हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ

छवि स्रोत,नंगा सेक्सी वीडियो हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

यूट्यूब सेक्सी फिल्म: हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ, उसके दूध ज्यादा बड़े तो नहीं थे, पर बहुत मस्त थे, एकदम टाइट … जरा भी नहीं लटक रहे थे.

सेक्सी हॉट वीडियो भोजपुरी

मैंने भाभी की चूचियों को मसलना शुरू कर दिया, वो तेज़ तेज़ अपनी गांड पटकने लगीं और बेहद मस्त थपाथप की आवाज़ आने लगी. प्रियंका सेक्सी वीडियो एचडीफिर करीब 2 घंटे बाद जब मुझे कोई लड़का नहीं मिला तो मैं वापस कमरे पर पहुंचा.

अब पूनम ने भी मेरी पैंट की ज़िप खोली और लंड को बाहर निकाल कर अच्छे से हिलाना शुरू कर दिया. सनी के बीएफउसका नाम संगीता था, दिखने में वो सुमन से ज्यादा गोरी थी, बस पतली थी.

वो मेरी चूत मसलते हुए बोला- बताओ दीदी क्या हुआ?मैंने कुछ नहीं बोला, बस स्कर्ट उठा दी.हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ: इसी दौरान मैंने उसे प्रपोज़ किया और उसने मेरा प्रपोजल स्वीकार भी कर लिया.

इसी लिए मैंने किरण का मुँह भी अपने लौड़े पर जोर से दबाना चालू कर दिया.तभी भाभी बोली- मैंने आज सुबह से कुछ नहीं खाया, तुम खा लो, फिर मैं भी खा लेती हूं.

सेक्सी ड्रेस सेक्स - हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ

साबिरा- ले मेरे कुत्ते, अब चाट अपनी मालकिन की गांड, पूरी जीभ घुसा भोसड़ी के अपनी बहन की गांड में सुअर, देख कैसे मेरी सफाचट फुद्दी गीली हो रही है जीभ घुसा दे मेरी चूत में कमीने भाई.अजय मेरे पीछे आ गया और मेरी गांड से आकर चिपक गया- उफ्फ यार मनीषा, क्या मस्त गांड पाई है तूने मेरी जान!उसने मेरी गांड पर एक साथ 20-25 चुम्मियां करते हुए जब ये कहा तो मैं मचल गई-उफ्फ आह उफ मालिक, मेरे बदन में सिरहन होने लगी है.

मेरे लंड की गर्म पिचकारियों का अहसास सरिता ने अपनी चूत में करते ही मुझे अपने ऊपर खींच लिया और वो भी झड़ गयी. हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ साले साहब का लंड एक तो छोटा था और काफी दिन से चूत में गया भी नहीं था.

इस तरह से मैंने उसका घर भी देख लिया और रास्ते में हमने एक दूसरे के नंबर भी एक्सचेंज कर लिए.

हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ?

सोनी मेरी तरफ देखते हुए अपना चेहरा उचका कर इशारों में ही पूछा कि क्या हुआ?मैंने भी अपना सर ना में हिलाकर बता दिया कि कुछ नहीं. लेकिन उसने ऐसा करना जारी रखा जिससे मैं कुछ देर में झड़ गयी और मेरा सारा पानी उसके हाथ में लग गया. वहां जाकर मैंने सपना से पूछा- अब भी दर्द है क्या?सपना- अब तो ठीक हूँ.

फिर जिस तरह से उन्होंने मुझे प्यार करना शुरू किया, मुझे उनका वो अंदाज बहुत पसंद आया. उसकी बातें सुनकर मैं मदहोश हो गया और पूरी ताकत लगाकर जोर जोर से धक्के मारकर चूत चोदने लगा. मैंने इशारे में भाभी से पूछा- घर में कोई है?भाभी ने ना में सिर हिलाते हुए कहा- नहीं.

