हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,माँ बेटे का हिंदी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी दिखाव सेक्सी: हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ, अल्पना और उसका बॉयफ्रेंड विवेकसोना और उसका बॉयफ्रेंड सनी औरमेरी एक क्लासमेट है रुचि.

सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो दिखा दो

मैंने उससे उसके पति के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि वो शाम को आएंगे, किसी मीटिंग में गए हैं. सेक्सी वीडियो मोनामेरे दोस्त ने बताया कि वो लड़की कई बार दूसरी लड़कियों के माध्यम से मेरे बारे में बात कर चुकी है.

तब भाबी बोली- तुम एक काम करो, तुम यहां बेड पर बैठ जाओ और मुझे तुम्हारे लंड पर सरसों का तेल लगाना पड़ेगा. ऑनलाइन कपड़े चाहिएउसने बाद में मुझे बताया कि ये तीन दिन उसकी लाइफ के सबसे अच्छे दिन थे.

फिर उसने मेरा ब्लाउज के बटन खोल दिए और पेटीकोट का नाड़ा भी खींच दिया, जिससे पेटीकोट ढीला हो गया.हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ: उसकी निगाहें मुझे कुछ ऐसी लगती थीं, जैसे वो मुझसे कुछ कहना चाहती हो.

पहली बार दीदी के उभारों को अपने होंठों से छुआ था इसलिए आनंद की कोई सीमा न थी.मेरा लंड पूरा नपा तुला आठ इंच लंबा और इंची टेप से लंड की गोलाई नापी जाए, तो ये पांच इंच मोटा है.

भाभी का चुदाई सेक्सी - हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ

हम सब के मन के साथ उसने थोड़े छेड़खानी की, हम सब आज भी एक दूसरे के साथ हैं और सबकी भावनाएं समझते हैं, सबको सम्मान देते हैं.आपको इस बात को पढ़ कर कुछ अंदाजा तो हो ही गया होगा कि मेरी कहानी किस तरफ जाने वाली है.

दीदी ने मेरी पैंट की चेन खोल दी और फिर मैं समझ गया कि दीदी मेरे लंड का स्पर्श पाना चाहती है. हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ मैं बार बार जब भी मौका मिलता, भाभी की चूचियों को और गांड को दबा देता था.

तो दोस्तो, चूंकि मैं शहर में नया था तो मुझे रहने के लिए रूम नहीं मिल रहा था.

हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ?

जब मैं रसोई में सामान रख कर वापस आई तो मैंने नीची नजरों से उसके लंड की तरफ देखा तो उसका लंड खड़ा होना शुरू हो गया था उसके लंड की शेप उसकी पैंट में अलग से ही दिखाई देने लगी थी. मैं ऑफिस से करीब 6 बजे निकल कर अपनी कार से अपने रूम की तरफ जा रहा था. मन में संतोष और पूरे बदन में थकान महसूस होने लगी थी, पर मेरा मन राजशेखर को अलग नहीं होने देने को हो रहा था.

लिंग का सुपारा अब तक मेरी योनि में प्रवेश कर चुका था और अपना संतुलन बनाने के बाद उसने धक्का मारा. उसके होंठों को चूसते हुए मुझसे रहा न गया और मेरा हाथ उसकी जांघ पर फिरता हुआ उसकी चूत को टटोलता हुआ उसकी पजामी के अंदर घुस गया. उसने मेरी ब्रा फाड़ दी और मेरे बड़े बड़े मम्मों को अपने मजबूत हाथों से दबाने लगा.

पहला दिन का एग्जाम हो गया और उसी शाम तक उन चारों लड़कों से मेरी दोस्ती हो गई. मैं बहुत दिनों से आपको ये बात कहना चाहता था लेकिन कह नहीं पा रहा था. दर्द में मेरी आंखें बंद होने लगीं मैं बोली- आह्हह … नहीं अंकल … आह्ह … मत करो।उन्होंने मेरी कराहटों पर ध्यान नहीं दिया और मेरी गांड को अपनी उंगली से ही चोदने लगे.

