बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,रानी के सेक्सी वीडियो बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सनी लीओन सेक्सी वीडियोस: बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म, जब मैं उसकी गांड मार रहा था, तो मुझे इतना ज्यादा मजा आ रहा था कि क्या लिखूं.

छोटी उम्र की लड़कियों की बीएफ

उसने मचलते हुए कहा- भैया अब जल्दी से लंड डाल दो … पूरे 4 महीने से लंड नहीं गया है … पेलो न जल्दी से. बीएफ वेस्टइंडीज वालारास्ते में एक मोहल्ले से सामने से भीड़ को आते हुए देखा, तो टैक्सी वाला टैक्सी छोड़ कर भाग गया.

अब मनोज आराम आराम से पूजा के शरीर को निहारता हुआ शारीरिक संभोग के चरम सुख का असीम आनंद लेता हुआ अपनी प्रिय पूजा को तसल्ली बक्श चोद रहा था. बिहारी बीएफ वीडियो बिहारी बीएफअब मुझसे सहन नहीं हुआ और मेरे मुँह से एक चीख निकल गयी- उई मम्मी मर गई … मेरी चुत फट गई … आह मम्मी मर गई रे!उसने मेरी तरफ देख कर कहा- क्या हुआ भाभी मरवाओगी क्या … आवाज बंद करो.

मेरी गर्लफ्रेंड की सेक्स चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं एक लड़की को पसंद करता था.बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म: फिर बाथरूम के दरवाज़े पर जाकर कहने लगा- चाची जल्दी बाहर आइए, मुझे टायलेट (पेशाब) करने जाना है.

इतने दिनों बाद उसे इस तरह अपने जिस्म से चिपकाने का जो सुकून मिला, वो मैं बयां ही नहीं कर सकता.उनकी चूचियों का साइज उनसे गले लगने तक नहीं पता था, पर आगे सब बताऊंगा.

बीएफ पिक्चर भाभी की - बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म

जब वो अपने घर से वापिस आईं … तो रात को सुषमा मैडम ने मुझे वीडियो कॉल किया.मैडम भी एकदम से ऊपर को उठीं … तो उनसे कैचप की बोतल मेरे ऊपर पूरी ही गिर गयी थी, जिससे मेरे सारे कपड़े गंदे हो गए थे.

अपने कपड़े उतार कर मैं फराह के ऊपर लेट गया और अपना लंड उसकी बुर के पास उसकी जांघों पर रगड़ते हुए उसको किस करने लगा. बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म करीब आधा घंटे तक मुझे दोनों छेदों में चोदने के बाद वे दोनों शांत हुए.

करीब आधा घंटा तक मुखिया ने सुमन को अलग अलग पोज़ में जमकर चोदा, जिसमें सुमन दो बार झड़ी, मगर मुखिया का लावा अभी तक नहीं फूटा था.

बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म?

एक बूंद शहद उनकी नाभि पर, एक बूंद उनके पेट पर और थोड़ा सा शहद उनकी चूत पर लगा दिया. उसकी गाली से मेरा जोश दुगना हो गया और एक ही बार में ही मैंने जब लंड घुसेड़ा, तो लंड सरसराता हुआ सीधा चुत की आखिरी छोर पर जाकर लगा और उसकी चीख निकल गई. फिर ब्लाउज के ऊपर से ही भाभी के एक निप्पल को मुँह में लेकर दांतों से हल्का सा दबा दिया, जिसके कारण सुनयना भाभी के मुँह से एक तेज सिसकारी निकल गई.

फिर बलराम ने उसको पकड़ कर नीचे लेटा दिया और उसके चूचे दबाने और चूसने लगा. थोड़ी देर मैं वैसे ही रुका रहा, फिर जब सुनयना भाभी अपनी गांड उचकाने लगीं, तो मैंने हल्के से लंड आगे पीछे करना शुरू कर दिया. मैं एग्री हो गया और मैंने उनको बोला कि मैं बस घर अपनी बाइक खड़ी करके आता हूँ.

