देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,होली पोर्न

तस्वीर का शीर्षक ,

ऐसे सेक्सी सेक्सी: देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी, मैंने पहली बार जब उसे सामने से देखा तो उसने अपने नाक में नथुनी पहन रखी थी, क्या कातिल माल लग रही थी.

बाथरूम में नहाती हुई लड़की का वीडियो

कई बार मयूर से कहते थे- यार अगर रचना की चूत दिला दो तो तुम्हारा तुरंत ही प्रमोशन कर दूँ. सेक्सी बीएफ जानरंग एकदम दूध सा गोरा, आँखें ऐसी कजरारी कि जिसे कोई नजर भर के देख ले, तो वो कुछ और देख ही नहीं सकता.

थोड़ी देर बाद जब मिंकी अपनी चूत साफ करने के लिये उठी तो उससे चला नहीं जा रहा था. নীল ফ্লিমचाय खत्म होते ही मेरा लंड फिर से अपने विशाल रूप को धारण करने लगा तो काव्या को मैंने उंगली के इशारे से अपना लंड दिखाया.

मैंने उसके पूरे कपड़े उतार दिए और खुद भी नंगा हो गया, मैं उसको नंगी देख कर ही पागल होता जा रहा था और मेरा शेर अपने ओरिजिनल शेप में आ गया था.देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी: इस वजह से चाची थोड़ा गुस्सा भी हो गईं, वो अचानक खड़ी होकर रूम से जाने लगीं.

मैंने कहा कि अगर वो उचित समझे तो संडे को हमारे घर भी आ सकता है और संडे का लंच और डिनर भी साथ कर लिया करे.एक दिन हमारे एक रिश्तेदार के यहाँ से शादी का बुलावा आया, वैसे जाना तो हम सब को ही था पर यही मौका देखते हुए अम्मी ने जाने से मना कर दिया और मुझे भी रोक लिया। बड़ी मान मनुव्वल के बाद अब्बू और भाई जाने के लिए तैयार हुए। उनको दूर शहर जाना था, सब जल्दी जल्दी में हुआ था तो रिजर्वेशन भी नहीं मिला था, अब्बू और भाई जाने के लिए रात में नौ बजे घर से निकल गए.

मीनाक्षी का बीएफ - देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी

अब कुछ दिनों से मेरे कालेज में एक असिस्टेंट प्रोफेसर होम साइंस डिपार्टमेंट में नई नई आई थी, उसका नाम नीति (बदला हुआ नाम) था.मैंने उसकी चूत में एक जोरदार झटका मारा, तो मेरा सुपारा ही अन्दर घुस पाया था.

अब जब भी मॉम और दीदी सामने आतीं तो बस आते जाते मेरी नज़र उनकी गांड पे ही रहती. देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी बिंदु माँ ने मुझे सेक्स का आदी बना दिया था, जिस कारण अब मुझे बिना लंड लिए चैन ही नहीं पड़ता था.

तो जीजा बोले- आराम से… चिल्लाना नहीं, रोना नहीं!जीजा का लौड़ा बहुत मोटा था इसलिए मेरी चूत में अब भी पूरा का पूरा फिट नहीं हो रहा था, मेरी चूत बहुत छोटी और टाइट थी, जीजा का लन्ड बहुत मोटा था परंतु मेरी चूत बह रही थी तो उसमें बहुत चिकनाहट थी.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी?

फिर पंकज नीचे लेटा और रेखा पंकज का लंड गप्प से मुँह में लेकर चूसने लगी. रेखा जोर जोर से सिसकारी ले रही थी और अपने दोनों हाथ पंकज के सर पर रख के अपनी चूत की ओर दबा रही थी. बस का चलने का टाइम हुआ तो 3 सुन्दर सी लड़कियाँ बस में चढ़ीं, उनमें से एक मेरे पास बैठी और बाकी दो 3 सीट वाली पर बैठ गईं.

मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उसके मुंह में दे दिया और उसके मुँह में वीर्य छोड़ दिया. वो बोला कि आज तो तुम्हारी प्रमोशन का लेटर निकलवाता हूँ, कल बताऊंगा. चूंकि डैड घर में नहीं थे… इसलिए मैंने माँ को रात लगभग दस बजे ये गिफ्ट दिया और उन्हें हैप्पी बर्थ डे कहा.

इधर मैंने रेहाना को पायल के दूध दबाने और पीने को कहा तो पायल को मजा आने लगा तो पायल अपनी कमर हिला कर मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी और मुझे इशारा कर रही थी कि मैं पायल की चूत में अपने लंड से तेज धक्के लगाऊँ तो मैंने भी उसके इशारे को समझते हुए अपने धक्कों की स्पीड को तेज करते हुए जोर जोर से चोदने लगा और मैंने पायल को अलग अलग पोजीशन में काफी देर तक चोदा. उसके बाद कोई 5 मिनट तक कुसुम विक्रम के लंड पर अपनी गांड उछालती रही. मेरे पति का लंड बहुत बड़ा और मोटा है जो किसी की भी चूत को फाड़ कर उसकी चूत का साइज़ बड़ा कर सकता है.

