जबरदस्त जबरदस्त बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी बीएफ हिंदी ऑडियो में

तस्वीर का शीर्षक ,

तृषा का सेक्स वीडियो: जबरदस्त जबरदस्त बीएफ, मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं भी आहें भर रही थी- आह्ह … आह्ह … आदि … आह्ह … ओह्ह … आदि … हाय … आह्ह।मेरी आंखों में बस सेक्स भरा था और तभी उसने अपनी लोअर और अंडरवियर उतारनी शुरू की.

सेक्सी सेक्सी बीएफ फुल एचडी में

उसने मेरा लंड देखा तो बोली- बहुत बड़ा है आपको तो … ये अंदर कैसे जायेगा?मैंने कहा- ये तो मुझे नहीं पता क्योंकि मैं भी पहली बार किसी की चूत चोदने जा रहा हूं. पुराने वाला बीएफभाभी मेरा साथ इतना एंजॉय कर रही थीं मानो न जाने कब से ही प्यासी हों.

मैंने हेमा चाची से कहा- चाची, अगर मैं भी आपके साथ इसी तरह पीछे से सेक्स करूं … तो क्या आपको मजा आएगा?चाची हंसी और बोलीं- भास्कर, मजा तो आएगा … लेकिन दर्द भी होगा. बीएफ इमेज फोटोये देख कर मैं थोड़ा सोच में पड़ गया और हेमा चाची से बोला- चाची, आप तो रात में ज्यादातर नाईटी ही पहनती हैं, लेकिन आज से ब्लाउज और पेटीकोट क्यों?हेमा चाची बोली – भास्कर मुझे रात में ब्लाउज और पेटीकोट में ही कम्फर्टेबल रहता है, इसीलिए रात को बिस्तर पर सोते टाईम यही पहनती हूँ.

अजीत- तू तो खेली हुई रंडी लगती है!अंजलि- तो तुमको क्या लगा था?शेखर- हम लोगों को तो पता ही है तेरे बारे में सब कुछ.जबरदस्त जबरदस्त बीएफ: अलीमा बलविंदर के नंगे जिस्म को देखते हुए सोच रही थी कि अब तक जिस आदमी से वो खुद को बचा रही थी.

रास्ते में स्पीड ब्रेकर आया तो मैंने ब्रेक लगा दी। वो आगे की तरफ झुक गई और उसकी चूचियां मेरी पीठ से टकराई।मेरे तो शरीर में करंट सा लगा। मेरी पैन्ट में हलचल होने लगी।पर वो पीछे नहीं हुई; वो वैसे ही बैठ गई।मेरी हालत खराब हो रही थी। मजा भी आ रहा था.उनकी दोनों टांगों को ऊपर करके मैंने पहले उनकी गांड को थूक से अच्छे से गीली कर दी.

बीएफ सेक्सी नंगा नंगा - जबरदस्त जबरदस्त बीएफ

जब वो भाभी के पास पहुंची तो भाभी बोली- ये क्या हुआ रीति तुझे? तेरा चेहरा, आंखें सब लाल हुए पड़े हैं.मैंने अपने दोस्त को फोन किया और बुआ के लिए कोई जॉब पूछी।उसने कहा- कपड़े की कंपनी में नौकरी मिल जाएगी।मैंने कहा- ठीक है, मैं कल भेज दूंगा.

हालांकि भारत में लड़की की लाज उसके मुँह से चुदाई के लिए मनाही ही करवाती है. जबरदस्त जबरदस्त बीएफ पकौड़े बेहद लजीज थे … मगर मेरी नज़र तो बार-बार नन्दा को निहार रही थी.

नयी नवेली दुल्हन की चूत पर हाथ फेरकर भानू बेकाबू हो गया और उसने अपना पजामा भी खोल लिया.

जबरदस्त जबरदस्त बीएफ?

अंकिता इस सबको एक साथ झेल ही नहीं पाई और उसके शरीर ने ऐंठना शुरू कर दिया. कुछ देर उसी स्थिति में रहने के बाद फिर से जब अलीमा ने अपने चूतड़ हिला कर इशारा किया, तो बलविंदर समझ गया कि अब लंड चुत में अन्दर बाहर किया जा सकता है. इसके बाद मेरा हाथ उसकी कमर पर घूमने लगा और मेरे होंठ उसकी पीठ को चूमने लगे.

