सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी

छवि स्रोत,पंजाबी चोदा चोदी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेकस सेकस: सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी, उस दिन भी हमेशा की तरह वो वॉशरूम में गईं और नहाने की तैयारी करने लगीं, ये वो समय था, जब कोई मर्द नहीं होता.

सेक्सी ब्लू फिल्म चुदाई वाली हिंदी में

उनके होंठों का नाज़ुक स्पर्श और उनके बदन की गर्मी ने मेरे लण्ड में अकड़न ला दी लेकिन इससे ज्यादा वहां पर कुछ भी होने की सम्भावना नहीं थी. বাংলা blue filmपद्मिनी ने जवाब दिया- मैं इस्तरी कर चुकी हूँ बापू… कल रात आप कितने बजे वापस आए थे, मुझको नींद लग गयी थी.

उस पर मनोरमा ने नमक छिड़क दिया, मनोरमा ने उससे कहा- तुम घर पर बोल दो कि मैं कुछ लेट आऊंगी और तुम मेरे साथ डॉक्टर के पास चलो. हिंदी सेक्सी वीडियो www.comमेरी कॉलगर्ल बनने की गाथा आपको कैसी लग रही है? आप मुझे मेल करें![emailprotected]कॉलगर्ल की कहानी जारी है.

पद्मिनी के बाप ने हल्के से अपने हाथों को पद्मिनी के गांड पर फेरते हुए अपने हाथ को ऊपर की तरफ ले जाता गया.सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी: पूरे दस मिनट बाद भाईजान ने चुत से मुँह हटाया तो मुझे कुछ राहत मिली.

मैं थोड़ी देर तक कुछ और धक्के मारता रहा फिर इसके बाद मैंने अपने लंड का पूरा वीर्य उसकी गांड में ही छोड़ दिया.अब मधु उसे अपने दोनों हाथों से अपने ऊपर से हटा रही थी, कुछ पल बाद राज मधु के नंगे बदन से अलग हो गया और मधु की नंगी जांघों पर लंड से गिरा हुआ माल उसने मधु की सलवार से ही साफ़ कर दिया.

देवर भाभी की सेक्सी पिक्चर दिखाएं - सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी

अचानक उसे याद आया कि उसे मेरा पानी देखना था, तो उसने मुझे अपने ऊपर से उतरने के लिए कहा.मैंने भाभी के निप्पलों को जीभ से टुनयाया तो भाभी हंसने लगीं और कहने लगीं मत करो.

उधर से कोयल सी मीठी आवाज़ आई कि क्या मैं वीशु कपूर से बात कर सकती हूँ?मैंने कहा- जी कहिए. सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी वो बिस्तर देख कर घबरा गई और बोली- इतना खून?मैं बोला- साफ कर देंगे, चलो नहाने.

एकता भी मेरी तरह निरीह भाव से देखने लगी तो डॉली ने कहा- अरे मैं हूँ ना हेल्प के लिए.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी?

कविता बोली कि मैंने सुना है कि आपका साइज़ काफी बड़ा और मोटा है और आपको टाइम भी ज्यादा लगता है?मैंने कहा कि जी हाँ आपने सही सुना है. दोस्त ने भी भाई को आश्वासन दिया कि ठीक है उसको यहाँ किसी बिजनेस में लगा दूँगा, जिससे वो अपना काम खुद ही करती रहेगी. उसने मौका देखा तो वो मुझे अपना जींस पेंट की चैन खोल के अपनी नुन्नू दिखाने लगा और ऐसा करने लगा कि जैसे उसको पता ही नहीं हो कि वो अंडरवियर नहीं पहने हुए है और उसकी जींस की चैन खुल गई है.

मेरी सहेली के भाई का लंड इधर उधर झूल रहा था और मैं उसके लंड को पकड़ कर ऊपर नीचे करने लगी. यहाँ मैं आपको बताना चाहूँगा, कि मैंने हाल ही में अपने फ्लैट में कैपिटल रिपेयर करवाई थी और हाई ग्रेड सीमेंट के साथ री ग्राउटिंग भी, खास तौर पर अपने घर को साउंड प्रूफ करने के लिए! क्योंकि पहले जब सेक्स के समय नताशा चिल्लाती थी तो उसकी आवाज किसी रेल के इंजन की तरह सारे घर में गूंजती थी और अवश्य ही पड़ोसियों को भी सुनाई देती थी. अब कमरे में एक चुत और दूसरा लंड था, जो एक दूसरे को देख रहे थे और दंगल होने की राह देख रहे थे.

उसके मुंह में लौड़ा घुसा होने की वजह से हरामज़ादी के मुंह में पानी भर आया था. तभी उनमें से एक ने अपनी जीभ मेरी चुत में डाल दी और लगभग पूरी चूत को अपने मुँह में भर कर पूरी जीभ मेरी चूत में घुसेड़ दी और चुत का रस पीने लगा. तो मैंने वही पुराना डायलॉग मार दिया कि आपकी जैसी हसीन मोहतरमा हमें मिली ही नहीं.