”लेकिन यक़ीनन तेरी शादी से पहले!”देखेंगे!!” प्रिया के हाव भाव में फिर से शरारत लौट आयी. सुबह 5 बजे जब मेरी नींद खुली तो सोचा चलो थोड़ा घूमकर सुबह का आनन्द लिया जाए, सो बस मॉर्निंग वॉक पर निकल गया.

मेरी कमिशन 10% काट कर मतलब 5000/- और 40000 मेरा लोन इस तरह से 45,000 मेरे बनते हैं बाकी के ये रहे 5000 रूपए, जो तुम्हारे हैं, ले लो.

मैं न्यू मार्केट में अपनी इंडिगो कार की डिग्गी से टिक कर खड़ा हुआ था, जो कि मैंने रोड की पार्किंग में पार्क की हुई थी.

मैंने भी खुलते हुए कहा- मुझे चूत में मज़ा नहीं आता, मैं गांड के मज़े लेता हूँ. जब तक उनको अंदाज़ा हो कि क्या हुआ, उससे पहले ही बर्फ का टुकड़ा उनकी चूत की गहराई में उतर गया. और मैं उसके गाल, उसके चुचे भींच भींच कर उसके होंठों को चूस चूसकर उसे मदहोश करता रहता हूँ.

जैसे ही मैं उसकी फुद्दी चूमने लगा, वो सिहर उठी और सीत्कार भरने लगी- आ अया. मैं उसकी जांघों पर चुम्बन करने लगा और फिर पेंटी के ऊपर से उसकी चूत को सूंघा. मेरी साली ने उसे अपने हाथ से हटाने की कोशिश की मगर उसने हाथ नहीं हटाया तो मेरी साली ने अपनी कोशिश छोड़ दी और वो अब चूचे दबवाने के मजे लेने लगी.

प्रिया की योनि के पद्म दल फिर से सिकुड़ कर योनि की गुफा को फिर से अत्यंत संकरा बना चुके थे, इसी कारण मेरी उंगली प्रिया की योनि के जरा सी अंदर जाने से प्रिया के मुंह से दर्द भरी सिसकारी निकली थी.

मैं बार-बार उनके चुचे और गांड देख रहा था और वो भी मुझे नोट कर रही थीं. मीशा मेरे लंड की गोटियां सहलाते हुएलंड को चूस चूस कर मजा दे रही थी. मैंने अपनी पेंट से कंडोम का पैकेट निकाला और चढ़ाने लगा तो आंटी बोलीं- ये किसलिए?मैंने कहा कि कहीं आप प्रेग्नेंट हो गई तो?वो बोलीं- तब तो और अच्छा है वैसे भी मेरे हज्बेंड में इतनी दम नहीं थी जो मैं प्रेग्नेंट होती.

नवीन फ़ौरन अपना लंड मॉम की चुत से बाहर निकालने के लिए पीछे की ओर हटने लगा. विनय मेरी झूलती और थिरकती हुई चुचियों को मुँह में लेकर पीने लगा, जो मुझे और उत्तेजित कर रहा था. अब उसने अपना एक हाथ मेरे एक चुचे पर रखते हुए मेरे कान में पूछा- क्या मैं तेरे मम्मों को दबा सकता हूँ?मैंने कहा- ज़रा ध्यान से.

इस बात का ना तो मुझ पर और ना ही आशीष पर कुछ असर हुआ, मगर बिंदु बहुत ही अधिक डर गई.

जैसे ही अपने लिंग को मैं बाहर निकाल कर दोबारा योनि में धकेलने के लिए जोर लगाता था, प्रिया के मुंह से इक दर्द भरी आह निकल जाती थी. तभी पारुल बोली- किसी अच्छे से होटल पर गाड़ी रोकना, चाय वगैरा ले लेते हैं.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी क्योंकि अगर इस दौरान गर्भ ठहर गया था तो उनके पति और घर वालों को शक हो जाएगा. सर्दियों की छुट्टियों में भी सिर्फ़ लड़की बन कर अपनी गांड में फिंगरिंग कर लेता, मम्मों को दबा लेता.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी अंजलि ने पीछे मुड़ कर देखा तो वो बोली- क्या हुआ भाई साब, रसोई में क्यों आ गए, यहाँ बहुत गर्मी है. बस एक इंच ही अंदर मेरी चूत में और घुसा लन्ड कि इतने में खिड़की से खट खट की आवाज आई.

