बीएफ चुदाई वाली नंगी

छवि स्रोत,आपातकालीन कॉल ओपन सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

महिमा चोधरी: बीएफ चुदाई वाली नंगी, उसने मुझे ब्लाउज दिया और एक दरवाजे की तरफ इशारा करते हुए कहा- मैडम, आप उस रूम में ट्राई कर लीजिए.

सेक्सी वीडियो देना भाई

उनके गरम और नॉनवेज जोक्स सुनने से मेरी चुत में भी कुलबुलाहट होने लगी थी. हिजड़ा वाली सेक्सी वीडियोमुझे ऐसा लगा कि हम सबके जिस्मों में भूख है मगर किसी को भी खाने की जल्दी नहीं थी.

कुछ ऐसा ही हाल राहुल का भी लग रहा था, वह भी नजरें छिपा कर मुझे देख रहा था. भाभी और देवर की ब्लू फिल्म सेक्सीये तुली ने अपने पति के सामने ही बोल दिया कि पापा ये मादरचोद तो नपुंसक है … इसका तो लंड खड़ा भी नहीं होता.

कुछ देर आम की छांव में पसीना सुखाने के बाद उसने सुमन को इशारा किया और सुमन मुझे बगीचे में अंदर ले गयी.बीएफ चुदाई वाली नंगी: जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसके मुंह से लंड निकाला और उसको गोद में उठा कर बेडरूम में ले गया और बेड पर पटक दिया.

बीस मिनट तक इसी पोजीशन में दबा दबा कर मैं अपनी बहन की चूत में लंड पेलता रहा.कई बार मैं पैंटी को वहां से चाट लिया करता था जहां से वो चूत पर लगी होती है.

सन 2021 की सेक्सी वीडियो - बीएफ चुदाई वाली नंगी

कास्टिंग काउच सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि हिरोइन बनने के लिए नंगा फोटो सेशन मैंने किसी तरह करा लिया.कुछ देर आम की छांव में पसीना सुखाने के बाद उसने सुमन को इशारा किया और सुमन मुझे बगीचे में अंदर ले गयी.

जैसे ही वो शांत हुई, मैंने पूछा- बेटू मजा आया?वो बोली- हां भैया … आप वादा करो सारी उम्र मुझे ऐसे ही प्यार करोगे. बीएफ चुदाई वाली नंगी फिर जब एग्जाम्स का रिजल्ट आया तो मैं पास हो गया और मेरे घरवालों ने मुझे मोबाइल भी दिला दिया.

मनीषा को बेड पर लिटाकर मैंने अपनी टीशर्ट उतार दी और मनीषा पर लेटकर उसके होंठ चूसने लगा, मनीषा भी मेरे होंठ चूसकर जवाब दे रही थी.

बीएफ चुदाई वाली नंगी?

मैं दर्द के मारे तड़प उठी और मेरे मुंह से अचानक ‘हाय राम … मम्मी ईईई … स्सस्सस्सी ईईईई’ निकल गया. उनसे मेरी बात कभी नहीं हुई थी तो मैंने खेल के बारे में उनसे बात करने की कोशिश की और कहा कि सर मुझे भी खेलना है. वो लम्बी सांसें ले रही थी और फिर उसने एकदम से चूत की मुट्ठी भींच ली.

इसलिए जैसे ही मेरे हाथ में उसकी पैंटी आयी तो मैंने उसको छेड़ते हुए कहा- आखिर कितने कपड़े पहन कर सोती है तू? इसके नीचे पैंटी पहनना ज़रूरी था?ये सुन कर वो धीरे से मुस्करा दी. मैं और मेरी ननद अब एक दूसरे का रंग छुड़ाने का काम करते हुए नहा रही थीं. गन्दा सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरे पति दूसरे मर्द मेरी चुदाई की बात कहते थे.