अब बारी थी फेरों की, तो अक्सर आपने देखा होगा कि जोड़ों के कपड़ों में आपस में गांठ बांधकर फेरे लिए जाते हैं, पर यहां तो कुछ अलग होना था. मेरी पहली चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं सहेली के साथ किराये के रूम पर रहकर पढ़ती थी. मेरी पहली कहानीमेरी चुत की चुदाई कार मेंको आप लोगों ने बहुत पसंद किया और मुझे आपके ढेरों मैसेज मिले.

ऐसा मैंने जानबूझकर किया था ताकि वकील की नजर मेरे स्तनों की गहरी घाटी पर जाये और उसको मेरी चूचियों के दर्शन हो जायें. अब आगे की कास्टिंग काउच सेक्स स्टोरी:योगेश जी ने पूछा- पदमा जी, आप गर्भ निरोधक गोलियां तो इस्तेमाल करती हैं न?मैंने हां में सिर हिला दिया.

मैं अब अनचाहे ही उनके होंठ चूसने लगी थी और मेरे हाथ उनकी पीठ पर सहलाने लगे थे.

मैं उनकी चूत को चाटते हुए उनकी चूत में दो उंगलियां डालकर भी अन्दर बाहर कर रहा था.

सेक्सी सिस्टर की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी छोटी बहन की चूत चाट ली थी. उसकी जवानी की आग शायद उसको मर्द के स्पर्श के लिए बेचैन किये हुए थी. भाभी का मुलायम गुलाब की पंखुड़ी जैसे नाजुक होंठों से मेरे निप्पल को किस करना मुझे बहुत अच्छा लगा.

पूरा लंड साफ करने के बाद भाभी ने कहा- विशु, मैं तुझे ये बताने आई थी कि प्रेरणा दीदी तुझसे चुदना चाहती है क्योंकि उनको तेरा लंड बहुत पसन्द आ गया है. मेरी कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी के पिछले भागमेरी जिन्दगी की हसीन दास्तान- 2में आपने पढ़ा:अब आगे की कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी:मैंने ओके का इशारा किया और भाभी पीछे की सीट पर जाकर लेट गईं. अब हम लेटे लेटे ही बातें करने लगे और एक दूसरे को वासना से देखने लगे.

आठ इंच का है या उससे भी बड़ा है?मैंने कहा- लंड का नाप लेने का काम चुत के ऊपर छोड़ दो.

आह क्या बताऊं दोस्तो, सुरेखा की बुर कितनी गुलाबी थी … आह एकदम साफ़ चिकनी चमेली सी बुर … मैंने आज जिंदगी में पहली बार इतनी साफ और गुलाबी बुर देखी थी. क्या किया री तूने आज अपनी चूत में, टाइट करने वाली कोई दवा लगा रखी है का?; ससुरा पूरा लंड घुस ही नहीं रहा?” मौसाजी झल्लाये से स्वर में बोले. मैं बोला- मॉम, मन तो मेरा बहुत मचल रहा था आपको नंगी देख कर। मगर मेरी हिम्मत नहीं हो रही थी.

मैंने धीरे धीरे उनके होंठों पर होंठ रख दिए और भाभी के होंठों पर किस करने लगा. दिशा की बात करूं तो बस वो एक खूबसूरत लड़की के साथ साथ सेक्स बॉम्ब भी थी. उसने एक फोटो भेजी थी, जिसमें उसके गीले बाल यूं बिखरे हुए थे … मानो अभी अभी नहाके निकली हो.

तभी पारिज़ा ने मेरी टी-शर्ट निकाल दी और मैंने भी उसकी टी-शर्ट को निकाल दिया.

मैंने पास ही रखी वैसलीन की क्रीम उठाई और उसकी गांड में उंगली से अंदर तक उसके छेद को चिकना करने लगा. मैं उसे देखता ही रह गया। वो बहुत ही सुन्दर लग रही थी।उसने एक टाईट जेगिंग्स और एक टाईट टॉप पहना हुआ था। मैं बस उसे ही देख रहा था और कुछ नहीं कर रहा था। उसने मुझे हैलो कहा तब भी मैं कुछ नहीं बोला.

बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म मैं पहले से अनाथ हूँ, लेकिन आज मेरे पास सुंदर बीवी है और पारिज़ा के अब्बू बशीर भी हमारे साथ ही रहते हैं. मैंने अपना लंड उसके हाथ में दिया और उसके ऊपर लेटते हुए बोला कि इसे अपनी चूत के छेद पर सैट करो.

बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म उसके साथ मैंने काले रंग की फूलों वाली पारदर्शी ब्रा और पैंटी भी ले ली. एक बार पुनः इच्छा हुई कि मुझे अभी मृत्यु आ जाये और मैं इस शर्मिंदगी, इस जिल्लत से बच जाऊं.

कभी लंड के नीचे लटकती गोटियों को चूसती, जिससे कुछ ही पलों में मुखिया बहुत ज़्यादा उत्तेजित हो गया.

बीएफ सेक्सी संभोग

उसने भी देखा और कहा- मैडम जैसे आपके स्तनों की कसावट है, उस पर ये बहुत जंचेगा. कहकर मैंने उसकी दूसरी चूची को भी मुंह में भर लिया और पहली को दबाते हुए दूसरी को पीने लगा. इससे तो अच्छा होता कि तू अपने बीज को किसी लड़की की चूत में ही डाल देता.

तो मैंने चुपके से उठी और एक पतला सा गद्दा और तकिया लेकर अंधेरे में ही जीना चढ़ते हुए ऊपर तीसरी मंजिल पर जा पहुंची और कमरे का दरवाजा खोल दिया और लाइट जला दी. उस वक्त मैं दिल्ली में आ गयी और कमाने के लिए मेरे पास कोई और जरिया नहीं था. भाभी के बड़े बड़े चूचे इस कसी हुई ब्रा में बंद थे … मैं बस देखता ही रह गया.

आपको इतना कष्ट कैसे दें?”इसमें कष्ट कैसा, सुनील जी? इन्सान ही इन्सान के काम आता है.

उसकी आंखों की चितवन से ही मुझे उसकी आंखें इतनी नशीली दिख रही थीं कि मैं बस मदहोश सा हो गया. वहां पर इसके अंकल हैं, वो जॉब भी दिला देंगे और तुम्हारे रहने की व्यवस्था भी हो जायेगी. हमें भी तो कल को किसी काम की जरूरत पड़ सकती है! उनके घर में कोई लड़का नहीं है, सिर्फ दो लड़कियां हैं।मम्मी के तर्कों ने मुझे चुप करवा दिया.

तो मैं बोला- सोनी है कि नहीं?तब चाची बोलीं- सोनी अपनी नानी के घर गयी है. मैं- देखता क्या है रे बहन के लौड़े … दम नहीं है क्या तेरे लंड में मादरचोद. मुझे ये देखकर मज़ा आ रहा था कि अब ये मुझसे बिल्कुल ओपन हो गयी है। फिर मैंने उसे अपने नीचे लिया और किस करना शुरू कर दिया।अंजू ने जम कर साथ दिया और फिर शुरू हुआ खेल। अंजू ने अपने आप ही लण्ड पकड़ कर चूत पर सेट कर दिया.

इसके बाद उस रात कोई और चुदाई नहीं हुई … क्योंकि दोनों ही बहुत थक गए थे. कैसे मैंने उसे प्रोपोज़ किया फिर मूवी हाल में उसके जिस्म का मजा लिया.

अब मैंने ब्लाउज पहना, पर तभी एक दिक्कत समझ आई कि अपनी पीठ पर डोरी कैसे बांधू. मेरी गर्लफ्रेंड बोली- अभी तो कॉफ़ी पी थी … फिर आइसक्रीम?मैंने कहा- कुछ नहीं होता. मैरिड वुमन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन भाभी ने मुझे मुठ मारते देख लिया.

वैसे तू टैटू कहां बनवाएगी?मैं- कहां बनवा लूं तू ही बता दे … वहीं बनवा लूंगी.

