बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो

छवि स्रोत,मद्रासी की सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

vishal सेक्सी: बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो, ऐसे ही मेरी उसके साथ बातचीत शुरू हो गई थी और हम दोनों दोस्त बन गए थे.

सेक्सी चुदाई वाली चुदाई वाली चुदाई

रानी …मेरा निकलने ही वाला है मंजुला … कहां निकालूं?”मेरे अन्दर ही बरस जाओ राजा …अब तो मुझे पूरा मज़ा चाहिए!” वो कहने लगी. चीनी सेक्सी वीडियोस[emailprotected]प्यासी भाभी को चोदा कहानी का अगला भाग:प्यार सेक्स और चुदाई के अरमान पूरे किये- 3.

मेरा रंग सांवला है, बदन भरा हुआ, तीखे नाक नक्श, सुन्दर चेहरा और आकर्षक बदन की मालकिन हूं. हिंदी सेक्सी डब्लू डब्लूमैंने मां को इशारे में ही कह दिया कि आज आपको आधा जलवा दिखा देना है, सही मौका है.

हमने राबिया की तरफ देखा तो वो अपनी सलवार में हाथ डालकर चूत रगड़ रही थी.बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो: वो एकदम से हड़बड़ा कर उठ गए और कहने लगे- अरे तमन्ना जी आप!मैंने कहा- आपने खाना नहीं खाया था, इसलिए मैं आपके लिए दूध लेकर आई हूं.

मैंने शायराना अंदाज़ में बोला- थोड़ा हवस भी लाजिमी है इश्क़ में मैडम … वरना शुद्ध इश्क को आप मर्दाना कमजोरी समझेंगी.फिर मेरी गांड में अपना कड़क लन्ड डाल कर चलती राह में मुझे भकाभक चोदने लगा.

बाप सेक्सी पिसातुरे विडिओ - बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो

तो अमित ने कस कर मेरे बीवी के मुँह में लंड घुसा दिया और लंड का पूरा माल मेरी बीवी के गले में निकाल दिया.अब मुझे मेरी चूचियों के निप्पलों में सरसराहट सी होती हुई महसूस हो रही थी.

फिर उनके दोनों पैरों को अपने दोनों हाथों से पकड़कर मेरे ऊपर ले लिया. बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो रजक लाल को डर था कि कोई आ ना जाए, इसलिए उसने रोहन के बाल पकड़े और रोहन के मुँह को धकाधक चोदने लगा.

एक बार और करेंगे न अभी?”नहीं न देखो शिवांश जाग जाएगा और रोने लगेगा तो फिर आप ही संभालना इसे!” वो बोली और उसने शिवांश की तरफ करवट ले ली.

बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो?

उन दोनों बहनों ने घर से बाहर कदम कैसे रखा ये तो मुझे नहीं पता था लेकिन किसी तरह भी करके गरिमा मुझसे मिलने आई. वो मेरा साथ देने लगी और हम दोनों बिना कुछ बोले बस एक दूसरे से अपने जिस्म को रगड़ने लगी. मैं रुक गया और बाजी अलग होकर अपनी गांड पर हाथ फेरने लगी और मुझे गाली देने लगी.

वो मेरे तने हुए लंड को देख कर मुस्कराने लगी और चाय को टेबल पर रख कर चली गयी. उस दिन जब मैं किचन में थी तो पापा ने पीछे से मेरी गांड को मसलना शुरू कर दिया. फिर मैंने पूछा- अच्छा, आज चाचा दिखाई नहीं दे रहे हैं?चाची ने कहा- वो शहर गये हुए हैं.

प्रियंका सीधा हमारी तरफ आयी और बोली- ये सब क्या है … तुम में खुद हिम्मत नहीं थी, जो बच्चे को भेज रहे हो. मैंने सिसकारते हुए पूछा- इसको अंदर लिया है क्या कभी तुमने?वो धीरे से बोली- नहीं, बस हाथ से किया है अभी तक. गनीमत रही कि उसको मैं पसंद आने लगा था वर्ना उसकी जगह कोई और होती तो मैं वहां से अपनी बेइज्जती करवाकर ही लौटता.

