इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,बिहार का देहाती सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

कॉल गर्ल लिस्ट number: इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ, लेकिन अपनी किस्मत तो गांडू थी ही … क्योंकि मुझे कभी भी उस हुस्न की परी को पास से ताकने का मौका ही नहीं मिला.

तमन्ना भाटिया की नंगी तस्वीर

फिर मैंने शीशे के सामने जाकर अपनी स्कर्ट उतारी और टॉप भी निकाल दिया. अरिजीत सिंह तेरा यार हूँ मैवो समझ गई और उसने अपना हाथ ज़िप के अन्दर डाल दिया और लंड को पकड़ लिया.

अर्शिया की चुत एकदम अमेरिकन लड़की जैसी थी, एकदम गुलाबी गुलाबी!चुत पर उगी हुई बारीक बारीक झांटें चुत की खूबसूरती को बढ़ा रही थीं. सो ब्यूटीफुल का मतलबवे जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी- आ … आ … आ … हम्म … उम्म!मैंने उनकी एक चूची को अपने मुंह में ले लिया और उसको पीने लगा.

’बाहर से अनन्या की कोई आवाज नहीं आयी मगर मैं बस उसे छेद को फाड़ देना चाहता था.इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ: मैंने उनके दूध मसलते हुए पूछा- हां फिर क्या हुआ?वो मेरे लंड को सहलाती हुई बोलीं- मैं पहले भी ऐसी वीडियो कई बार देख चुकी हूं … लेकिन मुझे ऐसा करना बिल्कुल पंसद नहीं है.

उसके स्तन बिल्कुल पत्थर की तरह कठोर थे लेकिन रुई जैसे मुलायम भी थे.सेक्सी हॉट भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं एक भाभी के घर ए सी ठीक करने गया तो उन्होंने बड़े हंसमुख और दोस्ताना तरीके से बात की.

नई गोल्डन सागर - इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ

”मैं समझी नहीं कि मुझ जैसी नाचीज़ आपके किस काम आ सकती है?”तुम नाचीज़ नहीं हो, शबाना.बुआ से मेरी नजर मिली तो उन्होंने नजरें नीचे कर ली और अन्दर चली गईं.

मेरा लंड अर्शिया की जांघों को चीरते हुए अर्शिया की चुत तक जा रहा था और वो चुत से रगड़ रहा था. इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ सेक्सी आंटी भी आज नहा धोकर हरे रंग का शरारा कुर्ती पहनकर तैयार थीं.

मेरे साथ शादी से पहले वो एक मेकअप आर्टिस्ट थी और मॉडल बनना चाहती थी.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ?

ये देख कर मेरे होश उड़ गए कि मेरी जीएफ़ किसी और को ‘आई लव यू’ लिखती है. थोड़ी देर तो मैं चुप रहा मगर तभी बाई अपना पिछला हिस्सा ऊपर नीचे करने लगी. फिर उनकी पैंटी अलग कर उसकी क्लीन शेव्ड चूत देखी तो मेरे मुँह में पानी आ गया.

उसने भी मेरे पीछे आकर मेरी गांड फैलाई और झटके से चुत में लंड घुसा कर मुझे चोदने लगा. अब जैसे जैसे मैं उसे उंगलियों से चुत चोद रहा था, वो भी मेरा लंड हिला रही थी. उसने मेरी तरफ से कुछ भी आपत्ति नहीं देखी तो वो और जोर जोर से मेरी गांड को दबाने लगा.

मैं इसी ताक में रहता कि कब वो छत पर आये और मैं उसको देखकर मुठ मारूं. लौड़े की मुँह से मालिश मतलब चुसाई करने के बाद आशीष में मुझे खींच कर गोद में बिठा लिया. मेरा भी बदन पूरी तरीके से गर्म हो चुका था और लौड़ा भी अभी किसी भी टाइम अपना लावा उगल सकता था.

ये सिस्टर हॉट सेक्स स्टोरी उस समय की है, जब मैं कालेज में प्रथम वर्ष का छात्र था. मैंने सुपारा फंसा कर तेज झटका मार दिया और मैडम की घुटी हुई चीख निकल गई.

