सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,भाई बहन का सेक्स हिंदी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी सेक्सी वीडियो न्यू: सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो, जब देखा कि वो गर्म हो चुकी है तो मैंने उसकी सलवार को खोल कर उसे नीचे कर दिया.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी एक्स एक्स सेक्सी

मादरचोद ने मेरी गांड फाड़ डाली आआहह…मुझे पता चल गया कि ये पक्की छिनाल है साली. मराठी पुचीऔर मैंने जैसे ही धक्का लगाया लंड फिसल गया, क्योंकि चूत टाइट थी और मेरे लंड का टोपा फूल कर मोटा हो गया था.

भाभी ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां ले रही थी, जो हमारे प्यार को और बढ़ा रही थी. एचडी पोर्न सेक्समैंने घण्टी बजाई तो उसने दरवाजा खोला और बाहर आई, आज शीतल काली स्कर्ट में थी और क्या मस्त माल लग रही थी.

मैंने एक हाथ से अपना लंड पकड़ा अपने दूसरे हाथ की उंगली से उसकी चूत का छेद ढूँढ कर लंड छेद पर लगाया, अन्दर डालने की कोशिश की, पर अन्दर नहीं गया.सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो: मगर मंजरी का भी यह पहला मौका था, किसी लंड को चूसने का, तो वो सिर्फ पुलकित के लंड को अपने मुँह में लेकर बैठी रही तो पुलकित बोला- सिर्फ मुँह में मत लो, इसे चूसो, जैसे मैंने तुम्हारी चूची पी थी, और अपनी जीभ से इस को चाटो भी.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर मेरी यह पहली गन्दी कहानी है, उम्मीद करता हूँ आपको मेरी कहानी पसंद आएगी.ये कहकर वो चले गए और कुछ देर बाद उन्होंने मुझे बॉबी भैया का पता और मोबाइल नंबर लाकर दे दिया.

इंडियन सुहागरात सेक्स - सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो

”तब तक पूनम ने मेरा लंड खुद ही अपनी चुत में घुसा लिया और मेरे ऊपर लेट गई.फिर मैंने उसकी पेंटी के अन्दर हाथ डाल कर उसकी चुत को सहलाया, तो उसकी चुत पर छोटे छोटे बाल उगे हुए थे.

हालांकि मैंने इससे भी पहले बहुत सारी लड़कियों को चोदा है पर नई लड़की की तो अलग ही खुशी मिलती है. सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो मैंने एक बार में ही अपना पूरा लंड उसकी चूत में पीछे से पेल दिया, उसे दर्द हुआ, लेकिन कुछ ही पल बाद वो भी मजे लेने लगी.

तो दोस्तो, कैसे लगी मेरी मॉम की चुदाई की आँखों देखी कहानी, अपने रिप्लाई मुझे मेल जरूर करें.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो?

वो बर्फ देख कर चिढ़ने लगीं और बोलीं- अब क्या चाहिए तुम्हें…?मैं बोला- अरे मैं तो बस तुम्हारी गांड और चूत को आराम दिलाने के लिए लाया था, तुम्हें जलन हो रही होगी ना…!वो बोलीं- हाँ, दर्द तो हो रहा है, पर तुम रहने दो… मैं खुद ही लगा लूँगी. और एक खास बात वो खुद कभी भी कोई गलती नहीं करती, लेकिन दूसरों की जल्दी ढूंढ लेती है. तो उसने मुझसे कहा कि अगर तूने दोबारा ऐसा कहा तो मैं तेरे को थप्पड़ लगा दूँगी.

मैंने नोटिस किया कि मेरा खडा लंड देख कर भाभी का चेहरा कामुकता से लाल हो गया था. अब मैं ये सोच रही थी कि 4 बजे क्या होगा? फिर मैं दरवाजा बंद करके अन्दर आ गई और सारे काम छोड़ कर उस पैक को खोलने लगी और जब मैंने पैक खोल कर देखा तो मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा क्योंकि ड्रेस बहुत अच्छी थी. मैं जैसे ही उसके घर पहुँचा, वैसे ही वो मुझे अपनी बालकनी में खड़ी दीख गई तो मैंने अपनी बाइक वहीं लगाई और उसके कमरे में पहुँच गया।सिमरन ने उस समय गुलाबी रंग की लैगी और काले रंग का कुरता पहना हुआ था। जैसे ही मैं कमरे में पहुंचक र सोफे पर बैठा तो सिमरन ने मुझे चाय या कॉफी के लिये पूछा.