तब तक शनाज़ सजीधजी बाहर आई- क्या हुआ अम्मी?अम्मी- अभी तू चल … तुझे रास्ते में बता दूंगी. वो आगे वाला मेरे दोनों मम्मों को दबाने लगा और पीछे वाले लड़का मेरी गांड को मसलने लगा.

मैंने उसके होंठों का रस पीने के बाद एक बार फिर से उसके मम्मों पर अपने होंठ लगा दिए.

थोडे़ देर निप्पल चूसने के बाद उसने धीरे से मेरे स्तनों के उपर काट लिया.

थोड़ी देर बाद मैंने उसकी पैंट का बटन खोल दिया और उसे नीचे खिसकाने लगा. फिर थोड़ी देर मैंने उसके दोनों निप्पलों को बारी बारी से चूसा और किस किया. प्रियंका भाभी की बात सुनकर मैं घबरा कर खड़ा हो गया और बोला- किधर तक पीछा किया?वह बोली- अरे बैठो परिमल, घबराओ नहीं.

धीरे धीरे मैं अपनी एक उंगली को चाची की गांड में अन्दर बाहर करने लगा. लेकिन मेरे घर वालों को वापस जाना जरूरी था … तो ये तय हुआ कि मुझे दीदी के पास रूकने का बोल दिया गया. उसका मुंह मेरे लंड की ओर हो गया और मेरे मुंह की ओर उसकी चूत हो गयी.

विशाल जलराशि में छोटे छोटे जहाजनुमा रेस्टोरेंट और अन्य नौकाएं सैलानियों को भ्रमण करा रहीं थी.

मुझे देखकर वो तुरन्त बोलीं- तुम यहां क्यों, अभी तो कोई काम नहीं है तुम अभी जाओ!मैं तुरन्त बोला- क्यों कोई आ रहा है क्या आपसे मिलने!इतना सुन कर उनके चेहरे की हवाइयां उड़ गईं. फिर मैंने माया के कपड़े उतार दिए और कहा- चलो कुछ फ्रैंकली बातें करते हैं. मेरी चूत का पानी निकल चुका था जो भाई के लंड को पूरा गीला कर गया था.

वो बिल्कुल रसमलाई थी, मैं उन्हें भरपूर चूस रहा था।भाभी बोली- राज, आज की रात में तेरी हूं. साथ ही दारू की खुमारी मुझमें उत्तेजना बढ़ाने में और भी अधिक सहयोग करने लगी. टी टी वापस आया मुझ तक और कहा- ठीक है मैडम, मैं कुछ एडजेस्मेन्ट करता हूं.

नताशा- जय आज तक मेरे पति ने कभी ऐसी चूत नहीं चाटी, जैसे तुम चाट रहे हो.

मामी ने मुझे देखा और हंस कर बोलीं- मामा को तो शक नहीं हुआ न?मैंने न बोल दिया. मैं अपनी स्टोरी आपके लिये लाया हूं जो मेरी जिन्दगी में हुई सच्ची घटना है.

बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो उसके बाद भी मैंने अपने बच्चों को बड़े ही प्यार से पाला, उन्हें किसी भी चीज की कमी नहीं होने दी. बच्चे बड़े हो जाएं तो मां-बाप के बेकार हो जाते हैं, ऐसा नहीं होता है ना.

बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो फिर एक दिन ऐसे ही बातों ही बातों में उसने मुझसे कहा- कब मिल रही हो भाभी?मैंने भी हंसकर कह दिया- जब आप बोलो. अब मैं सीधा लेट गया और आरिया से बोला- चल लंड चूस!आरिया लंड चूसने लगी.

इसलिए उन्होंने किसी दूसरे मर्द से अपनी बीवी को सेक्स का सुख दिलाने का तरीका सोचा, पर इसमें उन्हें एक डर था कि कहीं समाज में उनकी जो इज्जत थी, वो न तार तार हो जाए.

