हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,क्सक्शक्श

तस्वीर का शीर्षक ,

संगम सेक्सी वीडियो: हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ, भाभी ने कहा- पहले मुझे पूरी नंगी करो … लेकिन धीरे धीरे और मुझे चूमते हुए.

क्सक्सक्स विलेज वीडियो

उस दिन मैंने ध्यान दिया कि वह मुझे नीचे ही नीचे तिरछी नजर करके देख रही है. एक्स एक्स एक्स सेक्स हिंदीवो ऐसा ही करती है, शादी नहीं हुई उसकी अभी इसके लिए उसका भाई ही अब पति है.

फिर वो मेरे पास आ गई और कहा- अरे आप कहां थे, आप यहां बोर तो नहीं हो रहे हैं ना! भई आपसे हमारा समधी समधन का रिश्ता है, आप लड़के वाले हैं. मारवाड़ी सेक्सी बीपीफिर हमारे बॉयफ्रेंड हमें छोड़कर चले गए, खुशी ने उसको हद पार करने नहीं दिया था.

बस हुबहू वैसा ही गोरा, मोटा, लम्बा और मजबूत लंड अपने सामने देख कर सबसे पहले तो मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह थोड़ा सा चूसा.हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ: आअह्ह ह्ह चोद दे बेबी … जोर जोर से चोद माय स्वीट बेबी … फ़क मी आअह उफ्फ!”वंश मुझे धकापेल चोद रहा था और मेरे होंठों में किस भी कर रहा था.

फिर जब मेरी हिम्मत और बढ़ी, तो मैंने भाभी की चुत में अपनी दो उंगलियां अन्दर कर दीं और उनको अन्दर बाहर करने लगा.वसुन्धरा के शरीर में रह रह कर सिहरन की लहरें उठ रही थी और उसने अपना निचला होंठ अपने दांतों में कस कर भींच रखा था.

xxx माराठी - हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ

मुझे एकदम लगा कि ये तो गलत काम कर रही है अतः इसके मां बाप को बताना चाहिए.यह मेरे लिए बिल्कुल नया था। हॉल के अँधेरे में ऐसे बात करने में मुझे बड़ा मजा आ रहा था।मैंने करीब 5 मिनट बाद उसे फिर से मैसेज किया। वो फिल्म देखने में मशगूल थी। फोन के वाइब्रेट होते ही उसका ध्यान फोन पर गया.

फिर उसने कटोरी उठायी और फांकों को फैलाकर कटोरी से चूत पर अपना दूध गिराते हुए बोली- लो मेरी जान दूध पिओ. हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ वो अब थोड़ा कम ऊपर नीचे हो रही थी क्योंकि वो झड़ गयी थीं … लेकिन मैं चालू था.

इतने में शिखा की चूत ने पानी छोड़ दिया और मेरा मुंह उसकी चूत के पानी से भीग गया.

हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ?

मेरे स्तन आंटी से तो छोटे ही थे, पर उनसे ज्यादा कड़े थे और मेरी ब्रा से आधे से ज्यादा बाहर निकले हुए थे. फिर भाभी ने अपने दोनों पैर फैला कर अपने पैर मेरे पैरों में फंसा लिए, कैंची सी डाल दी, जिससे मेरा लंड भाभी की चूत की गहराइयों में फंस सा गया. मन्नत तो मानो जन्नत में पहुँच गयी थी क्योंकि बहुत दिनों के बाद किसी ने मेरी चूत चाटी थी.

जब वो चलती थी, तो सलवार में उसके गोल गोल चूतड़ बड़े दिलकश अंदाज में मटकते थे. तो शर्मा सर भी उतनी ही फुर्ती से उठे और दरवाजे मैं पैर फंसाकर मुझे दरवाजा बंद करने से रोक दिया- इतनी जल्दी भी क्या है … मुझे भी तुम्हें सुसु करते हुए देखना है. फिर नीचे की तरफ बढ़ी और पंजे के बल बैठते हुए उसने अपने दोनों हाथ मेरी जांघों पर गड़ा दिए.

वैसे तो वसुन्धरा से मुझे कुछ ख़ास उम्मीद नहीं थी लेकिन इंसानी ख़्वाहिशों और कल्पनाओं का कोई ओर-छोर तो होता नहीं. मैंने कहा भी था कि थोड़ी देर का दर्द है, थोड़ा औऱ दर्द होगा, फिर कभी नहीं होगा अभी मजा आने लगेगा. जैसे ही मैं उस घर के थोड़ा करीब पहुँचा, मौसी ठीक दरवाजे पर खड़ी दिख गईं.