अब आगे:उसने सीमा के घर के पास में ही गाड़ी खड़ी की, मैं गाड़ी से उतरी, वह पीछे से बोला- मैं आप को सात बजे लेने को आऊंगा. तब मैंने पूछा- तुम्हारा झड़ा नहीं है क्या?तब उसने कहा- मैं तो झड़ गयी थी मगर मुझे बहुत गांड में खुजली हो रही है मुझे ऐसे लग रहा है कि मैं चुदवाती जाऊं!उसके बाद वो मुझसे बोली- मैंने तुझे कहा था कि तुझे मुझसे शादी करनी होगी, मगर मैं चाहती हूँ कि तू मुझसे चाहे शादी मत कर… बस मुझे रोज चोदना… नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

कुछ देर बाद मैं भी झड़ने वाला था… तो उन्होंने मेरे लंड से हटते हुए मेरे लंड को मुँह में लिया और ज़ोर जोर से चूसने लगीं.

मैं पेशे से इंजीनियर हूँ और भारत भ्रमण पर ही रहता हूँ, गुरुग्राम मुश्किल से 10 दिन ही रुक पाता हूँ.

जब मुझे जल्दी है स्कूल जाने की, तभी आप को यह सब बातें करनी है क्या? हमेशा तो आप को खुश करती ही हूँ. सोनिया की इन हरकतों की वजह से पापा मम्मी बहुत परेशान रहते थे और डरते थे कि कहीं छोटी लड़की भी उसके नक़्शे कदम पे न चल पड़े. ये कह कर वो एकदम से मुझसे लिपट गया और बोला- तुम बहुत अच्छी हो आई लव यू वन्द्या.

मैं तो उसको देख कर पागल हो गया था क्योंकि उसको देख कर लग ही नहीं रहा था कि वो एक शादी शुदा औरत है. मैं भी एकता को झुक के किस करने लगा और डॉली एकता की गांड पर हाथ फेरने लगी. हिमानी की मम्मी सुजाता तो बड़े ही प्यार, अदा और सेक्सी तरीके से चूत मरवाती थी, जो आज तक याद है.

मैं सब कुछ समझ कर भी अंजान बनने लगा और पूछा- कौन सी बात के बारे में सोचा भाभी?भाभी मेरे इस सवाल पर मेरी तरफ गुस्से में देखकर बोलीं- यही कि तुम मुझे वो खुशी दे सकते हो.

उस दिन के बाद जब भी मेरी चुत गरम हो जाती थी, मैं जगत को मैसेज कर देती थी और वो मेरे रूम में अपना खड़ा हुआ लंड ले कर आ जाता था. एक दिन उसने कहा कि पता नहीं कैसे वो लड़का मेरी फ्रेंड की चुत को चाटता है. इतने में लालजी मेरे सामने तरफ हाथ करके एक उंगली मेरी चूत में रखकर अन्दर जैसे ही घुसाने लगा.

उसने अपनी सफ़ेद रंग की पेंटी भी पहन ली और वाइट ब्लाउज और डार्क ब्लू स्कर्ट जो स्कूल की यूनिफार्म थी. फ़िर छोटी चाची उठीं और मेरे बराबर में बैठ कर वो भी बड़ी चाची कि चूत मेरे साथ में चाटने लगीं. अब भाई ने मुझे लिटा दिया और मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया और चूत को खोल खोल कर अपनी लार से भर दिया.

मनोरमा ने चुत की पंखुड़ियों को खोल कर दिखाना शुरू किया और गीता से कहा कि ऐसे करने से लंड में खून खौलने लगता है.

अब बापू ने अपनी बेटी की भीगी हुई चुत में पहले जीभ घुसाने की कोशिश की, पर नाकामयाब रहा… तो उंगली से काम लिया. अब दीदी ने मेरे चेहरे को अपने हाथों में लिया और धीरे धीरे गाल पे किस करने लगी.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी पास जाके किचन में देखा तो शबनम भाभी दूसरे तरफ मुँह करके कुछ कर रही थीं. फोटोग्राफर ने सबको दाएं बाएं सरका कर एडजस्ट किया ताकि सबकी फोटो आ जाए.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी की आवाज निकाली और नीचे से अपने चूतड़ों को थोड़ा हिला कर लण्ड को चूत में एडजस्ट किया और मेरी कमर पर हाथ डाल कर चिपक गई. सच में मुझे अगर तुम्हारे जैसी दुल्हन मिल जाए तो मेरी जिंदगी बन जाए.

फिर उसने पीछे हाथ करके अपनी ब्रा भी खोल दी और दूसरी ब्रा पहनने लगी.

