हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी पी

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी इंग्लिश बीएफ वीडियो: हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म, अब अनामिका की मस्त 36 इंच की गांड, प्रियंका के आंखों के सामने हो गई थी.

बीएफ डाउनलोड बीएफ बीएफ

मेरा मन एक जानी पहचानी महक और दिल की हसरत पूरी करने की मन्नत पूरी होती देख कर खिल गया था. बीएफ नंगी दिखाएंबस जो आंखों को सुकून दे … और जिसे हर वो मर्द जो दूसरे मर्द में दिलचस्पी रखता हो, पसंद करता हो, हां … कुछ वैसा ही हूँ मैं.

मेरे कोमल से पेट और पतली कमर पर उनके हाथ बार बार सहला कर जा रहे थे. भाई बहन के हिंदी बीएफ एचडी देहातीइसी वजह से मैंने सोचा कि पुरानी यादगार को फिर से अन्तर्वासना पर लाया जाए.

मैं उठकर चलने लगी, तो डॉक्टर बोला- मैडम, अगर आप कल फिर से मेरे पास आएं … तो एक निर्णय लेकर आएं.हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म: चूंकि उसके पापा चाची और भैया को छोड़ने जाने वाले थे तो जाते हुए वो मुझे बोलकर गये- तुम पुण्या का खयाल रखना.

अपने काम से निवृत होकर कमल ने एक नौकर को किसी महिला को कमली नाम बता कर उसे उसकी बेटी सहित बुलाया.उन दोनों की पूरी रात चुदाई करके मजा लेता रहता थावायदे के हिसाब से छोटी बुआ ने मुझे अपनी पड़ोसी एक ब्लैक ब्यूटी का चूत चोदने को दिलाई.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ एचडी - हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म

वो भी हंसते हुए खड़ी हुयी और मुझसे चिपकर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर चलाने लगी.अनामिका- हां जीजू, मैं आपका मूसल लंड लेने के लिए पूरी तरह तैयार हूँ.

वो भी मेरी तरफ देख कर हंसने लगी और बोली- बताओ तो आज गर्मी कैसे बढ़ने वाली है. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म लंड को चूत पर लगवाकर मैं उस समय धीरे धीरे उसके विशालकाय लंड पर रगड़ रही थी जिससे मुझे काफ़ी मज़ा भी आ रहा था। अब ना तो पंकज को अनिल की कुछ चिंता थी और ना मैं ही अब उस तरफ़ कुछ सोच रही थी.

सलोनी की बुर से रिसते खारे पानी को चाटते हुए मैंने उसकी बुर के लब खोलकर अपनी जीभ फेर दी.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म?

कुछ पल बाद मां ने मुझसे धीमी आवाज में पूछा- तुझे कल रात के बारे में याद है कि तुमने क्या किया था?मैंने कोई जवाब नहीं दिया. अब मैंने इतने में उसकी पैंट की बेल्ट को खोला और उसको नीचे खींचने लगी. मैंने धक्के लगाते हुए बोला- होने वाला है यार … आह्ह … आह्ह … क्या करना है?वो एकदम से आगे को हो गयी और उसने मेरे लंड को चूत से निकलवा दिया.

रवि समझ गया कि उसने अनिल को वक्त रहते हटा दिया, वर्ना तो पिंकी आज खुद ही उसे घुसा लेती. वो मेरे लंड को एक हाथ से सहला रही थीं और बोल रही थीं- तू बहुत एक्सपीरियेन्स चुदाई वाला है. जल्दी से भाग कर मैं अन्दर चली गयी और देखा तो वहां अब तक सिर्फ झाड़ू लगाने वाली आंटी आयी थीं.

अब मैंने उसकी चूत के मुंह पर लंड के टोपे को सही से सेट किया और उसकी टांगों को पकड़ कर अपनी गांड का धक्का लगाया तो सट से लंड उसकी चूत में सरक गया. कुछ देर बाद उसका हाथ मेरे मोटे चूचों पर पड़ा, जिसको उसने पहले तो धीरे से सहलाया और बाद में थोड़ा तेज़ से मसलते हुए दबाया. वो हल्का सा उठा और अपनी पैंट को अपनी गांड से नीचे सरका कर जांघों तक कर लिया.