मेरी कहानी के बारे में कमेंट करना न भूलना।मेरा मेल आईडी नीचे दिया है।धन्यवाद।[emailprotected]. मैंने धीरे से लण्ड निकाला तो वह और सूज चूका था और बड़ा दर्द हो रहा था.

मैं, मनोज और जागृति हॉल में सो रहे थे और मनीषा बेडरूम में सो रही थी.

अनिल भैया अब बिना हिले ऐसे ही बिना मेरे शरीर पर कोई वजन डाले, अपना पूरा नौ इंच का लंड मेरी गांड में फंसाये हुए थे.

होंठों के चुम्बन के साथ इस बार मैं उसके मम्मों को टॉप के ऊपर से ही मसलने लगा. मैंने अपने लंड को वहीं पर रोक कर पहले शलाका के दोनों चूचे कस कर दबाये. मुझे नहीं पता दीदी ने उनको कहां से ढूंढा था लेकिन उनको देख कर मुझे ऐसा लगने लगता था कि काश मैं भी इनके जितना ही चार्मिंग होता.

वो भी चुदाई की प्यासी थी और मैं उसकी गुलाबी चूत को चोदने के लिए बेसब्र था. इस कहानी में आपको मेरे पहले सेक्स कहानी बड़ी भाभी के साथ चुदाई की पढ़ने को मिलेगी, इसलिए आप अपने लंड को थाम कर तैयार रहिए. काफ़ी सारा अमृत मुंह में गया और काफ़ी सारा नीचे गुड्डी रानी पर, मेरी छाती पर और बेबी रानी की टांगों पर छलक गया.

इससे पहले मैं उसकी चूचियों को भर नजर देख पाता, वो अपनी चूचियों से खेलने लगी.

सीमा ‘उन्ह आह्ह् सीस सीसी उफ्फ … चोदो अह्ह्ह मैं गयी … उफ्फ …’ करने लगी थी. इसलिए मैंने नम्रता को अपनी गोद से उतारा और उसको खिड़की पर उसी स्टाईल में झुकने के लिए कहा, जिस स्टाईल में अभी कुछ देर पहले वो खड़ी थी. मैंने उसे ऐसा करने से रोका और उसको कहा- यहां नहीं … बेडरूम में चलते हैं.

उसकी सिसकारियाँ सुन कर मोनू प्रियंका को चोदता हुआ बोला- उफ्फ … साली मुस्कान तो ऐसे तड़प रही है जैसे पहली बार चुद रही हो. मैं अगले दिन जब ऑफिस गया, तो मेरी निगाहें उस खूबसूरत परी को खोज रही थीं. उसने इस मौके का पूरा फायदा उठाया और अपना लंड मेरी चूत में पेल दिया.

उधर राधिका और दिशा दोनों एक-दूसरे से अलग हो गईं और मैं भी अपना लंड हाथ लेकर खड़ा हो गया.

फिर उसने मेरे दोनों पैर ऊपर किए और अपने लंड को मेरी चूत पर रखकर रगड़ने लगा. क्यों?”क्योंकि उसके मज़े तो हम दोनों कल से ले रहे हैं, आज उसकी मम्मी का रंगारंग प्रोग्राम करेंगे.

हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ एक पल के लिए तो मैं भी हैरान हो गया था कि अचानक से इस औरत को ऐसे क्या हो गया. जब मैंने चाची को पहली बार चोदा था तो उसके बाद से मैं भी काफी बोल्ड हो गया था.

हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ वो मेरे मुंह पर बैठ गई, मैं चाची की चूत चाट रहा था और कंचन मेरा लंड।फिर मैंने वीडियो में देखी हुई वाटरफॉल पोजीशन ट्राय की जिसमें मेरे पैर बेड पर और सर जमीन पर … मेरे लंड पर कंचन बैठ गई और चाची ने मुंह से अपनी चुत चटाई। इस पोजीशन में हम करीब 15 मिनट तक थे। फिर हमने नई पोज़ बनाई जिसमें कंचन की चूत में लंड डाल कर वो मेरी गोद में बैठ गई। और चाची ने उसकी चुत चटाई की. जब भी उसका पानी छूटता, अपने पेटीकोट से अपनी फुद्दी और लण्ड को साफ कर वापिस मेरे ऊपर आकर चुदाई में लग जाती.