बात शुरू हुई तो एक ही दिन बाद मैंने उसे प्रपोज कर दिया- क्या मेरी फ्रेंड बनोगी?उसने बोला- मैंने ही फोन किया और अब हद करते हो यार!मैंने साफ शब्दों में बोल डाला- गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड वाली दोस्ती.

सेक्सी देसी सुहागरात

उसी तरह कब हम दोनों अपने अपार्टमेंन्ट पहुँच गए, पता ही नहीं चला और वही मुद्रा आपके सीसीटीवी में कैद हो गई. उन गीली उंगलियों को ले जाकर दीदी ने अपनी चुत में घुसा दिया और दीदी के मुँह से आह… की कराह निकल गई. अब हम रोज रात रात भर बात करते और सुबह क्लास के बाद दोनों साथ नाश्ता करने किसी होटल या रेस्टोरेन्ट में जाते.

दोस्तो, आपको भी बताना चाहता हूँ कि कभी आपको भी ऐसा कोई मौका मिले तो उसी टाइम आपको भी उसे मस्त करना शुरू कर देना चाहिए कि उसे सोचने का मौका ही ना मिले और उसका रिएक्शन भी पता चल जाए. उधर विवाह में शामिल ज्यादातर को मेरे और नीति मैडम के अवैध रिश्तों के बारे में पता था. आज मुझे भी इसी बात का अहसास था कि आज भाभी की चुत मेरे लंड का पानी पिएगी.

फव्वारे के पानी के कारण चूत को गीला करने वाला रस धुल गया था तथा स्खलित होने के कारण मेरी बुर का घेरा थोड़ा छोटा हो चुका था.

बीस मिनट के बाद बुआ बोलीं- पानी कब गिराएगा?मैं बोला- इतनी स्लो स्लो करवाओगी तो मेरा पानी नहीं गिरेगा. आशीष बोला- यार अभी तक ध्यान ही नहीं दिया कि इसकी गांड कितनी मस्त है। वन्द्या बोल तेरी गांड में डालूं अपना लन्ड?फिर बोला- कुतिया तू ऐसा कर कि अपने होने वाले पति बालू से गांड की सील तुड़वा ले!मुझे बात बिल्कुल सही लगी कि कुछ तो होने वाले पति से अब करवा लूं। नहीं तो पता चला कि उसमें भी पहली बार आशीष ने अपना लन्ड डाल दिया. एकदम करीब आने से हम दोनों के शरीर एक दूसरे से टकराने लगे, मेरा तो हाल बहाल हो गया.

अब आशीष मेरे बूब्स को एक एक करके दोनों को चूसने लगा इतनी गन्दी गन्दी बातें और गालियां मुझे दे रहा था कि मैंने जो कभी सुनी भी नहीं थी, पर मुझे भी वो बहुत अच्छी लग रही थी और एक भी बुरी नहीं लगी।उसकी गालियां और गंदी बातें मेरे जोश को और बढ़ा रही थी. जैसे ही मेरे हाथ ने उसकी गरम चुत को छुआ, उसने मेरा हाथ पकड़ना चाहा, पर मैंने उसका हाथ हटा दिया. मैं बाथरूम जा कर फ्रेश हुआ और आया तो पायल उसी पोज़िशन में सो गई थी.

मेरी इस बात पर भाभी चुपचाप मेरे सामने नज़रों से नज़रें मिलाकर मुझसे बोलने लगीं- अच्छा मैं जंगली बिल्ली हूँ?मैंने बोला- हां हो. मेरी यह कहानी दो बहनों की जवानी की जरूरत पूरी करने की यानि चुत चुदाई है.

तब उसने मुझको थोड़ी देर बाद कॉल की, जब मैंने बात की, तक पता चला कि ये वो रवि नहीं था. उसने पूछा- आप किसी का वेट कर रहे थे?तो मैंने मज़ाक में ही बोल दिया- नहीं, मैं कार निकाल ही रहा था कि आप दिख गईं. इधर मैं जूही की चूत चाट रहा था, उधर नाज़ मेरा लंड चूस रही थी और मैं नाज की चूत सहला रहा था.

अब विनय ने मेरा सिर पकड़ लिया और एक झटके में लंड को मेरे गले तक पेल दिया, जिससे मुझे खांसी आ गई.

कामिनी बोली उसके डोले देख के- फुल गबरू हो!विवेक का शरीर बहुत गठा हुआ था, उसके टीशर्ट उतारते ही कामिनी उसके सीने को चूमने लगी, बोली- क्या बॉडी है जानू तुम्हारी! बांहों में लेती हूँ तो लगता है कि कोई मर्द ले रही हूँ बांहों में!विवेक ने उसको अपने बदन से चिपका लिया. मैंने उसे आवाज लगाई तो उसने मुझसे कहा- मैंने खाना लगा दिया है, आ जाएं. कल पूरी रात नेहा मेरा लंड सिर्फ तुमको याद करके अपना रस निकालता रहा.