फिर मैं दोबारा से उसकी जांघों में बैठ गयी और वो मेरी चूचियों को चूसने लगा. एक दिन मोहित और संध्या कॉलेज के टॉयलेट के दीवार के पीछे सेक्स कर रहे थे.

गर्ल हॉस्टल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड की सहेली को चोद चुका था.

मैंने अपने बैग से एक फ्रेश ब्रा-पैंटी, एक टीशर्ट, कॉटन के शॉर्टस् निकाले और उनको सही से बेड पर रख दिया.

मेरा पूरा लंड चुत के अन्दर जाने लगा वो मस्ती में ‘आह आअह्ह आआह्ह … और तेज पेल न. फिर उसने अपने प्यार का इजहार किया और मैंने उसकी चूत की सील तोड़ दी. नैना से मिली हिदायत के चलते मैंने अपने आपको संभाला और हवेली को देखने लगा.

मैंने अपने लंड को हाथ में लेकर सहलाना शुरू कर दिया जैसा कि रोजी ने मुझसे कहा था. हॉट बुर चुदाई स्टोरी के पिछले भागगर्म कॉलेज गर्ल को चुदाई के लिए सेट कियामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने एक कॉलेज गर्ल को सेट करके उसके कामुक बदन के साथ खेलना शुरू किया. com/imranovaish2देसी ओरल सेक्स इन हिंदी कहानी का अगला भाग:मज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 4.

वो मजे से हॉट लंड चूसते हुए मेरी गांड को अपने मुँह की तरफ दबा रही थी.

अगली रात भी मेरी भयानक चुदाई आप कामवासना कहानी के अगले भाग में जरूर पढ़ें कि किस तरह से मेरी गांड की वो चुदाई हुई थी कि मैं मरते दम तक उस चुदाई को नहीं भूल सकती।[emailprotected]कामवासना कहानी का अगला भाग:गेस्ट हाउस की मालकिन- 4. उसके बाद अभिषेक ने अपना हाथ मेरे ब्लाउज में घुसा कर उस साड़ी को खौंस दिया. जो कि चुदाई करने वाले और दारू पीने वालों के लिए था, जो मुझे बाद में पता चला.

मगर वो पक्की चुसक्कड़ थी, साली ने किसी तरह अपना मुँह हटा ही लिया और मेरे लंड के पानी की पिचकारियां उसके ऊपर फिंकने लगीं. उसकी हालत देख मैंने उनके होंठों पर होंठ लगाए और उनके ऊपर लेटकर होंठों को पीने लगा. तो तुम भी इसे अपना दोस्त बना लो न!”मेरी तरफ देखते हुए बोली- मतलब!बस ज्यादा कुछ नहीं … थोड़ी देर मुँह में ले लो, तो फिर ये कोई शरारत नहीं करेगा.

या यूं कहूँ कि नैना अपने रूम में लौट गयी और मैं अपने रूम में … लेकिन मानवेन्द्र अपने रूम में नहीं गया.

मैं- ठीक है तो सोचती रहो, पर मुझे भूख लगी है, खाना बन‌ गया हो दो प्लेट में डाल दो. मां और भी तेजी से सांसें छोड़ने लगीं- आहह … ह्म्म्म … ले और मुँह में ले … भर ले पूरे मुँह में … ओहह हहआ मेरे राजा.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म भीतर गुदा गुलाबी और मक्खन की तरह चिकनी थी चुत के ऊपर का दाना उत्तेजना के कारण एकदम ऐसे कठोर हो चुका था मानो एक छोटा सा लिंग हो. मैंने उसे किस करते हुए पूछा- तो बताओ … कैसा है मेरा दोस्त?वो बोली- अच्छा है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म नमस्ते दोस्तो, मैं अनिल अपनी बीवी की गैर मर्द से चुदाई की कहानी की दूसरी किश्त पेश कर रहा हूं. उसने नीचे जाकर ऊपर मेरी खिड़की की ओर देखा तो मैंने उसे हाथ को चूम कर किस का इशारा किया.

यह रेट लगभग फिक्स था … क्योंकि उनकी यूनियन थी, जो सभी रेट फिक्स करके रखते हैं.