उसके बाद भाभी ने मुझे 69 पोजीशन भी समझाई कि 69 की पोजीशन क्या होती है वगैरह वगैरह. तभी ना जाने मुझमें कहाँ से हिम्मत आ गई और मैंने सीधे मंजू को पकड़ कर किस किया और उसकी गांड में उंगली डाल दी. वो लड़का आँखें फाड़ कर उसकी नन्हीं सी चूचियों को ललचाई नजरों से देखने लगा.

नीचे आते हुए मैंने देखा कि भाभी की एक ननद पीछे आँगन में अपने ही एक कज़िन का लंड मस्ती से चूस रही थी. मेरे लंड ने इतना माल निकाला कि वो चुत में समां ही नहीं पाया और नीचे बहने लगा.

उस की पेंटी में से इतनी मस्त खुशबू आ रही थी कि मैं कंट्रोल नहीं कर पा रहा था.

मैंने उससे कहा- घबराओ मत, मैं आज तुम्हें सारा सुख दूंगा जो तुम्हें आज से पहले कभी नहीं मिला होगा.

मैं क्या तेरा दुश्मन हूं? दोस्त हूं, टांगें चौंड़ी कर मस्ती से लेटा रह, पहली बार नहीं है, मराई है न?और उन्होंने अपना महा भयंकर लंड मेरी कोमल चिकनी गुलाबी गांड पर टिका दिया, फिर मेरे चूतड़ मसलने लगे, फिर एकदम धक्का दिया, सुपारा अंदर था. फिर मैं नीचे बैठ कर उसकी चुत चाटने लगा था और वो पैर चौड़ा कर चुत चटवाते हुए रोटियां बना रही थी. यह सुनते ही उसने एक हल्की सी मुस्कान दी और रसोई में आ कर काम करने लगी.

बाहर सबसे नॉर्मल बातें हो रही थीं लेकिन मॉम थोड़ी शांत सी बैठी थीं. फिर वो किचन में चली गई, पर मेरा तो पूरा मन उसको चोदने का हो गया था. मैं उसे कभी गर्दन पर सहलाता, कभी कान के नीचे सहलाता, इस तरह से हम दोनों ही बहुत ज़्यादा ही गर्म हो चुके थे.

बुआजी अपने ससुराल में हैं और चाचा जी अपनी बीवी बच्चों के साथ हमारे घर के करीब में ही रहते हैं.

इधर सुरेश अंकल ने अपना लंड मेरी चूत में सेट किया, बहुत मोटा और बहुत तगड़ा लंड था आर्मी वाले सुरेश अंकल का, फिट ही नहीं हो पा रहा था. अगले दिन भी सुबह चाय मीना को देने को कहा, इस बार सागर को बोला था कि तुमको उठना नहीं है. तू देख लेना साला अकेला ही उसको चोदेगा और हम यहां अपना हाथ जगन्नाथ करते रह जाएंगे.

मैंने कहा- हाँ भाभी माँ, ठीक है!मैंने उसके माथे पर किस किया और उसके बाद उसके गुलाबी गुलाबी होंठों को चूसा, फिर गर्दन को चूमा, फिर बूब्स और फिर मैंने उसकी चूत के पास आकर उसकी जाघों पर किस किया. मैं उधर से आ जाऊँगी लेकिन अगर देर होने लगी तो तुम्हें कॉल कर दूंगी ओके. अभी तक इस सेक्सी कहानी में आपने पढ़ा कि मैं अपनी पुत्रवधू यानि बहू के साथ फर्स्ट क्लास ए सी के प्राईवेट केबिन में अकेला था.

दोस्तो, दिन ऐसे ही गुजरते गए, हमारी बात आगे बढ़ नहीं रही थी क्योंकि वो बहुत पढ़ती थी.

वो भी बोल रही थी कि वो पूरी नंगी वॉशरूम में कमोड पर बैठ कर फिंगरिंग कर रही है. एक हाथ से मैं उसके बूब्ज़ दबा रहा था और वो भी बहुत प्यार से मेरे सिर पर हाथ फिरा रही थी और मेरे लिप्स चूसने में मेरा साथ दे रही थी.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो आखिरकार उसने एकदम झटका मारकर लंड को चूत के अन्दर सारा उतार लिया और मुझसे जकड़ कर चिपक गई. उसने मुझे गालों पर किस किया और फिर मैंने उसको बांहों में लेक़र उसके होंठों पर किस किया.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो और अपनी चूत की शेविंग कर रही थीं। शेव करने के बाद उन्होंने सारे बदन पर साबुन लगाया और फिर बिना ब्रा और बिना पैन्टी के पेटीकोट पहन लिया।फिर मैं छेद से हट गया. अब तो ऐसा हो गया था कि उनके बिना कुछ भी अच्छा नहीं लगता था, न ही दिन, न ही रात.

