सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स

छवि स्रोत,पोर्न सेक्सी विडियो हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी अभिषेक: सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स, फिर हम सब सो गए और सुबह जब 8 बजे मेरी नींद टूटी तो मौसी और मैं नंगे बिस्तर पर थे.

സണ്ണി xxx

मैं दोनों की बातें सुनकर हंसने लगा और बोला- मेरी रंडी मौसी और मॉम झगड़ा मत करो. सेक्सी मराठी दोये सब जानने के बाद मैंने उससे मेल पर ही उसकी फोटो भेजने को कहा और वह मान भी गई.

क्योंकि मैं हमेशा घर में खुले और छोटे कपड़े पहने रहती और समीर भैया मुझे बड़ी अजीब नज़रों से देखते थे और मौका मिलते ही मुझसे चिपकने लगते थे. પ્રિયંકા ચોપડા સેક્સ વીડિયોएक दिन बातों बातों में पूनम ने बताया कि वो अपने पति से दूर अपनी मां के घर पर रहती है.

जैसे हम खाना खाते हैं, वैसा ही घर में सबका चुदाई को लेकर भी बर्ताव हो.सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स: उस दिन चाची ने काले रंग की साड़ी पहनी हुई थी और मैचिंग का ब्लाउज पहना था.

मैं जल्दी से अपने कमरे में आई और अपनी एक रात वाली सेक्सी नाइटी निकाल कर पहन ली.ये सब कुछ देख मेरे अन्दर बहुत अजीब सी हलचल मची हुई थी और मैं चुपचाप लेटे हुए अपनी किस्मत को कोस रहा था.

100 साल की लड़की की सेक्सी वीडियो - सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स

मेरी बात को सुनकर वो बहुत खुश हुआ और उसने मुझसे मेरा फ़ोन नंबर मांगा.मैंने ये बात पापा को बताई तो वो बोले- हां ठीक है न, तुम कल चली जाना.

जैसे ही मेरे हाथ चूचियों पर गए, मुझे कुछ डाउट हुआ कि ये तो मौसी के मम्मे नहीं हैं. सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स उसने उन नाखूनों पर खूबसूरत लाल नेल पॉलिश लगा दी, इसी तरह से मेरे पैरों के नाखूनों पर भी पॉलिश लगा दी.

फिर उसने अपना सर उठाया और मुँह नजदीक लाकर किस करने की कोशिश करने लगी.

सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स?

जितना अभी तक हम दोनों के बीच में हुआ था, मैं उतने में ही बहुत खुश था. इस पर मैंने पूछा- उसके सामने आप भी?तो वो बोले- हां बेटा अब क्या करूं … तुम्हारी आंटी अब नहीं देती हैं और ना ही उनमें वो मज़ा है. लिफ्ट हमारे 7 वें माले से नीचे 5वें माले पर आ कर रुक गई और बहुत सारे लोग अन्दर आ गए.

शेखर भी धारा की इस अदा से बहुत खुश हुआ और अपनी जीभ को पूरी तरह से बाहर निकल कर धारा की चूत के अंदर डालने लगा और चूत की दीवारों पे लगे रस की एक-एक बूँद को चाटने लगा. काफी दिनों तक ये बात मैंने अपने दिल में दबाए रखी थी और मैं कर भी क्या सकता था. तकरीबन 15 मिनट की चुसाई के बाद भी उनका लंड नहीं झड़ा, तो मैं उनके स्टेमिना की भी कायल हो गई.

साबिरा सकते में आकर अपने भाई की गंदी करतूत देख कर गुस्सा होने लगी, पर मैं उसे शांत करते हुए उसे समझाने लगा. चूत में भरा हुआ पानी धीरे धीरे मेरी उंगलियों को और हाथ को गीला करने लगा. कुछ देर बाद मैंने फिर से अपना हाथ वहीं रख दिया पर इस बार मैंने अपनी उंगलियों का कुछ हिस्सा उसकी सलवार के अन्दर तक डाल दिया और सहलाने लगा.