वो मुझे हमेशा कहा करती थी कि रानी क्या रखा है इस जिंदगी में, जिन्दगी के असली मज़े लो. मैंने लैपटॉप वगैरह बंद किया और अब मॉम और दीदी को कैसे चोदूँ, बस यही सब सोचने लगा.

उहहह…’उसके बाद उसने मेरी दोनों टांगें ऊपर की और जोर जोर से धक्का लगाने लगा. तीनों बार मैंने उसकी चुत को ही चोदा, मेरा मन तो था उसकी गांड मारने का, लेकिन मैंने पहली ही रात ऐसा करना सही नहीं समझा क्योंकि अब हम दोनों को साथ में रहना था और उसकी गांड तो मैं बाद में कभी भी मार लूँगा. माफ़ी चाहता हूँ दोस्तो, मैं अपनी भावनाओं के आगे उस लड़की के बारे में बताना ही भूल गया.

पंजाब की ब्लू पिक्चर सेक्सी

उसकी सूजी हुई चूत में जोकि बुरी तरह से चुदने के लिए फुदक रही होती है, अपने लंड के पानी से ठंडी कर देता हूँ.

फिर दूसरी तरफ से पता नहीं क्या हुआ… दीदी दोबारा बोलीं- हाँ बोल… यहीं हूँ सुन रही हूँ… आ गई न लाइन पे… चल अब बता ये अचानक प्रमोशन कैसे…थोड़ी देर दूसरी तरफ से सुनने के बाद दीदी अचानक चौंक उठीं- क्या बात कर रही है… ओ माय गॉड… सच में? आई कांट बिलीव दिस यार… तूने उस बुढ्ढे से चुदवा लिया?यह कह कर दीदी का मुँह खुला का खुला ही रह गया. उन्होंने भी मेरे अंडरवियर में लंड को आइसक्रीम लगा दी और लंड को बियर से नहला दिया. दो दिनों के बाद मैंने देखा कि चूत कमसिन जवान लौंडिया की अनचुदी चुत जैसी लग रही थी.

फिर मैंने उसके टॉप को लेकर तकिए पर रख दिया ताकि जब उसकी बुर की सील टूटे, तो खून से तकिया खराब न हो जाए. मैं और मीशा जब भी टाइम मिलता था, तो चूमाचाटी आदि तो करते ही रहते थे… पर कभी सेक्स करने का मौका नहीं मिला था. बाप बेटी का सेक्स बीएफएक दिन उसने चैट के दौरान बोल ही दिया कि मैं काफी दिन से तुम्हारा बिहेवियर देख रही हूँ, तुम बहुत बदले बदले रहने लगे हो.

थप्प-थप्प… थप्प-थप्प… थप्प-थप्प…!! नीचे कबीरदास की चक्की पूरे यौवन पर चल रही थी. एक तो जिसमें चुदाई के लिए मैसेज मिला करते थे और दूसरा जिस पर मैं अपने जान पहचान व रिश्तेदारों से बात करती थी.

कुछ देर बाद मैं उसके ऊपर चढ़ गया और कभी उसको किस करते हुए, उसकी चुचियां चूसते हुए उसको चोदने लगा. मेरे बच्चा सो चुका था। मेरा भतीजा अभी अपने कमरे में सोने ही जा रहा था. मैंने लंड को खाली करने के लिए चुत का भोसड़ा बनाने को ही ठीक समझा और दीदी की चूत पर पिल पड़ा.

आप उसके रेस्ट हाउस में जाकर उससे मिलिए और कहिएगा कि आप मेरी बहन हैं और मैं अकेला ही घर का खर्चा चलाने वाला हूँ और आप मेरी बदमानी सहन नहीं कर पाओगी. ’ बोलने लग जाती है और मैं बिना कम्पलीट हुए रह जाता हूँ।मेरी पहली कहानी मेरे गाँव की है। एक लड़की जिसने मुझे बहुत तड़पाया, लेकिन फिर उसी ने इतना मज़ा दिया कि क्या बोलूँ।उसका नाम शकुंतला है। मेरे घर के पास में ही उसका घर है। वो मुझे एक साल छोटी है. आह… मेरी माँ मेरा लंड चूस रही थीं, मुझे जन्नत का अहसास होने लगा था.

हालांकि मेरा मन तो नहीं था, फिर भी मैंने स्मिता से कहा- चलें यहां से?उसने कहा- नहीं थोड़ी देर और रुकते हैं.