मैं हैरान हो गई थी कि उनका लंड मेरे पति को मुकाबले काफी मोटा और लम्बा था.

भूत की कहानी भेजिए

वो मान गई पर मैंने उससे बोला- मैं तुम्हें अब रूम में मिलना चाहता हूँ. पर मेरी गांड समझ गई कि ये दोस्त की उंगली नहीं है, किसी मजबूत मर्द की उंगली है. [emailprotected]सेक्स कहानी का अगला भाग :सेक्स कहानी प्यार में दगाबाजी की-2.

”तभी माया को अमित की आवाज सुनाई दी- माया, क्या ढूंढ रही हो? वो आपकी महत्वपूर्ण फाइल?माया अमित का खेल समझ चुकी थी- अमित, अगर वो फाइल मुझे नहीं मिली तो बड़ी दिक्कत हो जाएगी यार, तेरे पास हो तो दे ना!अमित अपनी चेयर पे बैठ गया, उसके चेहरे पे विजयी मुस्कान थी और माया जानती थी. चाचा मुझे बोले- तुझे चुदते हुए देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा है आरती, लग रहा है कि क्या कर डालूं!तीनों लंड से जम के हो रही चुदाई और उन सब की गन्दी गन्दी बातें और गालियां सुन कर मैं फुल एक्साइटेड होने लगी और मेरा पूरा दर्द खत्म हो गया, अब मुझे बहुत मजा आने लगा. फिर करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने अन्नू भाभी से पूछा, तो वो बोलीं- चूत में ही झड़ जाओ.

अब तो उनकी हिम्मत और ज्यादा बढ़ती जा रही थी, विनीत ने हमारे सामने ही आरजू का एक बूब बाहर निकाला और उसे अपने मुख में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा.

वो बोली- हाँ, हर लड़की को एक अनुभवी मर्द से एक दो बार जरूर चुदवाना चाहिए. और मुझे तो खुश होना ही था, मुझे एक बढ़िया सी चूत, वो भी बिल्कुल मुफ्त में, जो चोदने को मिल गयी थी. फिर मैंने देखा कि वही लड़का जो मेरी मॉम से स्टेज पर चिपक कर डांस कर रहा था, मॉम को मिला और दोनों ने एक दूसरे को किस किया.

अदिति बेटा, नींद तो अच्छी आई ना?” मैंने अपना टूथपेस्ट ब्रश पर लगाते हुए पूछा. मेरी मम्मी ने चारा लेने मुझ को भेजा, मुझ को नहीं पता था कि कहाँ से चारा काटना है. दिव्या अमित से बात करते करते चाय बना रही थीमैं जब जगी तो दिव्या ने कहा- मिनी, देखो चाय बन गई है.

इतने सारे एसएमएस किए फिर भी एक तो रिप्लाई कर दिया करो, ज्यादा बिजी थीं क्या?मैं- नहीं बिजी नहीं थी बस मेरे मोबाइल में एसएमएस पैक नहीं है इसलिए नहीं किया. लेकिन वो काफ़ी ज़्यादा गुस्से वाली थी, ऐसा लगता था कि अपनी खूबसूरती का घमंड है.

सुरेश अंकल मेरे सामने तरफ से लिपट गये, उनका सीना मेरे सीने से चिपक गया, मेरे नंगे बूब्स एक जबरदस्त फौजी मर्द की छाती से चिपके हुए थे. सबसे आगे बाप मोहन लाल सोफे पर बैठा था और उसकी बहू और बेटी घोड़ी बनके उसका लंड चूस रही थीं. चूत पर हाथ महसूस करते ही रेणुका भाभी को ना जाने क्या हुआ कि वो मुझसे तेज़ी से चिपक गईं.

तभी चाचा ने बोला- यार बृजेश, तू आ जा और आरती की चूत में डाल दे लंड… मैं तो झड़ गया, यह बहुत प्यासी है, अभी इसका पानी नहीं निकला!तब जो अंकल मेरे मुंह में लंड डाले थे, वह आ गए और मेरी टांग ऊपर कर के मेरी चूत में लंड फंसा कर जोर से धक्का दिया.

मैं आगे बढ़ा और मैंने भाभी को बांहों में भर लिया, मैं उन के शरीर को चूमने लगा. अब तक आपने मेरी चुदाई की पोर्न कहानी के पिछले भागअंकल ने मेरी चूत और गांड मारी जम केमें पढ़ा था कि मैं अंकल से चुदवा कर बीस हजार रूपए कमा लाई थी और अपनीचुदाई की कमाईको पा कर बहुत खुश हो रही थी. सागर मीना के पास पहुँचा और मीना को खड़ा करके उसकी नाइटी की लेस निकाली.