मेरे पीछे आते ही रेशमा अब ख़ुद नीचे को झुक गयी और अपने दोनों हाथ से उसने अपनी मांसल गांड को छिपाए अपने चूतड़ मेरे लिए खोल दिए. मेरी बहन की गांड का छेद पहले ही गीला था, मैंने उसमें अपना फौलादी लंड पेल दिया.

मैंने पूछा- किरण तुमने कभी किस किया है? मैंने तो कभी किसी लड़की के साथ नहीं किया है.

मेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं.

ललिता भाभी पूरे जोश में आ गई थी और आहह आहह करके अपनी गांड को तेजी से चला रही थी. फिर कुछ मिनट के बाद भाई ने अपना 6 इंच का कड़क लंड मेरी चूत के छेद में सटाया और पेलने की कोशिश करने लगे. मैं उसके पास मटकती हुई गई और कहा- सर क्या देख रहे हो … क्या आपने पहले कभी नहीं देखे?श्याम बोला- देखे तो बहुतों के हैं, लेकिन इतना गजब का माल पहली बार देख रहा हूँ.

’किरण कुछ नहीं बोल रही थी, पर उसकी आंखों से साफ पता चल रहा था कि उसको भी चूत चुदवानी है. इस सबके बीच शेखर को एक और अहसास हुआ … धारा के भारी भरकम नितम्ब उसके लंड के ऊपर से सरक कर आगे की ओर आने लगे थे. धारा ने अपने चेहरे पे बंधे मास्क को इस कदर बांधा था कि उसके गुलाब की पंखुड़ियों से नाज़ुक होंठ और हवस से भरी आल-लाल आँखें शेखर अच्छी तरह से देख पा रहा था.

उस दिन उस लड़की को नंगी देख कर मेरा भी मन मचल गया, तो उसको हम दोनों ने मिल कर चोदा था.

जैसे ही 5 बजे, मैं ऑफिस से तुरंत निकला और मेट्रो स्टेशन के लिए बढ़ गया. मैंने धीरे धीरे करके अपना पूरा लंड उसके मुँह में घुसा दिया और उसके बालों को पकड़ कर उसका मुँह चोदने लगा. स्कूल टीचर को चूत देकर खुश कियाअब तक आपने पढ़ा था कि उस दिन सुबह से ही बारिश हो रही थी और मेरा भी मौसम बना हुआ था.

आज तक कभी उन्होंने चूत को छुआ तक नहीं है, तो चूसना तो दूर की बात है. जैसे ही उसने चड्डी पहनी चाही, मैं बोला- इतनी जल्दी क्या है जानेमन, अभी तो बहुत कुछ होना बाकी है. मेरे मन में आया कि अगर इसी तेज़ बारिश में मेरी ज़ोरदार चुदाई हो जाए तो मज़ा ही आ जाए.

यह बोल कर वो मैनफ़ोर्स कंडोम निकाल कर ले आई और उसने मेरे लंड पर कंडोम चढ़ा दिया.

घर में ज्यादा भीड़ भाड़ होने की वजह से रूम ज्यादा खाली नहीं थे तो एक रूम में 3-4 लोगों को रहना था. कुछ देर बाद ससुर जी मेरे ऊपर आ गए और उन्होंने एक झटके में अपना लंड चूत में पेल दिया.

सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स कुछ देर के बाद उसने मेरे दोनों चूचों को बारी बारी से अपने मुँह में लेकर खूब चूसा. उसी वक्त मैंने सुमैत्री को झटके से सीधा किया और उसकी चूत में अपना लंड डाल कर उसकी चूत चोदने लगा.

सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स मैंने उस दिन एक ट्रांसपेरेंट साड़ी पहनी और ब्लाउज एकदम टाइट वाला पहना था. खाने के बाद भाभी जी बोलीं- चलिए कहीं बैठते हैं, फिर चलने की देखेंगे.

गीता ने मुझे अपनी बांहों में कस लिया तो मैं उसके होंठों को लगातार चूमने लगा.