छोटी एक ओर दुबक के बैठी थी, मैंने उसे देखा और कुछ सोच कर लंड बाहर निकाल कर आंटी के बगल में लेट गया, आंटी का कामरस जांघों पर बह गया। मेरा स्खलन एक बार हो गया था और दुबारे के लिए तो साहब… हमें बहुत ज्यादा वक्त लगता है।मैंने आंटी को कहा- अब ड्राइवर सीट आपकी!आंटी ने एक बार धीरे से नहीं कहा. मैंने एक झटके से अपना अंडरवियर नीचे कर दिया और मेरा लंड ने झटका मारते हुए उसके एक बल्ब को छूते हुए उसके होंठों के सामने पेशी कर दी.

वो- उफ़…!मैं- मुझे कितना कुछ कहने का मन कर रहा है लेकिन डर भी लग रहा है कि कहीं तुम्हें किसी बात का बुरा ना लगे, इसलिए नहीं कह रहा हूँ. वो शर्मा गईं और मादकता से कहने लगीं- चूतिये मुझे पता था, तू बहुत तेज़ है साले गांडू. तभी एक लड़की जो कि उनकी बुआ थी, उन्हें ढूँढते हुए हमारे पास आई और उन्हें कहने लगी कि बिना बताए कहां चले गए थे.

उसका लंड मेरी चूत के रस से गीला होने की वजह से इतनी जल्दी मेरी गांड की दीवार को चीरता हुआ अन्दर तक पहुंच गया कि मुझे समझ ही नहीं आया. उसका दूध किसी अमृत से कम नहीं लग रहा था, जिसे मैं सारा का सारा पिए जा रहा था. अगर तुम चाहो तो मेरे एक दो दोस्त भी हैं जो तुम्हारी जवानी का मज़ा लूटना चाहते हैं.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी मैं भी उससे गंदी गंदी बातें करने लगा- साली कमीनी तेरा पति तुझे अच्छे से नहीं चोदता, जो तू मुझसे चुद रही है. फ़िर वो रस्सी के टुकड़े उठा के अपने पास रखे और एक टुकड़ा लेकर उनको बेड के किनारे बाँधा और फ़िर झटके के साथ उनके हाथ को खींच के उनको रस्सी से बाँधने लगा.

चित्रकला सेक्सी

माँ ने बताया कि मौसा जी की तबियत खराब होने के कारण वे चार-पांच दिन के बाद आ पाएंगी. वो भी मजे से ‘आआह्ह्ह ओह्ह्ह ह्म्म्म…’ की आवाजें निकालने लगीं, मुझे भी अब बहुत मजा आ रहा था. इससे मेरी भी हालत खराब होने लगी और मैंने अपना लंड बाहर निकाल कर पूरा माल जूही की चूत और पेट के ऊपर गिरा दिया और नाज़ को उसको चाटने के लिए बोला तो वो न नुकुर करने लगी, फिर थोड़ा मनाने के बाद पूरा वीर्य चाट गयी.

तब मीशा ने लंड को पकड़ के अपनी चूत के छेद पे रखा और मुझे ज़ोर लगाने को कहा. अब उसने कहा- अब क्या पूरी रात चूसते ही रहोगे या कुछ आगे भी करोगे?मैंने देखा कि मेरे लंड ने इतना पानी बहा दिया था कि उसे किसी भी चीज की जरूरत नहीं थी, जैसे चिकनाई या तेल की या थूक की… सो मैंने इसके बाद अपने लंड को हाथ में पकड़ा. मा xxx hdमेरा परिवार एक मध्यम वर्गीय परिवार था तो मुझे भी दूसरी लड़कियों की तरह सजना संवरना और महँगी चीजों का शौक था.

नमस्ते दोस्तो, कैसे है आप सब… मेरा नाम समीर है, मैं 25 साल का हूँ और काफी गोरा व दिखने में स्मार्ट और हैंडसम हूँ.

मैंने उसके दोनों गाल पर हाथ रखे हुए थे और धीरे धीरे उसके मुँह में धक्के मार रहा था. मेरे दोस्तों ने भी दीदी की चुदाई की, दीदी से सेक्स किया, हमने हर वो चीज़ करने का प्रयास किया जो हमको पता चली.

इसके बाद मैंने भाभी के कपड़े पूरी तरह से अलग किए और अपने कपड़े भी उतार कर उनके ऊपर चढ़ गया, भाभी ने भी अपनी बांहें पसार कर मुझे अपने आगोश में भर लिया. ये सब मुझे वैसे तो बहुत बुरा लग रहा था, लेकिन अन्दर से मजा भी आ रहा था. लेकिन बर्थ छोटी थी, जिस वजह से परीक्षित को थोड़ी सी समस्या हो रही थी.

उसने मेरी शर्ट उतार दी और पेंट खोल कर लंड को मुँह में ले लिया और बहुत अनुभवी खिलाड़ी की तरह मुँह में लंड लेकर गपागप लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

दस मिनट की चुदाई के बाद मैं उसकी चुत में झड़ गया और मैंने अपना लंड बाहर निकाल कर उसके मुँह में दे दिया. कई बार मयूर से कहते थे- यार अगर रचना की चूत दिला दो तो तुम्हारा तुरंत ही प्रमोशन कर दूँ. फ़क… फ़क आह आह…जैसे ही पानी का फव्वारा ख़त्म हुआ, दीदी ने झट से करेला वापस चुत में घुसा दिया.