जब खाना-वाना हो गया तो हम लोग आग के पास बैठ गपशप करने लगे।कुछ देर बात करने के बाद स्वीटी को पेशाब का प्रेशर बना, जिसके चलते उसने अपनी सलवार उतार दी। उसका कुर्ता कमर तक दोनों तरफ से कटा हुआ था, जिसके चलते उसकी पैंटी उन कट से दिख रही थी। ऐसा लग रहा था मानो मेरे सामने कोई कॅबरे डान्सर खड़ी हो, और कैबरे डांसर की तो फिर भी पैंटी नहीं दिखती है, मुझे तो मेरी बहन की नंगी टाँगे और पैंटी दिख रही थी. शालिनी अपनी लम्बी गर्म जुबान को उसकी कमसिन चूत के अंदर बाहर करने लगी.

परंतु वो नहीं डरी और कहने लगी- डरो मत मेरी जान, आज तुमने अपनी बहन की सील खोल दी है. फिर वह बोली- मुझे सब कुछ करने का मन हो रहा है पर मैंने यह सब कभी नहीं किया तो मुझे डर भी लग रहा है. ये भी ये समझ कर रिप्लाई कर देती थी कि कौन सा मिलना है, बात ही तो होती है बस.

हॉट वीडियो सेक्सी चुदाई

थोड़ी देर में उसने गांड से लंड को छुलाया, एक हाथ मेरी कमर तक बढ़ा कर उसने मेरी कमर पकड़ी और धक्का लगा दिया.

योगिता कई बार झड़ चुकी थी, उसके चेहरे पर संतुष्टि के भाव साफ दिख रहे थे, मैंने रफ़्तार बढ़ाई और उसकी चूत को जूनून से चोदने लगा. फिर मैं बहुत खुश हुआ, अपने जीवन की पहली चुदाईसील बंद चूतकी करने को मिली. ऐसा करते ही काजल के मुँह से ज़ोर से आहह की आवाज़ आई और फिर वो लगातार तेज तेज आवाज़ें निकालती ही रही और साथ में कहती भी रहती- चूसो… और चूसो मेरी चूत को!उसके चूत रस का तो जवाब ही नहीं था, मैं अपनी जीभ से उसकी चूत को कभी नीचे से ऊपर और कभी अंदर तक चाटता और वो भी मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाती और कमर उठा उठा कर मेरा साथ देती.

मयूरी ने अपनी जुबान सुरेश के मुँह में डाल दी और दोनों चुम्बन के इस प्रगाढ़ दौर में मस्त हो गए. कुछ ही पलों में वो थक गई, क्योंकि हम एक एक बार हो लिए थे, तो भी टाइम लगना था. ইংরেজি সেক্স ভিডিওराखी दिखने में नॉर्मल दुबली पतली सी है, पर उसका बदन 36-30-36 का है.

जब मैं सो रहा था तो उसने तब तक नहा के फ़्रेश होके शरबत भी बना लिया था. भाभी के रसीले मम्मों को दबाने में इतना मजा आ रहा था कि मैं किस को भूल कर उनके मम्मों पर टूट पड़ा.

फिर कुछ देर के बाद उन्होंने भी मेरा साथ दे दिया और मैंने अपने होंठ उनके होंठ की तरफ बढ़ाए तो उन्होंने अपनी आँखें बंद कर लीं. मैं तो कब से तुम से चुदाना चाहती थी तुमने कभी मुझे इशारा ही नहीं दिया. मैं ज्यादा तो नहीं, पर खूबसूरत हूँ, अच्छी हाइट, बड़े चूचे और मजबूत शरीर की मालकिन हूँ.

मामी ने मेरे लंड खुद ही अपने हाथ से पकड़ा और चूत के छेद पर लगा कर धक्का लगाने को बोलीं. चूमते हुए उसने मेरी ब्रा का हुक़ खोल दिया और ब्रा को मेरे शरीर से अलग कर दिया. उसने कहा- हमें पूजा में भी जाना है, टाइम कम है हमारे पास!तो मैंने कहा- वो बाद में देखा जायेगा.

दोस्तो, मैं बेबू आपके लिए अपनी पहली हिंदी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैंने सिर्फ इतना ही कहकर सॉरी बोला- ओके भाभी अब इस बार ध्यान रखूँगा. खूबसूरत थी और गुस्सैल भी; 5 फुट 5 इंच लम्बाई, इकहरी काया, गोरा गुलाबी रंग, काली आँखें, गुलाबी होंठ, 34″बी कप साइज़ के स्तन; 28″ कमर.

