नंगी पिक्चरें बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ वीडियो एचडी सेक्सी फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

नाश्ता बनाना: नंगी पिक्चरें बीएफ, अब मैंने उसकी चूत की फांकों को हाथ से हटाया तो उसकी चूत में बहुत पानी भरा हुआ था.

वीडियो में इंग्लिश बीएफ

ऐसे ही तीसरे धक्के के साथ मैंने पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया और फिर उसके ऊपर आराम से लेट गया. बीएफ सेक्सी वीडियो देहातफिर वो लड़की जिसका नाम रूपाली था, वो मेरे पास ब्रा लेकर आई और मुझे पहनने को बोला.

और मेरी दोनों चूचियों को मसलते हुए मुझे ठोकने लगा।अभी ये कुतिया चुद ही रही थी कि मेरी दीदी का फ़ोन आ गया. सेक्स सेक्स सेक्सी बीएफ सेक्सीऔर इसी सोच से मेरा लंड खड़ा होने लगा।मैंने एक योजना बनाई और दोपहर में वाशी को चोदने का फैसला किया।दोपहर में जब खा पीकर वो बिस्तर पर गई तो मैं उसके कमरे में गया जहाँ वाशी सो रहा था.

वह फिर से चीखने लगी- अअह दीदी रोको इसे … स्वीटी ऊऊऊह … बस अब बस करो … प्लीज़ ऊईओह मम्मीईईईई … मर गई रे … ओ माय गॉड … बस कर दे बेदर्दी.नंगी पिक्चरें बीएफ: [emailprotected]इंडियन हाउस वाइफ सेक्स कहानी का अगला भाग:मैंने खुल कर चुत चुदाई का मजा लिया- 2.

इस सेक्सी चुत की कहानी में मजा तो आ रहा होगा ना दोस्तो?प्रियम[emailprotected]सेक्सी चुत की कहानी का अगला भाग:हवाई यात्रा में मिली एक हसीना- 5.मैं ऊपर साहिल के लन्ड पर बैठ कर उड़ने को तैयार थी।अब मैं अपनी गांड उठा उठा कर उसके लन्ड में अपने दोनों चूतड़ पटकने लगी.

सेक्सी लेडी बीएफ - नंगी पिक्चरें बीएफ

और मुंडी उधर क्यों घुमा ली तूने!तो नूपुर ने कहा- अबे साले … मैं तो बैठ जाऊंगी … पर पहले उससे तो बैठा ले.तू कर सकेगी?उसकी बात सुनकर मैं एकदम से चौंक गयी और बोली- क्या … तू ये क्या बोल रही है?खुशबू बोली- हां, मैं अपना जिस्म दिखाती हूँ … और दिखाने के साथ साथ बिस्तर भी गर्म करती हूँ.

अब पूनम साहिल के सामने आकर स्टूल को पकड़ कर खड़ी हो गयी।पूनम जानबूझ कर थोड़ा झुक कर खड़ी थी जिससे उनका पल्लू सरक गया. नंगी पिक्चरें बीएफ मैं उठ कर खड़ा हुआ तो मेरा ढीला लंड अभी उसे चोदने की पोजीशन में नहीं था.

वो इस समय दूसरी तरफ को देख रही थीं, तो उनकी गांड भी बड़ी मस्त दिख रही थी.

नंगी पिक्चरें बीएफ?

मैंने वहां से निकल कर गैस एजेंसी का पता किया फिर वहां से इनडेन का नया सिलिंडर, मजबूत कांच के टॉप वाला चूल्हा, रेगुलेटर वगैरह कम्प्लीट सामान खरीद कर मंजुला के घर पहुंचा. लड़के से मैं बोला- ये कैसे कपड़े हैं?लड़का बोला- इस तरह के कपड़े पोर्न स्टार पहनती हैं. काफ़ी देर तक एक उंगली से करने के बाद जब उसने दो उंगली साथ डालीं तो मैं बिल्कुल तड़प गई.

सलमान हंसने लगा- तो क्या हुआ जान … मुझे भी तो कुछ सीलपैक छेद चाहिए न?‘वो सब बाद में. अगर मैं नहीं गया तो वो ये वीडियो मेरे घर और मेरी गर्लफ्रेंड के पास भेज देगी. उस समय मेरी कॉलेज की पढ़ाई चल रही थी, नया नया खून था और जवानी चरम पर थी.