फिर मैंने भाभी को चूमते हुए पूछा- कैसा लगा?भाभी ने मुस्कुरा कर कहा- जिंदगी में ऐसी चुदाई मैंने कभी नहीं की; मुझे बेइंतेहा मजा आया. मैंने और ऊपर बढ़ते हुए दीदी के होंठों पर कसके काट लिया और उनके ब्लाउज को खींच कर फाड़ दिया.

कमलनाथ- तुम्हें कैसे पता कि मैं क्या पूछ रहा हूँ? इसका मतलब तुम्हें पता है कि रात को उनके बीच क्या होता है.

फिर मैंने अपने लंड को दीदी की चूत पर रखा और उसको दीदी की चूत पर पटकने लगा.

मैंने अपने लंड पर कंडोम लगाया और उसकी गांड के छेद पर रखकर एक झटका दे मारा. फिर उसने अपना हाथ धीरे से मेरी पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड पर रख दिया. नेता जी ने मेरे हाथ से गिलास लिया और फिर एक हाथ से पकड़ कर मुझे अपनी जांघों पर खींचकर बिठा लिया.

उसकी पैंटी को निकाला तो उसकी सांवली सी चूत मेरी आंखों के सामने नंगी हो गई. उनके झड़ने के कुछ पल बाद मैंने भी अपने लंड का पूरा रस भाभी की चूत में ही भर दिया. कुछ देर ताश खेलने के बाद उसने फिर से वैसे ही पैर पलंग के साइड में लगा दिए और आज मुझे उसकी गुलाबी पैंटी दिखने लगी.

चूंकि अंगिका से बातें करते हुए मुझे तीन दिन हो गये थे इसलिए मुझे भी मजा आ रहा था.

मगर मैं आपकी जानकारी के लिए उसके फीगर का नाप अभी बता दे रहा हूं ताकि आपको पता लग सके कि वो दिखने में कैसी रही होगी. तभी मेरे लंड ने पिचकारी छोड़ दी और मेरे माल से उसका मुँह भर गया जिसको वो पी गई।थोड़ी देर तक हम दोनों वैसे ही शांत पड़े रहे. अंदर मैंने देखा कि मेरा भाई अपने लंड को हाथ में लेकर सू-सू करने की पोज में खड़ा हुआ था लेकिन वो सू-सू करने की बजाय अपने लंड को आगे और पीछे की तरफ किये जा रहा था.

कुछ दिन के बाद साराह मैम के पति का 10 दिन का ट्रेनिंग का प्रोग्राम लग गया तो साराह मैम ने मुझे बताया- मेरे हसबैंड दस दिन के लिए आउट ऑफ़ स्टेशन जा रहे हैं, अब मौक़ा अच्छा है, तुम आ जाओ. वो कोई चीज परोसने के लिए झुकी, तो उसके गहरे गले से मुझे उसकी चूचियों के दीदार हो गए. रास्ते में हमें बहुत से जोड़े मिले, जो कुछ नवविवाहित थे … कुछ गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड … कुछ विदेशी भी थे.

दो दिन बाद प्रीति मेरे घर आई और बोलने लगी कि आज भी वो अकेली है, तो ताश खेलने के लिए आ जा.

उसने ये भी बताया कि शुरुआती समय में इस तरह के वातावरण में आने से पहले उन्होंने मजे के लिए पुरुष तथा महिला वेश्याओं का सहारा भी लिया था. मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू किया और अपने हाथ से उसकी चुचियों को दबाने लगा जिससे उसके अंदर भी वासना भर गई और वो मेरा भरपूर साथ देने लगी.

हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ नमिता की कोहनियां किचन स्लैब पर टिका कर मैंने उसे घोड़ी बना दिया और उसके पीछे आकर उसकी टाँगें फैला दीं. शादी को दस साल हो चुके हैं लेकिन पता नहीं हमें अभी तक औलाद क्यों नहीं हुई है.

हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ फिर मैंने उसी रात अपने पति के साथ में सेक्स करते हुए उनसे कहा- क्या मैं रोशनी से तुम्हारे लिए बात करूं?ये सुनकर उनका तो खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा. चूत पर क्रीम लगाने के बाद मैंने कुछ देर इंतजार किया कि ताकि चूत के बाल नर्म हो जायें.

मैंने उससे कहा कि तुम मेरे घर पहुंचो, मैं सवारी छोड़ कर कार लेकर सीधा घर आ जाऊंगा.

वीडियो एक्स बीएफ

रवि के धक्कों में अब फिर से धीरे धीरे तीव्रता आने लगी और मुझसे भी जहां तक हो सकता था, वहां तक अपनी कमर उठा कर उसके लिंग को अपनी योनि में आने देती थी. मुझे पहले की भांति इस बार का लिंग कुछ अलग सा लगा, इससे मैं समझ गई ये राजशेखर नहीं है. फिर एक दिन उन दोनों ने मुझसे कह दिया कि आज के बाद वो कभी भी मेरे साथ सेक्स नहीं करेंगी.

अब वो भी नीचे से गांड उठा उठा कर मेरा आठ इंच का लन्ड अपनी चूत में ले रही थी. कमलनाथ ने एक मापने के लिए एक स्केल ली और हर एक गमले में उसे डालकर कुछ नापने लगा. एक दिन नॉर्मल बात हुई फिर सबकी तरह उसकी भी वही डिमांड कि पिक सेंड कर दो.

उस दिन तो मैं बस यही सोचता रहा कि किसी भी तरह बस उसकी बुर चोदने को मिल जाये.

रमा ने थोड़ी सी क्रीम को मेरी योनि में लगा दिया और कहा- कौन आएगा पहले. मामी मेरा लंड लेकर खुश रहने लगी थी और मैं भी मामी की मामी की चुदाई करके मजे लेता रहा. कुछ देर उसके मम्मों को चूसने के बाद मैंने अपना एक हाथ उसकी सलवार में सरका दिया और उसकी चूत पर रखा, तो मैंने महसूस किया कि उसकी चूत बिल्कुल भीगी हुई थी.

पीछे से ब्लाउज की एक पतली सी पट्टी होने के कारण पूरी पीठ लगभग नंगी रहती है. साराह ने मुझे अपना पर्सनल नम्बर भी दे दिया था और बोल दिया था कि तुम मुझे कभी भी कॉल कर सकते हो. फिर मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और आंटी की चूत को दस मिनट तक लगातार चोदने के बाद मेरा माल निकलने को हो गया.

वो बोली- नहीं जीजाजी, लड़के बहुत हरामी होते हैं। कोई गर्लफ्रेंड बन जाए तो सारी दुनिया में बताते घूमते हैं. तब तक दूसरी महिला ने पूछा- क्या आप सब सारिका को पहले से जानते हो?तब कांतिलाल ने उत्तर दिया- हां कल रात से तीनों सारिका को अच्छे से पहचान चुके हैं.

मैं बोला- यार क्या करूं राकेश, तेरी बीवी है ही इतनी मस्त कि मुझसे बिल्कुल कंट्रोल भी नहीं हुआ. फिर वो झट से अन्दर के कमरे में गई और एक थोड़ा सा खुला सा टॉप और सिलेक्स पहन कर आ गई. उनको काफी देर तक काम करना होता है इसलिए वो देर रात को ही घर पर आते हैं.

जब दीदी के चूचों का स्पर्श मुझे मिला तो किसी तरह मैंने खुद को रोका.

तभी मेरा लंड भी फैलने लगा, वो दर्द से चिल्लाईं … लेकिन मैं अब गांड की तेज चुदाई करने लगा. मैं बोला- अब मैं जाऊं?उसने बोला कि अब और भी करना है क्या?मैंने बोला- करना तो था, मगर अब बाद में करूंगा. वो बोला- साली रंडी, मैं बहुत दिनों से तेरी चूत को चोदना चाह रहा था.