उसने धीरे से मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और तेज़ी से ऊपर नीचे करते हुए लंड को चूसने लगी. दो हाथ एक लंड को पकड़ रहे थे, मयंक को पहली बार अलग सा अहसास हुआ था. मैं बोला कि संजू तेरी चूत खा जाऊं क्या?गाँव की सेक्सी लड़की मेरे कान में मादक आवाज़ में बोली कि हां खा जाओ.

कुछ देर बाद उसने कहा- मेरा ब्वॉयफ्रेंड काफ़ी सीधा था, वो कुछ करता ही नहीं था. मैं उठा और उसकी चुत में उंगली करने लगा और उसकी चुत के दाने को जोर से मसलने लगा.

मैं मौसी की पीठ पर पूरा झुक कर लेट गया और उनकी चूचियों को पकड़ कर भींचते हुए जोर जोर से चोदने लगा.

इंडियन भाभी सुहागरात Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड को उसकी भाभी ने अपनी पहली रात की पहली चुदाई की कहानी बताई.

महक तो इस दुनिया में ही नहीं थीं … वो आंखें बंद करके इस चूत चुसाई का मजा ले रही थी. मैंने मम्मी की पैंटी को खोल कर खड़ी पोजीशन में ही उनको दीवार से टिकाया और उनकी एक टांग उठा कर चुत में अपना लंड डाल दिया और उन्हें धकाधक चोदने लगा. दिशा मेरे पेट के ऊपर बैठी थी और मेरे होंठों को अपने होंठों से स्मूच कर रही थी.

वो मस्ती में चुदने लगी और पीछे हाथ लाकर मेरे चूतड़ों को अपनी गांड की ओर दबाने लगी. जब स्वाति ने मुझे रुकने को कहा तो उसी वक्त मेरे मन में रागिनी की चुदाई का विचार आने लगा था. ब्यूटीफुल लेडी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं एक शहर में गया और दंगों में फंस गया.

मेरे हाथ कांप रहे थे क्योंकि पहली बार था और उत्तेजना बहुत ज्यादा थी.

फिर हम पांचों ने साथ में खाना खाया और 10 बजे तक सब लोग सोने की तैयारी करने लगे. वो बोली- मम्मी ने जल्दी बुलाया है।मैंने कहा- कोई बात नहीं, बोल देना कि दोस्त ने रोक लिया था. [emailprotected]गोवा सेक्स स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:गोवा टूर में ग्रुप सेक्स का मजा- 3.

सार्थक मेरे से चिपका और मेरे साथ से मोबाइल अपने हाथ में लेकर देखने लगा. एक रात की बात है उस दिन पहली बरसात हुई थी और मौसम बहुत ही अच्छा हो गया था. मैंने पूछा- अकेली हो क्या?वो बोली- नहीं, अंदर छोटा भाई है और छोटी बहन मम्मी के साथ दुकान गई है।आज मैं आगे बढ़ना चाहता था.

मैंने अपनी गोद में उठा कर भाभी को कार से उतारा और उनको अंदर ले जाकर लेटा दिया.

तब तक के लिए सभी रसीले लौड़ों और चुदक्कड़ चूतों मेरा बाय-बाय।मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]. मैंने रिमोट से टीवी बंद कर दिया, जिससे अब चुदाई की फच फच फच आवाज़ साफ सुनाई देने लगी थी.

बीएफ चुदाई वाली नंगी मैं अपनी चूत उछाल उछाल कर संघर्ष करते हुए उनके लंड से जबरदस्त लोहा लेने लगी थी. पर मैंने योनि के भीतर कभी कुछ नहीं घुसाया, हालांकि दिल बहुत करता था कि कोई खूब मोटी लम्बी चीज घुसा कर अपने योनि को फाड़ के रख दूं लेकिन वैसा कभी किया नहीं.

बीएफ चुदाई वाली नंगी अब हमारे घर जाने का टाइम हो गया था … तो हम दोनों उठ कर नहाए और तैयार होकर घर चल दिए. मैंने कहा- नहीं, तू ऐसे ही घोड़ी बन कर चल … अगर अंगूठे को निकाल दिया, तो तेरी गांड सिकुड़ जाएगी.

धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करता रहा और जब लंड ने जगह बना ली तो मैंने तेज़ धक्के लगाने शुरू कर दिये.

सबसे नंबर वन सेक्सी

आज जो सेक्स कहानी मैं आपके सामने लेकर आया हूँ, वह भी इसी साइट की एक नियमित पाठिका की है. मॉम डर गयी क्योंकि अगर पुलिस में बात चली जाती तो फिर मोहल्ले में भी पता चल जाता और पापा को भी पता लग जाता. मैंने उनकी एक चूची मसलने लगा, दीवार से सटा कर उनके होंठ, गर्दन, छाती पर चूमने लगा.

कालगर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं दिल्ली में एक दोस्त के साथ किराए पर रहता था. वैसे तो मैं गांड मरवा चुकी थी लेकिन आज पहली बार एक साथ दो लंड अपनी गांड और चुत में एक साथ ले रही थी. अब मैंने नीचे से थोड़ा सा झटका दिया जिससे अंगिका के पूरे शरीर में एक बिजली सी दौड़ गई और वो मेरे ऊपर से उठ गई और अपने पेट को पकड़ते हुए मेरे बाजू में लेट गई.

मैंने नीचे लेट गया और उससे कहा- अब आप मेरे ऊपर आ जाओ और मेरे लंड पर बैठ कर अपनी गांड में लो.

मां उठी और अपने नंगे जिस्म को अपने हाथों से छिपाने की नाकाम कोशिश करने लगी. उसने नीचे से फिर से एक धक्का दे दिया और इस बार उसका समूचा लंड मेरी चुत में बच्चेदानी तक घुसता चला गया. मकान मालकिन के मम्मे मेरे सामने उछल रहे थे … मैंने उन दोनों को बारी बारी से चूस कर चुदाई का मजा लिया.

पोजीशन देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैंने भी तुरंत उसके स्तनों को दबा दिया. मेरा तना हुआ लौड़ा मॉम के सामने मेरी जांघों के बीच दायें बायें डोलता रहा. जैसे ही वो धीरे होती, मैं उसकी गांड में चांटे मार देता … इस तरह वो काफी थक गई और अब वो दुबारा झड़ने वाली थी.

फिर उसने अपना हाथ अंदर तक मेरी गांड के छेद तक पहुंचा दिया और मेरी गांड में उंगली दे दी. तभी कुछ देर बाद मुझसे रहा नहीं गया और मैं भाभी के मुँह को चूत समझ कर धक्के लगाने लगा.

कुछ पल बाद मेरी बुर ने पानी छोड़ दिया और मेरा शरीर एक बार फिर से शिथिल हो गया।राजीव अभी भी पूरे जोर शोर से मेरी चूत चुदाई कर रहा था. कोई एक मिनट तक मैंने दीदी के दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसा और दीदी भी मेरे सर को अपने हाथ से पकड कर अपने दूध चुसवा कर मजा ले रही थीं. तभी मुझे कॉलेज छोड़ना पड़ गया तो …सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम सुमित है और यह मेरी पहली कहानी है.

किस करते हुए मैं पारिज़ा के कातिलाना मम्मों को सहलाने लगा, जिससे वो मदहोश होने लगी.

वो थोड़ा सा झेंप गया, मगर तुरन्त सामान्य होता हुआ बोला कि उस पोस्टर के वहां होने से अकेलेपन का अहसास नहीं होता. फिर जैसे ही मैंने गर्लफ्रेंड की एक बगल में मुँह डाला, मुझे बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी. आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी … दोस्तो, मुझे कमेंट करके जरूर बताएं.

मैंने ज़बरदस्ती से उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और चड्डी समेत सलवार उतार कर रूम के दूसरे कोने में डाल दी ताकि ये जल्दी से पहन ना पाए. मैं बहुत परेशान थी कि अब मैं क्या करूंगी … मैं घर कब और कैसे जाऊंगी.