मैं उनके पास जाकर बैठ गया तो दूसरे लड़के ने कहा- अरे बीच में बैठो न यार … कहां एक तरफ बैठी हो. वन नाइट स्टैंड का मतलब: शाम रात को मिले, थोड़ी बातचीत हुई, दारू शारू पी. मैंने बात बनाते हुए कहा- चाची अगर घर वाले आ गए, तो वो मुझे किसी न किसी काम में लगा देंगे … फिर मैं आपका टीवी ठीक करने कैसे आ पाऊंगा?हेमा चाची ने कहा- अरे हां भास्कर … तुम्हारी ये बात तो बराबर है.

बाथरूम के फर्श पर वो दोनों एक दूसरे की बांहों में निढाल पड़े थे और ऊपर से शॉवर की बूँदें उन दोनों की गर्म साँसों को ठंडा करने का प्रयास कर रही थीं. अगर आपके साथ भी किसी शादी में ऐसा हुआ हो या आपको किसी ने किसी शादी या त्यौहार में चोदा हो तो मुझे ज़रूर बताना. मैंने आंटी को बाथरूम में ही सीधा लेटा दिया और फिर से लंड गांड में डाल दिया.

कुछ देर बाद हम दोनों आमने सामने बैठ कर चाय पीने लगे और बात करने लगे. फिर मैंने कहा- ठीक है, जब आप कल चली ही जाओगी तो आज तो मुझे करने दो कुछ?काफी कहने के बाद भाभी मानी.

उसने मुझे कुछ ही सेकंड में पूरी नंगी कर दिया और मुझे सोफे पर लिटा कर मेरा दूध पीने लगा.

इतना मस्त स्वाद था उसकी चूत की क्या बताऊं … उसकी चूत का स्वाद मुझे पागल कर रहा था.

उसकी ओर गांड करके बैठी तो उसने थोड़ा सा थूक उसकी उंगली पर लिया और मेरी गांड की दरार पर मल दिया. शादी के बाद मेरे पति मुझे अक्सर चोदते थे और मुझे उनसे चुदने में मजा भी खूब आता था. मैंने उसके बालों को बल पूर्वक पकड़ा और लंड को अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.

एक मिनट बाद ही मैंने शबाना भाभी की पैंटी की इलास्टिक में उंगलियां फंसाईं और पैंटी को नीचे खींच दिया. मैंने बिना आवाज किये खिड़की के अन्दर झांका तो सलमान ने मेरी अम्मी को एक मुर्गी की तरह दबोचा हुआ था और अम्मी हंसते हुए उसकी पकड़ से छूटने के लिए मचल रही थीं. उसने कहा- आप खाने की क्यों चिंता करते हो … वो तो आपकी पूरी सेवा होगी.

मैं उसके मुंह को चोदने लगा और जोर से सिसकारी लेते हुए उसके मुंह में ही झड़ गया.

मैं तब तक ब्रेकफास्ट कर चुका था और तभी मेरे घर के दरवाजे पर खटखटाने की आवाज हुई. मैं बीच बीच में मौका मिलते ही उनकी जांघ और कमर पर भी हाथ फेर रहा था. एक दूसरे की बांहों में बांहें डाले हुए हम पड़े रहे और फिर ऐसे ही नींद आ गयी.

हेमा चाची की चिकनी गांड पर अपना वीर्य मलते समय मैंने अपनी उंगली को चाची की गांड के छेद में डाल दी थी. लड़की ने अपने प्रथम सहवास का मजा कैसे लिया?अन्तर्वासना के मस्त पाठकों और मदमस्त पाठिकाओं, आप सभी को विक्की का प्यार. और एक बार जब कुंवारी चूत को लंड पहला मज़ा मिल जाये तो चूत में खुजली बहुत तेजी से होने लगती है.

भाभी ने भी ये देख लिया, मगर वो कुछ नहीं बोलीं और अपने काम में लग गईं.

मैंने भाभी के बाथरूम जाने के लिए उनसे फिर से पूछा, तो वो बोलीं- तुम मेरे बाथरूम में नहाते हो … तो गंदगी क्यों फैलाते हो?मैं समझ गया कि भाभी मेरे माल की बात कर रही हैं. वो अलीमा को कुछ इस तरह से चोदना चाह रहा था कि वो आगे भी उसके लंड से चुदने के लिए मचलती रहे.

जबरदस्त जबरदस्त बीएफ मेरी दीदी ने कहा कि वो भी अभी उसके पास नहीं जा सकती मगर वो किसी के हाथ नोट्स को भिजवा देगी. बुआ ने एक बार मेरी तरफ गुस्से से देखा और बिना कुछ जबाव दिए किचन के अन्दर चली गईं.