लेकिन उस खिड़की में कूलर लगा हुआ था, फिर भी मैं बेडरूम में देखने की कोशिश करने लगा. मेरे सूट की चैन अवी अच्छे से दबा कर पकड़े हुआ था और सूट भी नया था तो चैन बड़ी आराम से खुलने वाली थी. मैंने दीदी की तरफ देखा तो उनकी आँखों में आँसू थे लेकिन चेहरे पर एक राहत भरी झलक भी नज़र आ रही थी.

फिर अमित एक उंगली से उस माल को मेरी बीवी की गांड में भरने की कोशिश करने लगा, मेरी बीवी की गांड में उंगली करने लगा. तो कैसे रही मस्ती?”बड़ा मजा आया सविता तुम्हारी नाइटी में देख कर तो वो पागल हो गया था. मुझे उसने बिस्तर पर उल्टा लेटा दिया और स्कर्ट के ऊपर से ही मेरे कूल्हों पर अपना लंड सैट कर के रगड़ने लगा.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो हमने किसी पार्क में 10 बजे मिलने का प्लान बनाया।फिर मैंने ममता से पूछा कि मैं आपको पहचानूँगा कैसे?तो उसने कहा कि वो ब्लू कलर का सूट पहन कर आयेगी. भाभी मुस्कुराने लगीं और कहा- मुझ में तुम्हें क्या सेक्सी लगता है? बताओ ज़रा?मैंने कहा- भाभी… आपके होंठ…भाभी- और?मैंने कहा- और… आपके बूब्ज़!भाभी मुस्कुराने लगीं और पूछा- और क्या क्या? सब बता दो आज!मैंने कहा- आप की बैक भी.

सूट की डिजाइन बताइए

मैंने गांड में लंड अंदर बाहर करना शुरू कर दिया और मामी को दर्द से भरा मजा आने लगा. कुछ देर यूं ही देखते रहने के बाद उसने अचानक से मेरा लण्ड पकड़ लिया और सहलाते हुए धीरे से फुसफुसा कर कहा- हम आपके बहुत दीवाने हैं!दोस्तो, पहली बार किसी लड़की ने मेरे लंड को हाथ लगाया था… मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता कि कैसा करंट लगा था मुझे!मैं हैरान परेशान भी था उसकी ऎसी निडरता भरी हरकत से… मैं कभी सोच भी नहीं सकता था कि कोई जवान लड़की ऎसी हरकत कर सकती है. लेकिन मैं दीदी के जिस्म से ऊपर उठ गया और लंड को दीदी की चूत से दूर कर लिया लेकिन दीदी ने मेरे लंड को नहीं छोड़ा और ऐसे ही चूत पर टिकाए रखा और खुद अपनी कमर को ऊपर करके लंड को चूत में लेने की कोशिश करने लगी।मैं हंस कर दीदी की तरफ़ देख रहा था जबकि उनके चेहरे पर हल्का गुस्सा और बहुत ज़्यादा मस्ती नज़र आ रही थी.

फिर मैंने रेखा को भी लंड चूसने का इशारा किया, दोनों मेरा लंड चूसने लगीं. उसने काली ब्रा पहनी हुई थी, जिसमें उसके सफ़ेद चूचे जो कि 36 इंच के थे, वो बाहर आने को बेताब लग रहे थे. ब्लू इंग्लिश फिल्म वीडियोवो समझदार थी तो आराम से किस कर रही थी और मैं बस उसके होंठों को खाए जा रहा था.

आंटी लोगों ने बस बुक करवा रखी थी क्योंकि फंक्शन की जगह काफ़ी दूर थी.

मैं मायूस सा हुआ, पर कहते हैं ना कि अपना हाथ जगन्नाथ, तो बस मुठ मार मार कर टाइम काटा. मेरी मम्मी राधिका ने हिचकिचाते हुए उस नीग्रो के बॉक्सर को पूरी तरह से निकाल दिया.

उसके बाद एड्रिआना ने अपना फ़ोन चैक किया तो उसकी बेटी की 12 मिस कॉल थीं. इतने में उन्होंने मुझे झिड़क दिया और मैं हट गया, मगर वो फिर से हंसते हुए बाहर चली गईं. एक दिन भाभी अपने कमरे में आराम कर थीं तो मैं भी उन के पास चला गया और हँसी मजाक करने लगा.

मुझसे उसकी चुत को देख कर रहा नहीं गया, मैंने उसकी टांगें फैलाईं और अपनी जीभ से उसकी चुत को चाटने लगा.

मयूरी सुरेश के सामने फर्श पर बैठ गई और उसके लंड को अपने दोनों हाथों से पकड़ते हुए बोली- सुरेश, तुम चिंता मत करो मेरी जान. मैं ये सोचने लगी कि कल फिर अमित से गले लगना है और ये मेरे लिए कल क्या लाएगा. लेकिन मैंने अंजान बनते हुए कहा कि मुझे वो सब करना नहीं आता है, मैंने बस देखा है.