बीएफफिल्म

अब आर्थर ने पोज़ बदलने का निश्चय किया, उसने हम पति-पत्नी को नीचे की ओर खिसकने को कहा और स्वयं बेड से नीचे उतर गया. तभी लालजी थोड़ी देर में पेटीकोट को ऊपर खींचने लगा और उसने मेरे पेटीकोट को मेरी कमर तक चढ़ा दिया. जैसे ही मैं बाजार से वापस आया तो मैंने सीधे अपने कमरे में जाकर आंटी की नाम की मुठ मारी.

उसकी पेंटी आगे से गीली हो चुकी थी मेरे पेंटी के अंदर हाथ डालते ही वो इतनी सिहर उठी और आह… की आवाज के साथ मुझे और ताकत के साथ मुझे गले लगाए रखा और मेरा टी शर्ट उतारने लगी. आप बताइये दोस्तों कि आप सबको मेरी कहानी कैसी लगी? आप सब अपने अपने कमेंट्स कृपया मेरी मेल आईडी भेजें. मेरा लंड उसकी चूत में जा रहा था, ऐसा लग रहा था कि उसकी सॉफ्ट सॉफ्ट चूत को मेरा लंड फाड़ रहा है.

भाभी खुद कमरे में आ गईं और बोलीं- मुझे लगा था, जब तुमको चाय देने आई थी.

तो यह मजाक करने लगी और पूछने लगी ‘राज के लण्ड का क्या साइज़ है?’ मैंने कहा मैं इसे तुम्हारे पास भेज दूँगी, तुम खुद पूछ लेना. वापस आकर देखता हूँ कि उन्होंने अपने हाथों में मेरा सेक्स टॉय पकड़ रखा है. तब तक मेरा किराये का कमरा है कृष्ण नगर में वहीं दो घंटे थोड़ा रूकेंगे, नश्ता करेंगे फिर चल के तुमको बढ़िया ड्रेस दिलवाऊंगा।मैं बोली- ठीक है!काफी हाउस से जीजा ने नाश्ता पैक कराया और कोल्डड्रिंक लिए और चल दिए, रूम पहुंच गए.

मैं कुछ हैरान था कि साली को गांड मरवाने में इतना मजा आया कि अब खुद गांड में लंड ले लिया. उसने मुझसे शादी नहीं की, लेकिन मेरी जीवन की वो पहली लड़की थी, जिससे मैंने सेक्स किया था. मेरे हाथ ने महसूस किया उन्होंने बैकलेस चोली पहनी हुई थी जो सिर्फ दो डोरियों से बंधी हुई थी और ब्रा नहीं पहनी हुई थी फिर मेरे फिसल हाथ की कमर तक पहुँच गए थे … क्या चिकनी नरम और नाजुक कमर थी.

मैं बोला- पूजा, वो तो ठीक है… लेकिन अब तुम मुझे पापा नहीं, जानू बोला करो ना!हम दोनों बाथरूम में जाकर नंगे हुए और मैंने पूजा की चूत के बाल की शेविंग चालू करी. जिस ऑफिस से पासपोर्ट बन कर आया था, वहाँ के किसी आदमी ने मुझे चोद रखा था, तो उसको पता लग गया और उसने उस दलाल को भी इस बारे में बता दिया.

मुझे सबा की बात सुनकर गुस्सा आया और मैंने उसको बुरा भला बक दिया और घर से बाहर निकाल दिया. मेरी पिछली कहानीदोस्त की गर्लफ्रेंड को जम कर चोदामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड को चोदा तो उसे बहुत मजा आया और वो मुझसे चुदाने के लिए उतावली रहने लगी. लेकिन तुमको वो खुशी पसंद नहीं थी, इसलिए मैंने दुबारा कुछ नहीं बोला था.

जीजा ने मेरे मुंह में अपनी उंगलियां डाल दी, मैं उन्हें चूसने लगी, तभी उन्होंने अपना लन्ड मेरे हाथ में पकड़ाया और बोला- अब तुम मेरे लन्ड को चूसो वन्द्या!मैं बोली- मुझे घिन आएगी!जीजा बोले- लड़कियां लन्ड को चूसने को पागल रहती हैं, वन्द्या चूसो!और मेरे मुंह में लन्ड डाल दिया.

उनके इतना कहते ही मैंने भाभी को बाँहों में भर लिया और स्मूच करने लगा. मैं अपना हाथ जब आगे ले जाकर उसकी मालिश करता, तो मेरा लंड उसकी गांड में टच हो जाता. अदिति ने उन्हें फोन कर दिया था तो वे होने वाली बहू की पायल दूसरी खरीद लाये थे.

होंठों को करीब 10 मिनट चूसने के बाद मैंने ग्लिसरीन उसकी गीली और बिल्कुल कुंवारी चूत में लगा दी. उनके गांव जाने वाली बस का ड्राइवर उनका परिचित था।बाकी और लोगों को भी उनकी बसों में बिठाया, इसी काम में ग्यारह बज गए.