एन एक्स एन एक्स वीडियो

आगे उसने बताया कि उसके मायके की आर्थिक स्थिति खूब अच्छी है, चालीस एकड़ में खेती होती है. मैंने उससे पूछा- एक गिलास क्यों? तू नहीं पियेगी?वो कुछ नहीं बोली, तो मैंने गिलास में पैग बनाया और मन ही मन बोला कि आज साली तुझे पूरी रात चोदूंगा. मैं दिखने में एकदम भरे हुए जिस्म की औरत हूं। मैं अपने बारे में इससे ज्यादा और कुछ नहीं बता सकती।मैं आज आप लोगों के सामने अपनी एक सच्ची कहानी लेकर आई हूं.

मलखान- रानी गाली का बुरा मत मानना, गाली देकर करूं?मैं- जी राजा जी … आज कुछ भी कर लो बस अपना ये अन्दर डाल दो. सेक्स लाइफ तो जैसे थी ही नहीं … और बीवी उससे भी नाराज़ रहती थी, बस वो बोलती नहीं थी. पर जब मैंने कहा कि यही वो चीज थी, जिसकी वजह से मैं तुम पर मर मिटा था.

अब राबिया ने बाजी का सिर अपनी जांघों में दबा लिया और मैंने भी कमर कसकर पकड़ ली और तेज तेज धक्के मारने लगा। जैसे किसी भैंस को बांधकर चुदाई करते हैं।करीब 2-3 मिनट धक्के मारने के बाद बाजी की आवाज बंद हो गई.

मैं जिया से बोला- होटल चलेगी?तब जिया बोली- नहीं होटल नहीं … उधर खतरा रहता है. नामालूम क्यों? लेकिन मुझे तो लगता है कि जीजू और आपा की उम्र में एक तो नौ साल का फर्क … और दूसरे कि रफ़ीक़ जीजू सिर्फ एक हफ्ते की छुट्टी पर आते हैं तो इतने में दोनों में कितना सेक्स हो पता होगा कि मेरी ज़ोहरा आपा के पेट में जीजू का बच्चा आये. मैंने कहा- क्या आपके यहां बर्फ मिल सकती है?वो बोली- बर्फ लेने आये हो या दूध की आइसक्रीम खाने?मैं उसकी बात का मतलब उस वक्त समझ नहीं पाया था लेकिन वो जान गयी थी कि मेरे मन में क्या है.

तभी मेरा दोस्त बोला- यार, कोई शहर की औरत मिल जाए चोदने को तो मज़ा आ जाए. हम दोनों ही पसीने में भीग गए, वैसे ही लिपट कर एक दूसरे को चूमने लगे।थोड़ी देर बाद राखी उठकर बाथरूम चली गई; फिर वापस आकर लंड को चूसकर साफ़ कर दिया।मैं बनियान और अंडरवियर पहनने लगा राखी ने रोक दिया और बोली- राज, तुम मेरे पति हो, अभी कपड़े मत पहनो।फिर हम बातें करने लगे. मेरी बुर में चीटियां दौड़ने लगीं और उसमें एकदम अलग तरह की मस्ती छाने लगी.

मैंने जोरदार किस करते हुए उनके चुचों पर हाथ धर दिए और मजे से सहलाने लगा. वो कुछ बोलती उससे पहले ही मैं उसके चूतड़ों की तरफ बढ़ गया और बाजी की चूत के सुराख में लंड डाल दिया और पेलने लगा.

मैंने फिर से पैग बनाए और इसी तरह हम दोनों ने 2 बार और चुदाई का मजा लिया. मैंने मनजीत को आंख दबा कर इशारा करते बोला- तुम दूसरे कमरे में जाओ, मुझे सुमन से कुछ बात करनी है. हम दोनों ही बेहद कामुक हो उठे थे और एक दूसरे के साथ नाग नागिन से लिपटे हुए थे.

तुम्हारी अब भी साफ दिख रही हैं।मैंने उसके शर्ट के ऊपर से उसकी चूची को पकड़ा तो उसका निप्पल मेरे हाथ में आ गया.

फिर मैंने उसे वहीं गोद में उठाया और सोफे पर पटक दिया जिससे उसकी नाइटी जो पहले से ही घुटनों तक थी और भी ऊपर हो गई. देसी मौसी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी मौसी का पति उसको बहुत मारता था. मैंने कहा- मैंने कौन सी गलती की है भाभी?वो बोली- मुझे सब पता है कि तुम कहां देख रहे थे.