मैं अपने मामा के बेटे के सामने एकदम नंगी थी और वो भी मेरे सामने एकदम नंगा था.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी मूवी

इसी बीच तुम्हारी स्टोरी आधी हकीकत आधा फसाना अन्तर्वासना पर प्रकाशित हुई. इस फोरप्ले से नितिन का लंड अकड़ने लगा और सीमा की चूत पानी पानी हो गई. उसे शायद बहुत जोर से जलन हो रही थी लेकिन वह कसमसा कर रह गई लेकिन कुछ नहीं कहा.

मैंने लाईट बन्द करके अपनी मैक्सी ऊपर कर ली और अपनी चूत में उंगली करने लगी और मजा लेकर पानी निकाल कर सो गयी. कुछ देर बाद मैंने फिर से छत पर जा के देखा कि मेरी पैंटी उधर नहीं थी. अब तो वैसे भी मैं तुम्हारा राज जानने वाला दोस्त बन गया हूं, सो अगर मुझसे फ्री हो कर बात नहीं करोगी, तो फिर सेक्स कैसे करोगी.

ऐसा तो होना ही था, पर न तो अनिल भैया को इस बारे में कुछ पता था … न ही मुझे.

इसलिए पहले प्लान बनाया गया कि चलो कहीं बाहर घूमने के लिये जाते हैं और वहां मज़े करते हैं. और दूसरी बार झड़ते ही एकदम से शान्त हो गई और अपनी आंखें बंद करके लेटी गयी. खड़े लंड के बहाव में मैंने जेब से अपना कार्ड निकाला और भाभी के हाथ में देकर ऑफिस की तरफ आ गया.

”उनकी बातें मेरे कानों में गर्म लावा डाल रही थीं, मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि प्रमोशन के लिए नितिन ये भी कर सकता है. कुछ ही देर में मेरे लंड की खुजली मिट गयी और मेरे लंड ने उसके मुँह के अन्दर ही उल्टी कर दी. और उसके बाद मेरी नज़र मेरी बेटी की कोमल चूत पड़ी जिस पर एक भी बाल नहीं था.

उसके बाद मेरी जानू की आवाज आई- रुको भाभी, आपके मोबाइल से फोटो लेती हूँ. एक दिन जब मैं सोकर उठा तो देखा कि चांदनी भाभी मेरे घर में आई हुई है.

मैंने उसे ऐसा करने से रोका और उसको कहा- यहां नहीं … बेडरूम में चलते हैं. मैंने ब्लाउज को बंद करने से पहले अच्छी तरीके से उसके स्तनों को देखा. आप उस पर ज्यादा ध्यान न दो और कहीं कोई खूबसूरत औरत के साथ सेटिंग कर लो और जिन्दगी का मजा लो.

तू तो जानती ही है कि एक मदहोश औरत की चुदाई में चूत सहलाना … मतलब आग में पेट्रोल डालने के बराबर होता है.

मैं तुरंत भागने लगा, कहीं मम्मी ने फोन उठा लिया और उधर से किसी दोस्त ने कुछ अनाप शनाप बोल दिया तो … साले दोस्त होते ही हरामी हैं. अन्त में मैं उसकी चूत को अच्छे से चाटने लगा, इसी बीच वो शायद ज्यादा उत्तेजित होने के कारण वो अपने सफेद रस को छोड़ने लगी. एक बार हुआ ये कि सुधा को किसी काम की वजह से अपने घर जाना पड़ा, तो उसकी फ्रेंड मुझे रात को पानी भरने की जगह पर मिली.

मैंने उसे चोदना चालू रखा, उसने स्पीड बढ़ाने के लिए कहा और बोली- थोड़ा जोर से करो, अब मजा आ रहा है. पर हिम्मत तो मेरी भी नहीं हो रही थी कि मैं उसे किस करूं और उसके कपड़े उतार कर चढ़ जाऊं उसके ऊपर और पेल दूँ उसे।मैं थोड़ा सा हिम्मत करके उसके पास जाकर लेट गया और उसका सिर अपनी बाजू में रख कर उसके हाथों को अपने हाथ में लेकर पहले उसके हाथ में ही किस किया। मेरी गर्लफ्रैंड ने कुछ नहीं कहा बस नजरें झुका ली.