जीजा अब मेरी चूत चाटने भी लगे, जिसकी वजह से अब मुझसे खड़े रह पाना मुश्किल हो गया, मैं बोली- अंकल. सुमेर- हमारी बात केवल हाजिरी पर साइन की है।शशि- हां ठीक है।सुमेर ने अपनी पैन्ट की जेब से कमरे की चाबी निकाली और उसे दी- जाकर कमरे में बैठो, मैं आता हूं, हम दो लोग हैं।शशि देवेश की ओर देख आंखें फाड़ने लगा. उन्होंने मुझे अपना मोबाइल नंबर देकर कहा- अगर ग्वालियर में कभी फ्री हो तो याद जरूर करना!और चली गईं.

एचडी चोदा चोदी चोदा चोदी

वे दोनों अंदर बातें करते और मैं बाहर घूम घूम कर निगरानी करती रहती थी.

मैंने उससे कहा कि मैं अभी तो दिल्ली जा रहा हूँ, आपको लौटकर अपनी सर्विस दे पाऊँगा या फिर आप किसी और की सर्विस ले लीजिए. तुम्हारी गांड को वन्द्या जो भी देखेगा, वह भोसड़ी का पागल हो जाएगा और तुझे चोदे बिना नहीं रह पाएगा. थोड़ी देर बाद मेरे लंड ने हरकत की और अपनी औकात पर आने को हुआ तो माधुरी ने मुझे पलंग पर बिठा कर खुद नीचे उतर गई.

बापू सोच में पड़ गया कि क्या इसको नींद में भी महसूस हो रहा है… जो इसकी चूत इतनी भीग गयी है?बापू ने पहले ऐसा सोचा, फिर अपने आप से कहा कि चलो देखता हूँ कि उस टीचर ने इसकी सील को तोड़ दिया है या नहीं, अगर सील बंद होगी, तो ऊपर ऊपर ही चोद लूंगा और अगर सील टूटी हुई निकली तो अन्दर अपना पूरा लंड घुसा दूंगा. तभी अचानक डोर बेल बजी और उसकी मम्मी की आवाज़ आयी, हम दोनों घबरा गए और वह अपने कपड़े सही करने लगी. सेक्सी पिक्चर दिसणाराबिंदु उसको उकसा रही थी- चोद साली को, कोई रहम नहीं करना जगत इस चुत पर.

इसके बाद मनोहर ने अपने कंधे पर मेरी एक टांग उठा कर रख लिया और मेरी चूत को अपने जीभ से इतनी जोर जोर से चाटने लगा कि मैं अब खुद को नहीं सम्हाल पाई. वो लंड मुँह में लेने से मना कर रही थी, लेकिन मैंने उसे किसी तरह से मनाया तो वो मान गई और मेरा लंड चूसने लगी.

वो मुस्कुराई- इतना मत सोचना, प्यार ना हो जाए कहीं अपनी बहन से ही!मैं भड़क गया- तुम मेरी बहन नहीं हो!वो हँसने लगी- ओह, लगता है मैंने कुछ ज़्यादा ही तड़पा दिया दिन में… मेरे पास आओ!मैं बेड से उठ कर उसके पास गया. एक दिन मेरी नानी की तबीयत बहुत खराब हो गई और मम्मी को उनके पास जाना पड़ा. मैं बोली- चाचा, सच बताओ मम्मी पैसे लेकर करवाती है क्या?चाचा बोले- हां वन्द्या तेरी मम्मी को तो कई बार तो मैंने पैसे देकर चोदा है.

मैंने पूजा को बताया कि शुक्रवार से सोमवार तक ऑफिस की चार दिन की छुट्टी है. एक दिन मैंने उसको एक कस के थप्पड़ दे मारा… क्योंकि उस दिन उसने कुछ ज़्यादा ही बोल दिया था. बोलिए।”छाती की लकीरें देखने के लिए तुम्हें ब्लाऊज और ब्रा के बंधन से मुक्त होना पड़ेगा।”ठीक है.

काफी लम्बी चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने उनसे पूछा कि कहाँ झड़ाना है?वो बोलीं- तेरा जहाँ मन करे.

जैसा कि मैंने बताया कि उस टाइम में मैंने काफी लड़कियों को प्रपोज़ किया था और सबने मेरे प्रपोजल को रिजेक्ट कर दिया था. मैं अपनी चरमसीमा पर पहुँच चुकी थी और मैं ज़ोर ज़ोर से फूफा जी का लंड अपनी चूत में घुसाने के लिए अपनी गांड को उछालने लगी, फूफा जी भी अपना लंड बड़ी बेदर्दी से मेरी चूत के आर पार करने में लगे थे.

