बीएफ मोनालिसा

छवि स्रोत,कम उम्र वाली सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीफ सेक्सी बीफ: बीएफ मोनालिसा, मैंने तपाक से कह दिया कि पीरियड्स हुए हैं क्या?उसका कोई जवाब नहीं आया, मुझे लगा मैंने जवाब देने में कुछ जल्दी की, पर भाई मुझे तो जल्दी ही थी ना.

भूतों का बीएफ

मेरे लंड का साइज़ भी करीबन 7 इंच है, जो किसी भी प्यासी औरत को अच्छी तरह से संतुष्ट करने के लिए काफ़ी है. हिंदी बीएफ पिक्चर चोदने वालाये थी देसी सेक्सी हॉट गर्ल चुदाई कहानी, आपको कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें.

दोस्तो, आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी? अगर अच्छी लगी हो, तो मुझे मेल जरूर करें. हिंदी बीएफ कानपुर कीकिसी काले नाग की तरह मेरा लंड मेरी फ्रेंची से बाहर आने के लिए फड़फड़ा रहा था.

ये घटना, जिसमें एक भाई ने बहन को चोदा, आज से करीब 6 साल पहले की है.बीएफ मोनालिसा: जबकि मैं तो ये सोच रहा था कि कहीं मौक़ा मिला, तो मुझे भी चाची कि जवानी पर हाथ फेरने का मौका मिल जाएगा.

मैंने जींस की चैन खोली और लंड पर थूक लगा कर और हाथ से पकड़ कर आगे पीछे करने लगा.हिन्दी चुत चुदाई कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस से बचता हुआ मैंने एक अनजान घर में घुस गया.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी चुदाई बीएफ - बीएफ मोनालिसा

वो अपने दोनों हाथ अपने सर में घुमा रही थी और ‘आअह्ह उउउह आआई ईई मरर गईई …’ की आवाजें निकाल रही थी.मैंने कहा- जानू देखी तो है, पर तुम्हारी जैसी इतनी खूबसूरत बुर आज तक नहीं देखी.

मौसी के मुँह से भी सिसकारियां निकलने लगीं- आह … अम्म … ओह … आह अरुण और चूसो इन्हें … आंह और जोर से चूसो मजा आ रहा है. बीएफ मोनालिसा मेरी नजर उठ ही नहीं रही थी उनके सामने!तभी जेठ जी ने पूछा- तुमने खाना खाया?मैं बोली- आप खा लीजिए, मैं बाद में खा लूंगी.

लंड अन्दर तक जाने के बाद वो सांस न ले पाने की वजह से खांसने लगी, उसका दम घुटने लगा था.

बीएफ मोनालिसा?

मैंने भाभी को मार्केट का सामान दिया तो उनकी नज़र मेरे पैंट पर ही टिक गयी क्योंकि मेरा लंड पैंट फाड़कर बाहर आना चाह रहा था और नव्या भाभी की चूत में जाना चाह रहा था. तो रेखा बोली- हां हर्षद, मैं आज पहली बार ये सब अनुभव कर रही हूँ … और ये देखो ना तुम्हारा वीर्य, कितना गाढ़ा है. सारे दिन की थकान के कारण अंजली भाभी थक गई थीं तो वो भैया के साथ जल्दी ही सोने चली गईं.

मैंने फिर से लंड पेला और एक तेज झटके में आधा लंड चाची की कसी हुई चुत को फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया. मेरे इतना बोलते ही भैया ने मुझे बेड में धक्का देकर लिटा दिया और वो मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे किस करने लगा, मेरे चुचे दबाने लगा. इस बार मैं जान गया था कि फिलहाल बहन की चुदाई मुमकिन नहीं है क्योंकि दिन निकलने को आ गया था.

चाची ने मेरी आंखों में देखते हुए अपने पेटीकोट का नाड़ा खोला और पेटीकोट को भी नीचे सरका कर निकल जाने दिया. उसके छोटे छोटे चूचे मैंने पूरी तरह से मसल डाले; बाहर निकाल कर उन्हें खूब चूसा और मैंने उसके चूचों में काट भी लिया जिससे वो थोड़ा चीखी भी. उसने मुझे प्यार से कंधे पर मारा और बोली- बस मौका मिला नहीं कि फ़्लर्ट चालू ना.