उस रात गर्मी बहुत ज्यादा हो रही थी तो मेरे पापा बोले- आज गर्मी बहुत है, हम सब हॉल में ही सोएंगे. रूबी का पति बाहर फंस गया था … क्योंकि वहां से वापस आने का किसी के पास कोई साधन उपलब्ध नहीं था. हर्षदीप- चल चलते हैं।अब वो दोनों भी उसके पीछे चले गए और टाकीज़ से बाहर निकल कर हर्षदीप ने बोला- सुनिए आंटी जी … क्या हम आपको घर छोड़ दें?आंटी- ठीक है।फिर हर्षदीप पार्किंग से अपनी बाइक लाया, अब वो तीनों वहां से आंटी के घर चले गए।कुछ ही देर में आंटी का घर आ गया.

मैंने उसको नीचे पटका और उसकी टांगें खोलकर लंड उसकी चूत पर लगा दिया. एक बार तो मैं घबराया क्योंकि दीदी ने मेरे हाथ में मेरा लंड देख लिया था.

इसके बाद उसी ने मेरे गाल से गाल रगड़ कर बोला- मेरे रूम पर चलोगी क्या?मैंने पूछा- कहां पर है आपका रूम?उसने कहा कि बस स्टॉप के पास ही है.

मैंने उसकी चूत के होंठों पर हल्का सा गर्म किस किया और वो एकदम से सिसकार उठी.

मैं भाभी को फोन देते समय ये भूल गया उसमें सेक्स वीडियो अभी भी चल रही थी. राहुल ने मुझे पलंग पर बैठाया और मेरे बगल में बैठकर मुझसे बातें करने लगा. वो ड्राईवर लड़का तीन दिन के लम्बे सफ़र के बाद अहमदाबाद आया था तो काफी थका हुआ था.

पर आज मेरे पास कोई बहाना नहीं था साहिल के पास जाने का।इसी तरह आधा समय बीत गया. उसने मुझे नीचे लिटाया और मेरी टांगें हवा में उठा कर मेरी गांड में लंड घुसेड़ दिया और दे दनादन चुदाई में लग गया. चादर में सिलवटें और बहन के खुले बिखरे बाल चुदाई के साफ इशारे दे रहे थे.

अब जब भी मैं उनके कमरे में जाती थी … तो अपनी साड़ी को ढीला कर लेती थी ताकि मेरा पल्लू उनके सामने गिर जाए … और ऐसा अक्सर होने लगा था.

आपको पता ही है कि पूरे देश में 22 मार्च को लॉकडाउन का आदेश आ गया था. मैं बोली- ठीक है, चारों को बोल देना कि मुझे आज चोद चोद कर पूरी तरह तृप्त कर दें. वो बोली- कैसी शर्त?मैंने कहा- उसके बाद तुम्हें मेरे लिए एक नयी चूत का इंतजाम करवाना होगा.

अब मेरी मौसी से सहन नहीं हो रहा था।लेकिन अभी तक उनके मुख से ये नहीं निकला था कि ‘मुझे चोदो या दूर रहो. काफी देर तक चूचियां चूसने के बाद उसने अपनी बीवी की टांगें खोलकर फैला दीं और उसकी चूत में लंड दे दिया. ये बात उस समय की है, जब मैं कॉलेज में पढ़ता था और कॉलेज के हॉस्टल में ही रहता था.

खाना बनाने के बाद वो मेरे रूम में आई और मुझे नहाने के लिए कहने लगी.

मैं हैरान होकर बोला- ग्रुप सेक्स? गाड़ी में?वो बोली- नहीं, वेयर हाउस में।मैंने कहा- ओह, तभी मैं कहूं कि तू इतनी लाल कैसे हो रही थी. उस टाइम मुझे एसा लग रहा था जैसे मैं सातवें आसमान पर हूँ।क्या टेस्ट था उनके लंड का!वो मेरे बाल पकड़ कर मेरे मुंह को अपने लन्ड पर आगे पीछे कर रहे थे।मामा पूरे खिलाड़ी थे.

नंगी पिक्चरें बीएफ जैसे ही नीचे झुकी उसने मेरे ऊपर कम्बल ओढ़ा दिया और मेरी टी-शर्ट जो सिर्फ नाम के लिए मेरे बदन को ढक रही थी, उसको भी निकाल कर नीचे रख दिया. अब मैं उसके कपड़े उतारने लगा और जल्दी ही वो मेरे सामने केवल पैंटी में थी.