फिर मैंने बाथरूम में जाकर उसको याद कर के मुठ मारी और अपने कमरे में आ गया. वो मुझे अपने कमरे में ले गया क्योंकि मुझे भी अपनी सहेली के भाई से खुल कर चुदवाने का मन था. तब थोड़ी ही देर बाद मैंने महसूस किया कि मेरी सास का हाथ मेरे लंड पे था, तब मैंने एकदम से उनका हाथ पकड़ लिया और कहा- मम्मी जी, ये क्या कर रही हो अब आप? फिर मैं कुछ करूँगा तो आप डाँट दोगी मुझे?तो उन्होंने कहा- मैं ये सब अपनी बेटी की लाइफ के लिए ही कर रही हूँ ताकि तुम कोई और ग़लत कदम ना उठाओ सेक्स के लिए… और मैं भी तुम्हारी बात सुन कर कंट्रोल नहीं कर पा रही हूँ.

मैंने कहा- अरे आंटी जी आप… आइए आइए, अंदर आइए…आंटी अंदर आई, उन्होंने पूछा- तुम्हारी मम्मी कहां हैं?मैंने कहा- मम्मी तो मामा के घर पर गई हैं, कल दोपहर तक आएंगी. जीजा ने दीदी के दूध दबोचे और बोला- भैन की लौड़ी, अब तेरी चुत में एकाध दोस्त का लंड भी पिलवा दूंगा. उसने उठकर अपने आप को सही पोसिशन में सेट किया और लंड के सुपारे को अपनी मधु से लबालब बुर के मुंह पर जमाया और ‘राज.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी यहाँ दोस्त कम और दुश्मन ज़्यादा मिलते हैं फिर तुम्हारे तो बहुत से खास दोस्त हैं, जो काम बनते हुए भी बिगाड़ना चाहेंगे. उनके साथ क्या हुआ इसका पूरा पूरी मज़ा लेने के लिए मेरी अन्तर्वासना की कहानी को पढ़ें.

बीपी वीडियो भेजो

जिस दिन उसने होटल में आना था, उसी दिन हम लोग यह कह कर घर पर कि दो तीन दिनों के लिए किसी से मिलने जाना है… और जाकर होटल में शिफ्ट हो गए. आरुषि भी अब गांड चुदाई का मज़ा लेने लगी थी, क्यूंकि अब उसके मुख से दर्द से कराहने की बजाए मस्ती और चुदाई के मज़े की ‘आह ओह… आह… ओह…’ निकल रही थी और कोई फिर 10 मिनट के बाद मैं भी उसकी गांड में ही झड़ गया. मैं उन्हें पूरा दम लगा कर चोदने लगा, मैं भी बस झड़ने ही वाला था, मैं कस के उन्हें झटके मार रहा था कि तभी मेरे शरीर में अजीब सी सिहरन हुई, मैं उन्हें और जोर जोर से चोदने लगा और मेरे लंड ने 7-8 पिचकारी मारी, मैं आंटी की चूत में झड़ गया, मैं उनके ऊपर ही लेट गया, हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर लेट गए.

मैंने कहा- जमाई जी, आप मुझे कहाँ ले आये?वो बोला- आप को पहले चोदूँगा तब घर चलेंगे. दोस्तो ऐसे ही मैंने भाभी की कई बार चुदाई की और वो भी काफ़ी अवस्थाओं में चुदाई की. संतोषी माता की फोटो डाउनलोडमैंने कहा कि मैंने क्या किया?वो बोली- बाइक पर जो बार बार ब्रेक मारते हो.

भाभी मेरे वीर्य को पी गईं और मेरे पूरे लंड को चाट चाट कर साफ़ कर दिया.

उन्हें थोड़ी असुविधा हो रही थी परंतु वह मजा लेती रही और अंत में 15-20 झटकों के बाद मैंने उनकी चूत में अपने लण्ड से वीर्य की पिचकारियाँ मारनी चालू कर दी. आज तुम उसे मेरे कमरे में ले कर आओगी और मुझे उसी तरह से उससे चुदवाओगी, जिस तरह से तुमने मुझको आशीष से चुदवाया था.

इससे पहले कि बिंदु कुछ करती या कहती, वो मेरी चुत पर उस लोमड़ी की तरह टूट पड़ा, जैसे कि मेरी चुत ना हो वो कोई मांस का टुकड़ा हो. मैंने भी तुरंत ही मौका देखते ही उनको चूमने लगा और उनके चुचों को दबाने लगा. उन्होंने मुझे बताया कि वे दोनों एक दूसरे के यौन अंगों की खुजली मिटा रहे थे.

उनकी गोरी टांगें एकदम खुली हुई थीं और वो आदमी भाभी के ऊपर चढ़ कर उनकी चूत में अपना लंड डाले हुए धकापेल चुदाई कर रहा था.

