़लत नहीं है?मैंने कहा- मैं और विवेक एक दूसरे से प्यार करते हैं. राजेंद्र अंकल की कान में आवाज आई- आरती उठो, हम लोग आ गए तुम्हें चोदने! तुम्हारे पापा आये नहीं, हम ने बाहर का गेट बंद कर दिया है पर लॉक नहीं किया। जल्दी करो, अब हम लोगों से बर्दाश्त नहीं होता. मैं भाभी को सुबह 4 बजे अपने कमरे में आने की बोल कर अपने कमरे में आ गया.

पर मैं इतना कह सकता हूँ कि यह मेरी सच्ची चोदन कहानी है।आप सब मुझे मेल करके अपनी राय दे सकते हैं कि कैसी लगी मेरी कहानी।मैंने अब तक लगभग 25 लड़कियों के साथ चोदन किया है. मॉम के चूचे फूले और भरे हुए हैं और फेस तो बिल्कुल ऐसा है कि कोई 2 मिनट मेरी मॉम के फेस को लगातार देख भर ले तो मॉम को होंठों पर किस करने से खुद को रोक ही नहीं पाएगा.

तो वो मुस्कुराई और कहा- सच में?मैंने कहा- हाँ, सच्ची में!और फिर मैं अपने होंठ उसके कान के पीछे गर्दन पर फेरने लगा और चूमने लगा जिससे उसकी आँखें बंद होने लगी और धड़कनें बढ़ने लगी. लगभग 15 मिनट तक दोनों ने मुझे किस किया और मैंने भी उन दोनों को किस किया. वो मुझे सिखाने लगी, पर मैं तो उसे चोदना चाहता था, तो मैं किसी न किसी बहाने उसे छू रहा था.

सेक्स रेप बीएफ

अब मेरी सुमीना से अच्छी दोस्ती होने लगी, हम सेक्स की बातें भी करने लगे.

मुझे बहुत दर्द हुआ, लेकिन मेरे लिप पर वो इतना ज़ोर से लिप किस कर रहा था कि मैं चिल्ला ना सकी. भाभी ने सर हाँ में हिलाया तो मैंने उनके मुँह पर वीर्य की पिचकारी मार दी और उन्होंने कुछ बूँद पी लीं. मैं भी अपनी जीभ को चाचा जी के मुँह में डाल कर डीप स्मूच का पूरा आनन्द ले रही थी.

वो भी मेरी पकड़ से निकलना चाहती थी पर पकड़ मज़बूत होने के कारण उसका बस नहीं चला. मैं- अच्छा ऐसा क्या करोगे? चलो मैं युम्हें कुछ नहीं कहूँगी, मैं नहीं रोकूंगी तुम्हें… तुम करो क्या करना है. सेक्सी वीडियो देखना है चोदा चोदीइतनी टाइट चूत होने की वजह से रमेश को भी अपने लंड में थोड़ा दर्द का एहसास हुआ, पर उसको काजल की आँखों में आंसू देख कर थोड़ी देर रुकने का ख्याल आया.

उसके बाद जब भी मुझे मौका मिलता तो मैं भाभी के घर में आ जाता और हम दोनों चूत चुदाई के मजे करने लगते. फिर मैंने उसको अपनी बांहों में उठा कर बेड पे लिटा दिया और उसके दोनों हाथों को पकड़ कर उसके होंठों पर किस करने लग गया.