मैं उसकी गर्दन को नीचे की तरफ झुकाते हुए बोला- एक बार मुँह में लेकर इसको प्यार करो, फिर चली जाना. हम दोनों लोग सेक्स कर रहे थे और वो मुझे अपने बेडरूम में नंगी करके मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरी चूत को चोद रहे थे. मैंने देखा कि उनके बूब्स साफ दिखाई दे रहे थे लेकिन दी के निप्पल देखने में थोड़ी परेशानी हो रही थी.

विदेशी सेक्स बीएफ वीडियो

बेटा, मैं तेरे स्वाभिमान की कद्र करता हूं पर तू भावनाओं में बह कर नहीं यथार्थ के धरातल पर सोच.

भाभी ने वाइन के लिए मना कर दिया तो मैंने वाइन का ऑर्डर कैंसिल कर दिया. मैंने कहा- वो तो तू भी हो रही थी साली मेरे लौड़े पर बैठ कर!सीमा ने कहा- मैं तो आपकी फैन हूँ ही न. उसने इशारे से पूछा- कहाँ?तो मैं जवाब देने के बजाय उसके घर पहुंच गया.

एक अनुभवी आदमी मेरी मनोदशा समझ गया था कि मुझे चुदने से पहले अपनी झांटों का जंगल साफ़ करना होगा, इसलिए मैं आज नहीं चुद रही थी. जब भाभी किचन में चीनी लेने गई तो मैंने भैया के लंड पर हाथ फेर दिया. સેક્સ વિડીયો મોકલોबहुत ही सुन्दर बड़े बड़े चुचों वाली सरोज अपने आप को बेटियों और नई नवेली लड़कियों से अधिक सुंदर और स्मार्ट समझती थी.

मंजू ने आगे बताया- एक दिन तभी मुझे भनक लगी कि वे लोग मुझे किसी कोठे वाली को बेचने वाले थे. मैं चूंकि बिल्कुल नंगा ही सोया था, तो माँ ने मुझे खड़ा किया और बाथरूम में ले जाकर मुझे नहलाने लगीं.

लेकिन दिन का समय होने की वजह से वो छत की सीढ़ियों और मीरा की छत पर रखे प्लांट्स की ओर आ गए. शुभ्रा जल्दी से गिलास ले आयी और मैंने जल्दी-जल्दी अपने लिये और शुभ्रा के लिये पैग बना लिया और हम दोनों ने एक ही सांस में अपने अपने गिलास खाली कर दिये. मैं यह बात समझ गया कि संजना बस मेरे लिए ही मेरा लौड़ा चूस रही है ताकि मैं सीधे से झड़ जाऊं, जो मैं इतनी चुदाई होने के बावजूद नहीं झड़ पाया था.

वसुन्धरा ने धीरे से मेरा हाथ अपने दोनों हाथों में लिया और बोली- मैंने अपने सारे अधिकार, सारे इख़्तियार, खुद मैं … मेरी जिंदगी और मेरी जिंदगी से बावस्ता सारे फ़ैसले और उन फैसलों के सारे नतीज़े … मैंने बहुत साल पहले आप के नाम कर दिये थे, बस! आपको बताया ही नहीं था. मैंने वहीं बैठी एक महिला के पास जाकर कार्ड दिखाया तो उसने मुझे 1 नंबर रूम में जाने को कहा. बेबी रानी ने पहले ही झपट के एक तौलिया बिस्तर पर बिछा दिया था जिससे बिस्तर गीला न हो पाए.

”ईशशश … अंकल, आप भी अजीब अजीब तरीके ढूंढ निकालते हो … आपको यह सब कैसे सूझता है?”अब तुम्हारे जैसी हूर की परी सामने अधनंगी लेटी हो, तो मेरे जैसे कलाकार को यह सब सूझेगा ही ना.

मैंने जब पूछा- तुम्हारे हस्बैंड के आने का कोई चांस तो नहीं?तो उसने कहा- आप उसकी चिंता छोड़ दो, वो अपनी सीट नहीं छोड़ सकता. भाभी सारा रस पी गईं और अब उन्होंने अपनी चूत की तरफ इशारा करके कहा- तुम्हारी बारी.