कैसे हो, क्या कर रहे हो?मैं- कुछ नहीं आज रविवार था तो सोचा कि आपसे घर के बारे में पूछ लूं. मेरे मुँह से ‘अह्ह … ह्ह … ह्ह्ह … धीरे … मर गई …’ की चीख निकल गयी. मौसी ने मेरी तरफ देखा और धीरे से कहा- इसके आगे भी कुछ करोगे?मैं मौसी की इस अदा को देख कर चौंक गया था.

आसिफ बोला- सोच ले भोसड़ी के, बाद में पलटेगा तो नहीं?मैंने भी डायलॉग मारते हुए कहा कि सच्चे आशिक कभी पीछे नहीं हटते. भाभी ‘अअह आह …’ की आवाज निकालती हुई झड़ गईं और उन्होंने लंबी सांस भर कर सारा वीर्य अपनी चूत में खींच लिया.

लच्छो ने अपने दोनों हाथ से मुझे पकड़ लिया और अब मैंने बहुत तेजी के साथ उसकी चुदाई शुरू कर दी.

मुझे अपने लंड पर पहली बार किसी चूची के दूध की धार बड़ी सुखद लग रही थी.

मैंने- तुम ब्रा पैंटी नहीं पहनती क्या?वो बोलीं- पहनती हूँ, पर आज जानबूझ कर नहीं पहनी थी. शिराज का सर पकड़ कर मैंने मेरे गोटों पर दबाया तो उसने भी अपनी जुबान बाहर निकाल दी और मेरे दोनों टट्टे चाटने लगा. जितने भी दिन मैंने देखा, मेघना बिस्तर पर अकेली सोती हुई नजर आ रही थी.

वास्तव में कहानी ऐसी होनी चाहिए, जिसे पढ़कर बदन का रोम रोम खड़ा हो जाए. फिर उसके बाद मैंने निधि से कहा- मेरा होने वाला है!तो उन्होंने बोला- आप मेरी चूत में ही डाल दो!लगभग 15-20 झटकों के बाद मेरा छूट गया. कुछ देर तक मैं धीमे धीमे झटके देता रहा, फिर ताबड़तोड़ चुदाई का खेल शुरू हो गया.

उसने भी कोई विरोध नहीं किया और बोली- मैं भी तुमसे बहुत प्यार करती हूं.

धीरे धीरे करते हुए मैंने अपना मूसल जैसा लंड उसकी नन्हीं सी गांड में जड़ तक पेल दिया. उसके बाद मैंने उसका लौड़ा अपनी गांड में ले लिया और बड़े प्यार से गांड मरवाई. तुम्हारी बहन को पता चल गया तो वो क्या सोचेगी?उसने कहा- उसे मालूम कैसे पड़ेगा.

जब मुझसे नहीं रह गया तो मैंने शाल में अपनी पेंट की जिप खोली और अपना लंड उसके सर पर टच किया. दो-चार मस्त झटके के साथ वो अपने मक़सद में कामयाब भी होने लगा और अब लगभग उसका आधा लंड धारा की तंग गांड में घुस गया था. मेरे भाई मुझसे बोले- रात को मुझे पहली बार में ही पता चल गया था कि तू मेरी बहन है लेकिन तुझे चोदने का मन कर रहा था इसलिए मैं चुदाई में लगा रहा.

वो तुरंत इधर उधर देखने लगी और उसका पति मुझे न देख ले, उससे पहले वह अपने पति को लेकर दूसरे कमरे में चली गयी.

आह पहली बार कोई मेरा लंड इस तरह मस्ती से चूस रहा है!मेरी बातें सुनकर देविका और तेजी से लंड चूसने लगी थी, पूरा लंड उसने साफ कर दिया. खाना बनाने के बाद जब मैं रसोई से बाहर निकली, ससुर जी सोफे पर बैठे हुए लुंगी के ऊपर से ही अपना लंड सहला रहे थे.

हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ मेरा लंड ललिता गपागप गपागप लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी और मैं उसकी चिकनी गुलाबी चूत को चाटने लगा. नंदा हॉल में आई तो वन्दना ने पूछा- क्या हुआ मॉम?तो नंदा बोली- कुछ नहीं, तू सिर्फ आराम कर.

हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ अब रूपा ने मुझे अपना पर्सनल नंबर दे दिया, जिससे मैं कभी भी उसे अपने पास बुला सकता था. जब मैं रसोई में दोपहर का खाना बना रही थी, उस वक्त ससुर जी बाहर कमरे में बैठे हुए मुझे देख रहे थे.

हॉट न्यूड गर्ल सेक्स कहानी मेरे दोस्त की बहन की पहली बार चुदाई की है.

హిందీ బిఎఫ్ కావాలి

मैंने भाभी को दोनों चूचियों को कसकर पकड़ लिया और जोर से धक्का लगा दिया. उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल थे पर मुझे उससे घंटा फर्क नहीं पड़ने वाला था. वो पहले ही समझ गयी थीं कि मेरे लंड का रस निकलने वाला है; वो लंड को दबा दबा कर चूसने लगीं.

दोस्तो, मैं अपनी सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको लिखूँगी कि जिस लड़के को लेकर मैंने दीदी कोचूतियाबना दिया था, उससे मैं कैसे मिली और चुदी. धीरे धीरे आंखें खोलकर मैंने शिराज को देखा तो वो जमीन पर कुत्ते की तरफ बैठ कर हम दोनों को देख रहा था. कि दोपहर में मिहिरा मेरे घर आई, उसके कॉलेज के प्रॉजेक्ट में उसको मेरी हेल्प चाहिए थी.

सर मेरी तरफ देखते हुए बोले- हां, हम लोग कब से तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं.

मनीष ज्यादा देर तक मुझे झेल नहीं पाया और उसने जबरदस्ती मेरे मुँह से लंड निकाल कर मुझे किचन की स्लैब पर झुका दिया. साली रंडी बनने का शौक था ना तुझे … अब क्यों चिल्ला रही है भोसड़ी की. तब भी मैंने कहा- क्या ललिता जी का?वो बोलीं- मुझे सब पता है कि ललिता रात को तेरे रूम में आती है और फिर क्या क्या होता है.

एसी की एलईडी की रोशनी कमरे में काफी उजियाला कर रही थी जिसमें से में मुझे उसका पेट साफ़ दिखाई देने लगा था. दारू और सिगरेट का मजा लेने के बाद हम दोनों ने खाना खाया और बिस्तर पर लेट गए. कहानी के पहले भागसेक्सी लड़की बीच रात में मेरे कमरे मेंमें अब तक आपने पढ़ा कि वो रात लगभग बारह बजे वो मेरे फ्लैट का दरवाजा खटखटा रही थी.

वो बोली- तो मैं क्या करूं?जब मैंने उससे कहा- क्यों न हम तीनों एक ही बेड पर आराम करें. उसके बाद वो हमेशा मेरे पास ही रहती, मेरे सारे कॉल में अटेंड कर लेती.

वो लंड ऐसे चूस रही थीं कि किसी ने उसके मुँह में लॉलीपॉप दे दिया हो. जल्द ही मेरा लंड अपने पूरे जोश में आ गया और अब रूना ने मुझे लेटा दिया और मेरी आंखों में देखते हुए बगल में बैठकर लंड को सहलाने लगी. मैंने रेशमा को दर्द से मुक्त करने की ठान ली और धीरे धीरे अपना लौड़ा बाहर की तरफ खींचने लगा, पर तभी रेशमा ने पीछे से अपना हाथ मेरे चूतड़ पर रखते हुए मुझे रोका.

हम दोनों ही एक दूसरे की आंखों में देखते हुए चुदाई का मजा ले रहे थे.

अब हम दोनों ने करवट ले ली और आसिफ एक हाथ से मेरा हाथ पकड़ कर और दूसरे से मेरा एक स्तन पकड़ कर आराम करने लगा. मैंने भी समय को बर्बाद करना सही नहीं समझा और उसकी चूत को फैला कर लंड अन्दर पेलने लगा. शायद उसकी तेज चीखें भी निकल रही होंगी क्योंकि उसके चेहरे की भंगिमाएं बता रही थीं.