तो रवि ने कहा- अच्छा तो विवेक के साथ ग़लत नहीं है?मैंने कहा- मैं और विवेक एक दूसरे से प्यार करते हैं. सीनियर, जिसका नाम सिराजुद्दीन था उसने कहा कि हमें पुलिस थाना चलना पड़ेगा।अब हम दोनों सिराज के सामने गिड़गिड़ाने लगी- सर, पुलिस थाना जाकर क्या करेंगे… जो भी है यही सुलझा लीजिए प्लीज। अगर थाने में गई तो हम किसी को मुँह दिखाने के काबिल नहीं रहेंगी। प्लीज सर… प्लीज!वैगरह वैगरह!काफी देर बाद उसने हमें चुप रहने के लिए बोला। फिर उसका और उसके साथियों का नजरों में ही कुछ इशारा हुआ. थोड़ी देर तक मैं शराफ़त से लेटा रहा, लेकिन नीचे लंड मानने को राजी नहीं हो रहा था.

काकी ने मेरे खाने में कामोत्तेजक दवा मिलाई थी, जिसके कारण मुझे जरूरत से ज्यादा चुदास चढ़ गई थी. मैं कहना तो नहीं चाहता पर सच में पहली बार क़िसी का दर्द अपना दर्द जैसा लग रहा था. मैं चिल्लाने लगी, बोलने लगी- तीनों चोदो जम के… मैं बहुत चुदासी हूं.

यही सोचकर मैंने सरिता को अपने साथ अपने फ्लैट पर चलने को कहा और वो तैयार हो गई.

मैंने एक हाथ पिंकी की कमर कस कर पकड़ ली और दूसरे हाथ से उसका मुँह बंद कर दिया. उसने भी अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी, जिसका मैं बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था.

असल में मुझे शिशिर से चुद कर जितना मजा आया था, अब से पहले कभी नहीं आया था. अब तो ऐसा देख कर मुझे बहुत अच्छा लग रहा था कि एक पति अपनी पत्नी को चुदवाने के लिए दौड़ रहा हो. मैं उसके बारे में आपको बता दूँ उसके दूध 32 इंच के थे, कमर 28 की और गांड 30 की थी.

रात के 10 बजे होंगे, तब चाची बच्चों को सुला कर मेरे कमरे में आ गईं और दरवाजा बंद कर दिया. आप ज़रा देख लो कि नेटवर्क क्यों नहीं आ रहा?यह कहते हुए वो मेरे पास ही आकर बैठ गई. पूरे 6 साल हो गए, तुम छोटी थीं तब से तुम्हें पागलों की तरह प्यार किया है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म दोनों हाथ और कंधे और पीठ और पेट के बीच वाली जगह पूरी नीचे तक खुली थी. कथा पढ़ते पढ़ते पुरुष का लिंग बिना किसी प्रयास के खुद बखुद तन जाए और लड़कियों की योनि रसीली हो उठे और उनका हाथ अनचाहे, अनायास ही उनकी पैंटी में घुस कर योनि को सहलाने लगे, उंगलियाँ क्लिट या दाने को छेड़ने लगें तभी कहानी की सार्थकता है.

फुल एचडी मूवी बीएफ सेक्सी

मैं उठा और उससे पूछा- क्या हुआ?तो एकदम सकपका गयी और अपनी चुची ढकने लगी लेकिन मैं बोला- डरो नहीं, बताओ क्या हुआ?वो मुझसे लिपट गई, मुझे किस करने लगी और बोली- ये ऐसे ही जल्दी से करके सो जाते है और मैं हमेशा अधूरी रह जाती हूँ. हम दोनों पति-पत्नी कुछ देर यूं ही एक दूजे की बांहों में पड़े अपनी अपनी साँसें काबू करते रहे. मैंने ऐसा ही किया और अवी ने जवाब दिया कि आज पहली बार कहा है मेरी जान ने.

और मेरे साथ भी यही हुआ, कोई भी भाई अगर वो जवान है तो कभी मना नहीं करेगा. वहाँ गया तो भाभी ने पूछा कि खाना खा लिया तो मैंने बोला हाँ खा लिया. ससुर बहू का सेक्सी मूवीचलते वक्त विक्की सर ने मेरी कमर में हाथ डाल कर मेरी कमर को कस के दबा दिया.