मौसी वैसे ही मेरे लंड को ऊपर नीचे करती रहीं और बीच बीच में इधर उधर भी देख लेतीं कि कहीं कोई हमें देख तो नहीं रहा. अगर मेरे पति को पता चल गया तो?” मैं धक-धक करते हुए अपने दिल की धड़कन को संभालते हुए बोली. बीच बीच में उनकी चूचियों से मुंह हटा कर मैं चाची के होंठों में जीभ डाल दे रहा था.

मुझे भी हिन्दी सेक्स कहानी बहुत पसंद होती है क्योंकि उसमें फील ज्यादा होती है और मूड बन जाता है. बातों बातों में पता चला कि डॉली का एडमिशन इलाहाबाद में हो गया है, अगले सोमवार को पहुंचना है इसलिये इतवार को रात की ट्रेन पकड़ेंगे. अनिल भैया ने तुरंत मेरे होंठों को किस किया और सान्त्वना दी कि सब ठीक हो जाएगा.

हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ फिर एडल्ट जोक्स और गरम फोटोज के बाद चुदाई वाली क्लिप्स भी आने लगी थीं. बेबी रानी ने कहा- राजे तू कपड़े पहन ले … अभी वो आता होगा न रूम सर्विस वाला … हम दोनों तो नंगी रहेंगी.

यूपी के बीएफ सेक्सी

अब आगे देहाती सेक्स की कहानी:फिर मैंने ध्यान दिया कि उस गली में आगे जाने का रास्ता तो है ही नहीं. मैं 20 साल का हूँ और मैं आप सभी को आज अपने पहले सेक्स अनुभव के बारे में बताना चाहता हूँ।कहानी शुरू करने से पहले मैं आप सभी को अपनी भाभी के बारे में बताना चाहता हूँ. ऐसा करते-करते उसने अपनी एक उंगली मेरी गांड के अन्दर पूरी डाल दी और अपनी उंगली से मेरी गांड चोदने लगी.

उस दिन अंकल जी से मिल कर घर लौटी तो सारे दिन दिल धक् धक् करता रहा कि अब क्या करूं क्या न करूं. आप ऐसे अचानक आ गए?वो बोला- अच्छा हुआ साली रंडी तूने सूसू नहीं किया. बीपी सेक्सी वीडियो बीपीयहा अंधेरा होने से पहले लोग अपने घर आ जाते हैं … खास कर आजकल के मौसम में.

चाची ने भी जल्दी से अपनी मैक्सी को सही कर लिया और मैंने अपनी निक्कर को ऊपर कर लिया और दोनों लेट कर सोने का नाटक करने लगे.

मैं क्या बोलूँ, वो एकदम मुलायम और राउंड राउंड गांड का अहसास मुझे सनसनी दे गया. मैंने उसे गर्म करके उसके होंठों पर किस किया, तो वो बोली- यार, मैं ये आपके साथ नहीं कर सकती … आप मेरी बेस्ट फ्रेंड के फ्रेंड हो.

मैंने घुटने के बल बैठकर दिशा की चूत पर मुँह रखकर किस किया, जिससे दिशा थोड़ी सी असहज हो गई और उसके मुँह से आह आवाज निकल गई. मैंने भाभी के बूब्स को दबाते हुए कहा- भाभी जान … आपकी कसम किसी को नहीं बताऊंगा. तीन-चार मिनट की मशक्कत के बाद वो मेरे बदन से लिपटती चली गई और अपनी चूत को मेरे हाथ पर फेंकने लगी.

मैंने उसे अपने बारे में बता रखा था कि मैं एक तलाक़शुदा औरत हूँ … मैं अभी कुछ सोच ही रही थी कि उसी समय उसने मुझे बांहों में भर लिया.

” पवन मुझे चूमकर बोला।तुम्हारा लंड देखकर मेरी चूत पानी बहा रही है, अब फटाफट मेरी चुत में अपना लंड घुसा दो पवन!” मैं कामवासना से आतुर होती हुई बोली।पवन एकदम खड़ा हुआ, मेरी टीशर्ट को मेरी पेट के ऊपर तक सरका दिया और मेरी पेंटी को जोर से खींचकर फाड़ दिया।पेंटी खींचने से परी कमर पर रगड़ लगी और मेरी चीख निकल गयी पर मैं पवन के हाथ की ताकत की दीवानी हो गयी. फिर भाभी ने अपने दोनों पैर फैला कर अपने पैर मेरे पैरों में फंसा लिए, कैंची सी डाल दी, जिससे मेरा लंड भाभी की चूत की गहराइयों में फंस सा गया. मैं उसकी कमर को पकड़कर अब लगातार तेजी से धक्के लगाता रहा जिससे मोनी की कराहटें अब और भी तेज हो गयीं और कुछ ही देर बाद मेरा सँयम टूट गया.