जबरदस्त जबरदस्त बीएफ उसके जिस्म से आती परफ्यूम की महक ये जता रही थी कि मानो सामने सुलेखा नहीं … कोई गुलाब का फूल हो. प्रेमा तो पूजा-पाठ में व्यस्त रहती थी और वो भानू को पास नहीं फटकने देती थी.

मैं भी खुद को सयंत कर चुका था और मुझे अपराधभाव सा महसूस होने लगा था.

हिंदी बीएफ पिक्चर देखने वाली

चूमते हुए हर्षदीप ने आंटी की साड़ी को खोल दिया और उसके ब्लाउज के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा. बेड पर आते ही मैंने उसका गाऊन उतार दिया। अब वह सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी।उसकी सफ़ेद ब्रा और पैंटी देख मैं तो पागल हो गया।और उसने शरमा कर अपना मुंह ढक लिया।अब मैंने अपने कपड़े खोले. सुमन ने मुझे मनजीत के सामने ही बांहों में भर लिया और मेरे होंठों से अपने होंठ सटा दिए.

साहिल की चुदाई की रफ्तार जैसे जैसे बढ़ रही थी, मेरी कामुक मादक सिसकारियाँ निकल रही थी; मैं साहिल को और ज़्यादा तेज़ चोदने को कह रही थी।अब अगले ही पल उसने किसी पहलवान की तरह धोबी पछाड़ की तरह मुझे अपने नीचे पटक दिया और वो मेरे ऊपर सवार हो गया. उसके बाद मॉम ने अपना तौलिया वापस से लपेट लिया और हम दोनों बाहर आ गये. एक रात मैंने मामा मामी की चुदाई देखी तो मेरा मन मामी की चूत मारने के लिए बेचैन हो गया.

बहुत दिनों बाद निकला है आज। अगर तुम फोन पर ऐसा कर सकते हो तो रियल में कैसे करोगे?मैंने कहा- मौका तो दो.

दोस्तो, अगर मेरी सेक्स कहानी आपको मजेदार लगी हो, तो आप मुझे मेल करके जरूर बताएं. थोड़ी देर बाद उसने मेरे मुँह में लंड झाड़ते हुए कहा- ले भर ले माल अपने मुँह में … आह अभी इसे गुटकना मत … इसे वापस मेरे लंड पर लगा कर इसे चिकना करना. वो मेरे पास आकर हंस कर बोली- वो वीडियो डिलीट कर दो, मैं चुदने के लिए तैयार हूं.

चाची ने अपनी चुत खोल दी तो मैंने उनकी चूत में उंगली पेल दी और आगे पीछे करने लगा. मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया और उसकी चूचियों से पानी पेट में आ गया।मैं साइड में लेट गया।थोड़ी देर बाद मैं मामी को गोद में लेकर बाथरूम गया. इस सेक्स कहानी के पहले भागघरेलू औरत की प्यार की प्यासमें आपने अब तक पढ़ा कि आंचल मैडम मेरे सामने अपने पति से सुख न पा पाने के कारण खुल गई थीं और मेरे साथ उनका सेक्स होने के हालात बन गये थे.

वो बोला- जब तक मेरे लंड का पानी नहीं निकला जाता, वो तब तक मेरा लंड चूसता ही रहता है. खाना बनाने के बाद वो मेरे रूम में आई और मुझे नहाने के लिए कहने लगी.

मैंने हेमा चाची से पूछा- क्या आप अपने कॉलेज के दिनों में ब्लू फिल्में देखती थीं?हेमा चाची बोलीं- हां भास्कर, मुझे तो ब्लू फिल्में देखना बहुत पसंद है. हम दोनों की जीभ आपस में टकराने लगीं और मैं उसके होंठों को बिना रुके चूसता रहा. फिर एक दिन मेरी पड़ोस की जवान लड़की ने मुझे क्या कहा कि …दोस्तो, कैसे हो आप सब लोग? उम्मीद है सब अच्छे ही होंगे और लॉक डाउन में सब मज़े में ही होंगे।मैं ये स्टोरी पहली बार लिख रहा हूं.

मैं रूबी के घर के अन्दर गया, तो मैंने देखा कि रूबी ने एक पतली सी नाइटी पहन रखी थी, जो कि काले रंग की थी.