बंगाली आंटी सेक्सफिर बच्चों को तैयार करके बोली- मीना को मैं सहेली के घर बच्चों को छोड़ आती हूँ. वो बर्फ देख कर चिढ़ने लगीं और बोलीं- अब क्या चाहिए तुम्हें…?मैं बोला- अरे मैं तो बस तुम्हारी गांड और चूत को आराम दिलाने के लिए लाया था, तुम्हें जलन हो रही होगी ना…!वो बोलीं- हाँ, दर्द तो हो रहा है, पर तुम रहने दो… मैं खुद ही लगा लूँगी.

सेक्सी पिक्चर मसाज

वो मुझसे भागने की बहुत कोशिश कर रही थीं, तब मैंने एक हाथ से उनका गाउन ऊपर किया और उनकी मोटी गांड दबाने लगा. वो बोला- तो तुम तक वायग्रा कैसे पहुँचेगी?मैं बोली- रात 12 बजे तुम मेरे घर की चौखट पर रख देना. अब वो मेरी पीठ पर चुम्बन करने लगी, कभी कंधे पर, कभी गर्दन पर… मेरी तो मज़े में आँखे बंद हुई जा रही थी.

मेरे परिवार में हम दो भाई हैं और हमारी एक बहन है, बहन की शादी तीन साल पूर्व हो चुकी है, वो अपने पति के साथ अपनी ससुराल में रहती है. आअहह…बस 5 मिनट और चूसने के बाद उसका पानी निकल गया और मेरे चेहरे पर उसके चूत रस की मलाई फ़ैल गई. मुझे तो यही लगा था कि ज़्यादा से ज़्यादा महेश मेरे मम्मों को टच करेगा, या थोड़ा बहुत मसल देगा… मगर उसने जो किया वो सच में ख़तरनाक था.

यह बात सुन कर पूनम अब आराम से बैठ गई और मैंने उसके कंधे पे हाथ रख दिया. फिर मैंने अपनी जीभ उसकी चुत पर टिका दी, वो तो पागल हो गई, बोली- जीजा जी ऐसा मत करो. मैंने कल्पना भी नहीं की थी ऐसी… अब मजा आ रहा था, मौसी मेरे बदन को सहला रही थी.

वो जस्ट नहा कर आई थी, शायद सर्दी के दिन थे तो शायद दोपहर को नहाई होंगी. कुछ देर बाद मैं दीदी के ऊपर से उतर गया लेकिन दीदी नहीं चाहती थी मैं ऊपर से हट जाऊँ, दीदी ने मुझे मेरी पीठ से कस के पकड़ लिया और ऊपर से हटने नहीं दिया.

मैंने बोला- क्या देख रहा है आकाश?तो आकाश बोला- विशाखा तुम इन कपड़ों में बहुत ही अच्छी लग रही हो.

फिर कुछ सोचते हुए रमेश ने कहा- मतलब कि आप रिश्ते में हमारे पापा भी हो सकते है और जीजा भी. एक्स एक्स एक्स वीडियो सेक्सी एचडीतो फिर मैंने उसके टॉप के अंदर हाथ डाला अचानक से उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया और बाहर निकालने की कोशिश करने लगी, वो बोली- मैंने यह सब कभी नहीं किया, तो प्लीज मुझे अभी भी या नहीं करना!पर मुझे तो पता था कि वह साली रंडी है. बफ बिहारीजैसे अमित ने चूची दबाई थी, उससे भी ज्यादा जोर लगा लगा कर चूची को चूस रहा था. कुछ देर मुँह की चुदाई करने के बाद उसने फिर स्पीड बढ़ा दी, मैं जान गई कि लंड से पिचकारी निकलने वाली है और इस बार मेरे मुँह में ही जाएगी.

पूनम को लेकर मैं हमारे वहां पास ही के एक गार्डन में गया, जिसमें सभी कपल्स घूमने आते थे.

शाम होते ही मैं तैयार हो कर पूनम के पास चला गया और उसे लेकर मैं अब की बार एक होटल में गया. मेरा मन तो कर रहा था कि बाहर गेट पर ही उसको चोद डालूँ, पर उसकी एक बड़ी बहन और छोटा भाई भी था. मुझसे कोई गलती हुई हो तो माफ़ करना प्लीज!आप सभी का धन्यवाद।आप मुझे ईमेल कर सकते हैं[emailprotected].