चुदाई के दौरान मर्द इनको मुंह में लेकर चूसता है और जब बच्चा पैदा होता है यहीं से दूध निकलता है. सब कुछ अच्छा चल रहा था, लेकिन एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि जिससे सब कुछ बदल गया.

जब उसके नहाने का टाइम होता तो वो नहाने के लिए हमारे कमरे के पीछे जो स्टोर रूम था, ठीक उसी के पास खुली जगह पर एक हैंड पंप लगा हुआ था, वो उसी पर नहाती थी. मॉम जोर जोर से आवाज निकाल रही थीं- आह आई … और जोर से दबा कर पी … आई … पी ले बेटा … यह तेरे लिए ही हैं. छठी मंजिल आने के बाद आंटी ने मुझसे हेल्प करने के लिए कहा तो मैंने उनको हां कहा और दो बैग उठा लिये.

सेक्सी सेक्सी बीएफ दिखाइए

वो लिंग मेरी योनि में फंसा कर घुटनों के बल खड़े होकर अपनी कमर में हाथ रख बोला- मजा आ गया.

अन्दर आकर उसने अभी बॉटल को खोला ही था कि मैं भी बाथरूम से बाहर आ गया. उसने अब मेरे चूतड़ों को दोनों हाथों से फैलाना शुरू कर दिया और अपना मुँह बीच में डाल मेरी योनि जीभ से टटोलनी शुरू कर दी. इतना सुनने के बाद मैंने भाभी को कार से नीचे उतरने के लिए कहा और कार को लॉक कर दिया.

अबकी बार मम्मी ने खुद लंड को पकड़ कर चूत के मुँह पर रखा और बोलीं- हां बेटा, अब आराम से धक्का लगा. उसके बाद जब मैं कांतिलाल को केक खिलाने गई, तो उसने मुझे मना कर दिया. रजिया बाईनमिता की बातें सुनने के दौरान मेरा लण्ड अपना काम जारी रखे था, नमिता की बूर से बहती रसधारा से सराबोर लण्ड मैंने उसकी बूर से निकाला और गांड के छेद पर रख दिया.

मैं काजल की पूरी बॉडी को चूम रहा था ताकि उसे वो सेक्स के आनन्द से ऐसे भर सकूं, जो उसकी पूरी लाइफ में यादगार रहे … और वो चाहकर भी ना भूल सके. उसके निप्पल एकदम कठोर थे और उसके बोबे का साइज़ मेरे हाथ में फिट बैठ रहा था.

अब हम गीले हो चुके थे, जिससे मेरे चूचे पूरी तरह से दिख रहे थे … शायद मेरे मम्मों को देखकर उसका लंड भी खड़ा हो गया था, जो उसके चड्डा में से अलग ही दिखने लगा था. भाबी कमाल की सेक्सी औरत लग रही थी। उनको देखकर मन कर रहा था की बस उन्हें देखता ही रहूं।थोड़ी देर मैं और भाबी इधर उधर की बातें करते रहे. लेकिन मेरे जोर देने पर फिर वो मान गई, बोली- अगर दर्द हुआ तो निकाल देना.

फिर उसने मेरे लंड को सीधा मुँह में डाल लिया, जैसे ही मेरा लंड उसके मुँह में गया. मुझे देख कर उन्होंने पूछा कि कुछ खाओगे?मैंने कहा- नहीं!फिर मां बोलीं- शाम को हमको एक शादी में जाना है … मैं खाना बना दूं कि बाहर खाओगे?मैंने कहा- आप लोग चले जाना. अब जब शिफा और इंशा को मैं पहले ही चोद चुका था, तो बाद में भी चोदने में क्या दिक्कत थी.

जब भी बैठते, तो वो और भी ज्यादा चिपक कर लंड का स्पर्श पाने की पोजीशन में खुद को बैठा लेती.

आज से मैंने पहले कभी सेक्स किया नहीं था, इसलिए उसका मोटा लंड मेरी चूत के अन्दर नहीं जा रहा था. उसकी चूत की फांकों से रगड़ खाते हुए मेरे उस्ताद को आनंद की असीम अनुभूति होने लगी.