सहेली के लिए शायरी

4 घंटे में मैं लखनऊ में अपने रूम में पहुंच गया।घर जाकर मुझे बैग में कुछ पैसे दिखे तो मैंने सोनम को तुरंत कॉल किया।सोनम- पहुंच गए?मैं- हाँ पहुंच गया। तुमने मेरे बैग में पैसे रखे?सोनम- मैंने नहीं, दीदी ने रखे!मैं- क्यों?सोनम- मुझे क्या पता?मैंने तब कुछ नहीं कहा, मन में सोच लिया कि जब दोबारा उनसे मिलूंगा तो लौटा दूंगा. मैं वहां 6 दिन रुका और तब तक उसके कमरे की ये हालत हो गई थी कि फर्श पर जहां तहां मेरे लंड का वीर्य पड़ा हुआ सूख गया था. और सुन रोहन के लंड की दीवानी, जल्दी अपनी चूत और गांड धोकर नीचे आ जा और मेरे लिए नाश्ता बना दे.

मैं फिर से कराहने लगी- आहह ओह्ह ओह्ह मां मर गईईई … आह … कोई तो बचाओ आहह … इस जालिम से. लिफ्ट हमारे 7 वें माले से नीचे 5वें माले पर आ कर रुक गई और बहुत सारे लोग अन्दर आ गए. मैं पहले से ही बाथरूम में अपनी नंगी जवानी को देख कर मदमस्त हो रही थी और अब एक साथ दो लड़कों की इन हरकतों से मैं और भी गर्म होने लगी थी.

दस मिनट बाद भाभी कमरे में गईं और मुझे अन्दर आने का इशारा करने लगीं.

असल में थैले में एक वन-पीस ड्रेस था वो भी बिना बांहों का, भले ही मुझे रेशमा के बदन का परफेक्ट नाप मालूम नहीं था पर मैंने किसी तरह से दुकानदार को समझाते हुए ये ड्रेस उसके लिए ख़रीदा था. ये मेरे लिए बड़ी ख़ुशी की बात थी क्योंकि मेरी फैंटेसी भी कुछ इसी तरह की थी. मेरे भरे हुए बूब ही किसी भी मर्द को पानी निकालने के लिए मजबूर कर सकते हैं.

मॉम ने गुस्से में मुझसे कहा- शर्म नहीं आती, ये सब करते हो!मैंने सॉरी बोला लेकिन वो गुस्सा होकर रूम से चली गईं. फ्लैट बहुत सुंदर था और बाल्कनी से सामने बना पार्क साफ दिखाई देता था. रेशमा इस वार को बर्दाश्त नहीं कर सकी और उसने भी गालियां निकालना शुरू कर दीं.

मैंने बोला- क्यों भाभी क्या हुआ? मैंने क्या गलत कर दिया है?भाभी- तुम्हारे फोन में मैसेज आ रहा था. [emailprotected]गर्लफ्रेंड फ्रेंड सेक्स कहानी का अगला भाग:अचानक मिली लड़की की सहेली को भी पेला- 3.

तब तक बताएं कि आपको यह ऑनलाइन फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लग रही है?[emailprotected]ऑनलाइन फ्रेंड सेक्स कहानी का अगला भाग:सात साल बाद मिला लंड- 2. अनुराग बोला- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं!और उसके बाद मैंने अपना काम शुरू किया. नंदा बोली- मैं कुकर में रख आती हूँ, सीटी आएगी, तब गैस बंद कर देंगे.

वो सर से बात करने में बिजी थी, पर बीच बीच में मेरी और उसकी नजरें मिल ही जाती थीं.

वो बोला- मुझे अगर तुम आयुषी की चूत चोदने दो, तो मैं किसी को नहीं बताऊंगा. लंड अन्दर बाहर करने से रूम में पचा पच पचाक पचा पच की कामुक आवाजें गूंजने लगी थीं. अब इस बात को सुनकर मैंने बनते हुए कहा- क्यों आज सुबह से कोई उल्लू बनाने के लिए मिला नहीं क्या?इस पर हम दोनों हंस पड़े.

फिर मैंने लंड को सहलाते हुए अपना लोवर थोड़ा नीचे कर दिया और मेरा तनतनता हुआ लंड बाहर आ गया, जिसे देख उसका मुँह एकदम से खुल गया और उसकी आंखें बड़ी हो गयी थीं. वो चिल्लाने की कोशिश करने लगी, पर मैंने अपने होंठों से उसके होठों को पकड़ा हुआ था.