सेक्स व्हिडिओ गावठी

इसलिए कुछ देर तो हम ऐसे एक दूसरे के बदन की गर्मी को ही फील करते रहे, फिर शायरा के मुँह को मैंने अपने मुँह से बंद कर दिया. फिर वो सीढ़ियों से वापिस आईं और दरवाजा बंद करके कैरम बोर्ड को ऐसे सैट कर दिया कि कोई आए, तो उसे लगे कि हम दोनों नीचे बैठ कर खेल रहे हों. ये कहकर मैं अब शायरा के बेडरूम से बाहर आ गया … पर शायरा शायद अब फिर से सोचने लगी कि मैंने उसका सब कुछ देख भी लिया और कर भी लिया.

मैंने पहले तो उस लड़के को ढूंढा, जिसने कल रात मुझे बहुत तबीयत से ठोका था. मेरी बीवी का मादक जिस्म हर जगह से पूरा का पूरा उभरा हुआ स्पष्ट नजर आ रहा था. पापा को लैपटॉप चलाना आता नहीं था तो लैपटॉप घर में रहता था, जिसे अब मैं मूवी देखने और गेम खेलने के लिए इस्तेमाल करने लगा.

अब स्थिति ये हो गई थी कि पोर्न मूवीज के हर सीन पर रवि कुछ कहता, तो पिंकी भी उसे रसदार जवाब दे देती.

मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि इतनी जल्दी इतनी खूबसूरत लड़की, नंगी होकर मेरे लंड को इस तरह चूसेगी. मैं रसोई में गया और सायरा को पीछे से कसकर पकड़ लिया और उसके गालों पर, गर्दन पर चुम्बन की बौछार करने लगा. मैंने उसके मम्मों को दबाया और ये सब करके हम दोनों ने केक खा कर खत्म किया और बाहर चले आए.

मेरी गांड में थूक कर उसने लंड का सुपारा लगाया और धीरे धीरे करके गांड में लंड पेलने लगा. उसकी वजह से मेरे बदन में भी गर्मी बढ़ गयी थी और मुझे भी हल्का पसीना आ रहा था. मादरचोद सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं एक बार मेरा मां मुझसे चुदवा चुकी थी.

सेक्सी इंडियन वाइफ स्टोरी में पढ़ें कि कैसे पराये मर्द के सामने अपनी बीवी को नंगी होते देख मेरी भी वासना अपने चरम पर थी. अब तुम्हारा लंड चड्डी के अन्दर से मुझे दिख रहा है … और मैं उसे अपने हाथ से सहलाने वाली हूँ.

मैं बोला- मैं बस थोड़ा ऊपर से टच करूंगा उसके अलावा और कुछ नहीं करूंगा. कुछ देर चोदने के बाद उसने मुझे मेरे पेट के नीचे हाथ डालकर उठाया और फिर कुतिया बना दिया. एक घंटे के बाद आंटी आईं और उसने देखा कि हम दोनों बेड पर नंगे पड़े हुए थे.

आपके घर में मैं हूं ना!मेरी बात सुनकर मासी ने भी मुझे जोर से गले लगा लिया और पूछा- तू पूरा करेगा मेरी जरूरतें!मेरे लौड़े ने तुरंत सलामी दे दी और मैंने मासी का चेहरा हाथ में ले लिया.

फिर उसने भी मेरे चेहरे को पकड़ा और मुझे आई लव यू बोलकर मेरे सीने से लग गया. उसके मुँह से सिसकारियां छूटने लगी- आह जानू ओह हाय … क्या मस्त चूसते हो आप … ऊ ऊ मां निचोड़ दो जानू इन्हें. मुझे उसके घर के नजदीक जाने में डर भी बहुत लग रहा था, पर हिम्मत करके उधर आ ही गया.

फिर निर्णय ये हुआ कि पर्ची डाली जाएंगी, जिसके नाम की पर्ची निकलेगी, वो पहले मरवाएगी. न बाबा … आप चाहे जो और मर्जी कर लो, पर मैं आपका लंड गांड में नहीं ले सकती.