पर एक दिन चाची और चाचा दोनों कहीं बाहर गए थे और मैं घर पर अकेला ही था.

मैं बोलता तो वो अपने कान हथेलियों से ढक लेती; लेकिन धीरे धीरे मैं उसे अपनी मर्जी के अनुसार ढालता गया और वो ढलती गयी. इतना सुन कर तो मैं और भी ज्यादा जोश में आ गया और मामी को हचक कर चोदने लगा.

तो इस पर पूनम अब समझ चुकी थी कि मेरा क्या इशारा है, पूनम बोली कि शेखर शादी से पहले ये सब ठीक नहीं है. वो दर्द के मारे चिल्ला उठा, मैंने पूरी झड़ने के बाद उसको छोड़ा तो भाई ने उठ कर मुझे घोड़ी बना कर पीछे से मेरी चूत में लंड घुसेड़ दिया, और मेरी गांड में हर 3-4 झटकों के बाद थप्पड़ मार देता, जिससे मेरी गांड पूरी लाल हो गयी थी. थोड़ी देर में उसने गांड से लंड को छुलाया, एक हाथ मेरी कमर तक बढ़ा कर उसने मेरी कमर पकड़ी और धक्का लगा दिया.

हाँ पर मुझे ये पता है कि काजल मेरी बेटी है क्योंकि इसके जन्म के 2 साल पहले ही तुम्हारे नाना गुजर गए थे.

थोड़ी देर में उसने मुझे आवाज़ दी और कहा- शेखर, प्लीज़ आँखें बंद करके मेरे पास आओ, आपको मेरी कसम है आँखें मत खोलना. मैं हट गया और इस तरह मैं कभी भाभी के गाल पर किस करता तो कभी भाभी के होंठों पर. - क्या इरादा है तेरा?उसने पूछा तो मैंने एक घूंट दारु पी कर कहा- चल आज कुछ करते है.

लुगाई की चुदाई सेक्सी वीडियोइतने में उसके मोबाइल पर घंटी बजी तो दोनों उठ कर कपड़े पहने और मैंने उसे कहा- जो हुआ उसे एक गलती समझ कर भूल जाते हैं और वापस अपने काम पर लगते हैं. इसके बाद मैंने पूनम को घर छोड़ा और फिर मैं शाम होने का वेट करने लगा.

सेक्स बीएफ सेक्स व्हिडिओ

बुआजी अपने ससुराल में हैं और चाचा जी अपनी बीवी बच्चों के साथ हमारे घर के करीब में ही रहते हैं. इसलिये मैंने उस पर कोई रहम नहीं किया और उसकी चूत से अपना लंड निकाले बिना पूरा बाहर खींच लिया और दूसरा जोरदार धक्का पूरी ताकत से लगा दिया तो मेरा लंड उसकी चूत में करीब 5 इंच तक घुस गया पर लेकिन इस बार सिमरन की दर्द के कारण आँखें ही बाहर को आ गई. हाँ रानी, मैं भी तड़प रहा था तुम्हारे लिए!” यह कहते हुए रोहण ने गाउन नीचे गिरा दिया, साड़ी के पतले कपड़े से मौसी का भरा हुआ बदन दिखलाई दे रहा था.

उन्होंने मुस्कुरा कर मेरे खड़े लंड को देखा और मुझे पानी देकर मेरे पास आकर बैठ गईं. बहुत बड़ी है यार, किसी को पता लग गया तो शामत आ जाएगी और आज तो इत्तफ़ाक़ से मैंने एक्सट्रा क्लास का बोला था, तब यहां आ गई हूँ. योगिता कई बार झड़ चुकी थी, उसके चेहरे पर संतुष्टि के भाव साफ दिख रहे थे, मैंने रफ़्तार बढ़ाई और उसकी चूत को जूनून से चोदने लगा.