पहले मैंने चाची के होंठ चूस कर अपनी होंठ चूसने वाली तमन्ना लगभग पूरी कर ली थी. बस अपनी टांगों को खोले हुए लेट कर अपनी चूत को सहलवाने का मजा ले रही थी. मगर मैंने उसको लंड के लिये तड़पा कर कैसे उसकी गांड मारी, ये भी स्टोरी भी मैं आपको बताऊंगा.

हिंदी में सेक्सी पिक्चर नंगी सीन

उसके फिर मेरा ध्यान नीचे गया तो पाया कि कपड़े पर कई सारी चीटियां घूम रही थीं.

मगर मेरा कर्ज अभी तक खत्म नहीं हुआ था क्योंकि मुझे दारोगा और वकील के लंड भी लेने थे इसलिए मेरी चूत अभी भी उन सब लोगों को खुश करने में लगी हुई है. रघु की बात सुनकर मीता और सुरेश दोनों अचरज में पड़ गए कि आख़िर ऐसी क्या बीमारी है उसको. अब उसका लंड मुझे अपनी चूत में बर्दाश्त नहीं हो रहा था।मैंने रोहित से रूकने के लिए कहा.

हुआ यूं कि मैं पंजाब में रहने आ गया था और मुझे यहां पर एक अच्छी कंपनी में नौकरी मिल गयी थी. महक तो इस दुनिया में ही नहीं थीं … वो आंखें बंद करके इस चूत चुसाई का मजा ले रही थी. सेक्सी देहाती चुदाई वालीवैसे भी हमारे परिवारों में काफी अच्छा रिलेशन था … इस वजह से मेरी हिम्मत न हुई.

मम्मी बोलीं- क्या दिखाना है? क्यों हाय तोबा मचा रहा था?मैं बोला कि मुझे आपको चोदना है. अपने कपड़े उतार कर मैं फराह के ऊपर लेट गया और अपना लंड उसकी बुर के पास उसकी जांघों पर रगड़ते हुए उसको किस करने लगा.

कुछ ही झटके में मेरा सारा माल उसके मुँह में निकल गया और वो रांड सब पी गयी. इस बीच मैंने और उसने बड़े मजे लिए और दूसरों के साथअदला बदली वाला सेक्सभी किया. मैं वहीं बरामदे में थोड़ी देर रुक कर बारिश रुकने का इन्तजार करने लगा.

मैंने उनकी चूत का रस पीकर और उनकी चूत को जीभ से चाटते हुए मैंने उनका छेद साफ कर दिया. मैडम बोलीं- तू तो बहुत मस्त चुदाई करता है … और चोद … चोद मुझे … आहह … अहहा … ओहह … अहह … उम्म्म … उफफ … आहह. फिलहाल मैं चिल्लाना भी नहीं चाहती थी और खुद को उससे चुदवाना भी चाहती थी.

मैंने भी अपने हाथ रोक कर उसको सीधा करके उसके माथे को चूम लिया और दूसरे हाथ से उसके गालों पर फेरता रहा.

बातचीत से पता लगा कि वो मैडम नेपाल से आ रही हैं और बहुत थकी हुई हैं. वरना अगर अंदर चली जाती तो फिर मुझे मेरा लंड घुसा कर ही मारनी पड़ती.

फ्रेंड्स मैं आपको कैसे बताऊं कि मुझे क्या मस्त मजा आ रहा था, मुझे उनको किस करने में … और उनकी एकदम गोरी गोरी भरी हुई जांघों को सहलाने में … आह. पहले तो मैंने योनि को चार पांच चपत लगाईं कि वो मुझे इतना तंग क्यों करती है. उसने फिर से मुझे अपनी गोद में उठा लिया था और उसका लंड मेरी चुत में घुस गया था.