भाभी की गांड पर और अपने लंड पर भी तेल गिराकर फिर से अन्दर डाल देता. वो बड़े प्यार से हाथ फेरने लगी और मेरा प्रीकम रिसने लगा।मैंने देर न करते हुए उसके कमर से साड़ी अलग करनी चाही.

मैंने देर न करते हुए उसकी ब्रा उतार दी और उसके मम्मों को अपने मुँह में भरने लगा.

उसने भी देर न करते हुए अपना लौड़े का टोपा मेरी रस से भरी हुई चूत पर दबाया और दबाता ही चला गया, मुझे उस दर्द का अहसास करवाता गया.

आह … उह … आह!”फिर जेठ जी ने मुझे अपनी तरफ घुमाया, मेरे चेहरे को ऊपर किया और होंठों पर उंगली फिरते हुए गर्दन को पकड़ कर मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैंने राहुल से कहा- यार, गर्मी बहुत ज्यादा हो रही है बियर पीने का मन कर रहा है. रीता ने फिर से लिखा- तो आज तक कभी सेक्स भी नहीं किया होगा?मैं सेक्स का नाम सुनकर चौंक गया और पूछा- ये क्या कह रही हो?रीता- जो तुम पढ़ रहे हो.

जो रास्ता खुला रहता था, उसके बगल में बैठ जाओ तो पूरा घर साफ़ दिख जाता था. फिर मेट्रो में सवार होने के बाद रीटा मेरे बेहद करीब आकर खड़ी हो गई. उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है.

मेरा लौड़ा सख्त हो चुका था जिसे रीटा ने चूस चूस कर तैयार कर दिया था.

राहुल अपनी सफाई देने के लिए बोला ही था कि मैंने राहुल की बात बीच में ही काटते हुए कहा. अक्सर माइक लिए लोगों का मनोरंजन करते, बच्चों को गेम्स खिलाते देखा है. मम्मी तो राजी थीं ही!मैंने रूम के दरवाजा खटखटाया तो मम्मी और पापा ने चुदाई करना बंद कर दी और जल्दी से अपने कपड़े पहन कर दरवाजा खोल दिए.

कुछ ही क्षण में भाभी का बदन ऐंठने लगा और उनकी चुत ने रोना शुरू कर दिया. वो धीमे से बोली- हां मेरा भी मन है हर्ष … मैं भी तुम्हें पूरा पाना चाहती हूँ. नानी जी ने भी सौम्या से बोला- हमें दोबारा मत उठाना, यहां कोई भूत-वूत नहीं है.

मैंने अपने बर्थडे का निमन्त्रण टीना को दिया और मजाक में उससे गिफ्ट लाने को भी बोला.

कभी कभी बेड के किनारे अपनी मोटी गांड रखकर सो जाती है और दोनों पैर उठाकर चुत खोलकर मुझे बुलाती है. इतना सुन धीरू बोले- सन्नो मेरे लंड ने तेरे अन्दर की औरत कब की देख ली थी, पर मैं उस बाहर लाना चाहता था कि मजा बराबर से आए.

बीएफ मोनालिसा उसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और झुड बैठ कर उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया. चूत चटवाने में दीदी को भी मजा आ रहा था और वो अपने हाथ को मेरे सर पर रख कर मेरा साथ दे रही थीं.

बीएफ मोनालिसा मैं बाथरूम से जैसे ही बाहर आया तो देखा कि शिल्पा रूम में आई हुई थी. इतनी जोर से डालता है क्या कोई? एक तो तुम्हारा लंड इतना मोटा और लंबा भी है.

तभी मैंने देखा कि नीरजा मुझे पीछे से घूर रही है और अपने मम्मों को कभी कभी हल्का दबा रही है.

सेक्सी चोदी चोदा सेक्स वीडियो

वहां डॉक्टर ने खाना मंगवाया और दोनों ने खाया।डॉक्टर ने जानबूझकर कर नीचे अंडरवियर नहीं पहना था इसलिए मम्मी को उसके लंड का भरपूर नजारा मिल रहा था. अगले दो दिन तक टीना मेरे रूम पर नहीं आई मगर मेरा उसको चोदने का मन बन रहा था तो मैंने उसे फोन पर बहुत ज़ोर दिया. मैं उनके पैरों के बीच में आ गया और उनकी नाभि को अपनी जीभ से चाटते हुए नीचे आने लगा.