अगर किसी औरत की अच्छे से चूत चूस दी जाए, तो वो पांच मिनट के अन्दर झड़ जाएगी. उसने मेरे कंधे से ब्लाउज से उंगली घुसा कर पिनअप किया और साड़ी बांध दी. फिर मुझे पकड़ कर अपनी योनि को मेरी तरफ़ ऐसे चिपका लेती, मानो मुझे अपने भीतर समा लेना चाहती हो.

छूत में से बच्चा कैसे निकलता है

कार में डेजी मेरे साथ आगे वाली सीट पर बैठी थी और मोना पीछे बैठ गई।हम आस-पास के सारे रेस्तरां देखकर आ गये थे मगर कोई अच्छा सा रेस्तरां खुला हुआ नहीं मिला.

मैंने कपड़े लेने के लिए उससे कहा, तो उसने कहा- इन्हीं कपड़ों में लेट जाओ. कभी-कभी उससे बातें हो जाया करती थीं लेकिन वह पढ़ाई को लेकर की कुछ ज्यादा ही सीरियस हुआ करता था इसलिए वह मुझसे ज्यादा बात नहीं करता था. मेरी एक मीठी सी सिसकारी निकल गयी ‘आह …’पानी में भीगते हुए अपनी आंखों को हाथों से पौंछते हुए मैं घूमा और देखा, तो मानवेन्द्र भी मेरी ही तरह बिल्कुल भीगा हुआ पूरा नंगा मेरे साथ शॉवर से गिरती हुई बूंदों में मुस्कुरा रहा था.

घर से निकलते समय वो अपनी सास रीमा से बोली- आज मुझे अपनी सहेली के घर जाना है. फिर वो सीधे मेरे पास आकर बैठ गए और मुझे कमर से पकड़ कर अपनी ओर खींचते हुए मुझे किस करने लगे. 12 साल की लड़कियों की सेक्सी बीएफवो जोर से चिल्लाई- साले मादरचोद … फाड़ दी … आराम से नहीं कर सकता था क्या?मैं बोला- जो होना था वो तो हो गया.

उसको मैंने पहले अपने मुँह में लेकर कुछ मिनट तक लॉलीपॉप की तरह चूसा. फिर मैंने आसन बदला और उसे चित लिटा कर अपनी दो उंगलियों से उसकी चूत को थोड़ा चौड़ा किया.

उस दिन घर से एयरपोर्ट के लिए निकलने से पहले सुमन काफी उत्साहित थी और उसने उसी उत्साह में मुझे अपनी गांड मारने दी. उसने अचानक से मेरे होंठों को चूम लिया और उसके हाथ मेरे चेहरे पर आ गये. आदमी- क्या अब तक मिला नहीं!मैं- मिले तो बहुत, लेकिन सब बहुत महंगे हैं.

इसका मतलब वो समझ गया था और अब वो बहुत ज़्यादा उत्तेजना से कस कस के मेरे मम्मों को मसलने लगा था. दरअसल उस कॉलोनी में वो एक ही बड़ा किराना स्टोर था, इसलिए वहां के अधिकतर लोग वहीं से सामान खरीदते थे. इतने में सनी की मां ने मेरी मां को सनी निशु और सुनील के साथ छत पर चुदते देख लिया.

फिर चाचा जी ने अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया और मैं गप्प गप्प करके लंड चूसने लगी.

और हां … जब तेरे इस लंड से पानी निकले तो मुझे बताना मत भूलना … समझा?स्टाफ ब्वॉय ने सिर हिलाया और मैं एक बार फिर से उसके मुंह पर थूका. मैं थोड़ी गुस्से में बोली- जो भी करना है कर दे … मेरे से अब बर्दाश्त नहीं हो रही है.

पिंकी ने हंसी में उससे कहा- अनिल, अब तुम ज्यादा ही बदमाशी करने लग गए हो, अब दीपा को बुला लो. वापस आते आते हम सभी को रात हो गयी थी और मुझे काफी थकान भी हो गयी थी. पहले तो पूरा लंड मुँह में लेने में उसे थोड़ी परेशानी हुई लेकिन देखते ही देखते पंकज के पूरे लम्बे और तक़रीबन दो ढाई इंच चौड़े लंड को सुमन ने पूरा अपने मुँह में घुस लिया.