नंगी पिक्चरें बीएफ उसने सीधे ही रानी को लेटाया और चूत में लंड डालकर रानी को पेलने लगा. मेरे होंठ उसके होंठों पर चिपक गए।वो तो चुपचाप वैसे ही खड़ा था लेकिन उसने होंठों से जैसे ही मेरे होंठ छुए तो मेरे ना चाहते हुए भी मेरे होंठ चलने लगे.

बुआ मेरी बात सुनकर हंस पड़ीं और खुद के लिए छमिया शब्द सुनकर खुश हो गईं.

सनी लियोन इंग्लिश सेक्सी वीडियो

अब मैंने भी अपने कपड़े फटाक से उतार फेंके और नंगा होकर उसके ऊपर जा कूदा. फिर मैंने उसकी ब्रा निकाल कर उसके बड़े बड़े मम्मों को दबाने और मसलने लगा. अब बस मन इतना बेचैन हो गया था कि कैसे भी करके मुझे उसका लंड देखना था और छूना था.

मैं- तो उसने तुमको नंगी नहीं देखा?नेहा- नहीं सिर्फ मेरी ब्रा खोलने आया था. मैंने कहा- आप बैठो, आप ऐसी ख़राब सब्जी अपने बच्चों का ना खिलाया करें वरना उनकी तबियत काफी बिगड़ सकती है … और हॉस्पिटल में इलाज होना भी मुश्किल हो जाएगा. कोई 10-12 मिनटों तक यही सब करते करते अब मैं झड़ने की स्थिति में आ गया था.

मैंने आंटी को लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़कर गालों को चूमा … फिर होंठों को चूमने लगा.

किसी तरह मुझे उसकी चूत मारनी थी इसलिए मैंने कुछ प्रतिक्रिया नहीं दी और चुपचाप हाथ हटा लिया. चाची हंस कर बोलीं- सिर्फ देखना अच्छा लगता है या चाटना भी अच्छा लगता है?मैंने समझ लिया और झट से 69 में आ गया. उसके मुँह से नींद की गोली देने की बात सुनकर मैं समझ गया था कि शबाना भाभी को मेरे लंड का कितनी बेचैनी से इन्तजार था कि उसने सारी व्यवस्था पहले से ही कर रखी थी.

अब मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था और मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से दबा रहा था. लेकिन वो दिन मेरे लिए बहुत बुरा था क्योंकि रात भर मैं हेमा चाची के इंतजार में ताक लगाये बैठा रहा पर मेरी हेमामालिनी रात में भी नहीं आई थीं. मेरे ससुर लगभग 55 साल के रहे होंगे, पर उनका गठीला शरीर मुझे उनकी ओर जबरदस्त आकर्षित करता था.

अब आगे की Xxx बुआ सेक्स कहानी:बुआ मेरे सामने बिना ब्रा के अपने मस्त चुचे हिला रही थीं. शबाना भाभी बहुत तेज चीखते हुए चुद रही थी- आह चोदो मेरे राजा और तेज चोदो साली चुत को फाड़ दो … कुतिया बहुत सताती है! आह तुम एक बड़े चोदू हो! आह … आज से तुम ही मेरी चूत के मालिक हो.

ओए होए … आह्ह … क्या चूत थी यारो उसकी!एकदम से छोटी सी, चिपकी हुई फांकों वाली, नन्ही सी मुनिया. चाची ‘उईई ईई ईईश सीईई उम्म्ह … हाह’ की आवाज निकालने लगी।उसकी चूत नमकीन थी. कुछ देर बाद साहिल वही आंगन में एक चटाई बिछा कर केवल शॉर्ट्स में एक्सरसाइज करने लगा.

वो भी लंड के मजे लेते हुए कामुक आवाजें निकालने लगी- उह आह इस्स … यस … चोदो राजा.

कमरे के बीच में एक छोटा सा 36 इंच का गोल टेबल था जिस पर मोटा गद्दा था। उसी पर कोमल को बैठने को बोला।रूम में चारों तरफ सोफे थे. वहां की अमीर घराने की औरतें अपनी फंतासी और कामेच्छाओँ की पूर्ति अथवा अय्याशी के लिये जिगोलो मर्दों को गुप्त रूप से खरीदती हैं. फिर हम तुम्हारे साथ रूम से बाहर निकल कर वापस अंदर चले जायेंगे और बोल देंगे कि तुम चले गये.