जब उसने मेरी चुत को पूरा लाल कर दिया, तब उसने अपनी ज़ुबान मेरी चूत में हिलानी शुरू कर दी. नूरी खाला बहुत सुन्दर हैं, एकदम गोरा रंग, गोल चेहरा बड़ी बड़ी काली आँखें सुन्दर तीखे नैन नक्श मीठी आवाज … खाला बहुत हंसमुख हैं. इस बार मैं उसे अपने सीने से उसके दूध दबाये हुए और कस कर जकड़े हुए चोद रहा था।3-4 मिनट ही हुआ होगा क्लासिक में चोदते हुए… अब मैं छूटने वाला था, मैंने उसको बिना पूछे ही उसकी चूत में अपना लावा निकाल दिया और मेरी पकड़ उस पर से ढीली होने लगी.

अंटरवासनाहम तीनों ही इतने गर्म ही हो गए थे कि पता ही नहीं लगा, कब थ्री-सम शुरू हो गया. फिर, उसको अच्छा नहीं लगा क्योंकि उसकी पेंटी से उसके लंड पर रगड़ खाते हुए दर्द हो रहा था, तो उसने धीरे धीरे पद्मिनी की पेंटी को आहिस्ते आहिस्ते उतारना शुरू किया.

कुंवारी लड़कियों का नंबर

मैंने उससे कहा कि अगर हम दोनों राजी हो सकते हैं तो ये मज़ा मैं भी तुम्हें दे सकता हूँ. फिर घर आने पर वो अपने घर की तरफ चल दीं, मैं वहीं खड़ा होकर उन्हें और उनकी मटकती गांड को देखता रहा. अब रानी ने हौले हौले मेरे टट्टे झुलाने शुरू किये और सुपारी पर जीभ से टुकुर टुकुर करने लगी.

इसके बाद वह अपना कुर्ता उतारने लगी, उस समय वह मेरी तरफ करके पीछे को मुड़ी हुई थी, जिससे उसकी पीठ मुझे दिख रही थी. तू अपनी चूत की सील इस लड़के से ही तुड़वा ले क्योंकि बड़े और मोटे लंड से सील तुड़वाने का जो मजा है, वो पतले और छोटे लंड से नहीं आता. अब मैं और भाभी ऐसे ही एक-दूसरे को देखते रहे और मैं नीचे से झटके पे झटके लगाता गया.

उसके गांड उछाल कर लंड लेने से मुझे ऐसा लग रहा था, मानो सोनिया की चूत मेरे लंड के साथ मेरे अंडकोष भी अपनी चूत में भर लेगी. मेरा तो लंड उसे देख कर बेकाबू हो गया और मेरी हालत काम रोग से ग्रस्त हो गयी. अपने हाथों से अपने लंड को पद्मिनी की चुत पर रगड़ा, फिर थूक से गीला करके चूत के छेद में डालने की कोशिश में लगा रहा.

यह एक सच्ची घटना है, मेरा एक दोस्त है उसका नाम नवल है, वह मेरा सबसे पक्का दोस्त है. हाय कब से मैं अपनी बहन की चूचियों को दबाना और पीना चाहता था, कब से मैं अपनी छोटी बहन की कुँवारी चुत को चाटना चाहता था, आह कब से मैं तुझे चोद कर बहनचोद बनना चाहता था.

फिर उसने पीछे हाथ करके अपनी ब्रा भी खोल दी और दूसरी ब्रा पहनने लगी.

जूही तब कम उम्र की थी परन्तु वो क्या आफत बनने वाली थी यह दिखने लगा था. सेक्सी वीडियो सुहागरात इंडियनअब मैंने उसके एक हाथ की तरफ इशारा करते हुए अपना हाथ बढ़ाया और अपनी जांघ पर रख लिया. जानवर सेक्सी पिक्चर जानवरनीलोफर मस्ती से बोली- आज का दिन मेरी लाइफ का सबसे ज़्यादा खुशनुमा दिन है, मुझे तुमसे इतना प्यार मिला है. फिर मैंने उनके मम्मे को दबाया, मुझे ऐसा लग रहा था कि किसी पत्थर को छू रहा हूँ.

फिर पापा उंगलियों से अपने वीर्य को मेरे मुंह में डालने लगे, मैं धीरे-धीरे उनका सारा रस चाटने लगी.

वो आदमी एक हाथ से मॉम का सर पकड़ कर मॉम के होंठों को अपने मुँह में भर कर चूस रहा था. ” चेतना बोली।नंगा ही नहा रहा था क्या?” रंजू ने पूछा।नहीं यार… नंगा कैसे नहाएगा… पर उसका टॉवल खुल गया और मुझे दिखाउसका… मूसल!” चेतना शर्माते हुए बोली. फिर धीरे से उनके मम्मों पर रख दिया और उन्हें ब्लाउज के ऊपर से ही सहलाने लगा.