मैंने भाभी की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख कर अपना लंड भाभी की चूत में आधा डाल दिया. संजना ने अपने होंठों पर हल्की गुलाबी लिपिस्टिक लगाई थी और कानों में बड़े से ईयरिंग पहनी हुई थी. मौसी की हरकतों को देख कर अनु बोली- मौसी इनकी गांड में जीभ घुमाओ, इनको उसमें बहुत मजा आता है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म अब मैंने सोच लिया था कि इसकी इसी चोरी का फायदा उठाकर मैं इसको बाथरूम में चोदूंगा. मजे के साथ साथ हमारा मुख्य ध्यान क्लाइंट की सेफ्टी और प्राइवेसी पर भी रहता है तथा हमसे मिलने के बाद उस महिला की पूरी संतुष्टि को भी प्राथमिकता पर टिका होता है.

सेक्सी देसी

विमला आगे बोलने लगी- बेटे की दुकान में पैसे की कमी की वजह से घर बार चलाने में दिक्कत आती है. वो नहाने लगी है या नहीं।मौसी के रूम में गया तो वो बैग में कपड़े डाल रही थी।मुझे देखा तो बोली- अमित थोड़ी मदद कर मेरी. संध्या चाची चाचा से बोली कि मैं तो भाभी को अधनंगी देख कर हैरान रह गई.

जब मैं कमरे में पहुंचा तो वो मेरे कमरे को अन्दर से लॉक कर चुकी थी और मेरे बेड पर पिलो कवर को दीवार के सहारे करके बेड पर बैठी थी. कुछ औरतें तो अपने पति से भी ऐसा सामान नहीं मंगवाती हैं और मैं तो उसके लिए अंजान था, फिर भी शायरा ने हिम्मत से काम लिया. सेक्सी फिल्म फुल एचडी में बीएफमैं- कौन सी साली को! अच्छा हां अनामिका साली से मुझको भी बात करनी है … रुको मैं वीडियो कॉल करता हूँ.

उस दिन के बाद तो फिर चाची की चुदाई करना रोज का ही सिलसिला हो गया था.

उस रात भतीजे के साथ चुदाई के दौरान जो आहट हुई थी, वो कौन था और क्या हुआ … वो सब भी लिखने का मन है. ये सुनकर भाभी बोलीं- साले मर्द होते ही इसी तरह के … वो केवल जिस्म देखते हैं.

मैंने मोना से पूछा- तुम्हें सुनील (होने वाला पति) कैसे पसंद आ गया?वो बोली- कुछ नहीं, बस वो न तो कोई काम करता था और न ही कहीं जाता था. मैं भी पेशाब करके नंगी चाची के साथ में लेट गया।चाची बोली- आज तो छोरे … तने इतना मजा दिया … सोची ना थी इब कदै मिल जावगा. अब तक मैं समझ गयी थी कि इसकी वीर्य की टंकी भर गई है, इसने उसी को खाली करने के लिए मुझे रोका है.

कुछ देर इसी तरह लेटे रहने के बाद मेरे कमरे का दरवाजा हल्का सा खुला और हल्की रोशनी में मुझे वो लड़का मेरे कमरे में आता हुआ दिखा.

मुझे इस तरह मतवाली होते देख कर कविता और भी अधिक जोश में आने लगी और पल पल उसकी गति तेज होती चली गयी. वो बोली- ये सब करता है तू लैपटॉप में? बता दूं आंटी को?उस समय मैं कुछ कहने लायक नहीं था. फिर वो अपने जीभ से मेरी चुदाई करने लगा और मैं भी इस टंगफक में खो चुकी थी.

लड़की कुत्ता के बीएफ वीडियोउनमें से हल्का नमक जैसा स्वाद मुझे और जोश में ला रहा था।एक जवान लड़की के बदन की खुशबू किसी को भी पागल बना सकती है. हर बार की तरह मैं और प्रियंका फिर से चुदाई का किस्सा चालू करके मजा लेने लगे.