क्सक्सक्सी बफमैं प्रशिक्षण केंद्र के अन्दर पहुंचा, तो वहां करीब तीस लड़के और लड़कियां एक साथ बैठे हुए थे. ”नीतू … इधर भी बाल हैं क्या?”मैं नहीं बताऊंगी … आप खुद ही पता कर लो.

सेक्सी बीएफ पिक्चर देखने वाली

कोई बात है क्या?वह रूककर बोली- आपका बिस्तर गन्दा नहीं होगा?मैंने कहा- एक दिन में गन्दा थोड़े होता है. फिर चाची को हमारे बारे में पता चला और किसी तरह चाची को मना कर उनकी भी चूत की प्यास बुझाई।अब आगे पढ़ें:शाम को चुदाई के बाद कंचन अपने घर पर चली गयी। फिर मुझे याद आया कि चाची से पैसे लेकर नेट का रिचार्ज कराना है ताकि मैं चाची और कंचन को दूसरे सैक्स वीडियो दिखा सकूँ. तभी मेरी नजर बॉस की पैन्ट पर गई, वहाँ उनका लड़ बिल्कुल टाईट था क्योंकि मुझे उभार नजर आ रहा था.

मैंने अपना हाथ थोड़ा और आगे दोनों नितंबों के बीच की दरार की ओर बढ़ाया और पाया कि वसुन्धरा की चुनरी दोनों नितम्बों के बीच में कहीं नीचे वसुन्धरा की पेंटी में अटकी हुई है. जब वो चलती थी, तो सलवार में उसके गोल गोल चूतड़ बड़े दिलकश अंदाज में मटकते थे. कुछ ही देर में हमारा खाना भी हो गया और मां सभी बर्तन लेकर किचन में अपना काम करने लगीं.

हम दोनों बेडरूम में आ गए और फिर से हम लोगों ने किस करना शुरू कर दिया. मैं फिर से बोला- बोलो न … क्या अपना लंड तुम्हारी इस पनियाई चूत में डाल दूं. वो बीच-बीच में मेरे कोमल सुपाड़े पर दांत चलाती, जिससे मुझे मेरे पेट पर एक अजीब सी गुदगुदी सी महसूस होती.

फिर उसने मेरी लोअर को खींच दिया और मेरे शॉर्ट्स में से मेरे लंड को अपने दांतों में पकड़ लिया. काफी देर तक चूत चाटने और अंगुली करने की वजह से अनिता कांपते हुए अपने कामरस की वर्षा कर गई जिसे मैं अमृत की तरह पीता चला गया.

थॉमस ने मेरे मम्मों को चूस चूस कर उसका सारा रस निकाल दिया था और मेरे निप्पलों को भी पूरी तरह से निचोड़ दिया था.

दोस्तों मैं तो रोज रात को उसके चूतड़ों को याद करके मुठ मार कर सोता था. मराठी ब्लू फिल्म मराठी ब्लू फिल्मअगले दिन सुबह मैं जल्दी उठ गया और जल्दी से अच्छे से तैयार होकर ऑफिस पहुंच गया. बफ फिल्म दिखाएंजब वो धक्के मारते-मारते थक जाते, तो मुझे अपने ऊपर कर लेते तो मैं उनके लंड की चुदाई करने लगती. इससे पहले जिस सोफे पर हम दोनों ने ओरल सेक्स किया था, उसका कवर भी ख़राब हो गया था.

प्रिंसीपल सर ने कहा कि वे अपने दोस्त से इस बारे में बात करके देखेंगे.

दोपहर को मैं जब घर आया तब मैंने देखा कि मिष्टी दी ने एक टीशर्ट और नीचे पजामा पहना हुआ है शायद उन्होंने अंदर ब्रा नहीं पहनी थी. फिर भार्गव ने मुझे सीट पर लिटा दिया … और तुषार ने अपने सभी कपड़े निकाल दिए. इस बार मैं सोफे पर बैठ गया और सुमन घोड़ी बन कर मेरा लंड चूसने लगी उधर हरकेश उसके पीछे जाकर खड़ा हो गया और अपना लंड उसकी चूत पर लगा कर जोरदार धक्के के साथ पूरा लंड उसकी चूत पर पेल दिया.