वो पूरा लंड बाहर निकालती, फिर अन्दर तक भर लेती … आह क्या मस्त लंड चूस रही थी. मीता- हां बाबूजी इसी लिए तो कह रही हूँ कि आप मुझे सब सिखा दो, ताकि मुझे शादी के बाद कोई तकलीफ़ ना हो. नाड़ा खोलते ही वो बोली- जल्दी करना, अगर कोई आ गया तो दिक्कत हो जाएगी।फिर मैंने सुनीता को फ़टाफ़ट आगे की तरफ झुकाया और उसकी सलवार और पैंटी को नीचे करके झट से अपना लौड़ा उसकी चूत में उतार दिया और उसे पीछे से चोदने लगा। मेरी इस बात से फट रही थी कि कोई आ ना जाए।इसलिए मैं उसे जल्दी जल्दी जोर जोर से चोदने लगा.

बीएफ चुदाई वाली नंगी कुछ देर बाद प्रेरणा भाभी का दर्द का मजे में बदलने लगा तो वो भी अपनी कमर हिलाकर मेरे साथ कदमताल मिलाने लगी. उसके नर्म कोमल हाथ में मेरा तपता हुआ लौड़ा गया तो मेरे बदन में हवस की आग भभक उठी.

श्रीलंका की सेक्सी चुदाई

उसकी सिसकारियां निकल रही थीं- उफ़ यार … उफ़ डाल दे भी प्लीज़ उफ्फ्फ डाल दे न क्यों तड़फा रहा है. सविता- सेक्स के टाइम क्या अंडरगार्मेंट्स चाहिए यार? वैसे भी नंगी होकर ही तो चुदवाना है. मैंने धीरे धीरे उनके होंठों पर होंठ रख दिए और भाभी के होंठों पर किस करने लगा.

करीब दस मिनट के बाद मम्मी भी झड़ गईं और मैं अपने कमरे में आकर सो गया. मेरे दोस्त की सिस्टर की चुदाई कहानी में पढ़ें कि वो मेरे कॉलेज में पढ़ती थी तो हमारी दोस्ती हो गयी. बिहार का सेक्सी चाहिए वीडियोआपको मेरी ये हिंदी Sexxy Story कैसी लग रही है … प्लीज़ मुझे मेल कीजिए.

Xxx चूत की मस्त चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे घर के पास एक नया जोड़ा रहने आया.

फर्स्ट टाइम सेक्स स्टोरी का अगला भाग:भाभी की कुंवारी बहन संग सुहागरात-2. मगर धीरे से डालना प्लीज। मेरी बुर की सील को आहिस्ता से तोड़ना।मैं बोला- ठीक है मेरी जान.

मेरी कुछ विशेषताओं में से एक बड़ी विशेषता ये है कि मुझे मसाज करना बहुत अच्छे से आता है. जैसे ही मैं उनके बच्चे को उनकी गोद से उठाने को हुआ, तो भाभी के एक बोबे को मेरा हाथ लग गया. तुली ने फिर लिखा- पापा, मैंने आपके साथ इसीलिए तो जान-पहचान की, मैं जानती हूं पापा कि हम दोनों की उम्र में बड़ा फर्क है.

हालांकि चुत की सील टूटने से दर्द भी हुआ था, पर जो वो अपनी सहेलियों से सुनती आई थी, वैसा उसके साथ कुछ नहीं हुआ था.

”ये कैसे सम्भव हो पायेगा, विजय बाबू? दो कमरे का मकान है, पीछे आँगन में जाने का रास्ता भी कमरे से होकर है. सन्नो- अभी 18 से कुछ माह ऊपर की ही तो हुई है … उसका शरीर थोड़ा जल्दी निकल आया है. उसकी चिकनी मखमली जांघों के ऊपर पीली पैंटी ऐसे लग रही थी जैसे सूरजमुखी का फूल हो.

देवर भाभी सेक्सी ओपनअब बारी थी फेरों की, तो अक्सर आपने देखा होगा कि जोड़ों के कपड़ों में आपस में गांठ बांधकर फेरे लिए जाते हैं, पर यहां तो कुछ अलग होना था. बाहरवीं पास की तो मेरे घरवालों ने मुझे सीखने के लिए सेकेंड हैंड बाइक दे दी.