త్రిబుల్ ఎక్స్ సెక్స్ వీడియోలు

मैंने उनके मम्मों को देखा और उन्हें देख कर सवालिया निगाहों से देखा. सलोनी आई तो मैंने कहा- आज अनुष्ठान की समाप्ति है, जाओ बाथरूम जाओ और स्नान करके निर्वस्त्र ही आ जाना. चाचा लुंगी पहने हुए थे और बनियान!फिर हम दोनों ने कमरे की लाइट ऑफ की और नाईट बल्ब जला लिया।चाचा जी मेरे बगल में सोये हुए थे। वे जल्दी ही सो गए।पर मुझे नींद नहीं आ रही थी … एक तो लंगोट पहन रखी थी। ऊपर से मुझे चाचा जी बहुत सेक्सी लग रहे थे। खासकर जबसे मैंने उनकी लंगोट में कसे हुए लंड की झांटें देख ली थी.

मैंने उन्हें आवाज लगाई कि भाभी, भाभी कहां हो आप?संगीता भाभी यानि मॉम बोलीं- क्या हुआ संध्या, मैं नहा रही हूं, कुछ काम है क्या?संध्या चाची- हां भाभी … पर आप नहा लो … मैं बाद में आती हूं. मैंने कहा- ठीक है एक बात और बताओ!वो बोली- क्या?मैंने कहा- अपना साइज बताओ, मैं तुम्हारे लिए कुछ स्पेशल गिफ्ट लाकर रख लूंगा. अगर मुझे झूठ ही बोलना होता तो मैं उस दिन ही बोल देता, पर मैं सच बोल कर तुम्हें अपनी बांहों में रखना चाहता हूँ, बिस्तर में नहीं.

अब इसका इल्जाम‌ भी उसी पर लगा रहा हूँ या फिर ये सोच रही थी कि मैं जब उसके साथ ये सब कर रहा था, तो उसने मुझे रोका क्यों नहीं. मैंने हैलो बोला, तो उधर से एक मीठी सी आवाज आई- पहचाना?मैंने कहा- हां जी पहचान लिया … आप जैसी खूबसूरत आवाज को कौन नहीं पहचानेगा. चाची की चूत मारकर मैंने अपनी पहली चुदाई का सुख ले लिया था और वो सुख सच में स्वर्ग जैसा था.

वो- पागल हो क्या, ये क्या कर रहे हो?मैं- तुमने ही तो कहा जैसे दूसरे लड़के रहते हैं … वो जो करते हैं … वैसे रहो. मैं अपने दोनों हाथ उसके हाथ पर रखकर उसे सिखा रहा था, इसलिए मेरा जिस्म उसके शरीर से एकदम से चिपका हुआ था.

दोस्तो, जैसे जैसे लंड में रक्त प्रवाह प्रबल होता जाता है वैसे वैसे मर्द की वासना भी बेकाबू होती जाती है.

खैर, सबके ऊपर जाने के बाद पिंकी ने चिंटू को जबरदस्ती सुला दिया और अनिल को फोन करके पहले तो आने को मना किया. सबसे मोटी लड़की का बीएफफिर वो सीधे मेरे पास आकर बैठ गए और मुझे कमर से पकड़ कर अपनी ओर खींचते हुए मुझे किस करने लगे. न्यू सेक्सी बीएफ बीएफमेरी मामी से थोड़ी बात हुई, लेकिन मामी ने मुझे अपनी उम्र नहीं बताई. पर शायद गांड को भी मजे आ रहे थे, या उसके मुँह में मूसल लंड के चलते वो कुछ कह नहीं पायी थी.

इतने में प्रियंका ने उसके पीछे से जाकर उसकी टी-शर्ट को पूरा ऊपर उठा दिया.

हालांकि वो उम्र में रवि से ज्यादा छोटा नहीं था, बस पिंकी से एक आध महीने बड़ा था. उसने सूट में मुझे एक फोटो भेजी व्हाट्स एप पर।ये पहली बार था जब मैंने उसको देखा था. इसी तरह रोज़ तुमको ऐसा करना होगा … क्योंकि मुझे आजकल ऑफिस का कुछ ज्यादा काम मिल गया है, तो मैं वहीं रहूंगी.

मेरा लंड अन्दर जाते ही शायर के मुँह से चीख निकली थी, इसलिए उसे यकीनन दर्द हो रहा था … पर वो जानबूझकर उसे अनदेखा कर रही थी. अहम्म … और अगर तुम इस मुँह को मेरी गांड में ही डाले रखोगे, तो मैं तुम्हें भी पूरा अन्दर ले लूंगा. भाभी बोलीं- ऐसे कोई बिना बात के थोड़े ही बात करना छोड़ देता है, तुमने उसका दिल दुखाया होगा.