मैंने उसके दोनों आमों को हाथों में जकड़ लिए और ज़ोर ज़ोर से लंड अन्दर बाहर करने लगा. आप ऐसा सीन सिर्फ कल्पना में ही सोच सकते हैं कि एक भाई अपनी बहन की सील टूटने वक्त उसे हो रहे दर्द को सहने के लिए उसका सर सहला रहा हो.

इसी तरह 20 मिनट तक भाभी की गांड मारने के बाद मैं उनकी गांड में ही झड़ गया. तब भी मैंने कहा- क्या ललिता जी का?वो बोलीं- मुझे सब पता है कि ललिता रात को तेरे रूम में आती है और फिर क्या क्या होता है. फिर मैंने मौके का फायदा उठाया और सीधा उसे जोर से पकड़ कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके होंठों को जोर जोर से चूसने लगा.

यूक्रेन सेक्सी

इतना बोल कर उन्होंने ने रेशमा को सच में किसी रंडी की तरह चोदना चालू कर दिया.

वापस आते समय मोतीझील के पास जब कार मेरी पहुंची, तो एक महिला ने मुझे लिफ्ट का इशारा किया. साथ में वो मेरे होंठों को चूसने लगी थी, तो मैं भी उसके होंठों को चूसने लगा था. सुनीता भी मेरा साथ देने लगी और बेड से उठ कर खुद ही अपनी साड़ी अलग करने लगी.

वैसे रितिका मेरी बहन से ज्यादा मेरी फ्रेंड है क्योंकि आज तक हम दोनों ने अपनी कोई भी बात एक दूसरे से नहीं छुपाई थी. किरण- चुप कर बहन की लौड़ी, चुद मेरे मालिक के लौड़े से रंडी … आज देख कैसे तेरी इस फुद्दी का भोसड़ा बनाते है मालिक. રન્ડી સેક્સી વીડિયોफिर जब उसने मुझे आजाद किया, तो मैं उठकर उसके बाजू में पीठ के बल लेट गया.

वो मुझसे अलग हुआ तो मैंने एक और ब्रेड उठाकर उस पर अपने मुँह में भरा वीर्य उगल दिया और जीभ से ही ब्रेड पर फैला कर ब्रेड खा ली. मेरी पिछली कहानियों को पढ़ते हुए लोग मुझे इतने सारे मेल कर रहे हैं कि उनका जवाब दे पाना मेरे लिए मुश्किल है.

मैंने अपने दोनों हाथ नीता की पीठ के नीचे डालकर उसे कस लिया और जोर जोर से धक्के मारने लगा. मैं उनके गले में बांहें डालकर एक पैर पर खड़ी थी और वो मेरी गांड को थामे हुए जोर जोर से चोदने लगे. हिंदी सेक्सी चूत पोर्न कहानी मेरे दोस्त की जवान कुंवारी बहन की चुदाई उसी के सामने की है.

मेरे पति का तो इतना काला लंड है कि चूसने की बात दूर … चूमने को भी दिल नहीं करता. रूपा जानती थी कि मैं फिर से उसकी चुदाई करने वाला हूं इसलिए वो पहले से ही चड्डी और ब्रा में हो गई. कितनी लड़कियों, भाभियों ने, अञ्जलि और मेरी कहानी में अञ्जलि की जगह खुद को आमोद के साथ महसूस करके चुदाई युद्ध करते हुए कितनी बार चूत को उंगली से चोदा?कितने लड़कों ने अञ्जलि के साथ खुद को फील करके अञ्जलि को चोदते हुए कितनी बार मुठ मारी.

वो भी अब उठ कर मेरे पीछे से आकर मुझसे सहारा देने के बहाने मेरी गांड से एकदम सट गए.

मैं उन्हें चूसते हुए साथ में अपने दांतों से हल्का सा काट भी देता था. पाटिल जी ने अपने दोनों हाथों से किरण के सर को पकड़ा और अपनी कमर आगे-पीछे करते हुए लंड को किरण के गले तक घुसाने लगे.