सेक्सी वीडियो बिहारी में सेक्सी वीडियो

वो बोला- प्रियंका, बस एक बार मैं तुम्हें पूरी नंगी देखना चाहता हूं. इस क्रिया मैं मेरी चूचियां रोहन के सीने से सटकर ऊपर नीचे होने लगीं. फिर मैंने उससे पूछा- अरे सुन ना, वो तेरा ब्वॉयफ्रेंड अभी भी तुझसे कांटेक्ट करता है क्या?सविता- हां, मैंने उसे बहुत मना किया कि अब मुझे परेशान मत किया कर, शादी के पहले जो था … सो था, लेकिन अब नहीं.

मेरा लंड अंगिका की चूत में लगातार कोल्हू के बैल की तरह पिलाई कर रहा था और अब मैं मालिनी की चूत को अपनी जीभ से चाट रहा था. उस रात मैंने रागिनी को तीन बार चोदा और सुबह 3 बजे स्वाति के कमरे में जाकर सो गया. तो मैं बोला- मेरी प्यारी रंडी, कितनी बार अपनी देसी बुर में लंड ले चुकी हो, मगर चीखती तो ऐसी हो कि पहली बार लंड ले रही हो.

वो हंस कर बोले- उसको भी करवाना है क्या?मैंने कहा कि नहीं उसे बस देखना था वो हम दोनों की चुदाई देखने के लिए ही आई थी. मगर मुझे चूत का स्वाद अब मुंह लग चुका था और मैं उसके हाथों को पकड़ कर जोर जोर से उसकी चूत में जीभ डालने लगा. फिर एक दिन अचानक मेरे पति बोले- बीना, दस दिन बाद एक पार्टी है, शायद मेरा प्रमोशन हो सकता है.

चुदने से जो मजा मम्मी को मिल रहा था उससे अब मम्मी सिसकारी मारने लगी थी- उम्म … आह्हह्ह … ओह … आह … उम्म … आह्ह्हह … ओह आह … करके वो सिसकारते हुए चुदाई का आनंद लेने लगी. सीमा जी- फाड़ दे भोसड़ी के … आज पहली बार गांड में लौड़ा घुसेगा … और सुन, मैं चिल्लाऊं, तब भी रहम मत करना.

मैंने धीरे धीरे उसको सहलाना शुरू किया, तो उसने उठ कर एक सिगरेट निकाली और उसे सुलगा कर फूंकने लगी.

धीरे से मैंने मौसी के बूब्स पर हाथ रख दिया और उनको हल्के हल्के से दबाने लगा. बाहरी सेक्सी वीडियोउन्होंने आह आह करते हुए अपनी वासना बिखेरना शुरू कर दिया और इन आहों के साथ चाची सिर्फ हवा ही अपने मुँह से निकाल रही थीं. सेक्सी भक्ति वीडियोदेसी इरोटिक स्टोरी में पढ़ें कि मेरे ऑफिस की बगल वाली बिल्डिंग में एक लड़की से मेरी आंख लड़ गयी. वो बोली- मम्मी ने जल्दी बुलाया है।मैंने कहा- कोई बात नहीं, बोल देना कि दोस्त ने रोक लिया था.

वो अन्दर कमरे में चला गया … और दो तीन मिनट में वो एक वैसा ही ब्लाउज लेकर वापस आ गया.

यदि आकाश उसके साथ चुदाई के पूरे मजे ले रहा होता तो वो अभ्यस्त हो चुकी होती. असली मर्द कैसा होता है इसका परिचय मुझे पिता सामान मौसाजी के बदन से मिला. जैसे वो फिर से चुदने के लिए तैयार हुई, मैंने उसको घोड़ी बनने का इशारा कर दिया.

मैं वहीं बरामदे में थोड़ी देर रुक कर बारिश रुकने का इन्तजार करने लगा. मैं तुरंत उठा और जानबूझ कर तार पर सूखता हुआ दुपट्टा उठा कर केवल उसे नीचे लपेटकर भाभी की मदद को पहुंचा. वो बड़ा हो गया है अब, ये सब अच्छा नहीं लगेगा देख लिया तो हमें ये सब करते हुए.