उसका गोरा गोरा चिकना चेहरा देखकर दुनिया का कोई भी मर्द उसको पाने की चाहत कर सकता था. फिर मैंने विवेक को इशारे में बोला- रूम में अल्पना है … इसलिए मैं यहां कुछ नहीं करने दूंगी. राज- मैं तुम्हें तड़पते हुए नहीं देख पाया और तुम्हारी बातें सुनकर मेरा भी खड़ा हो गया था.

चाची बोलीं- हां अब डालो अपना लंड इस चूत में!मैंने भी अपना लंड चाची के चूत में डाल दिया और चाची को पेलने लगा. दोस्तो, ये थी मेरी पहली चुदाई कहानी, सेक्स के सफर की शुरूआत की कहानी.

अब आगे की हॉर्नी सेक्स स्टोरी:कुछ ही देर में हम सब लोग रिजॉर्ट पहुंच गए. कपड़े सुखाते सुखाते या हो सकता है मेरी स्थिति सोचते सोचते भाभी का टखना मुड़ा और वो घुटने के बल गिर गयीं. मैंने उससे पूछा- चुत में लेगी मेरा पानी?उसने कहा- मुझे पिला दे अपना रस.

ब्लू सेक्सी हॉट मूवी

या तो फ्री में दिलवा देना और अगर पैसे मांगे तो पैसे भी आप ही देंगीं.

वरुण और राज ने मेरे लिए बीयर ऑफर की, लेकिन मैंने यह कहकर मना कर दिया कि आज बहुत हो गई … अब नहीं. वो बोली- क्या पता मेरे ससुराल वाले भी पापा जैसी पुरानी सोच के मिल जायें. फिर मैंने उसको घोड़ी बना लिया और उसकी गांड को हाथों से पकड़ कर उसकी चूत को पीछे से कुत्ते की तरह चोदना शुरू कर दिया.

मैंने उससे पूछा- चुत में लेगी मेरा पानी?उसने कहा- मुझे पिला दे अपना रस. मैं पारिज़ा को किस करते हुए उसके कातिलाना मम्मों को सहलाने लगा, जिससे वो गर्म होने लगी. बीएफ सेक्सी पिक्चर 2020मैंने सुनयना भाभी के चेहरे को हाथों में पकड़ा और अपने होंठों को भाभी के नरम रसीले लाल होंठों पर हल्के से रख दिए.

होंठ चूसते चूसते उन्होंने मेरे स्तन ताकत से गूंदने शुरू कर दिए और मेरे निप्पल चुटकियों में भर कर उमेठने निचोड़ने लगे. इसके बाद दिशा ने मेरा लंड अपने हाथ में लिया और अपने हाथ से अपनी चूत की फांकों में रख दिया.

तभी दरवाज़े पर मैंने रुखसाना को देखा, जो मेरी ओर थाली लेकर आ रही थी. उसने ऐसा ही किया और मैंने अपना लंड उसके दोनों बूब्स के बीच में दे दिया और धक्के मारने लगा. एक बार में मेरे घर के बाहर से निकला, तो देखा कि हिना दीदी अपने घर के बाहर अकेले चबूतरे पर बैठी थीं.

मगर जैसे ही मैंने लंड अंदर डाला तो वो चिल्लाने लगी और नखरे करने लगी. वो पांच सेकंड मुझ पर कई दिनों तक हावी रहे, रह रह कर भाभी का नंगा भरा गोरा जिस्म मेरी आंखों के सामने आ रहा था. मैंने अपने कपड़े पहने और उनसे कहा- अब चलता हूँ … कहीं दानिश ना आ जाए.

आशा करता हूँ कि आप लोगों को दोस्त की सिस्टर की चुदाई कहानी पसंद आएगी.

पारिज़ा की बातें सुनकर मैंने अपनी स्पीड को बढ़ा दिया और जोरों से पारिज़ा की गांड पेलने लगा. मेरे लिये यह अच्छा मौका था उसको शीशे में उतारने का लेकिन जगह की दिक्कत थी.