उसने मुझे अपनी बांहों में खींच कर बिस्तर पर लेटाया और मुझसे लिपट कर लेट गया. आंटी के इस तरह से चोदने से मुझे लगा आंटी मुझे इसी तरह चोद कर खेल खत्म कर देंगी. मैं चाची की मक्खन गांड मसलते मसलते अपना आपा खो बैठा और मैंने हेमा चाची की गांड में उंगली कर दी.

और अभी कुछ दूर पहुंची थी कि मुझे याद आया कि मैं अपना लॉकेट जो सोने का था उसको वहीं भूल गयी. चिल्लाकर कह रही थी- आह्ह … चोदो मुझे … चोदो मुझे।अभय बोला- साली रंडी, आराम से … तेरा भाई आ जायेगा.

पापा ने पढ़ाई के लिए मुझे भी गांव से शहर दीदी के पास भेज दिया।शहर आने के बाद मैंने कॉलेज में एडमिशन लिया और तैयारी के लिए कोचिंग में दाखिला ले लिया. गर्लफ्रेंड की चुदाई मैं ज्यादा अभी कर नहीं पाया था कि भाभी की चुदाई करने का मौका मिल गया. मैं बोला- मैं जानता हूं कि अभी जो घर का खर्च चल रहा है वो सब चुदाई की कमाई से ही चल रहा है.

फ्री एक्स बीएफ वीडियो

मैंने उसकी चूत को अपनी दो उँगलियों से खोला और अपनी जीभ को उसमें घुसा दिया.

आंटी की Xxx चुदाई कहानी के पिछले भागदूध वाली की चुत चुदाई- 1अब तक आपने पढ़ा कि मेरे गांव में एक दूधवाली आंटी मुझ पर फिदा हो गई थीं और मेरा लंड भी उनकी चुत चोदने के लिए मचल उठा था. इसके लिए मेरे जो रेग्युलर क्लाइंट थे, मैंने उन्हें फोन करना शुरू किया. मीशू ने उसके मुंह पर अपनी चूत रख दी और वो मीशू की चूत को चूसने लगी.

मैं उनकी चुत के पानी को चूत से बाहर आने से पहले ही चाटता जा रहा था. मेरी अम्मी ने मेरे घर से जाते ही झट से उठ कर घर के में दरवाजे को बंद किया और सलमान का हाथ पकड़ कर उसे अपने कमरे में ले गईं. कोल्हापुर बीएफअगर आप इसमें हेल्प कर सको तो प्लीज देख लीजिये और गैस सिलिंडर तो अभी अंकल जी अपना दे रहे हैं उसका इंतजाम तो बाद में मैं कर लूंगी.

अब आगे की भाई की साली को चोदा कहानी:झड़ने के बाद कुछ देर तक हम लेटे रहे. मैंने उसको लंड चूसने को बोला तो वो मेरे लंड को मस्ती में चूसने लगी.

अब वो जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … आह्ह … हां … अच्छा कर रहे हो … ओह्ह … हां मोहित … करो. उसने मुझे पीछे धकेल दिया और वो कुछ इस तरह से लेट गयी कि हम 69 की पोजीशन में आ गये. फिर उन्होंने अपना पेटीकोट भी उतार दिया।अब वो ब्रा और पैंटी में थी और झुकी हुई थी.

मैं उसे पास के रेस्तरां में ले गया और उसकी इच्छानुसार कुछ खाना और मुसम्मी का रस पिलाया. मैंने चुपके से हिमानी के कान में कहा- हिमानी मैं ऊपर थर्ड फ्लोर पर जा रहा हूं जहां कोने में एक छोटा सा कमरा है. उसके बाद दीदी अपनी कोचिंग क्लास चली गई और हम दोनों ने फिर पढ़ाई शुरू की.

लंड चुसाई के बाद मैंने उसको उठाकर बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया.

फिर उन्होंने बोला- तुम क्या लोगे … ठंडा या गर्म मेरा मतलब चाय लोगे, कॉफी लोगे या फिर कुछ ठंडा?मैंने बोला- रहने दो ना आंटी … खामखां क्यों तकलीफ उठा रही हो. उसके बाद हमने बातें की और फिर हमने चुपके से उन दोनों के ड्रिंक्स में सेक्स की गोली मिला दी.