गुड नाईट हँसी मजाक शायरी

प्रियंका ने बाथरूम के अन्दर जाते ही उसके ढीले शॉर्ट्स के दूसरे पैर की साइड से अन्दर हाथ डाल दिया और उसकी चूत में उंगली डाल कर चुत चोदने लगी. तो उस दोस्त ने मुझे बताया कि एक फ्रेंडशिप ऐप बहुत मशहूर हो रहा है, उसको डाउनलोड कर लो. प्रियंका- और चूत होती किस लिए है मेरी जान … ये तो लंड के लिए ही बनी हुई है.

उसने दरवाजे को बन्द नहीं किया था, इस वजह से उसका पूरा जिस्म दमकता हुआ दिखायी दे रहा था.

वे अन्दर करने लगे तो मैंने कहा- ठहरो यार … कभी गांड मारी है?वो कुछ नहीं बोले.

सर, यह मेरी बुर में कैसे जा पायेगा, यह तो बहुत मोटा और लम्बा है, मेरी बुर तो बहुत छोटी है. उसके खड़े लंड को देख कर मेरे मुँह से लार टपक पड़ी … क्योंकि उसका लंड था ही ऐसा मोटा और लंबा. ब्लू पिक्चर बीएफ वीडियो सेक्सउसी की सिखाई कला से मैं तुझे रोज नए नए तरीकों से चोदूंगा … तू बस देखती जा … और मेरा साथ देती जा.

बाहर एक बार उन्होंने इधर उधर देखा और मेन दरवाजा बाहर से बंद करके पीछे से अन्दर आकर अपने रूम में चली गईं. वो सफेद कलर की ब्रा और सफेद कलर की ही जालीदार पैंटी में कयामत ढा रही थी. मैं अपने होंठों को उनके लंगोट के पास ले गया।और मैंने उनके लंड को लंगोट के साथ ही मुँह में ले लिया.

हो सकता है कि आपका एग्जामिन करते समय आपके मम्मों को … या और दूसरे अंगों को भी मुझे छूना दबाना पड़े. एक एक को अच्छी तरह से देखने के बाद एक को पसन्द करके बाकी को रवाना कर दिया.

वो मुझे पूरी रफ्तार से चोदने लगा और मैं भी उससे पूरी उत्तेजना में चुद रही थी.

इस समय सायरा मेरे ऊपर थी और मुझसे चिपके हुए ही अपनी कमर को उचका-उचका कर मुझे चोद रही थी. करीब 15 मिनट की चूत चुदाई के बाद मैंने लंड चुत से खींचा और उसके पेट के ऊपर झड़ गया. स्नेहा- फिर क्या हुआ दीदू!नेहा- हां फिर चाची ने चाचा को बताया की एक पल बाद बाथरूम का गेट खुला और मॉम एक छोटा सा टॉवेल लपेटे हुए बाहर निकल आईं.

मियां खलीफा बीएफ फुल एचडी अपनी छोटे छोटे बालों वाली मुनिया को अपनी जांघों के बीच में शर्म से सिकोड़ने का नाटक किया. मैं ये सोचने में लग गया कि अगर पड़ोसन भाभी ने बियर की बोतलें देख ली होंगी, तो वो क्या सोच रही होंगी.

जैसे कि मैंने पिछली सेक्सी बुआ Xxx स्टोरी में बताया था कि मेरी बड़ी वाली मीना बुआ तो इतनी बड़ी रांड थीं कि वो तो पैंटी ही नहीं पहनती थीं. जब उसका दर्द कुछ हल्का हुआ तो मैंने एक और धक्का मारा और मेरा लंड उसकी चूत में आधा घुस गया. वो महिला बोली- कमल सेठ, एक बार हमारी लड़की को भी अपने मेहमान को दिखा दो.