अभी भी भाई मुझे अपनी गोद में उछाल देते हैं तो कभी मुझे घोड़ी बना देते हैं.

अचानक ही उसको ध्यान आया कि उसने बाथरूम का दरवाजा बंद नहीं किया है वो अगले ही पल पलटी तो उसकी नजर सीधी मेरे ऊपर गयी.

वो चुदी कैसे?दोस्तो, मैं एक बार फिर से अपनी मौसेरी बहन की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. उधर अन्दर हॉल में किसी शूटिंग का सैट लगाया हुआ था; एक कैमरा मैन और डायरेक्टर के अलावा दो और लोग थे. मैं सोच रहा था अब या तो दीदी मुझसे नाराज हो जाएंगी या कुछ इशारा देंगी.

मेरा लंड करीब एक मिनट तक उसकी गांड में जोर जोर से वीर्य की पिचकारियां मारते हुए झड़ता रहा और वह मेरे हाथों की उंगलियों को जब तक फंसाए रहा, जब तक कि मेरा लंड पूरी तरह से ढीला होकर उसकी गांड से बाहर नहीं निकल गया. करीबी दोस्त होने के कारण मैं उसके साथ उसके कमरे में चला गया और बीवी बाकी औरतों में बैठ गयी. थोड़ी देर बाद मुझे महसूस हुआ कि पहले तो नील की गांड में धंसे हुए लंड को धीरे धीरे लहक लहक कर कसती और छोड़ती थी … लेकिन अभी भी नील धीरे धीरे ‘आह्ह अअह …’ करते हुए लगातार अपनी गांड को कसते और ढीला करते हुए सिसकारियां लेने लगा था.

तुम्हारा चाचा मुझे चोदता ही नहीं है!कुछ और ताबड़तोड़ झटकों के साथ मैं चाची की चूत में झड़ गया और वह भी मेरे साथ एक बार और झड़ गई.

फिर लंच हुआ तो सलमा ने मुझसे कहा- चलो बाहर कैंटीन में चल कर कुछ खाते हैं, वहीं टिफिन भी खा लेंगे. इसी बीच हम दोनों बहुत आपस में खुलते गए और हमारे बीच हंसी मज़ाक भी होने लगा. फिर मैंने अर्शिया की पैंटी के ऊपर से ही उसकी गांड को सहलाना शुरू कर दिया.

चुत की सील टूटते ही मुझसे दर्द सहन नहीं हुआ और मैं एकदम से बेहोश हो गई. मैंने अपने लौड़े की रफ्तार तेज कर दी और तेज़ी से चोदने लगा और सुमन की गांड को वीर्य से भर दिया. मैंने उनसे पूछा- कि मेरी मोटो रानी, कहां लोगी मेरा माल? बताओ?तो उन्होंने कहा- तुम मेरी चूत के अंदर ही झड़ना.

ये सुनकर रंगोली ने मुझे हग कर लिया और उसकी टी-शर्ट के अन्दर तने हुए बूब्स मेरी छाती पर सट गए.

मैं शहर में रहती हूँ इसलिए मैं बहुत बार अपने पड़ोस की औरतों के साथ बाजार करने और ब्यूटीपार्लर जाती रहती हूँ. मैंने कहा- मैं समझा नहीं!वो बोली- बुद्धू हो … आज तुम जाटनी के पति बनोगे … और एक जाट के जैसे मुझे चोदोगे.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ मैंने देर न करते हुए उसके होंठों पर होंठ रखे … हाथों को पकड़ते हुए एक के बाद एक करके 3-4 धक्के लगा दिए. नीचे आकर मैंने नाज को थोड़ा पुराना गुड़ देते हुए कहा- थोड़ा यहीं खा ले, थोड़ा घर जाकर खा लेना, तुम्हारा महीना हो जायेगा.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ मगर बाई ने मुझे इशारा करके अपनी तरफ बुलाया और मुझे अपने पीछे कर लिया … मेरा लंड उसके पिछले पहाड़ से टकराने लगा. मैं हंसने लगा क्योंकि मेरा इरादा तो कुछ और ही था, मैंने कहा- अभी थोड़ा और मजा ले लो मौसी.