मैंने जल्दी से एक बरमूदा पहन लिया और मेरी बीवी ने एक स्ट्रिप वाली नाईटी पहन ली, जिसमें से उसकी चुचियां आधी से ज्यादा नंगी दिख रही थीं. मैंने अपने होंठों से साफ कर दिया जिसके बाद जवाब में उसने मेरे गाल को पकड़ा और अपना दांत मेरे गाल में घुसा दिया. परिवार के बाकी लोगों के हम लोगों के साथ ना रहने पर मेरी बीवी को खुल कर रहना अच्छा लगता है.

अर्पित के बैठते ही आंटी ने अपने एक एक हाथ को अर्पित और हर्ष की जिप पर रख लिया. मुझे नहीं पता था कि बहन की सहेली स्कूल गर्ल सेक्स इतना सुख मिल जायेगा. मैंने कपड़े पहन लिए और हम दोनों कमरे से बाहर आए।माँ- छोटू, आराम से जाइए.

जबरदस्त जबरदस्त बीएफ पूनम मैम जानबूझ कर नीचे देख रही थी।कुछ देर बाद पूनम ने अचानक से अपना सर उठाया तो साहिल उनके बोबे ही ताड़ रहा था. मैंने अकेली पाकर उसको पकड़ा और उसके नींबू जैसे चूचे चूसकर उसकी कमसिन कुंवारी छोटी सी देसी चूत को चाट कर उसको गर्म किया.

व्हिडिओ सेक्स बीएफ व्हिडिओ

मेरी फर्स्ट किस स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने रिश्तेदार लड़के को अपनी अदाओं से उत्तेजित करके उसके साथ प्रथम चुम्बन का मजा लिया. आप अपने सारे दोस्तों को बुला कर मुझे ग्रुप में चुदवा दीजिए … अपनी बीवी को रंडी बना कर ग्रुप सेक्स का मजा दिलवा दीजिए. फिर थोड़ा और वीर्य लेकर हेमा चाची की गोरी और मोटी कड़क चूचियों वाली छाती पर मला.

मेरा लण्ड दी के बूब्स के बीच बहुत टाइट तरीके से अंदर बाहर होने लगा।श्वेता अब कभी अपने होंठों को दबा कर मजा जाहिर करती तो कभी आंखों को बंद कर गहरी सांस लेती।उनके चेहरे के भाव देख मैं उनके ऊपर ही झड़ गया। मेरा सारा माल दी के बूब्स और उनके गले में लग गया। दी ने अपनी उंगली से अपने बूब्स का माल चाटा. अब मैंने आंख को अधखुला रख कर उन दोनों की कारगुजारी को देखना शुरू कर दिया. हिंदी बीएफ खुला सेक्समैं वहां से वापस आने लगा और रास्ते में अपना काम निपटाने में मुझे दो घंटे लग गये.

’मेरी चीख सुनकर जय बोला- साली तेरा पति का इतना बड़ा नहीं है क्या!मैं बोली- नहीं है यार … मैं आज पहली बार इतना बड़ा लंड ले रही हूँ.

ये देखकर हेमा चाची हंस पड़ीं और बोलीं- ये तुम्हें क्या हो गया भास्कर … चलते रहने दो न!मैंने कहा- अरे वो सीन …चाची ने मेरी बात काटते हुए कहा- अब हॉलीवुड फिल्मों में तो ये सब आम बात है … और हम तो अच्छे दोस्त है न, तो हम दोनों के बीच में किस बात की शर्म!ये सुनकर मैं मुस्कुरा उठा … क्योंकि ये हेमा चाची का एक इशारा था कि आज हेमा चाची मस्त मूड में हैं. भाभी- प्रिया कहां है तू?मैं- भाभी मेरे पास है, ऊपर!भाभी- क्या कर रहे हो तुम दोंनों?मैं- प्यार!भाभी- पागल … मम्मी पूछ रही है प्रिया के बारे में। जल्दी से इसको नीचे भेज.

मैंने अंदर झांक कर देखा तो मॉम ने अपनी मैक्सी एक तरफ टांगी हुई थी और वो अपनी ब्रा के हुक लगा रही थी. साक्षी ने कहा कि मेरा तो कब का हो भी गया लेकिन चूत में अब इतना पानी है कि पूछो मत. पांच मिनट की चुदाई में ही मीशू झड़ गयी और उसने मेरे लंड पर ढेर सारा पानी छोड़ दिया.

फिर कुछ देर बाद बुआ लंड को हाथ से सहलाने लगीं और मैं उनकी चूचियों और गांड को अपने हाथों से सहलाने लगा था.