अब हमें ठण्ड सी लग रही थी तो मैंने हम दोनों के ऊपर रज़ाई को ओढ़ लिया. इस पर वो थोड़ा मुस्कुराए, उनकी मुस्कराहट इतनी प्यारी थी कि मुझसे रहा नहीं गया. फिर भी मैंने उसके टॉप से हाथ निकाल लिया और मैं उसके लिप्स पर किस करने लगा.

दीपिका समझ गयी कि इसका काम होने वाला है वो हल्के से झटके के साथ सीधी हो गयी और घुटनों के बल बैठ के केविन के लन्ड को मुँह में लिया और चूसना शुरू कर दिया. अब यहीं से मेरे जीवन में पैसे पर लड़कों के मन का करने को राजी होने का सिलसिला जारी होने लगा.

अब उसका आधे से ज्यादा लंड मेरे मुँह में था और वो उसे आगे पीछे कर रहा था.

मेरी मॉम ने भी उस लड़के की पैन्ट की जिप खोल कर उस का लंड बाहर निकाल लिया और उससे खेलने लगीं, उसे आगे पीछे सहला कर जैसे मुठ सी मारने लगी. सेक्सी पिक्चर नंगी का वीडियोवो मस्त हो के मुझे अपनी बांहों में भर रही थीं और नीचे से चूतड़ उछाल उछल कर चुत चुदाई करवा रही थी. चाची की चुदाई की सेक्सी कहानीमेरी इच्छा है कि मेरी भाभी पैन्टी पहन रही हों, तब मैं उनके पीछे जाकर उनकी चड्डी थोड़ी नीचे सरका कर उनकी गांड में अपना लंड डालूं और गांड में ही मेरा वीर्य छोड़ दूँ!37. उनके मुँह से कामुक सिसकारियाँ निकलने लगीं। तभी मैंने उनके मम्मों पर काट लिया.

लड़का बोला- नहीं मैंने ऐसा कहा क्या?लड़की बोली- घबराओ नहीं, मुझे बुरा नहीं लगेगा, अगर दिल में इच्छा है तो देख आओ.

बात गड़बड़ तब हुई, जब वो इनके घर एक रात रुका और सबके सोने के बाद मोनिका से मिलने की जिद करने लगा, जो मोनिका को गंवारा नहीं हो रहा था. दोस्तो, मेरी सेक्स स्टोरी अच्छी लगी या बुरी, रिप्लाई कर दो मेरी इमेल आई डी पर![emailprotected]. आपको मेरी देसी सेक्स स्टोरी पसंद आई या नहीं, कृपया अपनी राय मेरी मेल पर जरूर मुझे भेजें.

लंड खड़ा हो गया।वह बोला- अपना वायदा पूरा करो।वह औंधा लेट गया, मैं उसके ऊपर बैठा लंड उसकी गांड पर टिकाया कहा- यार! थोड़ी टांगें चौड़ी कर।उसने टांगें फैलाईं, मैंने लंड का सुपारा गांड पर रख कर धक्का दिया, सुपारा अंदर था पर उसने गांड सिकोड़ ली. काफी देर तक हम वहीं किस करते रहे और फिर मैं उसे बांहों में उठा कर उसके बेडरूम में ले आया और उसको बेड पर लिटाकर उसके ऊपर चढ़ कर उसके होंठों को चूमने लगा. अगले कुछ ही मिनट में मैं अपने दोस्त के यहाँ अलीगढ़ पहुँच गया और अपने दोस्त से मिला.

बीएफ ब्लू सेक्सी चुदाई वाली

आज मैं पूरी तरह से सन्तुष्ट हो गई हूँ तुम दोनों से चुदवा के!फिर हम तीनों सो गये. मैंने कोमल को उसी तरह ही रहने दिया क्योंकि वो संतुष्टि का अनुभव कर रही थी. उनकी टांगें मेरी कमर पर चिपक गई और सुरेश अंकल का हथोड़े जैसा लंड मेरी चूत में सट गया.