वो अपनी गांड की दरार को मेरे लंड पर सटा कर पीछे की तरफ दबाव बना रही थी. उसको देखते ही दिल में हलचल सी मच गई और मैंने उसको टोकते हुए नमस्ते की तो वो भी मेरी तरफ देख कर हल्के से मुस्करा दी. मैंने अपने बदन पे तेल की अच्छी मालिश की और लंड की भी बहुत अच्छी तेल मालिश की.

वो अपनी चूत और गांड चुदाई में मिले आनन्द के कारण बहुत खुश नजर आ रही थी।उसके बाद हम लोगों ने कुछ देर आराम किया. अब नहीं देखने हैं क्या?इतना कह कर उसने मेरे बालों को छोड़ दिया और सामने कुर्सी पर जाकर बैठ गयी. मैंने देखा कविता और राजेश्वरी ने मैचिंग की ब्रा पैंटी पहनी थी और वो दोनों तो उसी में ज्यादा आकर्षक और कामुक दिख रही थीं.

हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ मेरी बात सुन राजशेखर राजेश्वरी के ऊपर से उठ गया और बिना समय गंवाए हम दोनों संभोग की अवस्था में आ गए. इसी बीच मैंने उस कमरे से दूसरे कमरे में खुलने वाली खिड़की को हल्का सा खोल दिया ताकि मेरी पत्नी भी हमारी चुदाई का आनन्द ले सके.

बीएफ सेक्सी वीडियो चाहिए बीएफ

हम सबने अपनी अपनी पैंटी घुटनों तक सरकाया और एक कतार में गमलों के ऊपर बैठ गए. इधर राजेश ने मुझे साफ-साफ कहा- समीर बात ये है कि वैसे तो हम दोनों ही पेड (पैसे लेने वाले) कपल हैं, मेरी वाइफ पैसे लेकर सेक्स करती है. मैंने पूछा- मालकिन किधर मिलेगी?तो वो बोली- चल मेरे साथ … तेरे को उससे मिलवाती हूँ … पर मेरी दलाली पक्की रखना.

नीचे वाले फ्लोर को हमने किराये पर दिया हुआ है और ऊपर वाले फ्लोर पर हम खुद रहते हैं. मेरा लंड सोच रहा था कि आज फिर एक पुरानी उम्र की बड़ी औरत को चोदने का मौका हाथ आ रहा है. भोजपुरी अभिनेत्री सेक्सी वीडियोजब काव्या भी वापस उसको किस करने लगी, तो उसने काव्या की टांगों को फैला कर अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया.

मैंने उसका मन बहलाया, मैंने कहा- यार, तेरा भी मस्त है।मैं उसका मरोड़ दिया, बोला- अभी वह लौंडिया चुद कर मस्त हो गई.

मैं बीच बीच में उसके दूध को काट भी लेता था, जिससे मम्मी एकदम से मचल जाती थीं. उस दिन बाहर खेतों में काम अधिक था इसलिए शाम को आते ही वह खाना खाकर सोने छत पर चली गयी। छत पर सबका बिस्तर लगा हुआ था.

मेरा भी लंड उसकी चुत को फाड़ने के लिए ही बना था, सो मैं भी पूरे जोरों शोरों से चुत फाड़ने में लगा हुआ था. एक दिन की बात है जब मां ने मुझसे अपने साथ मार्केट में चलने के लिए कहा. मेरा लौड़ा अंडरवियर से बाहर निकलने के बाद मेरी मॉम ने उसे देख कर कहा कि तेरा लौड़ा तो तेरे बाप से भी ज्यादा मोटा और लम्बा है.

मुठ मार कर मैं हमेशा यही सोचता कि पता नहीं किस दिन मेरा ये लंड चाची की चूत में घुसेगा.