उसने ऊपर से हाथ डाला और मेरे अंडरवियर के ऊपर से मेरे नीचे दबे लंड को हाथ से मसलने लगी. आयज़ा- और तुम्हारा पानी इतनी देर में क्यों निकलता है?मैं- वो तो मैं योगा करता हूं, इसलिए देर से निकलता है.

पीछे हाथ ले जाकर भाभी की गांड और चूत पर भी हल्के हल्के हाथ से सहला रहा था. माया ने कहा- हां मुझे अच्छा लगेगा अगर आप मुझसे कुछ हैल्थ टिप्स शेयर करें. फिर अंकल ने किसी होटल के सामने बाइक रोकी और मुझे लेकर होटल के रूम में चले गए.

हिंदी चुदाई वीडियो हिंदी

वैसे भी इतने प्यार से कोई मम्मों पर मेहंदी लगाएगा, तो कौन ना सिहर उठेगा.

उन दोनों के बड़े पद पर रहने के कारण उनको अक्सर बाहर जाना पड़ता रहता था. रुखसाना और धर्मपाल एक साथ बैठ गए।हरदीप उन सबके लिए कोल्ड ड्रिंक ले आई। वो आकर लखविंदर के पास बैठ गई।सभी अब साथ में बैठ कर कोल्ड ड्रिंक पीने लगे।लखविंदर का पूरा ध्यान रुखसाना की तरफ था. एक ही झटके में मेरा आधे से ज्यादा लंड उसकी चूत में समां गया और वो चीख पड़ी.

हेमा चाची जोर जोर से चीख रही थीं, तो मैंने उनके मुँह पर अपना एक हाथ रख कर मुँह को बंद कर दिया और पीछे से दबादब लंड आगे पीछे करने लगा. तो उसने पूछा- बस मिलने आये हो या कुछ करोगे भी?मैंने कहा- अब तो आप मेरी प्रेमिका हो. कीर्ति खरबंदा की सेक्सी वीडियो हिंदीफटी जीन्स में से अपनी पुष्ट मांसल जांघों के दर्शन देतीं टीन ऐज कामिनियां और वो सामने से निकलती हुईं जगमग जगमग करतीं एयर होस्टेजेस.

मेरा साधारण जीवन इसी तरह बीत रहा था कि एक दिन मेरे दामाद संजय का फ़ोन आया. वो साइड में होकर के लेट गई।मैंने रुबैया को एक और राउंड चुदाई के बारे में बोला।चुदाई के दूसरे राउंड के लिए वो मना करने लगी।फिर मेरे ज्यादा जोर देने पर फिर से चुदने के लिए राजी हो गयी.

बाकी की मैंने पी ली और सिगरेट जला कर एक कश लेकर सिगरेट जिया की तरफ बढ़ा दी. लड़के के आने के बाद मैं भी गर्म हो चुकी थी क्योंकि सामने लंड भी था और मेरी चूत भी गर्म थी. स्थिति यह थी कि मुझे दिल्ली तक तो ट्रेन से ही जाना था उसके आगे गुवाहाटी के लिए हवाई यात्रा करनी थी.

मैं दिल्ली तो ट्रेन से मैं सुबह ही जा पहुंचा था तो होटल में रुक कर थोड़ा आराम किया; फिर तैयार होकर जल्दी ही एअरपोर्ट के लिए साढ़े ग्यारह बजे निकल लिया. मैं पहली बार स्खलित हुई और मुझे ऐसा आनंद मिला कि मुझे इसकी आदत सी लग गयी. मैं रूबीना से टकराया तो वो हैरानी से बोली- भाई! आप यहां क्या कर रहे थे?मैंने होश संभालते हुए कहा- पेशाब करने आया हूं।रुबीना बाजी बोली- तो गेट से बिल्कुल चिपकने की क्या जरूरत थी, थोड़ी दूर खड़े हो जाते?मैं खड़ा होते हुए बोला- मुझे अंदर से आवाज आ रही थी.

मेरा लंड पकड़ हिलाने लगीं और गप्प से मुँह में ले कर जोर जोर चूसने लगी थीं.