भाभी- आह अब डाल भी दो राजा … अब नहीं रहा जाता … जल्दी से अन्दर डाल दो. दादी की मृत्यु एक साल पहले हो गई थी, तब से बाबा ने घर पर काम करने के लिए शांति नाम की एक औरत को रख लिया था.

मैंने जल्दी से बाथरूम को अन्दर से बंद कर लिया और हेमा चाची की उस चड्डी को लेकर सूंघने लगा. देसी चाची Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं चाची को उनके मायके छोड़ने गया तो मैंने लगातार दो रात चाची को कई कई बार चोदा. ये कामना इतनी बलवती हो उठी कि मन करने लगा था कि आज तो किसी भी तरह उसका लंड पकड़ कर ही रहूंगा.

पंजाबी सेक्सी ओपन वीडियो

उसका लंड मेरी चूत में उतर गया और मेरे मुंह से एक तेज आह्ह … निकल गयी.

लेकिन जैसे ही मैं जाने लगी तो मेरी मैम बोली- किसी और को भी साथ में लेती जाओ।अब मैंने सोचा कि अगर मैं किसी को साथ में ले कर गयी तो उसको रिझा नहीं पाऊंगी. मेरा दावा है कि महिला पाठक उस स्टोरी को पढ़कर चूत मसल देंगी और अंदर घुसाने के लिए लंड ढूंढने लगेंगी. उसकी चुत चुदाई के साथ ही मुझे उसकी मक्खन गांड भी लुभा रही थी, जिस पर मैं चाटें मार रहा था, जिसमें अंकिता को मजा आ रहा था.

उसकी नर्म नर्म गद्देदार गांड को दबाते हुए मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ने लगी. लेकिन वो मान नहीं रही थी, बोलने लगी कि मैं बता दूंगी।मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था तो मैंने राजसी को फ़ोन करके सारी बात बतायी. बिहारी बीएफ व्हिडिओअब मैंने नाटक किया और कराहते हुए बोला- आह काफी दर्द हो रहा है … मुझसे चला नहीं जा रहा है … बहुत दर्द हो रहा है.

कहीं और की मसाज भी करवानी है क्या?वो बोली- सनी, मेरा तो पूरा शरीर ही दर्द कर रहा है. देसी न्यूड भाभी चूत कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी भाभी की गांड मारने की चाहत में उसे गर्म कर रहा था.

उसके सीने पर दुपट्टा नहीं था और मशीन का हैंडल चलाते हुए उसकी चूचियां एक मदमस्त लय के साथ हिल रही थीं. और कुछ देर बाद लाइट चली गई तो फिर से गर्मी हो गयी तो राजसी बोली- बहुत गर्मी है यार … मैं नहा लूं जाकर!साहिल बोला- ठीक है।अब राजसी इतनी बड़ी रंडी है कि उसने दरवाज़े के तरफ मुंह करके, जिसके पीछे की तरफ साहिल बैठा था, पहले अपनी टोप उतारी और फिर ब्रा भी उतारकर बाथरूम में चली गयी. फिर क्या हुआ?ये सेक्सी चाची की गरम कहानी मेरी और मेरे किरायेदार के बीच की आज से 5 साल पहले की है जब मैं अपने होमटाऊन बिहार में रहता था.

एक दिन की बात है, जब मैं उसकी मंगाई हुई चीजें लेकर उसके घर गया, तो जया अपना सिलाई का काम कर रही थी. अब दोनों अपने चरम पर पहुंच गए और हर झटके से दोनों की सिसकारियों की आवाज़ तेज होने लगी. लेकिन मुझे एक बात का अफसोस रहा कि मैं किसी भी माल की गांड नहीं मार पाया।अब मेरे लन्ड को गांड मारने की इच्छा होने लगी; तब मैंने गांड मारने की सोची।मैं मामाजी के यहां था और यहां मुझे भरपूर चूत चोदने का मौका मिल रहा था.

तू एक काम कर … छोटू (शिवम्) के साथ चली जा।मैं खुश हो गया।माँ- छोटू जा तू ले जा बहू को … इसको सामान लाना है शहर से!मैं- ठीक है माँ … पर मैं अपने लिए भी कपड़े लूंगा।माँ- दो महीने पहले तो लाया ही था। इतने पैसे खराब माँ करते भाई … थोड़ा खर्च करा करते।तभी भाभी ने मुझे चुप होने का इशारा किया और अपनी तरफ बुलाया- शिवम्, चलो कपड़े बदल लो और जल्दी करो.