मैं कई दिनों बाद ऐसे खुल कर ड्रिंक्स ले रही थी और इतने मज़े कर रही थी.

भोजपुरी सेक्सी गेम

मैंने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी और तेज़ी से लंड चुत में अन्दर-बाहर करने लगा. जेठ जी की आँखें भी कुछ कहना चाहती थी क्योंकि जब भी मैं उनको देखती थी और वो मुझे देखते थे तो लगता था कि वो मेरे से कुछ कहना चाहते हैं लेकिन मुझसे खुलकर कह नहीं पाते थे. उन्होंने कहा- चलो ठीक है, मैं तुम्हें फोन करके बताऊंगा कि कब आना है.

डायरेक्टर ने मेरी बीवी के एक दूध को जोर से भींचा और बोला- चल अब तू पीठ के बल हो जा मेरी रानी. गोपनीयता के कारण मैं उसका असली नाम नहीं बता रहा हूँ, यहां हम उसे संजना कह लेते हैं. ज़िंदगी का तराजू हमेशा समान होता है, जब कोई हमसे दूर जाता है … तो वो किसी के पास आने की शुरुआत भी होती है.

राजीव सर, करीब 45 साल के तलाक़शुदा और बहुत ही आकर्षक पर्सनालिटी के व्यक्ति थे.

चूंकि मैं अभी तक कुंवारी कमसिन कली थी, तो मुझे काफ़ी उत्तेजना हो रही थी. खाना खाने के बाद उसने कहा- फ्रिज में आइसक्रीम है … खाओगे?मैंने कहा- तुम अपने हाथों से खिलाओगी, तो खा लूंगा. तो मेरा लंड सामान्य लम्बाई का साढ़े पांच इंच का है मगर ये मोटा कुछ ज्यादा ही है.

फिर मैंने नील को लगातार अपने लंड को अन्दर बाहर करते हुए चोदना शुरू कर दिया. पहले अपनी गांड फिर से तेल में एकदम गीली कर ले और अपनी गांड के छेद पर लंड सैट करके एक साथ झटके से लंड पर कूद जाना. फिर वो बोलीं- मौनू, टेबल पर मसाज आयल रखा है … क्या तुम मेरी पीठ पर तेल लगा सकते हो?अब माहौल गर्म हो रहा था.

मैडम छत पर कभी कपड़े सुखाने आती थीं, तो कभी धूप लेने, कभी कुछ सामान सुखाने के लिए आ जाती थीं. वो मेरे दोनों हाथों को पकड़कर बोले कि अब हमारा पूरा मिलन होने का पल आ गया.

बुआ जैसे ही हल्दी लगाने के लिए मेरे पीछे भागीं, वैसे ही मैं भी वहां से भागने लगा. फिर रश्मि सोफ़े पर बैठ गई और डायरेक्टर उसे पोज देने और एक्टिंग करना समझा रहा था. दीदी बोलीं- क्यों मम्मी की चुदाई नहीं की क्या?मैंने कहा- अरे मम्मी की चुदाई तो करने मिल जाती थी … लेकिन आप जैसी प्यारी दीदी की चुत चोदने के लिए मेरा लंड बेचैन था.

इंडियन एक्ट्रेस बॉलीवुड सेक्स देखने के बाद मैं वहां से निकल कर घर आ गया.

फिर मेरे लंड ने उसकी गांड में जमकर एक पिचकारी मारी तो उसके मुंह से ‘आहहह …’ की एक गहरी सिसकी निकल गई. वो लंड कड़क देख कर बोली- राज तुम पहले अपने लंड को मेरी गांड में घुसा दो. अब वो अपनी गांड आगे पीछे करके मज़े से चुदवाने लगी।उसे भी मज़ा आने लगा था, उसकी चूत ने मेरे लंड से दोस्ती कर ली थी।वो बोली- राज, तुम मुझे हमेशा ऐसे ही चोदना।मैंने कहा- हां समारा, मैं तुम्हें लंड के लिए नहीं तड़पने दूंगा।अब दोनों एक-दूसरे की रफ्तार को तेज करने लगे.