उनकी छाती के घने काले बाल और पूरे शरीर के मर्दाना बाल देखकर मैं जैसे एक मूर्ति की तरह खड़ा ही रह गया. शिराज वैसे ही अपने बहन की कच्छी हाथ में लेकर साबिरा का नंगा बदन घूर घूर कर देख रहा था. लेकिन मैंने कहा- आप खुद को किसी दूसरे से संतुष्ट करवाओ, ये मुझे मंजूर नहीं है.

मगर मैंने मेरी बीवी के जिस्म पर काटने चूसने के निशाँ देखे तो …दोस्तो, मैं सुधीर, कोमल मिश्रा के जरिए आपको अपनी हॉट एंड सेक्सी बीवी की चुदाई की कहानी सुना रहा था. दो से तीन मिनट में ही वह कसमसाने लगी और उसके मुँह से मादक आहें निकलने लगीं. सुबह उठी, मैं उठ के बाहर आई तो रमन रात के बिखरे सामान को समेट रहा था।उसने मुझसे पूछा- ठीक हो तुम?मैंने हां में सर हिलाया।तब तक नीरज जा चुका था, विजय भी लौट चुका था, घर पर सिर्फ रमन था.

हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ मैंने उसे वापस घोड़ी बनाया और उसकी चोटी पकड़ कर गांड में लौड़ा घुसा कर चोदने लगा. मैं इतना पागल हो गया था उसकी चूत चाटने में कि मुझे बिल्कुल भी घिन नहीं आ रही थी.

अफ्रीकी सेक्सी मूवी

मेरे मुँह से ‘गु उंगगु …’ की आवाज आने लगी पर उसने मुझे नहीं छोड़ा और उसके सुपारे ने पिचकारियों की बौछार मेरे हलक में छोड़ दी. कभी मैं उसकी चूत में उंगली करता और जीभ अन्दर ठांस कर उसकी चूत का रस पीने लगता. अम्मी और अब्बू नौकरी करते हैं और घर पर हम दोनों भाई बहन ही रहते हैं.

मैं लगातार उसकी चूचियों को दबाते हुए बदल बदल कर एक दूसरे का रस पीता रहा. कुछ देर बाद मैंने उसके कान में कहा- अपनी चूची पिला दो रानी!अञ्जलि ने मेरे बालों में हाथ फंसा कर मेरा सिर अपनी चूची पर झुकाया और दूसरे हाथ से अपनी एक चूची कस कर पकड़ कऱ अपने निप्पल को मेरे मुँह में दे कर बोली- लो चूसो मेरी जान, मेरी चूची को खा लो. बीएफ सेक्सी वीडियो पंजाबी पिक्चरइतने में सरिता भाभी आ गयी और बोली- देवर जी सोहम को भूख लगी होगी और उसे नहलाना भी है.

तो हमारी क्लास की सभी लड़कियों और मुझे एक दूसरी क्लास में साथ बिठाया गया जो एक कंप्यूटर की क्लास थी.

खाना खाने के बाद मैं आरती और उसकी मां को बस स्टैंड पर छोड़ आया, जहां आरती ने मुझे हल्की से पप्पी देते हुए बाय कहा और मैं उन्हें बस में बिठाकर चला गया. मेरे एक फ्रेंड की भी वहीं जॉब थी तो कभी कभी मैं उसके पास आकर पार्टी कर लेता था.

मैं अपना गुस्सा छोड़ मुस्कुराते हुए अन्दर गया और बोला- मुझे भी खेलना है. मैंने उनकी गांड और अपने लौड़े पर थूक लगाया और गांड में लंड घुसा कर चोदने लगा. मूवी में वो लड़का औरत को जबरदस्त तरीके से चोद रहा था और औरत आहहह आहहह करके अपनी गांड आगे पीछे करके मस्ती से चुदवा रही थी.

इससे मौसी कुछ ज्यादा ही पागल हो गईं और जोर जोर से मेरे लंड पर कूदने लगीं.