उसने पानी पीकर बोतल मेरे पास कर दी और बोली- लो हर्षद, तुम भी पानी पी लो. मैंने ये देखा तो अपनी उंगली पर थूक लगाया और उसकी गांड पर फिर से रख दी. फिर विशाल ने मुझको मोनिका के कपड़े पहनाकर खूब प्यार किया और मेरी गांड मारी.

माया दीदी मुस्कुराती हुई बोलीं- लो आ गयी तुम्हारी प्रेमिका … अब करो प्यार!मैं अपनी कुर्सी से उठा और दीदी के सर के पिछले हिस्से पर हाथ रखते हुए उनके माथे पर किस करते हुए होंठों को चूमने लगा.

अब अगर एक काम मैंने अपनी मर्जी से कर दिया तो हल्ला क्यों मचा रही हो?पर जो भी हो चुदाई का पूरा लुत्फ लिया दोनों ने!पूरा बेड रूम ऐसा लग रहा था जैसे कोई तूफान आया हो।पूरी बेडशीट वीर्य से जगह जगह चिपचिपी हो रही थी. मेरी झिझक को मिटाते हुए वो बोली- वासु! ले लो। मैं ऑफिस में बॉस हूँ, यहां मैं तुम्हारी दोस्त हूँ!कहकर वो मेरे सामने बैठ गयी।उनकी गहरे गले वाली फ्रॉक, जिसके अन्दर उनके बूब्स दबे हुए थे, मेरी नजर बार-बार जाकर टकरा जा रही थी।मेरी लेते हुए बोली- क्या हुआ वासु, क्या देख रहे हो?कुछ नहीं … कुछ नहीं!” मैं हकलाते हुए बोला. अब मैं मिनी की ब्रा को खोल कर उसके चूचों को हल्के हल्के दबाते हुए चूसने लगा.

मैंने भी उसकी जरूरत को समझ कर उसका सहयोग किया और उसकी ब्रा भी उतार दी. फिर वो दोनों हंस दिए और खाली गिलास मुझे थमा कर वापिस टैंट लगाने लगे. मैंने अपनी रेड कलर की ब्रा पैंटी पहने ली और भाई से चुदवाने के लिए रेडी हो गई.

मैं बोला- अंकल जी, आप न … मुझे अपनी बीवी ही समझ लो … मेरे कहने का मतलब मेरी तरफ से आपका ध्यान रखने में कोई कमी नहीं आएगी. अगले दिन जब बच्चों को छोड़ने जाना था तो मैंने घर से निकलते ही उससे गुड मॉर्निंग लिखा.

उन्होंने मुझे नोटिस नहीं किया और सीधे बाथरूम में नहाने चले गए।कुछ देर के बाद जेठ जी ने आवाज लगाई- कंचन जरा तौलिया ले के आ!तब मैं समझ गई कि जेठ जी को शायद पता ही नहीं चला कि उनकी पत्नी कंचन मायके गई है. वो बोली- फिर कैसे?‘तुम अपना घूंघट डालो और मेरा इंतज़ार करो कि कब मैं तुम्हारा घूंघट उठाऊंगा और कब सुहागरात मनाऊंगा. उस दिन मेरा ऑफिस का कोई काम नहीं था, तो मैं अपने रूम में बैठ कर अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ रहा था.

रात का करीब एक बज गया था, हम दोनों थक तो गए थे पर मन अभी भी नहीं भरा था.

योनि के ठीक ऊपर जहां से पैंटी गीली हो चुकी थी, पर उंगली से मसलने लगा. लेकिन उसने कुछ कहा नहीं … मैं फौरन कमरे में चला आया और किताब लेकर बैठ गया. जैसे ही उसने अपने कपड़े उतार कर ब्रा पैंटी पहनना शुरू किया, तभी उसका भाई उसके रूम में आ गया.

उस दिन के बाद से भाभी ने मुझे ही अपना पति मान लिया था और वो तोज ही भैया के जाते ही मुझसे चुदने लगी थीं. फिर कमरे में आकर अंदर से दरवाजा बंद किया, बत्ती बुझाई और पंखा चला दिया।मैं उसकी तरफ बढ़ा और उसके होंठों को चूसने लगा.