मैंने कहा- पूनम हमारी शादी तो होनी ही है लेकिन दिल में जो आग अभी लगी हुई है उसे कैसे बुझाएं?इतना कहते ही मैं पूनम को लिप किस करने लगा और पूनम के कूल्हों को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा. मैं तो जन्नत में था दोस्तो… उसने मुझे सातवें आसमान पर पहुंचा दिया था. मैं भी उनकी चुत चूसता रहा और उनकी चुत के दाने को अपने दांतों से दबा कर मींजने लगा, फिर अपनी पूरी जीभ उसकी चुत में डाल दी.

मां बेटे का जबरदस्ती सेक्सी वीडियो

वो छटपटाने लगी थी और अपने पैर पटक रही थी, पर मैंने उसको कसके पकड़ रखा था. (मुठ मारने के कारण मेरा लंड टेढ़ा हो गया है)मैंने भी कहा- होने दो भाभी. ‘अरे…’ पुलकित बोला- यार माजरी, इस चुनरी में तो तू बहुत सेक्सी लग रही है.

वो मेरे छाती के बालों से खेलती रही और बोली- आज तुमने मुझे बहुत मजा दिया है.

फिर मैं उसकी चूत को हाथ लगाने लगा तो उसने मेरा हाथ हटा दिया और बोली- प्लीज़ तुमने दूध को टच करने का वादा किया था.

फिर मैंने उन्हें टेबल से नीचे उतारा और दीवार से सटाया और उनकी एक टांग उठा कर चोदने लगा. फिर हम पहले की तरह लाइफ एन्जॉय करने लगे, पर जब भी हम आनन्द नाम सुनते तब वो समय कांटे की तरह चुभता. रंडी सेक्स हिंदी मेंफिर वो चुप होकर बेड पर पैर खोल कर लेट गईं और कहने लगीं- मुझे छोड़ दो, ये सब ठीक नहीं है.

तो उसका दोस्त पिज़्ज़ा और बर्गर ले आया और फिर रेफ्रिजरेटर से 2 बियर की बॉटल ले कर आ गया. सब की भूखी निगाहें हम दोनों जवान लड़कियों के सेक्सी बदन को ताड़ रही थी. अमित- अच्छा तू उसको बहुत ज़्यादा लव करता है इसके मतलब उससे शादी करना चाहता है… या बस टाइम पास करना है उसके साथ?सन्नी- मैं समझा नहीं अमित सर!अमित- अरे शादी करके वाइफ बनाना चाहता है या टाइम पास करना चाहता है, खा पी के ऐश करना चाहता है?सन्नी- कैसे बात कर रहे हो अमित सर, मुझे उसके पास जाने से डर लगता है बाकी बात तो दूर की बात है.

अनुष्का बोली- देख कर क्या करेगा?मैंने कहा- मेरा बहुत मन करता है तुम्हें नंगा देखने को. मैं भी मोनिका को पसन्द करने लगा, उसमें तब बचपना था और मुझ पर मेरी जवानी भारी पड़ रही थी.

बस मेरी जान, होने वाला है, मेरा भी बस दो तीन मिनट और!” मैंने कहा और रानी (मेरी धर्मपत्नी) की चूत में ताबड़तोड़ धक्के लगा के जल्दी झड़ने की कोशिश करने लगा.

मम्मी दोनों टाँगों को चौड़ा करके फैलाये लेटी थी।और मेरी मम्मी की चूत चुद गई. अब हम दोनों शावर के नीचे थे और मैंने शावर ऑन कर दिया और एड्रिआना ने मुझे अच्छे से नहलाया और मेरा लंड चूसते चूसते मुझे एक बार फिर लड़ाई के लिए तैयार कर दिया. आखिस अंजना ने अब अपने देवर को कहा- यार राहुल, इतने भी उतावले मत हो… अभी बहुत मौके मिलेंगे हमें ये सब करने के… और तुम्हारी सेक्स लाइफ तो अभी शुरू ही हुई है.

રેપ સેક્સ વીડિયો मैं और थोड़ा गुस्से से बोली- क्या मतलब है तुम्हारा?अमित- कुछ नहीं बस ड्रेस अच्छी है. जब कोई 20 साल का लड़का पहली बार किस करेगा तो जरूर पागल हो जाएगा, क्यों दोस्तो?इतनी देर में मम्मी की आवाज़ आ गयी- प्रदीप दूध ठंडा हो गया पी ले!और मुझे गर्म माल को छोड़कर जाना पड़ा.