तब सुल्ताना ने मुझे उसके ऊपर से उठने के लिए कहा और मैं अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उठा गया.

सभी को मेरा नमस्कार, प्यारी लड़कियों और जवान मर्दों, आज मैं अपनी पहली सच्ची कहानी लिखने जा रहा हूँ जो मेरे साथ कुछ ही दिनों पहले हुई.

एक दिन मैंने देख भाभी मुझे देख कर मुस्कुरा रही थीं, पर उन्होंने मुझसे बात नहीं की. हम दोनों एक दूसरे का मुँह देखने लगे और मैं बोला- दोनों भाई बहन हैं. सेक्सी वीडियो भेजिए देसीमेरा ध्यान उन दूसरी भाभी पे गया तो वो सौ के नोट पे कुछ लिख रही थीं.

वो पहली बार आई थी, माँ ने उनका परिचय मुझसे कराया और मेरी उनसे दोस्ती हो गई. मोनिका पर गांव के लड़के ट्राई मार चुके थे, पर मोनिका कसी से बोलना तो दूर किसी की तरफ देखती भी नहीं थी. पहले तो अप्पी बोली- छोड़ो मुझे, कोई आ जाएगा, और मैं तुम्हारी बहन हूँ.

अब वो बोली- मेरे राजा भैया, आज तृप्त कर दे अपनी बहन रानी को!मैं अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा. पूरे 6 साल हो गए, तुम छोटी थीं तब से तुम्हें पागलों की तरह प्यार किया है.

निकिता डरती हुई फाइल लेकर आती है क्योंकि उसे पता है कि हिसाब किताब में गड़बड़ी है.

वो मादक सिसकारियां भरते हुए बोल रही थी- अब नहीं तड़पा राजा भाई… मेरे से रहा नहीं जा रहा है. उसके दिमाग में पता नहीं क्या सूझा कि वो हल्के से मुस्कुराई और बोली- तुम लोग घबराओ नहीं. वे लोग दिल्ली में रहते हैं लड़की भी वहीँ की है तो शादी में किसी न किसी को दिल्ली तो जाना ही था.

चुदाई हिंदी सेक्सी चुदाई अभी मेरी शुरुआत थी इंस्टिट्यूट में तो मैं कोई अपनी इन्सल्ट नहीं कराना चाहता था बल्कि मैं यह देखना चाहता था कि इसका रियेक्शन क्या होगा? यह ही सोच कर ही मैं जाकर मिला तो उसने मुझे पूछा- कहिये आपको किससे मिलना है?तो मैंने जवाब दिया- मैं इंगलिश बोलना सीखना चाहता हूँ, हालाँकि मुझे पढ़ना, समझना और लिखना आता है लेकिन बोल नहीं पाता हूँ. मैंने उससे बोला- अगर तुम अपने घर पर हमारी शादी की बात कर लो तो मैं अपने घर बात कर लूँगा.

उसका लंड खड़ा हो गया, उसके बाद उसने मेरी गर्दन पकड़ कर नीचे कर दिया और लंड को चूसने के लिए कहा. मैं उसके ऊपर चढ़ गया, उसने मेरे जवान होंठों को किस करना शुरू कर दिया जो कि मेरी लाइफ में पहली बार हो रहा था. मैं हर महीने किसी न किसी बहाने से मामा के यहाँ जाने लगा और उससे मिलने लगा.

बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी फिल्में

भाभी ने अपनी ब्रा पेंटी ब्लाउज और साड़ी ली और मैं भाभी को अपनी गोदी में ले कर उनको कमरे में लाया. जब मैंने टांगें चौड़ी कर लीं तो उन्होंने मेरी कई सारी फोटो निकाल लीं. मेरे दोनों चूचे चचा जान के हाथों में खेल रहे थे और उनके गीले होंठ मेरी मखमली गरदन को मसाज दे रहे थे.