उनके घर के मुख्य दरवाजे के पास एक कांच की खिड़की थी जिससे उसके बेडरूम और किचन को छोड़कर बाकी सब दिखता था. चूंकि भीड़ बहुत थी, इसलिए मैंने सोचा कि कोई ने जानबूझ कर नहीं किया होगा. वो काफी अच्छे से बात कर रहा था और उसे किसी तरह की जल्दीबाजी नहीं थी.

बोतल वाली सेक्सी

बस फिर क्या था मैं झट से अपनी सीट से उठ कर उसकी सीट पर, उसके साथ एकदम चिपक कर बैठ गया.

उसने हंस कर बताया कि मैं बहुत ज्यादा ब्लू फिल्म देखती हूं, जिसकी वजह से मैं ये सब कर पा रही हूँ. अब रीता मुझे अपने ऊपर खींचने लगी और कहने लगी- जानू अब और मत तड़पाओ, जल्दी सेमेरी चूत की खुजलीमिटा दो!मैंने पूछ लिया- क्या तुम्हारी चूत की खुजली पति नहीं मिटाता?रीता बोली- मिटाता है, पर 2 महीने में एकाध बार!मैंने उसे सोफे पर कुतिया बनाया और अपने लंड के टोपे से ऱीता की चूत को रगड़ा. कुछ देर बाद डॉक्टर नेमम्मी के मुंह में लंडघुसेड़कर दिया।वो मम्मी का मुंह चोदने लगा और कुछ देर बाद उनके मुंह में झड़ गया।फिर को उठा कर उनकी जांघों को दबा कर अपनी जांघों से उनकी छातियों को अपनी मुट्ठी में पकड़ कर उनकी चूत चोदने लगा.

कल इसकी माँ आयी और आज ये सामने से बुला रही है। कहीं कुछ गड़बड़ न हो जाये।तो मैंने कहा- प्यार तो दे देता साली जी … पर कोई और है प्रीति के बाद।वो थोड़ा गुस्सा हुई पर खुद को संभालते हुए बोली- कौन है? मुझे नहीं बतायेंगे?मैंने कहा- यहां नहीं … कल इतवार है. उसका एक हाथ मेरी गर्दन पर आ गया और आवाजें निकलने लगीं- मुआह्हाहा … आआंह उमम्म!ऐसी आवाजें हमारे लिप लॉक की वजह से आने लगी थीं. बीएफ फिल्म वीडियो सेक्सी फिल्मपर मैं अभी उसे और तड़पाना चाहता था तो उसकी चूत पर अभी बस एक किस किया था.

शायद काफी दिनों के बाद चुदने के कारण उसकी गोरी चूत टाइट हो गयी थी, सो वो निकलना चाह रही थी. फिर वो दोनों हंस दिए और खाली गिलास मुझे थमा कर वापिस टैंट लगाने लगे.

रेखा के मुलायम होंठों ने मेरे लंड के सुपारे को कसकर पकड़ रखा था और उसकी गीली मुलायम जीभ मेरे सुपारे पर गोल गोल घूम रही थी. मैंने औपचारिकता करते हुए पूरे कमरे की जांच की और रीटा को आश्वस्त किया कि कोई कैमरा नहीं लगा है. जैसे ही मेरा हाथ उसकी चुत में गया, मेरे लौड़ा जैसे किसी आग में जलने लगा.

रेखा भी वासना से अपने दोनों हाथों से मेरा सर अपने मम्मों पर दबाने लगी थी. वो भी बेचारा क्या करता अगर कुछ बोलता, तो समीर उसे और गाली बकता, इसलिए वो चुपचाप जाकर टीवी देखने लगा. उस दिन हमने 3 बार सेक्स किया।कुछ दिनों बाद मैंने उसकी गांड भी मारी थी.

विलास ने हाथ में रस लेकर अपनी जीभ से लगाकर टेस्ट किया और कहा- यार हर्षद, तेरे लंडका अमृत बहुत ही गाढ़ा और टेस्टी है, बहुत मजा आया.

दो मिनट बाद उसका झड़ना बंद हो गया और उसने अपना सिर बिस्तर पर रख दिया. फिर उसने दुबारा अच्छे से लंड को मेरी चुत की फांकों में सैट किया और फिर से ठोकर मारी.