दोस्तो, मेरी पिछली कहानीमकान मालकिन भाभी की चूत गांड चुदाईसे पता है कि मेरी नई मकान मालकिन ललिता यादव को मैं बिंदास चोदता हूं. वो मेरी तरफ देख कर रो रही थीं, लेकिन उन्होंने मुझे एक बार भी मना नहीं किया. स्टूल एकदम सही जगह पर लगा हुआ था, मैं रात को लाइव ब्लूफिल्म देखने के लिए काफी उत्सुक हो गया था.

बीएफ मोनालिसा केपूरा चुतरस चाट लेने के बाद मैं सीधा गीता के ऊपर लेट गया और अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी. चूत में जीभ का खुरदुरापन महसूस करते ही गीता की जांघें अपने आप फैल गयी थीं.

देहाती लड़की की सेक्सी वीडियो एचडी

पाटिल साहब बात तो मुझसे कर रहे थे पर उनकी नजर रेशमा की जवानी का लुत्फ़ उठा रही थी. रास्ते भर हम दोनों एक दूसरे का हाथ थामे हुए थे और दोनों के अन्दर एक तूफान समाया हुआ था कि कितनी जल्दी कमरे में पहुंच जाएं और एक दूसरे को अपने आगोश में भर लें. वो कहने लगी- आह आह … चोदो और चोदो मुझे … आह … बहुत मजा आ रहा है प्रशांत … चोदो मुझे.

सुजय सर ने मेरी आंखों में देखा और मैंने मूक स्वीकृति देते हुए उन्हें चोदने के लिए कह दिया. अब मेरी नजर बार बार उन्हीं पर जा रही थी और उन्होंने शायद मेरी चोरी पकड़ ली थी. जैसे ही वो कप उठाने के लिए झुकी, तो उसकी नाईटी में छुपे हुए कसे हुए गोल मटोल, उभरे हुए दूध जैसे सफेद स्तन झूलते हुए देखकर मैं देखता ही रह गया.

कुछ ही देर में मेघना का पानी निकलने लगा और फर्श पर ऐसे गिरने लगा, जैसे वो पेशाब कर रही हो. मैंने उनकी कुर्ती में हाथ डालने की कोशिश की लेकिन कुर्ती टाइट होने के कारण मैं ऐसा नहीं कर पाया. मैंने ध्यान दिया तो महसूस हुआ कि मेरा भाई मेरे एक मम्मे को चूस रहा था और मेरी चूत में उंगली कर रहा था.

ये एक्स एक्स एक्स सिस्टर हॉट कहानी तब की है, जब मेरी बहन को शिमला घूमने जाना था. सफ़र में हम दोनों ने कुछ ज्यादा बात नहीं की और वहां पहुंचकर होटल में चैकइन कर लिया.

अब हमारे बीच रोज सेक्स चैट होने लगी थी और हम दोनों कपड़े उतार कर वीडियो कॉल करने लगे थे.

अभी मैं बेड पर ही था, इतने में सोनी मेरे पास आई और उसने मुझसे लिपटते हुए अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए. बीएफ देसी लड़की की चुदाईकिरण को वहीं पर छोड़ कर मैंने अपना मोर्चा रेशमा की तरफ बढ़ाया और छलांग लगा कर बिस्तर पर चढ़ गया. सेक्सी सटासटउसका पेट और कमर बिल्कुल सांचे में ढला हुआ लग रहा था, बिल्कुल छोटी सी उसकी नाभि, उसके पेट की खूबसूरती बढ़ा रही थी. रूपा जानती थी कि मैं फिर से उसकी चुदाई करने वाला हूं इसलिए वो पहले से ही चड्डी और ब्रा में हो गई.

मैं अपना पेपर देने जब जब जाती थी, तो मेरे वो दोनों सर मुझे अपने साथ कहीं बाहर ले जाते थे.

सरिता मेरी पीठ और गांड को सहलाकर बोली- हां हर्ष,द मैं तुम्हारी मजबूरी समझती हूँ … लेकिन तुम्हारा मूसल इतना बड़ा है तो तकलीफ तो मेरी चूत को ही होगी ना जान. उसने मुझसे अपने ब्वॉयफ्रेंड और मेरे रिश्ते के बारे में पूछा, तो मैं कुछ सोच नहीं पाई क्योंकि मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं था. मैंने भी उसका सर अपने हाथों से अपने लौड़े पर दबाना चालू किया और नीचे से रेशमा के मुँह पर अपनी गांड और जोर से दबा दी.