मैं अपनी गांड उचका उचका कर सागर से अपनी चूत मरवाने लगी।मेरी सिसकारियां ‘उफ़ आह आह आह फ़क मी … ओह यस आह … और ज़ोर से फाड़ दो मेरी चूत!’ सागर में और जोश भर रही थी. सर जी, ये शिवांश तो किसी और की गोद में जाते ही जोर जोर से रोने लग जाता था.

लण्ड को अन्दर बाहर करने की स्पीड बढ़ाते हुए मैंने एक बार जोर से धक्का मारा तो मनमीत की बुर की झिल्ली फाड़ते हुए पूरा लण्ड मनमीत की बुर में समा गया. मैंने इस लिए सुमन को जाने दिया क्यों कि वो उस दिन से लेकर अगले सात दिनों तक मेरे से चुदने वाली थी. मैं आपको बता नहीं सकता दोस्तों कि मुझे उसकी चूत से ज़्यादा उसकी गांड मारने में मज़ा आया.

बियर के दो घूँट खींच कर मैंने सिगरेट निकाली तो नताशा ने मेरे हाथ से ले ली और बोली- तुम कार चलाओ, मैं जलाती हूँ. मैंने उसको बहुत समझाया और बोला- तुम पढ़ लिख कर कुछ करके दिखाओ, मुझसे इसका वादा करो. व्हाट्सएप पर गुड मार्निंग, गुड नाईट से शुरू होकर पहले हल्के फुल्के जोक्स और फिर डबल मीनिंग जोक्स का आदान प्रदान करते मामला पोर्न वीडियो शेयर करने तक आ पहुंचा.

बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो जो भाभी लंड चूसने में ना बोलती हैं … तो उन्हें थोड़ा सा ही समझाने पर, वो लंड चुसाई के लिए मान जाती हैं. फिर मैंने उसको बताया कि कॉलेज में लड़की मेरी प्रेमिका थी जिसके साथ मैंने बहुत बार चुदाई की.

देसी सुहागरात सेक्स

उसकी आंखें बार बार सजल होतीं पर वो मुंह घुमा कर किसी तरह अपनी उमड़ती भावनाओं पर काबू पा लेती, अपने उमड़ते आंसुओं को पलकों में ही रोक लेती. जब हम कमरे में गए, तो उसकी दीदी बोली कि मैं थोड़ा हाथ मुँह धो लेती हूँ, जब तक तुम दोनों बैठो. तभी मैंने एक बार अपना पूरा मुँह खोला और अपनी पूरी जीभ बाहर निकाल कर भाभी की चूत को ऊपर से नीचे तक चाट लिया.

मैं वहाँ से पीछे हट गई और फिर वहां आने की आवाज़ करते हुए ऐसे बिहेव किया जैसे मैंने कुछ नहीं देखा हो. मैं बहुत ही सेक्सी हूँ … मेरी उम्र 19 साल है मेरा फिगर 32-28-34 का है. फुल सेक्सी फिल्म ओपनमगर उसके देखते ही मैंने नजर दूसरी ओर कर ली और घर की दीवारों को ताकने लगा.

मैंने सागर से चुपके से कान में बोला- पीछे वाला आदमी मुझे परेशान कर रहा है.

मेरा भी लन्ड तुंरत जीन्स के अंदर खड़ा होने लगा और मैंने उसे फिर से चूमना शुरू किया. तो मुझे सीढ़ियों की नीचे वाला कमरे के दरवाज़ा खुला दिखा। वो एक छोटा सा स्टोररूम था.

अगले दिन मैं मंजुला को इलेक्ट्रोनिक गजेट्स के शो रूम में ले गया और उसे बढ़िया किस्म का स्मार्ट टीवी और फ्रिज खरीदवा दिया. तब मेरी बीवी अमित के लंड को सहलाते हुए नीचे बैठ गयी और अपनी आंखों को बंद करके अमित का बरमूदा निकाल दिया. उनकी नोक खड़ी हो गई और मैं चूची बुरी तरह दबा कर दूध निकालने की कोशिश करने लगा.

तुम मुझे मेरे कपड़े लाकर दे सकते हो क्या?मैं बोला- मेरे पास मेरा तौलिया है.