आपने मेरी पिछली इन्सेस्ट कहानीचचिया ससुर से चूत चुदाई औलाद के लिएपढ़ी. मेरी सेक्सी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी तीसरी दुल्हन दिलिया की चूत चुदाई करके सुहागरात मनायी. आआआहह … उसके लंड की रगड़ मुझे बहुत हॉट बना रही थी … मैं अपनी आंखें बंद करके उसके लंड को मेरी चूत पर महसूस कर रही थी.

सेक्स व्हिडीओ ऑंटी बीएफ

फिर मैंने बोला- मीता बोलो न … क्या तुमने उसका लंड देखा है? या उसने तुम्हारी चूचियों को दबाया है?मीता फिर भी चुप रही. मैं उसको फिर तेज तेज चोदने लगा और कमरे में हम दोनों की सिसकारियां गूंजने लगीं. अंकल मेरी पैंटी को ध्यान से देख रहे थे उसके ऊपर मेरे चुत के रस का बहुत बड़ा गीला दाग था.

उन्होंने एक बार बाहर देखा कोई है तो नहीं, फिर मेरे पास पलंग पर आ गईं.

गैलरी की घनी बाउंड्री की वजह से नीचे क्या हो रहा है, आंटी को दिखना नामुमकिन था.

मैंने अपने मोटे लंड वाले जीजा के साथ कुल मिलाकर 4 बार सेक्स किया था. उसने इस मौके का पूरा फायदा उठाया और अपना लंड मेरी चूत में पेल दिया. नंगी पिक्चर सेक्सी वीडियो मेंपर मुझे तनिक भी अंदाज़ा नहीं था कि यहाँ से मेरी जिंदगी ही पूरी बदलने वाली थी.

फिर क्या था, नम्रता एक बार फिर बिस्तर पर लेट गयी और अपने कूल्हे को फैलाते हुए मुझसे इशारा करते हुए फोन में बोली- मेरे राजा मैंने अपनी गांड का मुँह खोल दिया है. उस वक्त हरकेश बिस्तर पर लेटा हुआ था और सुमन उसके लंड पर कूद रही थी. पहले मैंने चुंबन करने वाली को बांहों में भर लिया और बिस्तर पर लिटाते हुए उसके चेहरे पर नजर गड़ा कर आंखें खोलीं, तो मेरी बांहों में प्रतिभा ही थी, जिसे देखते ही पहली नजर में ही मैंने ख्वाब बुनने शुरू कर दिए थे.

मैंने उसकी पैंटी को खींचकर नीचे करते हुए साइड में किया और अपना लंड उसकी बुर में लगाकर धक्का देने लगा. आज भी जब मुझे किसी चीज की जरूरत पड़ती है, चाहे वह चुदाई की हो … या चाहे वह पैसों की हो … या फिर चाहे किसी और भी चीज की, तो मेरी यह दो रखैलें हमेशा मुझे मदद करती हैं.

पहले उनकी गर्दन पर, फिर उनकी छाती पर और फिर जैसे ही उनकी उंगली को उनकी चूची पर देखा, तो ब्रा के ऊपर से ही उनके बोबों को बुरी तरह चूसने लगा.

कोई चार पांच मिनट ही बीते थे कि मोटी-मोटी बूंदें हमारे ऊपर गिरने लगीं. ऐसा इस लिए भी समझ लीजिए क्योंकि मैं उसकी पढ़ाई में उसका पूरा साथ देता हूं. ”अंकल ने मुझे बाथरूम ले गए और मेरी चुत को अच्छे से साफ किया और किचन में ले जाकर दूध के साथ एक गोली दी.

सेक्सी बीपी सेक्सी फिल्म नम्रता भी मेरे उत्साह को बढ़ाने के लिए हम्म-हम्म की आवाज निकाले जा रही थी. पर मेरे ऊपर जब वज्रपात सा हुआ जब मेरे पापा ने अपनी आर्थिक स्थिति का हवाला देकर मुझे आगे पढ़ाने से इन्कार कर दिया और कहा- हम छोटे लोग हैं तूने इन्टर तक पढ़ लिया, वो बहुत है तेरी शादी के हिसाब से.