मैं उसके पास गया और उसके कपड़ों के ऊपर से ही उसकी चूचियों को दबाया और उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा. जैसे ही मेरे टांगें बिस्तर के किनारे पर आईं, उसने मेरी दोनों टांगों को फैलाया और मेरी चुत में एक बार फिर से अपना मुँह घुसा दिया.

फिर मैंने वासना से बुआ को देखा और उनकी आंखों में चुदास साफ़ दिख रही थी. कमरे में ठप ठप की आवाज के साथ मां की पायलों की और चूड़ी की भी आवाज गूंज रही थी. मैं उसे बहुत पसंद करता था और उसके साथ सोना चाहता था और उसे चोदना चाहता था.

सेक्सी नई ब्लू पिक्चर

अब वो सिर्फ फड़फड़ा रहीं थी और मेरा लौड़ा पूरा अन्दर तक जाने लगा।उसकी आंखों से आंसू निकलने लगे.

मैंने उसका मुंह पकड़ कर अपनी स्पीड को बनाये रखा और 15-16 झटकों के बाद अपना पानी उसकी चूत में छोड़ दिया. तीन साल में पहली बार मैं और शरद एक दूसरे से इतने लंबे समय के लिए अलग रहे थे. अक्सर आपने देखा होगा कि किसी इंसान से सामने बैठकर आप पूरी ज़िंदगी भर बात कर लेंगे, पर वही इंसान अगर आपसे कहीं बहुत दूर बैठा हो और आप दोनों के बीच संपर्क का माध्यम केवल टेलीफोन हो, तो एक समय के बाद बातें भी खत्म सी होने लगती हैं.

मैं चीख पाती कि तब तक आशीष ने अपने मुँह को मेरे मुँह में पूरा घुसा दिया. आज मैं आप लोगों अपनी जिन्दगी के वो हसीन पल बताने जा रहा हूँ, जो मैंने कभी सोचा भी नहीं था. पंजाबी सूट वीडियोमैम ने मुझसे कहा- जब तक बारिश नहीं रुक जाती, तुम मेरे घर पर ही रुक जाओ.

रूबी आंटी हंस पड़ीं और बोलीं- हां रे … मेरा दिल आ गया था तेरे पे!ऐसे ही बातें होती रहीं. आंटी की चुत बहुत हॉट लग रही थी … ख़ास बात ये थी कि आंटी की चुत एकदम गोरी और मांसल चुत थी.

उसके झटके और तेज़ होते गए और उसके साथ ही वो लंबी पिचकारियां मारते हुए मेरी चुत में झड़ गया. दूसरे दिन में पेशाब कर रहा था, तो वो अपनी आदत के चलते मेरे नजदीक आ गई. मैंने एक और धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड मौसी की चुत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया.

दोस्तो, उम्मीद है कि आपको निशा विराट की डॉक्टर Xxx कहानी पसंद आई होगी. दोस्तो, अक्सर ऐसे नाज़ुक से मौकों पर बस एक पल का छोटा सा फासला आपकी किस्मत तय करता है. वो डायरेक्टर के पास गई और उससे जबरन हाथ मिलाती हुई अपना परिचय देने लगी.

उसने श्रेया को देखा तो श्रेया को समझ आ गया कि शायद यही मेरे ऑफिस वाला आदमी है, जिसके बारे में मैंने श्रेया को पहले बताया था.

इस सेक्स कहानी में कैसे मैंने एक शादीशुदा औरत को उसी के घर में चोदा था, इसकी कहानी लिखी है. यह बात सुनने के बाद मेरे जान में जान आयी तो मैं गाड़ी चालू करके चलाने लगा.