इंडियन sex videoमैंने कई बार नीति मैडम को बोला था कि मैं उस रुचिका चौधरी (जाटणी) मैडम को चोदना चाहता हूँ. तुम लोग… बस! आ जाओ!मामला हल हो गया था, आनन फ़ानन में बच्चों का भी बैग पैक किया गया.

सेक्सी वीडियो फर्स्ट

फिर मैंने बैग में से व्हिस्की की बोतल निकाल ली और डिस्पोजेबल गिलास में बढ़िया सा पटियाला पैग बना के सिप करने लगा. करीब 5 मिनट तक मैंने मिंकी की नाभि में जीभ डाल कर घुमाई, उसके बाद मैं उसकी चूत पर आ गया और एक हाथ से उसका बायाँ दूध दबाने लगा और सीधे हाथ की एक उंगली उसकी चूत में डाल कर उसकी चूत के दाने पर अपनी जीभ चलाने लगा।जैसे ही मैंने मिंकी की चूत के दाने पर अपनी जीभ लगाई, वैसे ही मिंकी एकदम ऐसे उछली जैसे उसे 1000 वॉट का करंट लगा हो और पलक झपकते ही उसने अपने दोनों हाथ से मेरा सर पकड़ा और अपनी चूत पर दबाने लगी. वो झड़ने के बाद थोड़ी देर मेरे ऊपर लेटी रहीं, फ़िर साइड में लुढ़क गईं और जोर जोर से साँस भरने लगीं.

यहाँ हम दोनों चुदाई में लगे थे और इस वक्त मुझे सुहानी का बुलाना पसंद नहीं आया. मैंने निकालने की कोशिश की तो दीदी के मुँह से दर्द भरी सिसकारी निकलने लगी. मैंने भाभी से कहा- डार्लिंग अपनी ब्रा खोल दो और मेरे मुँह में अपना निप्पल दो.

मुझे भाभी के चेहरे पर खुशी नज़र आ रही थी।उसके कुछ दिन बाद भाभी फिर अपनी ससुराल में आ गई. बिस्तर से नीचे उठी, एक चाकू पड़ा था सब्जी वाला उसे ले लिया, और बोली- अगर अब अगर छोड़ोगे नहीं तो मैं मार दूंगी तुझे गन्दे जीजा, मुझे जाने दो, मुझे तेरे ड्रेस नहीं चाहिए।मैं पूरी नौटंकी कर रही थी और मजा ले रही थी. अब मैंने विनय की चड्डी को नीचे कर दिया और उसका 7 इंच का भूरे रंग का लंड मेरे सामने आ गया.

अब तक आपने पढ़ा था कुसुम मुझे अपने ग्राहक के सामने बैठा कर लाइव चुदाई की फिल्म दिखा रही थी. मैं उनको विजुअल डिक्शनरी से पढ़ाता था, जिसमें सारे पिक्चर बने होते हैं.

अभी ऑटो वाले ने मेरे को बहुत घुमाया, अगर आप उसी तरफ जा रहे हों, तो मुझको छोड़ सकते हैं क्या?मेरा तो दिमाग़ ठंडा हो गया, जिससे मैं बात करने का सोच रहा था, वो मेरे साथ बैठ कर जाना चाहती है.

वाह्ह… क्या चूत थी उनकी… एक भी बाल नहीं था उनकी चूत पर… मेरा तो मन हुआ कि मैं अभी चाची की चुत चाट लूँ. xxx मारवाङीजैसे ही सुपारा चुत में घुसा, उसको बहुत दर्द होने लगा, उसके मुख से निकला- उम्म्ह… अहह… हय… याह…हालांकि वो सील पैक माल नहीं थी, वो अपने ब्वॉयफ्रेंड से 3-4 बार चुद चुकी थी, लेकिन उसके ब्वॉयफ्रेंड का लंड मेरे जितना मोटा नहीं था और अब उसे काफी दिनों से लंड मिला भी नहीं था. बीएफ 12 साल की लड़कीबिंदु बोली- ठीक है ज़रा सोचने दे, मेरी बूढ़ी चूत से तुम्हारा काम भी करवाती हूँ जिससे चुदाई भी आराम से हो और कहीं किसी को भनक भी ना लगे. फिर थोड़ी देर बाद चाची उसी नाइटी में आईं और उन्होंने पूछा- चाय पीनी है?मैंने हां कह दिया, फिर वो चाय बनाने चली गईं.

पहले तो मैंने इन दोनों के लंड को चूमा और तुरन्त ही लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी क्योंकि मुझसे अब सब्र नहीं हो रहा था.