उसने भी इतनी जल्दी ब्लाउज उतारा था कि मुझे अपने स्तनों को छुपाने का मौका भी नहीं मिला. मालिनी तो जैसे सालों की प्यासी लग रही थी और इस बार जैसे ही मैंने कुछ देर उसकी चूत में जोर जोर से झटके लगाये वो फिर से झड़ने की कगार पर पहुंच गई. मैंने उनसे कहा कि आप खाना बनाइए, तब तक मुझे आपकी गांड के साथ खेलने दो.

एक रात की बात है उस दिन पहली बरसात हुई थी और मौसम बहुत ही अच्छा हो गया था. अंगिका का हाथ मेरे लंड पर जा चुका था जो कि पहले ही लोहे की रॉड के जैसे तना हुआ था. पापा बोले- वो तो हमेशा ही तैयार रहता है तुम्हारी चूत के लिए जानेमन। बस तुम ही तैयार नहीं होती उसके लिये.

बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म मेरी गर्लफ्रेंड की सेक्स चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं एक लड़की को पसंद करता था. मूवी स्टार्ट हो गयी और मूवी हॉरर थी तो हॉल में पूरा अन्धेरा हो गया था.

വശീകരണം എങ്ങനെ

सन्नो- देख मुनिया अब तू बड़ी हो गई है और तेरे भैया सारा दिन खेतों में बैल की तरह कम करते हैं. आप सभी पाठकों को मेरी स्टूडेंट टीचर सेक्स स्टोरी अच्छी लगी या नहीं? प्लीज़ मुझे ईमेल करके जरूर बताएं. मैं और दानिश अच्छे दोस्त तो थे ही, साथ ही साथ उसकी अम्मी और मेरी अम्मी भी आपस में अच्छी सहेलियां थीं.

जब मुखिया ने अपने परिवार के बारे में सब बताया, तो सुमन बोली- अच्छा ये बात है. ऐसे ही हर मंजिल पर 4 किराएदार थे लेकिन पांचवे फ्लोर पर 2 ही रूम सेट थे. चाची और भतीजे की बीएफ फिल्मऐसे फिगर वाली लड़कियां बहुत कम मिलती हैं जिनकी बॉडी पर थोड़ी सी भी अतिरिक्त चर्बी न हो.

जगह का नाम इसीलिए नहीं बता रहा हूँ कि लोग उस जगह से धर्म जाति और नारी की प्रवृत्ति का अनुमान लगा लेते हैं, जो कि गलत है.

तभी उसने एक बार फिर से अपने दोनों हाथों से मेरे सर को चूत पर दबा दिया और गांड उठा उठा कर बकना शुरू कर दिया- आंह मादरचोद चाट इस रंडी की चूत … आह भोसड़ी के चाट जोर से चाट … मिटा दे इसका गुरूर … आह आह … चाट ले साले रंडीबाज. दोस्तो, क्या बताऊं … मुझे उसका ये पैर, जिसमें से पसीने की महक आ रही थी, उसे चाटना बहुत अच्छा लग रहा था.

मेरा 6 इंच का लौड़ा अब बेकरार था उसको चोदने के लिए।काफी देर तक उसकी चूत का रस चाटने के बाद मैंने कहा- अब मुझसे नहीं रुका जा रहा मिकी, चूत दे दे यार।वो मुस्कराने लगी और उसने बेड के नीचे से कॉन्डम का एक पैकेट निकाला. मगर में उसके बर्थडे में नहीं बल्कि उसकी चूत में लंड देने के लिए ज्यादा उतावला था. लंड को जैसे ही उसने छुआ तो मेरी एकदम से आंखें बंद हो गयीं और मैं फिर से उसकी चूचियों को पीने में लग गया.

मैंने मोनिषा को थैंक्स कहा, तो मोनिषा ने मुझसे कहा कि भैया और कुछ जरूरत हो, तो मुझे आवाज लगा देना.

फिर अगले दिन वो दारोगा, जिसका नाम तावड़े था, कहने लगा कि वो पूछताछ करने घर आ रहा है. मुनिया के 32 इंच के भरे हुए मम्मों से वो एकदम 21-22 साल की मस्त लड़की जैसी लगती थी. देखते ही देखते थोड़ी देर बाद वह अपने पिछवाड़े को उचकाने लगी।इस तरह से अब रवीना को भी मेरे लंड से चुदने में मजा आने लगा और उसका दर्द जैसे गायब सा हो गया था.