इसी अवस्था में हम दोनों न जाने कितनी ही देर चुदाई का रसास्वादन करते रहे. मैंने रूम सर्विस को फोन करके दो सोडे की बोतल और एक रोस्टेड पिस्ता का पैकेट आर्डर कर दिया. अमन ने मेरे मुँह के करीब आकर अपनी शहद से डूबी उंगली को मेरे मुँह में डाल दी.

मोहम्मद सेक्सी पिक्चरभाभी बोलीं- यहो तो दिक्कत है … वह भोसड़ी का अब किसी काम का ही नहीं रहा है, उसका लंड सिर्फ 4 इंच का है. मॉम एंड सन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी ममेरी दीदी ने मॉम को कैसे सेक्स के लिए तैयार किया.

राजस्थानी एक्स एक्स एक्स

दस बारह धक्के मारने के बाद मैं भी आकांक्षा के अन्दर ही झड़ गया और आकांक्षा के ऊपर ही लेट गया. तो उसने कहा कि बाजार में उसका रूम है, वहाँ कोई नहीं आएगा।फिर मैंने उनको रूम पर चलने को बोला।20 मिनट बातें करते करते हम उसके रूम पर आ गये। चाचा के लड़के ने हमें रूम की चाबी दी और बोला कि वो एक घण्टे बाद आएगा।हम रूम में आ गये। रूम में आ कर उसने अपना घूंघट हटाया. वहां जाते हमने एक दूसरे को हग किया और होंठों पर होंठों को चिपका दिया.

मैंने उसके माथे पर एक किस करते हुए कहा- पागल ये बता कि तुझे मज़ा आया या नहीं?तो उसने मेरे सीने पर किस करते हुए अपना चेहरा मेरे सीने में छिपा लिया।मैंने ज्योति को सामने बैठने का इशारा किया तो वो मेरे सामने घुटनों के बल बैठ गयी।मेरे इशारे पर ज्योति ने मेरे लोवर और अंडरवियर को उतार दिया।अब मेरा खड़ा लन्ड उसके सामने था. मैंने उसको पूरा अपनी बांहों में भर लिया जैसे पूरी जिंदगी उसे ऐसे ही चिपके रहना चाहती हूं. उसकी चूचियां एकदम अमरूद के जैसी बिल्कुल टाइट थी और उसकी चूत पर हल्के भीगे बाल थे.

हम दोनों एक दूसरे में चूमाचाटी में इतने मस्त हो गए थे कि हमें ये तक पता नहीं चला कि उसकी दीदी कब बाहर आ गयी. मुझे किसी के आने का डर नहीं था इसलिए मैं बेफिक्र होकर सेक्स कहानी का आनंद ले रहा था. हेमा चाची ने सोफे से अपनी एक काली रंग की जालीदार चड्डी उठाई और अपनी चूत को पौंछा.

तो मित्रो, मेरी सेक्सी ब्लोजॉब स्टोरी आपको कैसी लगी? आप अपनी राय कमेंट्स और मेल में जरूर लिखें. भाभी की लंबाई लगभग पांच फुट चार इंच की थी, उनकी कमर छब्बीस और चूचियों की साइज बत्तीस रही होगी.

उसका लंड फिर से खड़ा हो गया और उसने वहीं पर नहाते हुए एक बार फिर से मेरी चूत चोद दी.

दीदी बोलीं- मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है, तुम कोई प्लान बनाओ … मैं तुम्हारी हेल्प कर दूंगी लेकिन जो भी करना, बहुत सोच समझ कर करना. फेसबुक पर सेक्सी फिल्मलेकिन मुझे नंगी करके उसने मेरी चूत के बजाये मेरी गांड में लंड घुसा दिया. सेक्सी डिस्कवरी चैनलउसके फिगर की बात करूं, तो यही कोई 34-30-36 का बड़ा ही जानलेवा फिगर है. मंजुला ने वैसा ही करते हुए अपने दोनों हाथों से अपनी गांड की दरार खूब अच्छे से पसार दी.

मैंने उसको बोला- ये क्या कर रहा है तू भाई?वो बोला- सॉरी दीदी, नींद में था तो लग गया.