फिर किसी तरह मैंने दोस्त से जुगाड़ लगा कर मैंने अपने फोन में 4 सेक्स क्लिप्स डाल लीं. फिर वो अलमारी से दो गोलियां भी लेकर आयी और मेरे पास ही चिपककर बैठ गयी. फिर उसने कब मेरे होंठों से अपने होंठ मिला दिए और मुझे चूसने चूमने लगा, कुछ पता ही न चला.

अब वो प्यार भरे स्वर में बड़बड़ाने लगी थी- आंह जानू … चोद दो … आह … अह … मजा आ रहा है. मेरी दोबारा से जोरदार चीख निकल गई- ओ गॉड … मर गयी मैं!मेरे दोनों हाथ उसकी पीठ पर जम चुके थे और मैं उससे लिपट चुकी थी. हम दोनों पसीने में भीग गए थे लेकिन फिर भी मैं शिल्पा की चुदाई किए जा रहा था.

बीएफ मोनालिसा मैंने बेरहमी से पूरा 6 इंच अंदर उतार दिया और अपने ओंठों से उसके ओंठ जकड़ लिए।वरना उसकी चीख न जाने कहां तक जाती।बस कुछ देर उसको जकड़ कर रखा थोड़ी देर बाद जब वो शांत हुई तो धक्के लगाने शुरू किए।15 मिनट तक ये ऑफिस गर्ल सेक्स का खेल चलता रहा. मैंने अपनी मन माफिक बनाई गई मशीन में सीधे 2005 का टाइम सैट कर दिया.

सेक्सी शास्त्र

मैंने भी उससे कहा- हम दोनों सब साझा करते हैं, अब जब भी तेरी इच्छा हो, तब शनाया को बुलाकर चोद लेना. मैं तुम्हारी मैडम सिर्फ क्लास में हूँ, उसके अलावा तुम मुझे सिर्फ श्रेया बोला करो. मैं आहिस्ता आहिस्ता चल रहा था तो झूलने की वजह से लंड सरिता की चूत में अन्दर बाहर हो रहा था.

मैंने उससे पूछा- तुम अचानक कहां चले गए थे, अब क्या करते हो?रवि ने ये तो बताया कि वो क्या काम करने लगा है मगर यह नहीं बताया कि वो अभी कहां रहता है. हालांकि तब भी हमारे बीच भाई बहन का रिश्ता कायम था और सेक्स जैसी कोई बात नहीं थी. सेक्सी मूवी हिंदी पिक्चर बीएफअभी वो दो साल बाद बाहर अपने मामा के घर रह कर वापस आई थी तो कुछ अलग ही माल बन कर आई थी.

फिर मैंने क्यूब को उसकी चूत के अन्दर छोड़ दिया, जिससे वो और भी ज्यादा मचल उठी.

अब हम धीरे धीरे रोज चैटिंग किया करते, पर अब भी मेरा मन उसके लिए साफ था. जिस दिन उसकी मम्मी उसके नाना के घर गईं, उसी दिन मैं अपनी बाइक लेकर मार्केट पहुंच गया और उसके फोन का इंतजार करने लगा.

अगले दिन फिर मेरे हस्बैंड का फोन भी आया और उन्होंने मुझसे कहा- अभी मुझे यहां टाइम लग रहा है. मेरी गांड पूरी तरह जल रही थी, पर रवि के लंड की वजह से मैं चीख नहीं पा रहा था. आप सब लंड चुत के दीवानों को मेरी ये आप-बीती Xxx चाची भतीजे की चुदाई कैसी लगी, जवाब जरूर दें.

चूंकि मेरे मम्मी पापा अक्सर आते जाते थे इसलिए रूम आसानी से मिल गया था.

अब काफी महीने हो जाने की वजह से सबसे मेरा हैलो होना शुरू हो गया था. वो बोली- ये डाक्टर डाक्टर क्यों बार बार बोल रहे हो मुझे? तुम सिर्फ रेखा ही कहोगे मुझे … और आप नहीं, तुम ही कहना. पता नहीं उसे क्या होने लगा कि वो चिल्लाने लगी- आह … बहनचोद … जल्दी बाहर निकालो.