हमने एक ही तरफ अपना मुँह कर लिया और एक दूसरे को बाँहों में भरकर सो गए. खूबसूरत थी और गुस्सैल भी; 5 फुट 5 इंच लम्बाई, इकहरी काया, गोरा गुलाबी रंग, काली आँखें, गुलाबी होंठ, 34″बी कप साइज़ के स्तन; 28″ कमर. मगर तभी भीड़ भी वापस बस में चढ़ने लगी, तो आंटी अपने आपको संभाल नहीं पाईं और मेरी तरफ गिरने लगीं.

ರಮ್ಯ ಸೆಕ್ಸ್

मेरी पहली इच्छा यह है कि कैसे भी भाभी को पता चल जाए कि मैं उसके लिए बहुत तड़प रहा हूँ और वो मेरे साथ सेक्स करने के लिए तैयार हो जायें. एक दिन मुझे गर्मी लग रही थी तो मैं लुंगी में रह कर ही पढ़ाई और योगा खत्म करके छत पर खड़ा था. तुझे पता है बंगलौर से दिल्ली जाने में कम से कम पैंतीस छत्तीस घंटे लगते हैं सुपरफास्ट ट्रेन से? बेटा तू तो वैसे ही फूल सी नाजुक है ट्रेन के सफ़र में तेरी हालत खराब हो जायेगी और मैं भी थक जाऊंगा” मैंने बहू को समझाया.

फिर निहारिका बोली- भैया आज मैं बहुत खुश हूँ आज मेरी जॉब लग गई है, आज तो पार्टी बनती है, मांग तू. मुश्किल से मैंने सिमरन को 10 मिनट ही चोदा होगा कि उसे बहुत मजा आने के कारण वो झड़ गई लेकिन मैं लगातार धक्के लगाता रहा और मैंने उसे अलग अलग पोजीशन में काफी देर तक लगातार चोदा.

जैसे ही मैंने अपना ब्लाउज निकाला, मेरे बूब्स उछल पड़े मेरी ब्रा मेरे बूब्स को संभाल नहीं पा रही थी क्योंकि मैंने बहुत छोटी ब्रा पहनी थी।फिर मैंने अपने पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया और पेटीकोट एकदम से नीचे गिर गया।रोहण मुझे ब्रा पेंटी में अधनंगी देख कर शॉक हो गया था.

उसने कसमसाते हुए कहा- मुझे बाहर तो निकलने दो, आप तो सीखने के लिए बहुत उतावले हो रहे हो. वह उसकी उभरी हुई चूत कितनी दिलकश थी (आज भी वो पल मेरे दिल में जिन्दा है) मैं उसकी चूत देख कर खुद को रोक ना पाया और मेरी लपलपाती हुई जीभ मैंने उस जन्नत में उतार दी. उसने मेरे लंड को देखा जो कि अभी भी लोहे के रॉड की तरह सीधा खड़ा था.

उषा काकी भी किसी घरेलू रांड से कम नहीं थीं, आख़िर फ़ौजी की बीवी थीं. इस पर मैंने भाभी को बोला- अगर ऐसी ही बात है तो भाभी सेम कलर की नेट वाली ब्रा भी पहन कर देखो. मैंने कहा- तुमने देखा नहीं तुम्हारा पति इसकी चूची और जांघों को ऐसे देख रहा था, जैसे चोद ही देगा तो ये छोटी कैसे हुई? वैसे भी 18 पार कर चुकी है.

लगभग 5 मिनट तक मेरी सास की चूत से पानी निकलता रहा, मैंने और रिया दोनों ने सास की चूत का पानी पिया, बहुत मस्त था, मजा आ गया.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी सेक्सी वीडियो: आंटी भी रेस्पोन्स में धीरे से हाथ चादर से घुसा कर उसके लंड को मसलने लगीं. सागर नशे में आ गया था बोला- ब्लाउज भी उतार दो ना दीदी तो और आराम लगेगा.

तभी बाहर किसी के आने आवाज़ हुई, देखा तो मेरे चचेरी बहन की ननद अपने पति और दो बच्चों के साथ हमारे घर मिलने आए थे. फिर मैं बहुत खुश हुआ, अपने जीवन की पहली चुदाईसील बंद चूतकी करने को मिली. यह मेरा पहला अनुभव था… जब मैं किसी लड़की के हाथों अपने लंड की मुठ मरवा रहा था.

मैंने देर न करते हुए एक ज़ोरदार धक्का मारा, उसकी चुत बहुत कसी हुई थी.

वो भी मॉम से मस्ती में बातें कर रहा था तो मॉम का सारा ध्यान उस पर था मुझ पे नहीं. मैंने तो अभी बारहवीं पास की है, पढ़ने के लिए माँ के साथ आ गए। हमारे साथ हमारा भाई भी आया है. सलमा चूतड़ तेजी से उठाने गिराने लगी और शिशिर भी ज़ोर ज़ोर से धक्के देने लगा.