मैं बेड पर गया, तो काव्या ने मेरा लंड चूस कर खड़ा कर दिया और फिर खुद ही चूत फैला कर लेट गयी. शादी को दस साल हो चुके हैं लेकिन पता नहीं हमें अभी तक औलाद क्यों नहीं हुई है. उसके बाद मैंने अपने अंडरवियर को भी नीचे किया और उसकी पैंटी के अंदर लंड को लगा कर उसकी जांघों के बीच में भाभी की चूत के पास फंसा दिया.

एक्स एक्स बीपी वीडियो सेक्सीएक दिन मेरे ससुर ने मुझे फोन किया कि आपके साले और उसकी बीवी को आपके पास दिल्ली भेज रहा हूँ. तभी रमा कमरे में आ गई और मुझे अपने गले से लगाकर बोली- क्या एक्टिंग की तुमने कल, आज सब चकित हो जाएंगे.

कॉलेज की सेक्सी वीडियो बीएफ

भाबी उठकर मेरे लंड पर बैठ गई और अपने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में डालने लगी. मैं उससे दोस्ती करने के बाद ही इतना बिगड़ गयी थी कि मैं रोज मोबाइल में पोर्न देखने के बाद और अपनी चूत में उंगली करने के बाद ही सोती थी. हम दोनों यूं ही हंसते हुए अन्दर रेस्टोरेंट में आ गए और एक टेबल पर बैठ गए.

मैंने कहा- ओह तो ये तुझे मालूम था अम्मा?अम्मा ने कहा- हां नहीं तो क्या? मैं पहले ही समझ गयी थी, जब पहली बार देखा था. बल्लू ने भाभी को अपनी गोद में उठा लिया और फिर कमरे में अंदर ले गया. मैंने ये भी नोटिस किया कि चुदाई के वीडियो देख कर फरजाना के चेहरे पर भी रंग बदल गया था.

उसने अपनी ब्रा और पैंटी को उतारा और अपने जिस्म में फंसा कर पहनने लगी. थोड़ी देर की धकापेल चुदाई के बाद मैंने मॉम की‌ चुत में से लौड़ा निकाला और उनके मुँह में दे दिया. निर्मला और उसका पति धनबाद तक मेरे साथ आए और फ़िर मुझे हवाई अड्डे पर छोड़ कर अपने घर को चले गए.

उसके जाने के बाद मेरी बहन नज़मा हैरानी से बोली- ये क्या चक्कर है?मैंने बोला- वो मेरी माशूका आने वाली थी … और हम दोनों गोवा जाने वाले थे. हम दोनों यूँ ही बातें करते हुए समय बिताने लगे और मैं बार बार अपनी योनि छुपाने के प्रयास करती रही.

कोई 15 मिनट तक यूं ही मैं ताबड़तोड़ हमले करता रहा और आंटी को भी काफी मजा आने लगा था.

बाजार जाकर भाभी ने कुछ सामान लिया और एक शॉप से उन्होंने अपने बेटे के लिए चॉकलेट ले ली. सेक्सी राजस्थानी सेक्सी पिक्चरमेरी मम्मी भी गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थीं और बोल रही थीं कि आह चोद बेटा और जोर से चोद पेल दे अपना पूरा लंड … फाड़ दे मेरी चूत फाड़ दे बेटा … अपनी मम्मी की चूत. आदमी आदमी का सेक्सी व्हिडीओमैंने उसकी ब्रा को निकलवा दिया और उसके मीडियम साइज के गोरे चूचे जिनके बीच में भूरे रंग के निप्पल थे उनको अपने दोनों हाथों में ले लिया. उसके लंड का और मेरी चूत के पानी मिला जुला स्वाद बहुत अच्छा लग रहा था.

अब झुके झुके मेरी थकान इतनी अधिक हो गई थी कि कमर में दर्द होने लगा था और मेरी टांगें सुन्न सी होने लगी थीं.

रोशनी ने कहा- हम वहीं होटल में 2 रूम ले लेंगे, घूमना भी हो जाएगा और सब अरेंजमेंट भी हो जाएगा. हम दोनों चुपचाप ये सब कर रहे थे क्योंकि आंटी भी बगल में ही सो रही थी. तभी मैंने देखा कि वो अपने दूसरे हाथ को अंतरा की चूत पर ले गया और अपनी उंगली उसकी बुर में घुसा दी.