आह … मुझे ऐसा लग रहा था … जैसे किसी गर्म भट्टी में मेरा लंड घुस गया हो. मेरी रंडी बहन की चुदाई कहानी में पढ़ें कि माता-पिता के देहांत के बाद हम भाई बहन अकेले रह गये.

हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मैं अपने घर में अकेला था और मेरी बीवी की एक सहेली पड़ोसन भी अकेली फंस गयी थी. वो फिर से कुछ करने लगा कंप्यूटर में!तभी पूनम बोली- बताओ कुछ मैं भी हेल्प कर दूँ तुम्हारी?अब वो उसके सामने हो गयी और हल्का सा झुक कर देखने लगी जिससे साहिल की नज़र उनके खुले चुचों पर जा रही थी जो साहिल को सीधा आमन्त्रण दे रहे थे. मैं लंड को पूरा बाहर निकालता और तेज झटके के साथ पूरा का पूरा लंड अन्दर डाल देता.

टॉर्च की रोशनी थी और हम दोनों एक दूसरे को बुरी तरह से चूम चाट रहे थे. वो मेरे मुंह में उंगली को ऐसे चला रहे थे जैसे कि गांड में लंड अंदर बाहर करके चोदा जाता है. जिससे मैं जल बिन मछली की तरह तड़पते हुए उसकी बांहों में पिघल रही थी.

नंगी पिक्चरें बीएफ मैंने उसके बालों को बल पूर्वक पकड़ा और लंड को अन्दर डालने की कोशिश करने लगा. और अब शुरू हुआ साहिल और मेरी मैडम का चुदाई का खेल।पूनम मैडम ‘उफ्फ़ आह ओहह उहह उफ़् यसस सशस आ हहहह’ की कामुक आवाजें निकाल कर चुदी जा रही थी।इसी तरह एक राउंड पूनम मैडम की चूत और गांड मारने के बाद साहिल कुछ देर के लिए रुका.

हिंदी मूव्हीज सेक्सी

वर्ना हमारा परिवार तो बर्बाद हो जाएगा बिना बच्चे के।मैं- दीदी फिर अपनी सास को कैसे बताओगे कि किससे चुदवायी है?वो बोली- कोई बात नहीं. साक्षी ने कहा कि मेरा तो कब का हो भी गया लेकिन चूत में अब इतना पानी है कि पूछो मत. एक दिन की बात है, जब मैं उसकी मंगाई हुई चीजें लेकर उसके घर गया, तो जया अपना सिलाई का काम कर रही थी.

तब मेरे मुँह से मादक आवाजें निकलना शुरू हो गईं- अह्ह्ह … अह्ह … उफ़्फ़. जब पूजा भाभी चलती है तो उनके चूतड़ बहुत ज्यादा मटकते हैं।अब मैंने सोच लिया था कि बस अब पूजा भाभी की गांड का गोदाम बनाना है. हिंदी मूवी बीएफ हिंदीहमारे मायके में हर शादी में हम दोनों साहिल को बुला लेती हैं और खूब चुदाई का मज़ा लेती हैं।[emailprotected].

वो बोली- क्यों तुम्हें किसलिए हिम्मत चाहिए थी?मैं- तुम बुरा मत मानना रानी, लेकिन तुम मुझे बहुत पसंद हो, शुरू से ही.

वो बोली- क्या बात है? मुझसे भागते क्यों रहते हो? इतने परेशान क्यों रहते हो तुम मेरे सामने? अगर उस दिन की बात के बारे में सोच रहे हो तो डरो मत, मैं किसी से नहीं कहूंगी. फिर मैंने उस चड्डी को अपने पजामे की जेब में छिपा लिया और मुँह हाथ धोकर कमरे में हेमा चाची के पास चला गया.

हेमा चाची की मोटी चूचियों और गांड के अक्श को देख मेरा लंड जैसे तना जा रहा था, जिसे पजामे से साफ देखा जा सकता था. पर आज मेरे पास कोई बहाना नहीं था साहिल के पास जाने का।इसी तरह आधा समय बीत गया. कुछ देर बाद आंटी से जब नहीं रहा गया तो वो मुझे गाली देते हुए बोलीं- चोद भी दे भोसड़ी के … आह अब मुझसे और नहीं सहा जाता राजा … अब मेरी गर्म चुत में अपना मूसल लंड डाल दो.