जीजा साली की चुदाई सेक्सी वीडियो हिंदी

वो मुझे भी बराबर देख रही थी, उसका मुझे अधिकार से बोलना कि अभी खाना लगा दूंगी … आप जाइए रूम में. उसके बाद रात में दो बार उस घटना के बारे में सोचकर मुठ मारी और फिर मैं सो गया. तभी कुछ देर बाद प्रेरणा भाभी को भैया वापस घर छोड़ने आ गये क्योंकि रास्ते में ही उनकी तबियत बिगड़ने लगी थी.

कुछ देर तक चूत चोदने के बाद वकील ने अपने लंड पर थूका और कुछ थूक मेरी गांड के छेद पर लगाया.

मैंने कहा- अब तू पकड़ मेरा हथियार और लगा इसे निशाने पर।उसने हाथ में पकड़ते ही कहा- क्या है ये? इतना मोटा? हाए माँ, तू तो आज मारने के लिए ही आया है.

फिर मैंने उसको बांहों में भर लिया ताकि उसकी चूचियां मेरे सीने से दब जायें. ओह रूपांगी बिटिया ये तुम हो क्या; हे भगवान ये कैसा अनर्थ कर डाला मैंने!” मौसाजी मेरे पास से उठ खड़े हुए और बोले. सेक्सी पिक सेक्सी वीडियो हिंदीजैसे ही मेरी नज़र प्रेरणा भाभी से मिली तभी उन्होंने अपनी एक आँख दबा दी.

मुखिया सुमन को गालियां देता हुआ झटकों पर झटके मारता रहा और सुमन की मादक सिसकारियां निकलती रहीं. मैंने मौके का फायदा उठाते हुए उसकी बुर पर अपने होंठ रख दिये तो वो एकदम से सिहर उठी- आह्ह … क्या कर रहे हो?मैं बोला- तुम्हें प्यार कर रहा हूं. हम दोनों चुदाई की मस्ती में इतने अधिक कामुक हो गए थे कि एक दूसरे को चाट और काट रहे थे.

अब उसने बोला- भैया … मेरे प्यारे सैंया … अब मेरा भी मुँह मीठा करा दो. उसका लंड काफ़ी लंबा था इसलिए मुझे लग रहा था कि उसका लंड मुझे मेरी अंतड़ियों में घुस रहा है.

क्योंकि इस टाइमिंग पर कोई भी सेंटर पढ़ाने की तैयार नहीं हो रहा था और मुझे रात के 9:00 बजे की टाइमिंग चाहिए थी.

उससे नजर मिलते ही मेरा कलेजा धक से हुआ, और वो भी उठकर अन्दर भाग गई. उस वक्त मगर मेरे साथ ऑफिस के दूसरे स्टाफ भी थे तो हमने कोई रिस्पॉन्स नहीं दिया. उनके चार पांच बार कमर उचकाने के बाद मैंने भी एक जोर का धक्का लगा दिया और अपना पूरा लंड उनकी चुत में अन्दर तक डाल दिया.

सेक्सी वीडियो बिहार बिहार वैसे तो हम तीनों आपस में एक दूसरे से खुल चुके थे लेकिन बात अभी गाली गलौच तक नहीं पहुंची थी. सुरेखा का भाई- हे राहुल!मैं बोला- अरे हाय रोहन, आज हमारे कॉलेज में कैसे?सुरेखा का भाई- अरे मैं अपनी बहन सुरेखा को कॉलेज छोड़ने आया था.

कुछ देर बाद मेरी गर्लफ्रेंड उठी और उसने बोला- अब तुम चुपचाप लेट जाओ. मैं- क्यों रिया, खुश है अब? सब कुछ अब तेरी मर्ज़ी का पहन सकती है तू?रिया- हां भैया, बहुत खुश हूं. रूपांगी मेरी जान, अपनी सील तुड़वा ले किसी मोटे लंड से और चुदाई के मजे लूट.