उसके बाद मैंने अपना अंडरवियर निकाल दिया और आंटी के हाथ में अपना लंड दे दिया. खाना बनाने के बाद उन्होंने मुझे आवाज दी- कुणाल आ जा, खाना खा ले बेटा. लंड को चूत के बीच में लगा कर मैंने धक्का मारा तो आंटी की सिसकारी निकल गई.

एचडी में बीएफ एक्स एक्स एक्स

अब मैं इंशा को नहीं चोदता, उसको बड़े प्यार से बेटी बेटी कह कर बुलाता हूँ, पर उसके साथ सेक्स की सारी बातें करता हूँ. आपको मेरी ये बीवी की चुदाई की सेक्स कहानी कैसी लग रही है, मुझे बताइएगा. अब मैं आपका ज्यादा समय न लेकर आपको सीधे कहानी की तरफ लेकर चलता हूं.

मैंने वापस सीमा जी के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और एक हाथ से उनके ब्लाउज के हुक खोलने लगा.

मेरी क्लास में सहेलियां तो और भी कई थीं लेकिन हम पांच का बिंदास ग्रुप ऐसा था जो कुछ खास था.

अब हमारे एक ग्रुप में मैं पीहू, अल्पना और सनी और वरुण साथ थे और दूसरे ग्रुप में सोना, रुचि, वरुण और राज थे. मामी जी से मेरी बहुत ही अच्छी दोस्ती है और मैं उनसे अपनी हर बात शेयर करता हूं लेकिन उनसे मैंने कभी भी सेक्स वगैरह के बारे में बात नहीं की थी। मैंने कभी भी मामी जी को गलत नजरों से नहीं देखा था।अब मैं असली कहानी पर आता हूं. नंगी सेक्सी फिल्में वीडियोमैंने उससे कहा- ये सब बाद में कर लेना, पहले एक राउंड चुदाई का कर लेते हैं.

मगर जैसा कि असल जीवन में होता है, कांतिलाल भी उसे अपनी बांहों की पकड़ से मुक्त नहीं होने दे रहा था. जब मानव ने मेरी नाभि में अपनी जुबान डाली तो मैं खुशी के मारे चिल्ला उठी लेकिन मानव ने मुझे चूमने का सिलसिला जारी रखा. पांच साल मैं बाहर विदेश में भी काम कर चुका हूं जिस वजह से मेरी इंग्लिश बहुत अच्छी है.

मेरी शादी के बाद मेरे ससुर ने मुझसे कहा कि दामाद जी अब आप ही मेरे बड़े बेटे की कहीं शादी तय करवाइए. लेकिन तेरे पास तो वहां पहनने लायक कुछ कपड़े है ही नहीं?वो बोली- जब आपके जैसा भाई शौहर और आशिक साथ में हो, तो किस बात की प्रॉब्लम … और वैसे भी वहां बिकिनी पहननी होती है.

जब वो वापस आई, तो उसने बोला- छीई … पहली बार किसी ने मेरे मुँह में गिराया है.

उसके मोटे लंड के जाते ही मेरी एक सिसकारी निकल गई ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह …’ लेकिन मेरी चूत ने जल्द ही उसके लंड को सहन कर लिया. कभी योनि में नमी न होने की वजह से … या कभी मन न होने की वजह से … तो कभी गलत तरीके या अत्यधिक ताकत के धक्के से. जैसा नाम वैसा आकर्षक रूप भी पाया था उसने, फिर भी न जाने क्यूं एक असमंजस की स्थिति पैदा हो गई गई थी.

सेक्सी पिक्चर ब्लू चाहिए गोद में बैठी हुई भाभी के चूचों को मुंह लगा कर ऐसे पीने लगा जैसे बहुत दिनों से किसी को पानी नसीब नहीं हुआ हो. मम्मी बोलीं- बेटा अन्दर ही डाल दो, मैं अपने बेटा का वीर्य महसूस करना चाहती हूं.