త్రిబుల్ ఎక్స్ బిఎఫ్ హెచ్ డి

मैंने उसके सर पर हाथ रखा और मेरे मुँह से अनायास ही निकल पड़ा- हार्डर. सायरा को इस तरह अपनी चूत की आग को शांत करते देखने से मुझे खुद पर ही बहुत गुस्सा आ रहा था कि मेरी वजह से उसी सायरा को आज अपनी चूत की आग बुझाने के लिए उंगली का सहारा लेना पड़ा रहा है, जिसने मेरी इज्जत बचाने के लिए अपनी पूरी जिंदगी बिना सोचे समझे दांव पर लगा दी थी. वो- क्या मतलब!मैं- मतलब तुम ये चुपचाप व गुमसुम सा रहना बंद करो और अपनी लाईफ को एन्जाय करो.

मेरी मम्मी का फोन आया, तो मैंने बता दिया कि अब पार्टी शुरू होने वाली है और थोड़ी सी बात करके फोन काट दिया. मौसी को लंड चूसने की कह दिया और अनु को छाती पर लेकर उसके होंठों से होंठ मिला कर चुंबन लेने लगा.

अब मैं किरण को जोर जोर से चोदने लगा और किरण भी मेरा साथ देने लगी।जब मैं उसे झटका मारता था तो वो भी अपनी गांड उठाकर मेरा लंड अंदर तक ले रही थी।उसकी चूचियां एकदम से पहाड़ जैसी तन गयी थीं और काफी सख्त हो गयीं.

आते वक्त टैक्सी में बैठते समय अनु ने पहले खुद बैठ कर मुझे बीच में बैठा दिया. मैंने बिन्नी की दोनों जाँघों को पकड़ते हुए उसकी गुदाज़, चिकनी और रस से गीली चूत को अपने मुँह में भर लिया. मेरी शादी तो विक्की से नहीं हो पाई लेकिन उसका बच्चा मुझे मिल गया था.

मेरी चूत फच्च्ह फच्च्ह करते हुए झड़नी शुरू हो गयी और मैं हांफते हुए शांत हो गयी. मेरा रंग गोरा और सांवले रंग के बीच का है … फिटनेस फ्रीक होने के कारण एक्सरसाइज से मैंने एथलीट बॉडी बनाई है. ये सोचते ही मेरा मूड बनने लगा और मैंने एक बार फिर से मां की चुदाई की कोशिश करने की ठान ली.

इसके आगे की चुदाई की कहानी में मौसी, अविना और अनु को मैं एक हिल स्टेशन ले गया.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ ब्लू फिल्म: अब रेखा और पूजा की चुदाई के लिए मैंने बाहर टूर पर जाने का प्लान किया. डॉक्टर ने आज की सभी रिपोर्ट देखी और कमरे से बाहर निकलते समय मुझे बाहर आने को कहा.

उसका पूरा बदन पसीने से सराबोर था।मैं समझ गया कि इसे गर्मी लगी होगी और नशे में इसने अपने सारे कपड़े उतार दिए।मैंने इस मौके का फायदा उठाने की सोची।दोस्तो, कहानी के अगला भाग आप जरूर पढ़ें क्योंकि इसके बाद किस तरह मेरी प्रिया को चोदने की तमन्ना पूरी हो गई।और कैसे मैंने उसकी कुँवारी चूत को चोदकर अपनी तमन्ना पूरी की।[emailprotected]जवान लड़की की चाहत की कहानी जारी रहेगी. मगर अंदर पैंट में मेरे अंडरवियर के अंदर मेरा वीर्य भी फैल गया था जिससे मुझे अपनी जांघों पर गीला गीला लग रहा था. नमस्ते दोस्तो, मैं अनिल अपनी बीवी की गैर मर्द से चुदाई की कहानी की दूसरी किश्त पेश कर रहा हूं.

रोनी रोहिणी की गांड में लंड डाले हुए बोला- रंडी अभी बोल रही थी लंड डालो.

फिर उसने नीचे होकर अपना बायां हाथ मेरी जांघ पर टिका कर अपना सिर उसके ऊपर रख कर सो गई।मैं समझ गया कि वो मेरी आसानी के लिए ही ऐसे सोने का नाटक कर रही थी. वहीं रोनी ने मेरी पैंटी को साइड में करके अपनी जीभ को मेरी गांड के छेद में लगा दिया और मेरी गांड को चाटने लगा. उसने लन्ड को पूरा गले तक निगल लिया और उस पर ढे़र सारा थूक लगा कर लन्ड को चूसने लगी.