हिंदी बीएफ स्कूल काअभी पुलिस में तेरी शिकायत करें कि तू एक सुनसान बिल्डिंग में एक आंटी की चुदाई कर रहा है? फिर तेरे मां-बाप को वो बुलायेंगे और तेरी अच्छी खबर लेंगे. ये उन दिनों की बात है जब रवीना का नया नया एडमिशन हुआ था कॉलेज में। मेरा भाई बिजनेस करता है इसलिए वो अधिकतर घर से बाहर ही रहता है.

xxx hd हिदी

मैं ब्रा के ऊपर से ही मम्मी की चूचियों को मसलने लगा और धीरे-धीरे करके उनकी ब्रा को खोल दिया. मोती- ले मादरचोद रंडी साली, बहुत तड़पाया है तूने … आज जी भर के चोदना है तुझे. मेरे घर में मेरा लालन पालन बहुत ही संस्कारित और सनातन धार्मिक माहौल में हुआ.

ये कहते हुए मैंने पायल बहू का पल्लू गिरा दिया और उसकी गर्दन पर चूमने चाटने लगा. जाते टाइम मुझे थोड़ा सा किस भी किया साले ने … और मेरी गांड पर हाथ मार कर गया. फिर मैंने सुनयना भाभी को अपनी ओर घुमाया और उन्हें अपनी बांहों में भरकर गर्दन पर किस करने लगा.

पूछने लगी- क्या हुआ अंकल?चॉकलेट मैंने उसकी तरफ बढ़ाई तो उसने हंसते हुए लेने से मना कर दिया. उसकी टांगों के बीच में आकर मैं उसके ऊपर लेट गया और उसकी चूचियों को पीते हुए उसकी चूत को जोर जोर से हाथ मसलने लगा. बताओ क्या करूं तुम्हारी गांड में ही माल डाल दूँ?मैडम बोलीं- नहीं, मुझे तुम्हारे लंड का पानी पीना है.

वो कुछ नहीं बोली तो मैंने उसे पकड़ कर मुंह के बल बेड पर गिरा दिया और उस पर चढ़ गया. कुछ ही देर में उसकी बुर ने पानी छोड़ दिया और पहले स्खलन का सुख उसके चेहरे पर फैल गया.

पापा मैं आज सारी रात आपके लंड के साथ खेलूंगी … आपके लंड को मुँह में ले कर चूसती रहूँगी.

मैंने कहा- तू इतनी देर से मुँह में लेकर चूस रही है ना, इसलिए तुझे ऐसा लग रहा है. सेक्सी बीएफ औरकरीब 5 मिनट लंड चूसने के बाद जब मेरा लंड खड़ा हो गया … तो मैडम मेरे लंड पर बैठ गईं और हम लोग चिकन खाने लगे. बीएफ हिंदी बीएफ वीडियो हिंदी बीएफ’इतना कहते ही मैंने उसके बड़े बड़े चूचों को ब्रा के ऊपर से ही पकड़ लिया. भाभी के बड़े बड़े चूचे इस कसी हुई ब्रा में बंद थे … मैं बस देखता ही रह गया.

मैं उनको ताकत से पकड़ कर उनके होंठों को चूसने लगा और चड्डी से हाथ निकाल कर उनके मम्मों को दबाने लगा.

कई बार मैं पैंटी को वहां से चाट लिया करता था जहां से वो चूत पर लगी होती है. कुछ 10-15 मिनट में मैं राज के किस और उससे मम्मों को दबवाने का मज़ा लेती रही. अब मेरा एक हाथ उसकी चूचियों से हट कर नीचे उसकी जांघों को टटोलता हुआ उसकी पैंटी पर जा पहुंचा.