बिहार की सेक्सी वीडियो मूवी

तो दोस्तो, यह था एक 60 साल की औरत ने मुझे एक महीने के लिए चुदाई के लिए बुक किया था. मेरे प्यारे प्यारे दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों को बहुत पसंद करती आयी हूँ. जब बहुत देर तक मुकेश वापस नहीं आए तो मैंने एक आवाज लगा ही दी- मुकेश … क्या हुआ … कौन आया था?तभी बेडरूम का दरवाजा खुला तो मैंने समझा सर आए हैं.

मेरी जांघों के पास मेरे लंड के करीब चूमने लगी तो मैं पागल होने लगा. लंड बाहर निकलते ही पानी उसकी गांड से बहने लगा। मैंने जेब से रुमाल निकाला और उसे पोंछने लगा। फिर अपना लंड पोंछा.

हार्ड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने घर से गर्लफ्रेंड के घर गया.

वो मेरे बदन पर हाथ फिराते हुए और मुझे सहलाते हुए मस्ती में चुदने लगी थी. सविता- सच में इतना बड़ा है तेरे पति का … बाप रे, तेरी तो ताबड़तोड़ चुदाई होती होगी. मलहम का टयूब दिया और रघु से उसकी पत्नी के लिए भी कहा कि तुमको तकलीफ़ हुई है, तो उसको भी हुई होगी.

अन्तिम क्षणों में मैंने उसके मुंह में लंड पूरा घुसा दिया और इतनी जोर से उसके सिर को दबाया कि उसके गले में लंड फंस गया. मुझसे बोले- एक बार तो हमारे साथ कर ही चुकी हो, इनके साथ भी कर लो तो कुछ हर्ज नहीं होगा. पूरा लंड उसकी बुर में फंसा कर मैं उसके ऊपर लेटा रहा और उसको चूमता रहा.

थोड़ी देर बाद मैंने कल्पना में उसकी चुत पर अपना लंड रगड़ा, तो तुली और सेक्सी हो गई और बोली- आह पापा पीछे से पूरा लौड़ा अन्दर डाल दो.

बीएफ चुदाई वाली नंगी: फिर मैं मैडम से कहने लगा मैडम ये आप क्या रही हैं?सुषमा मैडम कहने लगीं- तुमने मेरी इतनी मदद की है … तो तुम्हारी इतनी मदद करना तो बनता ही है. पिछले भाग में मैंने अपनी चुदाई की कहानी बताई थी कि कैसे मेरे पुराने यार विकास ने मुझे बाथरूम में नंगी करके चोदा और अब वो मेरी गांड भी मारने की बात कहने लगा.

रिया- थैंक यू भैया।मैं- मुझे भी प्यार हो गया है तुझसे ये फोटो देख कर… हा हा हा!रिया- हप गंदे!मैं- मैंने तेरी सुहागरात वाली सभी फोटो भी देख ली हैं. मां की चीख कर दर्द को कम करना चाह रही थी लेकिन मेरे उठ जाने के डर से अंदर ही दर्द को बर्दाश्त कर रही थी. अब हम एक दूसरे के काफ़ी करीब आ गए थे और चुदाई के मौके ढूंढते रहते थे.

मेरे देख लेने पर भी उन्होंने अपनी नजर नहीं हटाई और मेरे लंड से गिरती हुई मूत की धार की ओर आंखें जमाये रही.

लंड को जैसे ही उसने छुआ तो मेरी एकदम से आंखें बंद हो गयीं और मैं फिर से उसकी चूचियों को पीने में लग गया. क्या हुआ मेरी जान संध्या रानी चुप क्यों हो, कुछ तो बोलो?” मौसा जी ऐसे बोले और मेरे दोनों स्तन अपनी सख्त हथेलियों से मसलने लगे. मेरी सेक्सी बीबी पारिज़ा मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी और मैंने उसकी ब्रा की हुक खोल दिया.