पहले उन्होंने मेरे लंड की टोपी की खाल को चाट कर पीछे किया, फिर गुलाबी सुपारे को जोर जोर से चाटने लगीं. उसने कहा- ओ हैलो … कहां?उसने गुस्सा दिखाते हुए पूछा, तब मुझे होश आया. मैंने अपनी उंगली का सिरा चूत की दरार के ऊपरी हिस्से पर स्थित चने के दाने के साइज़ के भगनासे पर लाकर रोक दिया.

रोमांस वाला वीडियो

मैं भी एक बड़ा सा गलियारा पार करते हुए किरण को लेकर उसी कमरे की तरफ आ गया.

मैं चाहता था कि मॉम खुद ही मुझसे चुदवाने को बोलें इसलिए मैं प्लान करने लगा. थोड़ी देर बाद मैंने सुची से उसके घर में अकेले में पूछा- जरा ढंग से बताओ कि किसी नई के साथ कैसे खेला जाता है. जैसे जैसे मज़ा मिलता गया वैसे वैसे मेरे टट्टों में जमा हुआ वीर्य ऊपर की तरफ आने लगा.

वो मेरी बात सुनकर हंस पड़ी और बोली- तुम कैसे समझीं कि मैं अलग सी हूँ?मैंने कुछ नहीं कहा, बस उसकी आंखों में झांकती रही. राहुल पायल के चूचों को सहलाते हुए- आई लव यू पायल जान!पायल सांसों को इकट्ठा करते हुए- जंगली तो तू हो रहा था यार!राहुल- तू चीज़ ही ऐसी है कि मैं खुद पर काबू नहीं रख पाया. भगवान बाबा फोटो hdबस फिर क्या था … उसने कहा- यार कभी साथ बैठते हैं न, मुझे दारू पिए बहुत दिन हो गए हैं.

उसके चूचे चूसते हुए और उसके निप्पल को काटते हुए पाटिल जी की कमर जोर जोर से ऊपर नीचे हो रही थी. अब मेरे दिमाग़ में एक आइडिया आया कि क्यों ना मॉम को वो वीडियो भेजूं, जो मेरे पास थी.

मैं उसके दाएं पैर की उंगलियों को चूमने चाटने लगा और ऊपर की तरफ बढ़ने लगा. उम्म्म … ह्मम्म … शेखरर्र … और … थोड़ा और … आह्ह” अपनी फड़फड़ाती चूत को शेखर के होठों और ज़ुबान पे रगड़ते हुए धारा सिसकारियाँ भरती हुई झड़ने लगी!शेखर के मुँह में हल्का खट्टा नारियल पानी की तरह चिपचिपा सा गाढ़ा पानी गिरने लगा जिसका स्वागत उसने अपना मुँह खोल कर किया और उस दिव्य कामरस को पीने लगा. ललिता भाभी ने साफ साफ मना कर दिया और बोलीं- राज, अपनी हद में रहो, तुमने मुझे क्या समझा है?मैंने उनका हाथ पकड़ते हुए प्यार से कहा- ललिता भाभी आप तो मेरी जान हो.

इसके अलावा मैं दिखने में ठीक हूं, फिगर और रूप किसी साधारण इंसान को लंड हिलाने पर मजबूर कर सकता है. क्यों रेशमा रांड … बोल चुदेगी उस हिजड़े सलमान के सामने भोसड़ीवाली?रेशमा का मुँह तो मेरे गांड के नीचे दबा था इसीलिए वो तो कुछ बोल नहीं सकी पर किरण ने अपना मुँह पाटिल जी की गांड से बाहर निकाला और मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखने लगी. थोड़ी सा अपने लंड पर लगाया और ऊपर आकर गांड में लंड का सुपारा रख दिया.

तभी उस दूसरे आदमी ने मुझे सहारा देते हुए पकड़ा और मेरी एक चूची को अपने हाथ में ले लिया.

रेशमा इस वार को बर्दाश्त नहीं कर सकी और उसने भी गालियां निकालना शुरू कर दीं. फिर उसने मेरी तरफ देखा और प्यारी सी स्माइल देकर वह अन्दर दूसरे कमरे में चली गयी.