तभी मैंने देखा कि शीतल और अंजलि एकदम मदहोश होकर एक दूसरे को चूम रही हैं, मैंने तुरंत ही शीतल को कहा- जाकर अपने डिलडो ले आओ. जीजा जी ने दीदी को अपनी बांहों में लेकर कहा- रानी आज फुल मस्ती करेंगे. उसके इतना कहते ही मैं उसकी चूत में ही झड़ गया, मेरा ढेर सारा माल उसकी चूत में ही समा गया और मैं निढाल होकर उसके ऊपर ही गिर गया.

धार्मिक वीडियो डाउनलोड

तुझे उसकी चूत का जूस बहुत अच्छा लगता है इसी लिए ना?मैं बोला- दो कारण हैं… चूत रस बहुत पसंद है वह तो बात है ही परन्तु उसकी चूत से रस इतना ज़्यादा निकलता है जितनी उसकी सू सू निकलती है… जूस की फैक्ट्री है… इसलिए जूसी रानी. मेरा मूड अब बिल्कुल शानदार बन चुका है… और कंपनी तो तुम देख ही रहे हो, कितनी शानदार है! और क्या चाहिए एक सुन्दर पत्नी को अपने लविंग हसबेंड से!” नताशा ने हँसते हुए जवाब दिया. अभी तक आपने पढ़ा:अब आगे:मैंअपनी साली कीजाँघोंकेबीचघुटनोंकेबलबैठाऔरएकहीशॉटमेंलंडचूतमेंठोक दिया.

मैं उनके ऊपर से हटा तो वो खड़ी हुईं ओर मुझे पलंग पर लिटाया और मेरे ऊपर आकर खुद ही उछल उछल कर लंड को चूत के अन्दर लेने लगीं.

फिर आगे गए तो 2 और 3 बार ऐसा ही हुआ, वो भी मेरी हरकत को कुछ कुछ समझ ही गई.

शायद उनको मेरी यह आदत बुरी लगी और अब वो मुझे खुद को दूर रखने लगीं क्योंकि इसके बाद से जब भी वो मुझे देखती थीं, तो चुपचाप से कमरे के अन्दर चली जातीं और मुझे इग्नोर करने लगीं. ऊपर से दिखाने के लिए नौटंकी कर रही थी जैसे उसे चुदाई में कोई दिलचस्पी ना हो. राजस्थान की लड़कियांमगर खूब चूमाचाटी के बाद अब बापू से रहा न गया और वो पद्मिनी के ऊपर चढ़ गया.

उसके एक एक हाव भाव को, उसकी चाल को, उसके बदन के हर एक अंग को बड़े गौर से देख रहा था और अपने बेसाख्ता अकड़े हुए लौड़े को गहरी गहरी साँसें लेकर बिठाने की चेष्टा कर रहा था. जैसे ही मैंने अपनी जुबान उनकी चुत पर फ़िराना चालू की तो वो उछलने लगीं. और उसके मम्मों को देख कर तो मैं पूरी तरह पागल ही हो गया था कि काश मिल जाए तो मजा आ जाए.

लंड के चूत में जाते ही मधु ‘ओे उम्म्ह… अहह… हय… याह… आइ इइइ…’ करके उससे लिपट गई- ओ राज… कितना गर्म है तुम्हारा लंड!और फिर मेरे सामने ही बेशर्म चुदाई शुरू हो गई. मुझे लगा रास्ता साफ़ है और फिर मैंने कहा- भाभी अगर कोई भी काम हो तो मुझे बता देना.

मैंने कहा कि दीदी मैं खाना खा रहा हूँ, मैं अभी नहीं जाऊंगा और वैसे भी मैं आपको कई बार देख चुका हूं.

कभी मैं उसके घर तो कभी वो मेरे घर… बाजार जाती शौपिंग करने तो साथ साथ. अगले दिन, जब मैं अपने काम से दोपहर को वापिस होटल आया तो देखा कि जूली रिसेप्शन पर नहीं थी. उसके आने के बाद भी जब भी हम दोनों को मौका मिलता है, हम चुदाई कर लेते हैं.

पजाबी गाने वीडियो बहुत बड़ा घर था और बहुत ही अच्छा घर था उसका।उसने कहा- आप नहा लीजिये, मैं नाश्ता लगाती हूँ. न कि अपने उन लोगों के साथ, जिन्होंने बिना सोचे तुम्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया.

बस अकेले होने का जी चाह रहा था। हमारे नसीब में अकेला होना कहाँ नसीब… आज मौका था तो सोचा कि थोड़ा वक़्त यूँ भी सही। घर पे तो बोल के ही चले थे कि शाम हो जायेगी कल की तरह, तो कोई परेशानी भी नहीं।”पर यहाँ यूँ अकेले बैठना सेफ रहेगा भला? और यहाँ से वापस कैसे जायेंगी. कि तभी सुकन्या रानी अपनी गांड उछाल उछाल कर मेरी उंगलियों के ताल से ताल मिलाने लगीं और थोड़ी देर में सुकन्या चीखते हुए आंखें बंद करके चरमानंद का सुख महसूस करने लगी. मनोरमा ने उससे कहा- देखो, जब मेरे साथ रहोगी तो तुम्हारी चुत की कीमत मुझसे आधी ही होगी.