मैंने एक हाथ से उनके मम्मे दबाने जारी रखे और दूसरे हाथ से उनकी चूत को सहलाने लगा. मैंने भी उसका साथ देते हुए उसके निचले और ऊपर के होंठों को काटते हुए चूमना शुरू कर दिया. मैं बहुत खुश हुआ कि मुझे सील बंद चुत मिली हैमैं अब रूका और उसे किस करने लगा.

मैं जल्दी से उठा और नहा कर कपड़े बदल कर होटल से निकल गया और ऑटो लेकर मधु के बताए पते पर पहुँच गया।वो घर क्या. मेरे में क्लिट वाली लुल्ली नहीं है न इसलिए!अरे ऐसी बात नहीं है, एक और चीज़ से जो क्लिट से भी ज्यादा मजे देती है, उसे जी स्पॉट कहते हैं. मैंने पूछा इस कंडोम का क्या करने वाली हो, जो इसे पैक कर रही हो?पहले तो हंस कर बोली- इसका अचार डालूँगी.

सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन

मैंने कहा- हां, लेकिन कोई जादू नहीं, बस वियाग्रा ही डालना दूध में…हमने हंसते हुए एक दूसरे को किस किया. रात को जब वो डिनर करके वापिस जाने लगा तो मैंने उसको बाहर तक छोड़ा और उसके इतना पास चिपकी सी रही कि अपने मम्मों की रगड़ भी उसको लगाती रही. चाची की चुची शर्ट के गले से दिख रही थी तो मेरी नज़र सीधी उनके मम्मों पर गई थी.

फिर शाम होते मैंने बहन से पूछा- कैसे लगे वीडियो?वो कुछ डर गई और बोली- कैसे वीडियो.

पहले तो भाईसाहब ने मना कर दिया, पर बाद में बोले कि आप चलिए मैं आता हूँ.

मुझे फिगर का अनुमान लगाने में देर न लगी क्योंकि हम लोग कॉलेज में अधिकतर लड़कियों को देख के फिगर का ही अनुमान लगाते फिरते थे. वाह… क्या चुदाई थी यार… सबसे बढ़िया… उसके बाद मैं वैसे ही उसके ऊपर लेट लिया. 18 साल की लड़की की चुदाई बीएफकुछ देर, शायद पता नहीं पर 20-25 मिनट तक धीरे धीरे स्ट्रोक से वो और मंज हम दोनों भी इतने गर्म हो चुके थे कि पूछो मत.

पारुल का फिगर देख कर में हैरान रह गया, उसके चुचे एकदम सफेद और खड़े थे और निप्पल भी पिंक थे क्योंकि जहाँ तक मैंने देखा है बच्चे के बाद औरत के निप्पल व निप्पल के आस पास की स्कीन ब्लैक हो जाती है लेकिन दोस्तो, पारुल की स्कीन पिंक थी. अब पवन झड़ने वाला था, उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मेरे बाल पकड़ कर मुझे बैठा कर अपने लंड को मेरे मुँह में पेल दिया. मेरी तरफ उनकी कमर और मोटी गांड थी, जो मैक्सी में बड़ी सुंदर लग रही थी.

लेकिन अभी पहले की तरह से ही हम लोग फ्रेंड हैं और चुदाई के पार्ट्नर्स भी हैं. उस दिन मैंने भाभी को तीन बार चोदा, जिसमें वो पूरी तरह संतुष्ट हो गई थीं.

मैंने उनसे पूछा- मैं कुछ हेल्प करूँ?पहले उन्होंने मुझे देखा, फिर बोलीं- नहीं आप परेशान मत हो.

मेरी हालत बहुत खराब होने लगी, तभी मैं गहरी सांस लेने लगी और मेरा बदन टूटने लगा. वो भी इतनी गरम हो गई थी कि जैसे ही मेरे होंठ उसकी चुत को चूमते, वो अकड़ जाती. माँ ने इसी स्थिति में खुद को मेरे ऊपर कर लिया और मेरे होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और मेरे होंठों के रस को चूसने लगीं.

बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी वीडियो मैंने जानबूझ कर पूछा- मां कहां जा रहीं हो?मां कोई दवा खाते हुए कहने लगीं- स्कूल का जरूरी काम है… मुझे जाना है और कुछ टाइम लग सकता है. मैं यह कह कर सीधा हो गया और मेरा लंड पूरा खड़ा हो कर छत की तरफ देखने लगा.

कुछ देर बाद वह चली गई और जाते हुए उसके चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कराहट थी. अपनी जीभ कभी चुत के अन्दर डालता, तो कभी उसके भगनासा पर ऊपर से नीचे तक जीभ फेर देता था. मैंने वन्द्या की लैगी और पैंटी एक साथ उतार कर सीधे टांगें फैला कर जैसे चूत में मुंह रखा, पूरी चूत बह रही थी, मैं समझ गया बहुत गर्म है, पहले से ही चुदाई का सोच लिया होगा.