यदि मेरे जैसा कोई और भी बंदा हो जिसकी जिन्दगी में ऐसा मौका आया हो तो मुझे जरूर बताना. उसका मुँह बंद करने के बाद अब मैंने धीरे से अपनी जीभ प्रीति की चूत पर रख दी. मैं खुद रमेश की किस्मत पर सोच सोच कर जलने लगा था कि भैन के लंड को क्या गदर माल मिला है.

देहाती बीएफ सेक्सी हिंदी देहातीथोड़ी देर बाद मैं ऊपर गिर गया और मैं शांत हो गया।कुछ देर बाद मेरा लंड मामी की चूत से निकल गया. वो चुपचाप आंखें बंद करके लेटी थी।अब मेरी हिम्मत बढ़ने लगी और मैंने नीचे से मैक्सी उठा दी और पैंटी के ऊपर से सहलाने लगा।मामी गर्म होने लगी.

देहाती सेक्सी बीएफ सेक्स

रास्ते में भी लड़के माय हॉट सिस्टर की गांड और चूची देख कर अपनी आंखें सेक रहे थे।बाइक पर बैठी हुई मेरी बहन की चूची हर झटके के साथ उछल रही थी. मैं उनके मुंह को चोदने लगा।फिर मैंने कंडोम मामी को दिया उसने लंड को पहना दिया।मैंने तेल की शीशी उठाई और मामी को उल्टा कर दिया तेल की धार गांड में गिराने लगा।अब मैं मामी की गांड के छेद को चौड़ा करने लगा. उसके बाद मैंने दुल्हन की ड्रेस और ज्वेलरी पहनी, मेकअप किया और बेड पर आकर बेड के बीचों बीच बैठ गई.

उसने पूछा- कौन हो तुम? ये नम्बर कहां से मिला?मैंने कहा- मैं वहीं हूं जो आपके चक्कर में कमजोर हो रहा हूं. मैंने थोड़ा सा धक्का दिया तो पूरा लंड फुद्दी में घुस गया और मैं जोर जोर से भाभी की चुदाई करने लगा. अब जब भी बस हिलती तो मेरा हाथ कुछ टटोलने के लिए आगे आगे बढ़ता और फिर ऐसा करते हुए थोड़ी देर बाद मेरी उंगलियों को उसकी जांघ का स्पर्श हुआ.

मैंने उसके होंठों से अपने होंठ सटा दिए और उसके होंठों का रस पीने लगा।मैं बहुत आराम आराम से लन्ड अंदर बाहर करने लगा।मैंने उसके बूब्स पकड़े और उसके गुलाबी निप्पल्स को दबाने लगा।वो गांड ऊपर नीचे करने लगी मगर मैंने झटकों की स्पीड तेज़ नहीं की। मैं उसी स्पीड से चोदता रहा. आंटी मेरी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगीं, पर मैं उन्हें जोर से पकड़े रहा और लंड धीरे धीरे अन्दर डालता गया. चूंकि नाईटी पतली थी, तो उसमें हेमा चाची की गांड के बीच की लकीर भी उभर रही थी.

भाभी बोलीं- मेरी जान … इतना मत तड़पाओ … अब मुझसे रुका नहीं जा रहा है. वैसे ही फिर मैंने नीचे वाले होंठ के साथ किया और फिर एक लंबा चुंबन दे दिया उसको.

मुखिया जी ने कोमल करके उसे आवाज दी तो मैं समझ गया कि इसका नाम कोमल है.

तो मैंने कहा कि मैं फ़रज़ाना को नोट्स देने के बाद अपने दोस्त के घर चला गया था. भोजपुरी सुपरहिट बीएफउस दिन छत पर हेमा चाची के साथ चिपककर झड़ने का खुमार मेरे दिमाग से अब तक नहीं उतरा था. www.com फुल एचडी बीएफचाची ने नीचे सिर्फ सफेद रंग की जालीदार चड्डी पहन रखी थी, जिसमें लाल लाल धारियां बनी थीं. उसकी चूत से पानी बह रहा था जिससे वह गीली हो रही थी और मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

दीदी उठ गयी और उन्होंने मेरा हाथ हटाकर नीचे मेरे पैर की तरफ रखवा दिया और फिर करवट बदल कर सो गयी.