पहले तो मैंने सेक्स करना कैसा होता है, सिर्फ यह जानने के लिए किया था. वो मुझसे लिपट गई और मेरे बदन को बांहों में भरते हुए यहां-वहां चूमने लगी. कुछ देर बाद उसने मेरी ब्रा को उतार दिया और मेरे एक दूध के निप्पल को किस करने लगा.

सेक्सी जानवरों की बीएफ

मैं उसके मम्मों को किसी छोटे बच्चे के जैसे चूस रहा था और वो मेरे बालों के ऊपर हाथ फेर रही थी. उसकी टांगें अपने कंधे पर रखीं और फ्रंट फॉर्वर्ड पोज़िशन में लंड को अंतरा की चुत के दरवाजे पर रख दिया. निधि कभी मेरे लंड को जीभ से चूसती, चाटती तो कभी दाँत से काटती। उसकी कामवासना पूरे उफान पर लग रही थी.

मैंने कहा- जब भी तुम्हारा मन किया करे तुम मेरी चूत की चुदाई कर सकते हो. लेकिन जब वो सिसकारियाँ ले रही थी तो पता नहीं क्यों मुझे अंदर से सुकून मिल रहा था.

लंड काफी मोटा था लेकिन आज चूत की चिकनाई कुछ ज्यादा ही थी इसलिए लंड फिसलता हुआ चूत में उतर गया.

मुझे तो बस बुआ की चुदाई करनी थी, मेरी ये भी हसरत पूरी हो रही थी।मैंने झटके लगाने शुरू किए. वो मेरे सामने जब चाय का कप रखने के लिए झुकी तो मैंने आंटी की चूचियों को देख लिया. मैंने बिना कुछ सोचे ट्यूशन टीचर के चूचे पकड़ लिए और ब्लाउज के ऊपर से मसलने लगा.

मैं उसके साथ किस में इतना अधिक खो गई थी कि मुझे पता ही नहीं चला कि उसने मेरी साड़ी निकाल दी. मैंने फुसफुसाते हुए कहा- तो फिर कहां सेफ है!वो बोली- टॉयलेट में चलो. थोड़ी देर बाद उनका दर्द कम हुआ, तो मैंने एक और जोरदार धक्का दे मारा.

जब मुझे पूरा यकीन हो गया कि वो भी बुर चोदन करवाने की तैयारी करके ही आई है तो मैंने उसकी कमीज में हाथ डाल दिया.

हरियाणवी सेक्स वीडियो बीएफ: मेरी पोर्न को लेकर दीवानगी का आलम ये है कि जब तक मैं सेक्स ना कर लूं, तब तक मुझे चैन नहीं मिलता है. एक कमरे में मेरे मां और पापा सोते हैं और दूसरे में मैं और भाई सोते हैं.

उस समय आंटी काली ब्रा पैंटी में बहुत ही खूबसूरत लग रही थी। फिर मैंने आंटी की ब्रा पैंटी को उतार दिया. कोई 3-4 बार ऊपर नीचे होते ही उसका सम्पूर्ण मोटा और कठोर लिंग मेरी मुलायम योनि की दीवारों को भेदता हुआ मेरे गर्भाशय से टकराने लगा. कुछ देर बाद मेरा ब्वॉयफ्रेंड दूल्हे जैसा सज कर कमरे के अन्दर आ गया और हमारी सुहागरात की बेला शुरू हो गई.

मैं जिस लड़की को चोदने का सपना देखा करता था, वो आज मेरा लंड चूस रही थी, ये मेरे लिए एक सपना जैसा था.

आज से पांच साल पहले मैं और मेरे दोस्त का परिवार एक यात्रा गए थे, तब तक मेरी शादी नहीं हुई थी. इस तरह अब उसकी चूत की प्यास बुझने लगी और मुझे भी एक टाइट चूत का मजा मिलने लगा. आज मैं तेरी चूत को इतना चोदूंगा कि तुझे चलने के लायक भी नहीं छोड़ूंगा.