उनकी बातों से पता चला कि सब लॉज एक जैसे नहीं होते, कुछ लॉज या होटेल अपने ग्राहकों की गोपनीयता की सुरक्षा का भी ख्याल रखते हैं. जितना अभी तक हम दोनों के बीच में हुआ था, मैं उतने में ही बहुत खुश था. ऊपर से दो कातिल चूचियाँ … जो धारा के आगे पीछे होने की वजह से थिरक-थिरक कर माहौल को और भी हवस से भरपूर बना रहे थे.

जो किसी भी लौंडिया या भाभी की चूत का पानी निकालने के लिए हर वक्त पूरी तरह से तैयार रहता है. मैं वहां अकेला बोर हो जाता था और सोचता रहता कि कैसी जगह घर लिया है, जहां कुछ नहीं है. मेरी समझ में ही नहीं आया कि मेरी इस हरकत पर उसे दर्द हुआ या मज़ा आया.

सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स लेकिन शेखर और धारा दोनों उन्माद से इतने मदहोश हो चुके थे कि अब दोनों में से कोई भी पीछे हटने को तैयार नहीं थे. मैं अपनी कंपनी के काम से 5 दिनों के लिए दूसरे शहर जाने के लिए निकल गया.

न्यूड डांस वीडियो

मैं अपनी घोड़े जैसी पोजीशन में आ गया और आहिस्ता से अपना लंड सुपारे तक बाहर निकाल कर तेजी से अन्दर डाल दिया. मैं नंदा के कमरे में जाकर नित्य की तरह कपड़े उतार कर एयर कंडीशनर चालू करके लेट गया. मैंने भी अजय को टाइटली पकड़ा और कहा- हां यार अजय, तड़प तो मैं भी रहा था.

पर अब शायद पाटिल जी अपने आपको रोक नहीं पा रहे थे, उन्होंने वैसे ही नीचे लेटी रेशमा के भोसड़े से किरण का मुँह ऊपर उठाया और एक ही झटके में उन्होंने अपना पूरा लौड़ा रेशमा की चूत में आर-पार कर दिया. उनकी रफ़्तार बढ़ती जा रही थी और वो ‘आह आह …’ करके मदमस्त लौंडिया के जैसे अपनी चूत से मेरे लंड को चोदने लगी थीं. काजल व्हिडिओ सेक्सीह्म्म्म … ओह्ह्ह … ओह्ह … आह्ह … फाड़ दो शेखर … फाड़ दो इसे!” धारा उन्माद में बक-बक करती हुई ज़ोर-ज़ोर से उछल उछल कर अपनी गांड मरवाने लगी.

इस कारण रूचि के झटके से एक झटके में लंड उसकी चूत को चीरता हुआ गर्भाशय से जोर से जा टकराया.

ये मेरी ग़लती थी क्योंकि लॅपटॉप उठाते वक़्त मिहिरा का हाथ मेरे लंड से टच हो गया. हालांकि मुझे डर भी लग रहा था मगर मेरी वासना जाग चुकी थी तो मैं अपने काम पर लग गया.

कुछ देर बाद मॉम आह आहह आहह करने लगीं और उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया. अब मैं और जोश में आकर चोटी पकड़ कर चोदने लगा और बोला- ले साली ले … आज तेरी गांड़ फाड़ दूंगा. मैं दर्द के मारे आगे को सरकना चाहती थी, मगर मनीष ने मजबूती से मेरी कमर को पकड़ रखा था.

मेरी चूत में बहुत दर्द हुआ लेकिन मैं भी सारा दर्द झेल कर चुदती रही.

अब ये सोच करके मेरी हालत खराब होने लगी कि सोनी को घर के अन्दर लेकर आऊं कैसे? अगर मना भी करता हूँ तो उसे बुरा लगेगा. ये हम दोनों की आखिरी रात थी और इस रात को मैं और भी हसीन बनाना चाहता था और मैं अपनी अल्मारी से व्हिस्की की एक बोतल ले आया. मैं भाभी से कहा- भाभी अभी इसको खा कर चुदाई करवाना है?भाभी बोलीं- नहीं, मैंने तो सिर्फ तुमको बताया था कि मेरे पति इन्हीं गोलियों की दम पर मुझे चोदते हैं.