हिंदी बीएफ सेक्सी गांव काजेठ जी मुझसे अलग हो गए और अपने लन्ड को मेरे चूत पर अच्छे से टिकाया और फ़च्छाक से अंदर पेल दिया. धीरे धीरे मैं भी गर्म हो गई और थोड़ी देर बाद मैंने उसे खुद को सौंप दिया.

बीपी सेक्सी पिक्चर भेजिए

इस बार रिया को थोड़ा दर्द का अहसास हुआ और वो ज़ोर से चिल्ला पड़ी- आईईई … आआउ … ईस्स मार दिया … हरामज़ादे … धीरे से नहीं कर सकता क्या … आह मम्मी मेरी फट गई. मैंने लंड बाहर निकाला तो उसने मेरे लंड पर से मेरे वीर्य का भरा हुआ कंडोम उतारा और उसे साइड में फैंक दिया. और जब मैं अकेली थी तभी केविन, लांस मेरे पास आये, बोले कि उन्हें मुझसे कुछ काम है और वो सिर्फ मैं ही कर सकती हूँ।उन्होंने कहा कि मैं जब भी फ्री रहूँ तक उनसे मिलने आ जाऊं या दोनों मुझसे मिलने के लिए आ जाएं.

वो जगह अच्छी नहीं थी, पर वहां मूवी देखने सिर्फ तीन कपल आए थे … या यूं कहूं कि ओरल करने ही वो लोग आए थे. एक बार के लिए तो हम दोनों ही डर गए थे कि अंजलि भाभी कहीं ऊपर तो नहीं आ गईं. मैं नहाने लगा और नहाने के बाद उधर बाथरूम में कहीं तौलिया नहीं दिखी, जोकि मुझे पहले से ही मालूम था.

आंटी ने मुझे एक स्माइल पास की तो मैंने अनदेखा कर दिया और उनके चाचा चाची को प्रणाम कह कर अपने कमरे में चला गया. हम दोनों फिर से पलंग पर आ गए और एक बार फिर से ज़ोरदार चुदायी की तैयारी करने लगे. आज उसने एक वन पीस ड्रेस पहनी हुई थी, जिसमें से उसकी गोरी टांगें बिल्कुल साफ़ दिख रही थीं.

जब भाभी ने ये कहा तो मेरा कौर हाथ में ही रह गया और मैं उनकी तरफ देखने लगा. ये बात विमला को पता थी, फिर भी उसकी विनती पर मैं पिघल गया और उसके हाथों पर मेहंदी बनाने के लिए तैयार हो गया.

व्ट्सअप से होते हुए बात वीडियो सेक्स तक पहुंची और फिर होटल के रूम तक!दोस्तो, मैं प्रथम हूं और ये मेरा बदला हुआ नाम है.

फिर उसने मेरा लंड अपने गले तक अन्दर उतारा और पूरा लंड मुँह में लेकर रुक गई. इंग्लिश सेक्सी वीडियो बीएफ बीएफसौम्या मेरी बातों में पहले तो इंटरेस्ट लेने में झिझक रही थी लेकिन बाद में वो मेरे साथ ऐसे खुल गई कि हम दोनों में से किसी को भी पता ही नहीं रहा कि 10:30 कब बज गए. बीएफ सेक्सी बीएफ हिंदी वीडियोतब दीदी ने मेरी तरफ देखा और मेरी बहन मेरे लौड़े को देख कर चौंक गई और कहने लगी- हम दोनों भाई बहन हैं. काफी देर तक चाची की दोनों चूचियों को पीने के बाद मैंने चाची के होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

विलास ने नीचे सरककर मेरे पैंट की चैन खोल दी और अंडरपैंट से मेरा लंड बाहर निकाल दिया.

धीरू ने हंस कर कहा- अब तो नहीं … पर सुहागरात में मुझे बहुत मेहनत लगी थी. मैंने उससे पास में अपने होटल चलकर बैठने का प्रस्ताव रखा जिसे शिखा ने थोड़ी सकुचाहट के बाद मान लिया. मगर मैं कहां मानने वाला था … मैंने मॉम के दोनों हाथ अपने हाथों में ले लिए.