सुनीता भी नंगी थी सो वो भी जल्दी से बिस्तर का चादर लपेट कर खड़ी हो गई थी. मैं- वो कैसे?रानी- उस दिन शायद आपकी जगह कोई और होता तो पता नहीं क्या करता मेरे साथ. मैं उनके इतने करीब थी कि अपनी निजी जिंदगी से जुड़ी हुई बातें मैं बस उन्हीं से शेयर करती थी और वो भी मुझे हमेशा अच्छी सलाह ही देते थे.

वो मोन करने लगीं और अपने दोनों हाथों से अपनी चादर पकड़ कर कुछ इठने सी लगीं. लेकिन धीरे धीरे स्कूल की सहेलियों से पता चल गया कि इसको चुदाई कहते हैं और इसमें बहुत मजा आता है. बेटा मैं चाहती तो अपने ऑफिस में किसी मर्द को पटा लेती या कोईकिराये का मर्दबुला सकती थी.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ दूसरी लड़की जो उसी बेड पर हमारे साथ ही पड़ी थी, वो अब थोड़े थोड़े होश में आ रही थी और कुछ ही पलों बाद वो लगभग जाग चुकी थी. मेरे बालों को एक साइड करके उन्होंने मेरे बैकलेस ब्लाउज की डोरी को पीछे से खोल दिया.

भोजपुरी सेक्सी गाना वीडियो सेक्सी

सेक्स लव सेक्स कहानी में पढ़ें कि चूत को लंड की लत लग जाये तो … पति से दूर रहने को मजबूर लड़की बार बार पड़ोस के लड़के से चुद रही थी. ” मैं मुस्कुराते हुए बोला और उसकी बांहों को पकड़कर अपने ऊपर लेटा लिया. निजी जिंदगी में भी मेरी और शरद की शादीशुदा ज़िंदगी काफी अच्छी चल रही थी.

इससे मेरी हिम्मत और भी बढ़ गई और मैंने थोड़ा जोर से बोबे दबाना शुरू कर दिए. फिर मैंने शीशे के सामने जाकर अपनी स्कर्ट उतारी और टॉप भी निकाल दिया. सेक्स फिल्म राजस्थानीइतनी देर में मेरा एक फ्रेंड, जिसका नाम सिद्धार्थ था, वो मुझे वहीं मिल गया.

मौका भी था और दस्तूर भी … क्योंकि आग दोनों तरफ अब बराबर की लग चुकी थी.

हॉट सिस्टर सेक्स के दो मिनट बाद हम दोनों उठे तो अर्शिया ने मुझे लिपकिस किया और बोली- मेरे बॉयफ्रेंड के बारे में किसी को बताना मत!मैंने भी उसको बोला- तुम भी किसी को मत बताना कि मैंने तेरी चुदाई की है. दिन गुजर रहे थे लेकिन मुझे कोई मौका नहीं मिल रहा था।एक दिन की बात है कि अश्मि सुबह के समय मुझे छत पर मिली.

विजय ने कुछ कहे बिना ही सरिता भाभी को गोद में उठा लिया और अपने रूम में ले गया. अब मेरी रोज की आदत हो गयी थी अश्मि को दूर से देखने की। कभी मैं उसको तौलिया में देखता और कभी पैंटी में।उसको देख देखकर रोज मुठ मारा करता था. शायद मेरा बेटा भी अपनी मम्मी की इतनी कड़क लाइव ब्लूफिल्म देखकर मस्त था.

मैं कपड़े धोने में व्यस्त थी तो उनकी तरफ देख नहीं रही थी लेकिन उनकी बातें सुनकर हंस रही थी.

मैंने आंटी की एक न सुनते हुए लंड अन्दर बाहर करना चालू कर दिया और रूबी आंटी को चोदने लगा. एक पल में मैंने अपने आपको संवारा और शरद का कॉल उठाकर उनसे बात करने लगी. मैंने लंड को धक्का दिया, तो एक बार में ही चुत में मेरा लंड घुसता चला गया.