इधर रीति ने भी अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया और उसको मुट्ठी में भरकर दबाने लगी. अब साहिल ने मुझे नीचे उतारा और आधा लेट गया सोफे पर!मेरी दीदी उसके होंठों का रस पीने लगी. मेरे सामने मेरी सेक्सी बुआ का मदमस्त गोरा जिस्म, काली ब्रा और काली पैंटी में इतना हॉट लग रहा था कि मैं उन्हें अपलक देखने लगा.

उसने मुझसे पूछा- सोडा के साथ लेगी या पानी के साथ!मैंने कहा- पानी के साथ. उसकी चूत गुलाबी रंग के जैसी थी, शायद वो उंगली करती हो या पहले चुदाई कर चुकी होगी क्योंकि चूत के दोनों होंठ अलग दिख रहे थे।उसकी उम्र भी 23 की थी तो चूत फैलने भी लगती है इस उम्र तक।मैंने उसकी टांग उठाकर फिर से कंधों पर रखी और उसकी चूत को चाटने लगा. उनकी चुदास देख कर मुझे लग रहा था कि आंटी कई वर्षों से मेरा ही इंतजार कर रही थीं.

प्रीति जिंटा बीएफ वीडियो

जब हम लोग हैदराबाद से छुट्टी मनाकर वापस आए, तब मैंने और अमन ने अपने नम्बर ले दे लिए थे. मैं उसकी बांहों से लिपट कर घर आ गयी।घर आने के बाद मैं रागिनी के पास चली गयी सोने और साहिल अपने कमरे में।अगले दिन रागिनी ने मुझे सुबह सात बजे उठाया, बोली- तैयार हो जा … घर चलना है. सुबह नौ बजे मेरी आंख तब खुली, जब सुमन ने मुझे उठाया और गुड मॉर्निंग विश की.

मैंने पट्टी उतार कर देखा तो पूरा कमरा गुलाब के फूलों से सजा हुआ था.

हैलो फ्रेंड्स, मैं अंशुल एक बार फिर से स्वीटी की सील पैक चुदाई की कहानी को आगे लेकर आ गया हूँ.

फिर मैंने खाना खाया और दिनभर टीवी के सामने बैठकर टाइम पास करता रहा. अब सुमन उठ कर बैठ गयी और मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हाथ आगे पीछे चलाने लगी. हीरोइनों के बीएफ वीडियोमैं तो पूरे जोश से भर कर धक्के मारने लगा; और भाभी सिसकारी भरने लगी।मेरा पानी भाभी की चूत के के अंदर ही निकल गया.

भाभी ने फिर से मुझे अपने ऊपर खींच लिया और लंड को फुद्दी में रगड़ना चालू कर दिया. मैंने अपनी अम्मी की गैर मर्द से चुत चुदाई की वीडियो फिल्म अपने मोबाइल से बना ली थी. साक्षी ने कहा कि मेरा तो कब का हो भी गया लेकिन चूत में अब इतना पानी है कि पूछो मत.

फिर उसने मुझे खड़ी कर लिया और मेरी गांड पर किस करते हुए उसको मसलने लगा. तो उसने मुझसे बस दो दिन का समय मांगा कि वो कुछ बताती है।दो दिन बाद शाम को राजसी मेरे घर आई.

अबकी बार के राउंड में मैंने उसको उल्टा किया और उसकी गांड मारने की सोची.

राहुल का लंड मेरी गांड सहला रहा था तो विजय का लंड मेरी चूत को गर्मी दे रहा था. मैं बहुत बुरी तरह से गर्म हो गई थी और बस यही चाह रही थी कि बस अब वो अपना लंड चूत में पेल दे. मैंने कहा- क्या तुम मेरा लंड अपनी चूत में लेना चाहती हो?वो बोली- हां मैं तुम्हारा लंड अपनी चूत में लेना चाहती हूं.

हिंदी सेक्स वीडियो सेक्सी बीएफ मैंने जोर से धक्का मारा, तो आधा लंड उसकी सील तोड़ता हुआ अन्दर घुस गया. उसकी लैगिंग में उसकी चूत, चूत का मोती, उसकी गांड और सब कुछ दिख रहा था.

इस दमदार चुदाई के बाद मुझे उन चारों ने नहलाया और मैं नंगी ही रूम में आ गई. और मैं ऐसे नाटक कर रहा था जैसे मैं सो रहा हूँ।उन्होंने धीरे से मेरे शरीर पर से पसीना पोंछना शुरू कर दिया। उन्होंने मेरे चेहरे, कंधों, मेरी छाती और पेट को साफ किया. उन्होंने उठ कर मुझे चूमा और मेरे चेहरे पर लगा अपनी चुत का रस चाटने लगीं.