लेकिन मुझे राजधानी पकड़नी थी तो मैं इस बस को छोड़ने की हालत में नहीं था. उन्हें जमीन पर लिटा कर उनके दोनों पैर फैला दिए और फिर से चूत में लंड डाल कर चोदने लगा.

कुछ पल बाद उन्होंने लंड को बाहर निकाला और हाथ से बड़े जोश से मेरे लंड की मुठ मारने लगी थीं.

लेकिन यहाँ कोई देख न ले?” मैंने खुली हुई कार की सीट पर सैट होते हुए अपनी गांड ऊपर करते हुए कहा. मैं- एड्रिआना, क्या आज की रात तुम यहाँ रुक सकती हो अगर तुम्हें कोई परेशानी ना हो तो?एड्रिआना- क्या? तुम मुझे यहाँ रुकने को क्यों बोल रहे हो? क्या तुम्हारे मन में कुछ गलत तो नहीं?मैं- नहीं एड्रिआना… मैंने आज तक कभी किसी को इस तरह नहीं पूछा लेकिन ना जाने क्यों जब से आप मिली हो, लगता ही नहीं कि हम पहली बार मिले हैं. उनके दिल की धड़कन बढ़ी हुई थी, और सीने में ज्वार भांटे सा उफान महसूस हुआ था, उन्होंने भी मेरे शरीर का गर्म अहसास पहली बार नहीं किया था पर पहले के हालात और अब के हालात में फर्क था शायद इसलिए उन्होंने अलग ही अहसास किया होगा.

वो जब चला गया तो मैंने उस ड्रेस को ऊपर से थोड़ी ढील दे दी ताकि जल्दी खुल जाए और थोड़ा नीचे खींच दिया ताकि जब ऊपर अमित खोले तो पूरी चूचियां एक साथ दिख जाएं. इस बार चूत पर अपना लंड सैट करके फिर से मैंने एक जोरदार धक्का लगा दिया, जिससे मेरा लंड 3 इंच तक घुस गया. मामी पूरी तरह से गर्म हो चुकी थीं और वो मजे से मेरे लंड को हिला रही थीं.

तब लगा लेना और हाँ अब तुम मिनी को ज्यादा एसएमएस किया करो और उससे कहो कि वो तुम्हारे एसएमएस का जवाब दिया करे.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ फिल्म: अचानक क्या हुआ कि उसकी ज़ोर से चीख निकल गयी, मैंने पूछा- क्या हुआ?तो बोली- कुछ नहीं।और विनीत फिर से लग गया. मैंने तो अभी बारहवीं पास की है, पढ़ने के लिए माँ के साथ आ गए। हमारे साथ हमारा भाई भी आया है.

मुँह में लंड होने की वजह से मैं चीख भी नहीं पायी। तब तक सिराज ने दूसरा धक्का मारा तो उसका आधा लंड मेरी चुत में घुस गया. 5 इंच का लंड मेरी पैन्ट से बाहर निकाला जो अब तक पैन्ट में तम्बू बन कर खड़ा था और फिर वो नीचे बैठ कर चूसने लगी. दीदी का पानी निकल जाने के बाद दीदी ने हटने की कोशिश की लेकिन मैंने दीदी को कमर से कस के पकड़ लिया क्योंकि मेरा अभी तक नहीं हुआ था.

लेकिन वो बिल्कुल भी नहीं माना और लंड घुसाता हुआ चला गया, साथ ही वो झटके देने लगा.

मैं बोली- बोल तो सही, तुझे प्रॉब्लम क्या है?वो गुस्से से बोली- तू छिनाल थी और छिनाल ही रहेगी. हम दोनों एक दूसरे का मुँह देखने लगे और मैं बोला- दोनों भाई बहन हैं. अकीरा- आह आह… विकी, फाड़ दी तुमने आज मेरी… आह कल तो चल भी नहीं पाऊँगी.