संगीत वीडियोमतलब मैं जो कह रहा हूँ कि जरा मोटी सी थी … वो आपको उसकी फिगर को पढ़कर समझ आ गया होगा. जैसे ही मैं उसके आगे से मुड़ी, तो अचानक से चिकनी हो चुकी मिट्टी में मेरा पैर फिसल गया.

10 सेक्सी इंग्लिश

मैंने मेरा एक हाथ उस चादर में डाला और अर्शिया की चुत के पास ले गया. पापा ने हंसते हुए कहा- बेटा ये गवर्मेंट जॉब है, आसानी से नहीं मिलती. जितना मैंने सोचा था, उससे भी ज्यादा बड़े और गोरे थे और एकदम टाइट थे.

इसके बाद तो सेक्स का सैलाब बह निकला और हम दोनों कब नंगे हो गए, कुछ मालूम ही नहीं चला. ये रिसॉर्ट दिल्ली के ही पास मौजूद एक हिल स्टेशन पर था और वहां हम पहले भी कई बार जा चुके थे. तभी उनके दोस्त ने भी मुझसे कहा- डियर आप घबराओ मत, हम हमेशा आपके साथ हैं.

मैंने और सलमा ने कई बार मेरे रूम पर चुदाई की थी, वो बहुत ही मस्त माल थी. दोस्तो, चुदाई का मजा आ रहा होगा … और ऐसे में मुझे सेक्स कहानी को रोकना खुद भी अच्छा नहीं लग रहा है पर आप लंड हिलाओ चुत में उंगली करो … बस मैं अगला भाग लिखता हूँ. अब्बू ने अपने कुर्ते से अपना लण्ड पोंछा और फिर से मेरी बुर पर रखा, मेरी चूचियों को मुँह में लिया और धीरे धीरे लण्ड को अन्दर धकेलने लगे.

लेकिन हमें मौका ही नहीं मिला और मेरी छुट्टी खत्म होने के नजदीक हो गई. दीदी की चूत की पंखुड़ियां रगड़ रगड़ कर मेरे लंड को लाल कर चुकी थीं.

अश्मि की चूत पर मेरे लंड की अश्मि हो रही थी और वो चुदाई के आनंद में जैसे भीगती जा रही थी.

मैंने अन्वेषी भाभी को बेड पर चित लिटा दिया और चूत पर थोड़ी देर तक लंड फिराया. mp3 सेक्सी बीपीउसने अपनी गांड तेल से सराबोर कर ली, अपने दोनों चूतड़ों को भी गीले कर लिए, मेरा पूरा लंड भी तेल से सान दिया. घड़ी सेक्सी बीपीइसी बीच नन्दिनी अपनी बातें बताने लगी कि किस तरह वो और उसका ब्वॉयफ्रेंड तीन साल से रिलेशनशिप में थे. ”सोचने वाली कोई बात नहीं है, जब शौहर बेवकूफ हो तो कोई क्या करे? शादी होती है, खानदान को बढ़ाने के लिए, गांड मराने के लिए नहीं.

घुटनों के बल खड़े होकर मैंने अपने लण्ड का सुपारा शबाना की चूत पर रखा, उसकी दोनों टाँगें फैला कर ठोकर मारी तो लण्ड का सुपारा शबाना की बच्चेदानी से टकरा गया.

Xxx ब्रदर एंड सिस्टर कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी तलाकशुदा दीदी के साथ सुहागरात मनायी. मैं भी थोड़ी देर बाद अन्दर घुसा और वो मुझसे लिपट कर मुझे किस करने लगीं. जल्दी ही वो समय आ गया कि मेरे लण्ड से कटोरा भर मलाई निकली और कच्ची कली फूल बन गई.

मुझे इतना ज्यादा मजा आ रहा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि कब उसका हाथ मेरे पेटीकोट के अन्दर मेरी चूत में पहुंच गया. मैंने हिम्मत करके आंटी को अपने आगोश में ले लिया और उनकी गर्दन के इर्द गिर्द चुम्बन करते हुए उनके चूतड़ दबाने लगा. इसके बाद वहां हम लोग दो दिन रहे, मैं बार बार कोशिश करती रही कि अब्बू पहल करें लेकिन ऐसा हुआ नहीं और कुछ दिन बाद जुम्मन से मेरी शादी हो गई.