மசாஜ் செஸ் வீடியோ

अब हम कभी कभी फ़ोन सेक्स भी करने लगे थे और वो मुझे अपने बूब्स की पिक्स भी भेजने लगी थी. लेकिन हाँ, जिस लड़की की चूत की सील नहीं टूटी होती है उस चूत में शुरू में थोड़ा दर्द होता है, उसके बाद सब नॉर्मल हो जाता है और बहुत मजा आता है. एक भाई अपनी सगी बहन को रक्षाबंधन के दिन चोद रहा था और वो बहन मजे से चुदवा रही थी.

तो मैं 69 की पोजीशन में हो गया, मतलब मिंकी के मुँह में अपना लंड डाल दिया और मैं मिंकी की चूत चाटने लगा तो कुछ समय बाद ही मिंकी कहने लगी- साहब, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है इसलिये अपना लंड मेरी चूत में डाल दो!तो मैंने भी देर करना मुनासिब नहीं समझा और झट से मिंकी के मुँह से अपना लंड निकल लिया और उसकी चूत पर अपना लंड घिसने लगा. माँ ने एक पल के लिए अलग होकर अपने सभी कपड़ों को मुक्ति दे दी और मेरे कपड़ों को भी खींचते हुए अलग कर दिया.

आप के और मेरे बीच एक बार जो हुआ वो किस्मत थी लेकिन मैं सुधा मौसी को बहुत प्यार करती हूँ और हरगिज़-हरगिज़ नहीं चाहती कि मैं उन के दुःख का कारण बनूँ.

अगर तुमसे 40000 मिल भी जाएंगे तो भी बाकी की रकम मुझे ही पैदा करनी है. मैंने घर आते समय चौराहे की दुकान से एक पेप्सी की बोतल और खाने के लिए चिप्स ले आया क्योंकि मुझे पता था कि उसे पेप्सी बहुत पसन्द है. जैसे ही हम रूम में पहुँचे मैं कपड़े बदलने लगी, जब कपड़े बदल लिए तो उन्होंने मुझसे दरवाजा लगाने के लिए बोला.

लेकिन अब काम्या बहुत ज़्यादा तड़प गई थी और गालियां देने लगी थी- डाल मादरचोद, अन्दर डाल बहनचोद… डालता क्यों नहीं है. पहले जब मैं हस्तमैथुन करता था तो मैं हर बार बहुत जल्दी ही झड़ जाता था, पर पता नहीं आज क्या हो रहा था. दीदी लिविंग रूम से किचन में आ रही थीं, वो अभी भी फोन पे किसी से बात कर रही थीं और बीच बीच में कहकहे लगा कर हंस रही थीं.

मैंने बिना रुके दूसरा जोरदार धक्का मारा और मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ हिंदी: फिर मुझे लगा कि अब मुझे नीचे की तरफ बढ़ना चाहिए, इसलिए मैं उनके पेट की तरफ बढ़ने लगा. इधर मैं और भाई भी थकान के कारण जहां जगह मिली, सो गए।लगभग सब की चुदाई होते होते 3 बज़ गए थे। दूसरे दिन रविवार था, कर्मचारियों को आना नहीं था, तो सब नंगे ही सो रहे थे.

मैंने दूसरे दोस्त को रूम के लिए बोला और बहुत खोजने के बाद होटल में एक रूम मिला. फिर वो नंगी बेड पर लेट गयी, मैं बोला- आप सो जाओ, मैं बाहर से लॉक करके जाता हूँ, फिर जल्दी से आता हूँ. दीदी ने पैंटी का आगे का हिस्सा पकड़ कर साइड में सरका दिया… जिससे दीदी कीचुत बिल्कुल नंगीहो गई… और अब चुत साफ साफ दिखाई देने लगी.

पर कुछ डाक्यूमेंट्स की प्रॉब्लम हो गई थी, इसलिए वापस आने में समय लग गया.

मैं अब मुंबई में जॉब करने आ गया, लेकिन जब भी मैं घर जाता हूँ तो भाभी की चुत चुदाई का कुछ ना कुछ मौका निकाल कर चोदन कर ही लेता हूँ।तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्सी कहानी… आप सबको कैसी लगी? मुझे मेल करके ज़रूर बताना, मैं आपके मेल का इंतजार करूँगा।[emailprotected]. मैं भी जोश में आ गई थी, तभी उसने मेरी ब्रा भी निकाल दी और मेरी जीन्स भी निकाल दी. फिर अल्युमिनियम फोइल्स में लिपटे हुए परांठे, सब्जी, पिकिल्स, प्याज, नमकीन सेव और स्वीट्स परोस लिया.