देसी सेक्सी जबरदस्तीलगभग दस मिनट के बाद भाभी का शरीर ऐंठने लगा और वो भैया के मुँह में झड़ गईं. आज बारिश की वजह से यहां काफी सन्नाटा भी था जिससे हमको किसी ने भी नहीं देखा.

कैटरीना कैफ ब्लू फिल्म

धीरे धीरे उसे भी मजा आने लगा और वो भी गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी. मैंने अपने जीवन में अपने पति के साथ इतना सेक्स किया लेकिन ऐसा अहसास कभी नहीं किया था. ऐसा कहते कहते देविका मेरे लंड को सहलाने लगी तो मेरा लंड भी फड़फड़ाने लगा और तनाव में आने लगा.

सुबह 8 बजे मेरी नींद खुली तो मैं जल्दी से तैयार होकर ड्यूटी चला गया. अब आगे न्यू गांड की चुदाई:हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे के साथ बहुत प्यार कर रहे थे. फिर उनकी गर्दन पर चुम्बन करने लगा और पेट को चूमते हुए उनकी दोनों जांघों को चूमना शुरू कर दिया.

मैं- हां कुतिया, अब बनी है तू मेरी प्यारी रांड, मेरे लौड़े की पालतू रखैल … बहनचोदी … ले चुद मेरे काले लौड़े से … आंह साली रंडी की औलाद आज तो सच में तेरी गांड का गुड़गांव बना दूंगा छिनाल. लेकिन मेघना ने मुझ पर बिल्कुल भी गुस्सा नहीं किया और हम दोनों सो गए. मैंने उसका सर जोर से अपनी चूत में दबा लिया और वो और जोर चूत चाटने लगा.

मॉम अपनी आंखें बंद करके चूत में उंगली करने में इतनी मगन थीं कि वो मुझे नहीं देख पाईं. उसका ध्यान अपनी चूत के मजे लेने में था और सिसकारियां लेने के कारण वो मदहोश थी.

मैंने अपने एक हाथ में लंड पकड़कर गीता के एक दूध के निप्पल पर गोल गोल घुमाने लगा.

शेखर अब भी उसकी चूत के चटकारे ले रहा था, वो तो मानो धारा के शरीर के अंदर का भी सारा रस उसकी चूत के रास्ते से ही चूस लेना चाहता था. बिहारी सेक्सी सेक्सी वीडियोतो रेशमा ने मेरी तरफ देख कर जैसे मेरी इजाजत मांग ली और मैंने भी उसको मूक सहमति देकर पाटिल जी के पास जाने का इशारा कर दिया. मधु त्रिशा का सेक्स वीडियोमैं उसे अपनी चाहत पूरी करने देना चाहता था क्योंकि मैं तो किसी काम का था नहीं. पर ये क्या … ओह्ह बहनचोद साला गांडू अपने बहन की चुदाई देखते हुए और उसके बोबे दबाते हुए गर्म हो रहा था भोसड़ी का!साबिरा को देखते हुए मेरा ध्यान शिराज के पतलून की तरफ गया तो उसकी लुल्ली कड़ी हो गई थी और उसकी पतलून का भाग ऊपर उठा हुआ था.

हम दोनों का कामरस चूत से बाहर बहकर तकिये पर बिछे कपड़े पर फैलने लगा था.

अब उन्होंने मुझे टेबल पर बैठा दिया और मेरे मम्मों पर लगा केक चाटने लगे और मेरे मेरे निप्पल्स को चूसने लगे. उसने कहा- एक जवान लड़की नंगी लेटी है भड़वे साले और तुझे उस बुढ़िया की बुर की पड़ी है. बाक़ी बातें ख़त पढ़ने के बाद!” धारा ने एक साँस में शेखर से कहा और धीरे से उसे बाहर जाने का इशारा किया.