नीग्रो की सेक्सी फिल्म

दरअसल वो तीनों लड़कियां कॉलेज की बदचलन लड़कियों में शुमार की जाती थीं. भाभी थोड़ी देर चुपचाप बैठी रही तो मैंने भाभी को बोला- भाभी कुछ तो बोलिये?तब भाभी मेरे चेहरे को देखने लगी और बोली- देखो, तुमने जो कहा वो सब ठीक है. मैंने उनसे कहा- अब जब भी मिलेंगे … तो चुदाई से पहले चूसने वाला प्रोग्राम जरूर करेंगे.

दोस्तो, मैरिड वूमन सेक्स सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको मैंने अपनी मदमस्त जवानी के नशे को किस तरह से तोड़ा … खुल कर लिखूंगी.

साली कितनी मासूम दिखती है और मेरे किसी दोस्त को नहीं छोड़ा … सबसे चुदी.

अब मैं कोई न कोई बहाना बनाते हुए आंटी के घर जाने लगा और उनसे मिलने का और बात करने एक भी मौक़ा नहीं छोड़ता था. उसने मेरी गांड के छेद में भी खूब सारा तेल भर दिया और अपने लंड पर भी खूब सारा तेल गिरा लिया. বিএফ ফিল্মथोड़ा रूकते हुए मैंने अपनी पकड़ को ढीला किया तो नील ने मेरे नीचे से निकलने की कोशिश नहीं की.

मेरी कल्पना से भी परे, निशा एक अनुभवी रांड की तरह से मेरा लौड़ा चूस रही थी. थोड़ी देर बाद मैंने लंड गांड से निकाल लिया और उसकी चूत में घुसा कर चुत चोदने लगा. मैंने फिर टुनयाया- हां फिर भाभी …भाभी ने सामने रखा हुआ मेरा पैग उठाया और एक सांस में हलक के नीचे उतार कर बोलीं- मैं अब पूरा किस्सा बता रही हूँ … अंश अब तुम सिर्फ सुनो.

नमस्कार, मेरा नाम अंजलि ठाकुर है और मैं जम्मू में रहती हूं।यह मेरी अन्तर्वासना पर पहली कहानी है। अगर कोई लगती हो तो मुझे माफ करना. इस बार सबसे पहले मैंने मैडम की गांड में उंगली की, तो मैडम ने कहा- पीछे से शुरुआत करोगे?मैंने कहा- हां, मुझे आपकी गांड बहुत मस्त लगती है.

नन्दिनी मेरे लंड के ऊपर अपनी मस्त गोल गांड उछाल रही थी और मैं उसकी गांड को अपने दोनों हाथों से मसल रहा था और चांटे मार रहा था.

मैंने अपनी आंखों को खोल कर देखा तो निशा ने अपनी आंखें बंद कर रखी थीं. उसने मौके पर चौका मारते हुए कहा- ठीक है, यदि तुम मुझे इतना ही चाहते हो … तो मुझे तो बताओ कि तुम अभी मेरे साथ क्या क्या कर सकते हो!मैंने कहा- सिर्फ बता नहीं सकता हूँ … करके भी दिखा सकता हूँ. मैं उसके सारे फोल्डर चैक करने लगा कि कहीं कोई नेकेड सेल्फी मिल जाए मेरी बहन की.

माँ की संपत्ति में बेटी का अधिकार उसने मेरे मुँह में लंड घुसेड़ दिया और अपने लंड का सारा रस मेरे मुँह में निकाल दिया. उसने अपनी गोद में बैग रखा हुआ था, तो उसके लिंग के भाव को ना तो मैं देख पा रही थी … ना ही कोई और.