बीएफ सेक्सी 2020 की

मैं मैडम की जवानी को आंखों से चोदता हुआ उनके पीछे आ गया और उन्हें अपनी बांहों में लेकर उनके नागिन से लहराते हुए बालों को अलग करके गर्दन को चूमने लगा. उन्होंने मुझे काला टीका भी लगाया और बोली- किसी की नज़र ना लगे तुमको।अब मेरी नज़र सिर्फ साहिल को ढूंढ रही थी. मेरी चूत के पहले दर्शन करते हुए विजय बोला- अरे वाह क्या बात है इसकी बुर तो एकदम गुलाबी है.

थोड़ी देर बाद उन्होंने ही मुझसे आगे होकर पूछा- आप भीलवाड़ा क्यों जा रहे हो?मैंने बताया कि भाभी मैं यहीं रहता हूं … ओर अजमेर किसी काम से आया था. यहां देखने वाली बात ये थी कि जिस कमसिन लड़की अलीमा की सोच यह थी कि वो अपनी चुत की सील अपने पति से ही खुलवाएगी, वो आज अपने पापा के दोस्त से खुद चुदने के लिए अपनी गांड उठा रही थी और उसके पापा का दोस्त उसे मजे से चोद रहा था.

मैं अब ज्यादा टाइम उसी के घर रहने लगा था और उसके साथ कुछ ज्यादा ही मस्ती करते हुए उसको छूने लगा था.

चुदाई करना कुछ समय के बाद आपकी मजबूरी बन जाती है चाहे सामने वाली औरत शक्ल सूरत में कैसी भी हो. चाची अपनी गांड में मेरी उंगली का अहसास पाकर एक बार को उचक गई थीं लेकिन चिकनाहट के कारण चाची मेरी उंगली को अपनी गांड में जज्ब कर गईं. मैं चुप हो गया और शबाना भाभी अपनी पूरी शिद्दत से लंड चुसाई का मजा लेती देती रही.

इस बार अलीमा खुलकर बोली- पहले एक बार चोद दीजिए ना!बलविंदर को ये सुनकर बहुत खुशी हुई कि चलो अब लौंडिया खुल कर लंड मांग रही है. खुशबू बोली- अंजलि, तू चिंता मत कर, उसका फोन पक्का आएगा, मैं उससे बात कर लूंगी और उसे तेरा नम्बर दे दूंगी. एक दिन दादी साहिल की मम्मी से बात कर रही थी कि हम लोग भी उनके साथ उनकी गाड़ी से जाएंगे.

फिर मैं झड़ गई और थक कर ढीली पड़ गई।उसके बाद उसने हॉट बुर पर तेल लगाया और अपना लन्ड मेरी बुर पर रख कर एक धक्का दिया.

जबरदस्त जबरदस्त बीएफ: इस बार बलविंदर अपनी उंगली नहीं ले गया बल्कि डायरेक्ट अपने होंठों को चुत पर ले गया. फिर मैं भी कपड़े उतारने लगा मगर पैंट उतारने में मुझे शर्म महसूस हो रही थी.

वो भी पूरी मस्ती में चूर हो गई और सिसकारियां भरने लगी- आह … आह … आह … आराम से करो … आह … धीरे से … आह्ह … ओह्ह …ऐसे करते हुए पांच मिनट के बाद फिर से भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया. वो ब्लू फिल्म गैंग-बैंग कैटेगरी की थी, जिसमें एक लड़की के साथ 3-3 लड़के सेक्स कर रहे थे. मैं चाहती हूं कि मेरे पति उसके जैसा कोई और मर्द मेरी लाइफ में लेकर आयें.

किसी दिन मौका मिलता तो हमारी पलंगतोड़ चुदाई भी होती थी लेकिन ऐसे मौके बहुत कम आते थे.

चुप रहना, कुछ बोलना मत।मैंने बोला- ठीक है लगाओ सबको कॉल!तब मैंने फोन म्यूट किया और सुनने लगा कि वो लोग आपस में क्या बात कर रहे थे. दीपक ने मुझसे बोला कि आप भी उतार दो न … आपको भी तो गर्मी लग रही होगी!मैंने बोला- ठीक है. वो जोर जोर से सिसकारी निकाल रही थीं- आह आह आह मेरे राजा … अपनी बुआ के दूध पी ले … आह निचोड़ दो इन्हें.