मैंने गुस्से में बोला- बहन के लौड़े देख क्या रहा है मादरचोद? ख़ुद की बहन को नंगी चुदवाते देखने में शर्म नहीं आ रही तुझे कुत्ते? चल साफ कर साबिरा रंडी की चूत … अच्छी तरह से साफ कर गांडू. मौसी को भी थोड़ा दर्द हो रहा था क्योंकि वो काफी समय से चुदी नहीं थीं. उसने एक हाथ में मेरा लंड पकड़कर उस पर अपने मुँह से ढेर सारी थूक छोड़ दिया और अपने हाथ से मलकर पूरे लंड को गीला कर दिया.

जानवर और गर्ल्स की सेक्सी वीडियो

भाभी ‘अहह … उम्म्म्म … हम्म्म्म …’ करती हुई मेरे लंड को चूस रही थी. उसके बगल में बैठते ही यह सोच कर मेरा लंड खड़ा हो गया कि आज मैं इसकी जवानी को चोदूँगा. फिर मैंने तकिए को उसकी गांड के नीचे से निकाला, जिस पर बहुत ज्यादा खून गिरा हुआ था.

आह पहली बार कोई मेरा लंड इस तरह मस्ती से चूस रहा है!मेरी बातें सुनकर देविका और तेजी से लंड चूसने लगी थी, पूरा लंड उसने साफ कर दिया.

मॉम उत्तेजना से कमर को ऊपर उठा देतीं और मेरे लौड़े की मार से फिर नीचे हो जातीं.

मेरी शादी के 3 साल हो गए हैं लेकिन अभी तक मुझे बच्चों का सुख नसीब नहीं हुआ, जिसके चलते मुझे सास व ननद से बहुत ताने मिलते थे. मैंने उसके हाव भाव से भाम्प लिया कि लड़की मेरे साथ वक्त बिताने में नहीं हिचकेगी. सुहागरात बीएफ मूवीमुझे चांदबालियां और लंबे झुमके बेहद पसंद हैं, इससे सेक्सी लुक दिखता है.

सिर्फ इतना ही पता था कि उनकी शादी को अभी सिर्फ एक साल ही हुआ है और उन्होंने टीचर का जॉब नया नया ही ज्वाइन किया था. मैं नीचे गयी तो भाई मेरा आज घर ही पर था और मम्मी भी बारिश की वजह से घर में ही थीं. उनका बेटा अतुल मेरे साथ ही खेलता रहता था और भाभी से भी मेरी अच्छी दोस्ती हो चुकी थी.

मनीष नीचे गया तो मेरे ससुर उसे रोककर पूछने लगे- अरे बेटा कहां जा रहे हो. मैं उसका सारा पानी पीने में खुद को तैयार करने लगा और जोर जोर से चूत को चाटने लगा.

घर से पापा का फोन आया कि मौसी की लड़की की शादी है, तो तुम दोनों घर आ जाओ.

मैंने अपने दोनों हाथों की उंगलियों से चूत की दोनों फांकों को खींचकर चूत की दरार को चौड़ा कर दिया. उस दिन जब मैं कोचिंग पर पहुंची, तो उस समय वहां सुजय सर नहीं थे और ना ही संजीव भैया थे. वो लगातार आहें भरती जा रही थी और साथ ही साथ आवाज निकाल रही थी- आह आह ऊऊउ आआह्ह जान बहुत मजा आ रहा है … ऐसे ही पेलते रहो फाड़ दो इस चूत को … बहुत परेशान किया है इसने … भोसड़ा बना दो इसका … आह इतना चोदो कि इसकी भूख खत्म हो जाए … आह आहुउम्म चोदो और चोदो!मैं भी अब अपनी फुल स्पीड में उसे चोदे जा रहा था.