वो चिल्ला उठी- ऊईईईई अम्मा बचा लो … आह मर गई निकाल बिहारी मादरचोद लंड निकाल … साले बिना थूक की गांड मार रहा है … आह निकाल ले भैन के लौड़े … मुझे दर्द हो रहा है. मैंने हैरानी से कहा- इतना लंबा!हां यही आज से तेरा मालिक है … और तुझे इसी की खिदमत करनी है. सेक्स के लिए शादी थोड़ी करनी थी मुझे … इसलिए कामवाली बाई काम चलाने के लिए मिल गई.

దేశి సెక్సీ బిఎఫ్

दोस्तो आपको मेरी ये मोटी लड़की की चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल से जरूर बताएं. निशा नशे में कमर हिलाते हुए बोली- साले गांडू, मुझे भी तो पिला न अपना मूत. कुछ ही देर में आंटी का पेटीकोट जांघों तक उठ गया और उनके ब्लाउज से उनकी चूचियां मुझे गर्म करने लगीं.

अब उसकी गांड में जैसे ही लंड पेलता, वो चिल्ला उठती कि बिहारी बाहर निकाल लंड गीला कर ले. मैं चीख भी नहीं पा रही थी क्योंकि नवीन के होंठों का ढक्कन मेरे होंठों को बंद किये हुए था.

इससे पहले कि मैं कुछ उनसे कहती कि वो मेरे पीठ को और कंधों की मालिश करने लगे और कहने लगे- तुमने इतने सारे कपड़े धोये हैं, थक गई होगी.

यदि सुशी जी पहले कह देतीं तो मैं कुछ पहले ही चुत से लंड निकाल कर उन्हें वीर्य पिला देता. मैंने रघु से पूछा- उस लड़के की क्या कहानी है … जिसने केवल एक बार चोदा था!रघु ने कहा- श्रेया का बॉयफ्रेंड एक नंबर का हरामी था. उसकी 34 इंच की चूचियां 28 की कमर और 36 की गांड मेरे दिमाग में छा चुका था.

इस बार भाभी ने भी झट से लिखा- ओ हां … मुझे लग रहा है कि किसी का खड़ा हो गया है. फिर रेखा आंटी को मामी जी की जगह लिया और मामी जी को रेखा आंटी की जगह में करके मजा लेना शुरू कर दिया. मैंने और सलमा ने कई बार मेरे रूम पर चुदाई की थी, वो बहुत ही मस्त माल थी.

मजाक मजाक में ही उससे पूछ लिया- तुम तो दिल्ली में रहती हो, तुम्हारा तो ब्वायफ्रेंड होगा ही!इस पर उसने इठलाते हुए कहा- अभी तक तो नहीं था … लेकिन अब बन जाएगा.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ: उन्होंने धीरे-धीरे वैसलीन से सनी उंगली मेरी गांड की तरफ से छेद में फेरना शुरू कर दी. जैसे ही वो मेरे सीने से लगी, उसके कड़क बूब्स मेरी छाती में धंस से गए और मुझे तो नशा सा चढ़ गया.

’बाहर से अनन्या की कोई आवाज नहीं आयी मगर मैं बस उसे छेद को फाड़ देना चाहता था. चूचे दबाते हुए मैंने कहा- सच में आपकी चूचियां और भी मस्त हो गई हैं मेरी बहना. मै भाभी की गांड को और कमसिन चूत के रस को सूंघते और चाटते हुए उसकी गांड को चांटा लगाते हुए अपनी उंगली को गांड में घुसा दिया.

वो बोलने लगीं- प्लीज अब और देर मत करो … जल्दी से चुत में लंड पेल दो.

फिर एकदम से मैंने उनकी चुत पर हाथ डाल दिया, तो वो बोलीं- नहीं, यहां पर नहीं. मैं जानती थी कि राजीव चाहते हैं कि मैं उन्हें खुश करूं, इसलिए मैं अपनी तरफ से हर मुमकिन कोशिश करने में लगी थी. अपना एक हाथ मैंने अपने आंखों पर इस तरह से रखा था कि मैं यह देख सकूं कि निशा का रिएक्शन क्या रहता है.