मैंने अपना लंड उसकी चूत की गुलाबी पंखुड़ियों पर लगाया और ऊपर नीचे करने लगा.

तभी चाची ने अचानक से मेरा हाथ पकड़ा और बोली- बस करो!फिर वो बोल कर नीचे जाने लगी और जाते हुए उसने पीछे पलट के मुझे देखा और नीचे अपने रूम में चली गयी।मैं समझ गया कि अब मौका मिलते ही चाची मुझसे जल्दी ही चुदवा लेगी।थोड़ी देर छत पर टहलने के बाद मैं भी अपने रूम में चला गया. मैं वहाँ से उठ कर चला गया।फिर कुछ दिनों तक जब किसी ने मुझसे कुछ नहीं कहा तो मैं समझ गया कि इसने अब तक किसी को कुछ नहीं बताया है।मेरी हिम्मत बढ़ गयी और फिर से मैं छुप छुप कर कभी उसकी गांड को तो कभी उसकी चूचियों को घूरने लगा. इतना मजा आया कि मैं उसको और जोर जोर से चोदने लगाफिर पांच मिनट के बाद मेरा भी निकलने हो गया.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी वीडियो हिंदी बीएफवो इस समय दूसरी तरफ को देख रही थीं, तो उनकी गांड भी बड़ी मस्त दिख रही थी. हमारी गर्म चुदाई की कहानी में मजा आया होगा ना? तो अपने मैसेज के द्वारा जरूर बतायें.

सेक्सी बढ़िया से बढ़िया

वो भी मेरी तरफ खूब तैयार होकर और खूब सेक्सी सेक्सी साड़ी पहन कर आती थी रोज़!आज पूनम मैडम ने हल्के पीले रंग की साड़ी पहनी थी, उनका ब्लाउज स्लीवलेस था और वो नाभि के नीचे ही साड़ी बाँधती थी जिससे उनका पूरा पेट और पीठ दिखती थी. मैं अपनी गलती समझ गया और तनिक लज्जित सा हो कर सिर नीचे करके खड़ा था. अब अम्मी ने सलमान से रुकने को कहा और उठ कर सामने ड्रेसिंग टेबल से सरसों के तेल की शीशी ले आईं.

जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी चूची को हाथ में पकड़ कर भींच दिया. वैसे तो मैं भी उसको पसंद करती थी लेकिन उसने बिना पूछे मुझे छू लिया इसलिए मैं नाराज थी. सुरभि अपनी चुत और चूचियां फ़ोटो के मुझे दिखाती थी और मैं अपना खड़ा लंड उसे दिखा देता था.

तुम 5 मिनट बाद वहां आ जाना, मैं वहीं जा रहा हूं,पहले तो हिमानी बोली कि मैं वहां नहीं जाऊंगी, कोई देख लेगा तो बदनामी हो जायेगी. मैंने एक जोरदार झटका लगाया और चार इंच तक लंड सुमन की चूत में चला गया. अरे अब जितना देखा उतना बता दिया … बाकी तो देख कर, चख कर ही बता सकता हूं.

मेरे दूसरे धक्के में मैंने पूरा लंड प्रिया भाभी की चूत में पेल दिया. उन्होंने पूरा पानी चूस लिया।फिर मैंने भाभी की चूत को छूने की कोशिश की तो भाभी बोली- साड़ी मत उतार देना.

उसके बाद उसने लंड को मेरी चूत पर रख दिया और जोर से मेरे बूब्स दबाने लगा.

देसी भाभी चुत कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने भाभी के नंगे बदन से जम कर खेल कर उसे गर्म किया. हिंदी सेक्सी बीएफ हरियाणवीऔर दूसरे हाथ से साहिल के लौड़े को सहला रही थी।कुछ देर बाद साहिल ने उसके गालों और उसके गले को बड़े प्यार से चूसा. राजस्थानी सेक्सी बीएफ मूवीजब हम लोग हैदराबाद से छुट्टी मनाकर वापस आए, तब मैंने और अमन ने अपने नम्बर ले दे लिए थे. मैं यही सोचता था कि मैं तो साला कुंवारा ही मरूंगा, पर शायद मेरी किस्मत को कुछ और ही पसंद था.