उसने मदहोशी में आकर मेरे सिर को पकड़ लिया और बहुत ही प्यार से मेरे बालों में हाथ फिराने लगी. उसने अपने लंड पर खूब सारा थूक लगाया और मेरी भी गांड में थूक भर कर उंगली से अन्दर बाहर करने लगा. दीदी के एक दूध को चूसते हुए ही मैंने अपना एक हाथ उनके दूसरे मम्मे पर लगा दिया और जोर से उसे दबाने लगा.

देसी जंगल चुदाई

मेरी नींद उड़ गयी, मैंने मां-पापा की लाइव चुदाई देखी।नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राहुल शर्मा है. जब तक वो कुछ समझ पाती, मैंने लंड का सुपारा उसकी गांड में घुसा दिया. चाची सेक्स स्टोरीज इन हिंदी में पढ़ें कि मैं अपनी विधवा चाची के सेक्सी जिस्म को भोगना चाहता था.

वहां पर इसके अंकल हैं, वो जॉब भी दिला देंगे और तुम्हारे रहने की व्यवस्था भी हो जायेगी.

उसकी कैपरी उसके घुटनों के पास थी और उसका लंड साफ मेरी आंखों के सामने था.

वो भी मेरी वासना को समझ चुकी थी और उसने आगे बढ़ कर मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मैं फ़ोन पर व्हट्सएप चला रहा था तो देखा कि उसने सेड सांग्स का स्टेटस लगा रखा था. सेक्सी हिंदी बीएफ देखने वालीउसने लंड को चूस चूस कर एक एक बूंद साफ़ कर दी और अपने चेहरे पर लगे मेरे लंड रस को अपनी उंगली से उठाकर ऐसे खाया कि उसे देख का मज़ा आ गया.

मैंने उसको कहा- मिकी जान … आज मैं तुम्हें अपने लिंग का वीर्य पिलाना चाहता हूं और तुम्हारी योनि का रस पीना चाहता हूं. मुझे इसके बारे में नहीं पता था और मैं बोला- मुझे ये सब जानकारी नहीं है भाभी. पेशाब की धार फुल स्पीड पर थी तो कुछ पेशाब मेरे मुँह में से निकल कर मेरे सीने पर गिरने लगी.

मैंने जवाब दिया- बोलो बेटी … इतनी रात को क्यों मैसेज किया?तो उसने लिखा- पापा नींद नहीं आ रही थी, तो सोचा चलो पापा से बातें कर लूं. उसके बाद चाची ने एक लम्बी आह लेकर मुझे अपने ऊपर लिटा लिया और निढाल हो गईं.

लेकिन काफी देर तक चाटने से और थूक की चिकनाई से अब उसकी गांड पसीजने लगी थी और आधा इंच के करीब जीभ अन्दर जाने लगी थी.

जब मुझे अहसास हो गया कि अब चूत साफ हो गई है तब फिर मैंने चूत को सूंघा. इसके पूर्व मैं तो पता नहीं कितनी बार स्खलित हो चुकी थी, झड़ चुकी थी. उसकी स्माइल पर मेरा ध्यान था … तो वो जोर से बोली- लगता है आज भी आपका मूड सॉरी बोलने का नहीं है.

बंगाली में बीएफ फिल्म सिसकारते हुए वो कहने लगी- आह्ह … परेश, अम्म … मैं एक अरसे से प्यासी हूं … मुझे प्यार चाहिए … एक मर्द का प्यार चाहिए … क्या तुम मुझे वो प्यार दे सकते हो?मैंने भी उनकी चूचियों में मुंह देते हुए कहा- आह्ह … हां भाभी … मैं आपकी हर हसरत को पूरी करूंगा. हम दोनों की ही सांसें तेज हो रही थीं और सीमा जी के बोबे उनकी सांसों के साथ ऊपर नीचे हो रहे थे.