अब मैं उसके पेट को चूमते चूमते उसकी नाभि तक आ गया। उसकी नाभि में मैंने अपनी जीभ को घुमाया। नाभि में मैं गोल गोल करके जीभ को घुमाता रहा।निशा अपनी आँखें बंद करे हुए मज़ा लेती रही। नाभि के बाद मैं उसकी चूत के ऊपरी हिस्से तक पहुँचा।उसकी गेहुंए रंग की चूत मेरी आंखों के सामने थी जिसमें मैंने धीरे से एक उंगली अंदर सरका दी. भाभी के दोनों पैरों को फैलाकर मैंने उनकी चूत पर एक किस किया और उनकी चूत के अन्दर अपनी जीभ डालकर चुत चूसने लगा. मैंने आज तक किसी के लंबे और देर तक चुदाई करने वाले लंड से चुदाई नहीं की है.

चुदासी लड़की की वासना स्टोरी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मुझे ब्वॉयफ्रेंड के लंड को तरस गयी थी. आशु केक देख कर बहुत खुश हुई कि मैंने पहले से ही सारी तैयारियां कर रखी थीं. उसके पास सरक कर मैंने दीदी का हाथ पकड़ लिया और उससे अपने प्यार का इजहार किया.

देवर भाभी का सेक्सी पिक्चर

हम दोनों ही बेहद कामुक हो उठे थे और एक दूसरे के साथ नाग नागिन से लिपटे हुए थे. गर्मियों के दिन थे और बगल की छत पर मेरा चचेरा भाई अक्सर मुझे शाम को टहलते हुए दिख जाया करता था. हमने सोचने लगे कि इसराना के होते हुए राबिया की चुदाई नहीं हो पायेगी.

एक फोटो ‘राम तेरी गंगा मैली’ की मंदाकिनी जैसा भी होना चाहिये, इसके लिए मैंने हनी को राजी कर लिया.

मुझे पीने की आदत थी क्योंकि मैं अपने घर में रोज़ दो पैग दारू और एक सिगरेट पीकर मजा ले लेती थी.

मैंने साथ में लाए हुए सामान को उसकी सही जगह पर रखा और टीवी ऑन कर दिया. दोस्तो, उसके स्तनों से ऐसा स्वाद आ रहा था जैसे कि उसका दूध निकल रहा था और मैं बच्चे की तरह उसका दूध पीने लगा. सेक्सी वीडियो बंगाली साड़ी वालीब्लाउज खुलते ही जैसे उसे अपनी स्थिति का भान हुआ और उसने एक बार फिर मुझे परे हटाने का निरर्थक सा प्रयास किया.

मेरा नाम सुनील शर्मा है और मैं पिछले 10 सालों से चंडीगढ़ में रह रहा हूँ. मुझे धक्का तब लगा जब मुझे पता चला कि उसका पति कोई और नहीं बल्कि उसका जीजा ही है. इन एस्कॉर्ट्स को पता नहीं कितने लोग चोदते हैं तो इनकी चूत तो बुलंद दरवाजा जैसी बड़े छेद वाली हो ही जाती है.

मैंने समय देखा तो पता चला कि इनके साथ मुझे साढे़ चार घण्टे हो चुके हैं और अभी भी सफर का साढे़ सात घण्टे बाकी हैं. मैंने अपनी छाती थोड़ी सी उठानी शुरू कर दी ताकि उसके हाथ मेरी पूरी चूची पर पहुंच जायें.

पिछली बार कानपुर गया था, तो वहां मात्र कुछ मिनटों के लिए हेमा चाची से मुलाकात हो पाई थी.

उसके बाद मैंने रूम का दरवाजा बंद कर लिया और फिर से सोनी की बुर में लंड को पेल दिया. अगर मां को पता चल जाता तो?मैंने कहा- अब तुम्हें अपने घर की इज्जत की फिक्र हो रही है?वो बोली- लेकिन मैं लड़की हूं. इस तरह से बारी बारी से मैं चाची और सोनी दोनों की चूत को चोद रहा था.

गुजराती मराठी सेक्सी व्हिडिओ फिर इसके बाद मैंने और अर्चना ने मिल मिलकर कैसे रिया के साथ थ्रीसम सेक्स किया वो मैं आपको आगे आने वाली कहानियों में बताऊंगा. खून से सना लण्ड अन्दर बाहर होने लगा और मैं आनंद की चरम बेला पर पहुंचने लगा तो लण्ड फूलकर और मोटा होने लगा.