सर अब सहन नहीं हो रहा … बुझा दो मेरी चुत की आग, अपने लंड के पानी से!”यस नीतू … तुम्हें चोद चोद कर तुम्हारी चुत की आग शांत कर दूंगा. तुम जल्दी से अपने लंड को मेरी चुत में गाड़ दो और मेरी आग को बुझा दो. मेरी बात समझ कर हंसने लगी और बोली- मैंने नहीं वो लम्बे वाले बैंगन ने बचा ली.

सेक्सी बीएफ चाहिए इंग्लिश में

मैं- तो हम कल से एक ही ट्रेन पकड़ कर एक साथ आएंगे तो कैसा रहेगा?दीपाली- हां आईडिया अच्छा है. उस चिट्ठी में लिखा था कि छत का दरवाजा खोलने को सिर्फ इसे ही पहन कर आना है. मेरी चूचियों पर लगे अपने वीर्य से मेरे मम्मों की अच्छे से मालिश करके मेरी गांड पे हाथ मार कर संतोष जी बोले- चूत के बाल छोटे छोटे कर लेना, एकदम साफ मत करना.

धीरे-धीरे सुमन भी सेक्स कहानी पढ़ने लगी, पर खुशी पढ़ती थी या नहीं … ये पता ही नहीं चला. कभी सीमा नितिन की जीभ चूसने लगतीं, तो कभी नितिन सीमा के मुँह में अपनी जीभ डाल के उनकी जीभ चूसने लगता.

बातों बातों में पता चला कि डॉली का एडमिशन इलाहाबाद में हो गया है, अगले सोमवार को पहुंचना है इसलिये इतवार को रात की ट्रेन पकड़ेंगे.

मैंने भी फ्रेश होकर तौलिया उठाया और मुँह हाथ पौंछते हुए टीवी वाले कमरे में घुस गया और टीवी देखने लगा. नम्रता भी जोश में अपनी चूचियों को भींच रही थी और दोनों मम्मे को बारी-बारी अपने मुँह की तरफ ले जाती और जीभ को निप्पल की तरफ चलाती. धीरे-धीरे मैंने नीचे से उसकी सलवार हटायी तो वह मेरा हाथ पकड़ कर रोकने लगी.

मेरी सहेली की तरह मैं भी बॉयफ्रेंड बनाना चाहती थी और एक पड़ोस के लड़के से मेरी बात शुरू हो गयी. वह फिर से कुछ चिढ़ गई … शायद उसकी शादी शुदा होने की बात इस वक्त उसे नहीं सुननी थी. इन तीन दिनों में हमारा काम केवल और केवल खाना खाना और चुदाई का खेल खेलना ही था.

वो बोली- अर्पित मुझे बारिश देखना बहुत अच्छा लगता है, देखो आज बादल भी धरती पे ऐसे बरस रहा है, जैसे ये दोनों एक दूसरे से मिलने के लिए जन्मों के प्यासे हों, जैसे हम तुम.

हॉट चुदाई सेक्सी बीएफ: जाते जाते मीरा ने आज रात अपने घर के छत का दरवाजा खुला रहने का इशारा रितेश को दे दिया. मैंने झट से अपने दोनों हाथों से उनके पैंटी में घुस रहे हाथ को पकड़ लिया.

उम्मीद है कि हमारी यह सत्य घटना आप लोगों को पसंद आई होगी।[emailprotected]. इसी बीच रितेश टेबल के नीचे से अपने पैर बढ़ाकर कर मीरा की चुत को सहलाने लगा. मैं उसकी गर्दन से मुँह हटाकर उसकी चूचियों पर पहुंच गया और कपड़ों के ऊपर से ही उसकी एक चूची को मुँह में भरने लगा, दांत से काटने लगा.

मैंने पूछा- घोष बाबू में से कैसी गंध आती है?दीपिका- सुबह आपके पास भेज दूंगी, सूंघ लेना.

उसकी चुत को मैंने दस मिनट तक लगातार चाटा और वो इस बीच एक बार झड़ भी गयी. कुछ देर लंड चलाने के बाद उन्होंने खुद को मेरे नीचे लिटाया और खुद मुझे लंड पर हिलने को कहा. लगभग 15 मिनट के बाद वो छत पर आई और थोड़ा नखरा दिखाते हुए बोली- छत पर क्यों बुलाये हो सर हमको? कुछ खास काम है क्या आपको?मैंने उसको अपने पास आने के लिए इशारा किया और खुद मैं छत पर दीवार के सहारे बैठ गया.