मैंने भाभी के दोनों हाथ धीरे से उठाकर उन्हें अपने पेट पर लगाया और भाभी हाथ पीछे करके मेरे गले में हाथ डालकर मुझसे चिपक गयीं. मैंने उसे रुमाल निकाल कर दिया। उसने रुमाल से पहले खुद की चूत साफ की और फिर मेरा लन्ड भी साफ किया. कुछ महीने तक उससे एक दो बार हल्की फुल्की फोन पर बात हुई मगर उसके पति के होते हुए फिर वो बात भी नहीं कर पाती थी.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी वीडियो सेक्सी

उसने लंड को चूस चूस कर एक एक बूंद साफ़ कर दी और अपने चेहरे पर लगे मेरे लंड रस को अपनी उंगली से उठाकर ऐसे खाया कि उसे देख का मज़ा आ गया. खैर इस पर बहस करने का कोई फायदा नहीं है, ये मैं इसलिए कह रहा हूं क्योंकि मैं अपनी कहनियों में सच लिखता हूं. कभी उसकी बुर में पूरी जीभ घुसा देता था तो कभी उसकी बुर की फांकों को अपने दांतों से खींच लेता था.

मैंने उनका एक पैर उठाकर किचन की स्लिप पर रख दिया और व्हिस्की को उनकी चूत पर डाल कर चुत को चाटने लगा. मैं उसके गुलाबी होंठों को देखता रहा … और वो मेरी तरफ देखे जा रही थी.

दोस्तो, अगर मेरी इस Xxx चूत की मस्त चुदाई कहानी ने आपका सेक्स जगा दिया हो … और आपको मस्त लगी हो, तो मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मनीषा की टाँगें अपने कंधों पर रखकर मैंने धक्का मारा तो मेरे लण्ड ने उसकी बच्चेदानी के मुँह पर ठोकर मारी. जब वो मुझे आगे झुक कर पढ़ातीं … तो मैं उनके मम्मों को देखने में लग जाता. कुछ ही टाइम में ही उसने अपना हाथ मेरी पैंटी में डाल कर मेरी चूत पर उंगली चलाने लगा.

मैंने कहा- तुम चिंता मत करो, मैं तुम्हें वैसे ही मजा दूंगा मेरी जान, जैसे तुम चाहती हो. हालांकि मैं मन ही मन खुश भी थी कि धीरे धीरे राज मेरे साथ ओपन हो रहा है. डॉटर फादर रोल प्ले सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक युवा लड़की ने विडियो चैट में मेरी बेटी बन कर मेरे साथ सेक्स किया और उसके बाद सच में मिलकर मुझसे चुदकर बच्चा पैदा किया.

दूसरे दिन सुबह न्यूज पेपर उठाने के लिए बाहर निकला तो सुनील जी के साथ एक लड़की बातें कर रही थी.

बीएफ फिल्म देखना है बीएफ फिल्म: आप जब पूरी कहानी पढ़ेंगे, आपका लंड खड़ा हो जाएगा … और चुत वालियों अपनी चुत में उंगली करने लगेंगी. उन्होंने कहा कि मेरी डेली की पेमेन्ट मेरे एकाउंट में आ जायेगी और मैं कभी भी एकाउंट से कैश करवा सकती हूं.

वो पूजा से बोला- जब मैं आपके होंठों का रसपान करूं और आपके मुंह में अपनी जीभ को डालूं तब आप भी मेरा इसी प्रकार साथ दें। आप भी मेरे मुंह में जीभ को डालें और मेरे होंठों का रसपान करें।इतना समझा कर वो उठा और पूजा के पेटीकोट को उसने नीचे उतार दिया. मैं मुड़ा और उसको अपनी बांहों में लेकर जोर से उसकी कमर पर अपने हाथ फिराने लगा. देर न करते हुए मैंने भी उसके कूल्हों के नीचे तकिया लगा दिया और अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया.

दिशा दिखने में काफी अच्छी थी … लेकिन मुझे उसकी उभरी हुई गांड बहुत अच्छी लगती थी.

वो हाँफता हुआ पीछे हुआ और बोला- कहां निकालना है?मैं- अंदर निकाल दो. जैसे ही मैं स्टेशन पहुंचा, तो मैंने फोन किया और बोला कि मैं स्टेशन पर आ गया हूं. अपना रुमाल धोया और फिर आकर गीले रुमाल से उसकी चूत और जांघ को रगड़ने लगा.