जो पाठक नये हैं उनको बता दूं कि मेरा नाम प्रिया है और मैं मध्य प्रदेश की रहने वाली हूं. हम दोनों ने अपने प्यार का इज़हार किया और हम दोनों ने मिलने का प्लान किया. मैंने एक भी पल का समय ना गंवाते हुए अपने होंठों को उनके होंठों पर रख दिया और चूसने लगी.

ब्लू सेक्स ब्लू सेक्स ब्लू सेक्स

कभी तूने ये नहीं कहा कि मेरे पास आओ और मुझे खुश कर दो।उसके बाद मैंने उसको घोड़ी बनने के लिए कहा. मेरी सास, मेरे पति, जो पिछले साथ सात साल से कोमा में बिस्तर पर ही पड़े हैं और अंत में मेरी बेटी नीरजा, जो कि अब 22 बरस की है. अचानक से मैंने टीवी बंद कर दिया और वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी.

पहले तो वो मना करने लगी लेकिन फिर बोली- ठीक है, मैं केवल एक बार के लिए ब्रा उतारूंगी. अब आगे:मैंने अपने लंड को तैयार किया और चाची को हटा कर सोनी की बुर पर लंड को सेट कर दिया.

ऊपर चूची की चुसाई और नीचे चूत की रगड़ाई हम दोनों को गर्म किए जा रही थी.

दो मिनट के अंदर ही कल्लू अनु को नंगी कर चुका था और खुद भी नंगा हो चुका था. मेरा चेहरा उसके चूचों के बीच में था और प्रियंका अपने दोनों चूचों को हिलाकर मजे ले रही थी।इसके बाद प्रियंका मेरे मुंह पर बैठ गई. वे बिस्तर पर मुझसे गंदी गंदी बातें करते थे और ऐसा लगता था कि किसी और से सम्बन्ध रखने को उकसाते थे.

मैंने अपना मेल आईडी नीचे दिया हुआ जिस पर आप लोग मुझे मैसेज कर सकते हैं. जब मैं वहां पहुंचा, तो मामा जी बाथरूम में नहा रहे थे और मैं इनके आने का इंतजार करने लगा. तुम्हारा स्वभाव, तुम्हारा बदन, तुम्हारा सेक्स करने का तरीका बहुत ही मस्त है.

अनूप जी पीछे से मेरी पीठ को सहलाने लगे और मैंने भी उनको कस के गले लगा लिया.

बीएफ फिल्म भोजपुरी वीडियो: वो मुझसे बोली- टंकी में पानी खत्म हो गया है … मोटर का तार लगा दो, मुझे डर लगता है. मुझे ये बात समझ नहीं आई कि रात को मम्मी ने नए कपड़े क्यों पहन लिए हैं.

तो उसने मना कर दिया और मुस्करा दी।दोस्तो, मुझसे तो रुका भी नहीं जा रहा था। मैं उसके पास जा के बैठ गया और उससे बात करने लगा।मैंने उससे कहा कि यहां कोई नहीं आएगा. ये लो मेरी रानी!” मैंने लंड को एक बार थोड़ा सा बाहर खींचा और फिर पूरे वेग से उसकी चूत में उतार दिया तो चूत रस की चिपचिपाहट मुझे अपनी झांटों में महसूस हुई. एक घंटे बाद मैंने किसी की आहट सुनी, तो मैंने धीरे से अपनी आंखें खोल कर देखा.

वेटर- मैडम, आपके पति आपको चोदते नहीं हैं क्या बिल्कुल भी?मैडम- अगर चोदते तो मैं तेरे से करवाती क्या?इतने में ही आयज़ा भी कमरे में आ गयी.

आपके कमेंट्स और सुझावों से मुझे आपके लिए कहानी लिखने की प्रेरणा मिलती है इसलिए स्टोरी के बारे में अपनी राय अवश्य दें।मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]. भाभी- देखो, मैं तुम्हारे सामने हाथ जोड़ती हूं कि मेरी चुत में जो खुजली होती है, इससे मैं तंग आ चुकी हूं. बाकी की मैंने पी ली और सिगरेट जला कर एक कश लेकर सिगरेट जिया की तरफ बढ़ा दी.