थोड़ी देर चूत चुसाई के बाद गीता से रहा न गया और वो अपने हाथों से मेरा सर पकड़कर अपनी चूत पर दबाने लगी. अब मैंने सुमैत्री को निहारा तो उसने झट से खुद को तौलिया से ढक लिया. मैं भी जयपुर में अकेला रहता हूँ इसलिए हम दोनों कभी कभी एक साथ डिनर पर जाते रहते थे.

छूत कैसी हो

मैं इतनी ज्यादा नशे में टल्ली थी कि ब्रा और पैंटी दोनों ही नहीं पहनी. एक बार हुआ यूं कि मैम एक क्लास रूम में रो रही थीं और मैं उसी समय वहां से गुज़र रहा था. हम दोनों ने एक दूसरे को अपनी बांहों में कस लिया और थककर निढाल होकर एक दूसरे की बांहों में समा गए.

मॉम बोलीं- ये कहां से मिली?मैंने जानबूझ कर बोला- क्या?मॉम बोलीं- पहले अपना मोबाइल ऑन करो और मुझसे बात करो.

जैसा कि मैंने आप सबको पहले ही बताया कि ये घटना मेरे दोस्त के साथ घटी थी, उसका नाम राजीव (काल्पनिक) है.

कहानी के पिछले भागपापा के दोस्त ने मेरी गांड मार लीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे पापा के ख़ास दोस्त राजेश अंकल ने किचन में ही मेरी गांड में लंड पेल दिया था और भकाभक पेलने लगे थे. वे चाहते थे कि हम साथ में झड़ें।और उनकी यह सोच रंग लाई।हम एक साथ झड़े. ಸೆಕ್ಸ್ moviesजल्द ही आगे की सेक्स कहानी आपके मनोरंजन के लिए लेकर हाजिर हो जाऊंगा.

उस महिला की उम्र करीब 45 साल के आस-पास रही होगी, वो नीली साड़ी पहने हुए बला की खूबसूरत लग रही थी. उसके मुँह से सेक्सी सेक्सी आवाज निकल रही थी- आह … आह राजा डालो मेरी चूत में … बहुत दिनों से लौड़ा लेने का इंतजार कर रही हूँ … आह अब और मत तड़पाओ. अबे साले चूतिये पकड़ मेरा लौड़ा और रख अपनी बहन के भोसड़ी पर कुत्ते!साबिरा ने भी अपने गांडू भाई को जलील करते हुए कहा- ओह्ह कुत्ते, साले अपनी बहन को नंगी देखते शर्म नहीं आती तुझे … चल पकड़ अपने जीजा का लौड़ा … और रख दे अपनी बहन की चूत पर.

फिर उंगली और अंगूठे से मेरी गांड का छेद हल्का सा खोल कर उसमें तेल उड़ेल दिया. उन्होंने अपने हाथ की तरफ देखा, फिर दूसरे हाथ से मेरे लंड को मेरे लोअर अन्दर करके वो उठ कर वहां से चली गईं.

मॉम के दोनों पैरों को पकड़ कर लंड चूत में डाल कर ताबड़तोड़ चोदने लगा.

फिर करीब 2 घंटे बाद जब मुझे कोई लड़का नहीं मिला तो मैं वापस कमरे पर पहुंचा. शादी से पहले मैं थी बड़ी मनचली और हमेशा लंड बुर और चुदाई के बारे में सोचती रहती थी. साबिरा के मुँह से ऐसे बोल सुनकर शिराज थोड़ा चौंक गया, पर शायद बड़ी बहन का गुस्सा देख कर वो चुपचाप हमारे पास आकर नीचे बैठ गया.

दीपिका पादुकोण न्यूड फिर मैं गांड के छेद में एक उंगली पेल कर धीरे धीरे उनकी गांड को ढीला करने लगा. तब वो बोले- तुम बहुत प्यारी हो, मन करता है, तुमको बहुत सारा प्यार करूं.

कहानी के पिछले भागदोस्त की मौसी की चूत की आगमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं देविका की चूत में लंड पेलने की तैयारी कर रहा था. मैंने एक झटका दे दिया तो वो चिल्ला पड़ीमैं एकदम से डर गया और साला लंड भी चूत के अन्दर नहीं गया. ह्म्म्म … बस्स्स … शेखरर्र … बस करो … आह्ह!” इस दोहरे मज़े ने एक बार फिर से धारा को झड़ने पे मजबूर कर दिया और वो थरथराते हुए झड़ने लगी.