करीब घंटे भर बाद लगभग 3 बजे मेरी आंख खुली, तो मैंने पाया कि हेमा चाची का हाथ मेरी छाती पर था और उनकी गोरी जांघ मेरे लंड पर रखी हुई थी.

उस वक़्त मैं बैंगलोर में जॉब किया करती थी लेकिन बीच बीच में पुणे आना हुआ करता था. मेरा लंड कड़ा होकर करीब छह इंच का हो गया था, पर जब सुलेखा ने उसे अपने हाथ में पकड़ा … तो मेरा लंड लोहे की तरह एकदम टाइट होकर मानो और एक इंच बढ़ कर सात इंच का हो गया था. मैं- मगर तुम्हें देखकर बिल्कुल ऐसा नहीं लगता कि तुम इतनी उम्र की हो.

झड़ने के बीस मिनट बाद जय ने फिर से लंड चूसने का बोला और वो मेरी गांड में उंगली डालने लगा. मैंने आँखें बंद कर लीं और आगे वाली सीट के पिछले हत्थे पर कोहनी के ऊपर सर रख दिया. फिर मैंने अपने लंड पर भी थूका और अपने लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर रगड़ने लगा.

भाई बहन की सेक्सी कहानी चुदाई की

चुत पर मेरी जीभ पाकर आंटी बड़बड़ाने लगीं- आह्ह साले … खा जा आह मेरी जान कब से प्यासी हूँ. बलविंदर ने कहा- कुछ दिन रुक जाओ … मैं तुम्हें चुदाई के हर खेल में पारंगत कर दूंगा. उसने मेरा एक हाथ अपने कंधे पर रखा और मुझसे अपने सहारे से चलने को कहा.

मेरी इस सेक्स कहानी में आपको जो भी गलती दिख जाए, उसे प्लीज़ अनदेखा करते हुए मेरी देसी कहानी का आनन्द लीजिए.

मेरी पिछली कहानी थी:सुहागरात में बीवी की चुत चुदाई और प्यारआज मैं अपने लाइफ की एक और दास्तान मतलब अपनी हॉट वाइफ सेक्स कहानी आप सभी के साथ साझा करने जा रहा हूँ.

अब मैं अपनी रफ़्तार से चोदने लगा, चूत से पानी बाहर निकलने लगा और चाची की जांघों पर आने लगा।अब गीला लंड फच्च फच्च फच्च की आवाज करने लगा।मैंने चाची को घोड़ी बना दिया और उसकी गान्ड में लन्ड फेरने लगा।तभी चाची की गांड में थूक लगाया और लंड को अंदर घुसा दिया. मामी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने मामा मामी से मिलने उनके घर गया. बीएफ वीडियो में बीएफ बीएफ बीएफचाचा कमरे में आए और उन्होंने मुझे देखकर कहा- अरे भास्कर कैसा है … तू शादी में क्यों नहीं आया?मैंने कहा- चाचा वो मेरे कॉलेज में टेस्ट परीक्षाएं आने वाली हैं, तो उसी की तैयारी में लगा था.

मैंने जोर देते हुए बोला- चलो!तो वो मान गई।हम जूस सेंटर पर गए।मैंने उसको बोला- तुम बैठो, मैं अभी आया. मामा जी के छोटे लड़के का नाम राजू है, वो गांव में रहकर खेती करते हैं. फिर फोन पर ही वो रोने गिड़गिड़ाने लगी और कहने लगी- अर्जुन ऐसा मत कर.

इतने में ही उसने दूसरा धक्का मारा और पूरा लंड शालू की टाइट चूत में उतार दिया. आंटी ने एक घंटे बाद फिर से चुदाई के लिए मेरे लंड को खड़ा किया और घमासान चुदाई हुई.

अब औरतों को संतुष्ट करने की बात थी तो परफॉर्म करने का भी दबाव होता था.

अब वो और जोर जोर से चूसने लगी तो मैंने कहा- ओह्ह्ह … मेरी फ़रज़ाना दीदी … चूसो और चूसो।वो मेरे लंड के साथ मेरे आंड भी चाटने लगी।जब मुझे लगा कि मेरा निकलने वाला है तो मैंने उसे रोका और बेड पर पटक कर दीदी के नंगे बदन पर चढ़ गया. वो चाय बनाने लगी, चाय बना कर वो फिर से ठाकुर के कमरे में पहुंची और शर्मा कर बोली- साहब चाय. अब मैं कल्पना की सहेली साक्षी के बारे में सोचने लगा कि कैसे उसकी हेल्प करूं.