मैं- मौसी अगर आपकी कमर में ज्यादा दर्द है … तो मैं मालिश कर दूँ?मौसी- अरे रहने दे, इसकी कोई जरूरत नहीं है. मैंने उसके ऊपर लेट कर उसके होंठों पर होंठ रख दिए और उन्हें धीरे-धीरे चूमने लगा. मैंने सोचा कि चलो उन टीचर से मिल कर पूछता हूँ कि कोई कोचिंग क्लास मुझे पढ़ाने को दे सकते हैं क्या?मुझे कोचिंग में पढ़ाने के लिए मिल गया.

घरेलू सेक्सी वीडियो दिखाएं

मैंने पहले ही मैडम को बता दिया है कि कुछ दिन तुम अकेले ही क्लास आओगे. जब मेरी गांड में लोला जाता और बाहर निकल कर फिर से अन्दर जाता … तो कसम से उसकी रगड़ मुझे जन्नत में पहुंचा देता. ऐसी माल को चोद पाना और वो भी शायद पहली बार चोद पाना, मेरे लंड का नसीब जागने जैसा था.

मैं भी उसकी कमर को पकड़ कर पूरा नीचे तक दबा देता, जिससे शिल्पा की चूत में पूरा अन्दर तक लंड टक्कर खा जाता.

मैंने भी ‘कोई बात नहीं …’ कहते हुए उनसे पूछा कि आप सोई नहीं अभी तक?वो कहने लगीं- आज नींद नहीं आ रही है.

Xxx पेनफुल सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब NRI भाभी की चूत में मेरा मोटा लंड घुसा तो उसे बहुत दर्द हुआ. कुछ देर बाद उसने मेरे ब्रा की स्ट्रिप पीछे हाथ डालकर खोल दी और नीचे से मेरे पेटीकोट के नाड़े को भी खोल दिया. हिंदी बीएफ बीएफ सेक्स वीडियोमेरी कल्पना के अनुसार मेरे पूर्व के 8 मिनट, वर्तमान के 8 साल के बराबर होने वाले थे.

दाईं तरफ मैं, बीच में चाची गाउन पहन कर लेटी थीं और बाईं तरफ रानी टॉप स्कर्ट पहनकर सोने लगी. मैंने भाभी के मुँह से लंड जैसे शब्द सुने तो मैं समझ गया कि मामला कुछ सही जगह पर जा रहा है. जब उसने मुझे निशा के साथ सेक्स करते देखा था तो वही पर अपना पानी भी निकाला था.

फिर कुछ ही देर में मैंने जैसे ही उसकी चूत के दाने को अपनी जीभ से कुरेदा … वो सिहर गई. उस दिन मैं और मेरा फ्रेंड साथ में बाहर घूम रहे थे, तभी अचानक मेरे फ्रेंड को कॉल आया कि भाभी और भैया घर पहुंच गए हैं.

तीसरी रात मैंने अपनी एक टांग चाची के ऊपर रख दी और अपना एक हाथ चाची के मोटे मम्मे पर लगा दिया.

अब तो मेरा रहा सहा डर भी जाता रहा और मैंने अपने पैर उसकी जांघों पर पूरे चिपका दिए. उसकी क्लीनिक के साइड में ऊपर जानेके लिए सीढ़ियां थीं तो मैं उसी रास्ते से ऊपर आ गया. थोड़ी देर बाद मेरी बहन को भी मजा आने लगा और वह कामुक आवाज निकालने लगी- आह हहह!और कहने लगी- भाई और डालो … और डालो … फाड़ डालो अपनी बहन की गांड को!मेरी बहन का ऐसा कहने से मेरा जोश और भी बढ़ गया था तो मैंने धक्के बहुत जोर जोर से लगाने शुरू कर दिए.

सेक्सी वीडियो बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म हमने वहां पर बहुत इंजॉय किया, दोनों ने साथ में मिलकर आइसक्रीम भी खाई. मैं- ठीक है मेरी जान, मैं तुमको चोदूंगा और तुम्हारी चूत में अपनी मलाई भी छोड़ूँगा.