सेक्सी चालू वीडियो

मेरी चुत पूरी तरह से गीली हो गई थी, मैं भी जोश में आ गयी थी।उसने उसका लण्ड मेरे मुंह में दे दिया, मैं उसका लण्ड चूस रही थी, वो मेरे बूब्ज चूस रहा था।वह बोला- पूरा लण्ड ले ले!और जोर से एक झटका दिया, अपना पूरा लण्ड मेरे मुंह में घुसा दिया।फिर साथ ही वो मेरी चुत चाटने लगा. तो कभी दूसरा मसलता तो पहला चूसता और मॉम आँखें मूंदें चूची चुसाई का मज़ा ले रही थीं. फिर कुछ देर बाद दोनों एक दूसरे की बांहों में पड़े रहे और मुझे नींद आ गई.

अपने लंड को चूत पर रगड़ने के बाद मैंने एक करारा धक्का लगा दिया तो मेरा आधा लंड अन्दर चला गया. इतने में धीरे से उसने अपना हाथ पेटीकोट के ऊपर से ही मेरी चूत के ऊपर रख दिया और पेटीकोट के ऊपर से, जहां मेरी चूत थी, उस जगह को ज़ोर से दबाने लगा और वहीं अपना हाथ रगड़ने लगा.

भाबी पूरी गर्म हो चुकी थीं, उनकी आँखों मेंवासना की खुमारीसाफ़ देखी जा सकती थी.

मैंने नोट किया कि वह मोटर साइकिल सोसाइटी में से तो किसी की नहीं है. उसके बाद हम घर आ गए और जब भी मौका मिलता मैं उनके घर जा कर भाभी की चुदाई करता रहा. लेकिन उसके बल खाने से मेरे लण्ड के ऊपर कोई असर नहीं था, उसके माल से गीली हुई चूत पर मेरा लण्ड सटासट वार किये जा रहा था.

भाभी ने तुरंत पूजा को बुलाया और पूजा से कहा कि अगर तुम चाहती हो कि में किसी से कुछ न कहूँ तो मैं भी अमित से सेक्स करूँगी. इसलिए उस लौंडे ने गीता की एक ना सुनी और बोला- अगर तेरी चुत बच्चा निकालने का मन बना ही चुकी है तो मेरा लंड क्या करेगा. एकता ने एक लम्बी साँस ले कर दो झटकों में मेरे पूरे आठ इंच के लंड को अपनी चुत के अन्दर निगल लिया और ऊपर नीचे होने लगी.

मेरी चूत गीली होने लगी थी और राज का लंड भी गीला होकर मेरी चूत के अन्दर फिसलने का तैयार था.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली हिंदी: ऐसा बोल कर उसने एक किस होंठों पे किया और हम दोनों बिना चुदाई किए एक दूसरे की बांहों में लिपट कर सो गए. तभी कविता ने ज्योति से पूछा- ज्योति ये बता कि तुझे चुदाई में कितना मजा आया?ज्योति ने जवाब दिया- दीदी मुझे बहुत मजा आया, आप दोनों का बहुत बहुत धन्यवाद.

मैं बोली- जीजा, तुमने दरवाजा क्यों बंद कर दिया अंदर से?तो जीजा बोले- अपन अभी नाश्ता कर लें, वैसे भी मैं जब कमरे में आता हूं तो बंद ही कर लेता हूं. मुझे चलना चाहिए अब!मैंने ओला कैब बुक कर दिया, वो कपड़े पहन कर पीछे के दरवाज़े से निकल गयी. रास्ते में मेहमान बोले- आपकी फिगर बहुत अच्छी है, आपने मेनटेन कर रखी है.

फिर उसने बोला- क्या आप कभी मुझसे मिलने आ सकते हो?यह सुनकर मैं तो खुशी से झूम उठा और उसको हाँ बोल दिया.

उन्होंने मेरे सर को अपनी दोनों टांगों से दबा लिया और तेज आवाज निकालते हुए झड़ गईं. दूध तो बच्चे पीते हैं और अहाना को अभी दूध आयेगा कहां?” मेरी हंसी छूट गयी।जब बच्चा पीता है तब दूध आता है और जब बड़ा पीता है तब मुनिया में चिकनाई आती है।” अहाना ने सिस्कारते हुए कहा।अब मैं सीरियस हो गयी और दोनों की हरकत देखने लगी. थोड़ी देर बाद उनको मजा आने लगा और वो चूतड़ों को उठा कर गांड चुदवाने लगीं.