गुड मॉर्निंग गूगल कैसे हो

मैं अतिउत्तेजना में कभी कभी उनके निप्पल को काट लेता, जिससे मौसी उत्तेजित होकर मेरे सर को अपनी छाती पर दबाते हुए सिसकारियां लेने लगतीं. मैं निराश होकर बाहर मेहमानों का स्वागत करने चला गया था और सारे काम संभाल आने के बाद मैं अन्दर हॉल में आकर बैठ गया था. फिर लड़की पे है कि वो हां बोले या नहीं, कम से कम कोई दुविधा तो नहीं रहती।मेरे ये कहते ही उन्होंने कहा- तुम तो बहुत बिंदास निकली, क्या मुझसे चुदोगी?मैंने हां कहा.

धारा को अच्छी तरह से पता था कि शेखर की नज़र उसकी गांड के छेद पे टिकी हुई है और इसी वजह से उसके मुँह से सिसकारियाँ निकल रही हैं. मैं- आअहह साली रंडी … हम्म्म चूस में मेरे लौड़े की रांड किरण, साली आज तुझे उस पाटिल के सामने ऐसे चोदूंगा कि तेरी चूत का हाल देख कर उसकी भी गांड फट जाएगी रंडी.

इतने दिनों से लंड की प्यासी मेरी चूत ने कुछ ही झटकों में लंड को जज्ब कर लिया और मैं मजा लेने लगी.

फिर मैंने उसकी चूत में ढेर सारी क्रीम भरी और उंगली से चूत का छेद ढीला किया. हैलो फ्रेंड्स, मैं सुधा आपके सामने अपनी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. हर शॉट के साथ वो कराह भरती हुई आवाज निकाल रही थी- आह … जान चोदते रहो ऐसे ही.

ये नकली चूत कुछ इस तरह की थी कि मर्द का लंड चूत में घुसता तो था पर अन्दर जाने की जगह तो थी नहीं!तो वो नीचे गांड की तरफ बनी एक टाईट सी जेब में घुसता चला जाता था. यह बहन की भाई से चुदाई कहानी आपको कैसी लगी? मुझे कमेंट्स में बताएं. वो मेरे लंड की खाल को पूरा पीछे तक ले जा रही थीं, जिससे मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था.

[emailprotected]हॉट न्यूड गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:गांडू लड़के ने अपनी बहन को चुदवाया- 3.

सेक्सी मूवी बीएफ एक्स एक्स एक्स: मौसी ‘आहह सीईई …’ करके मज़े लेने लगीं और बोलीं- साली कुतिया एक बार तनु का लंड लेकर देख, फिर पता चलेगा तुझे कि ये कितना मजा देता है. मैंने भी देर न करते हुए जल्दी से अपनी शर्ट खोल कर एक तरफ फैंकी और उसके ऊपर चढ़ गया.

साबिरा- देखो भाईजान, कैसे आपकी वजह से आज घर की इज्जत किसी मर्द के हाथ से बरबाद हो रही है, आपने कहीं का नहीं छोड़ा मुझे … आअहह मानस ईस्स आंह चूसो मेरे दूध मेरे राज्जजाआ. उसने मुझे अपने ऊपर जकड़ कर कस सा लिया और अपने पैरों से मेरी गांड को जकड़ लिया. तो दोस्तो, ये मेरी देसी गर्ल पोर्न स्टोरी आपको कैसी लगी, प्लीज मुझे मेल करके बताएं.

ऐसे ही एक दिन मुझे मुलुंड में कुछ काम था, तो मैं घर से जल्दी निकल गया था.

इसका मतलब साफ़ था कि जब मैं उन्हें कल चूम रहा था, तब मौसी जाग रही थीं. मैंने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों को फैलाया, जिससे उसके गांड का छेद मुझे दिखने लगा. उनके सीने पर बहुत बाल थे जिसके कारण जल्द ही मेरे दूध पर कई जगह जलन होने लगी.