बीएफ सेक्सी वीडियो बताइए मेरी वासना अपने शिखर पर चढ़ने लगी और मैंने हाथ पीछे करके उसके लंड को पकड़ कर कहा- बड़ी जल्दी टाईट हो गया. कुछ घटनाएँ सबके सामने होती हैं और कुछ ऐसी होती हैं जो नीचे ही नीचे होती रहती हैं.

अब मैंने अपना हाथ उसकी चूची से हटा कर उसकी पीठ पर रख दिया और उसकी पूरी पीठ सहलाता हुआ मेरा हाथ धीरे धीरे उसके चूतड़ों को सहलाने और दबाने लगा. मैंने देखा कि उस काली सिल्की नाईटी से हेमा चाची की घुमावदार गांड अच्छी तरह से उभर कर नजर आ रही थी. मैंने ससुर जी का लवड़ा पकड़ा, तो उनका लंड इस उम्र में भी कड़क मूसल सा अकड़ा हुआ था.

हिंदी में खुली सेक्सी

मैं तुम्हें इशारे से कुछ कहना भी चाह रही थी, मगर तुम कुछ समझ ही नहीं रहे थे. खुशबू भी मेरे गाल पर हाथ फेर कर बोली- ठीक है जान … अब तुम हैंडिल कर लेना. मैं साथ काम करने वाली लड़की से पूछा तो उसने टारगेट पूरे करने का तरीका बताया.

इस तरह से उन सात दिनों में मैंने सुमन को उस फ्लैट के हर एक कोने और हर स्टाइल से चोदा. वो वैसे ही पेड़ से टिकी हुई हांफने लगी और मैं पैंट पहन कर जमीन पर बैठ गया.

साहिल अपने हाथों से रानी की कमर पर हरकत करने लगा और अब साहिल का हाथ धीरे धीरे ऊपर जा रहा था.

मगर मैं फिर भी तैयार थी क्योंकि मेरी जवानी की गर्मी अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रही थी. मैंने उनको बोला- भाभी, ब्लाउज खोल लो ताकि पीठ पर पूरी तरह से मालिश हो सके. दोस्तो, मैं रोहित आपके सामने एक अनजान महिला की होटल में धमाकेदार चुदाई की कहानी लेकर पेश हूँ.

जैसे मैंने अपने अंडरवियर को निकाला, तो वह मेरे लंड को देखकर बहुत खुश हुई. उनसे दूर रहने के बाद मैं उनसे मिलने और उनके साथ सेक्स करने के लिए मचला जा रहा था. फिर मैंने सोचा मां चुदाए, इससे मुझे क्या … मुझे तो चुत चोदने मिल गई है.

मामी ने एक बार लंड को देखा और अगले ही पल अपने मुँह में लंड भर कर चूसना शुरू कर दिया.

नंगी पिक्चरें बीएफ: वो बड़बड़ाए जा रही थी- और … आह्ह … और अंदर डालो मोहित … हह्ह … और अंदर तक चाट. उसके बाद मैं कुछ देर भाभी से लिपटा रहा और फिर अपने रूम में वापस आ गया.

मेरे दोस्त की बीवी शबाना भाभी के साथ चुदाई की कहानी के पहले भागदोस्त की अकेली बीवी की वासनामें आपने अब तक पढ़ा था कि शबाना भाभी की अतृप्त जवानी की आग भड़क उठी थी और वो मेरे साथ चुबंन के लम्बे सीन में अपनी जीभ मेरे मुँह में दे बैठी. मैंने कहा- दीदी, खड़ा हो गया।दीदी बोली- अरे भाई, चल अब अंदर डाल दे।मैंने अपना लंड अंदर डाल दिया और धक्के लगाने लगा. लंड देखते ही भाभी बोली- बाप रे इतना मोटा लंड … आज तो मैं मर ही जाऊंगी.

फिर आंटी ने उनको बैठने को बोला और अपनी फ्रेंड से मिलवाया।आंटी- ये मेरी फ्रेंड है.

जिसको देखते हुए अब मैंने अपने हाथ में उसका लन्ड लिया और उसको सहलाने, दबाने लगी. अब मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था और मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से दबा रहा था. अब मेरी आवाज़ें तेज़ हो रही थीं- आह … आह प्लीज … आह्ह … आहा … और तेज करो.