बीएफ हिंदी चुदाई दिखाओ जल्द ही उसने मुझे चाय बनाकर दी और फिर रात 9 बजे हम दोनों ने खाना खाया. मैंने वन्दना को अपनी गोद में खींचा और नंदा से साफ कह दिया कि सुबह उठाना मत, अपने आप आंख खुलेगी, तब उठ जाऊंगा.

अब आगे न्यू रण्डी सेक्स कहानी:काफी समय बीत गया और रूपा बाहर नहीं आई. मैं बिना ब्रा के थी तब भी मेरे चूचे बाहर निकलने को बेताब दिख रहे थे. मैं भाभी की चूचियों को दोनों हाथों में भरकर मसलने लगा और उनकी गर्दन पर चुम्बन करने लगा.

सेक्सी फिल्म hindi

मेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं. मैंने भी साबिरा के नीचे की तरफ सरकते हुए अपने हाथों से उसकी चड्डी और उसकी सलवार नीचे कर दी. वैसे भी आज सर ने कह ही दिया कि हम दोनों पति पत्नी हैं और बधाई भी मिल गयी.

मैंने उसे जब पहली बार देखा तो मन में लगा कि ये तो चोदने लायक माल है. एक बार फिर से मैं लंड पेल कर पूरे जोश के साथ मॉम की चूत को चोदने लगा.

रेशमा को चूमते हुए मैंने उसे अपने आप से अलग किया और सीधा बाथरूम में चला गया.

मॉम धीमे से बोलीं- बस अब तक 3 बार … उससे मिले ज़्यादा दिन नहीं हुए हैं. प्लीज मेरे लिए लन्ड की और व्यवस्था करो न!मैं– और गांड मराने का जो तुमने वादा किया था?प्रिया– हां हां पूरा करेंगे. ये मेरे लिए बड़ी ख़ुशी की बात थी क्योंकि मेरी फैंटेसी भी कुछ इसी तरह की थी.

चाची का ये ब्लाउज काफी गहरे गले का और एकदम चुस्त था जिसमें से उनकी आधी से ज्यादा चूचियां साफ़ दिखाई दे रही थीं. मेरे गर्म वीर्य की पिचकारियों का अहसास पाते ही उसी समय देविका भी झड़ गयी. हर मां को अपने बच्चों को अपने चूचे, गांड या चूत को इस्तेमाल करने की भी छूट देनी चाहिए.

हम दोनों की रफ्तार अचानक तेज हो गई और बिस्तर पर राजधानी एक्सप्रेस दौड़ने लगी.

हिंदी में सेक्सी बीएफ दिखाओ: मैंने भाभी से पूछा- आप क्या खाओगी भाभी जी?भाभी जी बोलीं- आपको जो पसंद है, मंगवा लीजिए. उसने मुझसे सेक्स के लिए पूछा तो मैं ना नहीं कर सकी, लेकिन जैसे ही हमने कपड़े उतारे, उसने बिना कुछ किये अपना लंड सीधा मेरी चुत में डाल दिया और दो मिनट की पुल्ल पुल्ल में खेल खत्म.

[emailprotected]मेरी पिछली कहानी थी:माँ बेटी ने मिलकर लिया लण्ड का मज़ा. मैं अब छत की साईड की छोटी सी दीवार पर अपनी दोनों कलाईयों के सहारे झुक कर बाहर का नजारा देखने लगा था. मैंने कहा- तुम पागल हो क्या … मुझे पहले क्यों नहीं बताया?वो बोली- साली कुतिया … अगर पहले बता देती, तो क्या तू मेरे साथ आती.

हफ्ते में दो तीन दिन तो बाहर ही रहते हैं और पन्द्रह दिन में कभी कभार एक बार चोदते हैं.

ऐसे ही एक सुबह जब मैं अपनी नाइट ड्यूटी करके घर वापस आया और बाथरूम गया तो वहां मुझे फर्श पर कुछ चिपचिपा सा महसूस हुआ. अब हालत ये थी कि दोनों भरे हुए जिस्म वाली शादीशुदा औरतें एक दूसरे के ऊपर लेटी थीं. मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में लिया और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को स्मूच करने लगे.