एक दिन की बात है, मैं जिम जाने में थोड़ा लेट हो गया था और बाइक तेजी से चला रहा था, मगर ट्रैफिक के कारण मुझे दिक्कत हो रही थी. एक जवान कच्चे जिस्म की गर्माहट पाकर मेरे कालू उस्ताद फिर से जगने लगे. चाची सज-संवर कर जब मेरे साथ जाती थीं तो मैं उन्हें बड़ी कौतूहल भरी नजरों से देखता था कि कोई महिला इतनी सुंदर कैसे लग सकती है.

मलिका शेरावत सेक्सी व्हिडिओ

समीर बिना चड्डी पहने बाहर निकला और राहुल से बोला- साले, क्यों गांड में उंगली कर रहा है … तेरे बहन मेरा लंड चूस रही है … वो कॉफ़ी नहीं पिएगी. वो लंगड़ाती हुई जैसे ही अपने ऑफिस में आई, मैं देखते ही तुरंत उसके पास गया. उसका क़ातिलाना फिगर 32-26-34 का था और उस वक़्त उसकी उम्र मेरे बराबर ही रही होगी.

हम दोनों खो गए … इस हवस की आग में भूल गए थे कि मेरा दोस्त और उसकी मम्मी घर पर ही हैं. उनकी शादी को चार साल हो गए थे पर उनके अभी तक एक भी बच्चा नहीं हुआ था.

वो बोला- तेरा भी खड़ा है, चूसना नहीं तो हिला ही दे … अब पकड़ तो तूने लिया ही है.

अचानक उसने मेरी कच्छी के अन्दर हाथ डाल दिया और मेरे लंड को बुरे तरह से अपनी मुट्ठी में भींचने और कसके पकड़ने लगी. वो भी अपनी टांगें खोलती हुई मस्त सिस्कारियां भर रही थी- आह आह राज … आज मुझे चोद दो … मेरी चुत को फ़ाड़ दो … मुझे चोद कर मेरा पानी पानी निकाल दो. वो जैसे ही पूरी हुयी, मैंने देखा मेरे भाई ने मेरे लोअर को उतार दिया.

उनकी शादी को चार साल हो गए थे पर उनके अभी तक एक भी बच्चा नहीं हुआ था. बीस धक्के मारने पर मेरा भी निकलने वाला था, मैंने रेखा से पूछा- वीर्य कहां लोगी?रेखा बोली- तुम अपने लंड का अमृत मेरी चूत में ही छोड़ दो. मैं खुद उसकी टांगों के बीच में आकर अपने लंड को उसकी चुत के ऊपर रगड़ने लगा.

एक दिन जब मैं डांस क्लास के लिए पहुंचा तो मैंने पहले प्रीति को कॉल किया और उससे पूछा कि प्रीति तुम क्लास पहुंच चुकी हूँ या आ रही हो?मैं रोज ऐसा ही करता था.

बीएफ मोनालिसा: शिल्पा बोली- नहीं, अब ऐसे सोये तो एक घंटे बाद तुम फिर से चालू हो जाओगे. बहुत भीड़ थी जिसके चलते मैंने उसका हाथ पकड़ लिया था … क्योंकि एक जगह उसका पैर फिसल भी गया था.

उसमें बहुत सारे ग्रुप थे, मैं उधर आई हुई पोस्ट के कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट करता था. शुरू में तो सब ठीक था, लेकिन बाद में पता चला कि वो एक पोर्न वीडियो थी, जिसमें एक लड़की का बॉयफ्रेंड लड़की को बहुत बुरी तरह चोद रहा था. जिससे उसको अब ज्यादा मजा नहीं आ रहा था लेकिन फिर भी मैं उसकी चुदाई करे जा रहा था.

उसके लंड का सुपारा मेरी कुंवारी बुर के अन्दर गया ही था कि मेरी चीख निकल गई.

वो बोले- तू सन्नो तो नहीं लग रही, पर तेरा टच सन्नो सा ही है … और सन्नो के कपड़े तुझे फिट तो बैठ रहे है ना. मैंने रेखा को चूमते हुए कहा- रेखा, तुम्हारी चूत बड़ी लाजवाब है, गुलाबी और मखमल जैसी मुलायम … और तुम्हारा चूतरस तो इतना खुशबूदार और स्वादभरा था कि मैंने पूरा पी लिया. तब मैंने सुझाया- शायद थूक से काम बन जाए!वो बोली- कैसे?मैं- आयुर्वेद में इंसान के थूक से कई इलाज बताए गए हैं.